सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में

छवि स्रोत,ब्लू फिल्म सेक्सी कॉम

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो अंग्रेज के: सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में, इस काल्पनिक कहानी के पहले भागहाई प्रोफाइल लेडी की सेक्स कहानी- 1में अब तक आपने पढ़ा था कि ससुर जी अपनी बहू ऐश्वर्या को चोदने की तैयारी कर रहे थे.

एक्स एक्स एक्स गुजराती मूवी

वो ऊपर से बीयर पी रहा था और नीचे से मैं उसके लंड से निकलते मूत को पी रहा था. देवर और भाभी की सेक्सी फिल्मअपनी सेक्स की भूख को शांत करने के लिए मैं अपनी चुत में उंगली डालकर किसी तरह से काम चला लेती हूँ.

घूमकर मैंने उसको अपनी बांहों में भर लिया और उसके होंठों को चूसने लगा. सेक्सी व्हिडीओ कचाकचाऔर जोर से चोदो प्लीज। बहुत मजा दे रहा है आपका लंड।चाचू मुझे स्पीड में चोदने लगे और दस मिनट के बाद मेरा शरीर सुन्न पड़ गया.

लेकिन इसके बाद भी एक सकून था कि मेरे पति के चोदने की ताकत लंबी थी।दूसरी तरफ मैं यह भी सोच रही थी कि हो सकता हो कि नया नया हो और उन्हें भी लगता होगा कि अभी वाइल्डनेस नहीं दिखानी चाहिये।थोड़ी देर बाद मेरी सभी सहेलियाँ चली गयी।रात को सोते समय एक बार फिर मुझे उनकी याद आयी.सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में: ऐश्वर्या- ओह माय गॉड … इण्डिया में भी इतना बड़ा होता है?मैं- यस कम ऑन बेबी … सक इट.

मैंने प्रीति को अपने आगोश में ले लिया और एक बार फिर से उसके होंठों का रस पीने लगा.मैंने कहा- मैं अपना लंड तुम्हारी चूत के लिए ऑफर कर रहा हूँ … एक बार मेरे लंड की सवारी करके देखो.

हिंदी ब्लू पिक्चर बीएफ पिक्चर - सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में

मैंने अभी तक भाभी की चूत नहीं देखी थी, बस उंगली और होंठों से ही छू कर देखा था.वो मेरी आंखों को देखते हुए बोली- आवाज मत निकालना … नहीं तो बुरा हाल होगा.

लता आंटी बोलीं- हितेश, क्या देख रहा था?मैंने बोला- पीयूष और मीना की चुदाई देख रहा था. सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में लेकिन एक दिन रात को जब मैं पढ़ने के लिये बैठी और अपने बैग से बुक निकाल रही थी.

अल्पना और सनी के साथ जब मेरी चुदाई का मजा आएगा … तो मैं उस रसीली बॉयफ्रेंड एंड गर्लफ्रेंड सेक्स स्टोरी से आप सभी लंड चुत से पानी निकालने की कोशिश करूंगी.

सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में?

मैं जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी- आआहह ऊऊऊऊ यस्स … अजय फक मी हार्डर … आःह्ह माँआआआ … अह्ह्ह अजय यस … अजय चोदो मुझे! उम्म आह्ह्ह्ह … अजय आह्ह चोदो मुझे … और जोर से!मेरी मादक कर देने वाली सिसकारियाँ सुन कर अजय को और ज्यादा जोश चढ़ गया और उसने चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दी. वो रो रो कर दुहाई दे रही थी कि उसका घर बर्बाद हो जाएगा, आप जो कहोगे, मैं करूंगी. मेरा कच्छा आप ही खोलो।मेरा लण्ड इतना कड़ा हो गया था कि अंडरवियर में वो आ ही नहीं रहा था और मुझे इससे दर्द हो रहा था।दीदी ने जैसे ही मेरा कच्छा खोला तो मेरा 9 इंच का लण्ड स्प्रिंग की तरह ऊपर उठ कर झूलने लगा.

उसी समय उसने लंड निकाला और मेरे लंड के सामने घूम कर अपने घुटनों पर बैठ हगे. सोनी ने बताते हुए कहा- आपको याद होगा कि आपने एक बार मुझसे पूछा था कि मेरा मंगलसूत्र कहां गया? और मैंने आपको बताया था कि मंगलसूत्र भारी था इसलिए मैंने छोटा हार पहन लिया है. अब तक दो बज गए थे … तो एक एक बियर और सिगरेट पी कर हम दोनों अलग अलग हो गए.

तो मैं उसे अपनी बांहों में लेकर चूमने लगा और हाथ पीछे ले जाकर उसकी ब्रा का हुक खोल दिया. कभी उससे बात ही नहीं हुई तो चुदाई तक नहीं जायेगी बात।उस शाम हम घर आ गये. उनके पास जाने से मेरा लंड उनके चूतड़ों से टकराया जिसने मुझे एक आनंद भरा सुखद अहसास दिला दिया.

धीरे धीरे मैं अपनी बीवी के नंगे जिस्म को सहलाने लगा, जिससे मेरी बीवी और उत्तेजित होने लगी. शाम को मैं सो कर उठा, तब देखा कि सलमा की अम्मी छत पर कपड़े उठा रही थी.

मैंने फोन उठाया तो उधर से मेरे एक बचपन के एक दोस्त गोल्डी ने हैलो किया.

इतने में ही मेरा पानी निकल गया और उसने मेरा साल माल अंदर ही पी लिया.

इस इंडियन चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैं अपने बॉयफ्रेंड से चूत चुदवाने के बाद भी प्यासी थी. मैंने अपना बैग अपने घुटनों पर रखा था, जो उस महिला के घुटनों पर भी थोड़ा था. अब आगे की कहानी:मैंने कहा- दीदी मुझे माफ़ करना, मुझे ये पता नहीं था।मैंने दीदी से पूछा- क्या मैं तुम्हारा दूध पी सकता हूँ दीदी?दीदी बोली- पी ले, मगर सारा मत निचोड़ लेना, मुझे मेरे बेटे के लिए भी थोड़ा बचा कर रखना है, अगर वो रात में जाग गया तो फिर मैं दूध कहां से लाऊंगी?मैं बोला- ठीक है दीदी, सारा नहीं पीऊंगा.

अपनी जांघों से मेरी टांग हटाते हुए मौसी ने मेरी ओर करवट ली और अपना हाथ मेरे लण्ड पर रख दिया. उनके बताये रूम पर पहुंचा तो मैंने डोरबेल बजाई और उन्होंने गेट खोला. मैंने पूछा- माल निकलने वाला है जान, कहां निकालूं?वो बोली- मेरे मुंह में, मैं टेस्ट करना चाहती हूं, लड़कों का माल कैसा लगता है पीने में।मैंने कहा- तो उठ कर इसे चूस लो जानेमन।वो उठी और मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी.

मेरे हाथ शैली की चूत व चूतड़ों के आसपास रेंगते हुए उसे कामोत्तेजित कर रहे थे.

अब भैया का क्या होगा?मैं बोली- भैया का तो कुछ नहीं होगा, लेकिन मैं देखती हूँ कि आप पर क्या असर होता है. दिव्या हमारे घर 15-20 दिन तक रुकी और मैंने मौका पाकर उसकी चूत खूब चोदी. वैसे भी अब तक उनकी चुत में कई लंड जा चुके थे तो उन्हें लंड लेने की आदत हो चुकी थी.

मैं किसी कटी पतंग की तरह उसके साथ चल दी।उस दिन पहली बार मैं खण्डहर के अंदर गई थी। अंदर कई सारे टूटे फूटे कमरे थे. वरना वो इन जवान लड़कों के सामने ऐसे बेशर्म होकर उनका लंड नहीं चूस रही होती. अजय और जोर से और जोर मेरी जान!अजय ने चुदाई की स्पीड एकदम से तेज कर दी.

भारी होने के बाद भी मैंने उसे अपनी गोद में उठाकर, उसकी टांगों को अपने कंधों पर रखकर, खड़े होकर.

उधर रिया दीदी अपने हज़्बेंड की गांड मार रही थीं और स्नेहा अपने डिल्डो को दीपक जी के मुँह में पूरा उतार रही थी. मैंने उससे कहा- एक बात बोलूं!उसने बोला- हां बोलिए न!मैंने बोला- एक पैग और पीते हैं.

सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में मैं तो इस चूत से नहीं निकला लेकिन मेरा बीज तो इस चूत में मैं डाल ही सकता था. फिर मैंने उसकी टांगों को फैला कर पकड़ लिया और अपना लंड उसकी चूत पर रख कर रगड़ने लगा.

सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में अंजलि चिल्लाने लगी तो मैंने अपने होंठों से अंजलि के होंठों को दबा दिया और किस करने लगा. मैंने कहा- अगर मैं लाया होता, तो पक्का सेक्स करने देती?वो बोली- हां.

मेरी गंदी कहानी हिंदी में पढ़ें कि कैसे मेरे लड़के ने मेरी सेक्स स्टोरी पढ़ कर मुझसे सलाह मांगी.

സെക്സ് സെക്സ് സെക്സ് സെക്സ്

उन्हें देख कर लग रहा था, जैसे जेठ जी ने जाने से पहले उन्हें जमकर चोदा था. सर ने मेरे ब्लाउज़ के हुक्स को एक एक करके खोलना चालू किया और मेरे बूब्स को ब्रा के ऊपर से ही चाटने लगे. अंकल ने उससे कुछ नहीं कहा, जिससे ये बात साफ हो गई कि वे भी इनके साथ मिले हुए हैं.

ये जानते हुए कि मैं उसके चेहरे की तरफ देख रही हूं, फिर भी वो मेरी चूचियों से नजरें नहीं हटाता था. अंकल- मजा आ रहा है?मैं- हां बहुत।अंकल- और करूं?मैं- हां करो ना अंकल … करो प्लीज।अंकल- अब जोर से करूं?मैं- हां, जोर से कर दो. उसकी आंखों पर काला चश्मा था और हाफ आस्तीन की टी-शर्ट पहने हुए वो एक फिल्म स्टार लग रहा था.

मेरी कमर हल्की हल्की दर्द भी करने लगी, तो मैंने अपनी दोनों कोहनियां उसके काउंटर पर टिका दीं और थोड़ा झुक कर खड़ी हो गई.

तभी देखा कि चाचू ने मेरी मां को डॉगी पोजीशन में कर लिया और पीछे से मेरी मां की चूत में लंड पेल दिया. अगले दिन जब दोपहर में घर पर कोई नहीं था, तो उनमें से एक घर पर आ गया. इससे पहले मैंने भाई बहन Xxx कहानी के पहले भागछोटी बहन के साथ चुदाई की शुरुआतमें बताया था कि कैसे मैं अपनी बहन की ओर आकर्षित हो गया.

मेरे से सब्र नहीं हो रहा है, तू जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल दे. उन दोनों को मैंने वहीं रोक दिया और कहा- आप दोनों पहले अपनी अपनी चूत के बाल साफ करो क्योंकि मुझे चूत पर एक भी बाल पसन्द नहीं है. वह पढ़ाई के लिए अपने गाँव से यहां आई थी।निशा दिखने में गोरी लड़की थी.

खुशबू एक जवान लड़की थी जो कली से फूल बनने की डगर पर अभी अभी चली थी. अपने बेइन्तहा प्यार की बदौलत मैंने एक तवायफ बनना मंजूर किया है, पर इसका मतलब ये नहीं कि मुझे अपने टूटे हुए सपने याद करके रोना नहीं आता.

मैं समझ गयी कि अब ससुर का लिंग मेरी चूत की सवारी करने के लिए तैयार है. थोड़ा नीचे झुक कर वो मेरी जांघों को अपनी जीभ से चाटने लगा और साथ ही मेरी चुत को सहलाने लगा. अब वो जोर जोर से मेरे बूब्स को दबाने लगे और नीचे की ओर मेरे पेट को चूमते हुए बढ़ने लगे.

उसके बाद सुनीता भाभी ने मुझसे मेरा नंबर लिया और कहा- मैं आपको कॉल करके पूछ लूंगी … क्योंकि रोज़ रोज़ मेरा मार्किट आना पॉसिबल नहीं हो पाता.

आज बहुत दिन बाद किसी ने मेरे मम्मों को मसला था तो मेरे मम्मे एकदम से कड़क हो उठे. मस्ती में मैंने भी उसी के बदन की आड़ लेकर उसकी एक चूची को दबा दिया. आखिर में मैंने उसे कुछ महंगा ब्रांड दिखाया, तो उसने एक ब्लैक कलर की ब्रा पैंटी का सैट पसंद कर लिया.

जब घर में वे दोनों ही अकेले होते थे, तो आंटी बिना पैंटी के ही सिर्फ़ ब्लाउज पेटीकोट में घूमती रहती हैं … और जैसे ही अमित के लंड में गर्मी चढ़ती थी, वो अपनी मॉम का पेटीकोट उठा आकर उनको चोद देता था. रत्ना की साड़ी सीने अलग खिंच गई और रत्ना के मस्त मम्मे उभर कर दिखने लगे.

मैंने शालिनी से पूछा- शालिनी जी, क्या आज सूरज पश्चिम से निकला है जो आप मेरे घर आई हो? आप तो मुझे हमेशा अपनी जगह पर बुलाती हो. उसके बाद मैंने उनका खाने पीने का शेड्यूल बनाकर दिया और वो घर चले गए. फिर मैंने उसकी कमर पर हाथ फेरा और उसकी पैंटी की इलास्टिक में उंगलियों को फंसाते हुए उसकी पैंटी भी उतार दी.

हिंदी बीएफ फुल सेक्स

मैंने बोला- भाभी आप मुझे अपना फोन नम्बर दे दो … बाद में बात करते हैं.

मैंने एक दो बार अपने पति से बात की, लेकिन उन्होंने साफ़ मना कर दिया. जिया- तुम सच में मेरी गांड मारना चाहते हो?मैं- अगर आपकी इच्छा नहीं है तो मैं नहीं मारुंगा. जब मेरा दर्द थोड़ा कम हुआ तो मैंने अपनी गांड उठाकर उसे सिग्नल दे दिया.

इसलिए घर की आमदनी भी बढ़ गयी है।दोस्तो, जब से मैं घर में दाखिल हुआ था तब से मैं मां को ही घूर रहा था. अपनी सारी ख्वाहिशें पूरी कर ले आज।फिर क्या था … मैं सर और मैडम के बेडरूम की ओर चल पड़ी. कुंवारी लड़की का बीएफ दिखाइएथोड़ी देर बाद मैंने कहा कि क्या सरप्राइज है बताओ?सोनम बोली- उस दिन तुमने किस करने को बोला था, तो मैंने करने नहीं दिया था.

मुझे किस करना सबसे ज्यादा पसंद है इसलिए मैं काफी लम्बा लम्बा किस कर रहा था. फिर मैं एक हाथ से उसकी चूची को उसकी ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा और उसकी गर्दन चूसता रहा.

बहुत कड़वा टेस्ट था, मुझे दारू का टेस्ट बड़ा अजीब सा लगा, लेकिन मैं क्या कर सकती थी. हम खेतों के किनारे से होते हुए जंगल के बगल से चल रहे थे, तभी चाची ने मुझे गाड़ी रोकने के लिए कहा. उसने अपनी टांगों को फैला रखा था जिसमें जांघों के बीच वाले भाग में कुछ बाल दिख रहे थे और उनके पीछे छुपी थी मेरी मां की चूत।चूत देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया और मैं वहीं पर लंड को सहलाने लगा.

सब मुझे बोलते हैं कि मैं दिखने में स्मार्ट हूँ और कद काठी का भी ठीकठाक हूँ. दस मिनट की धमाकेदार चुदायी के बाद मैंने उसको अपनी गोद में उठा लिया और दीवार के पास खड़ा कर दिया. अविनाश- डैड को इस समय सेक्स की जरूरत है, जो मॉम नहीं पूरी कर सकती हैं.

रविवार को घर पर ही पूरे दिन बनी रहना और बाक़ी दिन दोपहर को आकर खाना बना जाना.

मैं बोला= चिंता मत करो रानी आज से मैं तेरी चुत और गांड का मालिक हूँ. डैड को इस समय एक ऐसी जरूरत है, जो मॉम पूरी नहीं कर सकती हैं, लेकिन तुम डैड की मदद कर सकती हो.

बस मेरे ये बोलते ही अंजलि ने कहा- तो आज के लिए मुझे अपनी जीएफ ही समझ लो. मौसी की कमर पकड़कर मौसी को मैंने चोदना शुरू किया तो वो उफ्फ … उफ्फ … करने लगी. पारुल ने साधना से उन दोनों का परिचय कराते हुए कहा- ये मेरी काजल भाभी (मामा के लड़के की बहू) हैं और ये स्वीटी (मामा की लड़की) है.

उसके बाद मैं आगे आकर उनकी चूचियों को चूसने लगा, दांतों से निप्पलों को काट काट कर पूरी तरह से फुला दिए. सर कमरे में आये और बिना घूंघट उठाये ही मेरे बाल रहित चिकने हाथों को सहलाने लगे. उसने अपना मुंह जोर से मेरे लंड पर कस लिया और मेरे लंड से चूस चूस कर एक एक बूंद को निचोड़ने लगी.

सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में कोई पांच मिनट तक मेरी बहन चोदने के बाद उन लोगों ने पोजीशन चेंज कर ली. इस बीच पापा बोले- आह बड़ा मजा दे रही है मेरी रंडी … साली तेरे जैसी औरत का काम ही चुदना होता है.

सेक्स बीएफ हिंदी व्हिडीओ

फिर दीदी ने एक दिन मेरी आईडी पर मैसेज किया- हां मेरा भाई मुझे अपनी बहन के जैसे ही देखता है. मैंने उसको अपना दुखड़ा सुनाया और बोली- मुझे कुछ महीने का टाइम दे दो. उसके मुँह से जोर की चीख निकलने वाली थी, मैंने उसके मुँह को कसके दबा दिया और उसके ऊपर लेट कर रुक गया.

लंड मेरी बीवी की कमजोरी है, जिसे वो एक बार देख ले, तो बिना लंड चूसे नहीं रह पाती है … ये बात मैं जानता था. सुबह 10 के करीब मेरी आंख खुली और मैं नहाने चला गया। नहा-धो कर मैं श्वेता संग नाश्ता कर रहा था।इसी बीच मैंने श्वेता से पूछा- अरे श्वेता, वो नेहा क्या करती है?वो बोली- अभी तो वो नौकरी की तलाश में है. बीएफ देसी हिंदीहो सकता था कि दीदी मेरे साथ अपनी फ्रेंड के घर अपने किसी ब्वॉयफ्रेंड से मिलने आई हों.

उसके मम्मों पर ब्राउन कलर के अंगूर के दाने के बराबर निप्पलों को अकड़ा हुआ देखकर बिना चूसे कोई रह ही नहीं पाता.

सबसे पहले पांचवे नंबर पर सबसे बड़ा लंड दिखा, जो औरत की चुत का कबाड़ा बना सकता था. वो अपने होंठों से कभी मेरे गालों पर चुम्बन कर रही थी, तो मैं भी कभी उसकी गर्दन पर, कभी चूचियों को चूम रहा था, तो कभी उसके पेट पर चूमने लगता था.

फिर मैंने उसकी पैंटी को उतार दिया। उसकी चूत एकदम गीली हो चुकी थी। मैंने उसकी गीली चूत को सूंघा जिसमें से बहुत ही मदहोश कर देने वाली खुशबू आ रही थी. आधे घंटे तक लेटे रहने के बाद मेरा मन फिर से उसे चोदने के लिए करने लगा था. लेकिन जिसने साथ में झड़ कर इस चरमसुख की प्राप्ति की हो … वो ही इस आनन्द को समझ सकते हैं।कुछ देर तक हम एक दूसरे से चिपके हुए ऐसे ही लेटे रहे.

देसी नंगी भाभी की कहानी में पढ़ें कि उसके देवर ने कैसे भाभी को पूरी नंगी करके उसकी तमन्ना पूरी की, उसे खूब मजा देकर चोदा.

मैं एक क्रॉस ड्रेसर हूं यानि कि मैं शरीर से तो एक लड़का हूं मगर मन से औरत हूं. वो बीच बीच में रूक कर मेरे स्तनों को मसल देते, या मेरे निप्पल चूस लेते या मेरे होंठों को चूसने लगते. उनकी हिलती कमर के अहसास से मैं समझ गया कि ऐश्वर्या की चुत को भी लंड का इंतजार है.

नंगे सेक्सी ब्लू पिक्चरआपने भैया के लंड पर चढ़ कर मजा लिया है?मैं आह भरते हुए कहने लगी- तुम्हारे भैया का लंड इतनी देर खड़ा ही नहीं रहता कि मैं लंड की सवारी का मजा ले सकूं. आपका हरीश दुबे[emailprotected]पड़ोसन आंटी सेक्स स्टोरी का अगला भाग:पड़ोस की एक जवान लड़की ख़ुशी से चुद गयी.

ब्लू पिक्चर सेक्सी हद

उधर अल्पना मेरी चुत में जीभ डाल कर मेरी चुत से निकलने वाले नमकीन पानी को चाटते हुए मजा ले रही थी. वो- नाटकीय अंदाज में बोली- जो हुक्म मेरे आका … कनीज आपके हुक्म को अभी फरमा देती है. उधर रिया दीदी अपने हज़्बेंड की गांड मार रही थीं और स्नेहा अपने डिल्डो को दीपक जी के मुँह में पूरा उतार रही थी.

सुभाष बोला- रस्तोगी साहब, फिर से आपकी खिदमत के लिए अमिता को लेकर आया हूं. वो लंड रस पीती चली गई … और जब तक वो लंड के रस की एक एक बूंद पी नहीं गयी, उसने छोड़ा नहीं. मैं नाइटी पहने हुए ट्रायल रूम से बाहर आई और दुकान में लगे बड़े से मिरर में फिटिंग देखने लगी।तभी दुकानदार ने मुझसे बोला- बहुत सेक्सी लग रही है यह नाईटी आप पर!जवाब में मैं भी मुस्कुराने लगी।अब दुकानदार ने मुझसे उस नाईटी को पैक करने के लिए पूछा.

कहां मैं एक नॉर्मल गृहिणी थी और कहां अब मैं इस धंधे में फंसती ही जा रही हूं. मेरी गर्दन को अपनी ओर घुमाकर उन्होंने मेरे होंठों पर अपने होंठों को रख दिया. ’ फ़रज़ाना के मुँह से निकला और उसने अपनी दोनों उंगलियां गांड से बाहर निकाल लीं.

मैंने प्रीति के स्तनों को जोर से दबाना शुरू कर दिया और उसके मुँह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … उह. इसके लिए बाहर जाने की क्या जरूरत है?मेरे मुँह से ये सुन कर मेरी बेटी बोली- अम्मी आप क्या कह रही हैं?मैं हंस कर बोली- अरे तू तो उधर पलंग पर एकदम पक्की रंडी लग रही थी.

मैं जानती थी कि खाना खाने के बाद वो हाथ धोने के लिए इधर ही आयेंगे इसलिए मैं अपनी बारी का इंतजार करने लगी.

मैंने उसके चूचों को हाथ लगाने की कोशिश की, तो उसने मुझे टच ना करने को कहा. बीएफ छोटीउस दिन के बाद से अनु के साथ मेरा टांका फिट हो गया और मैंने उसके साथ हर वो ख्वाहिश पूरी की जो मैं करना चाहता था. माँ ने बेटे से चुदवायामैं अपने दोस्तों के साथ दोस्त की बहन की शादी का काम निपटवाने में लगा गया था क्योंकि बारात आने वाली थी. मैंने कहा- तो कर लेने दो न बदमाशी … एक असहाय की मदद करने में तुम्हारा क्या जाता है.

अजय ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठों को बेताशा चूमने लगा.

हम दोनों को ड्रिंक करती देख, मेरे जेठ जी बोले- वाह क्या बात है … तुम दोनों आज तो एकदम रेडी लग रही हो. जब मैंने पाया कि भाई मेरी बीवी पर लाइन मार रहा है तो मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. मेरी चूत की प्यास को देख कर वो मेरी चूत में जीभ से चोदने लगे और मैं पागल होने लगी.

शायद बच्चेदानी तक पहुँच गया था।मैंने भी अपनी बाँहों की जकड़ और टाइट कर दी। अपनी टांगों से जेठजी की कमर को और जोर से जकड़ा और ऊपर की ओर धकेला। हमारे गुप्तांग पूरी तरह सट गए। अब भैया का लंड जोर से फुंफकारा और एक फवारा सा मेरी चूत में अपना गरम गरम पानी गिराने लगा. मैं बार बार उस बाल्कनी में जाता रहता था कि काश भाबी के दीदार हो जाएं. थोड़ी देर बातें करने के बाद मैंने उसके हाथ को पकड़़ कर चूमा और दूसरे हाथ को उसकी कमर में डाल कर उसे अपनी ओर खींचा.

बीएफ पिक्चर पंजाबी

तो मैं चाहती थी कि हम कई बाहर ही किसी होटल में मिलें जहां मैं पति के डर के बिना खुलकर गैर मर्द के लंड से अपनी चूत की प्यास बुझा सकूं!मैं और अजय कैब से होटल की और चल दिये. बोल रहेगी ना?मैंने जोश जोश में बोल दिया- जी हां, मैं आज से आप सबकी रखैल हूं. फिर मैंने अंजलि को अपनी बांहों में खींचा, तो उसने बिल्कुल भी विरोध नहीं किया.

मेरी टांगें फैलाकर सलवार के ऊपर से खुद को घिसना … उसका हमेशा का काम था.

पारुल को मैं बहुत अच्छी तरह से जानता था कि वो लड़की नई और कुँवारी थी.

आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं कि सुनीता कितनी हसीन जिस्म की मलिका रही होगी. उसके कसे हुए चूचे उसकी ब्रा से बाहर आने के लिए ज़ोर लगाते दिख रहे थे. एक्स एक्स वीडियो इंग्लिश एचडीलता आंटी बोलीं- अब जल्दी से मीना को खुश कर दे, जैसे तू मुझे खुश करता है.

चलते हुए मैं रिसेप्शन से गुजरने लगी तो मैनेजर ने मुझे आवाज दी- अरे मैडम, जरा सुनिये!मैं चल कर उसके पास गयी तो वो मुझे देख कर मंद मंद मुस्करा रहा था. मैं उसके करीब गया और उसकी कमर में हाथ डाल कर उसको अपने पास खींच कर उसके होंठों में होंठ डाल कर किस करने लगा. वो भी उसे चूमने लगी थी और उसके हाथ से अपनी चूचियों को बड़ी मस्ती से मसलवा रही थी.

वो इतनी ज्यादा कामुक दिखती है कि अपनी इस कमसिन उम्र में भी अच्छी अच्छी पोर्नस्टार को भी मात दे दे. किचन में जाते समय मैंने रिया दी के रूम में नज़र डाली, तो देखा कि दीपक जी डॉगी स्टाइल में झुके हुए हैं और उनके ऊपर स्नेहा लदी थी.

मैं नाटक करके जाने लगा- भाभी, मुझे जाने दीजिए … मेरे जाने का टाइम हो गया है.

उसका रोना बंद नहीं हो रहा था क्योंकि उसको मोटे लंड से बहुत दर्द हो रहा था. मैंने उसे आंख मार दी और उसकी जींस उतारने लगा … साथ ही मैंने उसकी पैंटी भी खींच दी. धीरे धीरे मेरा हाथ कमर से होता हुआ उसकी चूत पर जा पहुंचा, जो पहले से गीली हो चुकी थी.

xxx कुमारी आंटी उस समय गहरी नींद में सोई हुई थीं और उनके बच्चे उनके साथ के बेड पर सोए हुए थे. हालांकि उस रात मेरे लन्ड का रस निकलने के बाद मैंने माहौल को वहीं ठंडा कर दिया जो शायद उसके सुलगते जिस्म पर भरी बाल्टी पानी गिरने जैसा महसूस हुआ होगा। आगे की कहानी मैं प्रिया के शब्दों में बताना चाहूंगा.

अब मैं उसकी बुर में धीरे धीरे लंड को अंदर डालने लगा और वो दर्द को बर्दाश्त करने लगी. तभी वो बोली- गरम कर देने से क्या होगा?मैंने उसकी आंखों में आंखें डाल कर पूछा- बोलो गरम होकर क्या करवाना चाहोगी?वो शर्मा गई. इतना रस बह रहा था कि मेरा पूरा हाथ गीला हो गया। मैंने धीरे धीरे तीन उँगलियाँ अपनी बीवी की चूत में डाल दीं और दोनों नंगे होकर एक दूसरे से चिपके रहे।मेरा इस बीच एक बार और निकल गया।बीवी ने फिर धीरे से मेरे कान में कहा- आज ही शाम 4 बजे हम दोनों ने प्यार किया है।ये सुनकर तो मेरी वासना चरम पर पहुंच गयी कि मेरी बीवी ने हरी के साथ कुछ खेल खेला है.

बीएफ बुर चुदाई

वो व्याकुलता से बोली- कौन?मैंने चुटकी लेते हुए बोल दिया- वही, जिसका तू उस दिन खिड़की से देखकर कह रही थी कि एकदम कड़क लंड है. उस बाराती ने अपनी पेंट उतार कर अपने लंड को चड्डी के बाहर निकाल लिया. पर इतना भरोसा हो चला था कि सोनम जल्द ही मेरे लंड के नीचे आकर खेलेगी.

जल्दी जल्दी धक्के लगाते हुए मेरी चूत में अपना वीर्य छोड़ कर हाथ झाड़ लेता था. [emailprotected]डर्टी सेक्स गर्लफ्रेंड स्टोरी का अगला भाग:सहेली को दूसरी के बॉयफ्रेंड से चुदाई की तैयारी.

मैं मन ही मन खुश हो गई, मगर ऊपर से बोली- वो कैसे होगा?वो बोली- मैं पलंग पर चढ़ जाती हूँ और आशीष के लंड पर चढ़ कर चुदाई के लिए उसको गरम कर देती हूँ.

उसके बाद पापा मां के ऊपर चढ़ गए और मां की दूध जैसी सफेद और रुई जैसी मुलायम चूचियों को मसलने लगे. उनकी नाभि के आस-पास मैंने अपने होंठों से किस किया, तो वो एकदम से सिहर सी गईं. उसके बाद उसने फिर से आ… करने के लिए कहा और फिर से उसने मेरे मुंह में मूत दिया.

दवा के असर से और दो बार पानी निकल चुकने की वजह से जिगर झड़ने को राजी नहीं था. मैंने कहा- रोज आऊंगा, तो लोग क्या सोचेंगे … और अब आप अकेली नहीं हो … पीयूष की पत्नी मीना भी आपके साथ रहती है. इस देसी रण्डी सेक्स कहानी में पढ़ें कि पैसे की दिक्कत के चलते मेरी जवान हसीं बेटी को रंडी बनना पड़ा.

और वो अपने दोनों हाथों से मेरी चूत के फलकों को फैलाते हुए अपनी नुकीली जीभ को चूत के अंदर बाहर करने लगा.

सेक्सी इंडियन बीएफ हिंदी में: ये देख कर सुंदर का लंड फूलना शुरू हो गया और उसने उठकर अपनी सास रत्ना के पेटीकोट के नाड़े को खोल दिया. मगर कार में कम जगह होने के कारण और भाभी ने अपनी कमर से अपनी साड़ी को चुस्त बांधा हुआ था, जिस वजह से उनकी साड़ी ऊपर नहीं जा रही थी.

वासना के जोश में मेरे मन ने तय किया कि जब तक वो लड़की पट नहीं जाती तब तक मैं उसका पीछा करूँगा. वो हंस दी और बोली- क्या ब्रा के ऊपर से ही घायल हो गए?मैंने उसकी बात सुनकर उसकी ब्रा को खोल दिया … आह सच में घायल होने लायक ही मम्मे थे … एकदम तने हुए हवा में मानो दो कबूतर फुदकने लगे थे. मैंने कहा- तो मन क्यों नहीं बना?वो बोली- इतनी नजदीकी हो ही नहीं पाई थी कि हम लोग अकेले में मिल पाते.

फिर उसने तुरन्त मेरी मां की चड्डी निकाली और अपना लंड मां की बुर में पेल दिया और मां को चोदने लगा.

वो मेरे लंड को पकड़ कर मुझे बेड पर ले गयी और मुझे चित लिटा कर मेरे ऊपर आ गयी. एक बार फिर से मैंने अन्दर झांका, तो उसकी अम्मी बेसुध होकर सो रही थी. मां जज्बातों में मुझे दुलार रही थी और मेरा ध्यान मेरी मां के जिस्म पर जा रहा था.