देहात वाला बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,देसी बीएफ हिंदी ऑडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

फुल सेक्सी लड़की: देहात वाला बीएफ वीडियो, मैंने उसके साथ पानी में सब कुछ किया, सिर्फ बीवी की चूत में लंड डालकर उसे चोदना ही बाकी रह गया था.

बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म

अब वो बेकाबू होकर जोर जोर से कराहने लगी थी और अपनी गांड ऊपर उठाने लगी थी. राजस्थानी बीएफ सेक्सी हिंदी मेंउसकी गांड को अच्छी तरह से देखा और जांचा कि गांड कहां-कहां से और कितनी फटी हुई है.

उसने पूछा- तुम मुझे सारा सच बताओ, तुम्हारे कितने लोगों के साथ सेक्स संबंध रहे हैं. सेक्सी बीएफ एचडी ब्लूबचे तो सिर्फ तीन लोग राज, उसकी भाभी जो अपने मायके ही रहती है, और तीसरी उसकी बहन उषा!उषा की शादी हो गई थी पर उसका पति उसे छोड़ कर कहीं चला गया.

फिर कुछ देर की चुदाई के बाद मैंने अपना लंड चूत से निकाला तो प्रिन्स ने अपना 7 इंची नॉकदार टोपे वाला लंड नीता की रसीली चूत में डाल दिया और मस्ती के साथ चोदने लगा.देहात वाला बीएफ वीडियो: हम लोगों के अलग-अलग केबिन बने हुए थे लेकिन हम एक ही कमरा शेयर करते थे इसलिए वो अक्सर मेरे केबिन में अपना सामान या पैसे वगैरह रख लेता था.

तुम चोद दो जितना चोदना है। सच में तुम दोनों बहुत मस्त हो, मेरे जीजा मुझसे सुबह बोले थे कि उन दोनों के लन्ड को उनके चुदाई की स्टाइल को कभी नहीं भूलोगी.दूसरी ख़ुशी ये थी कि मुझे वो जानकारी मिली थी, जिसकी तैयारी में मैं अभी से लग गया था.

बीएफ सेक्सी वीडियो में चलने वाली - देहात वाला बीएफ वीडियो

मैंने उसको बोल दिया था कि जब मैंने फोटो दी है तो उसको भी मुझे फोटो देनी पड़ेगी.मैंने अपना लंड पकड़ा और उसकी चूत के साथ सटा कर हल्का सा धकेल दिया, वो दर्द व उत्साह के मिश्रित भावों से सिहर उठी.

मैंने अपना हाथ आगे बढ़ाया और दो उंगलियों से उसके खूबसूरत होंठों को टच किया. देहात वाला बीएफ वीडियो मगर बाहर आने के बाद मैंने उसके कान में कहा- तुम वॉशरूम में जाओ तो अपने चूत रस से भीगी हुई पैंटी को निकाल कर अपने पर्स में रख कर ले आना.

मुझे अपने मुंह में खट्टा मीठा टेस्ट आने लगा तो मैं उसके लंड को मुंह में लेकर आगे पीछे करते हुए चूसने लगी.

देहात वाला बीएफ वीडियो?

मैं पागल हो गयी हूं भाई की तड़प में … शायद उसकी कमी और सेक्स के लिए मेरी तड़प ने मुझे ऐसा सोचने पर मजबूर किया है. और फिर अपनी स्कर्ट उतारी और चड्डी भी; आगे को झुक कर एक टेबल का सहारा लिया और अपनी फुद्दी उस लंड से लगाई. ऐसा लग रहा था कि उसका लौड़ा उसके अंडरवियर को फाड़ कर बाहर आने के लिए बेताब हो रहा था.

हम सब 4-5 पैग पीने के बाद सब एक दूसरे को हवस की नजर से देखने लगे। मैंने खुद उनके बॉस के लिए पेग बनाए. सुबह सुबह अपने बड़े घर के बैठक खाने में बैठी हुई, मैं एक उपन्यास पढ़ रही थी. मैं उसको किस करते करते बाथरूम में ले आया, जहां पर मैंने पहले ही बाथटब भरने के लिए हल्के गर्म पानी का नल खोल दिया था.

मेरे पड़ोस में एक चाची रहती थीं, उनका नाम कविता (बदलता हुआ नाम) है, वो शुरू से ही बहुत ही समझदार और शरीफ किस्म की महिला रही हैं. यशिमा मेरे सीने पर सर रख कर बोली- राज मैं तुम्हारी अहसानमन्द हूँ यार … तुमने मुझे संतुष्ट कर दिया. उसमें एक बहुत अच्छी ड्रेस थी विद पैंटी … इस ड्रेस में ब्रा नहीं पहनते थे, इसलिए ब्रा नहीं थी.

विक्की- नहीं … कोई नहीं देखेगा, तुम मेरे लिए इतना नहीं कर सकती हो?मैं- अच्छा ठीक है … मैं तुम्हें रेडी होकर कॉल करती हूं. अब आगे:मैं दबे पांव अन्दर जाकर देखने लगी कि रीमा की धकापेल चुदाई हो रही थी और उसी मादक सीत्कारें पूरे कमरे में गूंजने रही थीं.

आह … गांड मराने में इतना मजा आता है … उह … मुझे तो मालूम ही नहीं था.

मैंने उठते हुए मासी को सीधा किया और सबसे पहले उनके पैर को किस किया.

पता नहीं उसने क्या समझा और बोली- सुबह-सुबह क्या शरारत सूझी है तुम्हें?मैंने उससे बोला– हां मैं सुबह-सुबह दूध पीता हूं. मैं वासना से पागल हुई जा रही थी … लेकिन मुझे हिलने का आदेश नहीं था. मैंने भी उससे कहा कि तू चिंता मत कर रंडी … आज तेरा काम उठा कर ही दम लूंगा.

तब तक ससुर तेल की बोतल लेकर आ गए और मैंने ढेर सारा तेल अपने मोटे लंड पर लगा लिया. अब मनोज ने अपने हाथ उसके कन्धों से हटाकर उसकी गर्दन और धीरे धीरे गले को सहलाते हुए गले से नीचे छाती की ओर जाने लगे. रोहन- तो फिर कहां?सोनिया- तुमने कबन पार्क देखा है?रोहन- हां देखा है … बस में सफर करते हुए, लेकिन मैं कभी गया नहीं.

दीपा के हलक तक जा रहा था और दीपा को सांस लेने में भी दिक्कत हो रही थी.

तभी माँ ने कहा- अरे बेटी, तुम्हारे पिताजी तो आज घर देरी से आने वाले हैं. बल्कि मेरा मन उसे चूमने का मन करता था … हमेशा उसको छूने का मन करता था. संयुक्त परिवार में होते हुए भी राहुल सभी का लाडला है और जब वो ऑफिस से घर आकर अपने कमरे में घुसता है तो कोई भी नायरा को भी नीचे आवाज नहीं देता.

अक्सर हम दोनों किसी पार्क में जाकर बैठ जाते हैं और काफी देर तक बात करते रहते हैं. आख़िर वो घड़ी भी आ गयी थी जब पापा का लंड फिर से उसकी चूत में जाने वाला था. पर जल्दी जल्दी में मैं फ्लश करना भूल गया था और मेरा वीर्य टॉयलेट में तैर रहा था.

फिर अचानक से जेठजी ने बोलना शुरू किया- सॉरी जस्सी, श्वेता की नाइटी की वजह से मैं कंफ्यूज हो गया था और उसी दुविधा में मैंने तुम्हें पीछे से पकड़ लिया और उसके बाद मौसम की वजह जो कुछ हुआ, फिर मैं खुद को रोक नहीं पाया.

दोस्तो, मेरी यह एक खास बात है कि मैं चैट में ही औरत की चूत से कामरस निकालने की खूबी रखता हूं बशर्तें कि मैं जैसा कहूं सामने वाली महिला वैसा ही करे. कह कर मधुर हंसने लगी।मुझे कुछ समझ नहीं आया। पता नहीं मधुर क्या बताना चाह रही है।फिर पता है सानिया ने क्या बोला?”क्या?”वह बोली- दीदी … आप मुझे भी अपने पास यही रख लो। मैं रोज घर का सारा काम भी कर दूँगी और रात को आपके पैर भी दबा दिया करुँगी.

देहात वाला बीएफ वीडियो तभी मुझे तीन लड़कियां घास काटने जाती हुई दिखीं जिसमें से एक लड़की बहुत टाइट माल थी. हम दोनों को भूख भी लग रही थी और अमृता से खड़ा भी नहीं हुआ जा रहा था तो मैंने उसे बाथरूम में ले जाकर बाथ टब में लेटा दिया और गर्म पानी भर दिया.

देहात वाला बीएफ वीडियो मैंने कहा- ठीक है, ऐसा करते हैं कि हम थोड़े से और गहरे पानी में चलते हैं. अब कोमल ने संजय के पैंट की जिप खोलनी शुरू की और कोमल की सहेली, जो अब तक शांत थी, उसने ताली बजानी शुरू कर दी.

परमीत की गोरी पीठ से नजर फिसल भी जाए, तो थोड़े बगल को झांकने पर उसके कयामत ढहाती पहाड़ियां, जो कि परमीत के घुटनों से दबकर बाहर की ओर निकलने को हो रही थीं … वे सबकी जान निकाले जा रही थीं.

एक्स एक्स एक्स एक्स एक्स बीएफ फिल्म

मैंने उसके मम्मों के बीच में भी लंड लगा कर मम्मों को चोदा, मुँह की चुदाई की और फिर गांड भी चोदा. उसने संजय से कहा- क्यों संजय, तुम्हें कोई एतराज तो नहीं?इस बात पर संजय ने भी बिना वक्त गंवाए जवाब दिया- नेकी और पूछ पूछ … चाहो तो तुम सभी लड़कियां एक साथ मेरा लंड चूस सकती हो. मेरी तो भाभी के साथ मस्त चुदाई चल ही रही थी, दिन भी अच्छे से गुजर रहे थे.

यह कह कर वो छत पर बिछे बिस्तर पर लेट गयी और उसने मुझे अपने ऊपर खींच लिया. अब बात कुछ इस तरह की है कि एक दिन मैं भाभी के घर पर सर्विस दे रहा था … मतलब कि उन्हें चोद रहा था कि तभी उनकी भाभी ने हम दोनों को सेक्स करते हुए देख लिया. ये सुनते ही मैंने परी मैम को बेड के किनारे किया और चुत पर लंड लगा कर रगड़ने लगा.

अब आगे:मगर वो लंड अभी भी कड़क था, वैसे ही तना हुआ। मैंने कविता की ओर देखा, उसकी आँखों में भी शरारत थी।हम अपने होटल वापिस आ गई.

उसके बाद वो दोनों उठे और अपने कपड़े पहनते हुए भाभी कहने लगी कि अब उनको घर जाना होगा. चुत पर साबुन लगा कर मैं परी मैम के पीछे जाकर पेट व परी की चुत पर मसलने लगा. राखी ने मेरे नंगे लंड को अपने हाथ से दोबारा से सहलाना शुरू कर दिया था.

धीरज समझ गया कि वो चुदासी हो रही है … पर एक बात जो सभी मर्दों ने तय कर रखी थी कि रात तक कोई चुदाई नहीं करेगा बस आग भड़कायेगा. जब से तू आया है … तभी से चुदवाने की आग लगी है, मैंने तेरे लिए ही चुत की झांटें साफ़ की हैं. मैंने चाची को बांहों में भरा और उनको चूमते हुए कहा- आप चिंता मत करो जान.

उसकी हल्की गुलाबी त्वचा पर लम्बे काले बाल किसी भी औरत को जलने के लिए मजबूर कर सकते थे. मेरे पीछे पीछे सुखविन्दर भी आ गए और मेरी मदद करने लगे।उसमें खाना था और शराब की 2 बोतलें थी.

मैंने उसे झूठ बोला।वन्दना- अगर ये बात है तो मैं भी तैयार हूं, मैंने भी बहुत सी थ्रीसम मूवी देखी है पर कभी मौका नहीं मिला ऐसे करने का! अब दीदी को मनाना आप का काम है।मैं- ये हुई ना बात मेरी जान!यह कह कर हम फिर से स्मूच करने लगे. रोहन- रियली?सोनिया- हम्मम्म … इसलिए जब भी मैं तुम्हें चंपू बुलाऊं, तो समझ जाया करो … मैं तुम्हें चिढ़ा नहीं रही हूं, बल्कि तुम्हारी मासूमियत के प्रति अपनी पसंद जाहिर कर रही हूँ. मैं उसके गालों पर, गर्दन पर और उसके चेहरे को चूमते हुए नीचे की तरफ बढ़ने लगा.

मैंने कुछ सोचा और बोला- नहीं मुझे वहां नींद नहीं आती … मैं अकेले सोऊंगा.

अन्दर वाले कमरे में जाते समय उसने मुझे एक बार पलट कर देखा और फिर तेज कदमों से अन्दर चली गई. और वो आशिक नहीं बनेगा तो हमारा प्लान कैसे कामयाब होगा।वैसा ही किया मैंने … चश्मे के ऊपर से उसे देखा झटके से, वो आँखें फाड़ फाड़ के मेरे मलाई की तरह गोरे बूब्स के दर्शन कर रहा था।मैंने नकली गुस्सा करते हुए भड़क के कहा- क्या देख रहे हो?और अपनी टी-शर्ट ठीक कर ली।वो घबरा के उठ गया और हकला के बोलने लगा- क… क…कक…. मेरे कपड़े गंदे हो जाते।अब मेरे पास इसके आगे कहने के लिए कुछ नहीं था.

शान ने जब अपने खड़े लंड की फोटो भेजी, तो मैं एक मिनट तक बिना पलक झपकाए उसे देखती रही थी. मुझे चाची की कुंवारी गांड मारने को मिलेगी, ये सोच कर मेरा लंड झूम उठा था.

जब मैंने पहली बार तुमको सोनम दीदी की शादी में देखा तो मुझे तुम बहुत अच्छे लगे थे. मेरे द्वारा लिखे गये पूर्व प्रकाशित लेख-सेक्स में सनक या पागलपनबीवी की सेवा दिलाएगी मेवालड़कियां सुरक्षित हस्त मैथुन कैसे करेंऔर सेक्स फेंटेसी जैसे बहुत से लेख आप लोगों ने काफी पसंद किये हैं. अब चाची भी मस्ती से बोले जा रही थीं- आंह … चोद दे मुझे … उंहह ह्ह … हां चोद देईई ऊऊह ओह्ह्ह यस यस … दीपू तुमने आज मेरी गांड का भी उद्घाटन कर दिया … मुझे खुशी इस बात की है कि ये काम तूने किया है.

बीएफ वाले गाने

पर छाया नहीं होती तो शायद मैं भी नहीं होता क्योंकि माँ पिताजी के सेक्स से खुश थी और उन्हें सच्चा सेक्स मिला भी नहीं था और उन्हें ढूंढना भी नहीं था.

दोस्तो, मैं अन्तर्वासना की हिंदी देसी सेक्स कहानियां विगत 4 वर्षों से पढ़ रहा हूँ. मैंने भी चूत खोल दी और चूत पर थपकी देते हुए बोली- आ जाओ मेरे शेरों … आज मेरी फुद्दी को तसल्ली करवा दो. मैं उन्हें औऱ तड़पाने लगा और पैंटी के ऊपर से चूत को चाटने लगा, तो वो पागल सी हो गईं.

विजय को यह भी बता दिया कि आपके गांव से मेरे घर के बगल में ही बारात आने वाली है. उन्होंने मेरी चूत में लंड डाला हुआ है और मैं उनसे भी अपनी चूत को चुदवाने में लगी हुई हूं. बीएफ भेजो भोजपुरीऔर रही बात चुदाई की, तो मैंने सोचा कि ज्यादा बड़ी मांग रखने से हो सकता था कि परमीत पीछे हट जाए और मैं ये बिल्कुल नहीं चाहती थी.

इसी के चलते मैंने पोर्न की तरफ देखना शुरू किया तो मुझे अन्तर्वासना पर प्रकाशित होने वाली चुदाई की कहानी पढ़ना बहुत अच्छा लगने लगा. उसकी मौसी यानि कि अनिता जिसने अमृता से मुझे मिलवाया था, उसके पेट में मेरे बच्चे ने दुलत्तियां मारनी शुरू कर दी थीं और उसको पेट में तकलीफ रहने लगी थी.

नायरा बेक फ्लोटिंग कर रही थी तो राजीव नीचे से उसके चूतड़ सहला रहा था. मनोज ने कुछ हैवी स्नैक्स आर्डर कर दिए थे, ताकि डिनर की जरूरत ख़त्म हो जाये. उसके दोनों बच्चे सुबह सात बजे निकल कर सांय पांच बजे ही वापस आते थे.

दोस्तो, कैसे हो आप सब!मैं संजय एक बार फिर आप सबके लिए एक और मजेदार कहानी लेकर आया हूं. समुद्र की अठखेलियां करती हुई लहरें हमारी तरफ जब पहुंच रही थी तो दिल में अलग ही तरंगें सी पैदा हो रही थीं और वह नजारा बेहद रोमांचकारी लग रहा था. मैंने कहा- आपको क्या चाहिए?वो- तू क्या दे सकता है?मैं- वो तो इस बात पर निर्भर करता है कि आप क्या ले सकती हो.

क्योंकि उसने रिकॉर्डिंग बटन ऑन कर दिया था।अब आपको तो पता ही है आगे क्या होना था, मुझे थप्पड़ पड़े … पर घर की बात घर में दबा दी इज्ज़त के खातिर।मेरा फोन हमेशा के लिए बंद करवा दिया इसलिए काफी दिन तक किसी से कोई रिश्ता नहीं रहा। विकी और शरद भी अब सिर्फ दिखाई देते हैं, घर के पड़ोस में है इसलिए; पर बात नहीं होती.

कुछ दिनों बाद तो मेरी कमर की लचक, चलने का तरीका और माथे की सुंदर सी चमकती बिंदी देखकर कभी-कभी कुछ शरारती लड़के वो गाना भी गा देते थे. लगता है बंध्या ने बातों बातों में ही अपनी चूत की चुदाई की चुल्ल बताई होगी मगर इसके जीजा ने तो अपने काम के लिए इसकी चूत ही चुदवा दी.

मेरा ब्लाउज खुलते ही ब्रा में कसी हुई मेरी चूचियां उसकी आंखों के सामने उछलने लगी थीं. जैसे ही उसके लंड का सुपारे ने गांड के फूल को फाड़ा, मेरी तो समझो जान ही निकल गयी. सभी ने ये भी तय किया कि कपड़े छोटे से छोटे रखने हैं और अपने अपने शौक के हिसाब से सामान रख लेना है.

मैंने प्रिन्स को वही सोने की व्यवस्था की और हम दोनों बेडरूम आके सोने लगे. जब मेरे हस्बैंड यहां नहीं होते हैं, तो मुझे ही उसकी देखरेख करनी होती है. फिर थोड़ी देर बाद मैंने देखा तो उसके हाथ मेरे लंड पर जम गए थे और उसे अपने गांड में लगा रही थी.

देहात वाला बीएफ वीडियो मैंने भी उसे गालियां बकते हुए चिल्लाना शुरू कर दिया- आह सुहास मादरचोद … साले गांड फाड़ कर ही दम लेगा क्या. हालांकि अभी हम दोनों के बीच सामन्य बातचीत से आगे कोई दूसरे किस्म की बातचीत नहीं हो सकी थी.

40 साल का बीएफ

ये बात वो भी समझने लगे थे कि मैं उन्हें पसंदगी की दृष्टि से देखने लगा हूँ. खुले आसमान के नीचे जांटी (खेजड़ी के पेड़) के नीचे बालू मिट्टी में उन दोनों भाभियों की चूत मार कर मुझे मजा आ गया था. एक दिन मैंने उससे पूछा- तेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड बना है या नहीं?उसने शर्माते हुए कहा- नहीं.

जो डॉक्टर कपल था वो हमसे भी ज्यादा आगे था इस खुलेपन के मामले में।अगर डॉक्टर दोस्त के शरीर की बात करूं तो उम्र में मुझसे छोटा था और स्मार्ट भी था. वो मुझसे पूछ रही थी- क्या तेरा कोई बॉयफ्रेंड है?पहले तो मैं मना करती रही पर उसके बार बार पूछने पर मैंने सब उसको बता दिया कि क्या क्या मेरी जिंदगी में हुआ।वो भी सुन के दंग रह गई।उसने भी अपने बॉयफ्रेंड के बारे में सब बताया. बीएफ सेक्सी फुल एचडी हिंदी वीडियोफिर मैंने उसे सर की तरफ से हाथों को पकड़ा और पैरों को भाभी ने पकड़ लिया.

मेरी पहली बार चुदाई की कहानी के पहले भागसीधी सादी लड़की को लगा सेक्स का शौकमें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने स्कूल की कुछ हरामी लड़कियों से सेक्स के बारे में जाना, एक लड़की की चुदाई अपनी आँखों के सामने देखी, अन्तर्वासना साईट के बारे में जाना और इस साईट पर कहानी पढ़ कर अपनी बुर में उंगली की.

दोनों के लंड पर वीर्य की मलाई लगी हुई थी, जिसे मैं जीभ से चाट रही थी. मैंने कहा- शालिनी जी मैंने तो सब कुछ देख लिया, अब अपनी चूत और चुचियों का दीदार करा भी दो.

फिर उससे सहन नहीं हुआ तो बोली- अब मत तड़पाओ, डाल भी दो!तो मैंने अपना 6 इंची मोटा गोल टोपी वाला लंड एक ही झटके में नीता की चूत में अंदर डाल दिया, वो मस्ती से तड़पने चीखने लगी और वहशी तरीके से प्रिन्स का लंड और गोलियाँ चूसने चाटने लगी. हम दोनों की जीभ आपस में मिलने लगी और हम एक दूसरे का थूक शेयर कर रहे थे. तभी बीच से उठकर कोमल ने ताश की गड्डी निकाल ली और सभी को खेलने के लिए जबरदस्ती करने लगी.

मुश्ताक का इलेक्ट्रॉनिक्स का शोरूम है, वो रात को देर से ही घर आ पाता है पर आने के बाद सुबह 11 बजे तक बहुत रंगीन जिन्दगी जीता है.

भाभी साइड में खड़ी होकर हम दोनों को चूमा-चाटी करते हुए देख रही थीं और अपनी सलवार के ऊपर से ही अपनी चूत को मसल रही थीं. मैंने लेडी बन कर ही उसको बताया कि वो लड़का तो अहमदाबाद में रहता है. इधर मेरी नजर गई तो देखा कि मेरे भाई का दोस्त बिक्कू मेरी बातों को सुन रहा था.

स्टूडेंट बीएफ सेक्सीमैं- तुम जैसी खूबसूरत लड़की को छोड़ कर वो चूतिया दूसरी के साथ ऐसा कैसे कर सकता था. कुछ लोगों ने मुझसे भाभी के काम का भी पूछा, तो कुछ ने उनको चोदने की भी इच्छा की.

बीएफ सेक्सी हिंदी देहाती में

मैंने उन्हें तुरंत ही दूसरे कमरे में जाने के लिए कहा और आवाज देकर बोली- कौन?बाहर से एक लड़की की आवाज आई- भाभी मैं हूँ पूजा!पूजा मेरे बगल वाली की बेटी है।मैंने तुरंत दरवाजा खोला और पूछा- क्या बात है पूजा?पूजा ने कहा- मेरे यहाँ पानी नहीं आ रहा है. उसने फिर से मेरे पीठ पर नाखून गड़ा दिए, लेकिन मुझे कोई फर्क नहीं पड़ा … क्योंकि इस समय मुझ पर तो एक अलग ही जुनून हावी था. उसे खुद हैरानी हो रही थी कि वह अपने पति से इतना गन्दा कैसे बोल गयी।नीलम तुम इतना गिर सकती हो, मैं सोच भी नहीं सकता!” समीर ने गुस्से से अपनी पत्नी को देखते हुए कहा।अभी तो शुरुआत है मेरे पति देव.

शायद जेठजी के लंड को फिर से मेरी चूत की गुफा में सैर करने के एक और मौके का आहट मिल गई थी. उसकी सिसकारियां कुछ इस तरह उसकी उत्तेजना को बयां कर रही थी- आह्ह … दीदी, अह्ह … ये क्या कर रही हो! अम्म … आआहस्स्… तुमने तो मसाज के बहाने मुझे गर्म कर दिया दीदी. जैसे ही उसने अपना लंड बाहर निकाला और मुझे चूसने को बोला तो मैंने मना कर दिया.

मैं भाभी को किस करने लगा … लेकिन वो मुझसे छूट कर वापस पीछे भाग गईं. मेरी पत्नी का ऊपर वाला हिस्सा तो जैसे नग्न ही होने वाला था क्योंकि उसके चूचे भी इतने भारी थे कि गीली ब्रा तो उनको किसी हाल में संभाल नहीं पा रही थी. तभी अचानक चाची ने मेरे हाथ पकड़ लिए और बोलीं- नहीं दीपू … प्लीज … इससे आगे नहीं, प्लीज मुझे माफ़ कर दे … पर इससे आगे नहीं.

उसने कहा- तो मुझे अब कब मौका मिलेगा मेरी जान?मैं बोली- अभी तो मुश्किल है, विक्की आ गया है. 15 दिन में तो हम प्रेमियों की तरह बातें करने लगे और तीन हफ्ते में हम दोनों ने एक दूसरे से अपने प्यार का इज़हार कर दिया.

रिया भी जॉली के हाथों से अपनी गांड पर हो रहे प्यार के इजहार से शर्मा गयी.

उन्होंने मेरी रस से तर हो चुकी चड्डी को भी बड़े स्वाद लेते हुए चाटा. नंगी बीएफ हिंदी वीडियो’जब मैं चाची का नाम ले कर मुट्ठी मार रहा था, तो मैं शीशे से चाची का हाल भी देख रहा था. बीएफ सेक्स राजस्थानमैं कितनी बार अपनी चूत का पानी उनके लंड पर निकाल चुकी थी, पता ही नहीं चला. बहुत खुल कर मजे ले रहा था और मेरी बीवी के बारे में तो अंतर्वासना के लगभग सभी पाठक जानते हैं.

मैं भाभी की बात सुन कर वापस झोपड़ी में आ गया, पर वो दोनों वहीं पर खड़ी होकर खुसुर फुसर करके हँसती रहीं.

मैंने गुड्डी की चूत से मुंह लगा दिया और चूत के बाहरी भागों पर जीभ फिराई. वहाँ मैं पहली बार कॉलेज गयी तो वहाँ मैं फॉर्म जमा करने की लाइन में लगी हुई थी. फिर मैंने उन्हें अपनी गोद में बिठा कर ऊपर उठाया और उनके मम्मों को सहलाते हुए और चूमते हुए उनकी ब्रा के हुक्स खोल दिए.

वो हंस कर बोली- अरे वाह ये बढ़िया काम खोजा … इसमें तो दो नहीं बल्कि तीन काम हो जाते हैं. चूंकि मेरी गांड भी मारी गई थी, इसलिए मेरी गांड भी छिल कर खून से सनी हुई थी. मेरे प्यारे दोस्तो, कैसी लगी आप सबको मेरी सेक्स कहानी, जरूर बताइएगा और साथ ही अगर कोई गलती हो गई हो, तो माफ़ कर दीजिएगा.

मैथिली भाषा में बीएफ

वो एक दूसरे से हमेशा बात करते थे और एक साथ बैठ कर बात करने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं थी. मैंने गाड़ी एक शेड के नीचे रोक दी और वहां पर रुक कर बारिश रुकने का इंतजार करने लगे. मैंने फोन तो उल्टा करके रख दिया मगर मेरा लंड मेरी पैंट में तना हुआ था.

इतना बोल कर मैं चाची पर झपट पड़ा और चाची को लिटा कर उनकी चूत चाटने लगा.

मेरी पहली बार चुदाई की कहानी के पहले भागसीधी सादी लड़की को लगा सेक्स का शौकमें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने स्कूल की कुछ हरामी लड़कियों से सेक्स के बारे में जाना, एक लड़की की चुदाई अपनी आँखों के सामने देखी, अन्तर्वासना साईट के बारे में जाना और इस साईट पर कहानी पढ़ कर अपनी बुर में उंगली की.

5 इंची डंडे को।अब तक मामी ने लंड को पकड़ा नहीं था तो मैंने अपनी साँसें काबू में रख के धीरे से उनकी कान में कांपती आवाज़ में ‘प्लीज …’ कहा. हमारे घर के सामने वाले घर में एक परिवार है, उसमें तीन लोग रहते हैं, अंकल आंटी और उनकी 19 साल की एक बेटी जिसको मैं चोदना चाहता था. हिंदी सेक्सी डॉट कॉम बीएफउनके ससुर सेजल की चुत में लंड डाल कर सेजल के ऊपर आ कर उन्हें चोदने लगे.

मैंने दूसरे दिन ही अपने बॉस से छुट्टी की बात की तो बॉस बोले- ठीक है, ले लो. मैंने उसके चूचों को मुंह में ले लिया और उनको दबाते हुए उसके चूचों को चूसने लगा. उन्होंने दोनों हाथों से मेरी चूचियों को पकड़ लिया और जोर से ऐसे दबाने लगे जैसे उनका दूध निकाल देंगे दबा-दबा कर.

सभी लोग स्विमिंग कॉस्टूम में ही थे … लड़कियों में शबनम का स्विम सूट सबसे सेक्सी था. उसकी कामुकता अपने चरम पर थी और उसको अपनी टांगों के बीच में गीलेपन का एहसास हो रहा था.

उसने पांच-सात मिनट तक मेरी गांड की चुदाई अपने 6 इंच के लौड़े से की.

इस दौरान चूंकि मैं चाची की चुत में भी उंगली कर रहा था, तो उनका भी 2 बार काम हो चुका था. तने लंड को देखकर समीप आकर उसने मेरे लंड को अपनी मुट्ठी में कैद किया और सुपारे पर अपनी जीभ चलाते हुए बोली- पापा, आप भले ही सो रहे हों लेकिन आपका लंड मानने का नाम ही नहीं ले रहा है। अब आपको जगाकर परेशान थोड़े ही करूँगी. गलबहियां करके बैठ जाते थे, मैं उसकी गोद में सर रख कर लेट जाता था, हम दोनों बातें करते रहते थे.

बीएफ सेक्सी साड़ी में चुदाई जब मैं वापस आ रही थी तो देखा कि बॉस ने सोनम का हाथ अपने हाथ में लिया हुआ है. मैं ऐसा ही सोया था, तभी हमारी गाड़ी रुकी और सब लोग चाय पीने के लिए गए.

मैंने उसे बुलाया वो भी खुश हो गयी लेकिन उसने ऐसे जताया कि नहीं आना चाहती है. मैंने उनके निप्पल को अपने होंठों से पकड़ कर रब करने लगा और साथ की साथ जीभ से भी उनके निप्पल को रगड़ने लगा. अब वो भी नंगी थी और मैं भी … मैं उसके मम्मों को लगातार मसलता रहा, चूसता रहा.

बिहारी सेक्सी सेक्सी बीएफ

तब शायद मैंने उन पर इतना ध्यान नहीं दिया लेकिन जब मेरे हस्बैंड ने कहा कि ऑफिस में भी अक्सर मेरे बारे में पूछते रहते हैं तब मैंने उन पर ध्यान देना शुरू किया. अगले दिन जब समीर ऑफिस चला गया और नीलम सोने चली गई तो महेश धीरे से अपनी बेटी ज्योति के बेडरूम में घुस गया।वहाँ ज्योति अभी-अभी बाथरूम से नहा कर निकली थी और सिर्फ पेंटी और ब्रा में ही थी. कुछ देर के बाद मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने अपनी गति धीमी कर दी.

अब बातें करने में समय बर्बाद न करो और अपने लंड को मेरी इस तपती हुई भट्टी में घुसा दो जान!वो बोले- तो फिर तुम्हें भी मेरा एक काम करना होगा. अब आगे:वो अपने थूक से कभी कभी मेरे लंड को गीला करती और कभी मेरी गांड के छेद में अपना थूक डाल देती और मेरी गांड में उंगली चलाने लगती.

हम दोनों रोज मिलते थे, हंसी मजाक करते और आपस की कुछ बातें एक दूसरे से साझा कर लेते थे.

मैंने पूछा- क्या ख्याल है गुड्डी? फोड़ दूँ तेरी सील आज … क्यों जवानी बर्बाद किये जा रही है?वो बोली- राजे, मुझे सोचने का समय दे … मुझे सचमुच बहुत डर लगता है … तुम दोनों करो अपना काम … अगर मेरा डर कम हो गया तो देखूंगी … तब तक के लिए अपना हाथ जगन्नाथ. अब चारों ब्रांडेड कपड़ों के शोरूम में घुस गयीं और चारों ने ही मिनी स्कर्ट और अलग अलग तरह के टॉप लिए. दूल्हा और दुल्हन अपनी चुदाई के चुदाई के साथ ही औरतें के सुर में अपने लंड और चूत से चुदाई की ताल मिलाते हैं.

मैंने कहा- अगर भाभी को कुछ दिक्कत नहीं, तो आपको क्यों दिक्कत हो रही है?वो कुछ नहीं बोलीं. परमीत के बाल ज्यादा बड़े ना थे, इसलिए उसके संगमरमर जैसे बदन को देखने के लिए कोई रूकावट नहीं थी. मेरे सफेद बूब्स काली ब्रा में कैद थे … बॉस उन्हें ही देखे जा रहे थे.

उम्म्म्म … दर्द हो रहा है!”वो मेरे बूब्स चूसते हुए नीचे से धक्के लगा रहे थे.

देहात वाला बीएफ वीडियो: मैं उसके हाथों को अपने चेहरे के करीब ले आया और उसके हाथों की एक पप्पी ली. अगर तेरे अंदर इतनी ही गर्मी हो रही है तो मैं तुझे किसी कोठे पर बिठा देती हूं.

मैंने हैरान होते हुए कहा- उस साले बुड्डे का लंड अब खड़ा भी होता है?वो हंस कर बोली- साले का लंड दबा खा कर ही खड़ा हो पाता है … फिर भी उसने मेरी चुत में आग लगा कर मुझे छोड़ दिया था. मैंने कहा- नीचे देख … तेरी चूत गर्म हो गई है या देर है?उसने अपनी चूत को हाथ लगाकर देखा तो उसकी चूत पूरी गीली हो गयी थी. सीमा ने पिंकी से कहा- जरा दिखा तो कौन सा नया वाइब्रेटर लाया है तेरा कन्हैया?पिंकी हंसती हुई उठी और अलमारी से एक 10 इंच लम्बा और मोटा गुलाबी रंग का वाइब्रेटर निकाल लायी.

मैंने कहा- आप हो ही इतने लाजवाब और सेक्सी कि पूरी रात और दिन आपकी चुदाई करता रहूँ, तो भी दिल ना भरे.

फिर मैंने उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत चाटी और अपना लन्ड पेल दिया. ” सानिया ने हंसते हुए मेरा धन्यवाद किया।यह ‘थैंक यू’ तो ठीक था पर उसका मुझे अंकल संबोधन बिलकुल अच्छा नहीं लगा। मैंने ध्यान दिया इस आपाधापी में उसके होंठों पर लगी लिपस्टिक भी थोड़ी फ़ैल सी गयी है और गालों पर भी जो रंग रोगन किया हुआ है वह भी फ़ैल सा गया है।मेरे लिए तो यह सुनहरी मौक़ा था।मैंने सानिया को अपने पास आने का इशारा करते हुए कहा- अरे सानिया, यह तुम्हारी लिपस्टिक तो लगता है खराब हो गई है. मैं ये सब देख कर पागल हो गई थी कि मेरी माँ ने तो सीन ही बदल दिया था.