ट्रिपल स्टार बीएफ

छवि स्रोत,घीया की सब्जी कैसे बनती है

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ चोदी चोदा चोदी: ट्रिपल स्टार बीएफ, मेरी समझ में आ गया था कि रानी का मन ब्रून के लंड से चुदने का मन बन गया था.

सेक्सी वीडियो फुल मूवी दिखाओ

फिर मैं उनके पास गयी और उनका हाथ पकड़ के अपनी कमर पर रख दिया और खुद उनके गले में हाथ डाल कर खड़ी हो गयी. देसी भाभी सेक्सी वीडियो राजस्थानीमगर वो बीच बीच में मुझे अपने से दूर धकेल कर उकसाने की कोशिश भी कर रही थी.

अब आगे:मैं बड़ी की चुत पेलने में लगा था, तो छोटी ने कुटिल मुस्कान बिखेरते हुए अपनी चूत को अपने बड़ी बहन के मुँह के ऊपर रखी और उसके मम्मों को आटा की तरह गूंथने लगी. फिल्म की हीरोइन का सेक्सी वीडियोउसने गांड उठाते हुए कहा- बस अब और देर मत करो … मुझे मत तड़पाओ … जल्दी से चोद दो ना.

बारह बजते ही हमने केक काटा और वहाँ मौजूद बाकी सभी महिलाएं कुसुम को मुबारकबाद देने आने लगीं.ट्रिपल स्टार बीएफ: समाज के ताने सुनने से बचने के लिए वो मेरे घर कुछ अधिक ही आने जाने लगी थी.

उनके बुलावे पर मैं उनके यहाँ गया और उनकी मसाज कर उनके अन्दर की शर्म व लाज-झिझक को समाप्त किया और खुल कर जीवन का आनंद लेने की नई राह दिखाई.वो बाइक से कपड़ा निकालने चला गया और तब तक मैंने अपनी साड़ी हटा दी ब्लाउज के बटन खोल दिए … और पेटीकोट भी ढीला कर दिया.

सेक्सी वीडियो पति पति - ट्रिपल स्टार बीएफ

मैं बीच बीच में कभी एक कभी दो या कभी तीन उंगलियां उसकी चूत में डालते हुए चुत चाट रहा था.उस रात भी वैसा ही हुआ … मेरा हाथ उसकी चूची पर था और वो आज भी गहरी नींद में सो रही थी.

माँ ने उसको बोला- तुम मुझे बहुत अच्छा लगते हो, तेरे लिए मैं बहुत दिनों से इंतजार कर रही थी अब देख, हम तेरे घर में ही तेरे ही बिस्तर में सेक्स करेंगे।विशु बोला- हां आंटी, मैंने आपके लिए ही अंकुर से दोस्ती की थी. ट्रिपल स्टार बीएफ तभी एकदम से उमेश मेरे पीछे आया और बोला- आप अपनी प्लेट मुझे दीजिए, मैं निकाल देता हूँ.

मेरी बीवी की बड़ी-बड़ी चूचियां और बड़ी सी गांड को देखकर किसी का भी लण्ड खड़ा हो सकता है.

ट्रिपल स्टार बीएफ?

वो इस झटके को सहन नहीं कर पाई और चिल्ला उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ और रोने लगी. अभी जब मैं तेरी चूत मारूंगा, तब तो तेरी हालत और भी बुरी हो जाएगी।मां थोड़ी सी सहम गई।इसके बाद अजय अंकल ने मॉम का ब्लाउज खोला और मॉम अब खाली ब्रा में आ गई. इस बीच जब भी हम दोनों की नज़र मिलती, तो निगाहों में सिर्फ़ कामवासना दिखाई दे रही थी.

वो दोनों बहुत देर तक बेहोशी जैसी हालत में एक दूसरे से लिपटे पड़े रहे. जैसे ही ममता ने उसका लंड देखा था तो वह उसके लंड से चुदने के लिए ललायित हो गई थी. मैंने लंड को छिपाने की कोशिश भी की, मगर उसकी फूलती फिगर को मैम ने भी देख लिया था.

उसके लिप्स को चूसते हुए वो चौकीदार बीच बीच में कामुक आवाजें भी कर रहा था- आह्ह … उम्म … ओह्ह … कितने रसीले होंठ हैं. मैंने लंड खींचा और उसके मुँह में अपना लंड डाल दिया और सारा माल निकाल दिया. करीब 10 मिनट के इस फोरप्ले के बाद में खड़ा हुआ और मैंने भाभी को घोड़ी बनने को कहा.

पर यह घटना जो मेरे साथ घटी, वो अपने आप में अनोखी थी और इस घटना की वजह से मेरे जीवन की दिशा ही बदल गई. दस मिनट तक उन्होंने मेरे बूब्स को चूसा और फिर मैं नीचे बैठ कर उनके लंड को चूसने लगी.

मैंने सोचा कि क्या मम्मी अब मेरे दोस्तों से भी चुदेंगी? वो भी एक साथ?मेरे दोस्त के साथ जिसके साथ मैं इतना खेलता हूं कूदता हूं.

सामान सैट होते ही हम लोग जाने को हुए, तो मैम ने बोला- अरे … तुम लोग चाय तो पीते जाओ.

आपको मेरी यह सेक्सी कहानी कैसी लगी इसके बारे में अपने विचार जरूर मुझे बतायें. उसके बाद अंजलि का कॉल आया- भैया आप कहां पहुंचे?मैं बोला- बस चौक पर आ गया हूँ. हर धक्के पर उसके मुंह से आह्ह… ऊह्ह… आह्ह… की मस्ती भरी आवाजें निकल रही थीं.

आपने मेरी इस सेक्स कहानी के पहले भागकजिन की कजिन को चोदा-1में अब तक पढ़ा कि मैं ओनी चचेरी बहन सोनल के मामा की लड़की काजल को चोदने के लिए गर्म कर रहा था. अब मेरी दिक्कत कि बिना कपडो़ं के निकलूं कैसे? इंस्पेक्टर ने एक मिनट कार को देखा और अपने पास से एक चाबी का गुच्छा निकाला. डिस्चार्ज होने से पहले लण्ड फूलकर इतना टाइट हो गया कि अन्दर बाहर करना मुश्किल हो रहा था लेकिन मैं रुका नहीं बस पेलता रहा.

उसका मैसेज देख कर मुझे अपनी आंखों पर यकीन ही नहीं हो रहा था कि दूसरी टीम के मैनेजर ने मुझ उम्रदराज को मैसेज किया है.

और फिर मैं उससे बोला- सबसे अलग सेक्स करना है तो हमें बेडरूम जाना होगा. जब माँ फिर से गर्म हो गई, तब अभिनव ने मां की टांग को हवा में उठा दिया और उसकी चूत में लंड लगा दिया. आह … नशीली आंखें, सुनहरे कर्ली बाल, होंठों के ऊपर बाईं तरफ छोटा सा तिल और गालों पर एक हल्का सा निशान था, जैसे वो किसी चोट जैसा निशान हो.

मैंने सोचा कि अब मामी आंखें खोलेगी लेकिन नहीं!उनके माथे पर बल आ गये थे दर्द के कारण!फिर मैंने एक साथ जोर लगाकर पूरा लंड डाल दिया तो मेरी मामी आआ आआआ हह करके चिल्लायी. वो बोला- क्या आप मेरी वाइफ के साथ सेक्स भी करोगे?मैंने बोला- सर वो मेरा काम नहीं है … पर मसाज के दौरान अगर आपकी वाइफ का मूड हुआ और वो बोलेंगी … और आपको कोई दिक्कत ना हुई, तो मैं एक्सट्रा में ये भी कर सकता हूँ … वरना कोई बात ही नहीं है. पीछे से बस एक डोरी बंधी थी और आगे लो-कट वाला गहरा गला था, जिसमें से मेरे आधे चूचे, जो कि हद से ज़्यादा बड़े थे, वो बाहर दिखते थे.

हो सकता था कि उसको बारिश के शोर में मेरी इस हरकत के बारे में पता न लगा हो.

करीब बीस दिन बाद कृति का फोन आया कि मैं कल सुबह एक हफ्ते के लिए अपने मायके जाऊंगी. आप मेरे इस अनुभव को बड़े ध्यान से पढ़ने की कोशिश कीजिएगा, आपके लंड और चूत से रस टपकना चालू न हो जाए, तो मुझे जरूर लिखना.

ट्रिपल स्टार बीएफ यश ने मुझे पकड़ कर उठाया और अजीब तरह के पोज़ में खड़ा करके पीछे से फिर चोदने लगा. जब अपनी बहन को मैं स्कूल छोड़ने के लिए जाया करता था तो मैं देखा करता था कि रास्ते में एक सुनसान सा इलाका पड़ता है.

ट्रिपल स्टार बीएफ मैंने बातों ही बातों में उससे पूछा कि तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है?उसने बोला कि नहीं. मेरे बूब्स की लाइन ज्यादा दिख रही थी जिसे मैंने अपनी साड़ी से हल्का सा कवर किया.

उसी समय उन्होंने मुझे टोका और पूछा- कॉमिक्स पसंद आया या नहीं?मैं शर्मा गया लेकिन अंदर ही अंदर उसे देखने की इच्छा भी हो रही थी तो हिम्मत करके हाँ बोल दिया।तो उन्होंने कहा कि 1 घण्टे में आना तो दूसरा कॉमिक्स दिखाऊंगा।मैं फिर क्रिकेट खलने लगा लेकिन क्रिकेट में मन नहीं लग रहा था.

चूत को चोदा चोदी

उसके बाद मैंने अपने कपड़े पहने और भाभी को बाय बोल कर वहां से निकल गया. मैंने भी जोश में आ कर सोनल के बाल पकड़ कर उसे खड़ा किया और उसे किस करने लगा. यह सुनते ही मैंने एक जोर का धक्का लगाया और लंड एक ही बार में अन्दर पेल दिया.

उसने भी मेरे हाथ को अपने हाथ में लेते हुए मेरे सीने से सर टिका दिया. उसने मुझे वहां से जाने के लिए कह दिया और उस जवान लड़की की चूत चोदने की मेरी इच्छा अधूरी रह गयी. तो दोस्तो, मेरी भाभी के साथ मेरी चुदाई की यह कहानी आपको पसंद आई हो तो मुझे बताना.

मरीज को देखकर उसको एक इंजेक्शन देने को बोलकर निकल ही रहा था कि सामने से इनिषा आ गई.

हम सबने नाश्ता किया और वहाँ भी पापाजी कुछ नहीं बोले, नाश्ता करके वो अपने कमरे में चले गए. मैं चाहती हूं कि मेरा शरीर पूरा होने से पहले मैं पोते का मुंह देख लूं. मैंने उससे कहा- लंड ठीक से निकाल कर देख लो और तुम दोनों बारी बारी से लंड चूस कर मजा लो और मुझे भी मजा दो.

मैंने एक कमरा किराये पर लिया तो वहां घर में एक आंटी बहुत सेक्सी थी. पिछली बार की तरह उसने इस बार भी थैंक्यू लिख कर भेजा, जिसके जवाब में मैंने उससे कुछ पूछ लिया. राजश्री बोली- बस करो भैया, आपका लंड तो स्कूल के चौकीदार से भी बड़ा है.

मैंने दस मिनट तक उसकी गांड चोदी और फिर से उसकी चूत में लंड दे दिया. मैंने लंड को पैंट में ऐसे एडजस्ट किया मगर लंड पैंट में तम्बू बनाकर खड़ा हो गया.

उसने मुझे आवाज़ दी, तो मैंने उसे बीस मिनट वेट करने के लिए बोल दिया. तेज नशे वाली दो बियर पीने के कारण रानी ठीक से चल भी नहीं पा रही थी. 5 इंच है जो कि किसी भी आंटी, औरत और भाभी व लड़की की प्यास बुझाने के लिये काफी है.

वॉचमैन ने पूछा- बता सुबह सुबह किसका लंड लेकर आई है तू, किससे चुदवाकर आई है, नहीं तो मैं तेरा वीडियो सबको दिखा दूंगा.

बाद में मेरे फोन पर एक मरीज के अस्पताल में आने की सूचना पर मैं अस्पताल आ गया. सोनू ने अपनी चाची की चुदाई जारी रखी और मेरी मां की चीख निकले जा रही थी. उन्होंने अपने हाथों से मेरी कमर को ऊपर उठाया और मेरी चुत को चूसने लगे.

एक बार ऐसे ही मजे ले रहा था और मेरा हाथ उनके मम्मों पर टिका था और अपना काम कर रहा था. इसके बाद एक एक करके मेरी सालियाँ जवान होती गईं और अपने संतरों का रस मुझे पिलाकर मेरे केले से चूत को मजा दिलाती रहीं.

वह घोड़ी बन गई, मैंने ज्यादा देर ना करते हुए अपना लंड उसकी गांड के छेद पर लगा दिया और जोरदार धक्के के साथ अपना लंड उसकी गांड के अन्दर डाल दिया. मैंने कहा- मैंने क्या कर दिया मैम?उन्होंने कहा- क्लास में क्या कर रहे थे … और वैसे भी मैं तुम्हें देखती हूँ, तुम मुझे घूरते रहते हो. अब मैंने उमेश को मैसेज किया कि ठीक है … लेकिन मैं अपने बेटे को नहीं ले जाऊंगी … क्योंकि वापसी में रात हो जाएगी और उसको ठंड भी लग सकती है.

सबसे बडा लंड

फिर मैंने हील्स पहनीं और लाल रंग की नाखूनी लगाई … और लाल रंग की ही चूड़ियां पहनीं.

उसके बाद अक्सर जब कभी हम मिलते थे … शादी में या कहीं और … तो बस चुदाई कर लेते थे. मगर जब तक हम खंडहर में पहुंचे उसके बदन को बारिश ने गीला कर दिया था. अगले दिन जब मैं उठा, तो उसने मुझे अपने पास बुलाया और बोली- कल रात की बात को लेकर नाराज हो क्या?तो मैंने ना में सर हिला दिया.

हमारे जिस्म एक दूसरे से मिल गये थे इसलिए सुविधा की चूत ने भी पानी छोड़ दिया. मैंने उनको अपने दोनों हाथों में भर लिया और उनको दोनों हाथों से दबाने लगा. हिंदी सेक्सी चमैंने लंड खींचा और उसके मुँह में अपना लंड डाल दिया और सारा माल निकाल दिया.

पहले मेरी जान सोनल ने अपने नाजुक होंठों को मेरे टोपे पर लगाए … आह … मैं तो जैसे जन्नत में पहुंच गया था. वो फिर से मुझे अपने ऊपर खींच लेती थी और मैं फिर से उसकी चूत को चोदने लगता था.

मुझे विचार आया कि अंकल ने खुद तो 14 साल में शादी करके 10-11 बच्चों की क्रिकेट टीम बना डाली होगी, पर अगर 22-23 साल के लड़का लड़की अगर हाथ भी पकड़ लें, तो इनके फेफड़े सूखने लगते हैं. मम्मी ने कहा- बेटा, अकेले कैसे सोएगी … जा अपनी दीदी को भी बोल दे उसे भी साथ ले जा. उसने फोन उठाया और बोली- साहब जी को इतने दिनों बाद याद आई मेरी?मैं- अरे यार मैं कुछ काम में व्यस्त हो गया था और तुम भी शायद व्यस्त थीं … जिससे मुझे कॉल नहीं किया.

कुछ देर बाद मैं रसोई से चाय और कुछ नाश्ता लेकर आई और उमेश के सामने झुक कर मेज पर रखने लगी. मैंने उनके एक मम्मे को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया और उन्हें काटना भी शुरू कर दिया. मुझे काफी परेशानी हो रही थी तो मैंने अपने एक हाथ से सीट के उपर के हिस्से को पकड़ लिया और एक हाथ को सीट के नीचे डाल दिया.

मैं अब आपकी कोई बात नही मानूँगी।वॉचमैन- अभी तो मैंने तुमको कुछ करने को बोला ही नहीं और तुम अभी से नखरे कर रही हो।राजश्री- मुझे पता है अभी आप कुछ नहीं बोले लेकिन आप की नजरों से मैं समझ गई हूं कि आप फिर से मेरे साथ वही करना चाहते हो।वॉचमैन- जब समझ ही गयी हो तो स्पोर्ट्स के पीरियड में चली आना.

लेकिन लंड बाहर निकालते समय वो अपनी गांड उठा देती, जिससे चुदाई का मजा बहुत ज्यादा आने लगा. मेरा नाम अंकुर है मैं उत्तरप्रदेश का रहने वाला हूँ। ये कहानी मेरे मां के चुदाईपने के बारे में है। माँ का परिचय दे देता हूँ, मेरी माँ का नाम सुहासिनी है, उम्र 39 साल, रंग गोरा, बदन एकदम हुमा कुरैशी की तरह है, यानि कि गदराया बदन है। चुचे उभार मार रहे हैं।तो हुआ यह कि हम लोग गर्मी की छुट्टी में गांव आए थे.

वहां मैंने टीवी चला लिया तो …प्रिय पाठको, आपने मेरी पिछली कहानीचूत चुदाई की हवसपढ़ी. मगर मैंने प्यार से उसको सहलाया और वो फिर बिना विरोध किये हुए अपने गालों को चुसवाने लगी. मैंने सोनल के मुँह पर पानी छोड़ दिया और लंड को सोनल की जीभ से चटवा कर साफ़ करके बेड पर लेट गया.

मैंने सोचा कि मैं लगभग नंगा तो हूँ ही, बाथरूम में गिरने का नाटक करता हूँ, इससे वो मुझे उठाने आएगी और मुझे नंगा देख कर कुछ न कुछ सोचेगी. मैंने भी उसकी टांगों को फैला कर चुत पर उसकी गीली चड्डी को सूँघना चालू कर दिया. उसने मेरी बहन की पैंटी को निकलवा दिया और उसको अपनी जेब में रख लिया.

ट्रिपल स्टार बीएफ फिर मुझे भी ध्यान आया कि रात में चाची ने अपनी पैंटी से मेरा लंड पोंछा था. उसने पूछा- क्या देख रहे थे?मैं रोनी सी सूरत बना कर बोला- मैंने कुछ नहीं देखा.

सैक्स photo

जब उसकी टाइट बुर के बारे में सोचता हूं तो मेरा लंड खड़ा हो जाता है. वो बोली- संकोच मत करो … मैं लव में भरोसा नहीं करती, हां एक दूसरे को पूरा प्यार जरूर करना चाहती हूँ. फिर मैंने उन किताबों में से एक देसी इंडियन गर्ल की नंगी फोटो वाली मैग्जीन उठाई.

उसकी बढ़ती हुई सांसों और बढ़ी हुई धड़कनों के साथ ही उसके ऊपर नीचे होते वक्ष इस बात के गवाह थे कि उसके अंदर मेरे शब्दों ने वासना की चिंगारी फूंक दी है. आपकी चूत को चोद कर फाड़ दूंगा मैं आज… आह्ह … मैं भी गया मेरी रानी … आहह ओहह!इस तरह दोनों चरमोत्कर्ष पर पहुँच गए और एकदम से जैसे कोई तूफान गुजरने के साथ ही वातावरण ठंडा पड़ने लगा. वीडियो सेक्सी हिंदी में सेक्सी वीडियोमैं- क्या भाभी?भाभी अचकचाने का अभिनय करते हुए बोली- तुम और कौन? अब लो ये साड़ी ब्लाउज पेटीकोट पहनो.

इसके बाद उस आदमी ने जोर से कहते हुए अपनी बीवी को बताया कि बेबी मैं जरा काम से जा रहा हूँ, तुम तब तक मसाज एन्जॉय करो.

मैंने उसको बेड पर पटका और उसकी चूत में जीभ देकर तेजी के साथ उसकी चूत को मुंह से ही चोदना शुरू कर दिया. गांड थी मेरी बीवी के एकदम बड़ी उभरी हुई … मोटी गांड की बड़ी सी दरार … यह देखकर मेरा भी लण्ड खड़ा हो गया.

मैंने पूछा कि मुझे रैपर नहीं … वो चॉकलेट चाहिए, जो तुमने अभी खाई है. क्या मेरी प्यारी बहना अपनी चुदाई मुझसे करवाएगी?पीहू ने कहा- भैया, आप मेरे साथ कुछ भी कर सकते हैं. मैं उल्टा हो गया और अपना लंड उसके मुँह में देकर चुसवाने लगा और उसकी गुलाबी चुत पर मुँह लगा कर चुत को भंभोड़ने लगा.

शायद भाभी ने मुझे ये करते देख लिया था कि मैं उनकी खुली टांगों का निमंत्रण स्वीकार कर चुका हूं.

इंस्पेक्टर ने कहा- मेरे बाद नम्बर लगेगा तेरा, चलेगा?उसने कहा- चलेगा क्या दौड़गा साहेब. तो दोस्तो, यह थी मेरी और मेरे बहन की पहली चुदाई की कहानी … आपको कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं ताकि मैं अपनी दूसरी कहानी भी आप लोगों तक पहुंचा सकूं. नशे में टुन्न होने से रानी को कुछ पता ही नहीं चला कि ये किसका हाथ उसकी चुत पर है.

मां बेटे की सेक्सी गांव कीचूत से पुच-पुच की आवाज आ रही थी जो मुझे और ज्यादा जोश में भर रही थी. फिर मैंने पूछा- अच्छा, ठीक है, तो फिर क्या लेना पसंद करोगी?वो बोली- जो आपको सही लगे.

भाभी को नंगी करके चोदा

वो लंड को खड़े होते हुए देख रही थी … और मैं आंख बन्द करके उसके हाथों के स्पर्श के मजे ले रहा था. ममता को यह सब बताने का मेरा तात्पर्य था कि रोहित के साथ ममता एकदम से सहज रहे. अगर तुम चाहो तो!”लेकिन जीजू?”कोई लेकिन वेकिन नहीं, कोई किन्तु परन्तु नहीं.

मैंने पूछा- ये क्यों?तो पता चला हमारी पूजा भाभी की माँ इंदौर के निजी हॉस्पिटल में एडमिट हैं. राजा ने अनमोल से कहा- भाई आज मेरी तबियत खुश हो गई … तुमसे आज मैं हुक्का का पैसा भी नहीं लूंगा. कुछ देर तक भाभी की चूची को पीने के बाद वो उठी और भाभी ने मेरे कपड़े खोलना शुरू कर दिये.

दूसरे दिन जब उसका पति आया, तो उसने उससे भी चुदवा लिया ताकि किसी को शक ना हो. और अब तो तुम मेरे मुंह में माल भी गिरा दोगे।अजय बोला- जानेमन, सब कुछ पहली बार ही होता है और अजीब भी लगता है. वह बड़े प्यार से मेरे कामुक अंगों को सहला रहे थे और शायद इसी वजह से मैं भी उनसे प्यार कर बैठी और उनकी जीभ को मजे से चूसने लगी.

अगर मुझे तेरी सहेली की चूत नहीं मिली तो तू अच्छी तरह जानती है कि मैं क्या कर सकता हूं. उसके मुंह से आह्ह … आईई … स्ससी… सी … ओह्ह … की आवाज आ रही थी जो मुझे उसकी चूचियों को पीने के लिए और ज्यादा उकसा रही थी.

एकदम से लंड घुसेड़ने से बहन की चीख निकल गई ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मगर राजा पक्का गांड मारने का उस्ताद था.

इतना बड़ा मेरी बुर में गया, तो क्या होगा?मैंने उसे समझाया- पहली बार में थोड़ा दर्द तो होता है, मगर फिर मजा ही मजा आता है. बडे लंड वाली सेक्सीसोनू बोला- चाची आप बस इस वक्त का मजा लो!वह अपना लंड मां के ऊपर लग रहा था और मां को गर्दन पर किस कर रहा था. हिंदी मूवी फूल सेक्सी”हम दोनों पसीने से तर हो गए थे, बेड की करकराहट हम दोनों की सिसकारियों संग मिलकर पूरे कमरे में गूंज रही थी. मॉम ने मेरा लंड अपने हाथ में ले लिया और धीरे धीरे ऊपर नीचे करने लगीं.

मेरी मस्ती देख करभैया का लंडबड़ी स्पीड से मेरी गांड में कत्थक करने लगा.

मेरी सेक्स कहानी में पढ़े कि कैसे मैंने कोचिंग की एक लड़की की मदद की, उससे दोस्ती हुई. रोज चुदाई हो न हो लेकिन वो दोनों रोज ही मुझे अपना लंड जरूर चुसवाते थे. डेढ़ सौ से ज्यादा बार अपने शुक्राणु दान करने वाला मैं रोहित (बदला हुआ नाम) ज्यादा नहीं तो कम से कम 60-70 बच्चों का बाप तो बन ही चुका हूं शायद.

मैंने चाची के ब्लाउज को खोल लिया और उनके चूचे चूसने लगा। चाची आहें भर रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… चूसो… और जोर से… पूरा निचोड़ो मेरी चूचियों को. दोपहर से शाम हो गई लेकिन मां बाहर नहीं निकली तो मैंने पूछा मां से- मां आप कब जाओगी? शाम होने वाली है. ये मेरे जीवन का पहला अवसर था, जब किसी कपल ने मुझसे मालिश की मांग की थी.

टीका सेक्सी

उन तीनों ने मेरी बहन की पूरे शरीर पर केक लगा कर चाटना शुरू कर दिया. अब अजय अंकल ने माँ को उसी पोजीशन में किया और अब अजय अंकल का लंड मां के मुंह में और मां की चूत अंकल के मुंह के पास थी. उसे डर था कि कहीं चौकीदार सच में ही उसका सेक्स वीडियो पूरे स्कूल में न दिखा दे और उसकी बदनामी हो जाये.

इससे पहले मुझे कभी भी भाभी के बारे में उस तरह के ख्याल नहीं आये थे.

सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार! मेरे प्यारे भाइयों, भाभियों और लड़कियों के लिए मैं वर्जिन गर्ल की सेक्स स्टोरी लेकर आया हूं.

उसके बाद मैंने उनके दूध चूस कर उनको दुबारा से गर्म किया और इस बार मैंने भाभी के साथ 69 भी किया. मैंने उससे ये जानने की कोशिश नहीं की कि उसको मेरे बारे में किधर से मालूम हुआ है. एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सी मूवीसउनके साथ चुदाई की प्लानिंग करने लगा था कि किसी तरह से भाभी की चूत चोदने के लिए मिल जाये.

भाभी ने मेरी गर्लफ्रेंड की फोटो देखी तो उन्होंने मुझे गर्लफ्रेंड की चुदाई के बहाने खुद की चुदाई के लिए उकसाना शुरू कर दिया. अपनी स्टोरी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगी कि कैसे टोनी ने मेरी मस्त चूत की सील तोड़ी. उनके इस अंदाज से मै बहुत खुश हुआ और उनकी दोनों टांगों के बीच में आ गया और उन्हें किस करने लग गया.

सुविधा की चिकनी चूत पर लंड लगाकर उसकी चूत की गर्मी मेरे लंड को मिल रही थी. इस कारण उनके नाश्ते का इंतजाम हिमानी के घर ही कर दिया गया और उनके देख रेख की जिम्मेदारी मुझे दे दी गई.

रास्ते में वापस जाते हुए मैंने एक स्पोर्ट्स शॉप से स्विमिंग कॉस्ट्यूम लिया और फिर उसको घर पर आने के बाद पहन कर देखा.

फिर 3 दिन के बाद मुझे खबर मिली कि रानी के बाप ने उसकी शादी तय कर दी है. मेरे होंठों ने जैसे ही उसकी चूत को छुआ, उसकी आह की आवाज निकल गई और वो तड़फड़ाने लगी. मैंने कहा- आह्ह मेरी जान … आज तो तुम्हें देखकर मेरे मन में हवस का तूफान सा उठ गया है.

छोटी वाली लड़कियों की सेक्सी मैं डर के मारे ये भूल गई थी कि कमर के ऊपर मैंने कुछ नहीं पहना हुआ है. मगर अब एक बात ध्यान से सुन लो कि जब तक तुम यहां हो, तुम सिर्फ मेरे हो.

मैंने उसकी चूत की पंखुड़ियों के ऊपर अपने लंड को रगड़ना शुरू कर दिया. उस साले ने भीड़ होने का फायदा उठा कर अपने लंड को मेरी गांड पर लगा दिया था और लंड रगड़ने लगा था. एक दो बार तो उसने छूटने की कोशिश की लेकिन फिर वो गर्म होती चली गयी.

नंगा वीडियो डांस

उसके बालों को सहलाते हुए मैंने कहा- सच कहूं तो तुम्हारे चूतड़ों ने पहले दिन से ही मेरी हालत खराब कर रखी है. प्यार मुहब्बत की बातों में हम दोनों ने एक दूसरे के बारे में सब कुछ जान समझ लिया था. मैं उसी के साथ टहलता था और उन्हीं के घर पर सोता था।मैं जब गया तब मैं अपनी सेकंड नंबर वाली मामी की मुलाकात करने गया.

मैंने अपनी शर्ट और पैंट को सेकेन्ड्स की स्पीड से उतार फेंका और अंडरवियर निकाल कर नंगा हो गया. मैंने उनकी बांह को पकड़ा, तो वो उठकर मेरी गोद में आकर बैठ गईं और मुझे किस करने लगीं.

लेकिन दूसरी तरफ मैं यह भी जानता था कि अगर वे चुदाई करते भी हैं तो कोई भी उन पर ध्यान नहीं देगा क्योंकि सब लोग तो जागरण में बिजी रहेंगे.

जबकि मैं पूरी कोशिश कर रही थी कि जल्दी से जल्दी घर में एक बच्चे की किलकारी गूंजे. उमेश बोला- ठीक है … तो फिर मैं कल आपको लेने कितने बजे आऊं?मैं बोली- 8 बजे ठीक रहेगा … क्योंकि दूर जाना है. वो बोली- पर राहुल!मैंने दीदी को रोकते हुए कहा- दीदी प्लीज़ मान जाओ न!मैं दीदी को चूमने लगा.

कैसे हुआ ये सब? और भाभी की युवा बेटी कैसे आ गयी?मैं किशन पटेल गुजरात से हूँ. मैंने उसके हाथ को तुरंत हटा दिया लेकिन मुझे उसका हाथ अपने लंड पर फिरता हुआ बहुत ही अच्छा लगा था. कुछ देर तक मेरी जांघें चूमने चाटने के बाद अंकल और नीचे आ गए और अपनी नाक मेरी चुत पर पैंटी के उपर से ही रगड़ने लगे.

इसीलिए किसी भी प्रकार की गलती होने से पहले ही आपसे माफी की बात करना आवश्यक समझता हूँ.

ट्रिपल स्टार बीएफ: मैंने अपना सारा माल मामी की चूत में ही डाल दिया और ऐसे 10 मिनट तक लेटे रहे. वो हंस कर बोली- ठीक है मेरे जानू …अनमोल ने मेरी बहन की इच्छा के जैसा ही किया.

इसी बीच बड़ी बहन प्रेमा ने अपनी 34 की चुचियां मेरे मुँह पर रख दी और पीने को कहा. एक तो ब्लू फिल्म के वो गरमागरम सीन और दूसरा अंकल का स्पर्श मेरे बदन में कपकपी पैदा करने लगा. जवाब हाँ मिलने पर मैं किचन में गया और फ्रिज से चॉकलेट लेकर आया और अब उसके जिस्म पे बची पैंटी उतारकर उसकी बुर के आस पास चूमने लगा.

ये बात आप भी समझ सकते हैं कि इन सब चीजों का काम की जगह पर बहुत असर पड़ता है.

मैंने दो गिलास वाइन के भरे और एक सिगरेट जलाकर उसकी आवाज का इन्तजार करने लगा. आते-जाते, निकलते हुए या काम से आते हुए जब भी कभी सामना होता था तो भाभी जी से औपचारिक मुस्कान के साथ हल्की फुल्की वार्तालाप भी कर लिया करती थी. अब मैं उत्तेजना बढ़ने के साथ ही कविता के और करीब सरक गया और उसको बांहों में कसते हुए जोर से किस करने लगा.