बीएफ वीडियो हिंदी वाले

छवि स्रोत,सनी देओल सेक्सी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी बीएफ चुदाई दिखाओ: बीएफ वीडियो हिंदी वाले, एक गैर मर्द के नीचे लेट उसके लिंग का भोग जो कर रही थी मैं!राज मुझे बिस्तर पर मसल रहा था.

सेक्स तो सेक्स

मेरी बालों वाली चूत और मेरी गोरी जांघें देख कर सर ने सिसकारते हुए कहा- आह्ह … क्या चूत है यार।मेरे पास कोई चारा नहीं था. सेक्सी हिंदी गाना वीडियोमैंने उसे सारी बात बताई तो वह खुश हो गई और अपने कपड़े हटाने में मेरी मदद करने लगी। मैं उसे चूस रहा था, अपने दांतों से काट रहा था.

मगर चाची के चूचों को चूसते ही वो मुझे चोदना शुरू कर देती थी और मैं उनकी चूत के रसपान से वंचित रह जाता था. फोटो चूत की चुदाईमुझे पोर्न देखदेख कर और अन्तर्वासना पर कहानियां पढ़ पढ़ कर सारा अनुभव हो गया है, आप फ़िक्र मत करो.

अब रिया भी गांड में लंड के दिये दर्द से निकल कर आनंद की चौखट को चूम रही थी.बीएफ वीडियो हिंदी वाले: फिर थोड़ी देर बाद मैं थॉमस के लंड के पास आ गयी और उसकी फ्रेंची पर ऊपर से ही हाथ फेरा.

थोड़ी देर बाद मीना के हाथों को मैंने अपने पैंट के ऊपर फिरते हुए महसूस किया, तो मैंने समझदारी दिखाते हुए अपनी पेंट की चैन खोलकर अपने लंड को, जो कि बाहर निकलने को बेताब था, बाहर निकाल दिया.मेरी चूची में उसके जोर से दबाए जाने से हल्का दर्द हो रहा था क्योंकि वो मेरी चूची को बहुत जोर से मसल रहा था.

चूत में लंड डालकर - बीएफ वीडियो हिंदी वाले

आज मैंने शराब भी नहीं पी थी इसलिए मैं भी पूरे होश में था और मोनी भी.तभी हम दोनों ने एक दूसरे की आंखों में देखा और किस करना शुरू कर दिया.

मेरे होंठ चूसते हुए, मेरी चूत में उंगली करते हुए उसका दूसरा हाथ मेरे बूब्स को मसल रहा था. बीएफ वीडियो हिंदी वाले वो बार बार मादक सिसकारियां ले रही थीं, लेकिन कुछ बोल नहीं पा रही थीं.

बस हुबहू वैसा ही गोरा, मोटा, लम्बा और मजबूत लंड अपने सामने देख कर सबसे पहले तो मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह थोड़ा सा चूसा.

बीएफ वीडियो हिंदी वाले?

तो मैंने पूछा- फिर तेरा मन क्यूँ हुआ ये सब करने को?तो वो बोली- मैंने तुम्हें और मॉम को ये सब करते कई बार देखा तो …उसके बाद मैंने उसे पकड़ा. मैं मचल उठी और उसने मेरे शरीर पर अपना शरीर झुका कर मुझे एक लंबी किस की ‘उमाहम्म्ममम …’बस किस करते करते वो मेरी चूत के अन्दर धीरे धीरे धक्का देने लगा. क्या हुआ विपुल? इस तरह क्यों देख रहे हो? मैं अच्छी नहीं लग रही क्या?”आप तो बहुत ही सुन्दर लग रही हो … भैया आपसे इतने दिन दूर कैसे रह लेते हैं, मुझे समझ नहीं आता.

हमने बहुत कुछ खाया बहुत पिया … और फिर से 2 दिनों तक लगातार बस यही सफर चलता रहा. मेरी चूची बहुत बड़ी हैं तो उनको मेरी चूची को दबाने में मजा आ रहा था. हम दोनों लोग अक्सर शाम को ही मिलते थे क्योंकि हम दोनों का घर नजदीक था.

उनका मादक फिगर 28-26-30 का है, पर शायद वो अपने शरीर को फिट रखने के लिए जिम आती होंगी. मेरी गलती थी कि यदि मैं नेहा की शरीर की जरूरतों का प्रबंध कर देती तो आज ये रोहित हमारे लिए मुसीबत नहीं बनता. उन्होंने गुर्रा कर बोला- रंडी साली अभी तो आधा लंड घुसा है … अभी से तेरी चीख़ें निकल रही हैं … ले भैन की लौड़ी पूरा लंड ले.

उसने मेरी एक ना सुनते अपना लंड मेरी गांड में लगा दिया और डालने की कोशिश करने लगा. उसने लंड बाहर निकाल लिया, तो पिंकी ने उसके लंड को चूसना शुरू कर दिया.

अब आगे:मैंने मेरे घर का दरवाजा खोला, बाहर कोई नहीं देख कर खुशी से मैंने अपने घर का दरवाजा लॉक किया और अंकल के घर की तरफ भागी.

क्यारा के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं- आहह आहह ईइस … आस्स्स्सा… आहह!उसकी आवाज से लग रहा था, जैसे वो कई दिनों से लंड के लिए तरस रही थी.

इतने में मैंने दीदी को छेड़ते हुए पूछा- ऐसा क्यों पूछ रही हो … क्या जीजू आपको खुश नहीं कर पाते हैं?इस पर दीदी बोली- तेरे जीजू तो मुझे बहुत ज्यादा खुश कर देते हैं … पर शायद अमित तुमसे खुश नहीं है. ” बोलकर अंकल ने मुझे पीठ के बल लिटाया, मेरे पैर घुटनों में फोल्ड करके फैला दिए और मेरी टांगों के बीच आ गए. प्रियंका मज़े लेकर मोनू का झड़ रहा लौड़ा चूसने लगी और उसका साथ सीमा भी देने लगी.

मैं खुद को काम-कौशल में सिद्धहस्त मानता था और अगर नियति ने चाहा तो, अगर ये लम्हें भविष्य में कभी मेरे और वसुन्धरा के बीच में होने वाले अविश्वसनीय प्रेम-द्वन्द की आधारशिला बने तो यक़ीनन मेरी बहुत ही कड़ी परीक्षा होने वाली थी. भाभी ने कहा- पहले मुझे पूरी नंगी करो … लेकिन धीरे धीरे और मुझे चूमते हुए. अगर चाहो तो फिर से तुम्हारी एक बार ले लूं?यह कहते हुए मैंने उसको आंख मार दी, जो शीना ने नहीं देखा.

हरजोत ने उस दिन गुलाबी रंग की टी शर्ट और लाल रंग की लोअर पहनी हुई थी.

भावावेश में मैंने वसुन्धरा के हाथों से अपना हाथ छुड़ा कर उसको अपने आलिंगन में ले लिया और वसुन्धरा भी बेल की तरह मुझमें सिमट गयी. फिर उसने कहा- अगले हफ्ते मेरे पति मेरी सासू माँ को दिल्ली के हॉस्पिटल में लेकर जाना है, तुम मेरे घर पे मिल लो. मैंने अपनी जीभ उनके मुँह में डाली हुई थी और उनकी जीभ को चूस रहा था.

चाची अपनी ब्रा के ऊपर से अपने दूध सहलाते हुए बोलीं- क्या देख रहा है?मैं बोला- संगीता रानी … मैंने आज तक तुम्हारे जैसी सुंदर औरत नहीं देखी है … आइ लव यू चाची…वो भी वासना से भर कर बोलीं- आई लव यू मेरी जान. सच में दोस्तो, ये कोई बहाना नहीं था, आज मुझे हक़ीकत में नींद आ गई थी. फिर मैंने खड़े रहकर ही दिशा को टास्क दिया- दिशा, अब तुम भी आ जाओ अपने मन की करने के लिए.

भैया भी बहुत बड़े चुदक्कड़ थे, पर फिर भी भाभी बहुत ही चंचल और कुछ नया करने की शौकीन थीं.

उसके बाद वो भी गर्म हो गया और मुझे लिटा कर मेरी कमर के नीचे तकिया लगा दिया. उसने 5 मिनट तक मेरे संतरे जैसे होंठों को चूसा और सारी लिपस्टिक व लिप लाइनर छुड़ा डाली.

बीएफ वीडियो हिंदी वाले इतना ही नहीं मैं उसकी नाभि में भी अपने लंड को घुसेड़ और निकाल रहा था. दरवाजे पर नोक किया … तो अन्दर से आवाज आई- आ रही हूँ … कौन है?भाभी मैं विपुल.

बीएफ वीडियो हिंदी वाले मैंने रजाई हटाई तो उसका लंड पूरा अकड़ा हुआ था, मेरी भी नियत दुबारा से खराब हो गई और मैंने जैसे ही उसके लंड को टच किया तो पवन ने एकदम मुझे दबोच लिया और अपने नीचे ले लिया और सुबह सुबह एक बार और अपने लंड की सवारी मुझे करवा दी. हीना को अब जो आनन्द मिल रहा था, उसका बखान उसके अलावा और किसी के वश में नहीं हो सकता था.

वो हंसने लगीं और अपनी ब्रा के हुक खोल कर बोलीं- आराम से करो … जल्दी क्या है.

देहाती बीएफ वीडियो में चलने वाली

इस प्रक्रिया में मेरा तनाव में आया हुआ, फौलाद की तरह सख़्त और गर्म, धधकता हुआ लिंग वसुन्धरा की नाभि से ज़रा नीचे, वसुन्धरा से शरीर से सट गया. मैं अनजान बनते हुए बोली- कब और क्यों?दीदी बोली- इसलिए तो पूछ रही हूं ना कि तुम दोनों का सेक्स रिलेशन कैसा है. सच में दोस्तो … जो मजा चूत चटाई में है वो किसी और चीज में नहीं।बीच-बीच में मैं उसकी चूत चटाई को छोड़ कर उसके चूत के दानों को हाथ से सहला रहा था और कभी कभी तो अपनी अंगुलियों को अन्दर बाहर कर रहा था.

जूली बोली- इसको समझने के लिए मुझे ये पूरी चुदाई देखनी पड़ेगी, क्या तुम सब दुबारा कर सकोगे?मैं बोला- अभी तो दर्द हो रहा है, दर्द कम होगा तो सब दिखा दूंगा. वो गांड को उछाल उछाल कर मेरे लंड पर हल्की सी पट-पट की आवाज के साथ पटक रही थी. वो बोले- कल से ही आ जाओ!मैं खुश होकर बोली- जी जरूर!और फिर मैं घर आ गई, घर में भी सब लोग बहुत खुश थे.

लंड लेते हुए चाची की जवानी बहकने लगी और उनके कंठ से आवाजें निकलने लगीं- अहह.

साथ ही घर का सारा काम करके वह करीब 08:00 बजे वह अपने घर वापस चली गई. मैंने कहा- अरे यार भार्गव … मोबाइल चार्ज होने में तो बहुत देर लगेगी … तुम रुमित को फ़ोन करके बोल दो कि हम दोनों यहीं कार मैं ही बैठे हैं. ” अंकल ने फिर से मेरे मुँह को हाथों से पकड़ कर बंद किया, मेरी चुत में मानो कोई गर्म लोहे की रॉड घुसी थी.

विदेशी गोरी लड़की की चुदाई का मेरा अनुभव कैसा रहा??हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम प्रकाश चौधरी है. उसके मुँह से रिक्वेस्ट शब्द सुनते ही मैंने सोची कि ये शायद माफी मांगेगा. मेरा लौड़ा उसकी गर्म चूत के अंदर झटके मार मार कर वीर्य की पिचकारी छोड़ रहा था जिसे दीपिका अपने अंदर तक महसूस कर रही थी.

मैंने दीपिका के घुटनों को थोड़ा और मोड़ा और लण्ड को जोर से मारा तो लण्ड अंदर बच्चेदानी को जा लगा और दीपिका जोर से मजे में चिल्लाई- हाय … माँ, मार दिया जालिम ने. मैं जल्दी ही अपनी दूसरी सच्ची कहानी डालूंगा, जिसमें मैंने अर्चना की फ्रेंड एकता को कैसे चोद कर सील तोड़ दी थी.

वो मेरे पैर छूने नीचे झुका, तो मैंने उसको गले से लगा लिया और उसका माथा चूमा. मैं पूरी तरह से मदहोश होकर बिस्तर पर पड़ी थी और मुझे जल्दी से लंड डलवाने का करने का मन कर रहा था. प्रतिभा ने कहा- अच्छा तो ये बताओ … दोपहर को बैचलर पार्टी के लिए बुलाई गई रंडियों के साथ ऐश करते समय जनाब को हमारी याद नहीं आई.

अंकल से चुदते वक्त पेट से रहने का ख्याल मेरे दिमाग में नहीं आया, पर दो तीन दिन बाद उसका डर मुझे सताने लगा था.

मैं बोला- तुझे तो गांड मरवाना भी अच्छा नहीं लगता था?वो बोली- आपने सिखा दिया. उसको चूत में अजीब सा अहसास होने लगा। कुछ देर तक दोनों सूसू करते रहे। कितना आनंद आ रहा था। जब दोनों सूसू कर चुके तो एक-दूसरे को देख कर हँसने लगे।रिया- हा हा हा डैड, आपकी सूसू कितनी गर्म थी. अन्तर्वासना पर मन की बात शेयर करने से मन का बोझ हल्का हो जाता है इसलिए मैं कहानियाँ लिखती रहती हूँ.

नम्रता अपने दोनों पैरों को थोड़ा फैलाते हुए साड़ी को उठाकर कमर पर ले आयी. हम तीनों का नशा फट चुका था।कुछ देर बाद मैं उठा और कपड़े पहन कर जाने लगा तो हरकेश ने पूछा- कहां जा रहे हो?मैंने कहा- तुम यहीं रुको, मैं एक बोतल और लेकर आता हूं.

मैंने अपना मुँह उसकी चूत से हटाया और उसके ऊपर आके उसके मम्मों को चूमने और चूसने लगा. कुछ देर तक ऐसे ही मेरे लंड से सारा वीर्य चूसने के बाद मोनी की कराहें अब हल्की होती चली गयीं और उसका बदन ढीला पड़ गया। तब तक मैंने भी अपना सारा ज्वार उस कॉन्डोम में उगल दिया था इसलिये एक दो धक्के लगाकर अब मैं भी शाँत हो गया और धीरे से अपने लंड को मोनी की चूत से बाहर निकाल लिया।मेरी खामोशी भरी सेक्सी कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. वो मेरे कंधों तक पहुँच रहे थे, वो मेरे कंधों और गले की भी मालिश कर रहा था.

भाई बहन की चुदाई बीएफ वीडियो

वो अन्दर पानी लेने गयी, तो अपनी गांड कुछ ज्यादा ही मटकाते हुए चल रही थीं.

उसने अपनी एक ऊंगली उसकी गांड के छेद में डाल दी जिसके कारण सुमन उचक गई और मेरा लंड निकाल कर बोली- प्लीज, वहां उंगली मत डालो!मगर हरकेश उसकी बातों को अनदेखा करते हुए जोर-जोर से गांड में उंगली करने लगा और अपनी जीभ को चूत के छेद में डालकर जीभ से चोदने लगा. वो मुझे बताने लगी कि कैसे उसके पति उसे चोदते हैं और बस 2-4 मिनट में पानी निकाल कर सो जाते हैं. थोड़ी देर बाद उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी गांड उठाकर मेरा साथ देने लगी.

अब आशीष को क्या पता था कि मैं रियल में ही अपने जीजा का लंड चूसने में लगी हुई हूं. पेंटी का कपड़े वाला हिस्सा मंथर गति से धड़क रहा था और योनि की दरार के आस-पास पेंटी का गुलाबी साटन कुछ-कुछ सील कर(नमी युक्त होकर) गहरे रंग का दिख रहा था. इंग्लिश पिक्चर ब्लू हिंदी में”धत पगले, ये तो तेरे प्यार की निशानियां ही मेरे जिस्म पे सुन्दरता को बढ़ा देती हैं.

फिर मैं शुरू हो गया, बोला- रूई!और सारा ने अपना दायाँ चूतड़ ऊपर उठा दिया, मैंने पूरा लंड निकाल कर उधर को धक्का मारा, लंड चूत को रगड़ते हुए अंदर चला गया. मेरी उंगलियों पर उसकी चिपचिपी लार लग गई थी जिसे मैंने मुंह में लेकर चाट लिया.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज़ को धन्यवाद देना चाहता हूँ कि इस साइट ने मुझे यह कहानी लिखने के लिए प्रेरित किया. मैंने उसके रस भरे होंठों को चूसना चालू कर दिया और उसके चूचे को सहलाना भी चालू कर दिया. मैंने अपने कमरे की लाइट बुझा दी और पूरी नंगी होकर अपनी चूत सहलाने लगी.

फिर क्यों यार मैं यहां आया?मैंने 5 मिनट तक गर्लफ्रेंड को समझाया और उसे वापस विश्वास दिलाया कि मैं उसे कभी नहीं छोडूंगा, हमेशा साथ रहूंगा. जीरो वॉट के लाल बल्ब की रौशनी में मामा और मामी अन्दर एक दूसरे के जिस्म से चिपके हुए थे और दोनों पूर्ण नंगे थे। मामी मेरे मामा के ऊपर लेटी हुई थी और मामा मेरी मामी की गांड को भींच रहे थे।मैं उन दोनों की इस पोजीशन को देखकर मस्त हो रहा था और इधर मेरा लंड भी मस्त होकर लोवर के अन्दर तनने लगा था. मेरी उससे हमेशा हाल चाल जितनी ही बात हुई थी … मगर न जाने क्यों मुझे लगा कि मुझे इससे बात करनी चाहिए.

मुझे उसकी ये पिपासा बड़ी रोमांचक लगी और मैंने भी उसके होंठों में लगा हम दोनों के रस को चूस लिया.

इतना बड़ा लंड देख कर वो हैरान होकर मेरे कान में कहने लगी- इतना मोटा और लम्बा लंड तुमने मेरी बुर में कैसे ठोक दिया?मैंने कहा- अभी पूरा कहां ठोका है! मेरी रानी अभी तो सिर्फ एक चौथाई हिस्से से कम ही अंदर डालकर चलाया था. रास्ते में मम्मी एक केमिस्ट की दुकान पर गई और एक लिफाफे में कुछ दवाइयां लेकर आईं.

हालांकि मेरे लिये इस पल खुद को कंट्रोल करना मुश्किल था लेकिन मैं मोनी के साथ कोई जबरदस्ती भी नहीं करना चाहता था. वो मेरे होंठों को चूसते हुए मेरी लार को अपने मुंह में लेकर जा रही थी और कुछ इसी तरह मैं भी उसके मुंह के रस को पीने में लग गया. उसके बाद हमने थोड़ी देर यहां-वहां की बातें कीं तो तब तक शाम के आठ बज गये थे.

जैसे ही नम्रता पलंग पर बैठी, मैं भी उसके बगल में बैठकर उसके मम्मे दबाते हुए बोला- जानू दूध तुमने यहां से निकाला और मुझे पिला ये दूध रही हो. हेलो, नमस्कार दोस्तो, कैसे हैं आप सब!मैं मनमीत रोहतक से एक बार फिर हाजिर हूँ अपनी नयी स्टोरी के साथ जो बिल्कुल सच है. अनिता टांगें खोले ‘आहहह हहहहह उम्म्हह … अहह … उफ हायय आहह आहहह उम्म्म माहह …’ करने लगी और अपने ही होंठों को को दांत से काटने लगी.

बीएफ वीडियो हिंदी वाले वो एकदम से गरमा गई, बहुत तेज सिसकारी लेने लगी और मुझसे बोली- अब सहन नहीं होता, प्लीज जल्दी से अन्दर डाल दो. उसने ड्रेस से मैचिंग डार्क ब्लू कलर की पैंटी डाली थी, जो उसके गोरे चूतड़ों से चिपकी हुई थी और बहुत सेक्सी लग रही थी.

सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफ चोदी चोदा

’तभी तुषार ने मेरे मुँह में से अपना लंड बाहर निकाला … और मेरे मुँह से चीख निकल गयी- आआअहह …मुझे इस समय बहुत मज़ा आ रहा था. इतनी देर तक तन्वी साइड में अपनी चूत खोले बैठी थी।मैंने हर्षिल को आँखों ही आंखों में तन्वी की तरफ इशारा किया तो हर्षिल ने अपनी दो उँगलियाँ तन्वी की चूत में घुसेड़ दी. मैंने शिखा को अपनी तरफ खींच लिया और उसके होंठों पर किस करके उसके होंठों को चूसने लगा.

हमें इस तरह लटक कर चोदते देख डॉक्टर जूली की भी हालत ख़राब हो रही थी. हालांकि मुझे अपने मुँह से अपनी तारीफ करना पसंद नहीं है तब भी परिचय के लिए इतना लिखना आवश्यक है. गूगल गर्लफ्रेंड कैसे बनाएंhttps://thumb-v9.xhcdn.com/a/Iebp66f5ABplnGk1J7_oOw/015/313/619/526x298.t.webm.

तो वो बोली- अर्पित प्लीज आज मैं तुम्हें पा के बहुत खुश हूँ, आज मुझे मत रोको मुझे और शैम्पेन पीनी है, चलो और ले के आएं.

फिर उसकी कान की लौ को अपने होंठों में ले के चूसने लगा, तो वो सी सी करने लगी. वह धीरे धीरे ऊपर नीचे होकर लंड की सवारी करती रही और चूत के दाने को मेरे लंड पर रगड़ती रही.

पांच मिनट तक किसिंग करने के बाद मनीषा ने उठने का इशारा किया और बोली- मनोज आ जायेगा, हमें उठ जाना चाहिए. उन्होंने मुझे पानी का जग पकड़ाया, तो मैंने पानी लेते टाइम उनके हाथ पर अपना हाथ फिराया. मगर दीपिका की सहेली संजना को हम दोनों पर सौ प्रतिशत शक था और वह हमेशा मुझे देखकर मुस्करा कर लाइन देती रहती थी.

फिर उसने अपनी पैंटी धीरे से उतार कर उसी से अपनी बुर को पोंछ लिया और अपनी पैंटी को अपने हैंड बैग में रख लिया.

उसने भी मेरी आँखों में आंखे डालते हुए हामी भरी और धीरे से मेरे कान के पास अपना मुंह लेकर धीरे से मेरे कान में कहा- शालू, तुम हो बड़ी चालू!सच कहूँ तो तुम्हें देखते ही तुम मुझे पसंद आई थी, जब तुम्हें पहली बार रोड पर कार में लाल सूट में देखा तो तुम्हें चोदने की इच्छा पैदा हो गई थी. उस नजारे को देख कर लग रहा था जैसे आज मैंने किसी पोर्न स्टार की चूत मारी है. और फिर वह पल भी आया, जिसमें मेरे लंड से मेरे बीज की धार पूरी तरह से ऊपर निकलने लगी.

गेम वाला फंक्शनयारों रानी की चिकनी मुलायम जांघ से अमृत को चाट के नशा और भी बढ़ गया. उन्होंने मुझे देखा और बोले कि तू कौन है?मैं बोली- उससे आपको क्या करना है … मैं आपकी जरूरत पूरी करने आई हूं.

मोटी औरत का बीएफ फिल्म

इसलिए आज हम तुम दोनों ही सेक्स की दवा खा लेते हैं।रमेश- कहाँ रखे हुए हो जान सेक्स की दवा?रिया- वहां रैक पर रखी है। आज के दिन की तैयारी है।पहले उसने रिया को बिस्तर पर रखा. मैं दीदी के बूब्स के निप्पल को मुँह में लेकर चूसने लगा और काटने लगा और एक हाथ से दूसरे बूब्स को दबाने लगा. बस फिर क्या था, धक्के लगने शुरू हो गए, मैं थक जाता, तो नम्रता ऊपर आ जाती.

उसके बाद भाभी ने मेरे लंड को अपने हाथ में ले लिया और फिर से मेरे लंड के साथ खेलने लगी. अब आगे:सर के मुँह से मेरे पति की रजामंदी से मुझे चोदने की बात सुनते ही मेरे पैरों तले जमीन खिसक गई- सर क्या बात कर रहे हो? वो क्यों ऐसा करेंगे?तुम तो समझदार हो … उसे अपने प्रमोशन के लिए मुझसे रिकमेंडेशन चाहिए … मैंने रिकमेंडेशन दे दिया, तो उसे प्रमोशन मिल जाएगा. प्लीज डैडी … मेरी गांड की चुदाई कर दो।तभी रमेश ने अचानक से लंड के आगे का हिस्सा रिया की गांड में घुसा दिया.

मैं उसके गुलाबी होंठ चूसते निप्पल पर आया और एक निप्पल को अपने होंठों में दबा आकार चूसने लगा. उसने ब्रा दिखानी शुरू कीं तो चाची ब्रा उलटते पलते हुए मुझसे पूछने लगीं- बता न कौन से रंग की लूँ?मुझे ब्रा को लेकर कुछ समझ नहीं आया कि मैं क्या बोलूँ. अभी तक इस सारी प्रतिक्रिया के दौरान वसुन्धरा ने अपनी दोनों आँखें बंद कर रखी थी.

खाना खाने के दौरान मैं नोटिस कर रहा था कि खुशी प्रतिभा और सुमन से ठीक से बात नहीं कर रही थी. प्रिंसीपल सर ने कहा कि वे अपने दोस्त से इस बारे में बात करके देखेंगे.

उसे मेरे मुँह से एडल्ट जोक्स सुनकर बड़ा अच्छा लगता था और वो मुझे धौल जमाते हुए मजा करती रहती थी.

सरिता- पर अंकल वहां तो उंगली भी नहीं जा रही थी, इतना बड़ा लंड कैसे जाएगा?मैं- सब चला जाएगा. पादने का तरीकाफिर मैंने दूसरा धक्का लगाया तो साना ने मुझे वापस धकेला और लंड को बाहर निकालने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने लंड को नहीं निकाला. पेली पेला सिस्टमबस भाभी ने इतना ही बोला था कि मैं उठ कर उनकी चारपाई पर पहुँच गया और उनके ऊपर चढ़ गया. सेक्स के प्रति मेरा अधिक रुझान होने के बावजूद भी मैं नहीं चाहती कि किसी पड़ोसी के साथ मेरा चक्कर चले.

दोस्तो, मैंने सारा को सीधा लिटाया और थोड़ी सी रूई सारा के दायें चूतड़ के नीचे, एक छोटा सा कपड़ा उसकी गांड के नीचे और एक फूल उसके बाएं चूतड़ के नीचे रख दिया.

तभी मुझे राजीव की बात याद आयी कि वो बोला था कि आप ये चुदाई कभी नहीं भूल पाओगी. गिलास भर कर उसे रिया के हाथ में दे दिया और बोला- ये ले रंडी, पी ले इस अमृत को सारा, तेरा सारा खाना हजम हो जायेगा. मैंने अपना मोबाइल देखा वह तो खामोश था।ओह … यह तो मेज पर पड़ा कोई दूसरा मोबाइल बज रहा था? लगता है सुहाना अपना मोबाइल यहीं भूल गई है।मैंने फ़ोन को उठाया तो उधर से सुहाना की आवाज आई- सॉरी सर … मैं सुहाना बोल रही हूँ।ओह … हाँ … बोलो डिअर?”सर … वो मेरा मोबाइल …?”अरे हाँ … तुम अपना मोबाइल यही भूल गई लगती हो?”सॉरी सर! आप रख लेना.

नम्रता ने उस लसलसे रस को अपनी उंगलियों के बीच लिया और उंगलियों को खोलते हुए उस लसलते के बने तारों को दिखाते हुए अपनी जीभ में ले लिया. थोड़ी देर तक मेरे मम्मों दबाने के बाद वो खड़ा हुआ … और उसने भी अपने सभी कपड़े निकाल दिए. करीब दस मिनट गांड मारने के बाद मैं भी झड़ गया और गहरी नींद में सो गया.

बिहारी सेक्सी बीएफ ओपन

यस … मुझे भी अब खुद पर काबू रखना मुश्किल हो रहा है, कितने दिन से तुम्हें चोदने की इच्छा थी … तुम्हारी खूबसूरती के बारे में कंपनी की हर जूनियर की बीवी से सुना था. ये सुन कर सहेली के पापा ने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी और मैं मादक सिसकारियां भरने लगी. डॉक्टर जूली बोली- आमिर एक बार मुझे फिर तुम्हारे लंड का मुआयना करने दो ताकि चुदाई की बाद होने वाले फर्क पता चल सके.

साथ ही लंड घुसते ही मेरी जांघें मोनी की जांघों से टकरा गईं और एक पट्ट की सी आवाज हो उठी.

मेरा और उसका कमरा साथ-साथ हैं और मैंने उसके कमरे में देखने के लिए बीच में एक मोरी भी कर ली.

ऊऊऊऊं … मम्मय्मम … की आवाजें निकाल रही थी।दस-बारह जोरदार चपत लगाने के बाद मैंने लिफ्ट चालू कर दी और उसे लिफ्ट की दीवार में चिपका कर उसकी पीठ पर किस करने लगा. जब मेरी चूत झड़ गयी, तब मैंने अपने चड्डी में लगे उस वीर्य को चाट लिया और फिर वही पैंटी पहन ली. हिनदीबिएफमैंने उसकी चूत में अपना लंड पूरा धकेल दिया और उसके ऊपर लेट कर उसके होंठों को पीने लगा.

डॉक्टर मुस्करायी और बोली- आमिर, अंडरवियर भी उतारिये, मैंने आपको बचपन में कई बार नंगा देखा है और फिर डॉक्टर से कैसी शर्म?मैंने धीरे धीरे अंडरवियर नीचे कर दिया और लण्ड सरसराता हुए तन कर बाहर आ गया. और प्रियंका के सामने जाकर सीमा ने कहा- अब बोल साली कुतिया क्या कह रही थी?प्रियंका झड़ने के नज़दीक थी तो वो ‘उफ्फ उन्ह्ह आह्ह्ह सी सी …’ के आगे कुछ न बोली. भाभी मेरे पास आ कर बैठ गईं और बोलीं- देवर जी पहले मेरे लिए भी एक पैग बनाओ.

हमने एक दूसरे से अपने मोबाइल नंबर ले लिए थे और अब हम दोनों व्हाट्सैप पर भी एक दूसरे से जुड़ गए थे. हम्म … ठीक है अंकल जी!”सोनम बेटा, अगर तेरे पास टाइम हो तो कभी आना मुझसे मिलने!”जी अंकल जी, आ तो जाऊँगी मैं … पर डर भी बहुत लगता है, कोई देख लेगा तो?” मैंने हिचकिचाते हुए कहा.

भाभी अपनी उंगली धीरे धीरे नीचे ले गईं और मैं भी अपने होंठों के साथ नीचे सरकता गया.

मैंने फिर पूछा- बोलती क्यों नहीं? ये सब तुमने कहाँ से सीखा है?बिन्दू बोली- मेरी एक सहेली ने ये सब बताया था, वह अपने बॉयफ्रेंड के साथ करती है. रानी के चूचों का उतार चढ़ाव, उसकी दूध सी गोरी बाल रहित बग़लें, गुलाबी सी नाभि, उसके बिखरे हुए केश और मस्त चुदाई के बाद चेहरे पर छाये संतुष्टि के हाव भाव देख कर कामोत्तेजना से मेरा दिमाग झन्ना उठा. मेरे होंठों ने थॉमस के लंड को पूरा चिकना कर दिया था और उसका लंड अब एकदम कड़क भी हो गया था.

जानू का फोटो मैं रूम में और जोर जोर की आवाजें निकालने लगी थी- आह आह आह मेरी जान फक मी बेबी बेबी फ़क मी. थोड़ी देर चूत पर अपना लंड रगड़ते रगड़ते उसने धीरे से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया.

थॉमस मुझे अब तक 35-40 मिनट तक चोद चुका था और मैं भी पूरे जोश में थॉमस से चुदवा रही थी. चूंकि अंतर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है तो जो भी गलतियाँ हों उनके लिये आप कृपया मुझे माफ कर दीजिएगा. पहले पहल तो नम्रता अपनी चूत को मेरे कूल्हे पर चलाती रही, फिर थाप देने लगी.

भाई बहन की नंगी बीएफ

अब आगे:मैंने मेरे घर का दरवाजा खोला, बाहर कोई नहीं देख कर खुशी से मैंने अपने घर का दरवाजा लॉक किया और अंकल के घर की तरफ भागी. ”इट्स ओके डिअर!”सुहाना ने फोन काट दिया। मैं बाद में बहुत देर तक उसी के बारे में सोचता रहा और फिर ऑफिस के रूटीन कामों में लग गया।कोई दोपहर के दो बजे का समय रहा होगा। सुहाना का मोबाइल फिर से बजने लगा। सुहाना ने शायद पीहू के मोबाइल से कॉल किया था।सर मैं सुहाना बोल रही हूँ. तभी भाभी पानी पीने के लिए आईं, तो उन्होंने मुझे देखा कि मैं ठंड से कंप रहा हूँ.

इसमें मेरे पति नितिन की रजामंदी भी थी और ये बात मुझे नहीं मालूम थी. मैंने ज्यादा देर ना करते हुए अपने लंड को पीछे से उसकी चूत में डाल दिया और धक्के देने लगा.

मैं गेस्टरूम में चला गया और चाची की याद में अपने लंड को सहलाने लगा.

मीरा ने उसी शाम को रितेश को खाने पे बुलाया और कहा कि वो रीमा को भी साथ में लेते आए, तभी रात को हम अपने मिलने के बारे में भी सोचते हैं. अचानक उसने मुझे धक्का देकर बेड पर गिरा दिया और मेरे ऊपर चढ़कर मेरे लण्ड को फिर से अंदर ले लिया. उसकी बॉडी पर लेटे रहने के कारण मेरा लंड तन गया था जो मनीषा की बॉडी से टच होने लगा था.

अब मैं उसे लगातार किस करते हुए पीछे से उसके चुच्चों को दबा रहा था और वो मजे से दबवा रही थी. उधर पिंकी और नितिन की फटी पड़ी थी, उनको पता था कि ये उन दोनों कि गलती का नतीजा है. फिर वो ये कह कर किचन में चली गई। थोड़ी देर बाद वह खाना लेकर आई और हम दोनों ने साथ में भोजन किया.

बिन्दू बोली-प्लीज मैं रिक्वेस्ट करती हूँ ऐसा मत करना वर्ना मेरी मम्मी मेरी जान निकाल देगी.

बीएफ वीडियो हिंदी वाले: चूत के नीचे तकिया लगाया और अपना लंड चूत के छेद पर लगाया, जो गीली हो चुकी थी. बेडरूम मैं जाकर उन्होंने मुझे बेड के नजदीक खड़ा किया और अपने होंठ मेरे होंठों पर रखकर चूमने लगे, उनका लुंगी में खड़ा हो रहा लंड मेरे पेट पर चुभने लगा था.

सी आह … ह … ह … ह!”आह … ह … ह …!!”मैंने कुछ देर बाद उसकी उँगलियों को अपने मुंह से खुद ही जाने दिया और वसुन्धरा की आँखों में झाँका! प्यार, डर, समर्पण,शर्म, ख़ुशी … जाने कितने ही भाव थे उन आँखों में. फिर हम दोनों ने कपड़े पहन के थोड़ी देर आराम किया और शाम होते ही दीपाली अपने घर लौट गयी. जब मानसी आयी, तो बस स्टैंड पर हम दोनों ने एक दूसरे को पहली बार देखा.

मैंने भी उनको तड़पाने की सोची- अंकल आपका कहना है कि मैंने अन्दर कुछ भी नहीं पहना?मुझे नहीं पता?.

तुमको कभी भी किसी भी बात का डर नहीं रहेगा … और मैं तुमको कभी नुकसान भी नहीं पहुंचाऊंगा. सारा बोलने लगी- रूई … कपड़ा … फूल!मैं वैसे ही दिलिया के ऊपर नीचे के ओंठ चूसते हुए धक्के मारने लगा. हम तीनों ही एक बार झड़ चुके थे।अब हम दोनों ने फिर से सुमन को कमरे के बीच में ले आए और किसी भूखे कुत्ते की तरह उसके बदन से चिपक गए.