शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ गांव की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

विश्व की सेक्सी वीडियो: शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ, लेकिन बाद में वे मेरा साथ देने लगीं।अब मैंने उनका टॉप उतार दिया और उनकी ब्रा के ऊपर से ही मम्मों को दबाने लगा। दूध का दबना क्या हुआ हम दोनों जंगली जानवरों के जैसे स्मूच करने लगे।अब मैंने उन्हें वहीं किचन में ही फ्लोर पर लेटा दिया और स्मूच करने लगा।मैंने उनकी ब्रा फाड़ दी।भाभी नशे में मस्ती में बोलीं- साले यह क्या कर रहा है.

ऑफिस बीएफ वीडियो

वो एकदम निढाल सी पड़ी थीं मानो जिन्दगी का मजा ले रही हों।तभी मैं उनकी गर्दन से कंधों की तरफ आया और उनके कन्धों को अपने हाथों से उंगलियों एवं अंगूठे से दबाने लगा। इससे मामी जान के शरीर में कंरट सा दौड़ पड़ा. ब्लू बीएफ हिंदी पिक्चरनहीं तो आगे से मैं आऊँ क्या बहनचोदी?नीलू बोली- आ जा भोसड़ी वाले, मेरी गांड फटी पड़ी है और तुम्हें मज़ाक सूझ रहा है?उधर से संजय से चुद रही प्रिया बोली- साली कुतिया, गांड फटवा कर मज़े भी तो तू ही ले रही है.

जो कि एक भैया-भाभी हैं।भाभी एकदम बम हैं, उनका मस्ताना सा फिगर 36-28-38 का है और उनकी उम्र 23 साल की है। भाभी का रंग इतना गोरा है. एक्स एक्स एक्स जबरदस्ती बीएफ वीडियोउसकी और भी अधिक नशीली सिसकारियां मुझमें और जोश भर रही थीं।फिर मैं उसके शर्ट को ऊपर खींच कर उसके मम्मों चूसने लगा.

हेलो श्वेता…हाय!अन्दर आ जाओ! काफ़ी दिन बाद आई आज? कहाँ थी इतने दिनों से?बस बिजी रहती हूँ… लाइफ में और भी तो बहुत काम हैं ना!कहाँ बिजी रहती ही? बॉयफ्रेंड के साथ?हाँ.शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ: इसीलिए कॉलेज वगैरह बंद थे।इन छुट्टियों में हर बार की तरह मेरी मौसी हमारे घर आई हुई थीं। मेरी मौसी का नाम संगीता है, उनकी उम्र 48 साल है। वो दिखने में थोड़ी सांवली हैं.

सच में वो गजब की माल है।एक रात पूजा बोली- आपके दोस्त सोनू ने चाय लेते समय मेरे दूध टच कर दिए थे।मैंने कहा- अरे यार जानबूझ कर नहीं किए होंगे.कहाँ-कहाँ हाथ लगाते हो?उसकी बातों में सवाल कुछ इसी तरह के होते थे।कुछ समय बाद मेरा मेरी गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप हो गया, अब जोया और मैं रोज बातें करते, हमारी बातें ज़्यादातर सेक्स के बारे में ही होती थीं। जोया का फिगर 32-30-34 का है वो एकदम मस्त माल दिखती है।कुछ दिन ऐसे ही चला.

मासी के बीएफ - शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ

मगर मैं अपनी जीभ को वहाँ से हटा लेता।कुछ देर तक मैं ऐसे ही रेखा भाभी को तड़पाता रहा। मगर भाभी से ये सहन नहीं हुआ, इसलिए उन्होंने दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़ लिया और फिर अपने कूल्हों को थोड़ा सा उचका कर मेरे होंठों से अपने योनि द्वार को चिपका दिया।मुझे भी भाभी को ज्यादा तड़पाना ठीक नहीं लगा.तू यार खामखां मुझपर शक कर रही है। अगर कोई होता तो पगली मैं तुझे न बताती? तुझसे मेरी कोई बात छिपी है क्या??सरोज- साली.

मस्त माल लग रही थी।मुझे देखते ही वो मुस्कुरा उठी।मैंने पूछा- क्या हुआ सोनिया? सब कुछ ठीक है ना. शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ जल्दी करो।मैं मामी की चुत चाटने लगा। उनकी चुत बालों से भरी हुई थी।फिर भी मैं जीभ से मामी की चुत चाटता रहा.

सभी हँसने लगे।इस तरह हमने हँसते खेलते अपनी चुदाई का पहला राउंड पूरा किया।इस रस भरे ग्रुप सेक्स की हिंदी सेक्स स्टोरी पर आप अपने ईमेल मुझे जरूर कीजिएगा।[emailprotected]मेरी ग्रुप चुदाई की कहानी जारी रहेगी।.

शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ?

बाद में मैंने अपना रस उनकी चुत में ही छोड़ दिया।सेक्स करने के बाद चाची का मुँह एकदम लाल हो गया था. फिर फ्रेश हो कर रेडी हो गया और होटल जाने लगा।तभी आंटी ने मुझे रोका और अपने साथ जाने के लिए कहा।मैं और आंटी होटल गए। शाम में बॉस का फोन आया कि वो आज नहीं आ पाएंगे. मैंने कहा- भाभी आपके हाथ कितने मुलायम हैं।ट्रेन तेज रफ्तार के कारण हिल रही थी तो हम दोनों के शरीर भी टच हो रहे थे।जब मेरी कोहनी का दबाव भाभी की चुची पर होता तो वो मुस्कुरा देती थीं। मैंने कम्बल के अन्दर से उनको पीछे से कमर में हाथ रख कर पकड़ लिया, तो वो हंसने लगीं।मैंने कहा- भाभी बुरा तो नहीं लगा!उन्होंने कहा- बुरा कैसा.

’ कहते हुए बोरोप्लस की पास रखी ट्यूब उठाई और हाथों में क्रीम लेकर मेरी योनि में लगा दी और एक उंगली जहाँ तक जा सकती थी अंदर भी लगा दी।ऐसा करते हुए उसने ट्यूब सैम को दे दी और उसने भी अपने लिंग पर क्रीम की अच्छी मात्रा में लगा ली।अब रेशमा मेरे मम्मों और शरीर के अंगों को मादक तरीके से सहलाने लगी, मैं भी उसके मम्मों से खेलने लगी. मुझसे रहा नही जा रहा था और उससे भी…उसने कहा- भैया अब प्लीज डाल दो!और मैंने बाथरूम के फर्श पर तौलिया बिछा कर अपनी बहन को लिटाया… अपने लंड पर थोड़ा शैम्पू लगाया और उसकी चूत पर भी लगाया… लंड को रखा बहन की चूत पर और डाल दिया…‘आआआआ आअहह…’ की आवाज़ उसके और मेरे मुँह से एक साथ निकली… क्या प्यार से मेरा लंड मेरी बहन की चूत में गया. ऊपर से उसके पहले पति का दूर का रिश्तेदार भी था।पर नोरा के दिल में रवि के लिए एक इच्छा थी.

’फिर मैंने उसके पेट को चूमना चालू किया और उसकी नाभि के साथ थोड़ा खेलने लगा।उसको मजा आने लगा था, तो मैं उसकी चूत तक पहुँच गया। पहले मैंने उसकी पेंटी हटाई. उस दिन वो गजब का कहर ढा रही थी।उसने नेवी ब्लू कलर की हाफ टी-शर्ट और टाइट जीन्स पहन रखी थी. तो रास्ते में हमारी गाड़ी खराब हो गई। यह जगह थोड़ी सुनसान थी, घना अंधेरा था और वहाँ पर सिर्फ़ एक ट्रक खड़ा था।मैं गाड़ी से उतरा और उस ट्रक के पास मदद माँगने चला गया। ट्रक में एक बुड्डा ड्राइवर सो रहा था। उसकी उम्र करीब 65 साल की रही होगी, वो भुजंग काला था और बहुत पतला दुबला मरियल सा था।मैंने दरवाज़ा खोला तो वो उठ गया।‘सॉरी.

’ की आवाज करता हुआ मुझे पेल रहा था।थोड़ी देर बाद उसकी स्पीड बढ़ गई, तो मैं समझ गया कि अब उसका निकलने वाला है। तभी उसने लम्बा झटका मारा और सारा माल मेरी गांड में भर दिया। मुझे उसका गर्म माल बड़ा सुकून दे रहा था।कुछ पल उसने अपना लंड निकाल लिया, हम दोनों टॉयलेट से बाहर आ गए।अब मैं अपने बेड पर आया तो देखा कृष्ण और एक अन्य लड़का 69 में मज़े कर रहे थे।मैंने उस नए लौंडे को देख लिया. पर वो मुझे कोई रिप्लाई नहीं देती थी।एक दिन उसकी सहेली के माध्यम से मुझे पता चला कि वो भी मुझे प्यार करती है.

वो हल्की छुवन कामवासना को बढ़ा रही थी, हिना की पकड़ मेरे हाथ पर अब कसने लगी थी, उसके जिस्म की आग अब भड़क रही थी।तभी शायद समीर झड़ने वाला था और वो हिला.

तो मैंने मेरा हाथ उसके हाथ में डाला और हाथ की कोहनी से उसके मम्मों को छूने लगा।क्या मस्त चूचे थे उसके.

इसलिए मैंने एक चूचुक को मुँह में भर लिया और किसी छोटे बच्चे की तरह उसे निचोड़-निचोड़ उसका रस चूसने लगा।मैं भाभी के चूचुक को कभी चूसता. जिससे रिंकी एक बार और झड़ गई।अब वो बार-बार कहे जा रही थी- अब मत तड़फाओ. तो उन्होंने रात को वहीं रुकने का इसरार किया।मेरे मन में भी यही तमन्ना थी.

जिसे मेरी भाभी ने पढ़ लिया।जब सब रात का खाना खा रहे थे, तो भाभी ने मुझे अपने कमरे में आने को कहा। भाभी की उम्र अभी करीब 40 साल की होगी। अब वो मुझे उतना समय नहीं दे पाती थीं क्योंकि मेरा पूरा घर बच्चों से भर गया था। साथ ही भाभी का भी सेक्स में इंटरेस्ट कम हो गया था, बस अब वो भैया तक ही सिमट कर रह गई थीं, कभी कभार ही महीनों में मुझे चान्स मिलता. तब ऐसा लगा जैसे किसी ने तलवार से मेरे जिस्म को काट दिया हो… मैं बेसुध सी होने लगी… मैं बस यही सोच रही थी कि अगर क्रीम ना लगी होती तो मेरा क्या होता और मैं यह सोच ही रही थी कि तभी तीसरा धक्का लगा और मैं सच में बेहोश हो गई।जब रेशमा ने मेरे मुंह में पानी डाला तब होश आया. चाची ने दरवाज़ा खुला छोड़ दिया और रंग से सराबोर हो चुका अपने घर का आँगन धोने लगीं।उसी वक्त मैं वहाँ चला गया.

तो वो पैसा कमाने के लिए ज्यादातर घर के बाहर ही रहता था। भाभी के घर में तीन ही लोग थे.

??मैं- छोड़िए ना मामी।मामी- आपको मेरी कसम अपने दिल की बात बता दीजिए ना. बस मुझे तुमसे ये उम्मीद नहीं थी।मैंने उससे कहा- मैं तुमको बहुत चाहता हूँ. पर तब भी शायद 36-30-34 का रहा होगा।आँचल भाभी अपने पति के साथ रहती है.

उससे मुझे अच्छा नहीं लग रहा है।भाभी बोलीं- कितनी हिम्मत करके मैंने आपको फ़ोन किया. मैं तड़प रहा हूँ।उन्होंने भी बाँहें फैलाते हुए कहा- मैं भी तड़प रही हूँ राजा. इतनी सुन्दर लड़की आपको मिली है। इनको तो सारे लोग मुड़-मुड़ कर देखते होंगे?‘हाँ यह तो है.

फिर उसने मेरे पास एक बच्चे को भेजा। मैंने पूजा की तरफ देखा तो उसने अपने कान पर हाथ लगा कर फोन करने जैसा इशारा किया। मैं समझ गया और मैंने उस बच्चे के हाथ से अपना नम्बर उसके पास भेज दिया, उसने झट से नम्बर ले लिया और अपने घर चली गई।रात को उसने मुझे कॉल की और बोली- मैं तुमसे लव करती हूँ।मैंने भी उसे ‘लव यू टू.

क्योंकि वो मेरे परिवार के लोग थे। हालांकि अब भी मैं कुछ नहीं भूल पाई थी। जब-जब वो प्यार करते. मैंने कंप्यूटर डिपार्टमेंट से निकलना मुनासिब समझा। वहाँ से निकल कर मैं सीधा हॉस्टल आया। मेरा दिल बहुत जोरों से धड़क रहा था और गांड फटी हुई थी, ये सब पहली बार जो किया था.

शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ जिस पर वो एकदम से भड़क गई थी और उसने मुझे घर पर सबको बता देने की धमकी दे दी थी।अब आगे. मैं आप सभी के सामने अपनी एक रियल सेक्स स्टोरी सुना रहा हूँ।हैलो मेरा नाम शोभित है (काल्पनिक नाम) मैं 28 साल का हूँ और इंदौर में रहता हूँ। यह कहानी उस समय की है जब मैं 12 वीं क्लास में था।उन दिनों गर्मियों की छुट्टियाँ थीं और मैं अपने मामा के यहाँ घूमने गया हुआ था।एक दिन मेरे मामा के घर में सिर्फ मैं और मेरी ममेरी बहन यानि मेरे मामा की बेटी थी.

शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ बस अपने लौड़े को तैयार रखो दो और दो पटाखा चूतें और भी तो आ रही हैं तुम्हारे लौड़े पर नाचने के लिए।इस बात पर हम दोनों हँस पड़े।मैंने कहा- जब सब आ जाएं. हम दोनों तो खूब कपल एक्सचेंज करके सेक्स करते हैं।वो कहने लगी- कुछ होगा तो नहीं?मैंने कहा- कुछ नहीं होगा यार और अब तू भी कल अपना बुर चोदन करवा ही ले।वो मान गई।मैंने उसको समझा दिया कि अपनी बुर को एकदम चिकनी करके आइयो.

श्रेयापूरी नंगी हो हाती है तो उसका चिकना बदन, और चूत देख करशब्दिताउसके साथ लेस्बियन सेक्स करने लगती है!आप खुद उन दोनों की बातचीत सुन कर मजा लीजिए.

देसी फिल्म वीडियो बीएफ

‘क्या हुआ गीता आज भी देर हो गई।’ जवान सुन्दर स्मार्ट ऊँचे कद वाले कमल ने अपने मुम्बई के बड़े से फ्लैट की खुली रसोई में खड़े हुए अपनी पत्नी गीता के शाम को ऑफिस से आने पर आवाज़ लगाई।‘मैं देर से नहीं आई। तू जल्दी आ गया है. तब भी मुझे प्यार नहीं करते थे। अब तो वो नहीं लम्बे समय के लिए नहीं हैं।मैं- क्यों. सोसायटी की औरतों से जानबूझ कर टकराने की कोशिश करता।वे महिलाएं भी मेरी इन हरकतों को छोटा समझ कर बात को गंभीरता से नहीं लेतीं।शाक-भाजी बाजार में जाकर जो औरतें और लड़कियां झुक कर सब्जी आदि की खरीददारी कर रही होतीं.

पर मैंने वो गलती नहीं की।मैं वहीं शिप्रा के साथ बना रहा और अनुपमा को समझाया कि प्लीज इनको थोड़ा सम्भाल लो।उसने मुझे सुनिश्चित किया और बोली- मैं किसी को कुछ नहीं बोलूँगी।पर मुझे पता था कि ये सब बात लड़कियों के पेट में नहीं रहने वाली थी। ये बात को अन्दर रखेगी तो इसके पेट में दर्द होता रहेगा।खैर. लिंग मुंह में ले लिया और बड़े मजे से चूसने लगी।लिंग में बहुत तेजी से तनाव आया. मेघा को बहुत पसंद है।’जीनत बोली- हां पापा मम्मी के डर से आपके घर आकर ड्रिंक करते हैं.

तू अपना प्लान बना ले।इसके बाद मुझे किसी तरह जानकारी हुई कि भाई चला गया है, तो मैं मामा के घर यह सोच कर चल दिया कि आज ना मामा हैं, ना मामा का लड़का है, आज मसलूँगा मामी की मस्त गांड को। पर हाय रे मेरी फूटी किस्मत.

वाह… वाह… हां… सी… उफ़… ई…ई… ई…उई… हां…गई राज…गई!उसने जोरदार झटके मारते हुए अपनी टांग नीचे कर चूत भींच ली और झड़ गई- उफ़ कमल राजा मार डाला. मैंने गीता को बताया- गीता तुम्हारे पेशाब का छेद ऑपरेशन करके ही खोलना होगा, वरना शादी के बाद तुम बच्चे को जन्म नहीं दे पाओगी और ना ही तुम. मुझे जल्दी जाना है।उसने पैंट पहन लिया और ‘बाय बाय’ करता हुआ चला गया।कैलाश बोला- साला बदमाश है.

है ना?मामी ने मुझसे मुस्कुराते हुए कहा- आप अभी भी उतने ही शरारती हैं. मेरा पानी निकल जाएगा मेरे राजा जल्दी चोद दो ना।मैं उनकी चूचियां छोड़ कर बोला- अभी कहाँ मेरी रानी. दोस्तो, मैं यश होटशॉट एक बार फिर हाजिर हूँ एक नंगी चुत चुदाई की कहानी के साथ… आशा करता हूँ कि जैसे पहली सभी स्टोरी पसन्द आई, यह भी पसंद आएगी।मैं अपने दोस्तों, सेक्सी भाभी और सभी जवान हॉट लड़कियों को धन्यवाद करता हूँ कि सब मेरी स्टोरी पढ़ कर मेल करते हैं।बात पिछले साल अप्रैल की है, मैं बी.

जो गाड़ी के अन्दर सीट पर बैठी थी। मेरी गर्लफ्रेंड ने मिनी स्कर्ट पहनी हुई थी, जो घुटनों के ऊपर तक ही थी।वो पूरे 10 सेकंड तक मेरी गर्लफ्रेंड को घूरता रहा और फिर मुश्किल से आँखें हटा कर गाड़ी में झाँकने लगा। फिर वो गाड़ी का ड्राइवर साइड का दरवाज़ा खोल कर अन्दर गया और झुक कर स्टियरिंग व्हील के नीचे देखने लगा।मेरी गर्लफ्रेंड उस टाइम फोन पर लगी थी. आप सबको मेरा नमस्कार!मेरा नाम राजेश है, मेरी उम्र अभी 21 वर्ष की है, रंग गोरा है और मैं बिलासपुर (छत्तीसगढ़) के एक गाँव से हूँ। मैं अन्तर्वासना को पिछले दस साल से पढ़ता आ रहा हूँ.

वो लंड हिलाने में शर्मा रही थी।कुछ देर बाद मैंने अपना सारा वीर्य उसके हाथ में छोड़ दिया. क्या बकवास कर रही हो, बोलना क्या चाहती हो?तो उसने मुस्कुराते हुए कहा- पहले तो तुम शांत हो जाओ और यह जान लो कि मुझे किसी बात से कोई तकलीफ नहीं है, मैं कल बाथरूम से बाहर आ गई थी और जब तुम लोग सैक्स में इतने मग्न थे कि तुम्हें कुछ होश ही नहीं था तो मैंने वापस जाकर दरवाजे को बजाया ताकि तुम लोग मेरे सामने शर्मिंदा ना हो।मैंने गहरी सांस ली खुद को संभाला और कहा- ओह. इतनी जल्दी थोड़ी ना झड़ जाऊँगा।मैंने भाभी के चुत के होंठों को खोला और उसमें अपनी जीभ डाल कर चुत को लिक किया, भाभी चुत चुसवाने का मजा लेने लगीं। अभी उनका मजा चल ही रहा था कि मैंने अचानक से उनकी चुत के अन्दर दो आइस क्यूब डाल दीं और भाभी की चुत को बंद कर दिया।भाभी तड़फ उठीं- आआअहह.

जैसे यहाँ के मेरे बाकी दोस्त लिखते हैं। मेरे औजार का साइज साधारण 6 इंच का ही है.

इसलिए भाभी के ऊपर ही ढेर हो गया।किराएदार भाभी संग चुत चुदाई की सेक्सी कहानी आपको कैसी लगी प्लीज़ मुझे ईमेल कीजिएगा।[emailprotected]. इसकी चुत में एक बार में ही पूरा ही पेल देता हूँ।फिर मैंने ज़ोर से एक और धक्का मारा. तो मैं थोड़ा और ऊपर की ओर हुआ और मेरा लंड उसके होंठों को छूने लगा।मैंने लंड को इसी स्थिति में ही रखा.

या सब भैया को ही दे दिया?तो भाभी शर्मा कर बोलीं- क्या चाहिए आपको?तो मैंने उनकी चुची की तरफ इशारा कर दिया।वो बोलीं- एक शर्त पर. ’पर मुझे तो उसकी सील ही तोड़ना याद था। मैंने थोड़ा और झटका मारा तो मेरा आधा लंड उसकी बुर में घुस गया।क्या बताऊँ क्या मस्त मजा आ रहा था.

तो मैं समझ गया कि ये झड़ गई है।अब मैं भी अपनी सारी ताकत के साथ उसको चोदने लगा। मैंने उससे कहा- नीलू तूने आज मेरी इच्छा पूरी कर दी।उसने पूछा- कैसे?मैंने बताया- तुम्हारे ऑफिस में आने के पहले कदम से ही मैं तुम्हारे मम्मे दबाने और चोदने की फिराक में था. ’भाभी की मद भरी आवाज पूरे कमरे में गूंज रही थी।करीब दस मिनट चोदने के बाद मेरा रस निकलने वाला था. लेकिन मुझसे रहा नहीं गया।मैंने अपने हाथ से उनके नाड़ा को खोल दिया।मैंने आंटी की तरफ देखा तो मेरी गांड फट गई.

बीएफ हरियाणवी में

इसलिए रंगीन अखबार आया था, उसमें फिल्मी दुनिया की खबरें आती थीं।आज के अखबार में मल्लिका शेरावत की सेक्सी फोटो छपी थी, मैं अभी देख ही रहा था कि चाची आ गईं और उन्होंने मुझसे पूछा- यह तेरी फेवरेट हीरोइन है क्या?मैंने कहा- नहीं तो.

कुछ पल बाद मैं उसकी चूत को और तेज़ी से चोदने लगा, उसकी आवाज़ काँपने लगी. उम्म्ह… अहह… हय… याह… मगर बस इतनी थी कि वो और मैं ही सुन सकें।जब मैंने उसकी चूचियों पर किस किया. हो सकता है…पर भरत भाई भी उसकी चूत मार रहे थे ना… पर ज्यादातर वो सरला भाभी की गांड मारते थे.

सेक्स तो शादी के बाद होता है ना!यह सुनकर भाभी थोड़ी उदास हो गईं और वहाँ से उठ के चली गईं। मैं भी उनके पीछे आ गया और मैंने उनकी उदासी का कारण पूछा।भाभी मुझे कुछ नहीं बता रही थीं. शायद मैंने अपने रूम का दरवाजा गलती से खुला छोड़ दिया था।जब मौसी अन्दर आईं. रेप वीडियो बीएफजो उनके मन में था।मैं आज भी उनसे थोड़ी बहुत बात कर लेता हूँ। कभी-कभी वो मुझसे नॉनवेज बातें भी करती हैं, कभी मैं उन बातों पर हँस देता और कभी बात ज्यादा आगे न बढ़े.

मेरा तो लंड ये सोच कर ही बिल्कुल तन गया था।मैं अपना हाथ मामी के पेट की तरफ ले गया तो मामी बोलीं- ये क्या कर रहा है?मैं कुछ नहीं बोला और अपने हाथों को उनकी कमर पर चलाने लगा। फिर मैं कमर से थोड़ा नीचे की ओर आ गया और अपने हाथों को सलवार के नीचे से ले गया, पर ज्यादा नहीं और मालिश करने लगा।क्या मखमली अहसास था. इसलिए दोनों जोश के साथ भिड़ गए।कुछ देर सबकी चुदाई के बाद मैं और काव्या, वैभव और निशा और कालीचरण सब एक साथ झड़ने वाले हो गए थे। तो हमने सब लड़कियों को एक साथ नीचे बिठाया और अपना माल उनके मुँह और चेहरों पर गिरा दिया।वो सब लंडों के माल को चाटने और शरीर पर मलने लगीं।तभी भावना ने कहा- मैं अभी नहीं झड़ी हूँ.

फिर 3 दिन बाद हम दोनों के मोबाइल नंबर एक्सचेंज हुए। अब हम दोनों कॉलेज समय से पहले पहुँच जाते और क्लास रूम में रोमांस करते।दोस्तो, मैं आपको कैसे बताऊँ. तो इतनी बड़ी बात के लिए आप मुझे अपने घर तो बुलाओगी ही।वो भी बोलीं- हाँ. मैंने भी चाची की साड़ी खोली और चाची के मम्मों को दबाने लगा।अगले कुछ पलों में हम दोनों 69 की पोज़िशन में एक-दूसरे का आइटम चूस रहे थे। मुझे तो ऐसा लग रहा था.

तो मैं बलकार को फ़ोन करके बोल देता हूँ कि मैं थोड़ा लेट हो जाऊंगा।मैंने तुरंत बलकार को फ़ोन लगाया और उसे बोला- यार मैं थोड़ा लेट आऊंगा।उसने भी ‘ओके. मेरा तो बुरा हाल हो गया। इस बार मेरी जान कुछ ज्यादा ही नशीली लग रही थी. पर उसका परिवार गांव में रहता था। वो बेचारा शहर में अकेले ही झक मार रहा था। उसकी उम्र 38 की रही होगी.

तो वो हँसने लगी।अब लौंडिया हंसी तो समझो फंसी!थोड़ी देर बाद वो कॉफी पीने चली गई.

ये तो बहुत गर्म और रॉड जैसा कड़क हो गया है!मैंने बोला- ये तुम्हारे लिए ही हुआ है जान. वंदना धीरे धीरे अपनी पूरी मस्ती में आने लगी थी और कमोबेश मेरा भी यही हाल था.

तभी तो पूर्ण मिलन संभव हो पाएगा।मैं मुस्कुरा कर रह गई, मैं और कहती भी क्या. अभी तो तेरी गांड का उद्घाटन करना बाकी है।हम दोनों एक-दूसरे से चिपक कर सो गए। अभी कहानी खत्म नहीं हुई मेरे दोस्तो. यह कहती हुई सारिका अपनी चूत से रस धार अंकुर के लंड पर छोड़ने लगी।अंकुर भी गालियाँ देते हुए चोदे जा रहा था- आह सी.

कुछ होता है मुझे…’ हिना बोली।लेकिन मैं रुका नहीं… और फिर धीरे धीरे मैं हिना के पूरे जिस्म पर अपने हाथ को हल्के हल्के फिराने लगा. इतना अच्छा लग रहा था। मानो कोई वहाँ मीठा सा करेंट दे रहा हो।कुछ मिनट तक प्रमोद ने बारी-बारी से मेरे दोनों निप्पल चूसे।फिर हम अलग हुए और कपड़े पहने. साथ ही भाभी अपनी चुत में उंगली डालने लगीं।यह देख कर मैं हैरान हो गया और खुश भी! तभी मैंने सोचा कि आज भाभी को चोद कर ही मानूँगा।कुछ ही देर में भाभी ने अपनी प्यास उंगली से बुझा ली.

शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ नहीं तो मैं मर जाऊँगी।उसकी बुर की मचलन को देखते हुए अगले ही पल मैंने अपने पूरे कपड़े उतार दिए थे। मैंने उसे अपना लंड दिखाते हुए हिलाया तो वो बहुत डर गई- ओह. यहाँ तो पूरी जन्नत छुपी हुई है।अब वो मेरे करीब आते हुए मेरी पेंटी के अन्दर हाथ डाल कर अपनी उंगली से मेरी फुद्दी सहलाने लगा। मैं छुड़ाने का नाटक करने लगी.

बीएफ सेकसि

मैंने अपनी उंगली मौसी की गर्म चूत से बाहर निकाली और मैं उनके ऊपर चढ़ गया। मैंने मौसी के दोनों हाथ अपने हाथों में पकड़ लिए और मैंने अपने होंठ मौसी के होंठों पर रख दिए और उनके होंठ चूसने लगा।मैं मौसी के मुँह में अपनी जुबान डालने लगा और उनका थूक अपने मुँह में लेने लगा।आह. मैंने उसे जोर से पकड़ा और उसके होंठों पर किस करने लगा। कुछ देर धीरे-धीरे करने के बाद उसे अच्छा लगने लगा।अब मैंने लंड को थोड़ी बाहर निकाला और फिर धक्का दे दिया। इस बार वो ‘आआह. मुझे यह चाहिए और तू मुझे इसको मज़े लेते हुए देखना।‘ठीक है तो 1000 निकाल.

पर आगे की कहानी बाद में लिखूंगा। तब तक के लिए बाय और आप लोग अगर मुझे पसंद करेंगे तो मैं आगे भी अपनी कहानी ज़रूर लिखूंगा।आप अपनी राय मुझे जरूर बताएं और हाँ दोस्तो अगर इस कहानी को लिखने में मुझसे कोई ग़लती हुई हो तो मुझे माफ़ करना क्योंकि ये मेरी पहली कहानी है।[emailprotected]. नहीं तो बस काम हो जाएगा।वो हँसने लगी और बोली- अच्छा जी।मैं बोला- यह अच्छा-अच्छा छोड़. अंग्रेज सेक्सी बीएफपर वो अभी तक लगा हुआ था। उसका काम अभी नहीं हुआ था।वो मेरी रसीली चूत में अब और जोर-जोर से लंड पेलने लगा और बोल रहा था ‘साली रंडी है तू.

मैंने उसको देख कर एक स्माइल दी और फिर कमरे का दरवाज़ा बंद कर लिया।करीब 15 मिनट बाद में बाहर निकला तो वे दोनों हाल में टीवी देख रहे थे। चाय सामने मेज पर रखी थी।मुझे देखते ही समीर खुश हुआ और हम चाय पीने लगे।अब मैं चोर नजरों से हिना से नजरें मिलाने लगा.

मैंने उसको उस दिन अपने घर बुला लिया।वो उस दिन ब्लैक टॉप और ब्लू जीन्स डाल कर आई थी. पर शायद रब को यही मंजूर था।मैं अपने हाथ चला रहा था, वो मजे ले रही थीं। मैं मामी की कमर के बिल्कुल नीचे चूतड़ के बिल्कुल ऊपर आ गया था, वो सिहर उठीं और बड़ी धीमी आवाज में बोलीं- अरे.

उधर अपनी ही माँ की अय्याशी देख रहा था।जैसे ही मेरी कुतिया माँ पलटीं. यह शादी मैंने तुझसे ही बदला लेने के लिए अपने भाई से करवाई है, वो पहले से शादीशुदा है, पर तेरी दीदी नहीं जानती. नहीं तो हम दोनों को मंहगा पड़ सकता है।अभी हम दोनों इस विषय पर सोच ही रहे थे.

तुम चाहो तो पीछे डाल लो।यह सुनकर उसने मुझे पेट के बल लिटा दिया। अब उसने मेरे बैग से कोल्ड क्रीम निकाल कर मेरी गांड के छेद में लगाई.

मेरी जीभ उसके मोटी गदरायी बुर के भीतर तक जा-जा कर खलबली मचाने लगी थी।वह अपने शरीर को मरोड़ने लगी।मुझे बुर के पानी का नमकीन स्वाद और मस्त किए जा रहा था।फिर शिल्पा तड़फ कर बोली- चाचा अब आ भी जाओ. रात को बेहोशी की वजह से मैं आपको यहाँ लाया था। अब आप बिल्कुल ठीक हो. नहीं तो अब मैं जरूर नाराज़ हो जाऊँगी!मैं- आप बहुत सेक्सी और हॉट हैं।भाभी हंसते हुए कहने लगीं- हट शैतान कहीं के.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर वीडियोउसका लंड पत्थर की तरह कड़क हो गया था। मेरी चूत उसके लंड से रगड़ कर बहुत गर्म और गीली हो गई थी। इसलिए जल्द ही मैं उससे लिपट कर झड़ गई।’सरला भाभी अपनी सलवार के ऊपर से चूत खुजाने लगीं।‘उसके बाद उसने मुझे बिस्तर पर कुतिया बना कर खुद नीचे खड़े होकर मेरी चूत में पीछे से लंड पेल कर मुझे धीरे-धीरे मस्त चोदू सांड की तरह चोदा। उफ़. मैं बाज़ार से सामान लेकर आती हूँ।मैं जानबूझ कर निकल पड़ी।मैं कुछ देर बाद पीछे के दरवाजे से अन्दर आ गई और उनके प्यार को देखने लगी। मैंने उन दोनों की हरकतों का वीडियो अपने मोबाइल से बना लिया।कुछ देर दीदी से सेक्स करने बाद वो घर से चला गया। फिर दीदी ने देखा और मुझे अपने गले लगा लिया।‘थैंक्स छोटी.

सेक्सी बीएफ सनी लियोन सेक्सी

क्या आप बता सकती हैं कि मैं अपनी इंग्लिश स्पीकिंग कैसे सुधार सकता हूँ?वो- ओके अगर तुम चाहो. अगर भरत भाई को पता चलेगा तो तुझे ज्यादा समस्या होगी, मुझे इतनी नहीं।’कमल मुस्कराते हुए सरला के ब्लाउज में खड़ी घुंडियां और चूचियों को देख रहा था जो कि करीब-करीब बाहर निकल रही थीं।‘ओह कमल. इसलिये उसने मुझे अपना नम्बर दिया और कहा- कुछ चाहिये हो तो फोन पर आर्डर देना, हम घर पर डिलीवरी कर देंगे.

आआअह!उसने मेरे सर को हाथों से पकड़ लिया।मैं धीरे धीरे दोनों हाथों से उसकी चूचियाँ दबा रहा था, बीच बीच में उसकी निप्पल मसल देता तो वो मचल कर चीख पड़ती थी… उसके मुँह से अब बस मेरा नाम ही निकल रहा था. पहली बार तो सभी लड़कियों को दर्द होता है।मैंने कहा- तुम्हें परेशानी हो तो रहने देता हूँ!तो उसने मेरी पीठ पर मुक्का मारते हुए कहा- नहीं रे बुद्धू. ’ हो जाती थी, जब दोस्त के घर जाता था तो सबा से भी कुछ न कुछ बातें होती रहती थीं।एक दिन मैंने अपनी सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट प्रोफाइल पर सबा की एड रिक्वेस्ट देखी तो मैंने एक्सेप्ट कर लिया। उस टाइम तक मुझे यह नहीं पता था कि यह वो ही सबा है क्योंकि उसने अपनी फोटो नहीं लगाई हुई थी।एक दिन ऐसे ही मैं ऑनलाइन था तो वो भी ऑनलाइन आ गई। मेरे पूछने पर उसने सही बता दिया कि वो मेरे दोस्त की बहन है।खैर.

मुझे वो संबल दो जिससे मुझे लगे कि मैं औरत हूँ। मुझे अपने जिस्म की नुमाइश हुए काफी वक्त हो गया है। मेरे वो भी थके हारे आते हैं और सप्ताह में एक आध बार चोद कर मुझे छोड़ देते हैं। मेरी कामनाएं अधूरी सी रह जाती हैं।मैंने नखरे दिखाते हुए कहा- भाभी, वैसे तो मैं यहाँ मेडिकल की तैयारी करने आया हूँ। मुझे इस तरह की चीजों में दिमाग नहीं लगाना चाहिए। पर हाँ. वो तेल की बोतल लेते आओ और मेरे पैर के पंजों में तेल लगा दो।मैं गया और तेल की शीशी ले आया। उसने डॉक्टर साहब की गोदी में बैठे-बैठे ही मेरी तरफ पैर कर दिए।वो बोली- पंजों में तेल लगाओ. बस तुम्हें वही करना होगा, जो मैं कहूँ। वैसे अगर अभी तुम्हारे पास वक्त हो तो मेरे साथ चलो.

पर निशा अभी नहीं झड़ी थी, तो वैभव ने उसे जाकर चोदा।चूंकि वैभव और निशा आपस में पहली बार चुदाई कर रहे थे. ’ बोला और गाल पर किस किया।फिर कार चल पड़ी।रास्ते में उसने कुछ खाने का सामान भी लिया, फिर हम उसके घर पहुँच गए, काफी बड़ा घर था।उसने मुझसे कहा- तुम थक गए होगे.

मैं रूक गया और उसके ऊपर से हट गया। वो मुझे प्यार से निहारने लगी, मेरी छाती पर हाथ फेरते बोली- बहुत ख्याल रखते हो इसका?मैंने कहा- अब तू दिखा.

वो दिव्या को ले कर चली गईं।मैं लंड हिलाता ही रह गया।आपको मेरी बहन के साथ सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे मेल करके जरूर बताइएगा।[emailprotected]. बीएफ फिल्म दे वीडियो मेंऔर मेरी बुर ने पानी छोड़ दिया।तब मुझे पता नहीं था कि बुर भी झड़ती है! पर आज पता है और उन पलों को याद करके आज भी सिहर जाती हूँ।[emailprotected]. बीएफ वीडियो सनीमैं खोलती हूँ।’ नोरा बदमाशी और मस्ती से मुस्करा रही थी- पर बस दाने को हिलाना. साथ ही योनि की फांकों को चूमते हुए होंठों से ही धीरे-धीरे योनि के अनारदाने को भी तलाश कर रहा था।मगर थोड़ा सा नीचे बढ़ते ही मुझे कुछ गीलापन सा महसूस हुआ। इसका मतलब था कि रेखा भाभी को भी मजा आ रहा है.

जो कि अब नंगी थी। मगर उन्होंने अपनी दोनों जाँघों को भींच रखा था और दूसरा उनके बैठे होने के कारण मेरा मुँह उनकी योनि से दूर था इसलिए मैं उनकी जाँघों के जोड़ पर व योनि के ऊपरी भाग को ही अपनी जीभ व होंठों से सहलाने लगा। इसके साथ ही मैं दोनों हाथों से उनकी जाँघों को अन्दर की तरफ से सहला भी रहा था।इस दोहरे हमले का जो असर होना था.

तो मैं उसको किस करता था और उसके मम्मों को चूसता था।जब वो मुझे किस करने लगती थी तो मैं उसकी गांड और चुत में भी हाथ जरूर फेरता था पर शुरुआत में जगह ना होने की वजह से हम सेक्स नहीं कर पाए थे।उसके साथ के दिनों की बात है. तो उसके 34 साइज़ के दोनों चूचे उछल कर बाहर आ गए। उसके मस्त मम्मों को देखकर मैं पागल हो गया और उसके एक निप्पल को मुँह में लेकर चूसने लगा, साथ ही उसके दूसरे चूचे को हाथ से मसलने लगा। उसके मुँह से कामुक सीत्कारें ‘आआ. क्किस को ऐसी हरकत पे ग्गुस्सा नहीं आएगा। मैंने त्तुम्हें किसी चीज से वंचित र्रखा? क्कितना प्यार क्करता हूँ.

साथ ही योनि की फांकों को चूमते हुए होंठों से ही धीरे-धीरे योनि के अनारदाने को भी तलाश कर रहा था।मगर थोड़ा सा नीचे बढ़ते ही मुझे कुछ गीलापन सा महसूस हुआ। इसका मतलब था कि रेखा भाभी को भी मजा आ रहा है. अगले दिन आशु ने मन बना लिया कि आज नेहा की चुदाई रवि से करवानी है। उसने सुबह नाश्ते के समय नेहा से पूछ लिया- क्या आज फिर रवि को डिनर पर बुला लें क्योंकि कल से तो तुम ऑफिस जाओगी।नेहा बोली- आज डिनर बनाने का मूड नहीं है, बाहर खा लेंगे, वहीं तुम रवि को बुला लेना!मतलब वो चुदवाने के मूड में नहीं थी।खैर, अभी तो सपना के आने में चार दिन बाकी थे. मुझे सब कुछ आज ही सीखना है।भाभी- प्लीज़ राहुल ऐसे मत परेशान करो मुझे यार.

ब्लू फिल्म सेक्सी बीएफ हिंदी में

पर मैं उसकी जाँघों से होता हुआ टांगों तक उसको किस करने लगा। अब उसने चुदास से भरते हुए मुझको पकड़ कर अपने ऊपर खींच लिया और एक हाथ से मेरा लंड पकड़ लिया।अब वो मेरा लंड को हिलाने लगी, उसका हाथ लगते ही मेरा लंड और कड़क हो गया। उसने अब मुझको लिपकिस करना शुरू कर दिया था। कुछ मिनट तक हम दोनों लिपकिस करते रहे, जिससे हम दोनों और गरमा गए।कुछ ही पल बाद वो कहने लगी- अब बर्दाश्त नहीं होता. तो इस बार मेरा आधा लंड उसकी चुत में घुस गया।उसकी चीख निकल गई- आह अम्मी मर गई. प्लीज़।मेरी गर्लफ्रेंड समझ गई और मुस्कुराते हुए मान गई।फिर मैं वापिस उस बुड्ढे के पास आया, उसने मुझे पैसे दिए और मेरी गर्लफ्रेंड के पास जाकर उसे पकड़ लिया।ड्राईवर बोला- अब एक घंटे तक तू मेरी है और मैं अच्छी तरह से तुझे मज़े दूँगा.

’ निकली जा रही थी।नेहा कि गर्मागर्म चुदाई का खेल अभी चल रहा है।बस मैं अभी आया और आपको आगे की कहानी को बयान करता हूँ।आपके ईमेल मुझे मिलते हैं तो मेरा भी जोश भी बढ़ जाता है।[emailprotected]कहानी जारी है।.

उसकी उम्र 28 साल के लगभग की रही होगी। वो दिखने में भी किसी हीरोइन से कम नहीं लग रही थी। उसका फिगर 34-28-36 का होगा.

और बस मेरी एंट्री होने वाली है।मैं उसकी चूत को चूसने लगा। वो हाथ से ज़ोर-ज़ोर से मेरे सर को अपनी चूत में दबाने लगी। चूत चूसने से उसकी आवाज़ निकलने लगी- आह्ह. आगे मत पेलना।यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!मैं उतने लंड को ही आगे-पीछे करने लगा। थोड़ी देर में उसने अपनी कमर को जोर का झटका दिया और पूरा लंड अपने अन्दर ले लिया।अब सिर्फ वहां एक-दूसरे की सिसकारी और आहें. देहाती सेक्सी ब्लू पिक्चर बीएफऔर मुझे अपने पति के छोटे लंड से मजा नहीं आता है।अब मैं चुप हो गया था तो उसने मुझसे कहा- क्या मैं आपके लंड को देख सकती हूँ.

और जोर से करो ना जीजू…यह हिंदी सेक्स स्टोरी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!मनस्वी की स्पीड राजधानी मेल से कम नहीं थी. क्योंकि मेरी बहन sunny leone सनी लियोनी है।मेरी बहन है सनी लियोनी से भी ज्यादा सेक्सी चुदक्कड़-2. मेरे डार्लिंग कहने पर तो मानो उन्होंने आत्मसमर्पण ही कर दिया। मैं उन्हें गोद में उठा कर रूम में ले गया और किस पर किस करने लगा, वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थीं।मैंने उन्हें बिस्तर पर पटक दिया और उनकी नाइटी उतार दी। नाइटी उतरते ही मेरी आँखें फटी की फटी रह गईं। क्या मस्त फिगर था यार.

वो आकर फिर मेरे ऊपर चढ़ गई।मैंने पूछा- रूमाल का क्या करोगी?काव्या तो उसने कहा- जब पहली बार तुमने मेरे चूत की सील तोड़ी. मैंने जैसे मौन स्वीकृति दे दी हो और पेंटी को नीचे उतर जाने दिया।पेंटी के उतरते ही रेशमा ने कहा- वाह क्या बात है, रोने का इनाम कड़कते लिंग से.

00 बजे मैं मामी के घर चला आया। फिर मामी, मैं और उनके दोनों बच्चे खाना खाने लगे। मैंने किसी अनजाने डर से थोड़ा खाना खाया.

मैंने कहा- जब तुमने ऊपर से मुझे नंगी कर दिया है तो अधूरा काम कर के तो जाओगे नहीं… और मैं भी गर्म हूँ!उसने मुझे पूरी नंगी कर दिया और खड़े होकर पहले मेरे नंगे शरीर को देखा और फिर मेरी चूत को चाटना शुरू कर दिया. ’ से घुसेड़ दिया।मॉम की चुत चुदते-चुदते फ़ैल गई थी इसलिए मुझे लंड पेलने में कोई तकलीफ़ नहीं हुई. तो मैंने भी अपनी स्पीड और बढ़ा दी और आखिरी झटके मारते हुए कहा- मामी जान, मैं माल अन्दर ही छोड़ रहा हूँ।‘अम आआआहह.

सेक्स ब्लू बीएफ हिंदी में तो वो भी अपनी कमर उचकाते हुए मेरा पूरा साथ देने लगी।न जाने वो कितने महीनों से प्यासी थी. अबकी बार बाते थोड़ी अलग थी, गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड की बातें!फिर हम लोग नीचे जाकर सो गये.

मैं भी आ रही हूँ।हम दोनों ने और ज़ोर से धक्के पर धक्के मारने स्टार्ट कर दिए। उसके मुँह से इस बार कुछ तेज़ आवाजें आने लगी थीं।फिर आचनक मैं गिरने लगा और वो भी मुझसे चिपक कर झड़ने लगी।हम दोनों ने एक-दूसरे को कसके पकड़ लिया और एक-दूसरे को अपने-अपने पानी से नहला दिया।इसके बाद मैंने उठ कर ज़्यादा रोशनी वाली लाइट जलाई. फिर हम दोनों ने कुछ देर बाद दोपहर में खाना आदि खाया। कोई काम तो था नहीं, सो हम सब फिर से सोने चले गए। मुझे नींद नहीं आ रही थी। मुझे रह-रह कर मामी का आँख मारना याद आ रहा था।तभी मेरे कमरे का दरवाजा अचानक खुला और मैंने देखा कि मामी अन्दर आईं, अन्दर आकर उन्होंने मुझे आवाज लगाई- सो गए क्या राकेश?तो मैंने कहा- नहीं. उनकी चूचियां बाहर निकल पड़ीं, क्योंकि उन्होंने अन्दर ब्रा नहीं पहन रखी थी। मैंने रेखा आंटी की दोनों चूचियों को मुँह में भर के चूसना शुरू कर दिया। मैं आंटी के मम्मों को ऐसे चूस रहा था.

वीडियो बीएफ चाहिए वीडियो बीएफ

सच में क्या मस्त चीज़ थी वो यार!चूचों को सहलाते हुए थोड़ा सा हार्ड लग रहे थे, लेकिन जब दबाना स्टार्ट किया तो बिल्कुल नर्म थे। उधर मेरे अंडरवियर के नीचे मेरा लंड आउट ऑफ कंट्रोल हो रहा था, वो भी चूचे दबवाने में मस्त होती जा रही थी।मैंने सोनिया को बिठा कर उसके टॉप को उतार दिया। वो भी मेरी शर्ट उतरवाना चाहती थी, लेकिन हिम्मत नहीं थी।उसका टॉप उतरा तो. आप सबकी इच्छा पर मैंने अपनी सुहागरात की सेक्स स्टोरी लिखने का तय किया है। मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सब लोगों को मेरी ये कहानी अच्छी लगेगी।वैसे मैंने पहले ही अपने बारे में अपनी कहानीदेवर ने ब्लू-फिल्म दिखा कर फंसाया और चोदामें सब कुछ बताया है. ’ की आवाज निकल गई। भाभी ने अपने पैरों व हाथों को समेटकर मेरे शरीर को जोरों से भींच लिया और बड़े ही प्यार से मेरे गालों को चूम लिया जैसे कि मैंने बहुत बड़ा और गर्व का काम किया हो।एक बार मैंने अपने लिंग को थोड़ा सा बाहर खींचा। मैंने फिर से एक धक्का और लगा दिया.

हम सब ठीक होकर अलग अलग हो गए।मामी को देख कर मैंने कहा- अच्छा भाभी, मैं अपने कमरे में चलता हूँ. अभी आती हूँ।मैं पायल के हज़्बेंड की आवाज़ सुनकर एकदम से डर गया कि अब क्या होगा, मैं धीमे से बोला- पायल.

ये सोच कर तो मेरा लंड खड़ा हो गया।मैं हया को एकटक देखता रहा।तभी उसने पीछे मुड़ कर मेरी ओर देखा.

ये खुद हो रही है।दोस्तो, बहुत मजा आ रहा था कि तभी उसकी मम्मी की आवाज़ आ गई, वो एकदम से डर गई और अपने कपड़े उठा कर नंगी ही वहाँ से चल पड़ी। मैंने उसे रोकने की कोशिश की. जैसे ही वो सीधी हुई, मेरी उंगलियाँ भी बाहर निकल गईं, पर मैं इस बार पूरा मजा लेने और देने के मूड में था क्योंकि पिछली बार हम पहली बार मिले थे तो कहीं ना कहीं थोड़ी सी झिझक थी पर इस बार मैं मानसिक रूप से पूरी तरह से तैयार था. मैंने केक काटा और उसे खिलाया और फिर उसने मुझे खिलाया।उसके बाद उसने बड़ा सा टेडी मुझे दिया और कहा- ये आपके लिए!मैंने मुस्कुरा कर उसे ‘थैंक्स’ कहा।फिर वो कहने लगा- मेरा रिटर्न गिफ्ट कहाँ है?मैंने बोला- बोलो क्या गिफ्ट चाहिए तुम्हें?तो वो हँसते हुए खुल कर कह दिया- भाभी आप इतनी खूबसूरत हो और जवान भी.

उनके स्पर्श से ही मेरी सिसकारी छूट गई- आआह्हःसर- क्या हुआ?मैं शर्म से आँख बंद कर बोली- कुछ नहीं, आप लगाओ, बहुत अच्छा लग रहा है. जिस कारण मुझे रेखा भाभी की योनि तक पहुँचने में थोड़ी दिक्कत हो रही थी।मैं रेखा भाभी का एक पैर उठाना चाहता था. कुछ ओढ़ लो!मैंने कम्बल निकाला और ओढ़ लिया तो भाभी बोलीं- हाँ ठंड ज्यादा है.

मॉम की आवाजें सुन कर मैंने अपनी स्पीड बढ़ा ली और उनकी चुत में ही अपना पानी निकाल दिया।कई बार चुदने के कारण मॉम की हालत बहुत खराब हो चुकी थी और वो मेरे सीने से लिपट गई थीं। मैंने उनको बांहों में पकड़ा और कमरे में ले जाकर बिस्तर पर गिरा दिया और शराब पीने लगा।इसके बाद रवि और उसके दोस्त अपने लंड हिलाते हुए फिर से तैयार हो चुके थे।मेरी कहानी पसंद आई? मेरी ईमेल पर मुझे मेल कीजिए।[emailprotected].

शिल्पी राज का वायरल वीडियो बीएफ: मैं और मेरा एक और सर्विस इंजीनियर उसके ऑफिस में चले गए।फ्रंट डेस्क पर पम्मी बैठी थी, सच में इस वक्त पम्मी एक सेक्सी माल लग रही थी।मैंने उससे निक्की के लिए पूछा तो वो उसे अन्दर से बुला कर लाई।आज तो निक्की भी बड़ी मस्त माल लग रही थी, उसे देखते ही मेरी नियत में खोट आ गई. मुझे मजा आ रहा था। थोड़ी देर बाद उसको भी मजा आने लगा और फिर वो भी मेरा साथ देने लगी। उसके मुँह से ‘एयेए अयू एमेम आअहह.

शादीशुदा हूँ। मैं एक प्राइवेट जॉब कर रहा हूँ और अच्छी लाइफ चल रही है।हिंदी सेक्स स्टोरी की सबसे बेहतरीन साईट अन्तर्वासना पर मैं पिछले 4 साल से चुदाई की कहानियां पढ़ रहा हूँ। मैंने इधर की लगभग सभी कहानियां पढ़ी हैं। मुझे अन्तर्वासना की सभी कहानियां अच्छी लगती हैं इसलिए अब मेरा भी दिल कर रहा था कि मैं भी अपनी सेक्स स्टोरी लिखूँ।वैसे तो मैंने 18 साल की उम्र में ही पहला सेक्स कर लिया था. पर आगे की कहानी बाद में लिखूंगा। तब तक के लिए बाय और आप लोग अगर मुझे पसंद करेंगे तो मैं आगे भी अपनी कहानी ज़रूर लिखूंगा।आप अपनी राय मुझे जरूर बताएं और हाँ दोस्तो अगर इस कहानी को लिखने में मुझसे कोई ग़लती हुई हो तो मुझे माफ़ करना क्योंकि ये मेरी पहली कहानी है।[emailprotected]. फिर मैंने एक और जोरदार धक्का लगाया तो इस बार मेरा पूरा लंड मौसी की चूत के अन्दर चला गया।मैंने अपने होंठ मौसी के होंठों के ऊपर रख दिए और मैं अपने लंड को मौसी की चूत में अन्दर-बाहर करने लगा। उस वक्त जो मजा मुझे आ रहा था.

कुछ मिनट चूसने के बाद मंजरी हाँफने लगी और पलट कर मुँह मेरी ओर कर लिया और झुक कर फिर से मेरे होंठ चूसने लगी, कभी मेरे होंठ चूसती, कभी मेरी आँखों को चूमने लगती.

इससे हुआ ये कि हड़बड़ी में उसका एक हाथ मेरे निक्कर पर फूले हुए टाइट लंड से छू गया. मैं रंग लगा देती हूँ।फिर चाची ने मुझे पीछे से पकड़ लिया, जिससे उनके चूचे मेरी पीठ पर लगने लगे थे।जिन्दगी में पहली बार कोई औरत मेरे इतना करीब थी, मेरी हालत खराब हो रही थी।चाची के चूचे मेरी पीठ से रगड़ रहे थे और निशा मुझे रंग लगा रही थी। रंग से बचने के लिए झुकने के कारण मेरी गांड चाची की चुत से चिपकी हुई थी। जब निशा ने रंग लगा दिया. मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि इस बात पर मैं क्या बोलूं। अपनी माँ की भरपूर जवानी के बारे में मैं भैया से खुद कैसे बात कर सकता हूँ!मैं बस ‘हम्म.