जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,डॉग लड़की सेक्सी फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

ગુજરાતી બિપી વિડિયો: जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो, तेरे ये मोटे चूतड़ वाली गांड वाली बड़ी बावड़ी में भी मैं मेरा पाइप पेलूंगा.

जय भोलेनाथ फोटो

मैंने उसका अंडरवियर नीचे कर दिया और उसका मोटा लंड खुल कर मेरी आंखों से सामने आ गया था. अरे यार हंस रहा है बारिश की जाएमुझे अब उसका लिंग बहुत मजेदार लगने लगा था और अब खुद को रोक पाना असंभव सा लगने लगा था.

हर रोज की तरह ही सोनाली नहाने के बाद अंदर रूम में आई और उसने दरवाजा बंद कर लिया. रक्षाबंधन gift for sisterएक दिन मैं रूपा के घर गया। रूपा रसोई में थी तो मैं सीधा रसोई में गया, अपने साथ लाये गर्मागर्म समोसे मैंने रूपा को दिये और मौका देख कर उसको पीछे से ही अच्छी तरह से अपनी बांहों में भर लिया.

उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया था जिसकी मदहोश कर देने वाली खुशबू मुझे मेरी नाक में मिल चुकी थी.जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो: मैं तो वहीं पास में ही खडा़ हुआ था, मैंने मां से कहा- मां, आपने दरवाजा बंद किया हुआ है.

उसके दर्द की परवाह किए बिना मैंने और ज़ोर लगाया और अपने लंड को और उसकी फुद्दी में घुसेड़ा.अब तो मेरी कामवासना मचल उठी लेकिन उसकी चूत ज्यादा प्यासी थी!सभी काम प्रेमियों को विहान राजपूत की प्यार भरी राम राम!दोस्तो, आज मैं आपके सामने अपनी लाइफ की एक सच्ची चुदाई-घटना का वर्णन करना चाहता हूं, आपका ज्यादा समय न लेते हुए मैं बताता हूं कि बात करीब 2 साल पहले की है.

सपना चौधरी का सेक्सी वीडियो - जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो

रवि ने झुक कर पहले तो निर्मला के थुल थुले स्तनों को दबोच कर चूसना शुरू कर दिया.थोड़ी देर उसकी जीभ मेरी योनि पर और क्या चली कि मैं कांपते हुए झड़ने लगी.

मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि राजेश का लंड इसको देख कर भी खड़ा नहीं होता है. जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो फिर भी देर लगा दी तुमने मनीष? अब जल्दी से चेंज कर लो, मुझे भूख लग रही है।यह कहकर दीदी रसोई की तरफ चली गयी.

उसने बोला- यार, तेरा लंड भी तो मेरे जितना ही है … बस थोड़ा ज़्यादा मोटा है.

जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो?

बच्चों के सोने के बाद रेनू आराम से उठी और फिर मेरी बगल में आकर लेट गयी. जब भी भैया घर पर नहीं होते थे या फिर भाभी और मुझे बाहर जाने का अवसर मिलता तो हम पूरे मजे लेने लगे थे. लेकिन मैंने कई बार आपको सिग्नल देने की कोशिश की लेकिन आप मेरे इशारों को समझ ही नहीं पाये.

श्रुति ने सुरेश के लंड को पूरा चाट कर साफ कर दिया और उसको अपने थूक से गीला कर दिया. मैंने उसकी गांड में से लंड निकाला और फिर से उसकी चूत में देकर चोदने लगा. राकेश ने भी बोला- हां यार निहाल, मैं भी अब अपनी काव्या को चुदवाते हुए देखना चाहता हूँ … जल्दी करो.

उस लंड चुसाने वाले लड़के के हटते ही चौथा लड़का मुन्ना, जिसका लंड सबसे बड़ा था, वो आ गया. मैं रोज बस यही प्लान बनाता रहता कि क्या करूं, कैसे दीदी को चुदवाने के मनाऊं, उन्हें कैसे चोदूं. सौ एकड़ जमीन थी उसकी लगभग। घर के आस पास बहुत सारे आम के बगीचे थे और बगीचे से बाहर खेत ही खेत थे.

हमारा बिंदास ग्रुप आपके लिये बहुत ही सेक्सी कहानियां लेकर आ रहा है जिनको पढ़ कर आपके लौड़े और चूत गीले होने पर मजबूर हो जायेंगे. जब हालत ऐसे हों कि किसी भी तरफ से कोई भी आ सकता हो, तो पसीने छूट जाते हैं.

वहां पहुंच जब रमा ने बिस्तर देखा, तो चकित होते हुए बहुत जोरों से हंसती हुई बोली- सारिका ये क्या है, रात की कहानी तो ये चादर बता रही है.

वो भी अब खुल गई थी … बोली कि अगर आपको लगे कि किसी ने मुझे चोदा है तो जिंदगी भर आपकी रंडी बनकर रहूंगी.

रवि ने झुक कर पहले तो निर्मला के थुल थुले स्तनों को दबोच कर चूसना शुरू कर दिया. उसने मेरी बांयी टांग को घुटने के नीचे से हाथ डाल उठा कर ऊपर कर दिया, इससे मेरी टांग मेरे सीने तक उठ गई. खाना खाते हुए आंटी ने कहा- पिंकी आज रात को तुम्हारे घर ही सो जायेगी क्योंकि तेरी मां ने कहा था कि तू रात में अकेले नहीं सोता है.

अब मेरा लंड फुल कर बेलन का आकार ले चुका था, मेरा लंड एकदम कड़क हो चुका था भाबी एकटक मेरे लंड को देखे जा रही थी. फिर रास्ते में मैंने भाभी को फिर से अपना लंड चुसवाया और गाड़ी में ही उसकी चूत चोदी. वो मेरे शरीर को देख कर पागल हो गई और कहने लगी- मैंने आज तक ऐसा शरीर नहीं देखा … तुम कितने सेक्सी दिखते हो.

वो भी पूरे दस हजार!जब मैंने पैसे की बात बताई तो भाभी ने मेरी तरफ हैरानी से देखा.

वो लगातार कामुक आवाजें करते हुए कह रही थी- आंह … उफ़ … और जोर से चूस लो …मैंने भी डॉली की चूचियों की चुसाई को तेज कर दिया. राजेश्वरी- तुम दोनों आज ऐसे ही सो जाओ, बहुत जबर्दस्त तरीके से चुदायी की तुम दोनों ने. तब मैंने कहा- तुम बुरा ना मानो, तो मुझे भी आज यहां की किसी रंडी को चोदना है.

उसने अपनी गांड उठाकर सलवार निकलने में अपना सहयोग दिया।अब वो केवल पैंटी में थी।उसकी पैंटी भूरे रंग की थी तथा इलास्टिक के पास थोड़ी फटी हुई थी। उसके काम रस के कारण उनकी पैंटी बुर के पास पूरी भीग चुकी थी। कुँवारी बुर की चुदाई के लिए तैयार हो रही थी. मुझे लड़कियों को चोदने में ज्यादा मजा नहीं आता बल्कि शादीशुदा भाभी या आंटी को चोदने में ज्यादा मजा आता है क्योंकि वो बिस्तर पर रिस्पॉन्स अच्छा करती हैं।अब आपका ज्यादा समय न लेते हुए सीधे कहानी पर आते हैं. मैं उसको तत्काल सर्विस तो नहीं दे सकता था क्योंकि वो नागालैंड में थी.

मैंने देखा कविता और राजेश्वरी ने मैचिंग की ब्रा पैंटी पहनी थी और वो दोनों तो उसी में ज्यादा आकर्षक और कामुक दिख रही थीं.

थोड़ी देर के बाद निर्मला उठी और अपनी पैंटी निकाल कर स्कर्ट ऊपर उठाते हुए अपनी दोनों टांगें फैला दीं और अपनी योनि रवि के मुँह में लगा दी. मैंने उसके लिंग को हाथ से हिलाना डुलाना शुरू किया, तो थोड़ा थोड़ा सख्त होने लगा.

जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो जब मैं अपनी बहन को नंगी देखता हूँ तो मुझे बहुत मजा आता है और मेरा लंड भी खड़ा हो जाता है. दीदी ने मुझे अपने सीने से लगा लिया और बोलीं- जब से तू आया है … तभी से मेरे दूध देख रहा था.

जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो मेरे मन में फिलहाल यही चल रहा था कि अच्छा मौका है … मुझे ही पहल करनी पड़ेगी. अम्मा ने कहा- बेटे मैं वो अनुभव लेना चाहती हूँ, जिसमें औरत आदमी का लंड और आदमी औरत की चुत चाटता है.

फिर मेरे बहुत कहने के बाद उन्होंने मेरे लंड को अपने मुंह में भी ले लिया.

सेक्सी वीडियो बीएफ अमेरिका

चार महीने के बाद वो प्रेग्नेंट हो गई और अब डिलीवरी के लिए अस्पताल गई हुई है. कुछ देर के बाद मैंने अपनी चूत में अपने भाई के लंड को और अंदर लेने के लिए अपनी टांगों को उसकी कमर पर लपेट लिया. अब उसका एक हाथ मेरे बाबा (लंड) पर था और मेरा एक हाथ उसके बोबे पर हरक़तें कर रहा था.

फिर मैं थोड़ा नीचे आकर उनके पेट पर किस करते हुए उनकी चूत तक पहुंच गया. उम्म्ह … अहह … हय … ओह … उसकी चूत में लंड को डालने के बाद मुझे पूरा यकीन हो गया कि इसके पति ने तो सच में इस जन्नत के मजे नहीं लिये हैं. फिर उसने नीचे जाकर दोबारा से मेरे लंड को अपने मुंह के अंदर ले लिया और मेरे लंड पर अपने मुंह को ऊपर नीचे चलाने लगी.

मैंने सीमा जी की रस से भीगी चूत को सहलाया ही था कि उन्होंने अपने मुँह से जोर से ‘सीईईए…’ की आवाज निकाली.

इस तरह के जल्दबाजी से मैं इतना तो समझ गई कि कांतिलाल हद से ज्यादा उत्तेजित था और अब उसके धक्के मेरे लिए बड़ी चुनौती थी. हम दोनों के बीच में ऐसी ही हल्की-फुल्की शरारतें अक्सर चलती ही रहती थीं. मैं दर्द और मजे में बस आह्ह … उफ्फ … ऊईई … आईई … ओह्ह … आह्ह … अंकल … आराम से … आह्ह … ईईईई … मम्मीईई … आह्ह करती रही और अंकल मेरी चूत को रौंदते चले गये.

थोड़ी देर बाद मेरी साली भी काम ख़त्म करके मेरे कमरे में आ गई और उसने मुझसे पूछा- जीजा, आपका मूड कुछ सही नहीं लग रहा है, क्या बात है?मैंने उसको बोला- मेरी लाइफ बिल्कुल नीरस हो गई है, मेरी बीवी और बेटा मुझसे दूर हैं और मैं यहाँ अकेला पड़ा हूँ. इसलिए आप इंडियन सेक्स रोमांस स्टोरी को ध्यान से पढ़ें और कोई सवाल या शंका हो तो मुझे ईमेल पर बतायें. मैं भी उस मीठे दर्द की अनुभूति बार बार चाहने लगी थी, जिसके कारण मैं कांतिलाल के लिए अपने चूतड़ और ऊंचे कर दिए, ताकि उसे मेरी योनि का अधिकतम मुख मिले.

मुझे पता चल गया था कि मां को अपनी चूत के साथ इस तरह से छेड़खानी करवाने में मजा आ रहा है. फिर अचानक से किचन से दीदी के चिल्लाने की आवाज़ आई, मैं भाग कर उधर पहुंचा, तो देखा दीदी किचन में गिर गई थीं और उनके पैर में चोट आई थी.

मामी एक साइड सो रही थी, मैं एक साइड में था और बीच में दोनों बच्चे सो रहे थे. जब मैं और मेरी पत्नी बातें करते थे, तो वह बार-बार मेरी तरफ देख कर मुस्कुराती रहती थी. मुझे यूं घूरता हुआ देख कर भाभी बोलीं- क्या हुआ … ऐसे क्या देख रहे हो … मुझमें कोई कमी दिख रही है क्या?मैंने पलट कर जवाब दिया- भाभी आप में कोई कमी ही तो नहीं दिख रही है, यही तो समस्या है.

उसके धक्के अब मेरे मन को कमजोर करने लगे थे और जैसे जैसे वो मेरे गले को चूमता हुआ धक्कों की गिनती बढ़ाने लगा, मैं भी उसके आनन्द में खोने लगी.

मुझे लड़कियों को चोदने में ज्यादा मजा नहीं आता बल्कि शादीशुदा भाभी या आंटी को चोदने में ज्यादा मजा आता है क्योंकि वो बिस्तर पर रिस्पॉन्स अच्छा करती हैं।अब आपका ज्यादा समय न लेते हुए सीधे कहानी पर आते हैं. मैं दर्द से छटपटाने का प्रयास भी नहीं कर पा रही थी … क्योंकि उसने मुझे अपनी पूरी ताकत से पकड़ रखा था. अब तक आपने मेरी इस दिलकश हॉट गर्ल अनल सेक्स स्टोरीकमसिन लड़की की कुंवारी गांड में सख्त लंडमें जाना था कि मैं नजमी को दुबारा भी चोद चुका था.

वो बोली- यही कि स्पर्म कहां से निकलता है?उसकी बात सुन कर मैंने भी पूरा मन बना लिया था आज बिल्कुल भी नहीं हिचकूंगा क्योंकि मेरे मन में भी आज उस पोर्न मूवी के सीन ही घूम रहे थे. चूंकि काव्या पहले से ही बहुत गर्म थी, इसलिए अब उसने मेरा लंड चूसना बंद कर दिया और तड़पने लगी.

आंटी मुझसे बोलीं- बेटा, अब और न तड़पा … जल्दी से इसे मेरे अन्दर डाल कर इसकी सारी गर्मी मिटा दे. फिर उसने पूछा कि क्या मेरी कोई गर्लफ्रेंड है और उसके सवाल का जवाब मैंने हाँ में दिया।इस तरह से हमारी बात उस दिन यहीं पर समाप्त हो गई थी क्योंकि तभी उसकी मम्मी वहाँ पर आकर हम दोनों के साथ में बैठ गई थी।अगले दिन फिर से मैं अपने फोन में व्यस्त हो गया था और उसी समय वो भी मेरे पास आ चुकी थी. वो मेरे लंड को अन्दर तक लेकर चूसने में मस्त होने लगी और एक हाथ से मेरे आंडों को भी सहलाने लगी.

भोजपुरी बीएफ एचडी भोजपुरी बीएफ

उन पर मेरी और सनी की नजर पड़ी, तो हम लोग एक दूसरे को देखकर मुस्कुराने लगे.

वो अंदर आकर मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर सहलाने लगी और मेरे होंठों को चूसने लगी. मैंने मेम से कह दिया कि मेम आपने सर को तो वो वाली बात नहीं बताई ना?मेम ने कहा- नहीं बताई है … लेकिन बताने वाली हूँ. दोनों अब इस कदर एक दूसरे में खो गए थे कि मानो वो भूल गए हों कि हम सब उन्हें देख रहे थे.

मैंने उनका नम्बर सेव कर लिया और उनके नम्बर पर व्हाट्सैप चैक करने लगा. मैंने ऐसा ही किया, जिससे मैं अपने पैंटी को थोड़ा नीचे करके घोड़ी बन गई और सनी पीछे से लंड पेल कर मेरी चुदाई करने लगा. 2 साल के बच्चों के खिलौनेमुझे जॉब करते हुए 2 महीने हो गए थे और अब हमारे बीच अच्छी खासी बातचीत होने लगी थी.

लेकिन बहुत दिनों के बाद आज मौका मिला है। अगर कुछ त्रुटि हो गयी हो तो माफ कीजियेगा. आंटी मचलने लगी, वे बोली- क्या कर रहा है, इतनी गंदी जगह को इतनी मस्ती से क्यूं चाट रहा है.

इस पर राजेश्वरी ने रुखे शब्दों में कहा- इसका मतलब तुम्हें मेरे साथ मजा नहीं आता?राजशेखर फ़ौरन उठा और राजेश्वरी के हाथ पांव जोड़ने लगा और माफ़ी मांगने लगा. ये सिर्फ एक चुदाई कहानी नहीं है बल्कि वो सच्चाई है जो कहीं ना कहीं आप लोगों ने भी महसूस की होगी या हो सकता है कि कई लोगों के साथ तो ऐसा हुआ भी होगा।दोस्तो, मेरा नाम राज है और मैं इंदौर में रहता हूँ। मेरी लम्बाई 5 फीट और 11 इंच है. राजशेखर और मैं दोनों ही बहुत गर्म थे और शायद इस बात की कोई फ़िक्र नहीं थी कि हम किस अवस्था में सम्भोग कर रहे हैं.

रंग गोरा और शरीर भारी भरकम, लगभग 38 साइज़ के स्तन और कूल्हे अंदाजन 44 के रहे होंगे. उसके कोमल हाथों में जाकर मेरा लंड फिर से तनतना गया और मुझे मजा आने लगा. मैंने खुद को उसके कंधों को पकड़ कर खुद को सहारा दिया और अपने घुटने मोड़ कर ऐसे धक्के देने लगी कि उसका लिंग ज्यादा भीतर जाए.

मैं अपना रजिस्टर टयूशन पर भूल आया था, तो मैं वापिस लेने के लिए इंस्टिट्यूट पर गया.

फिर मैंने अपनी पैंट निकाल दी और उसने मेरे कच्छे के ऊपर से मेरे लंड को पकड़ लिया और सहलाने लगी. मैं नहाकर बाहर निकला तो वो मेरे बेड पर बिल्कुल दुल्हन की तरह सजी हुई बैठी थी और घूँघट भी किए थी.

एक ने दीदी से पूछा- अगर तेरा भाई यहां पर रहता है तो तुम अपने पति के साथ चुदाई कैसे कर लेती हो?मेरी दीदी बोली- हमने उसके आने से पहले ही अपने कमरे में कांच बदलवा दिये थे. वो कहती थी कि सेक्स करने में बहुत मजा आता है और सच में सेक्स करने में बहुत मजा आता है. अभी भी हमारी इच्छा होती है, पर हर किसी जोड़े या गैर मर्द पर से यकीन कर पाना मुश्किल है.

मैंने तुरंत अपने लंड रॉकेट को दीदी की चुत पर टिकाया और दाने को रगड़ने लगा. दोस्तों मैंने कभी अपनी मॉम को पैंटी और ब्रा में इस तरह नहीं देखा था. थोड़ी देर में मैं उनके मुँह में ही झड़ गया।अब मैं बुआ के होठों को चूमने लगा.

जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो मैं लाइट जाने का बहाना करके तुम्हारे पास आ जाऊंगी और तुम्हारी बांहों में खुद को सौंप दूंगी. भाबी कमाल की सेक्सी औरत लग रही थी। उनको देखकर मन कर रहा था की बस उन्हें देखता ही रहूं।थोड़ी देर मैं और भाबी इधर उधर की बातें करते रहे.

बीएफ एचडी सेक्सी भोजपुरी

अगर मुझे गुस्सा ही करना होता, तो मैं पिछले पांच मिनट से तुम दोनों का ये खेल नहीं देख रहा होता. अब तो मेरी कामवासना मचल उठी लेकिन उसकी चूत ज्यादा प्यासी थी!सभी काम प्रेमियों को विहान राजपूत की प्यार भरी राम राम!दोस्तो, आज मैं आपके सामने अपनी लाइफ की एक सच्ची चुदाई-घटना का वर्णन करना चाहता हूं, आपका ज्यादा समय न लेते हुए मैं बताता हूं कि बात करीब 2 साल पहले की है. जब मैं दीदी के यहां पर रहने के लिए आया था तो तब से लेकर अब तक मैंने कभी भी उन दोनों के कमरे से किसी तरह की आवाज नहीं सुनी थी.

मैं भी उसको देख कर ऐसे मचल जाता था कि अगर इसकी गांड चोदने के लिए मिल जाये तो बस मजा ही आ जाये. फिर जब भाई दोबारा सो गया तो कुछ समय बाद मैंने उसकी कुर्ती के अन्दर हाथ डालकर चूची बहुत तेज दबा दी. साउथ इंडियन फोटोउसके बाद राकेश बोला- बिल्कुल मिलेंगे दोस्त … मैं हमेशा तुम्हारे टच में रहूँगा.

उसके होंठ खुल गये और मुंह से सिसकारी निकल गई- आह्ह … आराम से करो।मगर मुझे आराम कहां था.

उनके चूचों को देखते ही उस वक्त भी मेरा लौड़ा तो जैसे फटने को हो रहा था. हम दोनों सेक्स कर रहे थे और मैं अपनी गांड उठा उठाकर अपने बॉयफ्रेंड का लंड अपनी चूत में ले रही थी.

आंटी ने मुझे फोन पर ये बता दिया था कि इमरान और उसके पापा दो दिन के लिए बाहर जायेंगे. वो बोली- हां बोलो न?मैंने कहा- चलो छोड़ो … तुम बुरा मान जाओगी … और फिर मुझसे बात नहीं करोगी. अभी तो ये शुरूआत है … हां बेटा चोद और चोद पूरा घुसा अपना पाइप मेरी चुत में … आज तू मादरचोद बन जा पूरा … आह ओओ आ कुछ शरम मत कर … चोद दे अपनी अम्मा को … चोद और जोर से चोद बेटे.

जैसे ही मेरी गिनती 401 पहुंची, रवि के चूतड़ किसी मशीन की भांति आगे पीछे होने लगे.

मैं हैरान था इस लड़की की कामुकता को देख कर … मैंने सिर्फ एक झटका आगे की तरह मारा और उसकी योनि के अंदर अपने लंड को डाल दिया. उसने मेरी टांगें अपनी कंधों पर रखीं और अपने लंड को मेरी चूत में लगा दिया. उधर सभी लोग हमारी तरफ ही देख रहे थे और उनके भीतर भी मस्ती भरी वासना जागृत होने लगी थी.

करवा चौथ की बात सुनाओकोल्ड क्रीम की शीशी व कॉण्डोम का पैकेट बेड पर रखकर मैंने अपनी टीशर्ट उतार दी, अब मैंने सिर्फ़ लोअर पहना था. मैंने दूसरा धक्का मारा और अबकी बार मेरा लंड पहली ही बार में आधा घुस गया.

बीएफ सेक्सी एचडी में हिंदी

मैं 5 मिनट तक मॉम को किस करता रहा और उनके मुँह का सारा पानी अपने मुँह में ले लिया. उसके बाद कुछ देर तक मेरे भाई ने मेरी चूत को चाटा और फिर उसने मेरी टांगों को फैला दिया. इधर मेरा भी लन्ड अपने उफान पर आ गया और मैंने भी एक जोर की पिचकारी छोड़ दी.

उसने भी मुझे दूसरे हाथ से मेरे कंधे को ऐसे पकड़ा कि अगर जोरों के धक्के भी लगें तो मैं अपनी जगह से आगे सरक न पाऊं. रमा जरा भी विरोध नहीं कर रही थी, बल्कि ऐसा लग रहा था … जैसे वो रवि की दासी बन चुकी थी. अब आंटी को डर लगा कि कहीं वो पेट से ना हो जाएं, तो उन्होंने अगले दिन अपने पति से भी चुदवा लिया था और आंटी प्रेगनेंट हो गईं.

मगर ऐसा कुछ हो न पाया। फिर मेरी पढ़ाई वहां से खत्म हो गई और मैं अपने घर आ गया. मैं भी पलट कर बिस्तर पर बैठ गई।मेरा पसीने से भीगा हुआ बदन देख कर अंकल बोले- अरे आज तो तूने बहुत मेहनत कर ली।मैं पास रखे टॉवल से अपने बदन के पसीने को पोंछने लगी. कुछ देर ऐसे ही वो मुझसे हटने को बोलती रही और मैं अपनी मस्ती में दबाने और चूमने में लगा रहा.

सभी दोस्तों एवं पाठकों को सोनम की तरफ से प्यार भरा नमस्कार।दोस्तो, मेरा नाम सोनम है जैसा कि आप सब जान ही चुके हैं. मैंने मौसी के चूचों में मुंह दे दिया और मौसी की चूत में धक्के देने लगा.

पहली बार मेरे ब्वॉयफ्रेंड ने जब मेरी चुत में लंड डाला था, तो मुझे बहुत दर्द हुआ था.

वो बोली- नहीं भाई, चूत में लंड में डालने के अलावा जो बोलोगे, मैं कर दूंगी. आवाज सुनाओउन दोनों ने मेरी बीवी को दरवाज़े की तरफ मुँह करके घोड़ी बना दिया और उसकी गांड के छेद पर थूकने लगा. xxhx سكس 15 videosलेकिन बहु के पीहर में प्रोग्राम होने के कारण दोनों ही बहु और बेटे उधर गए हुए थे. फिर पता नहीं क्या हुआ कि मैंने उनका हाथ पकड़ कर अपनी कसम दे दी कि आप मुझे बताओ कि आपकी आंखों में आसूं क्यों हैं?शायद वो अपने आपको रोक नहीं पाईं और फूट फूट कर रो पड़ीं.

फिर उसको दोबारा से आगे की तरफ घुमाया तो उसके गोल-गोल चूचे, जिनके निप्पल भूरे रंग के थे, मेरी आंखों के सामने नंगे हो गये.

मैं कई बार उससे बात करने की कोशिश करता था मगर अपने संकोची स्वभाव के कारण बात नहीं कर पाया था. उस दिन घर जाने के बाद मैंने उसकी मां के बारे में सोच कर मुठ मारी तब जाकर मेरे लंड को शांति मिली. उठ कर मैंने मौसी की चूत पर एक किस किया और फिर मैंने उसकी टांगों को चौड़ी कर दिया और मौसी की चूत में लंड को डाल दिया.

ऐसा करते करते मैं उसको अपने गांड के छेद तक ले गया और बोला- मेरी गांड को जीभ से चाटो. फिर कुछ दिन बाद मैं भाभी के घर गया तो …मेरा नाम राकेश है, मैं सोनीपत का रहने वाला हूँ. राज- अच्छा सुनो … अपन लोग कहीं बाहर घूमने चलें … कुछ बियर शियर हो जाएगी.

एंटी बीएफ

मैं रूम में आकर सुरेश के साथ किस वाले पल को याद करने लगी और मेरी चूत गर्म होने लगी. मैं जन्नत के द्वार पर दस्तक दे रही थी और डॉक्टर साहब का लण्ड मेरे योनिद्वार पर. मैं इस वक्त एकदम डिप्स मारने जैसी कसरत कर रहा था, उसके दोनों मम्मों को मैं अपने दोनों हाथों में दबोचे हुए लगातार चोदे जा रहा था.

संगीता मेम ने मेरा लंड देखा और कहने लगीं- इतना बड़ा तो पंकज का भी नहीं है.

मुझे लगने लगा था कि रेनू ने मुझे यहां बुला कर चूतिया बना दिया है और वो चूत नहीं देने वाली.

वो बोली- सर स्पर्म कैसा होता है और कैसे निकलता है?उसके मुंह से ये शब्द सुनकर मैं थोड़ा हिचकिचाने लगा क्योंकि मुझे भी थोड़ा असहज महसूस हो रहा था. मैंने कहा- तो मेरी जान … अब खुल के मज़े ले लो अपने घरेलू यार के लौड़े के … अब आगे भी ऐसे ही गाड़ी चलती रहनी चाहिए. बिहारी सेक्सी हिंदी वीडियोमैंने बड़ी मुश्किल से अपने आप पर काबू किया लेकिन मेरा लंड पूरा बेकाबू हो गया था और खड़ा हुआ साफ दिख रहा था.

भाभी इतनी सेक्सी दिखती हैं कि उनको जो भी बंदा एक बार देख ले, बस वो उसी पल से भाभी को अपने बिस्तर की रानी बनाने की सोचने लगेगा. अभी मैंने 5-6 धक्के ही लगाये थे कि सोनू का पूरा बदन अकड़ने लगा, एक जोरदार चीख के साथ सोनू ने अपना पानी छोड़ दिया।मुझे भी कोई जल्दी नहीं थी इसलिए मैंने भी अपना लंड चूत से बाहर निकाल लिया. मेरे दोस्त ने बताया कि वो लड़की कई बार दूसरी लड़कियों के माध्यम से मेरे बारे में बात कर चुकी है.

यह मेरी पहली कहानी थी गाँव की सेक्सी लड़की की … इसलिए मुझे कुछ लिखना नहीं आ रहा था कि आगे क्या लिखूं. मैंने भी अपना सारा पानी मम्मी के मुँह में डाल दिया और वो भी पूरा वीर्य पी गईं.

फिर हम चारों ने मिल कर एक प्लान बनाया कि हम सब कहीं बाहर घूमने चलते हैं.

फिर एक बार बातों बातों में मैंने उन्हें सेक्सी कहते हुए उनके साथ सेक्स करने के लिए उन्हें प्रपोज कर दिया. राजेश ने एक कुर्सी अपने पास खींच ली और उस पर हमारे सामने ही बैठ गया. हालांकि वो इस वक्त चरम पर आने को था, लेकिन तब भी वो मुझे पूरा जोर लगा कर चोद रहा था.

विडमेट डाउनलोड २०१८ मैंने करीब आकर भाभी को अपनी गोद में उठा लिया और ले जाकर बिस्तर पर पटक दिया. ये नजारा देख देख कर मेरा लंड लोअर के अन्दर ही हरकत करने लगा और गर्म होने लगा.

वह रोते हुए बोलने लगी- यह क्या हो गया … ऐसा खून क्यों बह रहा है?मैंने उससे कहा- कुछ नहीं तुम्हारी सील टूटी है … तुमने आज पहली बार सेक्स किया है ना … इसलिए ऐसा होता है. जैसे ही उनका ब्लाउज खुला, उनके मस्त मादक और मोटे बोबे ब्रा में कैद मेरी आंखों के सामने आ गए. मैं नहा धोकर तैयार हुई और सच बताऊं, तो मुझे आज से पहले इतना आरामदायक स्नानागार नहीं मिला था.

मुसलमान की सेक्सी बीएफ वीडियो

उसका लंड पूरा मेरी चूत के अन्दर जा रहा था और मैं चुदासी आवाजें निकाल रही थी. मैंने गुवाहाटी जाने से पहले राजस्थान में रहते हुए भी चुदाई का मजा लिया था लेकिन वो सब कहानियां मैं आपको बाद में बताऊंगा. नजमी मेरे पैरों के पास बैठ कर बोली- जहांपनाह, आज के लिए मुझे माफ़ कर दीजिये … आज आपकी रंडी बहुत थक गयी है.

फिर मेरे पास आकर बैठ गयी और बोली- आप बड़े गंदे किस्म के इंसान हो … कहीं भी नज़र डाल देते हो. मैंने फिर अपनी जीभ को मौसी की चूत से निकाल लिया और मौसी से कहा कि जैसे मैंने चूत में किया है आप भी मेरे लंड को चूस लो.

तुम्हारा अभी तक नहीं हुआ? जल्दी करो, अब मुझसे दर्द बर्दाश्त नहीं होता.

उनकी गांड का मुलायम स्पर्श मिलते ही मेरा लंड फन फना कर लोहे की रोड की तरह सख्त हो कर बुरी तरह से अकड़ चुका था. मैं बीच बीच में उसके दूध को काट भी लेता था, जिससे मम्मी एकदम से मचल जाती थीं. उसने यहां पर छिपे होने का कारण पूछा तो मैंने बहाना बना दिया कि मैं अपने भाई से झगड़ा करके यहां पर छिपा हुआ था.

साथ ही मैंने अपनी जीभ को उसके मुँह में डाल कर उसकी जीभ को चूसा, तो उसने अपनी जीभ को भी मेरे मुँह में डाल दिया. इधर लंड महाराज चूत में गचके लगाते हुए पच-पच का संगीत कानों तक पहुंचा रहे थे. हम दोनों एक दूसरे की आंखों में बस देखते जा रहे थे कि तभी राकेश बोला- क्या यार निहाल … काव्या के लिए फूल और मेरे लिए?मैंने बोला- तुम्हारे लिए तो तुम्हारी इतनी खूबसूरत बीवी है और क्या जान लोगे बच्चे की?इसके बाद हम तीनों हंसने लगे.

मैं रूम पर पड़ा हुआ बोर हो रहा था तो मैंने सोचा कि क्यों न आज भाभी को फोन करके देखा जाये.

जापानी बीएफ सेक्सी वीडियो: मैंने बाथरूम में बहाने से जाकर मुट्ठ मारी तब जाकर कहीं लंड थोड़ा शांत हुआ. वंदना भाभी- हैलो … बल्लू को बुलाएंगे क्या एक बार?उधर से आवाज आई- आप कौन बोल रही हैं?वंदना भाभी- बोल देना कि वंदना का फोन है.

अब उससे मेरा उसकी बुर को लगातार चाटना और चूसना सहा ही नहीं जा रहा था. मैं समझ नहीं पा रहा था कि यह क्या हो रहा है … क्योंकि उस टाइम पहली बार इस लड़की ने मेरे लंड को छुआ था और मुँह में लिया था. कविता की योनि की दरार को कांतिलाल ने हाथों से फैला कर जहां तक संभव था, अपनी जीभ को उसमें घुसाने का प्रयास किया.

उसके बाद सभी मर्दों ने …रमा के बगल में राजेश्वरी, कविता और निर्मला को भी मैंने केक खिलाया और उन लोगों ने भी मुझे खिलाया.

फिर मैंने हल्की सी हलचल की और उसके निचले होंठ को हल्का सा अपने होंठों में दबा लिया. मेरे जांघों में कम्पकपी सी होने लगी और मैं रवि के सीने से चिपक कर अपने भारी भरकम चूतड़ ऊपर नीचे करते हुए धक्के देने लगी. न तो कभी चूत देखी थी और न ही कभी इस तरह की कोशिश की थी कि मुझे कहीं कोई चूत नसीब हो सके.