सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ सेक्स व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

स्पेशल वीडियो: सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ, फिर उसने बिना रुके दो – तीन झटकों में अपना पूरा लम्बा मोटा गर्म लट्ठा मेरी गर्म भट्टी में ठूँस दिया।अब मैं दर्द से चीख रही थी और वो मुझे शांत करने के लिए मेरे होंठों को चूसे जा रहा था.

इंडियन लड़की एक्स एक्स एक्स

पहली बार मैं उस कमसिन जवान लड़की की कुंवारी चूत को अपनी आंखों के सामने नंगी देखने वाला था. सनी लियोन की बीएफ वीडियो दिखाओफिर एक दिन वो बोली- क्या मैं आप से मिल सकती हूँ?तो मैंने भी मिलने के लिए हां बोल दिया।हम दोनों ने मिलने की जगह तय की.

अन्तर्वासना2 सेक्स कहानी के पिछले भागइंस्टीट्यूट में बांके जवान लड़के का लंड चूसामें आपने पढ़ा कि मैंने अपने इंस्टिट्यूट के स्टाफ के लड़के को पता कर उसके साथ सेक्स का मजा लेना शुरू कर दिया. एक्स एक्स एक्स सेक्सी हिंदी बीएफ वीडियोविजय ने मेरी चूत के पास से अपना एक हाथ डाल कर मुझे हवा में उठा लिया और बिस्तर पर पटक दिया.

अपना लंड मेरी चूत में डाल दो।मैंने अपनी पोजीशन चेंज की और एक ही झटके में अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया.सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ: सेक्स एक भूख है जिसको तृप्त करे बिना हर प्राणी अधूरा ही महसूस करता है.

और कुछ अंदर के कपड़े मतलब ब्रा पेंटी भी लेकर घर आ गयी।अगले दिन मैं नहा कर ब्रा पहनी.उससे बात हुई और फिर मैंने उसको चुदाई के लिए कैसे पटाया?अंतर्वासना के सभी पाठकों को मेरा लंड भरा नमस्कार! मेरा नाम नील है जो कि रीयल नहीं है.

बीएफ सेक्सी सुहागरात वाली - सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ

मैंने कहा- पहली बार आपके बेटे से ही चुदी थी … और आज दूसरी बार आपसे चुदूंगी.उसने मुझे लंड पकड़ने से नहीं रोका और बोला- तुम गांडू हो क्या? लंड लेने का मन है क्या?मैंने कहा- नहीं, मुझे तुम्हारा लंड देखने का मन है.

इस बार थोड़ी देर किस करने के बाद बलविंदर बोला- पहले तुम्हारी बुर के बाल बना देता हूं. सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ मैंने देखा कि जया के कुरते में से उसके चुचे लगभग एक तिहाई साफ साफ दिख रहे थे.

मैंने हल्का सा आह … किया और विशाल का लन्ड पकड़कर मुंह में पूरा ले लिया और करीब 5 मिनट तक विशाल का लंड जोरदार तरीके से चूसा.

सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ?

फिर उसने पासा पलटा और दायां हाथ मेरे चूचों पर और बायां हाथ मेरे पीछे से लेते हुए मेरी नंगी चिकनी चुदने के लिए बेक़रार गांड पर ले गया. फिर मैंने खाना खाया और दिनभर टीवी के सामने बैठकर टाइम पास करता रहा. अन्तर्वासना एक्स कहानी में पढ़ें कि मैं विवाहिता हूँ लेकिन पति से अलग रहती हूँ.

मैंने खुद को उसी जगह रोका और ज़ायना को प्यार से सहलाते हुए समझाने लगा. मैंने चुप्पी तोड़ते हुए कहा- सॉरी आंचल, ना जाने मेरे मुँह से कैसे ये निकल गया. कुछ देर पलंग पर निढाल पड़े रहने के बाद हम दोनों उठे और साथ में नहाने चले गए.

शुरूआत में प्यार से धीरे धीरे उसकी आँखों मे देखते हुए, फिर धीरे धीरे अपनी ताक़त लगानी शुरू की और उसके होंठों को चूसते हुए मैं मस्ती से उसकी चूची मसल रहा था. मैं उससे यही सब बातें करते हुए धीरे धीरे से लंड उसकी गांड में डालता जा रहा था. चुदाई खत्म हुई तो मैं और हेमा चाची बाथरूम में शॉवर चला कर नहाने लगे.

फिर उसने विरोध करना बंद कर दिया और वो आराम से उंगली करवाने का मजा लेने लगी. ये मेरी पहली देसी भाभी की चूत कहानी है, यदि कोई ग़लती दिख जाए, तो नजरअंदाज कर दीजिएगा.

थोड़ी ही देर मैं मोहल्ले में सब लोगों के शादी से लौट आने की हलचल सुनाई दी और हम दोनों जल्दी से सतर्क हो गए.

हेमा आंटी की सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया आप मुझे मेल करना न भूलें.

उसके शरीर की आकृति ऐसी है कि कोई एक बार उसे नजर भरके देख ले, तो मेरा दावा है कि वो बिना मुठ मारे रह ही नहीं सकेगा. तभी आंटी ने मेरा अंडरवियर खींच कर नीचे कर दिया और मेरे लंड को सहलाने लगीं. फिर गे सेक्स और गांडू चुदाई पोर्न देख देखकर मेरा मन भी करने लगा कि मैं भी अपनी गांड में लंड लेकर देखूं.

वो लगभग पागलों की तरह सीत्कार करने लगी- आह्ह … अनुराग … क्या कर रहे हो … बस … आह्ह … रुक जाओ … बस … रुक जाओ. इस पर मैंने उनकी गांड पर जोर से हाथ मारा, तो वो कराह उठीं और हंसने लगीं. मगर फिर से विशाल ने मेरे सिर को पकड़ा और मेरे मुंह में लंड दे दिया.

मैंने उन्हें अपनी गोदी में उठा लिया और बेड पर लाकर धीरे से बेड पर लेटा दिया.

जब तक लड़कियों के मुंह से आह्ह … ऊह्ह … ऊफ्फ … आदि आवाजें नहीं आतीं तब तक मुझे मजा नहीं आता. अकेली भाभी की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मेरा दोस्त विदेश गया तो उसकी बीवी अकेली रह गयी. मेरे घर में अम्मी अब्बू के अलावा मैं और मेरे दो छोटे भाई बहन भी हैं.

उसके एक हाथ को पकड़ कर मैंने झटके से अपनी ओर खींचा तो वह एकदम से मेरी तरफ आ गई. विजय धीरे धीरे मेरे गालों को चूमने लगा और राहुल ने अपना एक हाथ मेरी फ्रॉक के अन्दर डाल दिया था. उन्होंने एक बार मेरी ओर देखा और फिर दोबारा से स्क्रीन पर देखने लगे.

मैंने उसकी पूरी पीठ चाट ली ऊपर से नीचे तक और उसकी गर्दन के आस पास दाँत से काट दिया.

मैंने उसके रूम में देखा तो कोमल घोड़ी बनी हुई थी और एक जवान लड़का उसकी गांड चुदाई कर रहा था. उसने मुझ एक नजर देखा और फिर अंदर आते हुए पूछने लगी- रंजना घर पर है क्या?मैंने हां में गर्दन हिलायी और तब तक मेरी बहन भी बाहर निकल आयी.

सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ ओपन सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार सेक्सी मूवी देखने गये दो दोस्तों को टाकीज में एक आंटी मिली. नेहा अब नीचे होकर मेरे लंड को मुँह में लेकर चूस रही थी और मैं उसके सर को दबा कर लंड उसके गले तक ठूंस रहा था.

सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ आकर मैं सोचने लगा कि सोनू से चुदवाने के पहले क्यों न मैं ही अपनी बहन की चुदाई करके देख लूं?मैंने अपनी बहन कोमल की चुदाई करने की सोच ली. हम दोनों वासना से भर चुके थे और बेतहाशा एक दूसरे को किस किए जा रहे थे.

उन्होंने अपने हाथों से अपनी चूत के छेद को चौड़ा किया और मेरा लंड छेद पर लगा कर धक्का लगाने को कहा.

भोजपुरी भाभी की चुदाई बीएफ

गे क्रॉसड्रेसिंग इन पब्लिक स्टोरी में पढ़ें कि मैं लड़कियों जैसा दिखता हूँ. मैं सोचने लगा कि किसी तरह से भाभी का नंगा जिस्म देखने को मिल जाए, तो मजा आ जाए. झटके से मैंने आंखें खोलीं तब तक सुमन ने मेरे लौड़े को मुंह में ले लिया और चूसने लगी।मैंने कहा- तू कब आई?उसने लंड को निकाल लिया और बोली- जब से तुम लंड को निकाल कर हिला रहे थे.

कुछ दिनों बाद ही मुझे पता चला कि उसका पहले से ही कोई बॉयफ्रेंड है, तो मेरा तो मानो लंड ही मुरझा गया. मैंने हटने से पहले दो चार बड़े झटके दिये और दी फिर से झटके के साथ हवा में कमर और गांड उठाने लगी।मेरे हटते ही प्रतीक दी की चूत चोदने के लिए आया. शालू के माता पिता ने उसकी शादी प्रमोद के साथ इसलिए कर दी कि वो देखने में भी ठीक था और घर में पैसे या सुख सुविधा की कोई कमी नहीं थी.

10 मिनट के बाद मैं उसकी चूत में झड़ गया और उसके बूब्स के निप्पल अपने मुंह में भर कर उसके ऊपर की लेटा रहा।मेरा लन्ड सिकुड़ कर फिसलता हुआ उसकी चूत में से बाहर निकाल गया।मैं उसके ऊपर पड़े पड़े उसके बालों को सहला रहा था.

दो मिनट ब्लाउज के ऊपर से ही चूचियों का मजा लेने के बाद मैंने उन्हें अपने से अलग किया और उनकी साड़ी को पूरी तरह से खींच कर उनके बदन से अलग कर दिया. इस समय वो मेरे ऊपर छाया हुआ था उसका मर्दाना सीना मुझे बेहद उत्तेजित कर रहा था. मेरे बदन पर मेरी काली ब्रा और पैंटी बची थी और अपने गोरे रंग पर उस काली ब्रा और पैंटी में मैं किसी रंडी से कम नहीं लग रही थी जो तीन तीन मर्दों का एक साथ मनोरंजन करने वाली थी.

उन्होंने झुक कर मुझे पानी दिया तो मुझे उनके दूध दिख गए, चूंकि मामी की नजरें मेरी तरफ ही थीं तो मैंने उनके हाथ से पानी का गिलास लिया और पानी पीने लगा. मैं बीच बीच में मौका मिलते ही उनकी जांघ और कमर पर भी हाथ फेर रहा था. मैं जोरदार धक्के लगाए जा रहा था और भाभी के मुँह से मजे वाली मादक आवाजें निकली जा रही थीं.

मैंने लंड सहलाते हुए मैडम की पसरी हुई चुत की फांकों में लंड का सुपारा घिसना चालू कर दिया. मैंने अपनी साथ वाले बेंच पर बैठे दोस्त से पूछा कि ये कौन है?उसने बताया- ये तो अपनी नूपुर है.

मम्मी बोली- इसका क्या करेगा?उनको मैंने बिना कुछ बताये एक रस्सी से उनके हाथ बांध दिये. हम फिर से चुदाई करने बेडरूम में गए और मैं दीदी की ब्रा उतारते ही चूचियों पर टूट पड़ा और चूसने लगा. यह देसी फुद्दी की चुदाई कहानी सत्य घटना पर है जो कि मेरे और मेरी भाभी के बीच हुई थी.

वो इतनी खूबसूरत लग रही थी कि वहां बैठे आस पास के सब लोगों का ध्यान उस पर ही था.

रहने दो सर जी, अब इत्ते टेस्टी भी ना हैं, मैं भी तो साथ में खा ही रहीं हूं न!”मैं झूठ क्यों बोलूँगा भला? दिल से कह रहा हूं सच में बहुत ही गजब का स्वाद हैं तुम्हारे हाथों में और ये बर्फी और सेव भी कितने स्वादिष्ट हैं. पति का साथ छोड़ देने के बाद कैसे मैंने अपनी वासना पूरी की?इस अन्तर्वासना एक्स कहानी में पढ़ें. उसके मुंह से कामुक सीत्कारें बरसने लगीं- आह्ह … अनुज … ओह्ह माय गॉड … ओह्ह … आह्ह … ओह्ह फक … आआआ हहह … ओ नो … स्स्स … आह्ह श्श्स्स … गयी … आह्ह गयी मैं.

ये देखकर हेमा चाची हंस पड़ीं और बोलीं- ये तुम्हें क्या हो गया भास्कर … चलते रहने दो न!मैंने कहा- अरे वो सीन …चाची ने मेरी बात काटते हुए कहा- अब हॉलीवुड फिल्मों में तो ये सब आम बात है … और हम तो अच्छे दोस्त है न, तो हम दोनों के बीच में किस बात की शर्म!ये सुनकर मैं मुस्कुरा उठा … क्योंकि ये हेमा चाची का एक इशारा था कि आज हेमा चाची मस्त मूड में हैं. मैंने हंस कर लंड बाहर निकाल लिया और उनके पेट पर सारा माल गिरा दिया.

दो मिनट ब्लाउज के ऊपर से ही चूचियों का मजा लेने के बाद मैंने उन्हें अपने से अलग किया और उनकी साड़ी को पूरी तरह से खींच कर उनके बदन से अलग कर दिया. सर बोले- क्यों क्या किसी के माथे पर लिखा रहता है कि इसे लौंडे पसंद होंगे?मैं- नहीं सर मेरा मतलब वो नहीं था. फिर मैं तुम्हें आज से ठीक 4 दिन के बाद चोदूंगा और उसके बाद फिर एक दिन छोड़कर फिर से सेक्स करूंगा.

एक्स एक्स एक्स एचडी बीएफ पिक्चर

उसने मेरे टॉप को उतार दिया और मेरे मम्मों पर जोर जोर से थप्पड़ मारने लगा.

मैंने भाभी की चूत पर तेल लगाया और मेरे पहले झटके में लंड का टोपा अन्दर घुस गया. ऐसे ही 15 मिनट तक करने के बाद मैं उसके मुंह पर ही झड़ गई और उसने मेरी बुर का पानी अपने मुंह में भर लिया. अलीमा भी इस दबाव को महसूस कर रही थी और कामुक आवाज निकाल रही थी- आआहह … ओओहह … अंकल!वह सोच रही थी कि अब से चुदाई का भरपूर आनन्द लेना है और अपनी सहेलियों से बिल्कुल पीछे नहीं रहना है.

उसको अपनी सुन्दरता पर बहुत घमंड था जिसको मैंने बाद में तोड़ दिया था. मेरे प्रिय पाठको, आपने मेरी पिछली कहानीहरियाणा की देहाती चुत चुदाईपढ़ी होगी. সানি লিওনি কা বিএফलेकिन मेरा तना हुआ लंड उठा था वह मेरे शॉर्ट्स से स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा था।मैं वहां से बस भागने ही वाला था कि तभी वाशी बोली- मीत, कहाँ जाता है? रूक!और वह मुझसे पीछे से चिपक गयी।मैं इतना दंग रह गया कि वाशी, जिसे मैं भोली-भाली समझ रहा था, वह मुझसे ज्यादा बिगड़ैल लड़की थी।उसने मुझे इस तरह से पीछे से पकड़ लिया कि मैं हिल नहीं पा रहा था.

वो मेरे पेट पर आ बैठी और मेरी छाती पर अपने हाथों से सहलाने लगी; मेरे पेट से लेकर मेरी निप्पल्स और गले को सहलाने लगी. जैसे ही हमारा रस निकला, हम दोनों ने एक दूसरे को कस कर गले लगा लिया.

मैं बीच बीच में मौका मिलते ही उनकी जांघ और कमर पर भी हाथ फेर रहा था. फिर अचानक राहुल ने कहा- बस में मजा आया था कि नहीं!उसकी बात से मैं मुस्कुरा दी और ना में सर हिला दिया- पूरा मजा किधर से आता?अजय- किस मजे की बोल रहे हो यार हमें भी तो बताओ?दीपक और कमल- हां बताओ ना यार … कैसा मजा?फिर अजय ने कहा- गर्मी ज्यादा है यार … मैं तो लोवर उतार रहा हूँ. जिस वजह से आज जब विजय ने अपना मोटा लंड मेरी गांड में पेला, तो मेरी गांड ने ढीली होकर उसके मोटे लंड को लील लिया था.

मेरे माता-पिता के गुजर जाने के बाद हमारे पास खाने के लिए रोटी तक भी नहीं नसीब होती थी. मेरे पति के दोस्त ने जब मेरी चूत में अपना सारा पानी निकाल दिया … तो मैंने उसे अपनी बांहों में भींच लिया और उसे प्यार करने लगी. फिर मेरी ससुराल में मेरी सासू मां को किसी ने बताया कि एक औरत इसकी दवा देती है, उससे मोना को मिलवा लो.

मैं दूसरे दिन सुबह निकल गया और समय से पहले पहुंच कर रूम बुक कर लिया.

हमारी जिन्दगी की किताब में कई ऐसे पन्ने होते हैं जिनको केवल हमने ही पढ़ा होता है. वो दर्द भरी आह … आह … आह … की आवाज निकालने लगी।मैं थोड़ा सा रुका और उसके होंठ चूसने लगा।जब वो थोड़ी देर बाद शांत हुई तो मैंने ज़ोर से एक धक्का लगा कर पूरा लन्ड उसकी चूत में घुसा दिया।उसकी गर्म गर्म चूत में लंड गया तो मुझे मजा आ गया.

जब तक रानी उसकी पूरी मलाई गटक नहीं गयी तब तक उसने लंड को मेरी बहन के मुंह में फंसाये रखा. मैं आशा करती हूं कि मेरी पहली चुदाई की ये सच्ची कहानी आप लोगों को पसंद आई होगी. कभी वो अपनी मोटी गांड दिखाकर फोटो क्लिक करवाती, तो कभी अपने होंठों का पोज़ बनाकर सेक्सी लगती.

हम दोनों के जिस्म एक दूसरे के जिस्म को स्पर्श कर रहे थे और ऊपर से मेरा तना हुआ लंड बैठने का नाम ही नहीं ले रहा था. जब चाहे मेरे माथे पर किस्सी कर लेती थीं और मैं भी उनके गाल चूम लेता था. मेरी पिछली कहानी थी:नागरिकता के लिए बुढ़िया को चोदा[emailprotected].

सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ उसके मुंह से सीत्कारें निकल रही थीं- आह्ह … ओह्ह … जोर से … स्स् … थोड़ा कस कर … आह्ह … हां … ऐसे ही … ओह्ह … पी जाओ. फिर मैंने उसका पल्लू नीचे गिराया और उसके ब्लाउज के ऊपर से उसके स्तनों को जोर से दबाने लगा.

1 साल की लड़की के बीएफ

मैं बोला- 7 दिन का भूखा है मेरा लंड।वो बोली- गुड़गांव में कौन देती है इसे अपनी जान की खुराक?मैंने कहा- चाची जान नहीं जन्नत का मज़ा!और अब मैं झटके मारने लगा. उस ब्लू फिल्म में एक लड़के ने अपना लंड उस लड़की की चूत में डाल रखा था और दूसरे लड़के ने अपना लंड उस लड़की की गांड में डाल रखा था. रूबी का पति बाहर फंस गया था … क्योंकि वहां से वापस आने का किसी के पास कोई साधन उपलब्ध नहीं था.

एक लड़का है अर्पित जो 23 साल का है और दूसरा है हर्षदीप जो 22 साल का है. कहीं और की मसाज भी करवानी है क्या?वो बोली- सनी, मेरा तो पूरा शरीर ही दर्द कर रहा है. नंगी पिक्चर दिखाओ हिंदी मेंउनके चूतरस की गर्मी पाकर मेरा लंड भी काबू न रख सका और मैंने भी दीदी की चूत में पानी छो़ड दिया.

मैं बिस्तर पर लेट गया और वो मेरे लंड पर अपनी चुत फंसा कर कूदने लगी.

फिर मैंने म्यूजिक चला दिया क्योंकि गांड चुदाई में रीति की फिर से चीखें निकलने वाली थीं. मेरे कच्छे को जैसे ही उसने नीचे किया, मेरा खड़ा लंड सीधा होकर उसके होंठों को छूता हुआ नाक पर जा लगा.

कुछ देर उसी स्थिति में रहने के बाद फिर से जब अलीमा ने अपने चूतड़ हिला कर इशारा किया, तो बलविंदर समझ गया कि अब लंड चुत में अन्दर बाहर किया जा सकता है. अब आगे अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी:अब अगले दिन फिर मैं इसी तरह तैयार होकर इंस्टीट्यूट गयी. फिर मुझे ग़लती का एहसास हुआ और मैंने हाथ तुरंत छोड़ दिया और माफी माँगने लगा.

वो ठंडी हवा मेरी साड़ी से होकर मेरी चूत में घुस रही थी और मेरे शरीर में एक अजीब से सनसनाहट होने लगी थी।साहिल अपनी बाइक पे हल्का सा टिक कर बैठा था.

पांच मिनट तक किस करने के बाद मैंने उसके कुरते को ऊपर कर दिया और उसके रसभरे मम्मों को पकड़ कर दबाने लगा. थोड़ी देर बाद हेमा चाची उठीं और उन्होंने पलंग के तकिए से खोली उतार ली. अब उसके मम्मे ब्लाउज़ से बाहर आने को तैयार थे।मैंने जल्दी से बुआ को नंगी कर दिया और खुद भी नंगा हो गया।बिस्तर जमीन पर था।तो मैं लेट गया और बुआ को मेरा लन्ड को चूसने का इशारा किया.

ब्लू पिक्चर दिखाइए सेक्सी वीडियोउधर जब तक अलीमा ने गोली खाई, तब तक बलविंदर अपने कपड़े उतार कर नंगा हो गया. उन्होंने मेरे लौड़े को कंडोम पहना दिया।मैंने मामी की चूत में थूक लगाया और चूत के छेद पर टिका कर एक झटके में पूरा लंड घुसा दिया मामी की गीली गर्म चूत में!मामी चीख पड़ी- ऊईईई ऊईईई आहह आहह … मैं मर जाऊंगी राज … ऊईईई ऊईईई उम्म्हा!मैंने उसकी एक ना सुनी और लन्ड के तेज़ तेज़ झटके मामी की चूत में मारने लगा।अब उसकी आवाज तेज होने लगी.

गांव की सेक्सी फिल्म बीएफ

मैंने अपने हस्बैंड से कहा- ये क्या आप मुझे अकेला छोड़ कर दिल्ली जा रहे हो और मैं यहां कैसे समय पास करूंगी. पास में तीन ईंट रखी थी जिसको मैंने बड़े धीरे से एक के ऊपर एक रखा और मैं उसपे चढ़ गई. लगभग 10 मिनट रानी को चोदने के बाद फिर वो उसकी चूत में ही झड़ गया और कुछ देर तक चूत में ही लण्ड डाले पड़ा रहा.

लंड अन्दर पेलने के बाद ही ये अहसास हो गया था कि आंटी ने बहुतों के लंड लिए हैं. उनके मोटे चुचे 38″ के थे और उनकी कमर 32″ की और उनका पिछवाड़ा तो पूरे स्कूल में मशहूर था 40″ का!शायद वो पीछे बहुत बजवाती है इसी लिए उनकी गांड इतनी बड़ी हो रही है।रोज़ की तरह आज भी मेरी मैम साड़ी पहन कर आई थी. अचानक मुझे महसूस हुआ कि मेरे नाज़ुक मखमली अधनंगे पैरों पर राजेश हल्के हल्के उसके मर्दाना पैर रगड़ रहा है.

आज शायद अपने जीवन में मैंने पहली बार खुद को इतने सेक्सी अंदाज़ में देखा था।कुछ देर बाद मैं आ गयी अपने इंस्टीट्यूट में!एक दो लड़कियों ने मेरी तारीफ भी की जिससे मुझे बहुत अच्छा लगा. उसकी आवाज़ और तेज हो गई- आह्ह शिवम् … नहीं … बस करो … आह्ह … शिवम् … कोई आ जायेगा … आह … आह … नहीं।मैंने उसकी चूची छोड़ दी और कमरे का दरवाजा अंदर से लॉक कर दिया. मैंने दुबारा से सही से सैट करके एक धक्का मारा, तो लंड आधा अन्दर चला गया.

मुझे समझ नहीं आ रहा था कि ये सब सच में हो रहा है या मैं कोई सपना देख रहा हूं. अपनी चूत पर मेरे हाथ के स्पर्श से हेमा चाची सेक्सी सिसकारियां लेने लगीं और आवाजें निकालने लगीं- आह्ह्ह आह्ह्ह!चाची की मादक आवाजें सुनकर मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया.

मैंने ससुर जी का लवड़ा पकड़ा, तो उनका लंड इस उम्र में भी कड़क मूसल सा अकड़ा हुआ था.

उसकी लैगिंग में उसकी चूत, चूत का मोती, उसकी गांड और सब कुछ दिख रहा था. सेक्सी बीएफ भोजपुरी बीएफहर्षदीप ने आंटी के बूब्स को चूसना चालू किया और आंटी भी आआह … उऊह … करने लगी. ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋ ಪ್ಲೇ ಮಾಡಿसर ने अपने लंड दिखाते हुए कहा- अब तुम्हारी बारी … तुम अपने कपड़े निकालो और नंगे हो जाओ. फिर मैंने ही उससे पूछा- काफी गर्मी है क्या तुम नहाना चाहते हो?वो बोला- हां जी साहब, नहाना तो है ही मगर गाड़ी खाली हो जाए, तो बाहर कहीं नहा लूंगा.

सलमान ने एक झटका मारा तो न जाने कैसे उसका लंड चुत से निकल कर बाहर फिसल गया और अम्मी की तेज चीख निकल गई.

चलते हुए जब भाभी के दोनों कूल्हे आपस में रगड़ खाते हैं तो अच्छे अच्छे लंड आहें भरने लगते हैं. अब मैं उसके ऊपर झुक कर उसको किस करने लगा और उसके होंठों को काटने लगा. ये कहकर वो तीनों मेरे बूब्स पर टूट पड़े और बारी बारी से मेरे बूब्स को दबाने लगा.

सुरभि कहने लगी- यह छेद तो बहुत टाइट है … इसमें आपका लंड कैसे समाएगा?मैंने कहा- इस छेद में भी चला जाएगा बन्नो. धीरे धीरे जैसे जैसे मैं वीडियोज़ देखता गया वैसे वैसे मेरी रुचि उन वीडियो में बढ़ती गयी. मैंने भाभी की चूत पर तेल लगाया और मेरे पहले झटके में लंड का टोपा अन्दर घुस गया.

कोलकाता वाली बीएफ

तब मैंने उसे बताया कि मैं वापस लखनऊ जा रहा हूँ, अभी स्टेशन पर हूँ।मैंने कहा- आप स्टेशन आकर आपना फ़ोन ले लो।पर वह बोली- मैं अभी नहीं आ सकती. ऐसे ही एक दिन मुझे एक लेडी का फोन आया- मेरा लैपटॉप बिगड़ गया है और वो बहुत ही स्लो चल रहा है, कुछ काम नहीं हो रहा है. मैंने कहा- रानी, मैं तुम्हारा नंगा बदन देखने के लिए बहुत पागल हूँ और अब मुझे चैन नहीं पड़ेगा जब तक मैं तुम्हें नंगी नहीं देख लेता.

नैंसी- स्ट्रिप पोकर! यह क्या होता है? क्या तुम्हारा मतलब है, जो व्यक्ति हार जाता है उसे अपने कपड़े से कुछ उतारना होता है?मैं- रहने दो मम्मी! जब हम कॉलेज में थे तब हम लड़के इसे खेला करते थे तो मुझे याद आया और गलती से मेरे मुह से निकल गया। मुझे लगता है कि यह एक अच्छा विचार नहीं था।नैंसी- हनी, क्यों ना हम भी इसे खेलें.

तब मैंने एक और शॉट के साथ अपने शहजादे को चुत की गहराई में आसन ग्रहण करवा दिया.

आप लोगों को तो पता ही है कि मुझे लड़कियों को इस तरह से तड़पा कर चोदने में ही मजा आता है. आज इस दूधिया आइसक्रीम के कटोरे को चूसते हुए मुझे ऐसा लग रहा था कि ये मलाई कभी खत्म ही नहीं हो सकेगी. बीएफ इंडियन सेक्सीकुछ दवाएं और एक इंजेक्शन लगने के बीस मिनट बाद शबाना मेरे साथ बाहर आ गई और हम लोग घर जाने के लिए निकलने लगे.

वहीं विजय अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों दूध को थामे हुए था और बेरहमी से उन्हें दबाए जा रहा था. रात को शराब की चुस्कियों के बीच मैडम की चुत में लंड पेलने का लुत्फ़ लिया. मैंने पूरा माल फर्श पर निकाल दिया।मुठ मारने के बाद जब मैं रिलैक्स हुआ और आंखें खोलीं तो अचानक मेरी नज़र चाची पर पड़ी जो मुझे देख रही थी।डर और शर्म से मेरी हालत पूरी तरह से ख़राब हो गयी थी।उस दिन के बाद फिर मैं जब भी चाची को देखता तो अपनी नजरें चुरा कर भाग जाता था।जब भी वो सामने होती थी तो मैं कट लेता था.

एक दिन चाची ने मुझे अपने घर पर बुला लिया और हम दोनों काफी टाईम तक बातें करने में मस्त रहे. तो एकदम से वो उठी और साहिल को एक झटके में उसने नीचे लिटा दिया और खुद उसके ऊपर सवार होकर उसको पहले तो खूब जोश में साहिल को होंठों से अपनी चूत का पानी साफ किया.

लंड को चूत पर रखकर मैं रगड़ने लगा तो वो सिसकार उठी और बोली- जल्दी से चोदो … आह्ह … नहीं रुका जा रहा.

आंटी ने मेरा मोटा लंड एकदम सख्त देखा, तो वो उठ कर बैठ गईं और मेरे लंड को चूमने लगीं. वो जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … आईई … आह्ह … उम्म … ओह्ह … करते हुए वो अपनी चूचियों को दबा रही थी. थोड़ी देर बाद सर बोले- चल अब फव्वारे के नीचे चल और उधर फव्वारे में मेरी गांड मार.

एक्स एक्स सेक्सी मूवी एचडी उसने पूरे ज़ोर से सिर पीछे खींचा और लंड को मुँह से निकालने के साथ ही वो खांसने लगी. मैंने कहा- सर, आपको देख कर ऐसा लगता नहीं है कि आपको भी लौंडे पसंद होंगे.

फिर उसने कन्डोम पहना और दोनों पैरों को पूरा खोलकर चूत के दरवाजे पर लंड रखकर एक जोर का धक्का मारा, जिससे ऐसा लगा कि पहले ही धक्के में उसका पूरा लंड मोना की चूत के अन्दर चला गया. जल्द ही मेरी ब्रा भी निकाल दी गई और दोनों ही एक एक करके मेरे दूध को दबाते और चूसने लगे. और मेरी मैडम भी साहिल की बहुत बड़ी प्रशंसक थी, हमेशा उसी की तारीफ करती रहती थी हमारे सामने।हम दोनों बैठी थी.

बीएफ ब्लू वीडियो देहाती

भाभी हंसते हुए बोलीं- वो कैसे?मैंने- मेरी जान आप बस कैसे भी मुझसे मिल लो. मैं चुप हो गया और शबाना भाभी अपनी पूरी शिद्दत से लंड चुसाई का मजा लेती देती रही. सलमान बोला- यार, मैंने तो समझा था कि आज तेरी जवानी को भोगने का मौक़ा ही नहीं मिलेगा.

चूत चोदने के बाद उसने बिल्कुल देर न करते हुए फटाक से गांड में लन्ड डाला और उसके बालों को पकड़ कर मेरी बहन की गांड चुदाई करने लगा. जैसे ही मैं घर के अन्दर गया, तो मामी मुझे देख कर खुश हो गईं और मुझसे लिपट गईं.

शायद यही वजह थी कि मैंने अपने पति के बाद दूसरे मर्दों की तरफ देखना शुरू कर दिया था.

पहले पहल तो ज़ायना कुछ शर्मा रही थी, मगर तभी मैंने पैंट की जिप खोल कर लंड सामने कर दिया. बात उस समय की है जब मैं जवानी को छू चुकी थी यानि कि जब मैं 19 साल की होने को थी. बलविंदर ने अपना सर उठाकर उसके चेहरे की ओर देखा, तो अलीमा ने एक प्यारी सी मुस्कान दे दी.

कुछ दूर ही पहुँची थी मैं … कि फिर बारिश बहुत तेज़ हो गयी तो मैं एक किनारे खड़ी हो गयी।10 मिनट बाद देखा तो सामने से साहिल भीगता हुआ आ रहा था. कुछ देर तक यूं ही चूचियां चुसवाने के बाद शबाना ने मेरे कान में कहा- पूरा मजा इधर से लेने का इरादा है क्या?मुझे एकदम से कुछ याद आया और मैं वासना से उसकी तरफ देख कर मुस्कुराते हुए नीचे की ओर सरकने लगा. अब आगे की प्यासी पड़ोसन Xxx कहानी:कुछ देर बाद अंकिता हाथ धोकर आई और मेरे साथ चिपकर बैठ गई.

और प्रेमा भी जानती थी कि अगर शालू को कहीं से सहारा नहीं मिला तो वह ज्यादा दिन नहीं रह पायेगी प्रमोद के साथ।उधर भानू अपनी बहू की चूत चुदाई करने की फिराक में रहता था.

सेक्सी ट्रिपल एक्स बीएफ: ये सब मैंने तुरंत अपने फोन में सेव किया और फिर मौके का इंतज़ार करने लगी।एक दिन जब दीदी बाथरूम में नहा रही थी तो उनके फोन पर आलोक का मैसेज आया. वो ये कह कर जोर जोर हंसने लगी और अपनी तौलिया हटाते हुए नीचे आकर बेड के सहारे घोड़ी बन गयी.

उस औरत ने मेरी बीवी का इलाज कैसे किया?दोस्तो, यह मेरी बड़ा लंड सेक्स कहानी एकदम सच्ची है, इसमें बस मैं स्थान का नाम बदल रहा हूँ. थोड़ी देर बाद उनकी चूत से उनका चूत रस निकलने लगा। मैंने वो पूरा चाट कर साफ किया।वो पूरी मस्ती में मेरा लन्ड चूस रही थी इसलिए मेरे लन्ड ने भी उनके मुंह में ही पूरा माल उड़ेल दिया।मैम पूरा माल निगल गई।हम दोनों शांत हो चुके थे. खा थोड़ी जायेगा!जैसे ही मैंने उसे इशारा किया कि साइड विंडो वाली सीट मेरी है तो उसने हल्की सी सेक्सी मुस्कान फेंकी और बोला- बिल्कुल … आइये।मैंने बैग ऊपर वाले खांचे में डाला और अंदर घुसने लगी.

फिर बातें करते हुए वो मेरे बाइसेप्स और मेरे एब्स की तारीफ करने के बहाने से सहलाने लगी.

लेकिन मेरी सास अभी भी उखड़ी हुई थी क्योंकि मेरी चूत में फुल स्पीड में लन्ड घुस रहा था जिसकी फट फट की आवाज़ फ़ोन के पार जा रही थी. मैंने मम्मी को घुटनों के बल बैठा दिया और तौलिया उतार कर लौड़ा उसके मुँह में दिया. वर्ना हमारा परिवार तो बर्बाद हो जाएगा बिना बच्चे के।मैं- दीदी फिर अपनी सास को कैसे बताओगे कि किससे चुदवायी है?वो बोली- कोई बात नहीं.