स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ चोदा चोदी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गाना ब्लू फिल्म: स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ, उसने मेरी चूत को चूसा-चाटा और फिर अपना लंड मेरे मुंह में देने के लिए तैयार होने लगा.

सेक्सी व्हिडिओ सेक्स सेक्स सेक्स

उसकी चूत ने प्रीकम छोड़ दिया था, जिससे चूत में पानी का रिसाव होने लगा था. सेक्सी फिल्म बीएफ पिक्चर सेक्सीमैंने लपक के रानी को उठाया और गोदी में उठाए हुए भागता हुआ बैडरूम जा पहुंचा.

मैंने फ़ौरन वसुन्धरा के ब्लाऊज़ के हुक खोलने शुरू किये और दो क्षण में ही वसुन्धरा के ब्लाऊज़ दोनों पटल दाएं-बाएं खुले पड़े थे और अंदर लेसिज़ वाली डिज़ाईनर ब्रा में दो हंसों का जोड़ा अपनी झलक से वातावरण चकाचौंध करने लगा. वीडियो को सेक्सी बीएफवही हुआ, मैंने उसका नाड़ा खोला और उसको अपने ऊपर लेटा कर लंड पिछवाड़े में डाल कर धकापेल में लग गया.

किस्मत से उनका घर भी रास्ते में पड़ता था तो उसकी माँ ने मुझसे उनको कुछ दूर तक छोड़ने के लिए रिक्वेस्ट की.स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ: मैं अपनी गांड मटकाती हुई ‘आअहह ऊऊऊह उउइइ माँ … मजा आ रहा है … उई भाई जोर से और जोर से चोद आआहहह भाई … तेरे लंड की चोट मेरी बच्चेदानी पर पड़ रही है … आआह्ह्ह भाई चोदो और जोर से … आअह्ह्ह ऊऊओह आअह्ह्ह बहनचोद … चोद दे अपनी रंडी बहन को आआहहह …इसी चुदाई के बीच में मैंने एक बार और अपना रस छोड़ दिया और भाई मुझे फुल स्पीड से चोदता रहा.

चूंकि वो भाभी भी बहुत गर्म हो चुकी थी और हम दोनों भी बिना चुदाई किए रह नहीं सकते थे.मेरी स्पीड तेज हुई तो दोनों के मुंह से उम्म्ह… अहह… हय… याह… इस्स्स … ओह्ह जैसी कामुक आवाजें पूरे माहौल को गर्म करने लगीं.

बीएफ एचडी ओपन - स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ

मैंने बहुत प्यार से उसके हाथों को हटाया और उसकी चुचियों को अपने मुँह में लेकर जोर से चूसने लगा.उस औरत ने धमकी देते हुए एक बैग और कपड़े नीचे फेंक दिए और बोली- देख ले साली तुझे नंगी ही जाना है या बात मानेगी?फिर मैंने लंड को मौसी की गांड में डाल दिया.

नम्रता के ब्लाउज को मैंने बनियान की तरह ऊपर कर दिया, तो ब्लाउज में फंसी हुई उसकी चूचियां अपने तने हुए निप्पल के साथ बाहर आ गईं. स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ जब वो चल रही थी, तो उसकी पतली कमर के साथ हिलते चूतड़ बहुत सेक्सी लग रहे थे.

मैं जिम करता था इसलिए मुझे वजन उठाने में कोई परेशानी नहीं हो रही थी.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ?

तेरी उम्र तो बहुत कम है लेकिन तेरी चूत बता रही है कि तू बहुत चुदी है. जैसे ही जीजा ने दरवाजा खोला, वहां पर पहले से ही दो लोग और खड़े हुए थे. फनफनाता लंड देख कर भाभी आंखें फाड़ने लगीं क्योंकि दोस्तो, मेरे लंड की एक खास बात है, जब सबका लंड खड़ा होता है, तो सीधा होता है.

चाची ने ये कहते हुए रबड़ी को अपनी चूत पर रगड़ा और अपनी दोनों टांगें चौड़ी करके बोलीं- चाट मेरी चूत को. एक दूसरे के मुँह में मुँह डाले हुए ही हम दोनों कब सो गए, पता ही नहीं चला. वो चला गया।मम्मी तैयार हो गयी, राजेश आया, वो उसके साथ चली गयी।अंशु ने डॉक्टर शोभा को फोन किया- मम्मी का जो प्रोसीजर होगा, वो हम भी देखना चाहते हैं, ऐसे कि उन्हें पता चले.

कोई दस मिनट तक किस करने के बाद मैं अपने हाथ उसके टॉप के अन्दर ले गया. बॉस एक हाथ से मेरे दूध के निप्पल को दबाने लगे जिससे मैं बहुत ही तेजी से चिल्लाई- उईईईई उईई ईईई!अब मैं भी गर्म होती जा रही थी और धीरे धीरे मेरी दोनों जांघें अपने आप फैल गई और उनका लंड मेरी चड्डी के ऊपर से मेरी बुर में टिक गया. उससे बात करने पर पता चला कि वह आगरा में ही रहती है और अभी तक उसकी शादी नहीं हुई है.

जब मुझे लगा कि अब मेरा निकलने वाला है, मैंने लंड बाहर निकाल लिया और मुठ मार कर वीर्य बाहर निकाल दिया. सोनल- मजा तो भाई आपको हम दोनों की चुत की धज्जियां उड़ाने में आया होगा.

बस … पर्दा उठने को था और हंसों के इस अछूते जोड़े पर मेरी पूरी मनमानी चलने को थी.

मेरा लंड भी चूत चूत पुकारने लगा था और ज़िद करने लग गया था कि स्वीटी की ही स्वीट चूत चाहिए.

फिर वो खुद ही कहने लगी कि उसको ये डिल्डो उसकी एक ऑफिस की सहेली ने दिया था. मैंने हल्का सा अपनी कमर को झटका दिया और आधा लंड उसकी चूत में उतर गया. अंकल- बेटा इसमें हम क्या कर सकते हैं?मैं- आप मेरे भरोसे के हो और मेरे दोस्त भी हो.

मैंने उसको बोला- हिना जी आपकी मसाज हो गई है … अब आप नहा के कपड़े पहन लें. कभी खुद का मन उचाट हो जाता था, कभी परिस्थितियां लिखने नहीं देती थीं. लेकिन जैसे ही जीजा ने मेरे बूब्स को दबाना शुरू किया तो सेक्स मेरी घबराहट पर भारी हो गया और मैंने जीजा के साथ मजा लेने का मन बना लिया.

मगर कुछ देर के बाद हम दोनों को अलग-अलग सीटों पर बैठने की जगह मिल गई.

रात को जब वो गहरी नींद में सो रही थी मैंने पिछली रात की तरह ही उसको नंगी करना शुरू कर दिया. निक मेरे से थोड़ा ही दूर आ कर बैठ गया और पूरे समय मुझे ही ताड़ता रहा था. फिर 15 मिनट बाद मैं भी झड़ने वाला था, तो मैं उनके अन्दर ही झड़ गया और उनके ऊपर लेट गया.

आपका देव कुमार[emailprotected]कहानी का अगला भाग:आंटी की प्यासी जवानी मांगे लंड-2. कहकर उसने मेरे होंठों को चूम लिया।मैं फिर मम्मी-पापा को छोड़ने स्टेशन गया। ट्रेन लेट थी और आते-आते शाम हो गयी. पैंटी उतरते ही मेरी आंखों के सामने साफ गुलाबी बाल रहित चूत उभर कर आ गई.

मैं भी मेरी जीभ की नोक काजल की चूत में और गहराई तक डालने लगा और दोनों हाथों से काजल की चूचियों को बेदर्दी से दबाने लगा.

चूंकि यह मेरी पहली कहानी है तो हो सकता है कि यह कहानी लिखते समय मुझसे कुछ गलतियाँ हो जाएं. फिर मैंने बहाने से उन सब का नाम पूछा तो पता चला उस खूबसूरत सी लड़की का नाम मनमीता (बदला हुआ) था.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ अपनी उंगली को चूत के मुहाने पर लगा कर उसके अन्दर से निकलते हुए सफेद गाढ़े वीर्य को देखने लगा, जो काफी धीरे-धीरे निकल रहा था. ’वह दूसरी बार मेरी गांड में ही झड़ गया और मैंने जैक को मना किया, तो उसने मेरे बाल खींच कर अपना लंड मेरे मुँह में भर दिया और झड़ गया.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ मैंने निहारिका से कहा- यार तेरा पिछवाड़ा तो पहले से भी ज्यादा सेक्सी हो गया है. मेरे सामने ताऊ जी की गांड थी इसलिए मुझे बुआ के चूचे दिखाई नहीं दे रहे थे.

मगर मैं जब भी आगरा जाऊंगा तो उस सेक्सी टीचर की चुदाई करके जरूर आऊंगा.

पैर में घाव होने पर क्या करें

आह … उसका गोरा जिस्म … कड़क उठे हुए चुचे, उन पे गुलाबी निपल्स, सपाट पेट, नंगी पीठ, गोरी बांहें, सुराही दार गर्दन, पतली कमर, उठे हुए चूतड़ और कसी हुई गांड. इसके बाद तो मानो काजल की उफनती जवानी का जलवा ही मेरे सामने बिखर रहा था. देखते ही देखते उसका लंड तन गया और फिर उसने एकदम से अपने लंड को पैंट के बाहर निकाल कर उसकी मुट्ठ मारते हुए हिलाने लगा.

मैंने बाहर जाकर दवाइयों की दुकान से नींद की चार गोलियां ले लीं और चार आइस-क्रीम भी ले ली. मुझे उस दिन के बाद से सुमिना पर शक सा होने लगा क्योंकि सुमिना भी काजल के घर आती-जाती रहती थी. मैं अगली कहानी में बताऊंगी कि कैसे उन दोनों ने अगली बार मुझे और मेरी दोस्त स्वाति को एक साथ चोदा.

अंकल ने हंसते हुए कहा- बेटा मेरा लंड तो चुत के नाम से ही खड़ा हो जाता है … और यहां तो तुम अपनी अम्मी की मेरे साथ चुदाई की बात कर रहे हो बेटा.

सुबह जब मेरी आँख खुली तो मेरी गांड पर हाथ पड़ा क्योंकि माँ गुस्से में मेरे सामने खड़ी थीं. उसके मुरझाए लंड को देख कर मैं समझ गई कि वह अब चूत चोदने लायक नहीं रहा. पहली बार मैंने लिंग को हाथ में लिया तो लगा कि कोई गरम लोहे की रॉड पकड़ ली है मैंने.

मेरा मन तो कर रहा था कि अभी लंड डाल कर चोद दूं, लेकिन फट भी रही थी कि बुआ जाग न जाएं. धीरे धीरे मुझे थोड़ा आराम मिलने लगा, तो थोड़ी देर बाद भाई ने फिर से एक धक्का मारा. मेरी इस हरकत पर वह थोड़ी सहम सी गई और उसने मुझे अपने से अलग कर दिया.

धम्म धम्म धम्म से ढेर सारा वीर्य, गर्म और गाढ़ा वीर्य लंड के छेद से गोली की भांति छूटा. पूजा ने उस लड़की से पूछा कि वो क्यों चीखी?फिर उसने मेरी तरफ देख कर पूछा कि वो क्यों चीखी, तुमने क्या किया और तुम अभी यहां क्या कर रहे हो?मुझे कुछ समझ में नहीं आया कि मैं क्या बोलूं और फिर मैंने उसको बताया कि मैं तुमसे मिलने आया था.

उसने कस कर पूरी ताकत से मेरे दूधों को दबाया, थोड़ा उठकर एक हाथ से भोला ने मेरी चूत को थपथपा दिया. पूरा एक हफ्ता हो गया था, अब मुझसे सौरव के बिना बिल्कुल ही रहा नहीं जा रहा था. मैंने पीछे से उसकी नँगी पीठ से सट कर उसे हग किया। वो थोड़ा सिहर सी गयी.

मैं देखना चाहता था कि मूवी चलने के बाद अदिति का क्या रिएक्शन होता है.

मैं अपने लंड को इस तरह तो गीला नहीं करवाना चाहता था, पर उस टाइम ज्यादा जोर जबरदस्ती भी नहीं कर सकता था. हम दोनों ने अपने आपको ठीक किया और कपड़े वगैरह सब अच्छी तरह करके हम दोनों होटल से बाहर आ गये. इस बार राधिका को दो पॉइंट्स, दिशा के तीन और सोनल के पास भी तीन पॉइंट्स थे.

बस 5 मिनट के बाद वो अकड़ने लगी और मेरी बांहों में निढाल हो कर पड़ी रही. मैं अधिकतर तो सलवार सूट पहनती थी, पर घर में लोवर और टी-शर्ट में होती.

बहुत दिनों तक मैंने उसको देखा फिर जब रहा न गया तो एक दिन उसके नाम की मुट्ठ मारनी ही पड़ी. घर वालों ने उसको नीम्बू पानी पीने के लिए रोक लिया और फिर घर में वोटिंग किसने किसको की, नींबू पानी पीते हुए इस पर चर्चा शुरू हुई. अभी तक की कहानी में आपने पढ़ा कि लॉज के मैनेजर भोला ने किस तरह से मेरी चूत को चोदते हुए मेरी गर्म चूत को अपने माल से भर दिया था.

पंजाबी लड़की के साथ

…अब काजल मुझे मेरे नाम से बुला रही थी और बोल रही- ओह्ह् जिग्गू … माँआअ … मार डाला … ओह्ह मेरे राजा अब चोद दो अपनी रानी को … आह और तेज़ पेलो … और तेज़ … अह्ह्ह्ह ओह्ह्ह …काजल की चूत में मैंने तेज़ तेज़ धक्के मारना चालू किए और उसी के साथ काजल की कामुक चुदास से भरी सिस्कारियां पूरे रूम में गूंजने लगीं.

एक औरत ने जिम्नास्टिक जैसे उलटते हुए अपनी चुत मेरे मुँह के सामने कर दी. कैसे मैंने कैसे अपने लंड से भाबी की प्यास बुझाई, कैसे उनके प्यारे से भोसड़े को जम कर चोदा. बाप- हां तुम्हारी तो बिना तेल के चुद जाएगी, पर इसकी चूत में तो तेल लगाकर ही चुदवाना होगा.

उसके बाद मैंने उसके मुँह पर से सभी फूल हटा दिए और अपने होंठ दिलिया के होंठों पर रख दिए और उन्हें चूसने लगा। वह भी मेरा साथ देने लगी. मां बोली- तो मैं भी चल पड़ती हूं तुम्हारे साथ, मुझे भी बाजार से सामान लाना है. देवर भाभी के बीएफ वीडियो मेंशादी के कुछ दिनों बाद ही हम लोगों ने शहर में ही एक किराये का अलग मकान लिया.

हम लोगों ने खाना खाया, इसके बाद बाहर निकले, तो बहुत तेज़ बारिश शुरू हो गई. जीजा जी मेडीकल लाइन में जॉब करते हैं और दीदी भी साथ में ही रहती है.

इसलिए वो अपनी कमर उचका-उचका कर लंड को जितना अन्दर ले सके, लेने का प्रयास कर रही थी. गांड में लंड लेकर मैं बैठ गया तो उसने कहा कि अबे हिल तो … ऊपर नीचे होते रह. मेरी चूत में चीटियां सीं रेंगने लगीं थीं और मेरे पैर कंपकंपाने लगे थे.

मैंने पूछा- क्या हुआ?तो बोलने लगी- कुछ नहीं … मेरी चुत को बहुत सुकून मिला है. घिस तो क्या रहा था बस उसके बदन के रेशमी से उस अहसास को‌ ही अपने में समा रहा था. वो सीत्कार भरने लगी और बोली- जल्दी से डाल दीजिए न अंदर!मैंने आव देखा न ताव … एक झटके में लंड को चुत में पेल दिया.

मैं हल्का हल्का चिल्लाने लगी, तो सौरव ने मेरी चूत से लंड निकाल कर मेरी गांड पर अपना लंड रखकर धक्का मार दिया.

मेरा लंड तो एक जोर का झटका लगा, मेरे हाथ खुद ही उसके चुचों पर चले गये. आप सभी से निवेदन है कि आपको मेरी सेक्स स्टोरी कैसी लगी, मुझे ज़रूर बताएं.

मौसी ने उनसे कहा- अब और रुपये कहां से लाएं?लेकिन वे मौसी से और पैसे मांगने लगीं तो मौसी बोलीं- मेरे पास और नहीं है. दोस्तो, मेरा नाम प्रिन्स है, मैं इंदौर का रहने वाला हूँ और यह मेरी इस पटल पर पहली सेक्स कहानी है. किंतु आपसे या किसी अनजाने व्यक्ति से मिलने के ख्याल से मुझे भय भी लग रहा है और यदि मैं ऐसा करती हूं तो रोग-ग्रस्त होने की आशंका भी रहती है। क्या मेरा ऐसा सोचना सही है या मेरे मन की यह धारणाएं गलत हैं? कृपया उत्तर दें.

आपको ये मेरी गैंगबैंग चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. मुझे लगा रायता फ़ैल गया है लेकिन कुछ देर बाद स्वीटी ने मैसेज किया ‘कितना वक्त लगा दिया पागल … आई लव यू बोलने में. और दिलिया उत्तेजना में भर बोली- फाड़ दो मेरी चूत एक ही झटके में! इस गुफा की झिल्ली अपने हथियार से चीर कर रख दो! और अपनी कजिन की चूत की धज्जियाँ उड़ा दो.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ मैं वाशरूम में जाके हल्का होके बाहर निकला तो देखा कि आंटी ने नाइटी पहनी हुई थी. उसने मेरे दूध मसलते हुए कहा- आशना, तुम बहुत ही मस्त लंड चूसती हो यार.

सेक्सी फिल्म एचडी पिक्चर

दोस्तो, क्या आपने सोचा है कि एक बार चुदाई करने और करवाने के बाद चुदाई का मौका न मिले, तो कैसा महसूस होता है? लंड चुत का संगम भी क्या संगम होता है, जब भी होता है, तो दरिया बन कर बहता है. उनके बाप की ये सुनकर मुझको भी चूत चुदवाने के शब्द से प्यार होता जा रहा था. फिर उसने आंटी के ब्लाउज के हुक भी खोल दिये और आंटी का ब्लाउज उतरते ही वो पूरी की पूरी हमारे सामने नंगी हो गई.

उसके बाद वो उठे और चुपके से मेरे कमरे के दरवाजे से बाहर निकलते हुए दरवाजे को ढाल कर चले गए. मगर थोड़ा शांत होने के बाद मेरे कानों में कुछ आवाज सी आती हुई मालूम पड़ी. தமன்னா ப்ளூ ஃபிலிம்अब इतनी देर में मैं भी उन दोनों से काफी फ्रेंडली हो चुकी थी, इसलिए वो भी बातों बातों में मुझे टच करने लगे थे.

मैंने भी एक दिन उसको रिप्लाई दिया और हम दोनों लोगों की बातें होने लगीं.

उससे बात होने के बाद हम दोनों उनके रूम में गए और बैठ कर बातें करने लगे. उसके मुँह में जैसे ही मेरा लंड गया और वो खड़ा हो कर अपनी साढ़े आठ इंच की औकात में आ गया.

मुझे पूरा यकीन था कि प्रिया मेरा टांका मनमीता के साथ फिट करवा देगी. मैं उनके मम्मों को दबाते हुए नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर धक्के देकर आंटी की चुदाई करने लगा. मैंने अपना लंड उनकी चुत से बाहर निकाला, तो मेरे लंड पर खून भी लगा हुआ था.

चूंकि उसका मुंह मैंने उसी की पैंटी को मुंह में ठूंस कर बंद किया हुआ था तो वो बोल नहीं पा रही थी। यह कल के सेक्स वाली पैंटी थी.

फिर एक दिन पति को काम से बाहर जाना था तो पति ने मुझे फोन किया और बोले- मेरा बैग तैयार रखना, मुझे शाम को चेन्नई जाना है, मुझे कम से कम 15 दिन लग जाएंगे. इस पर भाभी ने हल्की सी स्माइल दे दी और मुझे नॉटी नज़रों से देखने लगी. तभी मामी ने मुझसे फिर से कहा- चलो छत पे चलते हैं, इधर मेरा मन नहीं लग रहा है.

राणी मुखर्जी सेक्सी पिक्चरउसने तुरंत ही लण्ड मुँह से बाहर निकाल दिया और तक दो तीन पिचकारी उसके चेहरे पर गिर गयी और बाकी सारा वीर्य उसके बूब्स के ऊपर कमीज पर गिर गया।कुछ देर हम दोनों वैसे ही लेटे रहे।फिर कुछ देर बाद वो उठ कर अपने मुँह और कपड़ों को साफ करते हुए थोड़े गुस्से से बोली- ये क्या कर दिया? सारा चेहरा और कपड़े खराब कर दिए।मैं धीमी सी आवाज में सोरी बोला. मैंने नम्रता को गोद में उठाया और पलंग पर पटककर उसके बगल में लेटते हुए उसके निप्पल को मुँह में भर लिया और चूची को मसलने लगा.

आदिवासी जंगली सेक्सी

जब मैं खा पी चुका तो मैडम ने गिलास और ख़ाली प्लेट उठाकर ट्रे में रखी और ट्रे को लेकर भीतर चली गयीं. मैं काजल से चिपक गया और वापस उसकी एक चूची को मुँह में लेकर चूसने लगा. मैंने अपना लंड निकाल कर कंडोम हटाया और लंड उसके मुँह में डाल कर हिलाने लगा.

भगवान ने जाने क्यों मेरे बदन में सेक्स की प्यास औसत से कुछ ज्यादा ही दे रखी है. शरद के साथ मेरा ऐसा ही रिश्ता चल पड़ा, जब भी स्वीट खाने को दिल करता, मैं छत पे चली जाती और वहां से 5 से 10 मिनट में ही पैकेट आ जाता. एक हम और एक शर्मा अंकल की फैमिली। शर्मा अंकल की बेटी की डेस्टिनेशन वेडिंग हो रही थी तो वो एक महीने के लिए शहर से बाहर गये हुए थे। ये बात मुझे पता थी। लेकिन शायद मेरी बहन को ये बात नहीं पता थी।पूरे फ्लोर पर मैं और मेरी नंगी बहन ही थे। मैंने सामान वहीं रखा.

फिर वहां खड़ी चार औरतों में से तीन ने अपनी सलवार और एक ने अपनी साड़ी उतार दी. उस दिन क्लास शुरू होते ही प्रिया मेरे पास आई और उसने अपनी नोटबुक में एक सवाल लिखा हुआ था. डॉली बाहर आई, कार में बैठी तो मैंने पूछा- पेपर कैसा हुआ?तो खुशी से उछलकर बोली- बहुत अच्छा.

सुबह छह बजे जब मेरी नींद खुली, तो वो मेरे बगल में नंगी लेटी हुई थी. मैडम बाहर आई और मुझे एक तरफ कोने में ले जाकर पूछने लगी- क्या इरादा है?मैंने कहा- इरादा तो नेक है, अगर आप हाँ कर दो तो!वह मुस्करा कर मेरी तरफ देखने लगी.

उसके बाद मेरे घर से फोन आ गया और हम दोनों को वहाँ से मजबूरन निकलना पड़ा.

राधिका ने कहा- सबसे पहले दिशा थी, फिर मैं आई थी और आखिर में सोनल थी. एक्स एक्स वीडियो हॉट वीडियोबिना चुदे उससे रहा नहीं जाता।मैं आपको बता दूँ कि मेरी बहन एक बहुत ही गर्म माल है। उसके मम्मे उभरे हुए 32 के साइज के हैं. हिंदी बीएफ चूत में लंडमैं नम्रता के ऊपर लेट गया और नम्रता ने मुझे चिपका लिया, मेरा लावा बहते हुए नम्रता की चूत को गीला कर रहा था और उसका लावा मेरे लंड को गीला कर रहा था. मैं भी कभी-कभी अपनी गांड उठा कर उसका पूरा साथ दे रही थी और हम दोनों लोग बड़े मजे से सेक्स कर रहे थे.

वो अचानक हुए हमले के लिये तैयार नहीं थी, बोली- उम्म्ह… अहह… हय… याह… रुको!पर मैं कहाँ रुकने वाला था, तब तक मेरा दूसरा धक्का उसकी चुत को झेलना पड़ा और मेरा पूरा लंड अंदर हो गया.

इसके बाद तो मानो काजल की उफनती जवानी का जलवा ही मेरे सामने बिखर रहा था. भाभी ने कहा- मैं तो तेरी भाभी हूँ, मुझसे कैसी शर्म … चल अपना औजार बाहर निकाल कर दिखा मुझे. वो बोल रही थी- आरव प्लीज़ धीरे प्लीज़ धीरे मैं मर गयीई … आरव प्लीज़ मुझे छोड़ दो … लंड निकालो बाहर.

मैंने सोफे की पुश्त से खुद को टिकाया और सिगरेट दबा कर अपना लौड़ा हिलाने लगा. )वो अब और खूंखार हो उठे थे और अपनी पूरी दम से मेरी गांड चूत मार रहे थे. दीदी भी वहां आकर बैठ गई और मुझसे बोली- क्या हुआ भाई, इतने उदास क्यों बैठे हुए हो तुम?मैंने बोल दिया- क्या दीदी … आपने मुझे पूरा देख लिया।दीदी बोली- तो क्या हुआ? देख लिया तो देख लिया.

सेक्सी व्हिडिओ फुल एचडी

मारे काम-हिलौर के, वसुन्धरा बिस्तर पर पीछे सीधी लेट गयी और बुरी तरह छटपटाने लगी. सुबह उठने के बाद मैंने हाथ मुंह धोया और किचन में गया तो माँ नाश्ता बना रही थी. उन्होंने छोड़ने की जगह एक झटका और दे दिया, तो अंकल का आधा लंड मेरी बुर में अन्दर घुस गया.

जब भाभी मुँह में मेरा लंड ले के चूस रही थी, तो मुझे बड़ा मजा आ रहा था.

तभी मुझे जोर का करेंट सा लगा;अंकल जी ने अपने होंठ मेरी नंगी चूत पर रख दिए थे और मेरा मोती अपनी जीभ से छेड़ रहे थे.

उसे आधा अपनी चूत में डाल लिया और आधे में साबुन लगाकर मेरे गांड में पेल दिया. रानी की चूत में इतना रस भर गया था कि हर धक्के पर काफी सारा रस चूत के बाहर छलक आता था. आंटी जी की बीएफउसके बाद तो जब भी वह घर पर अकेली होती तो वह मुझे फोन करके बुला लेती थी और मैं उस सेक्सी जवान आंटी की चूत चुदाई का पूरा मजा लेता था.

राधिका- कैसी हो मेरी प्यारी बहना, ज्यादा दर्द तो नहीं हो रहा, कैसा लगा अपने जीजाजी का लंड?दिशा सोनल के पास बैठकर बोली- जीजाजी का लंड बिल्कुल घोड़े जितना बड़ा है, ऐसे चोदकर हमारी बजा दी, मानो हम उसकी रखैल हों. उसके बाद मैंने थोड़ा सा जोर लगाया, तो इस बार वो ज्यादा जोर से नहीं चीखी. भाभी ने बेड पर लेटते ही सेक्स के लिए अपनी बांहें मेरी तरफ फैला दीं.

मजा दे दे आज अपनी बहन की चूत को …काफी देर तक दीदी इसी तरह मेरे लंड से चुदती रही. एकांत देख कर मैंने कहा- विक्की रात जो हुआ, उसको तुम भूल जाओ … और जाओ निहारिका को बुला के लाओ.

अपना मोबाइल फोन मेरे हाथ में धीरे से देते हुए बोले- ज़रा बैटरी देखना.

कुछ देर के बाद उसने अपना लंड फिर से मेरी चूत से बाहर निकाल दिया और मेरी चूत को चाटने लगा. अब आगे:जीजा ने कस कर मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और मेरे तने हुए दूधों को पकड़ कर अपने लंड को चूत में बुरी तरह से पेलने लगे उम्म्ह… अहह… हय… याह… करते हुए वो ऐसे चीख रहे थे जैसे उनका लंड अभी फटने ही वाला है किसी बॉम्ब की तरह. गज़ब! वसुन्धरा के चेहरे पर तो हवाईयां उड़ रहीं थीं और जाने क्यों उसकी पेशानी पसीने से तर-ब-तर थी, नज़रें सहमी हुई हिरणी के मानिंद इधर-उधर भटक रही थी, कार की सीट के परले सिरे पर सिमट कर बैठी वसुन्धरा ने गोद में रखे हुऐ अटैची-केस का हैंडल दोनों हाथों से कस कर थाम रखा था.

বাঙ্গালী মেয়েদের চোদাচুদীর ভিডিও मैं मुस्कुरा दी और जो कुछ भी रात में अंकल के साथ हुआ, वो सब उसको बताया. एक लड़का मेरी बहन पूनम के बूब्स पकड़ कर दबा रहा था और दूसरा उसकी जांघों को सहला रहा था.

दोपहर में हम घर में ही रहते थे, तो वनिता मेरे घर आ जाती थी या मैं उसके घर चली जाती थी. मेरी हिम्मत गौशाला में जाने की नहीं हो रही थी।फिर दोबारा से पायलें छनकी. फिर बारी आयी उस चीज की जिसकी कल्पना करना किसी लड़की के लिए बहुत मुश्किल होता है.

जोरदार सेक्सी वीडियो

फिर मैं पीछे आया और उसकी गांड पे हाथ फेरते हुए मैंने उसके चूतड़ पर एक जोर की चपत लगा दी. भाभी की चूत को इस पोजीशन में चोदते हुए बड़ा मजा आ रहा था क्योंकि इस पोजीशन में उनकी चूत थोड़ी टाइट सी लग रही थी. ‘आआहह … आअहह … आआअहह … उउइई माँआअ … मैं मर गई … आअहह…’थोड़ी देर बाद उसने मेरे होंठ पर होंठ जमा दिए.

पांच मिनट तक हम दोनों जीजा-साली ऐेसे ही थक कर एक दूसरे के ऊपर पड़े रहे. उसने मेरी टांगों को उठाया और अपने लंड को अपने हाथ में लेकर मेरी गांड के छेद पर सेट किया और अंदर धकेलने लगा.

मैंने दरवाजा दोबारा से बंद कर दिया और उसको बेतहाशा चूमना शुरू कर दिया.

उस रात चूंकि स्वीटी का पहली बार का चोदन था, तो ज्यादा न चोदते हुए पूरी रात में एक बार और चुदाई का खेल हुआ. वो अक्सर उसे बेड के नीचे डाल देती थी।मुझे उसकी कांख की मादक भीनी सी खुशबू पागल बना रही थी। मुझे नशा सा चढ़ने लगा था। मैंने क्यूब छोड कर उसके आर्मपिट्स को चाटना चालू कर दिया। वो छटपटाने लगी, तेज तेज सीत्कार करने लगी. और इतना तो पता ही है मुझे!मौसी- अच्छा ठीक है, तू अपना ये प्रवचन बाद में मुझे सुनाना, अभी मैं जा रही हूं.

उसकी चूत को कुछ देर तक जीभ से चोदा और फिर उसको डॉगी की पोजीशन में झुका लिया. पेंटी हटाते वक्त मेरे पेटीकोट का नाड़ा भी ढीला किया हुआ पड़ा था, उसने पेटीकोट और मेरी नाइटी को भी मेरे बदन से अलग कर दिया. उम्म्ह… अहह… हय… याह… स्स्स … हय … करते हुए बुआ जी ताऊ के लंड को अपनी चूत में आराम से लेने लगी.

मैं उसको देख कर हैरान हो गया था क्योंकि वो मेरे सामने ऐसे नाटक कर रही थी जैसे उसको सेक्स करना बिल्कुल अच्छा नहीं लगता है.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ: जीजा जी मेडीकल लाइन में जॉब करते हैं और दीदी भी साथ में ही रहती है. तभी मैंने आशीष को बोला- मैं अब फोन रख रही हूं, मैं सुबह बात करूंगी.

उसके बाद उन्होंने जल्दी से मेरी सलवार पर हाथ मारते हुए उसके नाड़े को खोल दिया और नीचे से पैंटी समेत मेरी सलवार को नीचे की तरफ खींच दिया. उसकी चूत का रस निकल जाने के बाद भी मैं उसकी चूत को चाटता रहा, जिसका नतीजा ये निकला कि वो फिर से गर्म हो गई,काजल आंखें बंद करके अभी भी हांफ रही थी. मैं अदिति को सच नहीं बताना चाहता था क्योंकि हो सकता था कि वो फिर मेरे साथ रुकने के लिए मना कर देती इसलिए मैंने उसको पूरा सच नहीं बताया.

अपनी गोदी में लेटा कर उसके चूचों को दबाते हुए उसके होंठों को चूसने लगा.

फिर वह मुझसे यह कहकर चली गई कि तुम कुछ देर इंतजार करो, मैं थोड़ी देर के बाद तुम्हें फोन करूंगी. पूछने पर बताया कि यदि उसने दो दिन के अन्दर फाइल मेरे से साइन नहीं करायी, तो कंपनी उसे नौकरी से निकाल देगी. कैसी दिखती होगी वो? क्या मेरा सामना पुरानी सड़ियल, तल्ख़, कठोर वसुन्धरा से होने जा रहा था या फिर साक्षात रति-रूप, कामांगी वसुन्धरा मेरे रु-ब-रु होगी?साल पहले की वसुन्धरा की पिंक चोली और पिंक पेंटी में मेरी ओर चली आने वाली क़ामायनी छवि मेरी आँखों के सामने मूर्त हो उठी.