बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी

छवि स्रोत,गंदी सेक्सी बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

छक्कों का सेक्सी: बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी, काश … इस वक्त हम दोनों होटल में होते, तो मैं भाभी को पूरी रात पेलता रहता.

हिंदी में बीएफ चूत की चुदाई

अब मुझसे रुकना मुश्कल हो गया और मैंने उसकी चूत में एक धक्का मार दिया और मेरे लंड का सुपारा उसकी चूत में फंस गया. बीएफ सेक्स वीडियो चूत की चुदाईपिछले दो भागों में अब तक आपने जाना था कि मेरी रैंगिंग आदि के चलते मुझे आयशा के बारे में कुछ और जानकारी भी हो गई थी.

फिर उसने हाथ हटा दिया, मगर अब भी एक हाथ उसने मेरी चूत के पास ही रहने दिया. हरियाणी सेक्सी बीएफवैसे उसका गांव तो बहुत दूर था लेकिन वह रहता जोधपुर में ही अपनी बहन के यानि मेरी भाभी के पास ही था.

उन्होंने बोला- फिर अब सेक्स कैसे करती हो? अब तो रेगुलर सेक्स भी नहीं मिल पता होगा?उनके मुंह से ये बात सुनकर मुझे झटका लगा तो मैंने अपनी गर्दन शर्म से झुका ली और अंदर चली गयी.बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी: आज रंगोली को कमरे में आया देख कर मेरी चुदाई की मुराद पूरी होते दिखने लगी थी.

मैं बस चुपचाप एक‌ हाथ से‌ अपना‌ गाल‌ पकड़कर … कभी उस औरत को देखता रहा, तो कभी उस लड़की को.एक बात तो तय थी कि आज रात मेरी बीवी चुदने वाली थी और वो भी मेरे दोस्त राहुल से, जो मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था.

बीएफ दवाई - बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी

इतने में उस कमीन ने एक और झटका दे मारा और उसका पूरा लंड मेरी गांड में चला गया.चूमते हुए उसने मेरी शर्ट भी उतार दी और ब्रा भी खोल कर नंगे मम्मों को दबा दबा कर चूसने लगा.

पापा- डॉक्टर ने क्या बोला?आंटी- डॉक्टर साहब ने तो देख लिया है दवा भी दे दी है और बोला है कि तबीयत में अभी सुधार हो जाएगा. बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी मैं- उठो! अब चाय बना लो!वो उठी, मेरे गाल पर चूमा और नंगी ही किचन में चाय बनाने चली गयी.

मैं- अरे प्रियंका छोड़ भी दो उसको, अभी वो नयी नयी है ना!हम दोनों हंसने लगे.

बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी?

मेरी प्यारी बहनो, आपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी, कृपया कमेंट जरूर डालें और मुझे अपनी चुत चटवाने की कोई टिप चाहिए हो तो नीचे कमेंट सेक्शन में ही मुझसे पूछ सकती हो. ‘उह्ह … ह्म्म्म आअह ह्हह … हम्म्म म्मम … आई … मर्रर्र … गईईई मैं आ … रहीई … हूँ … ओह्ह्ह … ह्म्म्म्म … और … उह्ह … ह्म्म्म्म … अब और मत तड़पाओ राहुल. मेरे मम्मी पापा का उनके यहां आना जाना चलता था, तो उसने मुझे बुलाना कुछ गलत नहीं समझा.

दीपा ने सिगरेट ले ली और एक लम्बा कश खींच कर धुंए का गुबार सुनील के ऊपर छोड़ दिया और मुस्कुरा दी. विकी ने मुझे तुरंत अपने बांहों में भर लिया और कहा- तुम बहुत अच्छी हो, मैं तुमसे प्यार करने लगा हूँ. मेरा भतीजा रोज़ रात मेरे कमरे में आता और मेरे हाथ पैर दबाता और मालिश करता.

मैंने कहा- नहीं नहीं … मुझे किसी लड़के को अपने पास भी नहीं आने देना. मेरे मन में कब से खलबली मच रही थी कि कब शाम हो।तभी मेरे बेटे का फोन आया, उसने बताया कि वो निकल गया है।मैंने बाथरूम में जाकर सूरज को फोन किया और उसे आज रात आने को कह दिया।उसके बाद मैं वहाँ से निकली और रेस्टोरेंट में जाकर खाना खाया।फिर शॉपिंग करने लगी. इंटरव्यू के एक महीने बाद कॉलेज से फ़ोन आया तथा एक ईमेल आया, जिससे मुझे मेरे सिलेक्शन की सूचना मिली.

उसकी गांड को थाम कर पीछे से उसकी चूत में लंड को पेल दिया और उसकी चोटी के नीचे उसकी पीठ पर चुम्बन देना शुरू कर दिया मैंने. इस बात से उनके घर के नौकर रामू को कुछ शक हुआ और उसने एक दिन आरिषा भाभी से पूछा.

’ मैं जब उसकी साड़ी के पल्लू को निकाल रहा था, तब तो उसने पीछे मुड़कर नहीं देखा.

मैंने उसी अनिश्चितता के भाव से जब उनकी तरफ देखातो उन्होंने मेरे हाथ को और जोर से पकड़ लिया.

मैंने उसे चूम कर कहा- पायल डरो मत, आज से हम दोनों बेस्ट फ्रेंड हैं … और जो भी हम दोनों करेंगे, अपनी सहमति से करेंगे. थोड़ी देर में मैंने उसको घोड़ी बनाया और पीछे से लंड को उसकी चूत में घुसा दिया. उसकी इस हरकत से पहले से कामरस त्यागने को तैयार बैठी मैंने फिर से कामरस त्याग दिया.

उसकी सेक्सी मोटी चूचियों वाली फोटो देख कर ही मेरा मन उसे चोदने का होने लगा क्योंकि उसने काफी सारी फोटो केवल छोटे छोटे शॉर्ट्स में डाली हुई थीं. मेरा लंड उसकी चिकनी चुत की दीवारों को चीरते हुए अन्दर धंसता चला गया. मामी एकदम से चिल्ला उठीं और बोली- आह मर गई … बहुत दर्द हो रहा है बाहर निकालो अपना लंड.

अभी यह काम खत्म भी नहीं हुआ था कि मम्मी की आवाज़ आई- खाना नहीं खाना क्या … तबीयत तो ठीक है.

सर का लंड इतना ज्यादा खड़ा हो गया था कि उन्होंने जरा भी देर न करते हुए अपना पूरे कपड़े उतार कर फेंक दिए. लेकिन उससे पहले आप मेरे बारे में थोड़ा और जान लीजिये क्योंकि कहानी को अच्छी तरह समझने में आप लोगों को आसानी होगी. सोच रहा था कि एक बार इसको संतुष्ट कर दूं तो फिर आराम से चुदाई करूंगा.

ये देखकर एक दिन पूजा और रंगोली मेरे कमरे में आईं और बोलने लगीं- भैया, आप तो बस रोहित को ही सब कुछ दिलाते हो, हमें तो कभी कुछ नहीं दिलाया. मगर मुझे पता था कि दर्द के बिना मजा कैसे मिल सकता है, इसलिए मैंने पायल के होंठों पर अपने होंठ फिर रख दिए और पूरी ताकत से धक्का दे मारा. मैं चिल्लायी- साले, तेरी हिम्मत कैसे हुई मेरे मुंह पर पानी फेंकने की??अब मैंने कुछ और क्लिप उसकी बदन पर चिपका दीं.

अब वो खड़ी हुई और मुझे सीट पर बिठा कर खुद नीचे बैठ कर मेरा लन्ड पैंट से निकाल कर चूसने लगी क्योंकि मैं और वंदना आज पहली बार सेक्स कर रहे थे तो मैं ज्यादा अभी कुछ करना नहीं चाहता था.

वो ज़ोर ज़ोर से सिसकारियाँ लेने लगी- आह उम्म्ह… अहह… हय… याह…बस पूरा कमरा उसकी मादक आवाज से गूंजने लगा. मैंने अपने लण्ड पर वेसेलिन लगायी और मालविका की गांड में अपना लण्ड पेल दिया।मालविका की गांड में मैंने पूरा लण्ड एक बार घुसा दिया जिससे कि मालविका का पहना हुआ डिल्डो 7 इंच तक सौरभ की गांड में घुस गया।सौरभ की गांड फट गई उसकी चीख निकल गयी, वो मालविका को गाली देने लगा।उसने पीछे देखा कि मैंने मालविका की चुदाई शुरू कर दी है, मैं मालविका को धक्के लगाता, गांड सौरभ की फट जाती.

बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी उसी रात 12 बजे की बस से मेरी बुकिंग थी, जो मैंने ऑनलाइन करवा रखी थी. पहले मैंने अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और नीरू की गांड के छेद पर सैट कर दिया.

बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी दोस्तो, मैं वासना में पागल हो रही थी तो रोहित का विरोध तो बहुत कम कर रही थी।अब मैं उसके सामने पहली बार सिर्फ ब्रा पैंटी में थी. वो बोली- फिर?मैं बोला- फिर मैं तुम्हारे गर्दन और कंधों से भी चुम्बन लेता.

सुमन ने मेरी तरफ़ घूमकर अनुनयपूर्वक मुझसे कहा- ए जी … आइए ना इधर … अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है मुझसे.

हिंदी बीएफ वीडियो

अब तो मैं चिल्ला भी नहीं पा रही थी, वो इतनी जोर से अपने दांतों से मेरे होंठों को जा दबाये था. तो चलिए अब शुरू करते हैं कहानी को खुद नीलम की जुबानी।यह कहानी सुनें. वो रोज मेरे पति के जाने के बाद आता और योगा करवाने के बहाने मेरे बदन को हर जगह से छूने की कोशिश करता.

मैं गया तो उन्होंने मुझसे कुछ कहा तो नहीं मगर उनकी बात सुनकर मेरी गांड फट कर हाथ में आ गयी. एक बार फिर से वो मेरे होंठों पर टूट पड़ा और जोर जोर से मेरे रसीले होंठों को चूसने लगा. मैंने दादी को बेड के किनारे पर खींचते हुए दादी की टांगें धीरे से मोड़ दीं और दादी के बेड से सटकर खड़े होकर अपना लण्ड दादी की चूत में सरका दिया.

एक लड़की से सेक्स करने में मुझे जब अधिक मजा आता है, जब उसका पति सामने हो और वो अपनी बीवी को मुझसे चुदते हुए देख रहा हो.

नीचे अविना मुँह में से लंड बाहर निकाल कर नंगी होकर लंड के ऊपर बैठ गई और उसे मुझे पेलना आरम्भ कर दिया. पहले तुम इसे चूस कर चिकना करो, फिर मैं तुम्हारी चूत को चाट कर चिकना करूँगा तो ये आराम से तुम्हारी चूत में चला जायेगा. उनका पल्लू ढलका हुआ था, जिससे उनकी चूचियों की कातिल दरार मेरे लंड को और मन विचलित करने लगी थी.

मैंने उसकी पैन्टी को उसके पैर से निकाल करके अपने लंड के ऊपर अच्छे से मसल दी. मेरे पति मेरे पास आकर बोले- बेबी, क्यों शर्मा रही हो? यह सब मेरा किया कराया ही है. शिल्पा ने खड़ी होकर उसके सामने बेशर्म होकर कपड़े निकाल दिए और पूरी नंगी हो गई.

मेरे बेटे ने मुझे बिस्तर पर लिटाया और अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ने लगा. हॉट इंडियन भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक शौहर बीवी सेक्स में कुछ नया करने मेरे साथ होटल में आये.

स्वाति भाभी ने भी अब एक दो बार तो अपनी गर्दन व होंठों को छुड़ाने की कोशिश की मगर फिर वो भी शांत हो गयी. उसने मेरे पैरों को उसके ऊपर खींचा, मुझे समझते देर नहीं लगी और मैंने अपने दोनों पैर उसके चेहरे के दोनों ओर डाल दिए और खिले हुए फूल की भांति सुंदर सांस लेती चुत को उसके मुँह पर टिका दिया. लेकिन संयोग से उस समय दुकान पर रिचा नहीं थी बल्कि उसकी बड़ी दीदी बैठी हुई थी.

वो दर्द से छटपटा रही थी क्योंकि मेरा लंड छोटा जरूर है लेकिन मोटा काफी है.

पूरे दो घंटे मेरे साथ अपनी प्यास मिटाने के बाद वो जाने के लिए कहने लगी. मेरे लिये एक एक पल काटना मुश्किल हो रहा था; बार बार मोबाइल खोल कर चेक कर रहा था. चूंकि यह मेरी पहली चुदाई होने वाली थी … इसलिए मैं बहुत जल्दबाजी में था.

गर्मी की वजह से उनकी त्वचा हल्का सा नमकीन लग रही थी लेकिन उस वक़्त मेरे दिमाग में और कुछ भी नहीं था. हमारी ड्रेस को देख कर सुनील भैया भी तारीफ करने लगे कि हम दोनों बहुत ही हॉट लग रही हैं.

दोनों ये भूल ही गए की बगल के कमरे में सुनील उनकी आवाज सुनकर अपना लंड की मुठ मारने की तैयारी कर रहा है. मेरा लंड पूरा तना हुआ था और बार बार झटके देकर सोनाली की चूत से टकरा रहा था. पर उसमें भी उसे मजा आ रहा था।कुछ देर में सौरभ ने अपना माल सोनाली की गांड में गिरा दिया और उस पे ही लेट गया। मालविका ने सौरभ की गांड से लण्ड निकाला नहीं था। मेरे हर धक्के पे मालविका और सौरभ की गांड फट रही थी.

हिंदी इंडियन ब्लू पिक्चर

उसकी शादी होने के कुछ दिनों बाद ही उसके पति का एक्सिडेंट हो जाने से उनकी डेथ हो गई थी और वो विडो का मेडल अपने ऊपर लगा बैठी.

पर मेरा मन नहीं मान रहा था … लंड इतनी जोर से खड़ा था कि अब उसका बिना पानी निकाले बैठना मुश्किल था. अंकल मॉम की चूत को अपने हाथ से सहलाने लगे और धीरे धीरे चूत के दाने को पकड़ कर मींजने लगे. कुछ देर बाद मैंने दोनों लिफाफे खोले, तो देखा कि रूम सर्विस वाली ने जो दिया था … उसमें 10000 थे और जो वो देकर गया, उसमें 50000 थे.

मैं- जी बिल्कुल … मैं खुद को ख़ुशनसीब समझूँगा अगर पूजा जी की हामी हुई तो!अमित- वो मान जायेगी. चड्डी उतारते ही उसका काला-काला, तना हुआ लंड मेरी नजरों के सामने लहराने लगा था. बेटा का सेक्सी बीएफक्या होगा अब ये सब समझ गए थे … अब उसमें कसर ही क्या रह गयी थी … कहाँ चलना है ये जिम्मेदारी नायरा और राहुल पर छोड़ दी.

और संजना ने उसके कंधे पकड़ के बिना कुछ सोचे समझे पलक झपकने के अंदर ही उसको नीचे की तरफ बहुत तेजी से धक्का दे दिया जिससे सम्भलने का वक्त ना मुझे मिला और ना शीना को. फिर मैं मेडिकल शॉप पर गई और गर्भनिरोध की गोलियां ली क्योंकि मैं उससे बिना कंडोम के चुदना और उसका गर्म वीर्य अपनी चूत में लेना चाहती थी।मैंने शराब भी खरीदी और कुछ खाने पीने की चीजें भी खरीदी.

मैं- अब से इस चूत का पूरा ख्याल रखूंगा … रोज तुम्हारी चूत चोदकर तुम्हें मजा दूंगा. मैं- ये ले जान … अब तू कली से फूल बन गई … ले मेरा लंड ले ले और अपनी खुजली मिटा ले मेरी बुलबुल. मेरी शर्ट और बनियान उसने झट से उतार दी … वो मेरे कंधों को अपने होंठों से काटने लगी और मैंने उसके … धीरे धीरे वो मेरी छाती पर किश करने लगी.

मुझे उसका लन्ड लोहे जैसा लग रहा था।मैं झड़ने वाली थी।मैंने सूरज से कहा- सूरज, लो थोड़ा पानी पी लो. दो साल पहले मेरे जन्मदिन की एक रात पहले मेरी गर्लफ्रेंड ने मुझे रात को कॉल किया और बोली- कल आपके लिए सरप्राइज है. पत्नी के देहांत के बाद चार साल से चूत के दर्शन तो छोड़िये, इस बारे में कभी सोचा भी नहीं था लेकिन आज ऊपर वाले ने छप्पर फाड़ दिया था.

मेरी उम्र 22 साल है, मेरा रंग इतना अधिक गोरा है मानो दूध में एक चुटकी सिंदूर मिला दिया गया हो.

कुछ देर तक लंड रगड़ने के बाद उसकी चुत से योनिरस का तेज़ प्रवाह होने लगा, जिसे मैं चखता चला गया. उस दिन एक झांटू से लंड वाले ने मेरी चुत चोदी और मेरी चुत में ही झड़ गया.

आप में से अनेक लोगों ने मुझे अपने सेक्स अनुभव और फंतासी शेयर की हैं कि मैं उस पर कहानी लिखूं. शायरा को कुछ लेना तो था नहीं, इसलिए वो वैसे तो दुकान के बाहर वहीं स्कूटी के पास ही खड़ी हो गयी थी. मैं एक हाथ से उसकी चूत सहला रहा था और दूसरे हाथ से उसके स्तन मसल रहा था.

यह सुन कर मैंने वंदना से कहा- तुम रूम में चलो, मैं सामान लेकर आता हूँ. फिर रोहित गया और सामने वाली दुकान से समोसे ले आया। फिर हम तीनों ने बैठकर चाय समोसे खाये और मज़े से बातें भी कर रहे थे।रोहित मेरी फोटो खींचने लगा. सब काफी खुश दिख रहे थे कि मेरे अनुभव का उन्हें लाभ मिलेगा।क्लास में 15 विद्यार्थी थे, जिनमें 6 लड़कियाँ थी.

बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी आप लोगों के सामने में अपनी नई सेक्स कहानी लेकर दोबारा आऊंगा, जब मेरी मॉम और एक जिम के मालिक के बीच चुदाई हुई. पति के जाने के बाद मैंने मनोज से कहा कि मैदान खाली है, जब चाहो आ जाना.

सेक्सी फोटो खुला खुला

विजय माई लव … तुम मेरा पहला प्यार हो! मेरा शरीर छूने वाले पहले मर्द हो और मैं चाहती हूँ कि तुम्हारे सिवा मुझे और कोई न छूए. सन्नी को इशारा किया, जिससे उसने न्यासा को अपने ऊपर लेटा कर उसे जकड़ कर उसके होंठों को चूसने लगा. हमारे घर के सामने एक प्रॉपर्टी डीलर का ऑफ़िस है, जहां पर राजेश अंकल बैठते हैं.

अब विक्रम ने अपना मूसल लंड संजू की चूत में सटाकर आहिस्ता से एक धक्का से दिया. वो भी शर्ट ऊपर उठाने को मना नहीं करती थी और अपनी चूचियां दिखाकर मेरी मुठ मरवा देती थी. बीएफ वीडियो बनाने वालाचाचाजी बड़बड़ा रहे थे कि साले अभी धरती से निकले नहीं … जरा सा लंड है … पानी तक नहीं छूटता होगा, पर पेलने में लगे हैं.

पता नहीं क्या समझती थी वो अपने आपको … किसी से बात ही नहीं‌ करना चाहती थी.

उसके जाने के बाद रूम सर्विस वाली आई और बोली- मैडम, यह 10000 मिले हैं. अपनी जिस उंगली को वो चुत में अन्दर बाहर कर रही थी, उसे निकाल कर उसने अपने मुँह में ले ली और उंगली को चूस कर साफ कर दिया.

मैंने दोनों टांगें खोलकर उसके लंड को चूत पर लगवा लिया और उस पर बैठती चली गयी. जब भी पैसे की जरूरत रही है, मुझे बिना किसी रोक टोक के मिल जाते हैं. इससे मैंने थोड़ा ज्यादा जोर लगा दिया और लंड आधे से ज्यादा अन्दर घुस चुका था और भाभी की हालत खराब होने लगी थी.

तभी मैंने संजना को अपने ऊपर से हटाया और सीना की चूत में जोर जोर से अपना लौड़ा घुसाने लगा.

वो हँसते हुए मेरे पास आए और मेरी कमर में हाथ डालकर मुझे अपनी तरफ खींचा और मेरे होंठों से अपने होंठ मिला दीए. मेरे हाथ से खून निकल आया था इसलिए अपना हाथ धोने‌ के‌ लिए मैं सीधा पानी की टंकी की तरफ आ गया. उसका हाथ मेरे लंड पर लगना था कि मैंने अपना एक हाथ उसकी पैंटी में डाल दिया और उसकी चुत को स्पर्श कर लिया.

गर्भवती महिला का बीएफ वीडियोमैं छटपटाने लगी।फिर रोहित एक हाथ से मेरी कमीज़ (कुर्ती) ऊपर करने लगा और कुछ ही सेकंड में उसने मेरी कुर्ती उतार कर अलग रख दी. मैं उसके होंठों को चूसने लगा और वो मेरे सिर को पकड़ कर मेरे होंठों को दोगुनी तेजी से चूसने लगी.

एक्स एक्स एक्स मूवी इन हिंदी

क्या मैं इसे हाथ लगा कर देख लूं!मैं बोला- हां, जो तुम्हारा मन करे, कर सकती हो. आपको देसी लड़कियों की चुदाई कहानी का ये भाग कैसा लगा, प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें. कुछ देर में वो हटी और एक छोटी सी प्लेट में एक छोटा सा चॉकलेट केक लेकर आयी जिसके एक किनारे पर उसका और एक किनारे पर मेरा नाम लिखा था और बीच में एक दिल बना हुआ था.

बेटी मैं भी आया … आह्ह … ओहह् …” महेश भी अपनी बेटी के झड़ने की वजह से उसकी चूत के सिकुड़ने से अपने आप को रोक न सका और वह अपने लंड को अपनी बेटी की चूत में जड़ तक घुसाकर झड़ने लगा।ज्योति अपने पिता के गर्म वीर्य को अपनी चूत की गहराइयों में महसूस करते हुए अपने पिता से लिपट गयी और मज़े से सिसकारियां लेते हुए अपने पिता के गर्म वीर्य को अपनी चूत में पिचकारियां मारते हुए उस अहसास का मजा लेने लगी. उन दोनों ने भी मोनोकिनी पहनने में ज्यादा रुचि नहीं दिखाई और फिर सब सामान को समेट कर एक तरफ रख दिया. नीरू अब बिल्कुल ठीक हो गयी थी, उसकी गांड का दर्द अब ना के बराबर था.

हॉस्पिटल पहुंचने के बाद अंत में डॉक्टर से बात की और उन्हें डॉक्टर के केबिन में लेकर गए. अब मैंने सोच लिया था कि मुझे इसके साथ अपनी फंतासी पूरी करनी है, जिसके लिए जल्दी जीएफ़ भी रेडी नहीं होती है. मैंने अब प्रीति की पेंटी नीचे सरका दी, उसकी चूत बिल्कुल नर्म चिकनी और साफ़ थी, कोई बाल भी नहीं था.

मुझे तो वो शादीशुदा भी लगता है, जब घर में कोई नहीं होता तो नीतू उसे यहीं बुला कर अपनी चुदाई करवाती है. तभी चाची ने अपने सूट की कमीज़ निकाली, उनकी बड़ी बड़ी चुचियां ब्रा में क़ैद दिखने लगी थीं.

तभी संजू ने अपना थूक अपने हाथ में लिया और चूत में पूरा थूक लगा दिया जिससे चिकनाहट और बढ़ गई.

मैंने उसे घोड़ी बनने को कहा तो लंड पर बैठे-बैठे ही घूम गयी और अपने हाथ टिकाकर झुकने लगी तो मैं भी साथ ही साथ उठ गया. जानवर और लड़की का सेक्सी बीएफवो मुझसे बोली- प्लीज अपना वो अन्दर डाल दो ना … अब मुझसे एक पल भी नहीं रहा जा रहा है. जॉनी की बीएफधीरे-धीरे उसकी चूत के छेद को टटोल कर पहले मैंने उसकी चूत के छेद पर अपने लंड के सुपारे को सेट कर दिया. मैंने कहा- तो आपका लंड आपको ज्यादा परेशान कर रहा हो, तो मेरी में डाल दो.

वो सिसकारी लेने लगी, उसकी आंखें बंद हो गई थीं और चेहरे पर परम सुख का भाव दिखने लगा था.

फिर मैंने उसे 69 की पोजीशन में किया और हम एक दूसरे के लंड और चूत को चूसने चाटने लगे. इधर तो लंड आन्दोलन कर ही रहा था, सो मैंने भी मौका देख कर हां कर दी. वंदना ने रूम बुकिंग के बारे में रेसेप्शननिस्ट से बात की तो बोली- आपका रूम नंबर 202 है और वो खुला ही है.

उनको नंगी करके उनके साथ पूल में मस्ती की और इसके बाद सबसे पहले चाची की चूत की झांटें साफ़ कीं. हम दोनों फिर से मस्त होने लगे और मैं रात भर अनु के साथ चुत चुदाई करता रहा. अब मकान मालकिन की उम्र में तो महीना आने से रहा, बाकी रही शायरा? वो पैड जरूर शायद उसका ही इस्तेमाल किया हुआ हो सकता था.

ಹಿಂದಿ ತ್ರಿಬಲ್ ಎಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋ

भाभी को मैंने पहली बार साड़ी में देखा था, तो मैं इतना नहीं समझ सका था कि भाभी जी इतनी बिंदास होंगी. मेरी दीदी की शादी दूसरे शहर में हुई है जहाँ जाने में तीन से चार घंटे लगते हैं. मैंने उससे पूछा- अब दर्द तो नहीं हो रहा?वो बोली- थोड़ा थोड़ा हो रहा है! पर अब आप चोदो.

मेरी दर्द के मारे चीख निकलने ही वाली थी कि उसने मेरी पैंटी मेरे मुँह में घुसा दी.

हम दोनों मर्द जिस वक्त का बहुत बेसब्री से इंतजार कर रहे थे वह यूं अचानक आ जाएगा हमें इसका अंदाजा न था.

अब भाबी ने भी मेरे लंड हिलाने की गति तेज कर दी और मैं भी कुछ देर बाद झड़ गया. फिर मैंने दोनों हाथों को उसके चूतड़ों पर रख कर उसे उठाने लगा और अन्दर बाहर करने लगा. छठ के बीएफवो ड्राइवर का लंड जोर जोर से ऊपर नीचे करते हुए मेरे लंड को पकड़ने लगी.

मेरा लंड जब चूत की गहराई में जाता, तो शायरा की चूत में कसाव आ जाता और चूत की दीवारें मेरे लंड से रगड़ने लगतीं. शाम को मैं हंसी-खुशी अपने घर पहुंची और पिछले दो-तीन दिनों की तरह एक बार फिर मैं शीशे के सामने खड़ी हो गई. फिर मैंने उसकी साड़ी पेटीकोट सहित ऊपर उठाई और उसकी टांगों, जांघों और गांड पर हाथ फेरने लगा.

मैंने पूछा- कैसी लगी मेरी गांड?वो बोला- जानू भांग और अफीम जैसी बहुत गन्दी स्मेल आ रही थी. मैंने कमल को उठाते हुए पूछा कि आज तेरा चेहरा कुछ अलग लग रहा है … शायद तुम किसी प्रकार का नशा करके आए हो!कमल बोला- फूफाजी, सचमच आप सही कह रहे हैं.

मगर मुझे क्या पता था कि आज मुझे इससे ज्यादा और भी कुछ मिलने वाला था.

अब आगे की गार्डन सेक्स की हिंदी कहानी:यही कहानी लड़की की कामुक आवाज में सुनें. कुछ देर बाद मैंने शावर बंद किया और कैंची से झांटों को काटने लगी।झांटें काटने बाद मैंने क्रीम लगायी और फिर अपनी चूत मसलने लगी. आपकी मारने में जितना मजा आया, उससे ज्यादा आपसे करवाने में जा आ गया.

बीएफ 18 वर्ष वह दोस्त अपनी पत्नी को आलिंगन में लिए हुए भी मेरी ही पत्नी को निहार रहा था और तुरंत ही उसने मेरी तरफ देखते हुए बोला- तुम लोग बहुत अच्छे मिल गए, गोवा आने का पैसा वसूल हो गया. राहुल मेरे ही कमरे में मेरी ही बीवी के साथ सेक्स का मज़ा ले रहा था … तो उसको इसकी कीमत तो चुकानी ही पड़ेगी.

’ की मधुर ध्वनि के साथ लंड को अपने अन्दर समाहित करने का प्रयत्न किया. तभी विक्रम बोला- भाभी इसे हाथ में लो ना!संजू ने सहमते हुए उसका लंड जैसे ही हाथ से छुआ, उसने जोर से सीत्कार भरी- इस्स … ये तो बहुत बड़ा, मोटा और टाईट है. उसके बाद मैंने बाहर निकाल कर थोड़ा सा ऊपर करके अन्दर दबाया और तेजी से घुसा दिया.

ब्लू बीएफ सेक्सी पिक्चर हिंदी

वो लगी लंड पर उछलने और मेरे हाथ पकड़कर अपनी चूचियों पर रख दिये तो मैं उसकी चूचियां दबाने लगा. वो नीचे आकर सीधे मेरी चिकनी कामरस से भीगी चुत को सीधे खाने का प्रयास करने लगा. अंकल खड़े हुए और उन्होंने मॉम की टांगों को फैला कर चूत के ऊपर अपने लंड को फिराने लगे.

उसने बताया- सेक्स लाइफ को लेकर मेरे पति और मेरे बीच अक्सर लड़ाई होती रहती है. मैंने सोच लिया था कि अब तो कुछ भी हो जाये मैं इसको अब हाथ से नहीं जाने दूंगा.

उन्होंने कहा- क्या करूं … कोई मिले भी तब ना करूं!तब मैंने उससे पूछा- है कोई ध्यान में?उसने कहा- हां एक है तो मगर डरता हूँ कि कहीं बात बनते हुए बिगड़ ना जाए.

सुबह मेरे जन्मदिन के दिन वो मेरे किराए वाले रूम में मुझसे मिलने आयी. बाप रे … इतना दर्द होता है गांड चुदाई में!!मेरा चेहरा लाल हो गया और मैं रोने ही वाला था. मेरे वहां से जाने का समय हुआ, तो वह भावुक हो गईं और मेरे बैग में चुपके से एक लिफाफा रख गईं.

डॉक्टर साहब अपने स्टाफ से बोले- तुम लोग जाओ, मैं क्लीनिक बंद कर लूंगा. धीरे धीरे मैंने चूचियां सहलाईं तो रेखा बोली- थोड़ा वाइल्ड हो जाओ, बेरहमी से चोदो, ऐसे चोदो जैसे कोई दुश्मनी निकाल रहे हो. वो उस टेबल के सहारे खड़ा हो गया और मैं उसके पूरे बदन को चूमने और चाटने लगी … उसके सीने की घुंडियों को भी खूब चाटा.

उसने एक और झटका दे दिया जिससे संजू की चूत को चीरते हुए उसका लंड आधा से ज्यादा अन्दर घुस गया.

बीएफ भोजपुरी सेक्सी बीएफ भोजपुरी: ‌उस लड़की की सुन्दरता का मैं तो कायल था ही, उसके पीछे आते ही मेरी सुबह वाली शंका भी फिर से जाग गयी. बड़ी वाली लाइट जलने के बाद कमरे में ज्यादा रोशनी हो गई थी और जीजा मुझे हवस भरी नजरों से घूर रहे थे.

अब योगेश ने अपना सुपारा मेरी गांड के छेद पर रखा और मुझे कमर से पकड़ कर उसने धीरे से अपने लंड को मेरी गांड में दबाना शुरू किया।उसका चिकना सुपारा मेरे चिकने गांड छेद को फैलाते हुए धीरे धीरे अंदर घुसने लगा।मुझे दर्द जरूर होने लगा लेकिन आज दर्द बहुत कम था।जब योगेश का लंड लगभग दो इंच अंदर घुस गया तब उसने हल्के हल्के धक्के मारने शुरू किए. इसके बाद उसने मनोज से पूछा, तो मनोज ने कहा- सर, मैं आपके इस अहसान को कभी नहीं भूल सकता. ” महेश ने अपनी नाक को ठीक अपनी बेटी की चूत के क़रीब करते हुए कहा।आहहह पिता जी, आप यह क्या कर रहे हैं …” ज्योति भी अपने पिता के मुंह से निकलती हुई गर्म साँसों को अपनी चूत पर महसूस करके आराम सा पाने लगी।कुछ नहीं बेटी, मैं तुम्हारी चूत को अपनी जीभ से चाट कर साफ़ कर देता हूँ ताकि अगर कोई ज़ख़्म वगैरह हो तो वह ज्यादा न बढ़े.

उनको पता था कि उनका बेटा जहां से बाहर निकला है, आज वो वहीं पर अपना लंड डालने के जोश में है.

दीदी की ससुराल में दो तीन लड़के किराये पर कमरा लेकर रहते थे।उन्ही में से एक लड़का था रोहित. मैंने कहा- तो आपका लंड आपको ज्यादा परेशान कर रहा हो, तो मेरी में डाल दो. अब मैं भी उसकी चूत चाटने लगा और धीरे से एक उंगली उसकी गांड में डाल दी.