बीएफ फिल्म भोजपुरी में

छवि स्रोत,साडी सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी बीपी एचडी: बीएफ फिल्म भोजपुरी में, मेरा मूसल लंड देख कर पहले से ही रेशमा की वासना लंड लंड करने लगी थी.

ब्लू सेक्सी खुला सेक्स

वही प्रियंका अपनी सहेली अनामिका की इसी कामुकता में चुत में तीन उंगलियां पेल कर चुदाई का खेल करने लगी. सेक्सी झवाझवी मराठी सेक्सी झवाझवीथोड़ी देर में ही उसकी चूत ने मेरे लंड को जगह दे दी और वो आराम से नॉर्मल होकर चुदने लगी.

क्योंकि लौड़ा पानी से साफ़ हो गया था, तो मैंने भी लौड़े को एक बार फिर से मुँह में ले लिया और हल्के फुल्के बच्चे हुए वीर्य का एहसास लेते हुए, उसे कुछ देर चूसा. मुस्लिम सेक्सी कॉमअसल में यह प्लान मेरा नहीं था, ये तो हमारे ही क्लास के दूसरे दोस्तों का था.

सभी बाल एक जैसी अवस्था में दिख रहे थे … ऐसा प्रतीत हो रहा था आज उसने बालों पर मेहनत काफी की है.बीएफ फिल्म भोजपुरी में: वो भूखे कुत्ते की तरह मेरी चूत की ओर लपका और मेरे क्लिंट को चाट लिया.

मेरी बाजू वाली डेस्क में हर्ष भी अपने दोस्त के साथ बैठ कर मस्ती कर रहा था.चाची Xxx कहानी आपको पसंद आयी या नहीं … मुझे पहले इसके बारे में बतायें.

नशा सेक्सी वीडियो - बीएफ फिल्म भोजपुरी में

अब ये बात सुन कर मैंने उसका लौड़ा अपनी गांड से निकाला और फिर से मुँह से लंड चूसने लगी.और वो और मैं मेरे पापा के कमरे में सोने के लिए आ गए क्योंकि उस कमरे में डबल बेड था.

मैं जानता था कि चाची चुदना चाह रही है लेकिन वो खुद से पहल कभी नहीं करेगी. बीएफ फिल्म भोजपुरी में उसने दरवाजे को बन्द नहीं किया था, इस वजह से उसका पूरा जिस्म दमकता हुआ दिखायी दे रहा था.

कुछ देर तक मेरी चुचियों से खेलने के बाद उसने भी शायद अपना सारे कपड़े उतार दिए थे क्यों उसका खड़ा लंड मेरे होंठों पर लगा दिया.

बीएफ फिल्म भोजपुरी में?

उसने अपने धक्कों की स्पीड को बढ़ा दिया … और मैं भी पूरी शिद्दत से उसके लौड़े को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. मौसी को लंड चूसने की कह दिया और अनु को छाती पर लेकर उसके होंठों से होंठ मिला कर चुंबन लेने लगा. सलोनी को उसी स्थिति में अपनी गोद में लेकर मैं किचन में गया, उसे पानी पिलाया, किशमिश खिलाई और उसके गालों पर चुम्बन करते हुए वापस बेडरूम में ले आया और उसे बेड पर लिटा दिया.

वो बोली- मरवाओगे क्या … वैसे कमरे का दरवाजा तो यूं ही उड़का रहता है. वो मेरे सिर को लंड पर दबाये रहा और फिर धीरे धीरे उसकी पकड़ ढीली हो गयी. यह हिंदी सेक्सी चुत कहानी है मेरी दोस्त की चुदाई की जब वो मेरे रूम में रहने के लिए आई.

संध्या चाची ने राजू चाचा का लंड मुँह से बाहर निकाल कर कहा- सच यार, ऐसी ग्रुप चुदाई महीने में एक बार जरूर होनी चाहिये … कितना मजा आता है. उसने एक लम्बा गुलाबी डिल्डो वेबकैम के सामने रख दिया और उस पर मुठ मारने लगी. मैंने उनके ब्रा और पैंटी को खींच कर उतारते हुए उन्हें अपनी बांहों में कस लिया.

उधर सूरज मेरी चुदाई देख रहा था, पर उसका झड़ चुका था तो बस ऐसे ही देख रहा था. फिर मैंने उसके लंड को पकड़ा और अपनी चूत पर सेट करते हुए उस पर बैठ गयी.

हालांकि वो सब अपनी अपनी सैटिंग वाले थे, मेरे जैसे मुठ मारने वाले रंडवे नहीं थे.

ये देख कर प्रियंका ने उसकी गांड में अपना मोटा सा अंगूठा घुसेड़ दिया.

यहां तो खुल कर एंजाय करो।हम्म। वह सिसकारते हुए बोली।अब दूसरा औजार लो अंदर। मैं उठते हुए बोला।वह चुप रही. उन्होंने बिना कंडोम के चुदाई की थी, उनका बीज स्वाति भाभी गांड से बहने लगा. मैं- इसका मतलब ये जो सब हुआ, इसमें तुम्हारी मर्ज़ी नहीं थी?वो- हां थी, पर हमें ये नहीं करना चाहिए था.

तो मैंने पहली बार चूत को कैसे छुआ?दोस्तो, कैसे हो सब? मैं हरियाणा (भिवानी) का जाट हूं और अन्तर्वासना साईट पर मेरी ये पहली कहानी है। आशा करता हूँ कि आप सबको यह ट्रेन में सेक्स की कहानी पसंद आएगी।यह बात तब की है जब बी. अच्छा बता, मामा तेरी गांड मारी है या नहीं!उस पर मामी ने ना बोला- मैंने आज तक कभी गांड नहीं मराई … बस अपनी चूत को ही चुदवाती हूँ. सुमन किसी लता की तरह पंकज से लिपटी हुई थी और अपनी उन्नत चूचियों को उसके सीने में चिपकाकर अपनी चूत उसके लंड पर रगड़ रही थी।तभी एकाएक पंकज ने सुमन को पीठ के बल लिटा दिया और उसकी ड्रेस को ऊपर करके सुमन की गदराई हुई चूत के प्रथम दर्शन किए.

अगर किसी दिन ज्यादा मन किया, तो रवि भाई से हफ्ते में दो दिन के लिए आपको मांग कर ले आया करूंगा.

मैं उसकी टांगों की ओर मुंह करके बैठी थी और इस बात का ध्यान रख रही थी कि उसकी बॉडी का बाकी हिस्सा मेरे बदन से टच न हो ताकि उसको ज्यादा उत्तेजना न चढ़ पाये. फिर भी मैंने करीब एक सुर में 10-12 बार उसकी योनि में जुबान को नीचे से ऊपर तक ऐसे चलाया मानो मैं कोई आइसक्रीम चाट रही हूँ. ’न्यासा की सेक्सी आवाजें निकलने लगीं और उसने अपने हाथ से सन्नी का लंड पकड़ लिया.

फिर वो मेरी गर्दन को चूमते हुए नीचे को आया और उसने मेरे पीठ पर अपने चुंबन की बारिश कर दी. मैंने भी उसकी ब्रा का हुक बिना खोले ही ब्रा को ऊपर कर दिया जिससे उसके दोनों बूब्स मेरे सामने खुल कर आ गए. इससे उसका लौड़ा चड्डी की इलास्टिक में फंस कर जैसे ऑक्सीजन के लिए गुहार लगाने लगा.

इतने में सनी की मां ने मेरी मां को सनी निशु और सुनील के साथ छत पर चुदते देख लिया.

’ करते हुए मुझे चोद रहे थे और मैं टांग खोल कर उनसे चुदवाते हुए ‘आहह … आह … चाचा जी …’ कर रही थी. मामी ने भी अपने दोनों पैरों से मुझे लॉक कर लिया और मेरी बांहों में अपने जिस्म को थमा कर मजा लेने लगीं.

बीएफ फिल्म भोजपुरी में हम दोनों ने कई बार तो बस में ही चूत लंड को सहला कर मजा ले लिया था, किस तो कहीं भी कर लेते थे. उसके बाद मैंने उसके दोनों गालों पर एक एक लंबा से किस किया और इठलाते हुए बाहर चली आयी.

बीएफ फिल्म भोजपुरी में तुम्हारी जगह कोई और होता, तो एक बार करने के बाद बार बार करने की धमकी‌ भी देता. उसके कॉलेज में पढ़ने वाले जितने भी लड़के-लड़कियां है, वो इसको बहन जी, बहन जी कहकर पुकारते थे.

तो आप दोनों में से दूल्हा कौन है?” नैना ने आखिर में काम की बात पर आते हुए पूछ ही लिया.

देहाती बीएफ वीडियो सेक्स

और संध्या और दूसरी लड़कियों की छाती पर से तो लड़कों की नजरें ही नहीं हटती होंगी. मुझे पता भी नहीं कि मेरे साथ ये क्या हो रहा है और अब आप ही कुछ करो. वो गांड को उस पर नीचे और ऊपर करते हुए रगड़ने लगी; उसकी गांड की दरार में फिराने लगी.

उन दोनों के घर जाने के बाद जब रोहिणी के बेटे को नींद आ गयी तो वो मेरे कमरे में आ गयी. तो अनिल हंसते हुए बोला- क्या कह रही हो, मुझे भी तो बताओ … और ये हाथ कहां जा रहा है तुम्हारा, मुझे सब दिख रहा है. मगर पहली बार ट्रेन में सेक्स का अधूरा मजा, चूत का स्पर्श पाने का जोश इतना ज्यादा था कि मैंने दस मिनट में लगातार दो बार मुठ मार दी.

इससे मुझे थोड़ा दर्द हुआ लेकिन मेरे अन्दर की औरत जानती थी कि एक मर्द को खुश कैसे किया जाता है.

जब तक वो आता, मैंने जानबूझ कर अपना दरवाज़ा हल्का सा खोल दिया … इससे उसको मेरे कमरे के अन्दर का सब नज़र बाहर साफ दिख जाता. ब्यूटीफुल वाइफ सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं आप सभी को एक बार फिर से हमारे बारे में परिचित करवा देता हूँ. फ़ास्ट सेक्स की कहानी के पिछले भागबॉयफ्रेंड के बॉस को रूपजाल में फंसायामें आपने पढ़ा किअब आगे की फ़ास्ट सेक्स की कहानी:यार डॉली, तुम भी मुझे योगेश के नाम से ही बुलाओ तो ठीक रहेगा।” योगेश ने हल्के से मेरी जांघ को दबाते हुए कहा कहा।यह रोहित कब तक आएगा?” योगेश ने थोड़ा बेफिक्री से पूछा।मैं रोहित से पूछ लूं क्या?” मैंने दबी आवाज में योगेश से कहा।योगेश ने खुद रोहित को फोन लगाकर पूछा कि वह कब तक आएगा.

मैं भाभी को ऊपर से लेकर नीचे तक किस करने लगा और भाभी मछली की तरह छटपटाने लगीं. चाय के साथ हम तीनों कमरे में बैठ किसी हिल स्टेशन का प्रोग्राम बनाने लगे. नहीं … तुम चिंता मत करो बेबी … मैं यहां पर तुम्हारी इच्छाओं को पूरी करने के लिए ही हूं.

मुझे देखते ही वो मुँह बना कर बोला- सब कुछ सोच समझ कर ही आयी हो ना मिस नंदिनी!मैं- जी डॉक्टर. अब तक मैंने भी उसका लंड पैंट से बाहर निकाल कर हिलाना शुरू कर दिया था.

मुझे भी राहुल ने ये नहीं बताया था कि वो अब किसी और को पटा रहा है।मीनू की बात मैं सुनता रहा और फिर उसने मेरे कंधे पर सिर रखकर रोना शुरू कर दिया. शायरा को मैं किस करके तो आ गया मगर डर तो मैं भी गया था कहीं उसको गुस्सा ना आया हो? अगर शायरा ने दोस्ती तोड़ दी, तो बना बनाया प्लान खराब हो सकता था, लेकिन ये स्टेप कभी ना कभी तो उठाना ही था. मैं ऐसे ही काफी देर तक शायरा के ऊपर पड़ा रहा और शायरा आंखें बन्द किए चुपचाप मेरे नीचे लेटी रही.

अब रवि ने एक रात सेक्स के दौरान पिंकी से उसकी चचेरी बहन रिंकी का नाम लिया, जो बहुत सुंदर और पिंकी के काफी नजदीक थी.

मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने गालों पर लगाया और बोली- विक्की आई लव यू. बिन्नी की सांसें फिर तेज हो गईं और उसके मुँह से सिसकारियाँ निकलने लगीं. डेजी की गांड मस्त हो गयी और वो अपनी गांड को मेरे मुंह पर रगड़ने लगी.

उसके बाद मैं फ्रेश होने गया था और मेरी बहू सायरा मुझसे मजाक कर रही थी. नीचे देखा तो प्रमिला, एकता के साथ वाला और अन्नू, डॉली के साथ वाला लड़का अपना पानी छोड़ चुके थे.

फुदकते फुदकते गिनती पंचानबे, छियानबे पर पहुंची तो मैं चौकन्ना हो गया. दो-चार मिनट तक मैंने उसी स्पीड से धक्के लगाये और फिर बहन की गांड में ही झड़ने लगा. वो भी मेरा साथ देने लगी।फिर मेरा एक हाथ उसके चूचों पर गया और मैं उसके चूचे मसलने लगा।थोड़ी ही देर में उसकी सांसें गर्म होने लगीं और वो भी मेरे लंड को सहलाने लगी।मैंने उसका टॉप निकाल दिया और उसने मेरा टी शर्ट निकाला।फिर मैंने उसकी ब्रा के हुक खोले तो उसके चूचे आज़ाद हो गए और मैंने उसकी चूचियों को पागलों की तरह चूसना शुरू कर दिया.

ब्लू फिल्म बीएफ हिंदी में सेक्सी

राजू चाचा ने संध्या चाची की दोनों चूंचियां थामते हुए कहा- ये जरा फिर से बता मेरी रखैल … क्या सच में तूने भाभी की चूत देखी है?संध्या चाची गांड उछालते हुए रुक गईं और बोलीं- इसमें झूठ बोलने की क्या बात है.

मानवेन्द्र ने पहले मेरे दोनों पैरों को अपने पैरों से चौड़ा किया … फिर दोनों हाथों की उंगली को, जो मेरी गांड में थीं, एक दूसरे के विपरीत दिशा में खींच कर गांड को चौड़ा करने लगा. मुझे तुम्हारे इस मखमली जिस्म से निकलती हुयी पसीने की गंध को मेरी सांसों में बसा लेने दो. दोपहर का वक़्त था तो उनकी कॉलोनी में भी सब लोग घरों के अंदर ही थे क्योंकि गर्मी काफी थी.

मेरी कुंवारी बुर की पहली चुदाई कैसे हुई- 3अब तक आपने जाना था कि चाचा जी मुझे एक बार चोद चुके थे और अब मेरा मन दुबारा चुदने का हो गया था. ट्विंकल- सच … पर मुझे ये बताओ कि तुमने उसका लंड कहां और कैसे देखा?प्रिया- वो सब तुझसे मिलकर बताऊंगी. युवराज की सेक्सी वीडियोमैं अन्दर गया, तो भाभी ने मुझे देखा, तो बिना कुछ बोले तुरंत उठ कर बाहर की बढ़ गईं.

शायरा को भी अब मजा आने लगा था इसलिए वो भी अब आंखें बन्द करके मेरे धक्कों को महसूस कर रही थी और अपने दिलो दिमाग़ में इस चुदाई को फिट करने की कोशिश रही थी. क्योंकि कल रात भर तो वो मेरे साथ मेरे कमरे में मेरी ले रहा था, तो कैसे होटल में दिखता.

कुछ देर तक लंड के झटके लगे तो मौसी की गांड ढीली हो गई और दर्द जाता रहा. डॉक्टर कुछ देर ऐसे ही करता रहा और फिर मेरे पिलपिले मम्मों को बारी-बारी अपने मुँह में भर कर चूसता रहा. संजू- आह … अह … हह जरा धीरे से … मेरी जान … आज चुत खा जाने का इरादा है क्या!मैंने कहा- हां.

फिर चाची पलंग पर लेट गई, मैं चाची के ऊपर आ गया और हमारे होंठ मिल गए फिर से. उसकी चुदाई से मुझे लग रहा था कि देर हो रही है, कहीं इसकी मम्मी इसको ढूँढने न आ जाए. मैं बस अब सोच रही थी कि मुझे सजा देने के लिए उसका अगला कदम क्या होगा.

अब मैं चिल्लाने लगी थी- आह और ज़ोर से हुनहह … चाचा जी … आहह और ज़ोर से … उन्हहह …फिर तो बस मेरी चूत पानी से लबालब भर गयी और फच्छ फच्छ की आवाज आने लगी.

फिर मुझसे जब रहा नहीं गया, तो मैंने अपने होंठों को अभिषेक के होंठों पर रख कर उसके होंठों का रस पीने लगी. मैंने कहा- कैसा महसूस हो रहा है कमजोर पिल्ले?वो बोला- जैसा कि आपने कहा मैम! बहुत कमजोर महसूस कर रहा हूं.

वो मेरी टीशर्ट के ऊपर से ही मेरी चूचियों को जोर जोर से भींच रहा था. फिर मैंने मोना को पीछे से पकड़कर उसकी चूचियों को दबाना शुरू किया और उसकी कमर पर किस करना शुरू कर दिया. वो मेरी क्लास में आया और बोला- तुम कब आयी?तो मैंने बताया कि मैं तो 07 बजे के करीब आ गयी थी.

अब ये सोच कि उंगलियों की जगह जब ये लंड चुत में जाएगा, तो कैसा मजा आएगा!अनामिका- नहीं नहीं यार … ये सही नहीं है. मैंने कहा- यार मोहित ने मना किया है क्या कि जब मैं आ जाऊँ तभी करना!भाभी बोलीं- ऐसा तो नहीं है. मैंने बाथरूम में जाकर स्नान किया और हल्का सा नाश्ता लेकर कमल के साथ उसकी दुकान आ पहुंचा.

बीएफ फिल्म भोजपुरी में तभी संजू का ध्यान दरवाजे के तरफ गया और वो मुझे इशारे से रुकने को बोलकर परछाई को दिखाने लगी. इधर मेरी चूत भी उसकी जीभ को अपने समीप पाकर फड़फड़ाने लगी और नाभि से लड़ने लगी कि हट जा साली मेरी सौत … मेरे प्यार को अपनी गिरफ्त से आजाद कर … ताकि वो मेरे पास आ जाए.

सेक्सी बीएफ चुदाई का वीडियो

तुम यह बताओ कि अपने गुप्त स्थान के बाल रिमूव करती हो या नहीं?”जी? मैं समझी नहीं. भाभी ने चाय बनाई, मैं तब तक वाशरूम में फ्रेश हुआ और चाय पीकर वापस अपने घर आ कर सो गया. शायरा की प्रेम कहानी को सेक्स कहानी के रूप में पढ़ कर आपको कैसा लग रहा है, प्लीज़ इसके लिए भी कुछ लिख कर बताइए.

वो बोलीं- हरामखोर अपनी मां को चोदेगा … साले शर्म कर!मैंने कहा- जब आप मुँह में लंड ले लेती हो … तो चुत में भी ले लो, क्या फर्क़ पड़ेगा. अब दोनों ही एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे।मीनू मुझे जोर जोर से किस करने लगी और मैं भी उसका साथ देने लगा. मां सेक्सी कहानियांपहले मैं छेद ढीला करता हूँ। मैंने बेड से नीचे उतरते हुए कहा।दोनों शराफत से उससे अलग हो गये.

कुछ देर तक यूं ही चूसने के बाद उसने अचानक से शॉवर को बंद कर दिया और फिर से मेरे होंठों के पास से गिरती हुई बूंदों को चाट कर साफ़ कर दिया.

मैं भाभी से बोला- भाभी चुप रहो, कोई आवाज सुन लेगा … तो दिक्कत हम दोनों को होगी. पूजा बुआ ने अचानक मुझसे पूछा- बेटा पप्पू, मुझे ये तो बता कि तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- हां बुआ है … पर बता नहीं सकता.

मैंने उधर बैठ कर आते जाते ग्राहकों को एक घंटा तक देखा, कुछ काम वाली बाईयां भी बहुत अच्छी लगीं. फिर उसको बांहों में लिया और उसकी गांड को दबाते हुए उसको किस करने लगा. बिन्नी ने बताया कि उसके मम्मी पापा दोनों सर्विस करते हैं और संडे को उनकी छुट्टी होती है.

मैं सायरा को अपने से अलग करके वाशरूम की तरफ जाने लगा, पर मुझे कुछ याद आया, तो मैं रूक गया और पलट कर सायरा को देखने लगा.

मैं- अब इसमें क्या गलत कह दिया? दोस्तों के साथ तो ऐसे ही बात करते हैं. मैं- तुम इस तरह रात को मेरे पास, इसका मतलब तुम भी मुझसे प्यार करती हो?शायरा ने फिर से हां में गर्दन हिलाई. थोड़ी देर मैं ऐसा ही रहा।फिर चाची बोली- इब हट ले न … या चुत काट ले जा … जी ना भरता तो तेरा।मैं बोला- तु त मस्त है मीना तेरे बिना अब क्या जीना!फिर चाची ने एक कपड़े से चुत साफ की और सलवार बांधने लगी।चाची बोली- इब के मिलगा तनै … दर्द कर दिया.

मोटी गांड वाली सेक्सी चुदाईये मेरी पहली सेक्स कहानी है, तो गलती हो जाना स्वाभाविक ही है, प्लीज़ वो सब नजरअंदाज कर देसी सेक्सी लड़की की पहली चुदाई का मजा लीजिएगा. अब वो जींस और टॉप पहनकर कॉलेज जाने लगी, लेकिन फिर भी कुछ लोगों को शायद उसे ‘बहन जी, बहन जी.

कॉलेज गर्ल्स बीएफ

वह प्यार से मुझे खाना खिलाने लगी और मैं खाते खाते उनकी नाभि में उंगली करने लगा और दूसरे हाथ से उनके स्तनों से खेलने लगा. नौकर चला गया और आधा घण्टा में वापिस आया, तो उसके साथ वो उन दो मां बेटी को लेकर आया था. फिर मैंने लन्ड को बाहर निकाला और उसकी गांड में डालने की नाकाम कोशिश करने लगा.

मैंने बुआ को सताने के लिए और हमारी अश्लीलता को और रोमांचकारी बनाने के लिए एक हरकत कर दी. प्रियंका अब अपनी चूत उठा उठा कर और उसका सर दबा दबा कर मजा ले रही थी. मैंने जैसे ही थोड़ा अन्दर बाहर करना शुरू किया, तो वो मुँह अलग करके जोर से आहह करने लगी.

फिर मैंने उनकी चूत के बीच उभरे हुए भाग के साथ अपनी जीभ से कुछ देर खेला … तो वो बोलीं- मेरे ऊपर आ जाओ, मैं भी तुम्हारा लंड चूसती हूँ. जब आयशा अपने रिश्ते में किसी की शादी में गयी थी … तो मैंने जीजू को अपनी चूत को शांत करने के लिए बुलाया था. ये तो मुझे भी पता था कि अब लंड और चूत का मिलन होने वाला है और उस मिलन में दर्द भी होने वाला है.

मैं बोली- ठीक है, बस तुम इतना ही करना और कुछ करने की जरूरत नहीं है. बगल में ही मेरे लंड का बुरा हाल होने लगा और मैंने मीनू को अपने कंधे से सटा रखा था.

जैसे ही दोबारा मैं भाभी की चुदाई करूंगा तो वह कहानी भी जरूर लिखूंगा.

ब्वॉयफ्रेंड ने फिर से मना कर दिया और इसी को लेकर उनके बीच में लड़ाई हो गई. चूत में लंड सेक्सी सेक्सीएसटीडी, पीसीओ में जाकर मैंने पहले तो अपने घर पर बात की, फिर ऐसे ही अपने एक दोस्त से बात करने लग गया. ट्रिपल एक्स सेक्सी व्हिडिओ मारवाडीमैंने भी हंसते हुए अब भागने की सी एक्टिंग की, मगर तब तक उसने मेरी पीठ पर फिर से एक मुक्का जड़ दिया. वो बोला- सनी यार, एक बार और ट्राई कर ले प्लीज!मैं भी अब मान गया क्योंकि मेरा भी मूड बन गया था.

मैं तो सोच रहा था कि मुझे शायद ममता जी के घर पर ही रहना होगा, मगर ममता जी तो खुद ही किराए के घर में रहती थीं और दूसरा उनका‌ घर कॉलेज से‌ काफी दूर भी था.

उसकी हाफ पैंट को नीचे खिसकाया तो उसकी गुलाबी रंग की पैंटी भी दिख गयी मुझे!उसने गुलाबी रंग की ब्रा-पैंटी का सेट पहना हुआ था जिसमें वो पूरी कहर लग रही थी. मेरी ज़ोर की चीख निकल गयी- आआआई … स्सी … स्सी … मर गई चाचा जी फट गई मेरी आह आह!हालांकि की चाचा जी का लंड आधा ही अन्दर गया था, पर मुझे बहुत दर्द हो रहा था. मैं- मैंने सोचा तो था कि तुमसे अब कभी नहीं मिलूंगा और चुपचाप घर चला जाऊंगा.

वो डिल्डो के टोपे को अपनी गांड की दरार पर ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर घिस रही थी. वो भी मेरा साथ देने लगी और मैं उसकी चूचियों को जोर जोर से दबाता रहा. उसने अपनी स्पीड और रोक दी और पिंकी से बोला- तुम्हें अनिल से क्या डर लग रहा था?पिंकी बोली- अगर वो और आगे बढ़ जाता तो?रवि बोला- तो क्या हो जाता, हम दोनों मिल कर तुम्हें पेलते.

देहाती इंडियन सेक्सी बीएफ

असल में जोर से करने में बहुत से लौंडे मेरे लंड घुसते ही चिल्लाने लगते हैं. हम दोनों ने कई बार तो बस में ही चूत लंड को सहला कर मजा ले लिया था, किस तो कहीं भी कर लेते थे. तभी प्रिया भाभी बोलीं- ट्विंकल डार्लिंग, अगर तुम्हें डर लग रहा हो तो बस करें या फिर और खेलने की हिम्मत है?इस पर ट्विंकल ने आंख मारते हुए कहा- बहन की लौड़ी … तूने अभी मेरी हिम्मत देखी कहां है.

मैं इन्तजार कर रहा था मीना चाची का!दोपहर को जैसे ही वो आयी, मैं झट से कमरे से बाहर निकला.

मैं अभी कपड़े ही उतारने जा रही थी, तब तक मैनेजर ने मेरे कमरे का दरवाजा बजाया.

लगा जैसे चूत में किसी ने कोई सख्त चीज ठूंस दी हो!लेकिन लिंग की प्यास तो चूत को भी थी. ये सिलसिला लगातार कई महीनों तक चलता रहा और अभी भी कभी-कभी हमारी बात होती रहती है. सेक्स सेक्सी xxxकमरे बस हम तीनों की ‘स्स्स्स आह्ह …’ की आवाजें ही सुनाई दे रहीं थीं.

बात ही बात में नानी ने मम्मी को बोला कि मुझे उनके वहां घूमने कुछ दिन के लिए भेज दें. फिर मैंने उनके ब्लाउज को भी खोल दिया और तब तक भाभी ने खुद अपने पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया. पता नहीं क्यों … मगर अब मुझे कुछ अच्छा सा लगने लगा था, इसलिए मैं विरोध नहीं कर सकी.

पता है न … जब लोग खुशबू से पहचानने लगें, तो प्यार हो जाने का डर लगा रहता है. चाची कुछ नहीं बोल रही थी और बस सिर के नीचे हाथ दबाये हुए लेटी हुई थी.

चूंकि अब मुझे भी चढ़ चुकी थी और मालूम था कि अब से कुछ देर में ये सब मुझे नंगी करके मेरी गांड और चूत मार रहे होंगे.

कुछ ही देर की मुँह से लंड चुसाई के बाद उसने मुझे खड़ा किया और मेरी लोअर नीचे कर दिया. क्लिक करते ही मैं एक वेबपेज पर पहुंच गया जोदिल्ली सेक्स चैटके नाम से था. उसने अन्तर्वासना हिंदी सेक्स कहानी की विश्वप्रसिद्ध सेक्स साईट पर मेरी सेक्स कहानीसेल्स लेडी की ऑफिस में चुदाईपड़ी थी.

सेक्सी मूवी न्यू हिंदी क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि एक चूत के साथ आपको दूसरी चूत फ्री मिली हो? यदि हां तो अपना अनुभव मुझे जरूर बतायें. मैंने भी घर वालों को कहा कि मैं अभी अपनी पढ़ाई करूंगी और कुछ समय बाद शादी करूंगी.

आपकी रूपा[emailprotected]वासना स्टोरी इन हिंदी का अगला भाग:सहेली के बॉयफ्रेंड से चुत चुदाई- 3. वो बोली- तुम बनो मत। मैं जानती हूं कि तुम दोनों के बीच में दो बार सब कुछ हो चुका है. मगर जॉन्सन ने फिर से मुझे रोक लिया। वो अपने साथ वाइन पीने के लिए कहने लगा।मुझे शक हुआ कही इसने डेविड को सारी बातें बता तो नहीं दी और कहीं आज ये दोनों मिलकर तो मेरी चुदाई नहीं करने वाले?मगर शायद ये मेरा शक भी हो सकता था.

बीएफ व्हिडिओ दिखाओ

फिर उसने पीछे से ही अपने दोनों हाथों से मेरे पेट को और नाभि को सहलाना शुरू कर दिया. मैं वहीं नीचे घुटनों के बल बैठ गयी और मैंने नाक सी सिकोड़ कर उनके खड़े लंड के सुपारे को हल्के से किस किया. हालांकि ऐसा देसी लड़का हर औरत के घर में होता है … बस मैंने परख लिया और उसे पा लिया.

वैसे तो रात का अंधेरा था और बारिश भी तेज थी तो बालकनी में सेक्स करने में कोई डर नहीं था. com/imranovaish2देसी ओरल सेक्स इन हिंदी कहानी का अगला भाग:मज़हबी लड़की निकली सेक्स की प्यासी- 4.

मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रखा और चूत में लंड को सैट करके धकापेल धक्के लगाने लगा.

देसी इंडियन मॉडल रोजी की हॉट फोटो देखने और उससे गर्म सेक्सी बातें करने के लिएयहां क्लिक करें. उसकी टांगें कांप सी गयी और उसकी चूत ने काफी सारा गर्म पानी मेरे मुंह में निकाल दिया. बल्कि उनके एक‌ दोस्त के रिश्तेदार के घर मुझे एक कमरा किराये पर दिलवा दिया.

हैलो फ्रेंड्स, मैं महेश आपको सेक्स कहानी के इस भाग में आगे का मजा देने फिर से आ गया हूँ. मैं चाचा जी के कच्छे में खड़े लंड को अपनी टांगों पर महसूस कर सकती थी. मैं सेक्स का मारा तड़फ रहा था, वहशी दरिन्दे की तरह उसकी गांड पर टूट पड़ा.

फिर वो राहुल की बातें बताने लगी कि कैसे वो दूसरी लड़की के चक्कर में लगा हुआ है.

बीएफ फिल्म भोजपुरी में: जब मौसी दूसरी बार झड़ गयी, तब और कोई रास्ता नहीं देख कर चुपचाप चुदाई करवाने में भलाई समझ लेती रही. रवि ने फिर पूछा- कभी अनिल और तुमने कुछ गलत किया है?तो पिंकी भड़क गयी कि तुम ऐसा सोच भी कैसे सकते हो.

कुछ दिन ठहर कर एक मकान और दुकान देख कर मैंने अनु और कमल को मुम्बई बुला कर शिफ्ट कर दिया. कुछ देर बाद लंड ने हार मान ली और गांड के अन्दर ही मैंने अपना सारा माल छोड़ दिया. कुछ देर मुझे अपनी बांहों में कसे हुए रखकर वो मेरे नितम्बों पर अपने लंड का तनाव महसूस करवाते रहे और मेरी चूचियों को रुई के गोले समझकर जोर जोर से भींचते रहे.

हम सब शाम होने और होटल जाने का ही इंतज़ार कर रहे थे … पर साला समय बीत ही नहीं रहा था.

उसके बाद सायरा ने मेरी झांटों को कुतरना शुरू किया और फिर रिमूवर से मेरे भी बची खुची झांटों पर क्रीम मल दी. अब आगे की न्यूड भाभी की मस्त चुदाई कहानी:भाभी मुझे आने से मना करने लगी वो बोली- मैं तुम्हारा खाना यहीं बना देती हूं, आज यहीं सो जाओ. एक तरफ तो वो दर्द की वजह से अपने नाख़ूनों से मेरी पीठ को खरोंच रही थी और दूसरी तरफ कह रही थी कि मुझे दर्द नहीं हो रहा.