ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,औरत और डॉग सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

भारतीय हिंदी ब्लू फिल्म: ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ, पर लाख प्रयत्नों के बाद भी आधे लंड से ज्यादा मेरे मुँह में नहीं समा सका.

इंग्लिश सेक्सी मूव्ही व्हिडिओ

वो एक बार तो थोड़ा उचक गई मगर मैंने ज्यादा अंदर तक उंगली को नहीं घुसाया. सेक्सी लेकरबेड के पास खड़े होकर मैंने ज्योति की दोनों टांगें पकड़कर अपने कंधों पर रख दीं और उसकी बुर पर अपना मुंह रख दिया.

ये देख कर दीदी शायद गर्म हो गईं और उन्होंने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया. घंटे की सेक्सी वीडियोधीरे-धीरे लंड ने अपना आकार ले लिया और वह जोर से मेरे मुंह को चोदने लगा.

मैंने उसे आगे वाली सीट पर बैठने के लिए कहा, तो वो बोली कि यहां नहीं … यहाँ सब जानते हैं … थोड़ा आगे चलिए, फिर बैठ जाऊंगी.ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ: भगवान तुम्हारे पति की आयु सौ साल करे! लेकिन हकीकत यह है कि तुम भी शारीरिक सुख से तो वंचित ही हो.

वो वैसे भी देखने में भी किसी हूर से कम नहीं थी, वो नाचती भी मस्त है.मैं दिल्ली में रह कर पढ़ाई करने लगा था … तो घर में क्या होता था, मुझे कुछ पता ही नहीं था.

इंग्लिश सेक्सी बीपी चुदाई - ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ

अब दूसरे दिन मैं मम्मी से बोली कि मैं अपनी सहेली के यहां जा रही हूँ.अब वो हमारे सामने कपड़े निकालने के लिए शर्माते हुए खड़ी थी और हम टकटकी लगाए परमीत के संगमरमरी बदन की झलक पाने बेताब हुए जा रहे थे.

उन्होंने बड़ी अदा से जैसे फिल्मों में दिखते हैं, अपने बालों को खुला किया. ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ उसने राजन से कहा- सर अगर आप चाहें तो मेरा मकान देख लें, उसमें वन रूम सेट खाली है और बहुत अच्छे से मेन्टेन है.

उसके बताने पर मुझे ध्यान आया कि मैंने कुछ देर पहले आंटी से रूम की सफाई करने की बात कही थी.

ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ?

लेकिन किसी तरह मैंने खुद को कंट्रोल कर लिया क्योंकि गलती मेरी ही थी. हम दोनों के बदन पसीने में भीग चुके थे लेकिन पहले सेक्स का मजा भी इतना मदहोश करने वाला था कि कुछ भी होश नहीं रह गया था. टांगों को पकड़ कर चाची की चूत में तीन-चार धक्के लगाने के बाद ही वो रुक गये और एक तरफ गिर गये.

फिर वो दीदी के पास गए और लंड को दीदी की चूत में लगा कर धीरे से धक्का दिया. ड्राइवर ने बातों ही बातों में मेरे ससुर से कहा- सरदार जी, ठंड बहुत हो चुकी है और धुन्ध भी काफ़ी गहरी है. उसने इतनी जोर से मेरे दूधों को भींचा कि मेरे मुंह से चीख निकलने को हो गई मगर क्योंकि मेरे मुंह से विवेक का मुंह जुड़ा हुआ था इसलिए वो चीख बाहर नहीं आ पाई.

मैं चाह रही थी कि आज मेरी चूत से लंड के घर्षण से उत्पन्न मादकता में मेरी चूत का पानी छूट जाये. मैंने कहा- ऐसा क्यों?उन्होंने बताया कि यह काम सिर्फ शादी के बाद पति-पत्नी के बीच ही किया जाता है. जब मैंने उसकी शर्ट उतारनी चाही तो उसने मुझे रोक दिया- आज के लिए बस इतना!मैंने भी जिद नहीं की यह सोच कर ‘सहज पके सो मीठा होये!हम दोनों ऑफिस बंद करके अपने अपने घर चले गए.

रात तो मैंने रवि को कॉल लगाया और कहा- मेरी गांड की खुजली का कुछ इलाज करो।रवि बोले- ठीक है, मैं कुछ इंतज़ाम करता हूँ।करीब एक सप्ताह बाद मेरे नाम से एक पार्सल आया. उसके बाद मैं रसोई साफ करने लगी, जेठजी अभी भी वहीं रसोई में ही खड़े खड़े मेरे फ्री होने का इंतजार कर रहे थे.

मैं सोचने लगा कि आज देखूँगा कि भाभी मुझसे भैया वाला प्यार कैसे करेंगी.

दो मिनट के चूतफाड़ धक्कों के बाद मेरे लंड ने मेरी नातिन की टाइट चूत में थूकना शुरू कर दिया.

एक बार फिर सायरा ने मेरी मलाई चाटकर अपनी चूत साफ की और फिर गीले कपड़े से मेरे लंड को।उसके बाद वो मुझसे चिपक कर सो गयी. गले लगते ही उसके कोमल जिस्म से आती खुशबू ने मुझे ऐसा मदहोश किया कि मेरा लंड खड़ा हो गया. मुझे ऐसे करते देख उसने मेरी चूत में ही अपना वीर्य छोड़ दिया और कुछ देर मुझसे ऐसे ही चिपका रहा.

मेरा खड़ा लंड देख कर वो खुश हो गई और अपने हाथों को लंड पर फेरने लगी. फिर तभी हम दोनों ने वो सुना, जिसे सुनकर हम दोनों को विश्वास ही नहीं हुआ और सर चकराने लगा. जब मुझे लगा कि अब ये ज्यादा होने लगा है तो मैंने अपने साले की बेटी को अपनी बांहों की गिरफ्त से आजाद किया.

अन्ततः मैंने अपना लण्ड उसकी चूत से निकाला और उसके बगल में लेटकर उसकी चूचियों से खेलने लगा.

मैंने पूछा- आपका कब हो गया था?चाची ने कहा- चुदाई के समय मेरा दो बार पानी निकला था. इतने में मैंने बोला- कब आऊं तो खाना खाने?वो बोली- वहीं आ जाओ!मैं बोला- कहाँ आना है?तो उसने बिना कुछ सोचे पता बता दिया. जैसा कि मैंने बताया था कि मोनिका की शादी के बाद हम दोनों फिर से दोबारा होटल में मिले थे और वहां हमने दबा के सेक्स किया था.

उसकी बात सुन कर मैं बोली- देख बिक्कू, मैं प्यार तो आशीष से ही करती हूं. कुरती पुरानी होने के कारण बहुत टाइट हो रही थी, जिसमें से मेरे शरीर के कटाव और बनावट स्पष्ट परिलक्षित हो रहे थे. मैंने अपनी आंखें बंद कर ली क्योंकि यह प्यार मुझे मेरे हस्बैंड से नहीं मिलता था.

इस तरह मैंने उसे रात भर में 4 बार चोदा और हम दोनों ऐसे ही नंगे सो गए.

आयशा- यार काश मेरा भी तेरे जैसा कोई भाई होता!मैं- तो क्या करती फिर तू? मैंने उसे छेड़ते हुए पूछा. लेकिन मैंने दीदी को इस बात का पता नहीं चलने दिया कि मैंने उनकी चुदाई को देखा है.

ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ बस मेरी उसी इच्छा की पूर्ति के लिए उसने पूरा माहौल मेरी इच्छा अनुरूप बनाया था. इस समय मैं सोच रहा था कि अभी आलिया के रूम में जाकर उसके बाथरूम में घुस जाऊं और आलिया को चोद डालूं.

ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ मेरा रॉड फिर से दीदी को चोदने के तैयार था, मैं बस दीदी को गर्म कर रहा था. मैं मुठ मार कर उनके सामने वीर्य निकाल देता था और वो अपनी चुत में उंगली करके झड़ जाती थीं.

मगर हम लोग सड़क के किनारे पर ही थे इसलिए ज्यादा देर रुक नहीं सकते थे.

सेक्सी वीडियो कॉलर

मेरे पति को कुछ दूकान के काम से अचानक 2 दिन लिए दिल्ली जाना पड़ा और वो रोहित को बोल के गए ‘पूरा ध्यान रखना भाभी का. इस बार मैंने उसके पांव को अपने हाथों में लेकर धीरे धीरे चूमना शुरू कर दिया. मेरी मां को इस बात के बारे में पहले से पता था लेकिन चूंकि वो बड़े लोग इसलिए मेरी मां उन लोगों में अपना फायदा देख रही थी.

मैंने हनी से कहा- बेटा तुम्हारी ट्रेनिंग पूरी हुई, अब तुम्हारी हैप्पी से शादी में कोई बाधा नहीं है. यहां मैं बता दूँ कि हमारे बेडरूम से ही सटे गेस्टरूम में वो दोनों सोये थे. मैं तेरे भाई का दोस्त था इसलिए रुक जाता था वरना मैंने तुझे कई बार ऐसी हालत में देखा था कि तेरी चूत को चोदने के लिए तड़प उठता था मैं.

मैंने हैरानी से पूछा- तो फिर कैसे मर्द पसंद हैं आपको?उसने अपना फोन निकाला और उसमें कुछ वीडियो दिखाने लगी.

इतना सुन कर अंकल को जैसे फ़िर से जोश आ गया और उन्होंने जोर से झटका दे मारा. वो मेरे पास को आया, मुझे अपने पास वाली कुर्सी पर बैठा कर मेरे होंठों में लंड घिसने लगा. मैंने शैली को कहा- बेटा, चाय तो बहाना थी तुम्हें बुलाने का, मुझे तुम्हारी बहुत याद आ रही थी.

दोस्तो, चूत मारते समय जब आप चुत को उंगली से रगड़ते हो, तो लड़की को डबल मजा आता है. उसके बाद फिर वो अपने बाल संवारने लगीं और आंखों में काजल लगाने लगीं. थोड़़ी ही देर में मम्मी पर लुढ़क जाते हैं फिर मम्मी उनको हटाकर बाथरूम चली जाती है, पापा निरोध उतारकर पेपर में लपेट देते हैं और पजामा पहनकर सो जाते हैं.

इस अवस्था में मैंने अपनी चूत को निहारना चाहा और आंख खोल कर जब मैंने चूत का दीदार किया, तो अपनी ही चूत पर मंत्रमुग्ध हो गई. मैंने सोचा कि शायद लगता है आदी को भी मेरी चुदाई देख कर मज़ा आया है तभी उसने कुछ नहीं कहा और यहां आकर अपने मज़े ले रहा है.

मेरे दोस्त लोग मुझ पर कॉमेंट करते थे- यार, तेरी दीदी तो काफ़ी हॉट माल है … बिना शादी के कैसे रह लेती है?कोई बोलता- यार सारी भूमिहार लड़कियां ऐसी ही होती हैं. प्रीति का मन तो नहीं था लेकिन ना चाहते हुए भी प्रीति को थोड़े समय के बाद अच्छा लगने लगा. मुँह में संदीप के पेशाब का थोड़ा नमकीन सा स्वाद आया पर अभी तो मेरे लिए सब कुछ अमृत ही था.

कपड़ों के सभी आवरणों सहित मेरा पत्थर सा उत्तेजित लिंग वसुंधरा के नितम्बों की दरार में लंबरूप फ़िट था.

उसके बाद बड़ी इत्मीनान के साथ उसने अपने कपड़े पहनने शुरू किया और फिर बाल्टी उठाकर कपड़े सुखाने के लिये बारजे पर आ गयी।फिर रसोई में आकर दोपहर के खाने की तैयारी करने लगी।इस बीच मैं भी बाहर टहलने के लिये चला गया क्योंकि मैं घर में रहता तो उसको देख-देख कर या तो लंड को मरोड़ता या फिर उसको काम से रोककर चुदाई करता. दोस्तो, एक तो नशा दारू का होता है लेकिन उससे भी बड़ा नशा चूत का होता है. किंतु फिर भी मैंने अपनी आपबीती को साधारण से शब्दों में आप तक पहुंचाने का भरसक प्रयास किया है.

शर्र शरर शर्र … रुक रुक कर मेरा पेशाब निकलता रहा और वो बहुत गौर से देखते रहे. फिर भी एक बाहरी जवान लड़की को पटाने की तुलना में क्लास की ही लड़की को पटाना बहुत मुश्किल होता है.

इससे पहले जब मैं और वो मिले थे तो मुझे मौसी की लड़की की तरफ इतना आकर्षण नहीं हुआ था. हम सभी अपनी बहनों की गांड मार रहे थे और वो कामुक आवाजें कर रही थीं. मैंने उनसे दोनों चॉकलेट ले लीं और बोला- ठीक है भैया … अब मैं खेलने जा रहा हूं.

सेक्सी एकदम चुदाई

मैंने उसकी चूची छोड़ कर उसके हाथ से सिगरेट ली और धुंआ उड़ाते हुए फिर से उसकी गांड में लंड चलाने लगा.

मैंने भाभी से एक दिन पूछा- भाभी, आपके सामने मैं इसकी चुदायी करता हूँ … तो आपका मन चुदने का नहीं करता?भाभी उसके सामने मेरे इस प्रश्न के लिये तैयार नहीं थीं. फिर दीदी ने नाइट लैंप जलाकर बाकी लाइटें बंद कर दीं, कमरा धीमी लाल रौशनी से नहा उठा. तभी अभय ने अपने मोबाइल से ड्राइवर को फोन लगाया और बोला- नीचे गाड़ी ले आ.

सीढ़ियों में अंधेरा था और संगीता वहीं खड़ी थी, मुझे देखते ही लिपट गई और मेरे होंठ चूसने लगी. दीदी ने भी अपने कपड़े ठीक किये और सामान्य होते हुए दरवाजा खोल दिया. नयी सेक्सी विडियोतो उन दिनों जब मैं अपने चाचा चाची के घर में रुका हुआ था, उस दिन मैं घर पर अकेला था.

गाड़ी में आते समय उन्होंने पूछा- तो सोनू परीक्षा कैसी रही?मैंने कहा- अच्छी रही … थोड़ी सी कठिनाई थी. मैं अपनी चुदाई के बाद यू ही नंगी बिस्तर पर लेटी थी और कब मेरी नींद लग गई पता नहीं चला.

हम लगभग आधे रास्ते तक ही पहुंचे थे। तभी तेज हवा के साथ बारिश होने लगी. एक 6 साल के बच्चे की मां कितनी फिट हो सकती है, ये मैं कभी सोचा भी नहीं था. एक दिन मनु के घर वाले दिन भर के लिए बाहर गए थे तो हमने दिन में ही मजे करने का प्रोग्राम बना लिया.

मैंने भी देरी ना करते हुए उसकी टांगों को खोला और धीरे धीरे उसकी चूत में लंड डालने लगा. करीब 20 मिनट के बाद उसने अपना लंड बाहर निकाल दिया और जैसे ही लंड बाहर आया तेज़ पिचकारी छूट गई और सीधा मेरे चेहरे पर आकर पड़ी।चेहरे के साथ साथ मेरे पेट और चूचियों पर उसका वीर्य बह गया था. पर मजा भी तो इसमें ही आएगा।फिर मेरे दोनों दूध को हाथों से दबाते हुए बोला- चल शुरू हो जा।मैं भी अपनी कमर को गोल गोल घुमाते हुए लंड लेने लगी।फिर मैं अपनी चुदाई को तेज रफ्तार देने लगी- आआह आआ हहह आआ आहहह ओ ओह मम्मी आह ऊऊ ऊऊऊई ईईईईई रे आआह!क्या हुआ जान … मजा आ रहा है मेरी जान को?”हां, बहुत मजा आ रहा है.

इन सबके बावजूद मैं खुद को रोक लेता हूँ, क्योंकि मैं तुम्हें धोखा नहीं देना चाहता.

बीच बीच में मैं उसका लंड मुँह से निकाल कर अपने चेहरे, गर्दन और गालों पर भी रगड़ लेती. फिर मैंने स्नेहा भाभी को हल्का सा आगे की तरफ झुका दिया, जिससे उनकी गांड पीछे से ऊपर हो गई और मैंने पीछे से उनका सूट उठा दिया.

फिर मुझे याद आया कि अपनी बीवी के कुछ नंगे फ़ोटो और चुदाई के वीडियो हैं, क्यों न वो भी देख कर मजा लिया जाए. इसके बाद उन्होंने अपनी कई सहेलियों के साथ मेरी शादी करवाई और मेरे लंड की सुहागरात मनवाई. मैंने अपना मुँह हटाया और कहा- हम ह्म्म्म्म … हाथ हटा मादरचोद … जान लेगी क्या … मेरा सर घुसवाएगी क्या भैनचोद सांस भी नहीं आ पा रही है.

5 मिनट तक ऐसे ही चोदने के बाद उसने मुझे सीधा कर दिया और एक झटके में लंड मेरी चूत में उतार दिया और मेरे चूचुकों को काटते हुए दनादन मुझे चोदने लगा. मैं अपनी सलहज को जब भी देखता, तो मेरी वाईफ आंखों से इशारा करती कि सब देख रही हूँ. ऐसा होने से मैं भी अपना होश खो बैठा और मैंने सीधे उनके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगा.

ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ मैं नीचे बैठ गया और संजू की नाईटी को उसकी कमर तक करके बीवी की गीली चूत में अपने होंठ सटा दिए. अब तक शायद वो भी ये समझ चुकी थी कि मैं क्या चाहता हूँ … और वो क्या चाहती है … मुझे भी पता था.

सेक्सी सेक्सी वीडियो दिखने वाला

मैं मैच देख रहा था, तभी भाभी बोलीं- रोहन, मेरी पीठ बहुत दर्द कर रही है … ज़रा दबा दे. श्वेता दीदी- अरे अर्णव तुम्हारी दीदी को मोटा वाला कीला चुभ गया हैवो इतना बोल कर मुस्कुराने लगी. मुझे चिल्लाती देख एक बार फिर से वो मेरी चूत में झड़ गया और मैंने उसे अपने सीने से चिपका लिया.

मेरे लिए इतना ही इशारा काफी था, तो मैं उसे एक बार फिर मजे से चूसने लगी. पर उसके घर में कुछ अनहोनी हो जाने के कारण उसको सिल्क को अकेले छोड़ के जाना पड़ा और उस बुरे दिन में उसकी कार सॉरी टैक्सी भी ख़राब हो गई उसको सुनसान रास्ते में अकेले चलना पड़ा. सेक्सी पिक इमेजश्वेता ने अपनी नाइट ड्रेस पहन रखी थी जो उसके बदन से बिल्कुल चिपकी हुई थी.

खैर छोड़ो … अब ये बताओ जब तक साथ दे सकते हो … जब तक प्यार दे सकते हो, तब तक प्यार दोगे? आगे की जिंदगी मैं तुम्हारे इसी प्यार के सहारे जी लूंगी.

मेरी तरफ से हरी झंडी मिलते ही दीदी के हाथों की हरकत मेरे पहले से तपते बदन पर एक नियमित गति से तेज होने लगी और उन्होंने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी कोमल कंचन काया पर रख दिया. उन्होंने मुझे पूछा- ताश (कार्ड) खेलने आता है?मैंने कहा- थोड़ा मोरा!बोली- ठीक है।सब लोग डाइनिंग हॉल में आ गए.

मैंने अपना हाथ पैंटी में से निकाल कर अपने नाक के पास कर के एक लम्बी सी सांस ली. वो कहने लगा- बंध्या, ज्यादा नाटक मत कर, मैं जानता हूं कि तू और तेरी चूत दोनों ही गर्म हैं. मैं बोली- इसकी जरूरत नहीं, घोड़ा अगर घास से यारी करेगा, तो क्या खाएगा.

लेकिन गर्लफ्रेंड बनाने का जुनून ही था कि मुझे ललिता की ओर धकेल रहा था.

उसके पास मेरी सैकड़ों फोटो हैं जो उसने खींची हैं, दो चार सेल्फी भी हैं जिनमें वो मेरे साथ है लेकिन अश्लीलता जैसी कोई बात नहीं है. उसने 2-4 काजू खाये और बोली- बस अब और नहीं … अब मैं नहाने जा रही हूं. मैंने गाड़ी एक तरफ रोकी और उसकी चूचियों को सहलाते हुए उसके होंठों को अपनी ओर करके उसे किस करने लगा.

देसी मेवाती सेक्सी वीडियोमम्मी की टांगें इस समय पूरी हवा में उठी हुई थीं और वो उस लड़के के सर को अपनी चूचियों में दबा दबाकर उसके चुदवा रही थीं. कुछ देर रुक कर फिर से लिपलॉक किस किया और धीरे धीरे लंड आगे पीछे करने लगा.

सेक्सी वीडियो नेपाली फुल एचडी

इसके बाद राकेश ने अपनी पैन्ट व अण्डरवियर उतार दिया और मेरे ऊपर चढ़ गया. स्नेहा के जाने के बाद मैंने न जाने कितनी ही औरतों की चूत की प्यास बुझाई है. मैं- अच्छा प्रोफाइल पिक किसकी है?सुषमा- जिससे मेसेज में बात कर रहे हो.

मैं हैरान होते हुए- चुप कर! ऐसे थोड़ी न होता है?वो बोली- अरे, होता है मेरी जान. ब्रा पैंटी में कसी हुई उनकी चूची और गांड को देख कर मेरा लंड एकदम लोहे की रॉड की तरह सख्त हो गया था. विवेक का लौड़ा सामने से मेरी नाइटी के ऊपर से इतना चुभने लगा जैसे लोहे का रॉड हो.

दीदी- अर्णव मुझे अब नींद आ रही है, मैं सोऊंगी … तुम भी अपने कमरे में जाकर सो जाओ … बाकी पढ़ाई शाम में कर लेंगे. कुछ ही देर में मैं भी काम से फ्री हो गयी … स्लैब के सहारे खड़ी होकर जेठजी की तरफ देखा, तो वो मुझे ऐसे देख रहे थे, जैसे पूछना चाह रहे हों कि और कौन सा काम बाकी है?जेठजी का चेहरा देख कर मेरे चेहरे पर अपने आप ही मुस्कुराहट आ गयी, जिसे जेठजी ने अपने लिए ग्रीन सिग्नल समझ लिया. ”कैसे हो जायेगा? कोई हंसी खेल है क्या?”तुम उसे बुलाओ तो सही, हंसी हंसी में ही हो जायेगा.

उसके मुहं से सिसकारियां निकलने लगीं।मेरा लन्ड पैंट में अकड़ चुका था बिल्कुल, जो तनकर 7 इंच पार गया था और उस पर प्रीकम की बूंदों का गीलापन मुझे महसूस होने लगा था. तो उन्होंने मुझे कहा- सलवार उतार और बेड पकड़ कर झुक जा!मैं झुक गयी और उन्होंने लंड डाल कर चुदायी शुरू बस एक मिनट में ही ढीले हो गये और बोले- चल भाग यहाँ से!चुपचाप सलवार उठा के मैं बाथरूम में गयी और अपनी चूत में उगंली करने लगी और फिर नहा धोकर आगे वाले कमरे में आकर लेट गयी।अब मैं अकेली थी तो मुझे संजय का ख्याल आने लगा.

जाते जाते बोला- इसकी चुदाई करो फ़ोन पे! मैं जा रहा हूँ सोने।उसके बाद हम दोनों ने मस्त फ़ोन चुदाई की फिर हम गुड़ नाईट बोल के सो गए।कुछ दिनों बाद दीवाली आ गयी। मैं घर था अपने। हमारी बातें होती रहती थी.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरी पहली चुदाई पड़ोस की भाभी के संग-2. एक्स एक्स एक्स इंग्लिश में सेक्सीवो बोला- साली झूठ मत बोल … ऐसे ही तेरे चूतड़ नहीं निकले हैं, सच बोल और बता कि पति के अलावा और किसका ले रही है. आलिया भट्ट की सेक्सी बीपीदीदी के अनुभव ने मेरी हालत को भाँप कर उंगलियों की हरकत और भी बेहतरीन अंदाज में तेज कर दीं. इस तरह मैंने उसे रात भर में 4 बार चोदा और हम दोनों ऐसे ही नंगे सो गए.

उसने कहा- हम तो फ्रेंड पहले से ही हैं, गर्लफ्रेंड बनोगी … तो कहो!मैंने सोचा नहीं था कि वो इतनी बेबाकी से ये बात कह देगा.

उसके बाद तो मुझसे जैसे उठने की हिम्मत ही नहीं बची, इसलिए मैं भी उनके बगल में ही लेटी रही. ”इतना कहते हुए उन्होंने मेरे निप्पल को मुँह में भर लिया और चूसने लगे. अब मेरा दिमाग खराब हुआ कुछ कुछ माजरा समझ आने लगा फिर भी नासमझ बनती हुई- आज का तो तेरा कॉलेज गया, चल तुझको चाय बना के पिलाती हूँ.

मैंने उसको दबी सी आवाज में कहा- सॉरी बाबू, आर यू ओके? तुम ठीक तो हो?उसने मेरी तरफ देखा और फिर से एक थप्पड़ मारा. तभी अभय बोला- यार, मैं भी नंगा हो जाता हूं और इसकी भी यह नाइटी उतार देते हैं।विवेक बोला- अभय जी, आप अपने कपड़े उतार लो. थोड़ी देर बाद डोली का दर्द गायब हो गया और वो भी नीचे से अपनी चुत को ऊपर उठाने लगी और ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ सिसकारियाँ भरने लगी.

बिहार के सेक्सी वीडियो गाना

कुछ देर बाद मैंने नीतू को शावर के नीचे ही झुका कर घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में लंड पेल दिया. मैं कुछ बोल पाता, उससे पहले ही आंटी ने मेरी पैंट और अंडरवियर उतारकर मेरे लंड को आज़ाद कर दिया. वो नहीं आयी, तो मुझे लगा कि शायद अपनी सहेलियों के कहने पर उसने मुझसे एक बार चुदवा लिया था, पर अब शायद वो नहीं आएगी.

मैं अपने एक हाथ से कभी अपने कड़क उरोजों को आटे जैसा गूंथती, तो कभी चुदाई कराती चूत के दाने को सहलाती.

भाभी नींद में ही बड़बड़ाने लगी- क्या कर रहे हो, सोने दो ना प्लीज … मैं बहुत थक गई हूं.

अब शोभा भी चुदासी हो चली थी, उसने राजन का लंड पकड़ के खूब चूसा और खड़े खड़े ही सोफे पर एक टांग रख के राजन का लंड अपनी चूत में कर लिया. कुछ देर बाद वो मेरे ऊपर से उतर कर मेरी बगल में लेट गए और मुझे उनके ऊपर आने का इशारा किया. हिंदी सेक्सी साड़ी वाली हिंदीउन दोनों बीच में यही तय हुआ था कि शान्ति भाभी उसकी मेरे लंड से जबरदस्त चुदवायी करवा देंगी.

मैं- पहले तेरी चुत का स्वाद तो चख लेने दे साली कुतिया … मैं अभी चुत और चाटूँगा और तेरी चुत का रस पियूंगा … फिर तुझे लंड नसीब होगा. अब उन्होंने मुझे धक्के मार मार कर पेट के बल सीधा लेटा दिया और ऐसे ही लंड मेरी गांड में डाले रखा। वे मेरी गांड मारते हुए मेरी कमर और मेरे कंधों पर किस कर रहे थे. संदीप ने मुझे मजे लेते देख कर अपना पूरा जोर लंड पर डाल दिया और उसका विशाल लंड मेरी गांड फाड़ता हुआ जड़ तक समा गया.

इस बार मुझे ज्यादा दर्द नहीं हुआ और अब मैं उस पर तेज तेज से उठने बैठने लगी. कुछ ही झटकों के बाद उन दोनों के गले से कामुक आवाजें कमरे में गूँजने लगीं.

मेरे हाथ लगाते ही चाची ने एकदम से मेरी तरफ अपना वजन डाल दिया और वो मुझसे चिपक गईं.

और चंदा ‘ईईईई उउउ आआआ’ करने लगी और मेरी कमर पर हाथ रख कर पैर मोड़कर झटके खाने लगी. इसके बाद भाभी ने मेरी आंखों पर काजल लगा दिया और होंठों पर लिप लाइनर लगा दिया. मैं और मनु परमीत के यहां उदास चेहरे लेकर पहुंचे, शायद उनके घर वाले आज भी नहीं आए थे, क्योंकि बाहर उनकी गाड़ी नहीं थी.

सुपरहिट सेक्सी वीडियो दिखाइए कुछ देर बाद अचानक से दीदी को होश आयी तो वो अपने आपको अंकल की बांहों में नंगी अवस्था में देख कर शर्मा गईं. मैं- तो कल रात पार्टी हुई है जम के, पर आवाज़ तो नहीं आयी गाने बजाने की … कोई आया गया भी नहीं?रोहित- नहीं भाभी कोई पार्टी शार्टी नहीं थी.

इस पर मैंने चाची से अपना लंड चूसने को कहा तो चाची मना करने लगीं और बोलीं- मैंने कभी लंड नहीं चूसा है. उस दिन घर पर हमने उस रात कैसे सेक्स किया … ये सब मैं आपको सेक्स कहानी के अगले भाग में बताऊंगादोस्तो, किसी कारणवश मैं अपना ईमेल आईडी को चेंज कर रहा हूँ. मैंने उसे शांत किया और समझाया कि मम्मे बड़े या छोटे होने से फर्क नहीं पड़ता और मम्मे को दबाने से बड़े नहीं होते.

सेक्सी चोदना सेक्सी चोदना

और उसने भी मेरे मम्मों को अपने दोनों हाथों में पकड़ कर अच्छे से दबा दिया. संगीता चली गई तो मैंने मीना को बाहों में भर लिया, उसकी साड़ी और पेटीकोट ऊपर उठा दिया. जब उसने अपना लंड बाहर निकाला तो उसका वीर्य मेरी चूत से निकलकर मेरी जाँघों पर बहने लगा.

दीदी- सुनो तुम दोनों घर की साफ सफाई कर लेना और कपड़े वाशिंग मशीन में डाल देना. मैं अब ये समझ गया कि आज रात जो कुछ भी होने जा रहा था, वो उन अंकल के लिए बिल्कुल ही रंगीन रात जैसा होने जा रहा था.

हम दोनों को 50 हजार रुपये दिए और बोला- तुम दोनों की फ़ोटो उनको काफी अच्छी लगी.

मालकिन थोड़ी देर तक वैसे ही पड़ी रही और फिर बोली- सुरेश, तेरा आज का दिन तो खाली ही गया, तेरे हाथों से एक भी काम नहीं हुआ. दोनों के मन में एक ही बात चल रही थी ‘बहनचोद, 4000 रुपये महीना का प्रोटीन खाएगा तो घर वाले गांड पर लात मार कर बाहर निकाल देंगे. मैंने उनसे पूछा- भाभी आप लोग इतना मेकअप क्यों करती हैं?चूंकि मैं उस टाइम उम्र 19 बरस से कुछ माह कम ही थी, तो मुझे ज्यादा कुछ मालूम नहीं था.

इस बार मैं जल्द ही थक गया और करीब पांच मिनट चुदाई के बाद हम दोनों शांत हो गए. अब तक की मेरी इस मस्त सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि मेरी बहन चित्रा और उसके पति ने अपनी अदला बदली की कल्पना को साकार करने के लिए मुझे और जीजाजी की बहन आलिया को राजी कर लिया था और हम सब आपस में चुदाई कर चुके थे. मेरे साथ इतना कुछ हो रहा था, जिसका असर मेरी टांगों के बीच हो रहा था.

वो वैसे भी देखने में भी किसी हूर से कम नहीं थी, वो नाचती भी मस्त है.

ब्लू पिक्चर बीएफ हिंदी बीएफ: मनु की चुत चिकनी भी थी, शायद आज-कल में ही झांटों को साफ़ किया गया था. कई मिनट तक मैंने उसके लंड को चूसा और फिर उसने मुझे 69 की पोजीशन में कर लिया.

उसे ऐसे देख कर मुझे अच्छा नहीं लग रहा थामैं बोली- क्या हुआ … उदास क्यों हो?वो कुछ बोल पाता, उससे पहले मैं बोल उठी- डरो मत, सब बातें बताओ … तुम अपनी दीदी से सब छुपाते हो. मैं जैसे ही कूपे के अंदर घुसा, सामने उस लड़की को देखकर, उसे मैं लेडी नहीं कहूंगा क्योंकि वह 25-26 साल की खूबसूरत लड़की ही थी. मेरी मम्मी की उम्र 39 साल है, वो दिखने में बड़ी ही गोरी हैं और भरे हुए जिस्म की मालकिन हैं.

हमने बड़े मजे से खाना खाया और इस दौरान हम दीदी से और ज्यादा घुल-मिल गए … या कहा जाए, तो खुल गए.

इंटरवल में राजन ने ममता से पूछा- क्या लोगी?तो ममता बोली- पॉपकॉर्न और एक ही कोल्ड ड्रिंक मंगा लो. आज वो बिल्कुल वैसे ही लग रही थीं, जैसे पिया की पहरेदार सीरियल में तेजस्विनी प्रकाश होली वाली सीन में दिखती है. दोस्तो, एक बार फिर से आप सब के सामने एक मजेदार कहानी लेकर हाजिर हूं उम्मीद करता हूं कि आप सब को मेरी ये कहानी पसंद आएगी.