वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी

छवि स्रोत,चोदा चोदी वीडियो चोदा चोदी

तस्वीर का शीर्षक ,

चोदी चोदा सेक्सी सेक्सी: वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी, अब तो आपको पता चल ही गया होगा कि वो और कोई नहीं … आप लोगों का अपना साला और मेरा सबसे प्यारा कजन भाई सन्नी है।दोस्तो, जब से मैं अपने एक पाठक से चुदी हूँ। आप सारे लोग मुझे चोदना चाहते हो। लेकिन आप सब को पता है कि मैं इतने लोगों से नहीं चुद सकती.

आफ्रिका सेक्सी

तो मैंने कहा- ओके मेरी जान!मैंने उनकी कमर के नीचे तकिया लगाया जिससे उनकी चूत उठ कर ऊपर आ गयी।फिर मैंने भाभी की दोनों टांगो चौड़ा कर दिया और लंड को जैसे ही उनकी चूत पर रखा वो तिलमिलाने लगी. छोड़ा छोड़ीममता‌ का आशय मैं समझ‌ गया था इसलिए मैंने अब उनकी चुत को ही चूमना और चाटना शुरू कर दिया, साथ ही साथ ही मैंने ममता को खींचकर थोड़ा सा टेढ़ा भी कर लिया ताकि शायरा भी मुझे ममता की चुत को चाटते हुए अच्छे से देख सके.

मैं दो मिनट के लिए उसी के जिस्म पर ही लेट गया और उसके एक गोलमटोल मम्मे को चूसने लगा. सेक्सी फोटो दिखाएतो मैंने उन्हें बताया कि मेरी सहेली पहले कभी झारखंड नहीं आई थी इसलिए वो चाहती है कि मैं उसे कुछ दिन अपने यहां रखूं.

वह जब बिल्कुल शांत हो गई तो मैंने धीरे से अपनी कमर ऊपर उठाई ताकि लंड को अन्दर बाहर कर सकूं.वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी: वाह क्या आनन्द था वो!फिर वो डॉक्टर झड़ कर मेरे ऊपर ही लेट गया और उसने मुझे कसके पकड़ लिया.

उसकी गांड मेरे लंड पर आकर सट गयी थी और लग रहा था कि जैसे वो कह रही हो- निचोड़ लो मेरे बूब्स को।वो एकदम से काफी गर्म हो गयी थी और उसके मुंह से आईई … स्स … आह्ह … जैसी आवाजें निकल रही थीं.मित्रो, आप इस सेक्स कहानी के पिछले भागमेरी बीवी ने अपनी भाभी को मुझसे चुदवायामें मेरी बीवी और सलहज के साथ सेक्स का मजा ले रहे थे.

कैटरीना कैफ न्यूड - वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी

विजय ने मेरी पैंटी में हाथ डाल दिया और मेरी चूत को अपने हाथों में भर लिया.उसके बाद मैंने और प्रिया ने बहुत बार कालेज में चुदाई की।वो हरदम मेरा लण्ड लेने को तैयार रहती थी। बस ज़रा से इशारे की देर होती थी और वो तुरन्त अपनी चूत में मेरा लंड घुसवाने के लिए मेरे कमरे में आ जाती थी.

उस साली रंडी पर भी मेरी नज़र है चुदैल!और वो बस ‘उफ्फ ले साली … और ले … आःह्ह’ करते हुए मुझे चोदे जा रहे थे।मैं बस ‘आराम से कर चूतिये … वर्ना मेरी फट जाएगी. वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी सुबह जब नेहा मुंबई पहुंची, तो उसने देखा कि उसकी दीदू और जीजू उसको लेने स्टेशन आए हैं.

तभी संजू बीच में बोल पड़ी- अरे पागल हैं क्या आप … इसने जो मेरा हाल किया है ना रात भर में … वो मैं ही जानती हूँ.

वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी?

एक दूसरे की बांहों में खड़े हम वासना के पंछी अपना सामान भी ठीक से नहीं रख सके थे. इस बार हम ज्यादा देर नहीं रुके और एक मिनट तक आराम करके फिर से चुदाई को तैयार थे. चुदाई की तो मुझे भी जल्दी हो रही थी इसलिए मैंने देर ना करते हुए उनकी चूत पर लंड सैट किया और एक झटका दे मारा.

परंतु इस बार वीर्य थोड़ा पतला और गांड से निकलने पर झाग लिए हुए निकला. मेरे मुंह से ये बात सुनकर धीरू अंकल बोले- अच्छा ऐसा क्या करने वाली हैं?तो मैंने कहा- वो सब आपको बाद में पता चल जायेगा।यह सुनकर उन्होंने मेरे ब्लाउज को खोलना शुरू कर दिया और ब्लाउज को मेरे जिस्म से अलग कर दिया. और मैंने मौक़ा देखकर चोद दिया उसे!मैं हूं आपका अपना साथी सन्दीप सिंह!मेरी उम्र 26 साल है। मैं दिल्ली में जॉब करता हूं। वैसे मैं उत्तर प्रदेश के शहर कानपुर का रहने वाला हूं।दिल्ली में मैं अपने एक दोस्त के साथ रहता हूं।अपनी शारीरिक बनावट की बात करूं तो मेरी हाईट 5’7″ है।मेरा शरीर बिल्कुल फिट है।उसकी वजह ये है कि मैं प्रतिदिन एक्सरसाइज़ करता हूं।मेरे लण्ड का साइज़ करीब 7 इन्च लम्बा और करीब 2.

उसे जगाने के बाद संगीता को अहसास हुआ कि उसकी चूचियां बिना ब्रा के कुछ ज्यादा ही हिल रही थीं. वो मुझसे रानी के लिए पूछने लगी कि तुझे रानी में ऐसा क्या पसंद आ गया जो उस पर मर मिटा. मेरा भी सब्र खत्म हो चुका था और मैंने उसके सिर को पकड़ कर अपने होंठों से लगा दिया.

जब हम दोनों ने मां से कहा- यदि पापा तैयार हुए, तभी हम उन लोगों को रोक पाएंगे. मैंने भी कोई दबाव नहीं दिया और दूसरे संचालक से बोला- आप आज का संचालन देख लीजिएगा, मैं बनारस के लिए निकल रहा हूँ.

[emailprotected]ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, कुछ गलती हुई हो, तो क्षमा चाहता हूँ.

थोड़ी देर तक मामी हिली डुली नहीं तो मेरी हिम्मत बढ़ी और मैंने धीरे धीरे मामी की टांगें फैला दीं.

मैंने उसे पूछा- अपना माल कहां निकालूं?उसने कहा- मेरे राजा, मेरी गांड पर ही निकालो और अपने माल से मेरी गांड के छेद और गोलाइयों पर अपनी उपस्थिति दर्ज कर दो।उसकी बात मानते हुए मैं उसकी गांड की गोलाइयों को दबाते हुए उसे चोदने लगा. उसकी आवाजें इस बात का प्रमाण थीं कि वह अब खुश है और उसे मजा आ रहा है. मैंने बहुत तेजी से धक्के‌ लगाने शुरू कर दिए जिससे ममता की वासना से भरी हुई सिसकारियां और तेज हो गयी थीं.

उसने मेरे कान में कहा- चूसोगी नहीं क्या?लंड चूसने के लिए मैंने मना कर दिया. उसके स्तन भी धक्कों के साथ उछल पड़ते थे।और तेज … और अदंर डालो … फाड़ दो आज … आह्ह … और तेज … और तेज!” कहते हुए वो धीरे-धीरे बड़बड़ाने लगी,10 मिनट के भरपूर गुदामैथुन का रेनू ने सम्पूर्ण आनन्द लिया. वो भी अपनी गांड उठाकर मेरे लंड को पूरा अपनी चूत में घुसाने लगी थीं.

मुझे अपना गदराया हुआ जिस्म बड़ी सनसनी दे रहा था, तो मैं अपनी नंगी फोटो खींचने लगी.

मैंने जैसे ही अपना मुँह अलग किया, वो ‘आहह आह हह …’ करके चिल्लाने लगी. आराम आराम से करेंगे!यह कहकर मैं बेडरूम में चली गयी और धीरू अंकल मेरे पीछे पीछे बेडरूम में आ गये।प्रिय पाठको, मेल और कमेंट्स करके मुझे बताना कि आपको कहानी अच्छी लग रही है या नहीं?[emailprotected]लंड चूसना की कहानी का अगला भाग:कोरोना काल में मिला अंकल के लंड का सहारा- 3. अब यह बात लेने वाले पर निर्भर करती है कि वह अच्छी और सुंदर चूत लेने में कितना माहिर है.

कुछ देर बाद मैंने उनको बिस्तर पर लिटाया और उनकी चूत को दोबारा से चाटने लगा. सही में मेरा लंड अब फिर से खड़ा हो गया था … जो कि‌ खिड़की से शायद शायरा भी देख रही थी. एक दिन जब हम बाहर टहल रहे थे तो वो ऑफिस की चुगलियों की बातें बताते हुए रोने ही लगी.

मेरा लण्ड आँटी की चूत के क्लीटोरियस पर अड़ा था जिससे आँटी की उत्तेजना बढ़ गई थी.

सरिता कहने लगी- वो तो ठीक है, लेकिन जल्दी ही कोई दूसरा जुगाड़ कर देना. वो अपना हाथ मेरे पीछे से मेरी पीठ, कमर और फिर मेरी गांड को मसलने लगा, जिससे मेरी उत्तेजना फिर से बढ़ने लगी.

वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी फिर हेलीमा की चूत में लंड एक झटके में डाल दिया, जिससे वो तड़प कर रह गई. फिर मैंने उसकी सलवार में हाथ घुसा लिया और उसकी चूत में उंगली दे दी.

वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी हल्के दर्द के साथ उसका आधा लन्ड मेरी गुफा में प्रवेश कर गया।इतने में उसने मेरी प्यारी चूत में एक और जोर का झटका लगाया। और पूरा लन्ड मेरी चूत में धंस गया. हम दोनों की कमर की रफ्तार बढ़ने लगी और मैं जल्दी जल्दी झटके लगाकर ललिता भाभी की गांड में अपना लंड अन्दर बाहर करके चोद रहा था.

सभी में या तो बैटरी लगी थी या फिर एक तार थी, जो कि एक रिमोट से जुड़ी थी, जिसमे पंखे की तरह रफ्तार कम ज्यादा करने जैसा स्विच था.

दो नंबर का धंधा कैसे करें

मेरी उम्र अभी 27 साल है और जिस वक्त की ये घटना है उस वक्त मेरी नई नई नौकरी लगी थी. वो(मन में कैसे कहूँ दीदू)नेहा- कहीं तू ये तो नहीं कहना चाहती कि मैं तुझे अपनी चुदाई का लाईव टेलीकास्ट दिखाऊं?स्नेहा- हं. भाभी को भी मजा आ रहा था क्योंकि वो नीचे से उछल-उछलकर लंड को अपनी चूत में ले रही थीं.

संजू ने ये देखा तो मजा लेते हुए विक्रम को अपने पास बुलाया और देखा उसके लंड पर अभी भी उसका गाढ़ा वीर्य लगा हुआ था. मगर अभी मेरा लंड पूरा अन्दर नहीं जा पा रहा था क्योंकि कुसुम ताई की चूत टाइट हो गयी थी. ममता के ऐसे दबाए रहने से मेरा दम सा घुटने लगा था … मगर मैंने उन्हें कुछ कहा नहीं क्योंकि उनका चरमोत्कर्ष कुछ ज्यादा ही उग्र था.

लेकिन तब भी उसने कहा- मैं तुम्हें मना किया था न!मैं हंस दिया- हां हां मुझे सब पता है.

वो पहले ही प्यासी है और अब मेरी और ममता की चुदाई का सीधा प्रसारण देखेगी, तो मेरे लिए ये अच्छा ही होगा. सच बता रहा हूँ दोस्तो, अभी भी मुझे ये कहानी लिखते वक्त भी उनके चूचों का स्पर्श याद आ रहा है. मुझे भी एक चाह थी कि मेरा पति मेरी गांड चाटे और ये सब करे, जो तूने किया है.

उसने फिर गर्दन पीछे करके मेरे होंठों को चूसने की कोशिश की और मैंने उसकी ये ख्वाहिश पूरी की. शायरा को देखकर तो लगता था कि उसका पति कोई बहुत ही सुन्दर और हैंडसम होगा, मगर उसका पति तो थोड़ा मोटा और सांवला था, जिसका पेट भी बाहर निकला हुआ था. साथ में उसने अपने दोनों हाथों से मेरी गांड थामी हुई थी, जिसे वो सहला रही थी.

ड्रेस का गला थोड़ा बड़ा था, तो उसकी उठी हुई चुचियों के बीच की दरार एकदम घाटी जैसी लग रही थी. अब मैं सोच रही थी कि इन तीन दिनों में मेरी कुछ ज़बरदस्त चुदाई हो जाती, तो मज़ा आ जाता.

फिर उसने आगे धक्का देने की बजाय मुझे ही एक झटका अपने लंड की तरफ दिया. वो मेरी चुदाई में इतनी खो गयी थी कि शाईस्ता हम दोनों की चुदाई देख रहा है, वो इस बात को भूल ही गई थी. साथ में एक छोटी ब्रा भी थी, वो भी उसने मेरी चूचियों के ऊपर पहना दी, जिससे मेरे मम्मे ऊपर उठ गए और दोनों मम्मे एकदम पास आ गए.

उसी समय विक्रम संजू की गांड के पास अपना विशाल लंड ले आया और संजू की गांड में घुसाने का प्रयास करने लगा.

मैंने तो प्रीति को अपने पति से सुख पाने के लिए उसे सारे उपाय बता दिए थे. थोड़ी देर मैं जब मैं उसके ऊपर से हटने लगा, तो उसने मुझे हटने नहीं दिया और जोर जोर से मुझे चूमने लगी- भैया आई लव यू … लव यू आप सिर्फ मेरे हो. इसलिए वो बोले- देख ले तू, अगर चुदना है तो जगह का इंतजाम भी करना पड़ेगा.

मैंने मना किया तो मुझे बांहों में जकड़कर मेरे गालों को चूम लिया और अपना एक हाथ मेरी छाती पर रख दिया. वो जिस गति से उछल रही थी उसके वक्ष भी उसी गति से उछल कर मुझे पागल बना रहे थे।मैंने दोनों हाथों से उसके नितंबों को दबाना शुरू किया। अब हम दोनों स्खलन की ओर बढ़ रहे थे.

मगर हमारे इस चुम्बन का बाहर खिड़की पर खड़ी शायरा पर शायद कुछ और ही असर हो रहा था. कॉलेज आकर मैंने अपना ध्यान पढ़ाई करने में लगाया मगर आज कहीं भी मेरा दिल नहीं लग रहा था. जब भी वो मेरी पैंट में मेरे लंड को देखती तो मैं लंड का उछाला दे देता.

शिल्पी राज के सेक्सी वीडियो

अनामिका गाली देते हुए बोल रही थी- कमीनी जीजा चोद … तेरी बार मैंने कुछ बोला था!उन दोनों की नोक-झोंक में यहां मैंने चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दी.

उस दिन पहली बार मुझे ये अहसास हुआ कि सेक्स में जितना हो सके बेशर्म हो जाना चाहिए. हम दोनों की उम्र कभी भी हम दोनों के बीच नहीं आई। ये रिश्ता आज भी वैसे ही चल रहा है।तो दोस्तो, ये मेरी पहली चुदाई की कहानी!मैं आपकी दोस्त कोमल उम्मीद करती हूं कि आपने कहानी का पूरा मजा लिया होगा. मैं बोला- ये क्या कर रहे हो चचा?वो बोले- यार साजिद … मेरा लंड तब तक शांत नहीं होता जब तक उसको छेद न मिले.

सटा सट सटा सट लंड फच्च फच्च फच्च करके लंड चुत में अन्दर बाहर हो रहा था. वो अपने पति से अपनी चुदाई नहीं करवाती थीं जिससे उनकी चुत कसी सी हो गई थी. बर्फ बर्फ बर्फ बर्फहम दोनों ने दो दो पैग पीए और खाना खाने के बाद मैंने एक सिगरेट जलाई.

रूबी मेरे मामा की बेटी है, उसका रंग न ही ज्यादा गोरा है … ना ही काला है. इसके बाद मैं बराबर सोनी को टाइम देने लगा जिससे जल्दी ही सोनी के सारे गिले शिकवे दूर हो गए.

मैंने उसके कंधे पर हाथ रखा तो वो मेरी कमर से लिपट कर सुबकने लगी- जान, क्यों मेरी ही किस्मत में इतने गम लिखे हैं ऊपर वाले ने?मैं घुटनों के बल बैठा और उसे गले लगा लिया- तुम्हारी नहीं जान … हमारी किस्मत में!ज़ारा- मैंने ऐसे कौन से गुनाह किये थे?मैंने उसे उठाया और वाशबेसिन पर ले जाकर उसका चेहरा धुलवाया और वापस ले आया. तभी सामने से लकी भैया आ गए और उन्होंने पूछा- क्या हुआ?तब पापा ने उन्हें सारी बात बताई. फिर एक घंटे बाद आंख खुली तो देखा मनोज का लंड फिर से खड़ा है पर मेरी चुदने की हिम्मत नहीं हुई तो मैंने उसके लंड को चूसा और माल को मुँह में पी गई.

जमीन पर क्यों? बेड पर बैठता हूँ ना!” मैं बोला।मैंने कहा ना, इसे पहली बार चखने के कुछ नियम हैं।” कहकर उन्होंने मेरे कंधों को नीचे दबाया और मुझे जमीन पर बिठाया।अपनी जुबान बाहर निकालो … और बाहर, जितनी ज्यादा हो उतनी बाहर निकालो!” नीचे बिठाकर वह बोली।उनके कहने पे मैंने अपनी जुबान पूरी तरह से बाहर निकाल दी।लो अब चखकर बताओ यह क्या है. अब सुरेश का एक हाथ सोनी की चूची दबा रहा था और दूसरा हाथ उसकी जांघ को सहला रहा था. चालीस इंच की गदरायी गांड को सहलाते हुए मैंने उसकी चड्डी नीचे सरका दी.

दरअसल ज़िन्दगी की भागदौड़ में कुछ यूं उलझ गया था कि कहानी लिखने का वक़्त ही नहीं मिला। इस बीच कुछ बहुत अच्छे अनुभव भी हुए और उन सबकी कहानी भी आप सबको सुनाऊंगा।कहानियों का नया सिलसिला शुरू करने से पहले हम पिछली कहानी को पूरा कर लेते हैं.

रूचिका आंटी- बेटा ये क्या है, मैं नंगी आई हूँ और तू अंडरवियर पहन कर सो रहा है. कितनी ताकत है तुम्हारे अन्दर … और घड़ी तो देखो हर्षद, पूरे साढ़े बारह बज चुके हैं.

फिर वो मेरे साथ आने लगा तो मैंने पूछा- क्या बात हो गयी थी?वह बोला- यह एक लड़की को जबरदस्ती चोदना चाहता था. ‘कुछ नहीं … बस प्यार कर रहा हूँ!’मैंने भी थोड़ा जोर से उंची आवाज में कहा … ताकि शायरा मेरी आवाज पहचान‌ ले और हमें चोर समझकर वो शोर ना मचाए. घर में आकर मैंने बैग में से अपनी लुंगी और तौलिया बाहर निकाली और बैग एक कोने में रख दिया.

मेरे मुँह से गालियां सुनके उसने गर्दन ऊपर की और हंसकर मेरे तरफ देखते हुए मेरा लंड किसी रंडी की तरह चूसने लगी. फिर उसने अपनी मां की ओर देखा और धीरे से दरवाजा ढाल कर खुद भी बाथरूम में आ घुसी. मतलब ऊपर वाले ने मेरी चुत के लिए लंड का इंतज़ाम एकदम पक्का करके रखा था.

वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी विपिन ने कहा- हां आहह … दीदी आहह … ले लंड का मजा ले आंह आह साली लंड का रस चूस ले अपनी चूत में. उन्होंने ये कहा, तो मैंने उनसे हामी भरते हुए कह दिया- ठीक है बुआ, मैं आपके पैर दबा देता हूँ.

नंगे इमेज

मेरी इतनी सी तमन्ना पूरी नहीं करोगे हर्षद!अदिति की बातें सुनकर मैं कुछ नहीं बोल सका. फिर भी मैंने नाटक करते हुए कहा- मैं यहां तुम्हारा राग सुनने नहीं बैठी हूं. नहीं तो मेरी‌ ऐसी किस्मत कहां? पर देखो ना उसका नाम लेते ही ये कैसे खड़ा हो गया है.

अब अगर जिंदगी भर का साथ बना कर रहना है, तो कोई किसी से पुरानी बात पूछ कर उन यादों को जिंदा ना किया जाए. उसके बालों से हाथ घुमाकर मैंने उसके गाल पर किस किया और उसे सोने दिया. चोदा चोदी कहानियांउसने सोनी को इतना गर्म कर दिया था कि वो बेचैन हो उठी और उसके लण्ड को देखने के चक्कर में वो सारी शर्म भूल गयी.

जब शैली के गले से मादक सीत्कार आना शुरू हुई, तो मैंने धीरे धीरे अपनी स्पीड बढ़ानी शुरू की.

अचानक अंकल ने मेरी कमर में हाथ डालकर मुझे अपनी तरफ खीचा और बोले- जान, आज तो तेरी चूत की खैर नहीं! साली को बुरी तरह से फाड़ दूंगा. फ़िर भी इशारों इशारों में मैंने सवाल कर लिया- चुम्मी किस लिए?उसका कोई जवाब नहीं देते हुए उन्होंने मुझे सवाल किया- तुम्हें बुरा तो नहीं लगा?मैंने न में सिर हिला दिया.

ये कहकर उन्होंने तुरंत मेरी गांड के नीचे एक तकिया लगाया जिससे मेरी बुर ऊपर उठ गई. जैसे ही मैं झड़ी, उन्होंने तुरंत मुझे अपने से अलग किया और मेरे ऊपर आ गए. थोड़ी ही देर में अचानक से मेरे लंड ने 5-6 पिचकारियों के साथ अंकिता के चेहरे पर हमला बोल दिया और सारा माल उसके मुँह पर निकाल दिया.

प्लेबॉय बनने की बात से मुझे केवल इसलिए डर लगता है क्योंकि फिर कहीं कोई जानकार भाभी मिल गयी तो दिक्कत हो जायेगी.

मैंने गाड़ी की लाईट चालू ही रखी थी तो उसके उजाले में थोड़ा दूर जाकर मैं अपना लंड निकाल कर मूतने लगा. लंड के धक्के चुत पर … और चुत के धक्के लंड पर दोनों तरफ से पड़ रहे थे. सोनी की चूत ने उसका लंड बाहर धकेल दिया था क्योंकि अब उसमें जान नहीं थी.

राजस्थानी घूमरफिर हेलीमा की चूत में लंड एक झटके में डाल दिया, जिससे वो तड़प कर रह गई. गुलजान ने एक लम्बी बिना आस्तीन वाली ड्रेस पहनी थी, जिसमें उसकी 38 साइज़ की चुचियां छोटी पहाड़ियों जैसी लग रही थीं.

कामवासना वीडियो

पिछले भागों में अब तक आपने जाना था कि शायरा के मन से मेरे लिए जो गलफहमी हो गई थी, वो खत्म हो चली थी और उसने मुझे नाश्ता करने के लिए अपने घर में बुला लिया था. कुछ देर बाद मैं भी वहां पहुंच गई और उससे बोली- अब सुनाओ, अनन्या को कैसे फुसलाया और उसकी चुत में अपना माल कैसे डाला?उसने कहा- सब तैयारी तो तुमने ही करवा दी थी. फिर मेरा पति यूएस में है, तो वो वहां पर लड़कियों के साथ एंजॉय तो करता ही होगा ना.

उसने मेरे कान में कहा- चूसोगी नहीं क्या?लंड चूसने के लिए मैंने मना कर दिया. उसने मुझे नीचे लिटा दिया और मुझे होंठों पर किस करने लगा और ऊपर से ही मेरी चूचियां दबाने लगा. कुछ देर बाद मेरा लंड टाइट होने लगा और झटकों के साथ वीर्य की पिचकारी छूट पड़ी.

मैंने अपने हाथ को उसके सम्पूर्ण योनि प्रदेश पर रख दिया और आहिस्ता से दबाना शुरू किया तो वो सिहर सी उठी और मेरे बालों को कस कर पकड़ लिया. यहां तक कि चाची जी ही ने मेरी बीवी को सुहागरात के कुछ टिप्स दिए थे, जो कि बाद में मुझे मेरी वाइफ से पता चला था. प्लीज़ मेल जरूर करें … अभी चुदाई कहानी में रस बाकी है, उसे मैं अगले भाग में लिखूंगी.

मेरे केबिन में सीसीटीवी कैमरा लगा था जिससे मुझे बाहर बैठा स्टाफ लैपटॉप की स्क्रीन पर दिखाई देता रहता था. कुछ समय बाद मेरी नजर जब दिव्या की तरफ़ गयी तो मैंने देखा कि उसका कोई इंटरेस्ट किसी इवेंट्स में नहीं था.

कुछ ही पल में मेरे गोरे गालों में जलन होने लगी।मैं समझ गई थी कि ये मुझे बहुत बेदर्दी से चोदने वाले हैं।वो इतने जोश में थे कि उनके अंदर दया नजर ही नहीं आ रही थी।मेरे होंठों को चूमते हुए उन्होंने मेरी नाइटी की डोरी खींच दी.

उसने मेरी एक खूबसूरत सहेली को देखा तो …नमस्कार दोस्तो, मैं सारिका कंवल आज फिर से आपके लिए एक रोचक लेस्बियन सहेली की कहानी लेकर प्रस्तुत हूँ. हिंदी में सेक्सी वीडियो चोदा चोदीमेरी पिछली कहानी थी:औरत की वासना का परिणामआज मैं आपके लिए ऐसे ही विषय पर एक सेक्स कहानी सुनाने आया हूँ. साल की लड़की के साथ सेक्सी वीडियोग्लास में चिपके वीर्य को भी उसने अपनी उंगली से चाट चाट कर साफ कर दिया. आह पेलो इसको जीजू प्यारे … आह और अच्छे से पेलो … पूरी दम से चोदो अपनी रंडी साली को.

अब आगे ऑफिस गर्ल Xxx स्टोरी:मैंने धीरे धीरे से उसके पेट को सहलाना शुरू किया और हल्की मसाज करना शुरू कर दिया.

मेरे मुँह से हल्की तेज सी ‘आहह … आहह … आ … आ … आहह … स्सी …’ की कामुक सिसकारियां निकल रही थीं. उधर लौड़ा गांड में लेते ही चाची जी जोर से चीख उठीं- हाय राम … मर गई मेरी गांड फट गई. 45 बजे उसकी कॉल आयी और मैं उस रास्ते पर निकल पड़ा जिस पर पर मैंने कई बार कल्पनाओं का सफर किया था।दरवाजे पर पहुंचकर कांपते हाथों से डोरबेल बजाई.

हम दोनों की कमर की रफ्तार बढ़ने लगी और मैं जल्दी जल्दी झटके लगाकर ललिता भाभी की गांड में अपना लंड अन्दर बाहर करके चोद रहा था. मैंने डांटते हुए कहा- तुम्हें जॉब चाहिए है कि नहीं? अच्छे से मेरे पैरों की सफाई करो, तब तुम्हें जॉब मिलेगी. संजीव का मुंह मेरी पैंटी पर आ लगा और वो मेरी चूत के रस को सूंघने लगा.

मराठी गर्ल

मैं तेजी से सिसकारने लगा और वो भी जोर जोर से आह्ह … आह्ह … साब जी … आपका लौड़ा … आह्ह … ओह्ह … क्या मजा दे रहा है … आह्ह … हाय. वो बोली- क्या?मैंने उसे खींच कर अपनी बांहों में भर लिया और उसकी गांड दबाते हुए अपने तने हुए लौड़े को उसकी जांघों पर रगड़ने लगा. समीना खांसने लगी पर मैंने उसे पानी पिलाया और कहा- कोई बात नहीं … बस हो गया.

”मैंने लुंगी लपेटी और मामी के कमरे में गया, नाइट लैम्प की रोशनी में ड्रेसिंग टेबल से कोल्ड क्रीम की शीशी निकाली और वापस मुड़ा.

चुदाई के कारण रचना जग गयी, पर उसने मुझे मना नहीं किया- बेबी तुम्हें जितना मन हो, उतना चोदो … जिस छेद को चाहो, उसे चोदो.

तो चलिए शुरू करते हैं।यह कहानी लगभग 5 वर्ष पुरानी है। मेरी पत्नी शशि को सुबह 4:00 बजे फोन आया कि उसके ताऊ जी (पिता के बड़े भाई) का स्वर्गवास हो गया है. नर्स ने खुद के चुदने की बात कह कर मुझे और भी ज्यादा उत्तेजित कर दिया था. अफगानिस्तान सेक्समैंने उसे अपनी बांहों में भर चूम लिया और वापस नीचे को लेकर गया जहां मामा मामीजी हाल में बैठे अब भी बातें कर रहे थे.

अगर आपके पास मैरिड गर्लफ्रेंड वांट सेक्स से संबंधित कोई सुझाव या सलाह हो, तो आप मेरे ईमेल पर बता सकते हैं. अब कविता मुझसे जिद करने लगी कि किसी तरह कुछ उपाय लगाओ कि वो प्रीति से मिल सके. मैंने ऊपर नजर उठाकर देखा तो उसके दो पहाड़नुमा चूचों के पीछे उसके चेहरे पर मादकता आ गयी थी.

मैंने उसे खुद से ही सटा लिया और अपने बदन से सटा कर उसकी चूचियों को थाम लिया. वो मेरे खड़े लंड को महसूस करके वो फुसफुसा कर बोली- ओ मर गई … इतना बड़ा है.

मेरा भी सब्र खत्म हो चुका था और मैंने उसके सिर को पकड़ कर अपने होंठों से लगा दिया.

एक दिन उसने कहा- क्या आप मुझसे मिल सकते हो?मैं बोला- इसका जवाब मैं आपको बाद में दूंगा. मैं भी कुछ ऐसे ही बड़बड़ा रहा था- हाय मेरी रानी … तेरी चूत … आह्ह … कितनी गर्म है … बहुत मजा आ रहा है तेरी चूत चोदने में. उसके बाद उसने मेरी गांड में उंगली दे दी और खड़े खड़े ही मेरी गांड में उंगली करने लगा.

सेक्सी दिल्ली सेक्सी वीडियो उसकी चड्डी में उसका लौड़ा पूरा गर्म होकर रॉड के जैसा सख्त हो चला था. मुझे डर था कहीं निलेश इस बात का बुरा न मान जाये लेकिन वो प्यार से तैयार हो गये.

फिर जब उससे रहा न गया तो बोली- मेरा बहुत मन कर रहा है, एक बार अंदर लेने का ट्राई करके देखूं?मैं बोला- क्या कह रही हो? अगर तुझे बच्चा हो गया तो?वो बोली- एक बार में क्या बच्चा होगा, तुम इतना कर रहे हो मेरे लिये, मैं भी तुम्हें थोड़ा मजा देना चाहती हूं. फिर चाची जी दुखी होते हुए बोलीं- हमें तो अब काफ़ी दिन हो गए हैं किए हुए. मैं हंसी- तो उसमें क्या है, जब तुम किसी दूसरी चुत में अपना लंड डाल सकते हो, तो उसे भी पूरा हक़ है अपनी चुत को जैसे चाहे इस्तेमाल करे.

इंग्लिश ब्लू पिक्चर दिखाओ

मैंने एक दो बार उसे अपने घर की‌ चाभी को रखते हुए देखा था इसलिए मुझे पता था कि शायरा अपने घर की चाभी कहां रखती है. जब तक भाभी बाथरूम से बाहर आयी तो मेरा खड़ा लंड देख कर बोली- लंड है या क्या है ये यार? अभी चूत से झड़ कर बाहर निकले इसको 10 मिनट भी नहीं हुए हैं. उसके गोल-गोल माँसल नितंब लिंग को गुदाद्वार में प्रवेश की चुनौती दे रहे थे।उसने गाउन पहन कर अपनी बेटी को चाय-बिस्कुट और कुछ चॉकलेट देकर फिर से दरवाजा बाहर से बन्द कर दिया।बेडरूम में आकर उसने गाउन उतार दिया.

मेरे तो पसीने ही छुट गए, मैंने कहा- मैंने क्यय क्ययय क्या किया है, बताओ?उन्होंने कहा- अरे इतना डर क्यों रहे हो और इतना हकला क्यों रहे हो? मैंने तो बहुत दिन से तुम दोनों पर नजर रखी हुई थी. अब मैंने भाभी को छेड़ने के लिए लंड को उनकी चूत पर घुमाया पर अन्दर नहीं डाला.

उस रात मैंने उसे तीन बार चोदा और हम दोनों सुबह 4:00 बजे तक सेक्स का मजा लेते रहे.

आज सुमंत और महंत को अपनी रिश्तों में चुदाई की दुनिया में शामिल करने लिए उम्र के हिसाब से अर्चना ने अनु दीदी को दायित्व दे दिया था. शायरा क्या कर रही होगी? वो मेरे बारे में क्या सोच रही होगी? कहीं मैंने उसको इग्नोर करके कुछ गलत तो‌ नहीं किया?पर उसने भी तो मुझसे बात करने की‌ कोशिश नहीं की. अगर आपकी पसंद कोई और है, तो आप बिना झिझक कर बोल दें … मैं चुप रहूँगा.

फिर लंड पर थूक लगा कर, थोड़ी क्रीम मल कर उनकी गांड पर लंड को सेट किया और पेल दिया. उधर कविता निर्लज्जता से एक एक कर उन सबको हमें दिखाने लगी और हंसने लगी. अदिति नीचे से गांड उठाकर मेरे लंड को अपने चूत में लेती हुई बोली- हां हर्षद, मैं भी यही चाहती हूँ.

जब पहली बार मैंने उसको अपनी बिल्डिंग की छत पर देखा था, तो वो कपड़े धो रही थी.

वीडियो बीएफ पिक्चर हिंदी: स्नेहा भी अपने रूम में आकर फटाफट हल्के मेकअप के साथ ओपन शोल्डर वाला टाईट शॉर्ट टॉप विद आउट स्ट्रेप वाली ब्रा, जिसमें उसकी चूचियां और कहर ढा रही थीं. इसलिए मैंने बिना जाने अपनी ओर से उत्तेजक और रोमांस भरी बातें करना शुरू कर दिया.

मुझको बार बार कह कर उसने मुझे पूरी बेशर्म बनाकर मुझसे कहलवा कर ही छोड़ा कि लंड राजा आ जा. पापा मेरे साथ घर जाने लगे, तभी टिंकू भैया के पापा ने हमें रोक दिया और जाने नहीं दिया. मेरे होंठों को चूसने के बाद उसने फिर से आगे की ओर मुंह घुमा लिया और अब वो आह्ह … आह्ह … की आवाज करते हुए चुदने लगी.

mp3दोस्तो, ये तो बस मेरी चुदाई की शुरुआत हुई थी। इसके बाद उस रात में मैं 2 बार और चुदी। फिर तो ये रोज का काम हो गया.

मैंने फिर से आंटी की चूत में लंड पेल दिया और उसको वहीं बाथरूम में चोद दिया. वह बोली- धीरे चोद मादरचोद … पांच साल से इस चूत में बस गाजर मूली ही गया है … लौड़ा नहीं. वो एक नौकरानी के साथ बाहर आई और बोली- एक दिन लेट हो जाओगे तो कोई आपको काम से निकाल नहीं देगा.