सेक्स बीएफ नेपाली

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो देवर भाभी का हिंदी में

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी ब्लू फिल्म ओपन: सेक्स बीएफ नेपाली, मेरे पर तुझे रहम भी नहीं आई साले … भड़वे … मादरचोद … तेरी माँ को चोदूं हरामी … विदेशियों के साथ रह कर ये सब सीख कर आया भैनचोद … तेरी पत्नी तो तेरे को हाथ मारेगी … आआह ऊऊह.

सोनम कपूर की सेक्सी फिल्म

मेरे हाथ में बोतल थी और मेरा सोया हुआ सांप मेरी टांगों के बीच में लटक रहा था. अंग्रेजी सेक्सी वीडियो 2020mp3भाभी- अरे मेरी रानी … तू तो बड़ी लण्डखोर हो गई है?लण्डखोर तो भाभी आप मुझसे भी बड़ी हैं.

फिर कुछ मेकअप किया और टेबल लगा कर इंतजार करने लगी।कुछ देर बाद बेल बजी. सेक्सी वीडियो एचडी लड़कीमैं खुद हैरान था कि मेरा लौड़ा उस दिन नसों के एक्स्ट्रा फूलने से बहुत ही बड़ा, मोटा और विकराल लग रहा था.

जब उसने मेरे चेहरे के भाव देखे तो उसने आगे बढ़कर मेरा हाथ पकड़ लिया और अपने हाथ में लेकर बोला- भाभी, मैं आपसे प्यार करने लगा हूं.सेक्स बीएफ नेपाली: जैसे जैसे मैं धक्का लगाता गया, वैसे वैसे भाभी की कामुकता बढ़ने लगी थी.

मॉम भी अब अपनी मोटी गांड उठा उठा कर अंकल का साथ दे रही थीं और बोल रही थीं.उन्होंने कोई अच्छी वाली ब्रा पहन रखी थी, ये मैं उसकी दिख रही स्ट्रिप से कल्पना कर सकता था.

सेक्सी चाहिए मूवी - सेक्स बीएफ नेपाली

उसने एकदम से मेरे लंड को मुंह में ले लिया और मेरे लौड़े को चूस गयी.और संजना ने उसके कंधे पकड़ के बिना कुछ सोचे समझे पलक झपकने के अंदर ही उसको नीचे की तरफ बहुत तेजी से धक्का दे दिया जिससे सम्भलने का वक्त ना मुझे मिला और ना शीना को.

भाभी बोली- आह … राहुल मसलो मेरे मम्मों को … बहुत तड़फाते हैं ये मुझे. सेक्स बीएफ नेपाली मॉम ये बोल ही रही थीं कि अंकल ने बचा हुआ लंड भी मॉम के चूत में पेल दिया.

उसने अपने होंठों को मेरे कांप रहे होंठों पर रख दिया और उनको चूमने लगा.

सेक्स बीएफ नेपाली?

दोस्तो, मैं आशा करता हूँ कि आप लोगों को मेरे पुराने अनुभवों की कहानियां पसंद आई होंगी।मेरी पिछली कहानी थीमकान मालकिन की दूसरी सुहागरातयह कहानी मेरी सबसे प्यारी सीमा भाभी की चुदाई की है।सीमा भाभी के बारे में बता दूं … वो 40 साल की हैं. उसके कोमल से बदन का स्पर्श मेरे अंदर वासना की चिंगारी पैदा कर रहा था. शिल्पा उसके ऊपर से हट गई और राहुल उसकी गांड पर हाथ रखकर शिल्पा के साथ अन्दर कमरे में आ गया.

मैंने मना भी किया लेकिन उसके मामा की लड़की चाय बनाने के लिए रसोई में चली गयी. शायद शायरा को अपबे हज़्बेंड के और मेरे लंड में बहुत फर्क लग रहा था … तभी तो वो मेरे लंड को इतने ध्यान से देख रही थी. जो काम तुम दिल से करना चाहती हो, वो मैं रोज तुम्हारे भाई के साथ करती हूँ … समझी! अगर अभी भी कुछ रह गया हो तो बता दे.

मैंने पूछा- आप पेपर नहीं देख रही हैं?तब उन्होंने थोड़ा उदास होकर कहा- नहीं, मेरे ससुर बहुत बीमार हैं … इसलिए मैं जल्दी घर चली जाती हूँ. वह सुबह ही मेरे पास आ गया- सर जी चलें?हम ऑटो से गए, वह एक कॉलेज की बिल्डिंग थी. थोड़ी देर बाद सांसों के सामान्य होने के बाद मैंने उसकी तरफ चेहरा उठाकर देखा, वो भी मेरी नजरों में नजर मिलाकर मुस्कुराने लगा.

अब मैं कोई चौंतीस-पैंतीस का होऊंगा, मैं हट्टा-कट्टा फिट बॉडी वाला एक गठीला वयस्क मर्द हो गया था. फिर भाभी ने रामू को तेल दिया, जिसे रामू ने भाभी की चूत और अपने लंड पर अच्छे से लगा लिया.

मेरा मन कर रहा था कि कमरे में जाकर तुरंत उसका तौलिया खोल कर सोफे पर ही उसकी गोद में सीधा उसके लण्ड पर बैठ जाऊं बिना कुछ कहे हुए!लेकिन साथ ही मैं विजय को तड़पाना चाह रही थी।लेकिन मेरा शरीर मेरे खुद के काबू में नहीं तो रहा था, मैं विजय से भी ज्यादा उतावली हो रही थी और खुलकर चुदाई करना चाह रही थी.

मुझे उसकी बात से हंसी आ गई और मैंने हंसते हुए ही बोला- ऐसा नहीं है … वो सच में ही इतने बड़े होते हैं.

मैं- आपने तो अपने मज़े ले लिए … बदले में मुझे मज़े नहीं दोगी? तुम मेरी जान हो, मुझे जो चाहिए वो मैं करूँगा. फिर उसे चूमते हुए उसकी पैंटी के पास मुँह लगाया और पैंटी खींचने लगा. वो बोली- झूठ! एक भी नहीं है तो काम कैसे चलाता है तू अपना?मैं बोला- मुठ मार लेता हूं.

अपनी चूत के लबों को फैला कर मीरा मेरे लण्ड पर बैठ गई, देखते देखते मेरा पूरा लण्ड मीरा की चूत में समा गया. सुगंधा भाभी- हां पूछो न … क्या पूछना चाहते हो?मैं- आपकी उम्र क्या है?सुगंधा भाभी ने आंखें नचाते हुए कहा- तुम्हें क्या लगता है मेरी उम्र क्या होगी?मैं- मुझे तो आप 29-30 साल की लगती हो. आशा मुझसे बात करते हुए मेरा लन्ड सहला रही तो मेरा लन्ड फिर से खड़ा हो गया.

तो मैं बाहर आ कर सोफ़े पर बैठ गया और बिन्नी को किचन में नंगी इधर उधर घूमते हुए देखता रहा.

इधर मुम्बई में मैंने अनिता को मकान दिला कर उसे यहीं शिफ्ट करवा दिया. अंकल के मुँह से सिसकारी निकल गई- आह साली रांड कर दे आजाद इसे … और ले ले अपने मुँह में कुतिया. मामी बोलीं- बहुत कमीने हो तुम!मैंने कहा- मामी अभी कमीनापन देखा कहां है, अब देखोगी मेरा कमीनापन.

क्या आपने कभी भी बस में सेक्स किया है … क्या आपने किसी भाभी के साथ सेक्स किया है. मैं अपने घर पर भी कभी मौका मिलता, तो पड़ोस की भाभी की पैन्टी को अपने लंड पर मसल कर वापस उनकी छत पर रख देता था. ”ज़रूर!” मम्मी ने होंठ लगाए और उपिन्दर ने उसका सिर थोड़ी देर वहीं दबा के रखा।फिर उपिन्दर ने मम्मी का टॉप उतार दिया और पीछे से जकड़ के ब्रा के कप में छुपे हुए उभार दबाए- दिल तो कर रहा है कि अभी नंगी करके नीचे लिटा लूँ.

अब आगे:घर आने से पहले दीदी मुझसे बोली- अर्णव, मम्मी को मत बताना कि हम लोग साकेत भैया के साथ होटल गए थे.

मैं कुछ कहता, इससे पहले भाभी मुझसे बोलने लगी- राहुल … मैं बहुत प्यासी हूँ … तू मेरी प्यास बुझा दे … तेरे भाई को तो काम से फुर्सत ही नहीं रहती है. मुझे अपने लंड को शायरा की चूत में जाते हुए देखने में मज़ा आ रहा था इसलिए मैंने पहले पहले के कुछ धक्के तो इतने प्यार से और धीरे धीरे मारे कि इतना तो कभी वर्जिन चूत के साथ भी नहीं मारे होंगे.

सेक्स बीएफ नेपाली मेरी मामी ने मेरा नंगा खड़ा लंड देख लिया था और अपनी ब्रा और पैंटी भी देख ली थी, लेकिन मामी ने कुछ कहा नहीं. उसकी टांगों को फैलाकर मैंने फिर से अपने लंड को उसकी चुत पर रखा और धीरे से एक शॉट लगा दिया.

सेक्स बीएफ नेपाली मैंने बताया तो उन्होंने मुन्ना को एक तरफ लिटाया और मुझे सामान दे दिया. कभी संजू अपनी जीभ विक्रम के मुँह में डाल देती, जिसे विक्रम चूसने लगता.

पिंकी चुदवाते हुए मस्ती में बोली- रवि फटी चुत देख कर पूछेगा, तो मैं क्या कहूँगी.

बीएफ चोदी बीएफ

उसके उछलते हुए मम्मे आग में घी जैसे काम कर रहे थे।कुछ देर बाद मैंने उससे मेज की तरफ इशारा करते हुए कहा- चलो उसे पकड़ के झुक जाओ!वो समझ गई कि मैं उसकी गान्ड मारने की बात कर रहा हूं, उसने कहा- बहुत दर्द होगा … नहीं?मैंने उसे बांहों में उठा कर चुम्मा करते हुए मेज के पास खड़ा किया और उसके मना करते करते मैंने उसे झुका दिया था। अनुपमा लगातार मना कर रही थी लेकिन मैं कुछ सुनने के मूड में नहीं था. लेकिन अब भी वो डर रही थी, जो कि लंड घुसने के बाद ही खत्म हो सकता था. विक्रम बेड के नीचे बैठ गया और संजू की चिकनी चुत को बड़ी शिद्दत से चूसने लगा.

” ज्योति ने अपने पिता के मोटे लम्बे लंड को अपनी चूत में अंदर बाहर होता हुआ महसूस करके ज़ोर से सिसकारते हुए अपने चूतड़ों को उछालते हुए कहा।अब ज्योति को दर्द से ज्यादा मजा आ रहा था और वो अपने चूतड़ उछाल उछालकर अपने पिता से चुदवाने लगी।आह्ह्ह … पिता जी बहुत टाइट और मोटा है आपका लंड. फिर वो मेरे जिस्म को चूमता हुआ मेरी कोमल चूत की ओर अपने होंठों को लेकर गया. उन्होंने उदास स्वर में कहा- मेरे ससुर का देहांत हो गया, इसी कारण मैं नहीं आ रही थी.

फिर मैंने अपने होंठों को उसकी चूत में लगा दिया और उसका रसपान करने लगा.

उसने मुझे कहा- अविनाश भाई, प्लीज़ फक मी हार्ड!उसकी इन बातों को सुन कर मैंने भी उससे कहा- बस जानेमन, ऐसे चोदूंगा अब कि तेरा ब्वॉयफ्रेंड भी तुझे कभी ऐसे ना चोद पाएगा।इतना कहते ही मैंने एक झटके में चूत पर लंड टिकाया और दे मारा।अनुपमा चीख उठी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…उसकी चीख दबाने के लिए मैंने उसके होंठ अपने होंठों से दबा दिए. मगर फिर भी दो चार जगह चक्कर लगाने पर मुझे एक मेडीकल स्टोर खुला मिल‌ ही गया. मैं भी ये सोच रहा था कि अभी मॉम गर्म है एक बार चुदाई कर लूं, घर जाकर सीन न बदल जाए.

मेरे बेटे का लंड इतना बड़ा था कि चुदाई के वक़्त उसका लंड मेरी बच्चेदानी को छू रहा था. एक दिन अचानक वो कहने लगी- भैया मुझे नकली लगाकर देखना है कि कैसा लगता है?मैंने उसकी तरफ हैरानी से देखा. अब आगे की कहानी जो घटित हुई!अमित ने मुझे कॉल कर पूछा- राजवीर आप कहाँ हो?मैं- जी देहली में हूँ फिलहाल, जिस काम के लिये आया था, वो हुआ नहीं … कल शाम को बुलाया है तो आज यहीं पर रुकूँगा.

तभी अंशिका बोली- जीजू, आप भी नंगे हो जाओ न!मैंने कहा- अरे मेरी रानियो, तुम किस लिए हो? कर देना मुझे नंगा बेबी!सभी हंसने लगे. उस पूरे पीरियड उसने मुझे हचक कर चोदा और माल मेरी चुत में ही गिरा दिया.

’ फिर संभल कर बोली- चल झूठी … हम ऐसा वैसा कुछ नहीं कर रहे थे … वो तो वो तो …स्नेहा एकदम से हंसते हुए बोली- क्या ऐसा वैसा मॉम?संगीता उसकी बात समझ कर बोली- मार खाएगी तू किसी दिन, चल उठ देर हो रही अब. उनका पल्लू ढलका हुआ था, जिससे उनकी चूचियों की कातिल दरार मेरे लंड को और मन विचलित करने लगी थी. खैर मैं तो यही कहूँगी कि गलती तो दोनों की होती है।इस तरह से प्यार करते करते हमें दो साल हो गए थे.

शबनम ने नायरा को भी कांफ्रेंस पर ले लिया … उसका भी यही हाल था … उसके तो होंठ दुःख रहे थे, राहुल ने चुदाई के साथ उसके होंठों की चुसाई भी भरपूर की थी.

मैंने आँखों ही आँखों में मालू से पूछा- कैसा लग रहा है?तो उसने शर्माकर अपनी आँखें बंद कर लीं. मेरी आंखें बंद हो गई थीं और मेरे मुँह से कामुक सिसकारियां निकल रही थीं. इस पर वो तड़प कर रह गये और पास आकर गिड़गिड़ाते हुए बोले- जान, ऐसा मत कर! बहुत दिनों का प्यासा हूँ.

मेरा पर्स और उस कंडक्टर ने मुझे जो टिकट व बाकी के खुले‌ पैसे दिए थे, वो अभी भी नीचे ही पड़े थे. अब तक आप मेरी जिन्दगी में बीती गांड चुदाई की कहानी में पढ़ रहे थे कि असलम भाई की गांड मार कर और उनसे अपनी एक बार गांड मरवा कर मैंने उनकी उदासी और हताशा को कम कर दिया था.

आज अपने सभी संस्कार उसने अपनी चूत में घुसेड़ लिये थे और वो रंडियों की तरह व्यवहार करते हुए चुद रही थी. मैंने समय ना गंवाते हुए अपना सेल फोन निकाला और उनका एक छोटा सा क्लिप बना डाला. कुछ देर के बाद उसका दोबारा से फोन आया और उसने मुझे मेरे दाईं तरफ देखने के लिए कहा.

चुदाई की पिक्चर बीएफ

बाहर आते ही कमल चैन लगाता हुआ बोला- थैंक्स फूफाजी, आपका अहसान कभी नहीं भूलूंगा.

बातों बातों में मैने उसे पूछा कि वो सिंगल है या नहीं?तो उसने बताया कि उसका पहले तो बॉयफ्रेंड था लेकिन दो महीने पहले उनका ब्रेकअप हो गया है तो वो फिलहाल सिंगल है. मैं बोला- नहीं मेरी रानी, यह तुम्हें पूरे मजे देगा … बस आज थोड़ा दर्द होगा, फिर तो तुम इसे छोड़ोगी नहीं. मी तक लंड अंदर डालता और निकालता और ऐसा करते करते पूरा लन्ड डाल दिया।अब श्रुति को भी मजा आने लगा और उसने भी मेरा साथ देना शुरू किया।मैं उससे बातें करता जा रहा था- तुमको कैसा अच्छा लगता है ? क्या करने में ज्यादा अच्छा फील कर रही हो?क्योंकि दोस्तो, हर लड़की एक ही तरीके से चरम तक नहीं पहुंचती.

उन्होंने बताया कि मैं इस चुदाई में एक बार अंत में तुम्हारे साथ फिर से झड़ गई थी. सामने एक आइना इस तरह से रख दिया कि दरवाजे पर मेरी नजर रहे और मॉनिटर दरवाजे से दिखे. बच्चा कैसे पैदा होते हैंये देख कर कि संजू शांत हो गई है, विक्रम ने लंड को फिर से बाहर निकाला.

तुझे‌ सीनियर की‌ इज्जत करने‌ का‌ भी नहीं‌ पता क्या बे?” उस‌ लड़के‌ ने मेरी कॉलर को पकड़ते हुए कहा. मैंने उसकी चूत के लाल लाल दाने उसके जी स्पॉट और उसके अंदर तक सभी जगह अच्छी तरह चूसा.

बॉस ने कहा- मुझे 10000 तक तो ऑफिस से ही मिल जाएगा इसलिए इससे अगर कुछ ज्यादा भी हुआ, तो चलेगा … मगर लोकॅलिटी सही होनी चाहिए, जैसी आप लोगों की है. मुझे घर पहुंचने से ज्यादा दूसरे दिन का इंतजार रहता ताकि मैं डॉक्टर से मिल सकूं. आपको क्या काम है?अशोक- मेरे बिजनेस राइवल ने किसी को कह कर मेरी फाइल को उधर दबवाया हुआ है, जिससे मुझे बहुत नुकसान हो रहा है.

संगीता- आप क्या चोदोगे, वो तो पहले से ही मेरे बाबूजी से चुदी चुदाई है. या तो मैं बहुत दिनों के बाद उसके बदन का स्पर्श पा रहा था या फिर अब हम भाई बहन से ज्यादा एक जवान लड़का और जवानी लड़की हो गये थे. उसका शरीर बिल्कुल कसा हुआ है। हम दोनों के सम्बन्ध को 10 साल हो गए हैं.

उसे कितना भी दर्द हो, वो चुत चूसने के बीच में मुँह हटा नहीं सकता था.

एक मिनट बाद मैं पूरे जोश में अपना पूरा लंड धीमे से लंबे झटके मारते हुए घुसा रहा था और भाभी मजा लेते हुए अपनी कामुकता को कन्ट्रोल कर रही थीं. बेटी जितना तुम खुल कर गन्दी बातें करोगी तुम्हें चुदवाने में उतना ही मजा आयेगा.

मामी बोलीं- राजा मेरी चूत भी चाटो ना … जब से चोद रहे हो, गांड ही चाट रहे हो. रिचा ने एक शिकारिन की तरह लंड को अपने मुँह में भर लिया और वो उसे अन्दर लेकर चूसने लगी. उसने यह सब देखा लेकिन कुछ बोली नहीं … और ऐसा नाटक करने लगी जैसे सो रही है.

सुनील और मनोज ने तो जींस और टीशर्ट पहनी पर दीपा ने एक फ्रॉक ड्रेस डाली. अन्तर्वासना का मैं नियमित पाठक हूँ तो मैंने सोचा कि मैं भी मेरी कहनी शेयर करूँ. एक मिनट बाद मैंने कमरे में अन्दर आकर दरवाजा बंद किया और उसकी तरफ देखा.

सेक्स बीएफ नेपाली वो भी शर्ट ऊपर उठाने को मना नहीं करती थी और अपनी चूचियां दिखाकर मेरी मुठ मरवा देती थी. एक पल रुकने के बाद मैंने उसकी टी-शर्ट को उठा कर उसके मम्मों को नंगा कर दिया.

राजस्थान बीएफ

अब यहां से बाहर निकलकर मुझे अपने लिए एक पैंटी खरीदनी पड़ेगी।” मैंने रोहित से कहा।मेरी बात सुनकर रोहित हंसने लगा और बोला- यार, आज अगर बिना पैंटी के घूम लोगी तो कुछ फर्क थोड़े ही पड़ेगा। तुम भी नीचे से नंगी रहकर घूमने का लुफ्त उठाओ ना यार!रोहित की बात सुनकर मैं भी सहमति से मुस्कुराने लगी।कुछ देर के लिए रोहित बाहर चला गया. मुझसे ज्यादा कन्ट्रोल नहीं हो रहा था तो मैं स्माइल करके भाभी के ऊपर चढ़ गया. कुछ देर बाद बॉस ने मुझे बुलवाया और मैं जैसे ही कमरे में अन्दर पहुंची, वो उठ कर मेरे पास आकर बोला- रूपा पहचाना नहीं?एकदम से मुझे याद आया कि यह तो मेरे कॉलेज में साथ पढ़ता ही नहीं था बल्कि मेरी चुत की पहली सेवा भी कर चुका था.

चुत चटवाने के बाद मैं खड़ी हुई और फिर से एक बार उसके होंठों को चूमते हुए अभिषेक को टीचर की टेबल तक ले आयी. कुछ देर में ही भाभी कहने लगी- मैं आ रही हूँ … आह्ह … उफ़्फ़्फ़ … और जोर से … आआअ रही हूँ … मैं झड़ने वाली हूँ. हिंदी बीपी बीपी सेक्सीरूम में मैं अंदर गया और उसे बेड पर बिठा दिया और दरवाजे को लॉक कर लिया।मैं उसकी ओर गया उसके बगल में बैठ गया।मैंने कहा- श्रुति … मैंने इस दिन का बहुत इन्तजार किया है …आई लव यू!इतना बोलकर मैंने उसे टाइट हग कर लिया.

उसने करीबन 5-6 बार मेरी चुत की चुम्मी ली और फिर चुत चुसाई में लग गया.

यह सुन कर आशा ने मेरा लन्ड झट से अपने मुंह में ले लिया और जोर जोर से चुप्पे मारने लगी. मैं बड़ी चाची के साथ जंगल में था और वो झुककर काम करते हुए मुझे अपने चूचे दिखा रही थी.

सामान देखने के क्रम में वो मुझसे मेरी राय पूछ रहा था और मैं ‘हां, हूँ, ठीक है. खासतौर पर मैं अपनी सहेली, मेरी चूत को छू रही थी और मैं अपनी एक उंगली को अन्दर डाल चुकी थी. मैंने कंप्यूटर में चुदाई वाली वीडियो लगा दी और कमरे के दरवाजे को थोड़ा खुला छोड़ दिया.

अगर मैं उससे अकेले में मिलती तो वह मुझे बिना चोदे तो छोड़ता नहीं!इसलिए मैंने अकेले में मिलने से मना कर दिया।इस पर वो गुस्सा भी करता कहता- तुम्हें तो मुझ पर विश्वास ही नहीं है.

आशा ने मस्ती में आकर खुद ही अपनी छाती को ब्रा से आज़ाद कर दिया, उसके साँवले चुचों पर गहरे भूरे रंग के निप्पल कहर ढा रहे थे. वो शायद सोच रही थी कि मैं भीगा हुआ हूँ तो सीधे अपने घर जाऊंगा लेकिन मैं तो किसी और जुगाड़ में था. मैं- अरे प्रियंका छोड़ भी दो उसको, अभी वो नयी नयी है ना!हम दोनों हंसने लगे.

हिंदी हीरोइनों की सेक्सी वीडियोअंशिका को मैंने एक मोमबती लाने को कहा।पहली बार गांड में लंड नहीं जा पाता इसलिए अगर आपके पास मोमबती हो तो सबसे अच्छा है।मैंने अंजू की गांड में मोमबती डाल दी और पहले धीरे धीरे मोमबती को आगे पीछे करता रहा और फिर मैं तेज तेज उसकी गांड में मोमबत्ती करने लगा।अंजू को मज़ा आने लगा था।फिर मैंने नीचे अपना लंड अंशिका को चूसने के लिए कहा तो अंशिका झट से मेरा लौड़ा चूसने लगी. मगर मैंने उसे अपनी गोद में खींच लिया। तुरंत ही उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिये और उसके मखमली होंठों को चूमने लगा।आज हम दोनों ही नशे में नहीं थे और आज पूरे होश में थे।उसके होंठों को चूमते हुए मैंने उसकी नाइटी उनकी कमर तक उठा दी और उसके गोरे गोरे गदराई जांघें सहलाने लगा।जल्द ही मैंने उसकी पैंटी के अंदर अपना हाथ डाल दिया.

एक्स एक्स एक्स हॉट सेक्सी मूवी

मेरे पति ने मुझे आज तक सेक्स के लिए फ़ोर्स नहीं किया और तू मुझसे ये सब करवा रहा है. दोस्तो, मेरा नाम है चार्ली! मैं कोल्हापुर, महाराष्ट्र का रहने वाला हूँ। अभी-अभी मैंने बी. इतने में उसने अपना लौड़ा मेरे मुँह में घुसा दिया और बोला- माँ मुँह लंड चूसने के लिए होता है … बकचोदी करने के लिए नहीं … तुम बस लंड चूसो.

रात के 11 बज चुके थे और अगले दिन हम दोनों को वापस जाना था।वो मेरे बगल में ही सोफे पर बैठी हुई थी। उसने अपना सर मेरे कंधे पर रखा हुआ था।उस वक्त वो एक छोटी सी नाइटी पहने थी जो उसके घुटनों तक आ रही थी।मैंने उसका हाथ अपने हाथों में लिए हुआ था।मैंने घड़ी देखी और तुरंत ही रिमोट से टीवी बंद कर दिया और बोला- रात बहुत हो गई!ऐसा सुन वो बिस्तर पर जाने के लिए उठी. मैं एक छोटे गांव से था और मेरा कॉलेज गांव से कुछ दूर एक बड़े शहर में था. पर जब एक दिन मेरे घर में मैंने सैम को मेरी पैंटी को हाथ में लेकर मुठ मारते देखा, तब मुझे माँ बेटा सेक्स का विचार आया कि क्यों न मैं अपने बेटे से ही चुद लूं.

एक चुदक्कड़ आदमी के साथ इतनी जवान और कुंवारी लड़की थी, फिर भी कैसे मैंने अपने आपको रोका, ये मैं ही जानता हूँ. कुछ देर बाद उसका लंड चूसने की मेरी बारी थी … मैंने उसका बड़ा सा लंड एक ही बार में अपने गले तक उतार दिया. फिर धीरे धीरे बातें फोन पर पप्पी सप्पी की होने लगी और बातों का सिलसिला बढ़ता गया.

शिल्पा- कमीने … डाल न तड़पा क्यों रहा है?तभी राहुल ने हंस कर एक जोरदार धक्का लगा दिया और शिल्पा की आह निकल गई. शायरा नंगी थी इसलिए मुझसे शर्मा रही थी क्योंकि उसको तो मैंने पूरी नंगी कर दिया था.

मैंने पीछे हटते हुए बोला- प्लीज़ … मैं अब नहीं कर पाऊंगी, रहम करो प्लीज़.

जैसे ही मैंने फोन रखा कि राहुल शिल्पा के ऊपर ऐसे टूट पड़ा, मानो शिल्पा मेरी नहीं उसकी बीवी हो. सेक्सी लड़की वीडियो पिक्चरइसके बाद शिल्पा ने बगल में रखे टिश्यू पेपर से चुत साफ की और अपने मम्मे सहलाने लगी. सेक्सी गाना मूवीमैंने अपनी अन्तर्वासना के चलते एक गैर मर्द को अपने चक्कर में लिया, उसे अपने घर बुलाकर उसके लंड से चुदाई का मजा लिया. तभी विक्रम ने संजू के दोनों बाजुओं को पकड़कर उसे बड़े प्यार से बेड से नीचे खड़ा किया और अपने आगोश में भर लिया.

वैसे भी किसी भी चुत को शांत करने के लिए लंड का आकार कोई मायने नहीं रखता है, वो तो लंड के देर तक चलने पर निर्भर करता है.

कभी उसकी जीभ से जीभ लड़ाता तो कभी उसकी जीभ चूसता! थोड़ी ही देर में ज़ारा भी चुदासी होने लगी. सुबह दास बजे के आस पास मेरी आँख खुली तो जैसे ही मैं बाहर आई वैसे ही दरवाजे पर एक दस्तक हुई. जब जब उसके हाथ ऊपर बढ़ते, तो वो समझ जाता कि मुझे अच्छा लग रहा है, पर दोनों अपनी मज़बूरी में आगे नहीं बढ़ पाते.

पूजा- आहह … आहहह आराम से अमित … फाड़ दोगे क्या?अमित- मेरी जान तुम्हरी चूत है ही इतनी टाइट कि दो दो लंड भी एक साथ डालने के बाद भी ढीली न हो!पूजा- शस्श्ह अमित!अमित- हाँ मेरी जान, सोचो अभी राजवीर भी हमारे साथ बिस्तर में होता तो तुम्हरी गर्दन पर ऐसे चूमता! ऊऊमहा!पूजा अब चुप होकर मजे लेने लगी. औरत- हैलो … मेरा नाम सुगंधा है और मैं मुंबई में अपने पति के साथ रहती हूँ. उसकी इस हरकत से पहले से कामरस त्यागने को तैयार बैठी मैंने फिर से कामरस त्याग दिया.

हॉट भाभी बीएफ वीडियो हिंदी

मेरा हाथ उसके घुटनों के बीच से होते हुए उसकी जांघों के जोड़ तक चला गया. उसकी पूरी बॉडी पर तेल लगाने के बाद मैंने रबर बॉल से उसकी बॉडी को मसाज देना शुरू किया. अब ज़ारा ने मेरा लंड पकड़कर चूत पर लगाया और मैंने एकदम झटका मारा सीधा पूरा का पूरा अंदर!ज़ारा- आह! जानू चोद दो फाड़ दो मेरी चूत को!और मेरी कमर पर पैर लपेट लिये.

मेरे पैरों पर अपनी उंगलियां चलाते हुए मेरे घुटने, फिर जांघ से होते हुए मेरी सबसे प्यारी सहेली, मेरी चूत पर उंगलियां चलाने लगा.

मेरी नजरें चिपक गयी उसकी चूचियों पर।उसने अचानक मेरी तरफ देखा और वो समझ गयी कि मैं क्या देख रहा हूँ, वो मुस्कुरायी और अपने टॉप को थोड़ा खिसकाया और लिखने लगी।अब उसकी चूचियों का दीदार नहीं हो रहा था तो मेरी नजर उसकी गांड पर गयी।टाइट जीन्स पर उसकी गांड की गोलाई ने मेरे लंड को खड़ा कर दिया.

बिन्नी- ग्रेट आइडिया, नंगे किचन में?मैं और बिन्नी मेरी छोटी सी किचन में ऑमलेट बनाने चले गए. यह बात उसने मजाक में कही थी तो पीछे से दीपा ने एक धौल लगा दिया उसके!घूम फिर कर डिनर करके रात को 11 बजे सब लोग लौटे. बीपी सेक्सी वीडियो मूवीमैंने जल्दी से उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में लन्ड पेल दिया.

फिर अचानक से मॉम का चीखना तेज हुआ … और वो तेज धार के साथ अंकल के मुँह के ऊपर झड़ गईं. तभी मैंने अपने होंठ उसको सौंप दिए और वो किसी भूखे भेड़िये की भाति मेरे होंठों को नौचने को आतुर हो गई थींमैंने भी अपना एक हाथ उसके टॉप में घुसा दिया और उसके मम्मों को आटे की तरह गूंथना शुरू कर दिया. चुंबन के वजह से उसका लंड और विशालकाय हो गया था और उसे मैं पूरा महसूस कर पा रही थी.

मैंने अपनी टीशर्ट व लोअर उतार दिया और सीमा के बगल में अधलेटा होकर उसकी चूचियों से खेलने लगा. पहले तो वो मेरे मादक जिस्म को देखता रह गया, उसका लंड फूलना शुरू हो गया था.

उसने अपने दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़ लिया और धीरे से मेरे ऊपर के होंठ को अपने मुँह में भर लिया.

गौरी को गोद से नीचे उतार कर मैंने झट से अपना कुर्ता पाजामा निकाल फैंका और शॉवर चला कर अपनी मुंडी उसके नीचे लगा दी. अभी आपकीगांड को चोदनाहै ना … इसीलिए इसे नरम कर रहा हूँ ताकि आपकी गांड में लंड डालूं … तो आपको ज्यादा दर्द ना हो. चाची चीखते हुए चुदाई के मज़े ले रही थीं- आआह ऊऊम्म … और ज़ोर से कर, मुझे पूरी तरह से शांत कर दे … आह.

जानवर की फुल सेक्सी वीडियो अगले दिन मैं जानबूझ कर वो सारा कुछ, जो मुझे शिवानी ने दिया था, घर पर ही छोड़ कर ऑफिस आ गई. फिर कुछ देर बाद आरिषा भाभी जब रामू का साथ देने लगीं, तो रामू ने अपनी स्पीड बढ़ा दी.

इस तरह से चार चार बार घूंट लेना सभी के हिस्से में आए, तो बोतल से ड्रिंक खत्म हो गई. फिर पहले हमने साथ में बैठकर चाय वगैरह पी और बाद में मैं उससे बातें करने लगी. उन्होंने बोला- फिर अब सेक्स कैसे करती हो? अब तो रेगुलर सेक्स भी नहीं मिल पता होगा?उनके मुंह से ये बात सुनकर मुझे झटका लगा तो मैंने अपनी गर्दन शर्म से झुका ली और अंदर चली गयी.

सेक्स सेक्सी बीएफ

आरिषा भाभी – रामू तुमको पता है न एक औरत को अपने पति से क्या चाहिए होता है. वो रात मेरी पहली रात थी, जब मैंने पूरी रात किसी की फुद्दी चोदी थी और वो भी इतना खुल कर मजा लिया था. तभी मेरे पति ने मनोज से पूछा- आपकी इंडस्ट्री डिपार्टमेंट में कोई पहचान है?मनोज- हां, वहां का डायरेक्टर मेरा बैचमेट है.

मैं भी उसकी चूची के निप्पल को खींच खींच कर चूसते हुए बुदबुदाने लगा- हां मेरी जान … आज मैं इन दोनों आमों का सारा रस पी जाऊंगा … आह बहुत प्यारी है तुम्हारी चूचियां. अगर तुम और तुम्हारे घरवाले मान जाएं, तो मैं मंदिर में चल कर या कोर्ट में चल शादी भी कर सकता हूँ.

जब डिस्चार्ज के करीब पहुंचूंगा तो डाल दूंगा, डिस्चार्ज तुम्हारी चूत में ही करूँगा.

मेरा हाथ भी अब उनकी जाँघों पर था और मैं लगातार उनके जाँघों के मांस को अपने हाथ से दबा और सहला रहा था. अब वो ‘आह … ओह ओह … हम्म हम्म … जानू और जोर से चोदो … ऊई बहुत मजा आ रहा है. मेरे मन में भी विदेश में घूमने की इच्छा थी इसलिए मैंने भी तुरंत हां कर दी थी.

मन तो कर रहा था कि मैं ऐसे ही इस रंडी के मुंह में लंड दिये रहूं और ये दिन रात ऐसे ही मेरे लंड को चूसती रही. यह सब पता नहीं कब से इन दोनों के बीच चल रहा है … और वैसे भी अब तक तो वो साला कइयों बार मेरी बीवी शिल्पा की चुत पेल चुका होगा. इस तरह दस मिनट में ही अविना का शरीर अकड़ गया और वो धड़ाम से मेरे सीने पर गिरने लगी.

मैं उसके पास गया और उसके कान में बोला- मेरी साली साहिबा … मैं आपकी सब हरकत को देख चुका हूँ.

सेक्स बीएफ नेपाली: कहानी के पहले भागमेरे यार ने मुझे अपने रूम पर बुलायामें आपने पढ़ा कि अपने बॉयफ्रेंड के बहुत ज्यादा बुलाने पर मैं उसके घर चली गयी थी. उसी तरह पंकज के लंड की मथनी पर सुमन अपनी चूत की हांडी रख कर उसे धीरे धीरे मथते हुए मथनी को अपनी हांडी में पूरा अंदर तक घुसाने का काम कर रही थी.

फिर उसको बता दिया कि उसकी ये वीडियो रिकॉर्ड हो चुकी है और आइंदा कभी वो मेरे या मेरी फ्रेंड्स के पास भी फटका तो ये वीडियो वायरल कर दी जायेगी. मेरे लगातार कुछ देर तक उसे सहलाने और चूची चूसने से उसकी पीढ़ा कम हो गई और अब तक धीरे धीरे करके मेरा लंड भी चूत की गहराई में उतर गया था. न्यासा बोली- क्या हुआ? अभी तक तुम्हारा मेरे इन मोटे चूचों से मन नहीं भरा क्या?मैंने उसे चूम कर हां कहा और फिर से उसके निप्पल चूसने लगा.

इस भाग में सब पाठिकाओं की चुत पानी छोड़ने वाली है और सब पाठकों के लंड पानी छोड़ने वाले हैं.

इतने में उस कमीन ने एक और झटका दे मारा और उसका पूरा लंड मेरी गांड में चला गया. उसके बाद दिव्या ने भी मेरी पैंट में हाथ डालकर देखा तो मैंने भी पैंटी नहीं पहनी हुई थी. ” ज्योति ने अपने पिता के मोटे लम्बे लंड को अपनी चूत में अंदर बाहर होता हुआ महसूस करके ज़ोर से सिसकारते हुए अपने चूतड़ों को उछालते हुए कहा।अब ज्योति को दर्द से ज्यादा मजा आ रहा था और वो अपने चूतड़ उछाल उछालकर अपने पिता से चुदवाने लगी।आह्ह्ह … पिता जी बहुत टाइट और मोटा है आपका लंड.