बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो एचडी देसी

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडिया की सेक्सी सेक्सी: बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो, चाची मेरा सिर पकड़ के चुत के अन्दर खींच रही थीं और मेरे सिर में हाथ फेर रही थीं.

सुहागरात सेक्सी वीडियो 2020

आज मैंने मन बना लिया था कि आज उसे प्रपोज करना ही है।फिर मैंने उसे फोन किया. रात की चुदाई सेक्सी वीडियो’ उसके यही सब नाटक चलने लगे।विगत चार साल मैंने अकेले काटे हैं। इस बुरे वक्त में सोनू ने मेरा साथ दिया, मैंने भी उसे मेरी पलकों पर बिठाया, वो जो चीज चाहती.

मैं बोला- जान चालू करें फिर से … जो ट्रेलर देखा था, उसको मूवी बनाना तो होगा ना. सारी फिल्में सेक्सीमेरे पति मुझे अच्छे से नहीं चोद पाते थे या मैं ही थोड़ा ज्यादा चुदासी थी कि मुझे अपने पति के लंड के अलावा भी दूसरे के लंड से चुदवाने का मन करता था.

वैसा ही मैं यहाँ पेश कर रही हूँ।एक रात मेरी ट्रेन लेट हो जाने के कारण मुझे बीना रुकना पड़ा.बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो: तो वो भी पूरी तरह से साथ देनी लगी।लगातार 15 मिनट के बाद अमर का छूटने वाला था.

तो मैं भी अपना पानी निकाल कर ही आती।यही सब सोचते हुए मैंने एक उंगली बुर में डाल दी और बड़बड़ाने लगी ‘आहह्ह्ह् सीईईई.उनकी व्याकुलता से मैं पागल हो रहा था।तभी मैंने उनके हाथों को कस कर पकड़ लिया और थोड़ा पीछे को किया। वो मुझसे छूटने की कोशिश करने लगी कि मैंने अपने दांतों से उनके टॉप को फाड़ दिया और स्तनों के बीच में अपनी जीभ से चाटने लगा.

हिंदी सेक्सी फिल्म नंगी नंगी - बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो

मैंने चाबी के छेद से सब देख लिया था। मैं डर गई थी तो चुपचाप सो गई।सन्नी- अच्छा क्या कर रहे थे दोनों.पहले धीरे-धीरे, फिर थोड़ी गति बढ़ा दी। हम दोनों आवाज के साथ अपने-अपने धक्के गिन रहे थे और रोहित कभी इधर देखता तो कभी उधर।अब चूँकि हम सभी तो थोड़े नशे में थे ही और दूसरे अपनी एकाग्रता धक्के गिनने में लगानी पड़ रही थी, ऐसे में साठ धक्कों में स्खलित हो जाने का सवाल ही नहीं उठता था, चाहे आम हालात में भले हो जाते.

वो फिर से चिल्ला उठी।फिर मैंने उसके होंठों पर होंठ रखे और उसके कंधों को कस कर पकड़ लिया ताकि अब वो हिल ना पाए और मैंने एक और ज़ोर का धक्का मार कर लण्ड पूरा उसकी चूत में घुसा दिया।मैं थोड़ी देर उसी पोजीशन में रहा. बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो फिर उसकी चूत के अन्दर ही झड़ गया।कुछ देर रुकने के बाद मैंने उसे पीछे घुमाया.

यह सोच कर मेरी चूत पानी-पानी हो रही थी कि अब मैं हुई चाचा की बाँहों में.

बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो?

अपने पति का मैं हमेशा पूरा लंड मुँह में लेती हूँ।उसके लौड़े की गर्माहट से अब मैं फिर से गर्म होने लगी, मैंने अपनी टाँगें मोनू के मुँह के अगल-बगल कर दीं और बोली- तू मेरी चूत चाट।मोनू तुरंत अपनी जीभ से चाटने लगा और पूरी जीभ चूत में डाल कर अन्दर-बाहर करने लगा और एक उंगली से मेरे क्लिट को सहलाने लगा।मैंने मोनू का लंड हाथ में कस कर पकड़ा हुआ था।मैं बोली- तू तो एक्सपर्ट है!वो बोला- दीदी. !’ पिताजी ने मुझे गुस्से से अपने पास बुला लिया।मैं सर झुकाए उनके पास गया।‘स्कूल किस लिए जाते हो. मौसी के यहाँ अगले पन्द्रह दिन के हर एक पल बहुत रोमांचक रहे, मैं 15 दिन तक अपनी सगी मौसी के घर पर रही.

सुमेर भैया उम्र में मुझसे काफी‌ बड़े थे इसलिये उनसे तो मैं कम ही बात करता था. मूवी खत्म हुई तो हम पार्क में देर शाम तक टहलते रहे और ढेर सारी बातें करते रहे, कभी मैं उसके दूध दबा देता, कभी वो मेरे लन्ड को दबा देती. एक बार भैया को किसी काम के लिए 2 नाइट के लिए सिड्नी से बाहर जाना पड़ा.

मयूरी- आह… माँ… तो आपको रोका किसने है… चूम लो… चाट लो… जो करना है वो करो… मुझे बहुत अच्छा लग रहा है. मगर फिर बगैर कुछ बोले मेरे लंड को मुँह में लेने के लिए वो उस पर झुक गयी. तो वो खुश हो गईं।मैंने भाभी से कहा- आपकी चूत इतनी टाईट कैसे हो गई?वो बोलीं- सब आपकी चटाई का असर है.

संतोष पूरी तरह नंगा था और अपने हाथ से अपने लण्ड को हिलाते हुए मेरे नाम की मुठ्ठ मारते मेरी चूत और चूचियों का नाम ले कर लण्ड सौंट रहा था। संतोष का लण्ड भी काफी फूला और मोटा लग रहा था।सुपारा तो देखने में ऐसा लग रहा था जैसे लवड़े के मुहाने पर कुछ मोटा सा टोपा रखा हो। लेकिन ज्यादा चौंकने की वजह यह थी कि एक 19 साल का लड़के का इतना फौलादी लण्ड. लेकिन सभी के साथ कुछ न कुछ अलग होता है, तो कोई एक ऐसा पल जिसमें पूरे बदन में करंट सा दौड़ जाता है.

इतनी बड़ी और गोल थी कि मेरा दिल करने लगा कि इस अभी पीछे से पकड़ लूं.

पर तभी दुबारा दबाव देते हुए उसने मुझे झकझोर दिया और अब मैं सेक्स से कांपते हुए ना चाहते हुए भी मैंने आँखें खोलीं.

’ उन्होंने अत्यधिक गुस्से से कहा।मैं वहाँ रुकता तो मामला और बिगड़ सकता था. उसका भी पानी निकल गया था।मेरा लंड भी उसकी गांड से निकल कर बाहर आ गया. तब तक वो भी अन्दर आ चुकी थी।वो अन्दर आकर मुझसे कहने लगी- मैं तुम्हारे गेट खोलने का ही इंतज़ार कर रही थी क्योंकि मुझे क्या पता था कि तुम दोनों में से किस टॉयलेट में हो।बस दोस्तो, बाकी की देसी कहानी आप अगले पार्ट में पढ़िएगा.

कमर 30 और पुठ्ठे छत्तीस के थे।मैं और मेरे पति जब बाहर बाजार में जाते थे. विक्रम थोड़ा गुस्सा सा दिखाते हुए- मुझे पता है कि इसको गांड बोलते हैं. अब मैं केवल अंडरवियर में था।अब वो एक हाथ से मेरे लंड को सहला रही थीं.

इतने में देहरादून आ गया तो हमने अपना अपना सामान पैक किया और उतरने के लिए तैयार हो गए.

उसने कहा- तुम्हें महक लग गयी थी क्या कि मेरा पति आज घर में नहीं है?मैं बोला- भाभी, मालूम होता तो सुबह ही आ जाता और एक बार तुम्हारे साथ भरपूर मस्ती कर के चलते! वैसे तुम क्यों नहीं गयी शादी में?तो उसने कहा- तबियत थोड़ी ठीक नहीं थी और दुकान में भी कोई नहीं था तो नहीं गयी. मैंने उसको इशारा किया कि टाइम देखा है?उसने इशारा किया- बस दो मिनट और. जो पति को सबसे ज़्यादा पसंद हो।6- दोनों पार्ट्नर्स को नहाना चाहिए और जिस्म के गैरज़रूरी बालों की सफाई ज़रूर करनी चाहिए।7- बेडरूम का वातावरण बहुत ही अहम रोल अदा करता है.

?’‘अन्दर धीरे-धीरे बड़ा होता महसूस हो रहा है मुझे।’मुझे हँसी छूट गई. क्योंकि भाभी की गाण्ड अभी तक किसी ने मारी नहीं थी। मैंने भी सरसों का तेल लण्ड पर लगा कर गाण्ड के अन्दर डालने लगा। थोड़ा ही अन्दर जाने लगा कि भाभी दर्द से चिल्ला कर बोली- ओह्ह. उफ्फ … क्या आनन्द था! मेरी मीता के यौवनकलश आज भी सम्पूर्ण गोलाई के साथ गुब्बारे के सदृश कठोर और मुलायम दोनों गुणों के साथ मेरे जेहन में छा गए थे.

तुम कब आईं?उसने जो जवाब दिया वो सुनकर मैं दंग ही रह गया।वो बोली- जब तुम खुद को गरम कर रहे थे तब.

मेरे जीजू कुछ दिन के लिए रहने आये थे दीदी के साथ हमारे घर तो हम दोनों लोग एक दूसरे को अच्छे से एक दूसरे समझ गए थे. के अन्तिम वर्ष में थी, छोटी लड़की प्रिया, उसने बारहवीं की परीक्षा दी हुई थी और सबसे छोटा लड़का कुशल, जिसने अभी आठवीं की परीक्षा दी हुई थी.

बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो तो किसके साथ करता।वो फिर हँस पड़ीं।फिर मैंने थोड़ी हिम्मत की और मामी से पूछा- अब आप को मामा की याद नहीं आती?तो मामी ने कहा- याद तो बहुत आती है. मैंने अपने होंठों को बुआजी के होंठों में लगा कर उनको चूसना चालू कर दिया उनकी जीभ को अपने मुँह में लेकर में बड़े मजे से चूम चाट रहा था.

बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो मुझे उसके घर पर कोई नजर नहीं आया।मैंने पूछा- भाभी जी, घर पर कोई नहीं है क्या?उसने बताया कि उसके पति 2-3 दिन के लिए पुणे से बाहर गए हुए हैं और उसका बेटा अपने नाना के घर गया हुआ है।वो बोली- आप क्या लेंगे पीने के लिए?मैंने बोला- जो आप पीएंगी. सदा उठून उभा राहिला त्याने प्रश्न केला कि तू सटीस्फाई झालीयेस हे आम्ही कशावरून ओळखावे ? संत्याचा निर्णय फ़ाइनल राहील.

मैंने मधु को सोफे पर ही घोड़ी बनाया और उसकी चूत में पीछे से लन्ड डाल कर चुदाई करने लगा.

सेक्सी पॉप

मुझे लगता था कि ऐसे कैसे किसी से बात शुरू कर सकता हूँ।वो दोनों भी मुझे देखती थीं और हँसती भी थीं. आज आपके भाई मूड में हैं और मैं कोई रिस्क नहीं लेना चाहती। अब सब कुछ दोपहर में होगा. हम दोनों लोग सेक्स करते करते अकड़ने लगे और हम दोनों का पानी निकल गया.

इतना सुनते ही मैंने बुआजी का कुर्ता ऊपर उठाते हुए निकाल दिया और उनको अपनी बांहों में भरके पीछे हाथ ले जाकर उनकी ब्रा को खोलने हुक को खोला. आप हम दोनों को विशु से चुदवा दीजिये।उसी समय शिखा मेरे पास आई और 10000/- देकर तुरंत ही सपना के घर जाने की कहा. मुझे बिस्तर पर औरतों के साथ तरह तरह के एक्सपेरिमेंट करने में बहुत मज़ा आता है.

मेरे लंड पर उछलते हुए प्रिया ने अब एक‌ हाथ से मेरे सिर के बालों को पकड़ कर मेरी गर्दन को ऊपर उठा लिया.

मैं दिल्ली से हूँ और अन्तर्वासना की कहानियाँ रोज़ पढ़ता हूँ मैं 25 का जवान हट्टा-कट्टा मर्द हूँ. वो भी मेरा साथ दे रही थी और मैं उसकी जैकेट में हाथ डाल कर उसकी मस्त-मस्त चूचियों को दबा रहा था।मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लन्ड पर रखा तो वो शर्मा गई. पूजा तो यहां तक बोली कि उसका पति गुज्जू गान्डू है और वो सेक्स से ज्यादा लगाव नहीं रखता.

जो हमेशा कुरते से बाहर निकलने की कोशिश में लगे रहते थे। मैं जब भी उसको देखता. इतनी अच्छी चूत मैंने अब तक अपनी जिंदगी में नहीं देखी थी। आज तो इसकी चूत को चोदने के बाद मजा ही आने वाला है. फिर पूजा मेरे घुटने पर से उठकर खड़ी हो गयी और अपने सर को नीचा करके, जैसे कि वो मुझे ये बताना चाहती हो कि अब वो मेरे हुकुम की गुलाम है और उसका जो भी चाहूं कर सकता हूँ, मेरे बगल में खड़ी हो गयी.

आज तू क्या तेरी माँ भी चुद जाएगी।कुत्तों की तरह मैं उन्हें चोदने लगा और भाभी बहुत मज़े लेने लगीं, अपनी गाण्ड को ऊपर-नीचे करने लगीं।अब मैंने भाभी को घोड़ी बनने को कहा और उनकी गाण्ड मारने की बात की।भाभी ने कहा- आज तो तू चाहे मार दे मुझे. शाम को लंच के बाद करीब 2 बजे बॉस ने मुझे अपने केबिन में बुलाया और कहा- वो लोग आज शाम को आ रहे हैं और होटेल क्रिस्टल पैलेस में रुकेंगे.

चूत के दोनों होंठ खोल कर मैंने पूरी चूत ऊपर से नीचे तक चाटता ही रहा और दाने को अपनी जीभ से हिलाने लगा।अब मैंने चूत के छेद में अपनी पूरी जीभ डाल कर अन्दर-बाहर करने लगा।सुनयना- अहह. पर आपका?चाची बड़े प्यार से बोलीं- मुन्ना अब तेरी बारी है।ऐसा कहकर वो मेरे मुँह पर आकर बैठ गईं। मेरे चेहरे के दोनों और अपने जाँघें फैलाए हुए चाची ने चूत मेरे मुँह के सामने लाकर रख दी।मैं पहली बार इतनी करीब से चूत देख रहा था।चाची बोलीं- चूसो विनोद. मैं भी अपनी स्पीड बढ़ाता गया और कहा- माँ बनना है मेरे बच्चे की?उसने कहा- नहीं.

वो फटाक से मेरे ऊपर 69 की अवस्था में आ गई।हम दोनों एक-दूसरे को जन्नत की सैर करा रहे थे।फिर मैंने उसे चित्त किया और उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा।वो ‘अहह… ससस्स…’ करने लगी और कहने लगी- अब और न तड़पाओ.

हम एक दूसरे के शरीर की हसरतों को, अहसासों को शरीर की चाहत को मन की गहराई से बिना कहे समझने लगे थे. और मुन्ना अंकल सीधे मेरे दोनों टांगों के बीच अपना मुंह रख कर अपने होंठ, जीभ पूरी नाक घुसाकर मेरी चूत में रगड़ने लगे. मैंने भाभी को 15 मिनट तक लगातार हचक कर चोदा। उनका दूसरी बार माल छूट गया और मेरा वीर्य भी निकल गया। अब मेरा भी लण्ड नीचे की ओर झुकने लगा.

मेरा अनुभव कहता है कि कुछ लोगों को संभोग करके मजा आता है, कुछ को दूसरों को देख कर और कुछ लोगों को किस्से सुन कर रस मिलता है. मैं अपने मोबाइल में किरण और पूजा की लेस्बियन क्लिप को देखने लगा और मेरा लण्ड फिर से कड़ा हो गया।कुछ देर बाद किसी ने मेरा दरवाजा नॉक किया.

उसने दरवाज़ा को अंदर से बंद किया और अपने हल्के नीले रंग के टॉप के गले को थोड़ा बड़ा करते हुए अपने कंधे तक खींचा जिससे विक्रम की नज़र उसकी छातियों पर जाये. तो उन्होंने मेरे हाथों को पकड़ते हुए मेरी पैन्टी को खींचते हुए मेरी पैन्टी निकाल कर मुझे पूर्ण रूप से नंगा कर दिया।अब तो मेरे शरीर पर एक धागा भी नहीं था। मेरा पूरा नंगा जिस्म उनके सामने दिन के उजाले में था. उसके चूतड़ और गाण्ड को देखकर आदमी तो क्या कुत्ते की भी लार टपक जाएगी.

नीग्रो बीपी

पांच दिन बाद इतवार को मैं घर आने वाला था और सोमवार को हम दोनों को मिलना था.

पहले तो आप सभी का शुक्रगुज़ार हूँ कि आप सभी ने बहुत सारे ईमेल भेजे और लगभग हर एक का मैंने उत्तर भी दिया।अगर किसी का ईमेल मिस किया हो तो माफी माँगना चाहूँगा। मैं और अधिक कोशिश करूँगा कि सारे के सारे ईमेल का रिप्लाई करूँ।तो अब मैं कहानी पर आता हूँ।हुआ यूँ कि मेरे कहानी पढ़ने के बाद एक लड़की का मुझे ईमेल आया और उसने मुझे चैट पर एड किया. मयूरी- अरे मतलब क्या अच्छा लगा?विक्रम- क्या बताऊँ मैं… बता तो रहा हूँ कि अच्छी हैं. पर मैंने उसे प्यार से समझाया और वो मान गई।फिर वो मेरा लण्ड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी। करीब 10 मिनट बाद उसने लण्ड को मुँह से निकाल दिया।अब मैं तैयार था.

इस बार उसकी आंखों में उत्तेजना के साथ साथ हल्की सी हया के भी भाव थे. मेरी चीख निकल गई।मेरी चीख इतनी तेज थी रात सन्नाटे को चीरती दूर तक गई होगी। उसने भी घबड़ाहट में एक शॉट और लगा दिया और पूरा लण्ड चूत में समा गया।मैं कराहते हुए बोली- हाय. सेक्सी फोटो न्यूज़मेरी भाभी की 5 फुट 3 इंच हाइट की थीं और वे ज्यादा पतली नहीं थीं, पर मोटी भी नहीं थीं.

मैं बहुत ही सीधा सादा लड़का था और मुझे सेक्स के बारे में बहुत कम ज्ञान था. और ना जाने कैसे मेरा हाथ उसकी कमर पर चला गया। उसकी कमर में हाथ डाले हुए मैं घर के अन्दर चला गया।अन्दर जाकर लाइट में मैंने उसे अच्छे से देखा, वो बला की खूबसूरत लग रही थी। उसने उस समय सिल्वर कलर का नाइट गाउन पहन रखा था.

दो दिन बाद एक दिन शाम 6 बजे उसका फोन आया, मैंने उठाया तो उधर से कोई आवाज नहीं आई. और फिर मैं झुका और कमर को हाथों से थामकर मीता की गहरी नाभि पर एक गहरा चुम्बन अंकित कर दिया. अब ये बार-बार चुदाने मेरे पास ही आएगी।फिर भी मैंने कोई जल्दी नहीं की.

इसलिए सबसे पहले आकर बैठा हूँ।वह झट से अन्दर आ गईं, पहले उन्होंने मेरी डेस्क चैक की. फिर पूजा मेरे घुटने पर से उठकर खड़ी हो गयी और अपने सर को नीचा करके, जैसे कि वो मुझे ये बताना चाहती हो कि अब वो मेरे हुकुम की गुलाम है और उसका जो भी चाहूं कर सकता हूँ, मेरे बगल में खड़ी हो गयी. अब ग़लती नहीं होगी।मैंने उसे खींच कर एक झापड़ लगाया और कहा- मेरी पनिशमेंट से कभी भागना मत.

कहो तो बियर ले आऊँ।मैंने कहा- हाँ यार, बियर से ही शुरूआत करते हैं।फिर हम दोनों ने एक-एक गिलास बियर पी और फिर मैंने उसके कमर में हाथ डाला.

मुझे नहीं पता, मगर मेरी चूत मुझ से बहुत कुछ कह रही थी कि काश आज मैं मालती की जगह होती तो यह मज़ा मुझे मिल रहा होता. मैंने देखा कि हरामिन ने अपनी आदत के अनुसार पैंटी नहीं पहनी थी … यानि कि लोहा गर्म था.

फिर उसे लेटाया और उसे देखने लगा।वो शर्मा गई और चादर ओढ़ ली और कहा- मुझे शर्म आती है।मैंने कहा- कैसी शर्म रानी. मैं भी अपने देवर के बालों में अपना हाथ फिराने लगी और हम दोनों लोग एक दूसरे को किस करने लगे. जब भी वो झुक कर घर की सफाई करती थीं, मेरा लंड उनके मम्मों को देख कर खड़ा हो जाता था.

और इसी को सुनिश्चित करने के लिए एक बार मैंने उससे ओरल सेक्स की इच्छा जाहिर की कि मैं उसके कामरस को फिर से अपनी जीभ से चूसना चाहता था और यह इच्छा मैंने बड़े ही प्रबल तरीक़े से मीता के सामने रखी थी. लेकिन उसकी बात सुनकर मैंने फिर इसका मन बना लिया।ठंड के दिन चल रहे थे. खाना पीना कम्पलीट हुआ, फिर मधु मस्त दो गिलास बादाम और केशर वाला दूध पिलाई, हम दोनों ऐसे ही सोफे में बैठ के बात कर रहे थे.

बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो मी प्रथमचा लंड जसजसा चोखत होते तो उसासे देत माझ्या तोंडात लवडा पूर्ण घुसवण्याचा प्रयत्न करू लागला. पहना था।मैंने भाभी को पकड़कर अपनी तरफ़ खींचा और किस करने लग गया। मैं उन्हें 10 मिनट तक किस करता रहा। वो बोलीं- गौरव जी.

कैटरीना कैफ के सेक्सी फोटो

’मैंने मोनू को धक्का देकर सीधे लिटा दिया और कहा- चल अब मैं तुझे मज़ा देती हूँ।मोनू का लंबा लंड तन्नाया हुआ था, मैंने लंड हाथ में लिया. !लेकिन उसकी बातों से लग रहा था वो ‘यस’ बोल रही है।मैंने उससे बोला- आई वांट ए किस नाउ. मोनू सिसकारियाँ लेने लगा। अचानक मैंने पूरा सुपारा मुँह में ले लिया। सुपारा मोटा होने के कारण मेरा पूरा मुँह भर गया।धीरे-धीरे मैं लंड मुँह में लेने लगी.

दादा जी भी अपने लंड को अकड़ाए हुए ज़ोर ज़ोर के धक्के मेरी चूत में लगा रहे थे. उसकी शादी के पहले तक हम दोनों में जो सम्बन्ध था वो पति पत्नी से कम नहीं था और गरलफ्रेंड बॉयफ्रेंड के रिश्तों से काफी ऊपर था. जेठालाल बबीता जी सेक्सीत्यावरून हात फिरवत त्याने माझ्या ब्रेसियरचा हुक काढला आणि माझे दोन्ही कडक थान आपल्या पंजात घेऊन तो जोरजोरात चोळू लागला.

तो मैंने धक्के देने स्टार्ट कर दिए।अब पूरा कमरा सिसकारियों और मज़े की चीखों से गूंज रहा था।मैं ज़ोर-ज़ोर से धक्के देने लगा और उसके मुँह से ‘आआह.

जब मैं 12वीं में पढ़ा करता था। तब मैं यूपी में रहता था। मुझे सेक्स करने का बहुत मन होता था. इससे मेरी हिम्मत और बढ़ गई और मैंने उसके करीब जाकर उसकी गांड को अपने लंड के साथ टच कर दिया व एक हाथ उसके मम्मों पर रख दिया.

मैं सोनी के चूचों को दबाए जा रहा था और अब सोनी मेरे काबू में आने लगी। उसकी कामपिपासा जाग उठी और उसके कंठ से चुदासी आवाजें आने लगीं ‘आआहह. वो सो गई और सुबह स्कूल चली गई और मैं अपने कॉलेज।रात को हम दोनों सोने की तैयारी करने लगे।वो बाथरूम में गई और आकर सो गई।मैं भी सो गया. प्रीति बेटी, तुमने तो सचमुच मुझे वो आनन्द दिया है, जो मेरी पत्नी भी नहीं दे सकी.

मेरा एक और भी बॉय फ़्रेन्ड है… मैंने तुम्हें धोका दिया।मैंने कहा- कोई बात नहीं.

कुछ देर आराम करने के बाद हम जीजा साली फिर से एक दूसरे को किस करने लगे. उसी वजह से वो भी मुझसे खुश थी।उन दिनों मैंने उसे लगातार पकड़-पकड़ कर चोदा। उसकी गाण्ड मारी. तो मैंने उससे पूछा- तुम्हारे दोनों बच्चे कहाँ हैं?उसने बतय- दोनों दादी वाले हैं, तो साथ में शादी में गए हुए हैं.

सेक्सी दिखाइए जानवर वालाक्योंकि मैं एक बेवकूफ़ आशिक़ की तरह किसी और के नाम की मुठ्ठ मारता था।उसने आधा गिलास पानी ही पिया और मुझसे कहा- नेहा जिसे तुम चोदने के सपने देख रहे हो. तो कितना मज़ा आएगा।अनु- मुझे उस पल का बहुत ही बेसब्री से इंतजार है।मैं- इसका मतलब वो भी तुम्हें चोदना चाहता है.

प्रियंका चोपड़ा नंगी फोटो

आह … ह … ह … उह … दी …ई …ई …प … ओह गॉड … हम्मममम …” सिम्मी के मुँह से वासना से भरा मेरा नाम कुछ इस तरह निकला. सुनयना- मेरे पति कनाडा में रहते हैं और मैं और मेरी 2 साल की बच्ची है. सफेद साटिन के चिपके हुए पेटीकोट में मेरी रंडी का बदन और उभरे हुए चूतड़, मेरे लौड़े को खड़ा कर रहे थे.

कुछ देर बाद मुझसे चिपक कर सो गई, तो मेरे लंड ने फिर से मुँह उठाना शुरू कर दिया. मेरी रंडी ने अपने अंदाज में पेटीकोट को इस तरह से घुमाते हुए ऊपर उठाया, जिससे कि मुझे उसकी गोरी गांड की झलक मिल जाए. मेरी दोनों चूचियों को पकड़ कर पूरी ताकत से धक्का लगा दिया।चाचा का सुपाड़ा मेरी चूत के अन्दर घुस गया था।‘उह.

सच में काले रंग की ब्रा के कप भाभी के गोरे मम्मों पर कसे हुए गजब कहर बरपा रहे थे. उसके चूतड़ और गाण्ड को देखकर आदमी तो क्या कुत्ते की भी लार टपक जाएगी. लेकिन वो अपनी चुत के झड़ने से एकदम शिथिल हो गई थी, इसलिए उसने मेरे ऊपर से हटने की जल्दी नहीं दिखाई.

मेरा लंड तो मेरी जॉकी में ही नहीं समा पा रहा था और लगभग आधा बाहर निकल आया था। मौके का फायदा उठा कर रोज़ी ने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और धीरे-धीरे अपनी जीभ लण्ड पर घुमाने लगी।मैं भी बिल्कुल पागल सा होने लगा। आग दोनों तरफ लगी हुई थी और लगता था कि वो काफ़ी दिनों के चुदासी है।मैंने भी उसके लोवर और पैन्टी को उतार फेंका. उस वक़्त वहाँ पर कोई भी मुझे नहीं जानता था।धीरे-धीरे वहाँ मेरी दोस्ती होने लगी.

तब मैंने कहा- कोई बात नहीं और मैंने कटे हुए खीरे को उनकी चूत में डाला और उनका नमकीन पानी लगा कर खाने लगा।वो भी मेरे लंड से निकलते हुए नमकीन पानी को खीरे में लगाकर खाने लगीं।जब हमने खा लिया तो फिर मैंने उन्हें नंगा किया और उनके पेट पर बैठ गया। उनकी चूचियों पर तेल लगा कर मालिश करने लगा। मैंने उनकी चूचियों को इतनी ज़ोर से दबाना शुरू किया.

कमर और पीठ का मैल उतर रहा था।मैं बोलता जा रहा था- बहुत मैल निकल रहा है. चाचा भतीजे की सेक्सी पिक्चरआप मेरी कहानी पर फीडबैक देंगे तब भी मुझे पता चलेगा कि मेरी कहानी आपको कैसी लगी. सेक्सी ओपन सेक्सी सेक्सी ओपन सेक्सीआम्ही बागेत बसलो असताना भाऊजींनी आणि ताईने मला काल घडल्या गोष्टीबाबत समजाउन सांगितले. तो मैंने देर ना करते हुए उसकी पैन्टी और अपने सारे कपड़े निकाल दिए और उसके ऊपर चढ़ गया। मैंने अपना लण्ड उसके मुँह के पास ले जाकर उसे चूसने के लिए कहने लगा.

मगर मैंने उससे कुछ कहा नहीं क्योंकि मुझे पता था कि वो ऐसा मुझ पर अपना गुस्सा निकालने के लिए कर रही है.

मैंने अब उससे पूछा कि क्या हुआ?” तो उसने मेरी बात का तो कोई जवाब नहीं दिया मगर उसने अब अपनी ब्रा को उठा लिया और मेरे लंड पर ढेर सारा थूक कर उसे अपनी ब्रा से साफ करने‌ लगी. जब तुम्हारा पानी निकला?अनु- लग रहा था कि अपने भाई का सिर पकड़ कर अपनी छूट में घुसा लूँ मुझे लगा कि मेरी चूत से ज्वालामुखी फटा हो. तो उन्होंने अचानक मुझे पकड़ लिया और मेरी कमीज़ के अन्दर हाथ देना शुरू कर दिया।मुझे बड़ा अच्छा लग रहा था।फिर उन्होंने मेरी कमीज़ और बनियान उतार दी और मुझसे लिपटने लगीं.

सुमेर भैया उम्र में मुझसे काफी‌ बड़े थे इसलिये उनसे तो मैं कम ही बात करता था. सोनू की चूत एक लंड से चुदने वाली चूत थी।उधर जमील मियाँ की कारगुजारियाँ तीसरी सीडी में सामने आईं। क्यों उनकी चारों बीवियाँ उनके लंड से खुश थीं. फिर उसने रोहित का लिंग हाथ में ले कर इधर-उधर करके चेक किया।ऐसे कुछ पता नहीं चल रहा.

ब्लू पिक्चर भेजो भाई

भले ही हम दोनों की मंशा चुदाई की थी, लेकिन एकदम से चुदाई की मंशा एक दूसरे के सामने प्रकट कर देना भी ठीक नहीं होती है. !’ पिताजी ने मुझे गुस्से से अपने पास बुला लिया।मैं सर झुकाए उनके पास गया।‘स्कूल किस लिए जाते हो. अशोक टीवी पर समाचार देख रहा था और शीतल किचन में बर्तन वगैरह कर रही थी.

वो कुछ बोलने ही वाली थी, मैंने उसे अपनी बांहों में लिया और बेड पे लिटा दिया.

तो यह शहरी छोकरा उसका क्या बिगाड़ देगा। बस यही सोचकर वो बिहारी के लण्ड को चूसने लगी।उधर सन्नी वापस अन्दर गया.

उसकी उम्र 22 साल की थी। वो भोपाल से थी, मुंबई में वो जॉब करती थी।चूंकि उसका मेरी ही फील्ड में जॉब होने के कारण. अब तू ट्राई कर ले।तो वो बाथरूम में गई और ब्रा-पैन्टी और अपनी सलवार पजामा पहन कर आ गई और बोली- सही है. सेक्सी रेलॅक्सइंग मुसिकमुझे भी अपनी प्यासी चूत में लंड चाहिए था और जीजू तो मुझे चोदना ही चाहते थे.

फिर एक दिन मैंने ठान लिया कि आज अपने लंड की तड़प को मिटाकर ही रहूँगा।वो शनिवार का दिन था और मेरे परिवार के सभी सदस्य मंदिर गए थे. एक बार तो मैं अब दिल ही दिल‌ में खुश हो गया कि चलो भैया से डांट तो सुननी पड़ी, मगर कम्प्यूटर कोर्स से तो पीछा छूट गया. हम लोग अभी जो शरारत करेंगे, उसमें तुम्हें और मुझे दोनों को बहुत मज़ा आएगा.

फिर मैं बाथरूम के अन्दर से बाहर निकल आया।मैं उनके जिस्म की गर्मी पाकर एकदम उत्तेजित होता हुआ अपने घर वापस आ गया।मुझे काफ़ी डर भी लग रहा था कि कहीं चाची हमारे घर शिकायत ना कर दें।दो दिन के बाद मैं अपनी घर की छत पर खड़ा था. पक्का उसकी ब्रा और क़मीज़ को उसके मम्मे सम्भालने में, माँ चुद रही होगी.

कार से चले और यह सफ़र बहुत कष्टदायक बन गया। रास्ते में इन्होंने कहीं जंगल में सुनसान जगह पर कार रोकी और सेक्स करने को कहा।मैंने बोला- कार में जगह ही कितनी है।पर वो नहीं माने.

तब उसने खाने की बहुत तारीफ की। वो कीर्ति की भी बहुत इज्जत करता था।एक दिन हम दोनों दोस्त कैंटीन में बैठे थे. फिर किस किस तरह से सब मेरे साथ हुआ, अगर आप सब वह जानेंगे तो मैं सच बोल रही हूं आप पागल हो जायेंगे. बात उन दिनों की है, जब मेरा बड़ा भाई ऑस्ट्रेलिया से 4 साल बाद वापिस आया था.

लड़के सेक्सी वीडियो मुन्ना अंकल राज अंकल से बोले- यार यह लड़की बहुत सेक्सी है, मैं एक पल भी नहीं रह पा रहा हूं. तो मैं क्यों नहीं ऐसा कर सकती हूँ। मैंने भी तय कर लिया कि मैं ये सब करूँगी।दो दिन बाद मैंने हिम्मत जुटा कर बॉस से पूछा- मुझे करना क्या होगा?तो बॉस ने कहा- जवान लड़की को कुछ नहीं करना होता.

जो कि लॉक हो जाता है। मैं झट से उस बाथरूम में घुस गया और अन्दर से ही स्वाति को बोला- बस दो मिनट में बाहर आता हूँ।मैंने थोड़ा ज़्यादा वक्त लगा दिया. उससे पहले वो खड़ी हुई और हाथ में वो पानी की गिलास लिए हुए मेरे पास आ गई, वो धीरे से नीचे बैठी और कहा- मैं तुम्हें बहुत पसंद करती हूँ और तुम्हारी हर ज़रूरत को पूरा करूँगी।इतना कहते ही उसने वो पानी का गिलास अपने चूचों पर गिरा दिया।मेरी नज़रें उसके उभरे हुए चूचों पर गईं तो मैं दंग रह गया. इसके बारे में सिर्फ किताबों में पढ़ चुका था।आखिर चाची ने चूत मेरे मुँह पर टिका दी।शुरू में मुझे अच्छा नहीं लगा.

औजार मोटा करने का तेल

मेरे मियाँ से?सोनू ने शरमा कर ‘धत्त’ कहा और वह जमील के यहाँ से मेरे पास आई। तस्लीम से हुई बातचीत उसने मुझे बताई।फिर सोनू को मैंने अपने बरामदे में खड़ा करके मैंने लगातार दो बार चोदा।मेरी ही तो रांड थी वो. फिर से गाण्ड मार लेता हूँ।वो बोलने लगी- भैया आपने गाण्ड मार मारकर मेरी गाण्ड फाड़ दी है. मुझे बिस्तर पर बिठाया और दोनों ने गुलाब जामुन लेकर मुझे खिलाना शुरू किए.

फिर मैंने चुदाई की पोजीशन में आकर अपना लंड उनकी चूत पर सटाया और ज़ोर से धक्का लगाया. इसके लिए आपका बहुत धन्यवाद।साथियो, आज मैं एक नई कहानी पेश कर रहा हूँ.

मेरा दाखिला कम्प्यूटर सेन्टर में करवाने के बाद भैया मुझे अब रामेसर चाचा के लड़के के घर लेकर जाने‌ लगे.

चूत की गर्मी से लौड़ा अकड़ गया। मैंने धीरे-धीरे लौड़े को अन्दर करना शुरू किया. फिर हम सब साथ मिलकर नहाए और खाना खाया।मैंने गीत और संजय से विदा ली और आ गया।गीत अब हमसे चुदाई करवा कर काफी खुल चुकी थी, हममें कोई भी शर्म नहीं रही थी और उसे गालियाँ देना और सुनना बहुत पसंद है, गीत को हमारी चुदाई से बहुत ज्यादा मज़ा आया, उसके बाद तो मानो वो चुदवाने के लिए तड़प उठी कि ऐसी चुदाई उसकी रोज़-रोज़ हो।एक दिन गीत का मूड बहुत सेक्सी था और उसने कॉल किया. अभी बातचीत चल ही रही थी कि तभी अचानक से एक वेटर कॉर्डलेस फोन ले करके हम लोगों के पास दौड़ा आया और बोला- मैडम, आपका फोन है.

और कुछ ही दिनों में वो मेरे से बात करने में खुल गई।मेरा मन उससे चोदने का करता था लेकिन क्या करता. उनके मुँह से सिसकारियां निकल रही थीं, जो मुझे और भी उत्तेजित कर रही थीं. उसने बताया कि वो लुधियाना अपने किसी रिश्तेदार के घर फंक्शन में गई थी.

तो वो हाँ शिफ्ट हो गए और भाभी यहाँ अकेली रह गईं।उनके साथ में उनकी बूढ़ी सास रहती हैं।एक दिन हुआ यूँ कि मैं हमेशा की तरह भाभी के घर में बैठ कर टी वी देख रहा था। ठंड होने के कारण सब दरवाजे और खिड़कियाँ बंद थीं.

बीएफ चोदने वाला सेक्सी वीडियो: मेरे दिल्ली वाले दोस्त की ब्यूटीशियन बीवी दीपिका की ग्राहक दीप्ति ने अपने सामने दीपिका से अपने पति की विदेशी अंदाज में ब्रा-पैन्टी पहन कर मालिश करने को कहा।अब आगे दीपिका की जुबान से. तो उसने कहा- मैं अपने कमरे में जा रही हूँ और अगर आपको कुछ चाहिए हो तो आवाज़ दे देना।मुझे पता था कि दवाई असर दिखा रही है। मैं इंतज़ार करने लगा.

वह कहते हैं ना कि बड़े घर की औरतें भी बड़ी हसीन होती हैं और उनकी नौकरानी भी मदमस्त होती हैं. उनका नाम अनीता है, वे देखने में बहुत सेक्सी हैं, उनकी उम्र 25 साल थी, उनका फिगर 30-30-36 का है।उनके पति सेना में हैं इसलिए वो कभी-कभार ही घर आ पाते हैं।मुझे अनीता भाभी बहुत अच्छी लगती हैं। उस दिन मेरी किस्मत खुल गई। मैं कॉलेज से आ रहा था. फिर उसकी ब्रा को खोलने लगा। तभी मुझे एहसास हुआ कि उसके ऊपर टी-शर्ट भी पहन रखी है। फिर मैंने उसकी टी-शर्ट उतारी.

उसके चीकू जैसे छोटे छोटे नुकीले चूचे, उन पर एकदम पिंक कलर ने अनारदाने से निप्पल, पतली सी कमर, गहरी नाभि, और चुत एकदम फूली सी थी.

वह मस्ती में मेरी गांड मार रहा था, मैं उसके नीचे कुतिया बन कर चुदाई करवा रहा था. तो मैं इमेजिन करती हूँ कि तुम्हारा लंड पूरी लम्बाई में मेरे अन्दर घुसा है. आज जो करोगे सब ऊपर ऊपर से ही … अंदर कुछ नहीं!”ठीक है मीत, जब तक तुम खुद न बोलोगी, हम खूंटा नहीं गाड़ेंगे!”इतना कहकर मैंने मीता की कमर के कटावों को हाथों में थामकर उसके होंठों को चूम लिया और उसे गोदी में उठाकर पलंग पर ले आया.