सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो बीएफ बिहारी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ जल्दी: सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म, सच कहूँ … तो मुझे लंड से ज़्यादा उसका सुपारा होता है, उसे चाटना मुझे बहुत पसंद आता है.

एक्स वीडियो हिंदी लैंग्वेज

मैं सबसे छोटा हूँ, मेरी बड़ी बहन अल्पा 35 साल की हैं और उनकी शादी गुजरात मैं ही हो गयी है. सेक्सी वीडियो बीएफ इंग्लिश मेंउधर विशाल बेड पर खड़ा हो गया और रिंकी ने उसका लंड अपने मुँह में ले लिया.

यह भाव-भरा समर्पण, प्यार था … केवल प्यार! पर देर-सवेर इस में वासना का समावेश तो हो के रहना था. बीएफ एक्स एक्स एक्स चुदाई वीडियोतो प्रतिभा ने मेरे कान में कहा- रूक जा बच्चू … रात को देखती हूँ कितनी गर्मी है तुम्हारे अन्दर!मैंने भी कहा- देख लेना … मुझे भी उस पल का इंतजार है.

फिर मैंने उसकी गांड पर किस किया और पीछे से उसके मम्मों को सहलाने लगा.सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म: जीजू का लंड चूत में लेते ही मुझे बहुत तेज दर्द हुआ और मैं जोर से चिल्ला कर छटपटाने लगी.

मैं- क्यों क्या हुआ?कोमल- हमारी शादी को एक साल होने वाला है और उसने अब तक मेरे साथ सिर्फ कुछ ही बार सेक्स किया है.जिसे देखकर मम्मी ने हंसते हुए गुस्से में उनको ऐसा ना करने का इशारा किया.

जापानी बीएफ - सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म

अब सुधा भी ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी- आह … और जोर से चोदो प्लीज़ … मुझे और मज़ा दो … आह आज तो जन्नत में ही जाना है.”वो मेरा लंड ग़पागप मुँह में लेने लगी उसके इस रंडीपन को देखकर मैं जल्दी ही उसके मुँह में झड़ गया.

पहले तो मैं डर गया और अपना हाथ हटाने की कोशिश करने लगा, पर उसने मेरा हाथ नहीं छोड़ा. सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म मैं- क्या समझ में आ गया?वो- कि तुम्हारा नंबर मेरे फोन में कैसे आया?मैं- कैसे?वो- ये मोबाइल पहले मेरे चचा के पास था … उन्हीं ने तुम्हारा नंबर बिना नाम के सेव किया होगा.

उत्तेजना से मतवाली होकर गुड्डी रानी ने लंड को अच्छे से निहारा, फिर उंगलियां नीचे से ऊपर तक फिरा फिरा कर लंड की बनावट को महसूस किया.

सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म?

हम दोनों सिर्फ अच्छे सहपाठी थे और अक्सर पढ़ाई के बारे में बातें किया करते थे. उसने कहा- पगले, ये मेरी ख़ुशी के आंसू हैं … जिससे प्यार किया है, उसे पूरा दिल और जिस्म भी दे दिया है. इस कहानी के दूसरे भागबंगालन भाभी को फ्लैट दिला कर चोदा- 2में मैंने आपको बताया था कि दीपिका ने मुझे अपने रूम में रात्रिभोज पर आमंत्रित किया.

उसकी चूचियों के बीच में बड़ा सा भूरे रंग का घेरा और उस घेरे के बीच में उसके अंगूर के दाने के जैसे निप्पल देख कर मेरी सांसें तेज हो गयीं. अब दोनों ही चीख रही थी क्योंकि मैंने उनके बाल पकड़े हुए थे और उन दोनों को नीचे लंड के पास बैठा लिया था. अब दोनों ही चीख रही थी क्योंकि मैंने उनके बाल पकड़े हुए थे और उन दोनों को नीचे लंड के पास बैठा लिया था.

कभी अपने बालों को सहला रही थी तो कभी अविनाश के सिर के बालों को सहला रही थी. पर वे दोनों इस बात से अनजान थे … और मैं भी।झड़ने के बाद दोनों अलग हो गए और उसी तरह बिस्तर पर पीठ के बल लेट गए. उसने अपनी निक्कर का बटन खोला टांगों को चौड़ा करके कुतिया सी झुक गयी और मेरी तरफ देखते हुए अपनी निक्कर को धीरे धीरे नीचे सरकाने लगी.

मेरा बरमूडा और चड्डी दोनों खींच कर बिल्कुल ही उतार दिये भाभी ने … मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा और फिर पहले तो उसके टोपे पर चूमा और उसके बाद अपने मुँह में ले लिया. पर मैंने अपने धक्के लगातार जारी रखे और स्पीड बढ़ाते हुए ताकत से चोदने लगा.

एक दो पल रुकने के बाद जीजू अपने लंड को मेरी चुत में आगे पीछे करने लगे.

वो- क्या?मैं- हां बस तेरे घर के सामने हूँ गली में घुसने जा रहा हूँ.

मैं- ईंट का भट्टा … मतलब वो जो हाइवे पर एक्सप्रेस ढाबा है, उसके बगल वाले रास्ते से?वो- हां हां वहीं से. इससे पहले कि मैं मयंक को नीचे की ओर आने का इशारा करता, मयंक खुद ही उसकी नाभि पर किस करता हुआ नीचे की ओर आने लगा. उसने अपनी निक्कर का बटन खोला टांगों को चौड़ा करके कुतिया सी झुक गयी और मेरी तरफ देखते हुए अपनी निक्कर को धीरे धीरे नीचे सरकाने लगी.

कभी अपने बालों को सहला रही थी तो कभी अविनाश के सिर के बालों को सहला रही थी. नीचे पतली कमर के बीच में अन्दर को दबी हुई उसकी नाभि और दोनों जांघों के बीच में एक पतली सी लकीर, जो उसकी अमृत फली यानि योनि थी. मैंने दीपिका से कहा- मैं आपके लिए कोल्डड्रिंक और लाता हूँ, और जैसे ही मैं उठने लगा तो दीपिका कहने लगी- कोल्डड्रिंक बहुत मीठी है, आप वाली कैसी है, जरा देखूँ तो?यह कह कर उसने मेरा गिलास उठाया और उसमें से एक सिप कर लिया और बोली- इसका स्वाद भी बढ़िया है.

मैं इस नए अदाज में परफार्म करवाऊंगी, सच में समधी जी, आपकी हर बात निराली है, क्या खूब गाना चुना है आपने! आई लाइक इट!मैंने उसे छेड़ना चाहा- गाना या मैं?पायल ने भी कहा- दोनों में से एक चुनना जरूरी है क्या? अगर मैं कहूं दोनों.

अब मैंने अपना मुँह भाभी के होंठों से हटा कर उनके पेट पर रखा और नाभि को किस करने लगा. ज़ेबा ने आधी अधूरी तैयारी के साथ जैसे तैसे एग्जाम दिया और सेकेंड डिविजन से पास भी कर गयी. अक्सर उन्हें दब्बू किस्म का पति पसंद होता है जो केवल उसकी हाँ में हाँ मिलाये और हर समय उसकी आगे पीछे घूमता ही रहे, जैसा वह बोले बस करता जाए।ऐसी औरतों का घर गृहस्थी में कम ही मन लगता है.

मैंने अपने दोनों हाथों से उनके चूतड़ों को पकड़ कर एक ही झटके में लंड चूत में डाल दिया और भाभी की चुदाई शुरू कर दी. तो मैंने उसे बोला- अगर आज के बाद मेरे साथ ऐसा किया तो तेरे टट्टे निकाल कर कंचे खेलूंगी उनसे! मुझे शालिनी जैसा मत समझना!ये बोलकर मैंने उसे छोड़ दिया और जाने लगी. सच मानो इतना हैंडसम लड़का आपके बगल में बिना शर्ट के लेटा हो, तो किसका मन नहीं मचल जाएगा.

पर थोड़ा अजीब भी लगता है क्योंकि भाई है न इसलिए।मैंने कहा- उससे कोई नहीं … बस मौज ले.

आह … ये क्या हुआ … आज वजन भी कम लगा … पकड़ने में भी उतनी मोटी नहीं लग रही थी. अब आगे की जीजा साली xxx कहानी:अब जीजू मुझे चारों तरफ से पकड़ने की कोशिश कर रहे थे और मैं इधर उधर हो रही थी.

सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म मैंने अपने आपको पास ही पड़े कम्बल में खुद को आधा लपेटते हुए पूछा- क्या हुआ भैया … आप वहां क्यों बैठे हो … सब ठीक तो है न!इसी के साथ मैंने पास ही बेड साइड के लैंप को जलाया और देखा तो उनके पास वाइन की एक आधे से ज्यादा खाली बोतल और एक गिलास पड़ा था. और ऐसा चूसा कि साला 5 सेकंड में ही मेरे लंड का लोहा बना दिया। पूरा अकड़ कर मेरा लंड जब खड़ा हुआ तो भाभी बोली- वाह क्या शानदार लंड है, ऐसा लंड तो मैं कब से चाहती थी! कब से … आह!भाभी फिर से मेरा लंड चूसने लगी। उनके मुँह से तो जैसे लार की धार बह रही हो, मेरा लंड मेरे आँड वो सब चाट गई, चूस गई।फिर वो स्टूल से उतर के नीचे फर्श पर ही बैठ गई और मेरी कमर को दोनों हाथों से पकड़ लिया.

सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म सुहास ने मुझे हग करते हुए कहा- बेबी तुम्हें तो मैं जिंदगी भर प्यार दे सकता हूँ. मैं अपनी बहन चित्रा के मुँह से अपनी मर्दानगी की बात सुनकर गरम हो उठा और अपनी बहन को गोद में लेकर कमरे में चल दिया.

रुकैय्या ने मेरा पायजामा मेरे शरीर से अलग कर दिया और मेरे बगल में लेटकर अपनी चूचियां मेरे सीने से सटा दीं.

गांव की बीपी सेक्सी

”अब तो शाम में मर्द लोग भी मेरे घर में जमने लगे थे, पर मैं दारू सिगरेट एकदम से बंद कर रखा था. मैंने कई बार तुमको इशारा किया था कि माई तुम गलत कर रही हो, पर तुम चाहती थी कि दोनों नाव पर सवार होकर दोनों को साध लूँ … पर ऐसा होता कहां है. फिर उसने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ा और जैसे ही लंड चूत के छेद के सामने आया तो वो गच्च से मेरी दुल्हन की चूत के अंदर चला गया.

मेरी हीना भी वहीं मेंहदी लगाती बैठी थी और चोरी छुपे मुस्कुरा रही थी. ट्रक जब सुनसान एरिया में आ गया, तो अचानक एक खलासी ने पूछा- तेरा रेट क्या है?मैंने हड़बड़ा कर पूछा- मतलब?उसने कहा- मुझे पता है, तुम धंधे वाली हो. फिर ग्यारह बजे के आसपास सब लोग अपने अपने रूम में सोने चले गए।मैं रूम में थोड़ा देर से पहुँची ताकि रवि सो जाए और मैं रोहन को वीडियो कॉल कर सकूं और हुआ भी ऐसा ही।मैं बैडरूम के अंदर कुर्सी पर बैठी हुई थी.

इनमें दो दिन में अलीना को किसी भी तरह से पटाना है ताकि मैं अपने लंड को उसकी चुत में डाल सकूं.

स्वीटी आंटी की चुदाई का मंजर आपको पूरे विस्तार से अगले भाग में लिखूंगा. वहाँ उसे लिटाया और उसके बूब्स को चूसते हुए फिर उसके पेट पर अपनी जीभ घुमाता रहा. मैंने चुत की फांकों में लंड का सुपारा घिसा, इससे कोमल और ज्यादा उत्तेजित हो उठी.

सुबह घर से ब्रेकफ़ास्ट कर के निकलने के बाद से पूरे दिन में मैंने सिर्फ़ तीन-चार कप चाय और दो कप कॉफ़ी ही पी थी, ऊपर से वसुंधरा जैसी प्रेयसी का समीप्य … सब कुछ सोने पर सुहागे वाले लक्षण थे. उसके लिए आप सभी पाठकों का दिल से धन्यवाद।कहानी पोस्ट होने के बाद मुझे इतने सारे मेल प्राप्त हुए कि सबका जवाब दे पाना मेरे लिए मुश्किल है. एक दिन मेरे फेसबुक अकाउंट में एक बूढ़े विदेशी की फ्रेंड रिकवेस्ट आई.

भाभी मेरे सामने लाल ब्रा और रेड पेंटी में थी।अब बारी भाभी की थी।मैं लोअर टी शर्ट में था तो भाभी ने सबसे पहले मेरी टी-शर्ट उतारी और उसके बाद लोअर उतार दिया।भाभी मेरे पास आ गई और मुझे कस कर जकड़ लिया अपनी बांहों में … मैंने भी उनको कसकर जकड़ लिया. मौसी ने इस स्थिति में मुझे उन्हें छोड़ने को कहा लेकिन वो लगातार कामोन्माद में कामुक आवाजें भी निकाल रही थीं- अहहह ऊमम्म हहह विशाल ह्म्म्म अहह प्लीज छोड़ दे … अहहह हम्म इसस.

शीला उसके ऊपर लेट गयी और अपनी चूत उसके मुँह पर रख दी और हाथ से ही जितना हो सकता था साब के लंड को मसला. मैं भाभी की पहली बार गांड चोद रहा था तो मुझे मजा आ रहा था।कुछ देर भाभी की गांड चोदने के बाद मैंने अपना पूरा पानी भाभी की गांड में छोड़ दिया और भाभी के ऊपर लेट गया. दीदी और बच्चों को भी पैक करके दे दिया था और अपने लिए भी बनाकर रख दिया था। बस मैं उसे फ़टाफ़ट गर्म करके ले आती हूँ आप बैठो.

एक रात के दस बजे वो दोनों अपने रूम थे और एक दूसरे की बांहों में चिपक कर लेटे हुए बातें कर रहे थे.

मेरी नजरें कह रही थीं कि तुम भरोसा रखो, डांस तो क्या मैं तुम्हें कभी भी गिरने नहीं दूंगा … और उसकी नजरें कह रही थीं कि अब सब कुछ तुम पर छोड़ दिया है, चाहे गिरा दो, चाहे उबार लो!अब मैंने खुल कर नृत्य करना प्रारंभ किया, पायल नाम की अप्सरा से लिपटने या उसकी गोरी चिकनी कमर को पकड़ने में अबकी बार मैंने जरा भी झिझक नहीं दिखाई. उसने सॉरी बोलकर कहा- अब से मैं तुझे रंडी नहीं बोलूंगी।फिर हम दोनों कपड़े पहनकर बाहर आ गयी और अपना काम करने लगी. आज मुझे एक ऐसी चूत का दीदार हो रहा था, जिसने अब तक लंड का स्वाद ही नहीं चखा था.

कमर के बाद मैंने उसके पटों पर हाथ फिराते हुए उसकी स्कर्ट में हाथ डाल कर उसकी जांघों को सहला दिया. तेरे जैसी गरम लड़की को तड़पा के चोदने का मजा ही कुछ और है रंडी कुतिया … फाडूंगा तेरी चूत को … पहले इस लंड को कौन चूसेगा रंडी!”मैं चूसूंगी तेरी रंडी … हां मैं राज की रंडी हूँ … 24 घंटे तेरा लंड चूसूंगी … पर अभी मुझे चोद दे … मैं मर जाउंगी.

कमरे के एक हिस्से में सेफ रखी थी, दूसरी तरफ गैंग बैंग चुदाई के लिए जगह थी. उसने मेरा पैंटी को नहीं निकाला … पर अब उसने अपना कुर्ता और पज़ामा निकाल दिया. अब मैंने उसकी गांड पर थप्पड़ मारते हुए उसकी गांड को चोदना शुरू कर दिया.

தெலுங்கு படம் செக்ஸ்படம்

चाची उठने को हुईं, मैंने उनको धक्का देकर बिस्तर पर चित लिटा दिया और उनके पैर फैलाकर उनकी चुत की सुगंध लेने लगा.

मेरे साले की बड़ी बेटी मिनी डॉक्टर बन गई और एक डॉक्टर से उसकी शादी हो गई. बाबूजी ने भाभी के दोनों पैर उनके सिर की तरफ मोड़ रखे थे और जानवर की तरह लगातार धक्के मारे जा रहे थे. उसके अगले दिन जब गया तो देखा आंटी देख के मुस्कुरा रही है।मैंने मैथ्स की क्लास की और जब बायो की क्लास होने वाली थी तो चल दिया।मैं लड़कों के कॉमन रूम की तरफ जा रहा था तो आंटी ने इशारा किया।मैं उनके पास गया तो उन्होंने मुझे अपने कमरे के अंदर बुलाया। मैं चला गया.

दो मिनट तक नज़मा को लंड चुसवाने के बाद जीजा ने जब लंड उसके मुंह से बाहर निकाला तो उनका लंड पूरा का पूरा थूक में लिपटा हुआ था. मैंने कैसे अपनी वासना ठंडी की जीजू के साथ?हैलो फ्रेंड्स, मैं आप लोगों की प्यारी चुदक्कड़ लेखिका मधु जैसवाल एक बार फिर आप सभी का साली के साथ सेक्स कहानी में वेलकम करती हूँ. सेक्स वीडियो बीएफ हिंदी एचडीफिर अचानक जीजा के मुंह से निकला- आह्हह्ह… आआआ… हाह्हह… होह्हह… करके जीजा ने मेरी सेहली की चूत में अपना वीर्य छोड़ दिया.

उनके कामरस को पी रहा था और अब चाची मेरा सिर अपनी चुत पर दबा रही थीं. वहां उसने मुझे उल्टा झुकाया और मेरी पैंटी मेरे शरीर से अलग कर दी और एक जोर का थप्पड़ मेरे चूतड़ों पर दे मारा.

मैंने उससे कहा- क्यों अब तुझे गर्लफ्रेंड की जरूरत नहीं होती क्या? मेरे बेटे की गर्लफ्रेंड तो मेरे घर तक आती है. वो मेरे बगल में बैठ गई, हम डबलसीट सोफे पर बैठे थे … इसलिए काफी नजदीक बैठे थे. सीमांशी ने सहज होते हुए दोनों पैर खोल दिये मानो वासना के वशीभूत एक नारी एक मर्द को निमंत्रण दे रही हो कि आओ मुझे भोग लो मेरे शरीर को चरमसुख दो!रोहिताश यह सब देख रहा था उससे भी खुद पर काबू पाना मुश्किल हो रहा था!मैंने जीभ पूरी अंदर तक डालनी शुरू कर दी.

उसकी चूचियां एकदम से ऊपर छत की ओर ऐसे तनी हुई थीं जैसे दो गोल तोपें हों. उन्होंने मुझे अपनी जगह पर बिठाया और खुद मेरे मुँह के सामने बेड के ऊपर खड़े हो गए. मैंने संजीदा होकर उससे कहा- प्रिया तुम्हारा …इतना कह कर मैं रुक गया.

मैंने उसकी बाजू से पकड़ कर उसे अपनी ओर घुमाया, तो उसे देख कर मेरी आंखें फ़टी की फटी रह गईं और मेरे मुँह से वाओ निकल गया.

अब आगे:ज़ब मैं उठी, तो शाम के 6 बज चुके थे हम लोगों ने 12 घंटे के नींद ले ली थी. नमस्कार साथियो, इस रसीली कहानी के पिछले भाग में आपको बताया था कि हल्दी की रस्म के बाद उधर डांस सिखाने का कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें चुलबुली और अति सेक्सी पायल मुझे डांस सीखने के लिए पकड़े जा रही थी.

अभी मैं मम्मी को ढूंढ रहा था, तभी मैंने देखा दूर से मम्मी और वो अंकल आ रहे थे. फिर मैंने बाथरूम से तेल की शीशी का ढक्कन खोला और कमरे में आकर नताशा को घोड़ी बना दिया. अब वो स्टेप भी आ गया, जब मुझे पायल की कमर को पकड़ कर उसे सहारा देना था.

मैंने उनकी पैन्टी में हाथ डाल दिया और चुत को अपनी उंगली से छूने और रगड़ने लगा. मैंने उससे सीधे सीधे पूछने का तय किया और पूछा- सेक्स के लिए क्या कहोगी?कविता बोली- अब तुझसे क्या छुपाना … वंश ही मेरा सब कुछ है. मैंने सोचा कि अब फिर से मेरी मम्मी की चुदाई होगी तो मैं वापिस आकर अंदर देखने लगा.

सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म तो मैंने सीमा और मुस्कान को बोला- अगर सभी एग्री हो तो फिर बोलने में क्या शर्म आती है?मेरे पास बैठी प्रियंका बोली- मुस्कान, ग्रुप में चुदेगी क्या?सीमा प्रियंका को बोली- अब चुप भी कर, जब बता दिया सभी एग्री हैं, तो क्यों बेशर्म कर रही है?मैंने तुरंत कहा- साली, जब तक बेशर्म न हों तब तक मज़ा नहीं आता. मेरा लंड यानि मेम रानी का नाग, न जाने कब से अकड़ा हुआ चूत की प्रतीक्षा करते करते दुखी हो गया था.

ससुराल बहू की चुदाई

मैं बोला- वो कैसे?वो- पहले आप मेरी मांग भरिये, फिर आप मुझे अपने कमरे में ले चलिए. अमनप्रीत- बोल मेरी रखैल, कैसा लग रहा है मेरा लंड?श्यामली- आह्ह, इतना बड़ा लंड तो मैंने आज तक नहीं लिया है आह्ह … बहुत मजा आ रहा है. मेरा लंड तो पूरा टाइट हो गया था मगर उनका लंड अभी भी वैसे ही सोया हुआ था.

अम्मी की आंखें बंद थीं और वो मदहोश थीं इसलिए उनको मेरे आने की खबर ही न हुई. रोहिताश ने मेरा मेरा लोवर और अंडरवियर दोनों निकाल दिए और मेरे लंड को सहलाने लगा. हिंदी बीएफ भाभी काअब वो भी मेरी बातों और हरक़तों से गर्म होने लगी थी और किसिंग में मेरा पूरा साथ देने लगी थी।एक दिन मैंने उससे कहा- यार अब नहीं रहा जाता, मैं तुम्हें अब खुल कर प्यार करना चाहता हूं। तुम्हारे इस जिस्म को जी भर कर निहारना चाहता हूं। अब ऐसे बाहर ही बाहर से सहलाने भर से मेरा मन नहीं भर रहा है। मुझे तुम्हारे पूरे जिस्म को बिना कपड़ों के सहलाना, चूसना व चाटना है.

जब हम दोनों एक दूसरे को प्यार करते थे, तब एक दिन सही मौका मिलते ही हम दोनों के बीच सेक्स संबंध बन चुका था.

मनीष ने धीरे से अपनी एक उंगली मेरी गांड के अन्दर घुसाई, मैं एकदम उछल सा गया. तो दोस्तो, जैसा कि आपको पता है, यारों का महा याराना में हम अदला-बदली के 5 जोड़े एक ही जगह पर इकट्ठा हुए थे.

उसने लुब्रीकेंट लेकर अपने लंड और मेरी गांड पर लगाया और लंड रख कर एक जोरदार धक्का लगा दिया, जिससे उसका आधा लंड मेरी गांड में चला गया. तुम इसे बचाने की कोशिश मत करो।और नेहा को देखकर कहा- तुमने कैसे कह दिया कि ये अच्छे नहीं लग रहे हैं? तुम्हें अच्छे बुरे के बारे में पता ही क्या है?नेहा बार बार सॉरी मैम, सॉरी सर की रट लगाये हुए थी. पहले तो भाभी मना करने लगीं … लेकिन मैंने भी अपना लंड भाभी के होंठों पर लगा दिया.

लेकिन जब अम्मी ने उसे भाई की दूसरी शादी, घर का खर्चा, दूसरी पत्नी का बच्चे से बरताव जैसी दिक्कतें बताई और यह शंका जताई कि कहीं वो औरत बेटा को बहका कर अपने वश में ना कर ले, तो फिर हम कहां जाएंगे.

फिर मैंने भी अपनी टी-शर्ट और बनियान उतार कर अपने पेट और सीने को उसकी नंगी पीठ पर सटा कर पूरी तरह से खुद को आंटी से चिपका लिया. उसने पहले तो मामला समझा फिर शीला को अपने से चिपटा कर होंठ से होंठ मिला दिए. मैं जीजा के बालों को सहलाने लगी और नजमा ने जीजा की पीठ को सहलाते हुए उनको अपनी बांहों में जकड़ लिया.

जंगली बीएफवहां से निकले तो योजनानुसार मेरी पत्नी बोली- आये हुए हैं तो मुझे एक नाइटी दिला दीजिये. तो शालिनी ने मुझसे पूछा- राजीव के साथ क्या क्या हुआ?मैंने उसे पूरी कहानी सुनाई तो उसने कहानी सुनते ही मेरे बूब्स जो कि अभी तक नंगे थे, उन्हें जोर से मरोड़ती हुई बोली- साली तू तो बहुत बड़ी वाली रंडी है.

बांगला सेक्स

आकाश- नीरज तुम्हें तो पता है न!नीरज- हां जिया ने मुझे पहले ही बता दिया था. मेरी उठी हुई टांग को अपने हाथों से पकड़कर दूसरे हाथ से अपना लण्ड मेरी चूत पर लगाकर उसे अंदर करने लगे. जब मुझे मजा आया तो मैंने अपने दांत उनकी गर्दन पर और मेरे नाखून उनकी कमर पर गाड़ दिए।और मैं उनकी बांहों में ही सिमट गई.

अरविन्द ने शीला को नीचे उतारा और एक ही झटके में उसकी ब्रा पैंटी निकाल कर उसके दूध जैसे गोरे मम्मों को मुँह में ले लिया. पर तुमने अगर इस कुतिया पर ही मेहरबानी करनी हो, तो ठीक है … मैं ऐसे ही चली जाती हूं. दोनों चूचियों की शेप, रंग और उन पर खड़े छोटे छोटे गुलाबी निप्पल कयामत ढहा रहे थे.

मैंने ब्रा तो पहनी ही नहीं थी, तो एक खलासी चिल्लाया- गुरू … इसने ब्रा नहीं पहनी है. जब मैं दीदी को चिपककर लेटा था, तब मुझे अलीना की हॉट फिगर नजर आ रही थी. सीमा ने फिर कहा- क्यों प्रियंका को क्या प्रॉब्लम है?मैंने कहा- साली, तुझे ज्यादा मज़ा देना है न … इसलिए!और साथ ही मैंने सीमा को घोड़ी बनने को बोल दिया ताकि पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दूँ.

थोड़ी देर बाद जब राजीव अकेला था तो मैं उसके केबिन में गयी और बिना उससे परमिशन लिए अंदर घुस गयी. तुझे ऐसे चोदूंगा कि ना तुझे कोई दूसरा दिखाई देगा और ना ही और कुछ भी दिखाई देगा.

गांड में लंड घुसते ही मेरी एक्स गर्लफ्रेंड जोरों से आवाज़ निकालने लगी- ओहह उहह राज … धीमे चोद साले … मैं तेरी रांड नहीं हूँ और ना ही तेरी बीवी हूँ.

मैं उठकर भाभी के दोनों टांगों के बीच में आया और भाभी की चूत में लंड डालने को हुआ. ब्लू पिक्चर वीडियो इंडियनदोनों खलासियों ने मेरे एक एक स्तन को एक एक हाथ से पकड़ लिया और जोर जोर से मसलने लगे. सेकशी बीएफमैं जीजू को थोड़ी सी छेड़ते हुए बोली- क्या हुआ राजा … क्रीम मिली या नहीं!जीजू मेरी खुली हुई चुत देखते हुए बोले- मेरी रानी क्रीम तो नहीं मिली … लेकिन तुम्हें चोदने के लिए बहुत अच्छी चीज मिल गयी है. कमरे के एक हिस्से में सेफ रखी थी, दूसरी तरफ गैंग बैंग चुदाई के लिए जगह थी.

मैंने लंड को जरा सा पीछे खींचा और इस बार पूरी ताकत से उसकी कुंवारी बुर में पेल दिया.

रोहित के लंड को अपने हाथों से छूते हुए संजू बोली- बाप रे … इतना टाई. जिसे शीना ने अपने हाथों में पकड़ लिया और उसको और ज्यादा तगड़ा करने लगी. इधर उसकी योनि से निकलते ही ब्लडिंग देखकर मैं डर गया और अपना लिंग बाहर निकाल कर उठ खड़ा हुआ.

शुरू में तो साहब झिझकते, पर मेरी तरफ से पहल होने के कारण वे आश्वस्त हो गए. बस दो पल और फिर तुम्हारे जीवन का नया सुनहरा अध्याय शुरू होने वाला है. इधर मौसी की हॉट चुदाई चल रही थी, उधर बैकग्राउंड में हॉट सांग रिपीट पर रिपीट चल रहा था.

देसी हिंदी बीपी

फिर बातों ही बातों में उसने अपना लंड का सुपारा, जो मेरी चुत के मुहाने पर रखा था … धीरे से मेरी चुत के अन्दर धकेल दिया. उसको भेजने का मेरा मन तो नहीं कर रहा था लेकिन रुकने के लिए भी नहीं कह सकता था क्योंकि वो शादीशुदा थी और पहले ही दिन मेरे घर पर रुकना उसके लिए संभव नहीं था. मैं भी पूरे जोश से उनके होंठ सुजाने में लगा था … अन्दर हमारी जीभें आपस में कुश्ती कर रही थीं.

सहसा ही वसुंधरा के होंठों पर एक स्निग्ध मुस्कान झिलमिला उठी और वसुंधरा की उंगलियों की पकड़ मेरी उँगलियों पर मज़बूत हो गयी.

मनु- पेट में दर्द हुआ, हाथ पैर दुखा, सर दुखा या कुछ और लगा?परमीत- पेट में तेज दर्द हुआ.

उस सेक्सी भाभी को मैंने चुदाई के लिए कैसे तैयार किया, उसके आगे क्या हुआ, भाभी की चूत कैसी थी, भाभी ने मेरे लंड को चूसा या नहीं, ये सब बातें मैं आपको कहानी के अगले भाग में बताऊंगा. पिछली सेक्स कहानीपड़ोसन लड़की होली खेलने आई और चुत चुदवा गईके लिए आपके कमेंट मिले, उसके लिए आपको धन्यवाद. कामसूत्र सेक्सी फोटोयह कहते हुए उसने संजना की चूत के दाने पर अपना हाथ रख दिया और चुत के अन्दर उंगलियां डाल दीं.

कुछ देर के बाद हम दोनों एक दूसरे के जिस्म की गर्मी का मजा लेते हुए उनके घर की बिल्डिंग के नीचे पहुंच गए. कुछ क्षणों में मेरे होश हवास काबू आ गए तो मैंने उचक कर सामने पड़ी हुई, चरमसुख में डूबी दोनों रानियों को निहारा. रुकैय्या ने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूचियों पर रख दिया और अपने चूतड़ उचकाने लगी.

वो मुझे देखकर हंसने लगी और बोली- क्या बैठने के लिए भी नहीं कहोगे?मैं- ओह सॉरी यार … बैठो ना. यह कहते कहते मैंने उसको पलटाकर घोड़ी बना दिया और उसके पीछे घुटनों के बल खड़ा हो गया.

शिवानी भाभी का सेक्सी फिगर देख कर मेरा मन भी भाभी की चुदाई के मचलने लगा था.

अरे वाह!ऐसे ही एक-दूजे के पहलू में निःशब्द बैठे हम दोनों, आँखें मूंदे हुए एक-दूसरे के गर्म जिस्म की हरारत को महसूस करते हुए जाने कितनी ही देर … बाहर हो रहे प्रकृति के नर्तन की ताल को सुनते रहे. अगर तुम्हें बहुत ठंड लग रही है तो अब सारी ठंड भाग जाएगी तुम्हारी।मैंने उनसे कहा- आप घूम कर लेट जाओ. रानियों को भी बहुत अच्छा लगता है जब मैं उनको प्रेम से निहारता हूँ और उनके चूसने पर ख़ुशी से किलकारियां मारता हूँ.

फोटो भेजो सेक्सी वीडियो जीजू, आप तो मुझे दीदी समझ कर चोद रहे थे लेकिन दीदी मुझे आपसे चुदवाना चाहती थीं, ये मेरी समझ में आ गया. पोर्न देखते देखते दोनों ने बॉक्सर के ऊपर से ही एक दूसरे का लण्ड सहलाना शुरू कर दिया।पोर्न खत्म होने के बाद रोहन ने अपना मोबाइल एक तरफ रख दिया। रोहित अभी भी लेटा हुआ था लेकिन रोहन उठ कर रोहित की टांगों के पास बैठ गया.

उनकी चूचियों के निप्पल एकदम तने हुए थे, जो मैक्सी के ऊपर से साफ नुमाया हो रहे थे. 2-3 मिनट पल्लवी की गांड पेलने के बाद उसने लंड चूत में घुसाया और तेजी से मेरी बहन की चूत को चोदने लगा. फिर नताशा ने मेरे बदन को चूमते हुए घुटने के बल बैठकर मेरा लोवर और निक्कर निकाल दिया.

ब्लू पिक्चर टोका

जब लंड महादेव पूरी तरह से अन्दर चले गए तो उसने आंखें खोल कर मेरी तरफ देखा. इस गाने में धुन ताल थोड़ी तेज़ है और पम्म पम्म पम्म, धम्म धम्म धम्म, छम्म छम्म छम्म की ज़ोर दार आवाज़ें हर तीन लाइन के बाद आती हैं तो चोदने वाले को उतनी हो ज़ोर से तीन धक्के ठोकने के लिए उकसाती हैं. कोमल डरते हुए बोली- ओहह शिट … अब क्या होगा?मैं- कौन है?कोमल- आकाश की बहन और मेरी ननद जिया.

कोमल और में फिर एक दूसरे के आंखों में देखने लगे और फिर एक दूसरे के नजदीक आकर होंठों को चूमने लगे. तूने आज मुझे निहाल कर दिया मेरी जान … मैं गई … आंह!बस ऐसा कहते हुए वो मेरे ऊपर निढाल हो कर गिर गईं और मैं उनकी कमर पर हाथ फेरने लगा.

कोई 5 मिनट चाटने के बाद मैंने अपने बैग में से कंडोम निकल कर चाची को पकड़ा दिया.

फिर उसने मेरा गाउन पीछे से उठा दिया, अब उसे मेरी काली पैंटी दिख रही थी. और तुमको पेशाब करने जाना है तो नंगी ही जाओ!” कहकर मैंने चादर खींच ली।वो चादर छोड़ कर लंगड़ाती हुए बाथरूम की तरफ भागी। भागते समय सायरा के कूल्हे ऊपर नीचे हो रहे थे।काफी देर बाद सायरा पेशाब करके बाहर आयी तो मैंने पूछा- अन्दर देर क्यों लगा दी?तो वो बोली- पापा, पेशाब करते समय मुझे जलन महसूस हुयी तो मैंने देखा तो पेशाब के साथ-साथ हल्का-हल्का खून भी आ रहा था. जिस लाल रंग की कसी हुई साड़ी में उनके मस्त उठे हुए चूतड़ और तने हुए चुचे मुझे झझकोर रहे थे.

उनकी चुत खुल गई थी, तो मैंने अपनी दो उंगलियां भाभी की चूत में डाल दीं और मैं उनकी चुत को उंगली से ही चोदने लगा. वो बोला- भाभी आओ ना!संजू मुस्कुराते हुए आई और रोहित के लंड को अपने मुँह में ले कर चूसने लगी. इतने में जीजू ने दूसरा झटका मारा और उनका मोटा लंड पूरा का पूरा मेरी चुत में समा गया.

मैं- अगर वो अपनी फैंटेसी पूरी करना चाहते हैं, तो किसी दूसरे कपल के साथ कर लें.

सेक्सी भाभी बीएफ फिल्म: मैंने दीदी के दूध मसलते हुए कहा- बस फिर हम तीनों साथ मिल के मज़े करेंगे. अभी तक जेठजी दूसरे ऐसे इंसान थे, जिसने मुझे ऐसी हालत में देखा और मेरे खास अंगों को छुआ था.

मगर इन सब से उनको जीवन यापन हेतु आवश्यक आमदनी नहीं हो रही थी इसलिए उन्होंने टेलर की दुकान पर काम करना शुरू कर दिया. मैं और मेरी चूत कब तक बर्दाश्त करते … और कब तक मैं अपनी फीलिंग छुपा कर रख पाती. जब मैं चाची के घर गया, तो वहां पर मेरे और चाची के अलावा कोई और नहीं था.

उसकी चूत फिलहाल बहुत गीली थी इस वजह से लंड को जल्दी जल्दी अन्दर बाहर होने में कोई दिक्कत नहीं थी.

क्योंकि सुबह मजे आते है और आने के बाद भी फ्रेश फ्रेश सा फील होता है. थोड़े देर इंतजार करने के बाद एक ट्रक आया तो मैंने रूकने का इशारा किया. बेबी रानी ने झट से गुड्डी रानी के बालों को समेटा और गोल करके अपनी कलाई से लपेट कर अपनी तरफ ज़ोर से खींचा तो गुड्डी रानी का मुंह पीछे को उठ गया.