भाभी देवर के बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,भोजपुरी नंगी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

होली गाना भोजपुरी: भाभी देवर के बीएफ फिल्म, दोस्तो, आप लोग अपनी अपनी पैंट और पैंटी में हाथ डाल कर तैयार हो जाइए.

इंडियन बीऐफ

मैं नौकरी भी करती हूँ मगर वहां से मुझे इतनी सैलरी नहीं मिलती जिससे मैं अपना परिवार पाल सकूँ. खूबसूरत लड़की का फोटोलंड चूत की फांकों में लगते ही मैंने एक तेज धक्का दे मारा तो मेरा आधा लंड अन्दर चला गया.

उनके मुँह से अभी भी सीत्कारों की एक लहर सी आ रही थी- आंह … उन्ह … सी … मेरी जान!अब भैया धीरे धीरे से अपने लंड को चुत के अन्दर बाहर करने लगे. हब्सी सेक्स वीडियोएक दिन कीर्ति को पनिशमेंट में देखकर मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?उसने कहा- मुझे एक्सेल में … और टैली में बहुत ही प्राब्लम है.

मीनू- अच्छा तुम ही बताओ, किसका लेना चाहिए … जिससे बच्चा हेल्थ में दमदार हो.भाभी देवर के बीएफ फिल्म: फिर कुछ देर बार स्टेटस पर भाभीजी के फोटोज देखे तो बार बार उन्हें ही देखने लगा.

मैंने देखा कि उनके मम्मे कुर्ती के गहरे गले से झांकते हुए अलग ही नजारा दिखा रहे थे.अगले कुछ दिनों के बाद एक दिन भाबी ऑनलाइन नहीं आईं तो पता चला कि भैया की शिफ्ट हर हफ्ते बदलती है.

सेक्स फोटोस - भाभी देवर के बीएफ फिल्म

लेखक की पिछली कहानी थी:देवर से लिया चुदाई का असली मजातो लंड वालो, अपनी जिप खोलकर अपना लंड मुट्ठ मारने के लिये बाहर निकाल लो.भाभी भैया जब नए मकान में रहने आए, उनका वो आलीशान बंगला हमारे घर के बिल्कुल सामने था.

चूंकि बस में बहुत भीड़ थी तो उसे सीट न मिलने के कारण वो वहां बैठ गई थी. भाभी देवर के बीएफ फिल्म वो मुझे सीधा लिटाकर मेरे स्तनों पर मालिश करते समय, मेरे स्तन दबाने लगा, निप्पल उंगली से मींजने लगा.

उसने आंखें मटकाते हुए कहा- क्यों … तुम्हें कोई मिली नहीं या पसंद नहीं आई?मैंने बोला- हां मुझे कोई पसंद नहीं आई … क्यूंकि मुझे तुम जैसी कोई मिली ही नहीं.

भाभी देवर के बीएफ फिल्म?

मामी- ओके, पर तुम बाथरूम में ये सब क्यों कर रहे थे?मैं- मामी, मेरी कोई जीएफ नहीं है न इसलिए … आपकी तो शादी हो गई है, आपको अब क्या समझ आएगा कि मुझे क्या दिक्कत हो रही थी. तो मैं भी स्माइल करने लगी और बूब्स हाथ में पकड़कर ऊपर उठा दिए और उन्हें मेरे बूब्स पर मूतने का इशारा कर दिया. मुझे उम्मीद थी कि अब अंकित का वीर्य शुक्राणु छोड़ने में समर्थ हो गया होगा जिससे मीनू मां बन सके.

जैसे ही मेरा हाथ उसके उरोजों से टकराया, वो फिर मेरे हाथ झटक कर नीचे भाग गई. ऋतु मेम ने भी झट से पलट कर लंड मुँह में भर लिया और सारा वीर्य अपने मुँह में ले लिया. क्या माल था दोस्तो, क्या बताऊं आपको … ऐसी गर्म औरत मैंने आज तक नहीं देखी थी.

अब मेरा लंड भी भूकंप मचा रहा था पर उसकी चूत में से आज अंकित का माल देख कर मीनू की आंखों में खुशी के आंसू थे और वो उस माल को उंगली पर रख कर चिपचिपाने लगी और अंकित के गले से लिपट गयी. यह कहानी मेरे एक प्रशंसक की है, उसका नाम सलीम है,तो चलिए अब आगे कि सेक्सी रंडी चुदाई कहानी सलीम से ही सुनते हैं।दोस्तो, मेरा नाम सलीम है, मैं उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले का रहने वाला हूँ. तभी मौसा जी की आंख खुल गई और वो फिर से मौसी जी के मम्मों को अपने मुँह में दबा कर चूसने लगे.

मैं अपने रूम का लॉक ही खोल रहा था कि भाभी का कॉल आया- कहां हो देवर जी?मैंने बोला- बस घर आ गया हूँ, अभी आपके सामने हाजिर होता हूँ. मैंने अफसोस जाहिर करते हुए कहा- कोई बात नहीं, भैया जल्दी ही ठीक हो जाएंगे, आप चिंता ना करें.

यह बहन की गांड की चुदाई कहानी सबसे बड़ी लड़की की है, जिसका नाम गगन है.

मीनू की चूचियां थोड़ी छोटी थीं, इस बात को लेकर उसके अन्दर हीन भावना थी.

मैं मंद मंद मुस्कुराने लगा और सोचने लगा कि सोचा भी नहीं था कि पहली पिलाई बिना कंडोम की होगी. उस दिन मुझे अच्छी तरह से याद है कि हमारा सेक्स लगभग आधा घंटा चला होगा. आखिर हमारी उत्तेजना चरम सीमा पर आ गई और मुझसे पहले वो स्खलित हो गई.

भाबी से उस दिन की मुलाकात ने मेरे अन्दर की वासना को और भड़का दिया था. करीब दो मिनट बाद जब वो थोड़ा नॉर्मल हो पाई तो उसने भी साथ देना शुरू किया. मैं उसकी चुदाई करना चाहता था पर …हाय दोस्तो, मैं राहुल वैद्या, उम्र 26 वर्ष, हाइट 5 फीट 10 इंच, रंग गोरा!मैं एक गांव में रहने वाला लड़का हूँ।यह कहानी शत प्रतिशत सही है, इस गर्लफ्रेंड मॉम सेक्स कहानी में केवल सभी पात्रों के नाम और जगह का नाम गोपनीयता के लिए बदल दिए गए हैं।बात उन दिनों की है जब इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए शहर में रहता था.

मैंने फोन दिया तो उन्होंने एक नंबर लगाया और पूछा- आपको आने में कितनी देर है?उधर से कुछ कहा गया और भाबी ने अपने पति से कुछ बड़बड़ाया और ओके बाय कह कर फोन रख दिया.

अब मैं बोला- हम्म … फिर तो तुम्हें ये भी पता ही कि मैं तुम्हारी कच्छी को रगड़ कर मुठ मार रहा था. देशी Xxx हिंदी कहानी के पहले भागभाभी के पति की लुल्ली सील नहीं तोड़ पायीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं दीपा भाभी को गांव के बाहर तालाब के किनारे बने एक पुराने बंगले में चोदने की तैयारी कर रहा था. फिर उसने मेरी गांड के छेद पर थोड़ा सा थूक लगाया और अपना सुपारा रख दिया.

अब आगे मिया बीबी की चुदाई कहानी:कयामत की रात में हर लम्हा बदल गयापति ने दिया वीर्य अन्दर तक. तुम अपनी बुआ से उस बात को जान सकती हो … ये भी अपने देवर जेठ से चुद चुकी है. फिर मैं भी उठकर जाते हुए बोला- मुझे आप कुछ नहीं समझतीं, तो मैं यहां क्यों रुकूँ?इस पर भाभी जी बोलीं- रुको, मैं बताती हूं.

मेरा लंड अन्दर बच्चादानी तक जाने लगा और मैं बुआ की चूचियों को पकड़ कर उनसे खेलने लगा.

मैं- देख तेरी चुत भी तो ऐसी ही थी और तू तो अपना मूत भी निकाल रही थी, जब मैं तेरी चुत चाट रहा था. लगभग 2 मिनट आपा ने मेरा लंड चूसा होगा तभी मेरे लंड से पानी आने को हुआ तो मैंने अपना लंड जो आपा के मुंह में था, उसको झटका देना शुरू कर दिया.

भाभी देवर के बीएफ फिल्म मैंने पूछा- तुमने ऐसा किसी और को करते देखा है क्या?वो बोली- हां वो नीरज को भी देखा था, वो खेत में छगन भैया के साथ नंगे होकर उससे पीछे से लड़ रहे थे. अब मैंने उससे पूछा- तू पहले भी लंड ले चुकी है क्या?वो बोली- तू आम खाने से मतलब रख … पेड़ न गिन.

भाभी देवर के बीएफ फिल्म मैं उसकी चूची के निप्पल को खींच खींच कर चूस रहा था और वो भी बदल बदल अपनी दोनों चुचियों को मेरे मुँह में देकर चुसवा रही थी. तो आपा इस बात पर मान गयी और जोश में बोली- अब चाहे मेरी गांड की माँ क्यूँ न चुद जाये, आज तो मैं गांड मरवाकर रहूंगी.

साली एकदम से चिल्लाने लगी- उई मम्मी रे … फाड़ दी साले … भैन के लंड निकाल बाहर मादरचोद … साले चूत फाड़ दी मेरी!मैंने कहा- साली भैन की लौड़ी रंडी तुझे ही तो जल्दी पड़ी थी … अब खा लौड़ा कुतिया.

मशीन द्वारा बीएफ

उसके बाद मैंने बहुत से लोगों से चुदाई करवाई और मैं एक प्रोफेशनल रंडी बन चुकी थी।आप लोगों को ये हार्डकोर गैंगबैंग सेक्स कहानी कैसे लगी?अपने विचार[emailprotected]पर मेल करके जरूर बतायें।मुझसे फेसबुक पर जुड़ने के लिए fehmina. मैं भाभी के घर से निकल रहा था, तो मैंने उन्हें एक प्यार भरा किस किया. तभी मुझे आज सुबह वाला समय याद आने लगा जब मैं और नसरीन आपा दोनों एक दूसरे के गले लगे हुए थे और एक दूसरे को सहला रहे थे.

अब भाभी मेरे ऊपर चढ़ गईं और अपनी भारी गांड के साथ अपनी चूत मेरे लंड पर रगड़ने लगीं. वो गंदी चैट में मुझसे बोलता था- साले शादी कर ले, तेरी बहन की ना सही, कम से कम तेरे सामने मैं तेरी बीवी को तो चोद लूं!मुझे उसकी उस तरह की बात से बड़ी उत्तेजना होती थी और मैं अपनी मुठ मार कर खुद को ठंडा कर लेता था. उसने मुझे कसके पकड़ लिया, जिससे उसके बड़े लंबे नाख़ून मेरी पीठ में गड़ गए.

रोहित तो मेरी कसी चुत पाकर इतना मतवाला हो गया था कि उसने जोर रोज से लंड पूरा डालना और बाहर निकालना शुरू कर दिया था.

मैंने अपना लौड़ा बाहर निकाला और संगीता मैम की साड़ी उठाने लगा मगर संगीता मैम ने मना कर दिया. ये छह महीने पहले की घटना है, इसमें जो हुआ था, वो मैं आज लिख रहा हूँ. मैंने हाथ के इशारे से उसे हटने के लिए कहा, तो वो मुझे आंखों के इशारे से कुछ देर दर्द सहन करने की कहने लगा.

अगले दिन मम्मी की बुआ आईं और सुबह मम्मी की बुआ, पापा और छोटा भाई चल दिए. कुछ देर बाद वो बोली- अब मुझसे रहा नहीं जाता साहब … जल्दी से अपना लंड मेरी गर्म चूत में डाल दो साहब!मैंने कहा- अभी रुको मेरी जान … अभी तो तुम्हारी चूत के साथ मुझे और खेलना है. पर जब एक दिन वो अपना फोन का लॉक खुला छोड़ कर कहीं काम से चला गया था तब मैंने उसका फोन चैक किया.

मौसी की चुत से जो पानी निकल रहा था उसमें मौसी की पेशाब भी मिल रही थी. संगीता मैम की हल्की दर्द भरी आह निकली, पर अब तक मेरा आधा लौड़ा उनकी चूत के अन्दर चला गया था.

[emailprotected]Xxx बहन की नोनवेज़ कहानी का अगला भाग:मेरी बहन की चूत को लंड की कमी नहीं- 2. मगर अब खूबसूरत जवान और फुल सेक्सी औरत आपके सामने बैठी है तो उठते बैठते हर मर्द उसके बदन को घूरता ही है।और वैसे भी मैं कौन सा दूध की धुली हूँ, 36 लोगों से मैं पहले ही चुदवा चुकी हूँ. भैया ने अब धीरे से अपनी एक उंगली को भाभी की चुत की दरार के बीच में हल्का सा अन्दर किया तो भाभी एकदम चौंक उठीं और उन्होंने अचानक से भैया के लंड को छोड़ दिया.

अब तक योगेश का आधा लंड मेरी चुत में घुस गया था मगर मेरे दर्द के कारण वो आधा लंड पेल कर रुक गया था.

जसवंत अपने हाथों से ले जाकर उसके बूब्स दबाते हुए मेरी बहन को चोदने लगा. थोड़ी देर तक चूमा, जब तक वो शांत नहीं हुई, मैंने अपने होंठ उसके होंठ से लगाए रखे. फिर मैंने चुत की क्लिट को पकड़ कर ऊपर किया और गांड के छेद तक चुत को चिकना बना दिया.

जेबा इस तरह से खुशी भरे दर्द से रोती तड़पती चीखती चिल्लाती हुई मुझे चुम्मी करती रही और अपने कूल्हे और चूत को ऊपर नीचे हिला हिला कर मजा लेने लगी. वो दोनों साइड से मेरी चूत में दांत गाड़ने लगे और खरोंच खरोंच कर जीभ से चूत को चाटने लगे.

निशा आधुनिक कपड़े में स्मार्ट और सुंदर लग रही थी, अंग्रेज़ी फ़र्राटे से बोलती थी. फिर मम्मी का फोन आया और उन्होंने मुझसे कहा- कहां रह गया … याद रखना, तुझे दीपाली को भी अस्पताल लेकर आना है. मैंने रानी से पूछा- इस बार पानी कहां लेना है डार्लिंग?रानी बोली- इस बार भी मेरी चूत में ही गिरा दो.

babu बीएफ

मेरी इस चूत को चोद दो और चोद चोद कर मुझे अपनी रंडी भोसड़ी वाली बेटी बना लो.

नीचे कमेंट में और अन्य किसी संदर्भ के लिए मुझे मेरी आईडी पर मैसेज करें. मेरी आंखें खुलीं तो मैंने देखा कि मेरी अम्मी अभी भी अब्बू के लंड से नहीं उठी थीं. आज की चुदाई से प्रीति बहुत खुश थी, उसे मेरे लौड़े ने पूरा मज़ा दिया था.

तुम अपनी बुआ से उस बात को जान सकती हो … ये भी अपने देवर जेठ से चुद चुकी है. मैंने उससे कहा- ठीक है तुम्हें करना ही है, तो ठीक से करो, ज़बरदस्ती मत करो. best पोर्नअफ़सर मुझको देखकर खुश हो गया मगर मुझको वो बुढ़ऊ अफ़सर बिल्कुल पसंद नहीं आया.

हमारे खेतों के नौकर जो मेरे बाप की उम्र के थे, उन्होंने मुझे चोद दिया. वो बोली- मुझे मजा आ रहा है … मुझे लंड चूसने दो न!मैंने उसकी बात मान ली और वहीं स्वाति को 69 में नीचे फर्श पर लिटा दिया.

आपा के मुंह से ये सुनकर मैं हंस दिया और नंगी आपा को अपने ऊपर ले लिया. हर जगह उसके साथ काम करने वाले पुरुषों को जब पता चलता कि वह तलाक़शुदा है, तो लोग निशा को पटाने और यौन सम्बन्ध बनाने के लिए लालयित रहते. मैं- ये क्या होता है?भाभीजी- क्यों, आपका नहीं है क्या?मैं- शर्माते हुए, अरे यार आप भी.

दोस्तो, मिताली की चुत की आग ने मेरे लौड़े को मानो आग लगा कर छोड़ दिया था. शालिनी को प्रिया ने अपने पति के बारे में सब बताया कि उससे कुछ नहीं होता है. योगेश ने मुझसे ये ख्वाहिश जाहिर की कि दो दिन बाद उसका बर्थ-डे है, तो मैं इसी ड्रेस को पहन कर उसको मिलने आऊं.

वो अपने लंड के टोपे को मेरी चूत के होंठों के बीच लहराने लगा और मेरा रुका हुआ बांध फूट पड़ा.

तो मैंने कहा- साले जसवंत, तेरी माँ चोद दूंगा … बहन के लोड़े … तेरी हिम्मत कैसे हुई मेरी नसरीन आपा के बारे में ऐसा बोलने की?लेकिन मैंने देखा नसरीन आपा सर झुकाए रो रही थी. आपा पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी और उनके हाथ भी अब तक जसवंत की पीठ पर चल रहे थे, वे जसवंत की पीठ को सहला रही थी.

मेरा ज़ोर बढ़ता देख कर भाबी बोलीं- अच्छा गर्म करना तो तुम्हें भी बड़े अच्छे से आता है. तभी सायरा मेरे खड़े लंड को देख कर बोली- चाचा, लग रहा है कि आपने मेरी बहनों को बहुत प्यार से चोदा है. भाभी- मैंने कभी इतना बड़ा और मोटा लंड देखा ही नहीं है … और ये तो मेरी चुत को फाड़ देगा.

औरतों के बूब्स देखकर मेरा लंड खड़ा नहीं होता।अगर मुझे नंगी जांघे दिख जाएँ तो मैं बगैर मुठ मारे शांत नहीं हो सकता।रात के जैसे ही 9:30 हुए, मैंने सोच लिया कि कुछ भी हो जाये आज आँटी को चोदकर ही रहूंगा।फिर मैं उनके पलँग के करीब गया. मैं उसको अपनी गोद में उठाकर बाथरूम में ले गया और उसके ब्लड को साफ किया, उसने मेरे लंड में लगे हुए ब्लड को साफ किया. मेरी कहानी सुनकर सलीम का लंड खड़ा हो गया और उसने मुझे वही बिस्तर पर गिरा दिया और मुझे नंगी करके मेरी चूत चाटनी शुरू कर दी और मेरी चुदाई शुरू कर दी.

भाभी देवर के बीएफ फिल्म ये सुनकर अय्यर ने लंड को हाथ में लेकर उसे बबीता की तरफ करके बोला- हां मेरी लंड को तेरी चुत की बहुत भूख लगी है. मैंने भाभी से एक बार फिर से अपना लंड चुसाया और करीब पांच मिनट बाद मैंने उन्हें कुतिया बनने को कहा.

बीएफ सेक्सी ओपन एचडी

अब मैंने उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी गांड के नीचे एक तकिया लगा दिया. फिर वो बोली- तुम अगर उस टाइम मेरी गांड मारने को कहते तो मैं मना नहीं करती. तो आपा इस बात पर मान गयी और जोश में बोली- अब चाहे मेरी गांड की माँ क्यूँ न चुद जाये, आज तो मैं गांड मरवाकर रहूंगी.

कहानी के पिछले भागकुंवारी बहन की बुर फाड़ दीमें आपने पढ़ा कि बहन की चूत की भाई से चुदाई पूरी हुई. अब वह जोर-जोर से मेरे लंड पर कूदने लगी, वो मेरा लंड अंदर बहर करने लगी. सनी लियोन के सेक्सी हॉट वीडियोमैं बल्लू के सामने घुटनों के बल बैठ गयी और उसके पैन्ट की जिप खोल कर उसका लंड बाहर निकाल लिया.

मेरा इशारा पाते ही उसने नीरज का सर पकड़कर अपना लंड उसके मुँह में दबा दिया.

सेक्स के समय चूत में वीर्य भरने से अलग ही आनन्द मिलता है जैसे कि गर्मी के बाद बारिश का पानी. मैं तुमसे वादा करती हूँ कि अब मैं सिर्फ विशाल और तुम्हारे साथ ही सेक्स करुँगी.

प्रदीप भैया की देखरेख के लिए उनकी पत्नी मंजू भाबी उनके पास रहती थीं. वरना आपा इतनी सीधी और शरीफ थी कि मुझे नहीं लगता कि उन्होंने खुद भी कभी अपनी चूत में उंगली की होगी. जैसे ही मैं उसके बूब्स दबाने की कोशिश करता … वो मुझे रोक देती, वो कहती कि ये सब हम शादी के बाद करेंगे।फिर एक दिन हुआ यूं कि संतोष आंटी (रेशमा की माँ का नाम) अपने गाँव जाना था।और संतोष आंटी की तीनों बेटियां रेखा (बड़ी बेटी), रेशमा (मंझली) और कविता (छोटी) और एक भाई मनोज इन सभी का किसी का एग्जाम तो किसी का और कुछ काम था।आंटी को ले जाने वाला कोई नहीं था.

तभी मौसी जी ने भी कहा- हां आ जा राजा, तू भी हमारे साथ एन्जॉय कर ले.

अम्मी के मुँह से सीटी बज उठी और आवाज़ निकली- ओह्ह ओह्ह आ आ आ आह आह आह!जब पूरा लंड चूत में चला गया और अम्मी के गांड के छेद पर अब्बू की गोटियां जा टकराईं, तो अम्मी मस्त हो गईं. वो बबीता को सर से लेकर पैर तक हर जगह पागलों की तरह किस करने लगा था. मैंने मैम के दूध इतनी जोर जोर से दबाए कि दोनों मम्मे लाल हो चुके थे.

जोकर पेंटमैं उनकी चुदाई देख कर अपना लौड़ा हिलाने लगा था, मेरे दिमाग में फिर से मॉम को देखने जाने का मन करने लगा. यह सुनकर आपा ने कहा- ठीक है, तुम थोड़ी देर बाहर रुको, मैं जल्दी काम ख़त्म करके आती हूँ.

इंग्लिश बीएफ वीडियो देखने वाला

आज की रात मेरे लिए बहुत खास है, इसलिए मैं चाहती हूँ कि आज की रात तुम मुझे ऐसे चोदो जैसे मैं तुम्हें आज की रात ही मिली हूँ. अगले दिन सुबह ही सुबह अमित का कॉल आ गया और उसने पूछा- मेरीरंडी की चूतकैसी लगी?मैंने बोला- मस्त है यार … उसकी सील पहले से टूटी थी लेकिन मैंने चोदा तो उसे दर्द हुआ. मैं समझ गया था कि अम्मी को अपनी गांड में लंड को लेने की खुजली मची थी.

उसके बाल अभी भी बिखरे हुए थे, उसका सिंदूर उसके माथे पर हल्का फ़ैल गया था जो इस बात की गवाही दे रहा था कि रात को हमने बहुत इंजॉय किया था. अब शाम को फिर से आपा मेरे कमरे में आई और बोली- यार, कल फिर उस जसवंत से चुदने जान पड़ेगा. मैं अपने पति से चुदवाते समय अपनी चुत में रोहित का लंड महसूस करने लगी थी.

दो बार निशा के साथ काम करने वाले पुरुषों ने उससे दोस्ती की, शादी का वादा किया, कुछ दिन उसके साथ संभोग किया और बाद में शादी से इंकार कर दिया. तीन बार की चुत चुदाई और एक बार की गांड चुदाई में ही उसे मेरा लंड पसंद आ गया था और वो मेरी पर्सनल रंडी बन गई थी. अम्मी ने अब्बू के होंठ छोड़ दिए और सिस्कारते हुए चिल्लाने लगीं- हाय हाय आह आह आह हाय असगर के अब्बू … मैं मर जाऊंगी.

मुझे अपनी मां की बताई बात याद गई कि कविता भाभी का पति दारू पीकर उन्हें मारता है. वह बोला- जो बात मुझे कहना चाहिए वो तो तुम कह रही हो रेहाना!मैंने कहा- तुम हो एक शरीफ आदमी और मैं हूँ बुरचोदी एक बड़ी बेशरम लण्ड की दीवानी लड़की.

तभी मुझे याद आया कि वो लैंड लाइन नंबर कहां का है, जिससे वो मुझे कॉल कर रही थी.

तुम्हें कभी भी मन हो, मेरे घर आ जाना, मैं तुम्हें कभी मना नहीं करूंगी. बुर चोदाई विडियोतभी मुकेश ने मुझसे कहा- राज, मुझे रात के 11:00 बजे स्टेशन छोड़ देना. इंग्लिश फिल्म वीडियो ब्लूपढ़ें इस कहानी में!मेरी कहानी के पिछले भागकुंवारी बुर की पहली चुदाई करने की लालसामें आपने पढ़ा कि मैंने अपनी क्लास की एक सीधी सादी लड़की को सेट करके चुदाई के लिए तैयार कर लिया था. उन्होंने अपने दोनों हाथ मेरी पीठ पर बांध दिए और मेरे सीने से खुद को रगड़ने लगीं.

शराब पीते हुए मनोज ने बताया कि उसकी होने वाली पत्नी कॉलेज में उसके साथ थी.

निप्पल में दूध लगा होने के कारण ब्लाउज से ढकने पर भी कपड़े के अन्दर आर-पार निप्पल और उसका चॉकलेटी घेरा नज़र आ रहा था. अब आगे ब्रदर सिस्टर सेक्स कहानी:वह मेरी चूत के अंदर सिर्फ जीभ डाल रहा था. दोस्तो, मैं Xxx फैमिली स्टोरी के अगले भाग में अपनी मामी की चुदाई लिखूंगा कि कैसे मैंने उन्हें चोदकर मां बनाया.

किस तरह एक जवान लड़के ने ट्रेन में मुझे पेला था, आज आपको मैं वही बताने जा रहा हूं. एक दिन कीर्ति को पनिशमेंट में देखकर मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?उसने कहा- मुझे एक्सेल में … और टैली में बहुत ही प्राब्लम है. जिस पते पर हम दोनों को पहुंचना था वह हमारे घर से लगभग आधा घंटा की दूरी पड़ताथा.

बीएफ वीडियो सेक्सी मारवाड़ी

उनके मुँह से अभी भी सीत्कारों की एक लहर सी आ रही थी- आंह … उन्ह … सी … मेरी जान!अब भैया धीरे धीरे से अपने लंड को चुत के अन्दर बाहर करने लगे. दिनेश ने पेन नीचे फेंका और बैंच के नीचे घुस गया।नीचे दिनेश मेरे लण्ड को, जो कि पैन्ट में बंद था, पर अपना गाल फेरने लगा. मैंने करीब 20 धक्कों के बाद अपना गर्म लावा भाभी की चुत में भर दिया और वो भी झड़ कर मुझसे लिपट गई.

दोस्तो, जब कोई लड़का किसी लड़की के चूचुक दबाता या मसलता है तो लड़कों को लगता है कि उन्हें मजा आ रहा है.

मैं भाभी से अलग हुआ तो भाभी ने हाथ पकड़ लिया कि क्या हुआ किधर जा रहे हो?मैंने कहा- मैं दो मिनट में वापस आता हूं.

थोड़ी देर बाद सलीम ने मेरी जोरदार चुदाई कर दी जिससे मैं पूरी तरह से संतुष्ट हो गयी थी. तभी पता नहीं मुझे क्या सूझा … मैं आपा के आगे आ गया और अपना लंड उनके मुंह की पास कर दिया. एक्स एक्स एक्स वीडियो डांसदोस्तो, मैं रोहित श्रीवास्तव आपको गांव की एक देसी भाभी की चुदाई की कहानी सुना रहा था.

”मैं खुद ही अंदर डालने वाला था पर उसकी तड़प ने मुझे कुछ और करने को कहा. वो बोला- मैंने आज तक तुझसे ज्यादा सेक्सी रंडी नहीं देखी!उसके मुंह से अपनी तारीफ सुनकर मैं शर्मा गयी और उसे किस करने लगी. मेरी मौसी बेड में नंगी कुतिया बनी हुई थीं और मौसा जी मौसी की गांड मार रहे थे.

मगर कानूनी प्रक्रिया में देर लगती है तो मकान की सील नहीं खुल सकी थी. बैंक में रखने और प्रॉपर्टी, गाड़ी आदि खरीदने के लिए हमको कोई कमाई का ज़रिया दिखाना होता था.

मैं हंस दिया और कहा- तुम पहले भी अपनी गांड में लंड ले चुकी हो क्या?उसने कुछ नहीं कहा, बस मुस्कुरा दी.

भैया ने अब धीरे से अपनी एक उंगली को भाभी की चुत की दरार के बीच में हल्का सा अन्दर किया तो भाभी एकदम चौंक उठीं और उन्होंने अचानक से भैया के लंड को छोड़ दिया. तो अगर विशाल ने किसी और लड़की को किस कर लिया तो कौन सा बड़ी बात है?यह सुनकर आपा सोच में पड़ गयी. मैंने दरवाजा खोल कर डिब्बा बाहर रख दिया और अपना खड़ा लंड बॉक्सर से थोड़ा बाहर ऐसे निकाला, जैसा अंजाने में निकल आया हो.

लवली इमेज उस आदमी के लंड से अपनी अम्मी की चुदाई का मजा हम दोनों भाई बहन ने लाइव देखा. अगले दिन ऑफिस में प्रीत ने मुझको बताया कि 15 दिनों बाद दो अफ्रीकी ग्राहक आने वाले हैं.

मैं जानता हूँ कि मैंने तुम्हारा दिल दुखाया है, पर तुम्हें भी ये समझना होगा कि एक आदमी को सबसे ज्यादा तकलीफ तब होती है जब उसकी बीवी किसी और मर्द से उसका मजाक उड़ता देख उस पर हंसे. थोड़ी देर बाद फिर हम दोनों ने दुबारा किस किया और बिना किसी की नज़रों में आए, बाहर आ गए. हाथों के ठंडेपन से मुझे अहसास हुआ कि उसके दोनों हाथ मेरी टी-शर्ट के अन्दर हैं.

बीएफ दरवाजा

मैं शीतल को अपने पीछे आते देख कर चौंक गया और मैंने उससे पूछा- तुम यहां क्या कर रही हो?उसने कहा- मैं तुम्हारे लिए चाय लेकर आई हूं. लेकिन मेरी वजह से आज न जाने उन्हें क्या क्या शब्द सुनने को मिले थे. मैंने हैरानी जताई और पूछा- ऐसा क्यों?भाभी बोलीं कि मेरे पति का लंड है ही नहीं … वो एक लुल्ली है और साला बहुत पतला है.

तो मैंने उसे जगाना ठीक नहीं समझा और सोने के लिए दूसरी जगह ढूंढने लगा. मुझे देखते ही उन्होंने अपना मूत रोक लिया, अपना चेहरा अपने हाथों से ढक लिया और बोली- बेगैरत इन्सान … जाओ यहाँ से मुझे अभी पेशाब करना है.

ये सब देख कर बबीता मन ही मन बोल उठी- क्या बात है अय्यर … कल जो तुमने किया, वो तो असली मर्दानगी थी.

अब मैं उनके सामने नीली ब्रा और पैंटी में थी।मुझे ब्रा और पैंटी में देखकर उन सबके लंड पैन्ट फाड़कर बाहर आने को तैयार बैठे थेफिर मैं बल्लू के पास चली गयी क्यूँकि मुझे उन सभी में सिर्फ बल्लू का शरीर ही पसंद आया था. लेकिन जो भी हो जो मजा सील पैक लड़की के साथ सेक्स करके उसकी सील तोड़ने में आता है, वैसा मजा किसी और में नहीं आता है. चाय पीने के बाद मैं सिगरेट पी रहा था कि तभी मेरी एक और रखैल, मेरी चचेरी चुदक्कड़ बहन आरिफा और उसकी चुत से निकली मेरी कुंवारी सेक्सी हॉट चिकनी खूबसूरत जिस्म वाली बेटी आ गई.

क्या ऐसी हालत में भी मैं तुमसे मना कर सकती हूं?मैंने उनकी आंखों में देखकर हंसते हुए अपना लंड धीरे-धीरे उनकी चूत में डालना शुरू कर दिया. उन्होंने पता किया तो पता चला कि दीपक को कस्टम की चोरी के दोष में गिरफ्तार कर लिया गया है।मैं तो घबरा गई, मैं गाड़ी उठा कर झट से राजेश जी के घर पहुंची. कुछ देर बाद मैंने संगीता मैम को पैर फैला कर हल्का बेंच की तरफ झुका कर खड़ा कर दिया और नीचे बैठ कर स्कर्ट के अन्दर मुँह डाल कर चुत चाटने की शुरूआत की.

क्षिति ने नीचे बैठकर मेरे लंड को शावर के पानी से धोया, फिर किस करते हुए चूसने लगी.

भाभी देवर के बीएफ फिल्म: मैंने जाकिरा को इशारा किया तो वो मेरी अलमारी से लंड को ताकतवर बनाने वाले तेल की बोतल उठा लाई और मेरे लंड की मालिश करने लगी. फिर मैंने मंजू भाबी से पूछा- आप यहां कैसे सोएंगी और हम कैसे रहेंगे.

उस वक़्त नसरीन आपा ने बुर्का पहना हुआ था, उनकी सिर्फ आंखें ही दिखाई दे रही थी. उसने कहा- यहां मेरा इंतजार कर रहे थे क्या?तो मैं भी खुल कर बोला- हां, सुबह से आपकी राह देख रहा था. बीवी मेरी कामुक नजरों को पढ़ कर बोली कि इसकी बुर चूसनी है?मैं बोला- हां ऐसी मस्त बुर को बिना पिए कैसे रह सकता हूँ.

तो मैंने भाभी की सीलबंद चूत को अपने लंड से फाड़ कर भाभी को माँ बनाया.

जैसे ही लंड चूत में घुसा, तो अम्मी ने पूरी टांगें खोल कर सिस्कारते हुए आवाज निकाली- उह हहह आह आह ऊई मां … क्या लौड़ा है … साले इतना लंबा लंड एक ही बार में डाल दिया … हाय मैं मर गयी. मगर मैं तो दो दिन से भरा बैठा था, तो जोश जोश में हाशना के मम्मे दबाए जा रहा था. मैं सोच में पड़ गया था कि मेम के साथ पता नहीं कुछ हो भी पाएगा या नहीं.