सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी

छवि स्रोत,ब्लू सेक्सी खचाखच

तस्वीर का शीर्षक ,

अपनी शादी कैसे तोड़े: सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी, मैं भी चाची को अपनी बांहों में भर कर ऐसे ही करीब आधा घंटा तक पड़ा रहा.

हांगकांग की सेक्सी

मेरी मोटी मोटी चिकनी जांघों को सहलाते और चूमते हुए मेरी चड्डी के ऊपर से ही उसने मेरी चूत को चूमा और फिर मेरे पेट के पास आकर मेरी गहरी नाभि में अपना जीभ डालकर चूमने लगा. तब्बू हीरोइन की नंगी फोटोमैं बोला- प्रीति दीदी ने आपको जब सब कुछ बता दिया था, तो मुझे क्यों तड़पा रही हो.

मैंने उनकी प्लाजो सलवार को थोड़ा ऊपर किया और हल्के हाथों से लगाना शुरू कर दिया. सुहागरात के दिन क्या-क्या होता हैमैं चुपके से किचन में गया ओर चाची को पीछे से अपनी बांहों में जकड़ लिया.

मैं आपको बता नहीं सकती यह पहला अहसास मेरी जिंदगी का कितना मीठा अहसास था.सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी: मैं हाम्फ़ने लगा था।आंटी ने अपनी चूची मेरे मुंह में डाल दी।हम अलग हुए तो अलमारी भी गीली हो गई थी.

उनकी श्रीमती जी ने बिजली रिपेयर करने वाले को फोन किया था लेकिन वह फोन नहीं उठा रहा है.फिर उसने अपने एक हाथ की 4 उंगलियां भी मॉम की चूत डाल दीं और पूरी स्पीड से चोदने लगा.

करीना कपूर की नंगी सेक्सी फोटो - सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी

नीचे से आंटी लगातार मॉम की चूत में अपनी गाढ़ी लार वाली जीभ अन्दर डाल कर चूसने में लग गई.मैंने मामी की दोनों टांगें पकड़ीं और उनके कंधों कर ले जाकर कहा- टांगें पकड़ कर रख रंडी.

मैं छटपटा गया जैसे किसी ने गांड में कार्ड स्वाइप किया हो।अयाना ने मेरी जांघों को भी चूमा और सहलाया. सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी मुझे लग रहा था कि मेरे ब्वॉयफ्रेंड के अलावा कोई दूसरा आदमी मेरे बदन को न छुए, पर मैं मना भी नहीं कर सकती थी.

वो मुझे जोश दिला रही थीं लेकिन मैं भी कहां थकने वाला था, मैंने भी आंटी को ऐसा चोदा कि वो थरथरा उठीं.

सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी?

मेरी नज़रों के सामने एक अजीब सा नज़ारा था जिसमें भाभी की चूत तो दिख ही नहीं रही थी. सर ने जब ये कहा तो मैंने कहा- नहीं सर, मैं किसी से कुछ नहीं ले सकती हूँ. मैंने अपने दोनों हाथों को उसकी पीठ पर ले जाकर उसे इस तरह से कस लिया कि वो बिल्कुल मेरे सीने पर चिपक गई.

शमशुद्दीन जी उठ कर बाथरूम चले गए और अरुणिमा अपनी कमर नीचे करके पूरी तन्मयता से गुरबचन जी का लंड चूसने लगी. उसकी मम्मी ने कहा- बेटा, मैं रामू (उनका नौकर) को मदद के लिए भेज दूंगी. मैं भी उठा तो गुरबचन जी बोले- तुझे भी चोदना है क्या?मैंने ना में सर हिलाया तो वो बोले- तो यहीं बैठ ना ….

फिर धीरे-धीरे मैं उसके कच्छे के बाहर से उसके लंड पर उंगलियों से सहलाने लग गई. मेरा मन नहीं मान रहा था कि मैं अरुणिमा को अन्दर शमशुद्दीन जी से चुदते हुए छोड़ कर बाहर बैठ कर उनके चुदाई ख़त्म कर आने का इंतज़ार करूं. मैंने मामी की कुर्ती को ऊपर उठा दिया और उनकी दोनों चूचियों को 15 मिनट दबाया और चूसा.

कुछ ही पलों में मेरे पहलवान पति ने एक तेज आह के साथ अपना पूरा माल मेरे मुँह में डाल दिया. वो सिसकारी के साथ बोलने लगी- और जोर से मेरे राजा … बहुत आग लगी है इसमें … खा लो इसे!तभी उसका पूरा शरीर अकड़ने लगा और अपनी चूत पर मेरे मुंह को हाथों से दबाने लगी और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

वो गांड में लंड देने वाला बड़ी धीमी आवाज में बोला- गांड ढीली कर मादरचोद.

मैंने कहा- इधर केबिन में ही लेगी या कमरे में लेगी?वो बोली- नहीं यार, कमरे में चल कर मस्ती से लूंगी.

अंकल मम्मों को दबाए और चूसे जा रहे और साथ ही कहते जा रहे थे- ललिता, कितने हसीन मम्मे हैं तेरे, तेरा बदन कितना सेक्सी है ललिता … तेरी जवानी आज तक अनछुई कैसे रह गई … आज तेरी अनछुई जवानी को छूकर मैं निहाल हो गया. आंटी ने सेक्सी अदा बनाते हुए कहा- वो तो शादी के समय ही पॉसिबल है बेटा, अभी तो नहीं हो सकता. मैं वासना से अपनी नंगी साली को देख कर बोला- वाओ मस्त लग रही हो जान … आई लव यू.

वंदना ने मेरे लंड की तस्वीर देख कर कहा- क्या मस्त लंड है तेरा, काफी लम्बा और मोटा है. अब मैं खड़ी खड़ी थक गयी थी, तो मैंने बिना शोर किए बगल से कुर्सी उठाई और ग्लास डोर के बाजू में छुपकर बैठ गई और उन दोनों का सेक्स देखने लगी. ऐसे ही करते करते पूरा लंड नीतू की गांड में समा गया और आगे चूत में डिल्डो फंसा हुआ था.

भाबी ने कहा- हम दोनों को गीले कपड़े उतार कर बैठना पड़ेगा, नहीं तो हम ऐसे ही मर जाएंगे.

इसी तरह रात के 3-4 बजे तक हम दोनों बैठ कर खूब मस्ती करने लगे और लंड की एक्सरसाइज करने लगे. मैं ख़ुशी से झूम उठा और नीचे भाभी को देखने चला गया कि वो क्या कर रही हैं. आज तुम मुझे अपना बना लो अब देर न करो … जल्दी से मेरी प्यास बुझा दो.

कुछ देर बाद पाखी ने खुद मेरे ऊपर आकर मुझे पूरा नंगा किया और मेरी छाती समेत सारे शरीर को अपनी जीभ से चाट कर मुझे गीला कर दिया. हमारे इंडियन पुरुष कुछ ज्यादा ही लेस्बियन मूवी की मांग करते हैं इसलिए. माइक पर घोषणा हुई- सभी सीखने वाले नहा कर हल्का खाना खा लें, थोड़ा आराम करें.

वो धीरे से बोली- अपने हथियार से मेरी गांड मार सकता है!मैं शान्ति से बोला- हां मैडम, मैं गांड भी बड़ी आसानी से मार लेता हूं.

वहां मैंने अपने आपको कंट्रोल किया और अपने बाथरूम में जाकर सीन को याद करके अपनी चूत में उंगली करने लगी. मैंने लंड को पायल की चूत की फांकों में फंसाया और जोरदार धक्का दे दिया.

सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी भाभी चीख पड़ी- आंह साले कुत्ते धीऱे कर ना!मैंने धीऱे धीऱे भाभी की गांड मारनी शुरू की और कुछ देर में भाभी की गांड में ही झड़ गया. मैं उसकी ओर देखती हुई बोली- वाह बहुत अच्छे नाम है तुम्हारे, बहुत बढ़िया.

सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी मैं ये सुनकर भौचक्का रह गया- क्या … क्या मतलब है आपका … क्या ये पहले से तय था?बुआ- हां बेटा, नीलिमा जानती थी कि मैं तेरा लंड ले रही हूँ, इसलिए उसने मुझे अपनी इच्छा बता दी थी. वो चूमते हुए मेरे सीने पर काट भी रही थी।अब मैं अपना हाथ उसकी पीठ पर फिराते हुए उसके चूतड़ों पर ले आया और उनको पकड़ कर दबा रहा था।अब मैंने उसे अपनी बांहों में उसकी हिप्स के सहारे उठा लिया और उसे बेड पे ले जाकर टिका दिया।मैं अब उसकी नंगी टांगों को चूमता हुआ उसकी चूत के पास गया जाँघों को चूमने लगा.

वो मेरी चूत पर हाथ फेरने में लगे हुए थे और मेरे मुँह से कामुक सिसकारियां निकल रही थीं.

ब्लू पिक्चर नया वाला

मैं धड़धड़ाता हुआ अन्दर चला गया और सामान को एक कमरे में रख कर सबको ढूँढने लगा. चाची बोलीं- यह सचमुच तुम्हारा लंड है या किसी और का लगा लिया! मुझे तो यकीन ही नहीं होता. मैंने एक बार फिर से कहा- बाहर निकालूं क्या?उसने कराहते हुए बोला- अब तो डाल ही दिया है, तो बाहर क्यों निकालना.

मुझे लगा कि यार अब तक मैंने चाची के साथ कितना गन्दा सुलूक किया और मैंने चाची के साथ कितनी बेरहमी वाली चुदाई की. तभी दीपक ने उसे बिस्तर पर पटक दिया और उसकी टांगें खोल उस पर चढ़ गए, उन्होंने निरोध नहीं लगाया।रोशनी बोली- सर, आपका गर्म मोटा लंड जब मेरी चूत की दीवारें चीरता है, तो मन करता है कि … आआह्ह!वो आगे कुछ बोलती, उससे पहले दीपक ने ज़ोर से धक्का मारा और उसे चोदने लगे. मैंने पूछा- भाबी, लंड चूसने में मजा आ रहा है?भाबी ने कहा- हां यार, मुझे लंड चूसना बहुत पसंद है.

मेरी भाभी क्या मस्त माल लग रही थीं; उनका पूरा शरीर एकदम रबर की तरह मुलायम व लचीला था.

फिर मैंने गुंजन के पापा को लड़के के बारे में बताया और उनकी फोटो भी दिखा दी. चाची सास- हां वो तो मुझे पता है, पर कुछ कर भी रहे हो!मैं- कुछ नहीं. हुआ यूं कि मैं दीवाली पर मेरी मम्मी को लेकर अपने मामा के यहां गया था.

मेरे बूब्स दबाते हुए वो मुझे बारी बारी किस करने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने मुझसे पूछा- ललिता क्या सोचा तुमने?मैंने उन्हें कोई जवाब नहीं दिया तो उन्होंने अचानक बांहों में जकड़ लिया और मेरे होंठों पर एक चुंबन जड़ दिया. ऊओफ्फ़ आह क्या बूब्स थे पायल के … एकदम तने और कसे हुए बड़े आकार के गोल गोल खरबूजे से मम्मे देख कर मुझसे रहा नहीं गया और मैं अपनी आंखें बन्द करके पायल के मम्मों पर टूट पड़ा.

उसने मेरी छाती पर दोनों हाथ रखे और मुझे पीछे धकेलने की कोशिश करने लगी. मैं समझ गया था कि वो हर तरह के सेक्स में पारंगत है और मुझे भी वो अपने जैसा ही समझ रहा था.

पहले तो चाची सास के बारे में मेरा कोई ऐसा विचार नहीं था पर अब मुझे चाची सास के बारे में एक अलग फीलिंग आने लगी थी. फिर मैंने पानी पीते-पीते उनसे कहा- क्या मैं आपसे एक बात कहूँ?तो वो बोली- हाँ कहो?तब मैंने कहा- मैं आपको ब्रा और पेंटी में देखना चाहता हूँ. मैं उसके पास से उसके नंगे फ़ोटो मंगवाया करता था और उसकी मदमस्त जवानी को देख मुठ मारके अपने आप को ठंडा कर लेता था.

बारहवीं क्लास की एक लड़की, जिसे मैं काफी पसंद करता था … परंतु उसे कभी बोल नहीं पाया था.

मेरे और भाभी के बीच हंसी मजाक चलता रहता था और उनके द्वारा ही मुझे काफी कुछ सीखने और जानने को मिला था. जिस दिन हमें जाना था, उस दिन अचानक से हुसैना भाभी ने जाने से मना कर दिया क्योंकि उनको एमसी आई थी. आज मैं अपनी लाईफ की रियल सेक्स में मजा मिलने की कहानी लिख रही हूँ और मुझे उम्मीद है आपको मेरी पहली कहानी बहुत पसंद आएगी.

जैसे ही मैं थोड़ा जोर से धक्का लगा देता, वो अपने नाखून मेरी पीठ पर गड़ा देती और उसके मुँह से बहुत ही कामुक आवाज निकलती ‘ऊऊ ऊईई ईई मम्मीई. वो बोली- मैं यहां बैठने नहीं आई हूँ जीजू, दीदी या आपको कोई दिक्कत नहीं हो, इसलिए मैं यहां आई हूं.

थोड़ी देर बाद जब मैम की आंख लग गई तब मैंने उनके तलवे को जीभ से चाटना शुरू कर दिया. मैं पहले ही बता देना चाहता हूं कि यह सिस्टर ऐस फक कहानी मेरी बड़ी दीदी नेहा की चुदाई की है. तभी अचानक से एक हाथ मेरी गांड पर लगा तो मैंने पीछे घूमकर देखा तो वो आयुष ही था और उसी ने ही मेरी गांड को छुआ था.

सेक्स वाली बात

[emailprotected]हॉट वाइफ Xxx कहानी का अगला भाग:मेरी कमसिन बीवी मेरे दोस्तों से चुद गयी- 2.

भाभी आंख बन्द करके बार बार बोल रही थीं- आह मेरी जान … जल्दी से चोद दो मुझे … नहीं तो मैं मर जाऊंगी. मेरी साली ने सुबह 7 बजे फोन किया और वो बोली- दीदी मैं बस में चढ़ गई हूं. अब तू आराम से बैठ कर बियर पी क्योंकि अब इस छमिया को अपने लवड़े पर सैर कराने की हमारी बारी है.

मैं तो जैसे किसी मरी हुई चाची के साथ चुदाई कर रहा हूँ, ऐसा लग रहा था. मैं पहले भी कई बार चाची की गांड मार चुका हूं इसलिए उन्हें कोई दिक्कत नहीं थी. तेजाजी कीमैं उम्मीद करता हूँ कि कहानी के पिछले भाग आप लोगों को अच्छे लगे होंगे और कहानी आपको पसंद आ रही होगी.

दूसरी तरफ वरूण अपने फोन में लगा हुआ था तो उसको कोई फर्क ही नहीं पड़ रहा था. भाभी अपनी चूत पर उंगली रगड़ने लगी थीं और कहने लगी थीं- मेरे राजा अब आ जाओ, देर न करो … मैं तड़प रही हूँ.

स्वाति चीख रही थी- आआआ … मारररर … डाला … मादरचोद मैंने कहा था न धीरे मारना … साले तेरा लंड बहुत बड़ा है. भाभी बाथरूम में बेसिन पकड़ कर कुतिया बनी हुयी थीं और मैं पीछे से भाभी की चूत में धक्का दिए जा रहा था. अपनी चाची को चोदने की मेरी वासना और बढ़ गई थी मगर फिलहाल कुछ नहीं किया जा सकता था.

फिगर की बात की जाए तो बड़े बूब्स जिसके ऊपर गुलाबी निप्पल आपके पजामे में तम्बू खड़ा करने के लिए काफी हैं. मैंने पूछा- क्या हुआ?भाभी ने बताया- उनके पति का छोटा सा है … और लंड अन्दर डालते ही झड़ जाता है. उसके बाद वो बाथरूम जाने लगी तो उससे चला नहीं जा रहा था।फिर मैं उसे गोद में उठा के बाथरूम लेके गया।उसके बाद मैं दो दिन वहाँ रहा और दिन रात हमने चुदाई की.

मैंने इस बार उनकी जांघों में थोड़ी तेज़ से च्यूंटी काटी, जिससे उनकी हल्की सी आह निकल गई.

जब मेरी बहन की नंगी चूचियां और गांड हिलती, तो मुझे बहुत मजा आ रहा था. कुछ देर सोचने के बाद मैंने गूगल की हिस्ट्री को खंगाला तो मुझे ढेर सारी साइट्स दिखने लगीं.

दोस्तो, अब विलेज देसी सेक्स की कहानी के अगले भाग में आप मेरी पहली चुदाई पढ़ेंगे. मैंने अपनी सगी बहन की चूत पर लंड सैट किया और पेलने से पहले अपनी बीवी कोमल से कहा- तुम नीतू को पकड़ो. फिर धीरे से धक्का मारा तो मैडम की मां चुद गई और उसकी चीख निकलने लगी.

नीतू- मैं नहा कर बिना कपड़ों के बाहर कैसे आऊंगी?कोमल- मेरी प्यारी ननद अब शर्माना छोड़ दो. जब मैं घर वापसी के लिए बस में बैठी तो कुछ समय बाद ही मेरी सीट के पास आके एक 20-21 साल के लड़के ने मुझसे बैठने की अनुमति मांगी. अपनी बहन की सहेली की कुंवारी चूत फाड़ने की कहानी मैं आपको अगली बार सुनाऊंगा.

सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी मुझे हालांकि हल्का हल्का दर्द भी हो रहा था, पर चुदाई का जुनून मुझे मस्ती दे रहा था. आते ही भाभी उनको अन्दर ले गईं और मैं निकल कर अपने कमरे में चला गया.

मराठी सेक्सी बीफ

इसमें मैं अपने पति की हवस की हॉट हनीमून सेक्स स्टोरी लिख रही हूँ जो मेरे पति ने मेरे साथ किया था. थोड़ी देर बाद मैंने आंटी को सोफे पर कुतिया बना दिया और उनकी जल्दी जल्दी पैंट उतारने लगा. मेरा फर्स्ट सेक्स एक्स्पीरिएंस मैंने 19 साल की उम्र में अपने दादा के दोस्त के साथ किया.

फिर जब चुदाई क्या चीज होती है, इसका मालूम हुआ तो मन विचलित होने लगा और प्रकृति की स्वत: ज्ञान देने की प्रवृत्ति ने मुझे मुठ मारना सिखा दिया. मैंने नंगी चाची चोद दी होटल के कमरे में! चाची मुझसे कई बार चुद कर थक गयी थी. यूरो सेक्सीएक दिन शर्मा आंटी अपने मायके में भाई की शादी का न्यौता देने हमारे घर आईं.

उसके बाद वो मेरी चड्डी को अपने दोनों हाथों से नीचे की ओर सरकाने लगा.

मैंने कहा- फहीमा भी ऐसे ही कहती थी मगर एक बार गांड मरवाने के बाद हर बार चुदने के बाद वो अपनी गांड जरूर मरवाती है. अब आगे कपल थ्रीसम सेक्स कहानी:मैंने ज्योति के सामने बैठकर उसके चूतड़ों को दोनों हाथों से बैड से ऊपर उठाया और उसकी पैंटी के ऊपर अपने तपते होंठ रख दिए.

प्रिय पाठको, मैं विक्रांत 33 साल, मेरी पत्नी नैना 31 साल और मेरा बेटा (रिया) 6 साल के हैं. वो भी गर्माने लगी और वासना से बोली- आआ अहह तुझे सिर्फ़ दबाना ही आता है या अब चूसेगा भी!मैंने बिस्तर पर बैठ कर उसके एक निप्पल को मुँह में ले लिया और चूसने लगा. वो आगे बोले- स्वप्निल भाई, पहले हमारा तेरी इस रांड को चोदने का कोई इरादा नहीं था, पर साली का पल्लू कुछ ना कुछ परोसते हुए बार बार गिर ही जा रहा था.

ऐसे ही करते करते पूरा लंड नीतू की गांड में समा गया और आगे चूत में डिल्डो फंसा हुआ था.

मैंने पूछा- क्या हुआ?भाभी ने बताया- उनके पति का छोटा सा है … और लंड अन्दर डालते ही झड़ जाता है. शायद उसकी बच्चेदानी तक पहुंच गया था क्योंकि मुझे लौड़े पर अन्दर कुछ ऐसा महसूस हुआ. बीवी टहलती हुई बोल रही थी कि बहुत दिन से लंड चूसने को नहीं मिल रहा है.

బ్రదర్ అండ్ సిస్టర్ సెక్స్मैंने का- अब ये मैं कैसे कह सकता हूँ, ये तो मामा जी ही जानते होंगे कि आपमें कितना वजन है. उसकी पतली कमर और कमसिन जवानी मेरा लण्ड को खड़ा कर चुकी थी।मैं किस करता हुआ नीचे गया और उसकी लोअर को नीचे खींच दिया।सोनी ने अंदर भूरे रंग की पैंटी पहनी हुई थी।उसने खुद से अपने लोअर को अपनी टांगों से निकाल दिया और फिर मेरा टीशर्ट खोल दी।वो अब मेरे शरीर को चूम रही थी.

नंगा नाचो

वो बोली- साले, गांड की तरफ की सोचियो भी मत … उधर तेरी दाल नहीं गलने वाली. वैसे तो मैं 12 साल के एक बेटे की मां हूँ लेकिन मुझे देखकर कोई भी कह नहीं सकता कि मैं शादीशुदा हूँ. उसने मॉम का हाथ पकड़ कर अपनी चिकनी मुलायम चूत पर रख दिया और मादक आवाज में कराहने लगी- अहहा … आहह डार्लिंग बेबी … मज़ा आ रहा है.

साली हाउस कोट का फीता खोल कर बोली- देखो जीजू, मैंने नीचे कुछ भी नहीं पहना है. आज मैंने पहली बार किसी लड़की की चूत का पानी पिया था और अपना पानी उसे पिलाया था. मैं अपनी नजरें दूसरी तरफ किए हुई बोली- क्या है, मुझे ऐसे क्यो रोक लिया?वो- तुमसे कुछ बात करनी है.

10 मिनट तक अंकल ने मुझको ऐसे ही चोदा और फिर मुझको बोले- बाथरूम में चलो।अंकल मेरे आगे आगे और मैं अंकल के पीछे पीछे चल दी।हम दोनों बिल्कुल नंगे थे।अंकल ने बाथरूम में ले जा के बाथरूम का नाइट बल्ब जलाया और मेरी आंखों में देखा. ये रीना दूसरी लड़की थी, जिसके साथ मेरी लेस्बियन शूटिंग होने वाली थी. सभी को सोने की जल्दी थी, बहुत सारी नर्स गांड मरवाने को बेकरार थीं और उन सबने अपना अपना लंड को सिलेक्ट कर लिया था.

फिर मैंने चाची को पीठ के बल लिटा दिया और प्रियंका भाभी की तरह चाची की गांड के नीचे भी तकिया रख दिया. उन्होंने मादक अंदाज में कहा- अन्दर नहीं आना क्या?मैंने कहा- चाची क्या क़यामत लग रही हो.

भाभी अपनी चूत पर उंगली रगड़ने लगी थीं और कहने लगी थीं- मेरे राजा अब आ जाओ, देर न करो … मैं तड़प रही हूँ.

ये भाभी मॉडर्न थीं और अपना रंडी रोना मेरे सामने जानबूझकर कर रही थीं ताकि वो मुझे अपने साथ सेक्स के लिए राजी कर सकें. मूवी पिक्चर सेक्सी हिंदीजब लड़के को चोदने में इतना मजा आता है, तो लड़की में कितना मजा आएगा. செக்ஸி இங்கிலீஷ்आप इस तरह से उदास रहोगी, तो आप अपने घर को कैसे सम्भाल पाओगी?मेरी इस बात पर भाभी ने कहा- लगता है इस मोहल्ले में सिर्फ आपको छोड़कर कोई भी इंसान है ही नहीं. (बदला हुआ नाम)उसका दो महीने पहले अपने बॉयफ्रेंड से ब्रेकअप हो चुका है और अब वो किसी के साथ प्यार नहीं करना चाहती.

वो चाय बना रही थी; बोली- तुम भी लोगे?मैंने कहा- आप दोगी तो जरूर ले लेंगे.

मेरी क्लास में एक लड़का बहुत बदतमीज था जो हर टाइम बस लड़कियों की गांड और चूतड़ देखता रहता था. जब वो चुदाई कराती थी ना … तो ऐसे हो जाती थी जैसे कि कई दिन का रोटी का भूखा इंसान सामने हो और उसको रोटी मिल गई हो. मैडम की निगाहें मेरे उभरे हुए पैंट पर थीं, जो कि मेरे पैंट के अन्दर से झांकते हुए लंड को देख रही थीं.

मुझे देखना है कि उन महाशय की साइज और मोटाई क्या है?मैंने बोला- आप भी अपनी पूरी नंगी तस्वीर भेजो. कुछ देर बाद सोच कर जारी रहते हुए दीपक बोले- लाओ इसकी जिम्मेदारी अब मेरी, तुम दोनों पार्टी एंजॉय करो. फिर धीरे से उसने मेरी ब्रा के हुक को खोल दिया और मेरी ब्रा निकाल कर अलग कर दी.

वीडियो जबरदस्ती

मैं उछलने लगा और अयाना की ब्रा खींच कर उसके बूब्स बाहर निकल कर मुंह में भर लिए।अयाना ने भी नीचे से कमर उचकाकर मेरी खूब गान्ड मारी।फिर अयाना ने मुझसे पूछा- चाचा, अगली बार करने देंगे मुझे?मैंने शर्म से नज़रे झुका ली. मैंने भी धक्के लगाना बंद कर दिए और खुद ही चाची के धक्कों की वजह से चूत में लंड डाले अपने आप ही हवा में उछलने लगा. मैं उसे अब और नहीं तड़पाना चाहता था इसलिए मैंने उसे बिस्तर पर लेटा दिया.

फिर सोनल मुझे बाथरूम में ले गई और हम दोनों एक दूसरे के अंगों को साबुन लगा कर मसलने लगे और उसी दौरान फिर से गर्मा गए.

मैं पहली बार किसी का लंड चूस रही थी लेकिन इतने अच्छे से चूस रही थी कि मुझे खुद पर यकीन नहीं हो रहा था कि मैं पहली बार लंड चूस रही हूं.

उसकी आँखें बड़ी बड़ी हो गयी थी।सोनी काफी दिनों के बाद लण्ड ले रही थी तो उसकी चूत सिकुड़ गयी थी. झड़ते समय प्रिया की हालत बहुत खराब होने लगी, उसकी तेज सिसकारी पूरे कमरे में गूंज उठी थी- उईईई ई मम्मीई आह!मैं उसकी चूत इस तरह चाट रहा था जैसे वो मलाई हो. xxx मराठी स्टॉलआपको मेरी हॉट गर्ल सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे ईमेल करना और हैंगआउट पर भी मैसेज करके जरूर बताना.

झड़ने के बाद मैं भाभी के पास आकर लेट गया और भाभी से बोला- भाभी अब आप मेरा लंड चूसो. और ऐसी वैसी नहीं … वहशियना चुदाई।तो कैसी लगी आपको मेरी ये लैंड लेडी फक स्टोरी? कुछ गलती हुई हो तो माफी।अगली कहानी के साथ जल्द लौटूंगा।[emailprotected]. मैनेजर शिखा से बोला- हां जी मैडम, सामने की साईड में एक कमरा है, वहां शान्ति रहती है.

फिर आधी रात में चाचा गहरी नींद में होते, तब दूसरे कमरे में जाकर चाची और मैं खूब चुदाई किया करते थे. एक मिनट के लिए मैं रुक कर उसकी मखमल सी चिकनी पीठ को देखने लगा तो पायल मुझसे बोली- कि रुक क्यों गए … चूमो ना जानू.

आंटी चुदते चुदते मुझे सिखा भी रहीं थीं, खूब सिसकारियां, कराहटें थी।10 मिनट हो गए, मेरा झड़ नहीं रहा था।पर मैं थक रहा था, मैंने बोला- आंटी मैं थक रहा हूं.

उसी के साथ नर्स सुरभि भी किस तरह से मेरे लौड़े के नीचे आई उसकी चूत गांड चुदाई की कहानी भी लिखूंगा. जिस समय वो मेरे बिस्तर पर नंगी लेटी हुई थी, उसे देखकर किसी भी मर्द के लंड से पानी निकल जाता. मैं भाभी के सम्पूर्ण गदराए बदन और शरीर को अपने होंठों से बड़ी ही बेहरमी से चुम्बन किए जा रहा था.

सेक्सी चूत चाटने वाली वीडियो मेरे बारे में आप पहले से जानते हैं, तब भी मैं एक बार फिर से बता देता हूँ. कुछ देर बाद पापा की स्पीड बढ़ गई और पापा, मम्मी के मुँह में ही झड़ गए.

दो दिन बाद स्वाति ने मुझसे अपने केबिन में बुलाया और अपने मम्मे सहलाती हुई वासना भरी बोली- असलम, मैंने जब से तुम्हें अंडरवियर में देखा है, तब से …मैंने भी अपने लंड को सहलाया और उसकी बात काटते हुए कहा- डॉक्टरनी जी, मैंने तो जब तुम्हें पहली बार केबिन में देखा था, तब से मैं तेरे नाम की मुठ मारता हूँ. उसके बाद मेरे दोस्त ने मुझसे कहा- रोनित, सबको अन्दर आने को बोल और तू मेरे साथ टिकट लेने चल!मैं उसके पीछे चल दिया और बाकी दोनों अन्दर आ गए. धीरज ने ये सुन धक्के तेज कर दिए और दोनों एक साथ झड़ने लगे।थोड़ी देर में धीरज निढाल हो गया।और रोशनी फिर बाथरूम चली गई.

पोर्नस्टार वीडियो

उसने मेरी तरफ मुस्कुरा कर देखा और अपने बैग से एक नाइटी निकाल कर बोली- बस मैं अभी कपड़े बदल कर आती हूँ, फिर आपके लिए जल्दी से कुछ नाश्ता बना देती हूँ. उन्होंने बस इतना कहा कि आज शाम को वापस आ जाना … और एक दिन मत रुक जाना. वो चुदासी रांड की तरह मेरे लंड के ऊपर चढ़ गई और एकदम से उत्तेजित हो गई.

फिर तो मेरे दिल से यही आवाज आई- हो गया खड़े लंड पे धोखा।आंटी थकी थीं, वो बेड पे पड़ते ही सो गईं और मैं दूसरे बेड पे लेटकर उनकी चूचियों का दीदार कर रहा था जो हर सांस के साथ ऊपर नीचे हो रही थीं।देखते देखते सो गया मैं भी!सुबह आंटी उठीं, फ्रेश होकर नहा धोकर नाश्ता करके अपने जानने वालों से मिलने चलीं गईं. मगर मेरी कुंवारी जवानी ने शायद मुझे बहका दिया और मैंने उसे हां करने का फैसला कर लिया.

कुछ देर बाद रणवीर ने अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रखा और मुझसे कहा- थोड़ा दर्द होगा … चीखना मत.

अब तक कितने लंड ले चुकी है?वो मेरी छाती पर मुक्का मारती हुई बोली- क्या भैया आप भी बड़े वो हो!मैंने कहा- मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता बहना. मेरे पूरे जिस्म में सनसनी फैल गई और मैंने बिना देरी किए, लपक कर उसका लंड अपने मुँह में ले कर चूसना शुरू कर दिया. उन्होंने अपने मम्मों से मेरा सर लगा लिया, इसमें मुझे बहुत आनन्द आ रहा था.

हां एक बात और … व्हिस्की की दो बोतलें, सिगरेट की डिब्बी और कुछ खाने पीने के लिए सामान लेते आना. उसके ऐसा बोलते ही मैं बड़े जोश में आकर ज़ोर से धक्के लगा कर उसको चोदने लगा. मुझे अरुणिमा जंच गई और परिवार के रजामंदी से कुछ दिनों में उससे मेरी शादी हो गई.

आपको मेरी हॉट चाची Xxx सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे ईमेल पर जरूर बतायें![emailprotected].

सेक्सी बीएफ न्यू हिंदी: मैं बोली- बहनचोद, तेरी चूत तो बहुत खुली है!वो बोली- बहन की लौड़ी, मेरी उम्र में तेरी चूत तो इससे भी बड़ी हो जाएगी. वो अंकल दिव्या के पापा को ड्राप करके चले गए और दिव्या तब तक वहीं रही जब तक उसके मम्मी पापा की बस चली नहीं गयी.

गांव के बाहर रास्ते में किशोर अपनी साईकल लेकर खड़ा हुआ था, उसने मुझे अपनी साईकल पर बैठाया और अपने खेत की तरफ चल दिया. बुआ भी मेरे गले पर किस कर रही थी और साथ ही नीलिमा के बूब्स दबा रही थीं. मुझे माल निकलते वक्त जैसा महसूस होता है, वैसा महसूस हुआ बस!अब मैं पूरी तरह से थक गया था.

अब चाचा मुझसे बोले- क्यों परिमल जाओगे ना चाची के साथ?मैं तो अन्दर ही अन्दर खुश हो रहा था और चाचा को दिखाने के लिए सोचने लगा.

मेरा लंड इतनी स्पीड में चूत के अन्दर बाहर हो रहा था, जैसे एंजिन का पिस्टन अन्दर बाहर हो रहा हो. उसकी सिसकारी थोड़े दर्द में बदलने लगी क्योंकि शायद मेरी कठोर हथेलियों के कारण उसके मुलायम दूध छिल रहे थे. उसने मुझसे फोन पर ही कह दिया था कि तुम इस बात का ख्याल रखते हुए घर में आना कि तुमको कोई पड़ोसी देख न सके.