बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म

छवि स्रोत,गुजराती ब्ल्यू फिल्म सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ में वीडियो: बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म, उसने कहा- तो इसका मतलब तुमने कभी मसाज भी नहीं ली होगी?मैंने कहा- हां, मैंने तो कभी नहीं ली आज तक.

फिल्मी गाने वाली सेक्सी वीडियो

धीरे धीरे अब मैं उनसे ज्यादा क्लोज़ होने लगा था और उन्हें टच करने के बहाने खोजने लगा था. सेक्सी वीडियो भेज यारमेरी मॉम बोल रही थीं कि अब अकेले में चोदना … राखी के सामने मुझे कंफर्ट नहीं हो रहा है.

मजुला को भट्टाचार्य जी का घर एक नज़र में ही भा गया और उसने तुरंत हां कर दी. नंगी चुदाई सेक्सी हिंदीधक्के के साथ ही मैंने उसके मुंह पर हाथ रखा और उसके ऊपर लेटते हुए लंड को पेल दिया.

वो बोली- अपने लंड को मेरी बुर से टच करवाओ न!मैंने कहा- तुम्हें ये सब कैसे आता है?उसने कहा- मोबाइल में देख कर सीखा है.बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म: मां अब सिसकारियां लेने लगी थी- आह्ह … आह्ह … करके वो मस्त होकर अपनी चूचियां दबवाने का मजा ले रही थी.

उसकी भावनाओं का ध्यान रखते हुए मैं भी सावधानी पूर्वक चुदाई कर रहा था.थैंक्स टू यू टू फॉर आल दैट प्लेजर यू गेव मी!” वो भी मेरी छाती चूमते हुए बोली.

रानी मुखर्जी की सेक्सी फिल्में - बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म

थोड़ी देर बाद उसने मुझे चूमा और कहा- मजा आ गया … आज के बाद मैं जब भी बुलाऊं तो तुम्हें आना होगा.दीदी को बगल में लेटे हुए देख कर मैंने उसकी चूची दबाना शुरू कर दिया.

मैं सीधी होकर पीठ के बल लेट गयी और मेरी ब्रा नीचे ही रह गयी जिसको मैंने ऊपर ढकने की कोशिश नहीं की. बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म अमित मेरी बीवी रंडी बोल रहा था, जो मेरी बीवी को बहुत मजा दे रहा था.

दो बजे जैसे ही कम्पाउंडर ने मेन गेट बंद किया, मैं पीछे वाले कमरे में पहुंच गया.

बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म?

कुछ ही दिनों में मैंने उसकी मम्मी से अपनी शहर की कोचिंग के बारे में बताया. अपनी जीभ से उनकी चूत की अन्दर तक कुरेदते हुए उनकी चूत की दोनों फांकों को मुँह में भर कर चूसने लगा. मैंने उससे बोला- मुझे उसके लिए क्या करना होगा?तो उसने बताया कि एसडीओ सर 10000 रुपये मांग रहे हैं.

बियर के दो घूँट खींच कर मैंने सिगरेट निकाली तो नताशा ने मेरे हाथ से ले ली और बोली- तुम कार चलाओ, मैं जलाती हूँ. अमित- आह्ह चूस रंडी तेरा मुँह नहीं … भोसड़ा है साली … और चूस आहह आहह मेरे लंड का माल पियेगी मादरचोद रांड?मेरी बीवी गुं गुं करते हुए हां में सर हिला रही थी. माँ और आपा को इस तरह औलाद के लिए तड़पती देख मेरी बीवी शनाज़ भी अंदर तक हिल गयी कि ये औलाद के लिए कितनी बेचैन हैं और मैं औलाद को रोक रही हूँ.

और मेरे तो बहुत हैं कई साल से!मैं बोली- हाँ, मेरे भी बहुत दिन से हैं. अब इस आग में घी का काम कर रही थी मेरे घर से दो घर छोड़कर रहने वाली मेरे पड़ोस की एक भाभी. वो लंड को गपागप गपागप करके चूसने लगी।अब मैंने उसे उठाकर घोड़ी बनाया; पीछे से उसकी कमर पकड़कर उसकी चूत में थूक लगाया और लंड को सेट करके धक्का लगाया.

मैं भी गांड उठाते हुए उसके लंड के सुपारे की गर्मी से मस्ती लेने लगी. ऐसे ही उसने 3-4 बार किया और अरमान ने अपना पूरा लंड मेरी चुत में उतार दिया.

तो मेरी वाइफ बस पड़ी रही और मैं धक्के लगाता रहा जिसमें मुझे कोई मज़ा नहीं आ रहा था.

बेडरूम में जाकर मैंने उसको बेड पर गिरा दिया और ऊपर से मैं भी उसके ऊपर ही चढ़ गया.

वो कराह रही थी लेकिन उसकी कराहटें मुझे और ज्यादा उत्तेजित कर रही थीं. पौने नौ बजने के कुछ ही पहले किसी ने दरवाजे पर नॉक किया तो मैं समझ गया कि वही एस्कॉर्ट होगी. उस रण्डी की आंखें बंद थीं और वो बिल्कुल मस्त होकर चूत रगड़ने में लगी हुई थी.

मैंने ना बोला, तो मामी बोलीं- अभी हॉल में तेरे मामा हैं … अभी कुछ नहीं हो सकता है. शायद उन्हें लगा होगा कि मैं गहरी नींद में हूँ इसलिए बड़ी मम्मी जी बिंदास होकर अपनी चुत और चूचियां दिखा रही थीं. संजय जब कमरे में आया तो बोला- सासु मां, एक ही कमरा मिला है … किसी से कह दूं कि अलग कमरे की व्यवस्था कर दो.

पहले तो मैंने रिसीव नहीं किया, फिर उसने 2-3 बार फोन किया तो मैंने रिसीव कर लिया।मैं- हैलो!ध्वनि- कहाँ हो तुम? कब से छत पर खड़ी हूं.

तो हुआ यूँ दोस्तो कि एक दिन मुझे लगभग 50 साल के आदमी की फ्रेंड रिक्वेस्ट आ गई. अभी लो मेरी मंजुला रानी, पहले जरा एक बार इसे अपने मुंह में ले के गीला कर दो बस फिर तुम इसकी मालकिन!” मैंने ढीठ बनते हुए कहा. हालांकि मुझे काम-वाम कुछ नहीं था, मुझे तो प्रियंका का स्कूल देखना था, ताकि मैं भी किसी बहाने से उसके स्कूल में जा सकूं.

मुझे दर्द और जलन तो बहुत हो रही थी, लेकिन मेरे मुँह से आवाज निकल नहीं पा रही थी. दो बजे जैसे ही कम्पाउंडर ने मेन गेट बंद किया, मैं पीछे वाले कमरे में पहुंच गया. फिर जब हम नॉर्मल हुए तो पापा ने एक झटके और दिया और पूरा लण्ड अंदर कर दिया.

मैं बोला- क्यों तेरे पति का नहीं है क्या साली?जिया बोली- नहीं … वो कहां खुश कर पाते हैं.

टी टी ने फिर उनसे पूछा- कोई सबूत है आपके पास?उन्होंने एक कार्ड निकाल कर टी टी को दिया. मेरा भी लन्ड तुंरत जीन्स के अंदर खड़ा होने लगा और मैंने उसे फिर से चूमना शुरू किया.

बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म मुस्कुराते हुए मैंने कहा- मतलब पूरी तैयारी से आए हो, जब इतनी मेहनत किये हो तो तुम्हें मना कैसे कर सकती हूं. मैंने कहा कि जब तक मैं नहा कर आती हूं तुम जरा सेट टॉप बॉक्स को देख लो.

बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म अगले ही क्षण उसने मेरी मां की चूत में लंड को पेल दिया और उसको दे दनादन चोदना शुरू कर दिया. मैंने कहा- कौन से पार्क में?तो उसने मुझे एक पार्क का नाम बताया और बोला- वहीं मिलिए.

अब जो रास्ता था, वो हाईवे से हटकर गांव वाले सिंगल रोड वाला रास्ता था.

एक्स वीडियो इंडियन बीएफ

वो बोलीं कि मैं अपने पति को क्या बोलूंगी?मैंने कहा- बोल देना कि बस या कोई ट्रेन में जगह ही नहीं मिली. दो हवलदार दोनों तरफ से मेरे स्तनों के नीचे लेट गये पीठ के बल और मेरी निप्पल को अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगे. मैं चुदना चाहती हूं जमकर!मेरा लौड़ा खड़ा होने लगा और हम दोनों एक-दूसरे को बेतहाशा चूमने लगे।फिर उसने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया और तेज़ तेज़ लंड को अंदर तक गले में लेने लगी.

मेरा लंड उसकी चुत में पूरा पेवस्त हो चुका था और मुझे यूं लग रहा था, जैसे मेरा लंड किसी जगह फंस सा गया हो. जैसे ही हमारा नंगा बदन एक दूसरे से टच हुआ, हम दोनों की ही सिसकारी निकल गई- आह हहह हहहह!मैंने ब्रा के ऊपर से ही अपने दोनों हाथ चूचियों पर रख दिए और सहलाने लगा. उसने अंगड़ाई लेते हुए कहा- जय मैंने यहां का मार्किट नहीं देखा है … मुझे कुछ शॉपिंग करनी है … और घर के लिए भी कुछ सामान खरीदना है.

मैंने सामने बैठे लड़कों को इशारा किया और उनमें से दो लड़के मेरे कम्पार्टमेन्ट के गेट के सामने आ गये.

मैंने कहा- अगर अंदर के नजारे मिल जायें तो मैं दुनिया का सबसे भाग्यशाली व्यक्ति बन जाऊंगा. अब उसके हाथ मेरी पीठ पर से मेरी बगलों के पास मेरी चूचियों की जड़ तक आ रहे थे. आह अलीमा की चुत के अन्दर का गुलाबी मांसल दृश्य बलविंदर के सामने आ गया था.

बाबूजी को मेरी जांघें तो दिख रही थीं लेकिन करवट लेकर लेटे होने के कारण ससुर जी को मेरी चूत नहीं दिख रही थी. मैं जानती हूं कि शाम को जब मैं सैर के लिए जाती हूं तो तुम्हारे बिहारी दोस्त मुझे ऐसे घूरते हैं जैसे अभी कच्चा खा जायेंगे. मैंने उसको बहाना करते हुए बोला कि मुझे उल्टी हो रही थी इसलिए मैं बाथरूम में चली गई थी.

उनसे इसी तरह की बातों में मेरे लंड में कड़कपन आने लगा और लंड का उभार लोवर के नीचे से साफ दिखने लगा था, जिसे भाभी ने भी देख लिया. मैंने पूछा- क्यों … तुम तो इतनी सुंदर हो … कोई ना कोई तो होना ही चाहिए … झूठ मत बोलो.

इन सबके साथ मसाज बहुत जरूरी है प्रीति जी!” आप इनको सोमवार, बुधवार, शुक्रवार हफ्ते में तीन दिन लाइये, मसाज करेंगे. मैंने अपने मुँह पर लगा चुतरस और शराब को अपने हाथों से साफ किया और उन सब चीजों को अपने बदन पर मल दिया. मैं- अम्मी … आखिर बात क्या है?अम्मी गुस्से में- ज़ोहरा की सास कह रही है कि अगर इस बार ज़ोहरा के हमल ना रुका तो अगली बार रफ़ीक़ की दूसरी शादी करवा देगी.

उसने लंड को मेरी चूत में घुसाये रखा और फिर धीरे धीरे लंड को चूत के अंदर हिलाने लगा.

मैंने कहा- कोई बात नहीं, रात को करते हैं। जो भी होगा देखा जायेगा।तो हमने खाने के बाद ऊपर चारपाई डाली और सब लेट गए। राबिया बाजी के पास लेटी थी। मतलब वो साली आज हमारी फिल्म देख कर ही मानेगी।आधी रात को बाजी ने मुझे हिलाया तो मैं उठ गया क्योंकि मुझे भी नींद नहीं आई थी।बाजी और राबिया दोनों गांड मटकाती हुई नीचे जा रही थीं. मामी की बेटे बेटी को मैंने अपना मोबाइल दे दिया और वो दोनों उसमें गेम खेलने लगे. इसी लिए आज मैं अपनी अगली भूल को आप लोगों के साथ शेयर करना चाहती हूँ.

लेकिन हम दोनों ने ये डिसाइड किया कि अब हम केवल फीमेल राइटर की ही कहानी पढ़ेंगी और उन्ही से अपने लिए लड़के की कहेंगी. सर जी आपके चले जाने के बाद मैं भी अपने ऑफिस जाने लगी थी और शिवांश को मकान मालकिन भट्टाचार्य जी आंटी के साथ छोड़ जाती थी.

पीछे वाला लड़का मुझसे कान में बोला कि मेरे साथ आओ … मैं तुमको और मज़ा दूंगा. हम दोनों साथ में गए और मॉल में एक जगह खड़े होकर आरजू का वेट करने लगे. तो उसने पूछा- बस मिलने आये हो या कुछ करोगे भी?मैंने कहा- अब तो आप मेरी प्रेमिका हो.

पंजाबी बीएफ फिल्म दिखाएं

दोनों हवलदारों ने मेरे स्तनों को मसलने के बजाय मेरे निप्पल को चूसना शुरू कर दिया.

देखते ही देखते उसका लंड नीचे ही नीचे तन गया और मेरे हाथ पर दबाव बढ़ाने लगा. हमारी चुदाई 8-10 मिनट तक चलती रही और फिर मैंने पोजीशन चेंज करने की सोची. उस बैग से उसने एक शराब की बोतल निकाली और एक ट्रे में चार गिलास डाल कर उसमें ढालने लगा.

रात के अंधेरे में कई बार मैं श्वेता के ऊपर अपनी टांग भी रख लेता था. मैं डाइनिंग रूम में सोफे पर बैठ और सागर जो मेरे बाजू में बैठ गया और मैंने आधे घंटे में 2-3 पेग मारे. मराठी सेक्सी पाठवा मराठी सेक्सीथोड़ी देर तक उसको किस करने के बाद उसने भी मेरा साथ देना शुरू किया और मेरे बालों में हाथ डालकर मेरे होंठों को अपने होंठों पर दबा कर रखा।हम एक दूसरे को किस कर रहे थे और किस करते-करते मैंने अपना हाथ उसके कंधे से उसके टॉप में डाल दिया.

मंजुला जी कुछ नाश्ता ले आता हूं, आप क्या लेंगी बताइए?” मैंने पूछानहीं सर, रहने दीजिये, भूख नहीं है. मैंने शरारत भरी नज़र से उसे देखते हुए पूछा- क्यों?तो उसने स्माइल किया और शर्मा गई.

ठकुराईन ने खांसने का नाटक किया, तो बलदेव को होश आया और उसने अपनी सास का हाथ छोड़ दिया. मैंने लंड उसकी चुत से निकाल लिया और उसको डॉगी स्टाइल में होने को बोला. ये सास चुदाई की कहानी तब की है, जब ठकुराईन पहली बार पेट से हुई थी और ठाकुर साब के साथ अपने मायके जा रही थी.

रात के अंधेरे में कई बार मैं श्वेता के ऊपर अपनी टांग भी रख लेता था. वो अजय को देख कर मुस्कुराई और उसका हाथ पकड़ कर कमरे में ले जाने लगी. मैं निधि की चूत में उंगली करने लगा, तो निधि बिल्कुल पागल हो गयी और चिल्लाने लगी.

मैं- छोड़ो अंकल छोड़ो … यह आप क्या कर रहे हो?तब मैं अपने आपको छुड़ाने की कोशिश करने लगी मगर अंकल की मजबूत बांहों से छुड़ा ना सकी.

मैं एक शानदार होटल में गया उधर उन्होंने मुझसे उसका आईडी प्रूफ मांगा. बस की आखिरी सिरे की सीट से उठकर मेरी हालत थोड़ी ठीक हो जाएगी, ये सोच कर मैं वहां जा बैठा था.

मैं अपनी आपा की चूत को तेज़ रफ़्तार से चोदते हुए बोला- जैसे आप इस वक़्त झेल रही हो, वैसे ही शनाज़ झेल रही है. फिर वो उह आह करने लगी और बड़बड़ाने लगी- जबसे मैंने तुम्हारा मैसेज पढ़ा … तब से पता चल गया था कि तुम माहिर खिलाड़ी हो. ऑफिस के कंप्यूटर ऑपरेटर से पूछा, तो पता चला कि उसका नाम नताशा परमार है और वो मैरिड है.

पर मैंने पहले तनु की बुर की झांट साफ की और फिर बहन की चिकनी बुर को चूसा।इस दिन के बाद से लेकर मैंने और मेरी बहन ने कई साल तक इस लेस्बियन सेक्स के मज़े लिए. वो अलग हुआ तो जो हवलदार मेरे निप्पल चूस रहा था वो मेरी गांड का मजा लेने चला गया और जो हवलदार मेरी विडियो बना रहा था वो कैमरा टी टी को पकडा़ कर मेरे निप्पल चूसने के लिए लेट गया. उनका बड़ा सा लंड पेशाब की धार छोड़ते समय मुझे इतना मोहक लगता था कि बस लगता था कि उसी समय लंड पकड़ कर चूस लूं, अपनी चुत में घुसवा लूं.

बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म चाची भतीजे की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे शौहर ने मुझे चोदना कम कर दिया. तब तक दूसरा लड़का भी अन्दर आ गया और वो पीछे से मेरी गांड दबाने लगा.

बीएफ सेक्सी डीजे वीडियो

तो मैंने पूछा- अच्छा जी, तो कैसे थका देते हैं आपके पति आपको?उसने बोला- लगता है कुंवारे हो, तभी ऐसी बातें पूछ रहे हो. मौसी मेरे लंड पर जोर जोर से कूद रही थी, ऐसा लग रहा था जैसे पलंग टूट जायेगा. कुछ समय बाद हम लोगों ने देखा कि दो 18-19 साल की लड़कियां वहां पर आईं और इधर उधर देखने लगीं.

भाभी मेरे नीचे गरमगरम सांसें छोड़ते हुए मस्ती से लेटी हुई चुद रही थीं. मुझे बेड पर लिटा कर मेरी दोनों टांगों को ऊपर करके पहले तो मेरी चूत बजाई और फिर गांड!इसके बाद सागर मुझे सीधा लिटा कर मेरी दोनों टांगों को फैला कर मेरी फुद्दी पर ट्रेन की रफ्तार से सवार हो गया. सेक्सी पिक्चर पूरी वीडियोमैंने कहा कि जब तक मैं नहा कर आती हूं तुम जरा सेट टॉप बॉक्स को देख लो.

मैंने कहा- क्या आपके यहां बर्फ मिल सकती है?वो बोली- बर्फ लेने आये हो या दूध की आइसक्रीम खाने?मैं उसकी बात का मतलब उस वक्त समझ नहीं पाया था लेकिन वो जान गयी थी कि मेरे मन में क्या है.

मैंने उससे छूटने की कोशिश की लेकिन उसने मुझे बहुत कस के पकड़ रखा था. वो बोली- मेरे कपड़े खराब क्यों किये?मैं कुछ जवाब न दे सका और वहां से जाने लगा.

मैं कुछ देर के लिए वहां बैठ गई … क्योंकि मेरी चूत में और गांड में बहुत ज्यादा जलन हो रही थी. अब अमित ने मेरी बीवी की दोनों चुचियों को बारी बारी से मसल दिया और उसकी एक चुची को पकड़ कर निप्पल को जोर से चूस लिया. जब पापा मेरी चूत में झड़े तो मेरी चूत में उनका सीमन मुझे बहुत गर्म लगा.

मैं जानती हूं कि शाम को जब मैं सैर के लिए जाती हूं तो तुम्हारे बिहारी दोस्त मुझे ऐसे घूरते हैं जैसे अभी कच्चा खा जायेंगे.

” मैंने कहा तो वो शिवांश को मुझसे लेकर अपनी गोदी में ले उठ खड़ी हुई. तभी मेरे मुँह में पानी आ गया और मैंने अपना लण्ड भाभी की गांड पर सेट कर लिया।भाभी ने मुझे बहुत रोका लेकिन मैंने उनकी एक न सुनी और अपना लण्ड धीरे धीरे करके उनकी गांड में घुसाना चालू कर दिया. जिस हसीना को चोदने के सपने मैं तीन दिनों से देख रहा था वो उस टाइम मेरे सामने मादरजात नंगी अपनी चूत खोले लेटी थी.

सेक्सी व्हिडिओ गंधीदस मिनट तक लंड चूसने के बाद उन्होंने बोला- इससे पहले ये उठ जाए, जल्दी से चोद दो. ठीक साढ़े छह बजे मेरे फोन पर फोन आया और मैं अजय से माफ़ी मांगते हुए चला गया.

बीएफ एचडी का

[emailprotected]शादी में चुदाई की कहानी का अगला भाग:लॉकडाउन में विवाह में मिली चूत- 2. बाद मैं मुझे पता चला कि वो बंगला एक बूढ़ी महिला का है, जो बेड पर लेट कर अपनी मौत का इंतजार कर रही है. बुआ के जाने के बाद अब इधर मेरी भी एक गर्लफ्रेंड बन गई है, फिर भी जब मुझे मौका मिलता है.

गनीमत रही कि उसको मैं पसंद आने लगा था वर्ना उसकी जगह कोई और होती तो मैं वहां से अपनी बेइज्जती करवाकर ही लौटता. रफ़ीक़ जीजू को साल में सिर्फ दो बार आठ आठ दिन की छुट्टी मिलती थी घर आने के लिए. ऐसे कैसे हो सकता है?बाजी बोली- करना तो पड़ेगा … नहीं तो वो रण्डी कहीं मुंह न खोल दे.

बस में ज्यादातर छात्र या तो सो रहे थे या फिर अपनी ही गपशप में लगे हुए थे. मैं सिर्फ लंड घुसाए पड़ा था, बाकी का चुदाई का काम चलती ट्रेन ने किया. मेरे लंड ने चुत की चुम्मी लेना शुरू कर दी थी और भाभी की गांड ने ऊपर को उठ कर मेरे लंड के सुपारे को चुम्बन का जबाव देना शुरू कर दिया था.

रोहन जैसे माशूक लौंडे की नज़र बिगड़े भी क्यों नहीं, वो साला रजक लाल दिखता भी इतना सेक्सी था कि क्या कहें. हॉट लेस्बो सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं और मेरी सहेली अस्पताल में काम करती हैं.

बियर के दो घूँट खींच कर मैंने सिगरेट निकाली तो नताशा ने मेरे हाथ से ले ली और बोली- तुम कार चलाओ, मैं जलाती हूँ.

अब मैंने उसके एक पैर के बीच अपना पैर वैसे ही फँसाया जैसे मूवी में देखा था जिससे हम दोनों की चूत आपस में रगड़ने लगें। फिर मैंने प्रियंका की चूत पर अपनी चूत रगड़ते हुए अपनी ब्रा खोली।प्रियंका और मैं सिसकारने लगीं. पानी के अंदर सेक्सीइसमें ज्यादातर मेरी सोच से लिखी हुई है।सुमन एक जवान लड़की थी। उसके घर में उसकी छोटी बहन तनु भी थी।तनु अभी जवान होने लग रही थी। उसके शरीर के अंग नए पेड़ पर उगती टहनियों की तरह फैल रहे थे।उसकी लम्बी गर्दन किसी संगमरमर की तरह बिल्कुल गोरी थी. लेटेस्ट देसी सेक्सी वीडियोहम दोनों वापस लेट गए और एक ही चादर में लेटे हुए एक दूसरे को किस कर रहे थे. उनकी चूत को चूसने के बाद मैंने भाभी के पेट और कमर को चूमते हुए चूचियों के पास आ गया.

एक बार चुत को लंड की लत पड़ जाए, तो बार बार चुत में लंड की खुजली होती ही होती है.

रुबीना की चूत मारने के बाद मैं शांत तो हो गया था लेकिन दिमाग में अब राबिया की चूत भी घूम रही थी. वो मेरे अंडरवियर के ऊपर से हाथ से लंड को सहलाने लगी और मेरे होंठों पर किस करने लगी. मैंने भी उसको बांहों में कस लिया और उसके लंड की ओर चूत को दबाने लगी.

उस रात मंजुला की जांघें चूमते हुए फिर मैं उसके कोमल पांव और तलवे चूमने चाटने लगा. ओह … इसलिए वह नौकरानी मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी।सीमा बता रही थी कि वो रात में अकेले में बहुत बोर होती है. मेरी सहेलियों में चुदाई को लेकर खुल कर चर्चा होती थी और उनमें से तीन लड़कियां चुद चुकी थीं.

कविता भाभी सेक्सी बीएफ

मैंने पूछा- इसके हस्बैंड को क्या बोलोगी?मनजीत बोली- मैं इसके हस्बैंड को फोन करूंगी और बोलूंगी कि मैं किसी बाबा को जानती थी. मैं सीधी उस लड़के की बताई जगह पर गई और वहां से हम दोनों साथ में हो लिये. उसके बाद मैं खुद भी नंगा हो गया और मैंने अपने लंड को चाची की गांड के छेद पर सेट कर दिया.

उस रात उन दोनों के बीच कुछ होने की उम्मीद थी, इतना तो मैं समझ गया था.

मैंने रसोई से थोड़ा अलग होकर उनके कान में पूछा- नजमा दीदी ने क्या करने के लिए बोला था तुम्हें?इस सवाल पर वो शर्मा गयी.

मगर डिम्पल ठीक से चल नहीं पा रही थी तो वो मेरी तरफ कातर भाव से देखने लगी. मेरे दोनों बेटे मुझे इसका जिम्मेदार मानते हैं और बार बार मुझको ही कोसते हैं. सेक्सी भेज दे भाईये सब बाते मैं सुनकर गर्म हो जाती थी और अपनी चुत में उंगली करके खुद को शांत कर लेती थी.

अब मैं उसके ऊपर ऐसे ही लेटा रहा और उसे प्यार करने लगा; उसे चूमने और चाटने लगा. मुझे लंड का स्वाद अटपटा सा लगा … मगर फिर जोश में थी तो मजा आने लगा. मैं समझ गई कि मैं अंकल के जाल में बुरी तरह से फंस चुकी हूं … इसलिए ना चाहते हुए भी मुझे कल अंकल से मिलने का वादा करना पड़ा.

हम दोनों ही बेहद कामुक हो उठे थे और एक दूसरे के साथ नाग नागिन से लिपटे हुए थे. जब मैंने हाथ नहीं लगाया … तो वो बोली अब बटन खोलने के लिए चिट्ठी लिखनी पड़ेगी क्या? इतना क्यों डर रहे हो … पहले कभी कोई लड़की इस हालत में नहीं देखी क्या?तो मैंने कहा- नहीं देखी.

संजय मेरे जाने की बात सुनकर बहुत खुश हुआ और मुझे ले जाने के लिए राज़ी हो गया.

शायद वो मेरे प्यार को पाने की खुशी के थे और मैंने भी उसे किस करते हुए चोदना जारी रखा। मैं धक्के लगाता जा रहा था और कमरा फच-फच-फच की आवाजों से गूंज रहा था और वो भी आह! आह! उह! उह! हा! की आवाजें निकाल रही थी. उस रास्ते में हमने दो बार गाड़ी किनारे लगा कर पेड़ की आड़ में चुदाई का खेल भी खेला. उस दिन मुझे न जाने क्या हुआ, मैंने मन में सोचा कि आज मैं नजर नहीं झुकाऊंगा.

सेक्सी प्रिया भाभी अंजलि अपनी गांड घुमा घुमा कर लौड़े का मजा ले रही थी।20 मिनट की चुदाई के बाद मैं अंजलि के मुंह में झड़ा और अंजलि ने हंस कर मेरे लंड से निकला सोम रस पी लिया।मैंने अपने कपड़े पहने और फिर अपनी जगह पर सोने चला गया।अंजलि की चुदाई मैंने कर ली थी लेकिन मन नहीं भरा था. मैं उसके लिए इतने सारे सेक्सी कपड़े लाता हूँ लेकिन वो पहनती ही नहीं है.

जिया एकदम से चीख उठी- आह … अम्मा … मर गई … मुझे मार ही डालेगा क्या!मैं लंड ठोकने लगा और बोला- साली, चुत चुदवाने से आज तक कोई लौंडिया नहीं मरी. मैं और लोगों की तरह झूठ नहीं बोलूंगा कि 9 या 10 इंच का है … जो सही है, वही बता रहा हूं. फिर उसने मुझसे पूछा कि मैं कहाँ रहता हूं तो मैंने बता दिया कि मैं भी जबलपुर का ही हूँ.

सेक्सी बीएफ अमेरिका की

मैंने कहा- तुम्हारी दीदी भी तो आने वाली थी आज?लड़की बोली- वो बकरियों को लेकर चली गयी. मलखान- रानी गाली का बुरा मत मानना, गाली देकर करूं?मैं- जी राजा जी … आज कुछ भी कर लो बस अपना ये अन्दर डाल दो. फिर मैं उसकी चूत में दो बार झड़कर उसके साथ ही सो गया।मेरी नींद 3 बजे सुबह खुली और मैं अपनी सीट पर आकर सो गया।फिर हम मुम्बई दोपहर 2 बजे पहुंच गए।दोस्तो, डिम्पी को भागने में कोई प्रॉब्लम भी नहीं हुई क्योंकि उसका पति बहुत बड़ा शराबी था.

ये लो मेरी रानी!” मैंने लंड को एक बार थोड़ा सा बाहर खींचा और फिर पूरे वेग से उसकी चूत में उतार दिया तो चूत रस की चिपचिपाहट मुझे अपनी झांटों में महसूस हुई. सुनो मंजुला, एक बात और कहनी है तुम ध्यान से सुनना और चिंतन मनन करना; जल्दबाजी में कोई भी जवाब अभी मत देना.

वो भी खुद की बहन को देखकर ये सलामी मार रहा है … शर्म नहीं आती तुझे.

मेरी बीवी को खांसी आ रही थी लेकिन उसने अमित के लंड का पूरा माल पी लिया और फिर जीभ निकाल कर पूरा लंड चाट कर साफ कर दिया. मैं दरवाजे के अन्दर गया, तो माधवी भाभी ने तुरंत दरवाजा बंद कर दिया. अगले दिन मैं मंजुला को इलेक्ट्रोनिक गजेट्स के शो रूम में ले गया और उसे बढ़िया किस्म का स्मार्ट टीवी और फ्रिज खरीदवा दिया.

बड़ी मशक्कत के बाद मेरे मोटे लंड का सिर्फ सुपारा ही फक्क करते हुए अन्दर घुस सका था. भाभी के होंठों को चूसने के बाद मैंने अपनी जीभ भाभी के मुँह में डाल दी. उसने कहा- टीना तुम आज भी बहुत हॉट और सेक्सी हो, काश उस समय तुम शादी के लिए हां कर देती … तो आज कुछ और बात होती.

चुत में उंगली घुसी तो मां फिर से थोड़ा सा छूटने का प्रयास करने लगी थीं.

बीएफ फिल्म हिंदी सेक्सी फिल्म: ” मैंने कहा और एक बर्गर उसे पकड़ा दिया साथ में चिप्स के पैकेट खोल के रख दिए. क्योंकि हमारे गांव में हमारी बहुत इज़्ज़त है … और अगर मैं ऐसा वैसा कुछ करती, तो बहुत बदनामी होती.

मगर वो कौन सा खुशनसीब लंड था जो मेरी तड़पती हुई जवानी को पहली बार चोद गया था. मेरी पैंटी, जो अमन की वजह से गीली हुई पड़ी थी … उसको किस किया और अपने दांतों से पकड़ कर खींच कर मेरे जिस्म से अलग करने लगा. [emailprotected]ओपन चुदाई कहानी का अगला भाग:मेरे चोदू यार का लंड घर में सभी के लिए- 5.

हम जैसे सामान्य दर्जे के और पिछली सीटों पर बैठने वाले छात्रों का सेक्शन अलग था.

दरअसल मुझे ये जानकारी मां की डायरी से मिली थी कि एक बार उनकी चुदाई की शुरुआत एक गैर मर्द से कब हो गई थी. इस बात को आप नीरजा से मत बोलियागा कि मैंने आपको आने को बोला है … क्योंकि वो अपने पापा को लेकर आपको कुछ नहीं बोलती. अब खाना खाने की वजह से सर्दी कुछ ज्यादा लगना शुरू हो गई थी, तो वो ठिठुरने लगी.