भाई बहनों की बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ पंजाबी में बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बाप सेक्सी बाप: भाई बहनों की बीएफ, अब आगे देसी गांड की चुदाई की कहानी:मेरी सास कुछ ही पलों में फिर से लय में आ गईं.

बीएफ पिक्चर सेक्स में

मैं और अभिषेक हम दोनों ऊपर आ गए तो अभिषेक ने कहा- हमें थोड़ी देर टॉयलेट में रुकना चाहिए. बीएफ वीडियो देहाती फिल्मदेसी सेक्सी गर्ल्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे लड़कियां दूसरे जवान लड़के लड़कियों की हरकतों पर नजर रखती हैं.

उनके बड़े बड़े टाइट चुचे देख कर मैं पागल ही हो गया और भाभी के मदमस्त यौवन को देखता ही रह गया. बीएफ फोटो एचडी मेंवो भी दो बार झड़ चुकी थी।फिर उन्होंने मुझे पास बुलाया, किस किया और कहा- बेटा, मुझे इससे जादा मज़ा कभी नहीं आया.

ऐसे में यह पवित्र रिश्ता खराब हो जाएगा, इसके लिए भगवान मुझे कभी माफ नहीं करेंगे.भाई बहनों की बीएफ: वैसे भी मोहित रिक्वेस्ट पर रिक्वेस्ट किए जा रहा था और उसके जैसे स्मार्ट लड़के को मना करने का मेरा बिल्कुल मन नहीं था.

थोड़ी देर के बाद आंटी मेरे लंड के ऊपर बैठ गईं लेकिन मैंने अपना लंड आंटी की चूत से बाहर निकाला और आंटी को अपने सीने से लगा लिया.मैं भी मन में हंसा और सोचा कि 2 ही महीनों में कैसे में धर्म से धारा बन गयी(या).

भयंकर चुदाई बीएफ वीडियो - भाई बहनों की बीएफ

वे आगे बोली- अपनी नंगी बहन की बुर को चोदने का सालों का जो सपना है उसे पूरा कर लो मेरे भाई! रगड़ रगड़ के चोदो अपनी बहन को! तुम्हारी बहन को तुम से चुदाई करके बहुत मजा आ रहा है.क्या पता कल अगर मैं उस लड़के के पास गई, तो वो मेरे साथ कुछ कर न दे.

आज सब कुछ अजीब था, नया था … जिसकी मैंने कभी सपने में भी कल्पना नहीं की थी. भाई बहनों की बीएफ भाभी ने उस रात में मेरे रूम में आकर मुझसे कहा- अमित मुझे अकेले डर लगता है.

मामी- हां सही कह रहा है साले … जब मेरे दूध मसल रहा था और मेरी गांड की दरार में लंड घिस रहा था, तब तुझे डर नहीं लग रहा था.

भाई बहनों की बीएफ?

उसने मेरे माथे पर किस किया, फिर मेरे दोनों गालों पर … और फिर एक लम्बा किस मेरे होंठों पर. जैसे ही ऋतु को अपने दोनों चूचियों पर एक साथ हमले का अहसास हुआ, वो मजे से कराह उठी और उसका मुँह खुल गया. वे मादक आवाज में मेरे सर पर हाथ रखती हुई बोलीं- साले कुत्ते, ऊपर से ही मजे ले लेगा क्या?अब मैंने भी बोला- साली रंडी … बहुत जल्दी है तुझे … रुक जा भैन की लौड़ी… आज धीरे धीरे ही तेरी सारी गर्मी उतार दूँगा … रंडी की जनी.

यकीन मानिए वो आनन्द के पल आज भी इतने साल बाद दिमाग में तरोताज़ा हैं. उसके निप्पल्स तो और भी टाईट होकर ऊपर की ओर ऐसे तने हुए थे … मानो सनी को मुँह चिढ़ा रहे हों. दोस्तो, अगर आपको मेरी बहेन की चुदाई की कहानी अच्छी लगी हो, तो प्लीज़ मेल अवश्य करें.

वो लंड निकालने की बार बार मिन्नत करने लगी- आंह निकाल ले आशु … मेरा दम घुट रहा है … तूने काट दिया मेरा जिस्म … निकाल ले आशु प्लीज़ … मैं जिन्दा नहीं बचूंगी … आंह!तभी मुझे उसकी चूत से कुछ बहता हुआ सा लगा. यह देसी गांड चुदाई कहानी मेरे पहले सेक्स की पर गांड मारने की कहानी है. आंटी के मुँह में अपना पूरा लंड घुसा कर मैं उनके मुँह में अन्दर बाहर करने लगा.

तो दोस्तो … कैसी लगी आपको मेरी ये सच्ची देसी चुत की चुत कहानी?आप मुझे मेल जरूर करें. वह बोले जा रही थी- अब से मैं आपकी रखैल हूं। फिरोज आप मुझे भरपूर चोदो.

मैंने अपना हाथ आगे बढ़ाने के लिए एक अंगड़ाई ली और हाथ दादी के घुटने तक ले गया.

खुदा ने उन्हें इस खूबी से नवाजा है कि वो जिसकी चूत चाहें, बजा लेते हैं.

प्रिया- आंह भाई … पूरा दूध मुँह में ले ले … आह साले पी जा कमीने … मेरा दूध पी ले आंह साले पूरा मुँह खोल ना!मैं उसकी गांड को दबाते हुए बारी बारी से दोनों चूचियों को पी रहा था. जब भी मनोज घर आता तो वो मेरी मां अंजलि के साथ घंटों रूम में घुसा रहता था. उनकी गांड के छेद से लेकर चूत तक जीभ फिराकर चाटने लगा और चुत में उंगली चलाने लगा.

कुछ पल की चुत चुसाई का मजा लेने के बाद मैंने अपनी नशीली आंखों से उसे देखा, तो वो भी चुदासी दिख रही थी. अभी तक मैंने साली के साथ ऐसी कोई हरकत नहीं की जिससे उसे कोई परेशानी हो … या किसी और को बुरा लगे. मैं बोला- ठीक है, मैं आ रहा हूँ क्योंकि मैं जयपुर आया हुआ हूँ, तो सोचा तुमसे मिल भी लूंगा.

वो लंड निकालने की बार बार मिन्नत करने लगी- आंह निकाल ले आशु … मेरा दम घुट रहा है … तूने काट दिया मेरा जिस्म … निकाल ले आशु प्लीज़ … मैं जिन्दा नहीं बचूंगी … आंह!तभी मुझे उसकी चूत से कुछ बहता हुआ सा लगा.

प्रिया- आख़िर तुम मुझे आज ढीला कर ही दोगे!मैं- तेरे जैसी हुस्न वाली को किस करके छोड़ देने पर पाप लगता है. मैं ये सुनकर बहुत खुश था कि आज एक अनटच लड़की ने अपनी जवानी, अपना सारा जीवन मुझे समर्पित कर दिया है. डांस के बाद हम दोनों ने वहां एक एक पैग और लिया और कुछ खा कर निकल आए.

मैंने धीरे-धीरे करके दीदी का पजामा उतारना शुरू कर दिया और कुछ ही देर में दीदी मेरे सामने सिर्फ पेंटी में थी. मैंने कहा- भाभी मेरी एक बात सुनो ना!भाभी- क्या?मैंने कहा- क्या आप मेरे साथ ये वीडियो देखना पसंद करेंगी?भाभी मुस्कुरा दीं और बोलीं- ओके. करीब 1 घंटे तक ऐसे ही मजे करने के बाद हम सब अलग हुए और अपने कपड़े पहन लिए।हम सबने एक दूसरे को अपने नंबर दिए और दोबारा मिलने का वादा किया।दोस्तो, हमारी यह कहानी यहीं पर खत्म होती है।आप हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो यह मेरी ईमेल आईडी[emailprotected]है.

उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था और उसकी चूत बहुत गोरी थी बिल्कुल मेरे लन्ड की तरह।मैं उसकी चूत पर हाथ फिराने लगा और अपने अंगूठे से उसके चूत के दाने को धीरे धीरे मसलने लगा.

अपनी चड्डी भी तो उतारो न!चाची चड्डी उतारने से मना कर रही थीं मगर मैं उन्हें दबोचे हुए था और उन्हें भागने ही नहीं दे रहा था. दस मिनट तक भाभी की गांड मारने के बाद मैंने उन्हें दीवार से चिपका दिया और उनकी एक टांग हवा में उठा कर चूत में लंड पेल दिया.

भाई बहनों की बीएफ आंटी ने मुझसे बोला- क्या तुम राहुल के कंप्यूटर में यही सब देखते हो?तो मैं कुछ नहीं बोला. मेरे लंड की हालत भाभी चोर नजरों से देख रही थीं और मन ही मन मजे ले रही थीं.

भाई बहनों की बीएफ उसकी गोरी चिकनी टांगें कहर ढा रही थी, उसके गोर मोटे चूचे जो आधे नंगे थे उसकी ड्रेस फाड़ कर बाहर आने की बेचैन हो रहे थे. अन्तर्वासना पर सेक्स स्टोरी पढ़ते हुए मुझे कमेंट में एक लड़की का कमेंट दिखा, जिसमें लिखा हुआ था.

फिर मैंने उसके भगांकुर को अपने होंठों में लिया और उसकी चूत में अपनी दो उंगलियां डाल दी.

बीएफ दर्दनाक

बहुत देर तक ज्योति फोटो देखती रही और किशन पीछे से अपनी मां को देखता रहा. मैंने उसे लंड चुसवाया, फिर उसकी बुर की सील खोली?कहानी के पिछले भागसेक्सी दीदी को चुदाई के लिए मना लियामें आपने पढ़ा किअब आगे नंगी बहन की बुर चुदाई:मैं दीदी की बुर पर किस करने के लिए बढ़ा. ‘आआह … आआह जान … क्या मस्त चूसती हो जानेमन … मेरे रहते तुम उस धीरज से क्यों चुदवाती हो.

उसने नीचे इलास्टिक वाली पैंट पहनी थी, जिसे लैंगिंग्स कहते हैं, वो लाल रंग की थी. खुदा ने उन्हें इस खूबी से नवाजा है कि वो जिसकी चूत चाहें, बजा लेते हैं. शैंकी पूरी दम से झटके लगा देता और उसका लंड मानो मेरे पेट तक चला जाता.

मामा जी का बिजनेस है और वो अक्सर ही दस पंद्रह दिनों के घर से बाहर रहते हैं.

झड़ कर मैं भाभी के ऊपर ही लेटा रहा और थोड़ी देर अलग होकर भाभी के मुँह में लंड डालने लगा. आज जब भाभी ऑटो में बैठ रही थीं, तब अचानक से मेरा एक हाथ भाभी के नरम बूब से टकरा गया. मैंने अपने रूम पर लौटने के बाद ये सब मीना को बताया तो पहले तो वो काफी उदास हो गई … मगर बाद में मुझे और अपने आपको संभालते हुए मेरे पास सोफे में बैठ गई.

अब मैं भी भाभी को गाली देने लगा और उनके बाल पकड़ कर गांड में लंड के झटके देने लगा. इसके बाद विकास ने कमरे में रखे फ्रिज से एक व्हिस्की की बोतल निकाली और समता से बोला- चलिए कुछ थकान दूर हो जाए. उसने मेरी टांगें फैला दीं और वो अपना प्यारा सा लंड मेरी चुत में डालने लगा.

वो दोनों चुदाई में इतना खो गए कि भूल गए कि बगल के कमरे में मैं भी हूँ और ऊपर फहीम चचा भी हैं. तुम्हें मुझे देखकर ऐसा होता है! मेरे अंदर तो ऐसी कोई भी खासियत नहीं है, ऊपर से मैं कितने सांवली हूं.

उसने मेरा एक पैर अपने कंधे पर रख लिया और लंड को चूत की फांकों पर रख दिया. मैं सरसों के तेल से आप की मालिश कर देता हूँ जैसे दोपहर को आपके सर की मालिश की थी. उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था और उसकी चूत बहुत गोरी थी बिल्कुल मेरे लन्ड की तरह।मैं उसकी चूत पर हाथ फिराने लगा और अपने अंगूठे से उसके चूत के दाने को धीरे धीरे मसलने लगा.

वो फाइल बहुत जरूरी थी, मैंने सोचा चलो कोई बात नहीं, जब ऑफिस का लंच होगा … तब मैं ले आऊंगा.

इधर व्हाट्सैप नम्बर देना नियम विरुद्ध है, इसलिए इन दो जगहों से मैं आपसे हर तरह से सम्पर्क में आ सकता हूँ. ब्यूटीफुल गर्ल हॉट सेक्स कहानी एक फ्रेंड की शादी में मिली एक लड़की की चुदाई की है. मैंने पूछा- गोलियां कहां से आईं?वो बोलीं- मैं कभी कभी रात में लेकर सोती हूं … डॉक्टर ने लिखा है.

मीना मेरे लंड के ऊपर हाथ फेरती हुई बोली- तू तो पूरा बड़ा हो गया है रे … और क्या क्या किया. उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया तो मैंने सारा पानी पी लिया और चुत को चूसना जारी रखा.

फिर मार्केट से उसकी फोटोज के प्रिंट बनवाये जिन्हें देख कर प्रीति बहुत खुश हुई और उसने कार में ही मेरे गाल को चूम लिया. और आखिर में उसके लंड के उभार की फोटो … ऋतु की चूत पानी से भर गयी।उसको विजय में वो मालिश वाला लड़का दिखा और ऋतु को लगा कि काश विजय ने एक फोटो अपने लंड का भी भेजा होता।संजीव ने उसकी हालत देख के अंदाज कर लिया कि ऋतु ने फोटो देख ली हैं. मैंने नाटक किया- रहने दो जीजू यार, मेरी चुत में किसी और का लंड फिक्स है.

बिहारी लड़की बीएफ

मैंने भी 7-8 तेज झटके मारे और बड़बड़ाने लगा- आह्ह ह्हम्म ओह्हम्म आह मामी मेरी जान … आंह मैं भी आने वाला हूँ … रस कहां निकालूँ?मामी- अन्दर ही निकाल दे, मैं तेरी गर्मी अन्दर फील करना चाहती हूँ … आह्ह आह्हम्म.

तभी वे रोकते हुए बोले- ऐसा करो कि तुम पहनकर अपनी फोटो मुझे भेज दो।बाबूजी चक्कर में आ गये थे. उस लड़के ने अन्दर जाते ही सीधा दीदी को बिस्तर से बांध दिया और शिल्पा दीदी भी उसका साथ दे रही थीं. दोनों को कोई जल्दी न थी लेकिन मेरी आग इतनी थी कि मैंने खुद नाइटी और ऊपर करके गीली हो रही पैंटी जांघों से नीचे खिसका दी.

रचना लंड के इस अचानक हुए हमले से घबरा गई और उसकी आवाज उसके कंठ में ही फंस सी गई. मेरा लम्बा लंड लेने में उसकी भी चीख निकल गई थी तो मुझे पता था कि मंजू भी जरूर चीखेगी. हिंदी बीएफ कुमारी लड़की काभाभी एकदम अप्सरा सी लग रही थीं, लेकिन न जाने वो क्यों गुमसुम सी रहती थीं.

करीब साढ़े तीन बजे दोनों ने कपड़े पहने … मेरी चूत को फिर से चाटा, मेरे उभारों को भी चाटा और सहलाया. मुझे देख कर आंटी खड़ी होकर अपनी गांड मटकाती हुई मेरे करीब आईं और मेरा हाथ पकड़कर मुझे सोफ़े पर लेकर चली आईं.

दोस्तो, आप यक़ीन नहीं करोगे, पर ऐसे तो कोई बच्चा चूची नहीं चूसता, जैसे वो मेरा लंड चूस रही थीं. ये विपाशा वीर की ही तो बहन है और इसका ब्वॉयफ्रेंड मेरा भाई हितेश है. अब मैं सोचा करता था कि किताब की फोटो में तो लंड चूत में जाकर गायब हो जाता है.

वो मेरे मुँह से ये सुनकर बोला- तुझे चढ़ गई है क्या?मैंने कहा- क्यों क्या हुआ?वो कुछ नहीं बोला और अपना गिलास फिर से भरने लगा. दो नर्म नर्म स्तन और उसमें चार चांद लगाने वाला तुम्हारा ये चिकना, लंबा, मोटा सिकुड़ा हुआ, फिर भी 6 इंच का लंड भेंट में दे दिया. ऋतु- आह सनी, मेरी चूत कितना मजा दे रही है लंड को … चोद दो आज … आंह पूरा चोद दो … बहुत तड़प रही थी चूत … आंह.

थोड़ी देर मैं जब मीना के जिस्म से उठा, तो देखा कि चादर पर ढेर सारा गीला गीला धब्बा था.

लंड ज्यादा जोर से दबाए जाने के कारण सनी को दर्द का अहसास हुआ और उसके मुँह से आह निकल पड़ी. उसने जैसे ही मेरे एक दूध को छुआ, मैं एकदम से बौखला गई और मैंने उस पर चिल्ला दी.

उस दिन मैंने फैसला कर लिया कि पिंकू की मचलती जवानी का आनंद मैं उठा कर रहूंगा और उसकी कुंवारी चूत में अपना मोटा लंड डालकर रहूंगा।हुआ ये कि उस दिन पिंकू मुझसे बिल्कुल सट कर बैठ गई।घर से स्कूल तक का सड़क खराब होने की वजह से बाइक जल्दी-जल्दी रोकनी पड़ती थी जिस वजह से मेरी बहन के मजेदार उरोज मेरी पीठ पर टकरा रहे थे. वो मुझसे चुदाई के बारे में कई सारे सवाल कर रही थी कि क्या मैंने कभी मंजू के साथ कुछ किया है. फिर धीरे से उनकी पैंटी में हाथ डाल कर उनकी गांड के छेद में एक बार में ही अपनी मेरी उंगली डाल दी.

भैया- तो क्या हुआ … ये तो और अच्छा है … मालिश करने में दिक्कत नहीं होगी. आप लोग मुझे मेल करके बताएं कि मेरी जीजा साली सेक्सी स्टोरी आपको कैसी लगी. हॉट मौसी की चुदाई हिंदी में पढ़ें कि कैसे मैं मौसी की बेटी को चोद कर सो गया था.

भाई बहनों की बीएफ अब मेरा एक बेबी होने वाला है, जिसकी देखभाल करने के लिए मेरी साली मेरे घर रहने आने वाली है. गोरा चिट्टा रंग, एकदम मांसल जांघें, कसे हुए हाथ और लंबे घने बाल, जिन्हें बांधकर रखने की वजह से मैं अपने आपमें एक मदमस्त मर्द लगता था.

बंगाली बीएफ चाहिए

पिंकू बोली- इसका मतलब तुम को पता था कि हमारी चुदाई होने वाली है?मैं बोला- हां पिंकू, मैं जानबूझकर सेक्स वीडियो चालू करके गया था।उसने मुझे हल्का सा धक्का दिया और बोली- क्या भैया तुम भी … तुम मुझे पहले ही बोल देते, मैं तो इस प्यारे से लंड की चुदाई के लिए मैं कब से तड़प रही थी।मैं बोला- पिंकू अब तुझे तड़पना नहीं पड़ेगा. मैं सुबह ही सबके जाने के बाद अपने चूत के बालों को साफ करके नहा कर तैयार हो गई. मैंने उसको घुमा दिया और उसकी मोटी चूची अपने मुँह में भरके चूसने लगा.

अब अगर मैं किसी अपने पुराने यार से चुदवा लूँगी, तो तेरे भाई साहब मुँह फुला लेंगे. उसके बाद एक हफ्ते तक हम लोग गांव में रहे और रोज हम दोनों ने उस लड़के की गांड मारी और जमकर मजा किया. सेक्सी बीएफ नौटंकीलंड का टोपा मोटा होने के कारण जैसे तैसे मेरी बहन ने लंड को चाट कर कड़क किया.

उसने हिम्मत करके एक बार अपनी आंखें खोलीं तो पाया कि सनी बहुत ही प्यार से उसकी चूचियां देख रहा था.

मीना के दोनों गुलाबी रंग के स्तन और उस पर भूरे रंग की लंबी लंबी चुंचियां गजब ढा रही थीं. फिर मेरे पूछने पर उसने बताया कि उसके पति का बिज़नेस, उसके देवर व जेठ ने धोखा देकर हड़प लिया.

मैं गुस्से में था, रेखा हंस रही थी।थोड़ी देर बाद सबने खाना खा लिया तो आंटी ने मुझे इशारा किया कि इसे बिस्तर पर ले जाओ. मेरे पास चुदाई के लिए एक खूबसूरत चुत थी, रहने के लिए आलीशान घर था और पैसों की भी कोई कमी नहीं थी. झड़ने के बाद अब्बू लेट गए और उस रात में एक बार चुदाई का राउंड और चला.

आंटी से मिलने को लेकर सारी बातें करने के बाद मैं राजस्थान पहुंच गया.

चूत गांड डबल सेक्स कहानी मेरी गर्म गर्लफ्रेंड की दोहरी चुदाई की है. उसकी चुदाई में मैं दो बार झड़ गई थी पर वो मुझे अभी भी चोदे जा रहा था. पांच मिनट तक लंड चूसने के बाद मैंने उसके मुँह से लंड निकाला और उसे चित लिटा दिया.

पिक्चर बीएफ पिक्चर वीडियोमैंने सोचा कि साली उस दिन नहीं मुझसे नहीं बोली थी तो आज भी नहीं बोलेगी. अपने कमरे में पहुंचते ही मेरे पति ने थोड़ा गुस्से से बॉय को 50 रुपये दिए और वो ‘शुक्रिया सर’ बोलकर कमरे से बाहर चला गया.

बीएफ भाभी देवर का

फिर मैं भी झड़ने वाला था, तो मैंने भाभी से पूछा- कहां निकालूँ?भाभी ने बोला- अन्दर ही निकाल दो. चाची मना करने लगीं- ये क्या कर रहा है तू … कपड़े उतारने की बात थी पकड़ने की बात कहां थी. वो मेरे पास आई और मेरे लन्ड को दबा कर बोली- कहाँ खो गए जीजू? क्या इतनी बुरी लग रही हूं मैं?फिर मुझे होश आया तो मैं बोला- प्रीति डार्लिंग, आज तो तुमने कत्ल ही कर दिया मेरा!और यही सच था … मैंने आज से पहले प्रीति जैसी किसी लड़की को नहीं चोदा था.

सब लड़के हमारी लेने के लिए चांस मार रहे थे किंतु दीपक और प्रकाश हमसे ज्यादा प्रभावित थे. मैं बोला- अरे रंडी, तूने अभी गांड का मज़ा नहीं लिया, इसलिए बोल रही है. लंड लम्बा और मोटा होने की वजह से आगे नहीं घुस पा रहा था और सनी उसे घुसाने की पूरी कोशिश कर रहा था.

देखो न मम्मी आपने कोरोना में अपना पति खोया है … और विजय अंकल ने कोरोना में अपनी पत्नी खोयी है. मम्मी ने कहा- चल अन्दर हाथ सेंक ले … बहुत ठंड है और जल्दी से सो जा!मैं कहां टिक कर रहने वाला था. कुछ देर बाद जब भाभी ठीक हुईं तो बोलीं- ये चुदाई मैं जिंदगी भर याद रखूंगी … सच में आज मुझे चुदाई में मजा आ गया.

दो लड़कों ने कैसे दो लड़कियों को अलग अलग अपनी चूत में उंगली करते पकड़ा तो उनके साथ सेक्स का जुगाड़ किया. बातों के अंत में सनी ऋतु को ‘आई लव यू …’ बोलता था तो उसे कभी कोई ऐतराज नहीं होता.

मीना के साथ चुदाई ने मुझे काफी परिपक्व बना दिया था; मेरी मासूमियत थोड़ी खत्म सी हो गई थी.

फिर मैंने पूछा- किसी को पसंद करता है क्या?उसने कहा- हां करता तो हूँ. शेर वाला बीएफमंजू, अंजू और मस्तराम की किताबों का ज्ञान और संजय का दिया ज्ञान सब एक साथ आजमाने की सोच ली. बीएफ सेक्स बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सजब भी घर में उन्हें कोई दूसरी चूत नहीं नहीं मिलती मतलब अम्मी, आपा, बाजी आदि न हों तो वो खाला की चुत चुदाई कर लेते थे. मामी- आंह आजा … अन्दर ही रस निकाल दे … आंह मेरी चूत जल रही है … आंह तेरे पानी से ही आराम मिल जाएगा उफ्फ्फ आह आह आउच.

उधर का माहौल बता रहा था कि अब शायद शिल्पा दीदी की चुदाई की बारी आ गई थी.

नहीं तो बुआ!मेरे इतना कहते ही बुआ मेरे करीब आ गईं और उन्होंने अपनी एक हथेली से मेरी जांघ को दबा दिया. फिर मैंने लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया और कुछ ही धक्कों में भाभी को भी मजा आने लगा. मैं चीख रही थी- आआह मर गई … मेरी गांड फट गई … आआह … छोड़ दे कमीने … ऊऊऊह!मगर मनोज नहीं माना.

थोड़ी देर बाद मैं पेशाब करने के बहाने उठा और आश्वस्त हो गया कि मेरी पत्नी सो चुकी है या नहीं!उसके बाद मैं प्रिया के रूम में आया।वह तो जैसे इंतजार में ही बैठी थी।जैसे ही उसके रूम का दरवाजा लगाया, वो मुझसे चिपक गई और मुझे किस करने लगी, कहने लगी- मेरी जीजा राजा … मेरी प्यास बुझा दो। मैं तो कब से इस इंतजार में थी. खैर … मंजू जब मुझे किस करने लगी तो मैं भी जोश में आ गया और उसके चूतड़ों को जोर से पकड़ लिया. मैंने अभी तक इतनी महंगी बस में सफर नहीं किया था, इसलिए काफी उत्साहित था.

बीएफ सेक्सी पिक्चर ओपन

हैलो फ्रेंड्स, मैं राहुल श्रीवास्तव एक बार फिर से अपने युवा जीवन में घटी यौन अनुभूतियों से भरी हुई सेक्स कहानी में आपका स्वागत करता हूँ. कज़िन सिस्टर Xxx चुदाई कहानी दो साल पहले की है जब मैं पच्चीस साल का था।वैसे उससे पहले मैं अपने बारे में भी बता दूं आपको।मेरी हाईट 5. देसी दीदी सेक्स कहानी में पढ़ें कि दीदी के फोन में सेक्स चैट देखकर मैंने उसका फायदा दीदी से सेक्स का मजा लेने में किया.

वे मेरे दूध, चूतड़ और मेरी पुसी से खेलने के साथ मेरे होंठों को भी चूस रहे थे।ज्यादा नहीं … दस मिनट में वापस हम तीनों ही तैयार हो गये.

अपने हाथों से मैं धीरे-धीरे दीदी के बालों को पीछे करने लग गया ताकि दीदी के बूब्स से सारे बाल हट जायें और मैं दीदी के टाइट बूब्स को देख सकूं.

फिर सुबह उठकर उन्होंने कॉफ़ी बनाई और हम दोनों ने बात करते हुए कॉफ़ी पी. वो मेरे मुँह से ये सुनकर बोला- तुझे चढ़ गई है क्या?मैंने कहा- क्यों क्या हुआ?वो कुछ नहीं बोला और अपना गिलास फिर से भरने लगा. बीएफ वीडियो फुक्किंगमैंने कहा- तेरी चुत कसी हुई है … यदि एकदम से पेल दिया ना … तो तेरी चुत में बहुत दर्द होगा.

मुझे हर बार सेक्स के बाद भी कुछ करते रहना पसंद है, तो मैं उसकी चूत में उंगली फंसा कर कुछ देर वैसा ही लगा रहा. मेरे मन‌ में दिव्या के प्रति एक नया बीज बोया जा चुका था पर अभी भी मैंने उसके लिए सेक्स जैसा कुछ भी नहीं सोचा था. ब्लाउज तो बैकलेस था जो कि बालों के पीछे से अपनी ब्राइटनेस पीठ को दिखा रहा था.

जाओ सरसों का तेल ले आओ और कर दो अपनी दीदी की मालिश!”मैं अपने कमरे में गया पहले और मैंने अपना पजामा और टीशर्ट उतार कर हाफ पैन्ट और बनियान पहन ली. अब मैं प्रोफेशनल रंडी तो बन गयी पर उसने अपना रूम और नंबर बदल लिया था जिसकी वजह से मैं कभी उससे बदला नहीं ले पाई.

मुझे मेरी कई फ्रेंड्स ने बताया था कि कई बार उनके ब्वॉयफ्रेंड जब नाराज होते हैं, तो वो ताबड़तोड़ धक्के चुत में मारते हैं.

मैं कपड़े पहन कर उनके कमरे में जाकर नीचे फर्श पर अपना बिस्तर लगाने लगा. मैंने आधे अधूरे मन से अपने पैंट की आधी चैन खोली तो वो थोड़ी नजदीक आ गई. मामी- अभी से टें बोल गया … अभी तो पूरी रात बाकी है मेरी जान!उस टाइम रात के दो बज चुके थे, मैंने सोचा कि हां यार अभी तो पूरी रात बाकी है.

हिंदी में बीएफ फिल्म देखना अब मैं बार-बार दीदी के निप्पलों को छू रहा था जब भी हाथ ऊपर नीचे ले जा रहा था. मैंने जब मम्मी की अलमारी चैक की तो वहां सेक्स पोजीशन में चुदाई की किताब देखी.

साली बहुत चुदी है तेरी चुत … तभी इतनी आसानी से चुत खोलकर मेरे नीचे आ गई है. उसकी लंड चुसाई से साफ़ समझ आ रहा था कि मेरी बहन को लंड चाटने का ख़ासा अनुभव था. पर एक वादा करो राज … तुम मेरे अलावा किसी को नहीं देखोगे, भले शादी के बाद अपनी बीवी से कर लेना, पर अभी मुझे ही अपनी बीवी समझो.

कुमारी लड़की का बीएफ हिंदी में

फिर मैंने सोचा कि मां चुदाए … साली को देखा तो देखा … अब अंकल भगाएगा तो दूसरा कमरा देख लूंगा. मैं उसी समय उस टेंट में चली जाती … लेकिन उस झोपड़ी के पास काफ़ी लड़के और मर्द थे, तो मैंने सोचा कि शाम को आऊंगी, जब कोई आस-पास नहीं होगा. अब आगे शीमेल पोर्न स्टोरी:प्रकाश को अपने दूध दबाने का निमंत्रण देकर मैंने दीपक को अपनी साड़ी का पल्लू हटाकर खुल्ला निमंत्रण दे दिया.

मुझे हैदराबाद में नौकरी मिल गयी थी और जॉब ज्वाइन करते ही मेरे पापा ने एक फ्लैट खरीद कर मुझे दिलवा दिया था ताकि मुझे किराए के चक्कर में ना पड़ना पड़े. जीजू ने मेरी चूत में लंड रख कर एक ही झटके में पूरा पेल दियामैं आह करके रह गई.

फिर साफिया कहने लगी- झटके मारो मेरे प्यारे मामा! मेरे राजा!फिरोज भी कहने लगा- हां मेरी जान ले चुद अपनी अम्मी के भाई से!वो धीरे-धीरे धक्कमपेल करने लगा। फिर उसको तो मस्ती छाने लगी.

आंटी ने मेरा हाथ पकड़ कर हटाया और अपना हाथ देखने लगी जिस पर मेरे लंड का पानी लगा हुआ था. ये मेरी पहली सेक्स कहानी … माय सेक्स लाइफ स्टोरी है और इसमें मैंने अपनी हक़ीक़त बयान की है. मैं जल्दी से उठकर कमरे में आ गया और रात भर सोचता रहा कि भाभी शायद इसी लिए निराश रहती हैं और भैया और भाभी की कम बनती है.

मैंने एक झटके में अपना लौड़ा उसकी मखमली गुलाबी चूत में अंदर तक घुसा दिया. सनी उसके ऊपर से उतर कर उसके पास लेट गया और उसने ऋतु को अपनी बांहों में भर लिया. वैसे सीमा भी अब तक वीर के पास पहुंच गई होगी और आज रात खुल कर चुदवाएगी.

करीब एक घंटे बाद जीजू ने मुझे उठाकर दूसरे कमरे में लाकर फिर से काफी देर तक चोदा और मुझे चरम सुख तक पहुंचा दिया.

भाई बहनों की बीएफ: भाभी भी मादक आवाजों के साथ मजे लेने लगीं- उईई अह्ह उह्ह म्ह्ह …कुछ देर बाद उनका पानी छूट गया. मेरा उन्नीसवां जन्म दिन आया तो भाई मेरे लिए एक सेक्सी स्कर्ट टॉप उपहार लाये.

मैंने बड़ी बेसब्री से कहा- क्या?मुझे समझाते हुए मीना बोली- देखो तुम्हारे स्तन बड़े हो रहे हैं … और नितम्ब भी लड़कियों जैसे फैल रहे हैं, तो तुम्हें लड़कियों की ब्रा पैंटी और मेरे जैसी सलवार कमीज ट्राय करने होंगे. जाते टाइम उस लड़के की झोपड़ी बंद थी तो मैं आगे से पार्क के चक्कर लगा कर वापस आ ही रही थी कि वो लड़का मुझे फ़िर से दिखा और वो भी पेशाब करते हुए ही!लेकिन मैं चुपचाप मुँह नीचे किए हुई आगे जाने लगी. कुछ ही पलों में सनी, ऋतु के होंठों को जोर जोर से ऐसे चूस रहा था मानो उनमें से कोई रस निकल रहा हो.

वो मम्मी के दूध इस तरह से पी रहे थे मानो एक छोटा बच्चा भूखा हो और अपनी मां का दूध पी रहा हो.

आज मैं आपको मेरे भाई से चुदाई बहन की रसीली सेक्स कहानी सुनाने जा रही हूँ. यानि रेणु आज रात मेरे साथ मेरे बगल में सोने वाली थी, वो भी पूरी रात. ऋतु ने उसकी नजरों का पीछा किया और जैसे ही उसकी नजर लंड पर पड़ी तो उसकी सांस फिर से अटकने लगी.