प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी

छवि स्रोत,பாவனா செஸ் வீடியோ

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ बंगाली: प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी, मैंने उनकी तरफ देखा तो जीजू ने मेरे कंधे पर हाथ रखकर मुझे अपनी ओर खींच कर चिपका लिया.

सेक्सी ज्यादा

साथ ही गीत भी अपनी टांगों को सिकोड़ रही थी क्योंकि उसकी चूत में पहले से ही डिल्डो घुसा हुआ था. गाने सेक्सी वालेफिर मैंने अपना लंड निकाल कर सेक्सी मौसी को डॉगी स्टाइल में करके चोदने लगा.

उसने मुझसे बहुत प्रार्थना कि मैं ब्रेकअप ना करूं, फिर चाहे और कुछ रास्ता निकालना पड़े, चाहे मैं किसी और के साथ सेक्स करके अपनी वासना को पूरी कर लूं. पंजाबी में सेक्सी वीडियो पंजाबीआज मुझे पता चला कि वो देखने में तो सुन्दर थी ही, उसका बदन भी कम मादक नहीं था.

भाभी ने कहा- हम्म … कोई बात नहीं अब तो बताओ कि आप कैसे हैं?मैंने- मैं ठीक हूँ भाभी.प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी: कभी आंटी मेरे गाल पर चूमतीं, तो कभी मेरे होंठों पर, तो कभी गर्दन पर मुझे चूम रही थीं.

मैंने अपने दोनों हाथ भाभी की बड़ी बड़ी चुचियों पर रख लिए और उन्हें भींचता दबाता रहा.तभी प्रवीण बोला- वो माल कहां पर है?तो धीरू अंकल ने इशारा करके बताया- वो माल वहां लेटी है.

भारतीय इंडियन सेक्सी - प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी

वो- तबियत कैसी है अब?मैं- अब ठीक है और आपके हाथों का बना नाश्ता करके तो और भी ठीक हो गयी.दोस्तो, जब भी मुझे लंबे टाइम तक सेक्स करना होता है, उससे एक दिन पहले में रात को 2 बार हस्तमैथुन करके सोता हूँ, जिससे मैं लम्बा दौड़ सकूँ.

मैंने थोड़ा जोर लगाकर आधा लंड आँटी की चूत के अंदर कर दिया और अपने दोनों हाथों से ब्लाउज के बटन खोलकर चूचियों को बाहर निकाल कर मसलने लगा. प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी मैंने उनसे कहा- मैंने आपको पहले ही बोला था कि आपको किसी बात की कमी नहीं रहने दूंगा.

शाहीन जी, अगर आपको ऐतराज न हो तो मैं अभी आपके साथ सेक्स करना चाहता हूँ.

प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी?

मैंने उसका जोश बढ़ाने के लिए कहा- चाचा औ भोसड़ी वाले चाचा … जरा आराम से करो! वरना 2 मिनट में निकल लोगे. मैंने एक उंगली उसकी चूत में जैसे ही डाली … वो आंखें बंद करके मजे लेने लगी. फिर थोड़ी देर फ़ोन पर बात करके मैंने फ़ोन काट दिया और मैं थॉमस के साथ अपनी चुदाई के दिन याद करने लगी.

इतना बोल कर मैंने एक तगड़ा धक्का दे दिया और अनु के ऊपर चढ़ गया … ताकि मेरे वजन से वो हिल भी न सके. मैंने कमल को बोला- कंवर सा, एक एक पैग सभी के लिए बनाओ, तो सर्दी भगाने का काम हो. मम्मी ने मेरी कमीज़ निकाल दी तो मैंने ब्रा पर दोनों हाथ रख लिए और कहा- मम्मी, मैं ये नहीं उतारूँगी.

पर उसने मुझे क्रूर नजरों से मुस्कुराते हुए ऐसे देखा मानो उसके मन में बरसों की कोई शत्रुता छिपी हो … और अब उसे प्रतिशोध लेने का अवसर मिल गया हो. मैं चाहती हूँ आप सभी देसी गर्म चुत सेक्स स्टोरी पढ़ते वक़्त अपना अपना माल मेरा नाम लेकर निकालें. साले का फोन आया- आपका टेस्ट हुआ था और डॉक्टर ने बताया है कि आपको कोरोना हुआ है.

मैंने बोला- हां नैना अब मैं तुम्हें अपने से अलग नहीं करूंगा, तुम्हें अपने बच्चे की मां बनाऊंगा … बोलो नैना तुम होगी न मुझसे प्रेग्नेंट!वो बोली- हां रमित मुझे अपने प्यार की निशानी दे दो. नहीं तो मेरे साथ पैदल चलो, रास्ते में बातें भी होती रहेंगी और आज तो धूप भी नहीं है … शायद बारिश आएगी.

हम दोनों ने एक दूसरे के पूरे कपड़े उतार दिए और नग्न अवस्था में कामवासना में जलने लगे.

वो अक्सर रात को छत पर नाइटी पहन कर ही आती थीं और उनके शरीर से बहुत ही मादक महक आती थी.

तू तो चूस ले!वो मेरे अण्डकोषों को मुँह में भर कर चूसने और चाटने लगी. अब इसी तरह धीरे धीरे मैं भी अभिषेक को अन्दर ही अन्दर पसंद करने लगी. मेरे परिवार में मेरे अम्मी अब्बू, बड़े चाचा-चाची, छोटे चाचा-चाची और उनके बच्चे … हम सब साथ में ही रहते हैं.

मेरी और नीलम की अच्छी दोस्ती है हालाँकि मैंने नीलम की आज तक चुदाई नहीं की है क्योंकि हम दोनों के बीच में ऐसा कुछ भी नहीं था. मैंने बिना देर किए उसकी चूत में जैसे ही लंड डाला, वो ‘उम्म उम्म आह. अब क्योंकि चाचा जी मेरे से दुगनी से भी ज्यादा उम्र के थे, तो मुझे भी हल्की हल्की शर्म आ रही थी.

फिर मैंने धीरू अंकल को बुलाया और उनके लंड से कंडोम निकाल कर उनका लंड चूसना शुरू कर दिया.

हार कर मुझे अपने होंठ ढीले करने पड़े और मैंने उसके सामने आत्मसमर्पण कर दिया. सच में शायरा की चूचियां इतनी टाईट और कसी हुई थीं कि उसके पति ने तो क्या … शायद खुद शायरा ने भी कभी उनको हाथ नहीं लगाया था. वो- अरे कोई नहीं … वैसे भी मेरा खाना हो गया था, मैं तो बस ऐसे ही बैठी हुई थी.

मैंने एक चूचे को दबाना शुरू कर दिया, जब उसकी तरफ से कोई हरकत नहीं हुई तो मेरी हिम्मत काफी बढ़ गई. उस दिन मटन के साथ दारू का मजा लेते समय मुझे भाभी की चूचियाँ ही गर्म करती रहीं. अभी हम लोग आपस में बात ही कर रहे थे कि तभी दीदी बोलीं- ऐसा करते हैं … परसों रविवार है.

जैसे ही बारिश शुरू हुई, हम दोनों भी भागकर पास के ही‌ एक‌ पेड़ के नीचे जाकर खड़े गए … मगर बारिश पहले तो धीरे धीरे हुई, फिर तेज हवा के साथ जोरों से होने लगी.

जब हम तैयार हो चुके थे, तब निशु और रोहन ने अपने लड़कियों वाले नाम बताए. मैंने रोहन से कहा- ठीक है, अब हम खाना खा लेते हैं, उसके बाद मुझे आज पूरी रात आपसे चुदना है.

प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी शायरा ने जो देखा, उसके बाद मेरे आने से शायद वो घबरा भी रही थी … क्योंकि वो अब अपनी नजरें नीची करके खड़ी हो गयी थी. दो तीन मिनट में जब वो शांत हो गई, तो मैंने उसे नीचे फर्श पर लिटा कर चोदने का सोचा.

प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी वैसे आप सभी मुझे अच्छी तरह से जानते होंगे, लेकिन फिर भी मैं आपको अपना परिचय दे देता हूँ. मैंने अपना मोबाइल फोन निकाला ही था कि उसकी मोटी सास ने हमारी बात को बीच में ही काट दिया.

एक दिन में अपने काम से किसी दुकान पर गया, वहीं मेरी मुलाकात एक स्कूल टीचर से हुई.

सेक्सी पिक्चर देखने वाली फिल्म

मैंने भाभी के कुरते के गहरे गले में से एक चूचे को थोड़ा बाहर निकाला और अपने मुँह से काटने लगा. मैं अन्तर्वासना का सच्चे दिल से आभार व्यक्त करता हूंइस इंडियन सेक्सी चुदाई स्टोरी की शुरूआत मेरे घर के पास से हुई. ”दादी की चूत से अपनी ऊंगली बाहर निकालकर मैंने दादी से पूछा- दादी, पिछले 36 सालों में कभी आपकी उमंगों ने जोर नहीं मारा?नहीं बेटा, तेरे दादा के मरने के मरने के बाद मैं अपने मायके चली गई.

इस डिल्डो में डबल साइड लंड था जिसे लेस्बियन सेक्स के टाइम पर लड़कियां इस्तेमाल किया करती हैं. भाभी- साफ़ नहीं किया तुमने?मैं- अरे, मुझे उम्मीद थोड़ी ही थी कि आज ही मेरी किस्मत खुल जाएगी. तभी भाभी ने मुस्कुरा कर कहा- देवर जी इतनी भी क्या जल्दी है, अब तो मैं तुम्हारी ही हूं.

पति बोला- तो?अनीता- तो जब फूफाजी ये बात बुआजी को बताएंगे … तो तुम्हारी नामर्दी का भांडा फूट जाएगा.

विजय का लण्ड जब दो बार मेरी चूत में धराशयी हुआ तब जाकर मेरी चूत को ठंडक नसीब हुई और मेरी चूत की आग कम हुई. मरीज की सास विमला को वहीं छोड़ रोहिणी अपनी बहु मीनाक्षी को लेकर चली गयी. इतना कहकर मैंने भाईजान को अपनी बांहों में ले लिया और उनको आई लव यू बोलकर उनके होंठों पर होंठों को रख दिया.

लम्बे अरसे से शायद लौड़ा नसीब नहीं हुआ थामेमरानी ने अब तीव्र चुदास से भरकर हौले हौले धक्के देने शुरू किये. भाभी ने खीरे का थोड़ा सा हिस्सा मेरी चूत में डाला और अपनी चूत के ऊपर वाले हिस्से पर खीरे का दूसरा सिरा लगाकर अपने चूतड़ों की हरकत से खीरा मेरी चूत में घुसेड़ दिया. उसने मुझे होटल का नाम बताते हुए कहा- मुझे इस होटल के बाहर उतार दीजिएगा.

एक बालकॉनी पीछे की तरफ थी जो मेरे और बचे पोर्शन के मास्टर बेडरूम के लिए इकट्ठी थी. बैठने के दरम्यान जब लंड उसकी बुर में गया, तो उसकी दर्द भरी आह निकल गयी.

यह कह कर मैं अंदर मेरे छोटे फ़्रिज़ में से दीपिका के लिए एक शीतल पेय ले आया और उसे गिलास में डालकर उन्हें दे दिया. बाकी सब लोगों की तरह ही वो रोमांस अब मेरी भी शादी में खत्म हो चुका है. अब 26 साल की उम्र में हमारे लेडीज गार्मेंट स्टोर का काउंटर मैं ही संभालने लगा था.

हैलो मेरे प्यारे दोस्तो, कैसे हैं आप सब! आशा करती हूँ सब मजे ले रहे होंगे.

इस पर मेरा दिमाग बिगड़ गया, मैंने चिल्लाते हुए कहा- मादरचोदी, धंधे पर आकर भी भाव खाती है … चल जल्दी कपड़े खोल कर पास आजा, नहीं तो गांड में झाड़ू घुसा कर भगा दूंगा. लेकिन भाभी?”” लेकिन क्या?” भाभी ने हैरानी से पूछा।मैंने धीरे से कहा- कोई सुंदर सी चूत मिलेगी तो … मैं मार लूँगा और उस बारे मैं आपके विश्वास पर पूरा नहीं उतरूंगा. जब गीतिका से सहन नहीं हुआ तो बोली- राज, चोदो न, लण्ड को अब अंदर डालो और कितना तड़पाओगे?मैंने उसी वक्त लंड को चूत के छेद पर दबाया और दबाता चला गया.

मेरी गांड में अलग ही खुजली मिटटी सी लग रही थी और लंड के अन्दर बाहर होने का अहसास मुझे मजा दे रहा था. होटल पहुंचने के बाद हमने रजिस्टर पर हस्ताक्षर किए और वेटर हमें रूम तक ले गया.

मेरे दोनों उठे हुए चूतड़ों के बीच फंसी मेरी टाइट गांड के छेद को वो लपलप करते हुए चाटे जा रहा था. नेहा की इस बात पर हम सभी हंस पड़े और नेहा की बात सुन कर गीत बोली- आजा साली तू देख ले करके, आजा यहाँ आकर गांड मरवा. उसे तो भरे बाजार में नंगी करके गांड मारनी चाहिये।रवि- हाहा … मगर तुझे कैसे पता मैंने उसे रात में बुलाया था?रमेश- कमीने तूने ही तो मुझे भी ऑफर किया था.

सेक्सी फुल सेक्सी वीडियो

सुबह देर तक मैं सोता रहा, फ्लैट की एक चाबी नैना के पास ही रहती थी, तो वो उस चाबी से खोल कर अन्दर आ गयी.

अकेले में भी और सबके सामने भी … फिर से याद दिला रही हूँ यह मालकिन और गुलाम वाला मामला सिर्फ अकेले में … समझ गया?”मैंने गर्दन हिलाकर बताया कि हाँ समझ गया और फिर से उस रसभरी चूत का स्वाद भोगने में जुट गया. और राज जी ने मुझे बताया था:अगर आप चाहते है कि आपकी वाईफ खुल कर सेक्स करे, स्वेप करे, थ्रीसम करे. मैं तो अपनी मस्ती में मस्त था, मगर शायरा अब भी शर्म के कारण कुछ बोल‌ नहीं रही थी.

वे कहने लगी- कितना डिस्चार्ज करते हो तुम? तुम तो सांड क्या घोड़े जैसे हो. फिर हम दोनों ने मिलकर चाय पी और अपनी कार में बैठकर माउंट आबू के लिए रवाना हुए. मान सेक्सीआँटी बोली- बुद्धू, निकालो दर्द हो रहा है, पीछे से चूत में डालो और मेरी चूचियों को पकड़कर मसलो.

मेरे परिवार में मेरे अम्मी अब्बू, बड़े चाचा-चाची, छोटे चाचा-चाची और उनके बच्चे … हम सब साथ में ही रहते हैं. अब आगे की भाभी का सेक्स प्ले कहानी:मैं सारा दिन ऑफिस में उसके बारे में ही सोचता रहा, मेरे ऊपर भी थोड़ी वासना हावी होने लगी थी.

मैं आँटी के ऊपर लेट गया और धीरे धीरे अपने चूतड़ उठा कर लण्ड अंदर बाहर करने लगा. कहानी के पहले भागलॉकडाउन में मस्त पड़ोसन 1में अब तक आपने पढ़ा कि भाभी जी एक बड़ी हॉट सी ड्रेस में अपने मम्मों का मुजाहिरा करते हुए मेरे दरवाजे पर खड़ी थी और उनको गैस सिलेंडर बदलवाना था. उसे शाही सर ने पैसे का लालच देकर मना लिया था और वो उनसे पैसे ले चुकी थी.

उनका पूरा वजन अब मेरे ऊपर ही आ गया था। मेरे मुख से आआ आआह आआआआह निकल रहा था।अब उन्होंने लंड को अंदर करना शुरू कर दिया और जल्द ही उसका सुपारा मेरी गांड में घुस गया।मुझे तेज़ दर्द हुआ- ऊऊऊ ऊऊईई ईईईई मा मम्मी आआआह!वो रुके नहीं और पूरा लंड मेरी गांड में पेल दिया।मैंने अपने होंठों को मुख में दबा लिया. मेघा ने अपनी पैंटी को पूरी नीचे खींच दिया और उस लकड़ी के डेस्क पर जा बैठी. भाभीजान कंधे बिस्तर पर टिका कर हर शॉट का इंतजार कर रही थी जिससे मेरा जोश दुगुना हो जाता।मन में मैंने एक संकल्प लिया कि भाभी को आराम से चोद कर आज गर्भवती करना है।करीब आधे घंटे की धीमी-धीमी चुदाई में भाभी के शरीर में ऐंठन होने लगी.

बिल बनाते हुए मैं सोच रहा था कि इस सेक्सी माल को गर्म कैसे किया जाये.

वो- वो क्यों?मैं- अब बस में तो एक दूसरे से थोड़ा बहुत छू भी जाते हैं, क्या पता तुम कब मेरा गाल सुजा दो. आपको सेक्सी भाभी की ये कहानी पसंद आ रही हो तो मुझे अपने विचार और राय जरूर बतायें.

अर्चना की पीठ पर झुक कर मैंने उसकी दोनों चूचियों को लगाम की तरह खींच लिया और चुत की धज्जियां उड़ाना शुरू कर दीं. दरअसल मुझे बिन्दू को चोदने का पूरा मौका नहीं मिल रहा था और जल्दबाजी में मैं कुछ करना नहीं चाहता था, क्योंकि जल्दबाजी में आदमी अपना काम तो कर लेता है लेकिन लेडी का काम रह जाता है और फिर औरत उस आदमी से चिढ़ने लग जाती है. उनका प्यार सा सेक्सी चेहरा, गोरा छरहरा बदन देख कर, मुझे वो किसी भी एंगल से 24 साल से ज्यादा की नहीं लगती थीं.

विजय ने अपने घर पर कैसे मेरी गांड का उद्घाटन किया और कैसे मेरी गांड मारी?उसकी कहानी आप सबको अगली बार विस्तार से बताऊंगी. इसके बाद मैंने उस इंडियन विलेज भाभी को उसके गांव की बस में बिठा दिया. उसका लंबा और मोटा लंड मेरी चुत की दीवारों को रगड़ता हुआ मेरे अंदर तक समा रहा था.

प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी भाभी ने अपने दोनों पैरों से मेरी गर्दन को जकड़ लिया और चूत पर मेरा मुँह दबाने लगीं. यूं ही रास्ते में बातें होती रहीं और हम दोनों को घूमते हुए करीब 2 घंटे कब निकल गए, पता ही नहीं चला.

कथा लेखन मराठी pdf

लेकिन उस हरामजादे ने मुझे भी मारा है, मैं इसे उसके पास बिल्कुल भी नहीं जाने दूंगी. अपने दोनों हाथों से मैं अपने स्तनों को छुपाने की कोशिश कर रही थी।तभी डाक्टर ने मुझे बुलाया और मेरे दोनों स्तनों को हल्के से दबाते हुए चेकअप करने लगा. तुम्हारा बदन भी बड़ा जोरदार है यार … मजबूत बांहें हैं, मस्त छाती है.

मेरा लगभग आधा ही लंड गया था कि वो कराहते हुए कहने लगी- थोड़ा धीरे करो जान. वो- आहा … कोई बात नहीं, हम एक दूसरे से तुम करके बात करेंगे, तो अच्छा है … वरना मज़ा नहीं आएगा. कच्चे केले की सब्जीदो ही मिनट मैंने अपने इस मर्द दोस्त से गांड मराने के सारे सपने देख लिए.

वो भी लंड को अंदर तक ले रही थी।हम दोनों चुदाई करते करते जन्नत का मज़ा लेने लगे।मैं उसकी चूचियों को दबाने लगा.

वहां से उसने मुझे फोन किया और बोली- क्या नर्स से सैटिंग कर ली!मैंने कहा- हां, शराब पीने के लिए इन नर्सों के बैठने का कमरा है. सुबह दस बजे तक फ्रेश होकर मैंने अपने रूम को ठीक किया, तब तक कविता भाभी मेरे लिए नाश्ता लेकर आ गईं और प्यार से बोलने लगीं.

धीरे धीरे हम दोनों को एक दूसरे का साथ पसंद आने लगा … और आखिरकार हमारी दोस्ती प्यार में बदल ही गयी. आह संजय, बस ऐसे ही मुझे संभाल कर रखना … मैं तुम्हें जिंदगी भर खुश रखूंगी … सारी उम्र तुम्हारे लंड को अपनी चूत का रस पिलाऊंगी. अर्चना की कसी हुई चुत में लंड जकड़ कर अन्दर बाहर हो रहा था, जिससे बहुत मज़ा आ रहा था.

उसने फिर से डरते हुए मेरी जाँघ पर अपना हाथ रखा और बिना हिलजुल किए हाथ वहीं रहने दिया.

कई बार अपनी बीवी या गर्लफ्रेंड से भी हम ऐसे अंदाज में ऐसी सेक्सी बातें नहीं कर पाते. मैंने चुत को गीली होते देखा, तो और भी तेजी से उसकी चुत में फिंगरिंग करना शुरू कर दिया. कमरे में कुछ देर मैंने अकेले ही बहुत सी बातें सोचकर आंसू बहाए … और बहुत सी बातों के लिए खुद की किस्मत को सराहा.

चुत कैसी होती हैफिर उन्होंने मुझे बेड पर सीधा लेटा लिया और अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया. लेकिन अब क्या हो सकता था … मम्मी को पता चल गया था।अगले दिन मम्मी मुझे लेकर अस्पताल गयीं जो कि मेरे घर से थोड़ी दूर था.

एचडी सेक्सी फुल एचडी

तो मेरे स्तन ऊपर नीचे हो रहे थे और वह देख रहा था।एक दो मिनट जाँच करने के बाद उसने कहा- मैं कुछ दवाइयाँ लिख देता हूँ. झटकों में नीरा की हर सिसकारी, उसके चेहरे पर चुदने से मिलने वाला सुकून देख मैं उसकी कल्पना करने लगा कि अगर नीरा अभी किसी और मर्द के नीचे लेट कर चुद रही होती तो कितनी मस्ती में चुद रही होती. मैं उनके लंड पर आगे पीछे हिलने लगी और वो मेरी चूचियों को मसलने लगे.

मैं ज़ोर ज़ोर से आंटी के मम्मों को दबाते हुए उन्हें गर्म करने की सोच रहा था. अकेले में भी और सबके सामने भी … फिर से याद दिला रही हूँ यह मालकिन और गुलाम वाला मामला सिर्फ अकेले में … समझ गया?”मैंने गर्दन हिलाकर बताया कि हाँ समझ गया और फिर से उस रसभरी चूत का स्वाद भोगने में जुट गया. पहले ही महंत ने बुरी तरह उसकी चुत को चूस कर रगड़ दिया था … इसलिए उसकी चुत में जलन होने से रो रही थी.

मैंने भी ज्यादा दबाव नहीं दिया और कुछ चुम्मे और ब्लाउज के ऊपर से ही उसकी चुचियों को मसल कर अपना काम चला लिया. भाभी मेरी शरारती सोच को समझते हुए बाथरूम के अन्दर आ गईं और दो-तीन नॉब घुमा दिए. कसम से दोस्तो, मैं उस दिन से भाभी को चोदने के लिए बेचैन था कि कब भाभी को चोद दूं.

फिर वह सारे बर्तन समेटकर बुआ के साथ बिस्तर पर सोने चली गई।मैंने अपनी बहन की मदद से उसकी पड़ोसन को चोदा. उसके बाद वो आज भी मुझसे मिलती है। हम लोग कई बार मिले उसने मुझे और भी कईयों से मिलवाया।बाकी कहानियां फिर कभी।आपको मेरी चुत चुदाई सेक्स की हिंदी कहानी अच्छी लगी होगी.

मैं 2015 से कपल स्वेप थ्रीसम सेक्स की कहानी पढ़ पढ़ कर उत्तेजित हो जाता था.

उसकी चुत से पानी का झरना फूट पड़ा, जो मेरे गले को तर करने में लगा हुआ था. फिक्स ओपनमेरी कुंवारी Xxx चुत कहानी आपको अच्छी लगी या नहीं? मेल जरूर कीजिएगा. सेक्सी वीडियो हिंदी स्कूलसेक्स का फार्मूला है कि जब आप औरत को चोदो तो आपसे पहले उसका पानी निकलना चाहिए, तभी वह आपको सलाम करेगी. विजय पीछे से लगातार धक्के मार रहा था और अचानक बोला- शालिनी, मेरा आने वाला है!मैंने विजय को बोला- जान, मैं तुम्हारे अमृत से अपनी मांग भरना चाहती हूं.

सोनम हंसने लगी और बोली- अभी तूने मज़े देखे ही कहां हैं मेरी जान!मैंने राहुल से कहा- अब कब देखने को मिलेगा यही मजा!राहुल बोला- मैं तो आज रात को लंडन जा रहा हूँ.

मैंने केक का आधा भाग उसके होंठों में फंसा दिया और एक दूसरे को इसी तरह से खिलाया. मोहल्ले में न जाने कितने ही लोग उन्हें देख कर अपने लंड की पिचकारियां छोड़ते होने. मैं भी उन दोनों के बाल पकड़ कर लंड को उनके मुँह में अन्दर तक डालने लगा था.

तब तक मैकेनिक की दुकान भी आ गया थी, इसलिए मैं और शायरा तो स्कूटी को लेकर मैकेनिक के पास रुक गए और वो औरत व लड़की सीधा बस स्टॉप के लिए आगे चली गईं. मैंने दो मिनट में ही उनका लंड चूस कर टाइट कर दिया और डॉगी सी झुक गयी. दादी की उम्र करीब 60 साल थी और कद काठी लगभग मल्लिका जैसी ही थी और रंग बहुत साफ था.

डॉट कॉम सेक्स मूवी

गीतिका अपनी टांगें चौड़ी करके खड़ी हो गई, उसने मेरी तरफ देखा और बोली- ऐसे भी कोई चुदाई करता है? मेरी तो जान ही निकाल दी आपने!मैंने कहा- यह तो पहला सेशन है. अभिषेक ने मेरी सहेली को पकड़ा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और एक बहुत तगड़ा वाला स्मूच किस करने लगा. शाम को जब मैं मार्किट से वापस आया, तो मेरी मां ने मुझे बोला कि अगले सप्ताह पड़ोस वाले भैया की बहन की शादी है और तुमको उनके कामों में हाथ बंटाना है.

मैंने जीभ निकाल कर उस रस को चाटा तो मेरे अंदर कामदेव साक्षात विराजमान हो गये.

मुझे चुदाई की कहानी पढ़ कर बहुत मज़ा आया और उसी कहानी को पढ़ते हुए मैं दो बार गीली भी हो गयी.

इस बार मैंने गांड ढीली की हुई थी, मुझे उम्मीद ही नहीं थी कि ये अन्दर पेल देगा. अन्तत: मुझे अपना मुँह अलग कर उससे कहना पड़ा कि जितना लिंग घुसा दिया है अब उससे अधिक अन्दर न घुसाओ. सेक्सी पिक्चर आदमी कीतो कभी कभी होंठों को चिपका कर हम दोनों जुबान से जुबान को टटोलने लगते, तो कभी एक दूसरे के जुबान को चूसने लगते.

अब धीरू अंकल ने 5 मिनट तक लगातार मेरी गांड मारी और फिर उनके झटके बहुत तेज हो गए. शुरू-शुरू में मेरी बीवी चुदाई के समय थोड़ा नखरा करती थी, लेकिन अब वो भी मस्त चुदवाती है. आदमी- नहीं, आप खड़े खड़े ही बताएं, देना है या नहीं?मैंने फिर कहा- सर आप अंदर तो आइए?आदमी- नहीं, पहले आप मकान दिखाओ.

दोस्तो, नमस्कार मैं मधु(शहद) एक बार फिर अपनी आत्मकथा में आप लोगों का तहेदिल से स्वागत करती हूं और बहुत शुक्रिया अदा करती हूँ. सलोनी भाभी के हाथ मेरे सिर के बालों में आ गए थे और उन्होंने खुद मेरा मुँह अपनी चुत की तरफ दबा दिया.

कविता की योनि अत्यधिक गीली थी और चिपचिपाहट से ऐसी भरी हुई थी मानो झाग बन गया हो.

फिर पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत को छूने की कोशिश की तो उसने भी उत्तेजना में अपनी टांगें थोड़ी सी खोल दीं. अब मैं पूरी तरह से आश्वस्त होकर कि साली जी अब चुद कर ही मानेंगी, मैं उसके पांव के पास बैठ गया और उसके तलवे चाटने चूमने लगा. मेरी हिंदी कामवासना स्टोरी के पिछले भागहस्पताल में लगवाए दो दो टीके- 1में आपने पढ़ा कि मेरी सासू मां अस्पताल में भरती थी.

भाभी सेक्सी शॉट मैंने पूछा- लेने का मूड है क्या?दीपिका- कुछ होगा तो नहीं ना? मैंने तो आज तक कभी इसे चखा भी नहीं है, लेकिन आज मैं भी कुछ भूलना चाहती हूँ. मैं बाहर चला गया और 3-4 मिनट में वापस आया, तो देखा सलोनी भाभी ने चादर बिछा दी थी और तौलिए में लिपटी मेरी जान उस चादर पर लेटी हुई थी.

दो ही मिनट मैंने अपने इस मर्द दोस्त से गांड मराने के सारे सपने देख लिए. मैंने सोचा कि इसकी बात तो सही ही लग रही है, आखिर सेक्स में बुराई क्या है. नेहा भी बोली- रोका किसने है तुम्हें?पीछे हमारी बातों को गीत और संजय दोनों सुन रहे थे तो गीत पीछे से बोली- साली आराम कर ले थोड़ा, नहीं तो फिर बाद में बोलेगी कि गांड फाड़ दी इन्होंने।गीत की गांड से गांड भिड़ाते हुए नेहा बोली- यदि आराम करने को दिल न करे फिर?गीत बोली- तो चुद ले फिर साली, मेरा क्या जाता है!संजय ने इतने में ही चाय ऑर्डर कर दी और हम सभी को कुछ देर सुस्ताने को बोल दिया.

गर्ल एंड हॉर्स सेक्सी वीडियो

जब मामा और मैं घर पहुंचे, तो नाना नानी और मामी का बेटा खाना खाकर नीचे बगीचे में चले गए थे. जिसने आज तक मेरा लन्ड शादी के इतने महीनों में नहीं चूसा, वो आज गपागप चूस रही थी. ट्रे लेते समय मेरे हाथ दीपिका के नर्म हाथों से अच्छी तरह से टच हो गए और हम दोनों के शरीर झनझना उठे.

मेरे लंड के लिए तो दोनों जैसे पागल थीं तो बारी बारी से पूरे लंड को मुंह के अंदर बाहर करने लगीं. दूसरा मौक़ा मिलते ही भाभी ने मुझे बुलाया और हम होटल में चले गए सेक्स का मजा लेने.

मेरे चेहरे पर चिंता के भाव देख बोली- क्या हुआ? किस टेंशन में डूबे हुए हो?मैंने हड़बड़ाते हुए कहा- कुछ नहीं.

मैंने भी चुदाई की पोजीशन सैट की और लंड का सुपारा चुत की फांकों में फिट कर दिया. तुम मेरी सबसे अच्छी फ्रेंड हो और मैंने तुमसे कभी भी ये नहीं चाहा था कि हमारी दोस्ती प्यार में बदले. एक दिन मेरी मैरिड गर्लफ्रेंड का आया फ़ोन और उसने कहा- मैं प्रेगनंट हूँ.

मैंने लेटे हुए ही पास में घुटनों के बल बैठी नेहा को बाजू से पकड़ा और बोला- साली तू भी आजा, चुदवा ले अपनी फुद्दी तू भी. मेरे चूतड़ों के नीचे बिस्तर गीला हो चुका था और सीने पर मेरे स्तनों का दूध फ़ैल गया था. तुम एक काम करो, जाओ अभी मेरे बाथरूम का शॉवर चला कर खड़े हो जाओ और अच्छे से नहा लो.

अब मैंने अपना मुँह भाभी की चुचियों से हटाते हुए उनसे मेरे गले में हाथ डालने के लिए कहा.

प्रियंका चोपड़ा का बीएफ वीडियो एचडी: अनीता ने कहा- चलो ये भी देख लिया जाएगा, लेकिन पहले मैं अपनी गांड की गर्मी तो लंड को दिखा दूं!और ये कहते हुए अनीता ने अपने होंठों को दांतों से काट लिया और लंड को गांड की अनंत गहराई तक उतार लिया. लेकिन मैं मामी की कमर को जोर से पकड़े रहा और धीरे धीरे लंड का दबाव मामी की गांड पर बनाने लगा.

कुछ देर पहले जो चूत छोटी सी लग रही थी उसमें अब उभार आ गया था और वह अपने आप खुल बन्द हो रही थी. तो दोस्तो कैसी लगी मेरी आंटी की गर्म चुदाई की कहानी … मुझे मेल करके बताइएगा. तो अभिषेक बेड पर लेट कर हल्की आवाज़ में पोर्न मूवी चलाकर देख रहा था और अपनी जींस की चैन खोल कर अपना लंड बाहर निकाल कर हिला रहा था.

बिल्कुल निश्चिन्त होने के बाद एक बार मैंने नर्स रूम में जाकर देखा तो पाया कि वो सब अपने रूम को अन्दर से लॉक करके सोई पड़ी थीं.

असली आनन्द तो रूह के मिलन से आता है और रूहें आपस में तब मिलती हैं, जब दोनों पूर्ण तृप्त हों. मेरा लावा काव्या के मुँह में और काव्या का लावा मेरे मुँह में फूट पड़ा. अब मैं ऐसे ही ऊपर घुटनों तक ढेर सारा तेल डाल कर सलोनी भाभी की टांगों की मालिश करने लगा.