बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो

छवि स्रोत,खपाखप वाली सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

भाई बहन की चुदाई सेक्सी: बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो, माहौल इतना कामुक हो गया कि तीनों के मुंह से जोर जोर की सिसकारियां निकलने लगीं.

सेक्सी वीडियो कॉम फ्री

अगले दिन सबको अपने अपने शहर वापस चले जाना था। मैंने और मेरी टीम ने भी बहुत एंजॉय किया, खूब खाया पिया और नाचे गए।सुनील मेरी टीम के पास आया और हम सबको जीत की बधाई दी।उसने कहा- आप सबने बहुत मेहनत की है इस जीत को पाने के लिए!तो मेरी सहेली ने कहा- हाँ वो तो है. सेक्सी फिल्म ऐपमैं खुद ही उन्हीं की बगल में सोफे पर चूतड़ उठा कर चुदने की पोजीशन में हो गयी.

बेड पर लेट कर उसने अपनी टांगों को ऊपर करके अपनी पैंटी निकाल दी और उसकी गांड में हवा में ऊपर आ गयी. भाई बहन की सेक्सी वीडियो 2020मैंने अपने दोनों हाथों से उनकी चुत को फैलाया और अपनी जीभ अन्दर तक डाल दी.

मैंने भाभी से पूछा- भाभी कैसा लगा?भाभी ने एकदम करवट ली और मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया.बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो: मैंने एक मादक अंगड़ाई ली और उसकी तरफ देख कर हंसते हुए कहा- सेब बहुत पौष्टिक होते हैं.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:पंजाबन की बेटी के बाद पंजाबन भी चुद गयी.ये देख कर मुझे और ज़ोश आ गया और मैंने जमके चोदना चालू कर दिया अपनी स्पीड बढ़ा दी.

सेक्सी वीडियो वीडियो दिखाना - बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो

उसके बाद उसे पोर्न वीडियो भी दिखाए, जिससे मेरी कुंवारी गर्लफ्रेंड भी बहकने लगी.साली जी ने ब्रा भी डिजाइनर ही पहिन रखी थी मैंने उसके कप मुट्ठियों में जकड़ लिए और मसलने लगा.

मैंने उनसे पूछा- बच्चे कहां हैं?मामी जाते जाते बोलीं कि वो तो स्कूल गए हैं … दो बजे तक आएंगे. बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो कभी कभी उसकी सास भी पानी दे देती थी, पर ज्यादा वक़्त वही मुझे पानी देने आती थी.

यदि उसके गर्म होते ही उसको चोद दोगे तो आंनद तब भी आयेगा किंतु उतना नहीं आएगा.

बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो?

पहले से भूखी प्राची भाभी लंड ऐसे चूसने लगीं, जैसे कोई कुतिया हड्डी चूस रही हो. मम्मी उसे मना कर रही थी बार-बार … लेकिन वह तो जैसे सुन ही नहीं रहा था. विन्नी मुस्कराते हुए- अच्छा जी!मैं- ह्म्म … जी।मैं- तुमने कुछ खाया?विन्नी- नहीं।मैं- चलो कुछ खा लेते हैं.

बॉस के बगल वाले रूम में मेरा केबिन था, लेकिन मेरे केबिन में दो गेट थे. कुछ देर गांड चाटने के बाद सर ने अपने दोनों हाथों से मेरे चूतड़ों को कुछ इस तरह से दोनों तरह खींचा … जिससे मेरा छेद खुल कर सामने आ जाए. बीच बीच में मैंने उसके कान की लौ भी चूसा, जिसका असर ये हुआ कि वो फिर से कामातुर हो गई.

उसे भोगने के लिए मेरे पास काफी टाइम था और मैं चाहता था कि मीता का पहला अनुभव यादगार हो … ताकि मैं उसको हमेशा पा सकूं … और जब चाहूं, तब तक उसको चोद सकूं. ” उसने सकुचाते हुए कहा।कोई बात नहीं … तुम बाथरूम में जाकर पहले अपने पैर धो आओ फिर लगा देता हूँ. प्रतिभा की नजर मेरी सजीली गठीली काया को निहार कर मेरे लिंगदेव पर आकर ठहर गई थी.

फिर मैंने दीदी के गाल को उमेठते हुए कहा- अरे वाह … दीदी मौका मिलते ही आपने तो चौका लगा दिया. मैंने पूछा- कितना बड़ा हो गया है … क्या है बेबी ब्वॉय है या बेबी गर्ल?वो बोलीं- मेरा बेटा 8 साल का है.

मैंने धीरे से सास के कमरे के पर्दा हटा कर देखा, तो सासु मां खर्राटें ले रही थीं.

ऐसे प्रहार से रश्मि का सारा मजा खराब हो गया क्योंकि इतना मोटा और लम्बा लंड चूत में देने के लिए एक टेकनीक की जरूरत होती है.

मैंने पूछा- कैसी गर्मी?उसने एक झटके में ही अपने लंड को बाहर निकाल लिया और बोला कि आपकी उस गर्मी को मेरा ये लंड अपने पानी से ठंडा कर सकता है. फिर मैंने चुदाई की स्पीड तेज कर दी और लंड को निकाल निकाल कर चूत मारने लगा. रश्मि ने थोड़ा ज़ोर लगाया ताकि अपना हाथ छुड़ा सके लेकिन अगले ही पल उसे याद आ गया कि वो यहाँ रमेश की रात रंगीन करने आई है ना कि कोई विरोध करने।हाथ का स्पर्श अध-खड़े लंड पर महसूस कर दोनों की हालत पतली हो गयी.

लड़की या औरत की नग्न जंघाओं का भी एक अलग ही सौन्दर्य होता है, साली जी की जांघें भी अत्यंत सुन्दर और मनोहर लग रहीं थीं, केले के तने जैसी चिकनी और मांसल एकदम गुलाबी रंगत लिए हुए. गुरजीत की नजरें मेरे सीने के बाल देख रही थीं कि मैंने गुरजीत का टॉप उतार दिया. थॉमस भी मेरी गांड पर थप्पड़ मार रहा था और मुझे भी उससे अपनी गांड मराने में बहुत मजा आ रहा था.

मेरी चूत से उबलती हुई पानी की धार मेरी मोटी जाँघों से होकर नीचे फ़र्श तक जा रही थी।मैं बीच बीच में चूत से उंगली निकाल कर अपने मुख में लेकर पानी का स्वाद ले लेती। इन्ही सब के दरम्यान लगभग 10 मिनट बाद उसने अपने धक्कों की स्पीड बहुत ही तेज कर दी और जोर जोर से आहें भरने लगा।अब मैं समझ गयी कि उसका माल निकलने वाला है.

उस मदमस्त कर देने वाली महक से मुझे लग रहा था कि अभी मैं मामी को अपनी बांहों में भर लूं और उनको पूरा का पूरा खा जाऊं. आगे से रमेश का लंड उसकी चूत में टकरा रहा था और पीछे से उसके बाप रवि का लंड उसकी गांड में घुसने के लिए मुंह मार रहा था. आहह्ह और चुद … लंडखोर रंडी … आह्ह ले चुद … और चुद।रश्मि- आईई … अहाह … आहह … फक मी … और तेज डैडी.

और कुछ कमरे हैं जो मैंने हमेशा बंद ही देखे हैं। रहने के सब कमरे ऊपर।मैं वहाँ पहुँचा तो किट्टू मुझे नीचे ही मिल गयी।मैंने मौका देख कर एक हल्की सी थपकी उसकी गांड पर मारते हुए उसकी पप्पी ले ली।वो थोड़ा सकपकाई तो मैंने उससे बाथरूम के लिए पूछा।मेरे इरादों का जरा भी ज्ञान ना होते हुए उसने बाथरूम की तरफ़ इशारा किया. तो वो बोली- साली, तू तो मरवा देगी किसी दिन! तेरी चूत में ज्यादा आग लग रही है. और उसका हाथ पकड़ कर सामने बैठा लिया और फिर मैंने अपने हाथ से खाने का पहला कौर उसे खुद खिलाया.

मैं अपनी सहेलियों से और फोन से सेक्स के बारे में काफी कुछ सीख चुकी थी.

तुम्हें तो पता ही है कि मैं तेरे जीजू के अलावा और किसी को घास तक नहीं डालती हूँ. मैंने शरद को अलग जगह पर छुपने के लिए कहा … क्योंकि शाजिया उसको देखकर शायद लौट सकती थी.

बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो रमेश वहीं सोफ़े पर बैठ गया और रीता उससे लिपटते हुए बोली- बड़ी बेदर्दी से चोदते हैं आप मुझे। मेरे पति मुझे ऐसे नहीं चोदते।रमेश- अरे उस भड़वे में दम कहाँ जो वह तुम जैसी रांड को चोद सके. तो भाभी बोली- अरे … अरे … आप तो अभी से शुरु हो गए? इतनी भी क्या जल्दी है? हम लोग हनीमून मनाने ही आये हैं.

बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो मैंने कहा- वो सब छोड़ो, ये बताओ इस बार कैसे चुदवाओगी?वो- जैसा तुम चाहो. फिर मैंने हाथ बढ़ा कर शैम्पेन की बोतल उठाई और थोड़ी सी शैम्पेन उसके लंड पर डाल दी.

जब तुम्हारे जैसी मस्त लड़की मेरी बांहों में है तो मैं इंतजार नहीं कर सकता हूं। हम लोग जल्दी जल्दी एक राउंड कर लेते हैं क्योंकि कुछ ही देर में मेरा दोस्त आने वाला है.

बीएफ हिंदी रिकॉर्डिंग

मुझे विश्वास ही नहीं हुआ कि उस जैसी कमसिन कन्या मेरे साथ चुदाई को राज़ी हो जाएगी. उसके निप्पल बाहर आ गए … तने हुए गुलाबी निप्पल बाहर निकलकर मुझे मानो मुँह चिढ़ा रहे थे. उसकी गर्दन पर अपनी जीभ की नोक बना कर फिराने लगा और हल्के हल्के से दांतों को गर्दन पर दबाते हुए उसे गर्म करने लगा.

वो नागिन की तरह लहराते हुए अपनी गांड को गोल गोल चला रही थी और मैं पागल सा होकर उसकी गांड को देखकर लंड की मुठ मारे जा रहा था. तो उसने पैंट अलग करके गाड़ी के अन्दर डाल दी और मेरे घुटने के नीचे से हाथ निकाल कर मेरी गांड पर सहारा देकर मुझे अपनी बाजू में उठा लिया. तो भाभी ने बताया था कि उन्हें पहाड़ पर घूमना बहुत पसंद है।भैया ने फिर कुल्लू मनाली शिमला चलने के लिए कह दिया.

मैंने अब विनीता की कमर को कस लिया और विनीता ने भी मुझे अपने सीने से जकड़ लिया.

बहुत देर तक मैं बिन्दू को चोदता रहा और बिन्दू आह … आई … ईईईई ईईई … ईईई बहुत अच्छा लग रहा है आदि बोलती रही. अभी पिछले हफ्ते फिर से बाँदा गयी थी मगर अबकी बार कोई और दो नम्बरों में लगातार 15 दिन से खूब बात होती हैं. उसकी जंगली बिल्ली जैसी हंसी से मैं कुछ समझ नहीं पाया और वो उसी पल मेरे लंड को सहलाने में लग गई.

हसबैंड वाइफ सेक्स स्टोरी में प्शें कि जब मेरी बीवी को बच्चा होने वाला था तो डॉक्टर ने सेक्स के लिए मना कर दिया. मैं उनके शांत चेहरे पर काम वासना के वशीभूत होकर देखने लगी, वो शायद मेरे मन की बात समझ गए. एक बार मेरे सामने अगर किसी औरत की ब्रा और पैंटी उतर जाती है तो फिर उस पर मेरा अधिकार हो जाता है.

मैंने पलट कर देखा तो सामने एक खूबसूरत सा चेहरा एक कातिल सी मुस्कान लिए मीता खड़ी थी. चुदना तो अंकुश से मैं भी चाहती थी पर मैं थोड़े नखरे करने लगी- छोड़ो मुझे अंकुश … ये क्या कर रहे हो.

कमरे में आते ही मैंने उसका हाथ पकड़ कर नहाने के लिए बाथरूम में खींच लिया. पॉपकॉर्न खत्म हो गये तो मैंने गुरजीत का अपने हाथों में ले लिया और हौले हौले से सहलाने लगा. फिर उसने अपने होंठों से मेरी चूत का एक होंठ खोला और अपने मुँह में चूसने लगा.

दोस्तो, इस कहानी का अगला पार्ट जरूर पढ़ें और आपको मेरी कहानी कैसी लगी, मुझे जरूर बताएं.

हम दोनों के बीच में ऐसा माहौल है कि हम दोनों मां बेटी न होकर दोस्त हैं. उन्होंने बताया कि उनकी गैस की टंकी सुबह से नीचे रखी हुयी है, वो भरी हुई और उनसे उठ नहीं रही है. मुझे भी तो ठण्डा होना है यार।फिर मैंने उनके लंड को हाथ में भर लिया और जोर-जोर से आगे-पीछे करने लगा.

मैं उससे बात कर रहा था मगर कुच्ची मुझे बार बार डर्टी बातें करने को इशारे कर रहा था … तो मैंने भी शुरू कर दी. वो खुद झुक कर मेरे सात इंच से भी बड़े मोटे लंड को बिना हाथ में पकड़े सीधे मुँह में भरने का प्रयास करने लगी.

जहाँ रमेश उसके कोमल हुस्न को देख कर पागल हुआ जा रहा था वहीं रश्मि लंड की लंबाई और चौड़ाई का अहसास कर पानी-पानी होने लगी थी।रमेश- अपने कपड़े उतारो।उसने जैसे फ़ैसला सुनाकर कहा. मेरे मुँह से निकला- तुमने अधूरा जो छोड़ दिया इसे!यह सुन नीरा बोल पड़ी- तो इसकी क्या सेवा की जाये जनाब?मैं- जो तुम्हें अच्छा लगे वो कर दो!कहते हुए मैं उसके सामने आ गया. मैंने देखा कि वो बेड पर लेटा हुआ था और उसके पैर में फ्रेक्चर हो गया था.

बीएफ सेक्स देवर भाभी की चुदाई

शायद भाभी अब तक एक दो बार अपना रस बहा चुकी थीं, पर मेरा तो अभी दूर-दूर तक होने की कोई संभावना नहीं थी.

रश्मि- क्या सर … आप इस तरह से क्यों देख रहे हैं जैसे पहली बार देख रहे हों।रमेश- क्या करूँ … तुम चीज ही ऐसी हो। उस दिन कितना शरमा रही थी तुम और आज पहले से भी ज्यादा सेक्सी लग रही हो।रश्मि- आप भी मस्त लग रहे हो। आपका दोस्त कहाँ है?रमेश- वह आता ही होगा। जल्दी से अब कपड़े उतारो। मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है. सुबह जब मेरी आंख खुली, तो देखा कि मेरे बेटे का दोस्त उसको ब्रेड खिला रहा था. थोड़ी ही देर में पिताजी फ्रेश होकर कपड़े चेंज करके वापस आए और सोफे पर बैठ गए.

कुतिया बना कर उन्होंने मेरी गांड को अपनी उंगली सहलाना शुरू कर दिया. मैं बेड पर दुल्हन की तरह घूंघट निकाल कर बैठ गई और उनका इंतजार करने लगी. डॉग व्हिडिओ सेक्सीमेरा हुस्न भी ऐसा कातिलाना दे दिया है बनाने वाले ने कि जो भी एक बार देख ले वो मुझे बिस्तर में ले जाये बिना न माने।मेरी पिछली कहानीलंड बदलकर चुत चुदाई का मजापढ़ कर कितने सारे ही पाठकों ने भी मेरे साथ चुदाई की इच्छा जाहिर की.

मामी मुझे बिस्तर पर बिठा कर मेरे सामने कोल्डड्रिंक और नमकीन रख कर नहाने चली गई थीं. तो उसने पैंट अलग करके गाड़ी के अन्दर डाल दी और मेरे घुटने के नीचे से हाथ निकाल कर मेरी गांड पर सहारा देकर मुझे अपनी बाजू में उठा लिया.

कभी वो मेरे पेट पर, कभी सीने पर, कभी पीठ पर लगभग 20 मिनट हमारा फोरप्ले चला. वो खींच रहा था लेकिन मैंने गाउन को बेल्ट से बांधा हुआ था इसलिए खुल नहीं रहा था. नीलम के अपने पति से अलग रहने से अब मेरा नीलम से बात करना आसान हो गया.

उसने मम्मी की गांड में लंड को लगाया और धक्का लगाया लेकिन लंड फिसल कर बाहर आ गया. मैं- क्लेरिसा, तुम्हारे निप्पल तो बहुत टाइट हो गये हैं, लगता है तुम मेरी मसाज का पूरा मजा ले रही थी. मैं भाभी की चूचियों को पीने लगा और वो मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ कर उसकी मुठ मारने लगी.

मैंने भी अपना हाथ अदिति की जांघ पर रख दिया और धीरे धीरे सहलाने लगा.

अब तो मुझे मेरी पैंटी वापस कर दो!वो उठ कर रीता से अलग हुआ और चाबियों के गुच्छे में से चाबी लगाकर कपबोर्ड खोलते हुए बोला- आज तक कभी वापस की है मैंने तुम्हारी ब्रा-पैंटी जो आज वापस करूंगा?रीता ने सामने कपबोर्ड में देखते हुए कहा- बाप रे! कितना गजब का शौक है आपका? इतनी सारी ब्रा पैंटी इकट्ठा कर रखी हैं! लगता है कि आपके सारे पैसे मेरे जैसी रंडियों की ब्रा और पैंटी पर ही खर्च होते हैं. वो अपने लंड को हाथ में लेकर मुझसे बोलने लगे- देख लो मन्नत आज से इसको जन्नत की सैर तुम्हें करवानी है.

मैं- मीता कैसा लगा?मीता- कुछ मत पूछो अंकल … बस उन पलों को मुझे जी लेने दो … मैंने जितना सोचा था, उससे कई हज़ार गुना सुख आपने दिया. ”क … क्या?” मुझे लगा नताशा अब इतनी बेरहमी से गांड मारने का उलाहना और शिकायत करने वाली है।तुमने आज अपनी प्रियतमा के साथ सुहागरात तो मना ली. उनके ताबड़तोड़ झटकों से मेरी गांड थोड़ी देर में ढीली पड़ गई, दर्द भी कम हो गया.

अचानक से ममा मेरी चूची दबा देती हैं, तो कभी सामने आकर मेरी चूत को मुट्ठी में दबा देती हैं. रश्मि की गांड का छेद बहुत छोटा सा था जो एकदम से सिकुड़ कर चिपका हुआ था. कई बार कहने के बाद बड़ी मुश्किल से उसने अपनी नंगी चूत की फोटो भेजी.

बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो मैं नंगा ही अपने कपड़े उठाकर सीढ़ियों से होता हुआ अपने कमरे में चला गया. मैंने उससे कहा- इसे खा लेना … नहीं तो नौ महीने बाद मेरे बेटे की मम्मी बन जाओगी.

लड़के की बीएफ

मैंने बिन्दू की चूत पर थोड़ी सी लिक्विड वैसलीन लगाई और उसकी जांघों के बीच में बैठकर लौड़े को चूत पर रगड़ने लगा. मैंने देखा कि एक सुंदर सी लड़की बेल बजाने के साथ दरवाजा भी नॉक कर रही थी. एक दिन मैंने उससे पूछा- आपको तो इतनी अच्छी स्विमिंग आती है, तो फिर भी आप यहां सीखने क्यों आती हैं?इस पर उसने मुझे बताया- मैं यहां सीखने नहीं, सिर्फ स्विमिंग के लिए ही आती हूं.

रॉबर्ट ने अपना माल मेरी गांड में ही निकाल दिया और अपना लंड मेरी गांड में ही डाल कर मेरे ऊपर लेट गया. अब मुझसे बर्दाश्त नहीं होता … जल्दी डालो अपना लंड!मैंने उसके चूतड़ों के नीचे एक तकिया लगाया और सफ़ेद तौलिया बिछा कर उस पर चढ़ गया. सेक्सी फिल्म दिखाइए पंजाबी मेंमैंने नेहा से पूछा- क्या हुआ?नेहा बोली- कुछ नहीं, बहुत बड़ा लंड है, पहली बार लिया है, ऐसा लगता है जैसे सुपारा बच्चेदानी के अंदर घुस गया है?मैंने कहा- दर्द हो रहा है या मजा आ रहा है?नेहा ने आंखें बंद करते हुए कहा- एक बार दर्द हुआ था, अब मजा आ रहा है!और यह कहकर नेहा ने अपने दोनों हाथ मेरी कमर पर कस लिए.

मैंने भाभी से पूछा- आपके हस्बैंड का इतना बड़ा नहीं है क्या?भाभी- अरे उनका तो इसके आधे से भी छोटा और पतला है.

आह्ह्ह्ह अर्जुन … उम्म्म मेरे राजा … चूसो मेरी चूत को! अह्ह्ह्ह!”उसके लंड मैं को और जबरदस्त तरीके से मुँह में लेकर चूसने लगी. डॉक्टर ने उसके बेटे की जांच करने के बाद बोल दिया कि उसके बेटे को यहीं अस्पताल में ही भर्ती करना होगा और यहीं पर उसका इलाज होगा.

मैं इसी पोजीशन में करीब 15-20 सेकेंड रुका … फिर आधे लंड को ही धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा. दोस्तो, इस कहानी का अगला पार्ट जरूर पढ़ें और आपको मेरी कहानी कैसी लगी, मुझे जरूर बताएं. अनिकेत के लंड की जोरदार ठोकर की वजह से मेरी चूत का पानी वापस अन्दर चला गया और मेरी बच्चेदानी पर लावा की तरह गर्मी देने लगा.

मुझे खुद पर भरोसा नहीं हो रहा था कि जेठ जी का लौड़ा मेरी चूत की सैर करके थक चुका था.

मैं जोर-जोर से सांसें लेते हुए अपनी हालत अभी ठीक ही करने में लगी थी कि तभी उसने मेरी दोनों टांगें खोल दीं और मेरी चुत के पास आ गया. हमारे खलिहान में एक खपरैल के छपरे में दूध देने वाली गाएं बांधी जाती थीं. अन्दर टेंट में एक ओर एक परदा लगा था, लेकिन मुझे सब दिखाई दे रहा था.

सेक्सी फिल्म हिंदी साड़ी वालीमैंने पूछा- कितना बड़ा हो गया है … क्या है बेबी ब्वॉय है या बेबी गर्ल?वो बोलीं- मेरा बेटा 8 साल का है. रमेश ने रीता के बाल पकड़ कर उसके मुंह को लंड से अलग कर दिया और उठ कर अपने सारे कपड़े खोल कर उतार फेंके.

बीएफ दीक्षित

मैंने लंड को थोड़ा झटका दिया और लंड पेट की तरफ गया नेहा के मुंह से एकदम चीख निकल गई और बोली- उई मां … इतना बड़ा … हाय … यह क्या है?तो मैंने नेहा से कहा- रोहित का ऐसा नहीं है क्या?नेहा- नो नो नो … रोहित का तो छोटा है, इससे बहुत छोटा. वो कभी रमेश के होंठों को तो कभी उसकी गर्दन को और कभी उसकी छाती को चूमती. वीर्य ने उनकी दोनों टांगों को घुटनों तक लबेड़ दिया और फर्श पर टप टप गिरने लगा.

अब आगे की प्यासी जवानी की कहानी:मैं अब जल्दी से घोड़ी बन गयी और थॉमस भी मेरे पीछे आ गया. तभी मैं बोला- अदिति, अपना स्वेटर तो पहन लो … तुम्हें बाइक पर स्वारगेट तक जाना है, ठंड लगेगी. शायद उसका इरादा कुछ और था।क्या बात है, चिकनी सड़क तैयार है और तुम कच्ची सड़क ढूंढ रहे हो?” मैंने पूछा.

निष्ठा रानी ने भी अच्छे से कोआपरेट करना शुरू किया और तबियत से कमर हिला हिला कर मेरे लंड से लोहा लेने लगीं. मैंने पहले उसकी चुत पर हाथ लगाया और उसके चुत की फांकों को मसल दिया. ऐसा नहीं है कि मैं उस रॉंग नम्बर वाली लौंडिया की चुत में लंड घुसाऊंगा और खुद मजा लेकर आ जाऊंगा.

तो मैं अपनी चिकनी नंगी चूत लेकर खड़ी हो गयी उसके सामने।आपकी सुहानी चौधरी[emailprotected]कॉलेज गर्ल की नंगी चूत की कहानी का अगला भाग:कभी कभी जीतने के लिए चुदना भी पड़ता है-3. प्रतिभा पीले रंग की नाईटी के भीतर काले रंग का सैट वाला जालीदार ब्रा पेंटी पहन कर आई थी.

मैं- तो एक घंटे बाद क्यों बुला रही हो?वो- जानू अभी आना ठीक नहीं है … और रात हो जाएगी, तो घर में भी और आस पास के लोग भी सो चुके होंगे.

मैं थॉमस के लंड को जोर जोर से चूस रही थी और उसकी गोटियां सहला रही थी. ब्लू पिक्चर देखने वाला सेक्सी वीडियोरकुल घूमते हुए अपनी साड़ी से मुक्त हो गयी और संभल न पाने की वजह से पलंग पर गिर गयी. बंपर चुदाई सेक्सीमैं कमरे से बाहर ही पैर रख पाया था कि खुशी दौड़कर मेरे पास आई और बोली- सुनो?मैंने कहा- हां कहिए!उसने धीमे से कहा- आई लव यू!मैंने कहा- बस या और कुछ?उसने मुस्कुरा कर कहा- फिलहाल इतना ही. धीरे धीरे मैंने अपना हाथ जांघों के बीच में देकर भाभी की चूत तक पहुंचा दिया.

गुरजीत के टाइग्रेस बनते ही मैं उसके पीछे आकर घुटने के बल खड़ा हो गया और गुरजीत की चूत के मुहाने पर अपने लण्ड का सुपारा रखकर ठोंक दिया.

अब मुझे भी थोड़ा मज़ा आने लगा था, तो मैंने अपनी दोनों टांगों को हल्का सा फैला दिया. पर मेरे आशिक़ को तो जैसे चैन ही नहीं था, उसने पीछे से आकर मेरे स्तनों पर हमला बोल दिया, उन्हें दबाने लगा। वो मेरी गर्दन पर चूमने लगा।अपनी गांड पर गर्म लन्ड का एहसास पाकर मैं भी आपा खोने लगी। मैं गैस पर रखे दूध को भूल गयी. मैंने भाभी को पूरी ताकत से चोदना शुरू किया तो बेड जोर जोर से हिलने और चरमराने लगा.

फिर वापस घर आने के क्रम में उन्होंने मेरा हाथ गाड़ी में पकड़ा और मुझे अपनी तरफ खींचा. रमेश ने अपनी जीभ निकाली और रीता की गांड के छेद पर रख कर उसकी गांड को चाटने लगा. वो मेरी तरफ ऐसे देखने लगा जैसे पूछ रहा हो कि क्या हुआ?मुझे दर्द तो हुआ था मगर चुत चुदवाने की बड़ी लालसा भी थी.

बीएफ सेक्सी गंदी वीडियो

रमेश- ऐसे शरमाने से क्या फ़ायदा? आज की रात मैं तुम्हें प्यार करूँगा, तुम मुझे करना … ये समझ लो कि हम दोनों एक रात के पति पत्नी हैं. जिस्म की आग भी ठंडी हो जाएगी और आराम से रहूंगी भी, जहां मुझे कोई रोकने टोकने वाला नहीं. मैंने धीरे धीरे अपना लण्ड अन्दर बाहर करते हुए गुरजीत से पूछा- एक बात बताओ गुरजीत, तुम्हारे मन में पहली बार कब आया कि मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ?करीब तीन साल पहले.

थॉमस मेरे पीछे आ गया और उसने अपना लंड मेरी चुत पर रखकर हल्का सा घिसा.

भैया को भाभी के साथ बाथरूम में नंगे होकर शावॅर में नहाना बहुत पसंद है.

जैसे ही तू सोई, तेरे पति ने चुपके से मुझे गोद में उठाया और मेरे बेडरूम में ले गया. स्सस … इतनी देर से अपने होंठ मेरे लंड के टोपे पर छुआ कर बैठी है, जान निकालेगी क्या? फटाफट चूस इसे. फिल्मी हीरो की सेक्सी वीडियोयूं ही मां की चुत में उंगली करते हुए और उनके मम्मों का मजा लेते हुए तीन घंटे का सफर कब खत्म हो गया, हमें पता ही नहीं चला.

सच कहूं दोस्तो … तो मैं ये स्विमिंग क्लासेज नए लंड की तलाश में ही जॉइन कर रही थी कि कहीं से मुझे कोई नया लंड मिल जाए, पर मुझे ये नहीं पता था कि इसमें सच में कोई लंड मिल जाएगा. मैंने प्रतिभा से खुद को छुड़ाया और कहा- मैंने कहा था ना … मुझे अपनी तारीफ बिल्कुल पसंद नहीं. वो एक ही मिनट बाद बाथरूम में से बाहर निकल कर आ गया और बोला कि आंटी इसमें तो पानी ही नहीं आ रहा है.

मैंने मामा से बात की, तो वो बोले कि हां फैक्ट्री मालिक का काम सही नहीं चल रहा है, तो उसने एक महीना का वेतन एड्वान्स देकर बोला है कि आप लोग कहीं और जगह जॉब ढूंढ लो. मैंने बस सीईईई … करते हुए कहा- चोद कुत्ते, चोद मुझे।सुनील ने इतना सुनते ही मुझे ज़ोर ज़ोर से चोदना शुरू कर दिया पीछे से।मैं उसके धक्कों से आगे पीछे हिलने लगी.

कुछ देर के दर्द के बाद भाभी ने अपनी गांड ऊपर की और बोलीं- हां … अब लगाओ शॉट.

नेहा भी अब उस विदेशी जवान लड़के के सिर को अपनी चूचियों पर दबाने लगी थी. फिर धीरे से मैंने अपने लंड का सुपारा उसकी चुत में फंसाया और चुत के दाने को रगड़ने लगा. आप भी मजा लें पढ़ कर!नमस्कार दोस्तो, एक बार फिर आपका दोस्त राहुल सिंह कानपुर के पास से आपके सामने एक नई सेक्स कहानी के साथ हाजिर है.

हिंदी फुल हद सेक्सी वीडियो ऐसे ही चलता रहा … और कुछ दिन बाद वो मेरे रूम के सीढ़ी के पास आकर रुक जाती थी और मुझे सुनाते हुए कहती थी- हाय थक गई हूँ. नेहा के कहते ही मैंने अपने लंड पर दबाव बढ़ाया, सुपारा अंदर जाने लगा, ऐसा लग रहा था जैसे लौड़ा कोरी चूत में जा रहा हो.

आखिर एक न एक दिन यह सब उसी का तो होने वाला है और तब उसका यह एक्सपीरियंस काम आएगा।रति- हां हां! समझ गयी. सोचा कि जल्दी जाकर फ्रेश होते ही अर्जुन के लंड को अपने चूत में ले लूंगी. रास्ते में डेज़ी ने मुझे बताया कि कल सपने में मैंने उसे जबरदस्त तरीके से चोद दिया था.

सेक्स बीएफ सील पैक

इसका एक सबसे बड़ा कारण यही है कि मुझे जीने के लिए किसी से कुछ माँगना या ढूँढना नहीं पड़ता है, सब कुछ सामने से मिल जाता है. आलम तो ये था कि मेरा पेपर भी उतना अच्छा नहीं हुआ जितना होना चाहिए था. अब तक आपने मेरी जीजा साली सेक्स कहानी के पहले भागदीदी की चुत में मेरे पति का लंड-1में पढ़ा कि मेरी दीदी के साथ किचन में मेरे पति ने हरकत करना शुरू कर दी थी और दीदी के नाराज होने पर वो उनसे विनती करने लगा था.

कई बार नेहा पैंट पहनती थी तो उस पैंट में उसके सुंदर पट, भरी हुई गांड और सामने से दोनों जांघों के बीच में उभरी हुई चूत देखकर मेरा दिल करता था कि भगवान इस लड़की की चूत मिल जाए तो जीवन सफल हो जाए. तुमने मुझे ऊपर से पूरी नंगी किया हुआ है और मेरी पीठ पर सहला रहे हो, तुम्हें नहीं पता कि मुझे कैसा लग रहा होगा? अब मेरे कहने का इंतजार मत करो और मेरी चूचियों के निप्पलों को जोर से मसल कर निचोड़ दो … आह्ह!अब उसने अपनी दोनों चूचियों को हाथ में भर लिया था और उन पर गोल गोल हाथ फिराने लगी.

अचानक से ममा मेरी चूची दबा देती हैं, तो कभी सामने आकर मेरी चूत को मुट्ठी में दबा देती हैं.

क्यों क्या हुआ जीजू, इतने चहक क्यों रहे हो?” साली जी सबकुछ समझते हुए भी बोली. मेरे सीने की खाल को बालों के साथ मौसी ने अपनी मुट्ठी में भींच रखा था. ममा मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल देतीं, तो कभी मेरी जीभ को चूसने लगतीं.

ऐसे ही 15 मिनट तक उसकी चूत में धक्के देने के बाद उसने अपना लंड रीता की चूत से निकाल लिया. कहानी पर कमेंट्स करना न भूलें और अपने मैसेज भेजने के लिए नीचे दिये ईमेल का प्रयोग करें. आप मुझे मेल कीजिएगा कि आपको सेक्सी भाभी की देसी चुताई कहानी कैसी लगी?मेरी मेल आईडी है[emailprotected].

वो मादक आवाजों में बोल रही थी- आह … जल्दी से अन्दर करो … मुझे अब न तड़पाओ … आहहह हहह ऊऊआह.

बीएफ एक्स एक्स एक्स मूवी वीडियो: ईईए … सश्ह्ह्ह ह्ह्ह बहुत … मजा … आ … रहा … है … ईईईईई ह्ह्ह्ह ह्ह्ह्ह मेरी चूत … आह भींच दो मेरे मम्मे … आह … सी … आह … मारो … और ज़ोर से मारो … फाड़ दो मेरी चूत … अपना पानी छोड़ दो मेरी चूत में अहह … आह्ह्ह आह्ह्ह ह्ह्ह ह्ह!अचानक नेहा जोर से चीखी और झड़ने लगी. कुछ देर लंड चूसने के बाद उसने मुझे खड़ा किया और मेरी लैंगिंग्स उतार कर मेरी चूत में अपना लंड डाल कर पेलने लगा.

उसने झुक कर मेरे लंड के टोपे को मोहक अंदाज में ऐसे चूसा, मानो कह रही हो कि तुम ही तो हो, जो मेरी गांड को सुख देने वाले हो. मैं- ठीक है लेकिन तब तक बात तो करती रहो … तो टाइम बीत जाएगा वरना इंतज़ार कर मुश्किल होगा. हम दोनों ही सुस्ताने लगे।अब हमारे पास दुबारा सेक्स करने का न तो टाइम था न ही ताकत.

फिर मैंने थोड़ा नाराज होने का नाटक किया तो मेरी जिद के सामने फिर वो मान गयी.

देसी गांड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने ऑफिस की लड़की की गांड मार रहा था. मेरी पत्नी फल खरीद कर आ गई तो हम लोगों की बातचीत बंद हो गई और कुछ ही देर में हम घर पहुंच गये. मैं- वो तो हम जैसे चाहेंगे, चोदेंगे ही … मगर अगर तुम मुझे ये बता दो कि तुम्हें क्या अच्छा लगता है और क्या नहीं, तो हम दोनों और ज्यादा मज़ा कर पाएंगे.