हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,हॉट इंग्लिश पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

१८ सल की सेक्सी वीडियो: हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ, मैंने जल्दी से जाकर अपनी पैकिंग कर ली और इस बार मैंने एक साड़ी भी रखी थी.

लड़की की गंदी फिल्म

फेरी के एक केबिन में मैं अपनी बहन चित्र को अपना लंड चुसवा रहा था और मेरे सामने जीजा जी अपनी बहन आलिया से अपने लंड को चुसवाने का मजा ले रहे थे. अमरीश पुरी फैमिली फोटोदोनों वक्षों के परफेक्ट गोलाई लेते-लेते शिखरों पर कोई एक रुपये के सिक्के जितने आकार के बादामी रंग के घेरे और शिखरों पर एक मंझौले किशमिश के आकार के कंगूरे एक निमंत्रण सा दे रहे थे लेकिन दोनों अमृत-कलशों के कंगूरे अभी कुछ झुके-झुके से थे.

वैसे सुरक्षित यौन संबंधों के लिए कंडोम का इस्तेमाल होना ही चाहिए, पर सुरक्षा की परवाह इस वक्त किसे थी. মুভি সেক্সি ভিডিওमैं फिर से आंटी की जांघों पर अपने हाथ फेरने लगा और उनकी जांघ को सहलाने लगा.

वो चिल्लाने लगी- उई … माँ मर गई … बचा लो मुझे … ये मुझे मार डालेगा.हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ: उसने अपनी टांगें खोल दीं और साथ ही उसने मेरे लंड को अपने हाथ में थाम लिया.

फेरी में बैठने के लिए चार लोगों का अलग अपार्टमेंट था, इसलिए हम जीजा-साले एक अपार्टमेंट में बैठ गए और वो चारों हमारे पास वाले अपार्टमेंट में बैठ गए थे.मैंने कहा- मेरी नींद पूरी हो गयी थी, इसलिए जल्दी उठ कर वॉक पर गया था.

తెలుగు బ్లూ ఫిలిం - हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ

वो फिर दर्द से कराह उठी और इतनी जोर से ‘उईई आह माँ आह आह मर गयी’ चीखी कि उसके चिलाने की आवाज़ से नीतू नंगी ही बाथरूम से बाहर आ गयी.मेरी इस बात का तुरंत तो कोई जवाब नहीं आया, पर थोड़ी देर से जवाब आया कि कहानी में मेरा नाम गीत लिखना, मैं शादीशुदा हूं, पति के साथ सेक्स लाईफ अच्छी है, पर वो बाहर रहते हैं, इसलिए कम ही सेक्स होता है.

नीरज- मतलब?जिया- जब हम गेम खेल रहे थे, तब हमें वो हथियार मिल गए थे. हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने 2-4 धक्के जोर जोर से मारे और मेरा सारा माल अंकल की गांड में ही निकल गया.

दोस्तो, आपको चुदासी सुधा की ये कहानी कैसी लगी आप नीचे दी गयी ई-मेल पर जरूर बतायें.

हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ?

वास्तविकता यह थी कि वो जितनी चतुर थीं, उससे अधिक बनने की कोशिश करती थीं. उस वक्त मैंने कंधे पर तौलिया डाला हुआ था जो मेरी जांघों तक आ रहा था. मेरी उँगलियों की हर जुम्बिश के साथ-साथ वसुंधरा के के मुंह से निकलती प्रणय-सिसकारियों में वृद्धि होती जा रही थी और हर पल वसुंधरा के जिस्म का तापमान बढ़ता ही जा रहा था.

गलती किससे नहीं होती, पर उसके इस तर्क ने मुझे अन्दर तक तोड़ कर रख दिया था. इस कामयाबी के लिए हसन ने उसकी गांड में चार पांच चपत लगा कर शाबासी दी. अभी दोपहर के एक बजे थे, इसलिए हम रिसॉर्ट के होटल में चारों कपल बैठ गए.

शायद यह उसका पेशा था, इसलिए हो सकता है कि वो सब इन बातों पर ध्यान न देता हो. करीब पांच मिनट बाद मैंने दीदी को घुमाकर उनकी ब्रा को निकाल दिया और दीदी के कातिलाना मम्मों को पीछे से दबाने लगा, जिससे दीदी सीत्कार करने लगीं. उससे बात करते-करते हम दोनों ने एक दूसरे के बारे में जानना शुरू कर दिया था.

”क्या मतलब?”अजीत ने वाट्सएप्प देखा।वीडियो शुरू किया और उसके चेहरे पे हवाइयां उड़ने लगी। पसीने आने लगे।कुत्ते तू मुझे हरामखोर कह रहा है और खुद तूने मेरी मम्मी की इज़्ज़त लूटी, बलiत्कार किया. दो मिनट बाद चाची चित होकर लेट गईं और टांगें फैला कर मुझको अपने ऊपर खींचने लगीं.

नताशा- राज तुम इधर?मैं- क्यों नहीं आ सकता?नताशा ने मस्ती करते हुए कहा- इधर आने की परमिशन सिर्फ मेरे हसबैंड को है.

इधर मैंने प्रियंका को पेट के बल लिटा दिया और पीछे से लंड को उसकी चूत में डाल कर उसे हचक कर चोदने लगा.

नीरज उठना नहीं चाह रहा था, पर मजबूरी में उसे अपना लंड अपनी बहन की गांड से निकालना पड़ा. इसके बाद बाबू ने फिर से दम लगा कर एक और धक्का दे मारा, जो आगे जाकर कहीं थम गया. सच में आलिया इस समय बहुत हॉट लग रही थी, उसने अभी भी प्रिन्टेड ब्रा पहनी हुई थी.

मेरी उंगली ही बहुत-बहुत मुश्किल से वसुंधरा की योनि में प्रवेश कर पा रही थी. तुम बताओ शीला के साथ कब सुहागरात मना रहे हो?राज बोला- मैंने तो बहुत बार शीला के साथ सुहागरात मनायी है. कहानी के पिछले भाग में मैंने आपको बताया था कि कैसे मैं अपने भाई और अपनी दोस्त दिव्या के साथ गंगरेल डैम घूमने के लिए गई थी.

अपनी चुत की गीली फांकों पर मोटे लंड के सुपारे का स्पर्श पाते ही मेरे मुँह से सिस्कारियां निकलने लगीं- आंहाह … बहुत गर्म है.

नीरज बोला- संजना क्या आग है यार तुममें … तुम सेक्स की कितनी भूखी हो?प्रियंका ने भी समर्थन किया और कहा- वाह संजना … मान गए आपको सुंदर जिस्म के साथ साथ सेक्स की आग भी है आपमें. मैंने होटल में एक रूम बुक करवा लिया … ताकि हमें मिलने में कोई परेशानी ना हो. अगर ब्रा काले रंग की थी तो वसुंधरा की पैंटी भी यकीनन काले ही रंग की होगी.

इसी क्रम में, मैंने उसके पेट, कमर नाभि, जांघों पर सब जगह किस कर दिया. तभी मैंने जिया की ब्रा निकाल दी और मेरे पीछे जीजा जी ने भी नताशा की ब्रा निकाल दी. पर पहले तो उसने मना कर दिया था लेकिन बाद में उसने कहा था कि बाद में देखूँगी.

अब तक हसन के हाथों ने मेरे जिस्म को सहलाकर और भी ज्यादा गर्म कर दिया था.

दीदी ने भी पैंटी निकाल दी और नीरज के पास बैठकर उसके होंठों को चूमने लगीं. फिर मैं धीमे से दीदी को पेलने लगा, जिससे दीदी कामुक आवाजें करने लगीं.

हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ इधर मैं भी अब झड़ने वाला था, सो जोर से बोला- संजू बेबी … मैं झड़ने वाला हूँ. आंटी की आह हाहा ह उउःह जैसी आवाजें मुझे और ज्यादा ही गर्म करने वाली थी।फिर मैंने दाँतों से पकड़ कर आंटी की पेंटी खींच दी वो मेरी कल्पना मेरी फैंटसी अब हकीकत में बदलने वाली थी.

हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ आलिया- क्या हुआ भाभी?दीदी- देखो ना वो कंधे की मसाज करते हुए मेरे बूब्स सहलाने लगा. इसी चक्कर में मैंने उसके लंड को अपने हाथ की दो उंगलियों के बीच में हल्के से पकड़ लिया.

यह मुझे मालूम ना था और उस टाइम जिओ था नहीं जिससे फ्री बातें हो सकें.

सेक्सी पिक्चर इंग्लिश हिंदी पिक्चर

मैं उठ कर लेटी हुई वसुंधरा के सिरहाने के पास थोड़ा बायीं तरफ़ बैठ गया और पुरसुकून सी नींद में रत वसुंधरा की कदरतन नम पेशानी पर बहुत प्यार से हाथ फिराने लगा. अब मेरा लंड उनके मोटे-मोटे चूतड़ों के बीच छिपी हुई गांड से लग गया था. मेरा लण्ड अब भी थोड़े मूड में था।मैं उसके पास ही चल रहा था लेकिन कुछ बोलने की मेरी हिम्मत नहीं हो रही थी.

मैं- बेटू, डंडा अन्दर करूंगा … तो दर्द होगा ही, वो सहन तो तुझे करना ही पड़ेगा. मुझे गाली देते हुए उसने फिर से जोर लगाया और लंड को और अंदर धकेलने लगा. ) का रहने वाला हूँ और पिछले 7 -8 सालों से दिल्ली में रह रहा हूँ।आपने मेरी पिछली कहानी मेंमेरी ममेरी बहन और मेरी जबरदस्त चुदाईके बारे में पढ़ा.

मुझे प्यास लगी थी तो मैं पानी पीने के लिए नीचे आने लगी। मैंने अपने कपड़े उठाये तो तरुण ने मना कर दिया और बोला- आप चलो, मैं ले आऊंगा.

अब मैं बिना आदी से डरे, उसके सामने ही विक्की से बात करने लगी … क्योंकि अब मैं आजाद थी. बात ज्यादा ना बढ़े … इसका अब ममता के पास एक ही इलाज था कि प्रकाश को सेक्स के लिए कहा जाए. उसने मुझसे कहा- मैं भी यहां क्या करूंगा? मैं भी आपके साथ किचन में ही चलता हूं.

मैं अभी तक झड़ा नहीं था … तो मैंने भाभी को पेट के बल लेटे रहने दिया और उनके पेट के नीचे दो तकिये लगा कर उनकी गांड को ऊपर को उठा दिया. मैं पीछे से देख रहा था कि वो जानबूझ कर उसकी गांड पर लंड लगा रहा था. अंधेरे सिनेमा हॉल में लड़की की चूचियों को पीने का अलग ही मजा आ रहा था.

मैं कंडोम लेने आया था, वो आपकी बहन कंडोम के बिना चोदने नहीं दे रही है. मैंने अपना गिलास खत्म किया और कुछ देर सोचने के बाद आफताब से कहा- मुझे पता था कि तुम यही कहोगे, तुम्हारी घटिया सोच को मैं पहले ही भाँप चुकी थी। खैर अब जब मैं आई हूँ, तो अपना काम करके हीजाऊँगी। मुझे कोई दिक्कत नहीं है। मैं आज की रात तुम्हारे बॉस के साथ बिताने के लिए तैयार हूँ।आफताब ने मुझसे प्यार जताना चाहा मगर मैंने उसे रोक दिया.

मैं सोच रहा था कि यदि आज ये हरामी लड़के न आ गए होते, तो मैं मैडम की चूत की आग को बुझा देता. बाबू ने अपने हाथों को ब्लाउज में घुसाते हुए मेरी ब्रा को चूचियों के ऊपर सरका दिया. मेरी सांसें काफी तेज़ी से चल रही थीं,मैंने वहीं दरवाजे की आड़ से आवाज लगाई- हां बोलिए कोई काम है क्या?वो बोले- अरे शायद तुम्हारा फ़ोन बंद है … तुम्हारे पति ने मेरे पास फ़ोन किया है, लो उससे बात कर लो … उसे कोई जरूरी काम है शायद.

संजू से अब बर्दाश्त नहीं हो रहा था, वो नीरज के ऊपर चढ़ गई और अपनी चूत को उसके लंड पर सैट करके घप्प से एक ही झटके में लंड लील गई.

परमीत ने सहेलियों के पास हॉस्टल में जाकर बर्थडे मनाने और रात रुकने का बहाना बनाया था. मेरे परिवार में मैं, मम्मी पापा और मेरा एक छोटा भाई है।हमारे घर में एक कमरे में ही एसी लगा हुआ है तो हम सब उसी में सोते हैं. मेरे परिवार में मैं, मम्मी पापा और मेरा एक छोटा भाई है।हमारे घर में एक कमरे में ही एसी लगा हुआ है तो हम सब उसी में सोते हैं.

तो उसने हल्की सी स्माइल दी और फिर आगे की तरफ अपना चेहरा कर लिया।लेकिन उसका चेहरा देख कर अंदाजा हो गया कि आंटी की उम्र 40 के आस पास होगी. सोनम- अरे फूफा जी आप?मैं- हां तुम चुदने को मचल रही थीं, तुम्हारा तड़पना देखा नहीं गया.

वैसलीन की चिकनाई और लगातार अन्दर बाहर करने से अब गांड में दोनों उंगलियां जाने लगीं. चाची आहें भर रही थी- आ … आ … ई!इस तरह से मैं किस करते हुए चाची की नंगी जांघों तक पहुँच गया. हम दोनों का परिवार है … किसी को पता लगा तो जानते हैं न क्या होगा … मैं आपकी बहुत इज़्ज़त करती हूं.

मुझे कैटरीना कैफ की सेक्सी वीडियो दिखाओ

पर अधिकार के साथ एक सम्मान भी था मेरे प्रति!फ्रेश होकर हम दोनों नीचे गए और ब्रेकफास्ट किया.

जब मैं उसकी चूची को मुंह में लेकर चूस रहा था तो वो बोली- मेरे निप्पल को दांत से काटो. मेरे मुंह से भी सिसकारियां निकल रही थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…इससे पहले भी मैं चौकी की चर्र चर्र की आवाज सुनती थी और अनुमान करती कि बाबू माई को धनाधन चोद रहे होंगे. उस वक्त वो वासना की चादर तन पर लपेट लेती है और लंड के प्रहार से अपने अस्तित्व को नष्ट करके नया जीवन पाना चाहती है.

थोड़ी देर बाद प्रीति का दर्द कुछ कम हुआ तो प्रीति ने अपनी गांड को हिलाना चालू किया. ये पोज़िशन्स मुझे पता होने का कारण यह है कि मैं सेक्स वीडियो ज्यादा देखता हूं और जो सेक्स पोज़िशन्स हैं, उनके बारे ज्यादा पढ़ता हूं, उन्हें आजमाता हूँ और मजे लेता हूं और मेरे सेक्स पार्टनर को देता भी हूँ. डॉग सेक्स डॉग सेक्सये सेक्स कहानी दो साल पुरानी है, जब भाई की वाइफ यानि भाभी मेरे घर दस दिन के लिए आई थीं और मैंने अपनी भाभी की चुदाई दूधवाले भैया से करवा दी थी.

मैं अपने ऑफिस चला जाता था और भाभी हमारे बेटे के साथ बिजी हो जाती थी. तभी दीदी ने मेरी टी-शर्ट को निकाल दिया और मैंने दीदी की टी-शर्ट निकाल दी.

मैं डर गयी कि इतना लम्बा और मोटा लंड मेरी गांड के छोटे से छेद में कैसे जायेगा! तभी रमेश ने अपनी जेब से मेरी ब्रा और पैंटी को निकाला और मेरे मुंह में ठूंस दिया. मुम्बई में हमारा एक छोटा सा परिवार है, जिसमें मैं, मेरी मां और पिताजी रहते हैं. उस समय मुहल्ले की तमाम लड़कियां और भाभियां मुझे इस तरह से देखती थीं जैसे कि पूछ रही हों कि हममें क्या कमी थी.

थोड़ी देर शांत रहने के बाद मैंने ही उससे पूछा- कैसी रही शादी?उसने मेरी तरफ देखा और कहा- क्यों तुम शादी में नहीं थे क्या? जो मुझसे पूछ रहे हो?मैंने कहा- मैं था तो … पर मेरा ध्यान कहीं और था. सुहास ने अपने होंठों को मेरी नंगी पीठ पर रखा और मेरी पीठ को इधर उधर किस करने लगा. हम दोनों ही संजय की बात नहीं समझ रहे थे, वो लोग सरप्राइज कैसे हो सकते थे.

हम अब तक नॉएडा और ग्रेटर नॉएडा एक्सप्रेस-वे के दो चक्कर लगा चुके थे.

तभी मैंने अपने होठों को उसके होठों से चिपका दिया जिससे कि वो चिल्ला नहीं पाए. हाँ, अब तो मैं तुझे गुड्डी रानी कह सकता हूँ … आजा मेरी जान तेरी सील तोड़ ही दूँ.

मीना को डर था कि कहीं वो फिसल ना जाए पर दो मजबूत जिस्मों के बीच वो चुद रही थी. मैं भी बेसब्री से डिल्डो को मुँह में लेने का प्रयास करने लगी, जबकि डिल्डो के सुपाड़े से ही मेरा मुँह भर जा रहा था. शीला ने आकर पूछा- खाने में क्या बनाऊं?क्योंकि राशन तो कुछ नहीं था तो सुनील बोला कि हमें रात को ड्रिंक करने की आदत हैं, पर इससे तुम्हें कोई परेशानी नहीं होगी, तुम खाना बनाकर सोने चली जाना.

हम चारों ही अप्सरायें इस मिलन से बहुत खुश थे, हम ऐसे पल फिर गुजारने का वादा करके घर लौट आए. फिर मुझे नीचे झुका कर बोले- बन जा कुतिया, देख कुत्ते के लंड का कमाल. यूँ तो बेबी रानी खूब चुदी चुदाई लौंडिया थी लेकिन कभी किसी चोदने वाले ने उसको ऐसे नहीं चाटा था जैसा मेरा वादा था कि मैं चाटूँगा.

हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ मेरी गांड का साइज भी बहुत बड़ा है, जिसको देख कर लड़के अपने लंड को सहलाने लगते हैं. शर्म तो थोड़ी थी पर मेरा मूड और मेरी आँखों में एक याचना देख कर वो पलट गई और अपने बैग से टॉयलेट बैग निकल कर बाथरूम में चली गई.

सेक्सी वीडियो चित्र वीडियो

फिर क्या था … मैंने भी आंटी के फोन में पोर्न वीडियो दिखा दिए, जो उस लड़के ने भेज रखे थे. वो हर दस दिन में घर जाता और आकार बताता कि दो दिन सुबह शाम सिर्फ चुदाई की है. इतना सुनते ही दोनों बहनों ने एक दूसरे को आंख मारी और दोनों ने एक ही साथ हमारे कामरस से सराबोर चूतों में झटके से डिल्डो पेल दिए.

वसुंधरा आँखें बंद कर के बिस्तर पर चित पड़ी थी, उसके दोनों हाथ क्रास कर के उसकी छातियों पर धरे हुए थे. अपने रूम में पहुंचकर उसने अचानक प्रकाश से कहा- मेन गेट खुला रह गया है, प्लीज बंद कर आओ. मारवाड़ी सेक्सी मारवाड़ीउन्होंने अपनी दो सहेलियों के नंबर भी दिए हैं … उनके साथ की चुदाई की कहानी भी आपको लिखूँगा.

मेरी इस सेक्स कहानी के पहले भागमेरी पहली चुदाई पड़ोस की भाभी के संग-1में आपने पढ़ा कि मेरी पड़ोसन मिताली भाभी का दिल मेरे ऊपर आ गया था और भाभी मुझसे चुदाई करने के लिए उतावली हो रही थी.

किस के साथ ही साथ मैंने अपने हाथों से उसके मम्मों और शरीर को सहलाना शुरू कर दिया. कहानी के पिछले भाग में मैंने बताया कि जिम में सुबह के समय एक लड़की आती थी.

मैं ये सुनकर बहुत डर रही थी, पर मैं बेकाबू होकर बस लंड चूसे जा रही थी. जैसे जैसे उसकी उंगली की स्पीड बढ़ती गयी मीना के होंठों का दबाव कुणाल के होंठों पर बढ़ता गया. फिर उसने मेरे ब्लाउज के हुक खोल दिए और उसके दोनों पल्लू बगल में सरका दिए.

मैंने भी लिखा- मैं तो चुत का आशिक हूँ, जिस किसी की चुत में मेरा लंड जाता है, तो वो बस मेरे लंड की फैन बन जाती है.

मैंने अपने लंड पर वैसलीन लगाई और संजू को डॉगी स्टाईल में करके अपना लंड उसकी गांड पर लगा कर धक्का मारा. मैंने मासूम बनते हुए कहा- क्या हुआ आंटी?वो बोलीं- हां तू तो कुछ जानता ही नहीं है … बहुत सीधा है. तो मीना बोली- हाँ, मुझे कोई एतराज नहीं है, पर अभी आप पीजिये, मैं कॉफ़ी लाती हूँ.

खेसारी लाल का नागिन पिक्चरविशाल के शब्द:दोस्तो, ये थी हम भाई-बहन की चुदाई की शुरूआत की कहानी। इसके बाद भी और बहुत कुछ हुआ. कैसे हमने उन दोनों की चुत और गांड को पूरी तरह से खोल दिया, कैसे हमने अपने बहन की चुत में अपना गर्म लावा डाला, कैसे हमने उन दोनों के साथ चुदाई का भरपूर आनन्द लिया.

गुजराती वीडियो सेक्सी वीडियो

रात को खाना खाने के बाद सब एक ही रजाई में घुसे हुए टीवी देख रहे थे, कोने में मैं था, उसके बाद चाची का लड़का, उसके बाद चाची और दादी मां थीं. एक रात जब हम फोन सेक्स कर रहे थे, तो मैंने उससे चोदने की बात कह दी. मैंने कहा- अच्छा साली, तो बोल अब किस से ठुकना है? किससे मरवानी है तूने?वो तुरंत बोली- ये डिसीजन आप लोग लो, हमें तो बस मज़ा चाहिए.

उसकी दोनों मुट्ठी में चादर थी, वो कभी दांत भींच लेती तो कभी बोलने लगती- आअह संदीप उफ संदीप आआअह आअह उह उह्ह!वो चूतड़ उछाल उछाल के मेरे लण्ड को अपनी चूत में ले रही थी. आज की शाम वसुंधरा दो बार स्खलित हुई थी और मैं भी अपनी मंज़िल से कोई ख़ास दूर नहीं था. तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्स कहानी! फिर हाजिर होऊंगा कुछ दिनों में ही एक और नई कहानी लेकर!आशा करता हूँ कि ये कहानी आपको पसंद आयेगी और आपके कमेन्ट का इन्तज़ार रहेगा.

वो बोला- तुम दोनों कहाँ रह गए?तो मैंने उसे बहाना बना दिया- मेरी तबियत ठीक नहीं है इसलिए मैं और अक्षय वापस होटल आ गए हैं. उसने टी-शर्ट नहीं उतारी, उसकी काली कच्छी उसकी गोरी मांसल टांगों के बीच कहर ढा रही थी. मेरी बात सुन कर वो एकदम से खुशी से बोली- जल्दी आ जाओ, मैं तैयार हूं.

”और वो मेरी छातियाँ दबाने लगी।फिर मुझे अपनी तरफ घुमाया- पहले कौन सा रस पियेंगी होंठ रस या चूत रस?जो आप पिलाना चाहें!”आजा फिर मेरी जांघों के बीच में!”मैं बैठ गयी और मेरे होंठ जुड़ गए डॉक्टर साहिबा के नीचे वाले होंठों से। शावर चल रहा था और मैं कभी उसकी चूत की फांकों को होठों में दबाती, कभी जीभ से छेड़ती कभी चूत को चूसती. भाभी बोलीं- यार तूने कहा था कि तेरे दूधवाले का बहुत बड़ा है … मुझे भी मिलवा दे उससे … अब तेरे भैया में पहले जैसा दम नहीं रहा.

मेमसाब ने शीला को भी अपने क्वार्टर में जाने को कह दिया और जाते जाते किवाड़ बंद करने को कह कर वो भी मेहमान से हंसी मजाक करते हुए अपने कमरे में चली गयी.

वो मेरी जांघों को सहलाते हुए मेरी चड्डी के ऊपर से मेरी गांड को दबाते हुए सहलाने लगे. सेक्सी वीडियो 2000 केअपने दोनों हाथों से सर ने मेरी कमर को घेरे में लिया और अपनी ओर झटके से खींचा, सर का लण्ड मेरी चूत के मुंह से स्लिप कर गया और अन्दर नहीं गया. सेक्सी अंग्रेजी पिक्चर वीडियोअचानक ही वसुंधरा ने अपने दोनों हाथों से पकड़ कर अपने उरोजों में धंसा मेरा चेहरा ऊपर उठाया और मेरे मुंह पर यहां-वहां चुम्बनों की बौछार कर दी. इस पर नीरज बोला- बाप रे … बाप कितना चुदवाती हो … मेरा तो पूरा पसीना निकाल दिया.

मनु बेचारी नई जवानी लिए दीदी के अनुभवी हाथों और मोटे डिल्डो के सामने कब तक टिक पाती.

मैंने नाटक सा करते हुए भाभी से कहा- मैं और आरती मेरे रूम में कुछ बातें करने के लिए जा रहे हैं. ये पोज़िशन्स मुझे पता होने का कारण यह है कि मैं सेक्स वीडियो ज्यादा देखता हूं और जो सेक्स पोज़िशन्स हैं, उनके बारे ज्यादा पढ़ता हूं, उन्हें आजमाता हूँ और मजे लेता हूं और मेरे सेक्स पार्टनर को देता भी हूँ. मैंने भी हँस कर जवाब दिया- अगर पहले मिली होती तो शायद में ही तुम्हारा दोस्त बन चुका होता, वो भी अच्छे वाला.

जब उसको पता लगा कि मैं उसी की ओर आ रही हूं तो वो थोड़ा सा मेरी ओर ही घूम गया और अपना लंड मुझे दिखाने लगा. अनिषा- ठीक है, तो हम लोगों को भैंस के तबेले पर छोड़ देना, वहां से दूध और भैंस का चीक भी लेना है. कुछ देर के दर्द के बाद मुझे भी मजा आने लगा था और मैं अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी थी.

सेक्सी नंगी हिंदी ब्लू पिक्चर

फिर मैंने मन में सोचा कि अब शराफत का नक़ाब हटा कर इन्हें अपना असली रूप दिखाना ही पड़ेगा. मैंने भी उसके सर को पकड़ कर अपने लंड पर दबा दिया ताकि अब मेरा लौड़ा उसके मुंह से बाहर न निकल जाए. आज तक मैंने सिर्फ सुना है, पोर्न फिल्मों में देखा है कुछ रंडियां भी बुलाई हैं चुदाई करने के लिए.

मेरे घर पर मेरे अलावा और कोई नहीं रहता। मैं जिंदगी में काफी अकेला महसूस किया करता था.

मैडम ने मेरी तरफ देखा, तो मैंने उनको कुतिया बना कर चोदना चालू कर दिया.

जाते ही उसने निक्कर में से लण्ड निकाल लिया और कहा- ये तो पहले से ही खड़ा है।मैंने भी कह दिया- तुम्हारी गर्मी से ही खड़ा हो गया है।यह सुन कर वो खुश हो गयी और घुटनों के बल बैठ के लण्ड चाटने लगी। आंड से लेकर लण्ड चाटने के बाद मुंह में लेकर चूसने लगी तो कभी आंड चूसती. मैं गर्म हो गया तो मैंने उसे रसोई में ही उसकी चुत को चोदा और बाहर आ गया. सेक्सी विडियो मारवाडीलड़की ने काउंटर टेबल से अपना फोन उठाया और पानी की बोतल से पानी पीने लगी.

हम चार दोस्त वहाँ जॉब करते हैं और इस बार छुट्टियां मनाने इंडिया घूमने आए हैं। हमने इंडियन लड़कियों की बहुत तारीफ सुनी थी, उस दिन जब आप लोग दिल्ली घूम रहे थे तो हम सब आपको ही नोटिस कर रहे थे. आऽह आओ ना … अपना लण्ड मेरी रसीली चूत में डाल दो और मुझे चोदो! अब घुसा भी दो ना … क्यों तड़पा रहे हो? अरे आ जाओ ना! डाल दो मेरे राजा … चोदो चोदो … आओ, मेरी प्यास बुझा दो।मेरा कड़क लण्ड अब आशा की कोमल गुलाबी चूत को कस कर पकड़ रहा था, रगड़ रहा था और मेरी और आशा की बेचैनी को बढ़ा रहा था. ‌आशना- क्यों अब क्या करना है? चुदने दोगे तुम मुझे या नहीं?‌अजहर- यार मैं कुछ अलग करने की सोच रहा हूँ.

सर ने दोबारा अपना लण्ड मेरी चूत के मुंह रखकर मुझे अपनी ओर खींचा लेकिन उनका लण्ड मेरी चूत में तब भी नहीं गया. इसके बाद मैं उसके ऊपर लेट गया मैंने उसे चूमते हुए आई लव यू बोला और उसने भी मुझे आई लव यू कहा.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गाँव वाली सेक्सी चाची की चुत चुदाई-2.

कुणाल बलिष्ठ था, उसने मीना को बाँहों में उठा लिया और तौलिया में लपेटकर बेड पर आराम से पटक दिया. अंकल मुझे देखकर मुस्कराये और उन्होंने आंख मारकर बाहर मिलने का इशारा कर दिया. वो आम रास्ता नहीं था फिर भी खेतों की तरफ आने वाले लोग आसपास हो सकते थे.

जापान ट्रेन सेक्स दीदी की कामुक आवाजें सुनकर मैंने अपनी धक्के मारने की स्पीड को बढ़ा दिया. वैसे हमें ऐसी छेड़खानियां कम ही झेलनी पड़ती थीं, क्योंकि हमसे और बड़ी लड़कियां, जो हमारे ही स्कूल की होती थीं, उनके साथ छेड़खानी ज्यादा होती थी.

उत्तेजना के मारे मैंने कई सारे चुम्बन वसुंधरा की दोनों कांखों के ले डाले. तभी सुरभि ने मेरी पैन्ट उतारी और अंडरवियर के ऊपर से ही मेरे लंड को दबाने लगी. अपने महबूब के साथ बिताये ऐसे ही चंद पल किसी की भी जिंदगी को जीने लायक बनाते हैं.

शेट्टी सेक्सी व्हिडीओ

थोड़ी देर में मेरे लन्ड ने एक पिचकारी उसके मुंह में छोड़ दिया जिसे नीलू ने चाटकर साफ कर दिया. कुछ देर तो मैं असमंजस में रहा कि इसको तो कोई भी हट्टा कट्टा मर्द चुदाई के लिए मिल जायेगा. मैं आवाज देते हुए बोली- विक्की डार्लिंग, एक मिनट रुको … मैं आती हूँ.

गांड को लौड़ा आराम नहीं करने दे रहा था, तो चूत में अंगूठा कमाल कर रहा था, तीसरी तरफ बाबू का एक हाथ मेरी चूचियों को मसल रहा था. उन्होंने मेरा लंड पकड़ कर देखा तो लंड ने हिनहिना कर भाभी को नमस्ते की.

अन्तर्वासना पर सभी को मेरा नमस्कार; समस्त भाभियों व कमसिन कन्याओं को मेरा प्यार भरा नमस्कार!दोस्तो, कैसे हो आप सब?मैं नवनीत अजमेर से आप सभी पाठक पाठिकाओ का स्वागत करता हूं। मेरी उम्र 20 साल है लन्ड 6 इंच लम्बा व 2.

उसकी आंखों की चमक से लगा मानो वह पूछ रही हो कि क्यों जानेमन मेरे यार का लंड कैसा लगा. उसके चूमने और चाटने से मेरी चूत दो मिनट में ही गीली होना शुरू हो गयी थी. कमरे जाकर में अन्दर से दरवाजा लॉक करके और हम दोनों बिना देर किए एक दूसरे को चिपककर ऐसे किस करने लगे.

लेकिन मुझे जरूरत थी तो उस अनजान आंटी के साथ की।वो आंटी भी बहुत मुझे बहुत दिनों की प्यासी लग रही थी. संजू उठ कर बैठ गई और उसने एक जोरदार अंगड़ाई ली, जिससे उसकी गदराई चुचियों का पूरा उभार सामने आ गया. मैंने अपने एक दो दोस्तों को कॉल किया और थोड़ा घूमकर आया, तब जाकर मेरा मूड सही हो सका.

कुणाल को नीचे लिटा कर मीना उसके ऊपर चढ़ कर बैठ गयी और अपने लम्बे रेड-पेंटेड नाखूनों को कुणाल के चेहरे से नीचे लंड तक गड़ाती हुई लाने लगी.

हरियाणा का सेक्सी वीडियो बीएफ: इतनी थोड़ी सी जग़ह पर! … दायीं तरफ आकर आराम से क्यों नहीं बैठती?”गन्धर्व-विवाह की ही सही … वामांगी हूँ आपकी. शायद सोच रहा था इतने मोटे लंड से मेरी बहन की चूत फट ही जाएगी।फिर वो लड़की मेरे लंड को चूसने लगी और मोनू का लंड हिलाने लगी।कुछ देर बाद मैंने उसे घोड़ी बना लिया और घुटनों के बल बैठ के उसकी चूत पे लंड फिराने लगा।मोनू भी मेरे पास आया और मुझे देखने लगा। आज मैं आने से पहले दो निरोध जेब में रख के ले आया था। मैंने एक निरोध निकाला और अपने लंड पे लगा लिया। फिर उसकी चूत में अपना लंड घुसाने लगा.

अब दो चार से बात बनी तो फिर तो मैंने उनके जरिये और भी बहुत सी मैडमों को बजाया। घर में एक बाई थी, जो साफ सफाई और खाना बनाती थी. मैंने मैम से कहा- मैम आपको अपने कपड़े उतारने पड़ेंगे, नहीं तो ये गंदे हो जाएंगे. उसी समय मैंने जानबूझ कर आंखें खोल दीं और बैठ कर बहन भाई की चुत चुदाई देखने लगा.

तभी विक्की का कॉल आया, मैं अपने कमरे में चली गई और उससे बातें करने लगी.

ऊपर तो मैंने वसुंधरा के लबों जोड़ को अपनी जुबान से ज़रा सा छुआ लेकिन नीचे से अपना दायां हाथ बढ़ा कर बायीं ओर वसुंधरा की कमर को पकड़ लिया. संजू को इससे गुदगुदी हुई और वो बोली- छोड़ो मुझे … बेहूदे लड़के … मुझे गुदगुदी हो रही है. जब उसने मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा तो मैंने उससे झूठ बोल दिया कि मेरी भी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.