बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी

छवि स्रोत,तेलुगू सेक्स व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स फोटो मराठी: बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी, आँटी बोली- बुद्धू, निकालो दर्द हो रहा है, पीछे से चूत में डालो और मेरी चूचियों को पकड़कर मसलो.

बरफ के पानी रगरत

मैंने कहा- कितने दिन हो गये भाभी आपको चुदे हुए?वो बोली- बहुत टाइम हो गया है इसलिए दर्द हो रहा है. सेक्सी पिक्चर हिंदी मूवी वीडियोजैसे ही दीपिका कुछ लेने के लिए सीधी हुई उसे हल्का सरूर लगा और बैठते ही बोली- ओह्ह, मुझे कुछ लग रहा है।मैंने कहा- क्या लग रहा है?दीपिका- अच्छा लग रहा है.

बल्कि सर्दी की जगह हमारे जिस्मों से पसीने छूट रहे थे और हम दोनों ही पसीने से तरबतर हो गए थे. भोजपुरी गाने डीजेफिर दोनों गरम हो गये और एक राउंड और जमकर चोदा।5 बजे उसने कपड़े पहने और मेरा टेम्प्रेचर चैक करके रीडिंग ली.

वो और तेजी से लंड पेलते रहे और 5 मिनट में ही अपना रस मेरी चुत में निकाल दिया.बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी: उसकी चूत की फांकें आपस में सटी हुई थीं, पर पैर फैलाने की वजह से थोड़ी जगह बन गई थी.

मैंने उसको नीचे कर दिया और पूजा से कहा- पूजा इस साली के मुँह पर बैठ जा और इससे अपनी चूत चुसवा.मैं अब उस पानी को पैरों से ही उड़ाते हुए चलने लगा … और कहीं कहीं जहां ज्यादा पानी था, वहां तो उसमें उछल उछल कर कूदने भी लगा, जिसे देख शायरा भी हंसने लगी.

बीपी मटका - बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी

मैं ऊपर से नंगी हो जाती और कंपाउंडर पट्टी बदल देता।एक दिन कंपाउंडर कह रहा था इसके स्तन बहुत गोरे हैं.मैंने समझा और ज्यादा कहना ठीक नहीं है, फिर मैंने पूछा- क्या ये सब करना तुम्हें अच्छा लगता है?सौरभ कुछ नहीं बोला.

आपकी मोहिनी डार्लिंग[emailprotected]कहानी का अगला भाग:क्रॉसड्रेसर दोस्तों के साथ डर्टी गे सेक्स- 2. बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी वैसे राज, मुझे तुमसे मिलने के बाद ही पता चला है कि असली मज़ा क्या होता है.

दीपिका की हालत देख संजना बोली- अरे राज जी, कुछ लो न, आप तो कुछ खा ही नहीं रहे हो?फिर वो दीपिका की ओर देखकर बोली- दीपिका, सर्व करो न!दीपिका उठी और टेबल के ऊपर से मेरी ओर झुककर मुझे खाने को देने लगी तो ऐसा लगा जैसे उसके मम्मे मेरे ऊपर ही गिर जाएंगे.

बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी?

देर शाम होने के बाद आंख खुली, तो देखा कि भाभी नहाकर बेदिंग गाउन में चाय की चुस्की ले रही थीं. गीतिका कहने लगी- चलो जो होगा देखा जाएगा, लेकिन जिंदगी का मजा एक ही रात में आ गया. एक बार जब दीदी मेरी कुर्ती ऊपर करके मेरी पीठ पर नाईसिल का पाउडर लगा रही थी तो अचानक से जीजू आ गये और मेरी ब्रा का हुक खोल दिया.

कुछ देर तो मैं शांत रहा और जब मैं मूड में आया, तो मैंने उसे उठा कर अपने नीचे खींच दिया और उसके ऊपर आकर जबरदस्त धक्के लगाने लगा. डाक्टर ने बोला कि मनीषा को हॉस्पिटल में एडमिट करना पड़ेगा, क्योंकि टाइफाईड ने मरीज को कुछ ज्यादा ही बीमार कर दिया है. दीपिका के उसी दिन शिफ्ट करने की बात सुनकर मैं खुशी से झूम उठा और रह रह कर मैं उन बातों को याद करता रहा जो बातें मेरे और दीपिका के बीच हुई थी.

भले ही मैं सम्भोग में बहुत अनुभवी हूँ, पर इतना मोटा लंड अपनी योनि में लेना मेरे लिए असम्भव सा था. रिया- अगले कुछ दिनों में से क्या मतलब है आपका? मतलब टाइम से ज़्यादा?रमेश- हाँ बस तीन चार दिन।रिया- नहीं, उसके अलग से चार्ज लगेंगे।रमेश- देख रंडी, यह पीरियड्स तेरी प्रॉब्लम है. मैं रश्मि के जिस्म से उतरकर उसके बगल में आ गया और रश्मि ने करवट बदल ली.

उसकी दोनों टांगों के बीच में बैठ कर उसने अपने लंड को रेहाना की Xxx बूर पर लगा दिया और धीरे धीरे घुसाते हुए पूरा लंड उसकी चूत उतार कर धक्के मारने लगा. अब आपकी सारिका कंवल को एक कविता नाम की मदमस्त औरत के साथ डिल्डो सेक्स कहानी का बाकी मजा अगली बार मिलेगा.

लेकिन हमारी बातें अब सेक्स की तरफ रुख़ ले चुकी थीं … और मैं उसे किसी रूम पर ले जाने के लिए मना रहा था.

बेटा गुड्डू अब इसे छोड़ना नहीं है … आज इसकी चुत तो गीली कर ही दे, इसको अपनी याद में चुत में उंगली करने पर मजबूर कर दे.

उन्होंने मुझे सोफे पर बिठाया और अब वो चाटते हुए मेरी चूत तक आ गये थे. वो बोली- परेशान मत होइए आप!मैंने कहा- कैसी परेशानी?मैं खाना बनाने लगा. मालिश करते हुए मेरे नौकर श्यामू ने कहा- मालकिन, तेल से आपकी ब्रा खराब हो जाएगी, अगर आप बुरा न मानो तो इसको खोल दूं?मैंने भी अपने पालतू कुत्ते नौकर से कहा- तुझे जो भी खोलना है … खोल दे लेकिन मालिश बढ़िया से करना.

मैं अपनी पढ़ाई करता हूँ और थोड़ा बहुत अब्बू के ऑफिस का काम भी कर लेता हूँ. गीतिका अपनी टांगें चौड़ी करके खड़ी हो गई, उसने मेरी तरफ देखा और बोली- ऐसे भी कोई चुदाई करता है? मेरी तो जान ही निकाल दी आपने!मैंने कहा- यह तो पहला सेशन है. जीजू बोले- साली साहिबा उस दिन जब से मैंने तुम्हारी चूत को देखा है, तब से मैं पागल हो गया हूँ।मैंने कसकर दोनों जाँघों को चिपका लिया और चूत को छिपाने लगी.

कसम से शायरा के साथ इस तरह बारिश में भीगते हुए पैदल चलने में इतना मजा आ रहा था कि बस लगा कि मैं उसके साथ ऐसे ही पैदल चलता रहूँ.

उन्होंने सीत्कारते हुए कहा कि तुम जितना मजा फोन पर करवा देते थे, उससे ज्यादा मजा तो अभी आ रहा है. मगर शायरा जैसे मेरे मन की बात जान गयी और उसने खुद ही अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी. उसी रात में सनी ने मेरी दोनों आर्मपिट में लंड फंसा कर मेरी बगलों की चुदाई की.

रश्मि को चोदने का इस समय मेरा मन तो बहुत कर रहा था, पर मैं रूक गया. Xxx आंटी चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि आंटी अपनी नंगी चूत खोले मेरे सामने बिस्तर पर पड़ी थी. कमल के जाने के बाद कमल की जगह वीणा बेड पर चढ़ गई और रजाई में पैर डाल कर बैठ गई.

भाभी देसी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरी जवान पड़ोसन ने मुझसे दोस्ती करके सेक्स के लिए उकसाया.

मैंने अनीता से पूछा- तुम्हें मेरे लंड का पानी पीना बुरा नहीं लगा?वो मुस्कुराते हुए बोली- यह तो अब मेरी आदत हो गयी है. मौसी- हां बोल?मैं- मौसी मैंने कॉलेज में डांस कॉम्पिटिशन में हिस्सा लिया है.

बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी 30 पर घोष बाबू फिर आये और बोले- आ जाओ दादा, हम सब आपका इंतजार कर रहे हैं. मैंने उसके कंधे पर हाथ रखते हुए कहा- कोई बात नहीं भाभी, मैं हूं न आपका ख्याल रखने के लिए!उसने मेरी ओर देखा और हल्के से मुस्करा दी.

बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी मैंने रोहन से बोला- रोहन, आपको याद है आपके कहने पर मैंने आपके दोस्त जॉन और अलेक्स से चुदाई करवाई थी और वो सिर्फ आपके दोस्तों की मन की इच्छा की वजह से हुआ था. मेरे लौड़े ने मेरी लोअर से बाहर आने की बगावत शुरू कर दी थी।जल्दी ही आप देखेंगे कि उसके बाद दीपिका और मैं दोनों कैसे गर्म हुए.

फिर तुम्हारा आपरेशन मैं करता।तो मैंने कहा- इसमें आप क्या कर लेते?जीजू बोले- अगर मैं डाक्टर होता तो तुम्हें बिल्कुल नंगी करके तुम्हारा आपरेशन करता।मुझे बहुत शर्म आयी लेकिन जीजू बेहिचक बोल देते हैं.

पोर्न हिंदी सेक्स वीडियो

अचानक पिंकी रानी ने चुदास से भर्रायी आवाज़ में पूछा- याद है न तू मुझे कैसे पुकारेगा राजे? बता तो ज़रा. इसलिए उसका कहना है कि उसकी ये देसी सेक्स आंटी स्टोरी मैं अपने जरिये आप लोगों तक पहुंचाऊं. दूसरे मेरे मन में अचानक शादी वाली रात कि बात याद आयी कि भाभी ने मुझसे बीएफ के लिए पूछा था.

चूंकि मेरे पापा विदेश में रहते हैं, तो मम्मी ने घर पर मुझे छोड़ कर जाने का तय कर लिया क्योंकि घर की सुरक्षा के लिए किसी एक का रहना आवश्यक था. इसके बाद मैं आपको अपनी सेक्सी आंटी की और भी चुदाई की कहानी बताऊंगा कि कैसे मैंने उनकी गांड मारी और कैसे मैंने उनके साथ गंदा सेक्स किया. अगर उसने बाहर जाकर बताना होता, तो पहले ही चुपचाप देख कर भाग जाती, मगर वो गई नहीं और वैसे भी मैंने उसे ज़्यादा पैसे देकर उसका ईमान खरीद लिया है.

तभी दीदी आह करते हुए बोलीं- इतनी जल्दी तो तेरे पति को गांड नहीं मारने दूंगी.

अनीता ने दर्द के मारे आहह की आवाज निकाली, पर अपने अनुभव से अपनी कसी हुई गांड में आधा लंड लेने में कामयाब रही. तभी वो बोली- रमित अभी मत डिस्चार्ज होना … अभी दूसरी पोजीशन में करते हैं. मेरी दोनों जांघों को पकड़ कर मुझे तेज़ी से चोदते हुए बूढ़े ने कहा- तुम्हारे अंदर ही झाड़ जाऊँ या बाहर निकाल लूं?तो मैंने कहा- मेरे फुद्दी के अंदर ही झड़ जाओ.

मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ तुम ठीक तो हो?वह बोली कि हां मैं ठीक हूं. भाभी- हाईई … संजय, तुम्हारा तो बहुत मस्त है यार … रजत का भी अच्छा है पर तुम्हारा ज़्यादा अच्छा है. बैठने के दरम्यान जब लंड उसकी बुर में गया, तो उसकी दर्द भरी आह निकल गयी.

तो भी मम्मी ने मना कर दिया क्योंकि यहाँ पर अब तक बहुत खर्चा हो चुका था. मुझे रश्मि के कमरे से कुछ आवाज आ रही थी, ऐसा लग रहा था कि रश्मि किसी से बात कर रही थी.

गीतिका ने एकदम मेरे हाथ अपने हाथों में पकड़ कर अपनी चूत पर दबा दिए. रिया ने एग्रीमेंट पेपर पढ़ा जिसमें बहुत सारी गंदी गंदी शर्तें भी लिखी हुई थी. तभी सोनम उसे देख कर बोली- आ जा भाई … इस रंडी की चुत एकदम वर्जिन है.

वो मस्ती से आंखें बंद करके बस मुझे चूमे जा रही थीं, असली मज़ा ले रही थीं.

मैंने जैसे ही अपने हाथ को फिराते हुए उनकी छाती पेट और फिर नीचे चूत पर फिराया तो भाभी ने एकदम अपनी टांगों को चौड़ा किया और बोली- आओ!मैंने अबकी बार नीचे खड़े हो कर भाभी को दोनों टांगों से पकड़ा और बेड के किनारे की ओर खींच लिया. यदि आप लोगों को मेरी पूरी दास्तान जाननी है, तो आप लोगों मेरी पिछली सेक्स कहानीबिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयीको जरूर पढ़ें. लेकिन मैं आपकी कहानियों को पढ़कर आप से करीब दो-तीन महीने पहले से बात करने की कोशिश कर रही हूं.

अब दिल में कोई शक नहीं था कि ये औरत मुझे पसंद करती है और मुझे आज इस मस्त अहसास को संभालना होगा. ट्रेन कुछ जल्दी आ गई थी या शायद मुझे बताने वाले को टाइम का पूरा अंदाज नहीं था.

लेडी अंदर आई और बोली- सर, मुझे ये फ्लैट चाहिए और उसने दोनों हाथ जोड़ दिए. खैर … हम दोनों के मुँह पर मास्क लगा होने के कारण हम नयनों से नयन मिला कर एक दूसरे को समझने की कोशिश करने में लगे थे. 00 बजे के बाद मेन स्विच कभी भी दो बार ऑफ कर दोगे तो मैं तुम्हारे अंकल को नीचे बंद करके तुम्हारे पास आ जाऊँगी.

हिंदी वीडियो एक्स एक्स

हमारी क्लास में मेरी ही बेस्ट फ्रेंड ने सबसे पहले ब्वॉयफ्रेंड बनाया था क्योंकि वो भी बहुत स्मार्ट थी.

गीतिका मस्त हो गई और बोली- ठीक है, आज की रात तुम्हारी रात है, मैं तुम्हारे पास हूँ, जो भी करना है वह कर लो, और मेरे तनबदन की आग बुझा दो. हम‌ धीरे धीरे स्कूटी चला रहे थे कि तब तक पीछे से वो लड़की और वो औरत भी आ गईं और हम चारों अब साथ में चलने लगे. अनीता ने दर्द के मारे आहह की आवाज निकाली, पर अपने अनुभव से अपनी कसी हुई गांड में आधा लंड लेने में कामयाब रही.

मुझे अपने से बड़ी उम्र की लड़कियां बहुत पसंद हैं इसलिए मैं अपनी बड़ी बहन को चोदने में भी पूरा मजा लेता हूं. कमल बोला- वो मौसी जी, आज फूफाजी पहली मेरे घर बार आए है ना … तो दिन में ले ली थी. செக்ஸ்ய் படம் தமிழ்वो मेरी गर्दन पर किस करने लगा और अपना लौड़ा मेरी गांड में फंसाने लगा.

बच्चों के कार के नीचे उतरते ही विजय ने तुरंत मेरा हाथ पकड़ लिया और बोलने लगा- शालू, तुम्हारे जयपुर पहुंचने के बाद तो पता नहीं हम कब मिलेंगे. मैंने और संजय ने आपस में बात की और हमने पहले नेहा को हम दोनों के बीच में आने को बोला.

जैसे ही दीपिका कुछ लेने के लिए सीधी हुई उसे हल्का सरूर लगा और बैठते ही बोली- ओह्ह, मुझे कुछ लग रहा है।मैंने कहा- क्या लग रहा है?दीपिका- अच्छा लग रहा है. एक मिनट बाद मेरी मैरिड गर्लफ्रेंड जिया ने अपनी आंखें खोलीं और कहा- अब मेरी बारी है. डाक्टर ने बोला कि मनीषा को हॉस्पिटल में एडमिट करना पड़ेगा, क्योंकि टाइफाईड ने मरीज को कुछ ज्यादा ही बीमार कर दिया है.

मैं अगले ही पल अपने लंबे हो चुके लंड को कविता भाभी की चूत में डालने लगा. स्कूल कॉलेज भी नहीं करती, कहीं घूमने टहलने भी नहीं जाती … कहीं गई भी, तो बस किसी की शादी में … या फिर बीमार हुए तो डॉक्टर … या कभी मार्केट, वो भी अम्मी या दादी के साथ ज़िंदगी बोरिंग सी है. हम दोनों की सिसकारियां तेज़ हो गई और झटके के साथ दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया।मैं उसके ऊपर वैसे ही लेट गया।हम दोनों पसीने से लथपथ हो गये थे; दोनों के शरीर से आग निकल रही थी।थोड़ी देर बाद दोनों उठे मैं उसे गोद में उठा कर बाथरूम ले गया.

जगह जगह से वहशीपने से काटने और चूसने के बाद भाभी को मैंने घोड़ी बनाया और जबरदस्त तरीके से पीछे से चूत में लण्ड ठोक दिया.

जब मैं कोचिंग के बाहर अपनी फ्रेंड के साथ पहुंची, तो पहले वो अपने यार अभिषेक से मिली. यंग हॉट गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि पहली बार अपनी कमसिन मेड की चुदाई करने के बाद अगले दिन जब वो काम पर आयी तो मैं उसे दोबारा चोदना चाहता था.

शाम के 6 बजे हमारे घर की बेल बजी और रोहन और मैं ऊपर से नीचे लिविंग एरिया में आ गए. मैंने गीतिका से कहा- गीतिका, मैंने इतनी सुंदर चूत पहले कभी नहीं देखी है. तुमको आज तक मेरे जैसा लंड नहीं मिला क्या?मुझे जितना भी मिला … सब एक जैसे ही थे.

मैं बेड पर लेटा हुआ अपनी साले की लड़कियों की चुदाई की याद करता हुआ समय पास कर रहा था. भाई की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे पास में सो रही मौसेरी बहन के गर्म जिस्म को भाई की वासना ने जकड़ लिया. रॉनी ने गांड का छेद खुला हुआ देखा, तो उसने अपना लंड मेरी गांड पर सैट कर दिया और जोर लगा दिया.

बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी मेरी इस नई फ्री चैट गर्ल स्टोरी के सभी पात्र और जगह का नाम आदि काल्पनिक हैं. चुदासी भाभी की सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे बस में मुझे एक भैया भाभी मिले.

एक्स एक्स एक्स वीडियो वीडियो

भाभी उसी के बहाने अपनी बात कह रही थी।मैंने कहा- जैसा आपको ठीक लगे, अब तो मैं आपकी व्यवस्था का हिस्सा हूँ. मैं बार बार अपने लंड को भाभी की बच्चेदानी तक अन्दर ठेल दे रहा था जिससे वो कराह उठतीं और नीचे से अपनी गांड उठा कर मेरे लंड को चुततोड़ जवाब दे देतीं. एक समय ऐसा आया कि हम दोनों ही जोर जोर से चुदाई करने लगे और उसने अपने लंड के लावा से मेरी गांड को भर दिया.

मैं फुल मस्ती में आ चुकी थी और विजय मेरी गांड के छेद को चाटने में व्यस्त था. सनी बोला- मासी, आप कॉल पर ही रहना और सुनना दीदी क्या क्या करती हैं. भूत वाली कहानियां बताइएअब 26 साल की उम्र में हमारे लेडीज गार्मेंट स्टोर का काउंटर मैं ही संभालने लगा था.

मैंने उसकी दोनों बाहों को कस के पकड़ लिया और फिर उसका भी लावा मेरी चुत के अंदर ही छूटने लगा.

देशी चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैं चूची में दर्द के इलाज के लिए डॉक्टर के पास गयी तो उस हरामी डॉक्टर ने कैसे मेरी वासना को जगा कर मेरी चूत की सील तोड़ दी. कुछ ही देर में उनकी मस्ती का आलम ये था कि वो बीच-बीच में बोल रही थीं- आहह्ह … ईशशस … हां बहुत मजा आ रहा है मेरी जान … आह ऐसे ही करते रहो.

तो फिर उनकी चूत को जैसे ही मुंह लगाया तो वो एकदम से उछल पड़ी और अपनी योनि में मेरा मुंह घुसा दिया. मैंने उसकी तरफ देखा और उससे कहा- अपनी शादी के तीन साल बाद आज तुम मुझसे ये क्या कह रही हो. कुछ दिन बाद साहिल से बात हुई कि उसकी अम्मी को भी पता चल गया कि दोनों चाचियां उसके बेटे से ही चुदवाती हैं.

दोस्तो, ये आंटी हॉट सेक्स स्टोरी, पहली बार किसी और की है जो मैंने लिखी है.

फिर पैरों को चूमते हुए सलवार के ऊपर से ही जांघों को दांतों से काटने लगा. मेरे लंड को दीदी ने धीरे धीरे करके अंदर ले लिया और वो फिर अपनी चूचियों को मसलने लगी. जिस पर रश्मि बोली- नहीं, मैं तेरे लिए रात को ही नंगी होऊंगी, अभी कोई आ भी सकता है.

मुझे मेरे फ़ोटो दिखाओआंटी पूछने लगी- क्या बात है, कुछ हुआ है क्या?मैं- आंटी मैंने सुबह नहाने के बाद गलती से तुम्हारी पैंटी पहन ली. वो- हां, उसने वो बैंक में मुझे फोन तो किया था … पर मुझे याद ही नहीं रहा.

सेक्स की ब्लू फिल्म

चूमते हुए वो नीचे जा पहुंचे और फिर उन्होंने अपने हाथों से मेरी पैंटी भी निकाल दी।मैं पूरी नंगी हो गयी. गीत मेरे पैरों की तरफ मुंह करके मेरे लंड पर अपनी गांड रख कर बैठ गयी और मैंने उसके कंधे पकड़ रखे थे और धीरे धीरे गीत मेरे पूरे लंड को गांड में समा गयी. उसकी ठुड्डी, गाल, गर्दन और फिर अन्त में उसकी चूचियों के पास आकर मेरे होंठ ठहर गए.

मगर शाही सर बोले- ओके मोहन, तू चाहे तो अभी शाहीन मैडम के साथ सेक्स कर सकता है, मगर करेगा हम सबके सामने … यहीं पर. रश्मि मेरी इस हरकत को देखकर मुस्कुरा दी और बदले में उसने भी अभी उन उंगलियों को जो अभी तक मेरे सुपारे को खोद रही थीं … या उसके ऊपर चल रही थीं, को अपने मुँह में भर कर चूसने लगी. मेरे हाथों में ढील पाकर उसने मेरे हाथ अपने पेट से हटा कर मेरे सिर के दोनों तरफ़ कर दिए और मेरी दोनों टांगें और अधिक फ़ैला कर अपना वजन मेरे ऊपर डाल दिया … ताकि अब चाह कर भी मैं अपनी टांगें सिकोड़ न सकूं.

अपनी चाय खत्म करके मैं रूम में आ गयी और भाईजान के लंड के बारे में सोचकर अपनी चूत में उंगली करने लगी. उसी समय मैंने सोसाइटी के सुपरवाइजर को तीन चार मजदूर टाइप के लड़कों को लेकर आने को कहा. वे मुझे लगातार किस भी किए जा रहे थे; एक हाथ से मेरे बूब्स भी दबा रहे थे और नीचे से मेरी चुदाई भी कर रहे थे.

मेरे लंबे काले गांड तक लहराते मेरे खूबसूरत बालों की पोनी को पकड़ कर हर कोई मुझे घोड़ी बना कर मेरी सवारी करना चाहता है. इसलिए लॉकडाउन में छूट मिलते ही मैंने अपने पति के सामने ही अपने बॉयफ्रेंड थॉमस के मोटे लंड से चुदने की एक प्लानिंग की.

’ की आवाजें होने लगी थीं और रॉनी की सीत्कारें निकलनी शुरू हो गई थीं.

उस दिन सनी ने मेरे मुँह में ही 4 बार लंड डालकर मेरी मुँह की ही चुदाई की. गांव की सेक्सी पिक्चर गांव कीथोड़ी देर बाद भाभी ने मुझे बिस्तर पर सीधा लिटा दिया और मेरे ऊपर आकर बैठ गईं. जापानी बस सेक्सफिर उसने जरा विस्तार में बताया, तब मैंने उसे पहचान लिया और इस तरह से हमारी बातें शुरू हो गईं. बस इस सब में मेरे ख्याल से आधे सेकेंड से भी कम समय लगा होगा उसे और उसने मुझे हरा दिया.

मैंने उन्हें हंस कर देखा, तो उन्होंने मुझसे बोला कि कल दोपहर 12 बजे तैयार रहना.

वो किस करने के साथ साथ मेरे दूध भी मसल रहा था, जिससे मुझे भी मज़ा आ रहा था. मैंने अपना व्हाट्सएप नंबर उसे दे दिया और गुड नाईट बोल कर आगे बढ़ गया. अगर पूछेंगे भी तो शायद मैं जवाब नहीं दे पाऊंगी, क्योंकि मैं पहले ही सारे जवाब वहां पर दे चुकी हूँ.

वो बोली- राज, तुम मस्त चुदाई करते हो!मैंने अब और तेज़ तेज़ झटके मारने शुरू कर दिए. ऐसा मज़ा आया कि मैंने जो लंड मेरे मुँह में था, उसे मस्ती में आ कर हल्के से काट लिया. उसने मुझे होटल का नाम बताते हुए कहा- मुझे इस होटल के बाहर उतार दीजिएगा.

मोटे मोटे लंड

मेरे लेडीज़ गार्मेंट के शॉप पर एक सेक्सी भाभी ब्रा-पैंटी खरीदने आई. दीपिका ने अचानक से अपने एक पांव को दूसरे पर रखा और अपनी जांघों को भींच लिया. वैसे तो मैं एक लड़का हूँ लेकिन मुझे लड़कियों के कपड़े पहनना, मेकअप करना बहुत अच्छा लगता है.

तभी सोनम उसे देख कर बोली- आ जा भाई … इस रंडी की चुत एकदम वर्जिन है.

अब नैना थोड़ा थकने लगी, तो मैंने उसे अपने नीचे ले लिया और तेज़ी से चोदने लगा.

अब मेरे सामने जन्नत का वह नजारा था जिसका आसानी से वर्णन नहीं किया जा सकता. मुझे मंज़ूर है।रमेश- आज से ही शुरू करते हैं। चल रूम में चल साली रंडी और नंगी हो जा।रिया- नहीं यह नहीं हो सकता।रमेश- तो फिर 10 लाख भूल जा।रमेश को समझाते हुए वो बोली- मगर मैं घर में नंगी कैसे रह सकती हूं? मां भी तो है!रमेश- तू उसकी फिक्र मत कर. लाइव सेक्स वीडियो एचडीजैसे ही मेरी उंगली बिन्दू की चूत के दाने पर पहुंची, बिन्दू ने आ… आ… किया और बोली- बेड पर लेट जाते हैं और आगे से डालो.

अचानक मुझे भाभी की कहीं वह बात याद आ गई- वहां बेचारे ननदोई जी अकेले लण्ड हाथ में लेकर हिला रहे होंगे. मैंने डरते डरते धीरे से कहा- भाभी एक बार मैं भी आपके साथ चुदाई करना चाहता हूँ. मैं उनकी वेशभूषा से किसी नतीजे में पहुंचता … इससे पहले ही नेहा आ गई.

अपने पाठकों से एक बार फिर से कहना चाहता हूं कि मैं आपसे बात करूंगा लेकिन कोई मजबूत आधार हो. हैलो साथियो, आप पढ़ रहे थे कि वैभव ने मुझे 6 जवान कालगर्ल्स के पास छोड़ दिया था और मैंने अनीता और भावना को अपने लंड के लिए चुन लिया था.

रिया ने झुक कर अपनी गांड को रमेश के सामने कर दिया और गांड का छेद खोल कर रमेश को दिखाने लगी.

दीपिका- अच्छा ये बताइये, क्या आप हर रोज ड्रिंक करते हैं?मैं- नहीं, कभी कभी. और मुझसे कहने लगी- बेटा राज, कर दो यह जो भी करवाना चाहे?मैंने कहा- ठीक है आंटी मैं कर दूंगा आप चिंता मत करो. वे बोली- राज, मेरा होने वाला है तुम भी अपना कर लो, इकट्ठे डिस्चार्ज होंगे.

2022 की अमावस कब है तेरी गांड को चोद चोद कर कुआं बना दूंगा मैं … आह्ह … साली रांड … तेरी चूत फाआआड़ … दूंगा … आज … आह्ह।ऊपर से मेरा लौड़ा गांड में लेकर, अपनी चूत में डिल्डो डालकर नेहा की चूत चोद रही गीत भी हमारी बातों का जवाब देती हुई बोली- ओह्ह … फक … आह्ह … फक माय … एस्सस … आह्ह … चोदो … आह्ह. उसको देखकर मैंने एक हल्की सी स्माईल पास की, जिसके बदले में वो भी मुझे देखकर हल्का सा मुस्कुरा दी.

इससे मेरी शॉर्ट नाइटी और ऊपर की ओर हो गयी … जिससे मेरी गांड पर थॉमस के हाथ जम गए. ये सेक्स कहानी आज से डेढ़ साल पहले उस समय की है, जब मेरे अंकल बाहर मुंबई में काम करने चले गए थे. लिंग की मोटाई से मेरी कराहें कम ही नहीं हो रही थीं क्योंकि कविता निरन्तर दबाव डाल रही थी और उसकी कमर में बंधा नकली लिंग हल्के-हल्के से मेरी योनि को चीरता हुआ भीतर प्रवेश कर रहा था.

જંગલ ના સેકસી વીડિયો

आपको अपने लंड चुत में कुछ करना हो, तो जल्दी से कर लीजिएगा, मगर मुझे मेल करना न भूलियेगा. फिर मैं झट से नीचे आई और उनकी टांगों के बीच में बैठकर भाईजान के लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी. कुछ ही पल के बाद भाईजान के लंड से रस की पिचकारी निकली और रस मेरे मुंह में जाने लगा.

मैं- अच्छा चूचियों को चूचियां और बुर को बुर नहीं तो क्या बोलना है!वो- तुम तो वाकयी आगे ही बढ़ते जा रहे हो. इस देसी सेक्स आंटी स्टोरी के अगले भाग में आपको साहिल की दोनों चाचियों की एक साथ चुदाई का रस सेक्स कहानी के रूप में पढ़ने मिलेगा.

वो मेरे होंठों को अपने होंठों से चूसने का प्रयास करने लगी और मैं पूरी ताकत से अपने दोनों होंठों को चिपकाए हुए उससे संघर्ष करने लगी.

तू मेरे घर आ जा!मैं शाम को उसके घर पढ़ाई का ड्रामा करने के लिए बैग लेकर गया. तभी मेरे एक दोस्त का मैसेज मुझे रिसीव हुआ जिसमें लिखा था- भाई, दिल्ली सेक्स चैट की ये वेबसाइट चेक कर … इसमें इनके टॉप क्लास, ओपन माइंडेड वेबकैम मॉडल के साथलाइव सेक्स चैट का ऑप्शनभी मिलता है. जब समझ आया तो पाया कि सौरभ मेरी तरफ करवट लेकर सो रहा था और उनसे अपना हाथ मेरी चुचियों के पास रखा था.

भाभी ने मजाक किया- तो तीसरा कौन है?मैंने उनकी बात का मर्म समझ लिया और कहा- बस कोई गर्म चुत वाली ही तीसरी होगी. कभी रश्मि मेरे ऊपर … तो मैं कभी रश्मि के ऊपर, पोजिशन बदल बदल कर हम लोग चुदाई का आनन्द ले रहे थे. क्या नहीं चूसूंगा?सलोनी भाभी ने अपने दोनों हाथ अपने मुँह पर रखते हुए कहा- तुम मेरी ‘सी.

यह कहते हुए दीपिका ने वह ड्रिंक जल्दी ही खत्म कर लिया और बोली- ओह माई गॉड, वंडरफुल … अच्छा लगा.

बीएफ पिक्चर हिंदी में देसी: फिर उसने मुझसे पूछा- क्या आपकी शादी हो गई?मैंने भी उसको लाइन मारते हुए कह दिया- आपके जैसी कोई मिली नहीं अभी तक. खैर … मैंने अब शायरा के कमरे में इधर उधर देखा, तो ड्रेसिंग टेबल में मुझे सैनिटरी पैड का‌ पैकेट मिल गया.

अगर मुझे मालूम होता तो मैं जल्दी आ जाती।लगभग दस मिनट के बाद डाक्टर ने मुझे आवाज़ लगाकर अन्दर बुलाया. लेकिन उस हरामजादे ने मुझे भी मारा है, मैं इसे उसके पास बिल्कुल भी नहीं जाने दूंगी. उसकी चूचियां मैंने लाल कर दीं चूस चूसकर।अब मैंने दीदी की चूत पर हमला बोल दिया और उसकी चूत को जीभ से चोदने लगा.

बातें करते हुए भी मेरी नज़र उनके उभारों पर ही होती थी जिसे भाभी भी बखूबी समझती थी.

भाभी- आह संजू तूने मुझे तो पूरा नंगा कर दिया और अपना एक भी कपड़ा नहीं उतारा … ये तो ग़लत है यार. दोस्तो! मैं समझता था कि सेक्स करने की उम्र केवल जवानी की ही होती है लेकिन आँटी की इच्छा, जाँघों और चूत को देखकर लगा कि ये तो जवान औरतों को भी मात दे रही है. हम सबने विजय को विदा किया।यह थी मेरी और विजय के मिलन की दास्तां!यही कहानी लड़की की आवाज में सुन कर मजा लीजिये.