बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ

छवि स्रोत,सेक्सी पिक्चर पंजाबी गाना

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्राउज़र पे: बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ, मैं- हाँ चाची बहुत दिनों से आपकी इस गांड को मारने के लिए तड़प रहा हूँ.

भांगड़ा सेक्सी

मैं दिखने में भी अच्छा था और मेरा रंग भी गोरा था, इसलिए कई लड़कियां मेरी फ्रेंड थीं. अंग्रेजी सेक्सी हद वीडियोमैंने अपना पानी उसके मुँह में डाल दिया, तो वो सारा का सारा पानी पी गई और उसका पानी मैं पी गया.

पूजा भी मेरे गले में अपनी बांहों को रखकर मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल दी. हाशमी की सेक्सी पिक्चरअब वो मेरे सामने बिल्कुल नग्न अवस्था में बैठी थी। फिर मैं खड़ा हुआ और अपने कपड़े निकाल कर अंडरवियर में आ गया, मेरा लिंग तनकर अंडरवियर में खड़ा हो गया था.

नेहा ने उस दिन दूध वाले को छेद से देखता हुआ जान लिया था, तो वो अपनी सफाचट चूत और बड़े बड़े मम्मों को मसलते हुए दूधवाले की नजरों की हवस जगाने लगी.बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ: अपनी बॉडी की बात करूँ, तो एकदम ठीक ठाक है और मैं 7 इंच लम्बे लंड का मालिक हूँ.

अब मेरा भी होने को आया था, मैंने नेहा मैडम से पूछा- कहां निकालूँ?तो उन्होंने कहा- बहुत दिनों से प्यासी इस चुत को भर दो.कहानी के पहले भाग में आपने पढ़ा था कि कैसे मेरे घर के सामने रहने वाली तीन बहनों में से एक रेवती से मेलजोल बढ़ने लगा था और वो मेरा ख्याल रखने लगी थी.

हॉट सेक्सी वीडियो देसी हिंदी - बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ

बाथरूम में हिमिका ने मुझसे पूछा कि 6000/- लायक सर्विस मिला या नहीं?? तब मुझे पता चला कि हिमिका और ख़ुशी ने 6000 रुपये में रात में चूत चुदाई करवाई थी.जब तक मैं उसको कम्प्यूटर सिखाता रहा … उतने दिन तक रोज ही ये सब चलता रहा.

नमस्कार, मैं अनिल एक बार फिर से अपनी मस्त चाचियों की चुदाई की कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ उनकी संभोग क्रिया के दौरान माइक ने फिर से वही तकनीक से संभोग की शुरुआत की.

मैंने कहा- ठीक है … पर एक शर्त पर!कविता बोली- बोलो क्या शर्त?मैंने कहा- मेरे सामने इसको फिर से दूध पिलाओ … मुझे भी देखना है.

बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ?

अब भाभी पूरी नंगी मेरे सामने थीं, क्योंकि उन्होंने पेंटी भी नहीं पहनी थी. उसकी सिसकारियाँ जोर जोर से निकल रही थी तो मैंने उसकी ब्रा को उसके मुंह में ठूंस दिया था जिससे उसकी आवाज़ बाहर ना जाये और प्रशान्त वाली ग़लती मुझसे ना हो जाये।मैंने उसे लिटा के, घोड़ी बना के, डबल बैड पर झुका कर, खड़ा करके, अपने लंड पर बिठा के मतलब हर तरह से कई बार चुदाई की क्योंकि मैं भी पूरे जोश में था और ठंड भी बहुत पड़ रही थी. मैडम घोड़ी बन गईं और मैंने उनके पीछे आकर पूरी ताक़त से धक्का लगाया तो वह कहने लगीं- प्लीज़.

अगले ही पल मैंने वहां से बाथरूम में जाकर भाभी के नाम पर मुठ मार दी, जिससे मेरे अंडरवियर पर लंड का पानी लग गया. उसका लंड उसके अंडरवियर के बीच में सोया हुआ था और मैं उसको सहला रही थी. मुनीर भी अब बाहर आकर मेरे बगल में बैठ गयी और उसका वो रबर का औजार अभी भी उसकी टांगों के बीच में लटक रहा था.

उसे भी रंडी के साथ चुदाई का कम्पटीशन करने में कोई उज्र नहीं था, बल्कि वो तो खुद ही मेरे लंड की ताकत को परखना चाहती थी. प्रिया को देखकर मेरे शरीर में अब जान सी आ गयी थी और मेरी नींद भी कोसों दूर भाग गयी. माइक के धक्के कुछ पलों में जोरदार झटकों में बदल गए और तारा की मादक सिसकारियां चीखों का रूप लेने लगीं.

सिर्फ ब्लू फिल्म की जो चुदाई के वीडियो होते हैं, उसमें चुदाई करते देखे थे. मन उनकी पीठ पर चढ़ कर उनके नीचे हाथ डाल कर चूचों को मसल मसल कर लंड के झटके दे रहा था.

अब भाभी को अपने ऊपर से हटा कर बेड पर करवट से लेटा दिया और मैं उनकी जांघों के बीच आ गया.

दोस्तो, मेरा नाम रोहित है। मैं एक छोटे से गांव में रहता हूं। कद-काठी, रंग जानने की आवश्यकता नहीं है, बस इतना जान लो कि लौड़ा 7 इंच का है।सीधे कहानी पे आता हूं। दोस्तो, मेरी सेक्स कहानी यूं ही कुछ 1-2 महीने पहले की है। मैं और मेरे भैया मवेशियों (पालतू जानवर) को लेकर जंगल की ओर चल दिए थे.

अशोक द्वारा घर के सभी लोगों के आपसी चुदाई के रिश्तों का पर्दाफाश करने के बाद सब सदमे में थे. चाचा- तुम्हारी चूत ही इतनी रसीली है मेरी चुदक्कड़ रानी कि मैं चोदे बिना एक रात भी नहीं रह सकता. जब हम दोनों शांत हो गए तो मैंने उसकी चूत में से अपना लंड बाहर निकाल लिया.

वह किसी भी बुड्ढे या जवान का लंड खड़ा करवा सकती है।एक बार जब मैं कॉलेज से घर आया तो देखा कि पापा मेरी मम्मी को बोल रहे थे कि काम का भार उन पर कुछ ज्यादा आ गया है तो इस बार वो घर 2-3 महीने के बाद ही आ पाएंगे. नजरों से ही मेरे बदन को खा जाओगे क्या?रेवती के मुँह से बेबाकी से ऐसे शब्द सुनकर मैं झेंप गया और कार की खिड़की से बाहर देखने लगा. तारा माइक के सीने को चूमती हुई नीचे झुक गयी और घुटनों के बल बैठ कर माइक के लिंग को उसके पैंट के ऊपर से ही चूमने और सहलाने लगी.

फिर धीरे धीरे मैंने उनके कपड़े उतारे और उनके स्तनों को चूमने चूसने लगा.

कुछ देर के बाद दीपक उठा और उसने मानसी की चूत में लंड घुसा दिया और जोर जोर से धक्का लगाने लगा. शाम को मीतू दी का मैसेज आया- गजल कैसी लगी?मैं- गजल तो अच्छी थी पर…मीतू- पर क्या?मैं- गजल से ज्यादा तो आपके फोन में वीडियो मस्त थीं. बार-बार जैसे ही मैं लंड को इसकी चूत के मुहाने पर लगाकर अंदर डालने का प्रयास करता हूं तो यह उछल पड़ती है.

अब कम्मो भी चुम्बन में मेरा साथ देने लगी थी और उसकी पैर स्वयमेव खुल से गये थे. मुझे मुन्ना अंकल ने मेरी स्कर्ट और टॉप उठा कर दी और बोले- वन्द्या ऐसे ही जल्दी से पहन लो. केवल जब मैं उन्हें दूध नहीं पिलाती, तब वो मेरे लिए मेरे साथ पीते है.

उसकी आह तो निकलना ही थी, क्योंकि अभी तक मैंने जितनी भी लड़कियों या भाभियों को चोदा है, उन सबको मेरा लंड बहुत रास आया.

आज उसने ब्राउन कलर की ब्रा पहनी थी और उसके दो दो किलो के चुचे उसमें से साफ दिखाई दे रहे थे. दीमा उठ कर नताशा के नजदीक पहुंचा और उसने अपनी सीधे हाथ की उंगली से उसकी गांड में मसाज करनी शुरू कर दी.

बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ कुछ देर के लिए चाची अपनी सांसें रोक कर अपने बदन को ऐंठते हुए कचकचा कर मुझसे लिपट गईं. तो फिर उन्होंने कहा- तो तुम ऐसा बर्ताव क्यों कर रहा हो?मैंने कहा कि बहन को कुछ बताया था और बोला कि घर पर पता नहीं चलना चाहिए, लेकिन उसके पेट में बात नहीं पची और उसने बता दिया.

बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ आगे का काम मेरी पत्नि का था, उसने अपने हाथों से द्विलंड उपकरण को सहलाते हुए नीचे झुक कर चाट लिया. हालांकि बहुत लड़के मुझ पर लट्टू थे और मेरी शोला बन चुकी जवानी के रस को निचोड़ना चाहते थे.

इसलिए उनकी चुत गहरे काले घने और घुंघराले बालों से भरी हुई थी जो उनकी योनि को छुपाने की नाकामयाब कोशिश कर रहे थे.

बीएफ मद्रासी सेक्सी

हो सकता है कि यह मेरी चूत मारने से डर रहा हो कि कहीं मैं प्रेग्नेंट न हो जाऊं. जब उसने कोई आपत्ति नहीं जताई, तब मेरा हौसला बढ़ा और पीछे से ही मैंने उसके सूट में हाथ हाथ डाल कर उसकी चूची पकड़ ली. जब मैंने पूजा के चेहरे पर नजर डाली तो देखा कि उसकी आंखों से आंसू बह रहे थे.

उसने कहा- तो अब बोलो कोई इंतजाम करवा दूं या अभी नहीं?मैंने कहा- अब जब तुमने ही मुझे चुदवाया है, तो तुम जानो और तुम्हारा काम जाने. नाजुक लड़की तड़फड़ा कर रह गई और उसकी आँखें बाहर को उबल आईं, उसके मुंह से मेरे लंड की बगल से उसकी लार बह चली और वो मुश्किल से इस आक्रमण को संभाल सकी. ये देख कर मुझे बहुत बुरा लगा था कि हमारे ब्रेकअप को कुछ ही दिन हुए थे और उसने एक और लड़की को अपनी गर्लफ्रेंड बना लिया.

मैं उस वक्त फुल जोश में थी, सो मैंने बोल दिया- हां आ जाना … करवा लूंगी … बहुत मस्त चोदते हो … तुमसे जरूर करवाऊंगी.

मैं- आपने कभी मुंह में लिया है?पूर्वी- क्या?मैं अपने लंड की तरफ इशारा करते हुए- इसे …पूर्वी- हाँ, एक बार मेरे पति के कहने पर लिया था पर मुझे अच्छा नहीं लगा था. मैं वहीं खड़ा उनको देखता रहा थोड़ी देर में वो लेट गईं और लाइट बंद कर दी. चाचा पागलों की तरह चाची के चूतड़ों को मसलते हुए उनकी एक चुची को चूस रहे थे.

क्या कर रही हो?उफ्फ … बस अब चोद भी दो … मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा!”नहीं मीता … तुम कह रही थी कि …”कहना कुछ नहीं … बस अब डाल दो!”और यह कहकर मीता ने जोर से अपने कूल्हे उछाले. किरण जी कहने लगीं- हाँ मेरी चुद्दो … आजा चढ़ जा मेरे ऊपर …मम्मी ने किरण जी की दोनों टागें चौड़ी करके उनकी चूत को अपने मुँह में भर लिया और कसके चूसने लगीं. जब कोई नहीं दिखा तो चुपके से जा कर मैंने अपना तौलिया बिस्तर पर डाल दिया और फिर वापस बाथरूम में आ गई.

आज क्यों डर रहे हो?मैं सुनता रह गया, मैंने मन में सोचा कि साली लौंडिया खुद मजे ले रही थी. देखती हूं कितना मज़ा कराएगा और तुम सब मुझे कितना मालामाल करोगे, पर उसके लिए मेरी मम्मी को भी तुम लोगों को विश्वास में लेना होगा.

तो मेरी इच्छा हुई कि आपकी सुंदरता के लिए आपको कुछ इनाम दूँ, तो मैंने दे दिया. सुबह उठ कर ख़ुशी की चुदाई की, हिमिका के साथ नहाया और उसे बाथरूम में चोदा. सुलेखा भाभी के जाते ही प्रिया ने मुझे आंखें दिखाते हुए थप्पड़ का इशारा किया.

जैसे ही मेरा हाथ उसके लोवर के बाद उसकी पेंटी में घुसने लगा तो वो मचल उठी.

एकदम गोरा रंग है उसका।इसी तरह से पिकअप करवाते हुए कुछ दिन गुजर गए फिर एक दिन सबा ने मुझसे कहा कि अगर आप मुझे काल कर बता दिया करें कि गाड़ी आ रही है तो मुझे पिकअप प्वाइंट पर पहले से पहुँच कर खड़ा नहीं होना पड़ेगा. अंकल की देखा देखी मैंने भी अपनी कमर कुछ ऊपर की ओर जोर से उठाई और लंड पर चूत लग गई. अब उन्होंने अपना काम शुरू किया और मेरी शर्ट के सारे बटन खोल कर मेरी बेल्ट उतार दी.

रीना ने मेरी तरफ हंस कर कहा- उतार दे आज अपनी शर्म का लबादा और कर दे अपना भोसड़ा सबके आगे. वे इतनी मुलायम थी कि मैंने उसे कस के पकड़ लिया और उस पर अपने दांत से काट लिया.

थोड़ी देर चुची मसलते मसलते एक हाथ बुर पे ले गया और कपड़ों के ऊपर से उसकी कुंवारी बुर को मसलने लगा. मेरा मन तो किया कि इसको अपने ऊपर ही लिटा लूं और कस के पकड़ लूं, पर मैं ऐसा नहीं कर सकती थी. ‘अगर वो कमरे में आकर तुम्हें न देखेंगे तो क्या सोचेंगे?’‘वो क्या सोचेंगे, ये मेरा सरदर्द हो.

सेक्सी वीडियो बीएफ अमेरिका

उसने मेरी टांगों को चौड़ी करके ऊपर दीवार से मेरे पैरों को बांध दिया.

उधर मानसी ने भी दीपक का लंड चूस कर पूरा खड़ा कर दिया था।अब दीपक उठ कर सुशीला के तरफ आया और सुशीला को कुतिया बनाकर चोदने लगा. जीजू उस दिन हमारे घर रुके थे, लेकिन रात को हम दोनों लोग सेक्स नहीं कर पाए क्योंकि घर के सारे लोग रात को आ गए थे. और यह क्या … लन्ड मीता की पेंटी को किनारे से चीरता हुआ चूत के छल्ले में जा फंसा.

मैंने कहा कि ये तो मेरी किस्मत है कि मुझे तुम्हारी सेवा का मौका मिला. मेरी बात सुन कर वो हंस पड़ी और मेरे कूल्हे पर एक चपत मार कर बोली- बूटी खोजोगे या मेरी …उसने बात अधूरी ही छोड़ दी. सेक्सी वीडियो परिवारिकहम दोनों में से कोई भी चुम्मा बंद नहीं करना चाह रहा था और दोनों एक दूसरे को जकड़े हुए अपनी पूरी ताक़त से चूम रहे थे.

उसने आगे कहा- अगर मजे करने हैं … तो इन सब बातों को दिमाग में नहीं लाना चाहिए और असली मजा तो दर्द में ही है. जैसे ही मेरी आंखें खुलीं कि तभी वे अंकल मुझसे बोले- वन्द्या तुम्हें कैसा लग रहा है.

एक दो बार तो गुस्से में पापा मुझे या भाई सबको कह चुके हैं कि मुझे नहीं पता कि ये मेरी संतानें हैं, मुझे तो लगता है कि किसी और की हैं. मैंने देखा कि वहीं पर भाभी की दो सहेलियां मयूरी और एकता भी बैठी थीं. इस एपिसोड के बाद तो मनीष भाभी को कई बार चोदा और उनकी मदद से पिछले चार सालों में उसने भाभी की सहेली और मेरी बीवी को भी चोदा.

उसके चूसने की आवाज से सुशीला की नीन्द खुल गयी और वो आँखें फाड़ कर देखने लगी. हम दोनों ही जब अकेले में होते हैं तो कोई रिश्ता तब नहीं सूझता, वो भी उस वक़्त जगेश का जब लंड खड़ा हो जाए और मेरी चूत गीली हो जाती हो. मैं उसको सीधा लेटा दिया और पैरों को पकड़ कर बुर में धक्के लगाने लगा.

हमारी इस गुत्थमगुत्था की लड़ाई में सुलेखा भाभी की साड़ी और पेटीकोट उनकी पिंडलियों तक ऊपर हो गए थे.

अगर कुछ गड़बड़ भी हो जाएगी तो अब इससे ज्यादा कुछ फर्क‌ नहीं पड़ने वाला और अगर … अगर मैं कामयाब हो जाता हूँ तोओओ … एक चूत और मेरे लंड के नाम हो जाएगी. मैं उसकी चिकनी चूत और चूचों को सहलाता गया और चूत में धक्के मारता गया और वो भी मजे लेती रही!फिर मैंने उसको अपनी बांहों में लेकर दूसरी तरफ मुँह करके से एक करवट से लिटाया.

अन्दर जाते ही मम्मी ने मुझे सामने देखा, तो उन्हें थोड़ा आश्चर्य हुआ. श्यामा ने मुझसे कहा कि वो आज जगेश (उस ऑफिसर का नाम) को अपने घर पे ले जा रही है, अगर तुमको भी साथ चलना हो तो चलो. हमें इस बात का विशेष ख्याल रखना पड़ रहा था कि नीचे को सरकती हुई नताशा इतनी ज्यादा भी नीचे ना गिर पड़े, कि हमारा द्विलंड उपकरण उसकी नाजुक सी गांड को फाड़ता हुआ अन्दर घुस जाए!इसलिए हमने अपना एक-एक हाथ अपनी पार्टनर के चूतड़ों के नीचे लगा लिया था और उसे ऊपर उभरने में मदद करने लगे थे.

ऑफ़िस में जिस गांड को देखकर लोग मुट्ठियाँ मारते थे, वो आज मेरे सामने थी. मैंने उसे समझाया लेकिन उसने कुछ नहीं सुना तो मैंने लंड बाहर निकाल लिया. फिर बाद में कई दोस्तों ने मोबाइल ले लिए, जिसमें वीडियो क्लिप चलते थे.

बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ उसने कहा कि क्या आपकी शादी हो गई है, जो मुझसे ये कह रहे हो? जब आप बिना शादी के सब जान सकते हो तो मैं भी जान सकती हूँ. दूसरी तरफ मयूरी भाभी इतनी खूबसूरत थीं कि बस यूं लग रहा था कि उनको पूरा दिन चूसता चाटता रहूँ.

बीएफ वाला डांस

तेरे पापा मुंबई में काम करते हैं सोनू … उससे अच्छा है कि यहीं काम कर लेंगे. मैंने उन्हें थोड़ा और तड़पाया, फिर मैंने अपना सुपारा उनकी चूत में घुसा दिया. ठाकुर साहब ने मुझसे कहा- वन्द्या तू इस गाड़ी में बैठ जा … मैं तेरा नाश्ता यहीं भेज रहा हूं.

मयूरी- माँ… अगर उनको पता चल गया तो मैं वादा करती हूँ… कि मैं उनको समझा दूंगी. सबसे बड़े मेरे पापा है, बीच वाले चाचा, जो कि गाँव के स्कूल में टीचर हैं. फोटो सेक्सी डॉट कॉममेरे जैसे नये नवेले लेखकों के लिए आप सभी पाठकों के सुझाव ही प्रोत्साहन का काम करते हैं और हमारा हौसला बढ़ाते हैं.

तब मैंने बहन से पहले गुस्सा करने की माफ़ी मांगी, फिर पूरी बात न बताने की माफ़ी मांगी.

मैं कभी मोटा लंड चूत में घुसता है, कभी लंबा, कभी छोटा कभी लंबा और मोटा टेड़ा सा लंड चूत में मजा देता है. मेरी पैंटी में फूली हुई उसे वो जगह दिख गई … जहां अन्दर मेरी चूत थी.

ये देख कर मुझे बहुत बुरा लगा था कि हमारे ब्रेकअप को कुछ ही दिन हुए थे और उसने एक और लड़की को अपनी गर्लफ्रेंड बना लिया. वो बड़े प्यार से मेरे लंड को चूसने लगी, जीभ को लंड के सुपारे पर घुमाने लगी किसी रंडी की तरह।दीपक मानसी को चोद रहा था और देख रहा था कि सुशीला कैसे मेरा लंड चूस रही है. उसकी उम्र 18-19 साल के आसपास थी और प्रशान्त की 20-21 साल।अब वो कुछ ज्यादा ही तड़पने लगीं तो मैंने सोचा कि अब इसकी चूत फाड़ी जाए.

मुझे मज़ा आता देख उन्होंने मेरी ब्रा उतार दी और मेरे एक निप्पल को मुँह में लेकर चूसा.

वो सब फिर कभी कर लेना, अभी मुझे कुछ सामान ला दो, मैं तुम्हें लिस्ट भेज रही हूँ. मैंने भाभी की बुर से लंड निकाल कर उनको उल्टा करके उनकी गांड में लंड डाल दिया. फिर बाद में कई दोस्तों ने मोबाइल ले लिए, जिसमें वीडियो क्लिप चलते थे.

राजस्थानी फुल सेक्सी मूवीचाची ने कांपते हुए अपने पैर खोल दिए। वो बड़ी डरपोक थी, सब कुछ सच मान बैठी।मैंने खुद अपने हाथ से उनकी पेंटी उतार दी, उन्होंने पैर खोल दिए, मैं चाची की चूत के सामने आकर बैठ गया।उह्ह्ह!! कितनी चिकनी और सुंदर चूत थी … बिल्कुल साफ़ … एक भी झांट नहीं!मैंने उंगली मुंह में डालकर गीली की और चूत में घुसा दी, फिर अंदर बाहर करने लगा, फिर जल्दी जल्दी फेंटने लगा।निकिता चाची ‘ओहह्ह … ओह्ह्ह्ह … अह्ह ह्हह… अई. मेम नाईट सूट में थीं और नहाने जाने की तैयारी कर रही थीं … ऐसा इसलिए लगा क्योंकि उनके हाथ में टॉवल था.

बीएफ xxx वीडियो

अगर कोई मुझे चोदने के पैसे दे देता है तो वो तो सोने पे सुहागा हो जाता है. श्श्शशश … आह्ह …” की एक‌ मीठी सीत्कार सी भरते हुए सुलेखा भाभी ने जोरों से मेरे सिर को अपनी चुत पर दबा लिया और मेरे नथुनों में उनकी चुत की वो मादक सी महक समाती चली गयी. मेरे आंखों से आंसू निकल गए, पर माइक किसी खूंखार जानवर की तरह बिना किसी चीज़ की परवाह किए तेज़ी से धक्के मारता रहा.

मैं उसकी एक चुच्ची को अपने मुँह में ले कर चूसने लगा और दूसरी को दबाने लगा. ’ कहकर पूजा मुझसे लिपट पड़ी और अपनी चूत से लंड को भींच लिया और फिर से मेरे लंड पर धीरे धीरे अपनी चूत को ऊपर नीचे करने लगी. देख अब कितनी बड़ी हो चुकी है जीजू का लंड खा खाकर! जब तेरी चूत जीजू का लंड खाएगी तो वह भी इतनी ही सुंदर मोटी उभारदार हो जाएगी.

उसकी शानदार गांड देखते हुए उसके बचपन के बॉयफ्रेंड का लंड कठोर और कठोर होता जा रहा था, ऑफ़ कोर्स मेरा भी!क्या इरादा है जानेमन. पता नहीं मुझे क्या हुआ, मैंने अपने होंठ उसके होंठ से जोड़ दिए, उसने आंखें बंद कर लीं. मैं उससे बहाना करते हुए बोला- मुझे यहां खुजली हो रही थी, खुजा रहा था.

एक खाली पीरियड में मैं, पिंकी और रिचा ग्राउंड के कोने में बैठी थीं, तभी देवेंद्र भी आ गया. मैं और हिनल एक दूसरे से घंटों बात करते रहते थे और लगभग रोज ही मिलते थे.

मेरी बीवी भी सुहागरात रात में नहीं चिल्लाई, जैसे ही मैंने अपनी बीवी की चूत में अपना लंड डाला था, साला झट से घुस गया था.

फिर मैंने उसे अर्न्तवासना की कुछ कहानियों के उदाहरण दिए, जिससे मैं उसे कई बार सच्ची कहानियां बता कर बताता आया हूँ. सेक्सी ब्लू फिल्म पिक्चर हिंदीअब तक बहन और मेरे बीच सब कुछ ठीक हो गया था, मतलब अब मैं उससे गुस्सा नहीं था. गांव का सेक्सी वीडियो नंगाइतने में किसी ने मेरे नीचे आकर मेरे पीछे से मेरी गांड में अपना लौड़ा टच करा दिया, तो मुझे बहुत गुदगुदी लगने लगी. उधर मेरी हसीन, बार्बी डॉल ने गांड का मुंह हमारी ओर करके अपनी उँगलियों से उसे कुरेदना शुरू कर दिया.

रेवती की स्वीकृति पाते ही मेरे होंठ रेवती के होंठ से जा लगे और हम एक दूसरे में खो जाने से मकसद से एक दूसरे में समा जाने के प्रयोजन से होंठों के जरिए कदम बढ़ा चुके थे.

श्यामा की वो जगह जहां झांटें होती हैं वहां से वो नंगी थी क्योंकि उसकी जरा सी चड्डी उसकी झांटों वाली जगह को नहीं छुपा पा रही थी और वो बहुत ही चिकनी थी. जब मैंने कुछ नहीं किया, तब वो उठ कर मेरे पास आई और मेरे नाइटी जो आगे से खुलने वाली थी, उसे खोल कर उतार दिया. मैं कहा- तो तू भी कोई माल तलाश कर ले न!अगले दिन वो बाजार से एक रंडी को घर ले आया.

मैं जैसे ही नीचे हुआ, मेरा लंड चूत की दरार में एक इंच ही गया होगा कि वो बोली- रुको. भाभी अब भी मेरी नजरों को ही ताड़ रही थीं, तब भी वे न तो अपने पल्लू को ठीक कर रही थीं और न ही मुझे कुछ कह रही थीं. चिराग ने मेरे मम्मों को ब्रा में से निकाल दिया और मेरे मम्मों को चूसने लगा.

मूवी फिल्म बीएफ

माइक समझ गया कि मेरा लक्ष्य आ गया और उसने भी मुझे पूरी ताकत से पकड़ लिया और दोगुनी तेज़ी से धक्के मारने शुरू किए. तो मैं बिना लिंग को बाहर निकाले आराम आराम से हिलने लगा और बारी बारी से भाभी के दोनों स्तन चूसने लगा. अब तक हिना भाभी जान चुकी थीं कि क्या खेल चल रहा है, पर उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा.

इस बार तो वो इतने मजे से लंड चूस रही थी कि मेरी जान निकलने को होने लगी थी.

वो मुझसे बोला- चल आज कॉम्पिटिशन रखते हैं कि कौन ज्यादा देर तक अपने माल को चोद पाता है.

मैंने रेखा को हाथ मारा तो उसने मेरी तरफ देखा और इशारे में मुझसे पूछा- क्या है?मैंने थोड़ा उठकर देखा तो सभी लोग सो रहे थे. इन कपड़ों में वो बला की खूबसूरत लग रही थी, जिसको देखकर एक बार तो मैं खो सा गया था. सेक्सी ब्लू पिक्चर सॉन्गगर्मियों के दिन थे, ठंडे रूस में भी दिन की गर्मी झुलसाए दिए जा रही थी.

यह तो कहीं से कहीं तक रंडी लगती ही नहीं है … यह तो अभी लिटिल माल है … पर गजब है. मैंने उसे थामते हुए पूछा- कौन से बेडरूम में तुझे लेकर जाऊं?उसने उंगली से इशारा किया तो मैंने उसको अपनी गोद में उठाया और बेडरूम में लेके गया. छोटी लाइट ऑन थी, हिना भाभी रो रही थीं, उन्होंने सिर्फ़ ब्रा और पेंटी डाली हुई थी और भैया घोड़े बेच के सोए हुए थे.

वो पागल सी हो गयी और ‘उऊहहउ … उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओह्ह यस्स … बेबी … आह्ह …’ करते हुए एकदम से झड़ गयी. मादरचोद मेरी चूत में लंड डाल कर खुद का पानी छोड़ कर अलग हो जाता है और मैं अधूरी ही प्यासी रह जाती हूँ.

इसके बाद उन्होंने उठ कर मेरी पैंट उतार दी और मेरी चड्डी भी नीचे कर दी.

उसने पल्लू मेरे स्तनों से नीचे सरका दिया और मेरे गले को चूम कर बोली- मैं तुम्हारा स्वाद चखना चाहती हूँ. मैंने रीना से पूछा- तूने बताया नहीं कि बिना देखे कोई कैसे कि सेक्स कर सकता है. एक बार उसने तिरछी नजर से मुझे देखा मगर हाथ थोड़ा तिरछा करके मेरी कोहनी को उसकी छाती पर छूने दी। मैं खुश हो गया। मुर्गी तो लाईन पर है!मैंने अब हाथ उसकी पीठ पर रख दिया और उसकी पीठ सहलाने लगा.

सेक्सी आर्केस्ट्रा डांस भोजपुरी पूजा जैसे ही ड्रेसिंग टेबल के शीशे में अपनी नंगी चूत को देखा तो झट से अपने हाथों से अपनी चूत को ढक लिया और बोली- ओह डार्लिंग, क्या कर रहे हो? मुझे शरम आ रही है. बस चूत में उंगली कर लेता था और वो भी अपने हाथ से मेरा लंड सहला लेती और मुठ मार देती थी.

उन्होंने तेल लगाया और लंड हिलाते हुए मस्ती से कहा- हरामज़ादे तू टंच माल है, जियो मेरे शेर जियो. उन्होंने अपना वादा पूरा किया और मैं अब सब समझ भी गई कि मेरी मम्मी सच में कैसी हैं. हिमांशु अपने लंड के मेरी गांड में जोर जोर से झटके मारने लगा और बोला- तेरी गांड में बहुत गर्मी है कुतिया … अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा.

xxxxxसेक्सी बीएफ

मुझे अच्छा भी नहीं लगता कि कोई मुझे शुक्रिया कहे और आप तो बिल्कुल भी नहीं. बेबी- तभी तुम्हारी दीदी बहुत लक्की है … जो उसे इतना चाहने वाला भाई मिला है. इसके बाद मैं करीब 10 -15 मिनट उसे ऐसे ही धक्के लगाता रहा और वो और जोर जोर से सिसकारियां भरके बोलने लगी- आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… अमन.

वे पूछ रही थीं- क्या बात हो रही है?तो उसी ने बोला- पढ़ाई से रिलेटिड बात चल रही है. तभी सोनू मेरे लहंगे से बाहर निकला और वो मुझे कसके पकड़ते हुए चूमने लगा.

बहुत ब्लूफिल्म देखती हो क्या?उसने कहा- ब्लूफिल्म ज्यादा नहीं देखती, तुम्हीं ने सिखाया था, जब हम पति पत्नी वाला खेल खेलते थे.

चाची की झांटों से भरी चूत में घुसती निकलती हुई उंगली को देखकर मैं जोश में मारे थरथर कांपने लगा, मेरा लंड पूरा तमतमा गया. मैं भी उसकी चुत की फांकों को सहलाते हुए धीरे धीरे अपनी उंगलियों को नीचे की तरफ बढ़ाने लगा, जिससे नेहा का बदन कड़ा सा हो गया और उसकी सांसें गहरी होती चली गईं. फिर वो गांड हिलाते हुए बाथरूम में चली गई और अपना मुँह धो कर वापस आ गयी.

इस सेक्स कहानी के प्रथम भागअपने चोदू को माँ का पति बनवाया-1में आपने पढ़ा कि अपनी माँ लीना की चूत चुदाई होती देख बेटी अमीषा की चूत में भी खुजली होने लगी, उसकी कामुकता जाग उठी. मैंने कहा- तूने कुछ खाया है?वो बोला- नहीं, मुझे कुछ आता ही नहीं बनाना, मैं तो बाहर से लाने वाला था खाना… लेकिन आज नहीं जाऊंगा… कहीं उसकी माँ ने पकड़ लिया तो मेरी माँ मेरी जान ले लेगी. यहीं बातें सोचते-सोचते मेरे दिमाग में सेक्स के ख्याल आना शुरू हो गए.

अभी तो 90% लिंग बाहर ही था, धीरे धीरे मुझे राहत मिली तो मैंने अपनी पकड़ थोड़ी ढीली की, टांगों को भी हल्का छोड़ दिया.

बीएफ इंग्लिश वीडियो दिखाओ: नीता मेरे इतने करीब आ गयी कि मुझसे कण्ट्रोल नहीं हुआ और मैं उसे अपनी बांहों में लेते हुए बोला- मैं तुमसे प्यार करता हूँ. अशोक- विक्रम, तुम केक मयूरी की चूत, गांड, चूचियों, जांघो और गालों पर लगा दो.

जैसे कि मैंने उसकी बात सुनी ही नहीं और मैंने प्रिया से पूछा- तत तुम … तो गांव चली गयी थीं ना?तुम्हें किसने कह दिया कि मैं गांव चली गयी?” प्रिया ने अब हंसते हुए कहा. तभी न जाने मुझे क्या हुआ, मैं पागलों की तरह आंटी की गांड को चूमने लगा. फिर हिम्मत जुटा कर मैंने उनके हाथ पर अपना हाथ रखा, उन्होंने कुछ नहीं कहा तो मुझमें थोड़ी हिम्मत आ गई.

लेकिन उस समय ना तो उनको और ना ही मुझे पता था कि हॉस्टल में मेरी जिन्दगी बिल्कुल बदल जायेगी और मुझे उन्हीं चीजों की लत लग जायेगी जिनसे मेरे माँ बाप मुझे बचाना चाहते थे.

” सुलेखा भाभी ने पहले तो मुझसे कहा और फिर प्रिया से कहा- अगर और दवा है … तो दे देना इसे. उसने बताया कि आज तक वो सिर्फ हाथ से ही करती आ रही थी, पर अब उसे मर्द का लंड चाहिए. मैंने रेखा का हाथ पकड़ा और उसको अपने तने हुए लौड़े पर रखवा दिया।रेखा मेरे पजामे में तने हुए लौड़े को ऊपर से ही सहलाने लगी।वो भी पूरे जोश में आ चुकी थी और मेरे लंड को पकड़ कर मसल रही थी।मैं उसके चूचों को दबाते हुए उसके होठों का रस चूसने में लगा हुआ था.