एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी में सेक्सी मूवी भेजो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी poto: एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ, मैंने विवेक का लंड कई बार चूसा था पर आज उसका लंड कुछ ज्यादा ही तना हुआ सख़्त लग रहा था.

रंभा की सेक्सी

पड़ोस की सीमा भाभी (नाम बदल दिया है) एक मस्त रापचिक माल हैं, गठा हुआ बदन, मस्त 5 फीट 4 इंच की हाइट, उनके 36डी के बड़े बड़े चुचे. एक फोटो सेक्सीचपरासी बोला- साहब 7:30 बज गए और मुझे जाना है!तो मैंने उसको बोल दिया- तू चला जा, हमको थोड़ा टाइम लगेगा.

फिर वो उठ गया खाली होकर!अब जो बड़े साहब थे, जिनका लंड गांड में घुसा था, वो चोदे जा रहे थे, बोले- क्या मस्त माल है तू आरती! आज तक ऐसे गांड किसी ने नहीं चुदवाई!मैंने गांड और उठा दी और बोली- फुल स्पीड से चोदो सर, बहुत मजा आ रहा है. मारवाड़ी सेक्सी वीडियो सेक्स करते हुएउन्हें देखते ही मेरे होश उड़ गए, भाभी नेट की ब्लू कलर की साड़ी विद ब्लू ब्लाउज में थीं.

उसके बाद उस दिन हम दोनों ने और दो बार पूरी मस्ती से चुदाई का मजा उठाया.एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ: उनका पानी निकल गया था, मैंने लंड को चूत से निकाला, उस पर फिर से थूक लगा कर उनकी गांड में घुसाने लगा.

मैंने हंसते हुए जवाब दिया- हा हा हा… अच्छा इतना प्यार तो कभी मुझे नहीं किया है और उसके लिए इतना बेचैन हो.5-6 मिनट के बाद मेरा छूटने वाला था तो मैंने एक जोरदार झटका मारा और ममता की चूत की जड़ तक लंड घुसा दिया और अपना सारा वीर्य ममता की चूत की गहराई में उतार दिया.

हिंदी सेक्सी मसाज - एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ

अब एक होंठों पर किस होना बाकी था, लेकिन वो अभी ही 5 किस ज्यादा कर चुका था.फिर अमित के एक एक से बढ़िया सेक्सी एसएमएस आते थे, जिसमें दोस्त का बॉयफ्रेंड के बीच के सेक्स का फेवर किया गया था.

शायद वो मुझे अपने आप को मुझ को सौंप कर उसको इतना प्यार करने का तोहफा देना चाहती थी. एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ उनके इस एक्शन से मेरे तो वारे न्यारे हो गए, देवर भाभी की चुदाई मुझे हकीकत लगाने लगी.

कभी कभी किसी कुएं के पास के पेड़ पर चढ़ कर पत्तों में छिप कर पानी भरती, कपड़े धोती या नहाती लड़कियों को देखते हुए मूठ मारने का जो लुत्फ़ था मज़ा था उसकी बात ही अलग थी.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ?

वो फिर से चिल्लाने लगीं- हरामजादे दानव… आह… मुझे एक बार में ही मार डाल… कुत्ते… आह… मार दिया… अह…मुझे और ज़्यादा जोश आ गया तो मैंने उन्हें गोद में उठा लिया और गोद में लेकर चोदने लगा. सारा सामन वगैरा व्यवस्थित किया, सब कुछ नार्मल करके अपनी जगह पर बैठ गए और बात करने लगे. अब आगे:फिर एक दिन वो वक्त भी आ ही गया, जब मुझे उस गुप्त कक्ष में जाने के लिए तैयार होने को कहा गया।मुझे वहाँ गये लगभग पांच महीने होने वाले थे, तब एक दिन मुझे मेरे कक्ष में आकर साधिका ने मेरे ब्रा पेंटी का नाप पूछा और एक मंहगी ब्रा पेंटी का सेट लाकर दे दिया, साथ ही एक आकर्षक गाऊन भी दिया.

कुणाल- आंटी केला अच्छा है?आंटी- अभी ख़ाकर तो देखा नहीं कैसा बताऊं?कुणाल- तो ख़ाकर बताइए ना. मैंने केवल दूसरा ड्रेस सलवार सूट का ही पहना, वैसे मैं कभी नहीं निकली थी लेकिन भैया की वजह से निकल रही थी. रोहण दुबई आकर बहुत खुश था और मैं अपनी होने वाली चुदाई के बारे में सोच सोच कर बहुत खुश थी।हम एयरपोर्ट से बाहर आये, वहाँ हमें हमारा दुबई वाला ड्राइवर लेने आ गया और हम घर आ गए.

मेघा तुमको खुद नहीं अंदाजा है कि तुमने कितनी बड़ी मुर्गी को फांसा है, वो भी अपनी मासूम चूत के दम पर. मैंने जल्दी से दीदी के सर को पकड़ा और दीदी के लिप्स को किस करने लगा, दीदी के साफ़्ट लिप्स मेरे लिप्स में क़ैद हो गये और मैं बड़े प्यार से उनके लिप्स का रस पीने लगा, दीदी पूरी तरह नंगी थी और मेरे नंगे बदन पर लेटी हुई थी, दीदी के बड़े बूब्स मेरी छाती से दबे हुए थे, मेरे दोनों हाथ दीदी की नंगी पीठ को सहला रहे थे।जबकि दीदी के दोनों हाथ मेरे सर पर बड़े प्यार से घूम रहे थे. हम दोनों बेडरूम में बैठ कर वोड्का पीने लगे और भाभी ने डिनर भी यहीं पर लगा लिया था.

दोनों क्रॉस होकर आपस में चूत रगड़ रही थीं, मम्मों को चूस रही थीं और किस कर रही थीं. (मैं, मेरा हमारा आदि शब्दों का प्रयोग)आप किसी और की घटना बता रहे हैं तो वह, उसका, उनका आदि शब्दों का प्रयोग करके कहानी लिखनी चाहिए.

इस तरह मैंने अपने कपड़े खोलने का जुगाड़ तो कर लिया था और अब सोच रहा था कि उनके कपड़े कैसे उतारे जाएं.

बोलो?”उसने बताया- मेरा पहले एक बॉयफ्रेंड था जिसने मुझे धोखा दिया था इसलिए मैंने तुमको मना क़र दिया था और फिर तुमसे बात बंद क़र दी क्योंकि मैं दुबारा धोखा नहीं खाना चाहती थी.

लेकिन उनकी इस बात पर मेरे पिताजी ने उनको मनाया और बोला कि देखो आज का ज़माना इन सभी बातों को नहीं मानता और लड़का लड़की एक दूसरे को जाने बिना शादी कैसे कर सकते हैं?फिर लड़की के पिताजी अपनी लड़की को मुझ से मिलवाने के लिए राज़ी हो गए और 2 दिन बाद हम दोनों का एक दूसरे से मिलना फिक्स किया गया. रिया भी अब तक शायद मेरा प्लान समझ गयी थी क्योंकि उसके चहरे पे एक कमीनी सी मुस्कान छा गयी थी. उन्हें मेरी हरकतों का पता है मगर वो आगे से भीड़ में फंसी थीं, तो कुछ कह नहीं सकती थीं.

उसने हाथ के इशारे से ना बोला, बल्कि मेरा लंड उसके गले तक जाने लगा था. मैं जब भी भाभी का चुम्बन लेने के लिए आगे बढ़ता तो भाभी अपने दोनों हाथ अपने गालों पर रख लेती. आज मैंने पहली बार उसकी चूत रानी के दर्शन किए, उसने बाल साफ़ नहीं किये थे.

मेरे दोनों मम्मों को चूस चूस और काटकर चचा जान ने पूरे लाल कर दिया था.

मैंने भी तुरंत थोड़ी सी की खांसी आने की एक्टिंग करके चाय पीने के लिए गाड़ी रोकने के लिए बोला. फिर एकदम से मेम ने फिर मुझसे मेरे बारे में पूछा कि मैं करता क्या हूँ? रहता कहाँ हूँ? वगैरह वगैरह. उसने जैसे ही कदम जाने के लिए बढ़ाया, अमित ने माया का हाथ पकड़ लिया और झट से उसका पल्लू कंधे पे से नीचे खींच लिया.

फिर मैंने भाभी को चूमते हुए एक धक्का और लगाया, तब मेरा पूरा लंड भाभी की चूत में जड़ तक चला गया. मैंने उसके घर वालों को उस को मारने की धमकी दी और कहा- उसके फ़ोन में कोई मैसेज है या कॉलरिकॉर्डिंग है. आंटी- क्या है बेटा?कुणाल- आंटी आप लोग 5 हैं, मुझे मिला कर 6 हो जाएंगे.

पर एक दिन चाची और चाचा दोनों कहीं बाहर गए थे और मैं घर पर अकेला ही था.

भाभी तो पहले से ही मेरी तरफ आकर्षित थीं, पर मेरी तरफ से ही कोई प्रति उत्तर ना देने के कारण से भाभी खुल नहीं पाई थीं. फिर मैं उसके चहरे को पकड़ कर उसके गर्म और नर्म होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ यह मैं 1 घंटे से भी ज्यादा समय तक करता रहा और फिर हम डिनर करके रात में 11. तभी अमित का मोबाइल बज उठा और अमित माया को आँख मार कर चला गयाअगले 4-5 अमित और माया में बस उतनी ही बात हुई, जितनी जरूरी थी.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ रात के एक बजे मैं वहां से निकला और मेरा मूड अब सेक्स के लिए बन चुका था. कितने सालों बाद वो मुठ मार रहा था; बाप बनने के बाद तो जैसे वो भूल ही गया था कि वो भी एक मर्द है।7-8 मिनट में ही उसके लन्ड ने माल उगल दिया।ठंडा होने पर उसने फ़ोन उठाया तो उषा के कई मैसेज आये हुए थे- मिस्टर किधर… कहाँ चले गए… शैगिंग?हम्म्म्म… तुमने मजबूर कर दिया था.

मैं भाभी का दूध पीने लगा और भाभी भी मुझे अपना बाबू समझ कर बड़े लाड़ से दूध पिलाने लगीं.

सेक्सी वीडियो जींस में

अब सुभाष की हालत ऐसी थी कि उसको सिर्फ़ बेड पर ही लेटा रहना पड़ रहा था. उसकी देखा देखी रेखा ने भी मेरे लंड को उसके मुँह से छीन कर अपने मुँह में ले लिया. आज से कुछ दिन पहले मुझे ग्वालियर से चेन्नई एक जरूरी इन्टरव्यू के लिए जाना था, जो मेरा एक बैंक का इंटरव्यू था.

मुझे मेरे भाभी के हाथ टेबल पर रख कर उनको आगे को झुका कर उनके पैर फैला कर पीछे से उनकी चूत में लंड घुसा कर चोदना है और चोदते हुए उनके मम्में दबाना है. हम दोनों ने पूरी तरह से 69 की पोज़िशन ले ली और लंड चूत की चुसाई का मजा लेने लगे. वो भी मुझे देख क़र मुँह घुमा लेती और दूसरे लड़कों के संग बात करती और सबके साथ घूमती.

अब तुझे रोज ऐसी ही तड़प होगी, तू जवान हो गई है, जवान लड़कियों की शादी इसलिये करनी पड़ती है.

फिर मैं उसके हाथ पकड़ कर उसको किस करने लगा और एक ज़ोर का शॉट दे मारा, मेरा आधा लंड उसकी चुत को फाड़ते हुए अन्दर चला गया. यदि उसे ऊपर बढ़ाते तो पैंटी दिख जाती, अगर नीचे खींचती तो चूचियां ज्यादा दिखने लगतीं. मैंने उसकी ब्रा को भी खोल दिया तो अंदर से दो सफ़ेद कबूतर निकले… एकदम गोर और उठे हुए… उसके निप्पल भी उसके होंठों के रंग के थे यानि गुलाबी थे.

”उस दिन मैं तुम्हारे हॉस्टल की फीस घर का रेंट और बाकी सब खर्चों को लेकर काफी परेशान थी. वो करीब 21 वर्ष की थी, गोरा रंग, कद करीब पांच फीट तीन इंच, गदाराया हुआ भरा भरा बदन और सबसे ख़ास बात उसकी मुस्कराहट बेहद कातिलाना थी. तो मैंने भाभी से कहा- भाभी इसमें तो कोई छेद नहीं है?भाभी बोलीं- पगले जब इसमें अभी तक कोई लंड घुसा ही नहीं.

भैया ने कहा- जाया कर और ये जो आई ब्रो हैं इनको तो सैट करवा लिया करो. काफी समय तक ऐसा ही चलता रहा मगर तो मुझे तो लंड से चुदाई का मजा लेना था.

हम लोग अब ज्यादा बात चीत करने और मिलने लगे थे, मुझे आकांक्षा के साथ रहना अच्छा लगता था और शायद उसे भी मैं पसंद था. अब मेरी साइड से चूचियां दिख रही थीं और मेरी पीठ पेट भी साफ़ दिख रहा था. उसे तुम्हें सहन करना होगा, तुम्हारा वो दर्द ही आगे जाकर तुम्हारा मजा बन जाएगा.

अंधेरा हो रहा था, मैं आज ही उन्हें चोदना चाहता था और मौके की तलाश में था.

सहेली के यहाँ आकर मैंने बच्चों को छोड़ दिया और कहा कि 4 बजे तक खेलने देना, हम बाहर जा रहे हैं. छेद की सिलवटें साफ़ दिख रही थीं तो मुझे लगा कि ज़्यादा मुश्किल नहीं आएगी. उस्मान ने तुरंत कैमरा अपने पीछे कर लिया और माया उससे कैमरा छीनने की कोशिश करने लगी.

फिर हम बातें करने लगे, बीच बीच में मेरी नजर उसके गोरी चुची पर जा रही थी, ये रश्मि में देख लिया था. वो कुछ नहीं बोली, मैंने मौका समझा और जल्दी से उसे बांहों में ले लिया.

मैंने उसे थोड़ा फ़्लर्ट करते हुए कहा- आज तो हमारे ऑफिस में ब्लैक डायमंड है!तो मेरे इशारा समझते हुए उसने हल्की सी मुस्कान दी और फिर काम की बात करने लगी. फिर गर्मियों की छुट्टियां आई, मैं फिर मामा के घर गया, खुशबू की छुट्टियाँ एक दिन बाद से शुरू होने वाली थी, मैं उसके कॉलेज से आने से पहले ही उसके घर पहुँच चुका था. हम दोनों बेडरूम में बैठ कर वोड्का पीने लगे और भाभी ने डिनर भी यहीं पर लगा लिया था.

ब्लू सेक्सी आवाज

सन्डे को मैं सुबह जगी और सारे काम ख़त्म किए और बैठी थी कि तभी अमित की कॉल आई.

ये लो… ये लो… पूरा मजा लो दीदी, ये ले लो अपने भाई का लंड अन्दर तक!” मैं भी कस कस के अपना लंड दीदी की चूत में ठोक रहा था. ऐसा करते हुए मेरा वीर्य निकल जाये और मेरा वीर्य उनके चेहरे पर गिर जाये. वो मेरा लंड फिर से चूसने लगी और अब मैं भी पूरे रंग में आ गया, मैंने अपना पूरा लंड उसके गले तक अंदर कर दिया तो ‘गू गूं गू… की आवाज़ उसके गले से निकलने लगी.

उसके 34 साइज़ के दूध देख कर मेरा तो लंड खड़ा हो जाता और फिर घर आ कर मैं उसके नाम की मुट्ठी मारता!ऐसा बहुत दिन तक चलता रहा, अब मैं और बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था. जब मैं पुराने टायर को वापस रख रहा था, तब उन्होंने कहा- चलिए, मैं आपको छोड़ देती हूँ, आपके दोस्त को तो वक़्त लग जाएगा. इंग्लिश सेक्सी फिल्म डाउनलोडिंगमैंने इतने में उसका ब्लाउज खोल दिया और ब्रा भी और उसके चूचे एक हाथ से मसलने लगा और दूसरे को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा.

हम दोनों शाम का इंतजार करने लगे, अंधेरा हो गया और मैं अपनी स्कर्ट और शर्ट पहन कर ऊपर एक शाल ओढ़ ली और वहीं उस मकान के आस पास घूमने लगी. इतने में मेरी नज़र कांच पर पड़ी तो हम दोनों ने देखा कि ऑफिस का चपरासी अंदर के तरफ आ रहा था तो मैंने सोनी को फिर से बैठा दिया और मैं भी अपनी जगह बैठ गया.

थोड़ी देर बाद ब्रायन ने मेरी मम्मी को बेड पर बिठाया और कहा- डार्लिंग मेरी ज़िप खोलो और लंड बाहर निकालो. शायद मौसी ने मॉम ने मुझे आवाज़ लगाई और कोई सामान घर से लाने को बोला. मैं- देखो जो हुआ, उसे बदल नहीं सकते, पर हमें ये सब भूलने की कोशिश करनी चाहिए.

अब आंटी ड्राइवर वाली दिशा में मुँह करके खड़ी हो गईं और कंडक्टर वाली दिशा में गांड कर ली. ” मैंने कहा और खुद को जोर से चिकोटी काट के सजा दी कि यह बात मुझे पहले क्यों नहीं सूझी कि बहूरानी मुझे ट्रेन से ही चलने के लिए क्यों जोर दे रही है. उसका निप्पल भी एकदम हार्ड और एक सेंटीमीटर का हो चुका था, चूची देखते ही मैंने उसे चाटना शुरू कर दिया, उसका निप्पल चूसने लगा जिससे उसका निप्पल और बड़ा हो गया और उसकी पकड़ और टाइट हो गयी.

दोस्तो मेरा स्कर्ट मेरे कूल्हों की दरार में घुस गया था और उसके ऊपर से उसका लंड भी अड़ा हुआ था.

जल्दी ही बहूरानी अच्छे से मस्ता गयीं और अपनी चूत उठा उठा के मेरे मुंह में देने लगीं. मैं आगे बढ़कर पैन्ट उतारने ही जा रहा था कि नीचे से कुछ आवाज़ आई शायद कोई जाग गया था.

वो सब वहां हमारे पास आने को निकल गए और मेरी तो यहां हालत पतली होने वाली थी. फिर मैंने एक ज़ोर का धक्का मारा और इस बार मेरा पूरा लंड उसकी चुत के अन्दर चला गया. तुमने बोला कि तुमने कभी सेक्स नहीं किया पर मुझे लगता है कि तुम ने सेक्स किया हुआ है?तो वह बोली- नहीं, कसम से… मैंने कभी नहीं किया सर!वो मुझे सर बोली… पता नहीं क्यों? पर मुझे क्या मतलब था, मुझे तो उसकी चूत को अच्छे से चोदना था.

मैं दिन भर घर में रही और शाम को विक्की फिर मुझे लेने आ गया और ले जाकर आज एक बार फिर चोदा. मैंने इतने में उसका ब्लाउज खोल दिया और ब्रा भी और उसके चूचे एक हाथ से मसलने लगा और दूसरे को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा. चाचा मुझे बोले- तुझे चुदते हुए देख कर मुझे बहुत मजा आ रहा है आरती, लग रहा है कि क्या कर डालूं!तीनों लंड से जम के हो रही चुदाई और उन सब की गन्दी गन्दी बातें और गालियां सुन कर मैं फुल एक्साइटेड होने लगी और मेरा पूरा दर्द खत्म हो गया, अब मुझे बहुत मजा आने लगा.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ जब शीशे में मम्मों को गौर से देखा तो जैसे लाल टमाटर रखे हों दोनों बूब्स इतने लाल हो गए थे. मैंने पूरा लंड चाट चाट कर साफ कर दिया और लंड से बचा हुआ पूरा वीर्य पी गई.

आंख सेक्सी वीडियो

हम ससुर-बहू ऐसे ही कुछ देर और ट्रेन में चुदाई का कभी न भूलने वाला अलौकिक आनन्द लूटते रहे. अरे उससे किसी मॉल में जाकर मिलो, जैसे मैं अमित से पहली बार पीवीआर में मिली थी. अपनी लंबी जीभ निकाली और जितना हो सकता था उतनी जीभ, भाभी की नाभि में उतार कर गोल-गोल घुमाने लगा.

फिर उन्होंने मुझे रोका और बाजू से कॉफ़ी फ्लेवर का कंडोम लेकर मेरे लंड पे चढ़ा दिया. मेरी हेल्प करो ना अमित सर!अमित- ऐसी लड़कियों के साथ प्यार से पेश आओ. नंगी सेक्स सेक्सीमैंने लंड की ठोकर देते हुए कहा- आज भी पार्क में उस बहनचोद की चुदाई न देखता तो मैं आज भी तुमको चोदने की न सोचता.

मैंने आकाश को बोला- आकाश मैंने तेरा क्या बिगाड़ा था जो तूने मेरे साथ ये सब किया?तब आकाश ने बोला कि तेरा घमण्ड तोड़ने की लिए तेरे साथ ये सब किया.

फिर मैंने अपने ब्लाउज के हुक खोलना शुरू किए और सारे हुक खोल कर ब्लाउज उतार कर बेड पर रोहण के पास फेंक दिया. मैं तो अपनी सहेली और आपकी बहन के साथ मस्ती के मूड में थी, सोचा था कि वो अकेली रूम में होगी तो खोल के दिखाऊँगी और देखूंगी किसकी कितनी बड़ी है.

क्योंकि मैं जानती हूँ कि एक बहन की जवानी पर, उसकी चूत पर उसके भाइयों का सबसे पहला अधिकार होना चाहिए. इस पर भाभी बोलीं- शेखर अपनी वाइफ को भी ये ही जवाब देते या कलर पसन्द करके देते. उस वक़्त उसकी शादी हुए एक साल ही हुआ था और एक साल के बाद ही उसका तलाक़ भी हो गया था.

कुछ देर के किस के बाद उन्होंने मेरे भी कपड़े उतार दिए और मुझे नंगा कर दिया.

फिर मैंने उसे लंड को मुँह में लेने को बोला, उसने मना कर दिया तो मैंने भी ज्यादा जोर नहीं दिया. माँ ने नीचे झुक कर सड़क के किनारे देखा और फिर मुड़ कर मेरी तरफ देख कर बोलीं- मेघा बड़ा दिल कर रहा क्या घूमने जाने का?हालाँकि पहले वो मुझसे इस तरह की बात नहीं करती थीं. आप ज़रा देख लो कि नेटवर्क क्यों नहीं आ रहा?यह कहते हुए वो मेरे पास ही आकर बैठ गई.

सेक्सी चाहिए नेपाली सेक्सीतुमने कभी फूल पर तितली को मंडराते हुए देखा है ना?मैंने- हां देखा है. वैसे भी इतनी टाइट स्कर्ट थी और इतनी छोटी थी कि शायद उसमें एक दो उंगली भी सही से ना जाएं.

सेक्सी फिल्म चुदाई वाली नंगी फिल्म

मगर गांड के दूसरे छल्ले ने जैसे ही मेरा सुपारा निगला, उसने आराम की साँस ली. आप गाड़ी कैसे चला सकती हैं? ए जगत, वो दूसरी लड़की को देखना तो!जगत नाम का पुलिसिया लपक कर रिया के पास आया तो रिया ने खुद ही मुँह खोल दिया। दो पल उसकी सुंदरता देख कर जगत ने ऐलान कर दिया- ये लड़की भी बहोत पी हुई है जनाब!तब तक एक बन्दे को हमारी पिछली सीट पे पड़ी हुई बोतलें दिख गयी तो और बवाल मच गया. आज माया ने साड़ी पहनी थी और जैसे ही माया ने फाइल उतारने के लिए अपना हाथ बढ़ाया, उसे अपने पेट पे एक हाथ महसूस हुआ.

कई बार मेरी बीवी मेरी गर्दन पे भी लव बाइट कर देती थी, जिसके कारण मेरे दोस्त काफ़ी मजाक़ उड़ाते थे. तो वो बोली- वहाँ तो मेरी एक सहेली सिमरन (बदला हुआ नाम) इंगलिश पढ़ाती है!मैं एकदम से चौंक गया तो वो बोली- क्या तुम सिमरन से मेरी बात करवा सकते हो?मैंने कहा- मैं तो यहाँ किसी को जानता नहीं हूँ!तो वो बोली- आप सिमरन के नाम से पूछ लो, वो अगर होगी तो बात करवा देना।मैंने कहा- ओ. जब मैंने नहीं निकालने दिया, तब उन्होंने रिक्वेस्ट की कि राहुल अब मुझे चूत में दर्द हो रहा और नहीं कर.

फिर मैंने धीरे से उनकी साड़ी निकाली और उनके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया. लड़की ने फिर उसे टोका- टेस्ट बदलने का इरादा है क्या?वो बोला- क्या मतलब?लड़की बोली- अगर तुम चाहो तो मैं मौका दिलवा सकती हूँ. फिर हाथ से लंड को दबा कर बचा हुआ रस मेरी कमर मेरी गर्दन मेरी चुचियों के ऊपर के भाग में लगा दिया.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर मैं पहली बार अपनी सेक्स कहानी लिख रही हूँ, मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी सेक्स स्टोरी पसंद आएगी. चाची ने मुझसे कहा- जल्दी से अब इसे मुझमें घुसा दो… मुझे और तड़पाओ मत!मैंने भी उनकी बात मानी, उनको चित्त लेटा दिया और उनके सामने जाकर चुदाई की पोजीशन में हो गया.

हमारे प्राचीन ऋषियों ने स्त्रियों की योनि की बनावट के आधार पर उन्हें चार भागों में विभक्त भी किया है जैसे हस्तिनी, अश्विनी, चित्रिणी, पद्मिनी इत्यादि!अतः अपनी सेक्स कथा लिखते समय इतना मन में विश्वास रखना चाहिए कि आप भी साहित्य सृजन ही कर रहे हैं न कि गन्दा, अस्वीकार्य या अक्षम्य लेखन कर रहे हैं.

मैंने भाभी को हर जगह चूमा और रेणुका भाभी ने मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसा, फिर मेरे लंड को अपने दोनों मम्मों के बीच में लेकर लंड को चुदाई जैसा मजा दिया. भाभी ने देवर से चुदवाया सेक्सी वीडियोदोनों अपने अपने कामरस को एक दूसरे के मुँह में डाल कर मज़े से चाटने लगे. राजस्थानी सेक्सी चुदाई वाली पिक्चरआकांक्षा मेरे इस काम से इतनी खुश हुई कि उसने अपनी पहली सैलरी से मुझे ट्रीट भी दी, मैं खुश था कि वो अपने नए जॉब में खुश थी और धीरे धीरे पवन और उसकी बेवफाई को भूलती जा रही थी. फिर एक दिन मेरे मम्मी पापा गाँव किसी काम से जाने वाले थे, मेरे मन में लड्डू फूटने लगे.

आंटी भी रेस्पोन्स में धीरे से हाथ चादर से घुसा कर उसके लंड को मसलने लगीं.

मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी बाथरूम में शावर के नीचे मेरा लंड चूस रही हों, उनके सर पर शावर का पानी गिर रहा हो और वो मेरा लंड चूस रही हों… यह नज़ारा मैं अच्छे से देखना चाहता हूँ. कभी एक चूचे को दबाता, तो एक चूचे को चूसता और बीच बीच में उसके मम्मों को काट भी लेता. मैं जानती थी कि मम्मी बहुत ज्यादा किसी कॉफ़ी शॉप या रेस्टोरेंट तक ही जाएँगी.

सन्नी- सच में सर… वो आपको तंग कर रही है क्या लेकिन मैंने तो आपको कई बार देखा है उसके साथ घूमते हुए!अमित- हाँ यार बस घूमना फिरना ही होता है… साली कभी कुछ करने का मौक़ा ही नहीं देती. सन्नी- क्या किया है अमित सर, मुझे भी बता दो मेरी कुछ हेल्प हो जाएगी, मुझे भी किसी तरह से सपना के साथ वो सब करना है. वो मुझे देखती तो ऐसा दिखावा करती कि सब नॉर्मल है, मैं भी क्यों उसे पूछती कि तुम्हें क्या हो रहा है, वो खुद बताएगी, मैं नहीं पूछूंगी.

कांग्रेस सेक्सी वीडियो

मैं भी अपनी जीभ को चाचा जी के मुँह में डाल कर डीप स्मूच का पूरा आनन्द ले रही थी. मामी को काफी दर्द हो रहा था लेकिन मामी दर्द सहती रही और अपनी गांड मरवाती रही. अब तक आपने मेरी चुदाई की पोर्न कहानी के पिछले भागअंकल ने मेरी चूत और गांड मारी जम केमें पढ़ा था कि मैं अंकल से चुदवा कर बीस हजार रूपए कमा लाई थी और अपनीचुदाई की कमाईको पा कर बहुत खुश हो रही थी.

फिर मैंने लंड बाहर निकाल कर उसकी टाँगें ऊपर उठा दी ताकि वीर्य अच्छी तरह अंदर चला जाये और ममता के जीवन में खुशियां लाये.

अब तक मेरा लंड पिंकी की गांड में अपने लिए जगह बना चुका था और मैं जानता था कि पिंकी को जितना दर्द होना था, हो चुका है.

अब हम दोनों की स्पीड और भी बढ़ गयी, मैं जब लंड उसकी चूत के अंदर डालता तो वो भी कमर ऊपर उठाती जिससे लंड पूरा अंदर तक जा रहा था और फिर उसकी आवाज़ आई कि मैं छूटने वाली हूँ…और वो आहह की आवाज़ के साथ झड़ गयी और फिर कुछ सेकेंड के बाद मैं भी झड़ गया और मेरे मुँह से भी एक ज़ोर की आहह निकली और फिर मैं उसके ऊपर गिर पड़ा. मैं मेरी मम्मी और काजल एक ही कमरे में सोते थे, हम डबल बेड पर सोते थे और मेरे और काजल के बीच में मम्मी सोती थी लेकिन अभी तक मेरी और काजल की कोई बात नहीं हुई थी. खुला सेक्सी राजस्थानीतभी मुझे लगा कि मैं अब झड़ने वाला हूँ तो मैंने सिमरन से कहा- सिमरन जी मैं अब झड़ने वाला हूँ, बताओ मैं कहाँ झड़ूँ?सिमरन ने कहा- वीशु जी, आप मेरी चूत में ही झड़ जाओ!मैंने कुछ धक्के लगाये होंगे कि सिमरन की चूत में मेरे लंड ने पिचकारी छोड़ दी और मैं थक कर सिमरन के ऊपर ही धम्म से गिर गया तो सिमरन मुझसे बेल की तरह से लिपट गई और मुझे बहुत देर तक चूमती रही.

मामी ने बोला- यार, आज इतना ही बाकी कल… मैं घर का काम करके तेरे को फोन करूंगी, तब सब कुछ कर लेना. उसकी चूत काले बालों के बीच ऐसी लग रही थी जैसे घने जंगल में कोई गुलाबी अप्सरा. उसने अब अपनी एक और उंगली बहन की चूत में डाल दी और जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए अपनी उंगलियों से ही बहन की चूत की चुदाई करने लगा.

इस बार गर्मियों की छुट्टियों में सीधा गाँव अपने चाचा के घर चला गया, सबने मेरा बड़े अच्छे से स्वागत किया. फिर हुआ यूं कि उन दिनों जाड़े का मौसम था, रात के 2:30 बजे के करीब मेरी नींद खुली, तो मैंने सोचा क्यों ना आज भाई का लंड देखा जाए.

मुझे रिप्लाइ ज़रूर भेजिएगा[emailprotected]पर, जिससे मैं आगे आपको मेरी दूसरी कहानियाँ भी सुना सकूँ.

तो फिर ये बाकी कपड़े भी उतार दे ना, इन्हें ही क्यों पहन रखा है?”हाय भाई… तुम कहो तो मैं इन्हें भी उतार दूँ।” हंसती हुई वो बोली और झाड़ियों के पीछे पेशाब करने के लिये बैठ गयी।जब वो वापस आयी तो मैंने उसे स्लिपिंग बॅग देते हुये कहा- यार स्वीटी, हमारे पास एक ही स्लीपिंग बैग है, हमें बारी बारी सोना और जागना पड़ेगा।तुम सो जाओ, मैं थोड़ी देर जागती हूँ. मेरे भाई के लंड में अलग ही नशा छा रहा था, ऐसा मजा फरीद की चुदाई में भी नहीं मिला था. कुछ देर हम ड्राइंग रूम में बैठ कर बात करते रहे, हमने अपने अपने नंबर एक्सचेंज किए और फिर थोड़ी सी चुम्मा-चाटी के बाद जब मैं जाने लगा, तो उन्होंने मुझे पांच हज़ार रूपये दिए और कहा कि अब तो मिलते रहेंगे जानेमन.

साउथ इंडियन सेक्सी वीडियो ओपन जब मामी ने मेरा लंड अपने हाथ में लिया तो उन्होंने कहा- तेरा लंड तो बहुत बड़ा है. मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी हमेशा मेरे सामने बिना कपड़ों के रहे और मुझे उसके भरे हुए मम्मे, कड़क निप्पल और साफ़ की हुई उसकी चूत के हमेशा दर्शन मिलते रहें!11.

अब शिशिर मेरे गालों को चूमते हुए मेरी चुत के घने बालों को सहला रहा था और सलमा सुनील के लंड को सहला रही थी. मैं समझ गया कि मीतू के मन में भी कुछ तो है, मैंने 10 मिनट में पढ़ा दिया, फिर हम बातें करने लग गए, उस समय मम्मी दूसरे रूम में टीवी देख रही थी तो कोई प्रॉब्लम नहीं थी. मैं इतना उत्तेजित हो गया कि मैंने अपना लंड निकाल कर उसके हाथ में पकड़ा दिया.

बड़े लंड की सेक्सी बीपी

तभी मेरे मोबाइल पर घंटी बजी तो मैं उस मैडम को एक्सक्यूज़ मी कह कर बात करने लगा. वैसे मुझे ऐसे ही कपड़े पसंद थे और मैं पहनती भी ऐसे थी कि मेरी आधी बॉडी दिखे, तभी इस जवानी और इस जिस्म का मज़ा है. तभी उसने मेरी चूत के दाने को मसला, तो मेरी चुत ने जोश में आकर फच से पानी बाहर फेंक दिया.

इस पर मैंने भाभी को बोला- अगर ऐसी ही बात है तो भाभी सेम कलर की नेट वाली ब्रा भी पहन कर देखो. जैसे ही मैंने भाभी की चुत में लंड झाड़ा वो फिर से गलियाँ देने लगीं- साले हरामी मादरचोद मेरी चूत में क्यों झाड़ा.

मुझे बड़ी खुशी हो रही थी खून देख कर… मैंने पहली सील खोली थी, चूत की ना सही, गांड की सही लेकिन इसमें भी बहुत मज़ा आता था, बहुत नहीं बहुत ज़्यादा, लेकिन शिखा दीदी की चूत खुली हुई थी जबकि गांड की सील को आज मैंने खोला था और इसी बात से मुझे ज़्यादा मस्ती चढ़ने लगी थी और मेरी स्पीड तेज होने लगी थी.

साथ ही भाभी अपने पैरों को मेरी कमर से बांध कर अपनी गांड उछाल उछाल कर मेरा लंड अपनी चूत में लेने लगीं. मंजरी ने उसको एक मीठी झिड़की दी- छी… ऐसे नहीं बोलते, ऐसे कहो कि मेरी चॉकलेट खाओगी क्या?अच्छा जी” पुलकित बोला- और अगर मुझे तुम्हारी चूत चाटनी हो तो?मंजरी ने बनावटी गुस्सा दिखाते हुये कहा- उंह, फिर वही बात, आप बोलो, मुझे कचोड़ी खानी है. मैं भी मौके को देख कर सिमरन की चूत पर आ गया और लंड चूत पर घिसने लगा फिर उसकी चूत के छेद पर अपना लंड टिका कर मैंने एक पूरी ताकत से जोरदार धक्का लगा दिया तो मेरा लंड का सुपारा सिमरन की चूत को फाड़ता हुआ करीब 3 इंच तक घुस गया और घुसने के साथ ही उसकी चूत से एक खून की धार बह निकली.

वो 24 साल का है, उसका नाम किशोर है और वो काफी हैंडसम दिखता है और अच्छा चोदता भी है, साले का लंड तन बदन की नसें खोल देता है. राखी ने वो देख लिया, फिर भी उसने अनदेखा किया और बोली- जब तक विधि आती है, मैं आपके और मेरे लिए चाय बनाती हूँ. काफी रात हो चुकी थी मैंने उन्हें फ़िर से लम्बा चुम्बन किया और वहाँ से चला आया.

तब मैंने शीशे में अपने आपको देखा, मेरी चूचियां अभी भी हल्की लाल थीं और सूजी लग रही थीं.

एचडी व्हिडिओ सेक्सी बीएफ: मैं अब धीरे धीरे लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा लेकिन वो अब गर्म होने के साथ साथ बहुत डर भी रही थी क्योंकि मैंने उसके कहने के बाद भी अपने लंड पर कंडोम नहीं लगाया था. लौंडों की भी मारी, लौंडियां भी चोदीं और का बताऊं अपन से बड़ी उम्र की भाभियन की चूत भी खूबई चोदीं और जो आपकी मारके गऔ ऊकी गांड भी मारी.

मुझे लगा कि भाभी शायद नाराज़ हो जाएँगी पर उन्होंने बिना कुछ कहे अपना ब्लाउज निकाल दिया. अमित ने कहा- उस्मान अपना ही दोस्त है और जिस दिन तुम पहली बार आई थी, मेरी उस्मान से शर्त लगी थी कि तुम पैडेड ब्रा पहनती हो. सन्डे को मैं सुबह जगी और सारे काम ख़त्म किए और बैठी थी कि तभी अमित की कॉल आई.

हालाँकि सामने उसकी अपनी पत्नी खड़ी थी, जिसके सामने वो कई बार नंगा हुआ था, उसको अपना लंड चुसवाया था, उसकी चूचियों के साथ खेला था, उसकी चूत चाटी थी, गांड भी मारी थी और कई बार उसकी घनघोर चुदाई भी की थी.

एक दिन योगिता बालकनी में बैठी थी, मैं भी चेयर लाकर बैठ गया और बातें शुरू की। वो डीप गले की शर्ट पहने थी, ऊपर से उस की गोरी चूचियाँ नजर आ रही थी, मेरा मन हो रहा था कि पकड़ कर चूस लूँ।मैंने योगिता से बोला कि पति से अलग अकेले रहना बहुत मुश्किल है. उसकी बुर ने पानी छोड़ दिया, मेरा पूरा चेहरा भर गया और मैं उसकी बुर के रस को चाटने लगा, वो अभी भी अपना बुर उचका उचका के मेरे होटों पे दबा रही थी।मैं ऊपर उठा तो उसने मुझे अपनी तरफ खींचा और मुझे चूमने लगी।मैंने एक हाथ से उसकी बुर से थोड़ा रस अपने हाथों पे लगाया और लंड सहलाने लगा, वो उठी और अपने हाथ पे अपना थूक लिया और मेरा लंड सहलाने लगी. मन्दिर आने जाने में 4-5 घंटे लगते थे यानि दोनों तरफ का 10 से 12 घंटा समझो.