हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में

छवि स्रोत,बीएफ हिंदी सेक्सी फुल वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

जूही चावला की सेक्सी: हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में, राज- मतलब तुम्हें मज़ा आया न?न्यासा- मेरी हर एक हड्डी अभी दर्द कर रही है और मेरी चुत का पानी पूरे महीने में जितना गिरता है, उतना तो तुम दोनों ने दो बार में ही निकाल दिया.

नंगी नंगी बीएफ पिक्चर

रात में जब हम अपनी अपनी बीवी की चुदाई करते तो एक अलग ही उत्तेजना हमारे अंदर होती थी कि ये मेरे दोस्त के साथ गुलछर्रे उड़ा रही है इसलिए चढ़ाई में घमासान जोरदार होता था। कुछ दिन तक तो ऐसे ही चलता रहा. बीएफ सेक्सी ब्यूटीफुलमॉम- तड़पाओ मत मादरचोद … अब डाल दो इस चूत के अन्दर!अंकल- चिंता मत कर रंडी … आज तो तेरी चूत की मॉम चोद दूंगा.

वैसे भी अब कुछ बचा नहीं था, जितना भी मैंने फंतासी को लेकर सोचा था, मैंने उससे वो सब करवा ही लिया था. बीएफ सी एक्स वीडियोकोई साढ़े दस बजे मेरी आँख खुली, मैं नहा कर तैयार हुआ तो आशा मेरे कमरे में चाय लेकर आई.

आखिर परिवार के अंदर ये सब करना है तो सामने वाले को परखना भी जरूरी है और फिर अगर बात किसी को पता चला जाती है तो पूरे परिवार की बदनामी होगी.हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में: शायरा नंगी थी इसलिए मुझसे शर्मा रही थी क्योंकि उसको तो मैंने पूरी नंगी कर दिया था.

जैसे ही उसने पैर फैलाए, उसकी चुत थोड़ी सी फैल गई और हल्की सी पानी पानी सी गुलाबी रंग की दिखी.मैंने उससे पूछा कि उसे मज़ा आया या नहीं?न्यासा बोली- राज कसम से बोलूं … तो मेरी ऐसी चुदाई कभी हुई ही नहीं … तुम लोग इतनी लम्बी चुदाई कैसे कर लेते हो … ओह माय गॉड.

बीएफ सेक्सी दवाई - हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में

फिर भी उसने छिनाल लुक देते हुए मेरी तरफ़ से नज़रें फेर लीं और अपनी चूत की आग को शांत करने में जुटी रही।पंकज- अह्ह्ह … साली तुम बड़ी मस्त माल हो सुमन … उहह्ह् … आज तुम्हारी चूत इस तरह फाडूंगा कि तुम अपने पति के लंड को हमेशा के लिए भूल जाओगी.रात भर मैंने इस बारे में सोचा कि अंकल के साथ करने सेफ भी रहेगा और कोई प्रॉब्लम भी नहीं होगी.

जीजा साली की सेक्सी कहानी वहीं पर फिर से शुरू हो गई लेकिन अभी मेरे मन में भाई को लेकर डर भी था. हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में हालांकि खड़ा लंड देख कर भाभी कुछ बोली नहीं क्योंकि उनको पता था कि इसी लंड से उनकी चुत चुदने वाली थी.

आरिषा भाभी रामू से मदहोश आवाज़ में बोलीं- रामू अच्छे से करो मालिश … आह बहुत आराम मिल रहा है.

हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में?

फिर जब मेरा रस निकलने वाला था, तो मैंने लंड उसके मुँह से निकाल लिया और अपना वीर्य उसके मम्मों पर गिरा दिया. इस पर सुनील ने मुस्कुराते हुए अपना पेग उसकी ओर बढ़ाया तो दीपा ने एक सिप उसमें से ले लिया. वो मेरे लंड को गप से मुँह में लेकर चुसकने लगी और मैं उसकी चुत को चाटने लगा.

दीदी ने आंटी से पूछा- आंटी, डॉक्टर क्या बोला?आंटी- कुछ नहीं, कुछ दवा लिख दी है और बोला है कि अभी तबीयत में कुछ सुधार हो जाएगा. ये देख कर कि संजू शांत हो गई है, विक्रम ने लंड को फिर से बाहर निकाला. अपनी चूत से दबा दबा कर लंड का पानी चूत में निकालने के थोड़ी देर बाद सीमा मेरी तरफ मुस्करा के देख कर बोली- वाह मयंक, मज़ा आ गया.

सेल्सगर्ल- हां मैम, सर जब इतने प्यार से गिफ्ट कर रहे हैं … तो ले लीजिए ना!शायरा अब गुस्से से दांत पीसने लगी- क्या ड्रामा है ये सब?उसने मेरे पास आकर मेरे कान में धीरे से कहा, जिसे उन दोनों सेल्सगर्ल ने सुना तो नहीं … मगर शायरा को मुझसे बातें करते हुए जरूर देखा. वो मेरे करीब आने लगी और मैं उसके … सच कहूं तो दोस्तो, मुझे उससे प्यार हो गया था. इधर मुम्बई में मैंने अनिता को मकान दिला कर उसे यहीं शिफ्ट करवा दिया.

कभी विक्रम संजू के मुँह में अपनी जीभ को डाल देता, जिसे संजू जोर जोर से चुभलाने लगती. ओरल सेक्स (किसी का लौड़ा मुँह में ले कर चूसना) … ये मैं पहली बार कर रही थी, तो मुझे शुरू में थोड़ी दिक्कत हुई … लेकिन मैंने पोर्न वीडियो में देखा था कि लंड को कैसे चूसा जाता है.

बस यह हम दोनों की आखिरी बातें थीं, कुछ ही समय बाद भाभी का स्टॉप आ गया था और वो मुझे अलविदा कहकर बस से उतर गईं.

फिर उसने अपना मोबाइल नम्बर भी मुझे दे दिया और हम लोगों की फोन पर भी बातचीत होने लगी.

ये सब होने के बाद भी मैं उनसे कुछ नहीं बोल पाया।हम लोग एक मध्यमवर्गीय परिवार से थे. मैंने उसकी चूत के लाल लाल दाने उसके जी स्पॉट और उसके अंदर तक सभी जगह अच्छी तरह चूसा. जब मैं उसके घर पर आई, तो देखा कि एक बेड था, एक अलमारी और एक दो सूटकेस रखे थे.

चूंकि हम लोग अन्तर्वासना की सेक्स स्टोरी को पढ़ कर एक दूसरे से परिचित हुए थे इसलिए हम दोनों के बीच हर तरह की बात होने लगी. फिर वो मेरे पूरे पेट को चूमते हुए मेरी नाभि तक आया और उसके कुछ देर बाद उसने मुझे सबसे आगे वाली टेबल पर बिठा कर मेरी स्कर्ट को उतार दिया. मेरी गांड में क्रीम लगी होने के कारण अभिषेक का लंड हर झटके में थोड़ा थोड़ा अन्दर घुसता गया.

मेरा पर्स और उस कंडक्टर ने मुझे जो टिकट व बाकी के खुले‌ पैसे दिए थे, वो अभी भी नीचे ही पड़े थे.

इसलिए शायरा के होंठों को छोड़कर मैंने अपने हाथों के सहारे अपने ऊपर के शरीर को ऊपर उठा लिया. मैंने अपने कपड़े पहने और देखा कि मालू की चूत से रिसे खून से चादर पर निशान बन गया था. अन्दर मस्त गुलाबी गुलाबी सा मांस दिखा और छोटा सा छेद भी मुझे ललचाने लगा.

सन्नी तो मेरे कहते ही अपने कपड़े उतार कर न्यासा की चुत पर टूट पड़ा. बस मर्द को औरत की तसल्ली करवाना आता हो!अब मैंने उसका ब्लाउज़ उतार दिया और उसकी काले रंग की जालीदार ब्रा के ऊपर से उसके चुचों को मसलने लगा. आज उसका बर्थडे था … तो मेरा फर्ज था कि मैं उसे ऐसा गिफ्ट दूं कि उसे जीवन भर याद रहे.

मैं अक्सर अपने काम की वजह से बाहर रहता हूँ … तो मेरे पीछे घर में क्या होता है … वो जानने के लिए मैं बेसब्री से इंतजार कर रहा था.

जैसे ही मैंने फोन रखा कि राहुल शिल्पा के ऊपर ऐसे टूट पड़ा, मानो शिल्पा मेरी नहीं उसकी बीवी हो. मैंने फिर उनके दोनों स्तनों को छोड़ा और स्तनों के बीच की जगह को जबान निकल कर चाटने लगा.

हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में उसे भी इस समय कुछ ऐसा लग रहा था और वो अपने जिस्म की आग को शांत करने में लगी थी. धकाधक ठोकरें और सीमा के चूतड़ों के जवाबी उछाल ने मुझे मंजिल पर पहुंचा दिया.

हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में ऐसे सभी को मज़ा आ रहा था।कुछ देर बाद उन्होंने मुझे थोड़ा आगे करके सभी की पोजिशन बदल दी. पति के साथ तो मैंने उनके गुजर जाने के काफी पहले से ही चुदाई करना बंद कर दी थी.

मैंने उसका कोई विरोध नहीं किया और उसने शर्ट के अन्दर से मेरे नंगे मम्मों को दबाना शुरू कर दिया.

सीमा की देहाती बीएफ

मुझे बस दो अंडरवियर खरीदने थे … जो कि मैंने अपनी साईज के हिसाब से तुरन्त पसन्द कर लिए. क्या था वो?मदमस्त जवानी की मलिका 28-26-32 की फिगर लिए कई लोगों का लिंग से पानी गिराने वाली ये नायिका मेरी गर्लफ्रेंड थी. मैंने जवाब में लिखा- हां हां … क्या बात है बोलिए?उन्होंने बोला- यहां लिखने में हिचकिचाहट होती है.

मैंने बिना कुछ कहे, हाथ हटा कर अपने लंड को फिर से उसमें घुसाने की कोशिश की … और लंड अन्दर चला गया. उनके घर से अगला घर करीब ढाई सौ मीटर पहले था और घर के बाद दूर तक सिर्फ खेत ही खेत थे. मेरे पति मेरे पास आकर बोले- बेबी, क्यों शर्मा रही हो? यह सब मेरा किया कराया ही है.

उन्होंने उदास स्वर में कहा- मेरे ससुर का देहांत हो गया, इसी कारण मैं नहीं आ रही थी.

जैसे ही उसने मेरे लन्ड को अपने मुंह में रखा, मेरा शरीर ढीला पड़ने लगा. अब बारी थी बिल‌ देने की मेरी, जो कि मेरी पहुंच से‌ काफी बाहर हो गया था. चाची- मार ही देगा मुझे? क्या खाता है, इतनी ताकत है तेरे में … साले सांड.

उसने पैंटी और ब्रा पहनना छोड़ रखा है और सीधे आकर मेरे मुंह से चूत लगा देती है. उसका हस्बैंड मुझे लाइक करता है। तो होली पर उसने मेरे साथ क्या किया?दोस्तो, मेरा नाम है अक्षिता!मैं अन्तर्वासना पर एक बार फिर से हाजिर हूं आपके लिए एक नई कहानी लेकर!आप मुझसे बहुत अच्छी तरह से वाकिफ हैं. रिचा मेरे खड़े लंड को देखते हुए झट से अपने घुटनों पर बैठी और उसने मेरी चड्डी भी नीचे खींच कर उतार दी.

उसने ‘जंगल है आधी रात है, लगने लगा है डर’ म्यूजिक लगा दिया और सब लोग अपने अपने पार्टनर्स के साथ डांस करने लगे. भाभी ने भी मेरा सर अपनी चूत में दबा दिया और कहने लगी- ह्म्म्म चाट … इसे चाट … ह्म्म्म्म मम्म … और जोर से … फाड़ दे आज … अपनी भाभी की चूत.

दस मिनट बाद मैंने अपने लंड का माल मामी के मुँह में निकाल दिया और जब तक वो पी नहीं गईं, तब तक लंड को बाहर नहीं निकाला. मैं उससे बात करने की सोचता भी तो ये समझकर पीछे हट जाता था कि पड़ोस की ही बात है. हम‌ दोनों का स्खलन एक साथ ही शुरू हुआ था … इसलिए एक दूसरे के अंगों को अपने अपने प्यार का रस पिलाते हुए अब हम‌ काफी देर तक ऐसे ही एक दूसरे की बांहों में समाये पड़े रहे.

मामी बोलीं- अब तक तुम क्या करोगे?मैंने कहा- मैं आपकी गांड में देसी घी डालकर आपकी गांड को चाटूंगा.

तभी उन्होंने अचानक फिर से अपने हब्शी लंड का एक जोरदार धक्का और दे दिया. कहानी पर अपनी राय देने के लिए कमेंट करें और मेल आईडी पर मैसेज करें. अपना पूरा लंड अन्दर घुसेड़ने के बाद अभिषेक एक मिनट के लिए रुका और मुझे झुक कर चूमने के बाद मुझे राहत दी.

इस ऑफिस गर्ल सेक्स स्टोरी में थ्री-सम सेक्स कहानी का मजा भी आया था, जिसे आपकी इच्छा पर मैं लिखूंगा. उसने भी बहुत दिनों से चुदाई नहीं कराई थी, तो वो भी बहुत उत्तेजित थी.

इस तरह से वो मेरा ध्यान एक बार फिर उत्तेजना की तरफ ले जाने में सफल हो गया. मनीष- तो और कैसा प्यार होता है भाई-बहन के बीच?मैंने कहा- भैया, आप बनो मत, मैं जानती हूं आप मेरे कपड़ों के साथ क्या करते हो. मुझे उससे प्यार हो गया और उसने मेरी हर महत्वाकांक्षा और बात को मान लिया.

जतारा की बीएफ

विवेक ने घर में घुसते ही मुझे बांहों में भर लिया और मुझे उठाकर मेरे रूम में ले गया.

प्रीति ने अपनी टांगें मेरे चूतड़ों से … और बाहें मेरे कंधे पर लपेट दी थीं. डॉक्टर ने मेरी चूची को पी-पी कर, मसल-मसल कर पिलपिले आम से एक आकर्षक शेप दे दिया था और चूत की भी शक्ल सूरत बदल चुकी थी. मैंने बोला था ना कि तुम्हारी जवानी का एक एक कतरा रस को खा जाऊंगा … तो मैं इस नमकीन शराब को कैसे छोड़ दूँ.

मैं- आप जितनी खूबसूरत हो, उससे भी ज्यादा आपका दिल खूबसूरत लग रहा है भाभी. भाभी की आंखों में वासना दिखने लगी थी और वो बड़ी कामुक नजरों से मुझे देखने लगी थीं. सेक्सी बीएफ हिंदी जबरदस्ती वालीमैं किसी भरोसेमंद आदमी के साथ ही यह सब करना चाहती थी और ऊपर से कोरोनावायरस का भी डर था.

इस पर उन्होंने मुझे वापसी का टिकट बुक करने के लिए ये कहते हुए मना कर दिया कि वापसी का बाद में देख लेंगे. वो- हैंडसम‌ और तुम … कभी आइने में चेहरा भी देखा है अपना … बड़ा आया हैंडसम!मैं- मुझे आईने में चेहरा देखने की क्या जरूरत, वो तो मुझे तुम्हारी आंखों में ही नजर आ जाता है.

मैंने लण्ड को धीरे धीरे अन्दर बाहर करना शुरू किया तो रेखा ने मेरे हाथ पकड़कर अपनी चूचियों पर रख दिये. उसने ‘ठीक है’ बोलकर फोन काट दिया।मैंने पूरे घर की खिड़कियां बंद की. मैंने भी उसकी चूचियों का मजा लिया और रास्ते में खिलवाड़ करने से अच्छा उसको नंगी करके चूचियां चूसना समझा.

उस लंड से मेरी चूत और उसके वीर्य की मादक खुशबू आ रही थी।मैं नशे में थी या पता नहीं कैसे … मुझे उसके लंड को चूसने में बहुत मजा आ रहा था।उसके लंड को मैं पूरा अपने मुंह में डालने लगी और उसको चाट चाट कर एकदम साफ कर दिया. मैंने जवाब में लिखा- हां हां … क्या बात है बोलिए?उन्होंने बोला- यहां लिखने में हिचकिचाहट होती है. कुछ ही देर में ज़ारा गर्म होकर एकदम लाल हो गयी जैसे कि हल्की सी खरोंच से ही कहीं पर भी खून छलछला जायेगा.

कुछ देर बाद भाबी ने मुझे अपनी ओर खींचने का प्रयास किया, पर मैं उनके करीब नहीं आया.

सुगंधा भाभी- अच्छा!मैं- तो अब क्या ख्याल है?सुगंधा भाभी- प्रोटेक्शन के बिना …मैं- मैं पूरा ख्याल रखूंगा. मैं उसके पास जा बैठा- ज़ारा!वो कुछ ना बोली तो मैंने उसके कंधे पर हाथ रखा लेकिन उसने मेरा हाथ हटा दिया.

अब वो अपनी बेटी की चुदाई करने उसके कमरे में जा पहुंचा जहां उसने ज्योति को गर्म करके उसको अपने पिता का लंड लेने के लिए मजबूर कर दिया और अपने लंड को ज्योति की चूत पर लगा कर उसको तड़पाने लगा. कुछ देर तक करने के बाद उसने अपना हाथ लंड की तरफ बढ़ा दिया और फिर वहीं मैंने उसे अपना लंड चुसवाया. फिर मैंने दोनों हाथों को उसके चूतड़ों पर रख कर उसे उठाने लगा और अन्दर बाहर करने लगा.

तब मेरे पास कीपैड वाला मोबाइल था।उससे मैं प्यार करती थी रोहित मेरा पहला प्यार था, मुझे भी विश्वास हो गया था कि हम दोनों की शादी हो जायेगी क्योंकि दीदी ने कह दिया था।मैं उसको हर बात बताती थी. उधर राहुल मेरी बीवी को चूमते हुए अपने दोनों हाथों से शिल्पा की गांड को सहला रहा था. जितनी ज्यादा तकलीफ चार्ली तुझे देगा उतना ही ज्यादा प्यार तू उससे करेगी.

हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में अचानक … पता नहीं कितने बजे होंगे … मैंने अपने लंड पर हलचल सी महसूस की. ” ज्योति ने अपने पिता के मोटे लम्बे लंड को अपनी चूत में अंदर बाहर होता हुआ महसूस करके ज़ोर से सिसकारते हुए अपने चूतड़ों को उछालते हुए कहा।अब ज्योति को दर्द से ज्यादा मजा आ रहा था और वो अपने चूतड़ उछाल उछालकर अपने पिता से चुदवाने लगी।आह्ह्ह … पिता जी बहुत टाइट और मोटा है आपका लंड.

बीएफ सेक्सी फिल्म मराठी

वे अपने 38 इंच के चूचों को बड़ी बेदर्दी से मसल रही थी और अपने निप्पलों को अपनी दो उंगलियों में दबा कर मींज रही थीं. वो मेरी तरफ झुक कर मेरी जीएफ की तस्वीर देखने लगीं और फिर मेरी ओर देखने लगीं. अब आगे का काम मेरा था!मैंने उसके होंठ अपने होंठों में दबाये और लंड को उसकी चूत की गहराई में उतार दिया.

‌उस लड़की की सुन्दरता का मैं तो कायल था ही, उसके पीछे आते ही मेरी सुबह वाली शंका भी फिर से जाग गयी. सुगंधा भाभी ने मेरी जीएफ की चर्चा वापस छेड़ दी थी- वैसे तुम दोनों कितने समय से रिलेशन में हो?मैं- करीब एक साल से. हिंदी बीएफ सेक्सी हिंदी चुदाईवो समझ नहीं पाया और पूछने लगा- किधर चाची?मैंने उसके हाथ को उठा कर अपनी पैंटी लाइन पर रख कर कहा कि इधर करो.

मेरी नजर उसकी चूचियों पर थी और उसकी नजर बालों से भरी मेरी छाती से होते हुए टॉवल में छिपे हुए मेरे टनटनाये लण्ड पर टिक गई.

पोर्न फिल्म और अन्तर्वासना की कहानियां देख पढ़कर मैं इतना समझदार हो गया था कि मुझे अपने इस ज्ञान को अब सही जगह इस्तेमाल करना था. मैंने ए सी कम किया और उससे लिपट कर सो गई।कैसी लगी मेरी कहानी? कमेंट्स करें और मेल में बताएं.

तो मैंने कुछ ना बोलने का निर्णय किया और बस दोनों लड़कियों के मजे लेने लगा. हमारी बेटी ही थी, जिसकी वजह से हम दोनों एक दूसरे का साथ निभा रहे थे. फिर उन्होंने अपनी जांघों पर तेल लगाया और एक टांग को पलंग पर रखकर मालिश करने लगी.

रिचा ने दुबारा मिलने का वादा करके मुझे एक चुम्बन दिया और मेरे रूम से चली गई.

मामी की चूत एकदम गीली हो गयी थी उनके मुँह से कामुक सिसकारियां निकलने लगी थीं- आअह्ह … उन्हह हहहह … चोदो मुझे मेरे राजा … मेरी चूत फाड़ दो … अब बर्दाश्त नहीं हो रहा जान … मेरी चूत में अपना लंड डाल दो … आह मेरा पानी निकलने वाला है … आह फाड़ दो मेरी चूत को. मैं इस सेक्स कहानी के द्वारा अपने साथ बीते हर पल को आप तक पहुंचाने का प्रयत्न करूंगा, इसलिए हो सकता है कि कहानी कुछ लंबी हो जाए. अब जब किसी गैर की बीवी सामने कपड़े उतार रही हो तो नजर कब तक न जाती भला.

बीएफ सेक्सी कैटरीना कैफ कीइसी तरह कुछ देर मुझे प्रिंसिपल ऑफिस में ठोकने के बाद अभिषेक ने मुझे खिड़की से बाहर किया और खुद भी बाहर आ गया. अब भाबी ने भी मेरे लंड हिलाने की गति तेज कर दी और मैं भी कुछ देर बाद झड़ गया.

पंजाबी सेक्सी बीएफ पंजाबी

कुछ देर तक उसके हाथ की कोमलता को झेलने के बाद मेरा नियंत्रण छूट गया और मैं अपनी चड्डी में ही स्खलित हो गया. उसके अगले दिन मेरा काम खत्म हो चुका था और मैं वापिस दिल्ली आ गई थी. मेरी पकड़ और मुँह में लंड होने से उसको सांस लेने में दिक्कत हो गई थी, तो पकड़ छूटते ही वो हांफने लगी.

वो बहाने बनाने लगा और बोला- ये क्या कह रही है छोटी, कैसी बातें कर रही है तू?उसको आईना दिखाने के लिए मैं अपनी पैंटी को निकाल लाई. उसके बाद हमने कपड़े ठीक किये और बिना अंडरवियर के ही अपने अपने कपड़े पहन लिये. मैंने मॉम को फिर से आई लव यू बोल कर जोर से हग करते हुए उन्हें किस करने लगा.

अब वो मेरी टांगों को खोलकर मेरे बीच में आ गया और अपने लंड को मेरी चूत पर रगड़ने लगा. मेरी पिछली सेक्स कहानीघर का किराया मेरी बुर ने चुकायाको पढ़ कर मुझे बहुत सारे मेल मिले और आज भी आ रहे हैं. आखिरी की कुछ बूंदें उसके होंठों पर लगाते हुए मैंने लंड बाहर निकाला।फिर वो उठी और कहा- अब से हर छुट्टी में मुझे ये मिठाई चाहिए।मैंने भी लिप लॉक करते हुए उसे कहा- जरूर मेरी बहना।सुबह सब वापस आ गए थे.

आशा को अब मजा आना शुरू हो गया, वो गांड उठा उठा कर लन्ड ले रही थी और ‘हां हां हां साहब जी … और अंदर डालो … आह आह आह … हाये साहब जी … आप मुझे पहले क्यों नहीं मिले … हाये साहब जी … और तेज करो!’ बोल रही थी. सुगंधा भाभी ने फिर मुस्कान बिखेरी- क्यों भला!मैं- आप इतनी खूबसूरत हो न कि बस थियेटर में आग देंगी.

मेरे हाथ से कन्ट्रोल जाते ही शायरा ने भी अपना कन्ट्रोल खो दिया और उसकी पिंकी ने रह रह कर मेरे मुँह पर कामरस की बौछार सी करनी शुरू कर दी.

अब आगे नंगी लड़की के जिस्म की कहानी:नहाने जाने की कह कर अनामिका तौलिया और ब्रा पैंटी लिए बाथरूम की तरफ जा रही थी. बीएफ और वीडियोउसी समय कंप्यूटर और इंटरनेट आया तो मैं मनोरंजन के लिए इंटरनेट पर बैठने लगा. बीएफ चुदाई स्टोरीमेरी बहुत समय पहले की इच्छा पूरी होने जा रही थी, तो मैं किसी भी हाल में इसे मिस नहीं होने देना चाहता था. उसने पैन को गैस पर रखा तो मैंने बिन्नी को गैस के स्लैब पर ही झुका लिया और पीछे से लौड़ा उसकी चूत में लगा कर उसकी जांघों को दोनों हाथों से पकड़ा और जोर लगाते हुए लौड़ा अंदर घुसेड़ दिया.

वो तेज़ आवाज़ में बोली- तुम सुन भी रहे हो कि मैं क्या कह रही हूँ?मैंने एकदम से अपनी कल्पना से बाहर निकल कर जवाब दिया- हां मैं समझ गया … कल आपका घर ख़ाली हो जाएगा.

जब वह बीच में ही रुक गई तब मैंने संजना को उसकी मदद करने के लिए कहा. कुछ देर में उसका पूरा लंड मेरी गांड में घुस गया था और तेल की चिकनाई के कारण मेरी गांड ने भी उसके लंड को पसंद कर लिया था. अंकल खड़े हुए और उन्होंने मॉम की टांगों को फैला कर चूत के ऊपर अपने लंड को फिराने लगे.

अब आगे:मुझे पता था कि आगे जो होगा … वो सहन कर पाना सबके बस की बात नहीं है. मेरे पति दिल्ली में नौकरी करते हैं जो महीने में एक हफ्ते के लिए आते हैं तो हम तभी संभोग करते हैं लेकिन आज दो महीने हो गए, मेरे पति अपने गाँव गए हैं. पर अभी तक किसी ने आपस में ये नहीं बताया था कि पार्टी में उनके साथ कौन था और क्या हुआ.

राजस्थान हिंदी बीएफ

चलो निकलो यहां से!बिना कुछ बोले मैंने उसको बाहर का रास्ता दिखा दिया. मैंने उससे पूछा- तेरा दोस्त कब तक आने वाला है?उसने कहा- सुबह बात हुई थी, तब उसने 8 बजे के लिए कहा था. उसको देखकर मैं भी लंड निकालकर मुठ मारने लगा।फिर उसके बाद मैं सोच रहा था कि इसकी चूत में इतनी ही प्यास है तो मैं ही जाकर चोद दूँ क्या?फिर मैंने सोचा कि आखिर वो मेरी बड़ी चाची है.

मैंने उसको वहीं पड़ी एक टेबल पर झुका दिया और अपने लंड को उसकी चुत पर रगड़ने लगा.

मैंने अपने सारे कपड़े उतारकर सूखने के लिए फैला दिये और टॉवल लपेट लिया.

उसके लंड चूसने से मुझे ऐसा मजा आने लगा, जैसे पता नहीं मैं कहां आ गया होऊं. एक लड़की से सेक्स करने में मुझे जब अधिक मजा आता है, जब उसका पति सामने हो और वो अपनी बीवी को मुझसे चुदते हुए देख रहा हो. लंदन का बीएफमैंने अपने होंठ सीधा उसकी गीली पैंटी पर रख दिए और उसके रस का स्वाद चखने लगा.

मैंने कहा- क्या मुझसे कोई काम था भाबी?भाबी मुस्कुराने लगी- हां काम तो था मगर तुम किसी काम के लगते नहीं हो. वो बोली- जीजू आप इतना क्यों तड़पा रहे हो … प्लीज़ चुसवाओ ना!मैं बोला- मैं पालतू जानवर को भी जंगली बना देता हूँ … जैसे तुम अभी हो रही हो मेरी प्यारी शर्मीली सी साली. मैं बोला- अब अच्छाई इसी में है कि हम सब एक दूसरे की हेल्प करें और कोई किसी के मामले में टांग न अड़ाये.

उसने अपने दोनों हाथ से भी मेरे दोनों चुचों को दबाया और मेरी ब्रा का हुक पीछे से खोल दिया. तभी वहां पर दो लड़के आ गए और उन दोनों ने मॉम और आंटी से चिपक कर डांस करना शुरू कर दिया.

अपनी चूत के लबों को फैला कर मीरा मेरे लण्ड पर बैठ गई, देखते देखते मेरा पूरा लण्ड मीरा की चूत में समा गया.

तभी दीदी ने आवाज लगाई- अर्णव हुआ क्या?मैं लड़खड़ाते हुई आवाज में बोला- हां दीदी हो गया. अचानक ही ज़ारा सिसकारियां लेने लगी तो मैंने उसे ऊपर से उतारा और सीधे लिटाकर उसके ऊपर आ गया. बड़ी वाली लाइट जलने के बाद कमरे में ज्यादा रोशनी हो गई थी और जीजा मुझे हवस भरी नजरों से घूर रहे थे.

पंजाबी बीएफ सेक्सी फोटो मैंने बोला- खुद से क्यों … मैं तो हूं!मेरी सास ये सुनते ही बोल पड़ीं- अगर प्राची को पता चल गया तो?प्राची मेरी पत्नी का नाम है. बिन्नी को मैंने कंधों से पकड़ा और तेज तेज पिस्टन की तरह वहशी तरीके से लौड़ा चलाने लगा.

खैर … कुछ देर मकान मालकिन से बातें करने के बाद मैं भी अपना पर्स लेकर अपने कमरे में आ गया. वो कुछ देर तो ऐसे ही मुझे घूर घूरकर देखती रही, फिर पैर से पटकते हुए ऊपर सीढ़ियां चढ़ गयी. लूसी हाइट में थोड़ी कम है लेकिन उसकी चूचियां बहुत ही गोल और सुडौल हैं.

बिहारी नंगी बीएफ

मगर मेरे मन में डर भी था कि कहीं कुछ उल्टा हो जाये और फिर सब गड़बड़ हो जाये. क्योंकि गांव में स्कूल काफी दूर था और रंगोली के पापा खेती करते थे, तो उनकी ज्यादा कमाई नहीं थी. मेरा लंड अभी भी बिल्कुल टाईट था, लेकिन मैं जल्दी जल्दी में अपनी पैंट की ज़िप लगाना भूल गया था.

मैंने पूछा- इतना जल्दी … मैं आपको न जानता हूं … ना मैंने आपको देखा है. इस समय मेरी मस्ती बढ़ने लगी थी और ऐसा लग रहा था मानो मेरा नसीब आज मुझे किसी और ही दुनिया में ले गया था.

चूँकि स्लैब की चौड़ाई कम थी इसलिए बिन्नी का सिर बार बार दीवार से टकराता रहा.

कोई और भी है इस रूम में!हम एक दूसरे से अलग हुए और बैठ गए।मैं- नीरू, वैसे तुमने ये प्लान कैसे सोचा और इसमें वंदना को कैसे शामिल किया?नीरू- जिस दिन मैंने तुम्हें यहां आने के लिए फ़ोन किया, उसके थोड़ी देर बाद मुझे याद आया कि वंदना का पति साहिल भी टूर पर 3 दिन के लिए गया हुआ है. मैं उठी और महसूस किया कि मेरा पूरा मुँह और चेहरा वीर्य से सना है और सूख गया है. उसने पागलों की तरह चूस कर सारा मूत्र पी लिया … एक भी कतरा नीचे नहीं गिरने दिया … वो सबका सब मूत्र गटक गया.

विक्रम बेड पर पीठ के बल लेटा था और संजू पूरी नग्नावस्था में उसके पेट पर बैठी हुई थी. हॉट भाभी डबल चुदाई कहनी में पढ़ें कि कैसे मैंने और मेरे दोस्त ने एक भाभी की आगे पीछे ऊपर नीचे से चूत गांड चुदाई करके उसकी इच्छा पूरी की. शिवानी को भी पता चल गया था कि मेरे चूत की भूमि पर आजकल सागर अपने लंड का हल चला रहा है.

अब शीना मेरे साइड में आकर लेट गई थी और संजना ने मेरे ऊपर बैठ कर मेरा लंड अपनी चूत में लेकर धक्के देने शुरू कर दिए.

हिंदी बीएफ एचडी में हिंदी बीएफ एचडी में: डॉक्टर से न मिलने और फिर मिलने की सम्भावना से मुझे एक ही पल हताश और खुशी दोनों ही प्रदान कर दी. भाभी को अंदाजा नहीं था कि मेरा लौड़ा कितना मोटा है, वो एकदम से कसमसा गई और अपनी टांगें सिकोड़ने लगी.

सील चुत की कहानी में पढ़ें कि कैसे मुझे एक कुंवारी लड़की की चुदाई करने का मौक़ा मिला. उधर अनिता ने मेरे ऊपर के कपड़े हटा कर नाभि से चुम्बन लेना चालू कर दिया. मुझे आशा है कि आप सभी को मेरी फ्री हिंदी Xxx कहानी जरूर पंसद आई होगी.

भैया का पूरा बदन पसीने से भीग गया था और उसके लंड पर दिव्या और सुनील के लंड से निकला हुआ वीर्य धूप में अलग से ही चमक रहा था.

फिर मैंने एक जोर का झटका दिया, अब मेरी दो उंगलियां उसकी चूत में जा चुकी थीं. बात कुछ लंबी ना हो जाए, इसलिए फिलहाल इस सेक्स कहानी पर लौट आते हैं. मैंने झांटों को साफ़ किया और उसी दौरान मुझे पायल के मुँह से चुसवाने से लंड की आधी खुमारी को अपने हाथ से पूरी करनी पड़ी.