मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में

छवि स्रोत,माधुरी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी साउथ सेक्सी: मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में, फिर दस मिनट बाद तौलिया लपेट कर बिस्तर पर लेट गया और ना जाने कब नींद के आगोश में खो गया.

हिंदी सेक्सी वीडियो बीएफ ब्लू पिक्चर

लेकिन अभी मेरी कोई भी हलचल उसको डरा सकती थी, इसी लिए मैं वैसे ही चुपचाप अपनी वासना को काबू में करके पड़ी रही. एक्स एक्स हॉट बीएफमैं उसकी चूत चोदने के साथ साथ उसकी गांड में भी उंगली डाल रहा था।इसी चुदाई के दौरान अपर्णा दूसरी बार भी झड़ गयी लेकिन मेरे लन्ड में जान अभी बाकी थी.

चाची की लड़की भी अगले दिन आ गई; उसे आप्रेशन करवाना था बच्चे ना होने का।तो वो 2-3 महीने यही रही और दिवाली से 1 सप्ताह पहले ही अपने ससुराल गयी।दीवाली से 3 दिन पहले ही चाची ने कहा- आज आ जिए रात न … घने दिन होगे करे नै!मैं बोला- ठीक है चाची … तू तैयार रिहिये झाट साफ कर कै!चाची हंसने लगी और बोली- सब साफ कर ल्यूंगी. मुसलमानी बीएफ दिखाओमैंने उधर बैठ कर आते जाते ग्राहकों को एक घंटा तक देखा, कुछ काम वाली बाईयां भी बहुत अच्छी लगीं.

कुछ देर चोदने के बाद मैंने लंड को निकाला और हेतल की गांड में पेल दिया.मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में: मैंने उसकी पैंट की जिप खोली और उसका बटन खोलकर पैंट को नीचे कर दिया.

मैं अपनी मां के चुचे दबाने लगा और निशु मेरी मां की चुत में लंड डाल कर झटके दे रहा था.जैसे ही वो थोड़ा सहज हुई … मैंने पूरा का पूरा मूसल उसके छेद में डाल दिया और उसकी कुंवारी चुत की सील भंग कर दी.

बीएफ फिल्में हिंदी मूवी - मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में

अपनी चूत से मन ही मन कह रही थी कि सहेली अब इंतज़ार ख़त्म हो गया है … और मेरे पिया ने तुम्हारे लिए नए करारे नौ इंच के लंड का इंतज़ाम कर दिया है.उसके होंठों पर लंड को रगड़ने लगा और फिर उसको मुंह खोलने के लिए कहा.

अब मेरे पैरों पर खड़े हो जाओ और मेरी गांड को अच्छे से पकड़ लो ताकि तुम खड़े रह सको।वो स्टाफ बॉय मुझसे हल्का सा लंबा था. मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में मैं समझ गया कि शायरा क्या कहना चाहती है … इसलिए मैं अब ऐसे ही रुक गया.

मैं- अब क्या सोच रही हो?वो- तुम कितना प्यार करते हो मुझे?मैं- अब ये तो नहीं जानता … पर मैं तुम्हें बस प्यार करता हूँ.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में?

आखिर 1-2 मिनट आराम करने के बाद चाचा जी एकदम से आए और बोले- चल सुहानी बहुत हुआ, अब तेरी ढंग से चुदाई होगी. पानी से प्यास बुझ जाती है … लेकिन उसी पानी में एक और जिस्म जब अपने होंठों से आपके होंठों का रसपान कर रहा हो, तो कसम से वो प्यास बढ़ती ही जाती है … और कभी खत्म नहीं हो पाती. उसकी बात पर मुझे यकीन नहीं हुआ क्योंकि आज के टाइम में कोई भी लड़की निठल्ला पति तो नहीं चाहती है.

जिसके लिए आप सभी ने मुझे मेल के द्वारा बहुत प्यार दिया … उसके लिए आप सभी का बहुत धन्यवाद. उसे देख कर ऐसा लग रहा था कि वो किसी फंक्शन में जाने के लिए रेडी बैठी है. संध्या चाची- यू मीन देवर भाभी रोल प्ले?स्नेहा अपनी दीदी के मुँह से ये सुनकर बुदबुदाई कि साले दोनों मिल कर मेरी मॉम को पेलना चाहते थे.

मामी बोलीं- अच्छा ठीक है, पहले तुम खाना खा लो, मैं तुम्हारे मामा का टिफिन पैक कर देती हूँ. बिन्नी ने बताया कि उसके मम्मी पापा दोनों सर्विस करते हैं और संडे को उनकी छुट्टी होती है. सोमवार को जब सलोनी आई तो मैंने कहा- आज से अनुष्ठान शुरू होगा जो 14 दिन तक चलेगा और पन्द्रहवें दिन समाप्ति होगी.

वो मुझसे 3 साल बड़ी थी तो मैंने कभी उसे ऐसी नज़र से देखा ही नहीं था. उसी दिन को मेरी रात की रिटर्न टिकट थी और मेरा अहमदाबाद जाना जरूरी था.

मैंने भी उसका साथ बराबरी से दिया और उसको ये नहीं मालूम चलने दिया कि मैं मानसी नहीं रूपा हूँ.

अपने हाथ नीचे ले जाकर मैंने बिन्नी के दोनों मम्मों को पकड़ा और मसलने लगा.

चूंकि उनकी गांड मराने की बात खुल गई थी, जूते पड़े थे और लड़के चिढ़ाते थे. जिसका अनुभव ऐसा रहा कि मैंने छह महीने तक उसको अपने साथ बड़े शहर में रखा. बिन्नी की आवाज को मैंने अपने हाथ से दबा लिया और लण्ड को पूरा एक ही झटके में अंदर तक ठोक दिया.

मैंने कपड़ा लगाने वाली बात जानबूझकर फिर से कही, जिससे शायरा फिर से शर्मा गयी और मेरी पीठ पर मुक्का मारते हुए बोली- तुम … तुम ना, बस अब चुप करो. मैंने भी बिना उससे पूछे अपना लंड सीधा उसकी गांड में पेल दिया और फुल स्पीड से उसकी गांड मारने लगा. अब मैंने इतने में उसकी पैंट की बेल्ट को खोला और उसको नीचे खींचने लगी.

ऐसे ही अस्मिता हर बार मेरे सामने एक कॉलेज गर्ल की तरह रहती … और घर पर एक इंडियन हाउस वाइफ की तरह बनी रहती.

अब टाइम हमारी गांड चुसाई का था, तो नजारा कुछ ऐसा था कि नील मेरी गांड को अपनी जीभ से कुरेद रहा था और जैक मेरे बूब्स को ऐसे दबा दबा कर पी रहा था, जैसे उनमें सच में दूध आ रहा हो. जैसे ही बिन्नी बाहर आई, मैंने बिन्नी से कहा- तो अपनी फ़्रेण्डशिप की शुरुआत करें. मगर मैं किसी भी तरह विक्की को अपना बनाना चाहती थी और उसके लिए कितना भी दर्द सहने के लिए तैयार थी.

मगर दस बीस धक्कों के बाद मेरे वीर्य की धार निकली और उसकी चूत को मैंने अपनी सफेद रबड़ी से भर दिया. फिर मैंने सायरा को अपनी तरफ किया और उसके दोनों उरोजों को बारी-बारी से मुँह में भरते हुए नीचे की तरफ आने लगा. मेरे आते ही वो उठ खड़ा हुआ और मैंने धीरे से उसके रूम के दरवाजे को अंदर से लॉक कर दिया.

देसी माल सेक्स कहानी पसंद आई या नहीं, अपने ईमेल में अपने विचार जरूर बतायें.

मतलब चुदने वाली लड़कियों भाभियों या आंटियों के चूचे, कमर और उनकी गांड का आकार जरूर लिखा करें … इससे उनकी छवि बनाने में आसानी होती है. एक बार भाभी ने मेरे लंड का मजा ले लिया था, तो आगे की उनकी प्यास मेरे लंड से बुझने लगी.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में कुछ देर तक हम दोनों यूं ही नाग नागिन की तरह एक दूसरे से लिपटे हुए आलिंगन करते रहे. प्रिया भाभी- लेकिन ट्विंकल जब आएगी, तो उसको होटल वालों की तरफ से कोई परेशानी तो नहीं होगी?मैंने कहा- मेरी जान तुम चिंता मत करो, मैं होटल के मैनेजर से बात कर लूंगा.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में उसने शायद मुझे पहचान‌ लिया था, इसलिए मुझे देखते ही उसके चेहरे के भाव बदल गए थे. तो बुआ को लंड की जरूरत हो गई और उन्होंने फूफा जी से चुदाई करने का कह दिया.

आप जाओ फ्रेश होने, जब फ्री हो जाना, तो मुझे बुला लेना, मैं आपको शौच करा दूंगी.

बीएफ बीएफ फुल सेक्सी

मैंने बिन्नी से पूछा- कैसा लग रहा है?बिन्नी धीरे से फुसफुसाई- अच्छा लग रहा है. बहुत ही खूबसूरत माल बनाया था बनाने वाले ने।मेरी उत्तेजना बहुत बढ़ गयी. क्योंकि शायरा को मैंने आज वो सुख दिया था, जिसका उसको ना जाने कब से इंतज़ार था.

वो आगे बोला- जितना तुम्हारे बारे में राजेश ने बताया था, तुम उससे दो कदम आगे हो. मुझे फिर से आनंद आने लगा और थोड़ी ही देर में मेरा पानी निकल गया।उन्होंने भी अपना पानी निकालने के लिए मुझे हर तरह से चोदा।वह रात मेरे लिए बहुत ही आनंद भरी रात रही।मुझे लगा कि शादी में तो उम्र भर ऐसा ही मजा रहेगा लेकिन मैं गलत साबित हुई. आप दोनों आज रात हमारे साथ डिनर कीजिए और आपका जो भी जवाब होगा, आप हमें बताइएगा.

मैंने उसकी चूत तक अपनी बाकी उँगलियाँ पहुंचाने के लिए बिन्नी की चूत के नीचे के हिस्से से थोड़े उसके पटों को खोलने के लिए हाथ को अंदर धँसाना चाहा तो बिन्नी ने थोड़ी टांगें चौड़ी करके मेरे हाथ को जगह दे दी.

और पंकज (बदला हुआ नाम) को प्लेस की जानकारी देकर हम दोनों भी घर में कुछ काम का बहाना बनाकर अहमदाबाद की फ्लाइट पकड़ने के लिए निकल गए. इसे ट्विंकल ने खुशी-खुशी मान लिया और मुझे भी उसे छूने का मौका मिल ही गया. कुछ ही पलों बाद ट्विंकल का दर्द कम होने लगा और उसने मस्ती से अपनी आंखें बंद कर लीं.

इब के करेगा? जा कोई आ जावगा?मैं बोला- लंड न ठंडा तो कर दे इब।चाची बिना बोले बाहर गई, चारों तरफ देखा, फिर अन्दर आ गयी और लंड पकड़ कर हिलाने लगी।मैंने चाची का मुंह पकड़ कर होंठ मिला लिए और मैं जोर जोर से चूसने लगा. उसके बाद मैं अपने पजामे को निकाल कर अपने कंप्यूटर के सामने बैठ गया. अब मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू किया और धीरे धीरे उसकी चूत में लंड के धक्के लगाने लगा.

मेरी चुदाई की तमन्ना पूरी हुई या नहीं?यही कहानी लड़की की आवाज में सुनें. पर कभी कभी खेत में दिन जाती तो सोचा लेता कि आज त चुत दे दे तो मजा आ जाए।खेतो में भी चुत चोदने का अलग ही मजा हैं बो भी ईख के खेत में।अगस्त महीने की बात है दोपहर को 2 बजे मैं नीचे अपने कमरे में लेटा हुआ था तो नींद आ नहीं रही थी.

उसके बाद फिर हमने रात का खाना खाया और फिर हम कंप्यूटर में गेम खेलने लगे. इधर मेरा लौड़ा उसकी चूत की गर्मी को शांत कर सकता था … मगर इस समय मैं खुद को कैसे कन्ट्रोल कर रहा था, मैं बता नहीं सकता. मेरे हाथों से मम्मों को दबाने और सहलाने से भाभी की मदभरी सिसकारी निकल गई.

मेरी सेटिंग की चूची दबाकर और उसको किस करके मेरे लंड में गीलापन तो आ जाता था लेकिन मैं चुदाई करके माल को चूत में छोड़ने का सुख चाहता था.

इसलिए मैंने अपनी‌ जरूरत वाला सामान नहीं लिया, बस जल्दी से उसे फोन‌ करने के पैसे दिए और चुपचाप वहां से सीधा अपने कमरे पर आ गया. धीरे धीरे करो।मैंने तकिया उठा कर आंटी की गांड के नीचे लगा दिया और उसके ऊपर आ गया।फिर मैंने अपने लंड को थूक से गीला कर दिया और उसकी चूत में घुसा दिया।वो एकदम से चिल्ला पड़ी- आईई … ऊह्ह … ऊईई … मर गयी कमीने … कहा था कि आराम से करना. थोड़ा सा कुम्लाहते हुए सायरा बोली- पापा, छोड़िये ना प्लीज … थोड़ी देर रूक जाओ.

फिर उसने दबी आवाज में अपना नाम नौशीन (बदला हुआ नाम) बताया।नीचे मेरा हाथ लगातार उसकी गांड पर चल रहा था. उसने ब्लू कलर की जींस और पिंक कलर का टॉप पहना हुआ था, जो कि उसकी नाभि के ऊपर तक था.

अब डेजी आई और मेरे सामने नीचे झुककर अपनी चूत मेरे मुंह के आगे कर दी. मैं बोला- यार कैसी बात कर रही है, मरवायेगी क्या?वो ये सुनकर हंसने लगी और बोली- नहीं कहूंगी, ये बातें बताने की नहीं होती. भाभी ने एक बार में पूरा पैग खत्म करने को बोला, सबने एक ही बार में खत्म कर लिया.

सेक्सी बीएफ खुला चुदाई

वो हमारे कपल्स दोस्तों को देखकर बोला- तुम लोग कैसे ऐसे अकेले ही आ गए?हमने उसको बताया कि भाई अभी हम लोग रंडवे हैं … हमारी ऐसी किस्मत कहां कि किसी चुत को साथ लेकर घूम सकें.

मेरा हाल तो इतने में ही बुरा हो गया था कि तभी उसने मेरे लंड को मुँह में ले लिया. दस मिनट ऐसे ही चूसा चूसी करने के बाद ट्विंकल बोली- अब आपकी बारी है. ये एक तरह से 69 की ऐसी मुद्रा थी जिस्मने मेरा लंड उसके मुँह में था और वो मेरी गांड को अपने लंड से भेद रहा था.

मैंने मोहित के घर आए हुए एक और कपल आलोक और निधि के साथ भी जुड़कर मजा ले लिया था. इस वक्त मेरे पास पूरे चार झोले सामान था, जो कि पड़ोसन भाभी के सामान से ही भरे हुए थे. बीएफ बुर चुदाई हिंदीवहीं से चारों लड़कियां कैब बुक करके वापस चली गईं और हम लोग वापस होटल के कमरे में जाकर अपना लाई हुई चिल्ड बियर और चिकन पेलने लगे.

दोस्त बन कर ही सही, कम से कम इस बहाने मैं शायरा को थोड़ी बहुत ख़ुशियां तो दे ही सकता हूँ. मेरा यौवन मेरी ब्रा में कैद जैसे कह रहा था कि अभी उसे निर्वस्त्र न किया जाये.

दोस्त की चुदासी बीवी की कहानी के दूसरे भागसेक्स में फंतासी की इन्तेहा- 2में अब तक आपने पढ़ा था कि रवि और पिंकी आपस में सेक्स करते हुए अनिल को शामिल करने की बात कर रहे थे. मैंने मासी को तुरंत लिटाया और मैं मासी के दोनों पैरों के बीच जा बैठा. एक दिन होटल से वापसी के समय अनु ने अपना बायां हाथ मेरे गले में डाल दिया.

अब आगे की वासना स्टोरी इन हिंदी:मैं उसके पास गई और उससे कहा- यार मेरी साड़ी उठा दो. बाथरूम से बाहर आकर मैं अपनी साड़ी पहनने के लिए उसके करीब गई, जोकि उसी के सर के पास रखी थी. अब शादी के लिए वेन्यू ढूंढना था, तो हमने दोनों ने आपस में आदित्य और हरप्रीत से पूछना ही बेहतर समझा.

मैं अनिल अपनी कहानी को अपने और अपनी बीवी के शब्दों में पेश कर रहा हूं.

वह मेरा लंड देख कर खुश हो गई और उसकी चमड़ी को ऊपर नीचे करने लगी।पहली बार किसी और का स्पर्श पाकर मेरे लंड ने भी पानी छोड़ दिया तो वह हंसने लगी. मासी ने खुद मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत पर रखा और मुझे धक्का मारने को बोलीं.

ये पहला अवसर था, जब अनामिका की चूत में कोई दूसरी लड़की अपनी उंगली से उसकी चूत चोद रही थी. क्योंकि खुलते ही इसका असर समाप्त हो जायेगा और इसके अन्दर का सामान स्वतः गायब हो जायेगा. कुछ समय बाद जब उसको ये विश्वास हो गया कि मैं सो रही हूँ, तब वो फिर से अपनी कोहनी से मेरी चूची रगड़ने लगा.

तब तक आप मुझे लड़की की गांड की कहानी के अंत में कमेंट्स करके और मुझे मेल करके जरूर लिखें कि आपको सेक्स कहानी कैसी लगी. इतने में सन्नी अपनी बियर पूरी करके न्यासा के पास आ गया और वो उसकी जानघों को सहलाने लगा. रोहिणी और निशि बुरी तरह चीख रही थीं और बोल रहीं थीं- लंड बाहर निकालो.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में फिर …अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्ते।मैं निशा, कोटा (राजस्थान) की रहने वाली हूँ. तुम ये उम्मीद मत करना कि मैं सिर्फ तुम्हें ही टाइम दूंगा क्योंकि मुझे पता है शादीशुदा औरतें मुझे इतना टाइम नहीं दे सकतीं.

सेक्सी बीएफ बीएफ चाहिए

मेरे मुँह से दर्द भरी सिसकारियां निकल रही थीं और आंखों से आंसू बह रहे थे. फिर वो मेरी गर्दन को चूमते हुए नीचे को आया और उसने मेरे पीठ पर अपने चुंबन की बारिश कर दी. प्रियंका भी मजे में अपनी गांड उठा उठा कर अपनी चूत चुसवा रही थी और अपने हाथों से उसका सर अपनी चूत में दबाने में लगी थी.

वैसे तो रात में ऊपर कोई नहीं आता, मगर गर्मी के कारण मैं रात को सोते समय दरवाजा खुला ही रखता था इसलिए मैंने अपने ऊपर एक पतली सी चादर डाल ली और चादर के अन्दर ही अपने लंड को धीरे धीरे हाथ से सहलाना शुरू कर दिया. फिर बुआ दूसरे विषय पर आते हुए बोलीं- बेटा, उस समय तुम दीदी के बारे में क्या कह रहे थे कि वो आतीं … तो उनको ही मजा आता. बीएफ सेक्सी तमिलनाडुउनका सख्त लंड मेरे मुँह में जगह बनाता हुआ घुस गया और हलक तक जा कर अटक गया.

मैं भाभी को किस करने लगा और भाभी ने मेरा लंड को अपने हाथों से हिलाने लगीं.

और डॉक्टर शक्ति मेरे दो मासूम सी कलियों को अपने होंठों के बीच दबा कर चूस रहा था. हेतल बोली- अन्नू, ये जब तक यहां है, इसको हमारे साथ ही चुदाई करने दे प्लीज!अन्नू बोली- हां, क्यों नहीं, जरूर.

उसकी हाफ पैंट को नीचे खिसकाया तो उसकी गुलाबी रंग की पैंटी भी दिख गयी मुझे!उसने गुलाबी रंग की ब्रा-पैंटी का सेट पहना हुआ था जिसमें वो पूरी कहर लग रही थी. उनमें से एक बोला- इसको मेरे कमरे में ले चलते हैं वहां ढंग से इसे चोदेंगे. अब लंड Xxx चाची की चूत में पूरी गहराई तक उतर रहा था और उसके चेहरे पर आनंद के साथ ही हल्का दर्द भी झलक रहा था.

एक दिन उसका फ़ोन आया कि वो कुछ काम से मुम्बई आ रही है और वो मेरे साथ ही रहेगी 2-3 दिन तक!मेरे मन में लड्डू फूटने लगे.

चूंकि पूजा बुआ को पैसे की कोई कमी नहीं थी तो उन्होंने मुझसे चार बर्थ वाले पूरे एक कूपे को बुक करने के लिए कहा था. मेरी तरफ देखते हुए डॉक्टर बोला कि तुम्हें 10-12 दिनों तक रोज आना पड़ेगा ताकि तुम्हारे मम्मे तुम्हारे चाहत के शेप ले सकें. मेरी ऐसी स्थिति देखते हुए कविता ने भी धक्कों की गति धीमी करनी शुरू कर दी और जैसे जैसे मैं स्थिर होने लगी, वो भी रुक सी गयी.

भोजपुरी बीएफ व्हिडिओ एचडीमैं अनु की बात सुनकर खुश हुआ कि उसने अविना को मेरे मजबूत लंड के बारे में बता दिया है. उसके द्वारा की गयी चोरी की सजा उसे मिल रही थी, वो इसे सही से दिखा रही थी.

18 साल की लड़की की बीएफ वीडियो

तभी तो मुझे उससे प्यार हो गया था और इसी प्यार ने मेरी सोच बदल दी थी. उसके ठीक 2 दिन बाद संडे था और मेरे मम्मी पापा को उस दिन बाहर जरूरी काम से जाना था. ये सच भी है कि मैं एक बड़ी चुदक्कड़ हूँ और अब तक न जाने मैं कितनों के लंड की किस्मत का ताला खोल चुकी हूं.

शॉवर के पानी से उसके मम्मों में लगा मेरा वीर्य बहकर नीचे उसके पेट पर जाने लगा. प्रियंका ने इस बात का नोटिस कर लिया था, फिर भी उसने नज़रअंदाज़ कर दिया. मैं भाभी से बोला- भाभी, अब मुझसे रहा नहीं जाता है, पहले एक बार जल्दी से ले लूं … बाकी का खेल तसल्ली से करूंगा.

रोहित जल्दी घर नहीं आ रहा है यह जानकारी योगेश को निश्चित तौर पर प्रसन्नता हुई और उसने मेरी जांघ पर फिर से अपना हाथ रख दिया और मुझसे सट कर बैठ गया।मैं अब समझ गई कि बहुत जल्दी योगेश मेरी चुदाई कर देगा।मैंने अपना ड्रिंक उठाकर पूरा पैग एक झटके में खत्म कर दिया. मैंने जैसे ही कमरे में एंट्री ली और दरवाजे से एंटर हुआ, किसी ने मुझे पीछे से दबोच लिया. अब तक की मेरी जिन्दगी में ये पहली भाभी थीं जो खुद मुझे एक चुदासी रंडी की तरह अपनी तरफ बुला रही थीं.

इस तरह आधा घंटा में रेशमा को तीन पैग पिलाने के साथ मैं उसके बदन से खेलता रहा. मैंने भाभी की नाइटी नीचे से ऊपर अपने हाथों से पकड़ कर एक हाथ से उनकी चड्डी थोड़ी सी नीचे कर दी.

मैं अपने होंठों को उनके लंगोट के पास ले गया।और मैंने उनके लंड को लंगोट के साथ ही मुँह में ले लिया.

बस एक कदम और आगे जाना है, वो भी दोस्ती की खातिर।ये कहकर मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और सहलाने लगा. हिंदी वाला सेक्सी बीएफमैं रुक गया तो उसने पूछा- क्या हुआ?मैंने बोला- कंडोम महसूस नहीं हो रहा है. हिंदी बीएफ मैथिलीतभी उतने में वो लड़का वापस होटल में दारू की बोतल अपने हाथ में लेकर आ रहा था. शायरा के साथ बातें ऐसी हो रही थीं, जैसे उसके हां ना पर मेरी ज़िंदगी टिकी हो.

कुछ देर निप्पलों को पीने के बाद फिर पेट के रास्ते नीचे जाकर उसकी लोवर को एक झटके में नीचे खींच दिया और उसका मनपसंद खिलौना उसके सामने था.

गोदी में आते ही सायरा मेरे होंठ को चूमते हुए बोली- पापा याद है ना आपको, एक बार आप बोले थे कि आप नंगे हो और मैं तौलिया लपेटे हुए हूं और आज मैं नंगी हूं … और आप लुंगी पहने हो. शायरा मेरी बात अब बड़े ही ध्यान से सुन रही थी इसलिए मैं बोले जा रहा था. भाभी बोलीं- थोड़ा जल्दी करना यार … मोहित आ जाएगा, तो उसको बुरा लगेगा.

दोस्तो, मैं एक महिला में सबसे पहले उसके चुचे देखता हूँ और सेक्स में वहीं से स्टार्ट करता हूँ. अब स्थिति ये हो गई थी कि पोर्न मूवीज के हर सीन पर रवि कुछ कहता, तो पिंकी भी उसे रसदार जवाब दे देती. मैंने अपने लंड की मुठ मारना शुरू कर दिया जबकि रोजी ने अपनी गांड को डिल्डो से रगड़वाना शुरू कर दिया.

बीएफ व्हिडीओ ट्रिपल

इस तरह की मूवीज चलाने लगीं तो दोनों रोज ही थ्री-सम सेक्स की बात करने लगे. उन्होंने बताया- मैं शादी के बाद से ही अपनी शौहर के साथ बहुत खुश रहती थी. मैं बोला- क्या तुम्हारे एथलिटिक फिगर का राज यही है? या फिर तुम जिम में जाकर भी लौड़े खड़े कर देती हो?रोजी- हां, जब मैं जिम में वर्क आउट करती हूं तो जवान लड़के मेरी तरफ लार टपकाते रहते हैं.

मेरी गांड में थूक कर उसने लंड का सुपारा लगाया और धीरे धीरे करके गांड में लंड पेलने लगा.

जिससे मामी ज्यादा देर टिक नहीं पाईं … और दोनों हाथों से मेरे सिर को पकड़ कर अपने चूत पर दबाने लगीं.

मेरे मुँह में लौड़े के अन्दर रहने के टाइम से अब कोई भी घड़ी का टाइम मिला सकता था. तब मुझे लगा कि कहीं ऐसा तो नहीं है कि शायद उसकी मम्मी को भी मेरा लंड पसंद आ गया हो … क्योंकि वो चुदाई देखते समय अपनी चुत सहला रही थीं. फिल्म पिक्चर बीएफमेरे घर में मैं अकेला था क्योंकि मेरी पत्नी का देहांत 15 साल पहले हो गया था और मेरा बेटा अपनी पत्नी व बच्चों के साथ लन्दन में रहता है.

उसने मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर अपनी चुत में ले लिया और जोर जोर से ऊपर नीचे होने लगी. भाभी खुद से उठ गईं और फटाफ़ट अपना लोअर और पैंटी को निकाल कर नंगी हो गईं. फिर उसने चुपके से मेरी पैंटी उठाई और सहजता से उसे अपनी पैंट की जेब में ठूंस लिया.

उन दोनों की पूरी रात चुदाई करके मजा लेता रहता थावायदे के हिसाब से छोटी बुआ ने मुझे अपनी पड़ोसी एक ब्लैक ब्यूटी का चूत चोदने को दिलाई. मैं- क्या पहले कभी इतना मज़ा आया है?बिन्नी- पहले कभी ऐसा किया ही नहीं, बस रोहन के साथ ही थोड़ा बहुत किया है.

मैं बोली- मगर तुम मेरे लिये क्या कर सकते हो?नील- जो तुम कहो, वही करने के लिए तैयार हूं लेकिन तुम्हें डायरेक्टर से बात करनी होगी इसके बदले में।मैं बोली- ठीक है, कल शाम को 7 बजे मेरे घर आ जाना.

मेरे लहंगे का ब्लाउज मेरी चूचियों के उभारों पर से मेरे सीने पर तना हुआ था और मैं हाथ से आखिरी कंगन निकाल रही थी कि उन्होंने पीछे से आकर मुझे अपनी बांहों में भर लिया. मैं बोली- हां, मैं चुदी तो बहुतों के लंड से हूँ लेकिन तेरे जैसा कोई नहीं है. क्योंकि अभी प्रिंसिपल का फ़ोन आया था और वो बोले हैं कि आज स्कूल बंद कर दो.

बीएफ हिंदी गर्ल उनको एक ट्रेडीशनल वैडिंग के लिए एक प्लानर चाहिए … लेकिन इससे ज्यादा उसके पास कोई सूचना नहीं थी. जिससे शायरा का दर्द तो कम नहीं हुआ … पर मुझे लग रहा था कि उसका प्यार जरूर बढ़ रहा था.

फिर उसने मेरी चूत पर लंड को लगा दिया और मेरी कमर को अपनी तरफ खींचते हुए एक धक्का दे दिया. वो- तुमने अपने ही कॉलेज की प्रोफेसर को पटा लिया … और उसे घर पर भी ले आए. मैंने कई मिनट तक उसकी चूत चाटी और फिर उसके ऊपर आकर अपने शॉर्ट्स नीचे कर लिये.

हिंदी में बीएफ भेजना

उधर कामातुर हो चुकी मेरी मां मुझे जांघों के बीच में दबाने लगीं और बोलीं- ओह … मेरे बेटा कहां से सीख कर आया तू यह चुत चाटना … इस्शस … ऐसे ही और चूस … ओ मेरे राजा … तेरा बाप तो कभी चख नहीं पाया ये यौवन रस … अब तेरा नसीब खुल गया है … चाट ले. लगभग 15 मिनट ऐसे ही चोदने के बाद मैं बोला- आह कप्पो रानी … मेरा निकलने वाला है. भाभी बोलीं- ऐसे कोई बिना बात के थोड़े ही बात करना छोड़ देता है, तुमने उसका दिल दुखाया होगा.

भाभी- फिर दो बजे हम लोगों ने लंच किया और चारों लोग नंगे होकर बेड पर एक दूसरे के अंगों से खेलते हुए आराम करने लगे. बस मॉम इतना ही बोल रही थीं- हैलो क्या कर हो बेटी!करीब 5 मिनट बाद हम एक दूसरे से अलग हुए.

फिर उसने खुद ही नैना से पूछा- आपको आपका कमरा पसंद आया मेम?जी बिल्कुल.

शायरा को शायद विश्वास था कि अगर मैं भी सही में उससे प्यार करता हूँ, तो मैं उसका ये इशारा समझ जाऊंगा. मेरे भूरे निप्पल पर उसकी गर्म जीभ चाटते हुए मुझे बहुत मजा दे रही थी. मेरी टी-शर्ट उठा कर मेरे पेट को और नाभि में उंगली डाल कर सहलाने लगा.

अब मैं ट्विंकल की एकदम चिकनी पावरोटी जैसी फूली हुई चुत चाट रहा था, साथ ही मैं दोनों हाथों से ट्विंकल के दोनों चुचों को जोर जोर से मसल रहा था. उसका लंड एकदम से रॉड की तरह सख्त था और मेरी चूत को चोदकर कुछ फूल सा गया था. जब आयशा अपने रिश्ते में किसी की शादी में गयी थी … तो मैंने जीजू को अपनी चूत को शांत करने के लिए बुलाया था.

राजू चाचा- चल फिर मैं आज तुझे भाभी समझ कर चोदता हूँ … और तू मुझसे देवर समझ कर चुदवा ले.

मां बेटे की सेक्सी बीएफ हिंदी में: राजू चाचा ने संध्या चाची के सिर को अपने लंड पर दबाते हुए कहा- तो तू कौन सी कम थी रंडी … मैं जब दीदी की चूची चूस रहा था तो तू भी उनकी चूत कैसे फैला फैला कर चाट रही थी. निशि पहले भी एक दो बार गांड मरा चुकी थी, तो उसको ज्यादा दर्द नहीं हुआ.

खैर, सबके ऊपर जाने के बाद पिंकी ने चिंटू को जबरदस्ती सुला दिया और अनिल को फोन करके पहले तो आने को मना किया. उसके बाद सायरा बोली- जब मेरा पति मेरी चूत का रस पी सकता है … तो मैं पत्नी हूं. उधर कामातुर हो चुकी मेरी मां मुझे जांघों के बीच में दबाने लगीं और बोलीं- ओह … मेरे बेटा कहां से सीख कर आया तू यह चुत चाटना … इस्शस … ऐसे ही और चूस … ओ मेरे राजा … तेरा बाप तो कभी चख नहीं पाया ये यौवन रस … अब तेरा नसीब खुल गया है … चाट ले.

मोहित मुझसे अलग होते हुए बोला- तुम क्या कहना चाहती हो?मैं- मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं.

फिर चाचा जी ने अपने लंड का सुपारा मेरी गांड पर रख कर दबा दिया, जिससे गुप्प की आवाज आयी और थोड़ा सा लंड अन्दर चला गया. भाभी- अरे … ये कौन सा चूतिया सैट किया था?ट्विंकल- हां यार साला चूतिया ही था. उसने बार बार फोन करके पिंकी का मन इसलिए बना लिया कि रवि तो दीपा के चक्कर में है.