मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ पिक्चर कार्टून

तस्वीर का शीर्षक ,

દેસી સેક્સી વીડિયો: मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ, मगर बात करना तो दूर … वो तो मुझे अपने घर बुलाकर अपने हाथों का बना‌ नाश्ता भी करने‌ को कह रही थी.

मधु शर्मा के वीडियो बीएफ

सेल्सगर्ल- यस सर, वैसे तो मैम‌ का रंग फेयर है इसलिए इन पर कुछ भी सूट करेगा … मगर ब्लैक और भी ज्यादा बैटर रहेगा. बीएफ सलमान खान कीमैं तो आपकी दोस्त हूँ ही! फिर क्या?वो कुछ रुक कर बोले- मैं तुम्हारे साथ वो सब करना चाहता हूँ जो एक पति पत्नी करते हैं।मेरा दिल तो पहले से ही जानता था कि वो यही कुछ बोलेंगे मगर मैं चौंकते हुए बोली- यह आप क्या कह रहे हैं, आप मेरे अच्छे दोस्त हैं और हम दोनों की उम्र में भी काफी फासला है।वो मेरे हाथों को अपने हाथों में लेते हुए बोले- जैसा कह रही हो, वो तो सच है.

मैंने उसे पीछे से पकड़ा और जो मम्मे रगड़ना शुरू किए कि उसका शरीर ढीला पड़ गया। पीछे से मेरा लंड भी उसकी गान्ड की दरार में बार बार जाने के लिए मचल रहा था. सेक्सी वीडियो चोदा चोदी बीएफ चोदा चोदीउससे मेरी पैंटी सरक नहीं रही थी तो उसने फाड़ दी और मेरी चिकनी चूत के दर्शन किए.

मगर मैं झट से अपने लंड को उसकी पहुंच से दूर कर देता था वो बड़ी मुश्किल से कभी कभी ही लंड को छू पा रही थी.मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ: यह सब फ्राइडे तक चला और शनिवार को मेरी ननद को आना था … इसलिए मैं पूरी सती सावित्री की तरह से बन गई थी.

तभी उन्होंने अपना हाथ मेरी गांड से हटाकर मेरी चूत में लगा दिया जिससे मुझे जोर का झटका लगा.बात ये है कि मैं रमेश को किसी भी बात पर कुछ भी कहूँ, वो सीधे मुँह जवाब ही नहीं देता है.

संगीत का बीएफ - मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ

मैंने मॉम को थैंक्स बोलकर उन्हें ‘आई लव यू मॉम …’ कहा और जोर से हग कर लिया.दोस्तो, मैं वासना में पागल हो रही थी तो रोहित का विरोध तो बहुत कम कर रही थी।अब मैं उसके सामने पहली बार सिर्फ ब्रा पैंटी में थी.

खाने के आधे घंटे बाद अभिषेक मुझे फिर से उसी बारिश में छत पर ले गया और मैंने उसी बारिश में भीग कर अभिषेक का लंड चूस चूस कर खड़ा कर दिया. मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ मन तो कर रहा था कि मैं ऐसे ही इस रंडी के मुंह में लंड दिये रहूं और ये दिन रात ऐसे ही मेरे लंड को चूसती रही.

जिस लड़की का मेल आया था, मैं यहां उस मैडम का काल्पनिक नाम यूज करूंगा, क्योंकि यह कहानी मैं उन्हीं की परमिशन लेकर यहां पर लिख रहा हूं.

मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ?

उनका मूसल सा तनतनाता हुआ लौड़ा देख कर एक पल के लिए तो मैं डर ही गयी थी. चल उठ देर हो रही … कॉलेज नहीं जाना क्या?स्नेहा एक मॉर्डन जमाने की वो लड़की है, जिसे इस सबसे कोई परहेज नहीं था. मैंने भी उसकी चूचियों का मजा लिया और रास्ते में खिलवाड़ करने से अच्छा उसको नंगी करके चूचियां चूसना समझा.

शिल्पा बिना कुछ बोले घोड़ी बन गई क्योंकि इस समय वो मेरी बीवी कम राहुल की गलफ्रेंड ज्यादा थी और उसे चुदने में मजा भी आ रहा था. स्पीड बढ़ाने पर उसने मेरा लंड छोड़ दिया और चूत वाले हाथ पर हाथ रख दिया. तभी श्रेया मैडम मेरी तरफ मुड़ीं और कहने लगीं- और बताओ … कैसा लगा कॉलेज?मैंने कहा- बढ़िया है मैडम.

मैंने आयेशा को कॉल करके सारी बात बता दी तो उसने भी मुझे बोला- 1 बार कोशिश करके देख ले. अब आगे की गार्डन सेक्स की हिंदी कहानी:यही कहानी लड़की की कामुक आवाज में सुनें. उसकी आग देख कर लग रहा था कि ये लंड को लीलने के लिए हद से ज्यादा बेताब है.

पहले जब मैं उसको चूमने की कोशिश कर रहा था तो वह थोड़ी असहज महसूस कर रही थी. मैंने उसके हाथ से ट्रे लेकर एक कप उसे दिया और दूसरा खुद लेकर ट्रे रख दी!ज़ारा- क्यों जनाब! शेर खत्म हो गये या बाकी हैं मुझ नाचीज के लिए?मैं- हां ज़ारा, शेर खत्म हो गये.

मैं लगातार उसकी चुत को चाट रहा था और वो मेरा सर पकड़ कर अंदर की तरफ खींच रही थी और मेरा मुंह उसकी चुत की दरार के अंदर तक धंस गया.

उसकी काली ब्रा में कैद उसकी कसी हुई चूचियां बहुत ही मस्त लग रही थीं.

मेरी दर्द के मारे चीख निकलने ही वाली थी कि उसने मेरी पैंटी मेरे मुँह में घुसा दी. तब तक अगर परिवार वालों के साथ रही तो मम्मी, पापा भैया भाभी और हम सबके बच्चों को भी खतरा है. मुझे रोज मामी की कातिल जवानी को याद करके अपनी मुठ मार कर सो जाना पड़ता था.

उन सेक्स कहानी को पढ़ कर अब मेरी समझ में पूरी बात आ गयी थी और मैंने चुदाई के प्लान पर काम शुरू कर दिया था. जूली ने मेरी चड्डी को उतार फेंका और अपनी चूचियों से लटकी अपनी ब्रा को भी आजादी दे दी. घुटनों के बल खड़े होकर मैंने अपने लण्ड का सुपारा रेखा के इण्डिया गेट पर रखा और लण्ड को अन्दर सरकाते सरकाते मैं रेखा पर लेट गया और उसकी चूचियां चाटने लगा.

सील चुत की कहानी में पढ़ें कि कैसे मुझे एक कुंवारी लड़की की चुदाई करने का मौक़ा मिला.

आपको ये हॉट लेडी की चुदाई कहानी पसंद आई हो तो अपने कमेंट्स में अपनी राय जरूर दें. फिर मैंने उसकी साड़ी पेटीकोट सहित ऊपर उठाई और उसकी टांगों, जांघों और गांड पर हाथ फेरने लगा. अभी तक वो मेरे कॉलेज के तीन चार लड़कों की पिटाई कर चुकी थी इसलिए सब उससे इतना डरते थे, मजाल‌ है … जो‌ कोई उसको कुछ फालतू बोल भी दे!कॉलेज के एक‌ लड़के‌ ने तो बताया था कि एक बार उसने हमारे ही कॉलेज के एक प्रोफेसर को भी थप्पड़ लगा दिया था.

आपका सही रेस्पोन्स आया तो श्रुति के साथ के और भी किस्से मैं आपको बताऊंगा. वो सिसकारने लगी- आह्ह राज … इस गर्म जीभ की चुसाई के लिए मैं तरस गयी थी. आधा घंटा की बातचीत के पश्चात मैंने उससे पूछा- कुछ नया आया है?तो उसने कहा- हां एक स्पेशल टेबलेट लेडीज के लिए आयी है.

मैं अपनी साली को और अपने साढ़ू की बॉडी को सकुशल इंडिया लेकर आना चाहता था.

थोड़ी देर बाद वो खड़ी हुई और उसने अपनी स्कर्ट उतार कर एक तरफ फैंक दी. मैंने भी काफी समय तक मुंबई में रिसर्च एनालिस्ट का काम किया और अब यह काम मैं शौकिया तौर पर करता हूं.

मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ मैं- ज़ारा!ज़ारा- मुझे आपसे कोई बात नहीं करनी!मैं- सॉरी यार! मेरा मूड खराब था!वो और ज्यादा सिसकने लगी. सोनाली की चीख और आँसू एक साथ निकल रहे थे।सौरभ बेरहमी से गांड चुदाई कर रहा था, उसे बहुत मजा आ रहा था। मैं और मालविका चुदाई देख रहे थे.

मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ फिर जैसे ही मेरे लंड ने शायरा की चुत में वीर्य उगलना शुरू किया, मेरे लंड से निकलते गर्म गर्म वीर्य को अपनी चुत में फील करके शायरा ने भी मुझे कसके अपनी बांहों में भींच लिया और मेरे लंड को अपनी चुत में जकड़कर उसने भी अपनी चुत का रस मेरे लंड को पिलाना शुरू कर दिया. अब म्यूजिक नशीला था और समां रंगीला … सभी मस्त होकर धीरे धीरे घूम रहे थे.

मैंने फिर एक बार पूरा लन्ड निकला और एक झटके में ही पूरा अंदर डाल दिया।मीना- आह … मर गई … आह… धीरे कर … जान निकाल दी हरामी.

पंजाबी भाई-बहन की सेक्सी

मैं हाथ-मुंह धोकर आया तो तुरंत उसने एक कौर तोड़ कर हाथ में ले लिया. उसकी चूत तो मैं पहले भी चोद चुका था लेकिन जब वो सामने होती थी तो जैसे लंड में आग लगा देती थी. अभिषेक ने एक साल में मुझे चोद चोद कर पूरी रंडी औरत जैसा बना दिया था.

अनीता तिरछी लेट कर आधे ऊपरी शरीर पर वहशियाना तरीके से मुझे चूम और चाट रही थी. मुझे ऐसा मुझे लगा तो मैं अपनी चूत को और तेजी से ऊपर नीचे करने लगी और झड़ने को हुई तो मेरी आह तेजी से निकली. वो काम मेरी ससुराल के शहर में ही था, तो मुझे अपनी ससुराल में रुकना पड़ गया.

जिस पर वो हैरान होकर बोले- तुम जैसी हुस्न की परी का कोई बॉयफ्रेंड नहीं है? मैं ये नहीं मान सकता!तो मैंने मन में सोचा ‘मत मान … माँ चुदा … ही ही ही ही’लेकिन मैंने उनसे ये बोला नहीं, बल्कि मैंने उनको बता दिया कि मेरा मेरे बॉयफ्रेंड के साथ ब्रेकअप हो गया था.

मैंने कहा- मामी अभी तो और तरीके से चोदूंगा आपको … अब आपकी प्यारी गांड को चोदूंगा. न जाने कैसे उसने मुझे देख लिया और वो एकदम से घबरा कर अपने बदन को ढकने लगी. मैं बोला- बस जान … एक बार दर्द होगा और फिर ऐसा मजा आयेगा कि तुम खुद लेने को बोलोगी.

विक्रम ने संजू की दोनों टांगों को थोड़ा चौड़ा किया और उसकी मस्त चूत को बड़ी ध्यान से देखने लगा. उसकी यहां बैंक में नौकरी लगे अभी एक‌ डेढ़ साल ही हुआ था और तब से ही वो यहां इस घर में किराये पर रह रही थी. वो- क्या … क्या कहा तुमने?शायरा अब चिल्लाते हुए मुझे मारने को दौड़ी और मैं भागा.

सेल्सगर्ल- सर, मैम आपकी गर्लफ्रेंड हैं?शायरा अब तुरन्त मेरी तरफ देखने लगी कि मैं क्या जवाब देता हूँ. मैंने उसका शुक्रिया अदा करते हुए कहा- बहुत सालों बाद मैं इतनी चुदी हूँ.

आज चौथा दिन था, मैं कॉलेज के लिए निकलने ही वाली थी, तभी डॉक्टर ने मुझे फोन करके कहा कि दो-तीन दिन वो अपनी क्लीनिक नहीं जाएंगे. इधर से मैं भाभी की गर्दन पर किस करने लगा और अपना एक हाथ ले जाकर भाभी की ब्रा का हुक खोलने लगा. मैंने पूछा- और बताओ घर में सब ठीक है?उसने कहा- क्या बताऊं रूपा, मेरी वाइफ अभी कुछ दिन पहले संसार छोड़ कर चली गई है.

वो मेरे ऊपर हावी होना चाहते थे लेकिन मैं उनको अपना कंट्रोल उनके हाथ में नहीं देना चाहती थी बल्कि उन पर खुद राज करना चाहती थी.

मैंने एक बार फिर से उसको बांहों में भरा और उसके नर्म रसीले होंठों को चूसने लगा. उसके शौहर के लंड से मेरा लंड कुछ ज्यादा मोटा था तो भाभी एकदम से चिहुंक उठीं और उनके कंठ से आवाज निकल गई- आह मर गई मम्मी रे … मेरी चूत फट गई!मैंने भाभी की चीख सुनी तो रुक कर उनके चुचे सहलाने लगा. उसको भी मैंने अपने जाल में फंसाया और उसे भी अपनी चुत चाटने वाला बना लिया.

मैं तेजी से उसकी चूत में जीभ चलाने लगा और अब उसके हाथ मेरे सिर पर आ गये. मैं भी उसके कहे हुए वाक्य को अच्छी तरह समझ गई और उसके सामने देख कर मुस्कुरा दी.

अरे … ये बेचारा तो तुम्हारी मदद कर रहा था‌, नहीं तो तेरी साड़ी फट जाती. मैं वहीं बड़ी देर से मुठ मार रहा था, लेकिन किसी का ध्यान मेरी तरफ नहीं गया. एक दिन आंटी शाम को कमरे में आईं, तो उन्होंने देखा कि मैं किचन में रोटी बना रहा था.

gaurav सेक्सी

उस वक्त मेरी शादी हुए तीन साल हो गये थे और मैं एक बेटे का बाप भी बन चुका था.

मेरी नजर डॉक्टर पर पड़ी, जो अपनी बनियान उतार चुका था और अब चड्डी उतार रहा था. वो तेज तेज अपनीमोटी गांडको हिला कर मॉम की चूत में धक्के लगा रहे थे और बड़बड़ा रहे थे. एक बात और इसमें मैंने अपनी तरफ से कुछ मिर्च मसाला लगाया है, शायद आपको भी पसंद आए.

किसी भी मूवी में किसिंग और लिपटने चिपकने के सीन आना तो नॉर्मल सी बात है … मगर वो सीन कुछ ज्यादा ही बोल्ड और उत्तेजक थे, जिससे शायरा अब असहज सा महसूस करने लगी. वो बोली- तो फिर तुम मसाज कर ही क्यों रहे हो जब तुम्हें करनी नहीं आती?मैंने कहा- मजबूरी में. वीडियो सेक्सी फुल बीएफअपनी वासना शांत करने के लिए मैंने …दोस्तो, मैं समिता, आज अन्तर्वासना के इस मशहूर पटल पर आपको अपनी माँ बेटा सेक्स की सच्ची कहानी बता रही हूँ.

उसने जोर जोर से किलकारियां सी मारते हुए मुझे कसके पकड़ लिया और अपनी चुत के रस से रह रह कर मेरे लंड को नहलाना शुरू कर दिया. उसके अगले दिन मेरा काम खत्म हो चुका था और मैं वापिस दिल्ली आ गई थी.

कुछ दिन बाद मेरा बेटा भी अपनी पढ़ाई के लिए बैंगलोर चला गया और घर पर मैं, सुधा और मां ही रह गए. दोनों झड़ने के बाद कुछ देर उसी अवस्था में एक दूसरे को चूमते चूसते हुए ऐसे कुत्ते और कुतिया की तरह हाँफ रहे थे जैसे मीलों की दौड़ लगा कर आए हैं दोनों!फिर सुमन जैसे शिकायत सी करते हुए उसके कान में बोली- यार, तुमने तो थका दिया और माल भी भीतर गिरा दिया … कहीं रह गया तो मैं ही परेशान होऊँगी … हटो अब!पंकज मुस्कराते और हाँफते हुए सुमन के ऊपर से हटा तो एक अलग ही नजारा सामने था. मेरी दर्द के मारे चीख निकलने ही वाली थी कि उसने मेरी पैंटी मेरे मुँह में घुसा दी.

तभी विक्रम बोला- भाभी इसे हाथ में लो ना!संजू ने सहमते हुए उसका लंड जैसे ही हाथ से छुआ, उसने जोर से सीत्कार भरी- इस्स … ये तो बहुत बड़ा, मोटा और टाईट है. उसके बाद मैंने उसके जन्मदिन के लिए केक का ऑर्डर दे दिया और एक बढ़िया सा गिफ्ट भी पैक करवा लिया. खैर, मैं झटके पे झटके दे रहा था तो ज़ारा झड़ने लगी और नीचे होने लगी.

जब मेरी उससे बातचीत हुई, तो उसने मुझे बताया कि उसने उस व्यस्क साईट पर मेरा एड देखा था.

पहले प्रियंका ने अनामिका के एक निप्पल को अपने होंठ में दबाया और हल्का सा खींच कर चूस लिया. उसके नेक्स्ट डे रूम सर्विस वाली आई और वो मेरी तरफ एक लिफाफा देती हुई बोली- कल वाला लड़का फिर से आया है और एड्वान्स दिया है.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरी के माध्यम से आप सभी को अपनी गर्म स्टोरी सुना रहा हूँ. मैंने अपना मुँह मामी की चूत में लगा दिया और उनकी चूत का सारा पानी अपने मुँह में भर लिया. मैं हमेशा ही अपने आप को उस स्थिति में सोचती थी जब डीडीएलजे फिल्म में काजोल जब शाहरूख के नीचे ऐसे ही भूसे पर चुदी थी.

वो मेरी इन हरकतों से पागल होती जा रही थी और मेरे बालों को पकड़ कर कभी कभी खींच दे रही थी. उसका लंड अब तक अपने पूरे शवाब पर था, जिसको उसने मेरे सामने बाहर निकाल कर पूरी तरह से आज़ाद कर दिया था. तुम टीवी बंद करो, चलो कुछ बात करते हैं, ऐसा मौका बहुत कम मिलता है।मेरे सामने अभी भी भाभी का ब्रा-पेंटी वाला लुक आ रहा था।मैं बोला- ठीक है।और टीवी बंद कर दिया।हम बातें करने लगे.

मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ उसने मुझे पेड़ की आड़ में कैसे चोदा?मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भागसिनेमा हाल में चूत चुदाई का मजामें आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपने यार से सिनेमा हाल में चुदी. कभी-कभी दोस्तों से मस्त चुदाई वाली मूवीज मिल जातीं, तो बस उसे देखकर बाथरूम में जाकर लंड को मुठ मार कर माल निकाल देता था.

तीता सेक्सी

मैंने कहा- मामी अपनी गांड में वैसे जोर लगाओ … जैसे सुबह हगने जाती हो. शायरा कुंवारी नहीं थी … मगर फिर भी उसकी चुत चाटने में इतना अधिक मजा आ रहा था कि बस पूछो मत. मेरी साली राखी की उम्र 55 के ही करीब होगी और अभी तक उसके मन में एक बेटा पैदा करने की इच्छा थी.

उसकी जीभ मेरे मुंह में आ रही थी और मैं उसके मुंह में जीभ देकर किस का मजा ले रही थी. ’ एक झन्नाटेदार थप्पड़ मेरे गाल‌ पर पड़ा और उसे चिल्लाना शुरू कर दिया- ये सब क्या है … शर्म नहीं आती तुम्हें?उसने चिल्लाते हुए कहा और झटक कर मेरे हाथ से अपना पल्लू खींच लिया. देवर भाभी की रोमांटिक बीएफइससे क्या होता है कि आपकी साथी और आपकी भी कामुकता कम हो जाती है, औरत ठंडी पड़ने लगती है.

उम्म्ह … अह … हयई … याह … मुझे काफी दर्द हुआ, मेरी गांड के अन्दर से खून भी निकल आया था.

अब जैसे जैसे मैं उनके गले को चूमता जा रहा था, उनकी उँगलियाँ मेरे बालों को सहलाती जा रही थी. तभी मैंने मॉम से कहा- पापा को भी कुछ नहीं पता चलेगा, आप मुझ पर भरोसा कर सकती हो.

अनिल ने ड्रामा करते हुए रवि से कहा- यार आज तूने मेरी पिछले पांच साल की तमन्ना पूरी कर दी. मैंने उसे थोड़ी देर आराम करने को कहा तो वो भी मेरी बगल में लेट गया और मुझे चूमने लगा. जीजा बोले- तो ठीक है, यहीं गांव में मेरे दो दोस्त ठेकेदार हैं जिनके पास जेसीबी और ट्रक व डंपर हैं.

उसके लंड चूसने से मुझे ऐसा मजा आने लगा, जैसे पता नहीं मैं कहां आ गया होऊं.

सर ने मुझे अपनी बांहों में समेटे हुए टेबल पर लेटा दिया और मेरी कुर्ती को ऊपर से निकालना शुरू कर दिया. संजू बोली- क्या यार … अभी कुछ देर पहले ही तो तुमने मुझे चोदा था ना. मैंने कहा- क्या मुझसे कोई काम था भाबी?भाबी मुस्कुराने लगी- हां काम तो था मगर तुम किसी काम के लगते नहीं हो.

वीडियो में बीएफ भेजबीच बीच में मैं श्रेया के पास जाने व बात करने की कोशिश करता रहा, परन्तु वो बहुत से छात्रों और अन्य महिला स्टाफ के साथ थी. फिर उसने मुझे चूमते हुए कहा- यार तुम इतनी अच्छी चुदाई कैसे कर लेते हो … सच में अन्दर तक चैन पड़ गया.

सेक्सी सीमा की चुदाई दिखाओ

पायल- आआहह … और जोर से चोदो … आह बहुत मजा आ रहा है आह अन्दर तक पेलो … आह फाड़ दो. चाची- नहीं रहने दे, तू तो मेरा आशिक़ है … तुझे जैसा मन करता है, वैसे कर ले, मैं तो तेरी हूँ. रिचा की दीदी ने पलट कर पूछा- ये आपने किससे और कब ली थी?ठीक उसी वक्त रिचा की आवाज आई- दीदी, ये मेरे से लिए थे और बोले थे कि अगर कलर पसंद नहीं आया तो रिटर्न करके दूसरा ले लेंगे.

तभी मैंने इशारे से संजना को मेरे ऊपर आने को कहा और शीना को मेरे लौड़े का स्वाद चखने को कहा. लेकिन जब इस से ज्यादा कुछ हुआ ही नहीं था तो मैं बयां भी नहीं कर सकती. हरियाणा सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे घर के बगल में एक सांवली लड़की रहती थी.

उसके मुँह से बड़े लंड की सुनकर मेरी गांड कुलबुलाई- यार, मुझे भी मिलवाओ उससे. फिर उसने अपना लंड बाहर निकाला और एक दो बार हिलाकर मेरी नाभि पर अपना माल गिरा दिया. जैसे ही मैंने उसकी कच्छी उतारी, उसकी चूत देख कर मेरे मुंह से वाओ निकल गया.

लेकिन मैंने बहुत ही प्यार से कहा- तुम अच्छी लग रही हो मुझे!और सब सांस में कह डाला कि क्यों मैंने रुकने का फैसला किया।चाय उबल के गिर गई और उसने मुझे ऐसे देखा की बस जैसे सन्न रह गई हो. मैंने कहा- तो आप मुझसे भी तो कह सकती थीं!मेरी मॉम ये सुनकर मेरी तरफ ऐसे देखने लगीं जैसे उन्हें मेरी बात समझ ही न आई हो.

फिर मां ने फोन मेरी तरफ कर दिया- तेरे जीजा कुछ बात करना चाह रहे हैं.

करीब रात के 9 बजे मुझे पायल का फोन आया कि मैं अपनी फ्रेंड के साथ उसके घर के बाहर खड़ी हूँ. आफ्रिकन बीएफपहले मुझे भी यकीन नहीं था लेकिन फिर लूसी ने मुझे उनकी लाइव चुदाई दिखायी. इंग्लिश बीएफ बुर चुदाईवो बोल रही थीं- शालिनी तू कहां पर है … चलो हमें अब चलना है और सरकार भी कहीं दिखाई नहीं दे रहा है. जब उसने अपने होंठों से लन्ड के सुपारे पर जब जीभ फिराई तो मुझे लगा कि मैं बस गया।मैंने काफी कंट्रोल रखा खुद पर.

मैंने उसके दूध दबाए और बोला- ये तो बस शुरूआत है, जब तुम्हारी प्यारी चूत में मेरा लंड जाएगा न … तो तुम्हें इससे भी ज्यादा मजा आएगा.

मैं डरता था, तो मैंने उससे अपनी बात कही- अबे, कुछ पंगा हो गया हो … तो मेरी तो कहानी लिख जाएगी. वो बड़बड़ाने लगी- आह इस राजधानी एक्सप्रेस रेल को बुलेट ट्रेन बना लो, चोद दो मुझे … बिल्कुल भी रहम मत करो मेरी इस गुलाबो पर … इसको गुलाबो से लाली बना दो. मार्च-अप्रैल महीने में हमारी तरफ रोजगार का साधन नहीं रहता तो हम लोग महुआ संग्रहित करने जाते हैं जिससे शराब बनायी जाती है।मैं और बड़ी चाची हर वर्ष सुबह 5 बजे उठकर जाते थे.

सेक्स कहानी का हर शब्द उनके द्वारा ही लिखा गया है, मैं बस ये कहानी भेज रही हूँ. मेरा तकरीबन आधा लंड अन्दर चला गया औऱ उसी वक्त मैंने किस करके उसका मुँह बंद कर दिया. हमारे घर में हम तीनों के अलग अलग चाभियां हैं, ताकि घर में आएं, तो किसी को दिक्कत ना हो.

मारवाड़ी सेक्सी घाघरा चोली

मैंने उसके हाथ पर अपना हाथ रखते हुए कहा- मालिक के हाथ तो कई बार अकड़ ढीली कर चुके हैं. एकाएक संजू बोली- विक्रम मुझे जोर से सुसु आई है … प्लीज मुझे कर आने दो!विक्रम बोला- नहीं, मुझसे नहीं होगा. मुझे काम है।मैं कुछ बोल पाता उससे पहले उसने कॉल काट दिया।मैंने फटाफट कपड़े पहने और उसके घर पहुंचा तो देखा कि वो घर पर अकेली थी।उसने पिंक कलर की हाफ नाईटी पहन रखी थी।मैंने कहा- भाभी क्या काम है?वो बोली- अंदर चलोगे या सब कुछ यहीं गेट पर ही बता दूं?फिर हम दोनों अंदर आ गए.

उसके बाद वो मेरे पास आया और बोला- मैडम, मेरा लंड पूरी तरह से खड़ा होता है मगर आपके सामने पता नहीं, इसे क्या हो जाता है.

अब सब अलग हो चुके थे और लड़कियां तो लाईट खुलते ही वाशरूम की ओर भागीं.

मुझे उसकी ब्रा पर पड़ा नम्बर देख कर मालूम हो गया था कि उसके चूचे साईज में 34D के थे. भाभी रामू से बोलीं- रामू मुझसे नहीं रुका जा रहा है जल्दी से अपना लंड चुत के अन्दर डाल दो … मुझे नहीं पता, जो होगा देखा जाएगा. कुत्ते और लड़की के बीएफअपने जीवन में पहली बार मैंने किसी दूसरे मर्द का लंड अपने हाथ में पकड़ा था और वो भी अपनी बीवी की चूत में डालने के लिए.

फिर उसने मेरी दोनों टांगों और हाथों को एक साथ पकड़ कर मेरी कुंवारी चुत पर लंड रख कर एक ज़ोर का झटका दे दिया. उतने में सास जी मेरे पास आईं और बोलीं- नाश्ते में आप क्या खाएंगे?मैंने बोला- आपका जो मन करे, वो बना लीजिए. मेरे दोनों चूतड़ों खुले उभरे और बीच में पतली सी पैंटी की पट्टी जो मुड़ का रस्सी बन गई थी।वही रस्सी मेरी चूत की फांकों के बीच से होते हुई ऊपर गहरी नाभि तक गई थी.

उम्र का परिमाप आप खुद लगा ही लेंगे इतना तो मुझे पता है।2 बच्चों की माँ जरूर हूँ लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि बदन को ढीला पड़ने दिया. मामी बोलीं- अब तक तुम क्या करोगे?मैंने कहा- मैं आपकी गांड में देसी घी डालकर आपकी गांड को चाटूंगा.

अपने नितम्बों पर मुझे उसकी जांघों के बीच से कुछ नुकीली सी चीज चुभने लगी थी.

अनिल आराम से वाशरूम यूज़ करके चलते चलते शॉवर का पर्दा हटा कर अन्दर झांक आया. दोस्तो, नंगी लड़की के जिस्म की कहानी में लंड चुत के मिलन का रस टपकने लगा है. हुआ यूं कि मेरी सेक्स स्टोरीकानपुर की नूर बेगमको पढ़ कर एक महिला रेखा का ईमेल आया.

गुजराती लड़की का बीएफ खैर … इन सबके चलते अब ऐसे ही एक दिन जब मैं कॉलेज से घर आया, तो‌ मकान मालकिन और शायरा बाहर बैठकर चाय पी रही थीं. मैंने कहा- मामी अभी आपने इसका कमाल कहां देखा है, अभी दिखाऊंगा तब कहना … फिलहाल अभी लंड में देसी घी लगाओ और मेरा लंड चूसो.

नंगी कहानी में पढ़ें कि मैं भारी जवानी में ही विधवा हो गयी और मैंने दोबारा शादी नहीं की. उसने मुझे कस कर पकड़ लिया और मीना ने मेरी पीठ को नाखूनों से नोंच डाला. फिर महीने भर के बाद एक दिन शिवम मेरे पास आया और विवेक और मेरे बारे में उल्टी सीधी बात करने लगा.

बर्थडे स्टेटस मराठी

अगर तुम ये चार्ज दे देते हो तो हम तुम्हारा नाम आगे कम्पनी के पास भेज देंगे. मैंने अपनी लैगी को ऊपर किया और जीजा से ने भी जल्दी से अपना लंड अपनी पैंट में डाल लिया. ”उपिन्दर अब एक हाथ से चूची दबा रहा था दूसरे से चूत सहलाने लगा।मम्मी पूरी गर्म- क्या सोच रहे थे?देखिए शादी देर रात को खत्म होगी फिर 3-4 घण्टे बाद विदाई और अगली रात को सुहागरात। ऐसा करते हैं … हम एक नई रस्म करते हैं.

इसी दौरान संजू ने अपनी दूसरी चुची को भी ब्रा से आजाद कर दिया और विक्रम उसका मर्दन अपने हाथ से करने लगा. सुनील ने बनावटी गुस्सा दिखाते हुए कहा- दीपा, अगर भाईसाहब बनाना है तो मैं चला.

सेल्सगर्ल- मैम प्लीज आप एक‌ बार साईज तो बताओ … लेना है या नहीं, ये लेना बाद में तय कर लेना.

पर ना शायरा अपना जोश कम कर रही थी … और ना मैं अपनी गति कम कर रहा था. मैंने कॉन्डम उतार कर गांठ मारी और उसे एक कागज में लपेटा और जेब में डाल लिया. खाने के आधे घंटे बाद अभिषेक मुझे फिर से उसी बारिश में छत पर ले गया और मैंने उसी बारिश में भीग कर अभिषेक का लंड चूस चूस कर खड़ा कर दिया.

इसके बाद शिल्पा ने जोश में आकर राहुल को बेड पर बैठा दिया और सेक्सी स्माइल करके उसके सामने घुटनों के बल बैठ गई. अब तक की इस सुहागरात सेक्स कहानी के पहले भागझट शादी पट सुहागरात-1में आपने पढ़ा कि प्रीति मेरे साथ सुहाग की सेज पर थी और मैं उसके साथ चुम्बन के साथ मर्दन और कुंचन का खेल खेल रहा था. करीब दस मिनट की जोरदार चुदाई के बाद सर ने अपना सारा माल मेरी चुत में गिरा दिया.

मैं आंखें बंद करके अपनी पहली चुदाई की याद में खो गयी कि कैसे मुझे डॉक्टर ने चोदा.

मां बेटे की सेक्सी चुदाई बीएफ: मैंने भी उसका टॉप निकाल फेंका और उसके मम्मों को ब्रा के ऊपर से ही मसलने लगा. इधर मनोज ने अपना सारा माल निकाल कर दीपा चूत भर दी तो उधर सुनील ने अपना सारा माल पेपर टिश्यू पर निकाल दिया.

मैंने अपनी जीभ उसकी चुत की फांक के अन्दर डाल कर चूसना शुरू कर दिया. मैं बोला- आज तुमने पहली दफा अपनी गांड में लंड लिया है और तुम्हारी गांड की सील भी आज ही टूटी है. मैं- ये क्या है?ज़ारा- केक!मैं- वो तो मुझे भी दिख रहा है!ज़ारा- ये हमारे लिये लायी हूं!इतना कहकर उसने अपने नाम वाला हिस्सा मेरे मुंह में डाल दिया और मेरे नाम वाला हिस्सा अपने मुंह में ले लिया तो दिल बेचारा हमारे होंठों के बीच पिस गया!हम वो चॉकलेटी किस करने लगे!काफी देर तक किस करते-करते हमने वो चॉकलेट पूरी तरह से चट कर ली.

जैसे ही रिचा ने अपनी आंखें बंद की, मैंने उसके गोरे गालों को अपनी हथेलियों के बीच लेकर उसके शहद भरे होंठों पर अपने जलते हुए होंठ रख दिए और चूसना शुरू कर दिया.

फिर भी उसने छिनाल लुक देते हुए मेरी तरफ़ से नज़रें फेर लीं और अपनी चूत की आग को शांत करने में जुटी रही।पंकज- अह्ह्ह … साली तुम बड़ी मस्त माल हो सुमन … उहह्ह् … आज तुम्हारी चूत इस तरह फाडूंगा कि तुम अपने पति के लंड को हमेशा के लिए भूल जाओगी. आपको ये कहानी कैसी लगी मुझे आप मेरी ईमेल पर मैसेज करके जरूर बतायें. यहीं से मैंने मैट्रिक इन्टर बारहवीं तक पढ़ाई की और गांड मराई का भी खूब मजा लिया.