मोटी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी बीएफ चोदी चोदा वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाबी सेक्स बीएफ पिक्चर: मोटी बीएफ वीडियो, वह बड़बड़ाने लगी- आह अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है … प्लीज डाल दो मत तड़पाओ प्लीज डाल … दो डाल दो ना जान … मत तड़पाओ … इतने समय से तड़पा रहे हो … प्लीज डाल दो.

सेक्सी वीडियो बीएफ पिक्चर ब्लू

अब गौतम भी अपने दोनों हाथों से मेरे सर को पकड़कर मेरे मुँह को चोद रहा था. babu बीएफमैं अपनी एक उंगली से अपने बाल घुमाती हुई बोली- अच्छा क्या क्या सर्विस देते हो!वो मेरे दूध देखते हुए बोला- आप जो बोलो मैडम.

मैंने उसके बाल पकड़ लिया और उसे घोड़ी जैसे खींचने लगा और चोदने लगा. इंग्लिश बीएफ देसी बीएफमैंने अपने एक हाथ से निशा की चूत को सहलाना शुरू कर दिया; कभी मैं उसकी चुत के दाने को खींचता, तो कभी चुत में फिंगरिंग करने लगता.

वो फिर से मेरे होंठ चूसने लगे, मगर मैं उनका कड़क लंड चूसने के लिए मरी जा रही थी.मोटी बीएफ वीडियो: मैंने पानी पिया और दीदी गेट में अन्दर से कुंडी लगा कर अपनी साड़ी उतारने लगीं.

मैं अपने ख्यालों से बाहर आया तो मैंने उससे कहा- ये क्या कर रहे हो?वो बोला- दवाई अन्दर लगानी है, तो ये अन्दर जाकर दवाई लगाएगा.चाचा ने पलटी मारी और चाची के ऊपर चढ़ कर दनादन चोदने लगे- ले साली तेरी मां को चोदूं रंडी.

बीएफ हिंदी फिल्म बीएफ हिंदी फिल्म - मोटी बीएफ वीडियो

उन्हें ऐसे तड़पता देखकर मुझे बहुत मजा आ रहा था क्योंकि मैं जानती थी कि ये लोग जितना ज्यादा तड़पेंगे, उतना ज्यादा मुझे तड़पा तड़पा कर चोदेंगे.कुछ देर बाद वह भी झड़ने के करीब आ गया और उसने अपना सारा वीर्य मेरी गांड में निकाल दिया.

मैंने उनसे कहा कि ठीक है, मैं अभी आपको आपके घर छोड़ देता हूँ और उधर देख भी लेता हूँ कि कैसा मोहल्ला है. मोटी बीएफ वीडियो मुझे ऊपर लेकर लंड को चूत पर रख लिया मैं ऊपर-ऊपर ही लंड फिराने लगा तो उसने ऊपर की तरफ कमर उछाली लेकिन मैं उचक गया.

यह फ्रेंड मॉम सेक्स कहानी पुणे में रहने वाले मेरे एक दोस्त की अम्मी की चुदाई की है.

मोटी बीएफ वीडियो?

अब मैं नीचे था और वो ऊपर!ये देखकर मेरी हंसी छूट गयी!उसने लंड को पकड़ा और चूत में घुसाकर उछलते हुये हंसने लगी!मैं उसकी हिलती चूचियां पकड़कर दबाने लगा और वो झुककर मेरी नाक से नाक लड़ाने लगी!मैंने उसका चेहरा पकड़ा और किस करने लगा!अचानक उसने चेहरा छुड़वाया और मेरी छाती पर हाथ रखकर जोर-जोर से आहें भरती हुयी उछलने लगी. मेरा संदेश पाकर वो चहक उठी और उसने तुरंत रिप्लाई किया- बहुत जल्दी रेस्पॉन्स कर दिए साहब. वो मेरी गांड मारने के लिए भी कह रहा था मगर मैंने उससे अपनी गांड नहीं मरवाई.

मैंने उसकी चुचियों को उसके टॉप के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया … तो वो गर्म होने लगी. अब वो उन उभारों को बिना किसी दीवार के अपने हाथों में महसूस करना चाहता था।उसने अपनी उंगलियों से ब्लाउज़ का बटन ढूँढने की कोशिश की. मैं- क्या समझी थी?फ़लक- यही कि … ये सब करने के लिए बुला रहे हो, और उस रात यह सब सोच सोचकर मैंने फिर उंगली से मज़ा लिया.

इस बीच मैं झड़ने को हुई तो मैंने जोर जोर से राज के लंड में झटके देने शुरु कर दिए. अब मैं उन्हें एक माल के रूप में देखने लगा था, मैं भी अब उनके नाम की मुठ मारने लगा था. लगभग 2 घंटे बाइक चलाने के बाद में उस स्थान पर आ पहुंचा, जहां पर उसने मुझे बुलाया था.

मुझसे तो वो कुछ ज्यादा ही मजाक करती है, जिसके बारे में मैं सेक्स कहानी में आगे बताऊंगा. इतना लिख कर शेखर ने तुरंत धारा के दिए हुए नम्बर पर अपने नम्बर से मैसेज भेजा.

मैं ऐसे ही धक्के लगाते रहा, फिर वो झड़ गई और 2 मिनट के लिए निढाल हो गई.

’ चिल्लाती रही और मैं उसे कुतिया बनाकर रंडी के जैसे गपागप गपागप चोदने लगा.

रास्ते में मैंने बहुत बार ब्रेक मारे ताकि उसके मम्मों की गर्मी मिल सके और उसके साथ मेरी लाइन क्लियर हो सके. मैंने कहा- आज ही चमकाई है?वो बोली- क्या आज ही चमकाई है?मैंने कहा- अपनी बुर?वो हंस दी और बोली- हां आज तेरे साथ कुश्ती करने का बहुत मन था. अब भाबी गाली देने लगीं- आह मादरचोद … रुक जा … साले दर्द हो रहा है हरामी … चोद लेना मगर जरा तो रहम कर कमीने.

कुछ दो दिन बड़े बड़े केबिन छोड़ कर उसको टॉयलेट का साइन बोर्ड दिखाई दिया. मुझे उसे चोदना तो था ही, मैं कोई चूतिया तो था नहीं कि इतनी खूबसूरत बला को बिना चोदे छोड़ देता. सेक्स विद बॉस इन ऑफिस की कहानी का अगला भाग:जवान लड़कों से चूत गांड फटवायी- 3.

मन तो मेरा भी था कि तुम्हारा लन्ड अपनी गाँड में लूं लेकिन अब डर लग रहा है.

पांच मिनट की तेज चुदाई के बाद मैंने अपना पानी उनकी चूत में निकाल दिया. मम्मी ने उलाहना देते हुए कहा- ठीक ही हुआ … अब किसी पुराने सूट में ही जाना. थोड़ी देर बाद मैंने आंटी के बूब्स अपने मुंह से चूसना शुरू कर दिए और आंटी की चुत में उंगली करना शुरू कर दिया.

रीतू मंत्र मुग्ध सी बस लिंग को देख रही थी कि कब इस लिंग से उसकी योनि का उद्धार हो. वो बोली- तेरा इतना बड़ा है … मैं तो सोच ही नहीं रही थी कि तेरा इतना बड़ा होगा. मेरे चूतड़ लगातार चल रहे थे, जिस वजह से मां के हाथों में चूड़ियां होने की वजह से उनकी खनखनाने की आवाज आने लगी.

मैं भी अपना पूरा लंड आंटी के मुँह में पेल रहा था और उनके मुँह को चुत समझ कर चोद रहा था.

आज एक बार फिर मैं तुझे गोद में लेने वाला हूं लेकिन आज तुझे खिलाऊंगा नहीं बल्कि तुझे अपने लंड पर झुलाऊंगा. मैंने जानबूझ कर सामने से जाने के बाद मेन गेट बंद कर दिया और अब मैं चुपके से सीढ़ी से चढ़ कर ऊपर आ गई.

मोटी बीएफ वीडियो थोड़ी देर शेखर की पीठ से खेलने के बाद धारा आगे आ गयी और अब उसकी उंगलियां सामने से शेखर के गले और फिर धीरे-धीरे उसके सीने पर चलने लगीं. सुनीता ने आगे होकर मेरे लंड के अचानक हुए हमले से बचना चाहती थी लेकिन मेरी पकड़ के मजबूत होने की वजह से वैसा नहीं कर सकी और मेरा पूरा लंड उसकी चूत की दीवारों को चीरता हुआ उसकी गहराई में समा गया.

मोटी बीएफ वीडियो उन्होंने मुझे नीचे बैठा दिया और अपनी डेस्क की नीचे कर दिया ताकि किसी भी आने वाले को पता ही ना चले कि मैं कहां बैठी हूं. मैंने कहा- हाय … अगर आपको मैं और मेरी गांड मिल गई, तो क्या करोगे?उसने कहा- जो भी करूंगा, आपकी रजामंदी से ही करूंगा.

चाची कहने लगी- आगे से अपने दोनों हाथ बढ़ाकर मेरी चूचियों को मसलता रह और पीछे से लोड़े को चूत में चलाता रह!मैं चाची के बताए अनुसार करता रहा और धीरे-धीरे अपना लंड चलाता रहा.

बीएफ ओपन हिंदी में

उसके बाद वो दोनों एक दूसरे के साथ लेस्बियन सेक्स का मजा लेने लगी थीं. अब अभिजीत प्रियंका के मुँह को चोदने लगा और विक्रम गांड और चुत को बारी बारी से चोदने लगा. मैंने उनकी तरफ देखा तो बोलीं- पीना है क्या?मैंने कहा- आपको कोई दिक्कत न हो तो!भाभी बोलीं- पी लो … मुझे कोई दिक्कत नहीं है.

मैं भी उसे जगह जगह पर चूमते हुए ‘राहुल ऐसा कर रहा है … वैसा कर रहा है …’ बोलते हुए उसे चोद रहा था. चाची- पता है तुम्हारी नाराज़गी दूर करने के लिए मैंने ये सब प्लान किया है वर्ना मेरे मम्मी पापा तो उस शादी में जाने को तैयार ही नहीं थे, मैंने उन्हें जबदस्ती भेजा और फिर दीदी को तैयार किया कि मेरे साथ तुझे भेज दें. मैंने उसे बताया कि मैं उसी कंप्यूटर सेण्टर में ही पढ़ाता हूँ जहाँ वो आयी थी और बाकी 2 होम टूशन्स भी करता हूँ और उन्ही के द्वारा अपनी जीविका चला रहा हूँ.

उसका नशा तो इस बात को सुनकर ही फुर्र हो गया था कि उस तरफ़ ललित नहीं धारा बैठी थी.

अंत में दोनों अलग हुए तो ज्योति ने शर्माते हुए चिराग की गोद में मुँह छुपा लिया. तभी सैम ने मां के गालों को अपने दांतों से काटते हुए कहा- आप बेहद खूबसूरत हैं … मुझसे रहा ही नहीं जा रहा है. बस मैंने दीदी को अपनी मम्मी की चुदाई के बारे में कुछ नहीं बताया और छाया बुआ की जगह भी मैंने इंदु मैडम का नाम ले लिया.

अगले स्टेशन से कुछ लोग चढ़े, जिनमें से एक छोटा बच्चा मेरे सामने ऊपर वाली सीट पर आकर बैठ गया. उसने आगे पीछे कैसे दो लंड लिए?दोस्तो, कहानी के पिछले भागसेक्सी जवान विधवा की चूत में लंडमें आपने पढ़ा कि मैं आर्यन अपने भाई मयंक के साथ एक कामातुर विधवा औरत की चुदाई कर रहा था. एक रात मैंने शन्नो को अपने रूम में बुलाया … वो सेक्स कहानी मैं बाद में बताऊंगा.

मैंने भी फरियाल से कहा- जान मेरा भी निकलने वाला है … कहां लोगी?फरियाल बोली- आह … तुम मेरी चूत में ही निकाल दो और मेरी चूत की प्यास मिटा दो. दो मिनट में ही उसने अपनी चूत से पानी छोड़ दिया जो कुछ मेरे मुँह में भी आ गया.

वैसे तरोताज़ा तो वो धारा के मैसेज देख कर ही हो गया था लेकिन अभी उसके चेहरे पर एक अलग ही चमक थी. वो चौंक गई और बोली- ये आपने कब देख लिया राज?मैंने उसे बताया कि कैसे मैंने उसे देखा था. फिर एक रात मैं बाथरूम के रास्ते उनकी तरफ वाला दरवाजा खटखटाया तो उन्होंने उठ कर बाथरूम का दरवाजा खोला और चुपचाप अपने बिस्तर पर जाकर बैठ गए.

इससे पहले नीतू रूपाली को नंगी देखकर किसी भी तरह की कोई प्रतिक्रिया देती, रूपाली ने नीतू को अपने गले से लगा लिया।दोनों कुछ देर तो गले लगी रही लेकिन नीतू न विरोध कर रही थी और न ही सहयोग कर रही थी.

जैसे वो कबसे इसका इन्तजार कर रही हो।मैंने नीतू के दोनों चूतड़ पकड़ के उसे थोड़ा सा हवा में उचकाया और उससे लंड को चूत सीध में रखने को कहा. हैलो फ्रेंड्स, मैं मनोज कुमार उर्फ़ किंग आपको अपनी पड़ोसन दीदी की सेक्स कहानी सुना रहा था. कुछ ही देर में उसका बदन फिर से अकड़ने लगा और एक बार फिर से उसकी चूत से पानी निकलने लगा.

मैं एक मीठी आवाज़ में बोला- अभी से पनिया रही है … अभी तो मैं और बहुत कुछ करूंगा. मैं सुबह उठा तो भाभी ने मुझे फिर से अपनी बांहों में लेकर प्यार किया और हम दोनों एक साथ नंगे नहाये और उधर बाथरूम में भाभी की आखिरी चुदाई करके मैं घर आ गया.

निखिल- मेरी जान बहुत रसीली है तू … बड़ा रस भरा है तेरे इन होंठों में. मेरा हाथ भी उसके स्तनों पर और दूसरा उसकी टॉप के अन्दर से उसके पीठ पर चलने लगा. कुछ ही समय में वो मुझसे खुलने की कोशिश करने लगी लेकिन मैं उससे ज्यादा बात नहीं करता था.

एक्स एक्स एक्स पोर्न वीडियो इंडियन

मुझमें न जाने ऐसा क्या है कि लड़कियों को मुझसे फंस जाने में जरा भी देर नहीं लगती है.

शेखर समझ गया कि धारा अपने तरीक़े से मज़े लेना चाहती है, और उसने कहा भी था कि उसकी इच्छाओं का सम्मान होना ज़रूरी है. थोड़ी देर शेखर की पीठ से खेलने के बाद धारा आगे आ गयी और अब उसकी उंगलियां सामने से शेखर के गले और फिर धीरे-धीरे उसके सीने पर चलने लगीं. कुछ देर बाद प्रियंका ने अपने भाई से कहा- भाई एक बार फिर से गांड में लंड डालो … हो सकता है कि अब दर्द न हो.

एक बार को शेखर ने अपनी कमर को झटका भी दिया ताकि पूरा लंड अंदर जा सके. मेरी ये घटना एकदम सच्ची है और मैं इसे वैसे ही बता रहा हूँ, जैसा कि हुआ था. भोजपुरी में बीएफ भेजोआज तो उसने निखिल को पेन उठाने के बहाने से अपनी गांड के शुरुआती हिस्से के दर्शन भी करा दिए थे.

मैं- वो तो ठीक है शीना, अगर ये बात किसी को पता चल गई तो?शीना- कौन बताएगा अंकल, क्या आप बताओगे किसी को?उसकी ये बात सुन कर मैं निरुतर हो गया और मैंने दरवाजा बंद कर के उसे गोद में उठाया और बेडरूम में ले गया, उसे बेड पर लिटा दिया. लगता था कि चारों ने आपस में एक राय बना कर आप मुझे छोड़ने के लिए झांटें साफ़ की होंगी.

फिर भी बड़ी हिम्मत करके मैंने कहा- मुझे माफ़ कर दो भाभी, गलती हो गयी. मेरी कहानीबंगलूरु की हसीना की मालिश और चुदाईको आपने जो प्यार दिया, उसका बहुत बहुत आभार. गगन अपनी बहन को चोदने के लिए आगे बढ़ा और उसके चूचे दबाते हुए बोला कि तुझे तो मैं न जाने कितने दिनों से चोदने की फिराक में था.

तो मैंने उन दोनों को रोका और बोली- अगर तुम लोग ऐसे ही करते रहे तो जल्दी झड़ जाओगे और मैं फिर से प्यासी रह जाऊंगी. मेरी धीमी गति से रीतू की बेचैनी बढ़ने लगी और अपने शरीर की हलचल पर काबू पाने के लिए उसने मुझे कसके जकड़ लिया. फिर धारा क्या कर रही थी?शेखर इसी उधेड़बुन में खड़ा था कि तभी धारा की गर्म साँसें उसे अपनी जाँघों पर महसूस हुईं.

मैंने भी फरियाल से कहा- जान मेरा भी निकलने वाला है … कहां लोगी?फरियाल बोली- आह … तुम मेरी चूत में ही निकाल दो और मेरी चूत की प्यास मिटा दो.

मैं संभलता, तब उन्होंने मुझे उल्टा लेटा कर अपना लंड मेरी गांड में अड़ा दिया और सुपारे से मेरी गांड को सहलाने लगे. [emailprotected]वर्जिन Xxx स्टोरी जारी का अगला भाग:कुंवारी बुर में लंड लेने की लालसा- 2.

कहीं शहजाद उसको बहला फुसला कर उसके साथ कुछ उल्टा सीधा न कर दे, जिससे मेरी बेटी की जिंदगी और हमारे घर की इज्जत मिट्टी में मिल जाए. मैंने उससे बोला कि अगर तुम इधर होते, तो तुम्हारे साथ चल चलती, लेकिन अब मैं जा नहीं सकती. उसकी टांगें एकदम से फ़ैल गईं और वो मेरे मुँह पर अपनी चुत पटकते हुए चुत चुसवाने लगी.

वो मेरे मम्मों को देखते हुए दूसरी तरफ गया और ग्लास उठा कर नल से पानी लेने लगा. मैं उसकी चूत के लिए कहीं भी जा सकता था क्योंकि अभी इस समय सिर्फ यही मेरी गर्लफ्रेंड थी. कोमल ने मेरे मुंह से जीभ निकाली और मेरे कान में कहा- बाबू, अमित मेरी जांघ पर हाथ रगड़ रहा है.

मोटी बीएफ वीडियो मेरे लण्ड को अपनी मुठ्ठी में दबोचकर अपनी चूत पर रगड़ते हुए सितारा ने बड़ी मादक आवाज में कहा- तुम अब तक कहाँ थे?सितारा ने अपनी पैन्टी खुद ही उतार दी और ताजा ताजा शेव की हुई अपनी चूत के लबों पर मेरा लण्ड रगड़ने लगी. मैं उससे कहा- तुम्हारे शरीर पर कपड़े अच्छे नहीं लग रहे हैं … सारे कपड़े उतार कर बात करो.

देहाती हिंदी बीपी

वो अपनी बहन की चुदाई में इतना खो गया था कि हमारी तरफ मुड़कर भी नहीं देख रहा था. भाभी मुझसे दूर हटने की कोशिश कर रही थीं और साथ ही कामुक सिसकारियां भी ले रही थीं. हहह अहह अअम्म अओअ अऊऊऊ मादरचोद लौड़ा डाल दे रे चुत में … आह विराज प्लीज जल्दी से लंड डाल भैन के लौड़े.

आगे चलकर सितारा और कविता दोनों आपस में खुल गईं जिससे मेरा काम आसान हो गया. एक छोटे बैग में अपने दो जोड़ी कपड़े रखे ताकि अगर कोई इमरजेंसी हो तो बदलने के लिए हो जाएंगे. साड़ी वाली आंटी का बीएफकविता की चूचियां चूसते हुए मैंने पैसेंजर ट्रेन की रफ्तार से उसे चोदना शुरू किया.

ये सोच कर उसने तुरंत धारा को जवाब भेजा।उसने सावधानी से इस मैसेज को लिखा जिसमें उसने कहा- मैं आपकी भावनाओं का सम्मान करता हूँ धारा … और शुक्रिया इस बात के लिए कि आपने मुझे बाक़ी मर्दों की श्रेणी में ना रखते हुए मुझसे मिलने की इच्छा जतायी.

नेहा भी आतुर थी और जो होने वाला था उसके लिये तैयार थी तो मेरा साथ देने लगी. वो पोर्शन दिखाने को बोलीं, तो मैंने अपने रूम से फ्लैट की चाभी ली और पोर्शन खोल कर दिखा दिया.

एक बार मैं उनके घर के सामने से निकला तो अंदर से ब्लू फिल्म की आवाज आ रही थी. उन्हें वहीं छोड़ कर मैंने कहा कि मैं यहां करीब में ही अपने एक फ्रेंड के पास जाकर आता हूँ, फिर घर वापस चलेंगे. ’मौसा जी की नजर मेरे पर पड़ते ही मेरे चेहरे पर एक बनावटी मुस्कान आ गई और मैंने भी उनसे नमस्ते कर ली।फिर हम सब साथ बैठकर बातें करने लगे.

वो हुमच हुमच कर गाली देते हुए चुदाई कर रहे थे- ले मेरी रांड अपने खसम का लंड.

मैंने पैंटी उतारी तो दिखी उसकी क्लीन शेव गुलाबी चूत जैसे डबल रोटी में चीरा लगाकर सॉस डाल दी हो!साथ में अनार के दाने जैसी क्लिट!मैंने क्लिट को होंठों में दबा लिया उसकी चूत को और जीभ घुसाकर अंदर-बाहर करने लगा. मुझे बहुत गर्म लग रहा था, मैं कह नहीं सकता कि मुझे कितना मज़ा आ रहा था … बहुत उत्तेजित था. हॉट सेक्सी भाभी की कहानी मेरे पड़ोस में परचून की दूकान चलाने वाली भाभी की है.

बीएफ फिल्म वीडियो में चालूवो भी सड़कछाप कुतिया की तरह लंड चचोरने लगी और मैंने अपने लंड का सारा माल उसके मुँह में निकाल दिया. तभी भाभी ने भी कहा- तुम्हारे भाई का तो बस नाम का ही लौड़ा है, सिर्फ 3 इंच का होगा.

पोर्न वीडियो गुजराती

शौहर ने अब तक जितनी बार मेरी चुदाई की, सिर्फ बच्चे पैदा करने के लिए ही की मतलब उन्होंने हर बार मेरी चुत में ही अपने लंड का रस टपकाया है. पर मुझे लगा कि उसे शायद टॉयलेट जाना होगा इसलिए उठते समय उसकी लात लग गई होगी. बीवी को चुदवाया कहानी के पिछले भागबीवी की चुदाई करवाने गैर मर्द को घर बुलायामें आपने जाना कि मैं रोहन के घर चंढीगढ़ गया तो उसने जाते ही मेरा लंड चूस लिया.

मेरे हाथ उनकी साड़ी खोलते हुए पेटीकोट को खोलने लगे और एक ही झटके में उनका पेटीकोट पैंटी सहित उनके जिस्म से अलग हो चुका था. मैंने उसकी सलवार और पैंटी एक साथ नीचे कर दी और उसे दीवार के सहारे खड़ा कर दिया. लैपटॉप को वैसे ही खुला छोड़ कर शेखर चाय की चुस्कियाँ लेने लगा और बीच-बीच में स्क्रीन की तरफ़ देख कर जवाब का इंतज़ार करने लगा.

उन्होंने मेरी कच्छी को निकाल दिया और पूछा कि पूरा मज़ा लोगी!मैंने फिर से सर हिला दिया. आपको ये बीवी को चुदवाया स्टोरी कैसी लगी मुझे मेल में जरूर बताईयेगा. अब मैं खड़ा हुआ और मैंने अपने ऊपर के सारे कपड़े खोल दिए और उसका शर्ट उतार दिया.

मम्मी- आह आह उई अम्म आह निखिल … आज मजा आया मेरी जान … और जोर से पेल … आह उह!इसी तरह 30 मिनट तक ये चुदाई का खेल चलता रहा. दस मिनट तक बात करने के बाद भाभी उठीं और मुझे बेड पर धक्का देकर मेरे ऊपर चढ़ गईं.

भाभी ने उसी रात भैया के साथ जबरन चुत चुदवा ली और कोख का रजिस्ट्रेशन करवा लिया.

नेहा- हा हा हा हा बस … एक मॉम के फटे भोसड़े की कहानी में तेरा ये हाल है. हिंदी बीएफ वीडियो एचडी फुलमुझे अपनी चूत चुसवाना, चूचियां दबवाना, निप्पलों को दांतों से कटवाना और कठोरतम चुदाई करवाना बहुत पसंद है. हिंदी देसी बीएफ वीडियो एचडीनेहा- मगर फिर भी मत करो न यार, मुझे शर्म आ रही है!रोहन ने उसकी बात को अनसुना कर उसकी जीन्स उतार दी. नतीजा यह हुआ कि रोहन जिस लंड को पहले पूरे मुंह में भरकर निगल रहा था उसे अब वो तन चुका लौड़ा मुंह में पूरा लेना मुश्किल हो रहा था.

दोस्तो, मैं समीर हूं धारा और शेखर की कहानी के अंतिम भाग के साथ हाजिर हूं.

मेरे बॉस बहुत जोर जोर से झटके मारने लगे और लगभग 10 मिनट बाद उन्होंने अपना लंड मेरी चूत से निकाल कर मेरी गांड के छेद पर रख कर एक झटके में पूरा लंड मेरी गांड में उतार दिया. थोड़ी देर ऐसे ही मार खाने के बाद विशाल बोला- मैम, अब आप हमें छोड़ दो. जब मैंने इसके विरोध में उसको बोला- तू जानता नहीं है … मैं अभी चिल्ला कर सबको बुला लूंगी.

कंडोम चढ़ जाने पर मुझे अन्दर लंड पर और बाहर दोनों तरफ डॉट का अहसास हुआ. भाभी उठ गईं और बोलीं- क्या हुआ देवर जी … सोने दो ना!मैंने कहा- भाभी, एक बार और करो ना!भाभी बोलीं- अरे यार … मैं कहां भागी जा रही हूँ. जैसे ही लंड चूत में गया उसने मुझे एकदम से भींच लिया और हम दोनों की आह निकल गयी.

ऐश्वर्या राय की बीएफ

आप सब लोगों के मुझे बहुत से मैसेज आये और मुझे बहुत प्रोत्साहित किया, मेरी बहुत सी महिला पाठकों ने भी मेरी कहानियों को बहुत पसंद भी किया. मैं टीशर्ट व लोअर पहन कर रोहन के साथ चाय पीने लगा।बातों बातों में मैंने रोहन से पूछा- आप किस टेस्ट की बात कर रहे थे?रोहन- राज जी, आपको एक टेस्ट देना पड़ेगा. पार्टी में हम दोनों किसी शौहर पत्नी के तरह ही हर तरफ घूम फिर कर खाना खा रहे थे.

खुद एक हाथ से उसने सोनम की पैंटी सरका दी और उस गोरी गुलाबी चुत को देखता ही रह गया.

प्रिया भी अब तक गर्मा गई थी और उसे अपने सामने मर्दों के खड़े लंड बड़े प्यारे लग रहे थे.

अब खाना तैयार था लेकिन हम नहाये नहीं थे, तो हमने बाथरूम में एक कुर्सी खींच ली. मैंने उनके और उन्होंने मेरे कपड़े शरीर से अलग कर दिए और हम नंगे साथ नहाने लगे. हिंदी ब्लू फिल्म बीएफ फिल्ममीरा की गांड उसकी चुत से काफी टाइट थी, तो निखिल जल्दी ही उसकी गांड में झड़ गया.

लेकिन उस वक़्त मैं एक बहुत प्यासी औरत भी थी और कहीं न कही मुझे शहज़ाद के मोटे लौड़े से अपनी प्यास भी शांत होती दिख रही थी. मेरी मां और मेरे बीच बहुत अच्छे दोस्ताना रिश्ते हैं … और हम दोनों एक दूसरे से सब कुछ साझा कर लेते हैं. मैंने तेजी से गांड उठा कर लंड पलना शुरू किया तो उसकी कमर भी तेजी से चलने लगी.

मैंने नेहा को फिर से पीठ के बल लेटा दिया और उसके ऊपर चढ़कर फिर से लन्ड उसकी चूत में डालकर अंदर बाहर करने लगा. मैंने भाभी से पूछा- भाभी आप रो क्यों रही हैं?वो बोलीं- ऐसे ही बस रोना आ गया.

भाबी- उऊओ मम्मा मर गई रे आह साले ने फाड़ दी … आह रुक जाओ … आराम से करो.

फिर पांच मिनट के बाद सेक्स की हरकतों से जब लंड फिर फुंफकारने लगा, तो मैंने लंड उसकी बुर में उसे डाल देने का निर्णय किया. उसके पापा जी शिक्षक थे और इस वजह से भी उसके घर का माहौल कुछ अलग किस्म का था. जीजू ने जिसे कॉल किया था, कुछ घंटों बाद उसी नंबर से वापिस मुझे कॉल आया.

बीएफ सेक्सी एक्स एक्स हिंदी में कुछ पल बाद मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी और फांकों को खींच खींच कर चूसने लगा. मेरी बस पहुंचने के समय मैंने उसे बताया कि मैं बस अड्डे पर पहुंच गया हूँ.

हम दोनों इससे इतने अधिक गर्म हो गए थे कि मैंने बाथरूम में ही आंटी को घोड़ी बना कर उनके आधे घंटे तक चुदाई की. जब उसने झुक कर कप रखे, तो मैंने उसके मम्मों को देखा और समझ गया कि इसने ब्रा नहीं पहनी थी. शेखर- ललित भाई कह रहे थे कि आप दोनों के बीच में कुछ भी छिपा नहीं रहता, तो शायद उन्होंने बता दिया होगा कि क्या-क्या बातें हुईं.

सेक्स बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

पूरे 30 मिनट बाद निखिल चाचा अपने चरम पर आने लगा था- मेरी जान, मेरा माल निकलने वाला है … कहां निकालूं?मम्मी- मेरे अन्दर ही निकाल दो जान. तुम्हें अपना न समझती तो क्या तुम्हारे सामने अपना दुखड़ा रोती!ये कह कर भाभी मेरे सीने से लग कर हिचकी भरने लगीं. कुछ देर सोच कर शीना ने ओके कहा और बोली- मैं कल सुबह कॉलेज टाइम में आ सकती हूं.

मैं तुमसे तुम्हारा लंड भीख में मांग रही हूं … आह मुझे चोद दो, फाड़ दो मेरी कमीनी चूत को … जल्दी से चोद डालो मेरी चूत को … फाड़ डालो प्लीज मुझे चोद डालो. फिर दो तीन दिन में लंड ने चुत को फैला दिया था, तब चुदाई का मजा लेना शुरू हो सका था.

रोमा दिनकर के लंड से चुद रही थी और सोनाली अजय के लंड की सवारी गांठ रही थी.

पहले पहल तो मुझे गुदगुदी हुई … फिर मजा आने लगा तो मैंने अपनी गांड के छेद को ढीला छोड़ दिया. तभी मैंने जल्दी ही दो, फिर तीन उंगलियां चुत के अन्दर डालनी चाहीं, तो वो जा ही नहीं पाईं. पूरा लंड पेल कर वो अपनी पूरी रफ्तार से मुझे चोदने लगा और मैं भी उसके सुर में सुर मिलाते हुए ‘उफ़ हहहह यस आई लाइक इट … ओह्ह फ़क आह आह आह हहहहह … उफ़ उफ़ उई मम्मी … आह और तेज़ और तेज़.

तभी मैंने नेहा को अपनी तरफ खींचा और उसे किस करते हुए पूछा- कैसा लगा?नेहा- आज तो मज़ा आ गया. अब मुझे खुद गुस्सा आ गया तो मैंने उसकी गांड पर बहुत जोर से बेल्ट मारी तो वह बहुत बुरी तरीके से तड़प गया. मगर जो कोई भी चूसता था, झड़ने के वक्त पर मुंह से बाहर निकाल देता था मगर रोहन ने ऐसा नहीं किया.

भाभी की चुत में फुच्छ फुच्छ करके रस टपका देते हैं, उन्हें भाभी की गर्मी शांत करने से कोई लेना देना नहीं था.

मोटी बीएफ वीडियो: उसने तुरंत मेरी ब्रा फाड़ दी और मुझे उल्टा करके मेरी पैंटी भी निकाल कर मुझे पूरी तरीके से नंगी कर दिया और मेरी गांड पर बहुत जोर से थप्पड़ मारने लगा. बस जल्दी से आ जाओ … मुझे आपकी बहुत जरूरत है, अब मुझसे सहन नहीं हो रहा है.

मुझे उनका लंड चूसने में बहुत मजा आता था तो मैंने उनका लंड चूसना शुरू कर दिया. करीब 6 बजे मैं नहाकर अपने कमरे में आई और आज मैंने साड़ी पहनने का फैसला किया क्योंकि शहज़ाद को मैं साड़ी में बहुत अच्छी लगती थी. ऐसा बोलकर वो बेड पर बैठ गईं और मेरा सर अपनी जांघ पर रख कर अपना एक चुचा मेरे मुँह में दे दिया.

खैर … मुझे क्या … मुझे तो अपने लिए तो एक और लंड का इंतजाम होता दिख रहा था.

मैंने अपनी नंगी चूत दिखायी तो कहीं मेरी प्यासी जवानी के लिए लंड का इंतजाम हुआ. ये पंजाबी आंटी सेक्स कहानी मेरे दोस्त की दूसरी मां मतलब सौतेली मम्मी की है. आपको मेरी भाभी की चुदाई की कहानी जिसमें देवर ने भाभी को चोदा, कैसी लगी, प्लीज़ कमेंट्स करके जरूर बताएं.