फुल एचडी में बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी सेक्सी सेक्सी सेक्सी ओपन

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ नंगी में: फुल एचडी में बीएफ वीडियो, ऐसी लड़की पत्नी के रूप में किसी भाग्य वाले को ही मिलेगी जो कि इतनी आगे बढ़ कर भी अपने यौवन को भंग होने से बचा ले।उसके बाद मैंने रीनल से माफी मांगने की काफी कोशिशें कीं किंतु रीनल ने मुझे कभी भाव नहीं दिया.

सेक्सी वीडियो मोटे लंड की चुदाई

जब दो मिनट के बाद उसकी चूत का दर्द कम हो गया तो मैंने उसको ढीला छोड़ दिया. देहाती सेक्सी हिंदी देहाती सेक्सी हिंदीजहाँ तक मेरा मानना है कि इसमें प्रकाशित लगभग सभी (90 प्रतिशत तक) कहानियाँ बिल्कुल सत्य हैं.

उसने झड़ते ही अमर की कमर को अपने नाखूनों से नौंच लिया और अमर की टांगों से अपनी टांगें लपेट ली. नेपाली वाला सेक्सी पिक्चरभाभी ने मेरी जॉब लगवाने के बदले में मेरा लंड मांग लिया था जिसको देने में मुझे भी कोई परेशानी नहीं थी और मजा भी आ रहा था.

उस टाइम पम्मी आंटी अपने कपड़े बदल रही थीं और वो इंडियन आंटी न्यूड थीं.फुल एचडी में बीएफ वीडियो: जाते हुए प्राची ने मिनी के होंठ पर किस किया और अच्छे से एन्जॉय करने को बोली.

देवराज इन्द्र के दरबार की इक प्यासी अप्सरा, किसी अंजाम की परवाह किये बिना, वर्जित फल चखने को कमर कसे बैठी थी लेकिन मेरे खुद के कुछ जुदा मुद्दे थे.उसने मुझे होंठों पर एक जोरदार चूमा लिया और कानों में बोली- अभी सोना मत, शिल्पा को सो जाने दो.

यूट्यूब से सेक्सी - फुल एचडी में बीएफ वीडियो

प्रिया- अपनी बहन को कोई ऐसे प्यार करता है!मैं- तुम तो दूर की बहन हो.इस पर मैंने कहा- यह सब काम तेरा पति कर देता तो आज तुझे परेशान नहीं होना पड़ता.

अब मेरे हाथ उनकी मस्त जगह पर लग गया, मतलब कि मेरी हथेली चाची की चूत पर थी. फुल एचडी में बीएफ वीडियो मैंने आंटी को दिलासा दी, उनको समझाया और कहा कि आपको किसी भी समय कोई जरूरत हो तो आप मुझे अपने बेटे की तरह समझकर बुला सकती हैं.

उस रात को उन्होंने मुझे फिर से दो बार चोदा और अबकी बार उन्होंने मेरी गांड की भी सील तोड़ दी.

फुल एचडी में बीएफ वीडियो?

जैसे ही आरती ने पिक्चर देखी तो मेरे तरफ देखती हुई बोली- यार, क्या मैं सच में इसे अपने घर ले जा कर देख सकती हूँ? यहाँ पर कोई भी आ सकता है. मैंने खुद पर बड़ी ही मुश्किल से कंट्रोल किया और श्वेता के डांस करने के बाद गेम फिर से शुरू हुआ. काफी देर तक उसके मम्मों को चूसने के बाद मैंने उसके पेट पर चूमना शुरू किया और उसकी नाभि में अपनी जीभ घुसा दी.

उसकी चूत से कामरस बह रहा था, जिससे मेरा लंड पूरी तरह से गीला हो गया था. मैंने उसे उठाया और ऊपर उसके बेडरूम में ले जाकर उसे बिस्तर पर लेटा दिया. मैं धीरे-धीरे से लंड को आगे-पीछे करने लगा और वह भी मेरा साथ देने लगी.

एक दिन मैं टेलर से अपने कपड़े लेने गया तो वहां एक साहब मुझे देखकर मुस्कुराने लगे. टीटीई ने मुझे बताया था कि आगे जाकर सीट कन्फर्म हो जाएगी, शायद किसी स्टेशन पर बहुत सारी सवारियां उतरने वाली थीं. उनकी उम्र का अंदाजा लगा पाना तो मेरे लिए मुश्किल ही था पर वैसे देखने में मुझे अच्छे लगे; उनके बालों में सफेदी आ चुकी थी, चेहरे पर हल्की हल्की दाढ़ी मूंछें थीं जो उन पर भली लग रहीं थीं.

सेक्स में रुचि सभी लड़कों में रहती है क्योंकि ये एक ऐसी कला है जो बिना किसी के बताए ही इंसान सीख जाता है. हालांकि वो अभी छोटी ही थी, पर बड़े पापा ने उसकी शादी जल्दी कर दी थी.

परी ने पूछा- तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?मैंने ना में सिर हिला दिया और वो हँसने लगी.

मैंने झट से उसके हाथ हटा के उसके होंठों को अपने होंठों में जकड़ लिया और चूसने लगा.

इस कहानी में मैं अपनी सहेली से दोस्ती की और हम दोनों में इतनी अधिक दोस्ती हो गयी कि मैं अपनी सहेली के भाई से चुद गयी. कल से सब बच्चों को 15 मिनट पहले पेपर मिल जाया करेगा और नकल की भी मौज करवा दूँगा. जब वो अपनी गांड मटकाकर चलती थी, तो बस मैं दिल में ये ही सोचता कि इसकी लम्बी गांड जब नंगी होगी, तब कैसी लगेगी.

खाना खाते हुए उसने पूछा- सुबह तुम मुझे इस तरह क्यों देख रहे थे?तो मैंने भी बोल दिया- तुम लग ही इतनी सेक्सी रही थी, मैं तो क्या कोई भी खो जाता. दूसरी तरफ अगर मैंने बिना कंडोम के किया तो हो सकता था कि वह पेट से हो जाए और फिर एक मुसीबत और आ खड़ी हो. इसी के साथ मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और जोर जोर से चूसने लगा.

मैंने अब यह बात अपनी अपनी बड़ी दीदी से बता दी कि एक लड़का है आशीष, उसने मुझसे दोस्ती की है और मुझे कुछ देने के लिए बोला है, तो क्या तुम चलोगी?उसने कहा- हां वैसे भी कोई कुछ दे, तो मना नहीं करना चाहिए.

साथ ही मैं रोज रात में रूपा के बूब्स को टच करता, उसकी गांड में उंगली डाल देता, कभी लंड को गांड में टच कर देता. उनका नाम मैं नहीं बता सकता हूँ … आप चाहें तो भाभी को रूबी कह सकते हैं. अपनी बहन की चूत में उंगली डाली मैंने तो वो मचल उठी- आआ अहह!मैंने प्रिया की चूत को जीभ से चाटा … बहुत नमकीन थी.

जहां तक मेरा सवाल है, वसुन्धरा की योनि की पंखुड़ियों की मेरे लिंग पर लगती मुतवातिर(अनवरत) रगड़, मुझे सरासर जन्नत का नज़ारा करवा रही थी. मैंने रवि से कहा कि मैं सुषी को अपने घर ले जाता हूँ नहीं तो ये दोनों फिर से लड़ाई शुरू कर देंगी. भाभी ने अपने मम्मे खोल दिए और मैंने एक मम्मे को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा.

क्या पता कितनों से चुद कर आई हो। मैंने उसके बालों को पकड़ कर अपना लंड उसके मुंह में ठूंस दिया और उसके मुंह को जोर जोर से चोदने लगा.

परंतु आज मेरी वजह से उनकी जिंदगी में थोड़ी बहुत खुशियां लौट आई थीं और मेरे लिए यह फक्र की बात थी कि मैं उनकी खुशियों का कारण बन सका था. उसी पल अमर ने एक ही झटके में पिंकी भाभी की चुत में लंड जड़ तक ठांस दिया.

फुल एचडी में बीएफ वीडियो अब तक की कहानीमैं सम्भोग के लिए सेक्सी डॉल बन गई-2में आपने पढ़ा कि मैं सुखबीर के साथ सम्भोग करने के लिए सेक्सी डॉल बनकर चुदने को बेकाबू हो चुकी थी. मुझे अपने आप पर बहुत गुस्सा आया कि मैंने उसके साथ की हुई दोस्ती को भी खत्म कर दिया.

फुल एचडी में बीएफ वीडियो मैंने भाभी के पीछे जाकर उनके दोनों हाथ पकड़ लिए और उनके कान की लौ को अपने होंठों और दांतों से चबाने लगा. उस दिन तो मुझे मेरी गिफ्ट मिल गयी, लेकिन आगे ऐसा कोई मौका नहीं मिल रहा था कि उसके साथ खुलकर खेलने का मौका मिले.

वो पूछने लगी- आंटी कब आएंगी वापस?मेरा जवाब सुनकर उसने एक-दो बात इधर-उधर की ही की और फिर वो अपने घर चली गई.

मियां मियां खलीफा सेक्सी वीडियो

मेरी मुंह बोली बहन के साथ मेरी यह खामोश कहानी यहीं पर समाप्त होती है. बातों ही बातों में हम दोनों ने स्मूच किया और मैंने उसकी आंखों में देखते हुए उसका टॉप निकाल दिया. एक दिन वो फोन पर बोली- अब तुम्हारे बगैर मेरा मन कैसे लगेगा, तुमने मुझे अकेला छोड़ दिया है.

अब मैं खुद को थोड़ा एडजस्ट करके अपने दांतों से उनकी पैंटी के इलास्टिक को पकड़ लिया और धीरे धीरे नीचे सरकाने लगा. दोस्तो, बस क्या बताऊँ! 21 साल की बला की खूबसूरत जूली को देख कर मेरा लंड बेकाबू होने लगा था. एक दिन ऊपर वाले ने मेरी हालत को समझा और मुझे चुदाई के सुख से रूबरू करवा दिया.

मैं भी सारा वीर्य उसकी चूत में उड़ेलने के बाद निढाल होकर उसके ऊपर गिर गया और अपनी उखड़ी सी सांसों को काबू में करने की कोशिश करने लगा.

मैंने उससे कहा- शिल्पा की भी दिलवा दो यार!निशा बोली- ठीक है कुछ करूंगी … अभी के लिए गुड नाईट. इसके बाद मैंने उन्हें ज़ोर से अपनी बांहों में खींच लिया और नीचे से पूरा नंगी हालत में ही चिपक कर सो गया. मुझे अपनी इस खूबसूरती के लिए अब तक कोई ब्वॉयफ्रेंड बनाने लायक लौंडा नहीं मिल सका था.

वो बोली- आज तुम घर पे ही हो, तो चलो शॉपिंग करने चलते हैं और डॉक्टर को भी दिखा आते हैं. शीतल ने अपने सारे कपड़े निकाल दिए और मेरे मुँह पर अपनी चूत रख कर बैठ गई. मैं अपनी चड्डी के ऊपर की लाल रंग की पट्टी अपने जीन्स के ऊपर इस तरह रखता था कि चड्डी साफ साफ दिखे.

वो बहुत गोरी है, उसके बूब्स ज्यादा बड़े नहीं हैं, बस 30 या 32 के होंगे लेकिन उसकी गांड बहुत बड़ी थी. आरती ने कहा- हां यह बात तो है … मगर कैसे मिले? मैं तो अब चुदवाना चाहती हूँ मगर कोई ऐसे लंड मिले जो किसी से कुछ ना कहे! वरना बहुत बुरा हो जाएगा मेरे साथ.

आज आशीष पहला लड़का हुआ मेरी जिंदगी का, जिसने मेरे होंठों को ऐसे चूमा कि मैं उसी की हो गई. मैंने लंड बाहर निकाल लिया और बगल से पानी का बोतल उठा कर उन्हें पानी पिलाया. इधर हमें ये सब करते काफी समय हो चुका था, पर वक़्त की परवाह किसे थी.

मैं क्या सोचता था इनके बारे में, क्या समझकर इनकी इज्जत करता था मैं … और आज इन्होंने मुझको ये क्या बोल दिया है.

मैंने अपनी अधखुली नजरों से देखा तो डाक्टर की आंखों में और चेहरे पर कामुकता नजर आ रही थी. मैं अपना लंड चुत से बाहर निकाल ही रहा था, तो पूजा ने पूछा- चुत से लंड बाहर क्यों निकाल रहे हो?मैंने कहा- वैसलीन लेना है न. मेरा शरीर अकड़ने लगा अपना पूरा जोर लगाकर लंड पूजा के गांड में जड़ तक घुसा दिया.

फिर रूम से बाहर निकल कर देखा कि किसी ने उसको अन्दर आते हुए तो नहीं देखा है. करीब एक घंटा मैं उसके चूचों को मसलता रहा और जब मैंने उनको छोड़कर उसके होंठों को किस किया तो उसने मुझे धक्का दिया और उकडू बैठकर मेरा लंड मुंह में ले लिया.

मैं उसके कानों में बोला- रिमेम्बर … टूडे यू आर माय स्लट? (तुम्हें याद है न तुम मेरी रखैल हो आज …)वो मुस्करा कर चुप हो गयी और गांड चुदाई का मजा लेने लगी।कुछ देर इसी पोज में चोदने के बाद मैंने उसे डाइनिंग टेबल पर बैठा दिया और उसकी चूत से बह रहे रस को पीने लगा। वो आंख बंद करके चूत चटाई का मजा लेने लगी। मैं उठा और उसी पोज़ में उसकी एक टांग को उठाये एक ही झटके में अपने लण्ड को उसकी चूत में पेल दिया. मैं पहले तो आंटी के घुटनों तक पैर दबा रहा था, उसके बाद धीरे धीरे मैं अपना हाथ पम्मी आंटी के घुटनों के ऊपर ले जाने लगा. मेरे सभी पुरुष और महिला पाठक, आप महसूस कीजिये कि जब आपने पहली बार ये सब किया होगा या किसी महिला पुरुष के साथ इस स्थिति में रहे होंगे कि वो पुरुष आपके होंठों को चूम रहा है और उसका हाथ आपके स्तनों पर आ गया है तो क्या स्थिति होती है.

ब्लू फिल्म सेक्सी नंगी सीन वीडियो

आरती के पापा से जॉब का आश्वासन पाकर मैं उनका थॅंक्स करते हुए आरती के साथ बाहर आ गई और वो मुझे अपने साथ पास ही किसी रेस्टोरेंट में ले गई.

जब भाभी चलती हैं, तो उनके कूल्हे कुछ इस तरह से ऊपर नीचे चढ़ते हैं कि किसी का भी लौड़ा खड़ा हो सकता है. उसने अपने मम्मी पापा से ये कह कर मना कर दिया उसके एग्जाम हैं। मैं चाचा-चाची को बस स्टॉप तक छोड़ आया और उसके घर आकर बैठ गया. फिर भाभी पानी लाकर मेरे पास आकर बैठ गईं और हम दोनों बातें करने लगे.

जब मैंने उसकी गांड को देखा तो मेरा मन कर रहा था कि आज इसकी गांड में भी लंड को डाल दूँ. तुम अपना काम करती रहो तब तक मैं तुमको यहीं किचन में ही थोड़ा मजा दे देता हूँ. सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो नंगीकुछ देर इसी पोज में चुदाई करने के बाद वह बोली कि अब दूसरी पोज में करेंगे.

मगर जिस छोटे से गांव से मैं ताल्लुक रखता हूँ, उधर ये सब इतना खुला नहीं था. मेरे पति अब मेरे चूतड़ छोड़क़र मेरी साड़ी प्रेस करने लगे और साथ में अपना लंड मेरे चुत में स्लोली स्लोली अन्दर-बाहर करते हुए मेरी प्यारी चुत की चुदाई भी करने लगे.

मैंने मेरे पति का लंड अपने मुँह में भर लिया और अपना मुँह आगे पीछे करके उनका लंड चूसने लगी. इस पर सारा ने कहा- क्यों मेरे रहते तुम्हारा लंड खड़ा नहीं होगा क्या? दो-दो को देख़ कर गांड फ़ट गई, या दोनों को एक साथ झेलने की हिम्मत नहीं है?मैंने कहा- मेरा लंड तो कमरे में घुसने से पहले ही खड़ा हो गया था, परन्तु क्या तुम्हारे सामने तुम्हारी बहन का मन कुछ करने को करेगा? और रही बात दोनों को झेलने की, तो रात भर दोनों को इतना चोदूँगा कि दोनों की दोनों सुबह उठने लायक नहीं रहोगी. लेकिन दिल में एक खुशी भी थी कि चलो इसी बहाने मैंने पम्मी आंटी को नंगी तो देख लिया.

थोड़ी देर बाद वो थोड़ा पीछे को हुई और अपनी गांड को मेरे लंड पर सैट कर लिया. मेरा शरीर बिल्कुल सामान्य लड़की की तरह ही है, न पतली ही थी और न ही मोटी थी ज्यादा!उसने मेरे दूध को चूसना शुरु कर दिया और एक हाथ से दूसरे दूध को मसलने लगा. मम्मी अपने दूध पिलाते हुए कहने लगीं- आआह … पी लो… मैं बहुत दिनों से प्यासी हूँ … आआह.

मगर असलियत तो यही है कि वो मेरी चूत का और मैं उसके लंड की दीवानी हूँ.

मैं झट से नीची दीवार के रास्ते प्लाट में कूद गया और भाभी के पास चला गया. रोहन ने मस्का लगाते हुए कहा- तुम एक बार करके देख लो, अगर अच्छा नहीं लगा तो हम फिर कभी ऐसे नहीं करेंगे.

उसकी छोटी सी पेंटी की बैक-स्ट्रिंग तो दोनों नितम्बों की दरार में घुसी हुई थी. मैं बहुत खुश हो गया कि आज पहली बार अपनी मौसी की लड़की की फुद्दी को छूने का मौका मिला है. मैंने दिलिया को सहलाया उसका निचला ओंठ चूसा तो दिलिया की चुत का छेद वापस सिकुड़ गया था.

उसने देखा और शरमाकर अपनी नजरें नीचे कर लीं और वह वहाँ से चली गयी और रसोई में खाना बनाने लग गयी. उस दिन से मुझे भाभी को चोदने का भूत सवार हो गया था और मैंने इरादा बना लिया था कि मैं अपनी भाभी को जरूर चोदूंगा. इस तरह से धीरे-धीरे करके मेरे लंड ने भाभी की चूत में अपनी जगह बना ली.

फुल एचडी में बीएफ वीडियो फिर मैंने उसको बर्थ पर घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत में अपना लम्बा मोटा लौड़ा डाल कर चोदने लगा. सभी लेखकों की आपबीती को जाहिर करने का इससे अच्छा मंच मुझे आज तक कोई दूसरा नहीं मिला है.

सेक्सी 20 साल की

उसने फिर से मेरे लंड को पकड़ लिया और अपनी चूत पर लगवा कर मुझे अपने हाथों से अपनी तरफ खींच लिया. फिर हम थोड़ी देर एक दूसरे से चिपक कर बातें करते रहे और एक दूसरे को किस करते रहे. तो मैं और मोहित एक दूसरे को देखने लगे कि ये भाभी भी चूत चुदवाने के लिए बावली हो रही है.

मैं तो वसुन्धरा के ऊपर से क्या उठता पर इस ज़ोर-आज़माईश में मेरे होंठों की पकड़ से वसुन्धरा के दोनों होंठ छूट गए. तो मैंने उसके हाथ को दबाकर उसकी आंखों में आंख डालकर देखते हुए कहा- मेरी जान मुझे तुम्हारे मुँह से खुलकर सुनना है कि तुम क्या चाहती हो?नम्रता- मैं चाहती थी कि मेरा पति मुझे रंडी समझ कर चोदे. पाकिस्तान को सेक्सी वीडियोअन्दर से मेरे पता नहीं कैसी आग सी लगी कि मैं खुद अब अपने होश गवां बैठी.

जैसे जैसे मैं उनकी चूत चाटता, वैसे वैसे उनकी सिसकारियां निकलने लगीं.

इस पकड़ा-पकड़ी में मेरा तौलिया खुल कर नीचे गिर गया और मेरा हाथ उसके बदन पर कुछ ऐसे पड़ा कि उसके ब्लाउज की डोरियां खुल गयीं. इस तरह मेरे पति ने अपने दोस्तों के साथ मिल कर मेरे जिस्म को जमकर भोगा और मैंने भी उन तीनों के लंडों का स्वाद एक साथ चखा.

भाभी के मम्मों मैंने को वासना से घूरा और अपने होंठों पर अपनी जीभ फिरा कर उनकी नजरों में देखा. अबकी बार चूंकि चूत के अंदर मेरा वीर्य भी लगा हुआ था तो फच-फच की आवाज आने लगी. दीदी ने भी अन्दर से आवाज देकर पूछा- कौन आया है?मैंने बताया और कुछ देर बाद वो भी नहा कर बाहर आ गयी.

अब मैंने अपना लंड धीरे से मायरा की चुत पर टिकाया और एक झटके में पेल दिया.

मैंने उंगली से सहला कर उसकी चूत देखी और अपनी बड़ी उंगली उसकी चूत में डाल दी. मैंने गुलदस्ते से एक गुलाब का फूल उठा कर उसके हाथों पर हल्के से स्पर्श किया और वह कांप कर सिमटने लगी. मैंने उसके निप्पल्स चूसते हुए धीरे धीरे उसके पेट में चूमना चालू किया और फिर धीरे से जीभ को उसकी नाभि से रगड़ता हुए उसकी चूत तक जा पहुँचा.

सेक्सी का चुटकुलारितेश ने उसको पेट के बल लेटने को कहा और बोला कि मैं चादर के अन्दर से ही हाथ डाल कर ये क्रीम लगा देता हूँ. वे जाने की कहने लगे तो मैंने कहा- आपके साथ कौन रहता है, कहां रहते हैं?वे बोले- अकेला रहता हूं.

सेक्सी हिंदी देहाती फिल्म

सोनिया अपनी मम्मी को बोल रही थी- मम्मी मनदीप आया है, वो अन्दर सो रहा है. इस बीच धीरे-धीरे दूर होने के कारण हमारे बीच दूरियां बढ़ती गईं और वो वहीं लोकल में और किसी लड़के के साथ सैट हो गई, जिसका मुझे बाद में पता चला. शीतल भाभी के मुँह से यह बात सुन कर मुझे लगा कि जरूर भाभी के मन में कुछ है.

मैं आशीष को बोली- आशीष तुमने यह क्या किया … और यह कैसे हुआ … तू जादूगर है क्या … मुझे बहुत दर्द हो रहा था, पर अब जरा भी दर्द नहीं बचा. इस तरह से उन्होंने मुझे चौंकाते हुए पांच छह बार अपना लंड पूरा बाहर निकालकर फिर से मेरी चुत में पेल डाला. नीचे उतार कर उसकी गर्दन पर किस करने लगा, होंठों पर चूमा, गाल पर चुम्मा चाटी करने लगा.

दोनों एक दूसरे से करीब 5 मिनट चिपके हुए अपनी अपनी साँसों में काबू पाते और सुस्ता कर दोनों के बदन ढीले पड़ने लगे थे. बाहर से सोनू गुस्से में बोली- कुतिया कहीं की साली … क्या मैंने कहा था आज ही खुजली मिटाने को … अब भुगत. मैंने मुड़कर पति के लंड को देखा, तो मेरे पति का लंड मेरी चुत के पानी से पूरा लथपथ हो चुका था.

मैंने अपना मुँह खोला तो उसने मेरी जीभ निकाल कर चूसने लगा और इधर कमर उछाल उछाल कर अपने लंड को मेरी चुत में रगड़ने लगा. क्यों अपने आपको तकलीफ़ दे रही हो?मेरा लंड मसलते हुए नफीसा कह रही थी कि जुल्फी मैं यह नहीं कर सकती.

दूध जैसी गोरी-चिट्टी, लाल-गुलाबी होंठ वाली वो अप्सरा शरमाते हुए और भी हसीन लग रही थी!मैंने उसके कान में कहा- तुम तो बेहद हसीं हो हो मेरी जान …धीरे से मैंने उसके चेहरे को ऊपर किया.

मैंने पिंकी को दिखाने के लिए उनका हाथ पकड़ लिया- छोड़ दो ना सर प्लीज़!बहुत प्लीज सुन ली तेरी, अब चुपचाप मेरी प्लीज़ सुन ले. सेक्सी देसी सेक्सी देसी सेक्सी देसीफिर भी कहानी का किरदार पूरा करने के लिए मैं उसका नाम प्रीति रख देता हूँ. काजल अग्रवाल हीरोइन सेक्सी वीडियोहालांकि वसुंधरा की पीठ थी मेरी ओर लेकिन उसे इस बात का बाखूबी अंदाज़ा था कि मेरे ज़ेहन पर क्या गुज़र रही थी. और मेरे लण्ड को सहलाते हुए बोली- अब मुझे भी चोदो!मैंने सारा के कपड़े निकाल दिए और उसे किस करने लगा.

आपने जो बाथरूम के बल्ब को बदलने का आइडिया दिया उसने भले ही बाथरूम में अंधेरा किया लेकिन जमाई जी का लंड पाकर मेरी चूत में सैकड़ों बल्ब जल उठे थे.

उसकी गर्म सांसों की वजह से मेरे लौड़े का साइज़ बढ़ने लगा और कुछ ही देर में मेरा लौड़ा पूरे जोश में आ गया. बहन की गोरी चुत देख कर अब मुझे नींद नहीं आ रही थी; मेरा मन कर रहा था कि अभी अपनी बहन को चोद दूं. उसकी चूचियां मेरे सीने पर लगीं तो मेरा लंड खड़ा हो गया जो शायद उसको भी फील हुआ.

मुझको पहली बार लंड चुसवाने का मजा आ रहा था, जो मुझको चुत मारने से भी ज्यादा मजा दे रहा था. मुझे थोड़ी हैरानी हुई कि ‘जिस मीना के जिस्म का भोग मैं आसानी से कर लूंगा’ की उम्मीद कर रहा था वो इतना आसान भी नहीं था. कुछ देर में ही वो भी मेरा साथ देने लगी। मुझे जैसे जन्नत का मज़ा आ रहा था। गुलाबो ने ढेर सारा पानी मेरे लंड पर छोड़ दिया.

xxx. सेक्सी वीडियो

अबकी बार वो पहले से ज़्यादा ज़ोर से चीखी पर मेरा मुँह होने के कारण उसकी चीख दबी रह गई. यह बात कुछ दिन पहले की है, मैं रोज की तरह अपने ऑफिस जा रहा था कि मेरी कार खराब होने की वजह से मुझे आज ऑफिस स्कूटी से जाना पड़ गया था. अगर हम अपने सामने वाले की पसंद को पहचान जाते हैं तो उसको संतुष्ट करने में सफल हो पाते हैं.

दिखने में मैं अपनी सहेली से भी ज्यादा सेक्सी थी क्योंकि मेरी चूची और गांड का आकार काफी सुडौल और बहुत बड़ा था.

पिंकी बहुत धीरे से बोली- क्या कर रहे हो जीजा जी!पिंकी की धीमी आवाज़ किसी डर की वजह से नहीं, बल्कि पिंकी का बहुत मन था कि अमर उसको छेड़े, उसके बदन से खेले, इस वजह से वो सिसिया रही थी.

थोड़ी देर ऐसे ही चूसने के बाद हम दोनों एक दूसरे के मुँह में झड़ गए. सरिता मेरी पीठ और गांड को सहलाती हुई अपनी गांड आगे पीछे करके अपनी चूत और गांड के छेद को मेरे लंड पर रगड़ने लगी थी. धड़क सेक्सीमैं जहाँ पर जॉब कर रहा था वहाँ मुझे ज्यादा मजा नहीं आ रहा था काम करने में, इसलिए मैंने विशाल भाई से बात करने की सोची.

हम दोनों के बीच में यह सब बातें हो ही रही थीं कि तभी सुषी कि माँ वहां पर आ गई और उन्होंने हमारे बीच में होने वाली बात सुन ली. उस समय उन्होंने अपना भयंकर लंड थूक लगा कर मेरी छोटे छेद वाली चिकनी गांड में पेल दिया. मेरी बीवी राशि बोली- इस पूरे सीन के दौरान दो तीन घंटे मैंने खुद कितनी बार हस्तमैथुन किया तुम नहीं जानते! फिर उसके बाद भी घर आकर मूली से खुद को शांत करने की कोशिश कर चुकी हूँ.

हम दोनों ने एक ही कप में चाय पी और उसके बाद मेरा लंड काबू से बाहर हो गया. आप मुझको जानते है … मैं शरीर से हट्टा कट्टा हूँ और 5 फुट 10 इंच का जवान लड़का हूँ.

इतना सुनते ही मैंने मम्मा की चूत में बहुत तेज़ तेज़ झटकों के साथ अपना लंड डालना शुरू कर दिया.

नम्रता बस मुस्कुरा दी और बोली- हां देख लिया और पसंद भी कर लिया, तभी खेलने का कहा है. मैंने कहा- हाँ, बोलो?रोहन- आज जब एलेक्स और जॉन घर आये थे तो वो मुझसे कुछ पूछ रहे थे. इससे पहले कि वसुन्धरा के जिस्म में काम-विस्फोट हो जाए, मुझे इस काम-केलि की कमान अपने हाथ में लेनी थी.

इंदौर की सेक्सी भाभी वह लगातार मेरे लंड को चूसती ही जा रही थी, शायद उसका मूड भी दोबारा बन गया था. अपने पापा के जबरदस्त लंड से चुदने के बाद मेरी चूत आज बहुत दिनों के बाद शांत हो गई थी.

इसका मतलब कि तुम्हें उसने सब कुछ बता दिया है? कोई बात नहीं … तो अपनी चुदाई की अपनी ज़ुबानी मुझे बता देना. जल्द ही उसने मेरी शर्ट निकाल दी और मेरी छाती पर, गर्दन पर किस करने लगी. तब तक स्नेहा की मम्मी आ गईं और बोलीं- बेटा आज मैं मटन बना देती हूं, तुम सब लोग खा लेना.

सेक्सी लंड की वीडियो

अब नितिन बोला- डार्लिंग अब जल्दी से तैयार हो जाओ … मैं भी अपनी तैयारी कर लेता हूँ. ’‘जी मैं समझी नहीं?’आंटी ने साड़ी खींच के मम्मी को नंगी कर दिया- चीज़ अच्छी है. आशीष भोसड़ी के मेरी चुत की जड़ तक अपना लौड़ा पेल!यह सब मैं जोर से बोले जा रही थी.

फिर जब तक वो हमारे घर रही, मैंने उसे जहाँ भी मौका मिला और वहां चोदा. करीब पन्द्रह मिनट के बाद वो झड़ गयी और दो-चार धक्कों के बाद मैं भी। पहली बार पूजा की भट्टी को चोदने के बाद लंड को बड़ा सुकून मिला.

उसने दबा कर मेरी चूत को चोदा, कभी मुझे लंड पर चढ़वाया और कभी खुद चूत पर चढ़ा, कभी गोद में ले कर चोदा तो कभी खड़ा करके चूत में लंड को पेला.

भाभी जी के मुँह से आहा ऊंह ऊम्हा आहा की मादक सिसकारियां निकलने लगीं. मैंने अपना लंड दांये हाथ में पकड़कर बीवी की गांड के छेद पर लगाकर पूरा सुपाड़ा गांड में डाल दिया. मेरी छोटी सी उम्र में पहली बार मैं आज अपने जिस्म में मेरे सामने से किसी लड़के ने लंड टच कराया, बहुत ही अजीब और गन्दा लग रहा था मुझे.

मैंने कहा- आप जब वहां आई थी तो आप मुझे अच्छी लगीं और जब पता लगा हम दोनों को एक ही जगह जाना है तो दिल से लगा कि काश आप और हम एक साथ सफर करते और देखिए न अब हम सच में साथ सफर कर रहे हैं. मैंने आखिरी शॉट मारा और अब पूरा लौड़ा उसकी चूत में दाखिल हो चुका था. वो इस बात से परेशान थी कि बन्दा कुछ कहता भी नहीं, बस देखता रहता है.

मैंने भाभी के बूब्स को बड़े प्यार से ब्रा के ऊपर से ही चूमना शुरू किया.

फुल एचडी में बीएफ वीडियो: वह डर कर बोली- क्या कर रहे हो साहिल?मैंने कहा- कुछ नहीं, मैं तो वहाँ बैठ कर बोर हो रहा था. स्कूल से गोल मारते उसके साथ तुम उधर इमली और बेर लेने के बहाने जाती हो.

इस तरह हमलोग काफी देर तक और भी स्कूल की बातें, अमृता के बारे में बातें करते रहे फिर मैं घर लौट आई. फिर मैंने एक और जोरदार धक्का मारकर अपना 8 इंच का लौड़ा उसकी चूत की गहराई में उतार दिया. मैंने बात की तो उन्होंने बताया कि मैं तुम्हारी शगुन भाभी बोल रही हूं.

उसने ‘धत्त’ कहते हुए फोन लिए और हेलो करते हुए एक कोने में जा कर बात करने लगी.

आरती की शादी हो चुकी थी और वो मस्ती से अपनी चूत को हरा भरा कर रही थी. मार्केट पहुंच कर भाभी ने सारा सामान ले लिया और थोड़ा बहुत चाट पकौड़ी खा पीकर हम घर के लिए वापस निकल पड़े. दोस्तो, आप सभी को मेरा हृदय से आभार है कि आप लोगों ने एक बार फिर से मेरे द्वारा लिखी गयी कहानीलंड के मजे के लिये बस का सफरको बहुत पसंद किया.