चोदा चोदी बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,सेक्सी खपाखप सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

करीना कपूर सेक्सी चुदाई: चोदा चोदी बीएफ पिक्चर, वो देख कर योगी उत्तेजित होकर मेरे थूक से गीले हुए अपनी जीएफ के होंठों को किस करने लगा.

सेकसी बीडीव

इस बात से चिंतित गुलशन जी किसी बहाने से अनिता के पास रुक गए और घर पर बता दिया कि वो शहर से बाहर जा रहे हैं. एक्सएक्सएक्स पोर्नदोस्तो, आपने मेरी कहानी में अब तक पढ़ा कि मैं मेरी चचेरी बहन अनुराधा से नाराज था क्योंकि उसने मुझे चुम्बन देने से इनकार कर दिया था, अब मुझे मनाने के लिए मेरे घर आई हुई थी और बहुत रो रही थी.

मगर उनके लिए मैं तो एक रंडी थी, मेरी पूरी कीमत वो अदा कर चुके थे, बिना कोई दया किए दोनों घचाघच अपने लंड अंदर बाहर करने लगे. सेक्सी वीडियो चूत मारते हुएउसके बाद भी जब वो अपने घर चली गई तब भी जब मेरा दिल करता, या उसका दिल करता तो मुझे फोन करती, हम जैसे भी करके अपना जुगाड़ बना ही लेते!चुदाई का यह सिलसिला तीन साल तक चलता रहा.

ऐसी चुदाई मैंने पॉर्न मूवीज में ही देखी थी, मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं कभी ऐसे चुदूँगी.चोदा चोदी बीएफ पिक्चर: मैंने 2-3 बार आवाज दी, फिर भी चाची नहीं बोलीं, तो मैं समझ गया कि चाची सो चुकी हैं.

मैंने कई बार अपनी मौसी से भी पूछा- मौसी अगर तुम्हारे दिल में भी को इच्छा हो, किसी और मर्द से सेक्स करने की तो बेहिचक मुझे बताना, मैं पूरी कोशिश करूंगा कि वो मर्द तुम्हारी बाहों में हो.तो रफीक हम लोगों को मस्ती करने को कह कर जल्दी से कपड़े पहन कर चला गया और इस बीच सबीना और जमीला भी जाग गई.

ગુજરાતી ભાભી સેક્સી વીડિયો - चोदा चोदी बीएफ पिक्चर

टीना- यार तेरी बातें सुनकर ये तो पता लग गया कि तेरे पापा सीधे इंसान हैं, वो बाहर किसी रंडी के पास तो जाएँगे नहीं.सब मेरी जिस्म का गुणगान कर रहे थे, कोई कह रहा था- साली की गांड एकदम कसी है.

इतने में मैं झड़ गया, उन्होंने बड़े चाव से मेरा माल पी लिया और लंड को चूस-चूस कर साफ कर दिया. चोदा चोदी बीएफ पिक्चर फिर मोना ने नीतू की मदद से खाना बनाया और दोनों ने अच्छे से खाना खाया और मोना उसे अपने कमरे में साथ ले गई.

कुछ देर बाद अशोक ने नाश्ता करते हुए कहा कि आज रात को डिनर पर मेरा एक दोस्त आएगा, तुम कुछ अच्छा सा बना कर तैयारी रखना.

चोदा चोदी बीएफ पिक्चर?

पूजा अगर चाहती तो उठ कर भाग बाथरूम की तरफ सकती थी मगर ये सूसू नहीं उसका चुत रस आने वाला था और आप जानते हो ये मज़ा ऐसा होता है इसमें इंसान बेबस हो जाता है। वो चाहकर भी नहीं उठ पा रही थी और अब इतने करीब आकर तो सवाल ही पैदा नहीं होता था कि वो उठ जाए।पूजा ने कस कर संजय की जाँघ पकड़ लीं और अपने दाँत भींच लिए उसकी चुत से गर्म लावा बहने लगा था।पूजा- आह ससस्स उफ़फ्फ़ मामू आह. पण्डित जी बोले- बुशरा, बुरा न मानो तो एक बात पूछूं?मैंने कहा- नहीं, पूछिए?पण्डित जी बोले- मुझे पूछने का हक तो नहीं, लेकिन कल रात तुम कुछ परेशान थी, तुम्हारे रोने की आवाज़ आ रही थी?मैंने पण्डित जी को घर की तंगी के विषय में बता दिया. अब सुमन के नंगे चूचे उनके सामने थे और सुमन आँखें बंद किए बस दर्द का नाटक कर रही थी.

लड़कियाँ बेहद कम कपड़ों में घूम रही थी और हर मोड़ पर शराब की कोई ना कोई सुविधा थी ही!एयरपोर्ट से होटल पहुंचते हमें शाम के ४ बज गए. मैंने रजनी के चूचों को कस कर दबाया और उसके होठों पर एक मस्त किस किया. अचानक यश के धक्के गहरे हो गए और कुछ ही पल में उसने मेरी गांड अपने पानी से भर दी.

लेकिन मेरे भाग्य में पता नहीं क्या बदा था, मौसी का अपने घर जाने का कार्यक्रम अचानक बन जाने से मम्मी ने स्मृति के पापा फोन करके कुछ दिन के लिए और रोक लिया. जब फ्लॉरा ने कपड़े बदल लिए वो वहां से चला गया और सोचने लगा कि फ्लॉरा इतनी भी छोटी नहीं है. फिर अपनी लुंगी खोल कर अपना घोड़े जैसा लंड मम्मी की आँखों के आगे लहराने लगे.

फिर दोनों मम्मी पापा के आने से पहले कपड़े पहन कर तैयार हो गए और पढ़ने बैठ गए. जब मैंने पूछा कि क्या वो घर पर अकेली रहती हैं तो उसने बताया कि उसकी एक बेटी है जो 12 वीं क्लास में पढ़ती है.

मगर मौसी कहती- नहीं, तुम्हारे बाद मुझे किसी और मर्द की ज़रूरत नहीं है.

मैंने रिया को ढूंढा तो वो भी मेरे ही बगल में घोड़े बेचकर सोई हुई थी.

इतनी सी बात के लिए मरना चाहती है?मोना- तुझे ये इतनी सी बात लगती है? मेरी लाइफ बर्बाद हो रही है. पहले तो मैंने इसे अपना वहम समझा लेकिन मैंने बार बार इसे कन्फर्म किया. योगा करते टाइम मैंने ड्रेस बदल लिया था और चेंज करके एक लोवर और टी-शर्ट पहना हुआ था.

मैंने धीरे से कहा- अगर तुम चाहो तो बाद में मैं भी तुम्हारी चूत चूस सकता हूँ. फ्लॉरा की बात की टीना ने बीच में काटकर कहा- चलो जाने दो अगर तुम्हें नहीं बताना तो चलो भाई खाना-वाना लगा लो यार. सुमन- मैं आपके इस लंबे लंड को चूस कर ठंडा करूंगी और आपका रस पीऊंगी.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयी-2.

आपसे उम्मीद है इसलिए आज मैंने सिर्फ आपके लिए अपनी चूत को आज पहली बार क्लीन शेव्ड किया है; यह मेरा उपहार है आपके लिए इसे स्वीकार करो!’ रानी कातर स्वर में बोली और उसकी आँखें नम हो गईं. इसका कॉलेज क्या शुरू हुआ आजकल ये पूरी बदल ही गई है।हेमा- आप भी कुछ समझते नहीं हो. मुझसे रहा नहीं गया मैंने रफ्तार और बढ़ाई, वह भी तड़प रही थी, मैंने कहा- मैं झड़ने वाला हूं.

मैंने उससे कहा कि जब खाना परोसते टाइम तुम मेरे चुचे देखते हो, तब तुम्हें सही लगता है? जब तुम योगा करते टाइम मेरी चुत देखते हो तो तुम्हें सही लगता है?ये सब सुन कर वो डर गया और मुझसे कहने लगा कि अम्मी प्लीज़ ये बात अब्बू को मत बताना. उसने जब दोबारा पूछा तो मैंने हंसकर उसे बोला- शहज़ाद, तुम्हें अक्ल नहीं है, लड़की का चुप रहना भी उसकी हाँ कहने का एक अंदाज़ होता है. वैसे भी गुलशन उसे बहुत प्यार करते थे, उसकी हर छोटी बड़ी ख़ुशी का ध्यान रखते थे, जो अनिता को बहुत पसंद था.

सविता का विवाहदोस्तो, ये सेक्सी कहानी आप सबकी प्रिय सविता भाभी के मदभरे जीवन से जुड़ी एक यादगार चुदाई की कहानी है.

नीतू- हाँ दीदी, अब तो मुझे भी ऐसा लगता है कि जीजू का लंड चूस कर उनका पानी निकाल ही दूँगी और सारा माल पी जाऊंगी. उसने एक ही झटके में मैक्सी निकाल दी और एकदम नंगी गुलशन जी के सामने अपने मम्मे तान कर खड़ी हो गई.

चोदा चोदी बीएफ पिक्चर ‘वो कहते हैं न संगत का असर तो किसी पर भी होता है, धीरे धीरे मुझ पर भी प्रिया की सांगत का असर होने लगा और मैं भी अब रात को न्यूड सोने लगी थी. उसके बाद तो गुलशन रोज अनिता को चोदने लगे और वो भी उनके बड़े लंड की आदी हो गई.

चोदा चोदी बीएफ पिक्चर चांदी से चमकते बदन पर पेटीकोट जैसा वस्त्र मुझे काफी अखरने लगा इसलिए तुरंत ही उनके पेटीकोट को भी निकाल दिया. ये देख कर मेरा बुरा हाल हो रहा था और इसलिए मैं वहीं पर अपनी चुत में उंगली करने लगी और अपना पानी झाड़ दिया.

उसकी चुचियों को देख कर कोई भी उन्हें दबाने से अपने आपको नहीं रोक सकता था.

हिंदी बीएफ कानपुर

फिर ना मैंने हाथ पीछे करके उसके लंड को पैन्ट के ऊपर से पकड़ लिया और सहलाने लगी. बल्कि सही मायने में खजुराहो में ही वो हम बिस्तर हुए थे तो उन्होंने वापिस आते ही कोर्ट मैरिज कर ली थी. अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि टीन गर्ल टीना ने मॉंटी को उसकी इस बात को लेकर बहुत झाड़ा कि वो सोने का नाटक करते हुए उसकी लूली पर दवा लगवाते वक्त मजा ले रहा था.

मैं कैंची लेकर अपने कमरे में आ गई और नंगी होकर अपनी झांटें काटने लगी. वहाँ पर मैं सबसे मिला क्योंकि मेरी सबसे बनती थी। जब मैं वापिस अपने घर जाने लगा तो मुझे एक टीचर ने बुलाया।उन मैडम का नाम राजू था. अब वो मुझे किस करने लगी और कब उसने मेरे कपड़े उतार दिए, मुझे पता भी नहीं चला.

संजय- अरे मेरी प्यारी पूजा, तू तो बहुत बहादुर है ऐसे नहीं रोते, अब कुछ नहीं होगा.

सभी साँसें रोके दोनों की बहस सुन रहे थे। एक बार तो ऐसा लगा कि ये ज़्यादा हो गया. मेरी हालत देखकर वह मेरा हाथ पकड़ कर अपने ब्लाउज पर रखकर मुझे इशारा करती थी- पागल, तुझे मेरे बूब्स के दर्शन करने हैं ना? मेरा स्तनपान करना है ना? तो बेकार में ब्लाउज में हाथ डालकर समय क्यों नष्ट कर रहा है? फट से मेरा ब्लाउज उतार, मेरी ब्रा भी निकाल और शुरू हो जा! मैं कितने दिन से तुझे देखती आई हूँ, तू मेरी और निखिल की चुदाई का नजारा चुपके चुपके देखता है. संजय- वाह टीना कमाल कर दिया तूने अब जैसा हमने प्लान किया था, बस वैसे ही करना ताकि सुमन खिंची चली आए.

अबकी बार मैंने उसे घोड़ी बनाया और अपना लंड एक ही बार में उसके पीछे से उसकी चूत में घुसेड़ दिया. फिर धीरे से कान के पास अपना मुँह लाके बोलीं- कब तक खुद ही हिलाता रहेगा?ये बोल कर चाची मेरा लौड़ा हिलाने लगीं और साथ में मुझे किस करने लगीं. गुलशन जी ने फ्लॉरा के पैरों को कंधे पर डाला और लंड के सुपारे को चुत पे टिका कर जोरदार झटका दे मारा.

फ्लॉरा ने अपने माँ बाप की प्यार की कहानी बताई कि कैसे उन्होंने भाग कर शादी की थी. मैंने इसी तरह उनके चूतड़ों पर लगातार 8-10 बार मारा जिससे उनके चूतड़ों पूरी तरह लाल हो गए।उसके बाद भी वे मुझे छोड़ने को बिल्कुल तैयार नहीं थी।फिर मेरे मन में आया कि जब शुरू हो ही गया है तो एक नए एंजॉयमेंट के साथ इसे पूरा करें।मैंने उन्हें पूछा- सफीना जी, आपके घर में शहद है क्या?तो उन्होंने बोला- शहद और चॉकलेट … तुम्हें जो भी चाहिए, ले सकते हो.

थोड़ी देर तक बैंगन को मैंने चूत के अन्दर ही घुसे रहने दिया और फिर से वीडियो देखने लगी. ’अनीता इस सोंग पे डांस करती है और तिवारी को रिझाना चालू रखती है और फिर अपने रूम में कुछ ढूँढने चली जाती है. उनकी पैंटी भी ऊपर से पूरी तरह भीगी हुई थी उनकी चूत के स्वादिष्ट रस से.

अब उसका बदन 32-24-36 का हो चुका था और अब वो और भी सेक्सी लगने लगी थी.

मैंने कहा- अरे यार, एक तो मुझे अपनी सारी सेक्सी बातें बताती है, ऊपर से भाई बहन की बेकार की बातें चोद रही है. मैं उसको नीचे से धक्के लगा रहा था और वो ऊपर से… अब उसकी सिसकारियाँ बढ़ती जा रही थी. फिर वो वॉशरूम गई और हाथ-मुँह धोकर फ्रेश हो गई और कमरे में आकर उसने एक पतली सी नाइटी पहन ली और बाहर आ गई.

ये टाइम देख कर खेलेंगे जो ज़्यादा देर तक टिका रहा, वो जीत जाएगा और हारने वाले की बात मानेगा. दोस्तो, यह एक काल्पनिक कहानी है, और टी वी नाटक ‘भाबी जी घर पे हैं’ के चरित्रों पर आधारित है, इस कहानी का उद्देश्य सिर्फ यौन संतुष्टि देना है, न कि किसी भी व्यक्ति और उनकी इज्ज़त को ठेस पहुंचाना है.

तो ऐसा कर कोई दुपट्टा डाल ले या फिर ये चादर डाल कर सो जा, मैं चादर के ऊपर से तेरा सर सहला दूँगा और तुझे नींद आ जाएगी. और तेरी आँखें सूजी हुई क्यों हैं? जीजू से झगड़ा हुआ क्या?मोना- अरे नहीं ऐसा कुछ नहीं है. उसे एक दोपहर को रीना का फोन आया कि विनय शाम को तीन-चार दिन के लिए टूर पर जा रहा है तो कविता उसके घर पर ही तीन चार दिन रुके, वहीं से बैंक जाए.

कुंवारी लड़कियों के बीएफ वीडियो

शायद मेरे इतनी तेज़ी के साथ लंड घुसने के कारण उसे दर्द हो गया था मगर उसने अपने आप को संभाल लिया और मुझे कस कर अपनी बाँहों में चिपटा लिया.

दोस्तो, मैं आपका दोस्त राज एक बार फिर हाजिर हूँ एक सत्य घटना को लेकर!मैं उत्तराखंड देहरादून का रहने वाला हूँ! यहाँ से पढ़ाई पूरी कर मैं जाब के लिए दिल्ली चला गया. तो मैंने उनको पूछा- क्या मैं आपकी हेल्प कर सकता हूँ?उसने मुझे कहा- मुझे बहुत दूर जाना है. मेरे होंठ चूसते हुए वो मेरे मम्मे मसल रहा था, चूतड़ों को दबा रहा था.

मौसी मुझे काम पिशाच कहती थी, जो भूत की तरह चिपक जाता है, और फिर खून चूसे बिना पीछा नहीं छोड़ता, उसी तरह मैं भी जब भी जहाँ भी मौका मिलता, मौसी के बदन के जिस हिस्से पर भी संभव होता, अपनी काम तृप्ति करता. उसे देख कर कोई अंदाज भी नहीं लगा सकता था कि ये स्त्री लंड की प्यासी अपनी चुदास से त्रस्त रहती होगी. पॉर्न डॉट कॉमबस दोस्तो यही मेरा मकसद था आपको बताना कि कभी रिश्तों को गंदा मत करना.

फिर अंकल आंटी से मैंने थोड़ी बहुत बात की और शांत हो गया, मम्मी आंटी अपनी बातें करने लगी. मैंने कहा- चंद्रा भाभी, कहां से आ रही हैं?भाभी- बस आंगनबाड़ी से, हम बच्चों वालियों की तो यही ड्यूटी रह गई है.

मेरे साथियो, आप मेरी इस बहन की चुदाई की सेक्स स्टोरी पर मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें. आप सेक्स स्टोरी का आनन्द लें और मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें।[emailprotected]कहानी जारी है।. फिर उनके ऊपर वाले पतले से होंठ को अच्छे से चूसा, तब तक वो भी पूरी तरह गर्म होने लगी थी.

मेरी ‘हाँ’ सुनते ही उसने एकदम से मेरे होंठों पर किस लिया और मेरी गोद में आकर सीने से सीना लगा कर बैठ गई. उसी वक़्त जॉन वहां से गुजरा और उसकी नज़र जब फ्लॉरा पर गई, वो एकदम नंगी थी. थोड़ी देर सबीना की गांड को मैं जोर से चोदने लगा अब मैंने रफीक को बेड से नीचे उतर कर मैंने जमीला को सबीना के नीचे से आगे खिसक कर सबीना की चुचियों पर मुँह ले जाने को कहा तो जमीला आगे खिसक गई और अब उसके मुँह पर सबीना की मस्त बड़ी चुचियाँ थी, जिनको वो चूसने लगी और सबीना का मुँह भी जमीला की चुचियों पर आ गया.

अब जब अदिति को तो पता चल ही चुका है कि मैं उसके पास परसों सुबह पहुंच जाऊंगा; तो क्या वो भी अभी मेरी ही तरह ही सोच रही होगी इस टाइम, क्या उसकी चूत भी मेरे लंड की याद में रसीली हो उठी होगी और उसकी पैंटी गीली हो गई होगी?पर इन सवालों का फिलहाल मेरे पास कोई जवाब नहीं था.

ये बात सुनते ही वो एकदम से हैरान हो गई और बोली- प्लीज़ ऐसा मत करना… तुम जो बोलोगे मैं वही करूंगी. मैंने अब उसकी चूत के मुंह पर अपने दोनों होंठ लगा दिए और बिना जीभ का इस्तेमाल किये बिना चूसना शुरू कर दिया.

तुम बहुत बेताब होने लगे तो मैंने कहा कि मेरे राजा अब तो दिखा दे अपनी रानी की चुत पर अपने लंड का कमाल. अब मैंने उसे चूमते हुए उसकी नेक पर किस किया और चाटने लगा, वो अपने मम्मों को ऊपर कर रही थी. जब उन्होंने टी-शर्ट और ऊपर की तो वो समझ गए कि सुमन ने ब्रा नहीं पहनी है.

यह नौकरी एक बहुउपयोगी बिल्डिंग में मिली थी, जिसका मुख्य काम घरेलू और औरतों की सभी चीजें डायरेक्ट उनके घर में सप्लाई करना था. गुलशन जी ने अपना लंड बाहर निकाल लिया और सुमन की सुलगती जवानी को देखते हुए वो लंड को सहलाने लगे. रानी कसमसाई और उसने पेटीकोट का नाड़ा खोल कर ढीला किया और अपनी कमर उठा कर पेटीकोट अपने नीचे से निकाल दिया.

चोदा चोदी बीएफ पिक्चर मैंने फोन जमीला को दे दिया तो सबीना ने जमीला को स्पीकर ओपन करके बात करने का इशारा किया. उसको कुछ भी ध्यान नहीं था। लंड भी उसके कोमल हाथों का स्पर्श पाकर उठाव लेने लगा था।थोड़ी देर में लंड ने अपना पूरा आकार ले लिया। एकदम गोरा चिकना लंड देखकर सुमन के होंठ सूख गए। उसने अपनी जीभ हल्के से उसके सुपारे पर घुमाई, उसको एक अलग ही मज़ा मिला।टीना- अरे ऐसे क्या कर रही है इसे केले की तरह पूरा मुँह में लेके चूस.

बीएफ पुलिसवाला

आज मुझे एक गैर मर्द के सामने ब्रा-पैंटी में जाने में बहुत शर्म आ रही थी. तभी मैंने महसूस किया कि मनीष का गीला लंडमेरी गांड के छेदसे सट गया था. कुछ देर बाद में मुझे क्लाइंट ने होटल का नाम और रूम नंबर मैसेज कर दिया.

इस मौके का लाभ चन्दन भी उठाना चाहता था और उसकी सास भी, पर दोनों एक-दूसरे से बोल नहीं पा रहे थे. मैंने पूछा- तुम भारत कब तक आ रही हो?तो वो बोली- मेरे राजा बस एक वीक और इन्तजार कर लो. डब्ल्यू डब्ल्यू एक्स एक्स एक्स हिंदीजीजा जी उनके तरफ बढ़ते हुए बोले- ये तो ग़लत बात है सासु माँ… आप मुझे नंगा देख सकती हैं तो मैं आपको क्यों नहीं? अगर देखना ही था तो मुझे कहती, बहुत अच्छे से आपको दिखाता.

मैंने बिना देर किए उसके एक निप्पल को अपने मुँह में ले लिया और दूसरे को हाथ से सहलाने लगा.

अब उसकी चूची और चूत नंगी थी, उसने अपनी टांगों को थोड़ा खोलने की कोशिश की और मेरे फनफनाते लंड को अपनी चूत पर खड़े खड़े अड़ा लिया. मगर गुलशन जी को उसके ब्वॉयफ्रेंड की भनक लग गई बस उन्होंने उसी दिन से उसका कॉलेज बंद करवा दिया और उसे घर में कैद कर दिया.

ये बात सुनते ही वो एकदम से हैरान हो गई और बोली- प्लीज़ ऐसा मत करना… तुम जो बोलोगे मैं वही करूंगी. मैं खुद को और कंट्रोल कर नहीं पाया और मैंने उनके मम्मों को दबाने लगा. अब मैं अपने हाथ उसके कन्धे से लेकर उसकी गांड तक फेर रहा था और ऋतु भी चुपचाप इसके मजे ले रही थी.

अचानक से मेरे दिमाग में वो सारी नंगी तस्वीरें चलने लगीं और मैं चाची की नंगी टांगें देखने लगा.

टीना बार-बार कहने लगी कि कुछ नहीं होगा, बस एक बार असली मर्द के हाथों अपने जिस्म को रगड़वा ले, बहुत मज़ा आएगा. अब राहुल के कहने पर मैंने फिर से ऋतु को लेटा दिया और उसकी चूत में लंड घुसा कर उसकी चुदाई शुरू कर दी. अब गुलशन जी की गंदी नज़र फिर अनिता पर पड़ने लगी और ये बात अनिता भी समझ रही थी.

सेक्सी पिक्चर ब्लू मेंमेरी दीदी की चुदाई स्टोरी उस समय की है, जब मैं अपने चाचा के यहाँ ग्रेजुएशन करने दिल्ली गया था. जैसे ही मैंने उसकी टांगों के बीच पोजीशन लेकर लंड को चूत पर टिकाया तो वैशाली एकदम बोली- धीरे से डालना.

बीएफ हिंदी सुहागरात की

इसी तरह में गले पर भी करता और इस दरमियान उसकी सिसकारियां चालू हो गई थी।अब मैंने उन्हें सोफे पर लिटा दिया. गुलशन जी ने बहुत ध्यान लगाया कि लंड से कुछ टच हो रहा है मगर सुमन इतने हल्के तरीके से छू रही थी, जिससे गुलशन जी को समझ नहीं आ रहा था कि सुमन छू रही है या कपड़े की रगड़ से लंड खड़ा हुआ है. फ्लॉरा- क्या 4 घंटे लगातार आप चुदाई करोगे हा हा हा इतना पावर है आप में?गुलशन- मेरी रानी ये तो बहुत कम टाइम है.

’उसने अपनी कमर को एक-दो झटके दिए और मेरे लंड पर मुझे कुछ तरल सा महसूस हुआ. पण्डित जी ने उठकर कमरे की लाईट जला दी, उन्होंने मेरी ओर देखा और फिर मंत्रमुग्ध से मेरे बदन को निहारते रहे. तुम बहुत बेताब होने लगे तो मैंने कहा कि मेरे राजा अब तो दिखा दे अपनी रानी की चुत पर अपने लंड का कमाल.

आप मुझे बोल दिया कीजिये ना … कभी तो मैं भी तो आपका सामान ला सकता हूँ. दोस्तो, इतनी प्यार से चूसने वाली मैंने आज तक नहीं देखी थी, उसकी जुबान और होंठ मेरे लंड पर ऐसे पर चल रहे थे मानो क्रीम फिसल रही हो. अपने शरीर को कसरती बदन बनाने का मकसद सिर्फ इतना ही है कि मैं फिल्मों में काम करना चाहता था लेकिन यह नहीं मालूम था कि 9 इंच लम्बे लंड लिये हुए लड़के को भी उसी तरह की फिल्म मिलेगी.

राहुल के जाने के बाद मैंने ऋतु से बात करने की कोशिश की, उसने सही से जवाब नहीं दिया. रात में मैं पेशाब करने उठा तो उसके मम्मी पापा के कमरे की खिड़की से उन दोनों की चुदाई देखी.

कविता के मम्मे उसने जोर से दबा कर अपने मुख में ले लिए और अपने एक हाथ से उसकी चूत को मसलने लगी.

गुलशन जी चले गए और अनिता सोच में पड़ गई कि ये आदमी अच्छा है या बुरा. फोन वाली सेक्सीअब तक की इस हिंदी सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि संजय ने पूजा की चुदाई के बाद उसको चलने में दिक्कत को लेकर समझा दिया था कि कह देना कि स्कूल में गिर गई थी. जीजा ने साली कोपिंकी तो ऐसे ही कह दिया अब सुबह सुबह चूत शब्द बोलना अच्छा भी तो नहीं लगता न!” मैंने कहा. मैं उसको सांत्वना देते हुए बोला- किसी भी हाल में अपनी दोस्ती यूँ ही बनी रहेगी जैसी है, पर शायद मैं ही कुछ ज्यादा उम्मीद लगा बैठा.

मौसी मुझ पर इतनी मोहित हो चुकी थी कि एक बार मेरे कहने पर उसने मेरा पेशाब भी पी लिया.

इसके बाद मैंने भाभी के मम्मों से चुसाई शुरू की और धीरे-धीरे भाभी के दूध पर हर तरफ चूसता चला गया, जिधर डेरीमिल्क लगाई हुई थी. खैर मेरा नाम आर्यन सिंह है, मैं उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में रहता हूँ, मैं 21 साल का हूँ, मेरी लम्बाई 5’8″ है, मेरे लंड की लम्बाई 7 इंच है. विनय जाने को तैयार था, विनय ने हमेशा की तरह कविता को फ्लाइंग किस दिया.

तिवारी ने जल्दी से ही अनीता के सामने अपनी सीट धारण कर ली और मुस्कुराते हुए अनीता से पूछा- क्या बात है भाबी जी, आपके चेहरे पे तो मुस्कान बिखरी पड़ी है, क्या बात है भाबी जी, जरा हमें भी तो सुनाइए. मैंने एक लंबा सा किस करते हुए कहा- सुमित क्या-क्या करता है?दीदी बोली- वो तो बहुत जल्दी हार मान लेता है. एक दिन पापा कहीं गए हुए थे, तो मैंने सोचा क्यों ना आज झांटें साफ़ कर ली जाएं.

बीएफ हिंदी बोल

जब सुमन को इस बात का अहसास हुआ उसकी तो जान ही निकल गई कि अचानक ये क्या हो गया?साथियो, आप मुझे मेरी गर्म कहानी पर मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें. दो मिनट के किस के बाद मैंने अपना एक हाथ उसके चूचों पर रख दिया और उसने एक लंबी साँस ली. मेरा नाम राज शर्मा, मेरा कद 5’8″, मेरे लंड का साइज़ अच्छा लंबा मोटा है.

इसी वजह से जब मेरी बिल्ली हम दोनों के लंडों को इकट्ठा मुंह के अन्दर डालने का प्रयास करती थी तो उसे कामयाबी नहीं मिल रही थी.

मैं भी उसके ही बगल में खड़ा हो गया और मौका पाकर मैंने अपना हाथ रेलिंग के उस हिस्से पर रख दिया जहाँ पर उसका लंड टच हो रहा था.

यहाँ पे मुझे समझ में आया कि आपकी तकदीर वापिस मौका देती है, आपको उसे समझना है. लेकिन अशोक ने मुझे झिड़क दिया कि क्या बच्चों जैसी बातें कर रही हो? कोई सुबह सुबह भी सेक्स करता है क्या?अब अशोक को मैं कैसे समझाती कि सेक्स करने का कोई समय नहीं होता है. नौकर और मालकिन की सेक्स वीडियोमैं अचानक घबरा गया और सोचा कि अपना हाथ वहाँ से हटा लूँ, लेकिन मैंने थोड़ी हिम्मत दिखाई और सोचा की मुझे इसका लंड तो लेना ही है तो डरना कैसा.

नताशा के मीठे थूक से खूब सन चुके अपने भयानक लंड को उसने कुछ देर बाद बाहर निकाला, तो वो चमक मार रहा था. एक बार और तेरीचुत और गांडको चोद देता हूँ ताकि शाम तक तुझे लंड की याद ही ना आए. वो तो अब और भी हसीन और सेक्सी लग रही थी, उसकी गांड तो इतनी मस्त थी कि मैं सीधा गांड को चाटने लगा और उसकी चूत को उंगली से रगड़ने लगा.

तू बस मेरी बातों को मानती रहना और हाँ, सबसे पहले तू अपनी मॉम से सुलह कर ले और उनसे प्यार जता. मेरे शौहर का लंड 4 इंच का था पर अब 6 इंच का लंड मेरी चुत में घुसा तो मुझे दर्द होने लगा था.

वो नजरें झुकाए खड़ी रही।सब सामान लेकर गुलशन जी ने कार में रखा और घर की तरफ़ चल पड़े। पूरे रास्ते सुमन सोच रही थी कि पापा ने मुझे कुछ भी लेने को नहीं कहा, क्या वो मुझसे प्यार नहीं करते। अरे मॉर्डन नहीं तो कोई सिंपल ड्रेस ही दिलवा देते।गुलशन- क्या सोच रही है मेरी लाड़ली? घर आ गया है, चलो उतरो.

गुलशन जी समझ गए कि अब रस की धारा आने वाली है, वो जल्दी सेबेटी की चुतसे चिपक गए और चुत को होंठों में दबा कर चूसने लगे. मैंने अब भाभी के पेटीकोट के अन्दर हाथ करके उनकी पिछाड़ी के ऊपर के हिस्से में हाथ फेरते हुए मालिश करना शुरू कर दी. अब पता नहीं कि मेरा और साली रानी का मिलन होगा या नहीं?ये सेक्स स्टोरी कैसी लगी, मुझे बताएं.

ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो एचडी रीना के तो हाथ और पैर की उँगलियों पर सुर्ख लाल रंग का नेल पेंट लगा था. मेरे भाई ने लंड को मेरी चूत से निकाल लिया और मेरी गांड में डालने लगा.

सुमन ने अपना बैग लिया और जाते हुए हेमा से बोल गई कि आज एक्सट्रा क्लास है, उसे आने में देर हो जाएगी. वो मेरा इशारा समझ गया और अपने हाथ से मेरी चूत की कलियों और दाने को सहलाने लगा. आज बुझा दे इस कमीनी चूत की आग… ओह्ह हाँ ऐसे ही आहह… आहह… ओह्ह… मैं जाने वाली हूँ… आहह… मेरी चूत बहन की लौड़ी निगोड़ी छिनाल चूत अहःहःहः मेरी चूत ओह्ह मेरी कमीनी चूत आहह गई.

बीएफ वीडियो 2018

मुझे महसूस हो रहा था कि ऋतु मेरी कामुकता के जाल में फंस गयी है, आज इसका भोग लगेगा. थोड़ी देर बाद मैंने हाथ को ऊपर नीचे चलाना शुरू किया और हाथ उसके चूचों तक ले गया. मैं पेपर लिखने बैठा, वो पीछे से कभी मेरे पैर को धक्के मारती तो कभी मेरी पीठ को हाथ लगाती.

अचानक हुए इस हमले से मैं पूरी तरह से हिल गई और ‘आआआईईई भोसड़ी के मार डाला… मादरचोद आआह्ह ह्ह्ह्ह…’ ही बोल पाई. अपने आप चुत की खुशबू लेते हुए तेरे पास आ जाएँगे समझी!मोना- नहीं यार.

सिर्फ अपनी झांटें शेव करनी थी सो अपने लंड को बढ़िया चिकना कर लिया ताकि बहूरानी को मेरा लंड चूसने में, अगर वो चाहेगी, तो कोई परेशानी, कोई असुविधा न हो.

इतना कह कर मैंने उसकी चड्डी निकाल दी और वो मेरे सामने नंगी खड़ी थी. तभी मेघा का फ़ोन बजा, वो बोली- मनोज इतनी सुबह सुबह कैसे फ़ोन किया?मैं समझ गया कि मनोज इसे चुदाई करने के लिए बुलाया है. फ्लॉरा की बात का जवाब अतुल ने भी धीरे से ही दिया था मगर ये डबल मीनिंग बातें दोनों अच्छे से समझ रहे थे.

मुझे अब दर्द होने लगा तो उसने जय को इशारा किया कि मेरे हाथ पकड़ ले और मेरे बूब्स को मसले, उन्हें चूसे, चाटे, मरोड़े और जूस निकाल दे. चुदाई अपने चरम पर थी, मैं अपने 6″ के लंड को बाहर खींच कर एक ही झटके में पूरा अन्दर घुसा देता और मेरे लंड के प्रहार से स्मृति कराहने लगती. मेरी इस बात पर वो हंस कर मुझे पूछने लगी- सच मैं तुम अभी तक वर्जिन हो?मैं बोला- कुछ इस तरह ही समझ लो.

मुझे अपनीअपनी बीवी को दूसरे से चुदते देखने में ख़ुशी मिलती है, देखने में मजा आता है.

चोदा चोदी बीएफ पिक्चर: योगा करते टाइम मैंने ड्रेस बदल लिया था और चेंज करके एक लोवर और टी-शर्ट पहना हुआ था. मैं शिवम बाहेती कोलकाता से हूँ, मुझे अन्तर्वासना की हॉट कहानी बहुत पसन्द है, मैं इसका नियमित पाठक हूँ.

रास्ते मैं उन्हें लगा कि कहीं वे शादी में पहुँचने में लेट न हो जाएं, तो उन्होंने अपने पति से इस बात को कहा, जिस पर अशोक ने उन्हें आश्वस्त किया कि वे लोग सही वक्त पर पहुँच जाएंगे. तुम ठीक तो हो?बस सविता भाभी भड़क गईं- ये अशोक भी न जाने कैसे पति हैं, इनको मुझसे ज्यादा ऑफिस पसंद है. मैंने उसको बोला- क्यों? और वैसे भी अभी तो आप दुल्हन के घर होंगी ना?तो वो बोली- तुम ज़्यादा सवाल मत करो, मुझे मिलो, बाद में बताती हूँ.

फिर दोनों सहेलियों ने थक जाने के बाद कुछ खाने की सोची और एक रेस्तरां में खाने चली गईं.

मैंने कहा- मैं एक लड़की हूँ तो आपको कैसे किस कर सकती हूँ?चाची ने कहा- होंठ तेरे पास हैं और मेरे पास भी हैं, तो क्या हुआ. आप सेक्स स्टोरी का आनन्द लें और मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें।[emailprotected]कहानी जारी है।. हमने इतना डीप किस किया कि दोनों ने एक दूसरे की जीभ को जीभ लगा कर उसके ऊपर लार टपका कर किस का मज़ा दुगना कर दिया.