हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ

छवि स्रोत,बंगाली नंगी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ पिक्चर देखना: हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ, बस दो मिनट में वाणी बोली- मेरे बारे में भी सोचो … इस कुतिया को तो ऐसे ही मज़ा आता है इसलिये ये हमारे मर्दों को उकसाती है और हर बार मैं ही सूखी रह जाती हूँ.

हिंदी पिक्चर फिल्म ब्लू बीएफ

हम दोनों में एक दो बात हुई और फिर मैंने आंटी के साथ मजाक करना शुरू कर दिया. बीएफ मेरीसास मेरे बच्चों की थोड़ी बहुत मदद कर देती है लेकिन बाकी का सारा काम मुझे ही करना पड़ता है.

एक दिन मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझसे कहा कि हम दोनों बाहर जाकर ही सेक्स करेंगे. चूची सेक्सयार मैंने जब उन्हें देखा तो माशाअल्लाह क्या बताऊँ … वो तो बला की खूबसूरत थी.

मैं नहीं झुकी तो उन्होंने मेरे को दबाकर झुकाया और अपनी पैंट की जिप के पास की सख्त चीज को मेरी सलवार के ऊपर से ही पिछवाड़े पर जहां मेरी गांड है, उस पर फिट करके रगड़ने लगे.हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ: फिर वह भी कहने लगी- राज! बिल्कुल धीरे-धीरे डालना, मैंने कभी इतना मोटा लंड न देखा है और न ही चूत में लिया है.

तभी मामा बोले- बंध्या, तेरी चूत की महक बहुत मस्त है, तू बहुत चिकनी है.मैंने प्रमिला को एकता के सामने बैठने का इशारा किया, जिसे प्रमिला ने समझ लिया.

xxx मराठी hd - हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ

इतना मजा तो मुझे मेरी अपनी बीवी की चूत पहली बार चोद कर भी नहीं आया था.उसके इस तरह से लंड घिसने से मुझे बड़ी कामुकता और व्याकुलता का अहसास हुआ जा रहा था.

उस दिन से मुझमें तुम्हारे साथ सेक्स करने की इच्छा हुई और काम्या पर दुःख आया कि उसने कैरियर के लिए इतना अच्छा पति छोड़ दिया. हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ उसने थोड़े गुस्से में कहा कि मैंने अन्दर करने को मना किया था न?इस पर मैंने कोई जवाब नहीं दिया और मुस्कुरा दिया.

मैंने उसकी पैंटी को निकाला और उसके पैरों को किस करते करते उसकी चूत तक आ गया.

हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ?

वो मेरा लण्ड और मैं उसकी चूत चाट रहा था।मैंने उसकी चूत में अपनी एक उंगली डाली पर चूत इतनी टाइट थी कि मेरी उंगली आसानी से अंदर नहीं जा पा रही थी। फिर मैंने जैसे-तैसे अपनी दो उंगलियों को उसकी चूत में डाल कर उसे चोदना शुरू कर दिया। इसी बीच वो एक बार झड़ चुकी थी।तब अनामिका ने कहा- अब और न तड़पाओ मेरे राजा. मुझे डर भी बहुत लग रहा था कि कहीं प्रीतम मुझे यह न कह दें कि उसके घर छोड़ देता हूं. तभी एक दिन उसके गांव में किसी के घर शादी थी, तो मामी और उसका भाई बरात में चले गए.

मेरी उमर 23 साल की है और मेरे लंड का साइज़ भी मेरी उमर के हिसाब से ज़्यादा है. मैं फिर से गर्म और गीली होने लगी थी और अपनी उत्तेजना में उसके लिंग को बेरहमी से दबाने और जोर जोर से हिलाती गई. मैंने देखा कि बाइक पर मेरे सहकर्मी शंकर झा जी और उनकी पड़ोसन कौशल्या जी थीं.

तू सहेली और बहन की तरह है, जो तुझे अच्छा लगे करती रह … मुझे दिक्कत नहीं है. उसकी जीभ जब मेरी चूत को चाट रही थी तो मेरे पूरे बदन में सिरहन हो रही थी. तू जिस भी लड़के या मर्द से मिले, उससे इन्हें ज्यादा से ज्यादा दबवाना और चुसवाना.

यह बात आज से 2 साल पुरानी है, उस समय मैं अपने मामा के घर पर रहता था. भले ही भाभी गर्म हो गई थीं, तब भी मुझे उनके साथ शुरू करने बहुत डर लग रहा था.

मैंने कभी सोची नहीं थी कि मुझे इस लड़के से चुदवाने में इतना मजा आएगा.

उसने बाकी के वीर्य को थूक दिया और एकदम से बाथरूम में भाग गयी और मुँह को धो कर आ गयी और बेड पर बैठ गयी। मैं भी उसके बगल में जाकर बैठ गया.

मैंने उसके लिए कमरे का दरवाजा खोला और उसको बाय बोल कर विदा कर दिया. लेकिन यहाँ तो मेरे लंड में आग लगी पड़ी थी, मैंने सोचा अगर यह मौका हाथ से गया तो फिर कभीबहन की चुतनहीं मिलनी है. वो चिल्लाने को हुई … लेकिन मुँह बंद होने से वो चीख न सकी, लेकिन उसकी छटपटाहट बता रही थी कि उसे भयंकर पीड़ा हो रही है.

आंटी उचक गई- आअह्ह … क्या कर रहा है हरामी? कहां उंगली डाल रहा है?आंटी ने मुझे पीछे धकेलते हुए कहा. अपने लौड़े से, तेरी सास इस सर्दी में तुझे तन्हा नहीं छोड़ सकती, मुझे अपने बदन से लिपटा कर रख और मेरी चूत मेरी गांड को बस पेलता रह. मेरी सहेली ने मेरे घर वालों से झूठ बोल दिया कि हम दोनों बाहर बाजार में सामान लेने जा रहे हैं.

यह सुनकर मैं शॉक हो गया; मैं तुरन्त ही बोल पड़ा- क्या? आपके पति भी? क्यूँ आप मुझे मरवाना चाहती हो … मैं नहीं आ सकता, आप कोई और देख लो.

अब मेरी सलहज फिर से गर्म होने लगी और पीछे से गांड हिला हिला कर लंड लेने लगी. पहले मेरे एक दो फ्रेंड्स थे, बाद में सभी से लीनियर हो गया और बहुत सारे फ्रेंड्स बन गए. उन्होंने अपने होंठ मेरी गर्दन से रगड़े, तो मेरे बदन में वासना की तरंगें उठने लगीं.

जो मेरे पाठक हैं, वो अपने लंड को पकड़ लें और जो पाठिकाएं हैं वो अपनी चूत की झांटें आदि साफ़ करके मजा लेने को तैयार कर लें. उम्म्ह… अहह… हय… याह… मैंने बेतहाशा अमित की गर्दन को चूमना शुरू कर दिया और उसने प्रतिउत्तर में मेरी योनि में लिंग के धक्कों की शुरूआत कर दी. मैं बोला- यार तुम अन्दर चल सकती, तो तुमने जो नहीं सोचा होगा, वो भी होगा.

फिर मैंने फोन लगा के उससे डरते हुए कहा- एक बात पूछना चाहता हूँ प्रिया?प्रिया- बोलो न.

कमला अपने पैर फैला कर मेरा लौड़ा अपनी चूत के छेद में रख कर दबाने लगी. मेरी रानी अब मैं रोज तुम्हें ऐसे ही चोदूँगा, मैं भी सालों बाद चुदाई के मजे ले रहा हूँ … वो भी तुम जैसी गुद गुद और रसीली औरत से … आज से तुम मेरी पत्नी हो.

हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ फिर वो मेरे बगल में आकर भाभी ने एक ही झटके में अपना शर्ट उतार दिया और अब वो लाल ब्रा में खड़ी थी. आंटी को जब मेरे लंड का अहसास हुआ तो आंटी ने अपना एक हाथ नीचे ले जाकर मेरे लंड को मेरी पैंट के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया और मेरे लंड को सहलाते हुए बोली- मैंने भी बहुत दिनों से इसका दूध नहीं पीया है.

हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ रमेश ने सिगरेट सुलगाते हुए एक ठहाका लगाया और बोला- और तू क्या सूखी सूखी होली खेलेगी? चल एक और बना. उसका रिप्लाई आया कि ठीक है, अगर तुमको विश्वास नहीं है, तो रहने दो … मत दो अपना नंबर.

मैंने एकता को इशारा किया, तो एकता ने इशारा समझ कर मेरे मुँह में ऊपर आजू बाजू अपनी टाँगें फैला कर चुत मुँह पे रख दी.

लड़की ने कुत्ते से

वो मुझे अपने लंड पर बैठने को बोला और मैं उसके लंड पर बैठ गयी और वो मेरी चूत को चोदने लगा. चुपचाप लेटी रहो सासु माँ, अभी तेरी चूत का भी नंबर आएगा पहले तेरी चुचियों का भला तो कर दूं, इतनी मस्त चूचियां हैं तेरी कि मन ही नहीं भर रहा, दिल करता है कि इनको ऐसे ही चूसता रहूँ बस. मैंने उसकी चूत की फांकों में लंड पिरोया और उसकी चूत पर लंड घिसने लगा.

मैंने देखा कि बाइक पर मेरे सहकर्मी शंकर झा जी और उनकी पड़ोसन कौशल्या जी थीं. तभी मेरी चुत में निहाल ने अपनी उंगली भी घुसा दी, तो मैं रंजना दीदी के गालों में किस करने लगी और उनके मुँह में अपने हाथ की उंगली डालने लगी. मेरी गीली चूत में वो अपना पूरा लंड मेरी चूत में डाल कर मुझे हचक कर चोद रहा था.

मैं चुपचाप सर के लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी। मैं चाहती थी कि वो जल्दी-जल्दी मुझे फ्री कर दें। लेकिन सर ने मेरे मुंह को ही चोदना शुरु कर दिया.

मैं- मैं भी लेटा हूँ … अच्छा एक बात बताओ, इतनी रात को तुम एक लड़के से बातें कर रही हो, क्या तुम्हारा पति तुमसे कुछ नहीं बोलता है?भाभी- अरे पागल अगर पति साथ में होता, तो क्या मैं बात करती? वो बाहर जॉब करते हैं, महीने में एकाध बार आते हैं. मैंने कहा- मामी, बस कपड़े पहनने के लिए ही जा रहा हूँ।मामी की नज़र जैसे मेरे बदन को ही निहार रही थी. उनकी बुर बहुत कसी हुई थी, इसलिए मैंने थोड़ी देर तक उतना ही लंड आगे पीछे करने लगा, जितना भाभी की बुर में लंड घुसा था.

मेरी आंखें खुल बंद हो रही थीं … क्योंकि मेरे पति ने मुझे कभी न तो मसला था और ना ही मेरी चूत को अपने हाथ या मुँह से छुआ था. मैं जैसे ही अंदर गया उसने मुझे गले से लगा लिया और फिर दरवाज़ा बंद कर लिया. उसे घोड़ी बनाकर पीछे से चोदा, बेड पर सुलाकर चोदा, शेल्फ पर बिठाकर चोदा, यानि हर मुमकिन पोज़ में चोदा.

थोड़ी ही देर में कपड़े निकालकर वह केवल बनियान और वी-कट वाले अंडरवियर में होकर पाइप से बाइक की धुलाई करने लगा. सारिका ने मुझे कस कर हग कर लिया और कहने लगी- तुमने जो मुझे खुशी दी है … मैं इसे कभी भूल नहीं पाऊँगी.

मैं यह सब आखिर तक देखती रही और न जाने कब मेरा अपना हाथ मेरी चूत को सहलाने लगा. लेकिन प्रीति ने बड़ी ही बेशर्मी दिखाते हुए मेरे चेहरे के पास खड़ी होकर मेरे ऊपर ही सूसू कर दी। ऊपर से मेरे ऊपर प्रीति सूसू कर रही थी, दूसरी तरफ मेरे नीचे से मेरा मूत निकल रहा था। इसके बाद प्रीति ने मेरी चूत में से वो ​डिल्डो वाईबेटर निकाल दिया और मेरे हाथ खोल दिये. वो एक तरफ तो तेज़ी से धक्के मार रहा था, दूसरी तरफ मेरी जांघों को पकड़ धक्के के साथ उठा कर मुझे खींचने लगा.

चलो कोई बात नहीं मेरे गोलू मोलू अभी लिख कर भेजती हूँ, तुम भी अब एक काम करो अपने लंड पर मेरा नाम लिखो और फोटो भेजो.

मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे मेरे लंड को किसी गर्म लावे की कढ़ाई में डाल दिया गया हो. फिर मैंने एक हाथ से उसके बाल पकड़े और दूसरे हाथ से उसकी कमर को थामा. उनके बाल रेशम की तरह काले थे और उनका चेहरा बहुत ही गोरा, सोने की तरह चमकदार और उनका पूरा बदन भी वैसा ही था.

’‘तूने चोदा इसकी माँ को?’‘हाँ दोनों छेदों में … मस्त माल है, मोटी चुचियां, भरे भरे चूतड़. बल्कि मेरे घर पर ही चुदाई करेंगे क्योंकि मेरे बच्चे दोपहर 12 से 8 बजे तक स्कूल और टयुशन में होते हैं.

इसका फायदा उठाते हुए निहाल ने अपना हाथ आगे तरफ मेरी नंगी पेट में नाभि में रख दिया. लगभग 15 मिनट के बाद वह बाथरूम से बाहर निकल कर आई और मेरी नजर उस पर गई तो मैं उसे देखता ही रह गया. कुछ देर घोड़ी बना कर चोदने के बाद उसने मुझे अपनी गोदी में बिठा लिया.

देवर भाभी की चुदाई साड़ी में

मैंने आंटी के बोबों को अपने दांतों से काटना शुरू कर दिया और धीरे-धीरे आंटी की चूत में अपने लंड को अंदर बाहर करना शुरू कर दिया.

तभी उस नम्बर पर एक मैसेज आया- तुम मुझे बेचैन करके कहाँ गायब हो गए हो, तुम्हारा फोन भी स्विच ऑफ़ आता है. मुझे मेरे देहरादून वाले मित्र ने बहुत ही कामुक और मॉडर्न तरह की नाइटी और पैंटी ब्रा के सैट दिए थे, जो मैचिंग के थे. भैया मेरे पास आए और मुझसे भागता न देख कर बोले- क्या हुआ तू भागी क्यों नहीं?मैं बोली- भैया मेरी ब्रा पानी के अन्दर चली गई है.

मिशिका ने उसके अंडरवियर के ऊपर से ही उसके लंड को हाथ में ले लिया और सहलाने लगी. अनामिका मुझसे बोली- विकास देखो, मम्मी जो बोलेगी तुम मुझे घर आकर सब बताना. नंगी सेक्सी चुदाई वालीतभी वो उल्टा होकर मेरे कूल्हों को फैलाकर मेरी गांड में अपनी उंगली डालने लगा.

उसी दिन मैंने जाल बिछाया और उसको उठा कर चाय आदि देने के बाद बाथरूम में चली गई उधर उसके खड़े लंड के नाम से अपनी फुद्दी में उंगली की और हस्तमैथुन करके नहायी. आप सब इस कहानी कि घटना को ऐसे सोचें कि यह सब आपके साथ हो रहा है तब आपको मेरी कहानी पढ़ने में पूरा मजा आयेगा.

फिर मैं उसे बेडरूम में ले गया और उस पर किसी कुत्ते की तरह टूट पड़ा. जब वो नीचे हो रही थी, तो मेरे लंड पर उसकी चूत ऐसे फिसली कि मत पूछो … मैं तो उस रगड़ से सातवें आसमान पे पहुंच चुका था. मैं उसकी चूत को जीभ से चाटने लगा, कभी कभी दांतों से चूत के मुकुट यानि उसकी क्लिट को हौले से खींच कर काट भी लेता.

फिर मैंने धीरे-धीरे चूमते हुए उसकी चूत के ऊपर से पैंटी के ऊपर अपना मुँह रख दिया वो एकदम से सिहर गयी. वो दोनों वहां से चले गए, ये सारी बातें पान दुकान वाला राजू मुँह खोल कर सुन रहा था. तभी उसकी गांड ने मुँह खोला और मेरा लंड धीरे धीरे उसकी गांड के अन्दर सरकने लगा.

निहाल ने उसको एक तमाचा मार दिया और बोला- साले कहां घुसा था तू? इतना छोटा है फिर भी मौके का फायदा उठा लिया.

मेरा लंड जो इस वक्त बिल्कुल खूंखार हो चुका था … उसकी गीली चूत से टच हुआ. शायद भाभी को यह भी पता लग गया था कि मैं भी उनको चुपचाप देखता रहता हूं इसलिए वो भी मुझे अपना बदन दिखाने के लिए आराम से नंगी खड़ी होकर बॉडी लोशन लगाती और धीरे-धीरे कपड़े पहन लेती थी.

फिर वो मुझसे बोला- जा … टिश्यू पेपर ला कर मेरी रंडी का चेहरा साफ़ कर दे और ऋतु की गांड से और मेरे लंड से क्रीम साफ़ कर दे. किसी हद तक गुस्से में वह मेरे मम्मे मसलने लगा, निप्पल्स जोर-जोर से चूसने लगा और इस बार बिना किसी खास कोशिश के उसका लंड भी खुद से ही टाईट हो गया।इस बार वह मर्द बना और खुद पहल की. उसने मुझे थोड़ा सा हल्का टेढ़ा किया और मेरे कूल्हों को अपने हाथ से फैला दिया.

वो भी अपने लंड पर मेरे मुँह की गर्माहट पाकर मस्त हो उठा और आगे पीछे करते हुए लंड से मुँह की चुदाई करने लगा. अभी 3 दिनों तक घर पर कोई आने वाला नहीं है तो कल मेरे एग्जाम देकर आने से पहले तुम तैयार रहना. ये संतुष्टि होने के बाद कि कोई और फिलहाल वाशरूम में नहीं है, मैंने कल्पना को वीडियो कॉल लगाया … और जल्दी ही मेरा कॉल कनेक्ट भी हो गया.

हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ तभी उसने डरते हुए मुझसे पूछा- क्या हुआ?मैंने उससे कड़े शब्दों में कहा- हुआ क्या? आपकी मर्दानगी देख ली, एक औरत को संतुष्ट नहीं कर सकते और लंबी लंबी बातें करते हो. इसके बाद जो प्रीति ने किया, मेरे तो रोंगटे खड़े हो गये जब प्रीति ने उस डिल्डो में वाईब्रेशन शुरू कर दिया.

बीपी पिचर

इधर अब्दुल मेरी चूत में अपने हाथी जैसे लंड से मेरी चूत की बेदम चुदाई कर रहा था. वह मुझे हग कर कर बैठा था, उसने मेरे लिप्स पर किस करना और स्मूच करना स्टार्ट किया. कुछ ही देर में मैं झड़ने वाला था तो मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और थोड़ी देर तक मैंने लंड को मुंह में ही रहने दिया और उसने मुझे जोर से धक्का देकर हटा दिया और थोड़ा वीर्य पी गयी मेरी प्यारी बहन.

कभी कभी जब स्कर्ट में किसी लौंडिया को देखता, तो मन करता कि इसकी स्कर्ट में घुस कर इसकी चूत चाट लूँ. भले ही भाभी गर्म हो गई थीं, तब भी मुझे उनके साथ शुरू करने बहुत डर लग रहा था. हिंदी में बीएफ चूतवाणी तो जैसे तैयार ही बैठी थी, फ़ौरन से उठी और उसके बराबर में घोड़ी बन गयी.

मैंने पूछा- वो कैसे? आपने उनका हाथ देखा है क्या?वो हँसने लगा और बोला- वो इसलिए कि उनको आप जैसी खूबसूरत वाइफ मिली है.

दो-तीन मिनट बाद, जिसके हाथ में पेंटी थी, वह आया और मेरे पास खड़े होकर बोला- चल आजा मेरे पीछे, यहीं पास में एकांत जगह है, वहीं तुम्हारी पैंटी दे देता हूं. मैंने बाथरूम में जाकर सुनील के नंबर को अमन के नाम से सेव किया औऱ उनको कहा कि लोकेशन भेजो.

मैं- बैठो न आप भी … आप कब आईं? आपके बारे में भाभी ने मुझे बताया था. अजय और रमेश जी को दोनों को मजा आ रहा था और सुजाता जोर-जोर से मजा ले कर लंड चूस रही थी. चूत पर लंड का सुपाड़ा टिकते ही लता भाभी ने अपनी आंखें बंद कर ली और तरह-तरह की शी… शी… की आवाज़ निकालने लगी.

तेरे पास तगड़ा लंड ज़रूर है, लेकिन जिगर नहीं कि मुझे पाने की पहल कर सके.

उसने कहा- ये पेशाब नहीं है … ये तो जन्नत की सैर है … जो तुमने मुझे कराई है. बुआ- तेरी गर्लफ्रेंड तो बहुत खुश रहती होगी, उसे रोज ऐसे चुदाई मिलती होगी. मुझे किसी और का तो पता नहीं लेकिन मैं अपने आत्मविश्वास पर पूरा घमंड रखता हूँ.

સાળી સાથે સેકસपहले मेरे लंड का टोपा उनकी चूत में घुसा। सच में गर्म और मुलायम चूत के छूने से ही मेरा लंड जैसे खिल उठा हो।तीन चार बार वो ऊपर नीचे हुई और हर बार जब वो नीचे होती तो मेरा लंड और उनकी चूत में घुस जाता। और देखते-देखते ही उनकी चूत के मखमली होंठ मेरे सारे लंड को निगल कर मेरे लंड की जड़ से जा लगे।मॉम बोली- अभी तू छोटा है न, तो तेरा लंड भी छोटा है, जैसे-जैसे तू बड़ा होता जाएगा, ये भी बड़ा होता जाएगा. चूचों की त्वचा पर सीधे मेरे हाथ का सपर्श पाकर पहली बार प्रिया उछल सी पड़ी और कराहने लगी.

गूगल सेक्स करने से क्या होता है

जब एक बार चूत गैर मर्द के लंड से चुदने लगी तो फिर तो मजा आने लगा मेरे भोसड़े को. उन्होंने आशीष को भी बोला कि तू मेरी ननद का लड़का है, यहां मेरी बेटी रहती है और तू मेरे घर में रंडी लेकर आता है. वे लंड मेरी चूत के अन्दर डालने लगे और आखिर में उन्होंने अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चुत में घुसेड़ ही दिया.

फिर रात को संध्या ने मेरा लंड चूस कर एक बार फिर जगाया और डॉगी स्टाइल में चुदवाया. मामा और पापा कुछ देर में बाहर चले गए और मैं ऊपर छत पर ही था और तभी मामी ऊपर आ गई. यही कारण था कि मैंने अपनी भूख मिटाने के लिए अपने नौकर भीम का सहारा लिया.

अब भाभी और मैं दोनों ही जोश में आ गए थे और मैं भी उन्हें ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा था. अब भैया की शादी थी, तो हम किराए वाले भी एक फैमिली टाइप ही हो गए थे. उसके बाद ट्रेन आई और मैं इंतज़ार करने लगा कि कब वो लोग आएंगे मेरे सामने.

दर्द से तड़प कर मैं बोली- मुझे नहीं करना मार डालेगा क्या छोड़ दे कुत्ते … मादरचोद मत कर … मैं मर जाऊंगी. लेकिन सासू माँ जिस बस से बारातियों के साथ जाने वाली थी, वो बस देर से 7 बज कर 30 मिनट पर आयी.

थोड़ी देर में हमारे लिए केक भी आया और हम उसे खाते हुए महोत्सव का आनन्द लेने लगे.

जब लंड ढीला होकर बाहर आया तो मैंने उससे कहा- तुमने यह क्या कर दिया मुझे फुसला कर. મમ્મી સેકસી વીડિયોमुझे उसका लंड चूसने का मन कर रहा था लेकिन मैं शर्मवश कुछ हिचक रही थी. एचडी भोजपुरी बीएफमैंने हताश होकर पर्ची को पलट कर देखा, शुक्र था कि उस गंदे लव लेटर के पीछे एक एस्से टाइप क्वेस्चन का आन्सर भी लिखा हुआ था. मैंने उससे इसके बारे में पूछा, तो उसने बताया कि वो मोमबत्ती से चुदाई करती थी, पर आज इस मोटे और तगड़े लंड से करेगी.

उसने लिंग अन्दर बाहर कर संभोग शुरू किया तो उसके लिंग की घर्षण मेरी योनि में सुखद लगने लगा.

उसने कहा- प्लीज़ अंदर डाल दो… अब बर्दाश्त नही हो रहा है…लड़की को गर्म करके सेक्स करने में जो मज़ा है वो सीधे लिंग को चूत मे डाल कर करने में नहीं है, फिर मैंने सारिका के पैरों को ओर फैलाया व उसकी कमर के नीचे तकिया लगाया. साथ ही नामित और निक अपनी चटाई और मसलाई करके मेरी वासना को और बढ़ा रहे थे. उसका पानी इतना ज्यादा निकला था कि मेरी चूत से निकल कर मेरी जांघ और मेरी गांड पर बह निकला.

फिर उन्होंने ही कोई एक मॉल का नाम लिया कि वो छोटा जरूर है, पर लेडीज के हिसाब से वहां पर अच्छी वैरायटी मिल जाती है. मैं उन दोनों को देख कर एकदम से शाक्ड हो गई कि ये निहाल तो सामने जा रहा है और अंकित भी, फिर यहां मेरी चुदाई कौन कर रहा है. इस समय वो एकदम काम की देवी लग रही थी, जो बस चुदने को बेकरार हो रही थी.

voscrow लॉगिन

मैंने उठकर दरवाजा खोला तो बाहर ननद खड़ी थी।वो बोली- भाभी आप खाना खा लो और राहुल को भी खाना खिला दो. उसके मुँह से यह बात सुनते में शर्मा कर मुँह नीचे करके बैठ गया और वह मुस्कुरा रहा था. इस तरह उसकी चूत मेरे लंड से छूने लगी और उसका चेहरा मेरे चेहरे के सामने था.

आगे की कहानी: पति से परेशान सलहज की चुत मारी-2पति से परेशान सलहज की चुत मारी-2.

उसने पूछा- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- तुम्हारे लिए कॉफी बना रहा हूं.

जब उसने मुझे बहुत देर तक किस किया, तो मैं भी गरम हो गई और उसको किस करने लगी. क्या कल कुछ देर में अमन के घर चली जाऊं?प्रीतम ने मेरी फुद्दी में अपना छोटा सा लंड डालते हुए कहा- क्यों नहीं, तुम कभी भी जा सकती हो. सेक्स वीडियो बीएफ सेक्स वीडियोमेरी कल्पना से आप ज्यादा सुन्दर और मोटे तगड़े हो, नाइस टू मीट यू सर.

पूरे आधा घंटा उनकी चूत पेलने के बाद जब हम दोनों झड़ गए तो मैं बिस्तर पर उनकी चुचियों में अपना सर घुसा कर लेट गया और वो भी प्यार से मेरा सर सहलाते हुए अपनी चूचियां चुसवाने लगीं. भाभी- तुम भी मस्त हो … अच्छा कल आओगे ना तुम?मैं- हां कल मैं समय निकाल के जरूर आऊंगा. मुँह से निकलती सलोनी की मादक सीत्कारों की आवाज़ ट्रेन की आवाज़ में खो सी जाती थी.

अब मैं भी चलता हूं … इस रंडी को कभी मेरे को अकेले में देना … साली को दिल से खुश करूँगा. लेडीज और जेंट्स सब का शोर इतना था कि किसी को किसी की कोई आवाज सुनाई नहीं देती थी.

जब भाभी ने देखा कि मनोहर का लंड अब पूरी तरह से तैयार है तो भाभी ने उठकर मनोहर को फिर से होंठों पर किस करना शुरू कर दिया.

मैंने सुषी के बूब्स को पकड़ लिया और उनको दबाते हुए उसकी चुदाई करने लगा. राज अंकल और जगत आगे पीछे भौंरे की तरह मंडराते रहे, पर दिन में आने जाने वालों की इतनी भीड़ रही कि कुछ होना सम्भव ही न था. थोड़ी देर बाद सारा उलटी घूम गयी और ज़रीना को किस करने लगी और उसकी चुचि सहलाने लगी.

बफ हद वीडियो में जब बार-बार आपको कोई बात परेशान करने लगे और आपको उसका कुछ समाधान न मिले तो फिर वह बात आपके अंदर घर कर जाती है. जब मुझसे रहा नहीं गया तो मेरे मन में पता नहीं क्या आया कि मैंने सीमा की चूचियों को दबाना शुरू कर दिया.

मेरा लंड मेरी अंडरवियर में पहले से ही तना हुआ था और मैंने उसको ऊपर की तरफ सेट किया हुआ था. मेरे सर पर हाथ फेरते हुए सासू माँ बोलीं- बेटा, मैंने खुद 2-3 बार भाड़े पर बुला कर मज़े किये हैं, अगर तू कहे तो तेरे लिए भी किसी को बुला लूँ?मैंने आश्चर्य से कहा- आप जानती हैं ऐसे बंदों को?सासू माँ- जानती तो नहीं हूँ, पर ऐसे बंदे ढूंढना कोई मुश्किल काम भी नहीं है. उसने मेरी चूत की तरफ देखा तो मैंने एक बार पेंटी नीचे खिसका कर उसे अपनी गरम चूत की झलक दिखाई और फिर से चूत ढक ली.

ब्लू देखने वाली

राहुल ने मुझे इशारा किया और मैंने एक बार चूत को चाटा और फिर संध्या से लण्ड चुसवा कर दोनों टांगों को कंधों पर रख कर मैंने अपने आपको संध्या के उपर सेट करके अपना लौड़ा उसकी चूत पर सेट करके ज़ोर का धक्का दे दिया. भाभी बोलीं- ये क्या कर रहा है?मैंने बोला- भाभी आपकी ये सेक्सी गांड भी मारनी है मुझे. कुछ ही पलों में मैं फिर से झड़ गयी और तेज़ी उसके ऊपर गिर कर कमर से जोर लगा लगा अपनी योनि को उसके लिंग पर धकेलने लगी.

क्योंकि मेरी इस गरम चुदाई की कहानी को पढ़ कर आप अपने आपको हाथ चलाने से रोक ही नहीं पाओगे. एकता ने दराज में से एक कंडोम निकाला और मेरे लंड पर दोनों मिल कर चढ़ाने लगीं.

मुझे उसकी बातों से काफी राहत मिली और इसके बाद हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे.

तब उसने मेरी चुत पर किस करने के लिए अपने मुँह को मेरे चुत के पास लाया और जैसे ही आशीष ने मेरी नंगी चुत पर अपने होंठ रखे, मैं उछल पड़ी. चूत चिकनी हो चुकी थी और तीन-चार धक्कों के बाद मेरा लावा भी उसकी चूत में फूट पड़ा. थोड़े दिनों के बाद हमारे और अंकल के परिवार की अच्छी बनने लगी और वो हर रोज़ हमारे घर पे दोपहर को रसोई बनाने के लिए मीठी नीम के पत्ते लेने आने लगी.

जिसका सबूत है मेरा मेल बॉक्स, जिसमें मेलों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. वह मेरी उंगली चूसने लगी, पर मुझे बोली कि सोनू कोई देख ना ले… ध्यान देना, जैसे ही लाइट आ जाए, तो यह सब बंद कर देना. वो मुझसे चोदते हुए बोला- वन्द्या, बहुत गरम और बेहद टाइट चूत वाली लौंडिया है.

मैंने कहा- नहीं यार मैं तुम्हारे साथ ऐसा नहीं कर सकता, मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं, पर मैंने फिजिकल रिलेशन के बारे में अभी तक कुछ नहीं सोचा है.

हिंदी बीएफ व्हिडीओ हिंदी बीएफ व्हिडीओ: जब वो शांत हुईं, तो मैंने उन्हें डॉगी पोज़िशन में होने को कहा और वो झट से हो भी गईं. आज अपने लंड का पूरा जलवा उसको दिखा कर ज़रा भी सांस ना लेने देना ताकि सुबह उसे लंगड़ा के चलना पड़े.

कल्पना ने जो एड्रेस दिया था, वो मेरे घर से कुछ 4 किलोमीटर की दूरी पर ही था, तो मैं भी फटाफट निकल गया और गूगल की हेल्प लेकर 20-25 मिनट में ही पहुंच गया. हम लोग दूधवाले के पास गए तो वो मुस्कराकर बोला- मेमसाब आइए न!जहां पर उसका गैस चूल्हा रखा हुआ था वो मुझे वहां पर ले गया. वहाँ पर ज्यादा आबादी नहीं थी और आस-पास ज्यादा घर भी नहीं बने हुए थे.

चूत को चाटते हुए पांच-सात मिनट हुए थे कि उसकी चूत ने बहुत सारा पानी छोड़ दिया.

बस यूं ही किस करते-करते हम दोनों एक-दूसरे को कस कर दबाते और टाइट हग भी करते रहे. अंकल ने ऐसा मजाक में बोला और मैंने बात कर ली कि जाना है और भाभी को लाना है. थोड़ी घरेलू कसरत करके उससे बनावट भी सही है और जिन्हें अंगों के नंबर जानने में ज़्यादा रूचि है, उनके लिए बता दूं कि मेरा आकार 34-29-35 का है और सी कप के चूचे हैं मेरे.