बीएफ देखना है बीएफ देखना है

छवि स्रोत,सेक्सी वीxxडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्स: बीएफ देखना है बीएफ देखना है, ले पूरा खा ले।काका भी अब नीचे से झटके मारने लगे थे और मोना गांड को ऊपर-नीचे करके मज़ा ले रही थी। अब कमरे में दोनों की आहें गूँजने लगी थीं और चुदाई का तूफान जोरों पे था।मोना- आह.

सेक्सी बड़ा चूची वाला

भाभी भी नहीं सोई थी, वो अपने मोबइल में कुछ कर रही थी। उन्होंने पिंक कलर की नेट वाली नाइटी पहन रखी थी. रोमांटिक सेक्सी इंग्लिशभाभी को मादक निगाहों से देखना, उनके सामने अंडरवियर में जाना, थोड़ा बहुत लंड हिलाना आदि.

अब उसे गोद में उठाकर बेड पे ले गया और उसके पैर, जाँघ से होते हुए उसकी नाभि तक चाटने लगा. सेक्सी वीडियो छोटी छोटी छोटी‘अंकल… वो क्या है कि शाम को वो अकेली रहती है घर में… उसके पति और ससुर खाना खा के दूकान चले जाते हैं और उसकी सास मंदिर चली जाती है.

’ इतना कहते हुए उन्होंने अपनी नाईटी उतार फेंकी और मुझे भी कपड़े उतारने के लिये बोली.बीएफ देखना है बीएफ देखना है: एकदम गोल-गोल और भरे हुए।बीच में ऊंची दीवार होने की वजह से वो मेरी साइड नहीं आ पाती थीं। चूंकि उनका कमरा ऊपर था तो जब वो नहाकर आती थीं.

और जोर से चोदना।उसने कहा- आंटी, बिना कन्डोम के कैसे चोदूँ?मैंने कहा- मेरी अल्मारी में है कन्डोम.मेरे टाँगें फैलाते ही वो मुस्कुराते हुए मेरी टांगों के बीच आकर घुटनों के बल बैठ गया और फिर मेरी दोनों टाँगों को पकड़कर अपनी कमर के बगल में ले गया.

पाकिस्तानी सेक्सी गाना वीडियो - बीएफ देखना है बीएफ देखना है

आप सभी के सुझाव और आप आपके इस प्यार के लिए मैं आप सभी को दिल से धन्यवाद करता हूँ.अजय का लंड बार बार साराह की चूत पर टक्कर मार रहा था और अजय तो साराह के मम्मों को खा ही जाना चाहता था.

बहुत देर तक इमोशनल होते हैं। हर बार इतनी दूर का ट्रैवल करने के बाद भी जल्दी फ्रेश होकर मुझे मूवी दिखाने लेकर जाते हैं। फिर हम शॉपिंग करने जाते हैं। साथ ही किसी अच्छे से रेस्तरां में जाकर खाना खाकर हम लोग घर वापस आते हैं। फिर पूरी रात वो सोते भी नहीं. बीएफ देखना है बीएफ देखना है इतने वर्षों से राजे से चुद के मुझे काफी अंदाज़ा होने लगा था कि वो कब झाड़ेगा.

‘मैंने पूछा है कि जब तुम अपनी सूसू में उंगली या मोमबत्ती वगैरह घुसा कर अन्दर बाहर करती हो तो चरम स्थिति में पहुँच कर तुम्हारी उस जगह से रस की फुहारें छूटती हैं जैसी उस वीडियो में उस लड़की की सूसू से निकलतीं हैं?’ मैंने थोड़ा जोर देकर पूछा.

बीएफ देखना है बीएफ देखना है?

दोस्तो, यह थी मामी की मेरी पहली चुदाई… वो पूरा सप्ताह मेरे लिए अद्भुत रोमाँच भरा रहा और मुझे असीम प्यार और सेक्स का आनन्द और अनुभव मिला. क्यों राजेश, सही कह रही हूँ ना?मैं बोला- जब उसने बता ही दिया है तुमको तो सही कहा है, मुझे जमीला ने बुलाया है, कह रही थी बहुत मन हो रहा है योगिराज से चुदवाने का!अब मैंने मोहन को कोल्ड क्रीम लाने को कहा और कोमल को थोड़ा ऊपर उठने को कहा और योगिराज निकाल लिया. मेरी फट गई है, मुझसे चला भी नहीं जा रहा है।मैं हंस दिया और उसको मस्ती से चोदता रहा।अब तो हम दोनों चुदाई के लिए मचलते हैं तो बाहर होटल में कमरा ले कर चुदाई का मजा ले लेते है.

’‘वैरी गुड… और ये तेरे मकान मालिक की फैमिली कैसी है? तुझसे ठीक से तो बिहेव करते हैं न?’‘हाँ अंकल जी, सब ठीक है, मुझे कोई परेशानी नहीं है, न किसी से कोई प्रॉब्लम नहीं है. अब बताओ मुझसे दोस्ती करके क्या करोगे? कोई लड़की देखो, ठीक है, मैं फोन रखती हूँ. उन्होंने अपने शर्ट और ब्रा को ऊपर किया और अपने बूब्स को आज़ाद कर दिया.

अब माँ की आहें सुन कर हम दोनों को भी लगा कि अब निकलने वाला है तो दोनों ने लंड बाहर निकाल लिया और आलोक ऊपर से उतर गया, माँ को नीचे उतार कर लेटा दिया. मुझे परेशान देख कर अम्मा बोली- साहिब, मुझे लगता है कि आप बालक और माला को देखने एवम् मिलने के लिए बहुत व्याकुल हैं. अब मैं झटके तेज करने लगा, भाभी भी मस्त हो गई सारा दर्द भूल कर!मैंने लगभग 10 मिनट भाभी की गांड चोदी और सारा माल उनकी गांड में ही छोड़ दिया मैंने!लंड निकालते ही भाभी खाट पर लेट गई।भाभी थोड़ी देर बाद बोली- पीछे बहुत दर्द हो रहा है, अब और नहीं करेंगे.

फिर देखा कैसा मज़ा आता है।सुमन- नहीं दीदी वो मुझसे नहीं होगा। ये तो सोया था तब हिम्मत हो गई, मगर किसी और का. जी हाँ मैं उन्ही परीक्षित कुमार की बात कर रही हूँ, जिन्होंने कुछ दिन पहले ही मेरे साथ एक चुदाई की कहानी अन्तर्वासना पर लिखी थी.

पर अब लंड अन्दर था सो मैंने तेज धक्का दे दिया।मेरा पूरा लंड अन्दर हो गया।वह चिल्लाया- बस बस.

इतने वर्षों से राजे से चुद के मुझे काफी अंदाज़ा होने लगा था कि वो कब झाड़ेगा.

मैंने भी चोदने की स्पीड बढ़ा दी और जब मेरा निकलने लगा तो मैंने पूरे जोर से धक्का लगाया और लंड भाभी की चुत में पानी की बौछार करने लगा।फिर मैंने भाभी की चुत से लंड निकाला भाभी सीधी होकर लेट गई मैं भी उनके पास लेट गया. फिर रोहन का एक और झटका लगा, और हम दोनों के मुख से एक साथ आहहह इस्स्स्स निकल गई, जो दर्द और आनन्द का मिलाजुला रूप था. करिश्मा भाभी के सांवले-सलोने चेहरे पर ना जाने क्यूं एक अजीब सी तड़प थी, एक अकेलापन था जो मुझे कुछ बेचैन कर रहा था.

उसके बाद भी हमने दो तीन जगह घूमी और फिर शाम को छह बजे तक हम वापस होटल आ गए।होटल से आने के बाद हम लोग फ्रेश हुए और फिर सब लोगों का मार्किट जाने का प्लान बना. उसने पेंटी भी नहीं पहन रखी थी, उसके चिकने मुलायम नितम्बों को मैंने मसल दिया. ‘और सुना गुड़िया, तेरी स्टडी कैसी चल रही है और यहाँ कोई परेशानी तो नहीं है न तुझे?’ मैंने यूं ही बात शुरू की.

उन्होंने फिर मेरे माथे पर किस किया, फिर मेरी आँखों पर और फिर मेरे गाल पर!जैसे ही वो मेरे लिप्स पर किस करने लगे, मैंने मुँह फेर लिया.

कहानी का अपने पूरे शबाब पर आना अभी बाकी है…[emailprotected][emailprotected]. ’ बोला तो दूसरी तरफ से एक लेडीज आवाज़ आई- रोमी?मैंने ‘हाँ’ बोल दिया।बाद में वो बोलीं- मैं रोज़ी भाभी हूँ. मैं एक मिनट तक देखती रही, फिर मुझे चुदवाने की इतनी भूख लगी कि मैं अचानक भाई के एकदम पास गई और बोली- ये क्या कर रहा है तू भाई?अब भाई क्या करे… उसे कुछ सूझा नहीं… जैसे तैसे उसने पास पड़ी चादर ओढ़ ली.

फिर मैडम मुझसे पूछने लगी- तुम ऐसे हंस क्यों रहे हो?मैं उनसे बोला- लीजिए अपनी प्यास बुझा लीजिए!तभी मैडम ने मेरा एक हाथ खींचकर मुझे सोफे पर बैठा लिया और वो मेरी गर्दन को दबाकर मुझसे बोली- क्या बात है, तुझे बहुत हंसी आ रही है? प्यास नहीं जानते तुम या नाटक कर रहे हो? और अब मैडम के बूब्स मेरी छाती से टकरा गये. सुहाना निढाल सी पड़ी हुई थी उसने अपने दोनों हाथों को ढीला छोड़ दिया था, मैं धक्के पे धक्का पेले पड़ा था और सुहाना अपनी आँखें बन्द किये हुये थी. और दो-तीन बार ऐसा होने के बाद उसका लौड़ा एक तरफ पैंट में तनकर बड़ा हो चुका था.

अपने हाथों से मैंने उसकी गांड को पकड़ लिया था और अपने होंठों का पूरा दबाव उसकी चूत पे दे दिया था.

मैंने जिप खोल कर लन्ड बाहर निकाल लिया तो भाभी मेरा लन्ड सीधे अपने मुँह में डालकर हिला हिला कर जोर जोर से चूसने लगी. उसके चूचुक उत्तेजना में एकदम तने हुए थे, उसकी आंखें हवस के मारे लाल हो गई थी, वो ढंग से खड़ी भी नहीं हो पा रही थी, उसने एक ओर आभा को दूसरी ओर मुझे थाम रखा था, मुंह से अह्ह्ह्ह ईस्स्स्स जैसी आवाजें निकाल रही थी.

बीएफ देखना है बीएफ देखना है ये तो देखते ही समझ जायेंगे!मैंने मना कर दिया- आज नहीं, मेरा मूड नहीं है!ये कहने लगे- मूड तो बन जायेगा! आज इतने दिन के बाद तो मेरा मूड बना है, तुम मना कर रही हो?मैंने कहा- मेरी तबीयत ठीक नहीं है, फिर कभी कर लेना!मेरे पति तो मान ही नहीं रहे थे और मेरी दिल की धड़कन बढ़ती जा रही थी! मैं मन में सोच रही थी पहली बार किसी दूसरे के साथ चुदाई की, वो भी आज पकड़ी जाऊँगी. उसने जल्दी से अपने कपड़े समेटे और वहाँ से भाग गया और मोना अन्तर्वासना की आग में जलती हुई वहीं खड़ी रोने लगी।काफ़ी देर बाद मोना ने कपड़े पहने और वो नीचे चली गई। जैसे ही वो कमरे में गई उसके होश उड़ गए क्योंकि काका वहीं उसके बिस्तर पे बैठे उसको गुस्से से देख रहे थे।मोना- इस्स काका.

बीएफ देखना है बीएफ देखना है मेरा लंड देखने के बाद मेरी बहन बोली- वाह… कितना बड़ा लंड है मेरे भाई का!मैंने उसको बोला- अभी इसको मुँह में लो!तो वो बोली- इससे क्या होगा?मैंने बोला- एक बार लो तो सही!मेरी बहन ने मेरा लंड मुँह में लिया, मुझे बहुत अच्छा लगा, उसको भी बहुत मजा आया. पहली बार इसे अपने बूब्स पर गिरा लिया और अभी चेहरे पर… क्यों??उसने मुस्कुराकर कहा- रात अभी बाकी है अयान, मुझे जमकर चुदवाना है तुमसे, इसलिए जानबूझकर मैंने अभी अपनी चुत को तुम्हारे लंड के पानी के लिए प्यासा छोड़ा है।ये सुनकर मैं हैरान भी था और परेशान भी था।मेरी इस चुदाई की कहानी पर आप मेल कर सकते हैं।[emailprotected].

मैं आंटी के पेट को चाट रहा था और धीरे धीरे उनकी झाँटों को चाटने लगा, आंटी मस्ती में आवाजे निकाल कर हिल रही थी.

बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर दिखाइए

ठीक है? पर ये बात मोहन और कोमल को पता नहीं है, उनको मत बताना, यहाँ आओगे तो तुम्हारी अच्छी खातिर करेंगे. उनकी चुत का स्वाद बड़ा नमकीन था।चुत चाटते हुए धीरे से मैंने अपने हाथ उनके दोनों मम्मों पर रख दिए। भाभी की कामुकता भरी सिसकारियों से कमरे में मादक माहौल छा गया- उ ऊऊ हाहा. यहाँ मैं ये कहना चाहता हूँ कि मेरी कहानियों को अगर आप मन से पढ़ेंगे तो ये आपको वास्तविक और सामने घटित होती पिक्चर सी लगेंगी…खैर, आपने सुना होगा कि पूत के पाँव पालने में ही नजर आ जाते हैं तो आज से यह मान लीजिये की चूत की खुजलाहट चूत के पालने यानि हॉस्टल में ही नजर आ जाती है.

इंडियन कॉलेज गर्ल की चुदाई की कहानी पर आप अपनी राय इस पते पर दे सकते हैं. प्लीज़ बता ना यार?संजय- पूजा को मार गोली और ये बता क्या तूने ये वीडियो शाम को बनाया? साली क्या मस्त लग रही है इसको देख के लंड बेकाबू हो गया और फट से पानी फेंक दिया।टीना- हाँ मैं उसके घर गई थी वैसे एक बात तो माननी पड़ेगी। साली कुतिया सच में काफ़ी सुंदर है। एक बार तो मेरी भी लार टपकने लगी उसके जिस्म को देख कर. आज की मेरी कहानी कुछ ऐसी है:एक दिन में अपनी जॉब पर जा रहा था कि रास्ते में मुझे एक लड़की मिली जो दिखने में बहुत ही खूबसूरत थी और उसके बूब्स बड़े बड़े थे और उसकी गांड भी बहुत बड़ी थी.

आपका लंड मोटा है।फिर मैंने भाभी के होंठों पर किस किया और धीरे-धीरे धक्के लगा कर पूरा लंड चूत में डाल दिया। एक-दो पल रुकने के बाद मैं धक्के मारने लगा।सोनू भाभी के मुँह से तेज ‘आ आह.

जिन्हें देखकर मैं पागल सा हो गया और उसके मम्मों को पूरी दम से मसलने और चूसने लगा।दुशाली- अह आह. वो फ़ौरन घुटनों के बल बैठ कर लंड को चूसने लगी।फ्लॉरा के लंड चूसने का अंदाज अलग ही था जो संजय को दूसरी दुनिया में ले गया।संजय- आह. काका अब स्पीड से मोना की चुत में लंड पेल रहे थे और साथ में अपनी उंगली से मोना की गांड का भी मुआयना कर रहे थे- आह.

उधर दूसरी तरफ नताशा की चिकनी, बाल रहित चूत और एंड्रयू के विशाल लंड के बीच घमासान युद्ध मचा हुआ था, अपने पेट के ऊपर बैठी दोस्त की बीवी की गांड के छेद को अपने दोनों हाथों से फैलाए हुए वो लहराते हुए मेरी छोटी सी गुड़िया की चूत में तेज धक्के मार रहा था. अब बताओ मुझसे दोस्ती करके क्या करोगे? कोई लड़की देखो, ठीक है, मैं फोन रखती हूँ. 5 मिनट बाद, सर की वाइफ आ गई, उन्होंने मुझे देखा तो वो मंद-मंद मुस्कुराने लगी.

तेरी चुत का लावा बाहर आने को बेताब है और तू है कि उसको रोके हुए है। चल आज तुझे ठंडा कर देती हूँ।सुमन- दीदी आपसे एक बात पूछनी थी?टीना- हाँ पूछ एक क्यों. प्लीज़ आप नाराज़ मत हो मगर मुझे कोई आसान सा टास्क दे दो। ये सब नहीं प्लीज़.

आपका लंड खड़ा क्यों नहीं हो रहा है?मैं उसके पास जाकर बोला- बेटी (करेक्टर में) बूढ़ा आदमी हूँ. थोड़ी देर के बाद सुल्लू रानी का दर्द घट गया जब रीना रानी ने धीरे धीरे खीरे को आगे पीछे करके उसकी गांड मारनी शुरू की. बाइक अंधेरी सड़क पर दौड़ती जा रही थी और संदीप के लंड में तूफान उछाले मार रहा था.

बेस्ट ऑफ लक।ये चिट्ठी लिखकर मैंने मंगलवार की सुबह उसके स्कूल बैग में रख दी।इसके बाद बहन की बुर की चुदाई की सेक्स स्टोरी में क्या हुआ, वो अगले भाग लिखूंगा। आप अपने मेल लिख सकते हैं।[emailprotected]छोटी बहन की चुदाई करने के लिए क्या किया-2.

उसका कहना है कि उसने तुझे कभी इस निगाह से नहीं देखा और ना ही वो तेरे से प्यार कर सकता… बिना प्यार के सेक्स में तुझे मज़ा आए ना आए उसकी कोई गारंटी नहीं. ऋषि ने मुझे हॉस्टल में जाने से पहले एक आई पिल दी ताकि मैं प्रेगनेंट ना हो जाऊँ. जब मैं उसके यहाँ कुछ दिनों के लिए गई थी। क्योंकि मम्मी को कोलकाता जाना था.

लेकिन जल्दी जल्दी करना, मैं बस झड़ने के करीब ही हूँ!’मैंने उसे छोड़ दिया और बिस्तर पर ही औंधा लिटा के उसके दोनों पैर बेड के किनारे लम्बाई दायें बाएं फैला दिये इस तरह वो उल्टी T के आकार में हो गई, उसके पेट के आगे का हिस्सा बिस्तर पर था और दोनों पैर पलंग की पाटी पर दायें बाएं फैले थे, उसकी गांड अच्छे से उभर आई थी और चूत का छेद भी एक रुपये के सिक्के के बराबर खुला हुआ दिख रहा था. मुझसे नहीं रहा जा रहा था मगर क्या करती… मैं उंगली के अलावा कुछ नहीं कर सकती थी.

फिर सुबह हुई और हम नाश्ता कर रहे थे, मैं अब चोर नज़र से मैडम को ही बार बार देख रहा था और तभी मैडम मुझसे बोली- क्या बात है, आज तुम बहुत चुपचाप हो?मैंने कहा- ऐसा कुछ नहीं है. निष्ठा ने भी अपना बदन पौंछा और वो नंगी ही बेड पर आ गई और आते ही टूट पड़ी रयान पर… वो उसके ऊपर चढ़ गई और उसका लंड अपनी चूत में करके करने लगी उसकी घुड़सवारी… रयान भी नीचे लेटा लेटा उसे धक्के दे रहा था. इन्होंने तुझे मेहमान बनाकर भगवान की पूजा की तरह सेवा की है और तू इन्हें ही धोखा देना चाहता है, नहीं.

साउथ के हीरोइन के सेक्सी बीएफ

’सलोनी ने मेरे गले में अपनी बाँहें डाल दी, मैंने भी उसी तरह हवा में उठाकर दीवार से सटा दिया और उसके चूतड़ों को भी साथ में सहलाने लगा और उंगली से गांड के अन्दर का रास्ता खोजने लगा.

फिर कुछ देर बाद मैडम ने खाना लगाया और हमने एक साथ ही बैठकर खाना खाया और उसके बाद हम तीनों खा पीकर सो गये. यही मैं चाहता था कि उसके दिमाग में यह बात बैठ जाए कि मुहाँसे मिटाने का पक्का इलाज कोई लंड ही कर सकता है चूत में घुस के. बाई गॉड फिर से रिपीट करती हूँ कि इन बातों को कभी भी किसी से नहीं कहूँगी… ओके?’‘ओके ओके.

अब बताओ मुझसे दोस्ती करके क्या करोगे? कोई लड़की देखो, ठीक है, मैं फोन रखती हूँ. दिखा?मैंने कहा- वो मेरा प्राइवेट पार्ट है।वो बोलीं- मुझे भी दिखा ना तेरा प्राइवेट पार्ट कैसा है. फुल सेक्सी खतरनाकएक दिन रीना अचानक से काली स्कर्ट और हल्के गुलाबी टॉप में आई, एकदम हॉट सी हीरोइन लग रही थी, मानो सेक्स से भरा बम!मैंने पूछा- आज स्कर्ट टॉप? क्या बात है?तो उसने मुझे बताया कि आज उसका जन्म दिन है.

‘आआआ स्स्स स्स्स्स समीर आआ उम्म्म्म उम्मम्म… तेज तेज चोदो…’निकी का पानी निकलने वाला था, उसने मुझे जोर से जकड़ लिया. राजू ने समझते हुए, पास में पड़ी अपनी बेल्ट उठाई, और उसका एक सिरा नताशा के गले में बांध कर दूसरे सिरे से झटके देते हुए उसकी चूत में धक्के मारने लगा.

यह सुनते ही मेरे मुंह से निकल गया- हाँ अम्मा, जल्दी जाओ और उन्हें ले आओ. भाभी को आती देख मैं खड़ा हो गया और भाभी से कम्प्यूटर के बारे में कुछ पूछने लगा. कभी बाहर कर रही थी।लगभग दस मिनट लंड चूसने के बाद मेहनत रंग लाई और गुप्ता जी का लंड खड़ा होने लगा।संजना खुश हो गई और गुप्ता जी के आंडों को सहलाते हुए लंड को नजाकत से चूसे जा रही थी। धीरे-धीरे गुप्ता जी का लंड बहुत भयंकर रूप से टाईट हो गया और फनफनाने लगा, जैसे कोई लोहे का मोटा सा सरिया हो।मैंने उस लंड को देखा तो सहम गया… वो लगभग 7.

अब मैं आंटी को सीधा करके उनकी चुची चूसने लगा और अपनी उंगली से उनकी चूत सहला रहा था, आंटी भी मेरा लंड पकड़ कर हिला रही थी. मैं अपनी दोनों उंगलियों से उनके निप्पल जब भी दबाता, वो कहती- ये काफ़ी शरारती हो गए हैं, इन्हें दांतों से काटो!मैंने निप्पल को दांतों से काटना शुरू किया. उसने झट से मेरा लंड अपने मुँह से बाहर किया और सुपारे को चुचियों के पास ले जाकर लंड की मुठ मारने लगी। मैंने ‘अया अया.

उसका लंड जब मेरी बच्चेदानी में जाकर ठोकर मारता, मुझे इतना मजा आता कि मैं बता नहीं सकती.

जूसी ने हाथ राजे की छाती पर जमाये और ऐसे धक्के लगाए जो वो लेटी हुई अवस्था में कभी नहीं लगा सकती थी. कुच्छ ही देर में सुनीता की चूत से उसकी जवानी का झरना फूट पड़ा और मेरे मुंह में उसकी जवानी का जोश पानी बन कर बरसने लगा और उसने मेरा सर वहाँ पे जोर से दबा दिया, मैंने वो सारा पानी अपने मुंह में ले लिया और उसकी चूत को जोर जोर से चाटने लगा ताकि सुनीता इन यादगारी पलों का आनन्द ले सके.

वह अब मेरे छाती के ऊपर आ गया और उसने बिना कुछ कहे सीधा लंड मेरे मुँह के अंदर घुसा दिया. कसम से उस दिन जो मजा आया, उसको मैं कभी नहीं भूल सकता, शानवी भी अब बेकाबू हो रही थी और अपना हाथ मेरे लंड की तरफ बढ़ा रही थी. अंकल थोड़े बीमार दिख रहे थे और कमजोर थे लेकिन आंटी काफी आकर्षक थी, लगभग 35 साल की उम्र की… रंग काला था लेकिन थी काला सोना!थोड़े दिन बाद मुझे पता चला कि अंकल के लंड में कुछ प्राब्लम है तो वो आंटी को चोद नहीं पाते हैं.

थोड़ी देर के बाद सुल्लू रानी का दर्द घट गया जब रीना रानी ने धीरे धीरे खीरे को आगे पीछे करके उसकी गांड मारनी शुरू की. जब हम मूवी पसंद कर रहे थे तो मेरी बहन की नजर एक फोल्डर पर पड़ गई, उस फोल्डर का नाम मैंने रखा हुआ था क्सक्सक्स मूवी! (xxx movie)तो वो बोली- ये क्या है? ज़रा ओपन करो!मैंने मना किया लेकिन उसने खुद से वो क्सक्सक्स मूवी (xxx movie) ओपन करके देखा. मुझे समय लगेगा, मुझे तृप्त कर दो बेटी।संजना अब अलग अंदाज में जीभ को गुप्ता जी के मूत्र छेद में फिराने लगी तथा उनके टट्टे भी मुँह में लेकर चूसने लगी।गुप्ता जी ये सब देख रहे थे और वो संजना की चूचियों की घुंडी को भी घुमाते हुए चिकोटी सी काट रहे थे। संजना पूरी निष्ठा से गुप्ता जी के लंड के सुपारे को मुँह में भरकर कभी अन्दर.

बीएफ देखना है बीएफ देखना है अब वो बड़ी हो गई है और कॉलेज में जैसा देखेगी वैसे ही वो भी करना चाहेगी। अभी तो वो सब बातें हम बता देती है. एक दिन मैं अपनी छत पर बैठी एक किताब पढ़ रही थी कि तभी मैंने देखी की नीलेश जीजू भी अपनी छत पर आए.

बीएफ उड़ीसा बीएफ

तू वो तो दिखा साली?टीना- सब्र कर मेरे राजा पहले इसको थोड़ा प्यार तो कर लूँ।टीना लंड को बड़े प्यार से अपनी जीभ से चाटने लगी और धीरे-धीरे सुपारे को अपने मुँह में भर लिया।संजय- आह. प्लीज़ बाहर निकाल लो।मैं रुक गया और उनको चूमने लगा।थोड़ी ही देर में भाभी कुछ शांत हुईं. ये दोनों काफ़ी देर बात करते रहे, उधर मोना भी अपना कम निपटा कर वापस आ गई और मीना के पास बैठ गई.

फिर अग्रवाल साहब ने बोला- मेरा भी होने वाला है पूजा, बोलो माल अंदर डालूं या मुँह में लोगी?पूजा बोली- मुँह में लूँगी!यह बोल कर उसने अपना मुख खोल दिया और अग्रवाल ने अपना लंड उसमें घुसा दिया. अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और दूसरे हाथ से दूसरे स्तन को मसलने लगा।मैं थोड़ी देर तक दोनों मम्मों को चूसने के बाद उनके पीछे चला गया. कौन सी सेक्सी वीडियोतो सुन!टीना बोलती रही और सुमन आँखें फाड़े उसकी बातें सुनती रही। टीना ने अपनी बात पूरी करके जब सुमन को देखा तो उसको आँख मार कर शुरू होने को कहा।सुमन- नहीं नहीं.

मेरी कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल करके ज़रूर बताएँ![emailprotected].

तभी मुझे पता चला कि वो मेरे दोस्त जतिन से भी चुदी है 4 बार!जतिन उसकी जान पहचान वाला लड़का था, पास में ही रहता था. इतनी सी पीकर भी आउट हो जाते हो।मैं उठ कर बैठ गया, तभी संदीप मेरे पास आया और उसने मुझे गले से लगा कर कहा- दीप आई लव यू.

मैंने अभी का सारा काम निपटा लिया है और अब मैं जाकर दोनों को ले आती हूँ. उसको बताया कि चुदाई में खीर का मज़ा लेंगे इसलिए खूब सारी खीर होनी चाहिए. जब जब मैं उसको बाहर बालकनी से झांक कर राजे से चुदते हुए देखती थी, मेरा कलेजा फटने को हो जाता था.

उसने अपने दोनों पैर फैला दिए और फिर वो मुझसे बोली- चल अब आ जा, जल्दी से मेरी प्यास बुझा दे.

थोड़ी देर बाद मुझे कुछ दर्द कम हुआ तो नीचे से मैंने अपनी गांड उचकाना शुरू किया. इसके बाद मैं वहाँ सात बजे से नौ बजे तक उसका वेट करता रहा लेकिन वो नहीं आई. पहली बार किसी लड़के ने मेरी फुद्दी देखी थी।वो मुझे पूरी नंगी देख कर बोलने लगा- अरे वाह तुम्हारा शरीर तो काफी खूबसूरत है.

मराठी वाला सेक्सी व्हिडीओसाफ नजर आने लगा था कि डबल एनल मेरी पत्नी को खासा पसंद आ रहा था, और वैसे भी मेरी धर्मपत्नी कभी भी दकियानूसी ख्यालातों में विश्वास नहीं रखती, उसे प्रयोगात्मक सेक्स बहुत पसंद है, उसका कहना है कि लंड लेने में कभी कोई नहीं मरता, वो तो सिर्फ जिंदगी दे ही सकता है. पर कंट्रोल करना पड़ता।वो अब मुझसे फ्रैंक होती जा रही थीं। मैं और वो छत पर ही रहते थे तो शाम के वक़्त वो अपनी छत पर मेरी साइड आकर मुझसे बातें करने लगती थीं। वो दीवार पर झुक कर मुझसे बात करती जिसकी वजह से उनके चूचे दिखते थे।वाह क्या मस्त गोरे और गुलाबी रंगत लिए हुए रसीले चूचे थे.

बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाएं सेक्सी फिल्म

ये आप समझ ही गए होंगे।आपको बताना चाहती हूँ कि एक और फ्रेंड का मेल आया है कि कहानी की मेन हीरोइन तो सुमन है. पर हॉस्टल में इतनी आसानी से लंड या छेद नहीं मिलता था।हमारी क्लास में एक लड़का था रामू. मुझे बहुत दर्द हुआ, पर कुछ टाइम बाद मजा आने लगा।इससे पहले मुझे गे सेक्स का कोई अनुभव नहीं था.

उसने अपने दूसरे हाथ से मेरी पैंटी को मेरी जांघों तक नीचे कर दिया।मैं किसी लाश की तरह पड़ी हुई थी. बालक सो गया है मैं इसे नीचे लिटा दूँ फिर आप को दोनों तरफ का सारा दूध पिला दूंगी. वो सीधी खड़ी नहीं हो पा रही थीं।जैसा मैं चाहता था वो बिल्कुल वैसे ही कर रही थीं।अब मैंने उनको दोनों हाथों को खोल दिया तो वो मुझसे लिपट गईं और मुझे सहलाने लगीं। उन्होंने मुझे बेड पर लिटा दिया और मुझे ऊपर से किस करने लगीं। अपने रेशमी लम्बे बालों को मेरे चेहरे पर डाल दिया।जैसे ही वो मेरे नीचे को हुईं.

करो ना, तभी तो इसकी तकलीफ़ कम होगी।काका ने धीरे से लंड को बाहर निकाला और फिर धीरे से ही अन्दर पेल दिया।राधा की चुत सच में इतनी कसी हुई थी कि काका को भी दर्द हुआ। जब लंड ने हरकत की राधा की तो जान हलक में अटक गई थी।राधा- आइईइ काका आह. मैं तो उसे देखता ही रह गया। मैंने सोच लिया कि मैं उसे चोदूंगा जरूर. इसको हाथ में लेकर देख तुझे कैसा महसूस होता है?सुमन ने डरते-डरते नकली लंड को ऐसे पकड़ा जैसे वो कोई साँप हो।सुमन- दीदी ये तो रबड़ का है.

मैंने उन्हें जमकर दबाया एकदम निचोड़ दिए और निप्पलों को मैं चूस चूस कर बीच बीच में काटने लगा. वो फिर कभी बताऊंगा।मेरी हिंदी चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, ज़रूर बताएं।[emailprotected].

उसका शरीर जिम जाने वाले लड़कों की तरह तना हुआ था और हाइट उसकी 5 फुट 11 इंच होगी.

पर इस सबसे हटकर दोनों पढ़ने में तेज थीं और कॉलेज के होनहार छात्राओं में उनका नाम था और बड़े घर की लड़कियाँ थीं, तो उनकी बदमाशियाँ किसी को नहीं दिखती थीं. पलंग तोड़ सेक्सी पिक्चरऔर अगले ही पल उसकी फूली हुई गोरी चूत को चूसने लगे। गुप्ता जी नेमेरी बीवी की चूतको दोनों हाथों से फैलाकर उसमें अपनी जीभ ठेल कर अन्दर-बाहर करने लगे।संजना चुदास से अपने सर को इधर-उधर करने लगी और ‘ईस्स. सेक्सी मूवी मलयालममेरे होंठ चूसते चूसते सुल्लू रानी मेरे कानों में फुसफसाई- राजे बाबू देखो मैं जन्नत की सैर कराऊँगी तुमको!इतना कह कर रानी ने मेरे मुंह में जीभ घुसा के बहुत देर तक प्यार दिया. वो रोमांटिक है, आशिक मिजाज है पर कुछ ऐसा नहीं करेगा जिस पर तुम्हें या उसे बाद में पछतावा हो.

तेरी कसम मैं किसी को नहीं बताऊंगी।संजय- अच्छा तो सुन तू तो जानती है मैं अपने मॉम डैड का एक ही बेटा हूँ।टीना- हाँ यार मुझे पता है।संजय- सुन तो ले यार.

थोड़ी देर चूसने के बाद मैंने उसके मुँह से अपना लंड निकाला और उसको लिटा कर उसकी चूत पर रख दिया और रगड़ने लगा. वहां मैंने फ्रीज में कैडबरी देखी तो मुझे शरारत करने का मन हुआ। मैं वो लेकर बाहर आ गया और आधी कैडबरी मैंने उसकी चूचों पर लगा कर चाटने लगा. मुझे लड़की होने का मजा दे!इतना सुनते ही उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और एक झटके में ही मेरी चूत के अन्दर अपना लण्ड पेल दिया।झटके के कारण मेरी चूत में बहुत दर्द हुआ और मैं दर्द के मारे चिल्ला उठी.

अगर मैं नहीं रुकता तो शायद दो तीन झटके में ही झर जाता!वो गुस्सा होने लगी. कोई एक घंटा बाद काका जब वापस आए तो मोना करवट लिए नंगी ही सोई पड़ी थी।काका- हाय मोना रानी कितनी प्यारी है रे. इतना इशारा मिलते ही मैंने उनके जांघ के हिस्से को पकड़ा और एक जोर का धक्का दिया और गप्प से पूरा लंड उनकी चूत के अन्दर घुस गया.

सेक्सी डीजे बीएफ सेक्सी

सुबह की एयर इंडिया की फ्लाइट से दोनों जोड़े माले पहुंचे और वहाँ स्पीड बोट से एक बहुत खूबसूरत आईलेंड पर…रिसोर्ट में उनकी विला साथ साथ थीं. निष्ठा गुमसुम सी बैठी रही, उसे नहीं समझ आ रहा था कि वो क्या करे… उसे कुशल से चिपट कर प्यार करने का मन हो रहा था पर कुछ मर्यादाएं उसे आगे बढ़ने से रोक रही थीं. फूल से कोमल कुंवारे होंठों का वो रस आज भी भूल नहीं पाता मैं…बहुत देर तक मैं उसके ऊपर लेटा हुआ उसके दोनों मम्में अपनी मुट्ठियों में भर कर उसके अधरों का रसपान करता रहा, उसके गालों को चूमता चाटता काटता रहा और वो मेरे नीचे बेसुध सी पड़ी यौवन की इन प्रथम अनुभूतियों से परिचित होती रही, अपने अंग प्रत्यंग में हो रही सनसनी और उत्तेजना को वो आँखें मूंदे महसूस करती रही.

फ़ोन करके मुझे बुला लेती हैं और मैं भाभी को चोदता हूँ।दोस्तो, आप को ये भाभी का सेक्स का मूड सेक्स स्टोरी कैसी लगी.

‘अंकल जी, मैं कोशिश तो करती हूँ लेकिन उस वीडियो की तरह नहीं होता मेरा!’ वो झिझकते हुए बोली.

रूबी ने हंसते हुए अजय और विवेक से कहा- अभी अभी तो तुम्हारे बम्बू की हवा निकालीं है ये तो फिर खड़े हो गए?विवेक बोला- साली जी, अब तो ये इंडिया पहुँच कर ही शांत होंगे, यहाँ तो अंदर बाहर चारों तरफ ही सेक्स के नजारे हैं. तभी अचानक रयान का फोन आया, वो बोला- मैं जानता था कि तुम अभी सोई नहीं होगी. सेक्सी पिक्चर खुला सेक्सी पिक्चरफिर मैं चॉकलेट्स ले आया, निकी के हाथ पैर बेड से बांध दिए और उसकी चुची, पेट और जांघों पर चॉकलेट और शहद लगाया, अपने हाथ से चूत के चारों ओर चॉकलेट लगाई, बूब्स और चूत पर चॉकलेट लगाते टाइम निकी पागल सी हो गई, वो बहुत उत्तेजित हो गई थी.

कैसे लटक रहा है।टीना- अरे पागल ये शुरू में गंदा लगेगा लेकिन जब तुझे सब समझ आ जाएगा तो फिर बहुत मज़ा आएगा। अब गौर से देख. मैं प्यार से और आराम से तुम्हारी चुत की सील तोड़ दूँगा।पर मुझे मालूम था कि धीरे डालूँगा तो लंड चुत में घुसेगा नहीं. लड़की के होंठ, मम्में और लगभग सारा बदन ही किसी सिस्टम के तहत उसकी चूत से जुड़ा होता है.

उसको बहुत मजा आ रहा था, वो नीचे से अपनी गांड उठा उठा कर चुद रही थी. चोद दो मेरी चूत को।इतना सुनते ही राज ने मुझे बिस्तर पर पटका और मेरे ऊपर चढ़ गया और बोला- आज तो प्रमिला तेरी चूत की ऐसी चुदाई करूँगा कि तू जिंदगी भर याद करेगी।राज ने अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ना चालू कर दिया, मैं पागल हो गई। तभी राज ने एक झटके में मेरी चूत में अपने लंड को उतार दिया.

मोना के खिले हुए चेहरे को देख कर मीना समझ गई कि ज़रूर गाँव में मोना ने चुदाई करवा ली है.

मैंने उसके गाल पर हाथ फेर दिया तो वो शर्मा कर भाग गई।इसके बाद जब मैं बेड पर टीवी देख रहा होता था तो वो भी मेरे पीछे बेड पर आकर लेट जाती. पर उन्होंने रानी की बात पर कोई ध्यान नहीं दिया और तेज गति से धक्के देने लगे, कुछ ही देर में चिंटू भी उनके लंड को निकाल कर मेरे मेरे मुँह को चोदने लगे, मेरी भी गांड बहुत दर्द कर रही थी. इतनी ज़ोर ज़ोर से कूद कूद के चोदेगी तो थक के चूर होएगी ही और नींद भी आएगी ही.

ऐश्वर्या सेक्सी शॉट बस एक बार मैं भी उनको मज़ा देना चाहता हूँ।काका- तू अपनी औकात भूल रहा है और तेरे जैसे नामर्द से वो खुश नहीं हो सकती. लेकिन वो मना करने लगी। मेरे बहुत कहने के बाद नीलू ने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया और लंड चूसने लगी। हम दोनों 69 में होकर कुछ मिनट तक एक-दूसरे के लंड चुत चूसते रहे.

वाइफ स्वैपिंग करने से रिश्तों में नयापन आता है और पत्नी को भी चरम सुख मिलता है जिसकी वह हक़दार है. तभी सामने से पुलिस की गाड़ी आई तो मैंने भाभी से जल्दी से कहा- वो कुछ पूछें तो कहना कि हम दोनों पति-पत्नी हैं. तो वे मेरे चूतड़ पर हाथ मार कर बोले- वाह क्या मस्त कूल्हे हैं।फिर साहब कुछ देर तक मेरे चूतड़ सहलाते रहे।मैंने सोचा ‘साहब ने रात भर चुदाई की है, अब क्या मेरी गांड भी मारना चाहते हैं।’साहब लगभग अड़तीस-चालीस के रहे होंगे.

बीएफ खून खच्चर वाली

मैं उससे चिपक गई।मुझे शर्म भी बहुत आ रही थी। तभी आकाश ने मेरी टी-शर्ट उतारी तो मैं घूम गई और अपने उरोज अपने हाथों से ढँक लिए. जिससे मुझे उसकी चुत में लंड घुसेड़ने में आसानी हो रही थी और मैं पूरा लंड बाहर निकालकर ‘घचाक. यह हिंदी चुत चुदाई की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!जैसे ही मैंने उसकी चूत पर किस किया, उसकी सिसकी ओर तेज होने लगी, मैं उसे किस किए जा रहा था, थोड़ी देर बाद उसकी चूत बिल्कुल गीली हो गई.

चोद दे जल्दी से अब।मैंने अपने लंड को पानी से गीला किया और उस पर थोड़ा सा शैम्पू लगाया ताकि खूशबू आ जाए और वो चिकना भी हो जाए। इसके बाद मैंने उनकी चुत पर 1-2 मिनट किस किया और फिर अपना लंड उनकी चुत पर रख दिया।अब मैं लंड को आंटी की चुत पर ऊपर-नीचे घिसने लगा. तो दोस्तो, यह मेरी हिंदी सेक्सी कहानी कैसी लगी?बताना जरूर![emailprotected].

मुझे इस सेक्स स्टोरी पर आपके मेल्स का इन्तजार रहेगा।[emailprotected].

फिर उसने पूछा- आप किस की तरफ से?‘मैं भी दूल्हे की भाभी…’फिर उसने अपना नाम अजय बताया और पूछा- आप किस के साथ आई हो?मैंने कहा- मैं अपने पति के साथ आई हूं. मेरी प्यारी आंटी सेक्स की भूखी लड़कियों की चूत को मेरे लंड का सलाम! मेरी पहली कहानी एक आंटी की चुदाई की है, यह मेरी पहली चुदाई है. मुझे बालक को चूमते देख कर अम्मा ने माला की ओर देखा और उनके चेहरे पर ख़ुशी की लहर दौड़ गई तथा दोनों मुस्करा पड़ी.

मैं तेरी तरफ़दारी कर रहा हूँ और तू खुद रंडी बनना चाहती है, तो ले अब संभाल मेरा लंड. ये तो सब को आते है इसमें शर्माना कैसा? अब तू हमारे ग्रुप की हो गई है. वो पूजा के मुलायम होंठ ऐसे चूसने लगा जैसे आज सारा रस निचोड़ देगा।जब पूजा एकदम गर्म हो गई.

अब तुम रोज शाम को यहाँ आना और एकनई लड़की की चुदाई करना, इस बहाने उनकी भी चूत खुल जायेगी और फिल्म में आसानी से चुदाई का सीन होगा.

बीएफ देखना है बीएफ देखना है: मैं खूब सजी-धजी थी कि कोई मुझे देखेगा और मुझे चोदना चाहेगा पर जो मुझे घूर रहे थे वो मुझे पसंद नहीं आ रहे थे. मैंने बुर के लबों को फैला कर हल्के गुलाबी छेद में अपनी जीभ डाल दी… ये अंजलि बर्दाश्त नहीं कर पाई और उसने अपने पहले सम्भोग का पहला चरमत्कर्ष प्राप्त कर लिया, मुझको अपनी टांगों से दबा लिया, हाथों से मेरे सर को बुर में दबा दिया मचल कर उछल कर शांत हो गई.

सुन्दर ने मुझे वहीं पलंग के ऊपर लिटा दिया और मेरी स्कर्ट उतारने लगा. बताया तो था फ्रेंड की बर्थडे पार्टी है, वहीं गई थी। वहां सब फ्रेंड्स ने मस्ती की तो ये सब हो गया. फिर साहब के बंगले में ही हम दोनों रूके। वो महिला साहब के कमरे में ही रूक गईं। मैं बरांडे में सोया.

इस पर राजे ने चिढ़ के कहा- ठीक है रंडी, तू माँ चुदा अपनी, मेरी बला से!शुक्रवार रात को तो हमेशा कि तरह मैंने और रीना ने जूसी की चुदाई का दृश्य बाहर बालकनी में बैठ कर देखा.

इन दो वर्षों में वह माला को बहुत समझाती रही और किसी पर-पुरुष से सम्भोग करके गर्भवती होने के लिए मिन्नतें भी करती रही लेकिन वह इस विषय पर बात करने को टालती रही. मैं एक घंटे बाद आती हूँ।मेरी माँ भी आराम कर रही थी तो मैं ऊपर वाले कमरे में चला आया। थोड़ी देर बाद में नीचे आया और उसको आँख मारकर और इशारे से ऊपर बुलाया। वो बैग बंद करके ऊपर आ गई। मैंने हाथ पकड़ कर उसको अपनी ओर खींचा और कहा- तू प्यार करती है मुझसे?उसने कहा- हाँ. थोड़ा सुकून मिलेगा।फिर मैंने भी चार-पांच जोरदार झटके मारे और अन्दर ही रस निकाल दिया।मैं अंकल के ऊपर ही लेट गया।अंकल बोले- मेरा भी पानी निकाल दे यार।फिर मैंने ऐसे लेटे हुए ही एक हाथ से अंकल का पानी निकाला और उनके पेट पर ही गिरा दिया।अंकल बोले- मजा आ गया यार.