ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,রিয়া সেক্স

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ एचडी सॉन्ग: ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो, भाभी बोली- अपने कपड़े भी उतार दे या बस मुझे ही नंगी करेगा?मैंने जल्दी से अपने सारे कपड़े उतार दिए और भाभी ने दरवाजा बंद कर दिया और बेड पर वापस लेटने लगी.

xxx नेपाल

मैं पहली बार किसी औरत से अपना लंड चुसवाने जा रहा था और जब वो औरत हेमा चाची जैसी अप्सरा और बला की खूबसूरत हो, तो क्या कहने. ब्लू पिक्चर्स वीडियोवो भी धीरे धीरे आगे बढ़ रहे थे और उनकी गर्मजोशी में मुझे मजा आने लगा.

किस करते करते उसने मेरी पैंट और शर्ट को उतार दिया और फिर मेरे अंडरवियर के ऊपर से ही लंड पर हाथ रखकर उसको सहलाने लगी. ब्लू फिल्म सेक्सी ओपन सेक्सीशबाना मेरे लौड़े को देखने लगी और मैं उसके सीने पर उभरे ज्वालामुखी देख रहा था.

अपना लंड चुत पर सैट किया और एक तेज झटके में पूरा लंड अन्दर कर दिया.ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो: मुझे पैसों की काफी जरूरत है।फिर सोनू बोला- जो मैं बोलूंगा वो करेगा?मैं बोला- हाँ भाई करूंगा! वादा है.

लेकिन वो मान नहीं रही थी, बोलने लगी कि मैं बता दूंगी।मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था तो मैंने राजसी को फ़ोन करके सारी बात बतायी.भाभी ने थोड़ा शर्मा कर कहा- आपका इरादा क्या है?मैं बोला कि सच कह रहा हूँ कि अगर आप मुझे पहले मिली होतीं … तो मैं आपको अपनी गर्लफ्रेंड बना लेता.

ब्लू पिक्चर सेक्सी फिल्म ब्लू - ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो

करीब पांच मिनट की धक्का पिलाई के बाद वो मेरे लंड का मजा लेने लगी अब वो खुद अपनी गांड उठा उठा कर लंड को चुत में ले रही थी.उन्होंने जल्दी से लंड बाहर निकाला … मेरा लंड पिचकारी छोड़ रहा था, जो उन के चेहरे पर गिर रही थी.

एक-दो बार तो उन्होंने मेरे दूध देख कर नजरअंदाज कर दिया … पर धीरे-धीरे उनके मन में भी खोट आने लगा था. ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो मुझसे थोड़ी ही दूरी पर एक औरत खड़ी थी, उसने ब्लैक कलर की प्रिंट वाली साड़ी पहनी हुई थी.

प्रिया की चीख निकल गई और वो बोली- आह शिवम् … फट गई … आह शिवम् … बाहर निकालो।उसके होंठों को मैंने अपने होंठों में लॉक कर लिया.

ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो?

तुम्हारे फ्रेंड सुनील ने बताया था कि तुम मन ही मन मुझे चाहते हो, लेकिन मेरे बॉयफ्रेंड होने की वजह से अपने दिल की बात नहीं कह पा रहे हो. भाभी मेरी जीन्स और शर्ट निकाल कर बेड पर रखे थे।मैंने अपनी शर्ट उतार दी और नई शर्ट पहनने लगा. ऐसा लग रहा था कि वो तो मानो आज मेरी बुर खा ही जाएगा और वो दो उंगलियों से मुझे चोदने लगा.

वो तीनों मुझे देखकर खुश हो रहे थे लेकिन रूपाली अपने कपड़े देखकर परेशान हो रही थी. हैलो फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सब?उम्मीद करता हूं कि आप सब अच्छे होंगे. बहन को देख मुझे शक होने लगा था कि इतनी गरीबी होते हुए भी इसके बदन में ये निखार और ये फिगर की शेप कैसे बनती जा रही है?मैंने बहन पर नजर रखनी शुरू कर दी और फिर मुझे पता चला कि वो रंडी बन चुकी है.

फिर हम दोनों ने कपड़े पहने और साथ में लायी गर्भ रोकने की दवा उसे खाने के लिए दी और साथ में पेनकिलर भी।हमने एक दूसरे को किस किया. मैंने दी के बूब्स पकड़े और उन पर लण्ड रगड़ने लगा।वो अपने बूब्स पकड़ कर और टाइट करने लगी. मुझे तो मज़ा आ गया।मैंने दीदी का सिर पकड़ा और लंड अंदर गले तक धकेल दिया.

शाम को मेरे घर आने के बाद कुछ देर बाद मैंने फिर देखा तो उसकी एक बहुत अच्छी सी तस्वीर लगी थी. पहले तो उसने ध्यान नहीं दिया लेकिन फिर धीरे धीरे हमारी नजरें मिलने लगीं.

मैं दोनों चूचों को दोनों हाथों से भींच भींचकर उसकी सिसकारी निकलवाने लगा.

मेरी हालत बुरी हो गई थी, मुझे कुछ भी होश हवास नहीं रह गया था … न ही मेरे मुँह से कुछ शब्द निकल रहे थे.

फिर उन दोनों ने क्या किया?नमस्कार मित्रो, मैं पंकज आपके सामने फिर हाज़िर हूँ एक और नई कहानी लेकर।इस ओपन सेक्स कहानी में दो दोस्त और एक मस्त आंटी हैं. करीब दो मिनट में मैंने उसे और जोर से लंड पर खींचा तो वो चिल्ला उठी- नहीं ठाकुर सा … मैं मर जाउंगी … मेरी फट जाएगी. ऐसा होते ही मैं तो मानो स्वर्ग में पहुंच गई और तभी मैंने उसका सिर पकड़ कर अपनी बुर पर दबा लिया.

सभी नाच गाने में लगे हुए थे और मैं और हिमानी एक दूसरे को निहार रहे थे।मैं हिमानी के पास जाकर उसके कान में गुनगुनाने लगा- आज ना छोड़ूंगा तुझे … आजा मेरी जान जरा… आज तो चोदूंगा तुझे …इतना उसके कान में कहकर मैं हंसने लगा. मैंने चारों तरफ देखा तो उसी कमरे के बगल से एक खिड़की थी, जिससे बाहर का हल्का सा दिख रहा था. फिर मैंने अपने धक्के तेज किये और एक बार फिर से उसकी चूत में अपना सारा माल निकाल दिया.

उसकी आँखों में और चेहरे पर आनंद और संतुष्टि दिख रही थी।फिर वह उठकर बाथरूम में गयी और खुद को साफ करके वापस आई.

फिर एक दिन मेरी पड़ोस की जवान लड़की ने मुझे क्या कहा कि …दोस्तो, कैसे हो आप सब लोग? उम्मीद है सब अच्छे ही होंगे और लॉक डाउन में सब मज़े में ही होंगे।मैं ये स्टोरी पहली बार लिख रहा हूं. इसके बाद तनु सवार हो गई और गांड पटकते हुए उसने अपनी चुत की खुजली शांत की. इतना ना होता मेरे से। तू तो जवान है चाहे 10 बार कर ले।संतो- सेठ जी, अब हिसाब तो काट दो।तो सेठ जी ने बही खाता उठाया और संतो को दिखा कर …सेठ- ले सारे रुपए पे पेंसिल फेर दी हिसाब पूरा! पर तू दो चार दिन फिर आ जाइए!संतो बाहर आयी.

जब मैं झाड़ने को हुआ तो मैंने अपना लोदा उसके मुंह में से निकालना चाहा लेकिन उसने मेरा लोदा छोड़ा ही नहीं … तो मैंने अपना सारा माल उसके मुख में ही उड़ेल दिया।वो बड़ी खुशी से सारा माल गटक गई।अब मेरी बारी थी. उसके बाद क्या हुआ?प्रिय पाठको,मेरा नाम राजेश कावड़ है और मैं धार जिले का रहने वाला हूं. मैं उनके ऊपर 69 के पोज में चढ़ गया और उनकी चुत को चड्डी के ऊपर से ही सूंघा.

अर्पित और हर्षदीप जब जाने लगे तो शीतल ने उन दोनों को किस किया और उनके फोन नम्बर ले लिए.

Xxx चूत की कहानी में पढ़ें कि एक जवान कॉलेज गर्ल अपने पापा के दोस्त के सामने नंगी हो गयी थी. दिल तो कर रहा था कि इसी तरह लगे रहें दोनों।अब मैंने अपनी चोदने की स्पीड बढ़ा दी और थोड़ी देर में ही रानी झड़ गयी.

ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो शादी के एक वर्ष बाद ही मुझको बेटी हो गयी।अभी तक तो मेरा वैवाहिक जीवन अच्छा चल रहा था कि तभी एक दिन मेरे पति अपना मोबाइल बाहर भूल कर नहाने चले गए।आमतौर पर ऐसा कभी होता नहीं था, वो हमेशा अपना मोबाइल अपने साथ रखते थे. ये बात मोना के माध्यम से मुझ तक आई, तो मैं तुरंत राजी हो गया और उस महिला से मिलने जाने का पक्का कर लिया.

ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो उस दिन दीदी को मेरे और आदि के बारे में पता चला कि हम दोनों का सेक्स का रिश्ता है. मेरे रहने के लगभग 3 महीने बाद हमारे पड़ोस के एक नए मकान में रूबी नाम की नई किराएदार और उसका पति रमेश आए थे.

अब मैं दर्द से तड़प गयी और वो मेरे ऊपर लेटकर मेरे बदन को चूमने लगा.

बीएफ हिंदी वीडियो फुल

हेमा चाची की चूत में घुसे हुए मेरे लंड पर मुझे कुछ गीलापन सा महसूस हुआ. सलमान उठ कर अम्मी के बाजू में आ गया और अम्मी ने उसके चेहरे पर लगा, अपनी चुत के रस को चाटना शुरू कर दिया. उनका लंड उनकी जीन्स में साफ साफ उभार बनाये रहता था और मेरी नजर वहीं पर टिकी रहती थी.

यही वो पल था … जब मुझे मालूम था कि यदि मेरी जीभ इसके मुँह के अन्दर होती तो शायद ये जीभ काट सकती थी. किसी तरह मैंने हिम्मत करके उसको बोल ही दिया- क्या हम दोस्त बन सकते हैं?वो बोली- जी … वो … मैं … क्या बताऊं. मैंने उसे जोड़ कर ठीक किया और घर की बिजली को चालू करके देखा, तो लाइट आ गई थी.

अगर आपने पहले दो भाग नहीं पढ़े हैं तो आप इस कहानी को शुरू से पढ़ें और देसी लड़की की चूत कहानी का मजा लें.

मेरे अंडरवियर में से लंड बिल्कुल तना हुआ था और अंडरवियर फाड़ बाहर आने को बेताब था. मगर मैंने उसकी किसी बात का उत्तर देना उचित नहीं समझा बस उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उसे चूमने लगा. मेरा 6 इंच लंबा और 2 इंच मोटा लंड देखकर वो चौंक गईं और बोलीं- इतना लंबा और मोटा … मुआहहह.

बाद में और भी बातें हुई जो अगले भाग में बताऊँगा।मैं आशा करता हूँ कि आपको ये सेक्स इन मॉम स्टोरी पसंद आएगी।किसी भी प्रश्न से सम्बंधित जानकारी के लिए मुझे मेल या हैंगआउट्स या इंस्टाग्राम पर मैसेज कर सकते है।[emailprotected]सेक्स इन मॉम स्टोरी का अगला भाग:मम्मी के साथ चेन्नई यात्रा- 2. खैर अगले दिन मैं सुबह सुबह नाश्ता करके छत पर चला गया और वहां पर बालकनी में कुर्सी लगाकर बैठ गया. अब जब भी मैं उनके कमरे में जाती थी … तो अपनी साड़ी को ढीला कर लेती थी ताकि मेरा पल्लू उनके सामने गिर जाए … और ऐसा अक्सर होने लगा था.

उसकी ये कामुक बातें सुनकर मैं जोश में आ गया और उसकी दोनों चूचियों को जोर जोर से चूसने लगा. साथ में मेरे छबीले मामा बैठे थे और सामने लड़के की गांड चोदी जा रही थी.

भाई की शादी में मैंने उसकी चूत भी देख ली थी लेकिन उसने चूत चुदवाने से मना कर दिया. इतने हैवी चार परांठे मैं शायद ही खा पाऊं ये सोच कर मैंने खाना शुरू करने से पहले दो परांठे अलग प्लेट में रख दिए. दोस्तो, दूसरे दिन की सेक्स कहानी बताने से पहले मैं आपको हाज़िमा आंटी का परिचय दे देता हूँ.

सुरभि ने मुझे अपने ऊपर खींचा और मैं भी उसकी रसभरी चूचियों का रसपान करने लगा.

मैंने उसको उठने को कहा और बाहर चलने को कहा तो हम लोग घर के बाहर आ गए. फिर मैंने अपने लण्ड पर थूक लगा कर उसकी गांड में लंड को अंदर कर दिया।वो सिसकारने लगी और कहने लगी- चोदो मुझे प्लीज़ … फक मी … आह्ह … फक मी … जोर से।ऐसे कहते हुए वो अपनी गांड आगे पीछे करने लगी।मैं झटकों के साथ साथ उसके कूल्हों पर हल्के थप्पड़ मार रहा था।थोड़ी देर में मेरा भी होने ही वाला था. मैंने देखा कि सुमन बेड पर बिल्कुल दुल्हन की तरह लाल सूट पहन कर घूँघट निकाल कर बैठी थी और पूरे कमरे में से गुलाब की खुशबू आ रही थी.

मैं उसकी टांगों को फैला कर चुत के मुहाने पर लंड का सुपारा टिका कर बैठ गया. इस बार मैं सोच रहा था कि इस साली नेहा को रंडी बनाकर ही वापस जाऊंगा.

मगर फिर से विशाल ने मेरे सिर को पकड़ा और मेरे मुंह में लंड दे दिया. तनु बड़ी मस्ती में मेरे लंड पर अपने चूचों को झुल्ला झुलाते हुए कूद रही थी. मैंने बिना पूछे ही भाभी की चूत में अपना सारा लावा निकाल दिया और भाभी के ऊपर ही लेट गया.

सेक्सी बीएफ हिंदी मे बीएफ

उसके बाद मैंने भी अपने कपड़े उतार फेंके और पूरा नंगा होकर उसके ऊपर लेटा और होंठों को बेतहाशा चूमने लगा.

जब मैं जिज्ञासवश उनके पास गया तो उन्होंने मेरी गांड ही चोद दी!दोस्तो, ये मेरी पहली कहानी है. बाबा ने भी जोर जोर से चोदना शुरू कर दिया और कुसुम की चूत में वीर्य निकाल दिया. अब आगे फटी चूत की कहानी:मैं और राहुल दोनों ही होटल के कमरे में अकेले थे.

सलमान ने पांच छह तेज झटके मारे और अपना सारा लंडरसअम्मी की चुतमें भर दिया और उनके ऊपर ही ढेर हो गया. मुझे ब्रा पैंटी में देख के सब लोग गौर से देखने लग गए और सब बोलने लगे- क्या माल हो यार आप … ब्रा पैंटी में कितनी मस्त लग रही हो. इंडियन सेक्स वीडियो चोदा चोदीफिर बिना उसकी सहमति लिए या उसकी कुछ सुने, मैं अन्दर वाले कमरे में आ गया.

फिर उसने अपनी मैक्सी को हल्की सी हाथ से नीचे खींच कर अपनी आधी चूची दिखा दी. मेरी इस सेक्स कहानी में आपको जो भी गलती दिख जाए, उसे प्लीज़ अनदेखा करते हुए मेरी देसी कहानी का आनन्द लीजिए.

उसके बाद मैं उस पर टूट पड़ा और उसके चुचों को ब्लाउज के ऊपर से ही जोर जोर से दबाने लगा. फिर कल्पना मुझसे बोली- तुम दोनों जाओ अंदर, मैं यहीं पर तुम्हारा इंतजार करूंगी. नन्दा पूरी मस्ती में मेरे लौड़े पर बड़े ही प्यार से उछल रही थी और सिसकारियां भर रही थी- अहह उहह उम्म हहहह ओह्ह ह्म्म्म!चुदाई का मजा अब अपने पूरे शवाब पर था.

शालू के माता पिता ने उसकी शादी प्रमोद के साथ इसलिए कर दी कि वो देखने में भी ठीक था और घर में पैसे या सुख सुविधा की कोई कमी नहीं थी. तभी जय एकदम से खड़ा हुआ और मेरे पीछे आकर मेरी गांड पर एक थप्पड़ मारते हुए बोला- मस्त गांड है तेरी. मैंने वहां से निकल कर गैस एजेंसी का पता किया फिर वहां से इनडेन का नया सिलिंडर, मजबूत कांच के टॉप वाला चूल्हा, रेगुलेटर वगैरह कम्प्लीट सामान खरीद कर मंजुला के घर पहुंचा.

कुछ टाइम बाद भाभी ने तिरछी निगाहों से मुझे देखा और पूछा- ऐसे क्या देख रह हो?मेरे मुँह से निकल गया कि आप इस ड्रेस में बहुत सुन्दर लग रही हो.

इन सब बातों के शुरू होने के बाद उनकी जॉब बदल गयी और वो दिल्ली रहने चले गये. ’विजय मेरी चूत से निकल रहे पानी को प्यार से गटकता जा रहा था और मैं उसके चाटने के अंदाज से मदहोश हुई जा रही थी.

दूसरे दिन मैडम ने मुझे अपने दिल्ली वाले पते को दिया और मुझे दिल्ली आने का न्यौता दिया. उसके बाद वो हंसते हुए जाने लगी तो मैंने बोला- अरे आप भी जा रही हैं? काम तो नेहा को करना है ना? उसको जाने दीजिए और आप थोड़ी देर रुक जाइए?कविता- नहीं-नहीं, मैं भी काम में हाथ बंटा दूँगी इसका तो काम जल्दी हो जाएगा. करीब आधे घंटे के बाद हम दोनों फिर जोश में आए और मैंने उसका लन्ड खड़ा किया.

अगर मुझसे लिखने में कोई चूक हो जाए, तो बुरा मत मानिएगा … बस नजरअंदाज करते हुए इस सेक्स कहानी का मजा लीजिएगा. और जब साहिल के सामने आऊंगी तो उसको अपना सेक्सी जिस्म दिखा दूंगी।साड़ी पहनने के बाद मैंने बहुत अच्छे से मेकअप किया और तैयार होकर बाहर आ गयी।मेरे बाहर आते ही सबसे पहले साहिल की मम्मी ने मेरी सासु माँ ने मेरी बहुत तारीफ की. दोस्त की बीवी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मुझे अकेली को ही एक शादी में जाना पड़ा.

ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो उसने लगभग आधे घंटे तक मेरी चूत चुदाई की और अपना वीर्य मेरी चूत में छोड़ दिया. घर के बाहर घोड़ी आकर खड़ी हो गयी थी और हमारे शहर का मशहूर महाराष्ट्र बैंण्ड भी घर के बाहर आ गया था.

जानवर इंसान की सेक्सी बीएफ

अब पानी पीने के बाद मैं खड़ी हुई और उसके सीने से लग गयी।कुछ देर गले लगने के बाद उसने मेरे पूरे चेहरे को चूमा और फिर मैंने भी उसके पूरे चेहरे को चूमा. अब हम दोनों एक दूसरे की बांहों में समा गये थे और मैं अपनी बुआ के होंठों को किस करने लगा था. मानसिक रूप से तो वह थोड़ी बहुत पहले से तैयार थी और अब इस बात के सामने आते ही वो और भी रेडी हो गई थी.

मैं- और अमित का?नेहा- मैंने घर पर आकर अमित को थैंक्स बोलने के लिए गले लगा लिया था तो अमित मेरी नंगी पीठ और कमर सहला रहा था. मैंने भाभी से कहा- आपने कभी मिलाया नहीं इससे!पारू भाभी हंस कर बोलीं- इतनी बेचैनी है, तो कभी मिला देंगे. ओपन बीपी शॉटफिर उन्होंने मुझे घोड़ी बना दिया और पीछे से मेरी गांड में लंड पेल दिया गया.

मैं तो हैरान था कि सोनू इतना सब इंतजाम करके मेरी बहन की चुदाई करेगा!कहानी पर कमेंट्स में बतायें कि आपको रंडी बहन की चुदाई कहानी कैसी लगी.

उसको देखते देखते मेरा लंड खड़ा हो गया था, जिस पर मेरा ध्यान नहीं था पर उसे बैठते समय मेरा खड़ा लंड दिख गया. मुझे बहुत अच्छी नींद आई क्योंकि चुदाई करने के बाद आपका स्ट्रेस दूर हो जाता है और फिर मस्त वाली नींद आती है.

ब्लाउज़ बैकलेस था और सामने डीप कट था जिससे मेरी क्लीवेज कुछ ज्यादा ही दिख रही थी. भाभी अचानक से बात दूसरी तरफ ले जाते हुए बोलीं- देवर जी, आपकी कोई गर्लफ्रेंड तो होगी ही!मैंने चौंकते हुए कहा- भाभी जी, आप ये क्या पूछ रही हैं. आज से मेरा पूरा बदन तुम्हारे नाम है … आआहह … इस्स!मेरा एक बार निकल गया था तो मैं बिना रुके उन्हें चोदे जा रहा था.

बस एक ही बात की वजह से उस गांव को चुना गया था क्योंकि उसके आस पास के बहुत सारे गांवों को हम एक बार में ही पूरा कवर कर सकते थे.

ऐसे ही बारी बारी से मैं एक के बाद एक तीनों के पास ही डांस कर रही थी. मैंने उसे अन्दर आते देखा तो झट से बेड की चादर से अपने बदन को ढकने की कोशिश करने लगी. लेकिन अभी भी वो अपना लन्ड मेरे मुँह के अंदर बाहर कर रहा था जिसकी वजह से साहिल का सारा वीर्य मेरे गले के नीचे हो गया.

सेक्स नंगी ब्लू फिल्मदो-तीन मिनट में ही मेरे लंड से वीर्य निकल पड़ा और तब जाकर मैं कहीं शांत हुआ. 6 – 7 झटके मारने के बाद उसने फिर से अपने लन्ड पर तेल गिराया जो बहते हुए मेरी गांड के छेद में गया.

बीएफ सेक्सी देहाती देहाती

दोस्तो, आगे भी मैं अपनी चुदाई की कहानियां सोनम के माध्यम से आप लोगों को बताती रहूंगी. थोड़ी देर बाद चाची पीछे बाथरूम में आ गई और मेरे लौड़े को चूसने लगी।मैंने कहा- मम्मी आ गई तो दोनों मरेंगे. आजकल जवान लड़के मेल प्रोस्टीटयूट या मेल एस्कॉर्ट या जिगोलो बनने के सपने देखने लग जाते हैं सेक्स के मजे और पैसे के लिए.

जब उससे रहा न गया तो वो मेरा लौड़ा पकड़ कर बोली- डाल भी दो अब … बहुत तरसा दिया तुमने मेरी चूत को. इतने में राहुल ने उंगली डालते डालते इकट्ठी 2 उंगली मेरी गांड में डाल दीं. उसने मेरी कमर और पेट को चूमते हुए मेरी चड्डी नीचे सरका दिया और मुझे पूरी तरह से नंगी कर दिया.

अगर तुम चाहती हो कि मुझे भी आनन्द आए और तुम्हें भी ज्यादा मजा आए … तो तुम इसे अपने मुँह में ले सकती हो शुरुआत में तुम इसे चुंबन देकर देख सकती हो. जिससे मुझे उनकी चूचियों की गर्मी उत्तेजित करने लगी और मेरा लंड खड़ा होने लगा. मगर भानू के लंड को चूत का स्पर्श मिल चुका था और अब उसको रोक पाना नामुमकिन था.

अंत में उसका आधे से ज़्यादा हिस्सा मेरे मुँह के अंदर गले तक समा चुका था. मैं एकदम से चिल्लाई- अहह … नहीं … आईई … ऊह्ह … निकालो प्लीज।मगर वो तो मेरी चुदाई शुरू कर चुका था और बस चोदता जा रहा था.

मेरे लन्ड से वीर्य की पांच छह पिचकारी निकली और उसका मुंह मेरे वीर्य से भर गया.

उसने अपना लन्ड बाहर निकाला और गर्मा गर्म वीर्य की धार मेरी चूचियों पर गिरा दी. बीएफ गुरुबाबा मंदिर में सफाई करने में लगे थे। बाबा ने उन्हे मंदिर के पीछे जाकर इंतजार करने को बोला तो वो बाबा के रहने वाले घर में आ गई।कुछ देर बाद बाबा भी आ गया।उसने पूछा- माई क्या तकलीफ है?तो माई ने पूरी कहानी सुनाई. ಸೆಕ್ಸ್ ಫಿಲಂ ಪಿಚ್ಚರ್हिंदी सेक्स भाभी कहानी में पढ़ें कि कैसे मुझे भीड़ भरी ट्रेन में भाभी से चिपक कर खड़ा होने का मौक़ा मिला. जैसे ही गांड में से लंड निकाला, तो वीर्य बाहर आने लगा और मुँह में जो वीर्य डाला था, उसे मैं पी गया था.

मैंने भाभी की पैंटी को उतारा और जोर से उसकी फुद्दी को हथेली से रगड़ने लगा.

ये बात मोना के माध्यम से मुझ तक आई, तो मैं तुरंत राजी हो गया और उस महिला से मिलने जाने का पक्का कर लिया. मैंने उसकी पैंटी को पूरी नीचे खींच दिया और उसकी टांगों से निकाल कर बाहर ही कर दिया. फिर मैंने उससे बोला- मुझे लड़कियों की ब्रा पेंटी पहन कर करवाने में बहुत मजा आता है.

मुझे ये डर था कि अगर हेमा चाची ने ये सब देख लिया … तो वो मेरे बारे में पता नहीं क्या सोचेंगी?लेकिन क्या बताऊं यार … मैं उस टाईम खुद को उत्तेजित होने से रोक ही नहीं पाया क्योंकि सामने हेमा चाची जैसी अप्सरा ऐसी हालत में हो, तो कौन खुद पर काबू कर पाता. मुझे डर था कि कोई भी कभी भी ऊपर आ सकता है।चाची कहने लगी- यहाँ हम दोनों के अलावा और कोई नहीं है. कुछ ही देर में मेरा दर्द कुछ कम हुआ और मेरा चिल्लाना भी कम होने लगा.

सेक्सी फिल्म बीएफ फुल एचडी

मेरी साड़ी का पल्लू गिर चुका था और मैं अब खुद चाह रही थी कि वो मेरी चूचियों की घाटी के खुलकर दर्शन करें. उसकी गान्ड अब बराबर लंड का जवाब देने लगी।मामी की सिसकारी निकल रही थी- आहह आहह आहह राज और तेज़ आहह!मैं और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा।अब घमासान चुदाई से घर में हलचल मच गई थी।आज हमें रोकने वाला कोई नहीं था।लंड को डाले डाले में नीचे आ गया और मामी मेरे लंड पर कूदने लगी।मैंने उसकी चूचियों को पकड़ लिया और जोर जोर से दबाने लगा. उसके बाद मैंने उसका लंड पकड़ कर अपनी बुर पर रखा और उसने धक्का देना शुरू किया.

मैंने हिम्मत करके उसको अपने आगोश में ले लिया और उसने भी मेरी कमर में बांहें डाल दीं.

अपना वास्तविक नाम न बताने के लिए मैं आपसे प्रारंभ में ही क्षमा मांग लेता हूं क्योंकि मैं यहां पर अपनी पहचान नहीं बता पाऊंगा.

लेकिन मजबूत मर्द के लंड के सानिध्य के कारण अलीमा चुदाई के इन पलों का पूर्णरूपेण आनन्द ले रही थी. फिर मैंने सारा माल अंदर भरने के बाद उसकी चूत के होंठों को दबाते हुए सिरींज को बाहर खींच लिया. बीएफ हॉलीवुडमेरे आंटी कहने से पहले तो उन्होंने एकदम से गुस्सा दिखाया और बोला- मैं तुम्हें आंटी लग रही हूँ?मैंने घबराकर बोला- सॉरी जी.

अब पानी पीने के बाद मैं खड़ी हुई और उसके सीने से लग गयी।कुछ देर गले लगने के बाद उसने मेरे पूरे चेहरे को चूमा और फिर मैंने भी उसके पूरे चेहरे को चूमा. मुकाबला भी बहुत था इस लाइन में क्योंकि नये नये लड़के जिम करके इसी धंधे में उतरने लगे थे. उधर ही सामने किचन था।साहिल ने मुझे सोफे पर बैठने को बोला और वो जाकर किचन से मेरे लिए पानी ले कर आया.

हमारा घर और उसका घर सबसे ऊंचा था तो किसी की छत से हमारी छत नहीं दिखती थी. फाड़ दो मेरी चूत … आह आह कर रही थी।इस अवस्था में मेरी चूत मारने के बाद उसने मुझे कुतिया बना कर मेरी चूत में अपना लन्ड घुसा दिया.

फिर मैंने उससे पूछना शुरू किया- नेहा, ये तुम्हारी दीदी कविता कब आई?नेहा- उसको आए हुए तो एक हफ्ते होने वाले है, क्यूं? क्या हुआ?मैं- नहीं, ऐसे ही पूछ रहा था.

आंटी तो पागल सी हो गईं और मादक सिसकारियां भरने लगीं- आआह ईईई उई उम्म … जल्दी से चोद दो गोलू … उउइ आह!मुझे भी अब और जोश चढ़ने लगा था. नैंसी- स्ट्रिप पोकर! यह क्या होता है? क्या तुम्हारा मतलब है, जो व्यक्ति हार जाता है उसे अपने कपड़े से कुछ उतारना होता है?मैं- रहने दो मम्मी! जब हम कॉलेज में थे तब हम लड़के इसे खेला करते थे तो मुझे याद आया और गलती से मेरे मुह से निकल गया। मुझे लगता है कि यह एक अच्छा विचार नहीं था।नैंसी- हनी, क्यों ना हम भी इसे खेलें. वो मेरी चेस्ट की निप्पल को छेड़ते हुए बोले- तुम्हारी चेस्ट तो लड़कियों के जैसी है.

सेक्सी वीडियो फुल एचडी हाई क्वालिटी दरअसल भाभी मेरा पूरा साथ देती थी और हम दोनों के बीच में हर तरह का मजाक होता था. मामा अभी कई दिन रुकने वाले थे और मेरी कहानी भी अभी खत्म नहीं हुई है.

शुरूआत में तो सुरभि थोड़ी झिझकी, फिर उसने भी मेरे होंठों को भर लिया. इसलिए ज्यादा समय ज़ाया न करते हुए चलते हैं सीधे सेक्सी लड़की की चुदाई कहानी की ओर।दोस्तो, ये घटना मेरी जिन्दगी का ऐसा हिस्सा है जिसके बाद से मेरी जिन्दगी में काफी बदलाव आये. मैंने तुरंत लंड को बाहर निकाला और कॉन्डोम में जमा वीर्य को बिना सुईं वाले सिरींज में भर लिया.

6 साल का बीएफ

अगले ही पल मैंने अपने होंठों को आंटी के होंठों पर रख दिए और मस्ती से चूमने चूसने लगा. वहां क्या हुआ?दोस्तो, मैं राजा एक बार फिर से अपनी दूधवाली आंटी की Xxx चुदाई कहानी लेकर आपकी सेवा में हाजिर हूँ. शबाना मेरे लौड़े को देखने लगी और मैं उसके सीने पर उभरे ज्वालामुखी देख रहा था.

मैं एक बार फिर से चीखा लेकिन उनका हाथ मेरे मुंह पर आ गया और वो मेरे निप्पल चूसने लगे. मैं अपने घर गया और दरवाज़ा खुला छोड़ कर वहीं पास में खड़ा हो गया उसके इंतज़ार में.

अभी दस मिनट ही हुए थे एक दूसरे को किस करते हुए … तभी साहिल का फ़ोन बजा.

चाची भी इस चुदाई से बड़ी खुश हो गई थीं और कह रही थीं कि उन्होंने अपने जीवन में पहली बार इतनी जबरदस्त चुदाई का मजा लिया था. बीच में मैंने अपनी उंगली थूक वाली करके उनकी गांड में डालने की कोशिश की. करीब दस मिनट की धकापेल चुदाई के बाद मैंने लंड का पानी बाहर निकाल दिया.

कभी राज के होंठ मेरे होंठों को चूसते तो कभी जय के होंठों मेरे होंठों पर आकर टिक जाते. इतने में ही मैंने मुंह खोल दिया और राहुल का लंड मेरे मुंह में चला गया. या बहू तेरे सामने ठीक से बात ना करने की।तो कमला वहाँ से चली गई।बाबा- हाँ बेटी, बताओ क्या हुआ कल रात को?कुसुम- बाबा किया तो था पर थोड़ी देर ही हुआ।बाबा- बीज अंदर गया था?कुसुम- हाँ बाबा.

अब सलमान ने अम्मी को धीरे धीरे चोदना शुरू कर दिया था, जिसे अम्मी ने मीठे दर्द के साथ झेलना शुरू कर दिया था.

ममता कुलकर्णी की बीएफ वीडियो: मैंने आंटी को लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़कर गालों को चूमा … फिर होंठों को चूमने लगा. मैंने कहा- अभी मेरे पापा सब्जी लेकर आने वाले हैं, मैं आपको उनसे कुछ सब्जी दिलवा दूंगा.

लंड पकड़ने से मैं गनगना उठा और भाभी की तरफ से इतनी मजबूत हरी झंडी मिलने के बाद तो मेरा मन गदगद हो गया. मेरे जेहन में सोते-जागते, दिन-रात सिर्फ और सिर्फ हेमा चाची का ही ख्याल आता रहता था. मैं अपनी बीवी की चूत चाट चाट कर गीला कर रहा था और मेरी बीवी मेरे सर को पकड़कर अपने चूत में दबा रही थी.

फिर मैंने अपना हाथ ही साड़ी के अंदर घुसा दिया। मेरा हाथ भाभी की चूत से टकरा गया।भाभी एकदम से बैठ गई और मेरी तरफ देखा.

अब जब भी हमें मौका मिलता है, हम साथ में टाइम व्यतीत करते हैं और मैं गर्लफ्रेंड की चुदाई करता हूँ. मैंने आंटी को उठा कर बेड पर गिरा दिया और अपनी टी-शर्ट को उतार फैंका. इस बार स्वीटी को दर्द कम हुआ, लेकिन फिर भी वह कराह रही थी- अअअ … अईईईई … अंशुल दर्द हो रहा है उईई … रुको अंशुल.