बीएफ दे वॉलपेपर

छवि स्रोत,बीएफ हिंदीxx

तस्वीर का शीर्षक ,

ತೆಲುಗು sex: बीएफ दे वॉलपेपर, उसकी ज़िद देखकर रवि बोला- ठीक है, तुम लोग चलो, मैं आता हूँ थोड़ी देर में…वापस आकर रवि ने कहा- तू मुझे लंगोट में देखना चाहता था ना… ले तेरी ये ख्वाहिश भी आज पूरी कर ही देता हूँ… चल उठ हम अखाड़़े में जा रहे हैं।मुझे पता था वो तीन बार चुदाई के बाद थका हुआ है लेकिन फिर भी केवल मेरी खातिर अखाड़े में जा रहा है.

सेक्सी पिक्चर बीएफ भेजो

’मैं भाभी को अपनी तरफ़ घुमा कर सीधा किया और उनको दीवार से सटा कर उन के होंठ को चूसने लगा. देहाती बिहारी बीएफ वीडियोतेरे साथ आऊँगा रूपा लेकिन मेरे वक्त की क्या कीमत देगी तू?पप्पू ने रूपा का हाथ कुछ ऐसे पकड़ा कि वो हाथ उसके लंड तो छू गया.

हाय दोस्तो, मैं आज आपके सामने एक सच्ची हिंदी एडल्ट स्टोरी प्रस्तुत कर रहा हूँ जो मेरी अपनी मम्मी की है. हिंदी की बीएफ मूवीपत्नी के रहने के इन 10 दिनों तक हमने बहुत बार चुदाई की, लेकिन साली ने कभी गांड नहीं मारने दी.

अब आप सबको अपने अपने कमेंट्स मेरी नीचे लिखी मेल आई डी पर जरूर लिख भेजने हैं और अपने अमूल्य सुझाव देने हैं ताकि मैं अपनी अगली कहानियों में उचित सुधार कर सकूं.बीएफ दे वॉलपेपर: फिर मैंने मॉम से कहा- कमीज़ ऊपर कर लो, मैं कमर की भी ढंग से मालिश कर देता हूँ.

अब मैंने 2 उंगलियां डाल दीं और चुत में फिंगरिंग की स्पीड भी बढ़ा दी.काश हम में से किसी का पति भी ऐसा ही जानदार होता तो सब मिल बंट के खाती!और फिर हंसने लगी.

टॉक वाली बीएफ - बीएफ दे वॉलपेपर

’ इस तरह की आवाजें निकालती और कहती- बहनचोद आज चोद दे अपनी इस नाज़ुक सी छोटी बहन को.उधर अमित अब दो उंगलियां माया की चुत में डाल चुका था और साथ ही साथ चुत के दाने को चूस रहा था.

शिवानी ने एक टाइट प्लाजो पहन रखा था जिसमें उस के पट और चूतड़ तो फंसे हुए थे परंतु उस का प्लाजो नीचे से खुला था. बीएफ दे वॉलपेपर मुझसे रुका नहीं गया, मैंने उसको वहीं लिटाया और उसके ऊपर आकर लंड मोनिका की चूत पर सैट किया.

मैं मौसी को चोदने की प्लानिंग करने लगा और बहुत सोचने के बाद आखिर मुझे एक तरकीब समझ आ गई.

बीएफ दे वॉलपेपर?

उस औरत की नाभि में उंगली डालते हुए वो बोला- मोहल्ला तो अच्छा है लेकिन लोग हरामी हैं. मैंने ऐसा ही किया, पर मैं नासमझ था सो लंड कहाँ चुत में घुसने वाला था. मेरा इतना कहते ही उसने मेरे बियर के मग को उठा कर उसमें से एक सिप ले लिया और बोली- अब ठीक है.

धीरे से अपना हाथ मोनिका की चुत पर फेरा, जो मुझको आज भी फ्रेश लगती है. तो वो जाग गई और कहने लगी- क्या कर रहा है?तो मैं उसे बताने लगा- तुम्हारी शर्ट ऊपर हो गई थी और तुम्हारी छाती दिख रही थी।पहले तो वो शरमाई. खैर मैंने भी उससे हाय हैलो किया और उसे बैठने को कहा तो वो मेरे ही बगल में बैठ गई, क्योंकि हमारी टेबल पे कोई और सीट तो खाली नहीं थी.

उसके चूतड़ इतने पर्फेक्ट और टाइट दिख रहे थे कि मेरा लंड एकदम से तुनकी मारने लगा था. 30 बजे उस के हस्बैंड और उस का दोस्त ड्यूटी पर चले जाएंगे, क्योंकि उनकी 8 बजे रात को शिफ्ट शुरू होती है. एक दिन उसने चुदते हुए मुझसे एक बात पूछी- क्या तुम मुझे चोदकर बोर नहीं हुए?यानि?” मैंने पूछा.

अब मैं मालिश करने लगा और लता लण्ड चूसने लगी।मैंने लता की बड़ी बड़ी चूचियों की मालिश करते हुए उसकी चूत पर भी तेल डाला और चूत के लिप्स की मालिश की, फिर से चूत में उंगली की. मैंने उसकी आँखों में हैरत से झांका तो उसने कहा- तुम्हारा मुझको देख कर मुठ मारना मुझे अपने लिए कॉंप्लिमेंट सा लगा और मैं इस तरह से धन्यवाद कहना चाहती हूँ.

पर आज तेरे इस वेल-मेंटेंड गुजराती जिस्म की चूत, गांड, मुँह और मम्मों का भोसड़ा बनाकर रख दूँगा समझी? बहनचोद तुझे इतना चोदूँगा कि तुझमें उठने का दम ही नहीं रहेगा.

पप्पू को पीछे से उस औरत के पसीने से गीले ब्लाउज से उसकी ब्लैक ब्रा दिखाई दी.

बाहर खड़ा मैं आसमान की तरफ मुँह कर के आराम से बोला- आज वो मेरी हो जाएगी. प्लीज़ एक बार हटो तो सही!गुलशन जी हट गए तो सुमन उनके पास बैठ गई और शुरू से सारी बात उन्हें बताईं कि कैसे उसने उस रात उनकी और माँ की बात सुनी थी. वो पहले तो झिझकीं फ़िर दोनों हाथ बढ़ा कर मुझको अपने शरीर से चिपका लिया.

बुआ की ऐसी चुदास देख कर मेरा मन कर रहा था कि जाकर बुआ पर चढ़कर उनको हचक हचक कर चोदूं… पर मन मसोस कर रुका रहा… अगर कहीं गुस्सा हो जाती तो मैं कहीं का नहीं रहता. पापा की मौत के बाद मम्मी से भीख की तरह पैसे मांग मांग कर तंग आ चुकी थी. अब मेरा मन उसकी मांसल जांघों और गुदाज चूतड़ों को देखकर चोदने को हो रहा था, परन्तु मामी ने मना कर दिया और मुझे अपने ऊपर खींच कर चोदने का इशारा किया.

दूसरी लड़की ने अपनी एक उंगली मेरे मुँह में घुसेड़ दी तो मैं उसे किसी लंड के माफिक चूसने लगी.

ये पहली बार था, जब मैं शीशे के सामने खड़े होकर अपनी सगी बेटी को पेल रहा था. वो हँसने लगी। फिर उसने ही मेरा लण्ड अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत के छेद पर रखा और अन्दर डालने को कहा. तभी पूजा कहती- भाभी मुझे भी इसका स्वाद चखना है, मुझे भी चूसने दो प्लीज़.

ऋतु- मुझे पता है क्यों मन नहीं है, सब मेरी वजह से है न!मैं- नहीं बाबा. ये बोलकर वो मेरे गले लग गई और कान में बोली- आप कुछ नहीं बोलोगे?मेरे अन्दर एकदम से करंट सा दौड़ गया, मैंने उसे कस कर हग किया और ‘आई लव यू टू मेरी जान. तभी मामी ने मुझे एक जालीदार ब्रा दिखाते हुए बोला- कौन सी डिज़ाइन लूँ बताओ ना?मैंने कुछ नहीं कहा, मामी ने 2 सैट ले लिए.

मैंने सर हिलाया और आयिल की शीशी लेकर मैडम से बोला- आप आराम से बेड पर लेट जाइए.

सुमन जानती थी कि उसको दर्द होगा मगर टीना की कही बात उसको याद थी कि जितना बड़ा लंड होता है, मजा भी उतना ही ज्यादा देता है. बोली- तुझे कितना भरोसा है मुझ पर?मैंने कहा- तेरे घर पर कोई नहीं दिख रहा है, सब कहाँ गए?वो बोली- पापा काम पर गए हैं, रात के नौ बजे आएंगे.

बीएफ दे वॉलपेपर मैं इसी पोजीशन में गहरी गहरी सांसें भरता हुआ लंड को आगे पीछे डुलाता रहा. उधर कुछ ही पल में अर्चना फिर से चुदासी हो गई और उसने भी चुदाई की मुद्रा में अपनी चूत खोल दी.

बीएफ दे वॉलपेपर माया की चुत अब अमित के लौड़े को ऐसे पकड़ रही थी, जैसे माया के होंठ अमित के लंड को चचोर रहे हों. मैंने पूरी हिम्मत जुटाई और रीना के सामने अपनी मुहब्बत का इजहार करने का हौसला जगाया.

कभी देखी है?”उसने कहा- नहीं कभी नहीं देखा, पर अपनी सहेलियों से इस बारे में सुना है.

सेक्सी वीडियो पिक्चर बिहारी

अब जैसा कि उसकी हाइट मुझसे कम थी तो मेरा लंड उसके निप्पल तक आ रहा था. लेकिन मैंने उसे रिक्वेस्ट की- प्लीज़… ये फोन मुझे दे दे… मैं घर वालों को क्या जवाब दूंगा. आई लव यू डार्लिंग!रिया ने मुझे कस कर गले लगाया और रुंधे गले से बोली- रुलाएगी क्या कमीनी?हम दोनों ने 13 नंबर की खिड़की की तरफ देखा तो मेरी वहीं मौजूद थी.

उसके दिमाग़ में चुदाई का चक्कर चल रहा था और टीना इनको पार्टी का हिस्सा बनाने में लगी हुई थी. मेरे 7 इंच लम्बे और 2 इंच मोटे लंड को बहन ने चूस चूस कर गहरा लाल कर दिया था. वैसे तो समाज की नज़रों में इन भाई बहनों के बीच में ये बिल्कुल ही नाजायज रिश्ते स्थापित हो चुके थे, पर इन तीनों भाई बहनों के लिए ये तो एकदम पवित्र प्रेम था.

तभी चाचा के दोस्त जो बगल में बैठे थे, उनकी तरफ मेरा हाथ अपने आप चला गया और सहारे के लिए पकड़ा पर हाथ उनके पैंट की जिप में रखा गया और दब भी गया मुझसे!फिर क्या, वो अंकल मेरी तरफ देखने लगे और धीरे से कान में बोले- आरती बहुत मन है लगता है? तुम्हारी हालत बहुत खराब लग रही है, रुको मैं सब इतंजाम कर दूंगा, अपनी जिप खोल कर देता हूं शर्ट ऊपर कर देता हूं.

वो मज़े ले रही थी- चोद मेरे मम्मे चोद, झटका दे कमीने और तेज चोद और जोर. [emailprotected]कहानी का दूसरा भाग :रिश्तेदारी में आई लड़की को पटा कर चोदा-2. उसने मम्मी को घोड़ी बना कर खुद घोड़े की तरह मम्मी के पीछे आ गया और अपने मोटे सुपारे को चूत के छेद पर रख कर धक्का मारा कि मम्मी का मुँह तो जमीन पर टिक गया.

रिंग लीडर के इशारे पर सभी लड़कियों ने एक दूसरे के यौवन रस को चूसना शुरू कर दिया. फिर हम तीनों अलग हुए… मैंने अपने भाई को गले लगाया और उसे खूब चूमा और कहा- थैंक्स भाई, तूने मुझे आज चुदाई का परम सुख दिया है. रूपा के मम्मों से खेलते हुए पप्पू ने रूपा का हाथ पकड़ के अपने लौड़े पे लाकर रखा.

मैंने अपनी बेटी को अपने से लिपटा कर उसके मुँह पर, नाजुक होंठों पर प्यार करना शुरू किया. मेरे भाई ने जब मुझे और मम्मी को चोदा तो उसने यही कहा- दीदी, मुझे ज्यादा मजा मम्मी को चोदने में आया है.

अभी उसके हाथ लोअर तक ही पहुंचे तो मैं बचने के लिए चाह कर भी हिल नहीं सका क्योंकि मेरा लंड लोअर के साथ उसकी पकड़ में आ गया था. तो अब मैं फ्रीज़ और उसके बीच में फंस गया था और मेरा लंड अकड़ता जा रहा था. और सबसे मस्त बात कि इसके होंठों के ऊपर एक काला तिल था, जो इस अप्सरा की सुन्दरता को और ज़्यादा बढ़ा रहा था.

उस दिन हमें गाँव के 2 लड़कों ने देख लिया और आते जाते उसको ताने मारने लगे, फिर मेरे धमकाने और समझाने पर रुके.

तब गुलशन जी ने उसको घोड़ी बनाया और उसकी गांड को कस के पकड़ कर शॉट मारने लगे. मैं बोली- ओह शिशिर, मैं तुम्हारे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना चाहती हूँ. जैसे जैसे वो मेरा लंड मुँह में अन्दर ले जाती, उसकी जीभ की गर्माहट मुझे अपने लंड पर महसूस होती.

जब हम दोनों का नहाना हो गया तो एक दूसरे को पौंछने लगे और एक दूसरे की मालिश करने लगे. उसके बाद मैंने भाभी को बोला- सुरैया, अब मैं तुम्हारी इस तंग गांड को चोदना चाहता हूँ.

तभी दीदी बाथरूम में चली गईं और अंजलि मेरे पास बैठ गई और हम दोनों इधर उधर की बातें करने लगे. मैं जल्दी से बाथरूम में गई, साड़ी उठाई, पैन्टी उतारी और चूत पर हाथ रखते ही मेरी उंगली चूत के अन्दर जा घुसी और चूत को शीशे में देखकर खूब रगड़ा. ?उसकी आह ऊह गूँज रही थी और मैं झटके से धक्के मार रहा था- ले मेरी जान ले मेरा लौड़ा और ले, कमीनी मेरा लौड़ा आज तेरी चूत फाड़ देगा…उसने रुक कर मुझे मिट्टी में धकेल दिया और मेरे ऊपर पैर फैला कर खड़ी हो गई- क्यों कभी जंगली नंगी रंडी देखी है?मैंने कहा- आजा मेरी प्राइवेट रंडी, ठरकी साली.

सेक्सी वीडियो चूत मारा

क्या अंकल उनकी चूत चाटेंगे? ये प्रश्न मुझे परेशान कर रहा था।शाम तक मैं यही सोचता रहा.

मैंने कहा- तुमने बताया नहीं मुझे क्यों बुलाया?वैसे तो मैं भी जानता था कि इसको चुदास चढ़ी है और ये मुझ से चुदवाना चाहती है. मैं तुम्हारी चुत में पूरा का पूरा लंड घुसाते हुए तुम्हें बहुत ही बुरी तरह से चोदूँगा. मैं भी ऊपर जाने के लिए बाहर निकला, पर ना जाने क्यों मेरे कदम बाहर गेट पर जाकर ही रुक गए.

जब मैं उनको पीछे से चोद रहा था तब उनकी भारी गांड देख कर मैंने उसी वक्त सोच लिया था कि उनकी गांड ज़रूर मारूंगा. जब मुझे लगा कि वो शांत है, तब मैंने हाथ उसके मुँह से हटाया तो वो रोते हुए बोली- हट जाओ पापा. बीएफ सेक्सी सेक्सी बीएफ सेक्सी बीएफमैंने कहा- नहीं यार 15-20 दिन में एकाध बार… क्योंकि शॉप के चक्कर में ज्यादा बिज़ी रहते हैं.

उधर यह अहसास मेरी वाइफ को भी हो गया कि हम दोनों अंदर आ गए हैं तो उसका जिस्म अकड़ सा गया, तेज़ तेज़ साँसों से उसके वक्ष के उभार ज़ोर ज़ोर से ऊपर नीचे होने लगे, पसीना भी चमकने लगा. मैं अब भी उससे लिपटा हुआ ही था और उसने भी मुझे अपनी मज़बूत भुजाओं में दबोच रखा था.

वीरू- यार तू अपना बदला बाद में लेते रहना, पहले हमको मज़ा करवा देना बस. मैं- स्मार्ट… लेकिन अरिधि को सब बता दिया ना?जोशना- नो, उसे बोला है कि डेट पे जा रही हूँ. मैंने सोचा कि भाई के रूम में चलती हूँ भाई का कमरा सेकेंड फ्लोर पर था.

फिर मैंने 5 मिनट तक लंड अन्दर बाहर करने के बाद जोर जोर से धक्का देना शुरू कर दिया. उसके बाद साथ में खाएँगे और उसके बाद फिर तेरी चुत को चाट कर चुदने को रेडी करूँगा. उसने मेरे सर को टांगों में जकड़ लिया और जीवन में पहली बार चरम आनन्द को पाकर चीख चीख कर झड़ने लगी.

उधर भाभी की आँखों में पूरा पानी आ गया था और वो मेरा मोटा लंड शायद सह नहीं पाई थी, जिसके कारण उसकी आँखों में आंसू आ गए थे.

जोशना ने वापस आकर चिल्लाते हुए कहा- दोबारा मेरे मुँह में झड़े तो फ़िर कभी नहीं चोदने दूँगी. करीब 12 बजे मेरे रूम की डोरबेल बजी, मैंने डोर खोला तो सामने चाचाजी इरफान को संभाले हुए खड़े थे.

नीता के कंधे पर हाथ रख कर नज़र उसकी चूत और मम्मों पर बारी बारी घुमाते हुए पप्पू बोला- अरे इतनी क्या जल्दी है बेटा, सब होने के बाद बता दूँगा. जैसे उसने कुछ सुन ही नहीं हो, पप्पू अपना हाथ और रगड़ के पीछे से उससे चिपकते हुए बोला- यार सबको क्या इसी बस से आना था! भाभी सॉरी… आपको तकलीफ हो रही है पर क्या करूँ? फिर हल्की आवाज़ में रूपा के कान के पास आके पप्पू बोला- अरे भीड़ है तो ये सब चलता है. उसके बाद उन्होंने मुझे बाथरूम में जाकर फ्रेश होने को बोला और कहा- अभी 15 मिनट का ब्रेक है.

उस के इन शब्दों को सुनकर मुझे तसल्ली हुई यानि कि कोई और औरत भी है, जो चुदना चाहती है. अब मैंने उस पर एक ब्लू फिल्म लगा दी ब्लू-फिल्म की सिसकारियों की आवाज़ सुनकर माही मेरे कमरे में आई. मैं सोचने लगा कि मामा का लंड क्या इतना बड़ा है जो मामी की चीख़ निकल आई.

बीएफ दे वॉलपेपर तभी शानू की गर्लफ्रेंड रिया ने कहा- वो मेरे साथ जा सकती है, अगर प्राब्लम ना हो तो!तभी श्रुति ने भी तपाक से ‘हाँ’ में जवाब दिया. दोस्तो, आप जानते ही हैं कि जब हम सेकंड टाइम चुदाई करते हैं तो जल्दी झड़ते नहीं, यही मेरे साथ भी हुआ.

रेखा वाली सेक्सी

हाँ एक बात बता दूँ, खाने के टाइम भी ये सब नंगे ही थे, जैसे कोई आदिवासी हों. एक लड़की मेरे मुँह पर अपनी गांड रख कर बैठ गई और मुझे चाटने को बोला. किस करते हुए मैंने उसके टॉवल को खींच लिया और अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी.

चूंकि हम लोग काफ़ी विदेश भी घूमे थे, ड्रेसिंग के मामले में काफ़ी फ्री थे, वो बीच पर बिकिनी में घूम रही थी. चूत एकदम गीली थी, मैंने बिना देर किये उस की टांगों को चौड़ा किया और एक ही झटके में पूरा लंड अंदर घुसा दिया. सेक्सी बीएफ मूवी हॉटउसका बॉयफ्रेंड मूवी की टिकटें ले कर आया था तो वे दोनों सिनेमा हाल में चले गए.

बाप रे वो लंड इतना मोटा था कि मुश्किल से मेरे मुख में फिट हो रहा था.

घबराते हुए रूपा पप्पू का हाथ कमर से हटाते हुए बोली- पप्पू हाथ हटा कमर से, पता नहीं चलता यहाँ रास्ते में कितने लोग आते जाते हैं. एक हिन्दी ब्लू फिल्म देखते हुए मैंने अपनी पत्नी से कहा- जानू, एक बार मैं तुम्हारे साथ हिन्दी में सेक्स यानि चुदाई करना चाहता हूँ.

सर पर पड़ा हुआ पसीने से सना शर्ट सरकते हुए नाक तक आने लगा था, जिससे उस जवान मर्द के बदन की मस्त महक आ रही थी. वो बोला- क्यों… मेरा लंड लिए बिना तेरी गांड का कीड़ा शांत नहीं होता क्या. सुमन जल्दी बाहर आ गई उसके बाद नाश्ता किया और अपनी माँ का हाथ बंटाने लगी.

जब से मैंने इसे तुम्हारी और मेरी चुदाई की बात बताई है, तब से ये भी तुम्हें चोदना चाहता था.

नहीं नहीं मरवाओगे क्या मुझे!अतुल- अरे चुदाई तो सिर्फ़ ये दोनों ही करेंगे. वो रोजाना रात को मम्मी-पापा के सोने के बाद मेरे रूम में आ जाती और चुद कर चली जाती. इरफान कभी भी 10 मिनट से ज्यादा टिक नहीं पाते थे, पर चाचाजी आधे घंटे से मेरी चुत को चोद (फाड़) रहे थे.

बीएफ दे बीएफ हिंदीउसकी झील जैसी गहरी आंखें, सुराहीदार गर्दन और दो रसीले नर्म चूचों पर पतली कमर के नीचे थिरकते गोल गोल गद्देदार चूतड़ के साथ उसकी 34-28-32 की काया किसी भी लड़के को अपनी तरफ आकर्षित कर लेती थी. कुछ देर ऐसे ही लगातार चोदने के बाद मैंने मनोज को इशारा किया और मनोज और मैंने अपने अपने लंड बाहर निकाले और हमने दोनों लड़कियों को आमने सामने कर लिया.

सेक्सी एचडी फिल्म मूवी

उधर रिया की हालत और भी ख़राब थी, उसकी दोनों साथी बारी बारी से उसकी चुत चूस रही थी. दो मिनट तक ऐसे ही लगा रहा, फिर दाईं चूची को भी उतने ही समय तक चूसता रहा, जब तक मेरा मन नहीं भरा. जब रात को मौसी अपने रूम में लेटी थीं और मैं भी लुंगी पहनकर सोने जा रहा था, तभी मैंने कस के आवाज़ मारी- बचाओ बचाओ.

अब रेणु थोड़ा दर्द से छटपटाई, पर थोड़ी देर डबल स्पीड से चूतड़ उठा उठा कर उंगली और बुर पर वार करवाती रही. मैंने अंधेरे में तीर मारते हुए कहा- हां मैं इस विषय पर बहुत पक चुका हूँ … मुझसे बहुत सी लड़कियों और भाभियों ने चैट की है. उसने अपनी जीभ मेरी क्लिट पर फिराते हुए मेरी चुत को चाटना शुरू कर दिया.

उसकी पीड़ा अब आनन्द का रूप ले चुकी थी, इसीलिए शायद उसके होंठ अब अपने आप मेरे होंठों से जुड़ने लगे थे. मामी ने मुझे जस का तस रोक दिया और बहन के होश में आने तक उसके मुँह पर पानी के छींटे देती रहीं. कुछ देर बाद ट्रेन ने सीटी दी और सरकने लगी, तभी एक जवान खूबसूरत लम्बा सा आदमी केबिन में आया.

मैं बहुत तेजी से रेखा की कुंवारी चूत चोद रहा था और उंगली से पिंकी की चूत को चोद रहा था. तो उसने कहा- मेघा, इस बार मैं तुझे बीस हजार दूंगा लेकिन पूरी रात रुकना होगा.

ऐसा करने से मेरी चुत एकदम ऊपर उठ जाती थी और उसका लंड मेरी चुत में पूरी गहराई तक घुस जाता था.

फिर उसने मुझसे पूछा- तेरी लाइफ कैसी चल रही है?मैं और वो बहुत ओपन थीं. बिजली बीएफमेरी भाभी का रंग गोरा, कद 5 फीट 3 इंच, उन का फिगर करीब 34-28-32 का है. सनी लियोन की पुरानी बीएफजवान औरत की नंगीं जांगहें चाटने का अपना एक अलग ही किस्म का मज़ा आता है. मैंने अपने आप को उनकी बाहों से छुटवा कर कहा- क्या पागल हो गए हो जीजू आप? इस तरह खुले में चुदाई करोगे मेरी? कोई देख लेगा तो? मुझे डर लग रहा है.

मैंने देवर के लंड को अपने मुँह में ले लिया और तेजी के साथ चूसने लगी.

वो मेरी पकड़ से छूटने की कोशिश करने लगी, पर इसका कोई फायदा नहीं हुआ. फिर उन्होंने सोचा सुमन तो कुछ बोल भी नहीं रही, तो क्यों न कुछ मज़ा ले लिया जाए. उसके बाल भी ब्राउनिश कलर के थे, जो कि रात में मुझे लाल से लग रहे थे.

पर जब अन्दर गया तो मालूम हुआ कि यहाँ तो कोई धार्मिक आयोजन चल रहा था. वो लोग आपस में बात करने में मगन थी तो मैं चुपके से अपना दायां हाथ टेबल के नीचे ले गया और आयशा की जांघ पे रख दिया. लंड कभी उस के पेट के नीचे जांघों के बीच में चला जाता तो कभी उस की गांड के छेद पर रगड़ खाता.

सेक्सी पिक्चर कॉलेज में

फिर सागर ने पूछा- अगला प्लान क्या है?मैं बोली- अगले हफ्ते में मीना के पति ऑफिस के काम से 3 दिन के लिए बाहर जा रहे हैं, तब मैं उसको बच्चों के साथ यहाँ बुलाने वाली हूँ. गोरी, लम्बी, पतली कमर, बड़ी-बड़ी चूचियां, प्यारी सा चेहरा और जानलेवा मुस्कराहट. हम दोनों हंस पड़े और फिर मैंने दो तीन जोर के झटके लगा कर अपने लंड का पानी आंटी की चूत में निकाल दिया.

भाइयो, फिर से जब मैं दुबारा दिल्ली जाऊंगा तो फिर से सुरैया भाभी की चुत और गांड फाड़ कर आऊंगा.

अरे तेरा ऐसा मूसल जैसा लंड मैं छोड़ने वाली नहीं हूँ, आज तुझसे तू जैसे चाहेगा वैसे चुदवा लूँगी.

तब मैंने कहा- माँ, इसमें ये दाने की तरह क्या है?तो माँ ने कहा- बेटा, इसे तुम जितना चाटोगे, उतना ही औरत की चुत गरम होती जाती है. दोनों कपड़े देख कर नीता बोली- यह कपड़े अंकल? यह शॉर्ट्स तो बिकिनी से भी छोटी है, बनियान कितना छोटा और टाइट है अंकल. मोटी औरतों की बीएफ फिल्मकहानी का पिछला भाग :जोशीले जवान जाट का नशीला लौड़ा-1पहले भाग में आपने पढ़ा कि मैं उस जाट के मोटे लंड को फ्रेंची में से ही चाट रहा था.

अंजलि मेरा इशारा समझते हुए लंड के ऊपर बैठ गई और जोर-जोर से ऊपर-नीचे होने लगी. जो मैंने उसने मुँह में ही छोड़ा। वो एकदम से उठी और बाथरूम में जाकर मेरा वीर्य थूक कर आई और कुल्ला करके अपने मुख को साफ़ भी किया. मैं अपने एक हाथ को धीरे से उनके मम्मों के पास लाया और भाभी के मम्मों को हल्के-हल्के से दबाने लगा.

रीना और रंजु भी मेरी बाजू पर बनीं मछलियों को तिरछी नजरों से घूरती रहीं. इधर भाभी की गांड में भी दूसरे ने अपना लंड डाल दिया था और उनको सैंडविच बना कर खड़े खड़े दोनों तरफ़ से पेल रहा था.

मैं चाचाजी के बालों में प्यार से उंगलियां घुमा रही थी और चाचाजी मेरी चुत को चाट कर साफ कर रहे थे.

बस कुछ पल के लिए रुक कर दीदी की चुत के गर्म रस का मजा अपने लंड को दिलाता रहा. बुआ की ऐसी चुदास देख कर मेरा मन कर रहा था कि जाकर बुआ पर चढ़कर उनको हचक हचक कर चोदूं… पर मन मसोस कर रुका रहा… अगर कहीं गुस्सा हो जाती तो मैं कहीं का नहीं रहता. उस दिन पापा घर पर ही थे, वे काम पर नहीं गए थे क्योंकि चाचा 15-20 दिनों के लिए बाहर गए थे.

लड़की और कुत्ता का बीएफ सेक्सी वीडियो रमेश ने हँसते हुए कहा- और पहला हाथ मारा भी तो अपने घर में ही? अपनी ही सगी बहन पर?सुरेश रमेश के इस ताने से झेंप सा गया और हकलाने लग गया. फोरप्ले बाद में करेंगे, जिंदगी में पहली बार ऐसा लौड़ा देखा है, अब मेरे ऊपर चढ़ कर इस का कमाल दिखाओ.

कहानी का पिछला भाग:गया था बिज़नेस करने, भाभी को चोद दिया-1मेरी सेक्स स्टोरी के पहले भाग में आपने पढ़ा कि मैंने भाभी की चूत देखने ही लगा था कि भैया के आने की आहट हुई और मामला गड़बड़ हो गया. एक दिन मेरे कुछ फ्रेंड्स आए हुए थे तो हमने पार्टी की… दारू शारू पी, तो मुझे थोड़ा ओवर नशा हो गया. अपनी विजय पर फूलता हुआ मैं उसे उठा कर उसके बेडरूम में ले गया और कुछ ऊपर से उसके बेड पर छोड़ दिया.

सेक्सी वीडियो बाड़मेर राजस्थान

फिर मुझे समझ आया कि पिचकारी के अंदर का पानी मेरी गांड में समा गया है, मैं तृप्त सी होने लगी, मेरी गांड में पिचकारी घुसे होने के बावजूद पानी गांड से लीक होने लगा, मुझे जोर से गांड के अंदर गुदगुदी होने लगी साथ ही साथ मेरी चूत भी खुजलने लगी थी, मैं बर्दाश्त से बाहर हो रही थी, अचानक से मैंने अपनी गांड को नीचे की ओर झटका दी, पिचकारी का पूरा नुकीला हिस्सा मेरी गांड में घुस गया. मेरे तन-बदन में एक अजीब से हलचल हो रही थी, मैं दोनों हाथों से अपनी नर्म नर्म चूची दबा रही थी. कुछ देर बाद जब अर्चना सामान्य हुईं तो मैं अपने लंड को आगे-पीछे करने लगा.

तभी अंकल बोले मेरे चाचा को- साले कमीने, पहले से कब्जा किया हुआ है।चाचा बोले- ग्राउंड मैंने ही तैयार किया है, सब मिल बांट कर खा लेंगे. अन्तर्वासना साईट से मेरा अत्यधिक लगाव होने के कारण मैं मोबाइल में इस साईट पर दिन में पंद्रह से बीस बार जाता रहता था.

करीब 20 मिनट तक गुलशन जी दे दनादन अपनीबेटी की चुदाईकरते रहे, तब कहीं जाकर सुमन की चुत में लंड अड्जस्ट हुआ.

मैंने अपनी एक उंगली चूत के अंदर घुसा दी तो वो कांप उठी और सिसकारियां भरने लगी. चाचाजी ने अपनी पेन्ट की जिप खोलकर अपने तने हुए लंड को बाहर निकाल कर मेरे हाथ में थमा दिया. तभी मुझे कुछ फील हुआ कि मेरी पेशाब आ रही है तो मैं होटल के टॉयलेट में गई.

तभी मैंने देखा कि विया दीदी मुझे अपनी कातिलाना नज़रों से देख रही हैं लेकिन मैं कुछ समझ नहीं पाया. शादी में आई सभी लड़कियों को मैंने देख लिया और एक-दो लौंडियां तो बहुत ही पटाखा आइटम थीं. तू चुदवा अपने वाले से, अब तेरे एरिया में मैंने पूरी ही दखलंदाजी कर दी.

उफ्फ्फ यह क्या कर रहे हो? आपने कहा था कि गांड नहीं मारोगे?”चुप कर मासूम रंडी.

बीएफ दे वॉलपेपर: दो तीन झटकों के बाद नेहा को भी मजा आने लगा था, तो मैंने नेहा को और ऊपर उठाया और अपना लंड उसकी गांड में गहराई तक आगे पीछे करना शुरू कर दिया. बहूरानी मुझसे बेचैन होकर लिपटने लगी; और अपनी चूत देर देर तक ऊपर उठाये रखते हुए लंड का मज़ा लेने लगी.

अब बारी आती है उस चीज की, जिसके लिए ये कहानी लिखी गई है मतलब सेक्स की. करीब बीस मिनट की मस्त चुदाई में भाभी जी ने दो बार अपनी चुत का पानी निकाला था, जो उन्होंने मुझे बाद में बताया था. मैं मासूम सी कली अपनी बाप की उम्र के अंकल से गांड मरवाने जा रही थी.

अब अपनी औरत के लाशनुमा शरीर से खेलने में मुझे कोई इन्टरेस्ट नहीं रह गया था.

इसी तरह शमशेर ने दो तीन बार प्रयास किया, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली. कितना दम है मेरे लौड़े में!” कहते हुए अमित ने अपना लंड बाहर निकाल लिया और उस्मान को कुछ इशारा किया, जो माया नहीं देख पाई. उसने अपनी याहू आई डी दी।बाद में हम लोग चैट पर बातें करने लगे।बातें करते करते हम लोग सेक्स के बारे में भी बातें करने लगे.