भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,काजल सेकसी फोटो

तस्वीर का शीर्षक ,

बिहारी सेक्सी चोदने वाली: भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ, मैंने साक्षी से पूछा- दूध क्यों नहीं निकल रहा है?तो साक्षी हंस कर बोली- लगता है इस वाली चूची का दूध खत्म हो गया है.

बीएफ चाहिए बीएफ

रात को भी मेरी आंखों के सामने सेक्सी माधुरी का साड़ी वाला चेहरा सामने आया और मैं अपने बिस्तर पर लेटे लेटे ही अपने लंड को मसलने लगा. चौधरी की सेक्सी फोटोमैंने महसूस किया कि उस बात से मैं और खाला, हम दोनों ही बहुत खुश थे.

तो भाभी ने एक कातिलाना स्माइल दी और बोली- तो क्या क्या सोचा था मेरे बारे में?वो ये कहती हुई मेरे बाजू में सोफा पर आकर बैठ गयी. एचडी बीएफ 2020ऐसे ही पहले एक हफ्ता गुजरा, फिर एक महीना लेकिन उसने कभी मुझे गलत निगाह से नहीं देखा.

इतनी देर तक चोदने के बाद भी मैं भूखा था जबकि मेरा लंड दर्द करने लगा था.भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ: गांव की सड़क तो आप सब जानते ही हैं इतने गड्डे होते हैं कि आदमी बाइक पर ठीक से बैठ ही न पाए.

दर्द हो रहा था मगर मज़ा भी खूब आ रहा था।उसने बारी बारी मेरे आंड को मुंह में भर कर लंड हिलाया।थोड़ी देर बाद मैंने उसे बिस्तर पर लेटने के लिए कहा और तकिया उसकी गांड के नीचे लगा दिया.और अब दीदी भी उसका पूरा साथ दे रही थी।फिर कुछ देर के बाद वो दोनों शांत हो गये तो मुझे यह पता चल गया कि अब मेरी बहन की चूत में रवि का वीर्य जा चुका था.

बीएफ चाइना - भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ

अगले दिन नीना ने मेरे और सोनी के साथ उनके फल के बाग और बकरी पालन देखा.मुझे पता है आप लोगों को मुठ मारने में और उंगली करने में बहुत मजा आ रहा है, तो मजा लीजिए और इस चुदाई को प्यार दीजिए.

मैंने कहा- हां भाभी अपने पति को बुला लो हम दोनों एक साथ एक ही लंड से चुदवा कर मजा ले लेंगे. भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने महसूस किया कि साक्षी की चूत बहुत ज्यादा झड़ी थी और मेरी उंगलियां बहुत ज्यादा चिपचिपी हो गयी थीं.

बुआ की आंखें बंद थीं और वो अपने होंठों को भींचती हुई ‘आह हहआ हह आहआ …’ कर रही थीं.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ?

मैंने अन्तर्वासना में बहुत सी कहानियाँ पढ़ी, तो मेरे मन में भी विचार आया कि मैं भी अपनी कहानी अन्तर्वासना पर आप सबसे साझा करूं. वो कहते हैं ना कि औरतों के पेट में बात नहीं पचती, तो छोटी चाची ने बड़ी चाची को सब बता दिया. काकी भी बापू के गोटे पकड़ कर सहला रही थीं और बापू की आंखें मस्ती में बंद थीं.

मैंने उसे रोका और याद दिलाया- सोनू डार्लिंग, पहले अपनी भतीजी को तो देख लो. जब उसने पूछा कि मैं शादी क्यों नहीं करना चाहती तो मैंने रोते रोते बता दिया- मेरी सहेलियां कहती हैं कि अब मैं फट जाऊंगी, मुझे पलंग पर कुश्ती खेलनी पड़ेगी और केले से मलाई निकालनी पड़ेगी. मैं नियमित रूप से कसरत करता हूँ, इसलिए मेरी बॉडी थोड़ी स्लिम फिट है.

जैसे जैसे चूत पे लंड ठोकर देता, उसके मुँह से ‘आहह मम्मी मर गई अम्म्म … अर्णव स्लो … आह. जैसा कि मैंने बताया कि दिसंबर का महीना आ गया था और ठंड बहुत ही ज़्यादा हो चुकी थी. माधुरी ने कहा- देखो फिर ऐसा मत बोलना कि ये बहुत मुश्किल है, मुझसे नहीं होगा.

मुझे डर भी लग रहा था और बहुत मज़ा भी आ रहा था क्योंकि चाची के बूब्स बहुत बड़े और सॉफ्ट थे. नेहा को नंगी देखकर मोहित ने मेरी गांड से लंड निकाल लिया और नेहा को पकड़कर घोड़ी बना दिया.

क्या आप मुझे वो क्लिप वापस दिखा सकते हो?इससे मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने वीडियो गैलरी को ओपन करके मोबाइल उसे दे दिया.

मैं छुप छुप कर उसको ही देख रहा था और वो भी कभी कभी लेडीज कस्टमर्स बात करते करते कांच से मुझे देख रही थी.

आंटी को मेरा आठ इंच का मोटा लंड चूसने में मज़ा आ रहा था और मुझे आंटी की महकती चूत चाटने में उनका कामरस मिल रहा था. माधुरी ने पीछे मुड़कर मेरी तरफ देखा और कहा- बीवी?मैंने कहा- हां, अभी थोड़े देर पहले ही तो तुमने कहा था न कि हम दोनों शादी कर लेते हैं, तो अभी तो हमारी शादी भी हो गयी है न!ये सुनकर माधुरी भी हंसने लगी- हां … पर मुझे ये नहीं मालूम था कि मेरा पति इतना धाकड़ चोदू निकलेगा. मैंने धीरे से उनकी नाइटी को ऊपर किया उन्होंने आज पैंटी भी नहीं पहनी थी.

मैंने कहा- मनीषा डार्लिंग, मेरी जान, मेरी गुले गुलजार मैं तुम्हें जमकर चोदूंगा, मेरा लंड जब अपनी रफ्तार पकड़ेगा, तो तुम्हारी नाभि के भी परखच्चे उड़ा देगा. इतना कहकर मेरी बीवी पास के मंदिर चली गई, जहां वो हर सोमवार को जाती थी. उधर जीजू आपा के ऊपर कूद रहे थे तो इधर मैं एक हाथ से अपना दूध मसल रही थी और दूसरे हाथ से अपनी चूत को सहलाने लगी थी.

मैंने सोचा कि एक ट्राई मार ही लेते हैं, क्या पता आज ही मुझे चुदाई का मौका मिल जाए.

एक दिन मैंने उससे कहा कि मेरा तुम्हारे साथ कॉफी पीने को मन है, क्या चलना पसंद करोगी?थोड़ी नानुकुर के बाद वो 2 दिन बाद आने के लिए मान गई. तभी मुझे एक आवाज़ आई- हेलो! मैं अंजलि … क्या आप ही सनी हो?मैं भी एकदम से जैसे कोई नींद से जागते हुए बोला- हां हां, मैं ही सनी हूँ। प्लीज अंदर आओ!मेरे बोलने पर अंजलि अंदर आई और सोफे पर जा कर बैठ गई. उन दिनों चाचा ट्यूबबेल पर रात में सोते थे क्योंकि फसल में पानी लगाना होता था और इसी वजह से वो शादी में नहीं गए थे.

तो हम भी तो देखें कि तुम लोगों को गांड मारने में ऐसा क्या मज़ा मिलता है. वो बोली- जब मैं 10+2 में थी, तब एक बार एक दोस्त के साथ उसके बर्थडे पर उसके रूम पर रुकी थी. बुआ कमर उठा उठा कर चुदाई का मज़ा लेने लगीं और मैं झटके पर झटके लगाने लगा.

मेरी इस बात पर चाची थोड़ी मुस्करा कर बोलीं- कैसी मौज मस्ती?मैं फिल्मी स्टाइल में बोला- थोड़ा घूमेंगे फिरेंगे और क्या?चाची इठला कर बोलीं- और अगर तेरे चाचा को पता चल गया तो?मैंने कहा- किसी को कुछ पता नहीं चलेगा.

हमारे बीच जुबान से बात होना बंद हो गई, अब दिल से दिल की बात हो रही थी. मैंने अपने लंड को उसकी गांड में डाल दिया और अपनी कमर को ऊपर नीचे करके उसे चोदने लगा.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने उनको अपनी बांहों में कसकर भींचा तथा अपने होंठों से उनके होंठों को बन्द करके धक्कों की गति बढ़ा दी. उन्होंने उस दिन एक काले रंग की नेट वाली साड़ी पहनी हुई थी और ऊपर से उनका ब्लाउज भी स्लीवलैस था.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने कोशिश जारी रखी और रिमोट लेने के बहाने से मैं अब सिर्फ उनके मम्मों को दबा रहा था. मैंने कहा- क्या खाला आप भी ना!तो वो बोलीं- वैसे तेरे हाथ काफ़ी सॉफ्ट हैं और उन्होंने मेरा एक हाथ अपने हाथों में ले लिया और उसे सहलाने लगीं.

मैंने पूछा- ये सब तुमने कहां से सीखा?उसने कहा- ब्लूफिल्म देख देख कर सीख गई हूँ.

सेक्सी पोर्न वीडियो इंग्लिश

सिस्टर बॉयफ्रेंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि घर पर मैं और मेरी बहन ही अकेले थे. उसके हर दबाव के साथ मेरे बदन पर जैसे हजारों चीटियां रेंग जाती थीं।जल्दी ही मेरे बदन की गर्मी बढ़ने लगी और मैं गर्म होने लगी. कुछ तो मैं उनके बालों की महक से उत्तेजित था, कुछ उनकी हरकत की वजह से.

एक बार जब उसने मुझे अपने क्लीवेज से शुरू करते हुए पकड़ा तो वह थोड़ा मुस्कुरा दी. मैं उसकी लार को अपने मुँह में लेकर किसी अमृत की तरह चूसे जा रहा था. लंड को मम्मी की चूत में डालकर मैं मम्मी के ऊपर लेट गया और मम्मी की चूचियां पकड़कर मनीषा मनीषा कहते हुए चोदने लगा.

अब माधुरी ने उठ कर अपने बैग से टिश्यू पेपर निकाला और मेरे मुँह को साफ कर दिया, साथ ही साथ अपने मुँह को भी उसी से पौंछ लिया.

वो इतनी जबरदस्त तरीके से चूत को लंड पर घुस रही थीं मानो आज लंड के साथ मुझे पूरा ही अपने अन्दर भर लेंगी. उस रात हम सब थके हुए थे और रात के खाने के बाद हम सब सोने के लिए जगह खोजने की कोशिश कर रहे थे. उसके अलावा मैंने चाची को अपनी नई मकान मालकिन ललिता भाभी के बारे में भी बताया कि वो बिल्कुल आपकी याद दिला देती है.

साक्षी भी घोड़ी बने अपनी कमसिन गांड आगे पीछे करके अपनी चूत का चिपचिपा पानी मेरे लंड पर मलने लगी. मैंने मोबाईल की लाईट से‌ देखा कि मीना भी ‌चुदाई देखने की कोशिश कर रही थीं. ये मैं आपको शब्दों में नहीं बता सकता कि मैं उनकी गांड का कितना बड़ा फैन था.

भाई की सास ने आवाज़ दी- बेटा नींद आ रही होगी, ऊपर आकर सो जाओ रोहन, बहुत दूर जाना है. मैं वहीं रुका रहा और उसे बुर में उंगली करते देख कर खुद को भी नहीं रोक पाया.

अपने दूध दबते ही वह ‘आआहह …’ की आवाज करके हल्के से चिल्लाई मानो वह अभी होश से बाहर आई हो. कहानी के पिछले भागमेरी गांड मारने वाल पुराना दोस्त मिलामें आपने पढ़ा था कि सोनी तापोश और मैं कॉलेज के दोस्त थे. अमन ने अपना लंड पकड़कर मेरे मुंह में डाल दिया तो मैंने भी उसे मना नहीं दिया और उसका लंड चूसना शुरू कर दिया.

एक हिजड़े ने मेरे नीम्बुओं (जो आजकल खरबूजे बन गए हैं) पर नारियल का तेल डाला और मालिश करना शुरू कर दिया.

मेरे बालों में उंगलियां चलाती हुई मम्मी बोलीं- मेरा प्यारा बेटा … मेरे राजा, मेरी जान मुझे मनीषा कहकर बुलाओ, मैं तुम्हारी मनीषा हूँ. मैंने कहा- दूध पिलाओगी?वो खुल कर बोली- चूत भी पिलाऊंगी, आप आओ तो!मैंने कहा- फाड़ दूंगा. दोस्तो, मैं प्रियंका परिहार आप सभी का फ्री सेक्स स्टोरी डॉट कॉम में स्वागत करती हूँ.

मैंने उसको कसके पकड़ा और जोर का धक्का मारते हुए उसकी चूत के अन्दर लंड पेलता चला गया. इसी बीच उसके चूचे देखने की वजह से मेरा लौड़ा टाइट हो चुका था जो शायद उसने देख लिया था पर अनदेखा कर दिया था।फिर हम करीब 30 मिनट तक बात करते रहे.

बातों बातों में पता चला कि वो अपनी जिन्दगी में बहुत डिप्रेशन से गुजरी हैं. मैं सोच रही थी कि अब मैं हारून के सामने कैसे बताऊं कि मैं तुम्हें मन ही मन अपना पति मान चुकी हूं. रात दस बजे कमरे पर पहुंचना और सुबह आठ बजते ही कमरा छोड़ देना मेरी दिनचर्या थी इसलिए कमरे को सिर्फ रैन बसेरा कहना सर्वथा उचित था.

हरियाणवी ब्लू सेक्सी फिल्म

लेकिन मैं था कि साक्षी के चुचों की खुशबू और निप्पलों से निकलते दूध को पीने में एकदम खो सा गया था.

सुरेंद्र जी उस लाइन को देखते हुए बात कर रहे थे और मैं उनकी नजरों को भांप रही थी. मैं तेरी गर्लफ्रेंड हूँ मुझे चोदो। वॉवो आज मुझे मालूम हो रहा है कि कोई मर्द मुझे चोद रहा है।ऐसे ही एक दिन बबली मुझे मिसेज रूपाली के पास ले गयी. लंड रस निकल जाने के बाद भी साक्षी की गांड का छेद मेरे लंड को बहुत टाइटली कसे हुआ था.

मैंने सोचा कि जब इसका कुछ हो जाएगा, तो इसको देख कर अपना भी कुछ हो जाएगा. मुफ्त में गोवा जाने की बात पर मेरे मन में लालच आ गया और मैं राजी हो गई. भोजपुरी में बीएफ सेक्स वीडियोदोस्तो, मेरा नाम नगमा खान है और मैं पाकिस्तान में लाहौर के पास एक गाँव की हूँ.

मैंने बिना कुछ सोचे समझे उनकी चूत पर अपना लंड सेट किया और एक जोरदार झटका मारा. कोई लड़की अगर मेरे लौड़े को एक बार देख ले, तो बिना चुदे उसका मन ही ना माने.

दोस्त की बीवी की गांड में एस प्लग घुसाकर मैंने उसे गांड खुली की और उसे गांड मरवाने का मजा दिया. तो मैंने कहा- मुझे क्या पता था कि तुम इतनी बड़ी रंडी निकलोगी और एक ही दिन में पट जाओगी. मैंने महसूस किया कि मोहित मुझे बहुत देर से चोद रहा था और ये अभी तक झड़ा भी नहीं था और थका भी नहीं था.

मेरी उससे बातचीत होती रहती थी; मैं उसकी पटाने की कोशिश में लगा रहता था. फिर अमन अन्दर चला गया तो मैंने पूछा कि ये क्या हो रहा है?मोहित ने कहा- मेरी जान बस 2 मिनट रुक जा, सब पता चला जाएगा. वो बिन पानी की मछली जैसे छटपटाने लगी और उसकी आंखों से आंसू बहने लगे, उसके नाखून और मेरी पीठ में और अन्दर घुस गए.

कुछ घंटों के आराम के बाद फिर वही दौरे पड़ने शुरू हो गए और मुझे झटके लगने लगे.

अब जलालुद्दीन ने मेरे बाल पकडे और एक बार फिर तेजी से मेरा मुंह चोदने लगे. चाची को सेक्स चढ़ गया था, उन्होंने अपनी चूत खोल दी थी और मेरे सर पर हाथ फेरना शुरू कर दिया था.

मैं जीभ घुसा कर बुआ की चूत को चाटने लगा और वो मेरे लौड़े को लॉलीपॉप के जैसे गपागप गपागप चूसने लगीं. ’उसने अपने फ़ोन में लूडो गेम ओपन कर दिया और मुझे दिखाती हुई बोली- देख मेरा रिकॉर्ड, मैं अभी तक किसी से नहीं हारी … अपने घर में और अपनी सभी सहेलियों को हराया है मैंने. बापू ने बिना एक पल की देरी किए बिना अपना मुँह बुधिया काकी के एक मम्मे के काले जामुन से चूचुक पर लगा दिया.

हम दोनों पागलों की तरह एक दूसरे को चूम रहे थे, चूस रहे थे।दोनों ही बहुत प्यासे थे. मैं तड़पती रहती हूँ पर अब नहीं तड़पूँगी, अब तो मैं तेरे से ही मजे लूँगी. चुत की फांकों में सुपाड़ा रख कर मैं दम लगाने लगा और लंड उसकी चुत में घुसाने लगा.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ दोस्तो, कभी अनुभव करना कि जिस वक्त लंड चूत में हो, उसी वक्त जीभ आपस में एक दूसरे से लड़ रही हों, तो कितना ज्यादा जोश बढ़ता है. अब जीजू ने मुझसे अपने हाथ पर थूकने को कहा तो मैंने ढेर सारा थूक दिया.

सेक्सी हेलो

मैंने उसे अपने लंड पर लगा कर मामी की चूत में एक झटके में लंड पेल दिया. उसने फोन पर सेक्स कहानी पढ़ीं और हमेशा की तरह आज भी वो मुठ मारने बाथरूम में चली गई. चाची ने मेरे लंड को हाथ लगाया और कहा- दिखा अपना लंड … मुझे अभी देखना है तेरा लंड.

मेरे दिल में भी हलचल मच गई थी इसलिए मैंने भी उनके जिस्म पर हाथ फेरना शुरू कर दिया. माधुरी को साड़ी में सजी संवरी सोच कर बाथरूम जाकर अपने लंड को शांत कर आया. रंडी खाना का बीएफअब उनकी मटकती गांड देखकर मैं भी अपने चरमोत्कर्ष पर आने लगा और तुरन्त मैंने अपना लंड आंटी की गांड से निकाल कर उनको सीधा लिटा दिया.

हम चार सहेलियों की गांड हमारे दोस्तों ने होली पर बहुत बुरे तरीके से मारी तो हमने भी उन चारों की गांड डिल्डो से मार कर अपना बदला लिया.

मम्मी ने चूतड़ उचकाकर जाहिर कर दिया कि वो अब चुदवाने के लिए बेताब हैं. जैसे ही साक्षी का चूचुक मेरे होंठों में दबा, मैंने जोर से मींज दिया.

कुछ देर ऐसा ही चला, फिर मैंने उसके टॉप में हाथ डाला और उसकी पीठ सहलाने लगा. उन्होंने भी अपनी बांहें मेरी पीठ के चारों ओर तथा अपने पैरों से मेरी कमर को लपेटा हुआ था. लेकिन मस्ती से झड़ते लंड को चूत से बाहर निकालना इतना आसान भी तो नहीं था, तो पूरा झड़ने तक रूका ही नहीं.

अब उनकी मटकती गांड देखकर मैं भी अपने चरमोत्कर्ष पर आने लगा और तुरन्त मैंने अपना लंड आंटी की गांड से निकाल कर उनको सीधा लिटा दिया.

सामने वाली सीट पर उसका वीर्य उछल कर फ़ैल गया और शेखर भी ठंडा पड़ गया. मैंने इसके पहले कभी भी अपनी खाला के बारे में ऐसा सब कुछ नहीं सोचा था. फिर तुम जितना चाहे दूध पी लेना और साथ ही मेरी गांड भी अब तुम्हारी अमानत है, तो तुम उसे भी मार सकते हो.

बीएफ पिक्चर बंगाली मेंमैं अपने हाथ से उसके एक चूतड़ को पकड़कर चड्डी के ऊपर से ही दबाने लगा. पांच मिनट के बाद ही उनका शरीर अकड़ गया और वो आह आह करती हुई झड़ गईं.

वेस्टइंडीज की सेक्सी वीडियोस

यदि भाभी सैट हो गई तो ठीक है नहीं तो अपने भैया से कह कर मेरे लिए उसकी बीवी की बात करना. मैंने चाची से कहा- चाची आप थोड़ी देर आराम कीजिए, मैं बाईक घर छोड़ कर अभी आता हूँ, चाचा को जाना होगा. गरिमा और उसके ब्वॉयफ्रेंड को एक दूसरे से मुहब्बत करते देख कर निशा तपने लगी थी.

रचना की यह बात सुनकर तो मेरे भी रोंगटे खड़े हो गए और मैंने उससे पूछा कि उसे सबसे अच्छा तरीका कौन सा लगा?रचना- विकास तुम मुझे अब कुतिया बना कर मेरी चुदाई करो. उसके मोटे से स्तन, जो उसके भार के नीचे दबे हुए थे … मुझसे आजाद करवाने को पुकार लगा रहे थे. मेरा लंड अभी भी ये सब सोच कर लोहे की रॉड जैसा तना हुआ था पर मेरा ध्यान तो अभी भी बस शिखा भाभी की मोटी गांड पर ही लगा हुआ था.

कुछ देर बाद आसन बदला, अब मैं चारों हाथ पैर पर पलंग के किनारे खड़ा हो गया. मैं बिलबिला उठी और कसमसा कर बोली- मंजू साली कुतिया तू मुझे जान से मार देगी. मॉम भी सिसकारते हुए बोल रही थीं- आह अमित … उम्मम हम्मम अमित उफ्फ आह चोदो मुझे.

उन्होंने मुझसे पूछा- तूने किचन में क्या हरकत की थी?मैं थोड़ा डर गया और उनसे माफी मांगने लगा. सेक्स मैक्स चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि चार लड़कों और 4 जवान लड़कियों ने नंग धड़ंग होकर होली वाले दिन भरपूर चोदम चोद करके कैसे जश्न मनाया.

इसका सीधा सा मतलब ये था कि मेरी चचेरी बहन कुमकुम भी अब एन्जॉय के मूड में आ गई थी.

मैंने ये सब सोचते ही समझ लिया कि अब वक्त आ गया है कि अपनी Xxx माँ को अपनी माशूका बना लूं. बीएफ ब्लू हिंदी एचडीमेरी आदत शराब पीने की हो गई और मैं आए दिन अपने सबसे अच्छे दोस्त नितिन के साथ शराब पीने लगा. बीएफ सेक्सी साड़ी वाला वीडियोमैंने नीना की गांड पिचकारी से भरकर साफ़ की, नीना ने अपनी गांड ढीली की. हॉट भाभी वांट सेक्स … मेरी कहानी पढ़ कर उसने मुझसे सम्पर्क किया और कहा कि उसे सेक्स में कुछ नया अनुभव लेना है.

मैं नीना की चूत को चूसने लगा, चूत फैलाकर अपनी जीभ से नीना के भगनासे पर जीभ फेरने लगा.

फ्रेंड्स, मैं संजू पंडित एक बार फिर से आपको अपनी चचेरी बुआ की चुदाई के बारे में बता रहा हूँ. मैं दस मिनट उनसे जुबान लड़ाने के बाद उनकी चूत पर आ गया और उसे देखने लगा. तभी वो चीखी, मगर मैंने एकदम से उसके होंठ अपने होंठों में लेकर उसे चीखने नहीं दिया.

फिर अचानक से मम्मी ने कहा- उस वक्त बाथरूम के बाहर तुम क्या कर रहे थे?मैंने कहा- कुछ नहीं. उसने पूछा- पैंटी क्यों पहनता है बे?मैंने भी बोल दिया- मुझे मजा आता है. फिर बाथरूम में जाकर एक दूसरे को मूत्र स्नान कराया, एक दूसरे का मूत्र पिया.

मारवाडी सेक्सी राजस्थान

इस बीच हम बहुत रिक्वेस्ट के बाद अजमेर में एक डोमिनोज पिज्जा में तीस मिनट के लिए मिले. उस रात चार बार चुदाई का खेल हुआ और वो पूरी तरह से चुदाई में खुल गई थी. सेक्सी बुआ की कहानी में पढ़ें कि पारिवार के समारोह में मैं अपने पिता की चचेरी बहन से मिला.

मैंने लंड पर हल्का सा थूक लगाया और अपने लंड को वापस उसकी गांड पर सैट करके फिर से उसको अन्दर करने की कोशिश करने लगा.

मैंने देखा कि जो आंटी सुबह बस में मिलती हैं, वो शाम को छह बजे वाली बस से वापिस घर जाती हैं.

मेरे एक दोस्त ने मुझसे शर्त लगाई कि तू उस सामने वाली लड़की को पटा कर दिखा. उसने बैग को खोला तो वो उसके अन्दर देख कर अचम्भित हो गयी क्योंकि मैं उसमें बियर और वोडका की बोतल लाया था. नंगी पिक्चर देखनीकुछ पल उसने लंड को देखा और नीचे जाकर वो मेरे लंड को चूसने लगी और टोपे को चाटने लगी.

जब डिस्चार्ज का समय नजदीक आया तो मम्मी के होंठ अपने होंठों में दबाकर मैंने लंड की स्पीड बढ़ा दी. लंड अब लटका हुआ था लेकिन तभी आंटी ने मुझे रोका और लपक कर मेरा लंड मुँह में भर लिया. बड़े साहब क्यों सविता के पति से मिलना चाहते हैं?और घर पर पार्टी में क्या होता है?जानने के लिए पढ़ें सविता भाभी की चौंतीसवीं कड़ी – सेक्सी प्राइवेट सेक्रेटरी सविता-2.

और कुछ देर के बाद दीदी ने रवि से पूछा कि कितना बाहर है?तो उसने बताया कि और थोड़ा सा ही बाहर है. अगले ही पल शबाना उठकर बैठ गई और अपनी चूत को चाटने का दृश्य देखने लगी.

जो लड़कियां पसंद भी आती थीं, तो मैं बस उन्हें देख कर … या बहुत हुआ तो हल्की फुल्की बात करके ही रह जाता.

मेरे साथ दरिंदगी करो, मैं बरसों की प्यासी हूँ, तेरे पापा कुछ नहीं कर पाते हैं … मैं बहुत तड़पी हूँ … मुझे हचक कर चोदो … जमकर चोदो … गंदी गंदी बातें सुनाते हुए चोदो. कुछ देर तक ड्राइवर से चुदने के बाद मेरे बदन में गर्मी आने लगी थी और मैंने सिसकारियां भरनी शुरू कर दिया था. तब से हफ़्ते में एक या दो दिन और कभी हर रोज, मैं चाची की चूत मार लेता हूँ.

बीएफ ब्लू पिक्चर बीएफ ब्लू पिक्चर मैंने कहा- चाची, तुम नंगी ही बाहर क्यों गई थीं, मम्मी देख लेतीं या नीचे बुला लेतीं तो?चाची बोलने लगीं- राज, तेरी इतनी गांड क्यों फटती है? मैं जानती हूं जीजी को … वो नहीं बुलातीं और मैं बाहर जाकर बात नहीं करती, तो फिर वो जरूर ऊपर आ जातीं. आंटी अपने घुटनों पर बैठीं और धीरे से मेरे शार्ट्स और चड्डी उतारकर अलग कर दिया.

किसी मर्द ने आज पहली बार मेरे होंठों पर अपने होंठ रखकर उनके रस को पिया था. बस उसी वक्त मेरे लंड के सब्र का बांध टूट गया और मैंने चिल्लाते हुए ‘आहा … आ आ … ले साली आह चूस ले आहा …’ करते हुए अपना सारा लावा माधुरी के गले में ही छोड़ दिया. मैं बोली- सालों रंडी की औलादों, ऐसे भी कोई चोदता है क्या? अब मेरे बॉयफ्रैंड को क्या मुंह दिखाऊँगी?अभी मैं उठ ही रही थी कि अब्दुल ने मुझे गर्दन पकड़ कर दबा दिया और घोड़ी बना दिया.

बांसवाड़ा का सेक्सी

कुछ देर बाद मैंने उसकी ब्रा और पैंटी भी निकाल दी और चूत से खेलने लगा. मैंने कहा- क्या खाला आप भी ना!तो वो बोलीं- वैसे तेरे हाथ काफ़ी सॉफ्ट हैं और उन्होंने मेरा एक हाथ अपने हाथों में ले लिया और उसे सहलाने लगीं. बॉटम लौंडा सेक्स कहानी में पढ़ें कि मुझे लड़कों को देख कर वासना जागने लगी थी.

कुछ ही देर में कविता ने फिर से अपना हाथ लंड पर लगाया और इस बार उसने अपने हाथों से लंड को हल्के से थाम लिया. क्या आप मुझे वो क्लिप वापस दिखा सकते हो?इससे मेरी हिम्मत बढ़ गयी और मैंने वीडियो गैलरी को ओपन करके मोबाइल उसे दे दिया.

मैं बिस्तर पर बैठी बहुत ही बेसब्री से अपने शौहर का इन्तजार कर रही थी.

फिर क्या था … रोहित ने मंजू की चूची पकड़ कर अपना लंड घचाक से चूत में डाल दिया. मैं- क्या भरोसा, बाद में मौका मिलता या नहीं, तो मैंने सोचा पहला मजा भरपूर वाला होना चाहिए. उसकी चूचियों को चूसते चूसते अब मैं उसकी नाभि को चूसने लगा तो वो बेकाबू हो गई और उसने अपने नाखून मेरी कमर में गड़ा दिए.

मैं तुझे बहुत प्यार करने लगा हूँ और तुझे तेरे पति की कमी महसूस नहीं होने दूँगा. मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर रखा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत में पेलने लगा. व्हिस्की के नशे में बीवी भी जोश में आ गयी और उसने फटाक से ब्लाउज उतार कर फेंक दिया.

आगे का धमाका देखने की उत्सुकता से मैं अपनी बीवी के पीछे पीछे हो लिया.

भाभी जी की सेक्सी वीडियो बीएफ: उसके सर पर सिर्फ तौलिया लपेटा हुआ था और नीचे पेटीकोट डाला हुआ था ऊपर से वह पूरी तरीके से नग्न थी. फिर हम सबने डांस वगैरह किया और उसके बाद हमारे सारे रिश्तेदार खाना आदि खा कर चले गए.

फर्स्ट पुसी फक़ स्टोरी में पढ़ें कि मैंने कभी चूत नहीं मारी थी क्योंकि मैं शर्मीला था. पिछले भाग8 जवानियों की खुल्लम खुल्ला चुदाईअब तक आपने पढ़ा था कि मोहित ने मुझे झाड़ दिया था और उसने मेरी चुत का रस अपने मुँह में भरकर मेरे मुँह में छोड़ दिया. उसी पल उन्होंने कम्बल ऊपर तक ओढ़ा और मैंने झट से चाची के चूचों पर हाथ लगा कर उनका एक हॉर्न दबाया और उठ कर चला गया.

जलालुद्दीन हंसने लगे और बोले- चलो जिन्न भगाने से पहले आज तुमको पूरी तालीम दे देते हैं!फिर उन्होंने सिखाया- इसको गुच्छी नहीं चूत कहते हैं, जिसको कुछ दिनों बाद भोसड़ा कहा जाएगा.

फिर मैदान साफ़ देख कर मैं सीधा उसके घर के फाटक खोल कर अन्दर घुसा तो वो सामने खड़ी थी. दरअसल मीना के घर में रह कर मेरे बड़े भाई की गर्लफ्रेंड पढ़ाई कर रही थी. मैंने बात की तो पता चला उनके पति आ गए थे इसलिए पहले कॉल कट कर दिया था.