गॅलरी बीएफ

छवि स्रोत,गूगल आई सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी पिक्चर इन इंग्लिश: गॅलरी बीएफ, फिर कुछ देख लेटे रहने के बाद आंटी उठीं और मेरा लंड चाट कर साफ करने लगीं.

भोजपुरी में नंगी सेक्सी वीडियो

तो दोस्तो, ये था मेरा पूरे लॉकडाउन का सफर भाभी और उनकी सहेली पिंकी भाभी के साथ. रिश्तो में चुदाई की सेक्सी कहानीमगर उस वक़्त मैंने मेरे गुस्से पर काबू रखा और नार्मल होकर बाहर आ गयी.

फिर जब चोदना ही है तो क्यों ने इसे बेड पर बुला कर उसकी चूत का जायजा लिया जाए. नया सेक्सी नया सेक्सी वीडियोनेहा बुरी तरह थक चुकी थी तो वो बस लाश की तरह पड़ी थी और मोहित बस उसे ठोकने में लगा हुआ था.

पापा ने अब मम्मी को उल्टा करके पेट के बल लेटा दिया और उनकी पीठ में बंधी ब्लाउज की डोरियों को खोलकर पीठ को किस करने लगे.गॅलरी बीएफ: ये देख कर मैंने ज्योति को धीरे से कहा- शरमा लो … कोई बात नहीं, उतार देंगे ज़ल्द ही तुम्हारी सब शर्म बेबी!वो फिर झेंप सी गयी और थोड़ा मुस्करा भी रही थी.

मैंने उन्हें बता दिया था कि मैंने उनके लिए होटल में रूम बुक किया हुआ है.बुआ की सिसकारियां तेज़ होने लगी भाभी लंड के रथ पर बैठकर स्वर्ग का मजा ले रही थीं.

देहाती सेक्सी फुल - गॅलरी बीएफ

ये देख कर मैं भी नेहा को लेकर बिस्तर पर आ गयी और उसके ऊपर लेट कर उसको किस करना शुरू कर दिया.चौधरी जी ने मुझे अपने घुटने छोड़ने को कहा और मेरे पैर कंधे पर ले लिए.

फिर जब मैं शाम को 6 बजे घर आया, तब मैं फ्रेश हुआ और फोन में कहानी पढ़ने बैठ गया. गॅलरी बीएफ संजय नाम के एक बॉटम की एक समस्या थी कि उसको एक ब्वॉयफ्रेंड से ज्यादा दिन तक मजा नहीं आता.

उसका रंग साफ, एकदम गदराया सा सुडौल जिस्म, उसकी चूचियों का बड़ा साइज देखकर किसी के भी मुँह में पानी आ जाए.

गॅलरी बीएफ?

सुलेमान ने पास रखी टॉर्च उठाई और अपने लंड पर मोबाइल की टॉर्च की रोशनी मारकर कहा- देखो मेरा लंड तुम्हारी चूत का प्यासा, कैसा फनफना रहा है. इन दोनों में धीरे-धीरे एक दूसरे से बहुत ज्यादा बनने लगी और एक दूसरे को पसंद भी करने लगे. फिर मैंने पूछा- तुमने मेरी हालत ये कैसे की?उसने बताया कि मैं तुम्हारे रूम में तुम्हें जगाने आई थी.

तभी मेरे मुँह में किसी का लंड आ गया तो मैंने झट से वो लंड पूरा मुँह तक अन्दर ले लिया और उसे चपड़ चपड़ करके चूसने लगी. अरुणिमा बिना बहस किए उसका लंड चूसने लगी और वो आंख बंद करके मज़ा लेता रहा. आंटी भी मुझे जोर से गले से लगा लेतीं, मैं बिल्कुल से उनके चूचों से सट जाता.

उसी रात को मैंने महसूस किया कि मेरे बिस्तर पर कोई मुझसे चिपक कर सोया हुआ है. आसपास देखा मैंने … तो मेरी मदद के लिए कोई भी नहीं था क्योंकि लॉकडाउन का समय चल रहा था. मैं आंखें खोल कर बैठ गया और वो झुक झुक कर अपने मम्मे दिखाती हुई मेरे गालों पर अपने हाथ फेरती रही.

जब वो हंसती तो गालों पर पड़ते प्यारे से डिंपल उसकी खूबसूरती को दुगना कर रहे थे. उसे थोड़ी ठंडक का अहसास हुआ, अपना पूरा हाथ उसकी ब्रा के नीचे किया और ब्रा के नीचे से पीठ से उसकी कांख तक हाथ फिराया.

मैंने कहा- भाभी बस एक बार मान जाओ न … मैं जिंदगी में कभी दोबारा नहीं कहूँगा.

मैंने अपनी आवाज में नर्मी ला कर कहा- शाम को कितने बजे तक अरुणिमा को पहुंचवा देंगे आप?विश्वेश्वर जी बोले- क्या बात है, बड़ी चिंता हो रही है.

भाभी की उभरी हुई चूचियां और अनकी फूली हुई गांड क्या मस्त लग रही थी. मैंने कुछ देर बाद उसे फिर से गर्म किया और इस बार मैंने उसकी चूत को उंगली से खोला. मंजू रोहित का लंड हाथ में लेकर आग्गे पीछे करने लगी और देखते ही देखते उसने लंड मुँह में ले लिया.

जब उन्होंने मेरी जांघों पर किस करते हुए मेरे लंड को पकड़ा और मेरी गोटियों को अपने मुँह में लेकर चाटा. उसने मुझे फर्श पर खड़ा किया और अमित से बोला- तू आगे से इसकी चूत चोद … मैं पीछे से इसकी गांड चोदता हूं. मैं कहीं नहीं, अपनी बताओ … कैसे हो?मैंने कहा- आज आपकी कोई चालाकी नहीं चलेगी.

मेरे मोबाइल में घंटी की जगह वो गाना बज रहा थाजिसे देख मेरा दिल धड़कामेरी जान तड़पती हैवो जन्नत की हूर नहींमेरे कॉलेज के एक लड़की हैमुझे तो उस गाने को सुनने की आदत हो गई थी और कुछ भी असामान्य नहीं था.

तीसरे दिन सुबह 8 बजे भाभी ने दरवाजा खटखटाया तो मैं उठा और उन्हें देखा तो खुश हो गया. अब उसे बेडरूम में लाकर खड़ा कर दिया और उसकी पीठ की तरफ से उससे लिपट गया. कभी वो नहाते समय मुझे बाथरूम में बुला लेती या मेरे बाथरूम में आ जाती.

उसने मुझे थैंक्यू बोला और मैंने भी मुस्कुराते हुए सिर हिलाकर जवाब दिया. मगर मैं कुछ कर नहीं सकता था क्योंकि एक तो मेरी इतनी ज्यादा उम्र और दूसरा ये रिश्ता. मेरी नजर आसिफा की अम्मी पर पड़ी, पहले तो मेरी गांड फट गई … लेकिन मैं इस बार उनको नजर अंदाज करके और तेजी से आसिफा को चोदने लगा.

मैं भी तुरंत अपने रूम में गया और जल्दी से नहा कर, भाभी के किचन में आ गया.

कमरे में हम दोनों की कामुक सिसकारियों के अलावा कुछ भी सुनाई नहीं दे रहा था. मेरे पति वहां आकर मुझे वापस ले जाने वाले थे इसलिए मैं उधर ही रुक गई थी.

गॅलरी बीएफ मेरा पूरा जिस्म पसीने से भीग गया था और मेरी सांस तेज रफ्तार में चल रही थी; दोनों दूध सांस के साथ ऊपर नीचे हो रहे थे. थोड़ी देर बाद वो साफ़ होकर चड्डी में बाथरूम से आया तो मैंने उसे ध्यान से देखा.

गॅलरी बीएफ भाभी का दूध भी अब मैं केवल रविवार को ही पी पाता हूँ क्योंकि हर दिन सुबह शाम को उनकी सास घर में होती थीं और दोपहर में मैं ऑफिस गया होता था. अरुणिमा ने मुड़ कर उसे देखा तो उसने उसको किचन स्लैब पर ही झुकने को कहा.

वो मुझसे अलग होने की कोशिश करने लगीं, पर मैंने उन्हें कसकर पकड़ लिया था.

मलयालम में सेक्सी वीडियो

उसके निप्पल को कभी दांतों से हल्का सा कुरेद देता और कभी जीभ से सहलाता. मैं उम्मीद करता हूं दोस्तो कि आप लोगों को यह सेक्स कहानी अच्छी लगी होगी. मैंने तुरंत विश्वेश्वर जी को कॉल किया तो वो बोले- हां तो अरुणिमा को चोदने को ही बुला रहा हूँ, नंगी आएगी तो क्या हो जाएगा.

मोहित ने कहा कि अभी नहीं, इस साली के साथ तो कुछ और सोच रखा है मैंने. दूसरे टेबल पर कुर्सी लगा कर उनका एक हवलदार बैठा था, जो कुछ लिख रहा था. मैंने ऐस सेक्स करने के लिए उससे कहा- गाड़ी के बोनट पर चढ़कर घोड़ी जाओ.

जितनी खूबसूरत उसकी आंखें थीं, उससे कई गुना ज्यादा उसका जिस्म कटाव भरा था.

साथ ही मैं आंटी की चूची को दबा रहा था तो उन्होंने अपना हाथ मेरे हाथ पर रख दिया और जोर जोर से अपने दूध को दबवाने लगीं. समय खराब न करते हुए जल्दी से मैंने उसकी चूत पर हाथ फेरना शुरू कर दिया. उसकी चूत से नीचे उसकी चूत से निकाल रही पेशाब की धार में मिलकर पेंच लड़ाने लगी.

फिर मैंने देखा कि सभी ने आयशा को भी रंग लगाया लेकिन अमन जो उसे पहली रात चोद चुका था … वो रगड़ रगड़ कर रंग लगा रहा था. मैं पुन: दर्द से कराह उठी और मुँह से निकल गया- उई मम्मी रे मर गई … आह आह ओह!मैं सीत्कार करने लगी. मैं धड़कते दिल के साथ अन्दर गया और गलियारे से होता हुआ अंतिम हवालात तक पहुंचा.

मैंने कहा- हां, यदि उस टाइम उसका कोई बेस्टफ्रेंड होता तो उसको सहारा मिल जाता. मैंने गुड मॉर्निंग वाले मैसेज के साथ साथ में दिल वाली, किस वाली इमोजी भेजने से शुरुआत की.

एक दिन मेरे काफी प्रयास से वाइब्रेटर के साथ मेरे लंड का सुपारा भाभी की चूत के मुँह पर तो सैट कर दिया. दोस्तो, मेरी हॉट गर्लफ्रेंड पोर्न कहानी कैसी लगी, अपने मेल और कमेंट से जरूर बताएं. थोड़ी देर बाद मैं उठा और फटाफट लंड उसकी सलवार से साफ करके अपने कपड़े पहन लिए.

मैंने भी शराब के नशे में अपने धक्के तेज कर दिए और दोनों लोग उसकी चुदाई करने लगे.

जांच से पता चला कि मीहांक को लंड खड़ा करने में और देर तक चुदाई करने में समस्या है. कुछ आर्टिफिशियल गहने, जैसे चूड़ी, हार, कान के ऐसे वाले बुँदे, जो कान में छेद किए बिना पहन सकते थे. मैंने पूछा- क्या हुआ मेरी फहीमा डार्लिंग?इस पर वो बोली- पूरा डाल दो और कुछ मत पूछो … बस मेरी इस सुहागरात की गांड को चोदते रहो.

ये सुन कर भाभी बोलीं- अरे यार, अभी तो लड़का जवान हुआ था और तुरंत ही उसका लंड काट दिया. आज जो मैं आपको Xxx साली की बुर चुदाई बताने जा रहा हूँ, वो कुछ टाइम पहले की बात है.

क्रिकेट खेल कर मैं लगभग 8 बजे घर आया, मां और भाभी खाना खा चुकी थीं और उस दिन घर में मैं, मां और भाभी ही थीं. मैं आपको इस बात का विश्वास दिलाता हूं कि मेरी सेक्स कहानी पढ़ने के बाद हर अकेला आदमी अपने लंड को हिलाने और लड़कियां, विशेषकर भाभियां अपनी चूत में उंगली डाले बिना नहीं रह पाएंगी. मैंने देखा कि रिया और आयेशा 69 की पोजीशन में आकर फिर से एक दूसरे की चूत चाटने लगी हैं तो इधर मैंने नेहा को अपने ऊपर करके उसे किस करना शुरू कर दिया.

सेक्सी हिंदी ब्लू पिक्चर दिखाओ

कमरे में घुसते ही हमने एक दूसरे को बांहों में भर लिया और चूमना चाटना शुरू कर दिया.

मैंने उनसे पूछा- चाची, पिछवाड़ा किसने खोला था?वो हंस दीं और बोलीं- सब कुछ एक दिन में ही जान लेगा क्या?मैंने कहा- ओके मत बताओ मगर अब आपके छेदों पर मेरा ही राज चलेगा. वो मेरी चूत को छूने के बहाने ढूंढती रहा करती, कभी स्कूल के बाथरूम में, कभी बस में, तो कभी कहीं. अब वो अपनी सारी शर्म भूलकर मेरे साथ चुदाई के इस खेल का मजा ले रही थी और मैं भी यही चाह रहा था.

उसने मेरी दोनों टांगें फैला दीं और मेरी फूली हुई चूत की फांकों में अपनी लंबी जुबान से एक बार ऊपर से नीचे तक चाट लिया. अब मैंने चंदन से अपनी चूत चुदवाने का मन बना लियाउसने मेरे बालों को पकड़ के मुझे घुटनों तक झुका दिया और बोला- चल साली शुरू हो जा … और देर मत कर. संदेश सेक्सी पिक्चर वीडियोमैंने उससे पूछा कि क्या हुआ?उसने कहा कि कल मोहित ने अपना पानी मेरी चूत में डाल दिया और मैं प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती.

कुछ ही समय में हम दोनों भैया बहन के रिश्ते से कुछ आगे बढ़ कर काफी घुल मिल गए थे. आपने मेरी पिछली चुदाई कहानीविधवा बुआ को होटल में चोदामें पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी विधवा बबली बुआ को जयपुर के होटल में रात भर चोदा था.

आपको गोदी में बैठा देख कर भी तो कोई कुछ कह सकता है, तो गुब्बारे से खेलने में कोई क्या कहेगा. अरुणिमा आकर उनके सामने बैठ गई और दोनों उसके मम्मों को घूरे जा रहे थे. दोनों एक दूसरे को मस्ती से किस करने लगे और दोनों के मुँह की लार का आदान-प्रदान और ज्यादा तेज गति से होने लगा.

सुधा ब्लाउज और पेटीकोट पहने नितिन के गोद में बैठ गई और नितिन ने उसके पेटीकोट को उसकी कमर तक उठा दिया, जिससे उसकी जांघ और चड्डी देख मेरा मन डोलने लगा. सफेद रंग के पतले सूट में से अम्मी की अन्दर की ब्लैक रंग की ब्रा और पैंटी साफ दिख रही थी. उसने कविता की जांघों को सहलाते हुए मुझसे कहा- यार, तुझे तो एकदम टाइट माल चोदने को मिली है.

फिर विकास ने पूछा- तुम बताओ, तुम्हें क्या लगता है?तो नेहा बोली- मेरी सहेली जब भी मुझसे अपने बॉयफ्रेंड के साथ बिताए हुए पलों की बात करती हैं, तो मुझे सिर्फ तुम याद आते हो.

मैंने पूछा- क्या हुआ … क्यों मुस्कुरा रही हो?वो बोली- कुछ नहीं, बस कुछ याद आ गया था, इसलिए. इस गुत्थम गुत्थी में मैं भैया के सीने से एकदम चिपक गई, जिससे मेरी दोनों चूचियां उसकी छाती से दब गईं.

आई लव यू!उसने भी आई लव यू कहा और हम दोनों एक दूसरे को जोर से हग करने लगे. अगले ही पल उसकी ब्रा पैंटी को अलग कर दिया था और उसे पूरी नंगी कर दिया था. हम दोनों के बारे में अभी तक किसी को कुछ भी पता नहीं चला था, यहां तक कि मेरी किसी सहेली को भी इसकी कोई जानकारी नहीं थी.

मैं धीरे धीरे चाची की चूचियां चूसते चूसते उनकी चूत पर अपना हाथ ले गया और पैंटी के ऊपर से ही चूत को रगड़ने लगा. फिर मुँह से लंड निकाल कर बोली- आज मेरे मुँह में ही कर दो, मैं भी तुम्हारे मूत को चखना चाहती हूँ. मैंने उसे बहुत बुरी तरह से आधा घंटा तक चोदा; बहन की चूत के चिथड़े उड़ा दिए.

गॅलरी बीएफ मैं अन्दर पहुंचा और पूछा- क्या हुआ?वो बोली- मेरा हाथ उधर सही से नहीं जा रहा है. लेकिन मुझे मज़ा बहुत आया होली में!रंग लगाने के चक्कर में सभी लड़कों ने सभी लड़कियों के जमकर बूब्स दबाए.

vishal सेक्सी

अमित मेरे ऊपर आकर लेट गया और उसने मेरे होंठ चूमते हुए अपना लंड मेरी चूत में लगा दिया. आग उसके अन्दर भी जोरों की लगी हुई थी और वो भी मुझे अपने अन्दर समा लेना चाहती थी. मैंने दिखावटी शर्म जताते हुए उसे जल्दी बाथरूम से बाहर निकाला और गेट लगा दिया.

होंठों को चूमते हुए धीरे धीरे मैंने उसके सारे कपड़े निकाल कर उसे वहीं नंगी कर दिया. उसके बाद शादी का कार्यक्रम शुरू हुआ और करीब दो घंटे तक वो लड़की कहीं भी नजर नहीं आई. सेक्सी ब्लू वीडियो चोदने वालाउसके बाद उसने एक छोटा बैग मुझे दिया और कहा- मेरा लगभग बीस करोड़ फंसा था, जो अब क्लियर हो गया है.

वो एकदम से अन्दर जा नहीं रहा था तो अपने हाथ ले लंड को पकड़ा और दो तीन बार में जोर लगा कर लंड को आधा अन्दर घुसा दिया.

लेकिन अभी तो मैंने उसे नार्मल ही चोदा था, अभी तो मेरी असली चुदाई बाकी थी. नेहा अपनी बुर और मुँह में अपने भाई का मुँह और उंगली पाकर और ज्यादा उत्तेजना भी महसूस कर रही थी.

मैंने पूछा- क्यों आंटी?आंटी- अरे यार जब तक चमड़ी से चमड़ी नहीं रगड़ती है, मुझे चुदाई में मजा ही नहीं आता है. लगभग 20 मिनट बाद कार्तिक मेरी बहन पास सोफ़े पर आ गया और अनुपम बेड पर अम्मी पास. मैंने एक बार फिर उसकी बुर में लन्ड डाल दिया और धीरे धीरे उसे चोदता रहा.

तुम्हें अच्छा तो लगा न!’प्रिया ने मुस्कुराते हुए चाय का कप उठाया और किचन की तरफ़ चल दी.

मैंने चाची को सहारा देकर ऊपर चढ़ाया तो चाची का मुलायम जिस्म छूने का मौक़ा भी मिल गया. एक दिन रात में मैंने गलती से एक पोर्न वीडियो उसको व्हाट्सएप पर फॉरवर्ड कर दिया. किशोर तो मुझे कम ही चोदता था मगर वो दोनों लगभग हर रोज मेरी चुदाई किया करते.

सेक्सी पिक्चर चोदा चोदी लड़कीमैं थक गयी थी, फिर भी मैंने अपने चूतड़ हाथ से फैलाकर कहा- आइये मालिक. फिर वो एकदम से मेरे ऊपर स्प्रिंग की तरह कूद कर चढ़ा और अपना प्यारा गुलाबी सुपारे वाला लंड, मेरी गुलाबी चूत के सुराख में टिका दिया.

मारवाड़ी जैसलमेर सेक्सी वीडियो

कुछ देर बाद मैंने भाभी को बिस्तर पर लिटा दिया और उनके ऊपर आकर चूत में लंड रगड़ने लगा. और मैंने यस!” कहते हुए छलाँग लगा दी।अरे! अरे! इतने भी एक्साइटेड मत हो जाओ, उसने कुछ शर्तें भी रखी हैं।” वह मेरा कंधा पकड़कर बोली।कह दो उसको, उसकी सारी शर्तें मंजूर हैं. अपने बॉल जैसे बड़े बड़े चूचों को ढकने के लिए टाइट लोकट वाला ब्लाउज पहनती हैं जिसमें से उनके आधे से अधिक दूध झलकते रहते हैं.

मैंने भी संकोच छोड़ कर सीधा कहा- ये बताओ कि अन्दर चुदना पसंद करोगी या बाहर आंगन में बारिश के बीच. दोस्तो, आप सभी ने मेरी अब तक की सभी कहानी पसंद की हैं और उम्मीद है आगे भी करोगे. कुछ देर के बाद घर पहुंचा और दरवाजे की घंटी बजाई लेकिन दस मिनट तक घंटी बजने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला.

सेकंड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी दोस्त को सुहागरात का मजा देने का सोचा. [emailprotected]सेक्सी लड़की की जवानी की कहानी का अगला भाग:लूडो का खेल चुदाई में तब्दील हो गया- 3. जब कमरे के नजदीक पहुंचा तो मुझे अरुणिमा की मादक सिसकारियां सुनाई दीं.

मेरा मन तो कर रहा था कि उसे अभी बिस्तर पर पटक दूँ, मगर मैं ऐसा नहीं करना चाहता था. मैंने महसूस किया था कि चाची मुझसे खुलने की कोशिश करती हैं मगर मैं जरा सी भी कोशिश नहीं करता था क्योंकि मुझे डर लगता था.

मुझे भी वो बहुत हॉट लगती थी मगर बहन होने का लिहाज करके मैं मन मसोस कर रह जाता था.

तो मुझे बॉयफ्रेंड की आवश्यकता ही नहीं पड़ी, इसलिए तुम ही मेरे बॉयफ्रेंड हो. कुमावत सेक्सी वीडियोफिर कुछ देख लेटे रहने के बाद आंटी उठीं और मेरा लंड चाट कर साफ करने लगीं. हिंदी सेक्सी वीडियो देहाती गांवफिर मुँह से लंड निकाल कर बोली- आज मेरे मुँह में ही कर दो, मैं भी तुम्हारे मूत को चखना चाहती हूँ. संजना तुरंत अपने हाथ और घुटनों के बल पर बिस्तर में कुतिया सी बन गयी.

मैंने अपनी हवस को तो जगा लिया था लेकिन मयंक नाम के उस लड़के की हवस को जगाना अभी बाक़ी था.

भाभी कहने लगी- लो, तुम्हारा अभी से काम नहीं कर रहा, तो आगे क्या करोगे?मैं समझ गया कि भाभी मूड में है. बस फिर क्या था … वो एकदम जोर से कराहती हुई बिन पानी मछली की तरह तड़पने लगी. मैं बिस्तर से उतरी और फर्श पर अपने हाथों की उंगलियों से अपने पैर की उंगलियां पकड़ कर झुक गई.

मेरे लंड के धक्के इतने जोर से लगने लगे कि उसकी गांड से भी आवाजें आने लगीं और उसकी चूत बहने लगी. यानि कि जिसने गोटी काटी है, वो सामने वाले को अपनी मर्जी से टास्क देगा, जो उसे पूरा करना होगा. फिर दोनों ने मेरी बहन की पैंटी से अम्मी और बहन की चूत साफ की और दोनों अम्मी और बहन की चूचियों पर बैठ गए.

भंवरी सेक्सी पिक्चर

[emailprotected]इन्स्टाग्राम: Vrinda_venusXxx डिजायर कहानी का अगला भाग:होली, चोली और हमजोली- 3. रिया और आयेशा एक दूसरे के ऊपर चिपकी हुई थीं, इधर मैं और नेहा भी एक दूसरे के जिस्म को खा जाने की नियत से चूस रही थीं. आपको बता दूं कि पिछली बार जब मैं अपनी बहन विनी की चुदाई कर रहा था तो अपने हिसाब से पोज सैट करके उसे चोद रहा था.

मैंने कहा- यार अनुष्का, तूने मुझे अंकुश से चुदवाने का प्लान पहले ही बना लिया था क्या?अनुष्का ने कहा- हां हबीबा, अंकुश का तेरी चूत का पानी पीने का बहुत मन था इसलिए हमने पहले ही सोच लिया था कि तेरी चूत को कैसे न कैसे चोदेंगे ही.

तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्स कहानी, उम्मीद करती हूं आप सभी को ये कहानी बहुत पसंद आई होगी.

संजना पूरे जोश के साथ अपनी गांड हिलाने लगी और बोलने लगी- आह जान, मैं झड़ने वाली हूँ. फिर आंटी बोलीं- शर्माओ नहीं, अब तुम समझ चुके हो कि मुझे तुमसे क्या चाहिए!मैं उनकी वासना से भरी हुई आंखों में झांकने लगा. स्कूली लड़कियों की चुदाई सेक्सी वीडियोवो दोनों सोफ़े पर बैठ गए और अनुपम की तरफ अम्मी और कार्तिक के पास मेरी बहन बैठ गई.

मेरा थूक और लंड का प्रीकम मुँह से निकलकर मेरी चूचियों पर गिर रहा था. मैंने जैसे ही अन्दर जाने को कदम बढ़ाया, वहां बैठे हवलदार ने डपटा- कहां चले जा रहा है. थोड़ी देर बाद रुका और मुझसे बोला- अबे भड़वे … तू क्या देख रहा है भोसड़ी के … बाइक से निकल जा, मुझे झड़ने में ज्यादा से ज्यादा दस मिनट लगेंगे.

संजना को थोड़ा दर्द हुआ पर जल्दी ही उसकी गांड ने दूसरी उंगली के लिए भी जगह बना ली. मैं समझ गया कि ये औरत पैसा नहीं देगी इसलिए मुझे ही गांव आना पड़ेगा या कोई और तरीके से वसूली करना पड़ेगी.

प्रिया ने मस्ती से कहा- किस रूप में?मैं उठा और अलमारी से एक नाईट गाउन निकाल कर ले आया.

मुझे देख कर अरुणिमा ने नज़र झुका ली और ड्राइवर मुझे देख कर मुस्कुरा दिया. फिर जब हम दोनों को बेटा प्राप्त हुआ, तब हमारी ज़िन्दगी और भी ज्यादा ख़ुशी से गुजरने लगी. थोड़ी देर में ही उसने काफी शराब पी ली थी और उसके देखने का अंदाज़ बिल्कुल नशीला हो गया था.

घोड़ा वाला सेक्सी दिखाओ मैं अपने आपको लड़की महसूस कर रहा था, मुझे लग रहा था कि मैं सजनी ही हूँ. उन्होंने बताया कि उनके पापा ने पैसों के लोभ में मुझसे इनकी शादी करवाई.

प्रिया ने चौंक कर मेरी तरफ़ देखा और बोली- ये आप क्या बोल रहे हैं, मैं ऐसा कैसे कर सकती हूं?मैं- क्यों नहीं कर सकती, तुम चाहो तो जरूर कर सकती हो. उसने अपने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और मेरी चूत में फिर से अपना पूरा लौड़ा घुसा दिया. वो बोली- शायद तेरी पत्नी भी ऐसे रिश्तों में चुदवा चुकी होगी वरना भाई बहन पर कभी शक नहीं करती.

बड़ी गांड वाली सेक्सी एचडी

मैं ज्यादा सब्र नहीं कर पाई और रोहित से बोली कि अपना लंड मेरी चूत में डाल दो. उसके आंसू, मुस्कान में बदल गए और वो मेरे सीने से लगकर बोली- समीर, आज मैं बहुत खुश हूँ और मैं ये भी जानती हूँ कि तुम्हें मुझसे शादी नहीं करनी है, लेकिन तुम्हारे इस शानदार गिफ्ट से में तुम्हारी उम्र भर के लिए रंडी, रखैल, बीवी या जो कुछ भी तुम कहना चाहो, बन गयी हूँ. उस दिन मैंने फेसबुक पर फौजिया को तलाशा और उसकी फ्रेंड लिस्ट में अपनी इस नाजनीन की नशीली आंखों वाली छमिया को खोजने लगा.

ऐसा करने से फहीमा के शरीर में मादक लहरें उठने लगी और इसी तरह से मैं धीरे धीरे उसकी चूचियों पर आ पहुंचा. 143लेस्बियन सिस डर्टी मस्ती का अगला भाग:होली का रंग चूत चुदाई के संग- 3.

भाभी मुझे देख कर खुश हो गईं और गेट खोल कर धीरे से बोलीं- अन्दर पिंकी को लिटाया है और वाइब्रेटर भी साथ में है.

जब मेरी नजर पड़ी तो देखा कि भाभी अपनी टांगें खोल कर अपनी चूत से झांटों के बाल साफ कर रही है. सच में उसका लंड बहुत मोटा ओर लम्बा दिखा और पूरा लाल सुपारा मुझे ललचाने लगा था. मुझे देखकर आयेशा भी नंगी होकर बाथरूम में आ गयी और हम दोनों नहाने लगी.

भाभी के पीरियड्स चल रहे थे तो उसने मुझसे सकुचाते हुए कहा- भैया, मेरा एक काम कर दोगे?मैंने कहा- हां भाभी, बताओ न!भाभी ने बाजार से पैड्स लाने के लिए कहा- आप बाजार जाओ तो ले आना. उसके गोल गोल मम्मों को जकड़ कर उसे उठाया और हाथों से पकड़ कर उसकी गर्दन में किस करने लगा. भाभी मेरा पूरा साथ दे रही थीं, साथ ही उनकी सिसकारियां और लल्ला की कंपन मुझे जन्नत की सैर करा रही थी.

खेल खेलते हुए मैं उसे बार बार नंगे बदन से छू रहा था या उन्हें आपस में रगड़ रहा था.

गॅलरी बीएफ: मैं अब उसके सिर से चैक करने लगा था क्योंकि लेप्रोसी में नर्व देखनी पड़ती है और सेंसेशन देखने पड़ते हैं. मैंने- छोटे बड़े होने की बात नहीं होती है भाभी … बात एक दूसरे को संतुष्ट करने की होती है.

वे जब स्कूल या कहीं बाहर जाती हैं तो ज्यादातर ऐसी ही टाइट साड़ी व टाइट ब्लाउज पहनकर जाती हैं जिसमें से उनके चूचे पर साड़ी का पल्लू रहने पर भी उनके संतरों का अनुमान कोई भी आसानी लगा सकता है. धीरज बहुत कम आता था क्योंकि धीरज के पास जब पैसों का जुगाड़ होता, तभी वो आ पाता था. विकास ने उसे चूमा और उसकी एक चूची दबाते हुए कहा- मैं भी बहन का लंड बनने को राजी हूँ.

मैंने संजना को नीचे लेटा दिया और उसकी चूत में अपना लंड डाल कर चोदने लगा.

मैंने जल्दी से नाश्ता बनाया और अपने बेडरूम में जाकर दरवाज़ा बंद कर लिया. फिर मैंने उनकी इस नजर मिलाने वाली मुद्रा को तोड़ते हुए कहा- पहले आप यह बताओ कि उदास क्यों रहती हो आप?उन्होंने कहा- सच में तुम जानना चाहते हो?मैंने भी कहा- हां रोशनी भाभी, अगर आप मुझे कुछ मानती हो तो मैं सब जानना चाहता हूं. विकास उसके ऊपर लेटे लेटे ही सो गया और नेहा को भी पता नहीं कब, नींद ने अपने आगोश में ले लिया.