हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ

छवि स्रोत,कुत्ता और लेडीस का बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

मारवाड़ी सेक्सी कहानी: हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ, गैब्रियल ने मेरी चूत में इतनी उंगली की थी कि मैं चिल्लाने भी लगी थी.

लंदन पोर्न

कुछ रईस धनी लोगों को इसके पास भेजेंगे, जिससे इसका शापिंग और मेकअप ज्वेलरी आदि का पैसा इसको खर्चे के लिए मिलता रहेगा. राजस्थानी एक्स एक्स एक्स एचडी वीडियोमुनीर लगातार लिंग चूसती रही और कुछ मिनट में माइक का लिंग तन कर फनफनाने लगा.

उसकी गांड … आह … क्या कहूँ, जब वो चलती थी … तब उसकी गांड का एक पार्ट ऊपर जाता, तो दूसरा बहुत जोर से नीचे आता. बीएफ ओपन कर दोफिर कुछ और धक्के और गालियों के रोमांच के बाद, मैंने सारा माल उनकी चुत और गांड के बाहरी हिस्से पर डाल दिया, जिसे मैंने और एकता भाभी और मयूरी भाभी ने दिल से चाट लिया.

पुनीत और गैब्रियल ने भी साथ में अपने अपने अंडरवियर सहित सारे कपड़े उतार कर एकदम नंगे हो गए.हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ: वो बोली- लड़के की टांगों के बीच में क्या है?तो मैंने कहा- लड़के यहीं से मूतते हैं.

विक्रम- साली कुतिया… नाटक करती है? इतने साल से पापा से चुद रही है और मेरा लंड लेने में नाटक कर रही है?और उसने अपने लंड का एक और जोरदार झटका माँ की चूत में दिया.वापस आते समय उन्होंने मेडिकल से एक कॉन्डोम का पैकेट लिया और बोली- फूल के बदले कुछ तो देना पड़ेगा … बस तेरी माचिस की तीली ठीक जले.

बीएफ सेक्सी वीडियो मूवी - हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ

तभी मैं चाची की दोनों जांघ के मांस को मुठ्ठी भर पकड़ कर अपने लंड को चाची की चूत की फांक में पेलते हुए रगड़ने लगा.कुछ देर बाद नताशा को खासा नशा हो चुका था और वो दीमा के बगल में बैठी-बैठी उसकी गोद में गिर पड़ी.

प्लीज जीजी … जीजू से कहो कि मेरी चूत में अपना लंड डालकर मेरी चूत की गर्मी को शांत करें! आप दोनों ने तो मुझे मार ही डाला!मेरी पत्नी ने मुझसे कहा- आप पीछे से इसकी चूत में लंड डालकर इसकी ऐसी चूत चोदो कि ये जीवन भर याद रखे!और नीरू से कहा- अब तू मेरी चूत में जीभ डाल कर मेरी चूत को चाट!अब नीरू इतनी गर्म हो चुकी थी कि मेरी पत्नी जो उससे करने को बोल रही थी, वह सब कुछ करने को तैयार थी. हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ वो भी समझ गई और उसने झट से लंड को मुँह में अन्दर तक ले लिया और चूसने लगी.

सर ने मुझे बांहों में कस लिया और अपनी आखिरी बूंद तक लंड को मेरी चूत में झाड़ते रहे.

हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ?

वे मर्द सोच रहे थे कि तेरी चोली के पीछे क्या है, उन पायल के ऊपर तेरी जाँघों के बीच में क्या है. मैं भी बीच बीच में बेबी की गांड पर हाथ साफ कर लेता था और वो भी मुस्कुरा देती थी. इस बात पर सबने अपनी सहमति जताई।फिर नाश्ते के बाद सब लोग शॉपिंग के लिए निकल गए और मयूरी के लिए बहुत सारे कपड़े-वगैरह ले आये.

धक्के लगाते हुए हम दोनों लड़के रिदम और ताल मिलाने का पूरा प्रयत्न रख रहे थे कि कहीं किसी गलत एंगल से शॉट न लग जाए! हमारी प्रेयसी को दर्द हो सकता था!इस समय वो पूरी ख़ुशी के साथ दोनों लंडों को अपनी चिकनी-गुलाबी गांड में डलवाए हमारे धक्के लिए जा रही थी!कुछ देर इतनी मस्त चुदाई करने के बाद हमारे लंड लोहा-लाट हो गए और दीमा संग हमने अपने लंडों को गांड के और अन्दर घुसाने के प्रयास शुरू कर दिए. फिर मैंने सोचा कि मेम के रूम में ही चला जाता हूँ और पूछ लेता हूँ कि वो तैयार हैं या नहीं. रजत- केक कैसा लगा दीदी?मयूरी- बहुत ही ज्यादा स्वादिष्ट मेरे भाई… मुझे बहुत मजा आया… तुम्हें केक कैसा लगा?रजत- दीदी, आपको तो पता है ना कि मुझे अपनी गांड का स्वाद बहुत पसंद है… उस पर केक का स्वाद तो जैसे मजा ही आ गया.

उसने मुझे दिखाते हुए बोला- देखो ये चिकनाई के लिए प्रयोग करते हैं, तुम्हें बस मजा आएगा … दर्द बिल्कुल भी नहीं होगा. मेरी चूत का पानी नमकीन था और मेरी मौसी का लड़का मेरी चूत को चाट कर मजा लिए जा रहा था. अपनी जीजी की आज्ञा का पालन करते हुए नीरू तुरंत ही बेड पर सिर रखकर डॉगी स्टाइल में खड़ी हो गई.

अब मुझे गुस्सा आया, मैंने एक तो उसे सब कुछ बताया, ऊपर से मुझे गलत बता रही थी. मेरा रंग गोरा है, सामान्य लंबाई है और मेरा मादक फिगर 34-28-38 का है.

आपस में चिपके हुए थे, उसकी चूत के ऊपर एक बड़ा सा दाना था। मेरी बहन एक मासूम तथा नाज़ुक माल था। मैं आज बहुत खुश था.

काले रंग की ब्रा में दूध से सफेद मेरे कोरे चूचे खुले में देख देवेंद्र पागल हो गया.

काफी देर चोदने के बाद मेरा पानी निकला तो उसने बाद में बताया कि उसको याद नहीं है कि वो कितनी बार झड़ी है. उसने बिल्कुल नयी गुलाबी रंग की ही ब्रा पैंटी पहनी थी जो शायद आज ही पहनने के लिए ही ख़रीदी थी।मैंने उसको गोदी में उठा कर डबलबैड पर लिटा दिया. मैंने बिना देर किए अपनी मीता के चूत के उठाव पर अपने होंठों को चिपका दिया.

नीरू ने पूछा- क्या तेरा मन है?तो सविता ने कहा- क्यों? क्या तेरी नजर में कोई लड़का है या तेरा कोई बॉयफ्रेंड है जिससे तू करवाती है?तब नीरू ने कहा- बॉयफ्रेंड नहीं, एक अनुभवी फ्रेंड है मेरे पास … उम्र 42 वर्ष है लेकिन बहुत मस्त … ना कोई फिक्र, ना कोई झंझट, न राज खुलने का डर! और अनुभवी आदमी जो मजा दे सकता है, वह नया लड़का नहीं दे सकता. दूसरे दिन क्लास में उसने मेरे को उसका घर का पता बता दिया और बोली- ठीक 6 बजे आ जाना. मैंने फिर समझाया कि इसने मूता नहीं है, ये उसका वीर्य है, जिससे बच्चे पैदा होते हैं.

मैं उनके बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से मसल रहा था और वह मेरा लंड मुंह में लेकर बड़े ही मज़े के साथ चूस रही थी.

स्टीव बड़े इत्मीनान से बातें कर रहा था, पर बीवी के माथे पर पसीने की बूँदें झलक रही थीं. जैसे ही उसने अपनी टाँगें कुछ ढीली की तो मैं उसकी टांगों के बीच में आ गया और अपने होंठ उसकी चूत के मुँह पे रख दिए। वो हम्म करने लगी. मैं अब सेक्स के फुल मूड में था, फिर भी चाहता था कि वो दोनों जो भी करें, आराम से करें, मेरी सहूलियत देख कर करें! उसी के चलते मैंने उनको ड्रावर से लुब्रिकेशन की ट्यूब और कंडोम का पैकेट निकाल कर दिया.

मुझसे खड़ा नहीं हुआ गया, तो मैं बेड पर बैठ गया और वह आराम से लंड चूसने लगी. मेरी तो समझो लॉटरी लग गई।फिर उसने पूरा का पूरा लण्ड मुँह में ले लिया और मैं सिर्फ मादक आवाजें निकाले जा रहा था। वो आइसकैन्डी की तरह लौड़ा चूसने लगी। साथ-साथ अपने हाथ से मेरे अन्डकोषों के साथ भी खेल रही थी।मैंने कहा- आह्ह … रुक जा … अब मेरा निकलने वाला है, कहाँ निकालूँ?उसने कहा- निकल जाने दे … कोई बात नहीं. ऐसे बन नहीं रहा।” थोड़ी देर बाद शिवम ने इस सिलसिले में ब्रेक लगाते हुए कहा।सब न सिर्फ रुके बल्कि अलग-अलग भी हो गये।वह उठ के बैठा और उसने आरजू को अपनी तरफ मुंह कर के अपने लिंग पर इस तरह बिठाया कि आरजू की योनि उसके पूरे लिंग को लीलती जड़ पर जा जमी.

थोड़ी देर बाद मैंने अपनी दो उंगलियों को उसकी चुत में घुसा दिया और अन्दर बाहर करने लगा.

मेरे ऊपर आकर मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत पर सैट किया और धच से बैठ गई. मैं पूजा की बातों को ना सुनते हुए अपना लंड उसकी गांड में पेले जा रहा था और थोड़ी देर के बाद पूछा- पूजा मेरी जान, तेरी गांड बहुत प्यारी है.

हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ मैं तुम्हें मॉर्निंग में भी ले आया करूंगा और पहले तुम्हें तुम्हारी फैक्ट्री छोड़ दिया करूँगा. तब मैंने अपने हाथों से पूजा की चूत को खोलकर उसकी खुली चूत पर एक लंबा चुम्मा जड़ दिया.

हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ मैं अपनी उंगलियों से‌ नेहा की चुत की फांकों को सहलाते हुए नीचे उसके खजाने के‌ द्वार की तरफ बढ़ रहा था. इस पर सभी हंस पड़े और मयूरी भाभी ने मुझसे कहा- अबे यार तुम चोदते टाइम भाभी भाभी मत बोला करो.

और जैसे ही मैंने वहाँ पर अपनी जीभ फेरी, तो मंजरी भाभी के मुँह से एक लम्बी सिसकारी निकल पड़ी और उन्होंने भी मुझे कस कर भींच लिया.

सेक्सी फिल्म फकाफक

थोड़ी देर के बाद पूजा मेरे सामने सिर्फ़ अपने लाल रंग की ब्रा और लाल रंग की पेंटी पहने खड़ी थी. अब मैं एक हाथ से भाभी के चुचे सहला रहा था और दूसरे हाथ को पीछे ले जाकर उनकी गांड मसल रहा था. थोड़ी देर ऐसे ही चिपके रहने के बाद मैंने उसकी पीठ पर हाथ फेरना चालू किया और धीरे धीरे उसकी टी-शर्ट को ऊपर करता गया.

मैंने प्यार से कहा- भीम, ख्याल रखा करो, अब अकेले तुम्हारे मालिक ही नहीं रहते उस कमरे में. फिर मैंने पूछा कि जब मैं खुजा रहा था तब तुझे मज़ा आया कि नहीं?तो उसने बोला कि बहुत मज़ा आया. कुछ देर बाद जब मुझसे भी नहीं रहा गया तो मैं भी अपने जीजू को किस करने लगी.

उनकी चूचियां अभी भी बिल्कुल किसी कुंवारी लड़की की तरह ही कसी हुई थीं.

मैंने धीरे से पूजा को घुमा दिया, जिससे मुझको उसके साइड और आगे और पीछे का रूप दिख सके. जब मैंने पहले बार चुदाई करवाई थी तो उसके बाद से ही मुझे चुदाई करवाने की ऐसी लत लग गई है कि मैं बिना लंड लिए रह नहीं पाती हूँ।आज मैं आपको अपनी उसी पहली चुदाई की कहानी बताने जा रही हूँ. सच कहूँ तो अब मुझसे भी बर्दाश्त नहीं हो रहा था, मन कर रहा था कि कितनी जल्दी इनको अपनी बांहों में भर लूं!पर इस प्रोफेशन में आप अपने मन से कुछ भी नहीं कर सकते.

मैंने जीजू के लंड का मजा लेते हुए कहा- हां जीजा जी … ज़ोर से मारो हय साली की कुंवारी चुत को फाड़ डालो … आह उफ्फ आह …जीजा बोले- ले मेरी साली …वे ज़ोर ज़ोर से लंड के झटके लगाने लगे. कभी जांघें, तो कभी नाभि और अचानक से उसकी बुर को मुँह में लेकर चूसने लगा, जीभ से बुर को कुरेदने लगा. फिर वो मेरे दोनों मम्मों को पकड़ कर कस कस के मसलते हुए मेरे होंठों को चूस रहा था.

अब्दुल मुझे बोला कि वन्द्या तू पहली रंडी है, जिसने आज मुझे तृप्त किया है. थोड़ी देर बाद तारा नीचे झुकी और मुनीर के साथ लिंग को बारी बारी चूसने लगी.

इसके बाद अंकित ने राज अंकल के और मुन्ना अंकल के कान में कुछ धीरे से बोला. मैंने देर ना करते हुए एक जोरदार धक्का सविता की चूत में लगाया, मेरा आधा लंड सविता की चूत में समा चुका था, सविता के मुंह से हल्की सी आह निकली लेकिन नीरू ने पहले ही उसकी कमर को कस कर पकड़ा हुआ था तो सविता की एक न चली और मैंने अपना लंड थोड़ा बाहर खींचकर एक जोरदार धक्का सविता की चूत में लगाया तो मेरा पूरा लंड सविता की चूत में समा चुका था सविता के मुंह से कराहट निकल उठी. वो जब भी घर आती थीं, तो मैं उन्हें चोदने के नज़रिए से देखने लगा था.

माइक के ऐसे बर्ताव से मैं भी पिघल सी गयी और मैंने खुद ही लिंग को सही रास्ता दिखाने लगी.

मैंने दूसरे हाथ से उन पर पीछे लेटने के लिए दबाव बनाया तो उन्होंने कहा- रूको!मैंने उनकी तरफ प्रश्नवाचक नज़रों से देखा तो वो बोली- यहाँ नहीं, बेड रूम में चलते हैं. कुछ देर बाद वो खुद अपनी गांड ऊपर नीचे करने लगी तो मैं समझ गया कि इसका दर्द खत्म हो गया है. दीमा भी उसके चेहरे के सामने घुटनों पर ही खड़ा हुआ विश्वसुन्दरी की मुख चुदाई करने लग गया.

जब मैं वो सामान लेकर पहुंचा तो भाभी ने मेरा स्वागत गले मिल कर किया. अब मेरी पत्नी ने नीरू को कहा- नीरू, अगर तुझे कोई परेशानी ना हो तो तू मेरी चूत को चाट और तेरे जीजू पीछे से तेरी चूत में अपना मोटा लंड घुसा कर तेरी चुदाई करेंगे.

जब क्लास चलती तो सोनल पहले बहुत डीसेंट रहती … मतलब अच्छी तरह ड्रेस, ओढ़नी वगैरह!हमारी पढ़ाई के बीच में बहुत बातें होती रहती थीं. मैं जल्दी से फ्रेश हुआ अपनी झांटें साफ़ की, लंड को अच्छे से साफ़ किया और तैयार होकर मैं उसके बताये हुए अपार्टमेंट में पहुंच गया. कहां से मिली दवा?” सुलेखा भाभी ने पूछा तो मुझे शरारत सूझ गयी और मैंने प्रिया की तरफ इशारा करते हुए कह दिया कि प्रिया के पास थी.

कटरीना सेक्सी फोटो

करीब छह बजे शादी संपन्न हुई, पंडित जी ने अपनी दक्षिणा ली और हमे आशीर्वाद दिया.

वो झड़ कर मुझसे लिपट गया और साथ ही हांफने लगा, दो-तीन मिनट वो मुझसे लिपटा रहा, फिर बोला- इसको चोदने में बहुत मजा आया … गजब की लड़की मिल गई यार … क्या किस्मत थी हम दोनों की. इधर रिया भाभी ने भी सेक्सी गाउन पहना हुआ था, जिसमें उनका फिगर पूरा दिख रहा था. मैंने भी सोचा कि जब मैं दरवाजे जैसी चूत वालियों की भी चीखें निकलवा देता हूँ तो उनकी चूत तो लगभग कुंवारी थी मेरे लिए…मैं- हम्म्म!मैं बहुत तक गयी हूँ और मुझे नींद आ रही है.

अंकित बोला- कहां जाना है?तो वही स्टोर वाला बोला- यहीं पर शंभूदीन त्रिपाठी का मकान है, वहीं पर उनसे बात हुई है. हम चारों ने एक साथ सेक्स किया और उस लड़की की सील तोड़ने में नीरू और मेरी पत्नी ने मेरा सहयोग किस तरह किया. பிஎஃப் வீடியோ பிஎப் வீடியோतो बोली- मैं आ जाऊं सुलाने?तो मैंने कहा- आ जाओ लेकिन अगर तुम आ गईं, तो हम सोएंगे ही नहीं.

कब दिलाओगे?मैंने उसको दिलासा दिया कि रवि के जाने बाद तुम आ जाया करो. मगर अब तो क़ानून और मेडिकल साइंस दोनों मुझे मंजूरी देते हैं कि मैं जिन्दगी के नये मोड़ को भी समझूं और उसे जियूं.

इस पर मयूरी भाभी ने कहा कि रहने दो यार, मुझे थोड़ी शर्म भी आ रही है, फिर कभी ऐसा कुछ तूफानी करेंगे. दूसरे दिन मैं कॉलेज से आया तो वो मेरे घर पर मेरी माँ से बात कर रही थीं. मैंने उनको सोफे पर थोड़ा सा और लिटाया और उनका गाउन थोड़ा सा ऊपर कर दिया.

मैं सतीश से बोली- प्लीज बाहर से किसी को भेज दो … वो आए और मुझे चोद दे … मुझे जम के चुदवा दो … जल्दी से भेजो किसी को … वो मेरी आग बुझा दे. गोरा चिट्टा बदन 18 साल की उम्र बूब्स आधे भरे हुए गोल गोल … मैं बयां नहीं कर सकता कि देखकर कितना मजा आ रहा था. मेरा पूरा लंड नीरू की चूत में जाता हुआ देख पायल मस्त हो गई थी, उसकी आँखें नीरू की चूत पर टिकी हुई थी.

तब उन्होंने मुझसे मेरी चॉइस पूछी, तब मैं बोला कि छोड़ो भाभी जाने दो.

मेरी उम्र 21 साल की है और मैं बाकी लोगों की तरह झूठ नहीं बोलूंगा, पर मेरे लंड महाराज का साइज 8. लेकिन जिस तरह से सोनल सीख रही थी मुझे ऐसे लग रहा था कि ये क्लास तो लंबी चलेगी.

फिर उसी शाम को मेरी बीवी अपने मायके से वापस आ गयी, तो उस रात मैंने अपनी बीवी को नूर समझ कर चार बार चोदा. फिर थोड़ी देर बाद वो रजत के लंड को अपने मुँह में डालकर विक्रम के लंड को हाथ से हिलाने लगी. मैंने विपरीत ताकत लगाना बन्द कर दिया, अपनी टांगों को उसकी जाँघों पर लाद दिया और लंबी सांस खींचती हुई, उसकी आँखों में देख कर सांस को छोड़ा.

इस तरह की आवाज जगत अंकल जोर जोर से निकालने लगे और फिर मुझे कस के पकड़ कर बोले- वन्द्या मेरी बीवी. इसके बाद मैं करीब 10 -15 मिनट उसे ऐसे ही धक्के लगाता रहा और वो और जोर जोर से सिसकारियां भरके बोलने लगी- आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… अमन. फिर कुछ ही देर में मैं भी चरम पर पहुंच गया, मैंने प्रिया को अपनी बांहों में जोरों से भींच लिया और चार पांच किस्तों में उसकी चुत को अपने वीर्य से पूरा भरकर उसके ऊपर ही निढाल होकर गिर गया.

हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ शीतल- तो क्या हुआ… आज ऐसे ही चुदाई होगी मेरी! मैं अपने बेटे से पहली बार चुदने जा रही हूँ, कुछ तो अलग होना ही चाहिए. उसके बाद मैंने नीरू की चुदाई की और सविता को भी और एक बार झाड़ कर संतुष्ट किया.

आने वाली सेक्सी पिक्चर

मैंने लंड बाहर निकाला तो दी झट से घोड़ी बन गईं और मैंने पीछे से लंड पेला और चोदना चालू कर दिया. चाची के मोटे और नर्म नर्म होंठ के स्पर्श ने मेरे पूरे बदन में सिहरन पैदा कर दी. ये बात करीब 3 साल पहले की है जब मैंने अपनी पहली गर्लफ्रेंड बनाई थी, उसका नाम हिनल था.

यह क्या … वो एक बैग लायी थी और उन्होंने घर पर बताया था कि ऑफिस के काम से बाहर जा रही हैं. फिर बोले कि एक बात बोलूं आपकी बेटी सोनू बिल्कुल आप पर गई है … और वैसे तो सच यह है कि ये आपसे भी ज्यादा सुंदर है. सेक्सी वीडियो भोजपुरी में चाहिएमेरे एक हाथ में किसी का लंड था, जो मेरा हाथ पकड़ के रगड़वाने लगे, उनका लंड बहुत गर्म था.

बस उसके ये कहते कहते ही उसके लंड का गरम गरम लावा मेरी गांड के अन्दर घुसने लगा.

मेरी पत्नी के होंठों से एक मीठी सी वो चीख निकली, जो बरसों पहले मैंने अपनी सुहागरात पे सुनी थी. मैं मौसी को लगातार किस किए जा रहा था और उनकी चूचियों को सहला रहा था.

उन्होंने मेरी टांगें खोलीं और बीच आकर अपनी जुबान को मेरी चूत की फांकों पर लगा कर छेड़ा, तो मैं वासना की आग में जलने लगी. मैंने पैसे लेने से मना कर दिया और कहा कि आप खुश हो, वही मेरे लिए बड़ी बात है. मैं उसे कमरे में ले गया और वहां ले जाकर मैंने उससे बोला- मरवाएगी क्या? अभी पता चल जाता कि हम खिड़की से देख रहे थे तो भारी गड़बड़ी हो जाती.

उसने मुझे रोका और बोला- प्रकाश सर आपने तो कंप्यूटर पर देख ही लिया था ना कि किस टाईप का सेक्स मुझे पसंद है?मैंने पूछा- मैंने कब देखा?फिर बोली- सर आप कंप्यूटर टीचर हो, एक दिन मैं चाय लेने किचन में गयी थी तो आप इंटरनेट जहां से चलाते हैं, वो चैक कर रहे थे … मैंने देख लिया था.

मैंने आंटी के दोनों चूतड़ों को दोनों हाथ से साइड से पकड़ा और मैं थोड़ा ऊपर उठ कर जोर जोर से आंटी की गांड में मेरे लंड के झटके लगाने लगा. उन्होंने मुझे अपनी तरफ खींच कर खुद से लिपटा लिया और मुझे किस करने लगे. इससे हुआ ये कि उनकी पतली साड़ी में से उनकी पेंटी की आउटलाइन दिखने लगी.

सेक्सी ब्लू फिल्म हिंदुस्तानीआपसे बातों बातों में मैं तो उसका ज़िक्र करना ही भूल गया, उसकी वास्तविक उम्र लगभग 20 वर्ष रही होगी और फिगर 34-30-36 की थी, जो एक आकर्षक बदन के लिए पर्याप्त है. आजकल तुम मुझसे बात क्यों नहीं कर रही हो?मैं जीजू से कुछ नहीं बोल रही थी और बस उनके सामने बैठ गई थी.

అమెరికన్ బ్లూ ఫిలిం

अगले ही पल मैं तो उन पर लगभग टूट ही पड़ा और निप्पलों को चाटते हुए मींजने लगा. मेरे दिमाग में आईडिया आया और मैं थोड़े गुस्से में बोला- नहीं, बच्चे को ऐसे दूध पिलाते हैं क्या?कविता बोली- हां. मैं समझ गया कि वो क्या कहना चाहती हैं … क्योंकि वो शादीशुदा औरत थीं … तो मैंने भी कुछ नहीं कहा.

मैंने रेखा का हाथ पकड़ा और उसको अपने तने हुए लौड़े पर रखवा दिया।रेखा मेरे पजामे में तने हुए लौड़े को ऊपर से ही सहलाने लगी।वो भी पूरे जोश में आ चुकी थी और मेरे लंड को पकड़ कर मसल रही थी।मैं उसके चूचों को दबाते हुए उसके होठों का रस चूसने में लगा हुआ था. अंकित इधर से बोला- अंकल, अभी एक बहुत मस्त नई लड़की पटी है, अगर कहो तो ले आऊं?ये सुन कर वह कुछ उधर से कुछ बोले. अब हम लोग सब थक चुके थे, लेकिन सोनाली की चुदाई बाकी थी … तो मैं उसे किस करने लगा और उसकी चूची दबाने लगा.

अब मेरे सामने उनकी काले रंग की पेंटी थी, जिस पर एक छोटा सा गीला धब्बा था. उसने कहा- बताओ न?मैंने कहा- इसे मुँह से बता नहीं सकते, करके बता सकते हैं. जब मैं पूरा अठारह साल का हो चुका था … तब मेरा लंड तो दिन ब दिन मोटा और बड़ा होता जा रहा था.

चाची ने कांपते हुए अपने पैर खोल दिए। वो बड़ी डरपोक थी, सब कुछ सच मान बैठी।मैंने खुद अपने हाथ से उनकी पेंटी उतार दी, उन्होंने पैर खोल दिए, मैं चाची की चूत के सामने आकर बैठ गया।उह्ह्ह!! कितनी चिकनी और सुंदर चूत थी … बिल्कुल साफ़ … एक भी झांट नहीं!मैंने उंगली मुंह में डालकर गीली की और चूत में घुसा दी, फिर अंदर बाहर करने लगा, फिर जल्दी जल्दी फेंटने लगा।निकिता चाची ‘ओहह्ह … ओह्ह्ह्ह … अह्ह ह्हह… अई. मैं उठकर बाथरूम गया, मैंने देखा वहां पे एकदम सूखा पड़ा था, कुछ पानी वगैरह नहीं पड़ा था.

उसने कहा- फिर बहाना!मैंने कहा कि ये बातें शादीशुदा लोगों की होती हैं.

भाभी ने मेरे लण्ड को कच्छे के ऊपर से रगड़ना शुरू कर दिया।फिर भाभी ने मेरे लण्ड को कच्छे से बाहर निकाला और मेरी मुठ मारना शुरू कर दिया. हिंदी फिल्म सेक्सी नंगी फिल्मरेवती के आगोश में उसके सुकून भरे साथ में ना जाने कब मुझे नींद आ गई, पता ही नहीं चला. ப்ளூ பிலிம் செக்ஸ்படம் போடவும்लेकिन यह आकर्षण सिर्फ मीता के साथ गुजारे पलों में ही था, उसके अलावा मेरे सम्बन्ध जहां भी बने, वहां पर मैं एक सामान्य मर्द ही होता था. इसी सब की वजह से सामने मेरे एग्जाम आने वाले थे और पढ़ाई भी नहीं कर पा रहा था.

मैं सतीश से बोली- प्लीज बाहर से किसी को भेज दो … वो आए और मुझे चोद दे … मुझे जम के चुदवा दो … जल्दी से भेजो किसी को … वो मेरी आग बुझा दे.

एक हाथ से मैं उनके पैर पे हाथ फेर रहा था और दूसरे हाथ से मैं उनके पेट पे ड्राइंग सी बना रहा था. मैंने कहा- चलो ठीक है, पर जरा एक नजर ध्यान से स्टीव के लंड को तो देखो जिसे तुमने चूस चूस कर लाल कर दिया है. उस वक्त मैंने ट्राउजर पहना था, फिर भी मेरा लंड पजामा फाड़ के बाहर आने को तैयार था.

वो हमेशा मुझसे कहती है कि तुम अपने होंठ मुझे दे दो और मेरे होंठ तुम ले लो. फिर एक दिन उसका फोन आया और उसने मुझसे कहीं बाहर घूमने जाने के लिए पूछा. तब उन्होंने लंड को थूक से गीला किया और उंगलियों से चूत की फांकों को फैला कर अपना सुपाड़ा सैट कर दिया, फिर मेरे दोनों कंधों पर हाथ टिकाए, मेरे होंठ मुँह में भर सर ने झटका दे मारा.

झवाडी काकी

मुझे मालूम था कि चूत में लंड जाते ही ये फिर से चिल्लाएगी, इसलिए मैंने पहले ही अपने हाथ से उसकी आवाज रोक ली, जो बहुत तेज निकली थी. उसने कहा- बस एक बार दर्द होगा, फिर मजा आएगा तुझे!मैंने कहा- नहीं यार, मैं नहीं कर सकता ये!उसने फिर कहा- मान जा ना यार… अबकी बार आराम से करूंगा. मैं भाभी की नंगी जांघ पर अपने होंठ रखे और मलाई जैसी जांघ को चूसने लगा.

नेहा की एक चूची को चूसते हुए मैंने अब एक हाथ से उसकी दूसरी चूची को भी दबोच लिया.

मेरी पत्नी की चूत को नीरू बड़े ही मजे से चाट रही थी और मेरी पत्नी चूत और उछाल उछाल कर मजा ले रही थी.

तभी राज अंकल ने जोर से मेरे बालों को खींच कर अपना पूरा लौड़ा मेरी गांड में पेल दिया और बोले- वन्द्या तुम रंडी बनोगी, सच बता?मैं बोली- हाँ राज. मन तो किया वहीं पटक के चोद दूँ, लेकिन वो मेरी क्लासमेट थी और चुदने ही आई थी तो लंड का काम तो होना तय था. सेक्सी मूवी ब्लू सेक्सी मूवीमैं कभी किसी को हाथ लगा रहा था, कभी किसी को चूम रहा था, कभी किसी को चाट रहा था.

बगल में वाशरूम था, वे बोले- अन्दर चली जाओ यार … सब धो लो जल्दी से … और यह नई ड्रेस पहन कर बाहर आ जाना. यह देख मेरा लंड अंडरवियर खड़ा हो चुका था, नीरू ने मुझको बेड पर अपने पास खींचते हुए मेरे लंड को पकड़ लिया और बोली- जीजू, आज तो आपको नई चूत का मजा मिलने वाला है. मैंने बोला कि अगर मैंने बताया तो हमारा ये भाई बहन का रिलेशन खत्म हो जाएगा.

एक दिन मेरी छुट्टी वाले दिन रेवती मेरे पास आई और मुझे अपने साथ घर ले गई. मेरी तो जो हालत है, आप को पता ही है। भगवान उसको खुश रखे।[emailprotected].

उसने कहा- ओके डार्लिंग ऐसा करते हैं कि परसों मेरे घर पर कोई नहीं होगा.

दोस्तो, मैं आपका अपना सरस एक बार फिर हाजिर हूं अपनी कहानी के अगले भाग के साथ. उनके मम्मों को देख कर मेरा लंड खड़ा होने लगा, जिसे मीतू दी ने मेरे लोवर के बाहर से देख लिया. साथ ही एटीटियूड तो भाभी का बड़ा गजब का था, वे किसी को भी भाव नहीं देती थीं.

ओके गूगल सेक्स बाद में मेसेज या कॉल करने को बोल कर वो ऑफलाइन हो गयी और मैं भी अपने काम में लग गया. तब मैंने अपने हाथों को पूजा के पीठ पर ले जाकर पहले उसकी पीठ को सहलाया और उसके चूतड़ों को सहलाना शुरू कर दिया.

इस बस स्टैंड के आसपास कॉलेज टाइम में ही चहल पहल होती थी, उसके बाद बिल्कुल निर्जन हो जाता है. भाभी की टांगें अब फ़ैलने लगी थीं, चुत पूरी खुल गई थी, पर अभी पैंटी से कवर थी. मैंने देखा कि वहां पर जो और चुदासी औरतें मेरी तरह आई हुई थीं, उन सबकी मेरी जैसी हालात थी.

शक्ति वीडियो सेक्सी

फिर जब सबने उसके शरीर पर लगे केक को पूरा का पूरा चाट लिया तो मयूरी ने बड़े ही शिकायती लहजे में कहा- अशोक डार्लिंग…मयूरी के लिए ये पहली बार था जब उसने अपने पापा को उसके नाम से बुलाया था. सोनाली ने मुझे रोक कर पूछा- सिर्फ चोदना है या पूरा मजा लेना है?मैंने बोला- पूरा मजा लेना है. उसके बाद हम दोनों ने कुछ बातें की और फिर मैंने एक राउंड और मारने को कहा लेकिन उसने मना कर दिया।अब शगुन मेरे लंड का स्वाद चख चुकी थी तो कोई चिंता की बात नहीं थी अब तो रास्ता खुल चुका था, मुझे पता भी चल चुका था कि मेरी बहन चालू किस्म की है.

मैं अंकित की बातें सुनकर हैरान थी, उस हाल में मैं तीन बुड्ढे, दो अंकल और एक अंकित जो 22 साल का था करीब, ऐसे 6 मर्दों के बीच मैं अकेली लड़की थी. इसी के साथ जब भी मुझे मेरे सबजेक्ट का कुछ प्रॉब्लम होता था, तो मैं उसके केबिन में चला जाता था.

इस पर वो बोली कि कई लोग तो खुल्लम खुल्ला अपने पार्टनर को किस करके सेक्स करते हैं?अब मैंने सोचा बेटा पूरा बात बता दे.

मुझे भी इतनी अधिक चुदास चढ़ रही थी कि मैं भी उसके सर को पकड़ कर मुँह चुदाई करने लगा. उन्होंने कहा- तुम हमेशा ज्यादा उम्र की औरतों को ही क्यों ताड़ते रहते हो?तो मैंने कहा- अपनी अपनी सोच या पसन्द होती है. अब बहन ने कंफ़र्म करने के लिए मॉम से पूछ लिया और जो मैंने बताया वो भी बता दिया.

फिर राज अंकल ने अपना लंड मेरी गांड में से निकाल लिया और उठकर मेरे आगे तरफ आकर मेरी दोनों टांगों को चौड़ा किया और मेरी नाभि को चाटने चूसने लगे. तब हिमांशु बोला- वन्द्या तू यह बता कि तेरा प्रोग्राम क्या है … सच सच बोलना मेरी जान. अक्सर शाम को ग्राऊंड में अंधेरा हो जाने के बाद कोनों में लड़कों के साथ चूमा चाटी करते दिख जाती थीं.

इतने में जो अंकल मेरी चूत को चाट रहे थे, उन्होंने अपने हाथ का अंगूठा मेरी चूत में घुसा दिया और साथ में जीभ भी डाल दी.

हिंदी बीएफ बीएफ एचडी बीएफ: फिर मैंने अपने अंगूठे को चूतरस से गीला करके उसकी चूत का दाना टटोलने लगा, अंगूठे से अनारदाने को छेड़ने लगा. मेरे उस दिन पढ़ाने का भी मन नहीं कर रहा था, पर मैंने हालात को ठीक से हैंडल किया.

कमलेश सर ने जब पहले दिन मुझे सेक्सी कहानियों की बुक पढ़ने को दी और फिर नंगी मैगजीन दी, तो मैंने खुद ही ले ली और पढ़ना भी शुरू कर दिया, एक बार ऐतराज नहीं किया, न ही किसी को बताया. मेरे हाथ उसके लंड पर टच होने लगे और उसका सोया हुआ लंड मेरी उंगलियों में मुझे फील हो रहा था. जब मैं अपनी उंगली उसकी चूत में अंदर-बाहर कर रहा था तो मुझे महसूस हुआ कि मेरी उंगली पर कुछ गीला पदार्थ लगने लगा है।रेखा ने मेरा हाथ हटवा दिया.

उसने रिमोट को दूसरे कमरे की तरफ़ दिखा कर टीवी चलाया और उसके चलते ही सबसे पहले एक लंबे और मोटे लंड के दीदार होने शुरू हो गए.

वो लगभग बेहोश हो गयी थी और बेहोशी में ही गालियां बोलने लगी- साले तुमने मेरी चूत की माँ चोद दी. मैं सोच रहा था कि क्यों न रेखा की ही चूत मार लूँ लेकिन उस वक्त वह अपने पति के साथ थी. फिर मैं उसकी पैंटी पर से ही उसके बम्प्स ( चूतड़ों) पे चुम्बन करने लगा। वहां से चूमता हुआ उसकी कमर पे चुम्बन करने लगा, फिर ऊपर बैक और गर्दन पे चूमा।मैंने नीता को पलटा तो उसने मेरे को कस के अपनी बांहों में लिया, मुझसे ऐसे चिपट गयी जैसे कोई बेल शाख से लिपट जाती है। वो मेरे कान में फुसफसा के आई लव यू बोलने लगी.