बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,नया सुहागरात सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

रेखा सेक्स फोटो: बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ, इस दौरान मैंने उन्हें बता दिया कि अभी तक तो मैं फ्री हूँ, लेकिन आपने कुछ भी फिक्स नहीं किया और मुझे किसी और ने बुक कर लिया, तो मेरा आना मुश्किल हो जाएगा.

बांग्लादेशी सेक्सी गर्ल

मैं- अरे यार ट्रेनिंग पे थक जाता हूँ, अब उठ गया हूँ तो खाना खाने बाहर जाऊंगा. भंवरी वीडियो सेक्सीथोड़ी देर में ही वो गांड उठाते हुए तेज कराह के साथ झड़ गई और शांत लेट गई.

मैंने कहा- मेरी रानी, अब ये तुम्हारा भी है … आज रात इसके पूरे मजे कर लो. सेक्सी वीडियो जंगल वाला सेक्सीयह सीन देखकर माधुरी हंसने लगी तो प्रशांत अपने आप को संभालने की कोशिश करने लगा.

अब रमेश जी को जब जब टाइम मिलता है, तब तब वो सुजाता को बुला लेते हैं और चुदाई का भरपूर मजा करते हैं.बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ: पूरे मन से दिल से अपनी मम्मी की सौगंध खाकर कहती हूं, गॉड की कसम खाकर कहती हूं कि एक शब्द भी झूठ नहीं लिखा है.

बड़ी हिम्मत करके मैंने अपने घर वालों को झूठ बोल दिया कि मैं अपने सहेली के साथ बाहर जा रही हूँ.मैंने भाभी के चूचों को ब्लाउज ऊपर करके आज़ाद किया और उनके पैरों को थोड़ा फैला दिया.

सेक्सी वीडियो वीडियो चोदा चोदी वाला - बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ

कुछ देर तक यह दौर चला, फिर दोनों झड़ गईं और मेरा लंड और मुँह उनके पानी से भीग गया.मेरा लंड उसकी गांड से टच हो रहा था और वो पीछे से अपने पैर मोड़ कर मेरे चूतड़ों पर लात मार रही थी.

मैंने देखा कि बाइक पर मेरे सहकर्मी शंकर झा जी और उनकी पड़ोसन कौशल्या जी थीं. बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ शंकर जी- क्या कौशल्या … कुछ भी बोलती हो, ठीक है सर मैं शाम को आपके घर आता हूँ.

मैंने धीरे से हाथ नीचे ले जा कर उसके ब्लाउज़ के सारे हुक खोल दिये और उसकी चुचियो को मसलते हुए उसके निप्पलों को खींचने लगा.

बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ?

फिर उसने मुझे उठाया और मेरी शर्ट को निकाला और मेरे पूरे शरीर पे किस करने लगी. प्रमिला का पानी फिर से निकलने लगा, जो उसकी गांड और मेरे लंड को चिकनाई दे रहा था. मेरा उत्तर सुनकर लता भाभी एकदम रोमांचित हो गई और मुझसे लिपट गई; कहने लगी- देवर जी, यह मेरी खुशकिस्मती है कि आपका लंड फर्स्ट टाइम मेरी चूत में जाएगा और आप पहली बार मुझे चोदोगे.

’‘सिर्फ चूत? तेरे होंठों और गांड को मेरा लौड़ा याद नहीं आता?’‘मेरे हर अंग को तू याद आता है. उसे घोड़ी बनाकर पीछे से चोदा, बेड पर सुलाकर चोदा, शेल्फ पर बिठाकर चोदा, यानि हर मुमकिन पोज़ में चोदा. भाभी को चूमते हुए मैंने उनका हाथ अपने लंड पर दे दिया जो पूरा खड़ा होकर सलामी दे रहा था.

सुजाता बोलने लगी- तुमको किसने बोला है?रमेश बोलने लगा- मेरे को सब मालूम है अजय का और तुम्हारा क्या लफड़ा रहता है. पता नहीं उसे मज़ा आ रहा था या नहीं, पर वो किसी तरह मेरे मोटे लंड को अपनी गांड की गहराई तक झेल रही थी. मैं भी उसको देख रही थी कि अचानक उसने मुझे देख लिया और मैं वहां से अपने कमरे में जाकर लेट गई.

फिर उन्होंने मुझे सोफे पे बिठा दिया और कहा- आज आप यहीं रुक जाइये, कल चले जाइएगा. मुझे और भी मजा आने लगा ‘आह्ह मर गयीईई आह्ह …’फिर उसने मेरी जीन्स पेन्ट उतारी और बोला- वाह … आज अन्दर कुछ नहीं पहना मेरी जान … तू तो बिल्कुल तैयार होके आई थी मेरे पास.

”पूषी से ज्यादा सब्र नहीं हुआ तो उन्होंने मेरा सर पकड़ कर अपनी चुचियों पर लगा दिया और मैं भी उनकी दोनों चुचियों में खोकर उनको मसले जा रहा था.

फिर मैंने एक हाथ से उसके बाल पकड़े और दूसरे हाथ से उसकी कमर को थामा.

मुझे इस बात का डर भी लग रहा था कि कहीं सास को हम दोनों के सेक्स कांड का पता न लग जाए. पापा बोले- वर्षा, इसकी बाहर जाने पे रोक लगा दी, पढ़ाई भी बंद करवा दी, अब तो इसकी हिम्मत देख, इसे कोई डर नहीं ये साली घर में भी मुँह काला करने अपने यार को बुलाती है. मुझे तो लगा था कि मेरे सच्चे प्यार का अंत हो गया, पर नहीं मेरी जिंदगी में एक नया मोड़ आया और शायद भगवान भी यही चाहता था.

उसमें तो कई को मैं भी देख रही थी कि वे सीधे मेरे दूध में बताशा मार रहे थे. मैंने कुछ पल सोचा कि कम से कम ये चाट कर ही मुझे झड़ने में मदद करे, तो कुछ राहत मिले. उसने अपने जिम ट्रेनर से बोला कि मेरी कमर में कर्व आना चाहिए और बूब्स भी बड़े बड़े दिखने चाहिए.

इस शहर में मेरा काम खत्म हो चुका था तो अगले दिन सुबह मैंने वाणी को बोला कि आज मैं वापस जा रहा हूँ.

नहाने के बाद हम बाहर आए और मैंने टाईम देखा तो शाम के 5 बजने को थे, मैंने कहा- अब मुझे जाना चाहिए. मैं और वो लड़का हम दोनों लोग आज भी सेक्स करते हैं, लेकिन अब हम दोनों लोग पहले की तरह सेक्स नहीं करते हैं क्योंकि हमारे पड़ोस में कुछ लोगों को शक हो गया है कि मैं उस लड़के से चुदवाती हूँ. लखनऊ जाने एक बुरा नतीजा ये रहा कि मोहल्ले वाले और जानकारों ने जीना बदहाल कर दिया, ताने, दुनिया भर के सवाल और ना जाने क्या क्या.

मुझे कुछ अज़ीब सा लगा, लेकिन मैंने कुछ नहीं बोला और वाणी की तरफ़ बढ़ा, तो वो एकदम से खड़ी हो गयी और मेरे से गले मिली. केवल डॉली और अन्नू की सेवा ही करते रहोगे क्या?मैंने कहा- ऐसी बात नहीं है, वो दोनों मुझे छोड़ती ही नहीं, बस और कुछ नहीं वरना … आप जैसी लेडी के हुस्न का दीदार कौन नहीं करना चाहेगा. एक दिन उसने मुझसे पूछा- तुम्हारी कोई गर्ल फ़्रेंड नहीं है क्या?तो मैंने भी बोल दिया कि आज तक मुझे पसंद आ जाए, वैसी कोई मिली नहीं है.

कुछ देर बाद उन्होंने मुझे अपने ऊपर से हटाया और बोली- अब जाओ अपने कमरे में, मुझे तो तोड़ कर ही रख दिया है.

उसने अपने एक हाथ से मेरी जूड़ा-पिन खोल दी और मेरे बिखरे केसुओं को पीछे से मेरे कंधों की तरफ आगे ले आया. उसको गुदगुदी होने लगी, तो मैंने उसको डॉगी स्टाइल में खड़ा किया और पीछे से उसकी गांड में सुपारा लगा दिया.

बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ मैं चुदाई के साथ साथ उसकी गांड में थूक टपकाता जा रहा था, जिससे चिकनाई बनती जा रही थी और लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा था. फिर मैंने अपना हाथ थोड़ा सा साइड में कर के नीचे से उसके टॉप के अन्दर ले गया और उसकी ब्रा के ऊपर से उसकी चुचियां दबाने लगा.

बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ उसके चेहरे पर दर्द झलक रहा था लेकिन उसकी जिज्ञासा ने उसके दर्द पर काबू कर लिया था. मुझे बहुत मजा आ रहा था, पर उसने मेरे मुँह पर हाथ रखा और एकदम जोर से धक्का लगा दिया.

ये कह कर मैंने वीडियो कॉल चालू रख कर अपने कपड़े उतारे और दराज में से एक नापने वाला टेप निकाला, जो टेलर लोग ड्रेस का माप लेने के लिए रखते हैं.

इंडियन बाप बेटी सेक्सी वीडियो

मैं उसको मना कर दिया और बोली- मेरे घर वाले मुझे बाहर नहीं जाने देंगे. मगर अब मैंने लंड को बाहर निकाला क्योंकि बड़ी मुश्किल से लंड चूत में गया था. जब मुझे फोन आता तो मैं शिखा को साथ ले लेता था और जब उसे फोन आता तो वह मुझे साथ ले जाती थी.

जब एक बार चूत गैर मर्द के लंड से चुदने लगी तो फिर तो मजा आने लगा मेरे भोसड़े को. ”फिर मैंने खाना खाया और अपने बेटे के कमरे से वियाग्रा की कुछ गोलियां निकाल कर अपने पास रख लीं. वर्षा ने पास में ही पड़ी मम्मी की साड़ी से मेरी दिख रही गांड को ढक दिया.

एक बहुत ही खूबसूरत जिस्म वाली औरत उसे न केवल फ्री में मिल गई थी, बल्कि उसे उल्टे कुछ पैसे भी कमाने को मिलने वाले थे.

इस घुटन से ज्यादा अच्छा है मैं अपने दिल की बात कोमल को बता ही दूँ।मैंने मन ही मन सोच लिया और कह दिया- हाँ प्यार तो हो गया है. राहुल और सुरभि के साथ भी टाइम स्पेंड करें, उनके स्कूल, कॉलेज और फ्रेंड्स के बारे में उनसे बात करें … धीरे धीरे सब नार्मल हो जाएगा, आप टेंशन मत लें. उसे लौड़ा चूसने का बड़ा शौक है, चुदाई चाहे करनी हो या नहीं … पर हर रोज़ रात को जब तक लौड़ा नहीं चूस लेती है, उसे नींद नहीं आती, अपनी भी मौज है यार.

यह कहानी मेरी और मेरी बुआ जी की है जो आपको एक खूबसूरत सफर पर ले जाएगी. मैंने नहीं में सिर हिलाया तो बोला कि अब मुझसे रहा नहीं जा रहा सोनू. मैंने उसको अपने ऊपर खींच लिया और उसका लंड पकड़ कर अपनी चूत के मुँह पर रख दिया.

मैंने दरवाजे की कुंडी को खोल दिया और सुखबीर को फ़ोन करके आने को कहा. करीब 15 मिनट तक चूमने के बाद मैंने भाभी से कहा- कल मेरा एग्जाम है तो सुबह मुझे जल्दी उठना होगा.

क्या मैं जान सकता हूँ कि आप क्या करती हो?वो बोली- मैं अपने ऑफिस में काम करती हूँ. यह बोल कर उसने ख़ुद से अपने बालों को मेरे हाथ में पकड़ा दिया और मुझे बाल खींचने का इशारा किया। जैसे ही मैंने उसके बाल खींचे वैसे ही उसकी आह … निकल गयी। मैंने भी देर न करते हुए उसको ज़मीन पर धकेल दिया तो वो अपनी जुबान को बाहर निकालते हुए अपना मूत चाटने लग गई. प्रिया ने रोते हुए कहा- क्या करूँ!वो बहुत देर तक रोई, फिर बोली- छोड़ो इन बातों को, मेरी वजह से आप लोग क्यों परेशान होते हो.

तो एक 22 साल की लड़की मिली और उसके साथ जब मज़े करके हम बात कर रहे थे, तो वो बोली कि अभी एक और सरप्राइज़ है आपके लिये!और इतना कह कर वो वहां से चली गयी.

इसके बाद भाभी ने मुझे किस किया और हम दोनों नंगे ही चिपक कर आपस में प्यार मुहब्बत की बात करने लगे. मुझे भी उसकी बात सही लगी, वैसे भी इतनी मेहनत करने के बाद मुझे दूसरे दौर के लिए ताकत की जरूरत थी. किसी और की पत्नी को अपनी बांहों में इतनी उत्तेजना में देख कर मजा आ रहा था.

मैंने कहा- क्या बात करती हो? मैंने ना जाने कितनी सुहागरात मनाई हुई हैं तुम्हारे पति और अपने पति से. मैंने कहा- उस दिन तो मेरे घर पर कोई भी नहीं था इसलिए हम दोनों को वह खूबसूरत मौका मिल गया था.

उसने मेरा लंड मुँह बाहर निकाला और बोली- क्यों पता लगा … तड़फ कैसी होती है?उसने हंसते हुए फिर से मेरे लंड को मुँह में ले लिया. आपके मेल मिल रहे हैं बड़ा अच्छा लग रहा है कि मेरी भावनाओं को आपने समझा. उसकी गहरी सांसें … और बंद आंखें बता रही थीं कि अपने काम उतेज़ना का पहला चरमोत्कर्ष सलोनी को मिल चुका था.

चंबल सेक्सी

उस दिन मैंने पहली बार महसूस किया शिखा मेरे साथ आज कुछ ज्यादा ही चिपक कर बैठी थी.

अंतर्वासना के सभी पाठकों के लिये मैं मेरे जीवन की सच्ची सेक्स कहानी यहां पर लिख रहा हूँ. अब आगे:सोनू पूछने लगी- नाराज़ हो गए क्या?मैंने कहा- नहीं सोनू! फ्रेंडशिप वह होती है जिसमें दोनों की सहमति हो और मेरा यह उसूल है कि मैं कभी भी ज्यादती नहीं करता. मुझे लंड से चुदने बाद जीभ से चूत चटवाने में ऐसा लग रहा था, जैसे वो मेरी चूत की सिकाई कर रहा हो.

खैर … हंसते हुए सब ठीक हुआ और मैंने पार्टी बम उठाया और साइड में खड़ी लड़की की कोहनियों को पकड़ा, जहां पर मैं खड़ा था … उसे साइड में लाया. मैं फिर भी उसकी चूचियां दबाने लगा था, जब मुझसे नहीं रहा गया तो मैंने उसकी साड़ी खोलनी शुरू कर दी. जापानी सेक्सी हिंदी वीडियोयह देखकर एक बार मेरा दिमाग खराब हो गया और मैंने चीख कर उसको एक थप्पड़ लगा दिया तो वो बोली- सॉरी भाभी … आपका इगो बहुत ज्यादा हट हो गया.

उसने कहा- मतलब वेजीना में पेनिस का शॉट?मैंने कहा- हां सही पकड़े हैं. फिर मैंने उसको अपने सीने से लगा लिया और उसकी पीठ के ऊपर हाथ फिराने लगा.

मेरे पास लगभग एक घंटा तो था ही, मैं बिंदास होकर एकदम प्यार से भाभी को चूमने लगा और धीरे धीरे उनको निर्वस्त्र करने लगा. मेरी गांड मानो फट गई थी, मैं जोर से चिल्लाई कि फट गई गांड … उई मम्मी रे … आआहह हहह ईईई उम्ह साले हरामी गांड फाड़ दी. लंड टच हुआ तो न जाने क्यों मेरे मुँह से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की आवाज निकल गई.

थोड़ी देर में मुझे लगने लगा, जैसे सुखबीर अच्छे से समझ गया कि मुझे क्या चाहिए था. मैंने टांगें खोलीं तो अगले ही लम्हे में मेरा पूरा जिस्म मज़े से कंपकंपा उठा. मैं तृप्त हो गई लेकिन पंकज अभी भी मेरी चूत को चोदने में लगा हुआ था.

हम दोनों ने सेक्स करते हुए अपनी पोजीशन को बदल दिया और अब मैं अपने बॉयफ्रेंड के ऊपर आ गयी.

मैंने उत्तेजना में इतनी जोर का झटका दिया कि सारा लंड एक बार में अन्दर चला गया और भाभी चिल्ला उठीं. मैंने पूछा- क्या उनको नहीं पता कि तुम जागती रहती हो और उनको देखती रहती हो?सोनू ने कहा- नहीं, मैं पिछले एक साल से यह सब देख रही हूँ और जब देखती हूँ तो मेरा भी बहुत दिल करता है.

मैंने सोचा, कोई बात नहीं, थोड़ी ही देर में खुद पता चल जाएगा कि क्या सरप्राइज है. आ जा … पहले तो तू मेरे पास आ …”जी …” मैं मेडम के पास जाकर नज़रें झुका कर खड़ी हो गयी।ये क्या है?” मेडम ने एक पर्ची मुझे दिखा कर टेबल पर पटक दी. उसका नाम मैं यहाँ पर नहीं बता सकता लेकिन बिना नाम के कहानी का किरदार समझने में पाठकों को परेशानी न हो इसलिए मैं उसका नाम बदलकर लिख रहा हूँ।उसका नाम नीरू था.

तब मैंने उसकी गोल लंबी आंखों पर एक हल्का सा चुंबन किया, तो वो सिहर उठी. मैं पिछले 10 साल से तड़प रही हूँ और तुम भी पिछले तीन साल से अकेले हो. मैंने कहा- चुदाई?तो उन्होंने अश्लीलता से बोला- हां चुदाई, जो आप करते हो, जो सब करते हैं … लेकिन मेरे नसीब में शायद नहीं है.

बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ जिसमें कई बार तो हमने दिन में और सुबह सुबह ही प्यार किया लेकिन कभी कभी यह प्यार अधूरा रहा क्योंकि अंतिम समय में कोई ना कोई आ जाता था इसलिए।मेरे पति के वापस जाने के बाद अकेली होने के कारण मैं वापस अपनी पढ़ाई पीएचडी की तैयार में लग गई। दीपावली की छुटियों में मेरी ननद प्रीति जैन फिर आई। इस बार वो बहुत चहकी चहकी लग रही थी एवं और बहुत खुश भी लग रही थी. उनके बाल रेशम की तरह काले थे और उनका चेहरा बहुत ही गोरा, सोने की तरह चमकदार और उनका पूरा बदन भी वैसा ही था.

को चोदते हुए सेक्सी वीडियो

वो जोश में सिर्फ गर्दन हिला मना कर रही थी और जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी. फिर मैं जीभ से चुत को पूरी लम्बाई में ऊपर से नीचे तक चाटने लगा वो मदमस्त हो गई. एक बार उसने मेरी गर्ल फ्रेंड को लेकर मेरे इंटीमेट रिश्तों के बारे में पूछना शुरू कर दिया.

वो हंसने लगी और कुछ ही समय के बाद उसने मुझे मेरे घर के आगे छोड़ दिया और वो चली गई. मेरा लंड अभी भी खड़ा था जो भाभी की चूत से टकरा रहा था, मैंने भाभी की पीठ पर हाथ फिराना शुरू किया उनके चूतड़ों को सहलाया, उनके पटों को सहलाया. हिंदी कॉलेज का सेक्सी वीडियोयह कहानी मेरी दोस्त नेहा जी की सहेली की कहानी है जिन्होंने अपने पति के साथ मिलकर चुदाई करवाई.

क्या कमी रह गयी थी … इस साली कुतिया की परवरिश में!मैं दर्द से अधमरी हो गई थी.

मेरी बीवी की भोसड़ी पर एक भी बाल नहीं था और उसकी भोसड़ी पावरोटी जैसी फूली हुई थी. वैसे उससे ज्यादा नशा तुझमें है वन्द्या रानी!इस तरह कह कर वह मेरी नाभि को चूमने लगे और फिर मेरे दूधों के लिए बोले- अभी तेरे चूचे थोड़े कमजोर हैं.

आंटी की चूत चोदने में जो मजा उस वक्त आया वह किसी और चीज में नहीं आ सकता था. मैं भी अब ये जान गई हूं कि मेरे लिए हर एक मर्द की सिर्फ यही चाहत होगी, उसका यही अरमान होगा कि एक बार मुझे पा ले और मेरे साथ एक रात गुजार ले. जल्दी से गीता ने बेल्ट खोली और पहन कर वाणी के ऊपर चढ़ गयी और इतनी तूफ़ानी रफ्तार से धक्के लगाने लगी कि मेरी तो जान ही बाहर निकलने को हो गयी.

ऋतु के बैठने से पहले ही उसने अपना हाथ सोफे पे रख दिया और ऋतु अंजाने में उसके हाथ पे बैठ गयी.

बहुत दिनों तक मैंने पंकज के लंड से अपनी चूत की चुदाई करवाई और मेरी चूत की प्यास हर दिन बढ़ती ही चली गई. वो मुझे इस अवस्था में चोदते चोदते मेरी कमर को पकड़ कर मेरी चूत में लंड घुसा कर बड़े आराम से चोद रहा था. उसने गहरे गले की कुरती पहनी थी … और टाइट ब्रा थी, फिर भी इतने बड़े बूब्स को ढक पाना मुश्किल था.

फुल सेक्सी आदिवासी वीडियोउसका 36-28-34 का सेक्सी फिगर स्किन फिट सिल्क गाउन में साफ़ दिख रहा था. आंटी की चूत को फैलाता हुआ मेरा लंड आंटी की चूत में रास्ता बनाने लगा और कुछ ही पल में एक तगड़े झटके के साथ आंटी की चूत की तलहटी में जाकर बैठ गया.

गोरी लड़की की सेक्सी फिल्म

चूंकि मैं कुर्सी पर बैठा था इसलिए सोनू आराम से मेरे लंड के उभार के ऊपर बैठ गई. दर्द के कारण पहली बार मेरी आँखों से आँसू आने लगे और मैं उसे निकालने को कहने लगी।मेरा रोना देख कर वो थोड़ा रूक गई और मेरे चूचुकों को चूसने लगी।उससे मैं थोड़ी उत्साहित हुई और मेरा दर्द कम हुआ, तो फ़िर से प्रीति ने धीरे धीरे उसको आगे पीछे करना शुरू कर दिया इस तरह धीरे धीरे चुम्बन करते करते उसने कब पूरा डिल्डो जो करीब नौ इंच का होगा, मेरी चूत में पेल दिया. दोनों का एक साथ जोश खत्म हुआ और वे आ कर मुझ से लिपटते हुए बोलीं- सॉरी लेकिन हमारी ये करने की बहुत इच्छा थी और हमारे पति मानते नहीं थे कि किसी औरत की पेशाब इतनी दूर जा सकती है.

उसके बाद हम दोनों बाथरूम में जाकर फ्रेश हुए और नंगे ही एक-दूसरे के साथ चिपक कर सो गए. मैंने अपनी बहन से कहा- बहन, मैं एक बार फिर से तुझे नंगी देखना चाहता हूँ. साथ ही मैं प्रमिला की भी हेल्प कर रहा था, प्रमिला और एकता ऊपर एक दूसरे को किस भी कर रही थीं और एक दूसरे के मम्मों को भी दबा रही थीं.

इतने में तो 4-5 घराती तरफ से लोग गए और बारातियों को बोले कि लड़कियों को क्यों छेड़ते हो, उन लोगों से बातचीत भी हुई. मैं अब पूरी तरह से सामान्य हो गयी थी और बहुत हल्का महसूस कर रही थी. जब कभी कभी वो मेरी चूचियों को भींच कर मुझे जोर जोर से चोदने लगता था, तो मैं चिल्लाने लगती थी.

एक बार कॉलेज के वाशरूम में उसने मेरी चूत के दाने को मसल कर मुझे मास्टरबेट करना बताया था. मैं फिर से गर्म और गीली होने लगी थी और अपनी उत्तेजना में उसके लिंग को बेरहमी से दबाने और जोर जोर से हिलाती गई.

नीरू बहन मेरे लंड से चुद कर खुश दिखाई दे रही थी, मैंने उसकी चूत पर एक बार प्यार से पप्पी ली और फिर उसे वापस पैंटी पहना दी.

हाय मेरे लाल, इतना मज़ा अभी से आ रहा है, अभी तो तूने शुरुआत ही की है. अमेरिका की सेक्सी अमेरिका की सेक्सीअब मैंने उसको सीधा लिटाया और उसके पैरों को किस करते करते और चाटते उसकी चूत तक आया. कुंवारी लड़की का सेक्सी मूवीअब मैं बेड पर लेट गया और वो झुक कर मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. वो मेरे बराबर में लेट गयी और बोली- आमिर … मुझे ज़िंदगी में इतना मज़ा कभी नहीं आया … जितना आज आया है.

पर मैंने नहीं की, तो उन्होंने खुद से कमर पर हाथ लगाकर मुझे दबाया और मेरे टांगों पर नीचे लिपट कर अपनी उंगली चुत की रेखा पर चलाते हुए अपनी नाक भी मेरी चुत में रख दिए.

शायद बाहर बरामदे की खिड़की में से किसी ने मुझे ऐसा करते देख लिया था. उनमें से एक आंटी थोड़ी मोटी थीं, पर उनका फिगर बड़ा कमाल का लगता था. जो लौंडा मेरी गांड में लंड डाले मेरी चुदाई कर रहा था, वह भी मेरी पीठ के तरफ से आगे को हुआ और बोला- एक बार अपना चेहरा दिखा दे.

फिर वो मुझसे बोला- जा … टिश्यू पेपर ला कर मेरी रंडी का चेहरा साफ़ कर दे और ऋतु की गांड से और मेरे लंड से क्रीम साफ़ कर दे. ’मैंने भी उसे मैसेज किया ‘थैंक्यू फॉर कमिंग इन माय लाइफ गुड मॉर्निंग. होटल में सैटल होने के बाद हम लोग नम्रता के परिवार के लोगों से मिले.

जानवर लड़कियों की सेक्सी वीडियो

मैंने उसको किनारे पर खींच लिया और दोबारा से प्रयास किया मगर इस बार भी लंड चूत में नहीं जा पाया. मौका मिले तो मुझे घूर लेता था, मगर जहां वो बात रोक कर गया था, वो बात ना अब तक उसने की थी और ना मैंने. अगली कहानी में भाभी के साथ क्या क्या मजे किए, इस बात को आगे लिखूंगा.

एक अजीब सी खुशी थी जिसको मैं शायद शब्दों में नहीं कह पा रहा हूँ।उसी वक़्त कोमल का मैसेज आया- जानू, आज पहली बार किसी ने मुझे इतना प्यार किया है; आज से मैं तुम्हारी हो गई हूँ.

दस मिनट तक मेरी गांड बजाने के बाद राजिंदर ने मेरे चूतड़ों के बीच में सफेद फव्वारा छोड़ दिया.

राहुल मेरी गांड के छेद में भी उंगली कर देते जिससे मैं उछल जाती। मुझसे अब सहन नहीं हो रहा था. कभी दायें कभी बायें बूब्स को भी साथ में दबा रहा था। फिर एक हाथ को नीचे ले गया और गाउन को धीरे से कमर तक ले आया और उसकी चूत के ऊपर से पैंटी पर हाथ रख दिया जो कि बहुत ही गीली हो रही थी। फिर मैं धीरे से पैंटी के ऊपर से दबाने लगा और कभी चूत में उंगली कर देता था. वैष्णो देवी सेक्सीवह बोला- तो फिर दोस्ती के नाते अब यह भी बता दो कि मैं आपको किस तरह से हैंडसम लगा?उसके इस सवाल पर मैं शरमा गई.

मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी हथेली पर रख दिया, मेरे मुंह से निकल पड़ा- ठीक है, हम दोस्त हैं अमित जी. हालांकि मेरी बीवी सुहागरात को कुंवारी थी, उसकी चूत से भी खून निकला था. उसने मुझसे कहा- आपकी योनि बहुत अच्छी है, कुछ देर और चाटना चाहता हूँ.

मैंने उसके घर का पता पूछा, तो वो पता मेरे घर से ज्यादा दूर नहीं था. कुछ 50-55 जबरदस्त शॉट के बाद मेरा गरम गरम माल उनकी चूत में गिरने लगा.

जैसे ही लंड अन्दर गया, उसने उम्म्ह… अहह… हय… याह… करते हुए एक लम्बी सांस ली और बोली- यस यस चोदो मुझे… आह दोनों मिल कर चोदो.

अब चुदाई तक की स्थिति लगभग बन चुकी थी, पर हमें सेक्स करने के लिए मौका नहीं मिल रहा था. यह सुनते ही मेरी आंखों में आंसू आ गए वह बोला- पगली रो क्यों रहा है मुझे भी रुलाएगा क्या?मैं सुबकने लगा था. मैं भी एकता की चुत पर थूक लगा कर अपना औजार को छेद के अन्दर डालने लगा.

सेक्सी स्टोरीज़ नमस्कार दोस्तो, मैं आपका अरमान लव, आपके लिए एक और हुई अपनी घटना को आपके लिए ले कर आया हूँ. फिर इसके बाद तो उस का हाथ मेरे पीछे तरफ अपने आप मेरी कूल्हों में चलने लगा और उसका लंड भी दोनों चलने लगे.

परन्तु बुर एकदम नई थी, इसलिए मैंने सोचा कि इसे थोड़ा और तड़फ़ाया जाए ताकि पहली बार लंड लेने में इसकी गर्मी इसके दर्द के एहसास को कम कर दे. फिर मैंने भी उनका झूठा पानी पीया।राहुल मुझे बोलने लगे- भाभी, आप कितनी अच्छी हो, मेरा कितना ख्याल रखती हो, और आप कितनी सुंदर हो. जब वो गर्म हो गयी तो मैंने उनकी ब्रा को पूरा खोल दिया।भाभी कहने लगी- तुम तो बहुत तेज हो, सीधे मेरे मम्मे दबाने लगे।मैंने कहा- भाभी आप बहुत खूबसूरत हो और मैं आपको कबसे चोदना चाहता था.

मराठी सेक्सी फिल्म नंगी

एक छोटा सा टेबल और उसके साथ एक स्टूल भी था और अंदर से ही एक अटैच्ड बाथरूम भी था. मैं बिल्कुल हांफने लगी थी, इतना कुछ मेरे साथ आज पहली बार हो रहा था, जिसके बारे में मैं कुछ भी जानती भी नहीं थी. हम दोनों का पूरा शरीर चॉकलेट से चिपचिपा हो गया था, इसलिए हम दोनों बाथरूम में आ गए और शॉवर चालू कर दिया.

थोड़ी देर में भाभी ने पूछा- तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैं थोड़ा खुश हुआ कि चलो आज बात बन सकती है. ”उसकी बात सुन मैं उसकी तरफ घुमा और उसके चेहरे को देखा तो वो अब शांत थी और शायद अपनी बात पर शर्मिंदा भी थी- इट्स ओके … पर हुआ क्या जो इतना गुस्सा आया है तुम्हें?ऐसा कुछ नहीं है … बस मेरा एक बॉयफ्रेंड है जो आज मेरे साथ मूवी देखने आने वाला था … पर देखो ना अब तक नहीं आया … जबकि उसने मुझे कहा था कि तुम थिएटर के अन्दर चलो, मैं दस मिनट तक आ जाऊँगा और अब उसका फ़ोन भी बंद आ रहा है.

मेरी चूत में वाइन डालकर पीने के बाद अब निक भी खड़े होकर तैयार होने लगा.

हम जो सजती संवरती बनती ही इसीलिए हैं कि मर्द लड़के हमें देख कर आहें भरें और हमारे लिए पागल हों. पूरे मन से दिल से अपनी मम्मी की सौगंध खाकर कहती हूं, गॉड की कसम खाकर कहती हूं कि एक शब्द भी झूठ नहीं लिखा है. हम दोनों एक दूसरे से लिपट कर लुढ़क गए और कब नींद लगी कुछ होश ही नहीं था.

उसके बाद भाभी मेरे पास बेड पर वापस आ गई और मेरे लंड और मेरे मुंह से अपनी ब्रा और पेंटी हटाकर कहने लगी कि अब इसकी क्या ज़रूरत है मेरे राजा … जब मैं खुद तुम्हारे पास हूँ तो …भाभी ने अपने अंडरगार्मेंट्स उठाकर एक तरफ फेंक दिए और मेरे होठों पर किस करने लगी. मेरे लंड को देखते ही भाभी एकदम से बोली- राज! तुम लगते तो छोटे हो परंतु तुम्हारा लंड इतना बड़ा कैसे हुआ?उन्होंने लंड को अपने हाथ में पकड़ा और बहुत देर तक उसको आगे पीछे करके देखती रही. भाभी मेरी ओर देखने लगीं और बोलीं- अब किसी मुहूर्त का इंतजार करना है?बस फिर क्या था … मैंने लौड़ा उनकी चिकनी सी चुत पे रखा और घिसने लगा.

मैंने फोन उठाकर हैल्लो कहा तो उधर से आवाज़ आई- रेहान …मैंने कहां- आप कौन …उसने पूछा- मैं संजीव, तुम कहां पर खड़े हो?मैंने कहा- मैं यहीं मेट्रो लाइन के नीचे ऑटो वाले के पास खड़ा हुआ हूँ।फिर फोन अपने आप कट हो गया.

बीएफ व्हिडीओ सेक्सी बीएफ: अगले ही क्षण अमित ने अपने हाथ से लिंग को योनि द्वार पर लगाकर अपना पूरा भार मेरे शरीर पर डाल दिया और लिंग योनि में प्रवेश करता हुआ, उसको फैलाता हुआ अंदर तक जाकर ठहर गया. उसने मेरे लंड को लगभग खींचते हुए अपनी चूत में घुसेड़ लिया और लगी धक्के लगाने.

‘पद्मा दीदी, आप लंड को संभालो मैं अपनी चूचियां और चूत इनसे मसलवाती हूँ, फिर हम दोनों जगह बदल लेंगी. जैसे ही कमर से नीचे खिसकाया, उसका बहुत कड़क लंबा हिलता हुआ लौड़ा मेरी आंखों के सामने आ गया. मैंने रिंकी का बैग खोला और देखकर दंग रह गया, उसमे मेरे कपड़ों के साथ साथ उसकी ब्रा और पैंटी भी थी.

मैं बोला- देखो उसको भी पति का सुख मिल जाएगा और आपको भी कंपनी मिल जाएगी.

वहां से गाड़ी सीधा राजू के पान दुकान में रुकी, मदन ने कुछ ज्यादा ही पी ली थी, तो मैंने झा जी से कहा आप दोनों मेरे घर जाइए. बोली- छोड़ो मुझे, क्या कर रहे हो, कोई देख लेगा!मैंने कहा- आह्ह … अब इस वक्त इतने अंधेरे में कौन देखेगा. मैं भी धीरे धीरे अपने झूठे विरोध को छोड़ कर उसका साथ देने लगी थी और उसके सीने पर हाथ फेरते हुए उसकी शर्ट के बटन खोलना शुरू कर दिए.