बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म

छवि स्रोत,baap bete सेक्सी स्टोरी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी नागपुर की: बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म, तभी उसने नीचे ही नीचे मेरी पैंट का हुक खोल लिया और मेरी पैंट को नीचे कर दिया.

एक सेक्सी बीपी व्हिडीओ

जब मैंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी तो उसने सोचा होगा कि मैं नींद में हूं. एक्स एक्स सेक्सी विदेशीभाभी ने टांगें हवा में उठा दीं तो मैंने उनकी चड्डी उतार कर फेंक दी और उनकी चूत पर हाथ लगा कर देखा.

आंटी जी ने उनके लिए खाना बनाया और मैंने उन दोनों से कुछ देर बात की. राजु सेक्सीये देख कर उसने स्माइल पास कर दी और इठलाते हुए अन्दर मम्मी के पास चली गई.

बारी बारी से मैं उस जवान लड़की के स्तनों को मुंह में लेकर चूस रहा था.बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म: मैंने हां कह दिया तो अंकल ने कहा ठीक है … तुम मेरे साथ चलो और मेरे साथ ही वापस आ जाना.

अब आगे देसी नंगी भाभी की कहानी:उसने मेरी आँखों को देखा और बोला- अरे भाभी, रो क्यों रही हो?तुम इतना दर्द जो दे रहे हो।”सॉरी भाभी!” कहते हुए रोहित मेरी आँखों से निकलते हुए पानी को अपनी जीभ पर ले लिया और बोला- भाभी, आपके जिस्म के एक-एक अंग के रस को चखना चाहता हूं, इसलिये तुम्हारी चूचियों को मैं कस कर मसल रहा था.अब मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू किया और धीरे धीरे उसकी चूचियों को सहलाता रहा.

सेक्सी फिल्म हिंदी के - बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म

मैंने ऊपर लिखा भी है कि इससे पहले भी तीन लोग मेरी जवानी का मजा चख चुके थे.मैंने ध्यान से देखा तो पाया कि लड़की थोड़ा मोटी सी थी, उसने एक टाईट ड्रेस पहनी थी, जो घुटनों तक ही थी.

कुछ देर लंड सहलाने के बाद मैंने उसके मुंह में लंड देना चाहा और उसे बैठने को कहा. बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म मेरा मन कर रहा था कि अगर मेरे हाथ फ्री हो जायें तो मैं जिया की सेक्सी कोमल गांड को दबा कर मजा लूं.

दीदी बोलीं- उसमें कहने की क्या बात है … मैं तो खुद तुमसे कहने वाली थी कि यहीं रुक जा.

बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म?

उन्होंने मुझसे पूछा- क्या तुमने कभी सेक्स किया है?मैंने कहा- हां किया है. पूरन अब मेरी कमर को पकड़कर और आसानी से मुझे चोदने लगा। पीछे होते हुए मैं थोड़ी टेढ़ी हो गई. उसके जाने के बाद मैंने बाथरूम में जाकर मुठ मारी और बुझे मन से वहां से चला आया.

तो भाभी ने जैसे ही मेरी पैंट उतारी वैसे ही मेरा लंड उछल कर बाहर आ गया. मैंने बोला- मादरचोद, तुझको मुझे अपनी रखैल बनाना है रंडी साली …साथ में मैंने दो चार गाली मैसेज कर दीं. उससे मैंने अपनी गांड की प्यास शांत कराई?दोस्तो, मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूं। बहुत दिनों से मैंअन्तर्वासना पर सेक्सकहानियों को पढ़ रहा हूं.

मैंने अल्पना की मॉम से उसको रात में मेरे कमरे पर रुक कर पढ़ने के लिए परमीशन मांगी, तो उन्होंने दे दी. मैं उसकी आंखों में वासना से देखते हुए उसके एक निप्पल को चाटने लगा और काटने भी लगा. मैं सोच नहीं पा रहा था कि उसके साथ बात के सिलसिले को शुरू कहां से करूं.

उनके चूतड़ों से थोड़ा खून आ रहा था … और गांड पर जूते के निशान साफ़ साफ़ दिख रहे थे. उसकी सेक्सी फिगर देख कर मेरा लंड तन गया और मैं अपनी पैंट की जिप से उसको बाहर निकालने की कोशिश करने लगा.

हम कुछ ही दूर चले थे कि आकाश का लंड मेरी गांड पर लगता हुआ मुझे अलग से महसूस होने लगा.

फिर मेरी चुत से लंड निकाल कर मेरे मुँह में लंड पेल दिया और धक्का मारने लगे.

मेरी बीवी ऊपर से पूरी नंगी थी और मेरे मुँह में उसकी एक चुची दबी हुई थी. आप कौन हैं?मैंने बोला- तू बस नंगी हो कर ऊपर छत पर आ कुतिया … और साथ में दारू की बोतल भी ले आना … जो तू कल पी रही थी. मुझसे रहा नहीं गया और मैंने एक स्टूल लगाकर उनके कमरे के रोशनदान से अन्दर झांकने की कोशिश की.

मेरी अंग्रेजी कमजोर थी लेकिन अब मैं धीरे धीरे पढ़ कर समझ लेती थी, सो मैंने उसे धीरे धीरे पढ़ना शुरू किया. उसके बदन से चिपकते ही मेरे लंड से फूट फूट कर वीर्य की पिचकारी मौसी की चूत में लगने लगी. उसी दोपहर में पापा ने मां को अपने ऊपर लेकर उनकी गांड को सहलाने ओर दबाने लगे.

तभी दस दिन बाद अचानाक चाची के मायके से फ़ोन आया कि उनकी मां की तबियत फिर से खराब हो गई है और चाची को मायके जाना होगा.

फिर मेरे पति ने मुझे व्हिस्की का ग्लास दिया और बोले- लो डार्लिंग पी जाओ. कुछ देर बाद बाद उसने जोर से चोदना शुरू कर दिया और अपना सारा रस मेरी चूत में भर दिया. उनकी हिलती कमर के अहसास से मैं समझ गया कि ऐश्वर्या की चुत को भी लंड का इंतजार है.

बहुत ही मस्त टेस्ट था उसकी चूत के पानी का। वो सिसकारियां लेते हुए मेरे सिर को अपने चूत पर दबा रही थी।कांति- आह्ह … ओह्ह … स्स्सश … सीसी … आह्ह … ऐसे ही … ओह्ह … और चूसो … आह्ह … और जोर से।ऐसे ही सिसकारते हुए वो अचानक ही झड़ गयी. अंकल ने मेरे एक हाथ को पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया और बोले- तुम भी कुछ करो न!मैं भी बिना कुछ बोले उनके लंड को सहलाने लगी।कुछ ही देर में उनका लंड पूरी तरह से खड़ा हो गया। मैं जोर जोर से उसे हिलाने लगी. तब तक मम्मी भी आ गईं और हम तीनों शादी में जाने के लिए तैयार हो गए थे.

अपनी आंखें बंद करके मैं 5 मिनट तक भाभी को अपनी बांहों में लिए खड़ा रहा.

उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और फिर आँखें बंद करके सिसकारियां लेते हुए झड़ गयी. मां बोली- कैसा लग रहा है?मैंने मुस्कराकर कहा- बहुत अच्छा मां।मां मेरे पास बैठ गयी और बोली- देखा, जबचूत में आग लगती हैतब कोई कुछ नहीं कर पाता.

बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म आपने मेरी कॉलेज गर्ल Xxx स्टोरीशादी में पहली बार लंड का मजापढ़ी होगी. उसकी निगाहें भी एक दो बार मुझसे मिली थीं, तब मैं अपनी निगाहों को झुका लिया करता था.

बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म अब वो जोर जोर से मेरे बूब्स को दबाने लगे और नीचे की ओर मेरे पेट को चूमते हुए बढ़ने लगे. पहले तो वो लंड चुसाई के लिए मना कर रही थी, पर जब मैंने उससे कहा कि कल तो शुभम के लंड को बड़ी मस्ती से चूस रही थीं.

कुछ पल बाद उसने रूम सर्विस को फोन करके दो बियर मंगा लीं और कुछ स्नेक्स भी बोल दिया.

पाकिस्तान में जाट कितने हैं

उसने अपने हाथों से अपने बदन को छुपाने की कोशिश की और गुस्से से बोली- तुम यहां क्या कर रहे हो?मैंने भी अन्जान बनते हुए कहा- मेरी पेन बेड के नीचे गिर गई थी. कभी उसकी गांड को भींच देता था और कभी उसको किसी कोने में खींच कर उसके होंठों को चूस लेता था. मैसेज आने के बाद ही उनको मैंने ओके कहा और फिर दस मिनट बाद उनके पास पहुंचने का वादा किया.

चूंकि उसने शुभम का लंड भी मुँह में लिया था, तो इससे ये पक्का था कि पक्की लंड चूसने वाली रांड है. लेकिन दोस्तो, क्या करूं मैं भी एक मर्द हूँ और कहते है ना कि ‘Men will be Men’ वही इस सब सेक्स कहानी की मुख्य भूमिका बनी. चाची ने मुझे कई बार चूमा और मैंने भी बदले में उन्हें कई बार चूमा। चाची की चुदाई के बाद हम दोनों बहुत खुश थे.

और पूरी तरह नींद नहीं हो पाने के कारण मैं थकी हुई भी महसूस कर रही थी.

मेरी ननद बोली- इन पर तो बहुत असर होगा और बिजली मुझ पर गिरेगी वो भी रात भर मैं परेशान ही रहूँगी. पर जब तेरे घर से उसके मायके छोड़ने के बहाने से लेकर आया था, तब मना भी तो कर सकती थी. पर तब तक तरल और गर्म गर्म वीर्य मेरे जीभ में आ चुका था और गले के अन्दर उतरना शुरू हो चुका था.

जैसे ही मोहित अंकल ने मुझे घोड़ी बनाया, तो पूजा आंटी मेरे नीचे आ गईं और मेरा लंड चूसना जारी रखा. बढ़ते बढ़ते वासना इतनी बढ़ गयी कि मेरा मन मां के बारे में सोच कर मुठ मारने का करने लगा. उसके जाते ही सबसे पहले मैं वाइन के दो पैग बनाए और हम दोनों ने एक एक पैग उठा कर चियर्स बोला और घूंट लगाने लगे.

मैं अपने आप को समझा नहीं पा रही थी कि मैं आखिर ये किस राह पर आ गयी हूं. मैं हर बार आगे होने की कोशिश करती और आशीष हर बार आगे होकर धक्का मार देते थे.

अब मैं अपनी सास की चुदाई कहानी सुनाने से पहले आपको बता दूं कि मेरे घर में मेरी सास, ननद और हम पति-पत्नी ही हैं. मैं कुछ बोलती उससे पहले ही अंकल कि आवाज आई- सुमीना तुम नहा लो, मैं तुम्हारे कपड़े धुलवा देता हूं. रत्ना- सुंदर आओ … लो ये ठंडाई पियो … जो चम्पा ने खास तुम्हारे लिए बनाई है.

तो जेठानी जी बोलीं- बोल बहनचोद गुलामी करेगा इस लंड की?समीर बोला- हां बिल्कुल करूंगा, मैं तो अब से दीपक जी का ही गुलाम हूँ.

उसकी गान्ड काफी मुलायम थी और गांड का छेद गुलाबी था। मैंने उसके होल पर मुंह रखा और चाटने लगा. मेरे पति भी ऐसी जॉब करते हैं कि कई बार तो 15 दिन तक भी बाहर ही रहते हैं. दूसरी औरत बोली- तो जंवाई बाबू यहीं आपके साथ होली मनाएं, जुग जुग जीवें.

मैं यह भी भूल चुकी थी कि मैं शादीशुदा हूँ और किसी गैर मर्द की बाहों में अपनी चूत की प्यास बुझा रही थी. सर बोले- ठीक है, लेकिन फिर मुझे क्या मिलेगा?मैंने कहा- जो आप कहोगे वो मैं सब कुछ करूंगी.

बस वो पागल होने लगी और मेरे सर पर हाथ रख कर मेरे मुँह को अपनी चूत की ओर धकेलने लगी. मैंने उसको वहीं किचन स्लैब पर टिका लिया और उसकी चूत को चोदते हुए उसको लिप किस करने लगा. उसने कहा- चलिए कोई बात नहीं, आज तो बिजी नहीं हैं न आप?मैंने धीरे से कहा- बिजी हूं.

ब्लू पिक्चर दिखा दीजिए

जब मैंने पाया कि भाई मेरी बीवी पर लाइन मार रहा है तो मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

ऐसे अचानक अपनी गांड पर प्रहार से शिप्रा बिल्कुल कंट्रोल से बाहर हो गई. फिर मैंने अंजलि को अपनी बांहों में खींचा, तो उसने बिल्कुल भी विरोध नहीं किया. तू सबको एक एक बार अपने बदन का मजा दे देगी, तो तेरे पति का जल्दी जल्दी प्रमोशन होने लगेगा.

सच में वो ऐसी ही एक कयामत और गदरायी हुई एकदम गोरी अंग्रेजन जैसे हंसिका मोटवानी जैसी माल है. मेरे होंठों को भाई के होंठों का स्वाद मिला तो मैं मदमस्त हो गई और मैंने खुद को उनके हवाले कर दिया. मुंबई कि सेक्सी विडिओआप सभी को मेरी बहन की चुदाई कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें.

कहानी शुरू करने से पहले मैं अपने बारे में कुछ और जानकारी आपको दे देता हूं. फ़िर मैंने उससे 5 दिन बाद फ़ोन करने का कारण पूछा, तो उस सेक्सी औरत ने बताया कि उसके पति और बच्चे घर ही थे.

जैसे ही मैंने दरवाज़ा खोला, तो देखा कि उनकी कुर्ती थोड़ी सा ऊपर उठी हुई है, जिसकी वजह से उनकी कमर दिख रही थी. हिन्दुस्तानी Xxx कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं कुछ अपनी मां के बारे में बता देता हूँ. जितनी हड़बड़ाते हुए वो आया था उससे कुछ न कुछ गलती होने का अंदेशा था.

ऐश्वर्या- यार तुम तो बहुत फास्ट निकले!मैं- आज का जमाना बहुत फास्ट है मैडम. उनका मोटा लम्बा 8 इंची लम्बाई वाला सांवला लिंग मेरे सामने तन कर खड़ा था. मेरे दिमाग की बत्ती जल उठी और मैंने कहा- अरे आप … मुझे उम्मीद ही नहीं थी कि आप फ़ोन करेंगी.

[emailprotected]डर्टी सेक्स गर्लफ्रेंड स्टोरी का अगला भाग:सहेली को दूसरी के बॉयफ्रेंड से चुदाई की तैयारी.

फिर मैंने लता आंटी को कुतिया बनाया और उनकी चुत में पीछे से लंड डालकर उनको चोदने लगा. आनंद और उन्माद में मेरी आंखें बंद होने लगीं और मैं मौसी के सिर पर बालों में सहलाता हुआ अपने लंड को चुसवाने लगा.

चाची की चुदाई 2-3 मिनट में ही निपट जाने से मुझे बेहद शर्मिंदगी महसूस होने लगी. लेकिन इसके बावजूद मुझे कुछ कमी लग रही थी।हालांकि मुझे मेरी चूत बजने का बड़ा मजा आया।दूसरी रात भी आयी. अंकल ने मुझसे कहा- मेरा ऑफिस का टाईम दस से चार होता है … दस बीस मिनट का फर्क पड़ेगा, उसे तुम मैनेज कर लेना.

मौसी को इस तरह लंड के लिए तड़पते देख कर मुझे भी उन पर दया आ गयी और मैंने उनकी टांगों को फैला कर उनकी चूत पर लंड को सेट कर दिया. आंह तू तो बड़ी मस्त रांड है मादरचोद … ले हरामन पूरा चूस भैन की लौड़ी. मैंने अपनी बीवी के मुँह में मुँह डाल दिया और एक जोर का धक्का देकर लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म अब मैं पेशाब पीने के लिये तैयार होने लगा तो वो बोला- वॉशरूम में नहीं, यहीं बेड पर ही पीना होगा तुझे. उनके खड़े होते ही दूसरा कपड़े उतार कर मेरे ऊपर आ गया और मेरी चूत में अपना लंड डाल कर धक्के लगाने लगा.

योनि बताओ

उसकी चूत काफी गीली हो चुकी थी और उसकी चूत का पानी काफी नमकीन सा था।दस मिनट तक उसकी चूत चाटने के बाद उसका शरीर अकड़ने लगा और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया। मैं उसकी चूत का सारा पानी पी गया।फिर हम अलग हुए. मैंने प्रीति को अपने आगोश में ले लिया और एक बार फिर से उसके होंठों का रस पीने लगा. बहुत कुरेदने पर भी उन्होंने अपने मन के किवाड़ नहीं खोले, मगर आंखें जरूर पानी से भर गयी थीं.

मैंने दीदी से कहा- ये लो आपका सामान तैयार है, इसको अब आप ही संभालो. जिसकी वजह से मैंने फिर एक गहरी कामुक साँस ली।उसने मेरी ओर देखा, मैंने भी उसे देखा और हम दोनों एक-दूसरे को देख कर मुस्करा दिए। उसने फिर से मुँह मेरी चूत पर लगा दिया और अब जीभ निकालकर चूत के चारों ओर चाटने लगा. हिंदी चूत सेक्सी चूतआज पहली बार मेरी चूत में कुछ हलचल हो रही थी। वो डर था या किसी लड़के से पहली बार मिलने से होने वाली उत्सुकता का असर था ये तो नहीं पता, लेकिन ऐसा अहसास मुझे पहले कभी नहीं हुआ था.

मेरा मन भी हो गया था इस चुदाई में शामिल होने का!दोस्तो, मैं आपकी मस्तानी पीहू फिर आपके सामने हाजिर हूँ अपनी थ्रीसम सेक्स हॉट स्टोरीज लेकर!आप सभी को मैंने पिछले भागसहेली को दूसरी के बॉयफ्रेंड से चुदाई की तैयारीमें बताया था कि जब मैंने सोना की चुदाई सनी से होते हुए अल्पना को दिखाई थी, तो अल्पना को सनी का लंड पसंद आ गया था.

जैसा कि आपने मेरी इस कहानी के दूसरे भागकॉलेज गर्ल चुदी पड़ोसी अंकल से- 2में पढ़ा कि मैं अंकल के घर पर रुकने वाली थी क्योंकि पापा तीन दिन बाद आने वाले थे. मैंने ऐश्वर्या से कहा- सामने स्क्रीन पर अलग-अलग साइज के हथियार दिखेंगे.

वो निकाल रहा था। मगर आप यहां कब आईं?नेहा अभी भी गुस्से में थी और शरमा भी रही थी।मैंने कहा- आप इतना शरमा क्यों रही हो? आप आराम से मेरे आगे कपड़े बदल सकती हो। श्वेता और चाची भी मेरे आगे ही अपने कपड़े बदलती हैं. बेड पर देखा कि ननदोई जी दीपक और जेठानी जी माया दीदी दोनों के हाथ बेड के साथ बंधे थे और दोनों की टांगें उनके सिर के ऊपर से होते हुए बेड के सिरहाने से बंधी हुई थीं. गुलाबी रंग का सलवार सूट पहने शैली रोज की अपेक्षा सुन्दर लग रही थी, शायद ब्यूटी पार्लर होकर आई थी.

मैंने उसको पीछे के रास्ते से घर में एंट्री करवायी ताकि किसी को शक न हो.

शिखा ने ये महसूस कर लिया था कि मैं उनके दूध को चूस रहा हूँ, लेकिन वो अभी भी कुछ नहीं बोल रही थीं. वीर्य छूटने के बाद भी मैं सहज सहज से मामी की चूत में लंड को अंदर बाहर करता रहा. शायद मैं अपनी पूरी जिंदगी भर भी लगा रहता तो मैं कभी, ऐसा माल सैट नहीं कर पाता.

नैनीताल सेक्सीमैंने एक बैग में तीन चार जोड़ी कपड़े रखे और दीदी के घर जाने को रेडी हो गई. उन्होंने कुछ देर बैठने के बाद मुझे अपनी गोदी में बैठने के लिए कहा … मैं झट से बैठ गयी.

सेक्सी वीडियो गाना में

वो सब मुझे रोमांटिक हीरो के नाम से ही बुलाती हैं इसलिए मैंने अपना नाम अब रोमांटिक हीरो ही रख लिया है। दरअसल ये नाम मुझे मेरी एक ख़ास ने दिया था. अच्छी से अच्छी चूत और गांड की मां चोदने के लिए एकदम परफेक्ट लंड है. आपको यह मेरी फर्स्ट टाइम सेक्स स्टोरी हिंदी में कैसी लगी, आप मुझे ईमेल जरूर करें.

सब कुछ इतना जल्दी में हुआ कि कब हमारे बदन से कपड़े उतर गए, हमें पता भी नहीं चला. हालांकि मैं पहली बार चुदाई नहीं कर रहा था, फिर भी मुझे बहुत मजा आ रहा था. वो बोला- क्या बात है, पूरा चूसना है या नहीं?मैं बोला- हां पूरा ही चूसना है लेकिन तुम्हारा बहुत बड़ा है और अंदर नहीं जा रहा है तो फिर क्या करें?फिर उसने अपने लंड पर थूक लिया और फिर पूरा चिकना करने के बाद मुंह में डालने लगा.

मैंने कहा- अरे चाची, ये क्या किया?चाची ने कहा- अरे मेरे से सहन ही नहीं हुआ और मेरी पेशाब निकल गयी. हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूमने लगे थे और हमारे बदन भी एक दूसरे को रगड़ रहे थे … इसलिए मेरा लंड टाइट हो रहा था. मैंने अपनी उंगली पर नारियल का तेल लगा कर अच्छे से उसकी बुर पर लगा दिया और उसकी बुर के ऊपर जहां से वो पेशाब करती है, उस पर उंगली से रगड़ने लगा.

नेहा- मुझे नंगी कर दीजिये और जो देखना हो देख लीजिये … मेरा सब आपका है जान. पांच मिनट बाद वो बोली- प्लीज़ मैं अब और नहीं रुक पाऊंगी … मेरे साथ ही मेरे अन्दर आप भी लंड झाड़ लो … मैं आपका वीर्य अपनी चूत में लेना चाहती हूँ.

तुम मेरी बात मान ही नहीं रही हो तो यहां रह कर करना भी क्या है?फिर वो बोली- ओके, अपना ध्यान रखना.

उसने कहा कि लेटेस्ट मूवी है और मुझे पसंद आयेगी और पसंद न आये तो वापस कर दूंगा. फुल एचडी सेक्सी जबरदस्तीउस दिन के बाद से जब घर में दीदी नहीं होती थीं, तब मैं बिना दुपट्टा के या खुले गले के टॉप या कुरती पहनती थी, जिससे उसको मेरी दूधिया क्लीवेज साफ़ दिखती थी. सेक्सी करेंगे सबका स्वागत सॉन्गहमारे बीच में सिर्फ एक लड़का अरबाज था और बाकी बहुत सारी लड़कियां थीं. वो सिसकारियां लेते हुए बोली- बस ऐसे ही आह्ह … हां… आह्ह ऐसे ही करो.

वो सुबह सुबह एक जालीदार कुर्ते में घूमती रहती थी जिसके अंदर से उनकी ब्रा साफ दिखती रहती थी.

उसके मम्मों पर ब्राउन कलर के अंगूर के दाने के बराबर निप्पलों को अकड़ा हुआ देखकर बिना चूसे कोई रह ही नहीं पाता. मुझे अब चूत की तलब बहुत सताती है इसलिए आजकल मुठ मार कर ही काम चला रहा हूं. मैंने उसको और जोर से अपनी बांहों में भींच लिया और उसकी चूत में जोर से उंगलियां अंदर घुसा दीं.

उन्हें भी डर था कि सब उनके पहचान वाले हैं … कोई कुछ उल्टा सीधा अर्थ न लगाने लगे. मैंने उसी पल सनी का मोटा लंड पकड़ा और उस पर लिक्विड चॉकलेट लगा कर अपने मुँह में लेकर चूस दिया. अमित ने मुझे इशारा किया, तो मैंने शिखा आंटी को अपने लंड के ऊपर ले लिया.

लक्ष्मी सेक्स वीडियो

कुछ ही देर में भाभी की चूत पूरी तरह से पिघल गई और लावा उगलने लगी थी. दीपक जी तो अपनी लुंगी संभाल कर वहीं रखे स्टूल पर बैठ गए और जेठानी जी भी फटाफट खड़ी हो गईं. बहुत मजा आता है सेक्स में! लेकिन उससे मेरा झगड़ा हो गया और मेरी चुदाई बंद हो गयी.

जल्द ही उन्होंने अपनी पूरी रफ्तार पकड़ ली और दनादन मेरी चुदाई शुरू कर दी।मैं भी आँखें बंद किये हुए लंड से चुदने का पूरा मजा ले रही थी। उनकी चुदाई मैं ज्यादा समय तक सह नहीं पाई और जल्दी ही झड़ गई। मुझे पहली बार झड़ने का असली मजा मिला.

कुछ देर एक साथ दोनों छेदों में लंड अन्दर बाहर करने के बाद शिखा ने दोनों लौड़ों को झेल लिया था.

थोड़ी देर मेरा लंड चूसने के बाद वो मेरे ऊपर की तरफ आ गई और किस करने लगी. वो अपनी पूरी जीभ निकालकर मेरी चूत को चाट रहा था। फिर उसने मेरी चूत को थोड़ा और फैलाया जिससे मेरी चूत का छेद उसे साफ़ दिखने लगा। उसके बाद उसने अचानक से अपनी जीभ को नुकीली करके मेरी चूत के छेद में घुसा दिया. पैरों की सेक्सीमैंने उनको रोका और अपना लंड चूत से निकाल कर गांड के छेद पर रख दिया.

फिर उस लड़के ने मुझसे मेरी बॉडी देखते हुए पूछा- आप जिम जाते हैं क्या?तो मैंने उसको बताया- हां मैं एक ट्रेनर हूं. मैंने हिम्मत की और सीधे जाकर आंटी के गाल पर किस कर दिया और उनकी चूचियां मसलने लगा. उसकी गुलाबी रंग की चूत कई महीनों से चुदी नहीं थी। पैरों के नीचे से हाथ ले जाकर मैंने उसके बूब्स पकड़ लिए और मजबूती से उसके बूब्स पकड़ कर उसकी चूत चाटने लगा।वो मछली की तरह तड़पने लगी। थोड़ा थोड़ा रुक रुक कर मैं अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर तक डाल रहा था। उसकी चूत हल्का हल्का पानी छोड़ रही थी.

बार बार धक्का लगाते ही लंड इधर उधर फिसल जाता और गुड़िया की हल्की चीख निकल जाती. जब उसने अपने पति के जाने के बारे में बताया तो इस पर मैंने कहा- इसीलिए आपने मुझसे वो कलेक्शन मंगवाया था.

आखिर में मैंने उसे कुछ महंगा ब्रांड दिखाया, तो उसने एक ब्लैक कलर की ब्रा पैंटी का सैट पसंद कर लिया.

मैंने कहा- इतनी जल्दी हो गया तुम्हारा?वो बोली- मैं पिछले तीन दिन से आपके लंड से चुदवाना चाह रही थी लेकिन आपने मेरी बुर को अधूरा छोड़ दिया. चूंकि मुझे भी जींस उतार कर लैगी पहननी थी, तो मैंने कहा- ठीक है, पहले लैगी दो. मैं बोली- इसका क्या करोगी दीदी?दीपक, फ़रज़ाना रवि और समीर चुपचाप हमें देख रहे थे.

सेक्सी ब्लू वीडियो भोजपुरी में फिर स्नेहा ने उस लड़के को हटाया, तो रिया दी बोलीं- समीर, अपनी बहन के पास जाओ. जब मैं घर के अन्दर जाने लगी, तो वो बोले- सुमीना, किसी से कुछ मत कहना.

फिर रोहन ने मेरे बदन पर बची हुई मेरी स्कर्ट भी उतार दी और अपनी पैंट उतार कर नंगा हो कर मेरे आगे खड़ा हो गया। उसका लंड मैंने देखा तो अंदर ही अंदर खुश होने लगी. सुभाष बोला- ले जा इसे अपने क्वाटर में अभी और बाकी नौकरों के साथ अपना अपना इनाम ले लो. जिया ने मेरी पैंट को नीचे सरका दिया और मैं केवल अब अंडरवियर में रह गया था.

कुत्ते और लड़की की वीडियो

कुछ देर बाद जो लौंडा मेरी बहन की चुत में लंड डाले हुए था … वो तेजी से रानी को चोदने लगा. मैंने कहा- कैसे?उसने कहा- इस माल को जिसको हमने रात में बजाया, उसे लेकर अगले महीने मेरे बंगले पर आ जाना. फिर मैंने सोचा कि यहां खड़े होकर बोर होने से अच्छा है कि दुकान में जाकर कुछ टाईम पास कर लूं.

जब मैंने लंड को आगे पीछे चलाना शुरू किया तो उसकी बुर से निकला खून मेरे लंड पर लग कर बाहर आने लगा. दिल तो कर रहा था कि चूतड़ों को खा जाऊं। चूतड़ों का बहुत अच्छे से मज़ा लेने के बाद मैंने मामी जी की गोरी चिकनी पीठ को एक बार फिर से चाटा और फिर मामी जी को पलट दिया।मामी जी को पलटते ही मामी जी अब वापस मेरे सामने आ चुकी थी। अब मामी जी के बाल खुल चुके थे। अब मुझसे सब्र नहीं हो पा रहा था.

मैंने पूछा- क्यों? उसका देर तक नहीं चला था … इसलिए?वो बोली- तुम्हें जब सब मालूम है तो क्यों पूछ रहे हो.

फिर सर ने माउथ गैग निकाला और अपना 8 इंची लंड मेरे मुंह में दे दिया. मौसी बोली- लाइट क्यों बंद कर दी?मैं- ऐसे ही मां। (मौसी को मैं मां ही कह कर बुलाता था). चलते हुए मैं रिसेप्शन से गुजरने लगी तो मैनेजर ने मुझे आवाज दी- अरे मैडम, जरा सुनिये!मैं चल कर उसके पास गयी तो वो मुझे देख कर मंद मंद मुस्करा रहा था.

ये हमारे लिये सब कुछ करेगा लेकिन इसकी शर्त है कि ये तेरे साथ सुहागरात मनायेगा. जब मैं चाय नाश्ता लेकर गेस्ट रूम में पहुंची, तो मैंने देखा कि माया दीदी मेरे भाई का लौड़ा चूस रही थीं. मैं- अच्छा प्रॉमिस करो, जो मैं कहूंगी तुम मानोगे!सनी- प्रॉमिस जान … बोलो क्या करना है?मैं- जब होगा, तब बता दूंगी.

उधर भी मुझे सना को चोदने का मौका नहीं मिल पा रहा था बस हम दोनों दिन भर कैरम खेलते रहते थे.

बीएफ ब्लू सेक्सी हिंदी फिल्म: मौसी भी मस्ती में बड़बड़ाते हुए कह रही थीं- आहन … उन्ग्ग … ओह … और ज़ोर से काट मेरे निपल्स को … आह मुझे मज़ा आ रहा है. उसके सामने मैं बीवी का बहुत ख्याल रखता था, ताकि उसको लगे कि मैं अच्छा और देखभाल करने वाला पति हूँ.

गोरे गोरे चूतड़ और मांसल जांघों के बीच मौसी की चूत और गांड़ का छेद चमक रहे थे. इसके बाद चाची सीधी खड़ी हो गयी और फिर हम दोनों बहुत जोर से खिलखिला कर हंस पड़े. दोपहर में अपने घर पर, या किसी रेस्ट हाऊस में, या फ्रेंड के खाली घर में, या किसी वीराने में, या किसी होटल के आलीशान कमरे में अपनी कीमत सूद समेत वसूल कर लेते हैं.

फिर शिप्रा मुझसे बोली- सर मुझे वजन कम करना है और थोड़ा फिगर भी अच्छा हो जाए बस.

इस पर सनी ने लिखा- मैं तो तुम दोनों को एक साथ …मैं उसकी इस आधी अधूरी बात से गर्मा गई और लिखा- एक साथ क्या … सनी पूरी बात लिखो न!सनी- तुम दोनों को एक साथ एक ही बेड पर चोदना चाहता हूँ. गाँव में एक दिन लुकाछिपी खेलते हुए एक लड़के ने मेरी माँ की चूची मसल दी. लेकिन यह क्या … अंडरवियर में हाथ डालते ही जैसे मुझे जोरदार करंट लगा.