इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,मराठी में सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

अनोखी सेक्सी: इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स, ” इतना कहकर मैंने नाज का बुर्का और घाघरा उसकी कमर तक उठा दिया और उसकी बुर पर हाथ रख दिया.

सेक्सी पिक्चर हिंदी वाला

कुछ साल पहले मेरे साथ एक रोमांटिक घटना हुई थी, जिसे मैं यहां गांड फाड़ चुदाई कहानी में लिखने जा रहा हूँ. दामाद की शायरीथोड़ी देर बाद जब वो अपनी गांड उठा उठाकर मेरे धक्कों का जवाब देने लगी तो मैंने कॉलेज गर्ल की चुदाई की स्पीड को बढ़ा दिया.

मेरे मुँह से बहुत तेज तेज आवाजें निकल रही थीं … क्योंकि मैं उनके धक्के सहन नहीं कर पा रही थी. मराठी सेक्सी गांव कीकुछ ही देर में सरोज थक चुकी थी, तो मैंने भी उसे उठाकर बिस्तर पर लिटा दिया और ऊपर आकर चोदने लगा.

फिर मैंने उसके सिर को कस कर पकड़ लिया और जोर से उसके मुंह को अपने लंड पर धकेलते हुए लंड को उसके गले में फंसाकर वहीं पर रोक लिया.इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स: [emailprotected]डर्टी सेक्स विद वर्जिन गर्ल स्टोरी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी की बेटी की सीलतोड़ चुत चुदाई- 4.

स्लीपिंग सिस्टर सेक्स कहानी मेरी मौसी की जवान बेटी के साथ सेक्स की है.वो फ्लैट फुल फर्नीचर वाला था, हम दोनों ने एक घंटे में अपना सारा सामना जमा लिया और किचन को भी लगभग रेडी कर लिया था.

सेक्सी वीडियो डॉट कॉम इंग्लिश - इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स

”शबाना ने मेरा लण्ड छोड़ दिया, अपने चेहरे से नकाब हटाया, मेरे गले लग गई.मैंने कहा- क्यों भूख क्यों नहीं लगी?वो बोली- तुमको भूख लगी होगी, चलो मैं पहले तुम्हारे लिए कुछ खाने के लिए लेकर आती हूँ, फिर बात करेंगे.

उसके लंबे सिल्की बाल, गोरा रंग, ग़ुलाबी होंठ, बड़ी बड़ी आंखें, सुराहीदार गर्दन, बड़े बड़े बूब्स, पतली कमर, भरे हुए नितंब और कामुक आवाज़ … उफ्फ … काश ये मेरी बहन न होती. इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स अब मेरी रोज की आदत हो गयी थी अश्मि को दूर से देखने की। कभी मैं उसको तौलिया में देखता और कभी पैंटी में।उसको देख देखकर रोज मुठ मारा करता था.

मैं फिर से उसके तकिये पर अपने सिर को लेकर गया और इस बार मैंने उसके होंठों को जीभ से चाटा.

इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स?

मैंने दीदी से पूछा- दीदी केक से क्या करेंगी?दीदी ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया- तेरे लंड का बर्थडे मनाऊंगी. मैंने देखा कि उनकी सासू मां बाहर नहीं थीं, शायद वो अपने कमरे में चली गई थीं. नाश्ता करते समय भी अंकल मेरे जोबन को ही निहारते रहे, मैं भी अंकल को अपनी जवानी के दीदार कराती रही.

मैंने उनको हटाने की कोशिश की … क्योंकि मैं अभी-अभी झड़ी थी और पूरी तरह से गर्म भी नहीं हुई थी. मैंने कमर पकड़कर नीचे से झटके लगाने शुरू कर दिया।थोड़ी देर बाद वो लंड पर उछलने लगी. मैंने पूछा- घास का ढेर किधर है?वो इस बार बहुत जोर से हंस दीं- मेरा एसी उधर लगा है.

मेरी अब तक की ज़िंदगी काफी मस्त चल रही है और मैं अपने जीवन में काफी खुश हूँ. उन्होंने मेरा घूंघट उठाया, तो मैं शर्मा गई और अपने चेहरे को झुका कर छिपा लिया. एक दिन ये हुआ कि एक और किराएदार अंकल के पास मकान में किराए से रहने आई.

मैं पूरी जीभ को अन्दर करके करीब 10 मिनट तक चुत को चूसता रहा और मैंने चुत को खूब चाटा. मेरे दोस्तों की क्या गलती, जब मेरा खुद उसे चोदने का मन करने लगा था.

हर वीकेंड पर हम कभी कोई सिनेमा, या कहीं अच्छी जगह घूमने निकल जाते और अकेले होने पर अब भी मज़े से सेक्स का आनन्द लेते हैं.

फिर मैंने धीरे धीरे से पेटीकोट को खींचा और अर्शिया की जांघों के बीच से पेटीकोट को छुड़ा दिया.

ये सिलसिला करीब एक साल चला और इसी बीच मेरी छोटी बहन संजना रावत का स्कूल भी खत्म हो गया. कुछ पल में ही अनन्या सीधे लेटी थी और उसके ऊपर कामवाली बाई, उसके स्तनों को बार बार दबा रही थी. उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और मेरा चेहरा ऊपर करके मुझसे बोला- आई लव यू अंजू.

लेकिन मैंने अपनी भावनाएं उसके सामने ज़ाहिर नहीं होने दीं क्योंकि जो कुछ भी हमारे बीच था … वो काफ़ी खूबसूरत था और मैं ऐसी दोस्ती को खराब नहीं करना चाहता था. मेरा पल्लू कब का नीचे गिर चुका था और अब तो मेरा ब्लाउज भी शरद ने उतार कर जमीन पर फेंक दिया था. इसी बीच मेरी कुंवारी चुत में आशीष के मोटे लंड से चुदने की बहुत चुल्ल मचने लगी थी.

फिर मैंने किसी तरह से ज़ीनिया के इस अकाउंट का पासवर्ड पा लिया और उस पर नजर रखने लगा.

[emailprotected]यंग सिस्टर सेक्स कहानी का अगला भाग:अपनी सगी जवान बहन की चूत चुदाई- 2. अभी मैं कुछ बोलता, उससे पहले ही मैं अन्दर देखा तो मम्मी बेड पर बेडशीट ठीक कर रही थीं और अंकल अन्दर आ गए थे. मैं अधलेटा होकर मुमताज के होंठ चूसने लगा और मुमताज मेरे लण्ड पर उछलने लगी.

दीदी ने भी अपनी गांड उठा कर पेटीकोट को निकल जाने में मदद की … अगले कुछ पलों में पेटीकोट की बंदिश को हटा दिया. मैं भी इस सब का पूरा आनन्द लेते हुए उसके सोये लंड को सहला कर उसे फिर से जगाने की कोशिश में थी. मेरी गांड ऊपर उठने लगी थी और मैं अपनी चुत चुसाई का फुल मजा लेने लगी थी.

मुझे भी लगा कि दरवाज़ा बन्द करके खेल करना चाहिए ताकि सब कुछ पूरी मस्ती से हो सके.

मैंने कहा- क्यों अभी तो आप कह रही थीं कि लंड चूसोगी?मगर सुशी जी ने लंड चूसने से मना कर दिया. तो मैंने कहा- ऐसे ही रगड़ती रहोगी या दिखाओगी कुछ?भाभी बोली- मुझे शर्म आती है, आप खुद देख लो.

इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स मैंने सोचा कि ये मैंने क्या कर दिया, अब स्वाति मेरे बारे में क्या सोचेगी. मेरी गैर हाजिरी में प्रिया को कोई सामान आदि की जरूरत हो, तो आप देख लेना.

इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स वो किसी से किस करने लगी और जब संजना ने उसके सामने से अपना चेहरा हटाया तो एक पल को तो मेरे पैरों के नीचे से ज़मीन खिसक गई. मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मैं क्या करूं … कृपया आप मेरी बीवी की इस इंडियन एक्ट्रेस बॉलीवुड सेक्स कहानी को पढ़कर बताएं कि मेरे पास क्या रास्ता है?मुझे आपके मेल का इंतजार रहेगा.

दीदी लगातार सिसिया रही थीं- आह्ह याहह उह हम् म् म्म मम आह वीरू चोदो … आह और चोदो आह्ह आहह मेरी चूत का भोसड़ा बना दो … आह्हह मेरे भाई मेरे राजा.

मद्रासी में सेक्सी वीडियो

मैं उसके मम्मे दबाने लगा और वह अपनी गांड लहराते हुए लंड पर कूदने लगी. वो अपनी प्लानिंग के अनुसार दिल्ली आ गए और उन्होंने एक होटल में रूम बुक कर लिया. फिर मैंने अपनी गांड को इधर उधर करते हुए गोल गोल घुमाना शुरू कर दिया.

मैंने भाभी को उकसाया कि आप जैसी सुंदर लेडी ने अमित जैसे मादरचोद को लिफ्ट कैसे दे दी!भाभी बहक गईं और बताने लगीं. और डॉक्टर होने के नाते आपको ही मेरी मदद करनी चाहिए।डॉक्टर ने कहा- देखिए मैडम, मैं जो बोलूंगा, वो आपको अजीब लगेगा। लेकिन दवा लगाने का यही एक रास्ता है।मैंने कहा- प्लीज़, जो भी और जैसा भी रास्ता है मैं उसके लिए तैयार हूं।डॉक्टर ने कहा- अंजलि जी, मैं एक डॉक्टर के नाते आपकी मदद करूंगा. मैंने अपनी जीभ चुत से हटाई और अपनी बीच वाली उंगली उसकी चूत में डाल दी.

डर्टी सेक्स विद वर्जिन गर्ल स्टोरी के पिछले भागजवान लौंडिया से सेक्स की गर्म दास्तानमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैंने निशा की सफ़ेद गीली हो चुकी चड्डी के ऊपर से ही उसकी चुत पर अपने होंठ रख दिए.

तीसरे दिन मैंने उसको लंड पर बिठाया और उसकी गांड के छेद को लंड पर रखा. चुदाई के बाद जब स्खलन होने को हुआ तो वो बोली- माल अन्दर नहीं निकालना. मैंने अपना वीर्य अपनी बहन की चूत में उड़ेल दिया और निढाल होकर उसके ऊपर लेट गया.

दुबारा फिर से मैंने यही किया, लेकिन इस बार उंगली को धीरे धीरे उसकी चूत में सरकाया. फिर दीदी मेरे लंड के पास केक लाईं, चाकू और लंड को अपने एक ही हथेली में एडजस्ट करते हुए लंड से केक कटवाने लगीं. मैं अब दूसरी बार झड़ने वाली थी, तभी शरद ने मेरी टांग नीचे की … और मेरे ऊपर पूरी तरह से लेट गया.

मैंने कहा- ठीक हैं मौसी आपकी परेशानी मैं दूर नहीं करूंगा, तो कौन करेगा. जब अंकल थोड़े शान्त हुए … तो वो दोनों एक दूसरे को बांहों में भर कर चूमने लगे.

मैंने देखा कि मॉम एक खीरे पर कॉन्डम चढ़ाकर अपनी चूत पर अंदर बाहर कर रही थी. इस छुअन का मेरे मन पर जो असर हुआ था, वो असर मुझे मेरी चढ़ती जवानी तक ले गया. मैंने उसको उठाया और किचन की पट्टी पर बिठा कर उसके जांघों के बीच में आ गया था.

उनका मोटा लम्बा लंड देख कर मैं डर गई लेकिन मुझे सेक्स करने की आदत थी इसलिए बाद में मुझे अच्छा लगने लगा.

मैं बहुत जोर जोर से उनकी चूत चुदाई कर रहा था और वो भी अपने चूतड़ों को आगे पीछे करके चूत चुदाई का मजा ले रही थीं. मैं फिर भी उसे इतना प्यार करता था कि मैंने रिश्ता तोड़ना ठीक नहीं समझा और ऐसे ही चलता रहा. चाय की ट्रे को रखने के लिए मौसी जैसे ही झुकीं, तभी अचानक से मेरी नज़र उनके गाउन के गले से दिखतीं उनकी बड़ी-बड़ी चुचियों पर जा पड़ी.

वो भी ये सोच कर आया था कि दूसरों की तरह वो भी यहां अपना नसीब आजमाएगा. अब तक उनका ब्लाउज और ब्रा मैं पीछे से खोल चुका था और वो मेरी शर्ट के बटन खोल चुकी थीं.

उसके बाद क्या क्या हुआ?हैलो फ्रेंड्स, मैं समीर खान आपको अपनी कॉलेज रोमांस की कहानी के पहले भागकॉलेज में आयी नयी मैम पसंद आ गयीमें सुना रहा था कि कैसे मेरी उनसे चैट होने लगी लगी थी और उनको एक नॉनवेज जोक भेज दिया था. फिर मैंने उसको बेड पर लिटा लिया और तेजी से उसकी टांगों से पैंटी खींचकर उसकी चूत नंगी कर दी. बत्तीस साल की उम्र तक शादी नहीं हुई, जब हुई तो महीने भर बाद ही शौहर को छोड़कर लौट आई.

मारवाड़ी सेक्स कॉम

इसके बाद हम दोनों ने कुछ देर आराम किया और उस रात फिर से चुदाई में जुट गए.

इसके बाद हम दोनों ने उसी होटल में रुक कर करीबन 10 दिन तक लगातार चुदाई की. वो बोली- राज तुम बहुत डरते हो … अम्मा सो गई है और अब वो सुबह 6 बजे से पहले ना उठेगी. लेकिन मैंने मेरा काम चालू रखा और कुछ देर के विरोध के बाद वो भी मेरा साथ देने लगी.

मैं जेठ जी पर प्यार भरा गुस्सा दिखाते हुए उन्हें आंखों ही आंखों में इशारा करने लगी कि अभी नहीं. अब तो मैंने अपने दोनों हाथों से उसका चेहरा पकड़ा और उसके पतले पतले होंठों को चूसने लग गया. महाराजा दरवाजा फोटोसारी चीजें अपने हाथ में नहीं होती हैं ना!मुझे बाजू में खड़ा देख कर मेरा बॉस मेरे करीब आया और मुझे नाचने के लिए अन्दर खींच कर ले जाने लगा.

न जाने मुझे क्या लगा कि और मेरे लंड में न जाने कहां से उत्तेजना आ गई कि मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. वो मुझे अचानक से रूम में आया देख कर चौंक गईं और बोलीं- अरे योगी तू कब आया … बैठ.

गांड में चिकनाहट हुई तो मैंने अपने लौड़े को तेजी से अन्दर-बाहर करना शुरू कर दिया. मैंने अपने प्यासे होंठों को उसके सुर्ख ओर गर्म होंठों से चिपका दिया. एक बेटी कॉलेज में थी तो दूसरी स्कूल में … और मेरे पति एक प्राइवेट कंपनी में काम करते थे.

उसने मेरे 8 इंच के लण्ड को महसूस कर लिया था जल्दी से!वह सॉरी कहकर सीधी खड़ी हो गई, कहने लगी- सॉरी, ये गलती से हाथ रखा गया. सीलपैक गर्ल की चुदाई कहानी के पिछले भागकुंवारी लड़की के साथ 69 सेक्समें अब तक आपने पढ़ा था कि निशा मेरी कामना के अनुरूप ही गंदा सेक्स पसंद करने वाली जवान लौंडिया थी. अब्बू ने अपना लण्ड मेरी बुर के मुँह पर टिकाया, मेरी कमर को पकड़ा और धक्का मारा, मैंने आँखें बंद कर लीं लेकिन कुछ हुआ नहीं क्योंकि बुर काफी गीली थी और अब्बू के लण्ड का सुपारा चिकना था जिस कारण फिसल गया.

मैंने भाभी की गांड को जोर जोर से थपथपाते हुए उस पर चांटे लगा कर दबाना शुरू कर दिया.

कैब में कोमल मुझसे चिपक कर बैठी थी और सिर मेरे कंधे पर ऐसे रखी थी जैसे हम दोनों कपल हों. तो मैंने उन्हें टहोका- हां फिर!भाभी- फिर वो सब होने लगा जो आज तक चल रहा था.

नीचे आकर मैंने नाज को थोड़ा पुराना गुड़ देते हुए कहा- थोड़ा यहीं खा ले, थोड़ा घर जाकर खा लेना, तुम्हारा महीना हो जायेगा. जब मैं खाना खाने के लिए मेस में गई, तो रोहन की नजर मेरे मम्मों पर थी. ”लण्ड को मुमताज की बुर में ठोंकते हुए मैंने कहा- अभी तो मुमताज चुदवा रही है और विजय चोद रहा है, फिर तुम बकरी बना कर बकरा चोदेगा.

उसकी आहहह आहहह आहहह सुनकर मुझे मजा आने लगा।मैंने समारा को बिस्तर पर झुका दिया और उसकी टांग खोलकर लंड घुसा दिया और चोदने लगा अब गीला लंड सटासट सटासट अंदर बाहर करने लगा।समारा आज बहुत खुश थी क्योंकि उसे मोटा मजबूत लंड मिल रहा था।मैं समारा के बाल पकड़कर तेजी से अंदर-बाहर करने लगा. रोहन- रसगुल्ला खाओगी?मैं- हां क्यों नहीं, किधर है!रोहन- मेस में आ जाओ, मैंने तुम्हारे लिए रखा है. मैंने दीदी से कहा- तुम्हारी सास बड़ी मस्त माल हैं, उनकी मुझे लेने का मन है … कैसे मिलेगी.

इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स खुशबू बोली- क्या मैं इतनी बुरी हूं?मैंने कहा- ऐसी कोई बात नहीं है, तुम तो बहुत अच्छी हो। मगर तुम तो मुझे आज अपनी दीदी से मिलवाना चाहती थी न?फिर मैंने कहा- तुम्हारी दीदी कहां है?वो आगे आकर मेरे गले से लग गई और मुझे चूमने लगी।मैंने उसे हटाते हुए कहा- खुशबू होश में आओ … तुम यह क्या कर रही हो?उसने मुझे फिर से गले लगा लिया और चूमने लगी. ना तो मैं इस पर कोई शारीरिक प्रतिक्रिया दे रही थी और ना ही मेरे दिमाग में कुछ सूझ रहा था.

सूरत में सेक्सी

बुआ मुझे देखती हुई बोलीं- कितना बड़ा हो गया है तू … मैं तो तुझे पहचान ही नहीं पाई. पहले तो उन्होंने मेरी फ़ोटो देखीं, जो पहले सिंपल, फिर हॉट और फिर कुछ नंगी थीं. धीरे धीरे खुशबू का दर्द कम होने लगा और वो आह हहह उम्मह हहह औउहह हह करके लंड लेने लगी।अब मैं उसकी चूचियों को बेदर्दी से मसलने लगा और चूमने लगा।कुछ मिनट के बाद अब मैंने खुशबू को उठाकर घोड़ी बना दिया और उसके पीछे आकर दोनों हाथों से उसके चूतड़ खोल कर चूत में लंड घुसाया.

हम दोनों की सेटिंग कैसे हुई?नमस्कार मित्रो, आपका एक बार फिर से स्वागत है. धीरे धीरे दबाव बनाते हुए मैंने अपना लिंग उनकी चूत में डालना शुरू कर दिया. सेक्स व्हिडिओ इंग्लिशअब आगे ब्यूटीफुल गर्ल्स सेक्स कहानी:सुमोना की चुत से मेरे लंड की रगड़न मुझे लगातार उत्तेजित कर रही थीं.

आह … मेरी तो जैसे मन की मुराद पूरी हो गई थी; मैं अपने आपको बहुत मुश्किल से संभाल पा रही थी.

उन्होंने मेरी साड़ी को निकल दिया और उसके बाद उन्होंने मेरी ब्लाउज को निकाल दिया. मैंने उनका ब्लाउज खोल कर उनकी दूध जैसी सफेद चूचियों को बाहर निकाला और दोनों मम्मों को जोर जोर से मसलने लगा.

दो मिनट के किस के बाद मैंने उन्हें अपने से दूर किया और समझाया कि कोई आ जाएगा. फिर जैसे ही उसने मेरे लंड पर हाथ लगाया, तो उसके हाथ में मेरा मोटा लंड आ गया. एक दो पल उसके होंठ चूसे और कमर को एक पॉवरफुल झटका देते हुए लंड बुर में घुसेड़ दिया.

अलीज़ा को दफ्तर में आए हुए पूरे 2 साल हो गए थे पर मेरी उससे कभी कोई ज्यादा बात नहीं हुई थी.

कंपनी आजकल 8 घंटे चल रही थी तो मैं अपने रूम में हिंदी सेक्सी कहानी पढ़ने में ही लगा रहता; कभी रेखा आंटी से फोन में सेक्सी बातें कर लेता. ऐसा मजा तो आज तक मुझे कभी नहीं मिला था, जैसा इस जवान छोरी ने मुझे दे दिया था. उन्होंने लंड को धीरे धीरे अंदर बाहर करना शुरू कर दिया।अब मेरी चूत में राज शर्मा का लंड अंदर बाहर होने लगा।मैं भी गर्म होने लगी थी क्योंकि पिछले तीन महीने से मेरी चूत में लन्ड नहीं गया था।अब डॅाक्टर राज़ ने लंड बाहर निकाल लिया और कंडोम उतार दिया.

सेक्स व्हिडिओ इंडियनवह खाने के दौरान मेरी पसंद के खाने की बात करने लगी थी और जो-जो मुझे पसंद था, अलीज़ा वो ही मेरे लिए बना कर लाने लगी थी. लण्ड का सुपारा नाज की बच्चेदानी के मुँह से टकराता तो उसे दर्द होता लेकिन मैं बेरहमी से चोदता रहा.

जानवर इंसान की सेक्सी वीडियो

हमारे होंठ आपस में जुड़े हुए थे, तो अलीज़ा की आवाज़ मेरे मुँह में ही दब कर रह गई. उसने मेरी पीठ पर हाथ फेरते हुए मेरे कान में कहा- चलो कपड़े उतारते हैं. उसी बीच दीदी ने मेरे लंड को हाथ में ले लिया और बोलीं- मौनू, कितना बड़ा हो गया है रे तू … पूरा जवान मर्द हो गया है.

अब मुझे पक्का हो गया कि आज दीदी आशीष के लंड से अपनी चुत की चुदाई करवाने के मूड में हैं. चुदासी लड़की सेक्स स्टोरी मेरी गर्लफ्रेंड की चचेरी बहन की चूत चुदाई की है. मेरी कुछ समझ में नहीं आ रहा है, आप करना क्या चाहते हो?जुनैद भाई ने मुझसे कहा- तू बोलता था ना कि मैं तेरे मुँह का पानी पीता हूं … तो मैंने एक हफ्ते तक अन्दर जमा कर रखा था, आज वो पानी तेरे मुँह में वापस डाल दूंगा.

ये सब देखकर मुझे दुख हुआ कि मेरी बीवी ने मुझे ऐसी बातें बताना तक ठीक नहीं समझा. रानी ने मेरी कमर पर जहां-तहां अपने नाखूनों से निशान बना दिए थे- आह जाआनन्नन … चोदो ओर चोदो … आह मैं आने वाली हूँ बस. मैं मम्मों को चूसने के बाद कुछ ऊपर को आया और उसकी गर्दन को अपनी जीभ से चाटने लगा.

उसके बूब्स काफी बड़े बड़े थे, जो उसकी दोनों बहनों से ज्यादा भरे हुए और सख्त थे. दोस्त के पास पहुंचने के बाद मैं उससे मिला और उसे हम दोनों ने शादी के लिए बधाई दी.

मैम मेरी इन हरकतों से पागल हो रही थीं और मेरे हाथ उनकी चुचियों को मसल कर और पागल कर रहे थे.

फिर भी पहली बार किसी ने अपनी उंगली मेरी गांड में पेली थी तो मैं कुछ ज्यादा ही डर गया था. सेक्सी एचडी सेक्सी पिक्चरअंकल का लंड फकाफक अन्दर बाहर हो रहा था और मां मस्ती से मुँह में लंड ले रही थीं. लेडीस गले की चैनमैंने जानबूझ कर अपना एक हाथ उनकी तौलिया के अन्दर कर दिया और उनकी गांड पर मालिश करने लगी. मैं उनका लम्बा और मोटा खड़ा लंड देख कर सहम गई लेकिन चूत में चुनचुनी हो रही थी कि बस किसी तरह से इस लम्बे लौड़े से चुद लूं.

उधर अन्वेषी भाभी मुझसे अभी चुदने के लिए उतावली हो उठीं थी क्योंकि दो महीनों से भाभी को न अनिकेत ने चोदा था … न किसी अन्य मर्द के लंड ने चुत को टच किया था.

उसके हाथ की हर उंगली को मैंने अपने मोटे पर थोड़े ढीले स्तनों पर पूरा महसूस किया. मैंने एक बार जरा जोर देकर अपनी बहन की गांड को दबा कर अपने अन्दर आई वासना को एक खुराख देने की कोशिश दी. उसके गाल चाटते हुए मैं उसके गालों को अपने मुँह में भरकर चूसने लगा जिससे आरू की उत्तेजना और बढ़ने लगी, उसकी पकड़ मेरे लिए और तेज हो गयी.

मैं बहुत ही खुश था, क्योंकि पहली गर्लफ्रेंड मॉम ने मुझे अपने दो बहनों का चुत का स्वाद दिलाया था. ”शबाना ने मेरा लण्ड छोड़ दिया, अपने चेहरे से नकाब हटाया, मेरे गले लग गई. मुझे किस करते हुए अब भी मेरे बूब्स उसके हाथों से मसले जा रहे थे और नीचे मेरी चूत उत्तेजना से गीली हो रही थी.

तेरो लहंगा क्या भरोसा जीरो

मामी की चूत में मेरा लंड था और रेखा आंटी की चूत मामी के मुँह पर लगी थी. सीलपैक गर्ल की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने पड़ोस की जवान लड़की की सील तोड़ी अपने लंड से! वो मेरे पास पढ़ने आती थी. मेरे आते ही उसने मुझे गद्दे पर लेटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ कर मुझ पर टूट पड़ा.

मुझे उम्मीद है कि ये स्लीपिंग सिस्टर सेक्स कहानी आपको काफी पसंद आएगी.

किसी का काला तो किसी का गोरा, किसी का पतला तो किसी का छोटा था, लंबा था.

जब अब्बू अपनी बालों से भरी छाती मेरी चूचियों पर रगड़ते तो मेरे जिस्म में करंट दौड़ जाता. अगले हफ़्ते रश्मि ने कहा- एक और स्क्रीन टेस्ट देना है, मुझे जाना पड़ेगा. करीना की नंगी फोटोफिर मैंने अमिता को जगा कर एक 40 मिनट की चुदाई की जिसमें अमिता ने बहुत मजा लिया.

कुछ मिनट तक उसे गले लगाने के बाद मुझे लगने लगा कि इसे भी मज़ा आने लगा है क्योंकि उसका विरोध खत्म हो गया था, उसकी सांसें तेज तेज चलने लगी थीं. मैं उसे रोकने की कोशिश भी नहीं कर रही थी क्योंकि मैं पूरी तरह गर्म हो चुकी थी. उन्होंने भी सबक सीखने की सोच कर मेरी कमर में हाथ डाल कर ज़ोर से पकड़ लिया और अपने दोनों चूचे मेरी पीठ पर दे मारे.

उसके बाद मैंने रूबी आंटी के पेटीकोट और चड्डी को हटा दिया और उनकी चूत चाटने लगा. दोस्तो, उस रात को मैं सो नहीं सका था और मेरे दिमाग में अशी और गमन ही आने लगे थे.

ये सुनकर वो बोली- राज, तू क़िस्मत वाला है कि बिहारी होकर हरियाणा की जाटनी चोद रहा है.

मैं बोला- अरे भाभीजी आप जब चाहो … तब दर्शन कर सकती हो और टेस्ट भी कर सकती हो. दिल तो कहता था कि आज इसकी कमसिन और कोमल चूत के चिथड़े उड़ा दो … और दिमाग कहता था कि क्या ये लड़की मुझे झेल पाएगी. हॉट गर्ल्स लव सेक्स … पति और उसके दोस्त का लंड ले चुकी एक बीवी की चूत की आग बुझाये नहीं बुझ रही थी। वो जानती थी कि पराये मर्द से सेक्स गलत है.

आपना नाम का रिंगटोन मैंने उसका सर पकड़कर अपने लौड़े पर दबाव बनाया और नीचे से तेज झटके मारने लगा. मैंने सिगरेट जलाई और उसका स्मोक मैं लेकर किस करते करते उसको दे देता था.

अपनी कुंवारी चुत पर एक मर्द की जीभ का अहसास पाते ही मेरे पूरे जिस्म में जैसे करंट दौड़ गया था. उन्होंने मेरे सामने ही अपने कूल्हों तक लोशन लगाकर मुझे अपना सामान दिखाया. मैंने धीरे से अपना हाथ उसकी कमर से उसकी साड़ी के अन्दर कर दिया, तो वो सहम गई और लंड से हाथ हटा लिया.

पंजाबी सेक्स डॉट कॉम

ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, एक हॉट सेक्सी गर्ल बेडरूम में आयी, यही कहानी है. वो अन्दर आई तो मैंने देखा कि उसके चेहरे पर एक अजीब सी उदासी और माफ़ी का सा भाव था. उसकी टी-शर्ट में उसके बोबों का जो उभार दिखता था, उससे ऐसा लगता था कि उसके बोबों का साइज 28 से ज्यादा नहीं था.

उनका मोटा लम्बा लंड देख कर मैं डर गई लेकिन मुझे सेक्स करने की आदत थी इसलिए बाद में मुझे अच्छा लगने लगा. हाय दोस्तो, हम निशा और विराट आज फिर से आपके लिए अपनी सच्ची सेक्स कहानी लेकर हाजिर हैं.

मैंने भी जल्दी से दरवाजा बंद किया और एक हादसा समझ कर गौर नहीं दिया.

मैंने मालती से कहा- मालती, मैं राज शर्मा हूं और बिल्डिंग का किराया मैं ही आंटी को पहुंचाता हूं. नींद में ही अर्शिया ने अपने पेटीकोट को थोड़ा नीचे किया और करवट बदल कर सो गई. रूम में आकर मैं नहाया और अपनी पसंदीदा जींस, वाइट शर्ट और ब्लेजर पहन कर तैयार हो गया.

वो किसी कुतिया के जैसे गपागप गपागप लंड चूस रही थी और मैं भी उसके मुँह में झटके लगाने लगा था. गोगी के जाते ही रोशन सोढ़ी की गोद से उठी और अपनी छोटी सी ड्रेस उठाकर पहनने की कोशिश करने लगी. तभी निशा ने भी अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसने मेरा लौड़ा पकड़ लिया और उसपर मुठ मारने लगी.

मैंने उसे धीरे से बाथरूम के फर्श पर लिटाया और 69 की पोजीशन में आकर उसकी चूत का रस पीने लगा.

इंग्लिश वीडियो बीएफ सेक्स: चाचा चाची के आने का समय हो रहा था तो मैंने उसे जगाया, तब जाकर वो उठी. उसकी रफ्तार अब भी कम नहीं हुई थी और अब वो जोर से रुक रुक कर मुझे चोदने लगा था.

थोड़ी देर बाद मुझे महसूस हुआ कि पहले तो नील की गांड में धंसे हुए लंड को धीरे धीरे लहक लहक कर कसती और छोड़ती थी … लेकिन अभी भी नील धीरे धीरे ‘आह्ह अअह …’ करते हुए लगातार अपनी गांड को कसते और ढीला करते हुए सिसकारियां लेने लगा था. कुछ देर बाद मैं भाभी की गांड को चांटे लगाते हुए मसलने लगा; अपनी गर्मागर्म सांसों को उनकी रसीली सी चूत पर हल्के से छोड़ने लगा और अपनी जीभ से चूत को फिर से चाटना शुरू कर दिया. कुछ दिनों बाद लता अपनी आगे की पढ़ाई करने अपने मामा के घर में पास के ही दूसरे शहर में चली गयी.

मेरी गर्लफ्रेंड मॉम सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने एक नयी लड़की से दोस्ती की, उसके घर आना जाना हो गया.

मैं एक लम्बे अरसे से अपने चाचा के घर के लोगों से मिला भी नहीं था, तो मुझे बहुत खुशी थी कि शादी में सब मिलेंगे और काफ़ी मज़ा आएगा. मैं जीभ से ही उसकी चूत को चोदने लगा और वो कुछ ज्यादा तेजी से ‘आहह आहहह. जैसे ही मेरा हाथ सीट पर पड़ा, उसका दायां कंधा, मेरे बाएं बोबे पर इतना दबाव देते हुए लगा कि खरबूजा के आकार का मेरा बायां बोबा, तन कर आम बन गया.