बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में

छवि स्रोत,ब्लू सेक्सी सुहागरात

तस्वीर का शीर्षक ,

चलने वाली सेक्सी मूवी: बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में, एक बार चाचा चाची मूवी देखने गए और वो अपने साथ बच्चे को भी ले गए थे.

सेक्सी वीडियो बुर की चुदाई वीडियो

वह इस तरीके से सोई हुई एकदम मासूम हिरनी लग रही थी मेरा मन तो कर रहा था कि मैं तुरंत जाकर उस पर चढ़ जाऊं!लेकिन फिर मुझे लगा कि रम्भा कहां है।मैंने देखा कि बाथरूम की रोशनी जली हुई है. जुदाई सेक्सी चुदाईये सुनकर आंटी ने कहा- हम्म … मेरा बेटा अपनी आंटी के साथ 69 चाहता है.

मैंने उसको अपनी बांहों में भर लिया और एक स्तन अपने मुंह में ले लिया और फिर लंड चूत में पेल दिया. चोदा चोदी सेक्सी बताइएलग जा काम पर!अब मेरे सामने दिक्कत ये थी कि बात करूं तो कैसे करूं?उतने में खबर आई कि शाम को हार्दिक की गर्लफ्रेंड की बड़ी दीदी की शादी थी.

इस बार जो किस्सा मैं आपको बताने जा रहा हूँ, वो पिछली कहानियों से कुछ अलग है.बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में: ये सुनकर मैंने बोला- अरे इस बेचारी को छोड़ो और जाकर आयेशा की गांड मारो.

जब डिस्चार्ज का समय नजदीक आया तो मम्मी के होंठ अपने होंठों में दबाकर मैंने लंड की स्पीड बढ़ा दी.वही हाल मेरे दोस्त का भी था और शायद मेरी मामी ने इस बात को ताड़ लिया था.

हिंदी सेक्सी वीडियो देहाती सेक्सी - बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में

साक्षी की डिलीवरी के बाद उसकी और मेरी फ़ोन पर बहुत बार बात होती रही थी.वो जल्दी जल्दी चोदने के लिए बार बार बोल रही थी- आह जल्दी जल्दी दो चार झटके और मार दो … आग तेज हो गई है.

हालांकि चूत की हालत बता रही थी कि ये चुदी हुई नहीं है और यदि चुदी हुई भी है तो एक दो बार से ज्यादा बार नहीं चुदी होगी. बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में अब दीदी ब्रा में खड़ी थी और उनकी ब्रा पिंक कलर की थी और दीदी के जिस्म के कलर से ऐसे मैच कर रही थी कि ऐसा लगता था मानो कुछ पहना ही ना हो.

मैंने उससे एक रिक्वेस्ट की- क्या मैं आपका मोबाईल नंबर जान सकता हूँ?कोमल ने एकदम से मेरे हाथ से मेरा फोन छीना और अपना नंबर डायल कर दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में?

तभी मैंने उसकी चूत के दाने को दांतों से पकड़ कर खींचा और हल्का सा काट लिया. मित्रो, मैं आपकी चुलबुली प्यारी सी फेहमिना अपनी सहेलियों के संग चुदाई की कहानी सुना रही थी. कुछ देर तक एक दूसरे के होंठ चूसने के बाद उन्होंने मेरे मम्मे चूसना शुरू किया.

मैं अपनी किस्मत को दोष देने लगा और वहीं बैठे बैठे मैं अपना टिफ़िन खोल कर खाने लगा. एक तो डोरी वाली ब्रा पैंटी थी … जिसमें ब्रा में मामी के मम्मों के निप्पल ढकने के लिए जरा सा कपड़ा लगा था और पैंटी में चूत को ढकने के लिए एक त्रिभुज आकार का कपड़ा लगा था. इस तरह से मेरे कई ऑनलाइन दोस्त बन चुके हैं जिनके साथ मैं रात में चैट करके मजे लेती हूँ और मजे देती हूं.

वो अपनी बच्ची को साथ में लेकर मेरे ऑफिस की तरफ शायद मुझे ही ढूंढती हुई जा रही थी. इससे मेरे अन्दर की औरत तृप्त होने लगी थी, पर हारून भी कहां मानने वाला था. मैं जब भी लैपटॉप के टच पैड को छूती तो मेरा हाथ उसके लण्ड से टच होता।2 मिनट में उसका लण्ड खड़ा हो गया.

मेरी आपा आँखें बंद करके मजे ले रही थी और उनका पूरा बदन बहुत ही बुरे तरीके से हिल रहा था. भाभी बोली- आराम से करो अमन! मुझे पता है कि हम दोनों ही प्यासे हैं पर फिर भी आराम से करो.

इतनी देर तक चोदने के बाद भी मैं भूखा था जबकि मेरा लंड दर्द करने लगा था.

मैं तो पहले भी खूबसूरत थी लेकिन इस एक महीने में तो मेरी खूबसूरती हजार गुना बढ़ गई थी.

सुबह एक हिजड़े ने आकर मुझे उठाया तो मैंने देखा कि जलालुद्दीन कमरे में नहीं हैं. पहले उन्होंने मेरी चूत पर लंड को रगड़ा और एक झटका लगाया पर उनका लंड अन्दर गया ही नहीं … और मुझे दर्द भी हुआ. कहानी के पहले भागमॉम की चूत की प्यास पापा से नहीं बुझीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं मम्मी से टीवी का रिमोट छीनने के चलते उनके साथ मस्ती करने लगा था और उनकी चूचियों को मसलने लगा था.

पता नहीं क्या हुआ … मैंने उनके होंठों को अपने मुँह में भर लिया और देर तक स्मूच करता रहा. उन्होंने मेरे एक नीम्बू को मसलना शुरू किया और दूसरे नीम्बू के निप्पल को चूसना शुरू कर दिया. मेरा लंड तो पहले ही फड़फड़ा रहा था; ऊपर से उसके हाथ मेरे लंड के काफी पास आ चुके थे.

चाची लंड इतनी अच्छी तरह से चूस रही थीं कि पांच छह मिनट में ही लंड जवाब दे गया.

मेरे परिवार में मैं, मेरे पापा मम्मी, दो चाचा और दोनों चाची, उनके बच्चे सब साथ में रहते हैं. लोहे की रॉड सा खड़ा लंड चूत की फांकों में अड़ा हुआ था, दाब देने से लंड का नीबू सा सुपारा कोमल की चूत के अन्दर घुस गया और किसी खूँटे सा फिक्स हो गया. जब वो सज-धज कर किसी शादी या फंक्शन आदि में जाती हैं तो सभी लोगों की निगाहें उन पर गड़ जाती हैं.

एकदम से किसी का स्पर्श अपने बदन पर महसूस किया, तो मुझे बहुत बेचैनी होने लगी. उसकी चूत पे बाल थे।अब मैं उसकी चूत में उंगली डाल कर फांक के पास अपनी उंगलियाँ फेरने लगा. दोस्तो, सेक्स कहानी के अगले भाग में आप पढ़ेंगे कि कैसे मैंने उस कमसिन लड़की की चुदाई की और उसने किस तरह से मेरे मूसल लंड को झेला.

अब मैंने माधुरी के गले को चूमना शुरू किया और ऐसे करते करते मैं उसकी कान की लौ को चूमता, दांतों से चबा कर खींच लेता.

फिर मैंने उसको उठा कर दीवार से लगाया और पलट दिया, फिर उसकी साड़ी उठाई तो सामने उसकी काले रंग की पैंटी दिखाई दी. मेरे दांत उसकी चूची को चुभते तो वो और जोर से मादक सिसकारियां लेने लगती- आहा … आउच स्स्स अह … और चूसो इन्हें … आह इनका दूध पी जाओ मेरे राजा … और जोर से चूसो अह हां ऐसे ही … और चूसो आह … मजा आ रहा है.

बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में यह मेरी सच्ची सेक्स कहानी है, मैं आशा‌ करता हूँ कि आप‌ सभी को देसी आंटी की चुदाई बहुत ‌पसंद आई होगी. चाचाजी के साथ जैसे कमरे में घुसा तो पाया कि शबाना और भाभी जी एक केक को काटने की तैयारी कर रही थीं.

बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में जलालुद्दीन आलिम ने मेरी कच्छी उठाई और पहले उस पर अपनी जीभ लगाईं और फिर उसको नाक के पास लाकर आराम से सूंघा और बोले- हम्म, खुशबू से तो लगता है कि ये बहुत जिद्दी जिन्न है, लेकिन हम भी कोई कम नहीं. मैं समझ गया कि दोनों का भी हो गया।और राजवीर अंजलि के ऊपर निढाल सा पड़ गया।कुछ देर बाद दोनों अलग हुए तो मैंने अंजलि की तरफ देखा और पूछा- कैसा रहा आज का एक्सपेरियन्स?अंजलि मुस्कुरा कर बोली- ऑसम … मजा आ गया आज तो सच में! कब से मैं ऐसा सेक्स करना चाह रही थी.

साथ ही दूसरा वाला दूध अपने हाथ में भर कर ऐसे मसल रहा था मानो जैसे वो पके हुए आम हों और उनमें से रस निकलने वाला हो.

बीएफ हिंदीxx

मैंने ऐसे लेटे हुए साक्षी की गांड में नीचे मेरे लंड को धक्का देना शुरू कर दिया. उसकी बात सुनकर मुझे एक सुनहरा मौका मिल गया … आज मुझे अपनी मस्त माल जैसी भाभी को चोदने का ख्याल आने लगा. वो नशीली आवाज में बोली- तो पका दो न!मैंने कहा- पकाने में बड़ी मेहनत लगती है मेरी जान.

मैंने कहा- आज मत रोको मेरी जान!वो बोली- नहीं मेरा पहली बार है और मैंने सुना है कि पहली बार में दर्द होता है. तय किये गए दिन पर मैं घर से अम्मी अब्बू की इजाजत लेकर स्टेशन की तरफ निकली. इतना बड़ा शहर है। कहते हैं यहाँ चारों तरफ लण्ड ही लण्ड घूमते रहते हैं.

जब भी वह मुझे भोजन के साथ भोजन परोसने के लिए झुकती थी, वह मुझे अपने मदमस्त स्तनों का एक दृश्य भी परोस दे रही थी.

उसकी वह जरूरत अगर पूरी ना हो, तो इंसान कुछ भी करने को तैयार हो जाता है. जैसे ही मैंने उसकी अंडरवियर उसके पैरों से निकाली उसका 8 इंच का लंड हवा में लहराने लगा. अब मैं निखिल के सामने सिर्फ पैंटी में खड़ी थी।तभी निखिल मेरी टांगों के पास नीचे बैठ गया और पैंटी के ऊपर से ही मेरी चूत को देखने लगा.

फिर मैंने लंड साक्षी की चूत से निकाला और उसकी गांड के छेद पर रख दिया. मैं अपने डैड और मॉम के साथ रहता हूँ और ये कहानी भी मेरे और मेरी मॉम की बीच हुई चुदाई की कहानी है. कुछ देर तक तो हमें होश ही नहीं रहा कि हम बैड पर ऐसे नंगे एक दूसरे पर लेटे पड़े हुए हैं.

एक दिन गर्मी की छुट्टी में मैं घूमने के लिए अपने भैया भाभी के घर दिल्ली चला गया. मैं वापस गया और पेटीकोट लेकर मॉम को देने के लिए बाथरूम के बाहर रख आया.

उस वक्त हमारी आंखें एक बार आपस में मिलीं लेकिन उसने शर्म के मारे आंखें बंद कर लीं और कुछ नहीं बोली. तो मैं समझ गया कि वे फुल ठुकाई करने के लिए रेडी है, मेरा इंतजार कर रही है. शबाना ऊपर आई लेकिन जैसे ही लंड दोबारा अन्दर डालने की कोशिश हुई, शबाना पुनः दर्द से बिलबिला उठी.

उसके बाद मैंने अपना एक हाथ उनके बूब्स पर रखा तो मैंने महसूस किया कि मम्मी ने ब्रा भी नहीं पहनी है.

काकी- जवान लंड … तेरा मतलब क्या है लल्लू?बापू की आवाज मेरे कानों में बम फोड़ती हुई सुनाई दी- मेरा बड़ा लड़का भी गबरू हो गया है. कुछ दिनों बाद मेरे दोस्त नितिन ने मुझे बताया कि उसकी नौकरानी ने किसी लड़की से बात की है और वो काम करने के लिए तैयार है. मेरी मॉम ने उसी समय एक ऐसी बात कह दी जिसे सुनकर मुझे समझ आ गया कि वो मेरे लंड से खुद ही चुदना चाहती थीं.

वह कभी अपनी कमर दिखाती, तो कभी बूब्स, तो कभी जांघ तक साड़ी उठा कर दिखाने लगती. इतनी देर में राजा हिंदुस्तानी मूवी में करिश्मा कपूर और आमिर खान का किस सीन चालू हो गया.

फिर अपने हाथ से उसके बूब्स पकड़ कर मुँह से चूसने लगा, उसके हाथ को बुर से हटाकर अपने लंड पर रख दिया. आंटी- हैलो जी, मैं आशिमा बोल रही हूं बरेली से, जो आपके पास दवाई लेने आई थी … याद है न आपको?मैं अपनी खुशी दबाता हुआ बोला- जी हां याद है. फिर उन्होंने झट से मेरा हाथ पकड़ा और कहा- मुझे ही अपनी गर्लफ्रेंड बना लो … मुझे एक रंडी की तरह चोद दो, मुझे अपनी बना लो।बस फिर क्या था … मैंने भी मौके का फायदा उठाया और उनको अपनी बांहों में भर लिया।उनका चेहरा मेरी आंखों के करीब था और मैं अपने होठों को उनके होठों में रखकर उनको चूमने लगा.

बीएफ ऐश्वर्या राय की

मुझे उसकी गांड तो मारनी थी जिसे वो साली मुझे दिखाकर मटका मटका कर चलती थी.

उन्हें देख कर किसी भी मर्द का लंड पानी टपकाए बिना रह ही नहीं पाता है. मामी ने उधर आकर अपना हाथ मेरे गाल के पास रख दिया और मैंने उस हाथ पर ऐसे किस कर दिया जैसे ये सब अंजाने में हुआ हो. उसी वक्त मेरे सीनियर ने सामने से आकर मेरे मुँह में अपना लंड घुसा दिया.

आपा अपने घुटने पर बैठ गई और उसने जीजू का लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और बड़े प्यार से चूम लिया. मैं बोला- लेट जाओ न अर्चना … नींद लगी है तो सो जाओ!फिर मैंने उसका हाथ पकड़कर उसे बेड पे अपने साथ लेटा लिया. अंकल और आंटी की सेक्सी वीडियोवो मेरे एक निप्पल को उँगलियों से दबाने लगे और दूसरे निप्पल को बच्चों की तरह चूसने लगे और बोले- अगर इनमें दूध भरा होता तो आज मजा आ जाता.

थोड़ी देर बाद मैंने अपनी स्पीड तेज़ कर दी और ज़ोर ज़ोर से गांड की ठुकाई करने लगा. थोड़ी बाद जब कोमल शांत हो गई तो मैं कोमल आंखों से निकलते हुए आंसुओं को अपने होंठों से चूसने लगा.

अपने हाथों से उसकी जांघों को पकड़ कर थोड़ा खोला और उसके नीचे को आ गया. मैंने घबराकर पास ही पड़ी एक प्याली उठाई और उसमें सारा वीर्य उंडेल दिया. खींच खींच कर … क्यों तेरा हबी खींच खींच कर नहीं चूसता है क्या?वो हंस दी.

इस तरह से काफी देर लगातार चोदने के बाद मैं भाभी की चूत में ही झड़ गया. मैंने गरिमा से कहा- तू दोपहर को मिलने का प्लान रख, सबसे ऊपर वाली छत पर, वहां कोई नहीं आता जाता. यह बात उन दिनों की है, जब मैं 20 साल का हुआ ही था और लॉकडाउन लगा हुआ था.

ठीक तरह से चूत भी नहीं चाटता और एक बार लंड से पानी निकला, फिर उसकी बैटरी फुक जाती है और वो बस सो जाता है.

साक्षी ने भी हंस कर कहा- हां, मैंने भी आज कुछ ज्यादा ही अपनी चूत का पानी बहता हुआ महसूस किया. घर में इसके साथ सास ससुर रहते हैं तो वो किसी किसी से चुदाई नहीं करवा पाती है.

वो चिल्लाए जा रही थी- आंह और कसके … और कसके!फिर हम दोनों 69 में आ गए. अपने मन की कर ही ली तूने!मैंने हंस कर कहा- अबे यार मजा आ रहा है, तो थैंक्स बोल न. अबकी बार चिकना होने के कारण लंड थोड़ा सा मेरे अंदर घुस गया और मुझे ऐसा लगा मानो मेरी चूत को किसी ने फाड़ कर रख दिया है.

रोज रात को वो मेरे कमरे में आते और आधी रात तक हमारा चुदाई का खेल चलता. साथ ही मैडम मम्मी को किस भी कर रही थी।मम्मी की आवाज़ से लग रहा था कि वे मैडम का विरोध कर रही है।अब मैं लगातार उनकी तरफ देख रहा था. मैंने चाची को और तेल लगाने को कहा तो चाची ने पूरी की पूरी बोतल लंड पर खोल दी और लंड को पूरा तेल से तर कर दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में कुछ घंटों के आराम के बाद फिर वही दौरे पड़ने शुरू हो गए और मुझे झटके लगने लगे. चूमने के साथ ही भाभी ने वो गोली मेरे मुँह में डाल दी और मैंने खा ली.

राजस्थान के बीएफ चाहिए

करीब बीस सेकंड तक होंठ दबाए रखने के मैंने मुँह हटाया और उसकी उन्ह आंह के साथ आंसू टपटप करके निकलने लगे. वो मेरे माथे पर, दोनों गालों में, कानों को होंठों को, गर्दन में, गले पर, मेरे खुले कंधों को बेतहाशा अपने होंठों से चूमने लगा और अपनी जीभ से मेरे बदन को चाटने लगा. भाभी पूरे मौज में चिल्ला रही थी- आह आदी … और कसके चाटो आह मजा आ गया.

143सेक्स मैक्स चुदाई स्टोरी का अगला भाग:होली का रंग चूत चुदाई के संग- 6. कुछ देर लंड को देखने के बाद मिष्टी ने लंड को अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगी. सेक्सी पंजाबी पिक्चर फिल्मउसमें अन्दर से उसकी जवानी फूट फूट कर दिख रही थी, चूचियों के निप्पल एकदम कड़क दिख रहे थे और वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा भी रही थी.

तब अपनी उसी उंगली को चाट कर बोले- पिछवाड़े में भी खुशबू आ रही है, मतलब जिन्न को मुंह से खींच कर निकालना होगा.

चाची तुरंत तेल निकाल लाईं और बेड पर मेरी जांघों के बीच में बैठ कर लंड की मालिश करने में जुट गईं. एक दिन रात को हम सभी परिवार वाले एक ही कंबल लेकर बैठे बातें कर रहे थे.

कुछ ही देर में कविता ने फिर से अपना हाथ लंड पर लगाया और इस बार उसने अपने हाथों से लंड को हल्के से थाम लिया. तो मैडम मुझे डांटते हुए बोली- तुम्हें सजा देनी ही पड़ेगी, तुम ऐसे मानोगे नहीं!और फिर उन्होंने मेरी मम्मी से क्लास रूम का दरवाज़ा अंदर से बंद करने को कहा।मैं आपको बता दूँ कि मैडम का नाम रश्मि है और उनकी उम्र उस समय 38 थी, साथ ही मैडम मोटी हैं।मेरी मम्मी का नाम सुषमा है, उस समय उनकी उम्र 40 वर्ष थी. ये मेरी चूत में कैसे जाएगा?मैंने कहा- सब चला जाएगा बस इसको जरा प्यार करो.

शाम को 4 बजे मैंने नीना को बड़ा ऐस प्लग दिखाकर कहा- यह तुम्हारी गांड में डालूंगा, कुछ देर रखने से गांड का छेद और फ़ैल जायगा.

मैं आपको इधर एक बात बताऊं कि इस धर्म की औरतें बहुत गर्म होती हैं, इनकी गर्मी हर कोई शांत नहीं कर सकता है. हर तरह से माकूल माहौल था, घर पर भी कोई नहीं था, सब लोग शादी खत्म होने के बाद ही घर आने वाले थे. दोस्तो उस दिन मैंने सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई की थी और उस दिन चाची क़ई बार झड़ी होंगी.

इंग्लिश सेक्सी मां बेटे कीमैंने फ़ोन उठाया तो कॉल रिसेप्शन से था।उन्होंने मुझे बताया कि कोई अंजलि जी आप से मिलने आई हैं. बुआ ‘और तेज और तेज चोद राजा … आह फाड़ दे मेरी चूत को आंह …’ कहती हुई चिल्ला रही थीं.

सेक्स वीडियो बीएफ सेक्स बीएफ

मुझे कुछ गन्दा सा लग रहा था फिर भी वासना में मैं शेखर के लंड को चूसने लगी. अपनी चूत में पूरा लंड लेते ही साक्षी की मादक कराहें निकलने लगी थीं ‘आह राजा इस्स्स…’कुछ ही पलों में साक्षी की चूत से रस छूटने लगा था, जिससे अब मुझे फच फच की आवाज आ रही थी. मेरी पिछली कहानीअन्तर्वासना से मिले दोस्त के साथ भरपूर चुदाईको आप सबने इतना ज्यादा पसंद किया, उसके लिए धन्यवाद.

मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू किया तो वो अपनी गांड ऊपर नीचे करने लगी. मैं तेजी से बाहर गया और पास के ही मेडिकल से एक कंडोम का पैकेट लेकर आ गया, साथ ही कुछ चिप्स वगैरह ले आया. जब 1200 रूपए मिले तो मैंने सारा पैसा दारू पीकर और खाना वगैरह खाकर दोस्तों में उड़ा दिया था.

वो न जाने कैसे रियेक्ट करेगी?बस ये सोचा तो आज मेरा मन इसको अमल में लाने को बेकरार हो गया. मम्मी ने चूतड़ उचकाकर जाहिर कर दिया कि वो अब चुदवाने के लिए बेताब हैं. यह कज़िन सेक्स पोर्न स्टोरी बिल्कुल ही सत्य घटना पर लिखी है, बस नाम और जगह काल्पनिक हैं.

ये सब नाना नानी को भी पता थी, तो वो भी मुझसे कुछ नहीं बोलते थे क्योंकि हम दोनों भैया बहन भी थे. फिर मैंने चाची की साड़ी को और ऊपर किया तो देखा चाची ने पैंटी नहीं पहनी है.

फिर सबने एक दूसरे की तरफ देखकर इशारा किया और डिल्डो का टोपा लड़कों की गांड में पेल दिया जिससे सभी लड़कों की एक साथ चीख निकल गयी.

मैंने देखा कि राजवीर सोफे पर चुपचाप बैठा हुआ हमारी लाइव चुदाई देख रहा है और अपनी पैन्ट की ज़िप खोल के लण्ड को बाहर निकाल कर हिला रहा है।मैं बोला- भोसड़ी के, क्या कर रहा है ये?वो बोला- तुम्हारी चुदाई देख के रहा नहीं गया यार … मेरा भी मन कर रहा है।मैं बोला- मेरा हो जाये तो तू भी कर लेना।राजवीर बोला- इतना टाइम नहीं है. मां बेटे की सेक्सी चुदाई हिंदीसोनी बहुत उत्तेजित था, उसने अपना लंड नीना की प्यारी चूत में डालना शुरू किया. रोमांटिक सुहागरात सेक्सी वीडियोकुछ मिनट उससे लंड चुसवाने के बाद मैंने उसे लिटा दिया और पूछा- रेडी हो?वो बोली- हां. मैंने उसे रूम नम्बर बताते हुए कहा कि पहली मंजिल पर रूम में मैं तुम्हारा इंतज़ार कर रहा हूँ.

गप्प ओं गों की आवाज़ के साथ साली की आंखें जो अभी तक बंद थीं, अपने प्यारे जीजू की इस हरक़त से खुल गईं.

एक दिन मैंने उसको पूछा- तुमने कभी मास्टरबेशन किया है?उसने बोला- वो क्या होता है?वो बड़ी चालाक बन रही थी. मैंने उसे समझाने के लिए उसके पास गया और बोला कि देख सिंपल खेलने में कोई मजा नहीं आएगा, कुछ ट्विस्ट तो होना ही चाहिए. मैंने एक हाथ साइड वाली मेज पर रखा हुआ था, जिससे मुझे एक टांग पर खड़े रहने में आसानी हो रही थी.

मैंने मॉम को अपनी बांहों में भर रखा था और मैं उनके होंठों को चूस रहा था. मैं छोटी मामी के कमरे से उनकी ब्रा पैंटी का बैग उठा आया और अपनी मामी को डोरी वाली ब्रा पैंटी दिखाते हुए कहा- मुझे ये वाली पहनकर दिखाओ. मेरी तमन्ना पूरी की मेरठ के दो मर्दों ने! कैसे?लड़की बनकर सुहागरात मनाने के मेरे सपने को मेरे उन दो दोस्तों ने पूरा किया जो उम्र में मुझसे काफी बड़े थे.

सेक्सी मूवी सेक्सी बीएफ

मैं- मैं तुमसे कोई जोर जबरदस्ती नहीं कर रहा अगर तुम्हारा मन हो, तभी करना. लग जा काम पर!अब मेरे सामने दिक्कत ये थी कि बात करूं तो कैसे करूं?उतने में खबर आई कि शाम को हार्दिक की गर्लफ्रेंड की बड़ी दीदी की शादी थी. चाची मुझसे पूछने लगीं- इस बार गुड़गांव में किसे किसे चोदा?मैंने बताया कि बबलीबुआ और उसकी एक सहेली भाभी को.

हर तरह से माकूल माहौल था, घर पर भी कोई नहीं था, सब लोग शादी खत्म होने के बाद ही घर आने वाले थे.

वो पूरा लौड़ा अपनी बहन की बुर में पेलकर मेरे ऊपर चढ़ गया और मेरी बुर में झटके लगाने लगा.

पर मेरी एक शर्त है कि उसके बदले में मुझे किसी बड़े से होटल में ले जाकर खिलाना पड़ेगा. मैं भी उसे देख रहा था और उसका नाम लेकर मुठ मार रहा था- आह प्रीति आह जोर से … आह आह अच्छे से!ये सब सुन कर वह रह नहीं पाई और उसने मेरा लंड पकड़ लिया और हिलाने लगी. सेक्स विडियो हिंदी सेक्सीजाते वक़्त भी मेरी नजरें उसके बदन पर ही थीं क्योंकि आज पहली बार मैंने उसे साड़ी में देखा था.

मैं हर वक़्त अपने आस-पास की औरतों की कामुकता की नज़रों से देखने लगा था, अपने लिए हर वक्त किसी नयी चूत की खोज करने लगा था. मेरा प्रस्ताव है, मेरे लिए एक नया बेडरूम बना दो, खर्चा मैं दे दूंगा. उसके बाद मामी ने मुझसे कहा- तू मेरी ब्रा पैंटी में क्या देखता है?मैंने कहा- मैं आपको सेक्सी ब्रा पैंटी में देखना चाहता हूँ मगर आपके पास एक भी सेक्सी ब्रा पैंटी नहीं है.

उसकी साड़ी का पल्लू पिंक कलर का था और बाकी साड़ी ऑरेंज और हल्के पीले रंग की थी. अब तो वो एकदम माल लगने लगी है और उसके चुचों का साइज भी बढ़ गया है, गांड भी बहुत बाहर को आ गयी है.

और फिर अपने बचे हुए लंड को अंदर करने के लिए उसने ज़ोर से एक झटके के साथ अपनी कमर को हिला दिया।अब दीदी ओह्ह हआ हहऊ आह हो की आवाजें निकालने लगी.

इस बार चाची ने कुछ नहीं कहा, वो सो सी गई थीं शायद, या उन्हें भी मजा आने लगा था. पहले तो हम दोनों एक दूसरे को ऐसे ही खा जाने वाली नज़रों से देखते रहे, फिर एक झटके से एक दूसरे की बांहों में चिपक गए. Xxx एस सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैंने एक भाभी को माँ बनाया तो उसने गांड मरवाने का वायदा किया था.

अभी की सेक्सी पिक्चर उसके बाद मैंने उसे फोन किया और पूछा कि मज़ा आया क्या?तो वो शर्मा गई. उन्होंने मेरी गुच्छी के बाल अपने मुंह में भर कर गीले कर दिए और फिर उन गीले बालों को हाथ से किनारे कर के मेरी गुच्छी चाटने लगे.

उनकी सिसकारियां निकल रही थी- आआहह आआ हहह आहह … आहह अईई … उइई ईईई … आह … ओहह ओहह उम्म!खूब पलंगतोड़ चुदाई की मैंने उस दिन!फिर कुछ देर में हम दोनों झड़ गए, मैंने अपना सारा वीर्य उनके मुंह में डाल दिया और उनकी चूत का सारा पानी पी गया।मैं और आंटी कुछ देर बिस्तर में लेटने के बाद कपड़े पहनकर रूम में आ गए. वो जैसे जैसे मेरे लंड पर बैठ रही थी, मेरा लंड साक्षी की वर्जिन ऐस के छेद को चीरता हुआ अन्दर जा रहा था. लगभग 2 महीने बीते होंगे कि एक दिन चाचा के ऑफिस का प्रिंटर खराब हो गया और उन्होंने मुझे इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट से इंजीनियर को लाने भेजा.

मेहरारू का बीएफ सेक्सी

तभी उसने मुझे बहुत ज़ोर से हग किया और मेरे कान को हल्के-हल्के से काटती हुई चूमने लगी. रास्ते में अचानक एक गड्डा आ गया और बाईक एकदम से उसमें गिर कर उछल गयी. दो ही मिनट के बाद मेरा लंड अपने चरम पर आ गया था और अब लंड से रस साक्षी की गांड में कभी भी छूटने वाला था.

फिर चाचा और पापा को पास के गांव में किसी काम से जाना पड़ गया, रात को तेज बारिश शुरू हो गई तो पापा और चाचा वहीं रूक गए. दोस्तो, दरअसल एक बात मैंने आपसे नहीं बताई, वो ये थी कि माधुरी का जो अफेयर चल रहा था उस गांव वाले के साथ, उससे उसका झगड़ा हो गया था.

अक्सर मेरा मन होने पर मेरे पति मेरे साथ फोन पर ही सेक्स किया करते थे.

दोस्त की बीवी नीना तापोश के लंड पर तेल लगाकर, तापोश की तरफ पीठ करके उसका लंड गांड लेकर बैठ गयी. ‘अच्छा, लगा ले फिर एक गेम की शर्त, अभी पता चल जाएगा!’उसने चुनौती भरे स्वर में कहा, तो मैंने भी अपनी तैयारी करते हुए कहा- ठीक है चल फिर आ जा. उसी समय मैंने चाची के पैर पर अपना हाथ लगा दिया और उनके कुछ न कहने पर आराम से चाची के पैर को सहलाने लगा.

ऐसे ही करीब पांच मिनट तक मैं उसकी चूचियां चूसते चूसते उसको अपने लंड पर कुदवाता रहा. मैं अकेले में बैठी सोच रही थी कि शायद यही कारण होगा कि पहले जमाने में जल्दी शादी कर दी जाती थी. मेरे पति फौज में होने के कारण साल में दो ही बार छुट्टी लेकर घर आ पाते हैं.

मैंने भी चाची की चूत और गांड में उंगली डाल डाल कर अन्दर तक पूरी गांड चूत साफ़ कर दी.

बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चर हिंदी में: मैं वासना के भंवर में थी पर नारी सुलभ लज्जा का प्रदर्शन करते हुए मैंने उसका हाथ पकड़ लिया।मगर अगले ही पल उसके होंठ मेरी गर्दन पर आ लगे. उसे भी मजा आने लगा था, वो चिल्ला रही थी- अहह उफ्फ्फ राहुल … पूरा डालकर चोदो.

मुझे छत पर टहलना पसंद है, जब वे अपने कपड़े सुखाने आती थी, तब मैं उनके जाने के बाद उनकी ब्रा और पेंटी को सूंघा करता था. तुम्हारे बदन को मसल कर हम बस थोड़े समय का इलाज कर सकते हैं, असली इलाज के लिए तुमको अपनी पूरी चुदाई करवानी होगी. कुछ देर बाद आसन बदला, अब मैं चारों हाथ पैर पर पलंग के किनारे खड़ा हो गया.

भाभी- तूने क्या खो दिया है, पता भी है तुझे?अगले पल शबाना ने भाभी को पकड़ कर बेड पर गिरा दिया और मुझसे बोली- इनको कंट्रोल करो, नहीं तो दिक्कत हो जाएगी.

ये देख कर पहले तो मेरी झांटें सुलग गईं कि दूसरी खटिया की क्या जरूरत थी. बोतल खाली होने तक उन दोनों ने मुझे उठाकर अपने बीच बैठा लिया था और मेरी दोनों तरफ से बैठकर मेरी गर्दन और बांहों पर, जांघों पर चूमने और सहलाने लगे थे. सोनी ने थोड़ी देर मेरे ऊपर चढ़ कर मेरी गांड मारी, फिर वो रुक गया और मेरी पीठ, गर्दन, होंठ चूमने लगा.