देसी बीएफ फिल्म वीडियो

छवि स्रोत,सनी लियोन अंग्रेजी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी नाच वीडियो: देसी बीएफ फिल्म वीडियो, मानस को जैसे ही पता चला कि सोनम की चुत का पानी उसके लौड़े को नहला चुका है, उसने तुरंत अपना लंड सोनम की गीली चुत से निकाला और अपनी अंडरवियर से पौंछ कर सोनम को कुतिया की तरह झुकने को बोला.

2003 की बीएफ

रात को खाना खाने के बाद कुछ देर सबने बातें कीं और फिर सोने के लिए अपने अपने कमरों में चले गए. बीएफ चोदा चोदी सेक्सी पिक्चरमैं बोला- चाची ज्यादा ना सोचा करते … जो सोचे हैं ना … वो कदी होया ना करता.

अंकल ने मेरे दोनों मम्मों को एक साथ पकड़ लिए और जोर जोर से दबाने लगे. श्रीलंका बीएफ फिल्मतभी भाभी बिना मुझे देख कर बोलीं- तुम ऐसे वीडियो क्यों देखते हो?उनके इस सवाल से मैं चौंक गया.

वो अपनी दोनों टांगें हवा में उठाते हुए बोली- आहह आहह और तेज़ और तेज़ … मज़ा आ रहा है.देसी बीएफ फिल्म वीडियो: सोनम उस वाशबेसिन पर झुक कर आंखें बंद करके उस गांड चटाई का आनन्द ले रही थी.

मैं दीदी को इस रूप में देख कर चौंक गया और मेरी आंखें फटी की फटी रह गईं.देखते ही देखते उसके चूचे चिकने होकर उन पर गिरने वाली एक सफेद रोशनी में नहा गये थे.

बांग्ला बीएफ वीडियो बीएफ - देसी बीएफ फिल्म वीडियो

तन्वी ने हंसते हुए माहौल को ठीक करने का प्रयास किया- हां, उसकी बात सही है.मैं पूरा नंगा था और ज्यादा थक जाने के कारण कब मेरी नींद लग गयी, पता ही नहीं चला.

अपनी हार क़ुबूल करते हुए उसने अपना बदन उस चपरासी मानस के हवाले कर दिया और वो बेजान उस वाशबेसिन पर पड़ी रही. देसी बीएफ फिल्म वीडियो कॉलेज फ्रेंड ओरल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी शादीशुदा दोस्त ने मुझे अपनी चूचियां चुसवायी फिर मैंने उसकी चूत चाट कर उसे पूरा मजा दिया.

मेरी बीवी की हॉट देसी इंडियन चुत चुदाई मैंने अपनी आँखों के सामने देखी होटल के कमरे में.

देसी बीएफ फिल्म वीडियो?

अब मैंने उसे वो हार पहनाया- ये तुम्हारी मुंह दिखायी!ज़ारा- आप ही पहना दीजिये!और उसे लिटाकर किस करने लगा जब ज़ारा साथ देने लगी. यहां शिफ्ट होने के बाद मेरी भाभी की कई सहेलियां बन गई थी जो फ्लैट पर आती जाती रहती थीं. मुझे डर था कि अगर चूत में लंड घुस गया और जूली चिल्ला दी … तो बहुत बुरा अंजाम होगा.

उनकी चुत ने रस छोड़ दिया था जिस वजह से लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा था. मैंने उसकी आंखों में झांका तो उसने अपनी उंगलियों से सिगरेट पीने का इशारा किया. आप लोगों ने मेरी पिछली सेक्स कहानीकॉलेज टूर में लंड चुसाई का मजाको पढ़कर काफी सराहा था.

मैं भी तेज धक्के लगाने लगा और लंड गांड में अन्दर बाहर अन्दर बाहर करने लगा. लेकिन तभी मैंने महसूस किया कि मेरे पीछे खड़ा एक लड़का मेरी गांड में उंगली चला रहा है और स्कर्ट के उसके ऊपर से ही वह मेरी गांड को छू रहा था. मैं- आपको ज्यादा देखा नहीं कभी?भाभी- हां, आप तो जैसे रोज देखने मिल जाते हो! आप भी तो नहीं दिखते मुझे?मैं हंसते हुए बोला- ठीक है, अब रोज मिलने आ जाया करूंगा.

किस के बाद मैंने भाभी को नीचे झुका कर कमर पकड़ी और धक्कों की रफ़्तार बढ़ा दी. दूसरे दिन मुझे भाभी ने फोन करके मुझे बुलाया मैं समझा कि शायद भाभी मुझे चोदने के लिए बुला रही हैं.

सीईई … इस्सस … आह्ह मेरी जान … मार मेरी चूत को! आज मिटा दे इसकी खुजली! साली बहुत खुजलाती है … तुझे बुलाया था अपनी चूत खुजली मिटाने के लिये … लेकिन ये साली हरामजादी नीतू कहाँ से आ गयी! लेकिन अब तू रुकना मत … चोद मुझे पूरा दम लगा कर।रूपाली न जाने क्या-क्या बोले जा रही थी।उधर मैं भी उसकी चूत में ताबड़तोड़ धक्के लगाये जा रहा था।मुझे रूपाली की चुदाई करते हुए अब पंद्रह मिनट से ऊपर हो गये थे.

स्नेहा- अपनी किस्मत ऐसी कहां है यार … जो ये निगोड़ी चूचियां किसी मर्द के हाथों दब जाएं.

मेरा हाथ तेजी से मेरे लंड को रगड़ रहा था और मेरे लंड में दर्द होने लगा था. मैंने देखा कि प्राची की आंखें बंद थीं और इसी का फायदा लेते हुए मैंने अपना हाथ उसकी शॉर्ट्स में डाला ही था कि उसी वक्त बच्ची नींद से उठ कर रोने लगी. इस पर उस लड़की ने कहा- क्यों तुम अकेले नहीं आ सकते?तो मैंने कहा- सॉरी मैडम, आप किसी और को अपने साथ ले जाइए, हम दोनों साथ में ही जाएंगे.

उसे चाची ने अपने ऊपर से लेते हुए चाचा की तरफ लेटा दिया जिससे मोंटू सो गया. उसने मेरा फ़ोन नम्बर भी लिया और उस दिन मैंने चाय भी उनके यहां ही पी. मैंने तुरंत ही उन्हें अपने से दूर कर दिया और उनका लंड मुंह में लेकर चूसने शुरू कर दिया.

बीवी की चूत चुदाई कहानी में पढ़ें कि दो बहनें आपस में सेक्स की बातें कर रही थी.

भाभी कुछ जवाब देतीं, इससे पहले मैंने भाभी के बालों को पकड़ा और उनके मुँह को चोदने में लग गया. कभी मेरे होंठों को अपने मुँह में लेकर चूसते … तो कभी मेरे कान की लटकन को चूसते. मेरा नाम रोमिल है और मैं कानपुर (उत्तर प्रदेश) से हूँ। मेरी हाइट 5 फीट 5 इंच है.

इस महिला से कुछ देर इधर उधर की बातें हुईं और उसने पति को फोन पकड़ा दिया. अब मैं अपने हॉल की खिड़की से श्वेता को देख लेता था और उससे कभी कभी बात भी हो जाती थी. अलवीना ने थोड़ी देर में मुझसे कहा- ठीक है दोस्त, मैंने तुमसे वादा किया है … तो मैं अपना ये वादा जरूर निभाउंगी.

उनमें कई सारे लोग मुझे नंगी देखने का इच्छा जाहिर करते हैं, तो मैं आप लोगों से माफी मांगती हूं.

अगर तुम उन्हें खुश कर दो तो मैं तुम दोनों को नहीं निकालूंगा बल्कि तुम दोनों की तनख्वाह और बढ़ा दूंगा. अब उससे रहा नहीं जा रहा था, वो अब जल्दी से मेरा लंड अपनी चूत में घुसाने के लिए बोलने लगी.

देसी बीएफ फिल्म वीडियो चाची- देख, राजू अगर तूने किसी से भी ये बात की तो मैं किसी को मुँह दिखाने के काबिल नहीं रहूँगी, मैं तो मर ही जाऊँगी. सीमा ने मुझे वो पता बताया और कहा- जाओ … और ध्यान रखना … कुछ गड़बड़ न कर देना.

देसी बीएफ फिल्म वीडियो उसे, उसकी बेटी को सुलाना था … तो मां ने उसे बच्चे को लेकर अन्दर के रूम में ले जाने को कहा. अब उसने अपनी बॉडी के सामने वाले हर भाग पर तेल मालिश करना शुरू कर दिया.

उन्होंने मेरे सिर और मुँह को जोर से अपनी दोनों भारी चिकनी चूचियों में दबा लिया और अपना एक हाथ मेरे बालों में चलाने लगी.

हिंदी सेक्सी वीडियो भाभी देवर

इतने में प्रशांत बोला- आप जैसी भाभी के लिए हम लोग बीवी तो क्या, अपनी बहन भी शेयर कर सकते हैं. अब मैं उसके बदन को सहलाते हुए चूत तक जाता और उसकी बुर में एक उंगली घुसेड़ देता. मैं अपना मुँह उसकी चूत पर रख कर चाटने लगा, दो मिनट बाद ही वह सिसकारी भरने लगी.

रेणु चिढ़ाने के लिए कभी-कभी सबकी नज़रें बचा कर शेखर के क़रीब से गुज़रती और धीरे से उसके नवाब को सहला देती. इस बार उसने दांतों को थोड़े हल्के से दबाया था तो मैंने भी गुस्से में आकर प्राची के सर को पीछे से पकड़ कर अपना पूरा लंड उसके मुँह में ठूंस दिया. मैं- कैसी लगी वीडियो?भाभी थोड़ी शर्मा गईं और बोलीं- अच्छी थी … तभी तो देख रहे थे, उतने में आप आ गए.

[emailprotected]कॉलेज फ्रेंड सेक्स कहानी का अगला भाग:लॉकडाउन में पुरानी क्लासमेट डॉक्टर से सेक्स- 2.

वो भी मस्ती से टांग हवा में उठाए मेरा लंड अन्दर लेने के लिए अपनी गांड को आगे पीछे कर रही थी. मैं उन्हें देखते हुए अपनी पैंट उतारी और लंड को भाभी के हाथ में दे दिया. टॉवल छोटी थी तो मेरी मुयालम गांड भी दिखने लगी।तभी सर को हल्का ठसका सा लगा और मैं हड़बड़ा कर उनको जग में से पानी देने लगी.

मानस भी बिना कुछ बोले सोनम की गांड को जितना हो सकता था, उतना फैलाकर अपनी जीभ से कुरेद रहा था. इंडियन गांड चुदाई कहानी में पढ़ें कि मुझे अपनी गांड में लौड़ा लेने की बड़ी खुजली होती थी. अब संजना भी मूड में आ चुकी थी। वो मेरे के लंड के ऊपर बैठ गयी और उसे अपनी चूत में कर लिया।मैं हालांकि नशे में था मगर हुस्न के जलवे के सामने नशा काफ़ूर हो जाता है।विजय और मैंने दोनों ने मिलकर संजना को जमकर चोदा।बाद में संजना ने पूछा कि क्या अनीता भी इस खेल में शामिल होगी तो मैंने कहा कि उसने विजय को सुबह ही मना कर दिया था.

सुबह मोबाइल में अलार्म बजा और मैं उठा, तो देखा मेरी और भाभी के हालत अस्त व्यस्त थी. वो दोनों श्वेता और उसके पति के बीच हुई बहस के बारे में बात करी थीं.

निखिल मुझसे अलग होकर कमरे से निकल गया और थोड़ी देर बाद ही उसकी आवाज आई- जल्दी चलो, बरसात बंद हो गयी है. फिर मैंने उसे शाम को फ़ोन किया कि गाड़ी को ठीक होने में चार दिन लगेंगे. घर आकर मुझे सीमा की बातें याद आ रही थीं और मेरे मन में गुदगुदी हो रही थी.

मैंने भाभी भाभी कहते हुए दोबारा आवाज लगाई।वो हड़बड़ा कर अपने कपड़े ठीक करते हुए उठी.

मगर मैं नीचे स्क्रॉल करता जा रहा था, तभी मेरी नजर 21 साल की तान्या पर गयी जो एक बहुत ही सेक्सी और प्यारी वेबकैम मॉ़डल थी. और मुझे तो यह आईडिया भी नहीं की बात किस टॉपिक पर करूँ?तब उन्होंने बोला- अच्छा तो ये प्रॉब्लम है … कोई बात नहीं, तुम्हारी हिचक हम दूर कर देंगे. अब पहले वाले ने मुंह से लंड निकाला और दूसरी तरफ जाकर मेरी बीवी की चूत में डाल दिया.

स्नेहा ने जब उनकी बातें सुनी, तो उसने अपने मुँह पर हाथ रख लिया और सोचने लगी कि दीदू को हुआ क्या है आज … ये मॉम डैड के लिए इतनी गंदी गंदी बातें क्यों कर रही हैं. जब लंड के फुआरे का पानी खत्म हो गया, तो लंड भी कुछ ढीला सा पड़ने लगा और कुछ ही देर बाद चुत से बाहर आ गया.

मगर उसकी गांड तो एकदम मक्खन रखी है, घोड़े का भी डाल दो, तो पट्ठा चूं तक नहीं करेगा. पर मेरी पत्नी मेरा साथ नहीं दे रही थी, वो तो बस मुझसे छूटने की कोशिश में लगी हुई थी. [emailprotected]होटल रूम सेक्स स्टोरी का अगला भाग:दोस्त की भतीजी की सील पैक चूत मिली- 3.

हिंदी ब्लू फिल्म ऑडियो वीडियो

अब मैंने कहा- भाभी मेरी एक ख्वाहिश है … जो सिर्फ आप ही पूरी कर सकती हो.

” उसने निराशा भरे स्वर में कहा।मैं खड़ी हुई और उसकी पीठ को दीवार के साथ सटा दिया. वे पैंट पहन रहे थे कि मैंने छेड़ा- एक बार और हो जाए?वे न न करने लगे, फिर खुद ही पैंट उतार का टांग दी. मैं- तुमने घर बोल तो दिया कि ऑफिस में हो, और अभी मेरा तो छूटा ही नहीं है.

चाट इसे साले!” मैंने उसकी बेइज्जती करते हुए कहा।फिर मैं घूम गयी और अमन की तरह ही उसके सामने बैठ गयी. इससे मेरा लंड उसकी गांड पर ज़ोर से दब गया और वो एकदम से आगे को हो गई. बीएफ सेक्स करने वालामैं सही बोल रही हूँ ना?मैं शर्म के मारे में बस चुप ही रहा और सोच रहा था कि भाभी को ये सब कैसे पता चला.

मोना को और सूरज को देखना … और यश, अपनी भाभी का कोई सामान वगैरह लाना हो, तो ला देना. थोड़ी देर लंड चूसने के बाद वो बोली- जीजू मुझे चोदोगे?मैंने कहा- नेकी और पूछ पूछ.

थोड़ी देर बाद मैंने एक इलेक्ट्रीशियन को बुलाया और भाभी के घर की लाइट ठीक करवाई. अशोक ने मेरा थैंक्स करते हुए कहा- आप नहीं जानती हैं मेम कि आपने मेरी प्रार्थना को मान कर मुझ पर कितना बड़ा अहसान किया है. फिर मेरा लंड भी चाची की गीली चूत की गर्मी और चिकनाई को ज्यादा देर तक बर्दाश्त नहीं कर सका और लावा छोड़ने के लिए तैयार हो गया.

मेरा मकसद था कि उसकी बेटी जाग जाए और चुदाई के मज़े को समझे, जिससे उसे चोदने में और आसानी हो जाए. उनकी इस विवशता को देख कर मैंने अपना निवास का एक कमरा उन्हें दे दिया. इस बीच मैंने 3-4 बार साड़ी का पल्लू गिराया और उसे अपने दूधिया मम्मों के दर्शन करवाती रही ताकि उसके लंड का खून गर्म रहे और वो कुछ आगे बढ़ने की कोशिश करे.

प्राची भी अपने दुधारू मम्मों से पंप निकाल कर कमीज डालकर बाहर आ गयी.

इस पत्र के बाद ही मेरी पड़ोसन भाभी परी बन कर मेरे साथ चुदाई करने लगी थीं. कभी नंगी पीठ पर, तो कभी दूध से भरे उरोजों के निप्पल को उंगलियों में लेकर मसल देता, कभी उसकी मदमस्त गोरी जांघों को मसल देता, तो कभी उसकी चुत में उंगली डाल देता.

अजय- हां मेरी रंडी, मेरा लंड अब भी तेरी चुत फाड़ने के लिए फड़फड़ाता है … आ जा साली, तेरी गांड मारने का बड़ा जी कर रहा है. इस बार गांव में सोनल भाभी को भी चोदने का मौक़ा उस वक्त मिल गया, जब मैं और दोनों भाभियों के साथ मैं ही घर में था. मेरी मंजिल पर सिर्फ दो ही रूम हैं, तो दोनों के दरवाजे आमने सामने हैं.

आपकी रूपा रानी[emailprotected]मेरी अन्तर्वासना की कहानी का अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 2. पर मजा भी देता है, जो गांड मराने का शौक रखता है, इसे वही समझ सकता है. शायरा तो बस मेरी गर्दन व सिर को ही चूम रही थी … मगर मैंने उसके चेहरे को भी किस करना शुरू कर दिया, जिससे उसकी पकड़ अब ढीली हो गयी और उसने अपना चेहरा दूसरी तरफ कर लिया.

देसी बीएफ फिल्म वीडियो अपनी गृहस्थी भी उन्होंने वहीं बसा ली।काम के चलते मेरे पति बाहर रहते हैं. पहले तो वो आराम से मेरे बूब्स दबा रहा था मगर थोड़ी देर बाद वो मेरे बूब्स को जोर जोर से दबाने लगा जिससे मुझे तकलीफ होने लगी तो मैंने उससे धीरे धीरे करने को कहा.

वीडियो भोजपुरी hd

इन्ही जोखिमों में से एक जोखिम अनजाने लोगों को अपने घर बुलाकर चुदाई में शामिल करना भी था. हॉट भाबी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में मैं आगे लिखूंगा कि भाभी मेरे लंड से कैसे चुदीं. दोस्तो, आपको याद ही होगा पहली बार मैंने भाभी जी को एक लैटर दिया था.

कॉलेज फ्रेंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी पुरानी क्लासमेट मेरे सामने वाले घर में किराये पर आयी. मोना भाभी अब चुदना चाह रही थीं पर मैं उन्हें अभी और गर्म करना चाहता था. हिंदी बीएफ पिक्चर सेक्सी एचडीउस फिल्म में पोर्न ऐक्ट्रेस ने अपनी गांड में उस बट को फंसा लिया था और आगे अपनी चुत में लंड लेकर चुद रही थी.

कुछ ही देर में यामिना आ … आ … आ … करती हुई झड़ने लगी और मेरे नीचे से निकल कर बेड की ओर पसरने लगी.

मेरे पति के दोस्त हमेशा ही ऐसे कमेंट करते रहते थे … इसलिए मैं नजरअंदाज करके किचन में चली गयी. गांड पर लगे थप्पड़ इतने जबरदस्त थे कि सोनम की गांड तो लाल हो ही गयी थीं.

लेकिन मन में बहुत रोमांच भी हो रहा था कि आज मेरी अच्छे से चूत चुसाई होने वाली है।अगले दिन मैं रोज के टाइम से पहले ही घर से निकल गयी क्यूंकि आज मुझे बस से जाना था तो उसमे टाइम ज्यादा लगता है. बार-बार की-बोर्ड से अपना एक हाथ हटा कर लंड को मसलना शेखर की मजबूरी बन गयी थी. उनका पूरा सामान मंजिल पर बिखरा हुआ पड़ा था और मजदूर आकर एक एक करके सामान घर में लेकर जा रहे थे.

जिंदगी में आज पहली बार किसी ने सोनम की संगमरमर सी चुत की ये हालत की थी.

इतने में भाभी बोलीं- क्या हुआ … अभी भी नाराज हो?मैं बोला- आपसे कोई कैसे नाराज हो सकता है. वो बोली- ये क्यों किया!मैंने कहा- तूने मुझे खुश किया, ये तेरी मुनिया के लिए प्यार था. मेरी बीवी 7:00 बजे से पहले ही जा चुकी थी और मैं लगभग 15 मिनट बाद ही उस होटल में पहुंच गया जहां उस होटल में मीटिंग होनी थी.

बीएफ आंटी बीएफफिर पता नहीं कब मुझे नींद आ गयी।सुबह मेरी आँख मेरे रोज की अपेक्षा जल्दी खुल गई लेकिन फिर भी घर की दोनों महिलायें मतलब मौसी और उनकी जेठानी मुझसे पहले ही उठ गई थी।बेड पर लेटे-लेटे ही रात की सारी घटना मेरी आँखों में तैर गई और मैं रात में दिखी उस परछाई के बारे में सोचने को मजबूर हो गया. हुआ कुछ इस तरह कि हमारे गांव में कॉलेज नहीं था तो बारहवीं पास करने के बाद दीदी ने पापा से कॉलेज की पढ़ाई के लिए कहा.

एक्स वीडियो हिंदी वाला

मेरी हॉट सेक्स इन होटल स्टोरी पढ़ने के लिए धन्यवाद दोस्तो।[emailprotected]. लिली ने धीरे से फीकी मुस्कराहट के साथ मुँह बनाया और बोली- तो आज आप आ रहे हैं?मैं- मुझे कोई ऐतराज नहीं है बल्कि अपने आपको खुश क़िस्मत समझूँगा कि बहुत दिनों बाद घर का खाना मिलेगा. मैं उनसे बातें करता जा रहा था, देखा ही नहीं कि मैंने पैंट के नीचे कुछ नहीं पहना था.

माफ कीजिएगा दोस्तो, समय के अभाव के कारण मैंने अन्तर्वासना के नियमों के चलते कहानी का अंत जल्द कर दिया. रंजू और अनु दीदी आपस में एक-दूसरे के मुँह पर अपनी चूचियों की चुसाई का मजा ले रही थीं. शायरा के दिल को अब मैं पा रहा था … तो शायरा मेरे दिल को अपना बना रही थी.

वो अपनी दोनों टांगें हवा में उठाते हुए बोली- आहह आहह और तेज़ और तेज़ … मज़ा आ रहा है. मैं और प्रमोद बारी बारी से देखते रहे जब वह चिपक कर रह गया, तो समझ गए कि अब ये झड़ने वाला है. ये बहन चोदी बात कुछ साल पहले की है जब मेरी बुआ की लड़की पुष्पा हमारे घर पर आई थी.

उसके इस तरह के रुख से एक बार को तो मैं डर गया कि कहीं कुछ प्राब्लम ना हो जाए. गुजरे पांच साल में प्रकृति ने मुझे नारी को वश में करने की अद्भुत क्षमता दी है.

फिर मैंने देखा कि अभी मेरा पूरा लंड चुत में अन्दर नहीं गया है, अभी तो सिर्फ आधा ही गया है.

जब उनकी अच्छी तरह रगड़ गई, तो बोले- यार तेरा लंड है या हथौड़ा … साली गांड का कचूमर निकाल दिया. ब्लू बीएफ हिंदी ब्लू बीएफफिर मेरे साथी को देख कर बोले- क्या एक ही जांघिया है बे … मेरा चलेगा?वह बोला- नहीं … ठीक है. बीएफ 18 नंबरआपका दोस्त शिव राज सिंहमेरी मेल आईडी है[emailprotected]देसी कपल स्वैप स्टोरी का अगला भाग:फाइवसम ग्रुप सेक्स में चुदाई की मस्ती- 2. उस भूरे रंग के छेद में अपना लौड़ा आते-जाते देख मानस मन ही मन में खुश हो रहा था.

अन्दर गया तो वो नशीली आवाज ने बोलीं- आ गए भैया … डोर लॉक आर दो और इधर आ जाओ.

कमरा बंद नहीं था, केवल जाली का दरवाजा बन्द था और उसमें से बाहर का साफ दिखाई दे रहा था. इस खेल में मुझे इतना अधिक मजा आने लगा था कि अब मैं एक दिन में कम से कम 3 बार मुठ मारता हूं. अब संगीता ने वापस बगल की दराज से सिगरेट की डिब्बी और लाइटर निकाल कर टेबल पर रख दी.

पांच मिनट तक इसी अवस्था में रहने के बाद भाभी जी ने इतने लंड से ही आगे पीछे होना शुरू कर दिया. वो एक ऐसी सेक्स डॉल बन चुकी थी कि उसकी कमनीय काया को देखते ही लंड खड़ा हो जाए. मेरी दीदी ने ग्रेजुएशन पूरा कर लिया है और अभी वो घर के ही काम करती हैं.

बीपी एचडी फिल्म

[emailprotected]हिंदी वासना कहानी का अगला भाग:मां बेटे का नाजायज वाला प्यार- 2. ये मेरी अपनी बात है। आप सब का प्यार मिला उसके लिए आप सब का फिर से बहुत बहुत धन्यवाद. मैंने उसकी चूत में थूक लगाया और लंड को अन्दर घुसा कर तेज़ तेज़ चोदने लगा.

फड़फड़ाते और चिल्लाते लौंडों की गांड में उनके हाथ पैर हिलाने, गांड सिकोड़ने की, चूतड़ हिलाने की … कोई परवाह न करते हुए अपना मूसल सा लंड बेरहमी से उन चिकनी मक्खन सी मुलायम गांडों में पेल देते.

उन्होंने मुझे दोबारा लिटाया और मेरे बूब्स मुंह में लेकर जोर जोर से चूसने लगे.

’ कर जोर से चिल्लाने लगी- अआह जान मारो … और जोर से मारो आह्ह मजा आ गया … आह मेरी गांड को आज लाल बना दो … यह कब से तड़प रही थी. उसके बारे में सोचते हुए सुबह से शाम हो गयी, पर समझ नहीं पा रहा था कि किस बहाने से उनके घर जाऊं और उनके साथ वक़्त बिताऊं. बीएफ हिंदी इंग्लिश फिल्ममैं समझ गया कि इसका पति भी मेरे जैसा खिलाड़ी है और इसे जमकर चोदता है.

अगर होश में आने के बाद उसको ये पसंद नहीं आया तो? तो वो अब बाद में देख लूंगा. उनकी रसोई इधर से ही दिखती थी, तो मैं पीछे से उनके कमनीय बदन को निहारने लगा. अगले दिन सर ने मुझे कॉल किया और हमने थोड़ी हवस भरी बातें की और हम गाड़ी से कंपनी चले गए.

Xxx बस सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक दिन मुझे सूझा कि मैं लोकल बस में सफर करके अपने जिस्म से मर्दों को ललचाऊँगी. चलते हुए उसकी चूचियां ऐसे हिल रही थीं, जैसे दोनों में टकराने की जंग छिड़ी हो.

उसकी खूबसूरत जवानी देख कर मुझे भी उससे बात करना अच्छा लगा तो मैंने भी उससे बेतकल्लुफी से बात करना शुरू कर दी.

अब आगे पेशेंट डॉक्टर सेक्स कहानी:डॉक्टर बोला- मधु जी, मुझे एक बात समझ में नहीं आई. कहते है न कि आज तुमने जो भी अनुभव हुआ हो, उसकी शुरुआत कभी न कभी जरूर हुई होगी. इसमें मौजूद विटामिन्स और मिनरल्स हमारी त्वचा के रोम छिद्रों के जरिए अन्दर जाकर हमारी मसल्स और वेन्स को मजबूत करते हैं.

गुजरात का बीएफ वीडियो हाय दोस्तो कैसे हैं आप सब!मेरी पिछली कहानी थीकुंवारी साली की मस्त बुर चुदाईआज मैं आप सभी के लिए एक नई सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ … एक हॉट देसी औरत चुदाई कहानी!मेरे घर के बगल में पड़ोसी थे, उनका नाम राजकुमार था. मैं- नहीं मामी, मैं तो आपको रोज चोदूंगा … इस समय मैं आपकी चूत नहीं, तो गांड मारूंगा.

जैसे ही मैं उसकी तरफ पलटी मैंने देखा कि वो मेरी गांड को घूर रहा था. श्वेता- अकेले हो तो खाने का क्या करोगे?मैं बोला- मैं बना लेता हूँ, खाना बनाना आता है मुझे. कभी मैं सोचता कि अभी चाची को पकड़कर बांहों में भर लूँ; कभी दिमाग में आता कि चाची की उस पैंट को उनकी कच्छी समेत नीचे खिसका कर चाची को नंगी कर दूँ और चाची को गिरा कर चोद दूँ.

सेक्सी इंडियन बीपी पिक्चर

दूसरी रात को प्रभात को अपार्टमेंट के बगल के कमरे में रहने वाले भाई साहब ले गए उन्होंने भी उसकी रगड़ कर मार दी. अब तो तू खुश होगा आखिरकार तुझे तेरे घर की दूसरी चुत भी चोदने के लिए मिल जाएगी. मैं भाभी के ऊपर चढ़ गया और उनके दोंन मम्मों को बारी बारी से चूसने लगा.

बीच बीच में मैं हाथ में थूक लगा कर पूनम बुआ की गांड को हल्का तर करता रहा जिससे जब मैं उनकी गांड में लंड ठोकूं तो उनको संभलने का जरा भी मौका ना मिले. चूंकि हम दोनों लिपटे हुए थे इसलिये मेरा लण्ड उसकी बुर के पास ही था.

इस पर विजय और संजना दोनों बोले कि कोई बात नहीं लेकिन ये राज हम तीनों में ही रहेगा।इतना सब सुनकर अनीता को प्रकाश पर गुस्सा नहीं बल्कि प्यार आया और उसकी चूत की आग भड़क गयी। उसने और प्रकाश ने जमकर चुदाई की।प्रकाश ने उससे ये वादा किया कि भले ही तुम मुझको संजना के पास जाने से मना नहीं कर रही लेकिन मैं विजय के घर दारू पीने नहीं जाऊंगा.

उसके कान को अपने मुंह में लेकर मैंने गीला कर दिया।मैं उसको पूरा मजा देना चाहता था क्योंकि उसका ये पहली बार था. जब तुम छोटे से थे, तब से जानती हूँ … बस ये नहीं सोचा था कि तुम्हें अपनी बात बोलने के लिए पैसों का सहारा लेना पड़ेगा … और वैसे भी तुम मुझसे बहुत छोटे हो. अब दोनों ही चुदाई का मज़ा लेने लगे और धक्के पर धक्के मारने लगे।मैंने कहा- खन्ना जी तुम्हारी गांड चोदते हैं क्या?वो बोली- वो बुड्ढा क्या चोदेगा? उसके लन्ड में दम नहीं है। बस चार झटके मारकर सो जाता है और मुझे तड़पने के लिए छोड़ देता है।अब मैं जोर जोर से झटके मारने लगा और वो खुद अब मज़ा लेकर चुदाई करवाने लगी।मैंने उसे जमकर चोदा और फ़िर उसकी गान्ड में लन्ड का पानी छोड़ दिया.

मैंने मामी को पीठ के बल लेटा दिया और उनकी चुचियों और पेट पर तेल गिरा कर सामने से उनकी मालिश करने लगा. मैं मन ही मन सोचने लगा कि अगर ये सब उन्होंने मेरे घरवालों को बता दिया तो मैं तो गया काम से. हम दोनों के घर वालों की सोच सही थी क्योंकि हम दोनों भाइयों ने साथ में मिलकर बहुत सारी लड़कियां और भाभियों की चुदाई की थी.

मैंने कहा- ठीक है, तो फिर कहां निकालूं?वो बोली- मेरे मुंह में निकाल दे.

देसी बीएफ फिल्म वीडियो: मेरी कहानियाँ जब पब्लिश होती हैं तब देश के विभिन्न हिस्सों से अच्छे बुरे मेल आते रहते हैं।कुछ पाठकों के साथ दो चार दिन ही बात होती हैं तो कुछ के साथ लंबे समय तक बातचीत का दौर चलता रहता है।ऐसी ही एक पाठिका थी सरिता।सरिता एक 40 साल की कुँवारी महिला थी। उसका होने वाला पति नामर्द था इसलिए शादी के मंडप से भाग गया था. मैंने उसकी चूचियों को मसलना शुरू किया, तो वो भी मस्ती से मुझे अपने दूध चुखाने लगी.

नसीम- अब क्या करेागे?मैं- अब हम लोग यहीं किसी जगह सस्ते में खाना खाते हैं … और शाम को कौन सी गाड़ी जाती है, वो जरा आप पता करवा दें … तो उसी से निकल जाएंगे. जिस तरह से आपने मेरी पिछली कहानीदोस्त को दिलवाई सेक्सी लेडी की चूतको प्यार दिया, उसका मैं तहेदिल से शुक्रगुज़ार हूँ. कल क्या है कि बच्चे पढ़ने चले जाएंगे और यहां हम दोनों ठीक से बात करेंगे.

मैंने उसेक स्तनों की मालिश करके उसके बूब्स बढ़ाए और उसकी चूत चुदाई भी की.

वे बोले- मुझे पता नहीं था कि तू इतनी जल्दी मुझसे चुदने को मान जाएगी. तो भाईजान बोले- वह कुछ नहीं कहेगा, तुम चुपचाप लेटे रहो … गड़बड़ मत करो. न बनाया तो कहना, बहुत आग लगी है ना तेरी इस चुत में … साली रंडी!नेहा ने फटाफट मनीष को नंगा किया और वहीं नीचे बैठकर मनीष के लंड की पहले 2-3 बार मुठ मारी, फिर मुँह खोल कर गप से लंड अन्दर ले लिया.