बीएफ दिखाइए मूवी

छवि स्रोत,बीएफ देखना है बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन कॉलेज गर्ल बीएफ: बीएफ दिखाइए मूवी, कैसे?मेरी पिछली कहानीदोस्त की दादी की अन्तर्वासनामें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने जिगरी दोस्त की दादी की चुदाई करके उनकी अन्तर्वासना को शांत किया था.

लड़की का सेक्सी बीएफ वीडियो

अंकल ने मम्मी के दोनों चूचों के बीच में मुँह दे दिया और मेरी मॉम अपने हाथों से उनके मुँह को अपने चूचों के अन्दर घुसाने लगे. जीजा साली की हिंदी में बीएफशायरा ने अभी‌ तक‌ मेरे लंड पर इतना ध्यान नहीं दिया था … पर उसके अब ऐसे देखने से लग रहा था कि उसे मेरा लंड काफी पसन्द आया था.

आपको क्या काम है?अशोक- मेरे बिजनेस राइवल ने किसी को कह कर मेरी फाइल को उधर दबवाया हुआ है, जिससे मुझे बहुत नुकसान हो रहा है. पंजाबी चुदाई हिंदी मेंवो बोली- अमन, कहां खोये हुए हो?मैंने कहा- कुछ नहीं मैडम, बस ऐसे ही.

वो बोली- आकाश … तुम क्या देख रहे थे?मैं एकदम डर गया और बोला- इधर एक बिल्ली थी … उसे भगाने आया था.बीएफ दिखाइए मूवी: आपके कमेंट्स और सजेशन ईमेल और इंस्टाग्राम पे बताईये[emailprotected]Instagram: @handsome_hunk2307चुदाई की कहानी जारी है.

लेकिन वह मुझे पीछे से चोद रहा था तो मैं किचन की स्लेप को ही पकड़ कर झड़ गई।मेरा हल्का हल्का सा पानी मेरी चूत से निकलकर मेरी जांघों पर बहने लगा।अब उसकी बारी थी तो वह मेरी पीछे से पूरी तरह से कोली भर कर मुझे अपने आगोश में लेकर मुझे अपने अंदर समेटने की कोशिश करने लगा.मैं पछता रही थी कि क्यों इससे कहा कि मेरी सहेली को राहत दे दो, उसकी बेचैनी दूर कर दो.

पहली बार बीएफ - बीएफ दिखाइए मूवी

” कह के अंजू ने मेरे होंठ चूस लिए।शराब शुरू हो गयी। एक पेग खत्म हुआ तो मम्मी ने उपिन्दर की पैंट उतार दी।मालिनी, जब पर्दा खोला है तो अंडरवियर पे एक चुम्मी तो बनती है.गर्मी की वजह से उनकी त्वचा हल्का सा नमकीन लग रही थी लेकिन उस वक़्त मेरे दिमाग में और कुछ भी नहीं था.

मुकेश- भोसड़ा चोदी साली, मां को बुला रही है … भूल गई क्या उसने भी मेरे ससुर से इसी तरह चुदवाया था … वो अपनी विशालकाय गांड उठा उठा कर चुदी थी, तभी तू रंडी पैदा हुई थी साली. बीएफ दिखाइए मूवी वो मेरी चूत को चाटने लगा और पहले वाला अब दूसरे वाले के लंड को चूसने लगा.

इससे न्यासा की तड़प और बढ़ गई और वो सन्नी का लंड मुँह से निकाल कर मुझे गाली डेट हुए लंड चुत में डालने को कहने लगी- अन्दर डाल दे कमीने … क्यों तड़फा रहा है भोसड़ी के!उसके मुँह से गाली सुनकर भी जब मैं नहीं माना, तो उसने दूसरी तरकीब अख्तियार कर ली.

बीएफ दिखाइए मूवी?

अब हम आराम से चुदाई का मजा ले सकते थे क्योंकि चारों को एक दूसरे का पता चल गया था. ये मैसेज देखने के कुछ देर बाद फिर उनका फोन आया, तो मैंने रिसीव किया. वो लंड घुस जाने से कुछ तेज कराहना चाहती थी, पर मैं रेखा के होंठों को चूसने लगा.

शायरा नंगी थी इसलिए मुझसे शर्मा रही थी क्योंकि उसको तो मैंने पूरी नंगी कर दिया था. एक दिन …दोस्तो, मुझे पता है कि आप सभी को अन्तर्वासना पर एक से बढ़ कर एक सेक्स कहानियां पढ़ने को मिलती हैं और आप सभी पढ़ कर मजा करते हैं. हमारे घर में मेरे अलावा मेरे पिता (साहिल) जिनकी आयु 46 साल और मेरी प्यारी मॉम (शालिनी) जिनकी आयु 42 साल है, हम तीनों ही रहते हैं.

मेरा लन्ड तो उसे देख कर ही खड़ा हो गया।वंदना- क्या बात जीजू, मुझे देख कर आप खुश नहीं हुए?मैं- अरे नहीं ऐसी बात नहीं है, बस मुझे अपनी आंखों पर विश्वास नहीं हो रहा।वंदना- वैसे आप यहां क्या कर रहे हो, शायद दीदी से मिलने आये थे।मैं- हाँ, हमने सोलन जाना था पर लगता वो घर पर कोई बहाना ना लगा पायी होगी. एक औरत की अपने पति से कुछ इच्छा होती है, पर रमेश मुझसे अब ऐसे बर्ताव करता है, जैसे मेरा उस पर कोई हक ही नहीं है. वंदना ने रूम बुकिंग के बारे में रेसेप्शननिस्ट से बात की तो बोली- आपका रूम नंबर 202 है और वो खुला ही है.

वो मेरी चुत चटवाने की फंतासी को तब बखूबी शांत करता, जब ज़ब मेरा मन होता. तभी पति का कोई फोन आ गया और उसने मुझसे कहा- इनके साथ जाकर इनको वर्माजी का मकान दिखा दो.

मुझे लगा कि वह मुझे सामने से चोदता तो मैं उसकी कोली भर के झड़ जाती.

जल्दी ही उसका पानी निकल गया और लंड सुगमता से चुत में अन्दर बाहर होने लगा.

मेरी नजर उसकी सजीली गठीली काया को निहार कर उसके लिंगदेव पर आकार ठहर गई. वे बोले- भाई साहब … मेरा कितना भी बड़ा हो, पर अपना लंड खुद अपनी गांड में तो नहीं डाल सकता न!इस पर हम दोनों हंसने लगे. पर मेरे लंड ने शायरा की चूत की नसों को भी फैला दिया, जिससे अब शायरा के मुँह से एक दर्द भरी चीख निकल गयी.

मैं- ये मुझसे गुस्सा हैं, आप बोल कर देख लो, अगर उसे कुछ लेना हो तो बिल पे तो मुझे ही करना है. इससे क्या होता है कि आपकी साथी और आपकी भी कामुकता कम हो जाती है, औरत ठंडी पड़ने लगती है. अरे … ये बेचारा तो तुम्हारी मदद कर रहा था‌, नहीं तो तेरी साड़ी फट जाती.

फिर अपनी किताब लेकर अहाते में आकर लेट जाता और उनकी पैंटी और ब्रा को खूब चाटता और अपने लंड पर रगड़ता रहता.

उसने अपनी चूत को जोर से मेरे होंठों पर दबा दिया और अपने पानी से मेरा सारा मुंह भिगो दिया. अनिल ने भी दिखावे को उससे ये वादा किया कि तूने आज बरसों की तमन्ना पूरी की है. इसको देखते हुए मेरी मां ने मुझसे कई बार कहा कि दूसरी शादी कर ले … मगर अपने बेटे के भविष्य को देखते हुए हर बार मैं अपनी मां की बात को अनसुना कर दिया करता था.

[emailprotected]सेक्सी वाइफ की कहानी का अगला भाग:मेरी दूसरी बीवी संग सुहागरात- 2. बड़े बड़े स्तन थे उनके और वो इतने टाइट ब्लाऊज पहनती थी कि बटन टूटने को हुए रहते थे. वो अपने दूध मसलवाते हुए नशीली आवाज में बोली- तो अभी ही डाल दो ना अपना लंड … प्लीज.

दूसरी तरफ साधारण शब्दों में कहूँ तो एक तो आप का व्यक्तित्व शानदार होना चाहिए, दूसरा आप में वाकपटुता हो, तीसरी बात जो सबसे बड़ी बात, पैसा हो … जो औरतों को आकर्षित करने में अहम रोल निभाता है.

दोस्तो, मैं वासना में पागल हो रही थी तो रोहित का विरोध तो बहुत कम कर रही थी।अब मैं उसके सामने पहली बार सिर्फ ब्रा पैंटी में थी. मैं घर चला गया और अपनी लाइफ में बिजी हो गया क्योंकि मैं कॉम्पटीशन की तैयारी कर रहा था.

बीएफ दिखाइए मूवी थोड़ी देर बाद मैं भाभी के ऊपर से उठ कर बराबर में लेट गया और उन्हें देख कर किस करने लगा. मैंने पूछा- मेम, आपका होम टाउन कहां हैं?उन्होंने जगह का नाम बताया, जो कॉलेज से करीब 45 किलोमीटर की दूरी पर थी.

बीएफ दिखाइए मूवी उन्होंने कहा- देखो, अगर मैं ये कहूँगी कि रात में जो हुआ वो मुझे अच्छा नहीं लगा तो ये झूठ होगा. विजय माई लव … तुम मेरा पहला प्यार हो! मेरा शरीर छूने वाले पहले मर्द हो और मैं चाहती हूँ कि तुम्हारे सिवा मुझे और कोई न छूए.

रोहित दीदी के सामने भी मुझसे बात कर लेता था इसलिए हमें दीदी का भी कोई डर नहीं था।वह दीदी से बहुत घुल मिल गया था इसलिए मेरे बारे में भी वह बात कर लेता था।एक बार बातों बातों में दीदी ने उससे कह दिया होगा कि नीलम की और तुम्हारी शादी करवा देंगे.

तेलुगू हिंदी सेक्सी

राहुल ने लंड चुत से निकाला और शिल्पा को पलटाकर घोड़ी बनने का इशारा किया. तभी वहां पर दो लड़के आ गए और उन दोनों ने मॉम और आंटी से चिपक कर डांस करना शुरू कर दिया. अपने सर से इश्क करने के पहले मुझे इस बात का अंदाजा ही नहीं था कि उनका लंड इतना लम्बा होगा.

अब इसी तरह रात भर हमारे प्यार का सिलसिला चलता रहा और सुबह तक हम‌ एक दूसरे से प्यार करते रहे. मैंने अपने लंड को प्यासी चूत में पेले हुए ही अपनी दो उंगलियां उसकी गांड में घुसा दीं और गांड खोदने लगा. अब विक्रम संजू की गर्दन पर, कभी उसके कानों पर, कभी चेहरे पर किस करने लगा.

मैडम के साथ व्हाट्सएप पर गुडमार्निंग गुड नाईट विश हो जाता था … उससे ज्यादा कुछ नहीं होता था.

नंगा होने के बाद जब मैं रजाई में घुसा तो साली ने लंड को हाथ में पकड़ कर कहा- अरे बाप रे! इतना बड़ा! इतना मोटा. इस पर उन्होंने मुझे वापसी का टिकट बुक करने के लिए ये कहते हुए मना कर दिया कि वापसी का बाद में देख लेंगे. फिर अपने लण्ड का दबाव बढ़ाया तो टप्प की आवाज हुई और मेरे लण्ड का सुपारा मालू की चूत के अन्दर हो गया.

आप सब मेरा साथ दें और बतायें कि कहानी में कहां पर कमी रही और कहां कहां सुधार की गुंजाईश है. दोस्तो, उस समय मुझे समझ नहीं आ रहा कि क्या सही है और क्या गलत … बस मुझे अच्छा लग रहा था. तब उस रांड ने कहा- पीछे से कुर्ती ऊपर करके मेरी ब्रा का हुक खोल दे, फिर डाल लेना अपना हाथ.

शायरा के प्रेमद्वार से हल्का हल्का पानी रिस रहा था, जिससे उसकी चुत पहले ही गीली थी … पर शायरा की चूत को अब और गीली करवाने का समय आ गया था. जल्द ही मैं अपनी अगली देवर भाबी Xxx कहानी में आगे हुई भाबी की चुदाई को लिखूंगा कि हम दोनों ने अपनी अधूरी इच्छा कैसे पूरी की.

उसने भी मेरे जिस्म को अपनी मजबूत बाजुओं में उठा लिया और कमरे की तरफ ले जाने लगा. तब तक सैम ने भी अपने लंड को मेरी गांड में घुसाने लायक चिकना कर लिया था. जब उसकी नजर कंप्यूटर के मॉनीटर पर पड़ी, तो वो ध्यान से चुदाई की फिल्म देखने लगी.

हमारे पड़ोस में मेरी एक सहेली के पति ने एक बार उसके साथ पीछे से किया था.

ये कहते हुए उसने अपने घर का एड्रेस बता दिया, जो उसके क्लीनिक से थोड़ी ही दूर था. इन चुदाई की आवाजों से मुझे और जोश आया और मैं और जोर जोर से धक्के देने लगा. मुझे उनकी ये सेक्सी वाइफ की कहानी बहुत पसंद आई और उम्मीद है कि आप लोगों को भी पसंद आएगी.

तभी मैंने अपने होंठ उसको सौंप दिए और वो किसी भूखे भेड़िये की भाति मेरे होंठों को नौचने को आतुर हो गई थींमैंने भी अपना एक हाथ उसके टॉप में घुसा दिया और उसके मम्मों को आटे की तरह गूंथना शुरू कर दिया. मुझे आशा है कि आप सभी को मेरी फ्री हिंदी Xxx कहानी जरूर पंसद आई होगी.

इसलिए मैं कभी टीवी पर चल रहे उस गर्मागर्म सीन को‌ तो कभी शायरा को देखने लगा. दो दिनों में हमने घर का कोई कोना ऐसा नहीं छोड़ा जहां चुदाई ना की हो![emailprotected]कहानी जारी रहेगी. उस बंदे ने तीन चार जगह फोन घुमा कर हमारे लिए पास ही के एक होटल में ठहरने की व्यवस्था करवा दी.

सेक्सी ब्लू देना

मैं अभी भी टेबल पर ही लेटी थी और सर टेबल के नीचे खड़े होकर मुझसे लंड चुसवा रहे थे.

वो दोनों बोले- हां, बीयर तो है लेकिन वो गांव से बाहर एक दुकान पर ही मिलती है. आपको मेरी सेक्सी चूत की चुदाई स्टोरी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें. मैंने भाबी से कहा- हां भाबी मैं अब तक कुंवारा ही हूँ … आपकी कृपा रही तो पूरा मर्द बन जाऊंगा.

रूकने की अपेक्षा भीगते हुए घर पहुंचना बेहतर समझकर मैंने बाइक की रफ्तार बढ़ाई तो रेखा ने अपने दोनों हाथों से मेरी कमर को घेर लिया. अपनी चूचियों को जोर जोर से मसलने लगी और सिसकारे लगी- आह्ह … आईई … ऊह्ह … ओ नो … आह्ह … नहीं … उईई … स्सस … मर गयी. बीएफ सेक्सी पिक्चर चुदाईहालांकि हमारी स्लीपिंग बर्थ का कंपार्टमेंट बंद था, तो कोई भी हमें देख नहीं सकता था.

मैंने भी देर न करते हुए उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसे प्यार से चूमने लगी. मैं उसके आगे गिड़गिड़ाने लगी और बोली कि पापा और मम्मी को कुछ न बताये.

मैं दो तीन दिन तक अपनी गांड की सिकाई करती रही और चूत में उंगली भी करती रही. हमारे स्कूल की बिल्डिंग उस इलाके में सबसे ऊंची थी और उसकी दीवारें भी काफी ऊंची थीं, तो हम लोग नंगे छत पर क्या कर रहे हैं, इसे कोई नहीं देख सकता था. ’ की मधुर ध्वनि के साथ लंड को अपने अन्दर समाहित करने का प्रयत्न किया.

घर में सारा दिन अकेले रहने से अच्छा उसने बैंक में ये नौकरी कर ली, जिससे उसका समय भी बीत जाता था और नौकरी भी हो जाती थी. चूत पूरी टाइट हो गयी थी, मैंने जगह बनाते हुए लण्ड का सुपारा चूत में घुसा दिया। हल्के हल्के आगे पीछे कर के जगह बनाने लगा, मैंने किस करते हुए उसे बांहों में कस के जकड़ लिया और जोर का झटका लगा दिया चूत में जिससे कि आधा लण्ड चूत में घुस गया।मालविका छटपटाहट में खुद को मुझसे अलग करने लगी, उसकी आँखों में आंसू आ गए थे।मैं रुक गया और उसे किस करने लगा जिससे उसे थोड़ा आराम मिल सके. और थोड़ी देर में अपने पेन ड्राइव से ऑफिस में जाकर प्रिंट लिया और सबको एक एक टेस्ट पेपर दे दिया।1 घंटे का टेस्ट था.

मेरा लण्ड अब क़ाबू से बाहर होने लगा और वो पेट पर से किश करती हुई और नीचे सरक गयी.

फिर हमने दो दो पैग लगाए और कुछ देर एक दूसरे की चूमा चाटी करके सो गए. उसने मेरी पैन्ट को खोल दिया और मेरा लंड बाहर निकाल लिया- वाह कितना बड़ा और मोटा है … लगता है आज यह मेरी चूत की प्यास बुझा ही देगा.

दोनों के बीच में मैं ही एक कड़ी थी, जो दोनों को आराम से मिलवा सकती थी. मेरे दोस्त की सिस्टर की चुदाई कहानी पर मुझे अपना फीडबैक देने के लिए कृपया ईमेल ज़रूर करें, ताकि कहानियों का ये दौर, अन्तर्वासना की चुदाई की कहानी वाले पोर्टल पर … आपके लिए यूँ ही चलता रहे. न जाने कैसे उसने मुझे देख लिया और वो एकदम से घबरा कर अपने बदन को ढकने लगी.

मगर उस दिन मकान मालकिन ने‌ मुझे रोक लिया और कहने लगीं- तुम्हारा किसी से झगड़ा हुआ है क्या?मकान मालकिन‌ ने मुझसे पूछा. क्या चूत थी … एकदम साफ … मजा आ गया देखकर।जैसे ही मैं उनकी चूत चाटने के लिए झुका, वो बोली- क्या कर रहे हो मयंक?मैं बोला- क्यों … भैया ने कभी नहीं किया क्या?वो बोली- नहीं!मैंने बोला- आज देख लो भाभी कि इसमें कितना मजा आता है. कुछ देर बाद उसने फोन पर कहा- मैं अभी आपको फोन करता हूँ, कोई फ्रेंड आया है.

बीएफ दिखाइए मूवी अब तो हमारे बीच की सारी दीवार खत्म हो गयी थी क्योंकि अब तो हम एक दूसरे के बिना रह ही नहीं पाते थे. अनिल ने एक बार फिर सेक्स का राउंड करने की कोशिश की पर घबराहट और जल्दीबाजी में दोनों से ही नहीं हो पाया.

सेक्सी वीडियो ठुकाई

पहले तो मैंने उनके दोनों स्तनों को अपने हाथों में पकड़ा और फिर एक एक कर के दोनों को एक बच्चे जैसे चूसने में जुट गया. हम मिल दूसरी बार रहे थे, एक बार हम इस से पहले एक मॉल में मिले थे।हम घर के अंदर चले गए। उसने मुझे ड्राइंग रूम में बिठाया और चाय पानी के बाद मुझसे बातें करने लगी. मनोज को देखते ही उसने आगे से टॉवल खोल दिया और बोला- आओ जानू चलो प्यार करें.

उसके शरीर पर पानी की बूंदें थी और उसने अपने शरीर पर तौलिया लपेटा हुआ था. उसके मुंह से कामुक आवाजें आ रही थी, वो ‘आह आह … सस्सश जीजूऊऊ …’ बोल रही थी. ब्लू पिक्चर वीडियो सेक्सी वालीदीपा ने सिगरेट ले ली और एक लम्बा कश खींच कर धुंए का गुबार सुनील के ऊपर छोड़ दिया और मुस्कुरा दी.

अब तक आपने इस हॉट भाभी डबल चुदाई कहानी के पहले भागनशीली भाभी की डबल चुदाई की चाहमें पढ़ा था कि बिस्तर पर चित लेटी हुई न्यासा अपने दोनों हाथों में हम दोनों के मोटे लंड पकड़ कर सहलाते हुए एक मस्तानी रांड सी दिख रही थी.

उसके बाद उन्होंने फिर मेरी तरफ पीठ की और अपने पेटीकोट को चूचियों से नीचे करते हुए अपने ब्लाऊज को पहनने लगी. फिर मैंने सोचा कि हो सकता है कपड़े चेंज करने के बाद वो लैटर लिखे, तो मैं फिर से अन्दर झांकने लगा.

मैं अंदर आया तो देखा ज़ारा के बेडरूम का दरवाजा खुला पड़ा है और लाइट भी जल रही है. मैंने उसकी कच्छी के ऊपर से ही चूत पर हाथ फेरते हुए कहा तो उसने मस्ती में आँखें बंद करते हुए मेरा हाथ अपनी चूत पर दबा दिया।अब पहाड़ी रास्ता शुरू हो गया था, मैंने एक सिगरेट जलाई और कश मारते हुए गाड़ी चला रहा था. मैं आज सिर्फ़ तुम्हारी हूँ, तुम मेरा ख्याल रखोगे न!रामू- जी भाभी जी.

एक मिनट बाद मैं पूरे जोश में अपना पूरा लंड धीमे से लंबे झटके मारते हुए घुसा रहा था और भाभी मजा लेते हुए अपनी कामुकता को कन्ट्रोल कर रही थीं.

अभी तक मैंने अपने एक हाथ में पर्स पकड़ा हुआ था और दूसरे हाथ से ऊपर बस में जो पकड़ने के‌ लिए पाईप होता है, उसे पकड़ा हुआ था. वो अपने हाथों से बेडशीट नोचने लगी और बोली- हाय साहब जी, बाहर निकालो अपना लन्ड! आप बहुत बेदर्द हो! बाहर निकालो इसे! मैंने नहीं चुदना आपसे!मैंने उसके चेहरे पर बिखरी लटों को स्नवारा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर उन्हें चूमने लगा. उसने मुझे पेड़ की आड़ में कैसे चोदा?मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भागसिनेमा हाल में चूत चुदाई का मजामें आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपने यार से सिनेमा हाल में चुदी.

हिंदी वीडियो बीएफ पिक्चरचाची- तुझे तो दर्द नहीं हो रहा न … तू तो कुछ भी बोलेगा … यहां मेरी जान जा रही है. इसके बाद से जब भी मुझे मौका मिलता, तो मैं अपनी सास कोबाजारू रंडीबना कर चोद लेता हूं.

सेक्सी व्हिडिओ दाखवा हिंदी

क्योंकि उस समय मुझे सारे ही पांच सौ रूपए तो महीने भर के लिए पॉकेट मनी मिलता था. जब मेरे होंठ एक निप्पल पर होते थे तो हाथ दूसरे पर … दीदी के मुंह से लगातार सिसकी निकले जा रही थी. फिर धीरे धीरे बातें फोन पर पप्पी सप्पी की होने लगी और बातों का सिलसिला बढ़ता गया.

जाते समय उसने मुझे कोई चीज भेंट की और कहा- ये मेरी निशानी के तौर पर रख लो. मेरी चूत के आस-पास ही उसकी उंगलियां चल रही थीं और उसकी जीभ मेरी नाभि पर आ गई थी. जल्द ही मैं अपनी अगली देवर भाबी Xxx कहानी में आगे हुई भाबी की चुदाई को लिखूंगा कि हम दोनों ने अपनी अधूरी इच्छा कैसे पूरी की.

पर अचानक डॉक्टर ठहर गया और मेरी दोनों चूचियों को बारी-बारी से पीने लगा. मैंने बाहर ही दोनों बियर में सेक्स पावर वाली गोली डाल दी थी।जैसे ही मीना ने दूसरी बियर पीना शुरू किया मैंने उसको गर्म करना शुरू कर दिया. उनकी स्कर्ट उनके घुटने से थोड़ी ऊपर थी, जिससे उनकी मोटी मोटी जांघें साफ़ दिखाई दे रही थीं.

अपनी चूत के लबों को फैला कर मीरा मेरे लण्ड पर बैठ गई, देखते देखते मेरा पूरा लण्ड मीरा की चूत में समा गया. हालांकि मेरी कोई गलती नहीं थी मगर अभी हाल ही में शायरा ने मुझे भी थप्पड़ मारा था, इसलिए सबकी बातों का विषय मैं ही बना हुआ था.

मैंने आंखों से उसकी तरफ वासना से देखा और हाथ के इशारे से लंड रस मुँह में छोड़ देने का कह दिया.

बाद में सास ने पूछा तो मैंने उन्हें दारू की बात कह दी, तो वो धीरे से मेरे नजदीक आकर बोलीं- मेरे लिए भी ले आना. विकलांग बीएफतो मैंने लोशन अपनी उँगलियों पर लगा कर तीसरी उंगली भी उसकी चूत में डाल दी. हिंदी में ब्लू सेक्सी वीडियो मेंअब वो अपनी बेटी की चुदाई करने उसके कमरे में जा पहुंचा जहां उसने ज्योति को गर्म करके उसको अपने पिता का लंड लेने के लिए मजबूर कर दिया और अपने लंड को ज्योति की चूत पर लगा कर उसको तड़पाने लगा. वहां जाकर पकौड़े बनाने की तैयारियां करने लगी।नेहा ने भी मुझसे कहा- मैं भी तुम्हारी मदद करती हूं.

मैंने दिव्या को भाई के ऊपर से अपने हाथों का सहारा देकर उठाया और उन दोनों को पीने के लिए पानी दिया.

मैंने भी उसके बदन पर कपड़ों के ऊपर से ही हर जगह हाथ फिराया और कसके उसके निप्पल मसल दिए. सास जैसे ही घोड़ी बनी तो मैंने अपने लंड पर थूक लगाया और पीछे से उंगली करके सास की गांड में भी थूक लगा दिया. मैं किसी भी तरह की जबरदस्ती नहीं करना चाहता था, पर उसके साथ सेक्स करना चाहता था.

अपना पूरा लंड अन्दर घुसेड़ने के बाद अभिषेक एक मिनट के लिए रुका और मुझे झुक कर चूमने के बाद मुझे राहत दी. उसने मुझे देखकर आज अपना मुँह नहीं बनाया बल्कि मेरी तरफ देखते हुए कहा- वो कल रात को लिए थैंक्स. शुरूआत में मैंने लिखा था कि मुझे दो ईमेल आई थीं, दूसरी ई-मेल वाली सेक्स कहानी भी मैं जल्दी लिखूंगा.

अनुष्का से सेक्सी

ये सोचकर मैंने काफ़ी गर्व का अनुभव करते हुए पंकज के लंड को पकड़ लिया. मैंने अपने ऑफिस के एड्रेस पर कुछ हाई सेंसर वाले स्पाई कैमरा ऑर्डर कर दिए. मेरा कॉलेज दिल्ली में था, मैं अपनी बाइक से मैट्रो स्टेशन तक गया और वहां जा कर पता चला कि किसी खराबी की वजह से इस रूट की मैट्रो ट्रेन लेट चल रही हैं.

वैसे तो मैं सबसे आखिर में उस बस में चढ़ा था इसलिए मैं ही सबसे पीछे था.

अगली बार आएंगे … और आप चाहेंगे, तो कोई और कोई नया माल नमकीन लौंडा दिलवा देंगे.

यह सुन कर मैंने आशा को उसके कंधों से पकड़ा और उससे पूछा- क्या तुम मेरे साथ संभोग करोगी?तो वो बोली- साहब जी, क्या आप मुझे अपने लायक समझते हो?मैं बोला- आशा, जब संभोग की आग दोनों तरफ लगी हो तो कोई छोटा बड़ा नहीं होता!यह बोल कर मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये और आशा भी मेरे होंठों को बुरी तरह से चूमने लगी. अनीता बोली- आपने पिया तो है … क्या आपको मजा आया?मैं बोला- अनु … सच में जो मजा आज मिला है. हिंदी ब्लू पिक्चर बीएफ पिक्चरअभिषेक ने एक साल में मुझे चोद चोद कर पूरी रंडी औरत जैसा बना दिया था.

मैं तो उसकी ले कर खुश था ही, वो भी मुझसे अपनी सील तुड़वा कर बहुत खुश थी. सामने एक आइना इस तरह से रख दिया कि दरवाजे पर मेरी नजर रहे और मॉनिटर दरवाजे से दिखे. वो समझ नहीं पाया और पूछने लगा- किधर चाची?मैंने उसके हाथ को उठा कर अपनी पैंटी लाइन पर रख कर कहा कि इधर करो.

वह रूम में चाय लेकर आया और बोला- शालू चाय पी लो!हम दोनों ने साथ बैठकर चाय पी और काफी देर तक बातें की. डॉक्टर ने बोला- मेडम आपकी जांच रिपोर्ट 2 दिन बाद आएगी, आपके फ़ोन पर पॉजिटिव या नेगिटिव रिपोर्ट का मैसेज आ जाएगा.

हमारा परिवार जयपुर शहर में रहता है जबकि मेरे ससुराल के गांव जो जयपुर के पास ही पड़ता है.

यह गर्लफ्रेंड Xxx कहानी एक लड़की की चुदाई की है जो एक दुकान में काम करती थी. फिर कमलेश बोला- शरमा क्यों रही है … अभी सबका लंड गांड उठा उठा कर लेगी. वो तड़पने लगी- आह अब तो चोद दो … आज मेरी फाड़ दो … आह मेरी चिकनी गुलाबी चुत को ठंडी कर दो … आह आज से ये तुम्हारी है.

हिंदी एचडी वीडियो सेक्सी बीएफ मम्मी भी पूछने लगीं- क्या हुआ?भाबी ने कहा- कुछ नहीं मम्मी जी … मैं कोई सपना देख रही थी. ये सब सोच कर पिंकी ने अपना मन अनिल से हटा लिया और रवि को सेक्स में साथ देने लगी.

जब भी मेरा हाथ उसके निप्पलों को कचोटता तो वो जोर से मेरे होंठों को बदले में काट लेती थी. फिर अंकल मॉम की उंगली में चूत डाल कर उन्हें तैयार करने लगे और मॉम की चूत जल्दी ही चुदने के लिए तैयार हो गई. आपका अब तक जो प्यार मुझे मिला है, उसके लिए आप सभी का तहे दिल से धन्यवाद.

मराठी पंजाबी सेक्सी व्हिडिओ

एक मिनट बाद जब मॉम का दर्द बंद हुआ, तो मॉम भी अंकल को किस करने लगीं. उसने पैंटी और ब्रा पहनना छोड़ रखा है और सीधे आकर मेरे मुंह से चूत लगा देती है. अपने इस मूसल लंड से मैंने कई आंटियों को चोदा है और चोद चोदकर भरपूर संतुष्ट किया है.

मैं मिन्नत करने लगी और बोली- जीजा, बस एक बार डाल दो, अगर भाई आने लगे तो वापस अंदर कर लेना. इससे आरिषा भाभी चिल्लाने लगीं- आयऊ … उऊहह आअहह … आराम से हह आअहह रामू … मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ.

उसने हंस कर कहा- अच्छा जी, कौन सा गाना याद आ गया … ज़रा मुझे भी सुनाओ.

मैं तो तुम्हारी चूत सील बन्द समझता था।दोस्तो, पता नहीं लड़कों को सील तोड़ने में क्या मज़ा मिलता है. मैंने वापस चलते वक्त उससे पूछा- तुमको मेरे कैसा लगा?तो उसने कहा- बार बार आने को मन करेगा, ऐसा लगा. वो बोली- भूख लग आयी होगी मेरे शेर को …यह कह कर वो नंगी ही किचन में चली गयी और बियर व खाना लेकर आ गयी.

तब भाभी मान गयी और मेरा लंड चूसने लगी।वाह … क्या मजा आया।अब सीमा मुख से लंड निकाल कर बोली- बस यही सब करना है या आगे भी बढ़ोगे?मैंने भाभी को बेड पर लिटा दिया।वो बोली- मयंक, आराम से करना, तुम्हारे भैया का तुमसे छोटा है।मैं समझ गया था कि मुझे क्या करना है।मैंने सीमा को बेड पर लिटा के पहले उनके होंठों पर फिर चूत पर एक किस दी. मेरे पर तुझे रहम भी नहीं आई साले … भड़वे … मादरचोद … तेरी माँ को चोदूं हरामी … विदेशियों के साथ रह कर ये सब सीख कर आया भैनचोद … तेरी पत्नी तो तेरे को हाथ मारेगी … आआह ऊऊह. ‘उह्ह … ह्म्म्म आअह ह्हह … हम्म्म म्मम … आई … मर्रर्र … गईईई मैं आ … रहीई … हूँ … ओह्ह्ह … ह्म्म्म्म … और … उह्ह … ह्म्म्म्म … अब और मत तड़पाओ राहुल.

मैं- वैसे एक‌ बात कहूँ, बुरा मत मानना, तुम्हारा फिगर सच में ही कयामत है.

बीएफ दिखाइए मूवी: मैं समझ गया तीर निशाने पे लगा है।चाय लेकर हम अंदर कमरे में आए और रजाई में घुस गए. धीरे धीरे मैंने मलीहा को बेड पर लिटा दिया और उनके दोनों मम्मों को चूसते हुए धीरे धीरे नीचे को आता जा रहा था.

मैं- चलिये अमित जी, ठीक है पेग बनायें आप फिर!इतना कहकर दोनों हंस पड़े. मामा जी- क्या बोला डॉक्टर ने और अभी कैसी हैं?दीदी- अभी ठीक है, पर डॉक्टर ने किसी बढ़िया डॉक्टर से दिखाने के लिए बोला है. भाबी भी लंड के लिए तड़पने लगी थीं और अपनी गांड उठा उठा कर मेरे हाथ से अपनी चुत चुदाई के मज़े लेने लगीं.

मेरी बीवी ने एक मीठी आह के साथ सीत्कार भरी और उधर राहुल ने धक्का लगाना शुरू कर दिया.

मगर जब कंडक्टर ने मुझे टिकट और बाकी के पैसे वापस दिए … तो उनको अपने पर्स में रखने के लिए मैंने ऊपर जो बस का जो पाईप पकड़ा हुआ था, उसे छोड़ दिया और दोनों हाथों से पैसे व टिकट को अपने पर्स में रखने लगा. अगर पापा को पता चला तो आपका क्या होगा!मॉम बोलीं- मुझे तुम्हारे पापा की कमी खलती है, इसलिए ऐसा हो गया. संगीता- आआह और जोर से चोदो आआह … हां और तेज मेरे राजा … आआह मेरे चोदू भगत … मेरी चूत के पुजारी … चोदो मुझे … आईईईई हां बस ऐसे ही.