स्पेशल बीएफ

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स एचडी सेक्सी हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

भोजपुरी में बफ: स्पेशल बीएफ, फिर वह अचानक से हटा और मेरी कमर पर किस करते हुए नीचे तक की तरफ मेरी गांड पर चला गया.

सेक्सी वीडियो बीपी गुजराती में

दीपिका बैठे बैठे मुड़ी और मेरा पैग उठा कर गटागट एक ही सांस में पी गई. हरियाणवी सेक्सी रागनीजैसे ही भाभी ने फूल को पकड़ने के लिए हाथ आगे किया तो मैंने भाभी का हाथ पकड़ लिया और उनकी उंगली में वो सोने की अंगूठी डाल दी.

मैंने प्यार से मोहित होकर उसके मुंह पर चुम्मियों की बारिश कर डाली और उसके कानों में प्यार से पता नहीं क्या क्या कहा. काजल अग्रवाल की नंगी सेक्सीमैंने चुत की फांकों में लंड का सुपारा घिसा, इससे कोमल और ज्यादा उत्तेजित हो उठी.

लेकिन चुदाई तो होनी ही थी और बिना पैंट उतरे चुदाई हो नहीं सकती थी तो मैंने उसकी जीन्स खोल कर उतार दी।अब मेरी गर्लफ्रेंड केवल पैंटी में मस्त लग रही थी.स्पेशल बीएफ: मैं जब भी यहां इंडिया में आऊंगी तो तुम्हारे साथ ही हर बार एक सुहागरात मनाऊंगी.

आआहह … आज बहुत दिनों बाद मैं एक ही दिन में दो बार अपनी चरम सीमा तक पहुंच गयी थी.उधर मैंने मैंने रानी की निकर को ढीला किया और एक ही झटके में खींच कर उतार डाला, फिर एक तरफ को फेंक दिया.

हेमा मालिनी का सेक्सी गाना - स्पेशल बीएफ

रानी के मुंह पर एक मुस्कान सी खेलने लगी और बुर में फिर से रस बहने लगा जिससे लंड को भी मज़ा आने लगा.अम्मी बोलीं- दूध पीना है मेरे शोना को?मैंने भी गर्दन हिला दी और अम्मी ने मेरा सर अपने मम्मों के बीच घुसेड़ दिया.

वो- कब से फोन कर रही हूँ … उठा क्यों नहीं रहे हो?मैं- पागल हो क्या. स्पेशल बीएफ मगर ये तो तुम बताओगी कि तुम मेरे लंड से कैसे खेलोगी?वो- तुम्हारे लंड को हाथ में लेकर मैं उसे सहलाऊंगी, उसे चूमूंगी … मुँह में भरके चूसूंगी.

मैंने उनकी पैंट की जिप को खोल कर अंदर हाथ दिया और उनके लंड को पकड़ लिया.

स्पेशल बीएफ?

यूं तो मेरी चुत भी नग्न था, पर क्योंकि मैं बैठी हुई थी और मेरी जांघें आस पास थीं … तो मेरी चुत काफी हद तक छुपी हुई थी. उसके छूट जाने के बाद भी मैं उसके लन्ड को अंदर चूत में लिए चोदती रही। उसकी सांसें ऊपर आ गयीं।मैं तब भी न रुकी तो वो बोला कि रीना… बस करो, मुझे अटैक आ जाएगा। तब मैंने उस पर तरस खाया। मगर उसके लंबे लिंग की सवारी करके मजा आ गया. तो पता चला कि उसने कॉलेज छोड़ दिया है और उसका एडमिशन कनाडा की किसी यूनिवर्सिटी में हो गया है.

अम्मी के जाते ही मैंने दरवाजा लगा दिया … जल्दी जल्दी खाना खाया और प्लेट वगैरह धुलने में रख कर कमरे की तरफ आ गया. उसने चूत के ऊपर थूक दिया और उस पर खूब मल दिया। उसने करीब 5 – 6 बार थूका। फिर चूत की चुसाई में लग गया।उसने जीभ से चूत की लंबी चिराई को सहलाना शुरू किया और अपने दायें हाथ की मध्य उंगली उसकी चूत में घुसा दी।रिया चिहुंक उठी- ऊफ़्फ़ … आआहह. मगर आप लोग तो जानते ही हो कि लड़कियों को बात किये बिना खाना हजम नहीं होता है.

मैं- आप लोग दिल्ली में कहां रहते हो?स्नेहा भाभी ने अपना पता बताया कि यहां रहती हूं. भाभी की बात खत्म हो गई और वो मुझसे बोलीं- लगता है तुझे आज ही सब कुछ बताना पड़ेगा. वह तीन बच्चों की मां बन चुकी थी मगर उसको देख कर बिल्कुल भी नहीं लगता था कि वह तीन बच्चों की मां है.

लेकिन उन्हें मनाएंगे कैसे … तुमने कुछ सोचा है क्या?चित्रा- नहीं … मैंने अभी इसके लिए कुछ नहीं सोचा है. अगले दिन मैं शाम को अपनी बालकॉनी में खड़ा था वो लड़की भी अपनी बालकॉनी में खड़ी थी.

मैं समझ गया कि अब साली जी से चूत की खुजली सहन नहीं हो रही है और उसे तत्काल लंड चाहिए अपनी चूत में.

अब आगे:मैंने उनके बिस्तर के पास आकर उन्हें प्यार से देखा, तो भाभी ने आंख मार दी.

मैंने अपने हाथ से पकड़ कर अपने दोस्त के हाथ को अपनी बीवी के बूब्स पर रख दिया. मैंने रोहिताश के हाथ को अपने लन्ड से हटाया और उसके सामने ही उसकी बीवी की चूत में एक बार फिर से डाल दिया. मैंने कहा- यार, मैंने मजाक किया था, उसने कुछ नहीं कहा, मैंने झूठी कहानी बनाई।पर खुशी ने कहा- मैं जानती हूँ तुम झूठ नहीं बोल सकते.

हमारे जिस्म फिर से गर्म हो उठे थे और एक बार फिर से गांड चुदाई का मूड बन गया था. इसी पोज में लगभग दो मिनट चोदने के बाद रोहित बोला- भाभी, प्लीज डॉगी पोज में आ जाओ ना!मेरी बीवी तुरंत डॉगी पोज में आ गई. तो अच्छा है कि हम यहीं से शुरू कर दें अगर आप सभी सहमत हो तो?मुझे देख कर एक पल के लिए सभी को लगा कि बात तो ठीक है.

मैं मुंबई एयरपोर्ट पर शाम को करीब सात बजे पहुंचा, मुझे लेने के लिए जीजा जी आए थे.

ये सोच कर मुझे पहले तो खुद पर हंसी आई … फिर मैंने बिना पेन्टी के जींस पहन ली. कोमल अब पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी, लेकिन मैं गोली के असर शुरू होने तक उसे और तड़पाना चाहता था. संजना और शीना के छेद से पानी निकल रहा था, जो उनकी जांघों तक पूरा निकल रहा था और नीचे जमीन पर भी गिर रहा था.

मेरी कमजोरी भी यही थी कि जरा से भाभी की चूचियां हिलीं या चूतड़ लचके, बस मैं उत्तेजित हो जाता था. उसकी पैंटी के शुरू होने से पहले वाले हिस्से और नाभि के नीचे वाले हिस्से पर उसने दो-तीन गर्म चुम्बन दिये. लेकिन जैसे ही मेरे देवर मेरे सामने आए, वे मुझे देखकर हल्का शर्मा रहे थे.

चूंकि घर में मेरी बहन, उनकी बेटी और ससुर रहते थे, तो उनको ये अच्छा नहीं लगता था कि वे सब एक ही बिस्तर पर सोएं.

गांड तो उसने भी मेरी मारी, मगर राजवीर के लिए सब कुर्बान।सीमा- तो इस तरह प्रिया एक ही रात में दो भाइयों से चुदने वाली औरत बन गयी।इस बात पर सबके ठहाके फिर से गूंज उठे. वो बोली- तो फिर वो ऐड कैसे?मैंने कहा- वो तो मैंने इसलिए पोस्ट की हुई है कि लेडी मुझे उसके जरिये कॉन्टेक्ट कर सके और अगर किसी को मेरे साथ सेक्स करना हो तो वह भी ऑप्शन होता है.

स्पेशल बीएफ अभी मुझे सिर्फ चुदाई ही दिख रही थी, वैसे भी मुझे ज्यादा चिंता नहीं हो रही थी. मैंने धीमे से नताशा के गांड पर लंड सैट करके तेल टपकाया और धीमे से धक्का लगा दिया, जिससे थोड़ा सा लंड तेल की चिकनाई के साथ उसकी कुंवारी गांड में घुस गया.

स्पेशल बीएफ क्योंकि अभी तक मैंने उनका लंड नहीं देखा था, जो शॉर्ट के अन्दर से ठीक ठाक ही लग रहा था. चूतरस के साथ ही साथ पेशाब की एक के बाद एक अनेक धाराएं तुल्लारी मारने लगीं.

सुहास मेरे पूरे बूब को मुँह में लेने की कोशिश कर रहा था, पर वो सुहास के मुँह में नहीं जा रहा था.

ತ್ರಿಬಲ್ ಎಕ್ಸ್ ಬಿಎಫ್

अगर आप सभी हमारा साथ दो तो ही ये हो सकता है, क्या आप सभी तैयार हो?तो मैंने एक नजर उन सभी की तरफ़ घुमाई. भैया को लगेगा कि आपका जो बच्चा होगा वो उनका होगा लेकिन असल में वो मेरा होगा. उसकी चोटी पकड़ कर मैंने इस तरह थाम लिया मानो घुड़सवार ने घोड़े की लगाम थाम ली हो.

मेरा वह दोस्त जो मुझे अंतरवासना से ही मिला … मैंने अपने आप को पूरी तरह से उसे सौंप दिया और उसके नीचे पड़ी पड़ी बस उसके लंड का अहसास कर रही थी. जो भी मेल मेरे पास आए, उनमें से कितनी असल में लड़कियां हैं और कितने लड़कों ने लड़की की आई-डी बनाकर मेल किए हैं, ये तो मैं नहीं जानता. मैंने उसे दोनों हाथ से उठाया, बाथरूम में एक बार फिर शॉवर चला कर अच्छी तरह से धोकर कपड़े से पौंछा.

मैंने अपने हाथों को दीपिका के दोनों कोमल और चिकने नितम्बों पर रखा और उन्हें अपनी ओर खींचते हुए नोंचने लगा.

नहीं तो मैं शर्म के मारे मर जाऊंगी।मैंने भी रहम किया, कुछ देर शांत रहकर उसकी चुदाई के उपाय सोचने लगा और उसके बदन को निहारते रहा. वो मुझे रोज़ सोने से पहले अपनी गर्लफ्रेंड के साथ के किस्से बताता कि कैसे वो सिनेमा हॉल में उसके निप्पलों को चूसता है … उसकी चूत में उंगली करता है और किस किस पोजीशन में उसने अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स किया है. अमन अंदर आते हुए शरारती अंदाज़ में बोले- बुलाना है क्या? जरूरत है क्या मेडम को उसकी?मैं- चुप बदमाश!बोलते हुए मैंने भी हंस कर अमन की बात का जवाब दिया.

मैं दोनों हाथों से मनीषा भाभी के सर को पकड़े हुए था और उनका एक हाथ मेरे लोअर में था. यानि श्लोक की चुदाई का डोज मुझे मिला है। मादरचोद ने चोद चोद कर मेरी चूत का सारा रस खत्म कर दिया. मायरा को देख कर ऐसा लग रहा था कि उसको लंड चूसने में ही काफी ज्यादा संतुष्टि मिल रही है.

इसलिए थोड़ी बहुत देर में वे कंफर्टेबल हो गए।फिर जब अगली रात आई तो फिर भी ऐसा ही हुआ मेरी सासू ने फिर से मेरे देवर को मेरे रूम में सोने के लिए बोल दिया कि तब तक तेरे भैया नहीं आते तब तक भाभी के साथ ही सो जाया कर ताकि वे ना डरे।लेकिन इस रात के लिए मैं एकदम तैयार थी. उसने मेरी नाइटी को फाड़ दिया, ब्रा भी पेंटी भी फाड़ते हुए अलग कर दीं.

अगले दिन जब ज्ञान जी मेरे घर आये तो उन्होंने मुझे तेल की शीशी थमा दी. हवस भी क्या चीज़ होती है, यह अहसास उस वक्त होता है जब हम हवस में कुछ गलत कर जाते हैं. इसके अलावा कॉलेज में भी मेरे दो बॉयफ्रेंड हैं, जिनके साथ कभी कभी चुत मराती रहती हूँ.

मैंने तुरंत दरवाजे से आँख हटाई और अपने कमरे में बिस्तर पर बैठ गयी।बस एक मिनट बाद ही भाभी के कमरे दरवाजा खुलने आयी और मैंने गैलरी में बाबूजी को जल्दी जल्दी माँ के कमरे में जाते देखा.

कोई जल्दी नहीं है।मैंने पूछा- और रोहन क्या कर रहा है?रोहित- वो रूम में ही है. उम्मीद करता हूं आपको भी ये पढ़ कर मजा आया होगा। जो लड़के पढ़ रहे हैं उनको अपना सलाम और जो लड़कियाँ पढ़ रही हैं उनको मेरे छोटे लंड का पैगाम।कहानी आपको कैसी लगी? नीचे कमेंट्स पर बता सकते हैं. बस ये बात फैलनी नहीं चाहिये।ठीक है, चल … नहीं बताउंगा, चल निकल ले यहाँ से! मैंने अब कभी इसके साथ तुझे देख लिया तो सोच लेना क्या होगा तेरा …”वो फ़टाफ़ट वहाँ से निकल लिया।अब मैं सपना से बोला- ये सब क्या है? कब से चुदवा रही है इससे? सच-सच बता।वो रोने लगी।उसने कहा- वो रोज-रोज मुझे चिट्ठी देकर प्रपोज कर रहा था। मुझे भी वो अच्छा लगने लगा तो आज उसने यहाँ मिलने का प्लान बनाया.

मैंने तुरंत दरवाजे से आँख हटाई और अपने कमरे में बिस्तर पर बैठ गयी।बस एक मिनट बाद ही भाभी के कमरे दरवाजा खुलने आयी और मैंने गैलरी में बाबूजी को जल्दी जल्दी माँ के कमरे में जाते देखा. ये कहते हुए मैंने भाभी का हाथ अपने लंड पर रख दिया, जो जोश में फनफना रहा था.

ऐसा लग रहा था कि किसी लड़की का नहीं, साले किसी गाय के थन दुहने की कोशिश कर रहे थे. फिर उसने मेरा हाथ पकड़ा और मेरी उंगलियों में अपनी उंगलियों फंसा ली और फिर मुझे पीछे की तरफ बेड पर लेटा दिया और मेरे कपड़े निकालने लगा. मैंने मौसी की एक चूची को मुँह में भर लिया और दूसरी को दबा के पहली को चूसते हुए धक्के लगाना जारी रखा.

देसी चुदाई दिखाइए

मैंने पूछा- आप मुम्बई भी आओगे क्या?उन्होंने बताया- हाँ, पहले मैं मुम्बई में ही आऊंगा.

एक सिगरेट लेकर जलाई, कश लगाया … फिर फोन निकाल कर देखा … तो उसके 10-12 मिस कॉल पड़े थे. उनके मुँह पर लंड का माल लगा था, जिस वजह से मेरे लंड का आधा माल उनके मुँह में चला गया था. दस पंद्रह मिनट में छोड़ देते हो, पहले तो घण्टों लगे रहते थे?विक्रम ने तैश में बोल ही दिया- पहले तुम भी बाहर का खाना इतना नहीं खाती थी.

अब अम्मी खुद अपने हाथों से ही अपनी चूचियां दबा रही थीं … और चुत में उंगली कर रही थीं. उसे देख रूपा के होश उड़ गए। वो क़िताब पर झपटी मगर मैंने उसे वो किताब नहीं दी।और किताब देखते हुए बोला- अरे वाह तो तुम ये शौक भी रखती हो?इतना सुन कर रूपा होंठ मींजते हुए बोली- अरे नहीं अंकल, ये किताब मेरी सहेली की है।अरे तो क्या हुआ … तुम्हारे पास है मतलब तुम भी पढ़ती ही हो। इसमें इतना शर्माने की जरूरत नहीं है. सेक्सी वीडियो हिंदी में देखने काउसने मुझसे पूछा- स्वाद कैसा लगा?मैं हंस दिया और फिर से लंड चूसने लगा.

वहां पहुंचते ही मेरी नजर सजावट और पंडाल के अलावा लाल रेग्जीन के सोफे पर बैठी खुशी पर पड़ी. जैसा कि सब पुरुषों को बताया गया था, सबने अपने कमरे में पहुंचकर आराम किया.

यदि आप एक औरत हो, तो कमेन्ट में जरूर बताएं कि क्या आप भविष्य में अपनी गांड मरवाओगी. चाची ने चुत चटने के बाद उठ कर मुझे गले से लगाया और कहा- तुम्हारे चाचा ने कभी मेरी चुत नहीं चाटी थी, पर आज मैं समझी कि चुत चुसाई में कितना मज़ा आता है. ‘हैंअ … जब इसमें कुछ कुछ होता है, तो ये बड़ा हो जाता है … और जब कुछ कुछ नहीं होता, तो ये छोटा बन जाता है.

इतना कि बस उसका लण्ड ही बाहर निकला हुआ था।उसने मेरी पीठ पर चूमते हुए एक हाथ को मेरी कमर से नीचे ले जाकर चूत को सहलाना शुरू कर दिया और दूसरे हाथ से अपने लण्ड को मेरी जाँघों के बीच में घुसेड़ना शुरू कर दिया।मैंने उसकी कोशिश को देखते हुए अपनी टांगों को थोड़ा फैला दिया जिससे उसका लण्ड मेरी जाँघों के बीच में पूरी तरह से फिट हो गया. ” जाने क्यों हर बार मैं वसुंधरा के अप्रतिम प्रेम के आगे हार जाता हूँ. उसने चलते चलते मेमसाब से गर्भ न रूकने की दवाई का नाम भी लिखवा लिया था और लौटते में मेडिकल स्टोर से वो लेती हुई आई.

जीजा जी- एक काम करो, तुम दोनों भी हमारे साथ आ जाओ, वैसे भी वहां एक कमरा खाली है.

दीप्ति ने मेरे कुर्ते के बटन खोले और मैंने हाथ ऊपर कर दिये तो उसने मेरे कुर्ते को निकाल दिया. अब संजू ने भी अपनी जीभ रोहित के मुँह में दे दी, तो रोहित बेतहाशा जीभ को चुभलाने लगा.

क्या लाजवाब शरीर था, मक्खन जैसा!मैंने उसके पैरों से उसे चूमना चालू किया और मस्ती में चूर होता हुआ धीरे धीरे उसकी रेशमी टांगों को चाटता हुआ उसकी चूत तक जा पहुंचा. उसके पति रोहिताश ने जिसकी आँखों के आगे उसकी कामुक इच्छा पूर्ति हो रही थी. लंड घुसते ही वो चिल्लाने लगी- आईई… उफ्फ … ऊई मां, छोड़ दे कुत्ते, मैंने गांड चोदने के लिए कहा था, फाड़ने के लिए नहीं! ऐसे तो मैं मर ही जाऊंगी.

उसने नजर झुकाते हुए कहा- तुम सब जानती हो … पर कब से?मैंने कहा- बहुत दिनों से … पर यह जरूरी नहीं है कि मैं क्या जानती हूँ, क्या नहीं … जरूरी ये है कि क्या तुम अपने जीवन की शुरूआत फिर से करना चाहती हो?कुछ देर शांत रहने के बाद वो मेरे से चिपक कर फूट फूट कर रोने लगी. और फिर से अपने मुंह में मेरा लिंग ले लिया और जितना हो सके उतनी अंदर तक ले रही थी।क्योंकि पहली बार मेरा लिंग का मुखमैथुन हो रहा था तो मैंने उनके सर को पकड़ कर अपने लिंग पर दबाना चालू किया और अपनी कमर उठाने लगा. वो असहज होते हुए बोली- क्या कर रहे हो, जान निकालोगे क्या?मैंने कहा- इतनी प्यारी जान की जान निकाली नहीं जाती है, इसके लिए तो जान दी जाती है.

स्पेशल बीएफ चूत में लंड को धकेल कर वो रुक गया और उसके बूब्स को जोर से दबाते हुए पीने लगा. थोड़ी देर बाद नीतू मुझे बोली- सर, कार को मार्किट के बीच में से ले चलना … मुझे दुकान से कुछ सामान लेना है.

ब्लू फिल्म हिंदी मूवी

ससुर ने कहा- मैंने फिल्मों में लड़की को लंड पर बैठ कर चुदते देखा है, क्या वैसा हो सकता है?मैं मुस्कुरा दी और उन्हें बेड पर लिटा कर लंड को अपने थूक से पूरा गीला कर दिया. और उसे चड्डी नहीं बोलते हैं, पेटी बोलते हैं।मैंने कहा- ठीक है, आप की पैंटी में ही उतार देता हूं. वो दोनों मेरे सामने सिर्फ ब्रा और पेन्टी पहनकर किसी पोर्न स्टार के अंदाज में खड़ी थीं, जिससे मेरा लंड खड़ा हो गया.

रात में राजवीर की चुदाई और सुबह श्लोक नाम का सांड। मेरी चूत ने जवाब दे दिया। फिर भी एक अच्छे पार्टनर की तरह मैंने अपने मुंह को चुदवाकर उस ज्वालामुखी के लावा को बाहर निकाला। वैसे भी अहमदबाद में श्लोक-सीमा और नील और मैं साथ रहते हैं तो मुझे इसकी थोड़ी आदत है. पर उसने एक्सेप्ट नहीं की।फिर मैंने देखा कि वो कौन से कॉलेज में जाती है. सेक्सी वीडियो लंड बुर की”ये क्या भइया भइया लगा रखी है? और क्या बता रही है कि आपका वो बड़ा मोटा है.

फिर मैं जोर जोर से आगे पीछे करने लगा और वो आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह कर रही थी।मैं भी ‘साली … रंडी!’ ऎसी ऐसी गालियां बके जा रहा था।20 मिनट तक हमारी चुदाई चली होगी और फिर मैंने अपने लंड का पानी आंटी के मुँह पे छोड़ दिया।आंटी बोली- कभी मेरी ऐसी चुदाई नहीं हुई। मैं तेरी दीवानी हो गयी हूँ।अनंती ने मेरे होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

जिया- राज … भाभी बता रही थीं कि तुम रिया से डरते हो?मैं कोमल की तरफ देखकर बोला- मैं क्यों डरने लगा?कोमल- इधर तो हमारी चुत की बैंड बजा रहे हो … तो अब तक उसकी क्यों नहीं मारी?जिया- भाभी इसलिए … वरना राज को वो छोड़ कर चली जाएगी, इसी डर से कभी पहल ही नहीं की है. नताशा की चूत इतनी टाइट नहीं थी, लेकिन उनकी चूत देखकर यह पता चल गया था कि आकाश का लंड कैसा है.

उसके बाद बंदे ने अपना लंड निकला और दूसरे बंदे की गांड में डाल दिया‘ओ तेरी … ये क्या है … इतने छोटे से छेद में इसने इतना बड़ा लंड डाल दिया. पिताजी ने जिया को कसम दी थी कि वो कभी तुमसे ना मिले … वरना पिताजी मर जाएंगे. ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाते हुए मैंने सुधा की चूत में फिंगरिंग की, तो वो अटक अटक कर पेशाब करने लगी.

भाभी ने भी अपनी कमर थोड़ी ऊपर कर दी जिससे मुझे उसकी पैंटी उतारने में दिक्कत नहीं हुई और मैंने उसकी पैंटी निकाल दी।अब भाभी मेरे सामने पेट के बल लेटी हुई थी पूरी नंगी.

ट्रक ड्राईवर ने कहा- हमें पता है कि तू धंधे वाली है … क्योंकि कोई आम लड़की ट्रक में लिफ्ट नहीं लेगी. अभी तक कितनों ने चूसा है इसको, आज आप भी स्पेशल चुसाई कर डालो मेरी गर्म गर्म तपती हुई चूत की। आह्ह चूस लो डैडी।रमेश ने रिया की टांगों के बीच में जगह बनाई और बैठ गया। उसने रिया के करीब आकर उसकी चूत को पहले सूँघा। सूंघने से उसमें चूत की सौंधी सी खुशबू आ रही थी।रिया की चूत गीली हो चुकी थी। उसमें से लसलसा पदार्थ बह रहा था जो कि चूत को चिकना कर रहा था. अब मैं बिल्कुल जन्नत की सैर कर रहा था क्योंकि मनीषा भाभी लंड को बहुत ही मजे से चूस रही थीं.

सेक्सी विजनसंजू कुछ ही देर में आहें भरने लगी और रोहित के बालों को पकड़ कर उसका मुँह को अपने बुर में और चिपका दिया. इससे पहले मैं कुछ और समझ पाता, रोहिताश मेरे लन्ड को गपागप चूसने लगा.

बीपी सेक्सी वीडियो देहाती

अपने दाहिने हाथ के अंगूठे को तेल में भिगोकर मैंने अम्मी की गांड के छेद पर रखा. जीजा से बात की तो जीजा भी ये सोच कर खुश हो गये कि उनको जैसे कोई बंद लिफाफा गिफ्ट मिलने वाला है. याद आया … कि मुझे बेबी रानी ने बताया भी था ये तीनों जब लेस्बी करती तो एक त्रिकोण का आकार बन जाता है.

प्रिया ने हाँ कह दी तो रिंकी ने बियर खोल कर दो गिलासों में करी और एक एक ढक्कन व्हिस्की मिला दी. निष्ठा की चूत फटते ही भयंकर तेज बिजली देर तक कड़कती रही जिसकी चकाचौंध तेज रोशनी में कमरा नहा उठा और लगा जैसे निष्ठा का कौमार्य भंग देख स्वयं इन्द्रदेव हर्षित हो रहे हों. जब वो छूट रहा था तब मैंने उसको पीठ के बल लेटाया और खुद उसके ऊपर बैठ कर अपनी चूत के धक्कों से उसके लंड को ही चोदने लगी.

इस उम्र में लड़कियां जो कुछ देखती हैं, वैसा ही करना चाहती हैं, ऐसे में कोई गलत लड़का मिल जाये तो लड़की का भविष्य खराब हो जाता है. फिर नीतू बोली- सर अब और मत तड़पाओ … प्लीज अब अपने लंड का कमाल दिखाओ … बहुत दिनों से मेरी चूत में लंड नहीं गया. आप चिंता ना करें।मैंने उसे सॉरी कहा और कहा- यार खुशी के रूम तक छोड़ दो फिर तुम फ्री होके लंच करना।उसने बड़ी विनम्रतापूर्वक ‘ओके सर आइये’ कहा और मुझे अपने पीछे पीछे ले गई।हम खुशी के रूम में पहुंचे.

मेरा 7 इंच का लंड टाइट हो कर मेरे अंडरवियर के अन्दर से ही आंटी की जवानी को सलामी दे रहा था. फिर उसने पूछा- दीदी, बाहर में उतना मजा नहीं आता, हमेशा जल्दी लगी रहती है.

मैंने कहा- दीदी, मैं भी एक शादीशुदा आदमी हूँ, तो मैं आपको समझ सकता हूँ.

वसुंधरा प्लीज़ … मत रो मेरी जान … वसु प्लीज़! तुझे मेरी कसम!” मैं किमकर्तव्यविमूढ़ था. देवर भाभी का सेक्सी वीडियो खुलामेरी एक सेक्स कहानीपड़ोसन लड़की होली खेलने आई और चुत चुदवा गईअन्तर्वासना पर प्रकाशित हो चुकी है. boom सेक्सीएक रात मैं पेशाब करने के लिए उठी तो तुम बेड पर नहीं थे, मैंने देखा कि बाथरूम की लाइट जल रही है. मैंने कहा- फिर क्या कहना है जी?उन्होंने कहा- सिर्फ और सिर्फ कविता या जानू … जो तेरा दिल करे … पर चाची नहीं कहना.

जब मैं उनसे घुल मिल गयी, तो उसने बताया कि साहब पहले बड़े हैंडसम थे, पर अब फैल गए हैं.

अविनाश- मतलब!चित्रा- वो दोनों अब जवान हैं, तो क्यों ना हम हमारी फैंटेसी में उन दोनों को शामिल कर लें. और इधर यश चुदाई की भूख में इतना पागल हो गया था कि उसका लंड पानी न छोड़ने के कारण शबनम के दोस्ती तुड़वा चुका था।सपना भी उसको छोड़ के जा चुकी थी और अब शबनम भी। पर उसकी चुदाई की भूख अभी भी शांत नहीं हुई।आपको कहानी कैसी लगी दोस्तो? आप जरूर मेल कर बताना![emailprotected]. मैंने भी उसे एक हवा में चुम्मी दे कर थैंक्स बोला और हम कार स्टार्ट करके स्टूडियो की तरफ बढ़ गए.

मैंने चाची को कहा- तैयार हो जाओ, अब मैं तेरी चुत का भोसड़ा बनाता हूँ. मैं- मेरी चॉइस कभी भी खराब नहीं होती है … बस ये दुआ करो कि इस बार मेरी चॉइस किसी और की चॉइस न बन जाए. बहुत दिनों के बाद उस स्कूल सेक्स स्टोरी का दूसरा भाग लिख पा रहा हूँ.

विदेशी लड़की का सेक्स वीडियो

अब मनु के अलावा हम तीनों ने एक साथ अपने दांत कटकटाए और आंखों ही आंखों में एक इशारा किया और मनु पर टूट पड़े. ये मेरा पहला अवसर था जब कोई लड़की मुझे इस तरह से अपने करीब लेकर बिस्तर पर थी. दोनों हाथों से गांड दबाने से क्या फायदा, एक हाथ से गांड दबाओ और दूसरे हाथ से चूत में उंगली करो, तब ज्यादा मज़ा आएगा.

मैं इसके बाद वाशरूम चला गया और जब वापिस आया, तो वो घर जाने के लिए तैयार हो रहा था.

इस पर प्रतिभा तपाक से बोल पड़ी- मैं हूँ ना! मैं बनूंगी तुम्हारी पार्टनर!अब मेरे पास कोई बहाना नहीं बचा, तो मैं सर खुजाने लगा.

वो रोहित के होंठों और जीभ को बेतहाशा जंगली की तरह चूसने और खाने लगी. उसके बाद तो वैसे भी नहीं मिल पाओगे।तो उसने बोला- आ जाओ, मिल लो मेरे घर पे!मैंने बोला- घर पर कैसे आऊँ … सब होते हैं।वो बोली- रात को 1 बजे के बाद!पर मैंने मना कर दिया।उसके बाद मैंने उससे उसका फ़ोन नंबर लिया और बात करने लगा।1 दिन में ही हम काफी खुल गए थे तो मैंने हिम्मत की और बोला- आज रात आ जाऊँ घर पर?वो बोली- आ जाओ. विद्या बालन की सेक्सी बीपीइस बीच मैं मेरी गर्लफ्रेंड के नंगे बदन पर हाथ फिरा फिरा कर उसे गर्म करता रहा.

मुझे आज तक ये बात समझ नहीं आई कि लोग मुझे अलग अलग चीजों से क्यों चोदते हैं. ये सुनकर चाची बोलीं- मेरे राजा अब तो मैं तुम्हें मिल गयी ना … अब तो मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ. वो फिर से दोबारा मेरे बदन को चूमने और चाटने लगा। मैं बस अपनी आंखें बंद करके उसका अहसास करती रही।उस आनंद को मैं कभी भूल नहीं सकती।और इस बार उसने मुझे घोड़ी बना लिया। मेरी चूत पूरी गीली ही थी तो लंड आराम से पीछे से चूत में चला गया.

मेरा भी अब निकलने वाला था, तो मैंने चाची के मुँह में जोर जोर से धक्के मार कर उनके मुँह में लंड रस गिरा दिया. उनकी नंगी पीठ से अपने आंखें सेंकने के बाद मेरी नजर नीचे सरकी और भाभी की गांड पर पड़ी.

फिर तीसरा और फिर एकदम से मेरी पत्नी की चूत पर अपने होंठों को कस दिया और उसको जोर जोर से चाटने लगा.

कोमल ने भी अपनी टांगें पूरी तरह खोलते हुए चुत को लंड के दरबार में पेश कर दिया. मैंने उससे पूछा- क्या वाकई इस ड्रेस में मैं हॉट लग रही हूँ?वह बोला- मॉम एकदम मल्लिका शेरावत लग रही हो आप. क्या कभी आपने किसी और की बीवी के साथ सेक्स किया है? या कभी आपने एक से ज्यादा लड़की के साथ सेक्स किया है? आप मुझे मेल और कमेंट करके जरूर बताना.

आदिवासी सेक्सी वीडियो भेज पर वे दोनों इस बात से अनजान थे … और मैं भी।झड़ने के बाद दोनों अलग हो गए और उसी तरह बिस्तर पर पीठ के बल लेट गए. कभी वो मेरी चुत चाटते तो कभी मेरी जांघ, तो कभी मेरी चूची मरोड़ते, तो कभी मेरे गालों को चाटते और बीच बीच में वो दांत से भी काट लेते थे.

ये सुनकर उसने मेरे होंठों को जोर से चूस लिया और नीचे से गांड उठा उठा कर चुदने लगी. मैं उस समय वो वीडियो नहीं चला सकता था क्योंकि मुझे कॉलेज जाना था और घर में अब्बू भी थे. उनकी जवानी की प्यास बढ़ती उम्र के साथ और ज्यादा तीखी हो जाती है जिससे वो संभोग का पूरा आनंद उठाने से नहीं चूकती हैं.

चीन की सेक्सी बीपी

मैं लंड सहलाता हुआ बाहर चला गया और एक सिगरेट सुलगा कर अपनी विधवा बहन की चुदाई चुत के लिए सोचने लगा. जब वो कहानी मैंने आधी पढ़ ली तो अपने आप मेरा हाथ मेरी लोअर के अंदर मेरी पैंटी के ऊपर आ गया. वो बेसब्री से मेरे होंठों को ऐसे चूस रही थीं … जैसे बरसों से प्यासी हों.

मेघा का कॉलेज सही से चल रहा था और मेरी जॉब भी! मेघा को देख देख कर लड़कों की पैन्ट तम्बू बन जाती थी. जिस दिन अशोक को आना था, मैंने आशा से कहा- अशोक आ जाये तो कोशिश करके एक बार जरूर चुदवाना ताकि गर्भवती होने पर उसे लगे कि बच्चा उसका है.

उनके सीने से साड़ी का पल्लू नीचे सरक गया और भाभी की चूचियों की घाटी दिखने लगी.

खैर, अनीता ने अपने सब कपड़े उतारे और नंगी होकर अरविन्द के लंड पर टूट पड़ी और उसने शीला से कहा कि वो उसकी चूत चाटे. ’मैंने दो उंगलियां चूत में डाल कर मौसी की चूत का मुआयना किया … जो अब तक गीली हो चुकी थी. हालांकि सोनम की चूत मेरे लंड से न जाने कितनी बार ही चुद चुकी थी लेकिन मयंक के लंड सोनम की चीख निकाल दी.

रानी के मुंह पर एक मुस्कान सी खेलने लगी और बुर में फिर से रस बहने लगा जिससे लंड को भी मज़ा आने लगा. चाची के मुँह से ये सुनते ही मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और गोली की रफ्तार से चाची को चोदने लगा. मुझे लग रहा था की बाबूजी का लौड़ा कोई साधारण लौड़ा नहीं है क्योंकि आज तक मुझे पहले कभी भी इतना आनंद नहीं आया था।बाबूजी ने मेरे ब्लाउज़ के बटन खोलने की कोशिश की पर जब नहीं खुले तो उन्होंने एक झटके में ब्लाउज़ के बटन तोड़ दिए और मेरे चूचे बुरी तरह मसल दिए उनके हाथ एक किसान के हाथ थे.

तभी रीना ने मुझे अपने पास बुलाया और बोली- सिगरेट का जो टुकड़ा आपने फेंक दिया, अगर मुझे दे देते तो मेरी बरसों की अधूरी तमन्ना पूरी हो जाती.

स्पेशल बीएफ: मैंने उसे फील करने के लिए कहा- सोचो ये लन्ड तुम्हारी चूत में जा रहा है. मैं उनकी चुत में थूक लगा कर उंगली करने लगा और बाद में मैं फिर से उनकी चुत को चूसने लगा.

उसका चिकना बदन और मस्क्युलर बदन … छाती पर हल्के ब्राउन निप्पल कहर ढाते थे. बेबी रानी उसके पीछे सेट हो गई, अपने पंजे पीछे से ही गुड्डी रानी के चूचों पर जमा दिए और बड़ी उत्तेजित आवाज़ में बोली- ले कमीनी तू इसका लौड़ा चूस, मैं तेरी जीभ से गांड मारती हूँ. उसके रसीले होंठों को चूसने लगा और साथ ही उसके टाइट मम्मों को मसलने लगा.

मैं बाहर आ गया और देखा कि सभी सिस्टर्स अपनी कुर्सी पर बैठकर सो रही थीं.

एक कमसिन लड़की, जो जवानी के दलीज़ पर खड़ी दस्तक दे रही हो, उसके जिस्म के बारे में क्या कहा जा सकता है. पहले जेठजी अपना हाथ सिर्फ मेरे कंधे और पीठ पर ही सहला रहे थे, पर अब उनका हाथ मेरी पीठ से होकर मेरी कमर और कूल्हों तक आने लगा था. गिन्नी की उम्र करीब 22 साल, कद 5 फुट 5 इंच, रंग गोरा, बदन भरा, चूचियां बड़ी बड़ी और चूतड़ भारी हैं.