बीएफ चुदाई भेजें

छवि स्रोत,बहु के साथ सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

ग्रामीण बीएफ: बीएफ चुदाई भेजें, उनकी विधवा होने की स्थिति भी उन्हें ज्यादा बनाव शृंगार करने की इजाजत नहीं देती थी.

ইন্ডিয়ান ভাবি সেক্স ভিডিও

नीना और तापोश सतारा वापस जाने के पहले बता गए कि वो दोनों दीवाली की छुट्टी में 7 दिन के लिए फार्म हाउस आएंगे. गर्लफ्रेंड सेक्सआपा- अच्छा सुन, जब तेरी शादी होगी तो तेरा मियां तुझे चूमेगा, प्यार करेगा, सहलाएगा और तू एक दिन उसके बच्चों की अम्मी बनेगी.

वर्जिन गर्लफ्रेंड लव स्टोरी में पढ़ें कि मेरी प्रेम कहानी एक प्यारी सी लड़की के साथ चल रही थी. एक्स एक्स सेक्सी वीडियोवो दिन भी अब करीब आ रहा था जब वो दोनों एक दूसरे के साथ संभोग सुख ले लेते.

’‘आप‌ दोनों ने अपने सारे टेस्ट वगैरह तो करवाए ही होंगे ना, तो टेस्ट के मुताबिक दिक्कत क्या आ रही है, जो बेबी नहीं हो रहा है?’आंटी थोड़ी मायूस होती हुई बोलीं कि बेटा तेरे अंकल में ही कुछ दिक्कत है, तभी तो मैंने बोला कि‌ शादी करने‌‌ में देर मत कर वर्ना आगे और सारी दिक्कतें आने लगती हैं.बीएफ चुदाई भेजें: फिर अचानक से एक दिन उसका फोन खुद से आया और वो मुझसे लहराती हुई पूछने लगी कि मैं कैसी लगती हूँ.

उन्होंने मेरा फ़ोन लिया और डॉक्टर को फ़ोन करके तबीयत ख़राब का बहाना बना कर छुट्टी के लिए कह दी.उन्होंने पहले तो कुछ संशय से देखा कि घर के थोड़ी आगे क्यों, पर फिर कुछ न कहते हुए हां कर दिया.

સેક્સ વીડીયો કોમ - बीएफ चुदाई भेजें

मैं छुप छुप कर उसको ही देख रहा था और वो भी कभी कभी लेडीज कस्टमर्स बात करते करते कांच से मुझे देख रही थी.अब मैंने ठान लिया था कि जब ये इतनी हिम्मत दिखा सकती है तो मुझे भी थोड़ी हिम्मत दिखानी होगी, नहीं तो मेरा काम नहीं बनने वाला.

कुछ देर तक एक ही जैसे धक्के मारते मारते जलालुद्दीन ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उल्टा सीधा चिल्लाने लगे- ले मादरचोद रंडी, आज तेरी चूत का भोसड़ा बनाकर छोडूंगा. बीएफ चुदाई भेजें उसके बाद मैंने तुरंत स्नेहा को गोदी में उठाया और चूमाचाटी के बाद उसके कपड़ों को फाड़ने लगा.

शायद उन्हें किसी ने कभी खोला भी ना होहालांकि चुदाई के बाद में पता चला कि उसकी सील टूटी हुई थी.

बीएफ चुदाई भेजें?

अभी हम दोनों वो बात ही कर रहे थे कि हमें उन्ह आंह की आवाज आने लगी थी. फिर शाम को चाची मेरे पास आईं और पूछा- कैसी लग रही हूँ?मैं- यार चाची, आप तो एकदम सेक्सी माल लग रही हो. मैं अंगूठे के बाद कोमल के पैर की उंगलियों को बारी बारी से चूसे जा रहा था.

रिश्तों में चुदाई की कहानियां पढ़कर मैं पहले भी अपनी चाची की चुदाई की कहानियां लिख चुका हूं, जो आप सबने बहुत पसंद की थीं. फिर मैंने देखा कि एक लड़की रिया को दो लड़कों ने आगे पीछे से पकड़ लिया और उसे रंग लगाने के बहाने रगड़ने लगे. कभी सोनी मुझको गुलाम बना देता और बांधकर पीटता, कुत्ते की तरह चलाता.

एक बार फिर उन लोगों ने मुझे नंगी किया और मेरे बदन की मालिश शुरू कर दी. उसकी दूध सी गोरी पीठ, साइड से दिखती कमर … और पीछे की तरफ निकली हुई मुलायम सी मखमली गांड को देखकर मेरा लंड नब्बे डिग्री में खड़ा हो गया था. मुझे चूम कर अर्चना खाना बनाने चली गई और मैं कमरे में टीवी सोफे पर लेट कर मूवी देखने लगा.

दोस्तो, क्षमा करना सेक्स कहानी थोड़ी लम्बी हो गई क्योंकि मैंने मेरी चाची और मेरे बीच का सारा कांड आपको पूरे विस्तार से बताया है. सर्दी की वजह से मैं उनके बग़ल में बैठा था और थोड़ी ज़्यादा सर्दी लगने का नाटक करने लगा.

दस मिनट तक मेरा मुँह चोदने के बाद उसने अपना लंड मेरी चूत पर रखा और जोर से अन्दर डाल दिया.

तभी एक तेज पिचकारी से मेरे लंड ने चाची की गांड को वीर्य से भर दिया.

फिर जब भी हम मिलते हैं, हम अच्छी तरह से चुदाई का मजा लेते और अपनी प्यास को शांत करते हैं. और इधर जब रवि ने देखा कि उसकी सिसकियाँ अब कम नहीं हो रही हैं तो वो उसके ऊपर लेट गया और उसके होंठों को धीरे धीरे चूसने लगा और वो उसके दोनों बूब्स को मसलने लगा. यह देसी लड़की की चूत कहानी तब की है, जब मैं बहुत समय बाद लंबे समय के लिए मेरे गांव आया था.

थोड़ी देर सोचने के बाद बुआ बोलीं- मेरी जान, आज अपनी बबली को बिना कंडोम के चोद दे. यह सुनकर शेखर ने मेरा हाथ चूम लिया और मैं खिसक कर शेखर के करीब आ गई. मेरी इस बात पर चाची थोड़ी मुस्करा कर बोलीं- कैसी मौज मस्ती?मैं फिल्मी स्टाइल में बोला- थोड़ा घूमेंगे फिरेंगे और क्या?चाची इठला कर बोलीं- और अगर तेरे चाचा को पता चल गया तो?मैंने कहा- किसी को कुछ पता नहीं चलेगा.

उन्होंने भी बदले में मुझे ‘आई लव यू बेबी …’ बोलकर मेरी गर्दन और गाल पर चुम्बन कर दिया.

आयेशा भी हंसने लगी तो वो साले हरामी लोंडे समझ गए कि लड़की चालू है, आराम से उनकी टांगों के नीचे आ जाएगी. साक्षी जोर जोर से मुझे किस करने लगी और नीचे से अपनी कमर मेरे लंड पर घुमाने लगी. वो बोली- कि क्या देख रहे हो, कुछ देर पहले भी ऐसे ही देख रहे थे?मैंने भी बोल दिया- तुम बहुत ही खूबसूरत हो.

मुझे घर छोड़ने के बाद शाम को उनके लौटने तक मुझे वहीं रहने के लिए कहा. मैंने पहले मीनू को नंगी किया, फिर कोमल को … और फिर मैं खुद नंगा हो गया. मैंने भी इट्स ओके बोलते हुए कहा- तुम भी किसी को मत बताना, मैं भी किसी को नहीं बताऊंगा.

जॉब लगने के बाद हर शनिवार मैं घर आता था तो यार दोस्तों के साथ बीयर पीता था.

अब वो मचलने, तड़पने लगी थी और बोली- रवि, मेरी यह चूत तुम्हारे लंड के बिना मर जाएगी, इसमें अपना लंड घुसा कर फाड़ दो. उसको देख कर तो किसी भी बुड्ढे का पानी निकल जाए … तो हम क्या चीज हैं.

बीएफ चुदाई भेजें मैं उसे बस देखता ही रह गया और इस अफ़सोस से सोचता हुआ आगे चला गया कि उसका नंबर नहीं मिला और ना ही और कुछ बात हो पायी. अचानक उनकी टांगों में थिरकन होने लगी, उनका बदन अकड़ने लगा और उनका लण्ड गर्म हो गया.

बीएफ चुदाई भेजें जब वो मेरे होंठों से अलग हुआ तो मैंने उसे कहा- मैं दिन भर से ऑफिस में था मुझे हाथ-मुँह धोने दो, तुमसे ज्यादा मैं तड़प रहा हूँ. मैंने कहा- अब एक बार शाही नवाबी शौक पाल लिया है न, तो तेरी गांड आए दिन लंड के लिए मचलेगी.

मेरे मम्मों पर हाथ फेरते हुए उनको दबाया और फिर नीचे ले जाकर मेरी चूत के बालों में अपने हाथ फिराने लगे.

एक्सएक्सएक्सएक्ससी

साक्षी आते समय अभी भी थोड़ी लंगड़ा कर चल रही थी क्योंकि आज पहली बार उसकी गांड का उद्घाटन हुआ था. पैरों में पायल पहनने के बाद मैंने सलवार कमीज पहनने के लिए उसका पैकेट खोला तो उसमें से एक सिल्की लाल कलर की प्रिंटेड सलवार और कुर्ती निकली जो उन्होंने टेलर से मेरे नाप की बनवाई थी. फिर मैंने धीरे धीरे झटके लगाने शुरु किये और उसके दूध चूसता रहा जिससे उसे मजा आने लगा।वो बोली- पूरा लंड अंदर डाल दो!मैंने वैसा ही किया.

फिर बाथरूम में जाकर एक दूसरे को मूत्र स्नान कराया, एक दूसरे का मूत्र पिया. किस करते करते एक दूसरे के जिस्म पर हर जगह चुम्मियां करते चलते चले गए और कब दोनों गर्म हो गए, कुछ पता ही नहीं चला. और एक दूसरे के निप्पल चूसने लगे और फिर एक दूसरे को चूमने लगे।हम दोनो ने एक दूसरे को अच्छे से चाटा और वीर्य से मालिशक कि भाभीk स्तन की ।भाभी ने आँखें बंद कर रखी थी और मेरे साथ का मजा ले रही थी.

भैया मेरे बाजू में लेट गया और अपने लंड को मेरे हाथों में पकड़ा दिया.

पीने के बाद सभी ने अपने हाथ साबुन से धोये, दांत ब्रश किए, जिससे मसाले लगे हाथ मुँह के नाजुक अंग पर लगने से जलन न हो. मैंने उसकी चूत पर अपना लंड लगा कर थोड़ा सा झटका दिया तो लंड फिसल गया. अब रोज जब भी उसे मौका मिलता है, भाई पोर्न सिस्टर सेक्स करता है मेरे साथ!कुछ दिनों बाद उसकी पत्नी वापस आ गई.

मैंने चाची से कहा- चाची आप थोड़ी देर आराम कीजिए, मैं बाईक घर छोड़ कर अभी आता हूँ, चाचा को जाना होगा. तभी अचानक से मुझे पीछे एक आवाज सुनाई दी- मामा जी, आपने तो बहुत देर कर दी, मैं यहां खड़ी खड़ी एकदम थक गई हूं. उसकी सांसें किसी धौंकनी की तरह तेज तेज चल रही थीं और दिल जोर जोर से धड़कने लगा था.

फिर थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि आयेशा अमन के साथ हंसती हुई आ रही थी. ‘आह हह हह हह …’इस बीच मैं उसे लगातार किस करता जा रहा था और सहलाता जा रहा था.

उसकी आदत थी कि वो घर की साफ सफाई करने के बाद नहाती थी, फिर खाना बनाती थी. पिछली बार उनका वीर्य पीकर मुझे बहुत अच्छा लगा था इसलिए इस बार भी मैंने लपक कर उनका लंड अपने हाथों में पकड़ लिया और सहलाने लगी. बबली बुआ सिगरेट फूँकती हुई बोलीं- राज, जब मैं तेरे साथ होती हूं, तो ऐसा लगता है कि जमाने की सारी खुशियां मेरे पास हैं.

जैसे जैसे जीजू का लंड आगे पीछे होता था वैसे ही मेरी गांड भी आगे पीछे होने लगी.

मैंने धीरे से अपना लंड उसकी चूत में सरका दिया, गीली चूत में लंड का सुपारा आसानी से घुस गया. एक को चूसने लगा और दूसरे निप्पल को अंगूठे और बराबर वाली उंगली से गोल गोल मींजने लगा. लेकिन मैंने उसकी एक न सुनी और जोर से एक झटका उसकी गांड में दे मारा.

उसका ये प्यार देख कर मैं भी भावुक हो गई और उसके सीने पर सर रख रोने लगी. तेरी चूत चोदी चूत आज मैं चोद चोद कर हलवा बना दूंगा। तू साली बहुत मस्त चीज है। मैंने जब तुझे पहली बार देखा था तभी मेरा लौड़ा खड़ा हो गया था। आज मैं फाड़ डालूंगा तेरी चूत! रेहाना तेरी माँ का भोसड़ा.

साथ ही वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं- आहह … ओयया … ओ माय गॉड आआहह … फक मी हार्डर माय बॉय … फक मी हार्डर बेबी … तुम मस्त चोद रहे हो … मजा आ गया मेरी जान. मुझे अपनी जवानी में इतने दिनों के बाद ऐसा सुख पहली बार अनुभव हो रहा था. दोस्तो, मेरा नाम नगमा खान है और मैं पाकिस्तान में लाहौर के पास एक गाँव की हूँ.

कैटरीना कैफ की bf

उन्हें कोई नहीं देख रहा है, इस विश्वास के साथ दोनों एक बार आलिंगन बद्ध हुए और थोड़ी देर एक दूसरे से चिपके रहे.

‘आह बहन जोर से चूसो उह आह चूस ले प्रीति … आज चूस साली सारा रस खा ले … बहुत दिन से इसी पल का इंतजार था आह …’ऐसे ही सिसकारियां लेते लेते मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और अपना सारा माल उसके मुँह में ही डाल दिया. मैंने उत्सुकता से पूछा- कैसे समझाया होगा?बीवी बोली- मैंने कहा कि तुम्हारे फूफा जी व्हिस्की के नशे में थे. कुछ पल बाद वो अपनी सहेलियों से जुदा हुई और खड़ी होकर किसी साधन का इन्तजार करने लगी.

तभी एक बोला- चलो आलिम साहब आते होंगे, कमरे मैं ले चलो दुल्हन को!मैं कमरे मैं पहुंची तो हक्की बक्की रह गई. नीचे कांच के काउंटर पर मुझे माधुरी की कातिल नज़रें मुझ पर पड़ती हुई दिख रही थीं. देहाती सेक्स बफआधी रात को मैं उठा और देखा कि नम्रता की दस साल की बेटी मेरे बगल में सो रही है और उसके बगल में मेरी आंटी थी.

हिना क्या सोचेगी मेरे बारे में?समीर उठा और बाहर जाकर हिना को बुलाकर लाया. मैं कभी उसकी चूत को चाटता तो कभी उसकी गांड के छेद में जीभ से कुरेदता.

फिर मैंने उससे कहा- मैं तुम्हें एक अच्छी चीज दिखाता हूं, आंखें बंद करो. आपा बोली- आज रात को मैं तेरे बिस्तर पर सो जाऊंगी और तू मेरे कमरे में चली जाना, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा. जलालुद्दीन आलिम ने मुझे बिस्तर पर घोड़ी बनने को कहा तो मैं बिस्तर पर घोड़ी बन गई.

मेरा बदन बिस्तर पर उछलने लगा, मेरे निम्बू कड़क होकर तम्बू की तरह आसमान की तरफ तन गए और मेरी गुच्छी किसी कटी मुर्गी की तरह फड़फड़ाने लगी. मैंने धीरे से पर्दे को हटाया तो देखा कि पड़ोस की काकी मेरे घर में दरवाजा खोल कर अन्दर आ रही थीं. तो मैडम ने मम्मी की कमर में हाथ डाला और उन्हें अपने साथ मेरे सामने वाली बेंच पर बैठा दिया।क्यूंकि बेंच एक ही जने के लिए थी और मैडम के मोटे होने के कारण मम्मी आधी मैडम की गोद में थी।अब मैडम का एक हाथ मम्मी की कमर में था और वे मम्मी से बातें कर रही थी।तब मैडम ने उनका एक हाथ मम्मी साड़ी में डाल दिया और उनकी पेट पर फिराने लगी.

साथ ही मैडम मम्मी को किस भी कर रही थी।मम्मी की आवाज़ से लग रहा था कि वे मैडम का विरोध कर रही है।अब मैं लगातार उनकी तरफ देख रहा था.

‘आह बेबी मत करो … मैं मर जाऊंगी …’मगर न तो मुझे रुकना था और न ही कोमल को इस जंग से अपने कदम पीछे खींचने थे. एक तरफ मुँह में दूध से भरी चूची थी और नीचे लौड़े पर साक्षी की गर्म गर्म कसी हुई चूत मजा दे रही थी.

समारोह अच्छी तरह से चला और उस दौरान मैंने उसके स्तन को छूने या उसके मम्मों की दरार को देखने का एक भी मौका नहीं छोड़ा. माधुरी ने अपना नम्बर मुझे दिया और मेरा मोबाइल नंबर आपने मोबाइल में आयशा के नाम से सेव कर लिया. आंटी ने पूछा- और बेटा निखिल काम काज तेरा कैसा चल रहा है?‘अच्छा है आंटी, धीरे धीरे चीजें बढ़ रही हैं.

हमने आपस में असली सेक्स कैसे किया?दोस्तो, मैं आप सबकी कोमल मिश्रा अपनी एक और सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. जलालुद्दीन साहब बोले- हाँ जान, आज की चुदाई तुम सारी जिंदगी नहीं भूलोगी. मैंने उसका हाथ पकड़ कर रोका और कान पकड़ कर सॉरी बोल कर उठक बैठक करने लगा.

बीएफ चुदाई भेजें अब मेरा मन उसे खुल्लम खुल्ला चोदने का था और मेरी वो इच्छा भी जल्दी ही पूरी होने वाली थी. मैंने बीवी को घोड़ी बनाया और लंड को पीछे से एक ही झटके में चूत की गहराई में पहुंचा दिया.

मीनाक्षी xxx

हालांकि मैंने ज्यादा देर नहीं करते हुए चूत से मुँह हटाया और अपने लंड पर कंडोम लगा लिया. मोहित जितना मुझे गाली दे रहा था, मैं उतना ज्यादा मोम उसकी गांड में डाल रही थी. मैं, सोनी, तापोश, नीना ने कालू के दोनों बेटों को बता दिया था कि उनके बाद फार्म उनका होगा, ऐसी वसीयत उन्होंने कर रखी है.

कुकोल्ड वाइफ की चुदाई का मौक़ा मुझे मिल रहा था तो मुझे क्या आपत्ति होती. मैंने कहा- ठीक है, मैं तुम्हें चोदने के लिए अपने कुछ नए साथियों को बुला लूंगा. डब्लू डब्लू सेक्सी वीडियो एचडीअगले भाग में मैं अपनी मां की चुदाई की कहानी को पूरे विस्तार से लिखूंगा.

मैंने देखा तो वहां कोने में पहली मंजिल पर माधुरी की शॉप का बोर्ड दिख गया.

मैंने झट से अपना डिब्बा छोड़ दिया और माधुरी का हाथ पकड़ कर उसे प्यासी निगाहों से देख कर पूछा- क्या सच में आज मुझे तुम्हारा दूध पीने को मिलेगा?माधुरी ने भी प्यारी सी स्माइल देकर कहा- हां पी लो न … जितना चाहे उतना पी लो. मैं फ्रेश होकर निकली और रोहित के कमरे के तरफ गई तो मंजू की आह आह आह ओह ओह की आवाज आ रही थी.

मैं- नीना, तुम सोनी को भी मौका दे सकती हो क्या?नीना- हां, तापोश ने बताया की सोनी का लंड बड़ा और मोटा है, मैं उसे देखने और लेने को उत्सुक हूँ. मेरे अंदर हवस उठने लगी तो मैंने भी अपनी सलवार खोल दी और शेखर ने अपना हाथ अंदर डाल दिया. मेरा नाम राज है और मेरी पत्नी का नाम वंदना है।मैं 40 साल का हूं और वह 36 साल की है।हम दिल्ली में रहते हैं।यह वाइफ चीटिंग सेक्स कहानी मेरी अपनी पत्नी की है.

[emailprotected]नंगी भाभी फोरप्ले सेक्स कहानी का अगला भाग:बुटीक वाली सेक्सी भाभी के जिस्म का मजा- 5.

अचानक से उसे याद आया कि शहर से उसके दोस्त कमलेश और प्रमोद आए हैं, जिनकी इच्छा गांव घूमने की थी. कमरे में जाने के कुछ समय बाद ही मेरे बदन में लहरें उठनी शुरू हो गईं और मुझे दौरे पड़ने लगे. मैंने चाची की तरफ देखा तो वो बातों का लुत्फ़ ले रही थीं; उनकी नजरें मुझसे मिल ही नहीं रही थीं.

बीपी हिंदी सेक्सी व्हिडिओपहली बार मुझे किसी की चूत मिली थी तो आज मैं चूत में घुस जाने की सोचने लगा था. कुछ देर बाद मेरा होने वाला था और कुछ मिनट बाद हम दोनों एक साथ झड़ गए.

गाना के साथ सेक्स

मेरी उंगली के चूत के अन्दर चलने से कोमल सिहरने लगी और उसकी गांड उठने बैठने लगी. मैंने अपना लंड ज़ोरदार झटके के साथ मामी की गांड में पेला और एक बार में ही पूरा लौड़ा गांड में डाल दिया. उधर जीजू आपा के ऊपर कूद रहे थे तो इधर मैं एक हाथ से अपना दूध मसल रही थी और दूसरे हाथ से अपनी चूत को सहलाने लगी थी.

ऐसा लग रहा था जैसे कोई नाग अपनी नागिन को पीछे चोद रहा हो और वो दोनों मदहोश हो कर चुदाई मजा ले रहे हों. काकी भी बापू के गोटे पकड़ कर सहला रही थीं और बापू की आंखें मस्ती में बंद थीं. मेरे दोनों हाथ अपने आप ही उन दोनों की पैंट की ज़िप पर से रगड़ खाने लगे.

उस रात चार बार चुदाई का खेल हुआ और वो पूरी तरह से चुदाई में खुल गई थी. मैंने पूछा कि कौन हैं वो लोग, जिन्होंने इतना खर्चा किया है?सीनियर ने कहा- सब्र करो जानम. रानी भी मस्ती से ‘आआ … उम्म्म्म … और चोद साले … आह जल्दी करो …’ की आवाज़ कर रही थी.

मैं इधर आपको बता दूँ कि आधा घंटा पहले मैंने सेक्स की एक गोली ले ली थी. तभी निखिल मेरे ऊपर आ गया और जोर से मेरे होंठों को पीने लगा, मेरे होंठों को चूसता रहा और मेरी आँखों में दर्द के मारे पानी आ गया.

मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से बंद किया और चूत में जोर जोर से धक्के लगाने लगा.

इस तरह से मेरी चचेरी बहन और मैं घर पर रह गए, बाकी सब लोग शादी में जाने की तैयारी करने लगे. लंड चूत सेक्सी वीडियोमैं एक चूची को मुँह में लेकर किस कर रहा था और वो पैंट के ऊपर से मेरा लौड़ा पकड़ रही थी. विदेशी इंग्लिश सेक्सी वीडियोफिर दूसरे दिन रोज़ की तरह सुबह 8 बजे उठा और नहा धोकर बाइक पर जॉब पर चल गया. आपको पसंद आई क्या?मैंने हां में सर हिला दिया और अपना सर उसकी चूत के पास लेकर चला गया.

शाम 5 बजे मैं तैयार होकर खुद कार चलाती हुई सुरेंद्र जी को लेने के लिए एयरपोर्ट के लिए निकल गई.

वो बोली- जी मूड तो मेरा भी है, मगर कहीं फिर से गड़बड़ हो गयी तो?मैं बोला- यार कुछ नहीं होगा, वो नीचे नशे में टुन्न पड़ी रहेगी, इधर अपन अपनी चोदा चोदी कर लेंगे, प्लीज अब मान जाओ. लेकिन मैंने उसके दोनों हाथों को मोड़ कर उसके पीठ के पीछे किया और अपने बदन को उसके ऊपर चिपका दिया. ’मुझे तो कुछ समझ नहीं आता था लेकिन इन सहेलियों की बातें सुन सुन कर डर भी लगता था कि जाने निकाह के बाद मेरे साथ क्या क्या होगा.

जलालुद्दीन बोले- लाहौलविलाकुवत, ऐसे ख़ुशी के मौके पर किन हरामजादियों का नाम ले लिया. मेरी चूत से पानी छूट जाने के कारण चुदाई में फचाक फचाक की आवाजें आने लगी थीं और जीजू का लंड और भी आसानी से अंदर बाहर हो रहा था. दोस्तो कैसी लगी मेरी Xxx गांड पोर्न स्टोरी, कमेंट करके मुझे जरूर बताना ताकि मैं फिर से आपके लिए आगे की गे सेक्स स्टोरी लेकर हाजिर हो सकूं.

ब्लू सेक्सी पिक्चर दो

मैंने उससे माफी मांगी- सॉरी वो मेरा इस पर ध्यान नहीं गया, आप गलत मत समझिए. बीस मिनट तक बूब्स चूसने के बाद मैंने अपना लंड मां के हाथों में दिया और चूसने को कहा. जॉब लगने के बाद हर शनिवार मैं घर आता था तो यार दोस्तों के साथ बीयर पीता था.

ग्यारह बजे मैंने हिम्मत करके अपने लंड को बाहर निकाला और मीना की गांड से सटाने लगा.

उसने मेरे कान में कहा- मैं भी आपसे चुदना चाहती थी, पर मैं चाचा चाची के सामने कह नहीं पाई.

फिर बात करते करते हम दोनों ने दो बार और चुदाई की और एक दूसरे से चिपक कर सो‌ गए. इतने साल बाहर रहने की वजह से मेरा ध्यान कभी अपने गांव की लड़कियों पर नहीं गया. जंगल में चुदाई वीडियोउसके बाद मैंने अपनी दूसरी उंगली डाली और अपनी उंगली की गति को थोड़ा तेज किया.

फिर मैंने पानी पीने के बहाने साइड में रखे वॉटर कॅन से पानी निकालते हुए उनका एक कूल्हा दबा दिया. मीनू ने कहा- कोमल की फुद्दी आराम आराम से पेलो, अभी इसकी कुंवारी है. मैंने बर्फ से नीना की गांड की सिकाई की और उसकी गांड में अन्दर तक बोरोलीन लगा दी.

फिर अचानक से वो खड़े हो गए और अपना लंड आगे करके मेरे मुँह में देने लगे. जीजू बोले- बहुत छोटी चूत है तुम्हारी, तुम्हारे शौहर की तो बल्ले बल्ले हो जाएगी.

साथ ही मम्मी पतली हैं लेकिन बहुत गोरी है लेकिन बहन जी टाइप बनकर रहती है।दरवाज़ा बंद करने के बाद मम्मी भी मैडम के पास आकर खड़ी हो गयी तो मैडम ने उनसे कहा- क्या सजा दूँ इसको? बताओ?मम्मी बोली- आप देख लो.

जैसा कि मैंने बताया कि दिसंबर का महीना आ गया था और ठंड बहुत ही ज़्यादा हो चुकी थी. कोमल कसमसाती हुई मेरी तरफ देख रही थी और अपने नाजुक हाथों से मेरे लंड को पकड़ कर उसे अपनी चूत पर सैट करने की कोशिश कर रही थी. उस दिन चाची ने बड़ा कसा हुआ सूट पहना हुआ था जिसमें से उनकी मादक गांड बड़ी मस्त लग रही थी.

एक्स एक्स वीडियो विदेशी इसी बीच उसने मुझे उठाकर घास पर पटक दिया और मेरे ऊपर आ गया और लेट गया. बोल के मैं सोफे पर आ गया और एक पेग बना कर लेने लगा।करीब 10 मिनट बाद अंजलि भी नार्मल हो गई.

इतना कहकर मैंने मम्मी की चूचियां छोड़ दीं, मम्मी की टांगें अपने कंधों पर रख लीं और अपना लंड मम्मी की चूत में अन्दर बाहर करना शुरू किया. वो जैसे ही काउंटर पर अपनी हाथ की कोहनियां रख कर झुकी, उसके टॉप से गले के अन्दर की ब्रा और उस ब्रा से उसकी आधी चूचियां दिखने लगीं. उन्हें कोई नहीं देख रहा है, इस विश्वास के साथ दोनों एक बार आलिंगन बद्ध हुए और थोड़ी देर एक दूसरे से चिपके रहे.

सनी लियोन के सेक्सी चित्र

हम दोनों अपनी पूरी ताकत से लड़ रहे थे और एक दूसरे से आगे निकल जाने जैसी होड़ लगा रहे थे. उनके शरीर पर सिर्फ़ एक पैंटी बची हुई थी और आंटी चुदाई के तैयार थी, बहुत ही ज़्यादा कामुक नज़र आ रही थीं. अब मुझसे भी बर्दाश्त नहीं हुआ और मैं अपने गर्म होंठों को कोमल चूचों से लगा बैठा.

मैंने उसका हाथ अपनी पैंट के अन्दर डाल दिया और अपना लंड उसके हाथ में दे दिया. मैंने चाची को आगे से आकर उनको अपनी बांहों में भर लिया और कहा- चाचा से कुछ हुआ ही नहीं आपका?चाची- वो कहां कुछ कर पाता है.

कहीं जाना होता नहीं था तो रात देर तक मोबाइल चलाता रहता था, सुबह जल्दी उठने की कोई चिंता नहीं रहती थी.

मैं उससे लंड चूसने का इशारा कर रहा था पर उसने लंड चूसने से मना कर दिया. मुझे बस इतना ही देखना था कि अब आगे क्या होगा क्योंकि बीवी भी नशे में टुल्ल और उसकी भतीजी भी नशे में टुल्ल थी. उधर से छुट्टी मिलते ही चाची गांड उचका कर मेरे पीछे बाईक पर बैठ गईं.

मैं घबरा कर रोने लगी और दौड़ कर अपनी अम्मी के पास गई और उनको सारा वाकया बताया. तो मैंने पूछा कि आंटी ऐसा क्या हो गया कि अंकल ने आपको छोड़ दिया?उन्होंने कहा कि मेरी सास मेरे पति को भड़काती थी कि मेरा किसी दूसरे मर्द के साथ चक्कर है. रात को जब सब लोग सोने गए तो आपा मुझे आँख मार कर मुस्कुराते हुए कमरे में चली गई.

वह मुझे एक ही नज़र में भा गयी।उसकी मस्त जवानी देख कर मेरा दिल उस पर आ गया। मैं उस सेक्सी लड़की की देसी चुदाई करना चाहता था.

बीएफ चुदाई भेजें: कभी सोनी मुझको गुलाम बना देता और बांधकर पीटता, कुत्ते की तरह चलाता. मैंने उसे सोफे पर लिटा दिया और अपने एक हाथ की उंगली उसकी चूत में डाल दी.

फिर कुछ मिनट के बाद जैसे ही मैं वहां से उठा और अचानक से घूमा, तो मैं शॉक हो गया. बापू भी मस्ती से काकी ब्लाउज के बटन खोल चुके थे और बिना ब्रा की काकी की भरी हुई नारंगियों को मसकने मसलने का मजा ले रहे थे. आशा करता हूँ कि आपको मेरी और कविता दीदी की चुदाई की कहानी पसंद आई होगी.

मैंने उठते हुए उसे थामा और उसकी गांड को पकड़ धीरे धीरे ऊपर नीचे होने में मदद करने लगा.

मैंने हैरानी से कॉल उठाई क्योंकि मुझे इसकी उम्मीद बिल्कुल भी नहीं थी. इसी बीच उसने मुझे बेड पर धकेल दिया और खुद मेरे ऊपर चढ़ कर मुझे किस करने लगी. उन्होंने पहले तो कुछ संशय से देखा कि घर के थोड़ी आगे क्यों, पर फिर कुछ न कहते हुए हां कर दिया.