देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ

छवि स्रोत,गोल्डन नवरत्न कूपन रिजल्ट वेबसाइट

तस्वीर का शीर्षक ,

किरण देवी की सेक्सी: देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ, मामी अन्दर पूरी नंगी नहा रही थीं और वो दरवाजे की तरफ ही देख कर अपने चुचे मसल रही थीं.

करिश्मा कपूर के नंगे फोटो

मुझे नहीं पता था कि इस समय प्रतिभा स्खलित हुई थी या नहीं, पर मेरा अनुमान है कि इतनी लंबी चुदाई के बीच वो भी स्खलित हो ही चुकी होगी. ओपन सेक्स फिल्ममैंने उससे पूछा कि क्यों आज ऐसा क्या हुआ है … पूरा इंस्टीट्यूट खाली क्यों है?उसने कहा- मैडम आज संडे है न … तो इंस्टीट्यूट खाली ही रहेगा.

सनम बहुत जोर से चीखती अगर मैं उसे रोकती ना तो!मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया और उधर राजू सनम की चूत में धीरे धीरे धक्के लगा रहा था. फिल्म सन्यासीमुझे अपने पति के सामने अपने यार के बड़े लंड से चुदकर बहुत मजा आ रहा था.

लेकिन मैंने उसका मोती छेड़ना जारी रखा जिससे उसकी चूत मस्त पनियां गई और उसने अपने पैर अच्छे से खोल दिए.देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ: हुआ यूं कि एक दिन मैं फेसबुक चला रहा था कि मुझे एक प्रोफाइल दिखी, जिसमें नाम स्वीटी लिखा था.

अगले दिन से मैंने नेशनल कॉलेज की छुट्टी के समय गेट के आसपास मंडराना शुरू कर दिया.मैं बोला- नहीं अभी मेरा दिल नहीं भरा अदिति … मैं और सेक्स चाहता हूँ.

जापानी स्कूल गर्ल सेक्स वीडियो - देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ

और मुझे आजादी तो इतनी है कि हमने एक बार स्वैपिंग भी की थी।मैंने कहा- स्वैपिंग? सच में?खुशी का जवाब था- क्या ये जानकर तुम मुझसे प्रेम नहीं करोगे?मैं- नहीं, ऐसा कुछ भी नहीं है.आपकी चुदक्कड़ अरुणिमा[emailprotected]टीचर स्टूडेंट सेक्स स्टोरी जारी है.

उसकी सुडौल जांघें मुझे मेरे लंड को जोर से मुठ मारने पर मजबूर कर रही थीं. देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ उत्तेजना से मेरा लन्ड इतना तनतना गया था कि जितनी देर में मैं झड़ता था उससे आधी देर में मैंने अपना गर्म लावा प्रिया की गांड में उड़ेल दिया।अब हम एक दूसरे पर निढाल होकर गिर गए और इधर उधर की बातें करने लगे। मतलब कि हम एक दूसरे को कितना पसंद करते हैं और एक दूसरे में क्या पसंद है वगैरह वगैरह बातें होती रहीं.

मैंने पूछा- अब तक कितनी लड़कियों के साथ सेक्स कर चुका है?तो उसने कहा- मैंने अपनी दोनों भाभियों को बहुत चोदा है मगर किसी जवान लड़की को चोदने का मौका पहली बार मिल रहा है.

देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ?

मैंने थॉमस से कहा- थॉमस तुम्हें याद है ना … कल रात जब तुम मुझे चोद रहे थे तो रोहन हमें खिड़की के पीछे से चुपके चुपके देख रहे थे … और आज दिन मैं भी जब तुम मुझे ऊपर ले आए, तब भी रोहन हमें देख रहे थे. मैं कमरे में अन्दर गया, तो आंटी ने टीवी बंद कर दिया और मीनू को आवाज लगा दी. उसने शर्मिष्ठा की लाल रंग की मैक्सी पहिन रखी थी जिसमें उसका हुस्न और भी खिला खिला खिले गुलाब की तरह लग रहा था.

बस फिर हम दोनों मादरजात नंगे होकर उस काम में मशगूल हो गए, जो एक सभ्य समाज में किसी भी तरह स्वीकार्य नहीं हो सकता. उसकी गर्म चूत पर हथेली रगड़ते हुए मैंने महसूस किया कि उसकी चूत से पानी निकल रहा था. जब मैंने मामा से फोटो मांगी, तो मामा ने कहा- तुम्हारी नानी के पास है, अन्दर जाकर देख लो.

कुछ देर उंगली से सहलाने के बाद वो बोले- रुक, मैं जरा तेल की शीशी लेकर आता हूं. मेरे बगल में करीब पैंतालिस साल का आदमी बैठा था, तो वो थोड़ा सा आगे को हो गया और मैं पीछे होकर बैठ गयी. पर उसने मुँह से लंड नहीं निकाला … बराबरी से उसने मेरा लंड चूस चूस कर फौलाद सा कर दिया.

नसीम की बड़ी मनुहार के बाद प्रकाश भाईसाब ने बड़ी संभल संभल कर एक लौंडे की गांड मारी थी. फिर मुझे ध्यान आया कि मामी से डरना कैसा … नाराज हुईं, तो पैर पकड़ लूंगा.

मैंने फिर कहा- अगर मैं तुम्हारे साथ कुछ ज्यादा कर जाऊं … तब भी नहीं? तुम्हारे साथ बिना सहमति के सेक्स कर लूं … क्या तब भी नहीं?नेहा ने फिर सपाट उत्तर दिया- हां सर तब भी मैं नाराज नहीं हो सकती.

इस बार मैंने थॉमस को बेड पर लेटा दिया और उसका लंड अपने हाथ में लेकर मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

पापा ने थोड़ा उखड़ कर कहा- वो तुमको चोदने के चक्कर में है, बड़ा रसिया टाइप का आदमी है, मैं जानता हूँ, बहुत बड़ा चोदू है. फिर उसने मम्मी को सीधा खड़ा किया और मम्मी की चूत फिर से चाटनी शुरू कर दी. धीरे धीरे मैं उसके लंड पर बैठने लगी और कुछ ही पल में थॉमस का पूरा लंड मेरी चुत की पंखुड़ियों को खोलता हुआ अन्दर तक आ गया था.

इतने में मां बोलीं- हर्षद कहां खोया है … और ऐसे क्या देख रहा है मुझे!ये बोलते समय उनकी नजरें मेरी तौलिया पर टिकी थीं. मैं उस मम्मे के निप्पल को अपनी उंगली और अंगूठे से धीरे धीरे मसलने लगा. गर्ल हॉट सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे पड़ोस की जवान लड़की ने मुझे पार्क में बुलाया.

बाप दिन रात बेटी की गांड को चोदने में लगा रहता था जिससे रिया तंग आ गयी और उसने अपने डैड की शर्त जल्दी से जल्दी पूरा करने की सोची ताकि डैड के लंड से उसका पीछा छूट जाये.

सुबह मेरा माथा चूमकर मां ने मुझे जगाया, तो मैंने आंखें खोलकर देखा और कुनमुना कर बोला- सोने दो ना मां. घर आकर उसने बातों ही बातों में मुझे नंगी कर दिया था और मैं चुदने के लिए तैयार हो चुकी थी. चुदाई से पहले एक दूसरे को गर्म करने की प्रक्रिया फोर-प्ले कहलाती है, वैसे ही चुदाई के बाद एक दूसरे से लिपट-चिपट कर प्यार दिखाना बातें करना, एक दूसरे का आभार जताना, अंगों को सहलाना या फिर दुबारा चुदाई के लिए मन बनाना, ये सब आफ्टर-प्ले कहलाता है.

लेकिन इससे पहले कि मैं उन्हें फिर से मना करती, मेरी भरपूर जवानी की उठान उनकी हथेली में कैद होकर रह गयी थी. दोस्तो नमस्कार! मेरे बारे में तो आप सभी जानते ही हैं। मैं राज शर्मा चंडीगढ़ से हूं. फिर अनिकेत ने चूत की फांकों की साइड में दोनों तरफ उंगली रखकर दबा दी.

वो बड़बड़ाते हुए बोला- आह्ह … क्या माल हो भाभी! एकदम गरम मसाला सनी लियोनी की तरह! काश … आप मुझे पहले मिलीं होती.

नसीम भाई का लंड एक दूसरे माशूक लौंडे को, जो उन्हें पंसद था … उसे अपनी गांड में डलवाना पड़ा. ”तो करो … किसने रोका है?”उसके इतना कहते ही मैंने उसे खींच कर अपने सीने से लगा लिया। उसकी मस्त गुन्दाज चूचियाँ मेरे सीने में चुभने लगी.

देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ खैर मैंने भी झुक कर उनके चरण छुए और उनकी छाती पर दो किस देकर बाहर जाने को हुई. मैंने थॉमस को गुड मॉर्निंग विश किया और रोहन को आवाज दी- रोहन सुनो ना.

देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ उसका लंड खड़ा होने के बाद 7 इंच का हो गया था, जिसको उसने सीधे मेरे मुँह में घुसा दिया. अब हमारी डील तब ही होगी, जब तुम मेरे साथ रात बिताने को राजी हो जाओगी.

मैंने कहा- अब क्या करना है?तो वे दोनों बोली- आप बताओ?मैंने कहा- देखो इन बातों में कोई फायदा नहीं है, अब इसको थप्पड़ भी लग गए हैं और इसको यह भी पता लग गया है कि हम किसी भी तरह से कम नहीं हैं इसलिए मैं थानेदार साहब को बोल देता हूँ कि इसको अच्छी सी वार्निंग देकर यहाँ से भगा दे.

डब्ल्यूडब्ल्यूई बीएफ

कुच्ची- हां हां … वही क्या हुआ मिला उससे?मैं- हां उसी से मिलकर तो आ रहा हूँ. अन्दर चेंजिंग रूम में मैंने अपने बैग में से वो पैकेट निकाल कर खोला, तो देखा, उसमें बिकिनी स्टाइल का टू-पीस स्विमिंग सूट था. उसके दोनों पैर फैला कर उसकी पैंटी से ढकी चूत के ऊपर अपना लंड पेंट के साथ से ही रगड़ दिया.

मैंने बोला- कंट्रोल करना भी कौन चाहता है!अर्पित बोला- कोई आ गया तो?मैं बोली- कोई नहीं है इधर, सब उधर नाच-गाने में लगे हैं. पर क्या करता, मैं उसे रोक भी तो नहीं सकता था, आखिर मेरी हैसियत ही क्या थी. तभी बैलेस बिगड़ने से मैं गिरने को हुआ, तो मेरा हाथ कुछ टेकने को बढ़ा.

थोड़ी देर के बाद शिवानी भाभी ने फिर से मेरे सोये हुए लंड को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

पर उंगली य बैंगन कभी लन्ड की जगह नहीं ले सकते।जब वो 3 महीने घर नहीं आये, उसी दौरान एक ऐसा वाकया हुआ जिसे याद करके मैं आज भी रोमांचित य उत्तेजित हो जाती हूँ. फिर उसने अपने लंड को हाथ से पकड़ा और फिर से एक बार मेरी चूत पर लगाकर धक्का दे दिया. दोस्तो, मैं टेलीविजन चैनल्स की टीआरपी को मॉनिटर करने वाली एक कंपनी में काम करता हूं.

इस घटना से सिर्फ हमारे दोस्त का ही डर कम नहीं हुआ था … उसे देख कर हम सब समझ गए थे कि गांड मराना कोई खास कष्टकारक काम नहीं है. मैं नहीं भेज रही ये उल्टी सीधी पिक्स।उसने फोटो भेजने से मना कर दिया. ऐसे भी उसकी घाटियां लाजवाब थीं, उस पर उनसे प्रेम करने का ऐसा आमन्त्रण भला कैसे ठुकराया जा सकता था.

मैंने पूछा- मजा आ रहा है?स्वीटी मैडम बोल रही थीं- हां … पर धीरे धीरे चूसो … ओर चूसते रहो … मुझे बहुत मजा आ रहा है. थैंक्यू हर्षद … तुमने मेरी बरसों से प्यासी चुत की प्यास आज अपने अमृत से बुझा दी.

मैं उनके शांत चेहरे पर काम वासना के वशीभूत होकर देखने लगी, वो शायद मेरे मन की बात समझ गए. ’अब तक मुझे थॉमस के लंड पर उछलते हुए दस मिनट हो गए थे और मेरा शरीर अब अकड़ने लगा था. फिर मैं स्विच के पास जाकर खड़ा हो गया और बोला- अब तुम आंख खोल सकती हो.

फोटोज धुंधली सी होती थीं क्योंकि उसके फोन का फ्रंट कैमरा अच्छी तरह फोटो नहीं ले पाता था.

वह अपने दूसरे हाथ को मेरी कमर में लपेटे हुए थे और लंड पूरा अन्दर तक पेले हुआ था. लण्ड को थोड़ा और अंदर तक लेने के लिए भाभी ने अपने पांव को थोड़ा खोला. फिर मैंने शाजिया का चेहरा अपने हाथ में प्यार से लिया और कहा कि मैं कसम देता हूँ कि ये बात बाहर नहीं जाएगी … हम तीनों के बीच ही रहेगी.

पूजा के पास मेरा नम्बर था … तो उसने मैसेज पर मुझे मना किया कि मैं ऐसा ना करूं. वो मेरी तरफ ऐसे देखने लगा जैसे पूछ रहा हो कि क्या हुआ?मुझे दर्द तो हुआ था मगर चुत चुदवाने की बड़ी लालसा भी थी.

मैंने भी उसके लंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी प्यासी चुत में सैट कर लिया. हाँ यदि तुम किसी बाहर वाले से दोस्ती करोगी तो वह तुम्हारे घर के चक्कर लगाएगा, इससे तुम्हारी बदनामी होगी और तुम जब चाहो मिल भी नहीं सकती. मेरे और मामी की उम्र में, उम्र का कम ही फर्क था, तो इस पर मामी बोलीं कि तुम तो मेरी उम्र के ही हो, तुम ही बताओ कि मैं कैसे जी रही होऊँगी.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो चुदाई

स्सस … इतनी देर से अपने होंठ मेरे लंड के टोपे पर छुआ कर बैठी है, जान निकालेगी क्या? फटाफट चूस इसे.

उसका लंड इस बात से ही अकड़ने लगा था कि माल 20 साल का है और कुंवारी है. वो जानता था कि रश्मि रवि की बेटी है और यही उसका मकसद था कि वो रवि की बेटी को रंडी बना कर उसके बाप के सामने ही पेले. जीजा साली सेक्सी कहानी पढ़े कर आपनी अन्तर्वासना जागृत हुई या नहीं?[emailprotected]जीजा साली सेक्सी कहानी जारी रहेगी.

फिर उसने शैम्पेन की बोतल उठाई और बची हुई शैम्पेन दोनों गिलास में डाली. मेरी सिसकारियां बंद होने का नाम नहीं ले रही थीं ‘आअह्ह … मीता उफ्फ़ आह … जान ही ले लोगी क्या?’वो हंसते हुए अपने हाथों को गति देती रही, फिर अचानक से उसने मेरे जॉकी को निकाल दिया. स्मॉल कारमैंने लड़के को वहीं पर भर्ती करवाया ताकि उसका अच्छा इलाज हो सके और जल्दी हो सके.

यदि आप दोनों चाहते हैं कि ये सब ये अब्बू के पास ना तो जाएं, तो आपको एक काम करना पड़ेगा. मुझे दुःख इस बात का है इसने अपनी तरफ से मुझे प्रपोज किया था उसके बाद इसने मेरे साथ ऐसा किया.

नेहा ने कहा- मुझे होटल में जॉब करते काफी समय हो चुका है, पर आज तक मैंने किसी ग्राहक की नजरों में अपने लिए आंसू नहीं देखे. दोनों ओर से जवाबी धक्का मुक्की से मेरे लण्ड का सुपारा फूलना शुरू हो गया. यह हमारी नसीम भाई के साथ पहली विजय थी, विजयोत्सव के रूप में भी गुरू दक्षिणा देनी पड़ी.

दूसरी तरफ मेरे फैमिली मेंबर सब लोग मामी को देख कर बड़े खुश थे कि चलो बहू सुंदर मिल गई है. मैं अपने पति के सामने एक गैर मर्द के सामने चुदने में काफी ज्यादा उत्तेजना महसूस कर रही थी और चिल्ला चिल्ला कर चुत में लंड ले रही थी. मैंने कहा- अब क्या करना है?तो वे दोनों बोली- आप बताओ?मैंने कहा- देखो इन बातों में कोई फायदा नहीं है, अब इसको थप्पड़ भी लग गए हैं और इसको यह भी पता लग गया है कि हम किसी भी तरह से कम नहीं हैं इसलिए मैं थानेदार साहब को बोल देता हूँ कि इसको अच्छी सी वार्निंग देकर यहाँ से भगा दे.

उसने मेरे लिए व्हिस्की का पैग बनाया और हम दोनों चियर्स करके सिप लेने लगे.

उन्होंने अपने हथियार को सहलाया और वहीं ताक में रखी तेल की शीशी से तेल लेकर तबियत से लंड पर चुपड़ा, कुछ तेल अपने हाथ पर भी ले लिया, उस पर थूक भी दिया. वैसे भी सुमीना के हग करने से उसकी चूचियों का स्पर्श पाकर मेरे अंदर सेक्स की प्यास जाग गयी थी.

फिर वो डिक्शनरी लेकर मेरे पास आ गए और मुझे देकर बोले- लो इसमें देखो. जब मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने पूरी ताकत झोंक कर उसकी चूत को खोदना शुरू कर दिया. मैंने सोचा की ये कितना सीधा लड़का है, एक लड़की ने अपनी गांड तक दिखा दी मगर ये बंदा हिला तक नहीं.

थोड़ी देर में चाय पकौड़े आ गये, हमने खाये, तब तक बारिश भी रुक गई और हम लोग घर पहुंच गए. मेरी विडंबना ये थी कि मैं किसी लड़की को जानता भी नहीं था ताकि मैं क्लेरिसा पर लाइन मारने से पहले किसी और लड़की के साथ थोड़ा सहज हो जाऊं. रॉबर्ट मेरे होंठों को चूसे जा रहा था, पर मुझे रॉबर्ट के साथ यह सब करने में कोई दिलचस्पी नहीं थी.

देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ तुम ही नखरे दिखा रही थी।”अब तो नहीं दिखा रही ना, अब तो मैं खुद तुम्हें दिखाने को बोल रही हूं. मैं उसे तड़फाने का मजा लेते हुए सोच रहा था कि इसकी चुत चुदाई करने में मजा आ जाएगा.

एक्स एक्स एक्स हॉट मूवी वीडियो

‘ओह्ह रीता … आह्ह … यस्स आआ … आहह … यस्स ओह्ह’ करते हुए उसने सारा माल रीता की गांड में गिरा दिया. बॉस मेरे शरीर के हर हिस्से को ऐसे सहला रहे थे … मानो मेरे हर अंग का माप ले रहे हों. उसने कहा- इसके लिए तो बहुतों की दीवानगी होगी!मैंने भी मुस्कुरा कर प्रतिभा को खुद के ऊपर से उठाया और बिस्तर में बिठा कर उसकी चूत को मुट्ठी में भींच कर जवाब दिया- वो सब तुम छोड़ो … बस इतना जानो कि ये इस परी का दीवाना है, जिससे ये अब तक दूर है.

भाभी की चूत में बस का पोल लगा था और पीछे पोल जैसा ही मेरा लौड़ा लगा था. वो अपनी दोनों टांगें हवा में उठाते हुए बोलीं- आह और चोदो … और जोर से … मेरी जान मस्त मजा आ रहा है. पंजाबी लड़कियों केइस बार मैंने सोच लिया था कि चाहे कुछ भी हो जाए, मैं चिल्लाऊंगी नहीं.

मगर जेठ जी ने मेरी चुत का दर्द नजरअंदाज किया और वे अन्दर धंसाते चले गए.

हाँ मगर उनकी चड्डी में से उनके लंड का शेप ज़रूर दिख रहा था।सच में बड़ा रोमांच हुआ, देख कर दो लड़के बिल्कुल कच्चे, और मेरे साथ अपनी ज़िंदगी का पहला सेक्स करने जा रहे थे. फिर मेरे ऊपर से उठकर मुझे निर्देश दिया- अभी जल्दी से नहा धोकर लंच कर लो … फिर मायरा शुरू हो जाएगा, तो हम सब व्यस्त हो जाएंगे.

नीरा की तेज उठा पटक और उसकी टाईट चूत का वार मेरा लन्ड नहीं सह पाया और मैंने पूरी ताकत से ऊपर को झटके मारने चालू कर दिए. पर मैं दिखाना चाहता था कि उसकी हर छोटी-बड़ी बातों से मुझे फर्क पड़ता है. कभी वो मेरे नीचे होंठ को, तो कभी वो मेरा ऊपर के होंठ को चूसने लगती.

मैंने अब विनीता की कमर को कस लिया और विनीता ने भी मुझे अपने सीने से जकड़ लिया.

मैं फैसला नहीं कर पाया कि मैं होश में हूँ या कोई सपना देख रहा हूँ।मैं अपनी तारीफ सुन के खुश होती जा रही थी और सुनील बोलता जा रहा था।फिर आगे वो बोला- देखो फुल टाइम गर्लफ्रेंड तो आपको बनना है नहीं. गांव के लौंडे अपने घरों में चले गए और मैं अपने टेंट में आकर सो गया. मैंने देखा वो मेरी तरफ ही आ रहा था … शायद किसी को चाय देने!तो मैंने उसे बुलाया और बोली- शाम को जब हॉस्टल आओ तो मेरे रूम से भी कपड़े ले लेना!वो बोला- ठीक है.

सेक्सी मूवी राजस्थानमेरा लंड अब भी मामी की चुत में था और मामी की मादक सिसकारियां चीखों के मानिंद निकल रही थीं. उस लौंडे ने लंड लेने में बहुत नखरे किए, पर इस बार सब उसे मना रहे थे.

बीएफ वीडियो आवाज में

मैंने सोचा कि साला गांव की किसी भाभी की चुदाई दिखाने की कह रहा होगा. कभी मैं कमरे में नहीं होता था तो कभी बिन्दू की मम्मी घर पर होती थी और कई बार बिन्दू स्कूल होती थी. फिर उसके शानदार उरोजों पर मुँह लगाते हुए हाथ पीछे ले जाकर मांसल उभरे नितम्बों को सहलाने लगा.

उसने बेशर्मी से कहा- फिर तो ब्रा और पैंटी में आपको देखकर और मजा आयेगा. चूंकि एक दिन पहले मुझे उससे कुछ देर की बात में ये मालूम चल गया था कि ये उसका रोज का जॉब टाइमिंग था, वो नर्स थी और घर जाने के लिए 4 बजे इधर रोज आती थी. मुझे यह जान कर बहुत अच्छा लगा कि आप सबको मेरी लिखी सेक्स कहानी बहुत पसंद आई.

पर इससे पहले कि मैं कुछ और करता सुहाना ने मेरा सिर पीछे धकेल दिया।और वो जोर-जोर की साँसें लेने लगी। उसे इस हॉट ओरल सेक्स का पूरा मजा मिला था. और फिर सिर्फ होंठ चूसना ही तो मेरा लक्ष्य नहीं था। मुझे तो इसकी चूत पीनी थी।अब अगला कदम सिर्फ इंतज़ार करना था. तीन लौड़े मम्मी के अंदर बाहर हो रहे थे।मैं और शैली एक दूसरे की चूचियाँ मसलते हुए अपनी मम्मी की चुदाई देख रहे थे।शैली बहुत गर्म हो गयी थी। उसने मेरा सिर पकड़ के मेरा मुंह अपनी चूत पे लगा दिया, मैं चूसने लगी।और फिर.

चैन तो खोल ली लेकिन लण्ड लंबा होने की वजह से भाभी बाहर नहीं निकाल पा रही थी. मैं- ठीक है अभी मैं रास्ते में खड़ा होकर बात कर रहा हूँ … तो अभी फोन रख दो.

पर मेरा ध्यान मेरे स्टोर रूम में बंद खजाने पर था।मैंने दोनों के लिए खीर परोसी और चुपके से उनके हिस्से की खीर में नींद की दो गोलियां मिला दी। दोनों खीर लेकर टीवी के सामने बैठकर खाने लगी.

मां हां कहते हुए किचन में खाना बनाने चली गईं और मैं टीवी देख रहा था. कक्षा 11 हिंदी आरोहगुदगुदी होती है न वहां पर; अभी देखना जब लंड घुसेगा तो और भी मज़ा आएगा. राजस्थान सेक्सी राजस्थान सेक्सी वीडियोफिर मैंने कहा- तुम मेरे बारे में क्या जानती हो? तुम बहुत खुले विचार की और उतावली लगती हो. उसने मुझे अपने लंड के ऊपर बिठा लिया और मेरी चूत में अपना लंड घुसा कर मुझे चोदने लगा.

वो भी मस्ती में चुदते हुए कहने लगे- आह्ह … बेटा … चोदो … ओह्ह मजा दे रहो हो बहुत … आह्ह … पूरा फंसा दो मेरी गांड में … याह्ह … और तेज … आह्ह और तेज पेल बेटा.

मैंने उनके मम्मों को दबाते हुए धीरे धीरे अपने लंड को आगे पीछे करने लगा था. मैंने लंड की खाल को ऊपर नीचे करके देखा, जिसमें गुलाबी रंग का टोपा ऐसे खुल गया था जैसे वो अभी ही मेरी चुत को फाड़ डालेगा. चुत की फांकों की गर्मी से मेरे लंड को सहन नहीं हुआ और मैंने एक ही झटके में आधा लंड डाल दिया.

मैं जल्दी तैयार हो गया था इसीलिए शादी वाली जगह पर चला गया।थोड़ी ही देर में और सब भी आ गए. इस घटना से सिर्फ हमारे दोस्त का ही डर कम नहीं हुआ था … उसे देख कर हम सब समझ गए थे कि गांड मराना कोई खास कष्टकारक काम नहीं है. मेरे चूतड़ों को मसलते हुए अमित बोलने लगा- आह … क्या संगमरमरी हुस्न है.

ब्लू फिल्म वीडियो हिंदी एचडी

आपसे गुजारिश है कि यदि आपके साथ किसी दूसरी पोजीशन में गांड मराने के सुख का अनुभव हुआ हो तो उस घटना की विस्तृत चर्चा अवश्य कीजिए, हम जैसे अपने दोस्तों को अपने अनुभव जरूर बताएं. जब पूरा लंड घुस गया तो मैंने कहा- डाले रखो … और चुपचाप मेरे ऊपर लेटे रहो … जब मैं कहूं, तब आगे पीछे करना. कंडोम चढ़ जाने पर मुझे अन्दर लंड पर और बाहर दोनों तरफ डॉट का अहसास हुआ, शायद वो बहुत मंहगा कंडोम रहा होगा.

मौसी मौसा को कहीं जाना पडा तो मैं पड़ोस के अंकल के साथ अकेली थी उनके घर में.

मैंने कहा- मीता यदि तुम आज के दिन को अपनी जिंदगी का सबसे यादगार दिन बनाना चाहती हो, तो कुछ पूछो मत … सोचो मत … बस जो मैं कह रहा हूं, वैसा करो.

लंड को सेट करके मैंने अपने 7 इंची लंड का धक्का उसकी चूत में दिया और पहले ही झटके में लंड उसकी चिकनी चूत में अंदर चला गया. अपनी चूचियों को मसलते हुए वो सिसकारने लगी- आह्ह … यस्सस … आह्ह … ओह्ह … याहह … आह्ह … वाऊ … अम्म … ओहह … करते हुए वो चुदने लगी. कॅमेरा फोटोमैं सोच में पड़ गयी कि अगर मैं न बोलती हूँ, तो ये नौकरी, घर और ऐशो आराम सब निकल जाएगा … जिसके लिए में हमेशा के लिए तरसती रही हूँ.

जैसे ही वो पास आयी मैंने उसे गोद में उठा लिया और जिम के दूसरे रूम में ले गया. नंगी चूत की चुदाई स्टोरी का पिछला भाग:कभी कभी जीतने के लिए चुदना भी पड़ता है-2सुनील ने मेरी छाती पे हाथ रख के मुझे दीवार तक धकेल दिया और मुझे दीवार से सटा दिया. अब सरोज ने मेरे होंठों से अपने होंठों को हटाया और मेरी चूचियों के निप्पलों को मसलने लगी.

सभी ने नियमित होने वाली प्रार्थना को किया और अपनी क्लास में जाने लगे. आगे से मैं कभी इसे हाथ भी नहीं लगाऊंगा और हमारा बच्चा सकुशल हो जाय बस.

गांड फट ही जायेगी … आईई मां … फट गयी … ऊह्हह आह्ह … ईईस्सस … स्सस।रमेश रगड़ रगड़ कर रश्मि की गांड मारता रहा.

मेरे चूतड़ों पर हुई आवाज सुनकर वो उठे और उन्होंने अपना गर्म सुपारा फिर से मेरे लम्बे कट पर घिसना शुरू कर दिया. ऐसा लगता था कि पूरा बदन किसी अच्छे कारीगर के द्वारा बड़ी तल्लीनता से तराशा गया हो. वो नीले रंग के पेंटी पहने हुए थी, मैंने उसकी पेंटी को अपने दांतों से खींचते हुए उतारा.

सेक्सी दादा पोती इसके बाद धीरेन्द्र की तरह सबने अपने लंड निकाले और मेरे सामने पेश कर दिए. अंधेरे का फायदा उठा कर उस आदमी ने पहले तो कोहनी से मेरे मम्मों को रगड़ा, फिर जब मैंने कुछ विरोध नहीं किया, तब उसने अपना एक हाथ मेरी जांघ पर रख दिया और हल्के हाथों से सहलाने लगा.

मैंने थॉमस का लंड अपने हाथ में लिया और उसे फिर से मुँह में लेकर चूसने लगी. जिस तरह से फूल की खुशबू भंवरे को अपनी ओर खींच लेती है उसी तरह मैं भी नीचे से बिना पैंटी पहने छत पर जाकर अपनी चूत की खुशबू फैलाती थी और पड़ोसी मर्दों को अपनी ओर खींचने की कोशिश किया करती थी. मेरे एक दोस्त ने मुझे वीडियो चैट सेशन पर लाइव वीडियो सेक्स ट्राई करने का सुझाव दिया ताकि मेरे अंदर का संकोच दूर हो जाये और मैं अपनी ऑफिस सहकर्मी को पटा सकूं.

लड़की का मोबाइल नंबर दो

लेकिन कैसे? तो डेल्ही सेक्स चैट वेबकैम मॉडल ने उस सेक्सी लेडी की चुदाई में मेरी मदद की. तभी उसने मेरा हाथ पकड़ कर मुझे बाहर खींचा और मुझे सीट की तरफ वहां ले आया जहां पर थोड़ी ज़्यादा रोशनी थी. बाहर आकर अंकुश मुझसे बोला- कैसी लगी तुम्हें … मेरी ओर शेफाली की ये चुदाई … मजा आया देख कर! लगता है तुम्हारी चूत भी गीली हो गई होगी … हुई या नहीं … सच सच बताना.

अंकुश कहने लगा- रोमा तुम बहुत प्यासी लग रही हो … पकड़ लो मेरे लंड को … देखो कितना टाइट हो गया है. गुरजीत के 20 रुपये भी बचते थे और टैम्पो के धक्कों के बजाय एसी कार का सफर करती.

मैंने पूछा- दुबारा क्यों नहाई?तो बताया कि उसे नीचे चूत में चिपचिपा सा लग रहा था … और उसका मन एक गर्म चुदाई का था.

उसने कहा- रूको …वो विलेज गर्ल झट से अपना दुपट्टा उठा कर मेरे लंड को पौंछने लगी. चुदाई ऐसे ही 10 मिनट तक चलती रही और इन दस मिनटों में रश्मि की चूत को रमेश के लंड ने खोल कर रख दिया. बिन्दू बोली- अब मुझे जाना है, मम्मी गुस्सा करेंगी, मैं बिना बोले आई हूँ.

आह्ह अर्जुन … क्या कर रहे हो?”चाहत, कल का क्या प्रोग्राम है?”मैंने बताया- एग्जाम से आने के बाद मैं तुम्हारी! सारी रात मेरी ऐसी चुदाई करना कि मैं हमेशा याद रखूं. मेरी पिछली कहानी थी:गर्लफ्रेंड और उसकी चचेरी बहन को चोदाये बात अभी कुछ 20 दिन पहले की ही. मगर उन औरतों के पति तो जैसे मुझसे बात करने के लिए मरे ही जा रहे थे.

अचानक उनके पैर तेजी से कांपने लगे और फिर रह रह कर मेरी चूत में उनका गर्म गर्म वीर्य झटके ले लेकर गिरता रहा.

देवर भाभी का बीएफ व्हिडिओ: कुछ देर बाद मेरे भाई के लंड से पानी निकला और वह कुछ देर बाद सो गया. कई बार कहने के बाद बड़ी मुश्किल से उसने अपनी नंगी चूत की फोटो भेजी.

पर ये सब बातें मैंने अनसुनी करते हुए मैंने उसकी नाईटी जांघों के ऊपर तक उठा दी. वो मुझसे कहने लगीं- सच में यार कितना मजा दे रहे हो … तुम मुझे पहले क्यों नहीं मिले. मेरे बदन में सिहरन सी होने लगी थी … मेरे बदन में तीखा करेंट दौड़ने लगा था.

कुछ देर चुचियों को चूसने के बाद मैंने उसकी सलवार की डोरी पकड़ी और खींचने को हुआ.

अब उसने ‘उफ्फ़ … हिस्स … ल्ला … मर गई …’ की आवाज़ के साथ सर को दीवार पर ज़ोर से पटक दिया और जैसे अकड़ सी गयी. मैंने अपने दांतों से उसकी फ्रेंची को पकड़ कर नीचे उतार दिया और उसका लंड अब मेरी नजरों के सामने तन्ना रहा था. मेरी वाली तो बेहद सीत्कार करते हुए कह रही थी- तेरा बहुत बड़ा है … मजा आ गया.