इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली

छवि स्रोत,पूनम भाभी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बिल्लू: इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली, भरा पूरा बदन, गहरी नाभि, पूनम के चाँद सा धवल मुखड़ा, गोल चेहरा, लंबे बाल ये मेरी मामी की बाहरी काया है.

भगवानी सेक्सी

फिर उसके मन में कुछ ख्याल आया और उसने अपनी ब्रा और पैंटी भी निकाल दी और पास में पड़ा एक तौलिया लपेट लिया. हिंदी फिल्म सेक्सी देसीउसकी उम्र लगभग 35 वर्ष, रंग गेंहुआ और अच्छी तरह मेन्टेन किया हुआ फिगर था.

मेरे अपेक्षाकृत छोटे टोपे के मेरी पत्नि के मुंह में होने के कारण जब काफी प्रयास के बाद भी दीमा के लंड का मोटा टोपा अन्दर नहीं घुस पाया तो मैंने सज्जनता का परिचय देते हुए अपना लंड बाहर निकाल लिया. मराठी सेक्सी वीडियो एक्सअन्दर हल्का सा अंधेरा था, उसने लाइट नहीं ऑन की थी, लेकिन उस डोर से उसकी वही पुरानी जेस्मीन और गुलाब की मिक्स खुशबू आ रही थी.

माइक थोड़ा लंबा था, सो उसे अपनी कमर झुका के धक्के लगाने पड़ रहे थे, पर मुझे नहीं लगता उनके उमंग में कोई बाधा पड़ रही थी.इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली: चाची की झांटें बुरी तरह भीग चुकी थीं, जिसे देख कर मैं और पगला गया था.

उसने मुनीर के होंठों को चूमा और उससे अंग्रेज़ी में पूछा कि क्या वो झड़ गयी? मजा आया?मुनीर ने उत्तर दिया- हाँ बहुत मजा आया, तुम ही वो इंसान हो, जो समझता है कि मुझे क्या चाहिए.साले बहुत बड़े रोड ठेकेदार हैं करोड़पति हैं, उनसे जरूर अपनी गांड चुदाई करवा लेना वन्द्या.

सेक्सी भोजपुरी आवाज में - इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली

मुझे माफ़ कर दो। लेकिन मुझे शौर्य के साथ चुदाई करने में बहुत मजा आया.इस बीच मैंने उन्हें घुमा कर सीधे किया और सीधे उनके गुलाबी मुलायम रस भरे होंठों को चूसने लगा.

आज तू मुझे पूरा चोद दे और मेरी चूत भी फाड़ कर चाहे टुकड़े टुकड़े कर दे. इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली तभी मैंने देखा कि चाचा ने अपना लंड चाची की चूत की फांकों पर रख दिया.

और ऐसी बातें किसी ना किसी तरह दोस्तों यारों से सबको पता चल ही जाती हैं.

इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली?

वह कभी डिल्डो को देख रही थी और कभी मेरे लण्ड को पकड़ कर भींच रही थी. अब तक हम बस झूलने के बारे में सोच रहे थे, पर अचानक मेरी नजर हमारे पीछे खड़ी एक औरत पर गयी. मैं उसके बड़े से भूरे निप्पल को चाटने लगा और चाट चाट कर अपना माल पूरा साफ कर दिया.

चादर के नीचे हमारा शरीर इस कदर गर्म हो गया था कि हम दोनों अपने आप पर नियंत्रण खोते जा रहे थे. वो मेरे मुँह को पकड़ कर अपनी चूत की तरफ दबा रही थी, जैसे मेरे पूरे सर को ही अपनी चूत में घुसेड़ लेगी. इसके बाद मैंने उसको नीचे उतार कर मेज पकड़कर खड़ा कर दिया और पीछे से उसकी चूत चोदने लगा और वह मस्त होकर मुझसे चुदने लगी.

अब मैं उसकी चूत को सहला रहा था, उसके होंठों से किस करते हुए नीचे की तरफ आता जा रहा था. मैं अपनी मम्मी को बहुत मानती हूं, मेरे हिस्से का भी सब मम्मी को ही दे दिया करना. वो पीछे से आए और अपने लंड को पूरा अन्दर तक मेरे मुँह में घुसेड़ दिया.

वो पूरा चीख रही थी और परदे के पीछे से उनकी नौकरानी हमारी चुदाई देख रही थी और वो मुझे दिखा कर अपनी अंगुली अपनी चूत में करने लगी. रजत- आ… हआ… आए…मयूरी- क्या हुआ?रजत- वो… वो…तब तक मयूरी ने रजत के लंड को जोर से दबाना चालू कर दिया था.

दूसरे ही पल पूरा लंड जोर के धक्के के साथ पहले से भी ज्यादा अन्दर तक घुसेड़ दिया.

मैंने भी वो मौका ठीक समझकर उनकी मैक्सी के अन्दर अपने हाथ को डालकर उनके एक चूचे को सहलाने लगा.

उसका नाम गौरी था, अब आपको तो पता ही होगा कि बंगाली आइटम कितने हॉट और रसीले होती हैं. चाची अपने मोटे चूतड़ उछाले जा रही थीं और मैं चुची चूसते हुए चाची की चूत में लंड पेल रहा था. जब वो ऊपर चढ़ीं, तब उन्होंने अपना गाऊन करीबन जांघ तक ऊपर को उठा लिया था.

जैसे ही लंड डालने लगा तो पता नहीं क्या हुआ मैं ठीक से अन्दर नहीं डाल पा रहा था. जब थोड़ा लिंग अन्दर घुसा, तो उसने दोनों हाथों से तारा की कमर को पकड़ कर धक्के लगाने का प्रयास किया, पर लिंग फिसल कर योनि से अलग हो गया. इसके बाद मैंने उसको नीचे उतार कर मेज पकड़कर खड़ा कर दिया और पीछे से उसकी चूत चोदने लगा और वह मस्त होकर मुझसे चुदने लगी.

वो लड़की कुछ देर बाद आई और बोली- चलो हम दोनों ही चलते हैं, वो सब आराम कर रहे हैं.

मयूरी- पापा… मैं आपसे से शुरू से ही चुदना चाहती थी… आपको हमेशा माँ को चोदते हुए देखकर अपने चूत में उंगली करती थी और सोचती थी कि काश मैं आप से चुदवा पाती… आपका लंड अपने चूत में वैसे ही डलवा पाती जैसे आप माँ की चूत और गांड में डालते हैं. प्रिया बोली- भाई ने बताया है कि वह जिस दिन अपने दोस्त के घर जाएंगे, तो वहां से फिर सुबह ही वापस आ पाएंगे. फिर मैंने उंगली से वैसलीन को उसकी चुत में बड़ी प्यार से लगाया और अपने लंड को भी वैसलीन से चिकना कर लिया.

पल्लवी ने सख्त विरोध करते हुए करवट बदल ली। मैं उसे मनाने के लिये उसकी पीठ से चिपक गया और उसके निप्पल को दबाने लगा। अब मैंने पल्लवी को गर्दन के नीचे से अपने हाथ डाले और उसकी मम्मे को सहलाते हुए निप्पल को मसल रहा था. उसके कहे मुताबिक हम दोनों एक एक बार उसकी गांड में लंड डाल के निकाल रहे थे. चाची- मेरी चूची को चूस ना रे!मैं- चाची, चुची चुसवाने में मजा आता है?चाची- चुदाई के वक्त चुची की चुसाई से चूत में ज्यादा से ज्यादा गुदगुदी पैदा होती है.

मौसी धीमे स्वर में चिल्लाने लगी- आह्ह्ह्ह मादरचोद चूस अपनी रंडी मौसी की चुत.

भाभी ने बोला- पास में एक झाड़ है, उसके पत्ते ले आओ, उनके रस से मालिश करूँगी, तो ठीक हो जाएगा. मेरी छोटी भाभी नीता 26 साल की हैं और बड़ी शोभा भाभी की उम्र 28 साल की है.

इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली मैं धीरे से नीचे जाके उनके पैरों के बीच में बैठ गई और उनका सुपारे पर किस करके धीरे धीरे मुँह में लंड लेना शुरू किया. वो मेरे बदन को सहलाते निहारते रहे और मैं उनके बदन की सख्ती को स्पर्श करती रही.

इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली मतलब लड़की की चूत भी पसंद है और लड़कों की गांड और लंड भी!बहुत सोचने के बाद आज मैंने कोशिश की कि आज अपनी पहली कहानी आप लोगों के सामने रखूँ. मैंने मुस्कान से पूछा कि गांड की चुदाई में मजा आ रहा है?तो मुस्कान अपने मुँह से मस्ती भरी आवाज में बोली- ओह्ह यश.

काफी जबरदस्त किसिंग के बाद रीता बोली- राज अब देर न कर!मैं तुरन्त उठा, उसकी दोनों टांगें चौड़ी की … लंड चुत पर रखा और धीरे से धक्का लगा दिया.

आपकी फोटो सेक्सी

अब भाभी से कण्ट्रोल नहीं हो रहा था, वो बार बार लंड डालने की गुजारिश कर रही थीं. एक दिन उसने मुझसे बोला- आज सिनेमा देखने का मूड है, चलो सीमा, चलते हैं. फिलहाल मैं अपनी मामी के साथ हमबिस्तर होकर इसी घनिष्ठ प्यार को महसूस कर रहा था.

उसके पापा बाहर जॉब करते हैं और वो यहां अपनी माँ और भाई के साथ रहती है. जब मुझे पता लगा, तो मैंने कहा कि उसे कल घर पर बुलाओ, मैं उससे मिल कर सोचती हूँ कि क्या करना है. शीतल पता नहीं क्यूँ … पर आज थोड़ा घबरा रही थी मयूरी से ये कहने में कि अपना तौलिया उतार दे.

बस 4 -5 मिनट के धक्कों में ही तारा लड़खड़ाने लगी और झड़ते हुए अपना संतुलन खोने लगी.

लेकिन जो अभी तो खेल बाकी था, वो था प्रिया की गांड मारना, अभी तो पूरी रात बाकी थी. मैंने उसकी गर्दन को कान को चूमना शुरू कर दिया और उसके दोनों चूचों को हाथ में लेकर दबा दबाने लगा. मैं नीचे से अब नंगा हो गया था और मेरा उत्तेजित लंड प्रिया के सामने था, जिसे वो आंखें फाड़ फाड़ कर ऐसे देख रही थी … जैसे कि वो पहली बार किसी के लंड को देख रही हो.

इस बार वो फिर से बिन जल तड़पती हुई मछली सी हो गयी और मुझसे छूटने की भीख मांगने लगी. इसलिए तू मेरी बात मान और कुछ करके ही बदनाम होते हैं।बहुत ही जोर से सू-सू लगी थी मुझे और बहुत तेजी से प्रेशर बना था. अब उसकी चूत का तिकोना खुल कर स्पष्ट रूप से मेरे सामने था; कम्मो ने एक बार फिर से अपनी चूत हाथों से ढकने की व्यर्थ सी कोशिश की पर मैंने उसके हाथ हटा दिए और चूत पर अपने हाथ रख दिए और उसे सहलाने लगा.

एक तो हमारे शरीर की गर्माहट और दूसरी उसकी चूत की गर्माहट से मेरा सारा शरीर और लंड एकदम पिघला जा रहा था. बस जल्दी से आ जा और मेरे अन्दर पेल दे तू अपना, अब मुझसे और इंतजार नहीं होता.

फिर उन्होंने मुझसे पूछा कि मैं खाना या पीना चाहता हूँ, पर मैंने मना कर दिया. मैंने मौके का फायदा उठाने की पूछा, तो उसने बताया तो शादी एक हफ्ते बाद है. तो इसे आप वहां भी घुमा देना पहले, फिर चांदनी चौक या करोलबाग से फोन खरीद देना.

अगले कुछ दिनों बाद मुझे मुन्ना की माँ ने बताया कि वो 50 के करीब अपने रिश्तेदारों को बारात में लाएगी और शादी की तारीख भी बता दी.

प्रिया के कोमल हाथ का स्पर्श होते ही मेरे लंड ने झटका सा खाया और अकड़ कर वो और भी सख्त हो गया. फिर उन्होंने मुझे साबुन दिया और बोले कि तुम मेरे पूरे शरीर पर साबुन लगा दो. अशोक ने मयूरी को पीछे धकेल दिया जिस से वो पीछे की तरफ गिर गयी और अशोक ने अपने पैर खींच लिए.

मैंने पूछा- वो क्या है जानू?तो टीचर बोले कि वो मुझे एक औरत की तरह तैयार करके चोदना चाहते हैं. एक दिन दोपहर में मैं और सरिता कैरम बोर्ड खेल रहे थे, शायद उसे पता नहीं होगा या उसने ध्यान नहीं दिया होगा क्योंकि वो बड़ी मस्तराम लड़की थी… उसकी पजामी बिल्कुल चूत के सामने से थोड़ी सी उधड़ी हुई थी.

वो पानी पीने लगा और उसके बाद हम दोनों थोड़ी देर एक दूसरे से गर्मागर्म बातें करने लगे. अपने एक हाथ की मुठ्ठी में हम दोनों का लंड पकड़ कर दूसरे हाथ से वो पास खड़े डीके का लंड हिला रहा था. फिर रात में चाय देने के लिए मैं उनके कमरे में गई, तो उन्होंने मुझे पकड़ लिया और बोले- आज रात जब सब सो जाएं तो मेरी प्यास बुझाने तुझे आना ही है.

తమిళం సెక్స్ బిట్లు

कैसे एक ही बार में मैंने तुम्हें एक्सपर्ट बना दिया।” अब इसका क्रेडिट भी उसी ने ले लिया।हो गया न.

तुम्हें पहली चुदाई का परमानन्द को प्राप्त हो रहा है!जैसे जैसे उसका स्खलन नजदीक आता गया, वैसे वैसे उसकी पकड़ मुझ पर मजबूत होती चली गई. अब मुझसे भी नहीं रहा जा रहा था, मैंने उन्हें वहीं ज़मीन पर लेटा दिया और उनकी बुर को थोड़ा चाटने के बाद अपना लंड उनकी चुत के छेद पर रख कर एक झटका दे मारा. जब मैं लंच में उनके पास मोबाइल लेने गया तो उन्होंने मुझसे पूछा- क्या तू गे है?मैं एकदम से सकपका गया, मैंने कहा- नहीं सर, वो तो बस ऐसे ही पढ़ रहा था.

एक दिन बुआ जी का दिलशाद गार्डन से कोई रिश्ता आया, लड़के का अपना बिजनेस था और फैमिली भी अच्छी थी. बस, अब तो हो गया, यह आखिरी दर्द था … बस थोड़ा सा और सह लो … फिर सब ठीक हो जाएगा. क्सक्सक्स सेक्सी ब्लूमेरी दो उंगलियां उसके निप्पल को ऐसे मसल रही थीं, जैसे हम धागे को सुई में डालने से पहले रगड़ते हैं.

तो फिर ऐसे में और क्या ऑप्शन हो सकता है? सबसे बड़ी बात कि मेरे पास और रुकने का टाइम भी नहीं है, आज रात में शादी है और कल शाम को मेरा वापिस घर अकेले जाने का तय था, ट्रेन की कन्फर्म टिकट जो थी. इस बार मैंने थोड़ी हिम्मत करने की सोची और …अच्छा कम्मो चलो अब जरूरी काम की बात करते हैं; ये बताओ तुम्हें फोन कौन सा चाहिये?” मैंने पूछा और उसकी पीठ पर हाथ रख कर अपना मुंह उसके मुंह के पास ले जा कर मध्यम स्वर में पूछा.

उनके पास लाइसेंस होता है करने का और हम लोगों के पास नहीं है इसलिए हम लोग बॉयफ्रेंड बनाती हैं चुदाई करने के लिए, अब समझी!हा यार … मतलब तू भी चुदाई करती है मानसी अभी से?”मानसी- हाँ, मैं तो कई बार कर चुकी हूँ. अब वो भी मजा लेने लगी थी, वो अपने चूतड़ ऊपर उठा उठा कर वह भी खुद को चोदने में मेरी मदद करने लगी. संपत जी ने एक जोरदार धक्का लगाते हुए अपने लंड को मम्मी जी की चूत में अन्दर कर दिया.

इनसे हमें शारीरिक संतुष्टि तो नहीं मिल पाती, पर कुछ हद तक मानसिक संतुष्टि अवश्य मिलती है. तो सबसे पहले मैं आप सबसे गुजारिश करता हूँ कि अगर कोई गलती दिखे तो मुझे मैसेज करके जरूर बताइयेगा. तभी उन्होंने इधर उधर देखकर अपना पेटीकोट भी उतार दिया और मेरी और पीठ करके खड़ी हो गईं.

ले ऐश कर!” मैंने उसे कहा तो उसने गिलास माथे से लगाया और हाथ जोड़ दिये.

मैं शहर की रहने वाली हूँ तो आप लोगों को तो पता होगा कि मैं कितना फैशन में रहती हूँ. हाल ही में पहली बार सेक्स करने के बाद मैं इस घटना को शर्म और संकोच के कारण किसी से बता नहीं सका, तो आप सबसे इस मंच पर साझा कर रहा हूं.

मैं चन्द्रप्रकाश भोपाल में पढ़ने के लिए गया था और कमरा लेकर अकेला रहता था. मैं जानबूझ कर डोर के पास आ गया और मैंने बाथरूम की लाइट भी ऑन कर दी ताकि मनीषा मेरे लंड के दर्शन जी भर के कर सके. फिर सोचा कि दिल्ली में ऐसे होटल भी जरूर होंगे जहां लोग लड़की लेके जाते होंगे घंटे दो घंटे के लिए पर मुझे वो सब नहीं पता था.

मैंने उसके नंगे जिस्म के मजे लेते हुए बाथरूम के दीवार से सट के कहा- तुम तो बिना कपड़ों के और भी खूबसूरत लगती हो, तुम हमेशा ऐसे ही क्यों नहीं रहती. आपको मेरी सेक्स कहानी पसंद आयी हो तो भी … और ना पसंद आए तो भी … प्लीज़ मेल जरूर कीजिये. मैंने तारा से कहा- यहां कहां जा रही हो? अन्दर जंगल के सिवा कुछ नहीं है.

इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली जब मौसी ने कोई हरकत नहीं की, तो हिम्मत करके उनकी सलवार का नाड़ा खोलने लगा. जैसे ही मेरे होंठों में लन्ड छुआ, उसकी एक अजीब सी महक मेरे नाक में समा गई, इतना गर्म था अंकित का लन्ड कि लगा जैसे मेरे होंठ जल जायेंगे.

वीडियो चुदाई वीडियो सेक्सी

जैसे कि आपको पिछली कहानी में मैंने बताया था कि मुझे मॉडलिंग में जाना था, इसलिए मैं हमेशा अपनी मेरी बॉडी को काफ़ी फिट और सेक्सी रखता हूँ. अगली कहानी में मैं अपनी पहली चुदाई, जो मैंने चाची के बाद किसी के साथ की थी. मैंने यह बोल कर उसके दोनों पैर को दोनों तरफ फैला दिया और उसकी चूत थोड़ा फ़ैल गयी.

मैं हर झटके के साथ ज़ोर से अपना लंड आंटी की चुत में डालता और झटके के साथ उनके बड़े बड़े मम्मों को हिलते हुए देखता. थोड़ी देर में उनका लंड दोबारा खड़ा हो गया, उसके बाद मैंने उनका लंड थोड़ी देर मुँह में लेकर चूसा ताकि ठीक से खड़ा हो जाए. हिंदी सेक्सी जानवर वीडियोमित्रो, आप सब तो जानते ही हैं कि मैं अपनी इन बहूरानी के साथ कई कई बार संभोग कर चुका हूं; अभी तीन दिन पहले ही हम दोनों बैंगलोर से ऐ सी फर्स्ट क्लास के प्राइवेट कूपे में बैंगलोर से दिल्ली आते आते उन छत्तीस घंटों में मैंने अपनी कुलवधू को हर तरह से, हर एंगल से … न जाने कितने आसनों में अपनी शक्ति शेष रहते चोदा था; परन्तु अदिति बहूरानी मुझे कभी भी बासी या फीकी, उबाऊ नहीं लगीं.

मैं अपनी भाभी के साथ बहुत हँसी मज़ाक करता था और वो मुझे बहुत अच्छी लगने लगी थीं.

मैंने अपने नीचे हाथ लगा कर देखा, तो मेरी योनि खिल सी गयी थी, पंखुड़ियां और स्तनों के चूचक सख्त हो गए थे, योनि के ऊपर का दाना भी पत्थर सा हो गया था. फिर भी मैंने उसकी बात मानते हुए कहा- ठीक है! एक बार चुदाई कर लेटे हैं अगर तुम कह रही हो तो!तो नेहा मेरे लंड पर कंडोम लगाकर मेरे ऊपर चढ़ गई.

पता नहीं किस जन्म के किए कर्मों का फल ईश्वर ने मुझे दिया है जो तुम जैसे बहू मिली है. ”इस बीच वो पूरा लंड अन्दर ले चुकी थी और मैं धीरे धीरे दीदी की चूत में धक्के लगा रहा था. मेरी एक उंगली पैंटी की साइड से अन्दर जाकर उसकी कोमल योनि के दाने से खेलना शुरू कर चुकी थी.

याद है न?” मैंने सरासर झूठ बोलते हुए इत्ती सी कह के अपने हाथों से इशारा करके उसे बताया.

अन्तर्वासना की मेरी प्रिय पाठिकाओ और पाठको,यह कहानी है गाँव की एक जवान लड़की की… वो मुझे एक शादी के कार्यक्रम में मिली थी. फिर हम एक दूसरे से फ़ोन पर सारा दिन बात करते रहते थे और मैं रोज दोपहर को उनको प्यार करने, उनके पास आ जाता था. जैसे ही लंड डालने लगा तो पता नहीं क्या हुआ मैं ठीक से अन्दर नहीं डाल पा रहा था.

सेक्सी बुर चुदाई फिल्ममैं नया ही जवान हुआ था और अभी सेक्स के बारे भी में भी ज्यादा कोई जानकारी भी नहीं थी. तुझे यहां दस से पंद्रह दिन रहना है मैं तुझे मालामाल करवा दूंगा। तू किसी ना किसी से तो चुदवाएगी ही और पहले भी चुदाई करवाती ही रही होगी, पर मेरी एक बात मान ले तू कभी भी किसी से फ्री में मत चुदवाना, सब करना पर उसके लिए कुछ पैसे बोल दिया कर, तुझे मजा भी मिलेगा और कुछ पैसे भी आ जाएंगे.

ब्लूटूथ सेक्सी हिंदी में

इसके बाद मैंने उसको नीचे उतार कर मेज पकड़कर खड़ा कर दिया और पीछे से उसकी चूत चोदने लगा और वह मस्त होकर मुझसे चुदने लगी. मेरा पूरा मेकअप करने के बाद उन्होंने मेरे साथ एक सेल्फी ली और बोले- चलो अब तुम बेड पर बैठ जाओ. मेरे द्वारा गांड सहलाये जाने पर डीके भी थोड़ा सहज हुआ और अब वो जॉन के साथ साथ मुझे भी किस करने लगा.

!मैंने उसकी बात को अनसुना करते हुए कहा- तेरे घर पे आया हूँ, कुछ खाने पीने को नहीं पूछेगी?वो बोली- हां तू कोई मेहमान थोड़े न है, कुछ खाना है तो बोल?मैंने कहा- हां मैं कौन सा मेहमान हूँ, ये तो मेरे ससुर का घर है. तो वो पूछने लगे- किसके साथ?तो मैंने उनको अपनी 12 वीं क्लास वाली कहानी के बारे में बताया. कुछ ही देर में हम दोनों गुत्थमगुत्था हो गए और कब हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए, मालूम ही नहीं चला.

और मैं किस मुंह से बहू से कहूंगा कि मुझे उसकी भतीजी कम्मो की चूत मारनी है तू जगह का इंतजाम कर दे? नहीं … मैं ऐसी ओछी और घटिया बात अपने मुंह से कभी नहीं निकाल सकता; अगर कह भी दिया तो एक तो बहू कभी मानने वाली नहीं है दूसरे मैं उसकी नज़रों से और हमेशा के लिए गिर जाऊंगा और जो उसकी चूत का सहारा अभी है वो भी छिन जाएगा मुझसे. मम्मी ने कहा- बेटा 11:00-11:30 बजे तक जरूर घर आ जाना क्योंकि नयना आंटी के घर पर कीर्तन है और मैं 12:00 बजे कीर्तन में जाऊंगी. उन्होंने बड़े ही चाव से मेरे लंड को अपने मुँह में भर कर ब्लू फिल्म की तरह खूब चाटा.

अंकल जी तखत खाली ही तो पड़ा है, जब शाहजहाँ जी आयेंगे तो मैं उठ जाऊँगी पक्का, चलते चलते पांव दुःख गये मेरे तो अभी दो मिनट आराम कर लूं बस!” वो बड़ी मासूमियत से बोली. थोड़ी देर बाद हम दोनों ऑफिस से कुछ दूर किसी होटल में बैठे हुए थे, तब उसका फोन बजा.

वहां से खेत की दूरी 40 किलोमीटर है और उस समय बरसात का मौसम बस शुरु होने वाला ही था.

जिसका मैंने विरोध किया तो उसने कहा- सफ़र की गन्दगी को साफ कर नहा धोकर तैयार होकर कुछ खा लेते हैं. सेक्सी मूवी चुदाई वाली फिल्ममैंने तनिक उठते हुए मौसी के एक चूचे को अपने मुँह में फंसाने की कोशिश की तो मौसी ने झुकते हुए अपना दूध मेरे मुँह में ठेल दिया- ले पी हरामी मादरचोद. पानी में सेक्सी पिक्चरखाना तैयार होने के बाद उन्होंने थाली में खाना परोसा और कहा- तुम पहले खा लो, फिर मैं भी इसी थाली में खा लूंगी ताकि ज्यादा बर्तन न धोने पड़ें. डियर दोस्तो, आप मुझे मेल के ज़रिए बता सकते हैं कि आपको मेरी आपको मेरी गांड चुदाई की कहानी कैसी लगी.

पर मैं उसकी कोई बात सुने बिना, उसकी चूत में धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करने लगा.

संभोग का असली मजा भी तो तब ही आता है, जब साथ मिलकर चरम सुख की अनुभूति हो, शिखर पे साथ चढ़ने का मजा ही अलग है. मैंने कम्मो की जांघ पर एक हाथ रखकर आगे झुक कर टैक्सी से बाहर देखने का उपक्रम किया. मैं अपने बारे में आपको बता दूँ कि मैं एक आम सा दिखने वाला लड़का हूँ.

मुझे अपने सामने खड़ा किया, खुद बेड पर बैठकर मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. इतने में अंकित मुझे बोला- वन्द्या, तू अपनी टॉप थोड़ा ऊपर कर ले! तेरे दूध भी देख लूं!उस टॉयलेट में जहां हम दोनों घुसे थे, उसमें बिल्कुल जगह नहीं थी. मगर मुझ से पहले एक वायदा करो कि चाहे कोई कुछ भी कहे, तुम मुझसे पूछे बिना कोई अंतिम फैसला नहीं करोगे जिसमें तुम्हारी और मेरी जिंदगी की बात हो.

हिंदी में सेक्सी फिल्म चुदाई वाली

फिर वो मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर बोली- मेरे शेर, अभी अंकिता को शांत कर दो. उसे देख कर मैं उछल पड़ी और बोली- दीदी, तुम्हें देख कर ऐसा लग रहा है. वह पहले से ही कम कपड़ों में थी, सिर्फ जींस और टॉप में … अंदर ब्रा और पेंटी कुछ नहीं पहनी हुई थी.

अआआआ … उईईईई … मर गईईई … ईई …ई …” उसने फिर से मेरी कमर को कस कर पकड़ लिया.

कुछ देर बाद वो लड़का दुबारा मेरी चूत को चाटने लगा और मैं भी अपनी चूत उसके मुंह में दे रही थी और वो बोल रहा था- भाभी, आपकी चूत चाटने में मुझे बहुत मजा आ रहा है.

बड़ा स्वादिष्ट पानी था, थोड़ा थोड़ा नमकीन टाइप का बड़ा मजा आ रहा था. जैसे ही चाचा का लंड मेरी गांड के छेद में टच हुआ, मुझे बहुत अजीब सी फीलिंग हुई. सेक्सी वीडियो छोटी उम्रमैं अपने मनोरंजन के लिए ब्लू फिल्म देखती थी या कभी कभी सेक्स कहानी पढ़ती थी जिससे एक दो बार अपनी चूत में उंगली करके अपने आपको थोड़ा बहुत शांत कर लेती थी.

वो एकदम शिथिल पड़ी, मेरी चोटों को सह रही थी, थोड़ी देर बाद मैंने भी अपने पानी से अपनी दीदी की चुत को भर दिया. सुनील ने अपना ग्लास पायल के होंठों से लगा के पिला दिया … पायल एकदम से उठ गयी और थूकने लगी, बोली- ये क्या पिला दिया, इसमें कतरा सा क्या मिलाया है?सुनील हंसने लगा, मैंने देखा था सुनील ने मुठ मार के अपना वीर्य दारू में मिक्स करके पायल को पिला दिया था. कभी कभी तो मेरी स्पीड तेज़ हो जाती तो चिल्ला देती- हेईई मार दिया रे तूने कमीने आह.

फिर मैंने उनका अंडरवियर निकाला, एकदम काला कम से कम दस इंच लंबा और मेरी कलाई से भी मोटा लंड था उनका. थोड़ी देर नीचे लेट कर चूत चुदवाने के बाद पूजा बोली- हाय मेरी चूत के राजा, बड़ा मज़ा आ रहा है.

अंकित बहुत जोर जोर से मेरी चूत में अपना लंड डालकर अपनी और मेरी हवस मिटा रहा था.

फिर अशोक ने फिर से उसकी गांड और अपने लंड पर बहुत सारा तेल लगाया और अपना लंड अपने बेटी की मखमल जैसी गांड पर रखकर सेट करके पूछा- बेटी, तुम तैयार हो?मयूरी- कब से पापा… मैं तो हमेशा से चाहती थी कि आप मेरी गांड उसी तरह मारें जैसे आप मम्मी की मारते हो. और कर भी क्या लूँगी?मैंने कहा- भाभी झूठ मत बोलिए आप कुछ तो जरूर करती हो. अब तक हम बस झूलने के बारे में सोच रहे थे, पर अचानक मेरी नजर हमारे पीछे खड़ी एक औरत पर गयी.

काजल अग्रवाल सेक्सी मूवी अशोक- जरूर मेरी जान… अब तो मैं तुम्हें रोज़ ही चोदूँगा… और कल तेरी गांड का दरवाजा भी खोल दूंगा. उसके होंठ पर पानी गिरने से उसके होंठ गीले हो गए थे, तो जैसे ही मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को दबाया, मुझे इतना मुलायम लगा कि मैंने उसके होंठों को भर लिया और चूसने लगा.

परन्तु मेरी गांड में मुझे बहुत दर्द हो रहा था, लंड मेरे मुँह में था तो मेरी आवाज भी नहीं निकल पा रही थी. मैंने भी देर न करते हुए चुत के छेद पर लंड को टिका कर एक जोरदार मस्त धक्का लगा दिया. मैंने सोचा कि किसी भी लंड पर विश्वास करना बेवकूफी ही होगी, इसलिए मैंने उससे कहा- जब तक भैया कोई तारीख निश्चित नहीं करते, हम लोग कोर्ट मैरिज कर लेते हैं.

लक्ष्मी वीडियो सेक्सी

वहां जाकर आमने सामने बात हुई, उसने बताया कि ग्राहक मसाज करने वाली लड़की की चुदाई भी कर सकता है, लेकिन हर काम के अलग चार्ज होंगे. तो मैं उत्सुकता के मारे शर्मा जी के घर उनका हालचाल पूछने के बहाने, बैट को कंधे पर रखके पहुंचा. दस मिनट तक धकापेल चुदाई के बाद मौसी झड़ गईं, लेकिन मैं अभी भी गर्म था.

और इस रंडी को नौकरी से निकलवा दूंगी।फिर मेरी और उसकी हवा टाइट हो गयी और मेरा लंड लटक गया। गौरी अलग हुई और चाची से माफी मांगने लगी और बोली- फिर कभी ऐसा नहीं होगा. फिर थोड़ी देर के लिए वो बस लेटे रहे और मैं भी उनके पास लेटा रहा और उनके लंड को सहलाता रहा.

अब तो रजत ने अपनी एक उंगली भी उसके गांड के छेद पर रख कर रगड़ना शुरू कर दिया था.

फिर से उसने करीब आधा लिंग बाहर खींचा और फिर से दोगुनी ताकत से झटका मार दिया. इस बार मेरा लंड उसकी बच्चेदानी से टकरा गया, जिससे प्रिया को थोड़ा दर्द हुआ. अब तक जैसा कि मैं सोच रहा था कि उसने पहले भी ये सब किया होगा वैसा लग नहीं रहा था.

मैं- चुप साली … ज्यादा बक बक मत कर और इसे चाट के साफ कर!वो वही बेड के नीचे बैठी और मेरे लंड को चाटने लगी। मानसी अपनी माँ के सामने मेरे लंड को मुँह में लेकर आगे पीछे अच्छे से चाट रही थी. लेकिन दस पन्द्रह दिन तक रोज गांड मरवाने के बाद मैंने दोनों जिन्दगी शुरू कर दी. रजत थोड़ी देर मयूरी को गहरा चुम्बन देने के बाद उससे अलग हुआ और नीचे बैठ गया.

मैंने पूछा- डिल्डो कितना लेती हो?उसने बताया- अभी जितनी उंगली की है.

इंग्लिश में बीएफ चुदाई वाली: ”अभी तुम बहुत छोटी हो, अभी तुम मेरा लंड नहीं ले सकती, तुम्हें बहुत दर्द होगा, तुम वो दर्द नहीं सह पाओगी। कुछ दिन और इंतज़ार करो, फिर मैं तुम्हें सेक्स का सही मजा दूँगा. वो बोला- अगर ना चुदी हुई न होती तो मैं दो लाख दे देता मगर यह माल चुद चुका है, इसलिए बासी माल है.

शीतल को अब डर नहीं था कि अगर उसके पति उसको अपने बेटों से चुदवाती हुई अवस्था में देख भी लेता है तो वो उसको अपनी बेटी से चुदाई की दुहाई देकर चुप करा सकती है. उसको कुछ समझ नहीं आया, उसने पूछा- पर इससे क्या होगा?मयूरी- बोला न… मुझे अच्छा लगेगा. फिर मैंने एक प्लान बनाया और सोने की कोशिश करने लगा था कि मैं कल सुबह जल्दी उठ कर दोपहर को अपने प्लान पर काम कर सकूं.

मैं भी मजे से आंटी की पूरी चूत पर अपनी जीभ को किसी कुत्ते की तरह फेरने लगा.

तो मित्रो, पिछली कहानी से आपको याद होगा कि पिछली रात हम सब लोग साथ में डिनर कर रहे थे और कम्मो मुझे बड़े प्यार और अनुराग से सर्व कर रही थी … कभी दही बड़े, कभी रसगुल्ला कभी कुछ कभी कुछ. मैं भाभी की कमर से ऊपर तक मालिश करते करते भाभी के मम्मों को टच कर लेता था. और घरवालों को पता नहीं है कि मैं फ़ोन रखती हूँ और किसी लड़के से बात करती हूँ.