सेल्फी राजा के बीएफ

छवि स्रोत,देहाती ब्लू वीडियो सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी बीएफ व्हिडिओ सेक्स: सेल्फी राजा के बीएफ, इस तरह से मैंने उसे पूरे 25 मिनट तक चोदा; इस दरम्यान वो 3 बार डिस्चार्ज हो चुकी थी.

एक्स एक्स सनी लियोन की वीडियो

वो खुद भी पूरा नंगा होकर मुझसे लिपट गया और मुझे किस करते वक़्त मेरे मम्मे अपने छाती से रगड़ने लगा. हिंदी पिक्चर फिल्म सेक्सी बीएफकरीब दस मिनट बाद मैं उनके मुँह में ही झड़ गया, मम्मी सारा माल पी गईं.

कुछ मिनट तक चाची की गांड की अच्छे से ठुकाई करने के बाद मैंने लंड को गांड से बाहर निकाला और चूत में घुसा दिया. મરાઠી ચૂદાઈमामी ने कहा- तुम यहां क्या कर रहे हो … मैंने अगर तेरे मामा से कह दिया ना, तो वो तुझे बहुत मारेंगे.

मैंने महसूस किया कि मॉम की चूत बहुत गर्म थी और उनकी चूत हल्का हल्का पानी भी छोड़ रही थी.सेल्फी राजा के बीएफ: कुछ पल बाद मैंने धीरे से वो कम्बल उसके पैर पर भी डाल दिया और उसने भी कुछ न कहते हुए कम्बल को अपने ऊपर ओढ़ लिया.

फिर तुम जितना चाहे दूध पी लेना और साथ ही मेरी गांड भी अब तुम्हारी अमानत है, तो तुम उसे भी मार सकते हो.उसका पूरा वजन मेरे लंड पर था, जिससे मेरा पूरा 6 इंच का लंड उसकी गांड में सीधा घुस गया.

लंड और चूत वीडियो - सेल्फी राजा के बीएफ

कभी वो मेरा लंड चूसता तो कभी मैं उसका सिर पकड़कर उसके मुँह को चोदने लगता.मेरी बीवी ने कहा- कविता तुम्हारे घुटनों पर मालिश कर देगी, तुम्हें आराम मिलेगा.

आंटी की पैंटी को मैंने उसके टखनों तक कर दिया और उसने अपनी एक टांग की मदद से उसे पूरी तरह से हटाकर निकाल दिया. सेल्फी राजा के बीएफ उनके लंड से अजीब सी महक आ रही थी, मुझे लंड मुँह में लेने में जरा घिन सी आ रही थी.

मैं मौका मिलते ही चाची पर चढ़ जाता था और चाची का बुरा हाल करके ही उतरता था.

सेल्फी राजा के बीएफ?

मोहित- बस कर आआहह बहन की लौड़ी … माँ चोद दी तूने मेरी … साली रंडी चुड़ैल हरामजादी … और मोम मत डाल वर्ना तेरी बहन चोद दूंगा … आंह साली कुतिया. रोहित भी बोल रहा था- साली रंडी कुतिया … अपनी मम्मी को भी हमसे चुदवा दे … आंह ले लौड़ा खा. मैंने कहा- क्या हुआ? रुक क्यों गयी?वो बोली- मेरी मौसी पास में ही है.

अब जीजू ने मेरी छोटी सी चूत में अपनी जीभ डालकर उसको चाटना शुरू कर दिया. मीनू ने कहा- कोमल की फुद्दी आराम आराम से पेलो, अभी इसकी कुंवारी है. बुआ बोलीं- नहीं, राज शादी में जाना है … उधर गांड चौड़ी करके चलूंगी तो भद्दा लगेगा.

जलालुद्दीन बोले- मेरा पानी निकलने वाला है जान, चूत में लोगी या मुंह में?मैंने कहा- अभी तो मुंह में ही लेना चाहती हूँ. फिर 2 मिनट बाद वो भी मेरा साथ देने लगी मुझे चूमने लगी, मेरे शर्ट के अंदर हाथ डालके मेरे सीने पर हाथ सहलाने लगी।हम लोगों ने 20 मिनट तक एक दूसरे के साथ खूब रोमांस किया होंठ से होंठ मिलाकर चूमे।अब तक हम लोग बहुत गर्म हो चुके थे. साक्षी आते समय अभी भी थोड़ी लंगड़ा कर चल रही थी क्योंकि आज पहली बार उसकी गांड का उद्घाटन हुआ था.

उस दिन नशे में तो मैंने कह दिया था लेकिन बाद में गांड फटने लगी कि अब क्या होगा. जब मैं किशोरवय था, तभी से सेक्स कहानियां पढ़ रहा हूं और मैंने काफ़ी लड़कियों व औरतों के साथ ऑनलाइन सेक्स चैट भी की है.

भैया अपने लंड को मेरी बुर पर रगड़ने लगा, फिर बुर में लंड फंसाकर उसने एक जोरदार धक्का मारा.

मित्रो, मैं आपकी चुलबुली प्यारी सी फेहमिना अपनी सहेलियों के संग चुदाई की कहानी सुना रही थी.

चाची की मस्त गांड को लंड पर कुदाने में मुझे अब और भी बहुत मज़ा आता है. मैं कोमल कान की लौ पर चूमता हुआ नीचे अपने हाथ को उसकी मंजिल पर पहुंचाने का काम कर रहा था. आपा- अच्छा सुन, जब तेरी शादी होगी तो तेरा मियां तुझे चूमेगा, प्यार करेगा, सहलाएगा और तू एक दिन उसके बच्चों की अम्मी बनेगी.

मुझे रिप्लाई जरूर करना ताकि आगे की सारी बातें आप लोगों तक जल्दी पहुंच सकें. थोड़ी देर बाद मुझे ऐसा लगा कि हॉल से कोई किसी की आवाज आ रही थी तो मैंने बाथरूम से झांक कर देखा. उन्होंने मुझे दोनों हाथों से ऊपर किया और अपने तने हुए लण्ड पर बैठा दिया.

मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी तो मैं अपना हथियार अपने हाथ से ही हिला कर खुद को संतुष्ट कर लिया करता था.

मीनू ने कहा- कोमल की फुद्दी आराम आराम से पेलो, अभी इसकी कुंवारी है. मैंने कोमल से कहा- ये लो चाभी, आज से ये घर तुम्हारा हुआ कोमल, तुम इसकी मालकिन हो, अब खोलो गेट को. उनके बूब्स बाहर आ गए थे और मैंने उनकी एक चूची को चूसना शुरू कर दिया.

सुबह जल्दी जाने की वजह से बस में भीड़ नहीं होती थी और उसमें जितनी भी सवारियां जाती थीं, सबसे मेरी अच्छी जान पहचान हो गयी थी. यदि खाने में भाभी कोई भी नई चीज बनातीं, तो मेरे लिए अवश्य ही बचाकर रख देती थीं. फ्रेंड्स मेरी चुदाई कहानी आपको कैसी लगी?अगर लंड से पानी निकल गया और चूत में उंगली चल चुकी हो तो मैं समझूंगी कि मेरी कहानी ठीक है.

अब मैंने सीधे सीधे पूछा- आखिरी बार उसने तुम्हारे साथ सेक्स कब किया था?उसने भी बेलाग जवाब दिया- आठ महीने पहले.

दूधिया रोशनी में बुआ का गदराया बदन ऐसा लग रहा था जैसे कोई पोर्न मूवी की हीरोइन मेरे सामने बैठी हो. अब मेरे से रहा नहीं गया, तो मैंने अपने सीनियर पंकज से पूछ ही लिया- यह सब क्या है?उसने मुझे बताया कि गोवा में अपने कॉलेज के सभी पुराने छात्र मिले हैं.

सेल्फी राजा के बीएफ मैं- नीना, सबसे जरूरी है गांड को ढीला छोड़ना, गांड को ढीला नहीं किया तो दर्द होगा ही. बीच बीच में मैं उसके होंठों को काट भी लेता, जिससे उसके मुँह से ‘आह इस्स्स…’ की कराह निकल जाती.

सेल्फी राजा के बीएफ मेरा लंड उसकी जांघों के बीच उसकी चूत को सहला रहा था और हम दोनों किस कर रहे थे. उस दिन उसकी गांड की चौड़ाई देख कर गांड मारने का मन हुआ, पर उसने मना कर दिया.

उनके निप्पलों से हल्का हल्का दूध मेरे मुँह में आ गया, जैसे रसमलाई में अलग से मलाई डाल दी हो.

काली लड़कियों का बीएफ

वो दीवार से टिकी किसी बेसुध और मदहोश अप्सरा की तरह मेरी जीभ को अपने मुँह में लिए हुई थी. आधा घंटा लगातार पेलने के बाद मैंने चाची को चूमा तो वो बोलीं- मैं झड़ने वाली हूँ. उसके बाद रोज रात में दीदी मुझे से चुदवाती है और मैं भी अपनी बहन को मजे से चोदता हूँ.

एक हिजड़े ने मेरे नीम्बुओं (जो आजकल खरबूजे बन गए हैं) पर नारियल का तेल डाला और मालिश करना शुरू कर दिया. तो उन्होंने बताया कि वो इंदौर में ही रहती है।फिर मुझे लगा कि शायद कोई मेरे साथ ऐसा मज़ाक कर रहा है. मैंने कोमल चड्डी की इलास्टिक को अपने दांतों से पकड़कर नीचे खींचना शुरू कर दी.

तीसरी बारलंड का पानीनिकला, तो उसने कहा- मेरे भाई थोड़ी देर में आते ही होंगे.

जैसे ही लंड अन्दर जाता, उसकी ‘आह … अह …’ निकलती और बाहर आने पर वो ‘अम्म्म … ओह्ह …’ कराहती. अब मैंने अपनी दो उंगलियां मॉम की चूत में घुसा दीं और अपनी उंगलियों से उनकी चूत चोदने लगा. मैं- अगर तुम शर्माओगी तो मैं आगे नहीं करूंगा, तुम्हें तो हद से ज्यादा बेशर्म बनना है रचना … नहीं तो तुम्हारी परेशानी ठीक नहीं होगी.

दोस्तो, मेरी ये गे फ्रेंड सेक्स कहानी कैसी लग रही है, हमारी बाकी इच्छाएं जानने के लिए सेक्स कहानी पढ़ते रहें. उसने कहा- तुझे लड़की बनने का इतना शौक है कि मेस में पैंटी पहन कर आया है. एक में अम्मी अब्बू सोते हैं और दूसरे में मैं और मेरी आपा, हम दोनों साथ में सोते हैं.

तेरा ये गोरा जिस्म … मैं तेरा दीवाना हो गया … मैं झड़ रहा हूँ… मेरी जान … मैं तेरी चूत को अपने रस से भर दूंगा!अंकल अब झड़ने के करीब आ गया था।अंकल ने मेरी कमर को कस कर पकड़ लिया और एक जोर का धक्का मारकर अपना लोहे सा लंड मेरी कमसिन चूत की पूरी गहराई तक घुसेड़ दिया।उस धक्के से मेरा तन बदन हिल गया।उनका लंड मेरी चूत में रस भरने लगा. दोस्तो उस दिन मैंने सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई की थी और उस दिन चाची क़ई बार झड़ी होंगी.

मैं घर पर हितेश के घर ग्रुप स्टडी की बोल कर बाइक लेकर आंटी के घर पहुंच गया. वैसे तो मैं उसे हर रोज देखता ही हूं, पर आज मेरा मन तो किया कि उसे वहीं बिस्तर पर गिरा लूं, लेकिन कहीं वो गुस्सा न हो जाए, ये सोचकर खुद को संभाल लिया. मुझे चूत में फिर से दर्द हुआ लेकिन इस बार दर्द बहुत काम था और मजा बहुत ज्यादा आ रहा था.

हम दोनों को ही पता था कि इस मौसम में किसी को आना नहीं था और शाम तक बस हम दोनों ही घर में अकेले थे.

करीब 15 मिनट तक चूत चाटने के बाद वो झड़ गई और मेरे मुँह पर ही उसने अपना सारा पानी छोड़ दिया. क्या कोमल मेरे साथ सात जन्मों का साथ देने को तैयार हो?आज से मेरा सब कुछ तुम्हारा. अब वो पीछे से मेरी चूत चुदाई भी कर रहा था और साथ मेरी गांड में भी उंगली कर रहा था.

जैसे मैं झड़ते समय थोड़ा अकड़ सा गया था और मुझे उत्तेजना में होश ही नहीं रहा था तो मेरा सारा माल मैंने उनकी चूत में ही डाल दिया था. कुछ देर ऐसे ही करके उसने एक जोर का धक्का मारा और उसका लंड मेरी चूत में पूरा जा धंसा.

साथ ही वो जोर जोर से सिसकारियां लेने लगीं- आहह … ओयया … ओ माय गॉड आआहह … फक मी हार्डर माय बॉय … फक मी हार्डर बेबी … तुम मस्त चोद रहे हो … मजा आ गया मेरी जान. मैं राज शर्मा अपनी बुआ की चुदाई की एक सच्ची गांड मारी कहानी लेकर आया हूं. मैंने शरमाते हुए अपने हाथ खींच लिए तो जीजू ने मुझे अपनी बाँहों में जकड़ लिया.

बीएफ हिंदी ओपन सेक्सी

मैंने फिर से अपनी बॉडी में हल्की सी हरकत की और निशा के पीछे से अपना लंड उसकी गांड में रगड़ दिया.

यह कहानी मेरी और मेरी चाची की चुदाई की कहानी है, मुझे आशा है कि आपको पसंद आएगी. एक शनिवार को हम दोनों शराब पीते समय आगे की जिंदगी में क्या करना है, इस पर चर्चा करने लगे. मुझे कुछ गन्दा सा लग रहा था फिर भी वासना में मैं शेखर के लंड को चूसने लगी.

नंगी पड़ी भाभी जैसे रण्डी लग रही थी जैसे किसी हैवान ने चोदा हो।मैंने नंगी चुदाई से भाभी के शरीर के सारे छेद अपने रस से भर दिये थे।फिर हमने एक दूसरे को गुलाल लगाया ऊपर से नीचे ऊपर तक। मुंह, छाती, पीठ चूतड़ लंड चूत को भी नहीं छोड़ा था।फिर से एक बार हम दोनों ने एक दूसरे को ठोका. मैंने उसकी पैंटी के ऊपर से ही गीली चूत को रगड़ना शुरू किया तो माधुरी छटपटाने लगी. वीडियो ओपन बीएफ सेक्सीमैंने 69 में आकर अपनी बहन चूत कुछ देर चाटी तो बहुत ही नमकीन स्वाद आने लगा.

मैंने दोनों हाथ आंटी के मम्मों पर रखे और चोदते हुए आंटी के चेहरे को देखने लगा. उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों मम्मों को सहलाया और फिर नीचे झुककर एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया.

मैंने पूछा- क्या हुआ आंटी?‘अरे मादरचोद … मैंने आज तक गांड नहीं मरवाई थी. शबाना का दर्द से बुरा हाल था इसलिए मैंने अभी इतने में ही काम चलाना उचित समझा. और फिर अपने बचे हुए लंड को अंदर करने के लिए उसने ज़ोर से एक झटके के साथ अपनी कमर को हिला दिया।अब दीदी ओह्ह हआ हहऊ आह हो की आवाजें निकालने लगी.

जाते वक़्त भी मेरी नजरें उसके बदन पर ही थीं क्योंकि आज पहली बार मैंने उसे साड़ी में देखा था. अगले भाग में मैं अपनी मां की चुदाई की कहानी को पूरे विस्तार से लिखूंगा. उसने अलग अलग पोजीशन में 20 मिनट तक मेरी चुदाई की और अपना वीर्य मेरी चूत में ही छोड़ दिया.

फिर मैंने सब लड़कियों की मोमबत्ती जला दीं और सबको इशारा कर दिया कि अब आगे क्या करना है.

एक दिन मैं उसके बराबर में लेट कर हल्के हल्के से अपना लंड उसकी गांड पर लगा कर कपड़ों में ही मज़े ले रहा था. मैंने उससे पूछा- तुम जहां भी जाती हो, वहां यह करती हो क्या?तो उसने मेरा लंड को मुंह में से निकाल कर कहा- नहीं! मैं सब लोगों के साथ नहीं करती हूं.

मैं उनकी बात से हल्का सा खुश हो गया था कि मम्मी पूरा प्यार करने वाली बात से नाराज नहीं हुई थीं. मैंने शबाना को पीठ के बल लिटाया और टांगें चौड़ी करके अपने लंड को शबाना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया. अब माधुरी मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी, उसके पैरों में पायल की खनखनाहट भरी आवाज साफ़ साफ़ समझ रही थी.

मैं सीढ़ियों से ऊपर गया और दुकान के बाहर पहुंचा तो देखा कि अन्दर माधुरी कुर्सी पर बैठी मोबाइल में कुछ देख रही थी. अब जैसे जैसे चाची लंड को चूस रही थीं, लंड बिल्कुल टाइट होता जा रहा था. करीब बीस मिनट तक बहन की चूत चोदने के बाद मेरा पानी निकलने वाला हो गया था.

सेल्फी राजा के बीएफ मेरी आपा के मुंह से एक आह निकली और जीजू का पूरा लंड मेरी आपा की चूत में समा गया. मैंने उन्हें अपने लिए सुहाग का जोड़ा कैसा हो, वो इस प्रकार से बताया था.

इंडियन सेक्सी बीएफ गांव की

इसका सीधा सा मतलब ये था कि मेरी चचेरी बहन कुमकुम भी अब एन्जॉय के मूड में आ गई थी. उनको देखते ही मेरे दिमाग में दो दिन पुरानी यादें ताजा हो गईं जब उन्होंने मुझे बुरी तरह रगड़ रगड़ कर चोदा था और मेरे भीतर छुपे जिन्न को मार डाला था. चाची उठकर लंड को चूसने लगीं, वो दोनों हाथों से पकड़ कर लंड को ऐसे चूस रही थीं जैसे आईसक्रीम को खाते हैं.

उसकी पसंद के मुताबिक हम पिज़्ज़ा शॉप पर गए और ऑर्डर देकर कोने में बैठ गए. मैंने भी उससे कहा- मुझे शायद कल रात को यही ख्याल आया था कि काश तुम्हारा मोबाइल नंबर होता तो मैं भी तुमसे रात को बात कर पाता. हिंदी लड़की की बीएफवो मुझसे सिर्फ दोस्ती का रिश्ता चाहती है या और भी कुछ चाहती है, ये अभी साफ़ नहीं था.

वो भी बाजारू रंडी की तरह अपने गालों पर मेरे लंड की मलाई से मालिश करने लगी.

देसी औरत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने अपने बापू को पड़ोस की एक सेक्सी विधवा औरत की चूत चुदाई करते देखा अपने ही घर में आधी रात को!दोस्तो, मेरा नाम आरुष है ओर में खरगोन जिले के बड़गांव में रहता हूं. फिर मैंने चाची की गांड को दबाया और अभी आगे कुछ करता कि चाचा की आवाज आ गई, तो मैं वहां से चला गया.

मेरी बुरी तरह फट चुकी गांड अभी भी दुःख रही थी लेकिन गांड के अंदर बाहर हो रहे लण्ड का अहसास इस दर्द को काफी हद तक कम कर रहा था. मेरी गलती न होने पर भी, मैं जब तक बीवी के पाँव पकड़कर माफ़ी नहीं मांग लेता, उसका गुस्सा शांत नहीं होता. इस पोजीशन में मुझे और साक्षी दोनों को ही बहुत ज्यादा दर्द हो रहा था क्योंकि मेरे लंड का तनाव बहुत ज्यादा था.

मैं ये तो नहीं कहूंगा कि मैंने चाची को खूब चोदा, उल्टा करके चोदा, उनके मुँह में दिया.

वो इतनी हॉट लग रही थी कि मेरे लंड महाराज अपनी औकात से बाहर होने लगे थे. अब मैं भी डिस्चार्ज होने का करीब था लेकिन मुझसे पहले शुभा का काम फिर से हो गया और मैंने अपना लंड चूत से बाहर निकाल कर हाथ से दो तीन बार हिलाया. एक बार फिर उन लोगों ने मुझे नंगी किया और मेरे बदन की मालिश शुरू कर दी.

फुल एचडी बीएफ सेक्सी व्हिडिओजब मॉम सज-धज कर तैयार होकर बाहर निकलती हैं, तो क्या बच्चे, क्या बूढ़े और क्या जवान … सभी के लंड मेरी मॉम की सेक्सी जवानी को देखकर सलामी देने लगते हैं. अंजलि के दोनों बूब्स मेरे हाथ में थे।मैंने उनको ब्लाउज के ऊपर से ही प्यार से सहलाना शुरु कर दिया।अब अंजलि की साँसें फिर से तेज हो गई।सहलाने के साथ साथ मैं अब उसकी गर्दन और कान के नीचे से बाईट करने लगा.

बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सी पिक्चर

और उसके बाद मम्मी बैठी तो वे पूरी तरह से मैडम की गोद में थी।अब मैडम ने मम्मी से पूछा- आपको मैथ्स आती है?मम्मी बोली- मुझे तो बिलकुल भी नहीं आती।तो मैडम ने मम्मी का ब्लाउज स्तनों से ऊपर कर दिया जिससे मम्मी की काली ब्रा दिखने लगी. मुझे कुछ अजीब सा लगने लगा था और उनका हाथ फिराना मुझे बहुत अच्छा लग रहा था. तभी मुझे एक आवाज़ आई- हेलो! मैं अंजलि … क्या आप ही सनी हो?मैं भी एकदम से जैसे कोई नींद से जागते हुए बोला- हां हां, मैं ही सनी हूँ। प्लीज अंदर आओ!मेरे बोलने पर अंजलि अंदर आई और सोफे पर जा कर बैठ गई.

कोई गलत कर दिया क्या?चाची- मुझे क्या … मगर नशा करना अच्छी बात नहीं होती है. मुझे लगा कि कहीं कुछ गड़बड़ ना हो जाए कि ये किसी को बता ना दे कि मैंने उसके साथ ये सब किया. सच में एक साथ दो लड़कियों को चोदने की सोच कर मुझे बड़ा मजा आ रहा था.

हम दोनों ने चूत और लंड धोकर कपड़े पहने और गेस्ट हाउस से फार्म हाउस पहुंचे. लंड चूसते चूसते आंटी ने कहा- निखिल, अपनी आंटी की चूत कैसी लगी बेटा?‘एकदम जवान चूत है आंटी, एकदम टाइट … जैसे किसी जवान लौंडिया की चुत हो. काफी देर तक जलालुद्दीन साहब मुझे पीछे से चोदते रहे, मुझे हल्का हल्का दर्द तो हो रहा था लेकिन पहली चुदाई वाले दर्द के आगे तो ये कुछ भी नहीं था.

दोस्तो, आपको बता दूँ कि जब भी आप किसी औरत या लड़की की गांड मार रहे हों … और आपके सामने या बाजू में अगर कोई आईना है, तो आप डॉगी बनी लौंडिया की गांड मारने का दोगुना सुख ले सकते हैं. वैसे ही मैं कुछ मिनट तक लगा रहा और लंड को धीरे धीरे आगे पीछे करते हुए चूत में जगह बना रहा था.

मैंने कहा- क्यों ऐसी क्या ख़ास बात हुई? तुम्हारा पति भी तो तुम्हें चोदता है न!उसने कहा कि मेरा पति महीने में 3-4 बार ही करता है और वो भी एक ही बार चोद कर सो जाता है.

नीना- रवि, जब सोनी मेरी गांड में लंड डालेगा, तुम मुझे हिम्मत देने के लिए कमरे में रहना. एक्सीडियोसइधर दीदी आहह ह्ह ऊआ होहा आअ की आवाज़ निकालने लगी।फिर कुछ देर के बाद जब रवि ने अपनी कमर की स्पीड को कम किया. सौतेली मां की चुदाई की कहानीमैं उम्मीद करती हूं कि मेरी कहानियां पढ़कर आप लोग अपने सेक्स जीवन में नया जोश भर रहे होंगे और अपने सेक्स जीवन का पूरा मजा ले रहे होंगे. जलालुद्दीन ने मेरी ब्रा के अंदर हाथ डाल कर कुछ देर मेरे मम्मों से खेला और फिर अचानक ही पूरी ताकत से खींच कर मेरी ब्रा के दो टुकड़े कर डाले और मेरे मम्मों को कैद से आजाद कर दिया.

भाभी ने मुझे अपने सीने से लगा लिया और हम दोनों काफी देर तक एक दूसरे को प्यार करते रहे.

मैंने उसके हाथों को अपने हाथों में लिए और उसके होंठों पर अपने होंठ रखकर जोर से उसकी बुर में अपने लंड के धक्के मारना शुरू कर दिए. अब मेरी नियत खराब हो गई, मेरे दिमाग़ में बस उसे चोदने का ख्याल आ रहा था. शबाना को मज़ा खूब आ रहा था लेकिन डर भी लग रहा था कि ये अन्दर घुसेगा तो ढेर सारा दर्द होगा.

वो मेरे बगल में लेट गयी और बोली- तुम्हारी चुदाई से बहुत खुश भी हूँ और इम्प्रेस भी हूँ. मेरा लौड़ा अभी थोड़ा सा ही गया था कि उसकी चीख निकल पड़ी और वह मुझसे अलग होने के लिए छटपटाने लगी. दोनों ने मेरी बॉडी को चाटा, दोनों ने मेरे निप्पल्स पर इतना काटा कि वो लाल हो गए.

सेक्सी बीएफ बढ़िया वाली सेक्सी बीएफ

मोहित जितना मुझे गाली दे रहा था, मैं उतना ज्यादा मोम उसकी गांड में डाल रही थी. फिर कुछ समय बाद मैं अपना चेहरा छिपाकर अपने बदन के अंग उनको दिखाने लगी. फिर अगले दिन चाची ने मुझसे कहा- रात क्या हुआ था?मैं- रात को आपकी गुफा से पानी टपका था.

नीना उत्तेजना में मेरे होंठ चूमकर मुझे आलिंगन में लेकर कहा- थैंक्यू रवि, तुमने मेरा गांड में दर्द का डर निकाल दिया.

ड्राइवर गुस्से में आ गया और बोला- देखो मैडम, ये ताव कहीं और दिखाना.

मैं समझ गया कि इसका मतलब है उसने अभी चुदाई का ज्यादा मजा नहीं लिया होगा या हो सकता है कि उसका किसी और के साथ संबंध हो. आंटी की गोरी लम्बी टांगें देखकर मेरा लंड पूरी तरह से टाइट होने लगा था. सेक्सी बीएफ चुदाई चुदाईचाची दर्द से ‘आहहह आह आहहह …’ करने लगी और मैं लंड को अन्दर बाहर अन्दर बाहर करके धक्के लगाने लगा.

ऐसे ही उससे बातों से पता चला कि उसकी शादी के 4 महीने बाद ही उसके पति का एक्सीडेंट में देहांत हो गया था. मैंने कहा- मेरी जान इतनी भी क्या जल्दी है, सब कुछ होगा आराम आराम से … आज तो जन्नत की रात है. मैं थोड़ा काम में बिजी होने के कारण उस वक़्त बाहर जाकर उसे देख नहीं पा रहा था मतलब उसको स्माइल दे नहीं पा रहा था और न ही उसकी खूबसूरती की तारीफ कर पा रहा था.

मैंने अपने होंठों को भाभी के होंठों से लगा दिया और जोर से धक्का दे दिया. सेक्सी और शानदार बर्थ डे पार्टी के लिए सब कुछ तैयार है।लेकिन उन लड़कियों को ही नहीं पता कि उनकी पार्टी में एक अप्रत्याशित अतिथि आने वाला है।क्या लड़कियों की अप्रत्याशित पार्टी सफ़ल रहेगी? या बिन बुलाया मेहमान पार्टी को बिगाड़ देगा?इन सभी उत्तरों को जानने के लिए देखें सविता भाभी एपिसोड 27 का वीडियो!.

फिर करीब आधी रात को करीब 2 बजे के आस पास मेरी नींद टूटी, मैंने देखा कि भाभी सो रही थी और उसकी चूत और चूची एकदम लाल थी.

मुझे इस तरह घूरते देख उसने अपनी बांहों से अपने स्तनों को ढकना चाहा. इतना मजा आ रहा था कि एक मिनट के भीतर ही मेरा शरीर जोर से अकड़ गया और मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया. शहर में जाने के बाद चाची की चुदाई बिल्कुल ना के बराबर होने लगी थी क्योंकि चाचा जी सारा दिन काम पर रहते थे और रात के दस बजे घर आते थे.

पाकिस्तानी लड़की बीएफ उसके बाद से मैं उसे सभी प्रकार की सेक्स स्टोरी भेजने लगा जिसे देख कर वो कोई रिप्लाई तो नहीं देती पर वाशरूम में चली जाती थी और काफी देर बाद निकल कर वापस जवाब देती थी. तो मैंने रजाई में ही उसके ऊपर चढ़ कर अपना वजन अपने हाथों पर लिया और उसकी चूत में लंड लगा कर रगड़ देने लगा.

फिर जब मैं अपना मुँह उसकी टांगों के बीच लेकर आया तो वो एकदम से उछल पड़ी और बोली- ओह राहुल … मैं अब कहां पहुँच गयी?‘जानेमन तुम मेरी बांहों में ही हो. मैं तड़पती रहती हूँ पर अब नहीं तड़पूँगी, अब तो मैं तेरे से ही मजे लूँगी. मैंने कहा- ये देखो इन भोसड़ी वालों को … कैसे गांड मरवाने के लिए उतावले हुए जा रहे हैं.

बीएफ स्पेशल

सबसे पहले आप सबका धन्यवाद कि आपने मेरी पिछली सेक्स कहानी को पढ़ा और उसको बहुत प्यार दिया. मगर एक बात बता, लड़कियों को गांड मराने में डर क्यों लगता है?मैंने उसके दूध दबाते हुए कहा- साली, तेरी गांड भी तो फट रही थी. दस मिनट तक चाची ने मेरा लंड अच्छे से चूसा और फिर खड़ी होकर अपने कपड़े उतार कर फिर से नंगी हो गईं.

फिर बाथरूम में जाकर एक दूसरे को मूत्र स्नान कराया, एक दूसरे का मूत्र पिया. तभी अहसास हुआ कि कोमल भाभी मेरे बराबर में खड़ी है और मुझसे पूछ रही थी कि क्या मैं आपके साथ इस टेबल पर बैठ सकती हूँ.

मैंने चाची को घोड़ी बनाया और गांड में तेल लगाकर छेद को ढीला कर दिया.

उसी समय दूसरे ग्रुप के कुछ लड़के लड़कियां आए और उन्होंने मुझसे पूछा-अर्पण हम लोग रिफ्रेशमेंट के लिए बाहर जा रहे है, तू चल रहा है क्या?उन्होंने मुझसे ज्वाइन करने के लिए पूछा तो हार्दिक वाली लड़की ने हां बोल दिया. दो हफ्ते बाद तापोश अपनी बीवी नीना के साथ तीन दिन के लिए फार्म हाउस आया. कोमल को दूर से देखकर मेरा दिल टूट गया था क्योंकि कोमल ने वो ड्रेस नहीं पहनी हुई थी.

वो मेरी तरफ देख कर बोली क्या तुम्हें सिर्फ इस खाने की भूख है? मैंने तो तुम्हारे लिए दूध रखा था. कुछ देर में जलालुद्दीन साहब ने एक जोरदार धक्का और लगाया और इसी के साथ उनका पूरा लण्ड मेरे शरीर में घुस गया. कहानी के पहले भागमेरी जवानी के साथ बढ़ी मेरी वासनामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं सलवार सूट में अपने भैया के कमरे में उसके साथ ही बेड पर बैठी थी.

बाकी लड़कों को यही लग रहा था कि अब उनके साथ भी ऐसा होने वाला है, तो उस चीज़ का खौफ उनके चेहरे पर साफ़ नज़र आ रहा था.

सेल्फी राजा के बीएफ: यही सब सोचते सोचते और थोड़ा डरते हुए मैंने दरवाजा खोला, तो सामने उन्हें खड़ा देखकर मेरा भय और डर, कई गुणा बढ़़ गया. कुछ देर बाद मैंने और नीचे आकर उसकी पैंट और पैंटी दोनों ही निकाल दी.

फिर उसके पेट के नीचे दो तकिए रखकर उसकी गांड को थोड़ा पोजीशन में लाया. चाची ब्लाउज पहनती हुई बोलीं- तुम्हारे पास ऐसी क्या चीज है, जिसे लगाने से मेरी खुजली दूर हो जाएगी. चाची ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और बोलीं- वाह आज मेरी क्या मस्त चुदाई की तूने … मुझे बहुत मज़ा आया.

मैं कहां रूकने वाला था, जोश में आकर कुछ झटके जोर से लगा दिए और उसकी बुर को फाड़ डाला.

जलालुद्दीन ने मेरी ब्रा के अंदर हाथ डाल कर कुछ देर मेरे मम्मों से खेला और फिर अचानक ही पूरी ताकत से खींच कर मेरी ब्रा के दो टुकड़े कर डाले और मेरे मम्मों को कैद से आजाद कर दिया. मैं आकर बिस्तर पर लेट गया और कुछ देर बाद भाभी मेरे और अपने बेटे के लिए दो गिलास दूध लेकर आ गईं. वैसे मेरी मॉम को शराब पीने की आदत नहीं थी लेकिन वो शादी पार्टी में शराब पी लेती थीं.