एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना

छवि स्रोत,xxx हॉट सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

महिला का सेक्सी पिक्चर: एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना, मंजुला की कामुक कराहें, मेरी पीठ पर पर चुभते उसके नाखून एक अलग ही आनंद दे रहे थे.

हिंदी सेक्सी वीडियो ससुर बहू की चुदाई

तब मैंने उससे कहा- कुछ देर और सह लो, उसके बाद मज़ा आएगा।कुछ देर बाद मैंने धीरे धीरे धक्के लगाकर उसे चोदना शुरू किया।थोड़ी देर बाद उसने अपने दोनों पैरों को मेरी कमर में लपेट दिया और कसकर मुझे अपनी बांहों में भर लिया. मालकिन नौकर की सेक्सी पिक्चरकाफी देर तक घूमने के बाद जब हम तीनों ही थक गए, तो हमने थोड़ा आराम करने की सोची.

हां, मंजुला का फोन आता रहता, फोन पर हम सेक्स चैट भी करते रहते और कभी विडियो चैट भी कर लेते, वो पूरी नंगी होकर अपनी चूत में उंगली कर कर के मुझे दिखाती कि मेरे लंड ने उसे ये कैसी गंदी आदतें डाल दीं हैं. चूत लंड की सेक्सी वीडियो हिंदी मेंदेसी लड़की की आधी अधूरी चुदाई करने के बाद वो लड़की अपने घर चली गयी और मैं अपने खेत की ओर चला गया.

बलदेव अभी अपनी सास को और तड़पाना चाहता था, तो उसने सास के एक चूचे के दाने को मुँह में लेकर चूसना शुरू किया.एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना: माँ कसम यारो … उनको चोदने में जितना मजा आया, उतना तो मेरी गर्लफ्रैंड को चोदने में मजा नहीं आया और ना ही मेरी गर्लफ्रैंड की दोनों मामी और उसके एक विधवा बड़ी माँ (मेरे गर्लफ्रैंड की माँ की बड़ी बहन) को!मैं आप लोगों को एक बात बता दूँ कि उसकी फैमिली की सभी लेडिस बहुत चुदक्कड़ हैं। जब मैं थर्ड ईयर में बाहर में रहता था तो वो मेरे साथ हर रात बिताती थी.

मैं उठ गई और वो 69 में ही मेरे नंगे बदन पर लेट गई और मेरी बुर को चाटने लगी.अंजलि अपनी गांड घुमा घुमा कर लौड़े का मजा ले रही थी।20 मिनट की चुदाई के बाद मैं अंजलि के मुंह में झड़ा और अंजलि ने हंस कर मेरे लंड से निकला सोम रस पी लिया।मैंने अपने कपड़े पहने और फिर अपनी जगह पर सोने चला गया।अंजलि की चुदाई मैंने कर ली थी लेकिन मन नहीं भरा था.

मराठी सेक्सी बीपी पिक्चर व्हिडिओ - एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना

अगर इन दोनों आपबीती से आपका लण्ड में कोई हलचल नहीं हुई तो मेरा दावा कि मेरे और आपबीती सुन कर आपका निश्चित ही लण्ड बिना हिलाए झड़ जायेगा.मेरे कुछ बोले बगैर ही वो लोग मेरे एक एक स्तन से खेलने लगे और एक एक निप्पल को मुंह में लेकर चूसने लगे.

मनजीत का मुँह वीर्य से भर गया और कुछ वीर्य उसके होंठों से बाहर आ गया. एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना क्योंकि 7 साल से मैं चुदी नहीं थी तो उन दोनों की इस हरकत से मैं एकदम पागल सी होने लगी.

दीदी ने बोला- आज रात को मूवी देखें?मैंने बोला- कल पेपर है दोनों का.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना?

फिर मैंने पूछा- यदि तुम्हारे पति को पता चल गया तो तुम्हें कोई परेशानी नहीं होगी क्या?उसने बताया कि उसका पति 1 महीने के लिए कहीं बाहर गया हुआ है और वह घर में अपनी बेबी और एक नौकरानी के साथ ही अकेली रह रही है. दामाद ने बारी बारी से अपनी सास के दोनों चूचे चूस चूस कर लाल कर दिए थे. मैं पच पच … की आवाजों का मजा लेते हुए उसकी चूत में लंड को पेलता रहा.

मैंने उसको बोला- मनजीत तुमने मेरे साथ तब दिया था … जब मुझे एक चूत की बहुत ज्यादा जरूरत थी. उसने तत्काल अपने सारे कपड़ों को उतार कर एक तरफ रख दिया तथा मेरी मम्मी के पैरों को चौड़ा करके वो टांगों के बीच में आ गया. मैंने उसको बोला कि इतनी दूर गाड़ी चला कर आये हो … थोड़ी देर तुम भी अपनी कमर सीधी कर लो.

मैंने मुश्किल से कंट्रोल किया नहीं तो उस रात मैं समर को अपनी चूत में ही घुसा लेती. मेरी मां के चूचे बहुत मांसल थे, इसलिए वो आदमी पूरी मस्ती के साथ मां के दूध दबा रहा था. हालांकि अब तो मेरा उन लोगों से कोई कांटेक्ट नहीं है … लेकिन मैं बहुत दिनों से दुविधा में था कि ये कहानी लिखूं या ना लिखूं.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:ट्रेन के सफर में मेरे शौहर की कारस्तानी-3. मैं अपनी स्टोरी आपके लिये लाया हूं जो मेरी जिन्दगी में हुई सच्ची घटना है.

वो मेरे दोनों दूध दबाते हुए मेरे गले को चूमने लगा।मैं- अरे इतनी जल्दी ये कैसे जाग गया? अभी तो सुलाया था.

फिर वो बोली- आज मेरी सुहागरात है।अब मैंने लंड निकाल लिया और उसे बिस्तर पर लिटा दिया.

तनु मां की टांगों के बीच में आ गयी और मेरी मां की चूत को चाटने लगी. मॉम के चेहरे के भाव देखकर लग रहा था कि वो लंड को चूत पर घिस रहा था. फुसा ने मेरी मम्मी की चुत को देख कर चोदने में एक मिनट की भी देरी नहीं की.

मैंने कहा- मैंने कौन सी गलती की है भाभी?वो बोली- मुझे सब पता है कि तुम कहां देख रहे थे. मैं समझ गया कि उसका होने वाला था, मैं अपने पूरे जोश मैं उसकी चुदाई कर रहा था।मंजू- आ…ह … मर गई … मैं मर गई … हाय ऊई … चोदो जानू … ऐसे ही चोदो. उसकी चूचियों को मुंह में भरकर पीने लगा; जोर जोर से दबाते हुए उनका दूध निचोड़ने लगा.

जब मैं उसे रीयल में चुदाई करने के कहता था वो इस बात पर चुप हो जाती थी.

इतना ख्याल आते ही मेरे पसीने छुट गये पर अब क्या हो सकता था, बर्दाशत तो करना ही पडे़गा. इससे पहले कि मैं कुछ समझ या कह पाती उसके होंठ मेरे होंठों को चूसने लगे थे. अब जो रास्ता था, वो हाईवे से हटकर गांव वाले सिंगल रोड वाला रास्ता था.

मैं जानती थी कि समर आज मेरी चूत को फाड़कर रख देगा और मैं भी यही चाहती थी. अगले बस स्टैंड पर उसके पापा बस से उतर गए और मैं कंडक्टर को बोल कर वहां बैठ गया. फिर मैंने उसे कैसे चोदा?दोस्तो, मेरा नाम सागर है और मैं बदरपुर (दिल्ली) में रहता हूं.

मैं उसके चेहरे और गर्दन को ऐसा चूस रहा था मानो बूब्स को चूस रहा हूं.

रुबैया बिजली की फुर्ती से अपने घुटनों के बल होकर बैठ गई।उसने लन्ड मुंह में भर लिया और पूरा गले तक उतार लिया।अब मैंने उसका सिर पकड़ा और उसके मुंह में चार पांच झटके लगा दिए। लन्ड का सुपारा उसके गले तक पहुंच गया और लन्ड ने वीर्य से उसका गला भर दिया. मगर फुसा ने बिना रुके मेरी मम्मी की चुत में दस बारह तेज झटके मार दिए.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना नहीं … आह्ह … अम्म … कोई आ गया तो … तुम अभी रहने दो ना प्लीज!अब मुझे और जोश आने लगा क्यूंकि पहली बार किसी लड़की को नंगी देखा था और पहली बार उसे चूम-चाट रहा था. कभी मेरी पीठ को सहला रही थी तो कभी मेरे सिर के बालों में हाथ फिरा रही थी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना शादी हो गयी, फिर दूसरे दिन हम सब एक दूसरे के ऊपर पानी फेंक कर मस्ती कर रहे थे. जब मैं गेट से निकलने लगी तो उसने एकदम से मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अपनी ओर खींच लिया.

बारिश में भीगता उसका गोरा जिस्म और उसके उभार देख कर मेरा लंड पानी के अंदर ही तंबू बना रहा था.

नई नवेली दुल्हन की चुदाई

जिसे मैं झेल नहीं पाऊँगी और मेरे मॉम डैड की नाक कट जायेगी। मैं अपने मॉम डैड की नाक किसी भी कीमत पर नहीं कटने दे सकती इसलिए मैंने उनको बोला कि आप कोई कॉलबॉय ही बताओ. मैं अपने मम्मी पापा के पास लौट आई लेकिन मेरी ममता जाग रही है कि मैं अपने बेटे को अपने पास रख लूं और अपनी छाती से लगा कर रखूं … लेकिन अंकल आंटी नहीं मान रहे हैं. उसका पति शायद बाहर से ये सब देख रहा था लेकिन हम दोनों अपनी ही मस्ती में खोये हुए थे.

उसने अंगड़ाई लेते हुए कहा- जय मैंने यहां का मार्किट नहीं देखा है … मुझे कुछ शॉपिंग करनी है … और घर के लिए भी कुछ सामान खरीदना है. अब पहले वाले दोनों लड़के बाहर चले गए थे और दोनों जो नए लड़के आए थे, वो दोनों एक साथ मेरी चूत और गांड चोदने लगे. लड़की की शादी थी और आप लोगों को पता ही होगा कि लड़कियों की शादी में जो माल आती हैं वो तो एकदम सेक्स बम की तरह होती हैं.

पहली बार हवाई जहाज में प्रवेश करने पर कैसा रोमांच अनुभव होता है ये तो सब जानते ही हैं, मंजुला भी उसी रोमांच को जरूर फील कर रही होगी.

उसने ऊपर से नीचे तक लण्ड को चूसा, बहुत प्यार से उसको सहलाया और तब तक वो फिर से गर्म हो गयी थी।अब वो खुद ही अपनी चूत पर मेरे लंड को रगड़ने लगी. अब मैं पूरी स्पीड से उसको चोद रहा था और पूरे कमरे में फच फच की आवाजें आ रही थीं. उस सब में मैंने अपनी मॉम को किस तरह से चोदा और खुश किया, ये सब मैं अगली सेक्स कहानी में लिखूंगा.

उसके बाद मैंने मौसी से कहा- मेरा निकलने वाला है, कहां पर निकालूं?तो मौसी बोली कि इसके बारे में तुम्हें चिन्ता करने की जरूरत नहीं है. तब मैं अपने प्रियतम सागर का इंतजार करने लगी।अब आगे की गांड मारी कहानी:ठीक 8:00 बजे सागर का फोन आया. हमारे समाज में ऐसी बहुत सी औरतें हैं, जो अपने जिम्मेदारी को निभाते निभाते थक जाती हैं.

आगे आपा की डेट आती तो वो चुदाई बंद कर देती लेकिन ऐसा तो कुछ नहीं हुआ था. मगर समर को अभी भी चैन नहीं था; वो मेरे बालों को खींचते हुए पूरे लंड को अंदर धकेल देना चाहता जबकि उसका लंड पहले ही मेरे गले में जाकर फंसा हुआ था.

उसने कहा- बस देखना चाहते हो?मैंने कहा- एक बार दिखाओ तो सही, फिर खुद ही देख लेना कि मैं क्या चाहता हूं. मैंने लंड को उसके मुंह में दे दिया और धक्के लगाते हुए उसके मुंह में लंड की मैथुन करने लगा. इस बार उसने लंड को पकड़ लिया और चुत की फांकों में सैट करते हुए कहा- हूँ … अब करो.

उसको किस करते हुए मैंने एक धक्का और मार दिया जिससे मेरा पूरा लोडा उसकी चुत के अंदर तक समा गया.

वो मेरी मां को अपनी बांहों में भर कर बोला- भाभी जी, आज मेरा मन भर दो; आपका क्या घिस जाएगा … वैसे भी आप भी प्यासी हो. अब मुझसे रहा न जा रहा था और मैंने फोन उठाकर टॉर्च मारी और उसकी चूत को देखने लगा. कुछ छोटी छोटी बातें और हैं जिन्हें मैं इस सच्ची कहानी में संक्षेप में लिख रहा हूं.

मेरे पूछने पर महिला ने बताया कि दो दिन से बुखार है, हरारत है, कुछ खाने का मन नहीं कर रहा. पांच मिनट तक हम तीनों ही एक दूसरे में खोये रहे और फिर सोनाली ने गूं … गूं … आवाज करते हुए मेरे लंड को जोर जोर से स्पीड में चूसना शुरू कर दिया.

फिर सीधे ही उन्होंने मेरी चूत पर मुँह लगा दिया और चुत चटाई शुरू कर दी. तुम्हारे मामा तो बस खोल कर चढ़ जाते हैं और उनका दो मिनट में ही काम तमाम हो जाता है. थैंक्स टू यू टू फॉर आल दैट प्लेजर यू गेव मी!” वो भी मेरी छाती चूमते हुए बोली.

सनी लियोन सनी लियोन सेक्सी

उन्होंने मुझे पीछे से आवाज दी- सुनिये!मैंने हड़बड़ा कर पीछे देखा, तो एक पतली सी बहुत ही खूबसूरत औरत खड़ी थी.

जब मेरा पानी निकलने को हो गया तो मैंने सोनी की चूत से लंड को निकाल लिया और उसके मुंह में लंड को दे दिया. अब मेरा रोज़ का यही काम हो गया था कि एक रात अनूप जी से और दूसरी रात विजय के बिस्तर को गर्म करती और चुदाई का सुख ले लेती. आपको मेरी ये रिश्तों में चुदाई की कहानी कैसी लगी आप इसके बारे में अपनी राय जरूर मुझ तक पहुंचायें.

मेरी सहेलियों में चुदाई को लेकर खुल कर चर्चा होती थी और उनमें से तीन लड़कियां चुद चुकी थीं. लेकिन जैसे आपा को मेरी इस हरकत से कुछ भी नहीं हुआ … वो अब भी बालकनी से बाहर झाँक रही थी. सेक्सी देसी क्सक्सक्सक्या मंजुला मैं समझा नहीं, तुमने वो घर खरीद लिया क्या?” मैं फोन पर बात करते हुए बोलाअरे नहीं सर, मैं अब इस घर की बहू हूं; मैंने भट्टाचार्य जी के बेटे से विवाह कर लिया है.

लड़के और लड़कियां सिर्फ तभी बात कर सकते थे, जब वे भाई बहन हों या फिर कोई रिश्तेदार हों. उस दिन तुम आने के लिए तैयार रहना।जब हम एक दूसरे के सामने आए तो वह मुझे देखता ही रह गया।वह मुझसे बड़े अच्छे से बोला- भाभी, आप तो बहुत खूबसूरत हो।मैंने भी उसको मुस्कुरा कर जवाब दिया- अच्छा ऐसा है क्या … मुझे तो लगता था मैं खूबसूरत ही नहीं हूं.

मैं- वो तो बाद की बात है मेरी जान … अभी तुम अपनी नंगी फ़ोटो भेजो, तो मूड बने. कुछ देर बाद बस आगे ढाबे पर खाना खाने के लिए रुकी … तो मैंने उसे उठाया कि खाना खा लो. मेरे लंड से लावा निकल पड़ा और सोनाली सारे माल को मुंह में खींच गयी.

मैंने उनको पैरों को हिला कर अपनी तरफ सिर करके लेटने का इशारा किया, वो कुछ पल इधर उधर देख कर मेरी तरफ आ गईं. मैंने उनसे कहा- ये अफजल है, तुम दोनों में आरजू कौन है?आरजू एक दुबली पतली सांवली सी लड़की थी. अंजलि ने आंखें बंद करके आह्ह … की आवाज के साथ मेरे लंड का अपनी चूत में स्वागत किया.

कल वो गर्भनिरोधक गोली ला के खिला देना मुझे!” वो अपनी कमर जोर से उछालते हुए कहने लगी.

इस बार मैं उसकी चूचियों को मुँह में दबा कर उसकी चुत में लंड की ठाप लगा रहा था. फिर भी मासूम बनते हुए मैंने अपना सवाल दोहराया- बाबूजी, ये आपने क्या कर दिया? आप तो मेरे पिता तुल्य हैं.

सच में तो वोटर आई डी कार्ड था और उनके फोटो के साथ उनका नाम विश्वजीत सिंह लिखा था. तो मैंने क्या किया?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम विवेक है, मैं हरियाणा का रहने वाला हूं. पहले उसने मेरी कुर्ती को उतारा और फिर मेरी चूचियों को ब्रा के ऊपर से चाटने और पीने लगा.

किसी को पता चल गया तो कितनी बदनामी होगी।मैंने कहा- मैं तो किसी से नहीं बताऊंगा. कई दिन से किरण का शिकार करने की योजना बनाते बनाते आज मैं खुद किरण का शिकार हो गया था. मेरे शौहर ने नर्मी से कहा- अरेस्ट मत करवाओ, थोडे़ ज्यादा फाईन ले लेना, खर्चा पानी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना थोड़ी देर उसकी चूत की चुसाई होने के बाद ही जैसे ही वह गिरने को हुई, तो बलविंदर ने उसे संभाला और उससे बाथटब के किनारे पर बैठा दिया. चाची मुझे वहां देख कर खुश हो गईं और बोलीं- अरे, बहुत जल्दी आ गए तुम तो!हम दोनों ने पहले तो एक रेस्तरां में नाश्ता किया.

पोर्न ब्लू फिल्म

फिर मैं जिया से बोला- तुझे अब तक बच्चा क्यों नहीं हुआ?जिया बोली- बच्चा नहीं हुआ असलम … शायद मेरे पति में कमी है. कुछ देर तक दोनों इसी उन्माद में चुदाई का मजा लेते रहे और फिर एकाएक सेठ वासना की चरम सीमा पर पहुंच कर स्खलन के करीब आ गये. मैं और वो बुरी तरह पसीने में भीग चुके थे, पर मैंने धक्के मारना बंद नहीं किए.

तब उसने लंड मुँह से निकाल दिया और बोली- हरजिंदर अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है … प्लीज अब मेरी चुत में लंड डाल दो और मेरी चुत की आग को ठंडा कर दो. मेरे दोनों बेटे मुझे इसका जिम्मेदार मानते हैं और बार बार मुझको ही कोसते हैं. बिहार सेक्सी वीडियो सुहागरातअब उसकी स्पीड बढ़ती ही चली गयी और उसने मुझे अगले 10 मिनट तक बहुत मस्ती से चोदा.

थोड़ी देर में रजक लाल ने अपने वीर्य की पिचकारी रोहन के मुँह में ही छोड़ दी.

उन्होंने हां में सर हलाया और मैं तेज झटके देता हुआ भाभी की चुत में ही झड़ गया. वो मेरी बुर के होंठों को अपनी दो उंगलियों से खोल कर जीभ फेर रहा था.

फिर शराब के नशे में मस्त होकर एकाध ब्लूफिल्म देखते हुए अपनी बुर में उंगली करके ही सो पाती थी. उसके बाद मैंने पहले वाली चूची को हाथ में भर लिया और दूसरी चूची को मुंह में लेकर चूसने लगा. देखते ही देखते अरमान ने मेरी टी-शर्ट को निकाल दिया और आज मैं उसके सामने पहली बार ब्रा में हो गई थी.

एक तो ये विडियो देख कर कभी कभी मजा लूंगा और बाकियों को विश्वास दिलाने के लिए कि एक जबरदस्त रंडी को हम सब ने भोगा.

वो इस हिन्दी सेक्स कहानी साइट पर अपनी चुदाई की कहानियां भी लिखती है. डिम्पल मुझे बेतहाशा चूमने लगी और तरह तरह की मादक आवाजें निकालने लगी- आह उंह आह … अब आज मुझे चोद दो … मुझसे अब रहा नहीं जाता. बाद में उससे मेरी इतनी गहरी दोस्ती हो गई थी कि वो मेरे साथ हमबिस्तर भी हुई.

आमदार सेक्सी व्हिडिओमैंने शैलेश को अपने ऊपर खींच और उसके लंड को अपनी चूत में भींच लिया. अंकल ने चोदा मेरी अनछुई कुंवारी बुर को! मैं चुदास की मारी बाथरूम में अपनी चूत में ब्रश का हैंडल घुसा रही थी कि पड़ोस के अंकल ने देख लिया.

di सेक्स वीडियो

मैंने फुसफुसाते हुए कहा- मगर मेरे शौहर?उसने फिर कहा- टायलेट का गेट बाहर से बंद करके आये हैं. इस 5 मिनट की जबरदस्त चुदाई में वो 2 बार झड़ चुकी थी मगर मेरा माल निकलना अभी बाकी थी. थोड़ी देर बाद मेरे धक्के और ज्यादा तेज हो गए और उसकी आहें अब चीखों में बदल गयी थी.

मेरी सेक्स लाइफ का, अय्याशी का सब जबरदस्त मोड़ था क्योंकि मैंने इसके बाद मेरी गर्लफ्रैंड की फैमिली में केवल उसकी नानी को बस को नहीं चोदा क्योंकि वो बहुत ज्यादा बूढ़ी हो गयी थी. पहले मैं कभी मामी के बारे में गलत नहीं सोचता था, लेकिन एक दिन मामा जी ने मॉर्निंग में मुझे कॉल करके किसी काम से बुलाया. मैंने उससे कहा- हां पहले थी … लेकिन अब नहीं है … क्योंकि अब मैं स्टडी पर ध्यान दे रहा हूं.

ज़ोहरा आपा और शनाज़ के बीच काफी अच्छी दोस्ती है, दोनों की शुरू से ही खूब जमती थी. मैंने उसका स्वागत किया और माया भी उसके लिए कॉफ़ी बनाने रसोई में चली गई. मैं इसलिए खुश था कि एक तो मुझे नयी और कसी हुई चूत मिली और दूसरे इसलिए कि मैं अपनी आपा को औलाद का सुख दे पाऊँगा.

बात सेक्स तक कैसे पहुंची और मैंने उसे कैसे चोदा?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम मस्तराम है जो कि काल्पनिक है. इतना सुनते ही वो मुझे जोर जोर से किस करने लगी और मैं उसके ऊपर छा गया.

उसके बाद उसने तौलिया में से अपना लंड निकाला जो कि पूरा तना था और वो पूरे 8 इंच का हो चुका था.

उसने मेरे मुंह पर हाथ रखा और मुझे प्यार करने लगा; मेरे गालों को चूमने लगा; मेरी चूचियों को सहलाने लगा. आंचल का सेक्सी वीडियोइस बार मेरी नजर हेमा चाची की गोल मटोल कसी हुई सेक्सी चूचियों पर थी, जिनका स्वाद मैं अच्छे से चखना चाहता था. सेक्सी ब्लू फिल्म हद वीडियोबाहर निकाल कर मैंने एक दो बार हाथ से लंड को हिलाकर मुठ मारी और मेरे शुक्राणु मैंने उसके पेट पर गिरा दिये. आशु का बदन सेक्स की छुअन से थिरक रहा था और मैं उसको अच्छे से फील कर सकता था.

क्योंकि वह तनहाई का मतलब भी बहुत अच्छे से जानती हैं … और उन पलों को मस्ती से एन्जॉय करती हैं.

मैं धीरे से उसके पास को सरक गया … क्योंकि हम पहले सोफे पर बैठे टीवी देख रहे थे. मामी के होंठ बिल्कुल पतले गुलाबी, कटीली चितवन, बड़े बड़े से स्तन, उभरी हुई जबरदस्त मोटी गांड … कुल मिलाकर मेरी मामी हमेशा चुदासी सी दिखने वाली माल लगती हैं. उस वक्त तो मुझे समझ नहीं आया लेकिन वो दिन मुझे अच्छी तरह याद है जब तीन महीने के अंदर ही घर का काम करते हुए मां ने एक टच स्क्रीन वाला फोन ले लिया था.

मेरा पहला प्यार मुझे कैसे मिला? मेरी स्टोरी में पढ़ें।दोस्तो, यह मेरी पहली कहानी है और एक सत्य घटना पर आधारित है. मैं- अम्मी … आखिर बात क्या है?अम्मी गुस्से में- ज़ोहरा की सास कह रही है कि अगर इस बार ज़ोहरा के हमल ना रुका तो अगली बार रफ़ीक़ की दूसरी शादी करवा देगी. मेरा ईमेल ऐड्रेस है[emailprotected]अगर आप लोग मुझे मेल करके प्रोत्साहित करेंगे, तो मैं आगे और भीमजेदार सेक्स कहानियांआपको लिखता रहूंगा.

खुला ओपन वीडियो

खून से सना लण्ड अन्दर बाहर होने लगा और मैं आनंद की चरम बेला पर पहुंचने लगा तो लण्ड फूलकर और मोटा होने लगा. वो सोचने लगीं कि कैसे मेरी बेटी ने इस महाकाय लंड को अन्दर लिया होगा?क्या हालत हुई होगी उसकी?सास नीरजा देवी अभी ये सोच ही रही थीं कि ठाकुर बलदेव ने अपने लंड को सास की चुत पर घिसना आरंभ कर दिया. फिर उन्होंने मुझे सीने से हटाया और मेरे नर्म नर्म लाल सुर्ख होंठों पर अपने होंठ रख दिए और चूसने लगे.

उसकी निगाह भी मुझ पर पड़ गई थी और वो मेरी तरफ देखते हुए धीरे धीरे मुस्कुराने लगा था.

अब मैंने मौका देखा और एक झटका जोर से लगाते हुए उसकी चूत में आधा लंड घुसा दिया.

फिर उसने मुझे बेड के नीचे धकेल दिया; मुझे दीवार के साथ ले गया और मेरी एक टांग उठाकर अपनी कमर पर रखवा ली और नीचे से अपना लंड मेरी चूत में चढ़ा दिया. उसने अंदर से आवाज देकर पूछा- तुम्हें तैरना आता है?मैंने कहा- हां, देखो, तुम्हारे सामने ही तैर रहा हूं. सेक्सी इंग्लिश वीडियो एक्स एक्सउस दिन उसकी कोई छोटी सी समस्या थी, जिसे मैंने उसे समझा दिया और उसकी परेशानी दूर हो गई.

जब मालिश करते हुए मैंने अपने हाथों से उसके मम्मों को दुबारा छूने की कोशिश की, तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और सीधी हो गई. अलीमा के मन में यह बात घर कर गई थी कि उसके मम्मी पापा उसकी बात नहीं सुनते हैं, तो वो बलविंदर की धमकी से डर गई और बोली- अरे अंकल … मुझे लगा कोई और है. थोड़ी दूर ही बस चली होगी कि वो मेरी तितली अपने पापा के साथ बस में चढ़ गई.

केक के बाद जब वो वाशरूम में साफ होने गयी, तब तक मैंने टेबल पर वोदका और बाकी सब सामान सैट कर दिया. वो समझ गई थीं कि मैं जगा हुआ हूँ … पर इसके बावजूद वो नहीं रुकी और अपनी चुत चुदवाना जारी रखा.

दोनों हवलदारों ने मेरे स्तनों को मसलने के बजाय मेरे निप्पल को चूसना शुरू कर दिया.

कुछ देर बाद अलीमा अपने रूम के बाथरूम से स्नान करके निकली ही थी कि बलविंदर पीछे से जाकर उसे हग करने लगा. प्रियंका चुपचाप सोफे पर पड़ी मजे ले रही थी और मैं भी पहली बार किसी लड़की को अपने पास नंगी करके लेटाए हुए था. उसने दोबारा कोशिश की लेकिन चूत टाइट होने की वजह से फिर से लंड चूत पर से फिसल गया.

दो औरतों की सेक्सी वीडियो मैं जोर जोर से चोदने लगा।अब मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और लंड चूत के अंदर-बाहर करने लगा. वो बोली- इतना बड़ा!मैं कुछ नहीं बोला, थोड़ा सा मुस्कुराया और उसके पास हो गया.

फिर मैंने सोचा इसकी बहन तो पटने से रही क्यों न इसी डिम्पल को पटा कर काम चलाया जाए. उसका पति काले रंग का आदमी था और उसके चेहरे पर काफी सारे निशान व छाइयां भी थीं. मेरी हाइट 5’10”, चौड़ा सीना और आकर्षक दिखता हूँ।यह मेरे साथ घटित एक अच्छा और सच्चा अनुभव है जो मैं आप सभी के साथ बांटना चाहता हूं।बात पिछले 2 साल पहले की है जब मैं 23 का साल था और जबलपुर में रेगुलर स्टूडेंट हुआ करता था.

चूत की चुदाई देखनी है

फिर एक बार मेरी चूत को अपने थूक से गीला करके अपना लन्ड ठेलने लगा।अबकी बार जब मैं चिल्लाई तो सागर ने मेरी पैंटी मेरे मुंह में ठूँस दी. मैं बोला- तू सब क्या देगी … खुल कर बोल न!जिया बोली- जी, आसमा ने जो दी थी और …मैं उसकी बात काटते हुए बोला- क्या … आसमा ने क्या दी थी … खुल कर बोल या तू रहने दे. एक बात और कहना चाहता हूं कि ये मेरा कहानी लिखने का पहला अनुभव था इसलिए गलती हुई हो तो माफ कर देना.

उसने ये देखा तो पहले तो घबरा गई; फिर मैंने उसे समझाया तो वो चुप हो गई. काफी देर तक पार्टी में रहने के बाद मुझे एक लड़का दिखा … शायद वो बाराती था.

इन सबके साथ मसाज बहुत जरूरी है प्रीति जी!” आप इनको सोमवार, बुधवार, शुक्रवार हफ्ते में तीन दिन लाइये, मसाज करेंगे.

टी टी मेरे पास आया और मुझे बीच में खींच कर बोला- ऐसे नहीं, अगल टाईप से. उन्हें देख कर यही लगता कि ये होता मेरा पति, तो अब तक मेरा काम लग गया होता. तनु चोली पहनती है मैंने तो नहीं देखा।तभी दुकान वाले ने पूछा- और क्या चाहिए?तो माँ ने कहा- एक छोटे साइज की दो.

वो बोली- तुमने बताया नहीं कि क्या करना चाहते हो?मैंने कहा- मैं कहने से ज्यादा करने में भरोसा करता हूँ. कुछ देर तक सोनी चाची के बूब्स के साथ खेलती रही और मैं चाची की बुर के साथ. उसकी बात मुझे समझ आई और अगले दिन से मैंने नॉर्मल रहने की कोशिश करना शुरू कर दी.

फिर रोहन ने रजक लाल से पूछा कि अब कब वापस अपना लंड चुसवा रहे हो?रजक लाल ने हंस कर कहा- बहुत जल्द ही.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाना: कुछ देर इसी तरह लेटे रहने के बाद उसका हाथ धीरे धीरे मेरे पेट से ऊपर बढ़ने लगा और आखिर उसने मेरी एक चूची पर अपना पूरा हाथ रख दिया. मुझे लगता है कि आप दोनों का रिश्ता काफी गहरा रहा होगा इसीलिये आप उनको इतना याद करते हो.

उस जवान लड़की मनमीत का एक संतरा मैं चूस रहा था और दूसरा सहला रहा था. शनाज़ की एक गलती की वजह से हम दोनों भाई बहन की मुहब्बत का राज हमारे बड़ों के सामने खुल गया. मैं कोक की बॉटल में व्हिस्की मिला कर रखता था, गुरप्रीत रोज कोक समझकर एक पेग व्हिस्की लेने लगी.

किरण का मायका भी लखनऊ में ही था लेकिन मायके के नाम पर किरण के भैया भाभी और उनके बच्चे ही थे, किरण के माता पिता अब इस दुनिया में नहीं थे.

अब आपका ज्यादा समय न लेते हुए मैं अपनी कहानी आप लोगों के सामने रख रहा हूं. जिया ने मुझे बताया कि उसकी बड़ी बहन का दो महीने पहले ही तलाक हो गया है. यहां अन्तर्वासना की कहानियों में भी पढ़ता रहता कि उसने मेरा लंड मुंह में ले लिया और ये वो इत्यादि.